मंगलवार, 6 सितंबर 2022

दीवान पोखरा, विकास खण्ड-गौरीबाजार का निरीक्षण

दीवान पोखरा, विकास खण्ड-गौरीबाजार का निरीक्षण

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार द्वारा मंगलवार को जल जीवन मिशन योजना के अंतर्गत ग्राम पंचायत- दीवान पोखरा, विकास खण्ड-गौरीबाजार का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। इस परियोजना से ग्राम पंचायत-दीवान एवं सेखुई में पानी की आपूर्ति किया जाना है। निरीक्षण में पाया गया कि इस कैम्पस की बाउन्ड्री टूट गई है तथा टंकी के नीचे जो फर्श बनाये गये हैं वह भी धस गया है।
ग्रामवासियों द्वारा बताया गया कि इस टैंक का निर्माण लगभग डेढ़ साल पहले किया गया है तथा जलापूर्ति एक भी बार नहीं किया गया है। इस टैंक से जिन मजरों में पानी की आपूर्ति की जानी है। वहां पर बिछाई गयी पाईप जगह-जगह लीकेज है। इसके लिए दोषी ठेकेदार के विरूद्ध कार्यवाही करने हेतु अधिशासी अभियन्ता, जल निगम, देवरिया को निर्देशित किया गया है।

शामली: अध्यक्षता व संचालन में बैठक आयोजित 

शामली: अध्यक्षता व संचालन में बैठक आयोजित 

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। अखिल भारतवर्षीय ब्राह्मण सभा पंजीकृत जिला शामली परिवार की एक बैठक मौo राजपत राय नगर स्थिति पंडित विपिन शास्त्री के आवास पर अरविंद कौशिक की अध्यक्षता में एवं राजेंद्र शर्मा के संचालन में आयोजित की गई। जिसमें शिक्षक दिवस के अवसर पर पंडित पंकज शर्मा प्रवक्ता इतिहास श्री महात्मा गांधी इंटर कॉलेज बड़ौत, बागपत को पंडित विपिन शास्त्री प्रदेश सचिव व पंडित अनिल शर्मा, प्रधानाचार्य श्री सत्यनारायण इंटर कॉलेज शामली को अरविंद कौशिक जिला अध्यक्ष आदि ने फूल मालाओं से लादकर जोरदार स्वागत किया और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। बैठक को संबोधित करते हुए पंकज शर्मा प्रदेश अध्यक्ष ने शिक्षक दिवस पर प्रकाश डालते हुए कहा गुरु पद बहुत महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि गुरु ही शिष्य को शिक्षा देकर देश का भविष्य बनाता है।

क्योंकि जब सर्वपल्ली राधाकृष्णन देश के राष्ट्रपति थे, तो उन्होंने कहा था मेरा जन्मदिन एक शिक्षक के रूप में मनाया जाए तभी से शिक्षा दिवस के रूप में मनाते आ रहे हैं। क्योंकि शिक्षक ही एक सच्चे मार्गदर्शक होते हैं। अनिल शर्मा ने कहा गुरु का पद बहुत बड़ा होता है। क्योंकि शिक्षक ही शिष्य को मन लगाकर शिक्षा देता है, जिससे शिष्य पढ़ लिख कर देश के बड़े-बड़े पदों पर आसीन होते हैं, जिससे देश चलता है। इस अवसर पर रवि दत्त शर्मा, संजय कौशिक, नीरज शर्मा, अमरीश शर्मा, पंडित मुन्नालाल चौबे, राधेश्याम शर्मा, शिवदत्त शर्मा, विपिन शर्मा, उमेश शर्मा, वरुण भारद्वाज, अरुण वशिष्ठ, दीपक शर्मा, अरुण शर्मा आदि उपस्थित रहे।

प्रभावित परिवारों को सहायता राशि जारी, कार्य शुरू


प्रभावित परिवारों को सहायता राशि जारी, कार्य शुरू 

नरेश राघानी 

कोटा। राजस्थान में कोटा जिले में अतिवर्षा के कारण आवासीय क्षेत्रों में हुए नुकसान का सर्वे करवाकर प्रभावित परिवारों को सहायता राशि जारी करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। पीपल्दा तहसील में 207 आवासों एवं चार केटलशेड में क्षति होने पर 93 लाख 70 हजार रूपये की सहायता राशि स्वीकृत की है। जिला कलक्टर ओपी बुनकर ने बताया कि कोटा जिले में अधिक वर्षा के कारण आवासीय क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति से कच्चे-पक्के मकानों को नुकसान हुआ था। उन्होंने बताया कि पीपल्दा तहसील में सर्वे कराकर तहसीलदार की रिपोर्ट के आधार पर प्रभावित परिवारों को सहायता राशि स्वीकृत कर सीधे खातों में जमा कराई जाएगी।

बुनकर ने बताया कि प्रशासन ने प्रभावित परिवारों के निरंतर सम्पर्क में रहकर सहायता उपलब्ध कराने का कार्य लगातार जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि तहसील पीपल्दा में 67 कच्चे मकानों आंशिक क्षति होने के कारण प्रभावित परिवारों को दो लाख 14 हजार 400 रूपये तथा 23 पक्के मकान में आंशिक क्षति होने पर एक लाख 19 हजार 600 की सहायता राशि स्वीकृत की है।

सर्वे में 94 कच्चे मकानों के पूर्ण क्षतिग्रस्त पाए जाने पर 89 लाख 39 हजार 400 रूपये एवं 14 झोंपड़ियों के पूर्ण क्षतिग्रस्त पाए जाने पर प्रभावित परिवारों को 57 हजार 400 रूपये की सहायता राशि स्वीकृत की है। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार 4 केटलशेड में क्षति होने के कारण प्रभावित परिवारों को आठ हजार 400 रूपये की सहायता राशि स्वीकृत की गई है। वहीं 9 कच्चे व पक्के मकानों में आंशिक क्षति होने पर 30 हजार 800 रूपये सहायता राशि स्वीकृत की है। इस प्रकार सर्वे रिपोर्ट के आधार पर 93 लाख 70 हजार रूपये की सहायता राशि एसडीआरएफ नियमों के तहत कुल 383 आवासों के लिए स्वीकृत कर जारी की गई है।

भारतीय पक्ष ने गोलाबारी का माकूल जवाब दिया

भारतीय पक्ष ने गोलाबारी का माकूल जवाब दिया 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी/सुनील श्रीवास्तव 

नई दिल्ली/श्रीनगर/इस्लामाबाद। पाकिस्तानी रेंजर्स ने लगभग एक वर्ष के संघर्षविराम समझौते के बाद मंगलवार को जम्मू के अरनिया सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) के एक गश्ती दल पर बिना उकसावे के गोलीबारी की, जिसका भारतीय पक्ष ने माकूल जवाब दिया।

यह गोलीबारी तब की गई जब भारतीय जवान बाड़ लगाने का काम कर रहे थे। इसमें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। बीएसएफ के प्रवक्ता(जम्मू फ्रंटियर) ने कहा, “मंगलवार को अरनिया सेक्टर में पाकिस्तानी रेंजर्स की अकारण गोलीबारी का बीएसएफ (जम्मू )ने मुंहतोड़ जवाब दिया। सतर्क जवानों ने आज सुबह अरनिया सेक्टर में बीएसएफ के गश्ती दल पर पाकिस्तानी रेंजर्स की ओर से बिना किसी उकसावे की गयी गोलीबार की करारा जवाब दिया। बीएसएफ के जवानों के हताहत होने या किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।”

राज्य की जमीनों को लुटने नहीं देंगे: सीएम धामी 

राज्य की जमीनों को लुटने नहीं देंगे: सीएम धामी 

पंकज कपूर 

देहरादून। राजपुर रोड पर एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि वह राज्य की जमीनों को लुटने नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में जिस तरह से कुछ बाहरी लोगों द्वारा राज्य के लोगों की मिलीभगत से लोगों की जमीनों को कौड़ियों के भाव खरीदा जा रहा था और भूमिधर कोे भूमिहीन बनाने का काम किया जा रहा था उसके कारण लंबे समय से राज्य में एक सशक्त भू कानून की मांग की जा रही थी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बहुत जल्द एक सशक्त भू कानून लाएगी। समिति ने सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है अब इसमें और क्या संशोधन हो सकते हैं। इस पर विचार के बाद बहुत जल्द नया भू कानून लाया जाएगा और कहा कि उत्तराखंड आने पर और उत्तराखंड में काम धंधा करने तथा निवेश करने पर कोई पाबंदी नहीं होगी लेकिन उनका संकल्प है कि वह जमीनों की लूट नहीं होने देंगे और इसके लिए हिमाचल की तरह एक सख्त कानून बहुत जल्दी लाया जाएगा।

यूकेएसएसएससी पेपर लीक और घोटाले के बारे में उन्होंने कहा कि इस मामले की सही दिशा में जांच चल रही है और यह जांच तब तक जारी रहेगी जब तक अंतिम दोषी की गिरफ्तारी नहीं हो जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य के युवा और बेरोजगारों के साथ जो छल और धोखा किया गया वैसा भविष्य में फिर कभी न हो इसलिए नौकरियों में हुई धांधली कि यह जांच बहुत जरूरी है। एक बार फिर दोहराया कि राज्य के युवाओं को न्याय जरूर मिलेगा।

निजी लाभ के कारण विकास पक्ष से पिछड़ा 'पंजाब'

निजी लाभ के कारण विकास पक्ष से पिछड़ा 'पंजाब'

अमित शर्मा 

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा है कि रसूखदार राजनीतिक परिवारों के निजी लाभ के कारण राज्य विकास पक्ष से पिछड़ गया। मान ने आज यहां जल आपूर्ति एवं स्वच्छता, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभागों में नए भर्ती हुए नौजवानों को नियुक्ति पत्र सौंपने के मौके पर संबोधन में कहा कि इन राजनीतिक परिवारों ने निजी हितों के लिए हमारे नौजवानों का भविष्य तबाह कर दिया। इन परिवारों ने अपने निजी फ़ायदों के लिए राज्य के हित दांव पर लगाने से भी गुरेज़ नहीं किया।

इन परिवारों ने पंजाब और हमारे नौजवानों के साथ धोखा किया है, जिस कारण ही इनको सत्ता से बाहर का रास्ता देखना पड़ा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार राज्य की पुरातन शान बहाल करने के लिए प्रतिबद्ध है। टाटा ग्रुप राज्य में लुधियाना के नज़दीक 2600 करोड़ रुपए के निवेश के साथ बड़ा प्रोजेक्ट स्थापित कर रहा है। टाटा स्टील द्वारा जमशेदपुर के बाद बड़ा निवेश किया जा रहा है। आने वाले दिनों में राज्य में और औद्योगिक प्रोजेक्ट भी स्थापित किए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब के अनुकूल माहौल के स्वरूप बड़ी कंपनियां निवेश कर रही हैं और अब प्रोजेक्ट स्थापित करने के लिए सीधा पंजाब के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये जाते हैं, जबकि इससे पहले निवेशकों को सत्ताधारी राजनीतिक परिवारों के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करने के लिए मजबूर किया जाता था, जिस कारण निवेशक पंजाब से मुंह फेर लेते थे। उनके अनुसार उन्होंने मेहनत और लगन से यह उपलब्धि हासिल की है। मेहनत करने वाले नौजवान इस नौकरी के हकदार हैं। क्योंकि वह कड़े इम्तिहानों से गुजऱ कर मैरिट के आधार पर चुने गए हैं। बाकी भर्ती भी पूरी पारदर्शिता से की जा रही है जिसे जल्द ही पूरा किया जाएगा।

इस मौके पर जल आपूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री चेतन सिंह जौड़ेमाजरा, विधायक जगदीप गोल्डी और अजीतपाल सिंह कोहली, प्रमुख सचिव आपूर्ति एवं स्वच्छता डी.के.तिवाड़ी, सचिव स्वास्थ्य अजोए शर्मा, डायरेक्टर जल आपूर्ति एवं स्वच्छता विपुल उज्जवल और अन्य उपस्थित थे।

जिला लेखा प्रबंधक को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया 

जिला लेखा प्रबंधक को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया 

मनोज सिंह ठाकुर 

जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर में लोकायुक्त पुलिस ने नेशनल हेल्थ मिशन की जिला लेखा प्रबंधक को 80 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया। लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक संजय साहू ने बताया कि एक टूर एण्ड ट्रेवल्स के वाहन एनएचएम में लगे हुए थे, जिनका 13 लाख 24 हजार रूपये का बिल पेडिंग था।

बिल को फॉरवर्ड करने के लिए एनएचएम की जिला लेखा प्रबंधक श्रद्धा ताम्रकार ने एक लाख 10 हजार रूपये की रिश्वत मांगी थी। इसकी शिकायत ट्रेवल्स एजेन्सी के संचालक ने लोकायुक्त से की थी। ट्रेवल्स एजेन्सी का संचालक रिश्वत की पहली किश्त 80 हजार रूपये लेकर सीएचएमओ कार्यालय स्थित जिला लेखा प्रबंधक के दफ्तर पहुंचा।

जिला लेखा प्रबंधक ने जैसे ही रिश्वत की रकम हाथ में पकडी लोकायुक्त टीम ने दबिश दी। लोकायुक्त की टीम को देखकर महिला जिला लेखा प्रबंधक ने रिश्वत की रकम फैंक दी। लोकायुक्त की टीम ने रकम को जब्त कर महिला अधिकारी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया लिया है।

मजदूरों व सुरक्षाकर्मियों को पंजीकृत करने के आदेश 

मजदूरों व सुरक्षाकर्मियों को पंजीकृत करने के आदेश 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष एवं जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मंगलवार को कहा कि प्रशासन ने एक उत्तरी जिले में अपने अधिकारियों को गैर स्थानीय मजदूरों और सुरक्षाकर्मियों को मतदाता के रप में पंजीकृत करने के मौखिक आदेश दिए हैं। जम्मू-कश्मीर के मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) हिरदेश कुमार द्वारा जम्मू में मतदाता सूची के विशेष सारांश संशोधन पर एक सर्वदलीय बैठक की अध्यक्षता करने के एक दिन बाद  मुफ्ती की प्रतिक्रिया सामने आई है।

मुफ्ती ने आरोप लगाया कि यह पता चला है कि कुमार ने सभी पार्टियों को आश्वासन दिया कि केवल जन प्रतिनिधित्व अधिनियम (आरपीए) के तहत पात्र लोगों को मतदाता सूची में नामांकित किया जाएगा।  मुफ्ती ने किया कि रिपोर्टों के अनुसार जिला तहसीलदार द्वारा कल बारामूला में एक प्रशासनिक बैठक में गैर-स्थानीय मजदूरों तथा केंद्रीय बलों सीआईएसएफ, सीआरपीएफ, बीएसएफ और सेना के जवानों को मतदाता के रूप में नामांकित करने के लिए मौखिक आदेश पारित किए गए हैं।

प्रशासन को इस पर सफाई देनी चाहिए।” पिछले महीने सीईओ श्री कुमार द्वारा घोषणा किए जाने के बाद कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के खत्म होने के बाद ‘सामान्य रूप से रहने वाला’ देश का प्रत्येक नागरिक यहां मतदाता के रूप में पंजीकरण कर सकता है और अगले विधानसभा चुनावों में मतदान कर सकता है, के बाद जम्मू-कश्मीर में एक बड़ा राजनीतिक तूफान खड़ा हो गया है। उन्होंने कहा कि सारांश संशोधन अभ्यास के दौरान लगभग 25 लाख नए मतदाताओं के मतदाता सूची में जोड़े जाने की संभावना है।

भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर लगभग सभी मुख्यधारा के विपक्षी राजनीतिक दलों ने प्रस्तावित कदम पर प्रहार किया। जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने बाद में स्पष्ट किया कि केंद्र शासित प्रदेश में मतदाता सूची को संशोधित करते हुए 25 लाख मतदाताओं को जोड़ने के अनुमान में वे लोग भी शामिल हैं जिन्होंने एक अक्टूबर, 2022 तक 18 वर्ष की आयु के हो चुके होंगे।

स्वास्थ्य: शहद का इस्तेमाल गलत तरीके से न करें

स्वास्थ्य: शहद का इस्तेमाल गलत तरीके से न करें 

सरस्वती उपाध्याय 

शरीर में जमा चर्बी की वजह से ज्यादातर लोग परेशान रहते हैं। इसे कम करने के लिए बहुत से उपाय करते हैं, मगर चर्बी कम नहीं होती। चर्बी कम करने के लिए हर कोई सबसे पहले डाइटिंग का सहारा लेता है। ऐसा करना सही भी है, लेकिन इस चक्कर में शरीर को पर्याप्त ऊर्जा न मिल पाने के कारण कमजोरी महसूस हो सकती है। ऐसे में शहद का जरूर करना चाहिए।एक्सपर्ट की मानें तो कुछ लोग चर्बी घटाने के लिए तो कुछ बढ़ाने के लिए शहद का इस्तेमाल करते हैं। मधुमक्खी के छत्ते से निकला फ्रेश शहद शरीर के वजन को बढ़ाता है और हल्का रेचक होता है। वहीं शहद जो पुराना है, फैट के मेटाबॉलिज्म में मदद करता है और कफ को खत्म करता है।

आयुर्वेद में शहद के फायदे...

  • शहद आंखों और आंखों की रोशनी के लिए बहुत अच्छा होता है।
  • यह प्यास बुझाता है और कफ को घोलता है।
  • यह मूत्र मार्ग के विकारों, दमा, खांसी, दस्त और जी मिचलाना-उल्टी में बहुत मददगार है।
  • यह एक नेचुरल डिटॉक्सिफायर है।
  • यह दिल के लिए अच्छा है, त्वचा में सुधार करता है, और कामोत्तेजक है।
  • गहरे घावों को जल्दी भरने में मदद करता है।
  • स्वस्थ दानेदार टिशू के विकास की शुरुआत करता है।

यूं न करें इस्तेमाल...

  • शहद को गर्म खाने या पानी के साथ नहीं मिलाना चाहिए।
  • गर्म जगह पर काम करते समय शहद नहीं खाना चाहिए।
  • शहद को कभी भी घी के साथ या गर्म, मसालेदार खाने के साथ नहीं मिलाना चाहिए।
  • इसके अलावा फर्मेंटेड ड्रिंक्स (जैसे, व्हिस्की, रम, ब्रांडी) या सरसों में इसे नहीं मिलाना चाहिए।

कैसे करें इस्तेमाल...

  1. मोटापे के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे हैं तो एक गिलास कमरे के तापमान के पानी के साथ 1 चम्मच शहद लें।
  2. 1 टीस्पून शहद के साथ एक टीस्पून पीएफ हल्दी और 1 काली मिर्च को मिलाकर पीने से खांसी, सर्दी, साइनसाइटिस, इम्युनिटी ठीक करने में मदद मिलेगी।
  3. इसके अलावा गर्म पानी में शहद पीने की बड़ी गलती करने से बचें।

मोटापा: कंपनी 'एल्यूरियन' ने कैप्सूल लाॅन्च किया

मोटापा: कंपनी 'एल्यूरियन' ने कैप्सूल लाॅन्च किया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। मोटापा दूर करने में समर्पित कंपनी एल्यूरियन ने एक ऐसा कैप्सूल लाॅन्च किया है, जो चार महीने में 10 से 15 प्रतिशत तक वजन घटा देता है। एल्यूरियन के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी शांतनु गौर ने मंगलवार को यहां संवाददाताओं को बताया कि इस कैप्सूल को निगलने के बाद हेल्थकेयर प्रोफेशनल उसमें पहले से लगे कैथेटर से 550 मिलीलीटर तरल पदार्थ के साथ इसे फुला देेते हैं। इस प्रक्रिया में किसी तरह की सर्जरी, एंडोस्कोपी या एनेस्थेसिया की जरूरत नहीं होती। प्रक्रिया पूरी कर लेने के बाद यह देखने के लिए एक एक्सरा किया जाता है कि बैलून सही स्थिति में है या नहीं।

पूरी प्रक्रिया 15 मिनट में पूरी कर ली जाती है। प्लेसमेंट के बाद यह बैलून पेट भरा होने का अहसास दिलाता है और भोजन की इच्छा को कम करता है। यह भूख के अहसास को कम करता है और करीब चार महीने बाद स्वत: सिकुड़ जाता है और मल के साथ शरीर से बाहर निकल जाता है। उन्होंने बताया कि यह कैप्सूल केन्द्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन से अनुमोदित है। मोटापा और वजन घटाने में कारगर यह कैप्सूल मधुमेह, बांझपन और हृदय रोग के उपचार में भी मददगार हो सकता है। उन्होंने कहा कि भारत में मोटापे से जुड़ी बीमारियां बढ़ रही हैं और मधुमेह, रक्तचाप, हृदय रोग आदि को नियंत्रित करने में यह सहायक हो सकता है।

एल्यूरियन के संस्थापक भागीदार एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राम चुट्टानी ने इस अवसर कहा कि अध्ययनों से एल्यूरियन प्रोग्राम के प्रभाव और सुरक्षा की पुष्टि हुई है। रोगियों को लगभग 16 हफ्तों में शरीर के वजन को औसतन 10 से 15 प्रतिशत कम करने में मदद मिली है। डॉ गौर ने बताया कि यदि एक कैप्सूल लेने के बाद 10 से 15 प्रतिशत वजन कम हो जाने के बावजूद शरीर का वजन औसत स्तर तक न आये तो एक कैप्सूल और लिया जा सकता है। इससे करीब आठ महीने में शरीर का वजन औसत तक लाया जा सकता है।

डॉ राम चुट्टानी ने कहा कि इस कैप्सूल के इस्तेमाल के बाद शरीर को कम खाने की आदत हो जाती है जिससे भविष्य में वजन से ज्यादा की आशंका बहुत कम रह जाती है। उन्होंने बताया कि अभी दिल्ली में इसके लिए पांच क्लीनिक पर संबंधित स्टाफ को प्रशिक्षित कर दिया है और जल्द ही दिल्ली समेत अन्य स्थानों पर इसके इस्तेमाल की प्रक्रिया पूरी करने के लिए बड़ी संख्या में क्लीनिकों को चिह्नित करके वहां के स्टाफ को प्रशिक्षित कर दिया जाएगा।

क्रिकेट के हर प्रारूप से रिटायरमेंट लेने का ऐलान 

क्रिकेट के हर प्रारूप से रिटायरमेंट लेने का ऐलान 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। टीम इंडिया के मध्यक्रम के बाएं हाथ के धाकड़ बल्लेबाज रहे सुरेश रैना ने अब क्रिकेट के हर प्रारूप से रिटायरमेंट लेने का ऐलान कर दिया है। मुख्य बात यह रही है कि सुरेश रैना को अब क्रिकेट खेलने के लिए क्रिकेट से संन्यास का ऐलान करना पड़ा है। मंगलवार को भारतीय क्रिकेट टीम के बाएं हाथ के मध्यक्रम के पूर्व बल्लेबाज सुरेश रैना ने अब क्रिकेट के हर प्रारूप से संन्यास लेने का ऐलान किया है। बाएं हाथ के मध्यक्रम के धाकड़ बल्लेबाज एवं मिस्टर आईपीएल के नाम से विख्यात सुरेश रैना ने मंगलवार को अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि अपने देश भारत और राज्य उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करना एक सम्मान की बात है। मैं क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा करना चाहता हूं। मैं बीसीसीआइर्, यूपीसीए, चेन्नई सुपर किंग, राजीव शुक्ला सर और अपने सभी प्रशंसको का उनके समर्थन और मेरी क्षमताओं में अटूट विश्वास के लिए उनका धन्यवाद करना चाहूंगा।

दरअसल भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना अ्र्र्रभी भी अपने खेल को जारी रखना चाहते हैं और वह 10 सितंबर से शुरू हो रही रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का हिस्सा बनने जा रहे हैं। उधर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की पॉलिसी इस बात को कहती हैं कि वह खिलाड़ी जो किसी भी प्रकार से बीसीसीआई के साथ जुड़ा हुआ है, वह किसी भी विदेशी लीग अथवा अन्य किसी टूर्नामेंट में नहीं खेल सकता है। माना जा सकता है कि मध्यक्रम के धाकड़ बल्लेबाज सुरेश रैना को क्रिकेट खेलने के लिए क्रिकेट के हर प्रारूप से रिटायरमेंट का ऐलान करना पड़ा है।

3 महिलाओं को पीट-पीटकर मौंत के घाट उतारा 

3 महिलाओं को पीट-पीटकर मौंत के घाट उतारा 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। तंत्र-मंत्र के चक्कर में गांव के लोगों ने ट्रिपल मर्डर की वारदात को अंजाम देते हुए 3 महिलाओं को बुरी तरह से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया है। 3 महिलाओं की एक साथ हत्या कर दिए जाने से पुलिस और प्रशासन में हड़कंप मच गया है। घटनास्थल की तरफ दौड़ी पुलिस ने इस सिलसिले में 8 लोगों को गिरफ्तार किया है।  मंगलवार को रांची जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कौशल किशोर ने बताया है कि सोनाहपुर थाना क्षेत्र के रनडीह गांव में 3 महिलाओं की पीट-पीटकर की गई हत्या के सिलसिले में एक महिला के पति और उसके बेटे समेत 13 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। एसएसपी ने बताया है कि ट्रिपल मर्डर की इस वारदात के सिलसिले में अभी तक 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जबकि बाकी बचे लोगों की तलाश में दबिश दी जा रही है। उन्होंने बताया है कि गांव के कुछ लोगों ने 3 महिलाओं के साथ जमकर डंडे से मारपीट की क्योंकि उन्हें इस बात का शक था कि यह तीनों महिलाएं गांव में जादू टोना करती हैं। आरोप है कि इन लोगों ने महिलाओं की मौत हो जाने के बाद उनके शव गांव के निकट पहाड़ी इलाके में फेंक दिए। पुलिस ने दोनों महिलाओं के शव बरामद करने के बाद एक शव सोमवार की देर रात बरामद किया है।

तेज गेंदबाज अर्शदीप को भारत का गौरव करार दिया

तेज गेंदबाज अर्शदीप को भारत का गौरव करार दिया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव तरुण चुग ने भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह को भारत का गौरव करार दिया और कहा कि हर भारतीय उनके साथ खड़ा है। चुग ने सूचना एवं प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्रालय द्वारा अर्शदीप सिंह के पेज पर झूठी जानकारी प्रकाशित करने के लिए विकिपीडिया के खिलाफ की गई कार्रवाई का भी स्वागत किया। सिंह ने दुबई में रविवार को भारत पाकिस्तान के बीच हुए एशिया कप के रोमांचक टी-20 मैच में एक अहम कैच छोड़ दिया था जिसके बाद उन्हें सोशल मीडिया पर तीखे हमलों का सामना करना पड़ रहा है।

कैच छोड़ने के बाद उनके विकिपीडिया पेज पर उनसे संबंधित जानकारी को बदल दिया गया और उनका संबंध अलगाववादी खालिस्तानी आंदोलन से बताया गया। चुग ने कहा, अर्शदीप भारत के गौरव हैं। वह पंजाब के उभरते खिलाड़ी हैं और हर भारतीय उनके साथ खड़ा है। उनके खिलाफ घृणास्पद टिप्पणी करने वालों पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए। अर्शदीप के समर्थन पर ट्विटर पर आई स्टैंड विद अर्शदीप अभियान भी चलाया गया। पंजाब के सभी राजनीतिक दलों ने भी अर्शदीप का समर्थन किया है।

देश की पहली नेजल वैक्सीन को मंजूरी: डीसीजीआई 

देश की पहली नेजल वैक्सीन को मंजूरी: डीसीजीआई 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर कोरोना के नए वैरिएंट्स के कारण बढ़ता संक्रमण विशेषज्ञों के लिए बड़ी चुनौती का कारण बना हुआ है। इस बीच देश की पहली नेजल वैक्सीन को डीसीजीआई ने मंजूरी दे दी है। भारत बायोटेक को इंट्रानैसल कोविड-19 वैक्सीन के लिए डीसीजीआई (DCGI) से इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति मिल गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने ये जानकारी दी। ये कोरोना के लिए भारत का पहला नाक का टीका होगा। मनसुख मंडाविया ने कहा कि नियामक ने 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों के प्राथमिक टीकाकरण के लिए आपातकालीन स्थितियों में प्रतिबंधित उपयोग के लिए टीके को मंजूरी दी है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट कर लिखा कि कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई को बड़ा बूस्ट मिला है। भारत बायोटेक के ChAd36-SARS-CoV-S COVID-19 (चिंपांजी एडेनोवायरस वेक्टरेड) रीकॉम्बिनेंट नेजल वैक्सीन को आपातकालीन स्थिति में 18 साल से ज्यादा आयु वर्ग के उपयोग के लिए अनुमति दी गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने और क्या कहा?
उन्होंने आगे कहा कि यह कदम महामारी के खिलाफ हमारी सामूहिक लड़ाई को और मजबूत करेगा। भारत ने पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अपने विज्ञान, अनुसंधान एवं विकास और मानव संसाधनों का उपयोग किया है। विज्ञान संचालित दृष्टिकोण और सबका प्रयास के साथ, हम कोविड-19 को हरा देंगे।

नेजल वैक्सीन क्या है?
इसमें वैक्सीन की खुराक नाक के माध्यम से दी जाती है, न कि मौखिक रूप से या हाथ के माध्यम से। वैक्सीन को या तो एक विशिष्ट नाक स्प्रे के जरिए या एरोसोल डिलीवरी के माध्यम से इंजेक्ट किया जाता है।

पिछले महीने पूरा किया परीक्षण...
भारत बायोटेक ने पिछले महीने अपने इंट्रानैसल कोविड-19 वैक्सीन के लिए तीसरे चरण और बूस्टर खुराक का परीक्षण पूरा किया था। जिसके बाद भारत बायोटेक ने कहा था कि इंट्रानैसल कोविड वैक्सीन के लिए दो अलग-अलग परीक्षण किए हैं, एक पहली डोज के रूप में और दूसरा बूस्टर खुराक के रूप में।

राज्य में मौजूदा स्थिति के लिए सरकार पर आरोप 

राज्य में मौजूदा स्थिति के लिए सरकार पर आरोप 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। बेंगलुरु में भारी बारिश के कारण भीषण जलभराव देखने को मिल रहा है। हर तरफ सिर्फ पानी ही पानी नजर आ रहा है। इसी बीच कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने मंगलवार को राज्य में मौजूदा स्थिति के लिए पिछली कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया। कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने मंगलवार को कहा कि पिछली कांग्रेस सरकार के ‘अनियोजित’ और ‘कुशासन’ के कारण बेंगलुरु के कई रिहायशी इलाके बाढ़ जैसी स्थिति का सामना कर रहे हैं।

बोम्मई ने यहां अपने आरटी नगर स्थित आवास पर पत्रकारों से कहा कि पिछली सरकार ने लापरवाही से टैंक, टैंक बांध और बफर जोन में मकान, अपार्टमेंट बनाने की अनुमति दी थी। उन्होंने कहा कि वर्तमान स्थिति के लिए पूरी तरह से कांग्रेस जिम्मेदार है।मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली कांग्रेस सरकार ने टैंकों के प्रबंधन के बारे में कभी नहीं सोचा था। उन्होंने कहा कि पर मौजूदा सरकार ने इसे एक चुनौती के रूप में लिया और बेहद जरूरी राजाकालुवे के निर्माण के लिए 1,500 करोड़ रुपये जारी किए। उन्होंने कहा कि सोमवार को शहर में 300 करोड़ रुपये के अतिक्रमण हटा दिए गए क्योंकि इसके अधिकांश इलाके जलमग्न हैं या जलभराव की स्थिति में हैं।

सीएम बोम्मई ने कहा कि निर्देश दिए गए हैं कि राजकालुवे की निर्माण गुणवत्ता अच्छी होनी चाहिए। यह सुनिश्चित करने के लिए एक प्रणाली बनाई जाएगी कि पानी के मुक्त प्रवाह के लिए कोई समस्या न हो। साथ ही, किसी भी सूरत में अतिक्रमण की अनुमति नहीं दी जाएगी। गौरतलब है कि भारी बारिश के कारण बेंगलुरु के कई रिहाइशी इलाके जलमग्न होकर बाढ़ जैसी स्थिति में हैं। कई इलाकों में अतिक्रमण के कारण जलभराव की स्थिति है।

फोगाट की हत्या, 2 आरोपियों की हिरासत 2 दिन बढ़ाई 

फोगाट की हत्या, 2 आरोपियों की हिरासत 2 दिन बढ़ाई 

इकबाल अंसारी 

पणजी। गोवा की एक अदालत ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेता सोनाली फोगाट की कथित हत्या के सिलसिले में गिरफ्तार दो आरोपियों की पुलिस हिरासत दो दिन बढ़ा दी। मापुसा में न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी ने फोगाट के सहयोगी रहे सुधीर सांगवान और सुखविंदर सिंह की पुलिस हिरासत दो दिन बढ़ा दी। दोनों को अगस्त के अंतिम सप्ताह में गिरफ्तार किया गया था और 10 दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। उनकी हिरासत मंगलवार को समाप्त हो गई, जिसके बाद उन्हें एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया। फोगाट (43) को 23 अगस्त को उत्तर गोवा के एक अस्पताल में मृत लाया गया था।

वह एक दिन पहले ही यहां पहुंची थीं। गोवा पुलिस ने पहले सांगवान और सिंह को गिरफ्तार किया था जो फोगाट के साथ ही गोवा दौरे पर आये थे। बाद में उत्तर गोवा स्थित कर्लीज रेस्तरां के मालिक एडविन न्यून्स को गिरफ्तार किया गया जहां भाजपा नेता और उनके सहयोगियों ने 22 और 23 अगस्त की दरमियानी रात को पार्टी की थी। मामले में कथित रूप से मादक पदार्थों की आपूर्ति के लिए दत्ताप्रसाद गांवकर और रमाकांत मांडरेकर को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने पहले बताया था कि फोगाट को मेथामफेटामाइन नामक मादक द्रव्य दिया गया था और रेस्तरां के वाशरूम से कुछ बचा हुआ मादक पदार्थ मिला था।

समझौतों पर हस्ताक्षर, हसीना ने मोदी से मुलाकात की

समझौतों पर हस्ताक्षर, हसीना ने मोदी से मुलाकात की

अकांशु उपाध्याय/अखिलेश पांडेय 

नई दिल्ली/ढाका। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भारत चार दिवसीय दौरे पर आईं हैं। उन्होंने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली में स्थित हैदराबाद हाउस में मुलाकात की। दोनों की मुलाकात के दौरान कई मुद्दों पर चर्चा हुई। इस दौरान कई महत्वपूर्ण समझौते भी हुए। इसके अलावा वाटर मैनेजमेंट, रेलवे, साइंस और टेक्नोलॉजी से जुड़े क्षेत्र में भी कई समझौते किए गए।

महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर...

दोनों देशों ने IT, अंतरिक्ष और परमाणु ऊर्जा जैसे सेक्टर्स में सहयोग बढ़ाने का निश्चय किया। इस दौरान कुशियारा नदी से जल बंटवारे पर एक महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। पीएम मोदी ने भारत और बांग्लादेश के फ्यूचर विजन पर अपनी राय दी।प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारा द्विपक्षीय व्यापार तेजी से बढ़ रहा है। बांग्लादेश के निर्यात के लिए भारत एशिया में सबसे बड़ा मार्केट है। हम जलवायु परिवर्तन और सुंदरवन जैसी साझा धरोंहरों को संरक्षित रखने पर बात करेंगे।

उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष हमने बांग्लादेश की स्वतंत्रता की 50वीं वर्षगांठ, हमारे डिप्लोमैटिक संबंधों की स्वर्ण जयंती, शेख मुजीबुर्रहमान की जन्म शताब्दी एक साथ मनाई थी। मुझे विश्वास है कि अगले 25 साल के अमृत काल में बार-बांग्लादेश की मित्रता नई ऊंचाईयां छुएगी।प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि शेख हसीनाजी की यात्रा हमारी आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान हो रही है। और मुझे पूरा विश्वास है कि अगले 25 सालों के अमृत काल में भारत-बांग्लोदश मित्रता नई ऊंचाइयां छूएगी’ आज बांग्लादेश भारत का सबसे बड़ा डेवलपमेंट पार्टनर और क्षेत्र में हमारा सबसे बड़ा ट्रेड पार्टनर है। हमारे घनिष्ठ सांस्कृतिक और पीपल टू पीपल संबंधों में भी निरंतर वृद्धि हुई है।

मोदी ने कहा कि हमने IT, अंतरिक्ष और परमाणु ऊर्जा जैसे सेक्टर्स में भी सहयोग बढ़ाने का निश्चय किया, जो हमारी युवा पीढ़ियों के लिए रूचि रखते हैं। आज हमने कुशियारा नदी से जल बंटवारे पर एक महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इससे भारत में दक्षिणी असम और बांग्लादेश में सिलहट क्षेत्र को लाभ होगा।ऐसी 54 नदियां हैं, जो भारत-बांग्लादेश सीमा से गुजरती हैं, और सदियों से दोनों देशों के लोगों की आजीविका से जुड़ी रही हैं। ये नदियां, इनके बारे में लोक-कहानियां, लोक-गीत, हमारी साझा सांस्कृतिक विरासत के भी साक्षी रहे हैं। आज हमने आतंकवाद और कट्टरवाद के खिलाफ सहयोग पर भी जोर दिया। 1971 की स्प्रिट को जीवंत रखने के लिए भी यह बहुत आवश्यक है कि हम ऐसी शक्तियों का मिल कर मुकाबला करें, जो हमारे आपसी विश्वास पर आघात करना चाहती हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-333, (वर्ष-05)

2. बुधवार, सितंबर 7, 2022

3. शक-1944, भाद्रपद, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:56। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 28 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...