शुक्रवार, 4 अगस्त 2023

दूसरे निशुल्क नेत्र जांच, कैंप का आयोजन किया

दूसरे निशुल्क नेत्र जांच, कैंप का आयोजन किया
अश्वनी उपाध्याय  
गाजियाबाद। बरसात के मौसम में तरह-तरह की बीमारियां फैलती है। इस बार मौसम परिवर्तन के कारण 'आई फ्लू' नामक रोग से देश की जनता पीड़ित हैं। यह आंखों से संबंधित एक संक्रमित बीमारी है, जिसके कारण यह बड़ी तेजी से फैलती है। हालांकि अभी तक इससे किसी की आंखों की रोशनी गई हो ऐसी कोई सूचना नहीं आई है। 
इस समस्या को ध्यान में रखते हुए 'यूनिवर्सल एक्सप्रेस' हिंदी दैनिक एवं 'दृष्टि' विजन केयर सेंटर के संयुक्त समायोजन के द्वारा शुक्रवार को नगर पालिका स्थित वार्ड नंबर 27, सरस्वती विहार नाईपुरा में बंगाली क्लीनिक विकास ठाकुर के सहयोग से निशुल्क नेत्र जांच कैंप का आयोजन किया गया। समाचार पत्र एवं चिकित्सकों की टीम के द्वारा विकास ठाकुर को सहयोग हेतु पत्र प्रेषित कर सम्मानित किया गया। चिकित्सकों की टीम में डा. जसदीप कौर, महिपाल सिंह रावत, अर्पित शर्मा, डॉ मौ. शाहजेब अली, उमेश कुमार, मनीष पाल, सुनील रावत आदि के द्वारा संतोषजनक तरीके से आंगुतकों का नेत्र चिकित्सा परीक्षण किया गया। राधेश्याम उपाध्याय संपादक, बृजेश कुमार, अकाशुं उपाध्याय, पीयूष गौतम, रामशंकर जादौन, आसिफ, अश्वनी उपाध्याय आदि गणमान्य उपस्थित रहे। स्थानीय लोगों के द्वारा अपनी आंखों की जांच कराई गई और लोगों ने इस कार्यक्रम की भूरी भूरी प्रशंसा भी की। नगर की जनता के स्वास्थ्य हित को ध्यान में रखते हुए यह कार्यक्रम निरंतर जारी रहेगा। जिससे असहाय लोग अधिक से अधिक लाभ उठा सकें।

नोंचते रहे पांचों वहशी, एनकाउंटर में 1 घायल

नोंचते रहे पांचों वहशी, एनकाउंटर में 1 घायल
हरिओम उपाध्याय
गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। रेलवे स्टेशन से ऑटो से घर जा रही एक महिला को पांच युवकों ने अगवा कर गैंगरेप किया। सूचना पर पहुंची पुलिस आरोपियों की धरपकड़ में जुट गई। इस दौरान मुठभेड़ में एक अभियुक्त घायल हो गया।
गीडा थाना क्षेत्र के नौसढ़ स्थित अमरूतानी में एक महिला के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि महिला गुरुवार तड़के 3:30 से 4:00 बजे के बीच में स्टेशन से ऑटो से अपने घर जा रही थी। इस दौरान पांच युवकों ने ऑटो रोका और महिला को जबरन अगवा कर पास ही स्थित अमरूद के बाग में ले गए। जहां पांचों ने महिला के साथ गैंगरेप किया। महिला के बेहोश होने पर उसे वही छोड़कर फरार हो गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को घटनास्थल से अचेत अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसका इलाज चल रहा है।
पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए मुख्य अभियुक्त और उसके साथियों को गिरफ्तार करने के लिए दबिश दी। इस दौरान अभियुक्त की तरफ से पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी गई। पुलिस की जवाबी फायरिंग में मुख्य अभियुक्त घायल हो गया, जिसे मेडिकल कॉलेज लाया गया है। 4 अन्य आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। पता चला है कि आरोपियों ने गैंगरेप का वीडियो बनाने के साथ सेल्फी भी ली थी।

पति ने पत्नी व प्रेमी की बेरहमी से हत्या की

पति ने पत्नी व प्रेमी की बेरहमी से हत्या की   
दुष्यंत टीकम   
ग्वालियर। सेमरी गांव में 3 अगस्त को एक पति ने अपनी पत्नी और उसके प्रेमी की बेरहमी से हत्या कर दी। सेमरी निवासी मुरारीलाल बघेल ने पत्नी महादेवी बघेल और इकहरा गांव के रहने वाले उसके प्रेमी धर्मेंद्र जाट को दौड़ा-दौड़ा कर मार डाला।
घटना की खबर लगते ही एसपी मौके पर पहुंचे और दोनों के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भिजवाया। पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पीएम के लिए अस्पताल भिजवाया वहीं पुलिस ने घटना के बाद पति मुरारीलाल को हिरासत में ले लिया है वहीं इस घटना को अंजाम देने वाले अन्य लोगों की भी तलाश की जा रही है।
गौरतलब है कि, सेमरी गांव में रहने वाले मुरारी लाल बघेल की पत्नी महादेवी ने कुछ महीनों पहले पति के बड़े भाई यानी जेठ रामेश्वर बघेल पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज कराया था। इसी मामले में 3 अगस्त को राजीनामे के लिए सिमरी गांव में पंचायत होनी थी। इस पंचायत के पहले ही महादेवी का धर्मेंद्र जाट भी पहुंच गया। यहां वह महादेवी से खेत पर बात कर रहा था। इस बात की जानकारी लगते ही मुरारी और रामेश्वर सहित परिवार के लोग नाराज हो गए।
कुल्हाड़ी-बंदूक से किया हमला
इसके बाद विवाद गहरा गया। विवाद इतना बढ़ गया कि मुरारी और उसके भाई सहित अन्य लोगों ने महादेवी और उसके प्रेमी धर्मेंद्र जाट पर हमला कर दिया। दोनों ने बचने के लिए भागने की कोशिश की। लेकिन पति मुरारी और लोगों ने मिलकर उन्हें दौड़ा-दौड़ा कर कुल्हाड़ी से मारा। धर्मेंद्र की कनपटी पर गोली भी मारी गई।
पुलिस ने पति को हिरासत में लिया
घटना की खबर लगते ही गिर जोड़ थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने आरोपी पति मुरारीलाल बघेल को हिरासत में ले लिया। घटना की गंभीरता को देखते हुए ग्वालियर से एसपी राजेश सिंह चंदेल भी घटनास्थल पर पहुंचे। दूसरी ओर, फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम भी जांच के लिए सेमरी गांव पहुंच गई। पुलिस सूत्रों ने बताया कि धर्मेंद्र के महादेवी से प्रेम संबंध थे। इसको लेकर महादेवी के पति मुरारीलाल सहित पूरा परिवार नाराज था। बताया जाता है कि इस मामले में परिवार ने प्रेमी धर्मेंद्र जाट और महादेवी को समझाइश भी दी थी, लेकिन दोनों माने नहीं।

एससी ने सर्वेक्षण में दखल देने से इंकार किया

एससी ने सर्वेक्षण में दखल देने से इंकार किया 
अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। ज्ञानवापी का एएसआई सर्वे रोका नहीं जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष की ओर से दाखिल की गई याचिका पर कहा है कि सर्वे को जारी रहने दिया जाए। सुप्रीम कोर्ट ने सवाल किया है कि आखिर हम हाईकोर्ट की ओर से दिए गए आदेश में अपना दखल क्यों दें। शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष की याचिका पर सुनवाई करते हुए वाराणसी की ज्ञानवापी के एएसआई सर्वे में किसी तरह का दखल देने से इनकार कर दिया है।  
मुस्लिम पक्ष की ओर से दाखिल की गई याचिका पर सुनवाई कर रही कोर्ट ने कहा है कि सर्वे को जारी रहने दिया जाए। उल्टे सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष से सवाल किया कि आखिर एएसआई के सर्वे पर आपको ऐतराज क्यों है? जबकि सर्वे से मुस्लिम पक्ष को कोई नुकसान नहीं होने जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि आखिर हम हाईकोर्ट के आदेश में अपना दखल क्यों दें?  
उधर इलाहाबाद हाईकोर्ट की ओर से बृहस्पतिवार को दिए गए आदेशों के बाद एएसआई की टीम द्वारा आज शुक्रवार को ज्ञानवापी में सर्वे का काम शुरू कर दिया गया था। जिसे दोपहर 12:00 बजे नमाज के लिए रोका गया था। अपराहन 3:00 बजे से ज्ञानवापी का ए एस आई सर्वे फिर से शुरू हो गया है। इस बार पिछली मर्तबा की तुलना में एएसआई की टीम में 40 सदस्य ज्यादा है। यानी इस बार 61 सदस्यीय टीम ज्ञानवापी का सर्वे कर रही है।

दूल्हा अपनी दुल्हन से बोला, मेरी मां मुझे बक्स

दूल्हा अपनी दुल्हन से बोला, मेरी मां मुझे बक्स   
संदीप मिश्रा  
झांसी। शादी के बाद लाल जोड़ा पहनकर ससुराल पहुंची दुल्हन ने जब पति के सामने बहुत सारी शर्ते रख दी तो उन्हें सुनकर वह और उसके परिजन चकरघिन्नी बन गए। लाख समझाने के बावजूद जब दुल्हन अपनी शर्तों में ढील को तैयार नहीं हुई तो पति पत्नी का 3 घंटे तक चला रिश्ता एक ही झटके में टूट गया। दरअसल झांसी के शाहजहांपुर के रहने वाले 35 साल के कौशल राजपूत की 2 अगस्त को महाराष्ट्र की रहने वाली लड़की के साथ शादी हुई थी। महाराष्ट्र में रहकर एक फैक्ट्री में काम करने वाले जैगुआर के निवासी दोस्त ने अपने मामा से कौशल राजपूत की शादी के लिए बात की थी।
उस फैक्ट्री में एक महिला भी काम करती थी जो बातचीत किये जाने पर अपनी बेटी की शादी कौशल राजपूत के साथ करने को तैयार हो गई। दोनों पक्षों की रजामंदी के बाद 2 अगस्त की तिथि शादी के लिए फाइनल की गई। 1 अगस्त को दुल्हन की मां अपनी बेटी, बहन, भाई और चाचा के साथ शाहजहांपुर पहुंची। इस दौरान कौशल के रिश्तेदार भी जमा हो गए। शाहजहांपुर के ज्योतिपुर माता मंदिर में 2 अगस्त को दोनों की शादी धूमधाम के साथ संपन्न हुई। 
 ससुराल पहुंची दुल्हन के परिजनों को 3 अगस्त को वापस महाराष्ट्र लौटना था, जब दुल्हन की मां और उसके परिजन कार में सवार होकर महाराष्ट्र के लिए रवाना होने लगे तो अचानक ससुराल में कमरे से बाहर निकलकर आई दुल्हन ने पति के साथ रहने से इंकार कर दिया। काफी मनाने के बाद वह एक शर्त पर ससुराल में रुकने को राजी हुई कि उसकी मां ससुराल में उसके साथ रहेगी और वह घर पर खाना बनाने के बजाय होटल से आया खाना ही खाएगी। ससुराल वालों ने नई नवेली दुल्हन को की इन अजीबोगरीब शर्तों को मानने से इंकार कर दिया। बाद में कपड़े खरीदने के बहाने बाजार गई दुल्हन अपनी मां के साथ जाने की जिद पर अड़ गई। विवाद बढ़ने तक मामला थाने पहुंचा। जहां दुल्हन अपनी जिद पर अड़ी रही। घंटों तक चली जद्दोजहद के बाद दोनों पक्षों ने एक दूसरे से रिश्ते को तोड़ दिया है।

बिन ब्याही मां से युवक की शादी, पंचायती फरमान

बिन ब्याही मां से युवक की शादी, पंचायती फरमान   
सत्येंद्र पंवार  
मेरठ। अवैध संबंधों के चलते अपनी प्रेमिका को प्रेग्नेंट कर प्रसव पीड़ा के बाद उसे बिन ब्याही मां बनाने वाले युवक को अब उसी के साथ शादी करनी होगी। यदि युवक ने बिन ब्याही मां के साथ शादी नहीं की तो समाज में उसका और परिजनों का हुक्का पानी बंद कर दिया जाएगा। पंचायत के इस फैसले के बाद युवक और उसके परिजनों ने बिन ब्याही मां के साथ शादी करने की हामी भरी है। एक महीने बाद अब दोनों का निकाह कराया जाएगा।  
दरअसल मेट्रो सिटी मेरठ की एक कॉलोनी में रहने वाली युवती का रेलवे रोड थाना क्षेत्र में रहने वाले पड़ोसी युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। शादी का झांसा देते हुए युवक ने अपनी प्रेमिका के साथ शारीरिक संबंध बना लिए। परिजनों की ओर से जब युवती की शादी किए जाने की बात चलाई गई तो लड़की ने खुद के गर्भवती होने की जानकारी दी। इस बात का पता चलते ही युवक के घर पहुंचे युवती के परिजनों ने जमकर हंगामा किया। इस मामले को लेकर जब पंचायत बैठी तो दोनों पक्षों ने शादी के लिए अपनी सहमति जता दी। इस बीच मंगलवार को युवती ने दिल्ली रोड स्थित एक निजी अस्पताल में बेटी को जन्म दिया तो युवक एवं उसके परिजनों ने बिन ब्याही मां के साथ शादी से इंकार कर दिया। इस मामले को लेकर दोनों पक्षों के बीच जमकर कहासुनी हुई और मारपीट हो गई। मामला रेलवे रोड थाने तक पहुंच गया। इसी बीच सक्रिय हुए दोनों पक्षों की ओर से दोबारा पंचायत बुलाई गई, जिसमें फैसला हुआ कि 1 महीने बाद युवक बिन ब्याही मां के साथ शादी करेगा। यदि उसने एक महीने बाद बिन ब्याही मां के साथ शादी नहीं की तो उसका एवं परिजनों का हुक्का पानी बंद कर दिया जाएगा और उन्हें बस्ती छोड़कर भी जाना पड़ेगा।

महिला ने 46 साल छोटे लड़के से ब्याह रचाया

महिला ने 46 साल छोटे लड़के से ब्याह रचाया 
सरस्वती उपाध्याय 
प्यार अंधा होता है, क्योंकि प्यार में इंसान जाति, धर्म, समुदाय, उम्र, रंग भी नहीं देखता। पर क्या वो इतना अंधा होता है कि अपने पोते की उम्र के लड़के से किसी को प्यार हो जाए! कुछ दिनों पहले एक ब्रिटिश महिला काफी चर्चा में रही थी क्योंकि उसने अपने से 46 साल छोटे लड़के से शादी कर ली थी। दोनों को देखकर लोग उन्हें दादी और पोता समझ लेते थे। दोनों ने एक खास कारण से शादी की थी पर अब उनका तलाक हो चुका है और महिला ने अब एक बिल्ली को अपने सुख-दुख का साथी बना लिया है।
रिपोर्ट के अनुसार 83 साल की आयरिस जोन्स ब्रिटेन की रहने वाली हैं। साल 2019 में फेसबुक के जरिए उनकी मुलाकात मिस्र के रहने वाले मोहम्मद इब्राहिम से हुई थी। उस वक्त आयरिस 79 साल की थी जबकि मोहम्मद 33 साल का था। दोनों ने एक दूसरे से बातें करना शुरू किया और उन्हें एक दूसरे का स्वभाव अच्छा लगने लगा। बस उसके अगले ही साल उन्होंने शादी कर ली। इस प्रकार मोहम्मद को ब्रिटेन आने का वीजा भी मिल गया।
आयरिस ने बात करते हुए कहा कि शुरुआत में सब कुछ अच्छा था। उनकी निजी जिंदगी रोमांच से भरी थी। दोनों के बीच काफी रोमांस था और इसी वजह से आयरिस ने शादी भी की थी। पर एक वक्त ऐसा आया कि दोनों के बीच झगड़े होने लगे। लड़ाई इतनी ज्यादा बढ़ गई कि उन्होंने पति से तलाक लेने का फैसला कर लिया। अब 37 साल के मोहम्मद, आयरिस से अलग हो चुके हैं।
आयरिस अब एक बिल्ली के साथ रहती है जिसका नाम मिस्टर टिब्स है। फेसबुक पर आयरिस अक्सर बिल्ली से जुड़ी फोटोज को पोस्ट करती रहती हैं। इसी बिल्ली के जरिए वो अपने पूर्व पति पर व्यंग भी करती हैं।

मणिपुर हिंसा के विरुद्ध ईसाई समुदाय का विरोध

मणिपुर हिंसा के विरुद्ध ईसाई समुदाय का विरोध  
अखिलेश पांडेय   
इंफाल। संपूर्ण ईसाई समुदाय इस बात पर अपना विरोध प्रकट कर रहा है कि मणिपुर में 3 महीने से अधिक समय से यह मामला चल रहा है। और आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं जो पूरी मानव जाति के लिए शर्म की बात है। भारत एक सर्वधर्म देश है। जहां सभी धर्मों के लोग एक-दूसरे के साथ प्रेम भाव से रहते हैं, लेकिन कुछ शरारती तत्व शरारती चालों के शिकार होकर समय-समय पर आपसी भाईचारे को खत्म कर देश को बांटने में लगे रहते हैं। सबसे ज्यादा जुल्मों का शिकार ईसाई कौम पर चर्चों पर होता रहा है जिसके कारण चल रही सभाओं को भी बंद कर दिया जाता है। पादरी सहिबानों को सरेआम से पीटा जाता है और उनकी हत्या कर दी जाती है और यह शर्म की बात है कि इन घटनाओं के अधिकांश अपराधियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता है।

सर्वे: पंजाब में 6.97 लाख लोग नशे के आदी

सर्वे: पंजाब में 6.97 लाख लोग नशे के आदी
अमित शर्मा    
चंडीगढ़। सामाजिक न्याय और अधिकारिता पर संसद की स्थायी समिति ने लोकसभा में 'युवाओं में लत: समस्याएं और समाधान' पर अपनी रिपोर्ट पेश की है, जिसमें बताया गया है कि पंजाब में 66 लाख नशे के आदी हैं। रिपोर्ट के मुताबिक भारत में युवाओं और बच्चों में नशे की लत तेजी से फैल रही है। 10 से 17 साल के युवा नशीली दवाओं का सेवन कर रहे हैं और पंजाब, हरियाणा, आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, गुजरात, महाराष्ट्र, दिल्ली, ओडिशा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल सबसे अधिक प्रभावित राज्य हैं। इन राज्यों में 18 से 75 साल की उम्र के लोग बड़े पैमाने पर नशीली दवाओं का सेवन कर रहे हैं।
रिपोर्ट के मुताबिक, पंजाब में 10 से 17 साल की उम्र के 6.97 लाख लोग नशे के आदी हैं। उनमें से 18100 कोकीन का सेवन करते हैं। 3.43 लाख बच्चे हेरोइन और अन्य नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं। 72000 बच्चे सूंघ कर इस्तेमाल किए जाने वाले नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं। 10432000 बच्चे विभिन्न-विभिन्न नशीली दवाओं का सेवन करते हैं। कमेटी ने स्कूल-कॉलेजों में जाकर अपना सर्वे किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे ज्यादा युवा तंबाकू का सेवन करते हैं और उसके बाद शराब का सेवन करते हैं। पंजाब में कुल 66 लाख 70 हजार नशे के आदी हैं, जिनमें से 21.36 लाख अलग-अलग तरह के नशे का सेवन करते हैं। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उड़ीसा, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में नशे की लत वालों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है।

ड्रोन के जरिए सेंधमारी, हेरोइन बरामद: नापाक

ड्रोन के जरिए सेंधमारी, हेरोइन बरामद: नापाक   
सुनील श्रीवास्तव   
श्रीगंगानगर। श्रीगंगानगर से लगे भारत-पाक बॉर्डर पर बीएसएफ के जवानों ने कुल ‌10.85 किलो हेरोइन बरामद की है। हेरोइन की कीमत अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में करीब 53 करोड़ रुपए बताई गई है।
बीएसएफ के अधिकारियों के अनुसार देर रात श्रीगंगानगर से लगी भारत-पाक अन्तर्राष्ट्रीय सीमा के अंदर एक ड्रोन घुस आया। बीएसएफ के जवानों ने ड्रोन को निशाना बनाकर फायरिंग शुरू कर दी। लेकिन, इससे पहले ही ड्रोन वापस पाकिस्तानी क्षेत्र में घुस गया। ऐसे में सेना के जवानों आसपास के इलाकों में सर्च ऑपरेशन शुरू किया।
उन्होंने बताया कि रातभर चले सर्च ऑपरेशन के दौरान सेना के जवानों ने पीली टेप से लिपटे हेरोइन के 3 पैकेट्स बरामद किए। शुक्रवार तड़के एक पैकेट्स ओर मिला। चारों पैकेट्स से कुल ‌10.85 किलोग्राम हेरोइन बरामद की। जिसकी अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब 53 करोड़ रुपए आंकी गई है।

दिल्ली: 29 व्यावसायिक प्रतिष्ठान 24 घंटे खुलेंगे

दिल्ली: 29 व्यावसायिक प्रतिष्ठान 24 घंटे खुलेंगे   
इकबाल अंसारी  
नई दिल्ली। दिल्ली में 29 और दुकानों एवं व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को 24 घंटे खोलने की अनुमति दे दी गई है। श्रम मंत्रालय की ओर से मिले इस प्रस्ताव को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंजूरी दे दी। अब इसे उपराज्यपाल को भेज दिया गया है। सरकार का मानना है कि इससे दिल्ली की अर्थव्यवस्था बढ़ेगी और रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। जिन 29 प्रतिष्ठानों को यह मंजूरी दी गई, उनमें दुकान, रेस्टोरेंट, रिटेल ट्रेड और अन्य व्यापार शामिल हैं।
दरअसल, दिल्ली शॉप एंड इस्टेब्लिशमेंट्स एक्ट 1954 के तहत दिल्ली के श्रम मंत्रालय के पास 24 घंटे दुकानों का संचालन करने के इच्छुक 35 लोगों ने ऑनलाइन आवेदन किया था। श्रम मंत्रालय ने आवेदन पत्रों और दस्तावेजों की जांच की। इसमें पाया गया कि 35 आवेदनों में से तीन आवेदन अधूरे थे, जबकि तीन आवेदन दो बार किए गए थे। उन्हें खारिज करते हुए बाकी 29 लोगों के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई। दिल्ली में बीते दो साल में 552 दुकानों को अनुमति दी जा चुकी है।
दिल्ली सरकार ने प्रमुख रूप से चार श्रेणी की दुकानों और व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को 24 घंटे खोलने की मंजूरी दी है। शाप श्रेणी में कम्यूनिटी सेंटर, कड़कड़डूमा, ओल्ड राजेंद्र नगर, आउटर रिंग रोड, चाणक्यपुरी, डिस्ट्रिक्ट सेंटर लक्ष्मी नगर, एंबिएंस माल, वसंत कुंज, शकरपुर, रानीबाग,मेट्रो स्टेशन, सरिता विहार, मेन मार्केट राजौर गार्डेन, लक्ष्मी नगर कमर्शियल काम्प्लेक्स, टर्मिनल तीन और खान मार्केट में पैकर्स एंड मूवर्स, रेडिमेट गारमेंट, प्रोविजन स्टोर, डेयरी प्रोडक्ट की दुकानें 24 घंटे खुलेंगी।
कमर्शियल श्रेणी में डिप्लोमेटिक एन्क्लेव, उत्तम नगर आइजीआइ एयरपोर्ट पर होटल एवं रेस्तरां लाजिस्टिक्स एवं वेयर हाउस के प्रतिष्ठान खुलेंगे। रेस्तरां श्रेणी में उत्तम नगर, पश्चिम विहार और उर्दू बाजार, जामा मस्जिद में खाद्य उत्पादों की दुकान खुलेंगी। इसी तरह, रिटेल ट्रेड श्रेणी में द्वारका, प्रशांत विहार, विकासपुरी, पंजाबी बाग, कोटला मुबारकपुर, हौज खास और द्वारका सेक्टर 19 में एफएमसीजी ग्रासरी की दुकान खुलेगी।

राहुल की सजा पर रोक, बहाल होगी सदस्यता

राहुल की सजा पर रोक, बहाल होगी सदस्यता 
अकाशुं उपाध्याय 
नई दिल्ली। मोदी सरनेम वाले केस में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने इस मामले में उनकी सजा पर रोक लगा दी है। सुप्रीम कोर्ट से राहत मिलने के बाद अब राहुल मणिपुर, अविश्वास प्रस्ताव सहित अन्य मुद्दों को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला कर सकेंगे। अब राहुल संसद के सत्र में हिस्सा ले सकेंगे।
मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने कहा, ‘हम यह जानना चाहते हैं कि अधिकतम सजा ही क्यों दी गई। यदि जज ने 1 साल और 11 महीने की भी सजा दी होती तो वह अयोग्य घोषित न होते।’ इस पर शिकायतकर्ता पूर्णेश मोदी के वकील ने कहा कि ऐसी सजा शायद इसलिए दी गई क्योंकि राहुल गांधी को पहले ही हिदायत दी गई थी, लेकिन उनके बर्ताव में कोई बदलाव नहीं आया था।
इसलिए मिली राहत
सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को राहत देते हुए कहा कि ट्रायल कोर्ट के आदेश के प्रभाव व्यापक हैं। इससे न केवल राहुल गांधी का सार्वजनिक जीवन में बने रहने का अधिकार प्रभावित हुआ, बल्कि उन्हें चुनने वाले मतदाताओं का अधिकार भी प्रभावित हुआ। सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि निचली अदालत के न्यायाधीश द्वारा अधिकतम सजा देने का कोई कारण नहीं बताया गया है, अंतिम फैसला आने तक दोषसिद्धि के आदेश पर रोक लगाने की जरूरत है।
जस्टिस बी आर गवई, जस्टिस पी एस नरसिम्हा और जस्टिस संजय कुमार की बेंच ने मामले की सुनवाई की। सुनवाई शुरू होने से पहले सुप्रीम कोर्ट ने कहा सभी पक्षकारों को जिरह के लिए 15 मिनट दिया गया। राहुल गांधी के वकील अभिषेक मनु सिंधवी ने पहले जिरह शुरू किया था। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी का बचाव करते हुए कहा कि शिकायतकर्ता का सरनेम खुद मोदी नहीं है। पहले उनका सरनेम मोध था। वहीं जस्टिस गवई ने अभिषेक मनु सिंघवी से कहा कि दोषसिद्धि पर रोक लगाने के लिए आपको साबित करना होगा कि यह एक्ससेप्शनल केस है।
सुप्रीम कोर्ट ने क्या-क्या कहा
सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले पर टिप्पणी करते हुए इसे दिलचस्प बताते हुए कहा कि फैसले में बताया गया है कि एक सांसद को कैसा बर्ताव करना चाहिए। वहीं शिकायतकर्ता पूर्णेश मोदी का पक्ष रखते हुए अधिवक्ता महेश जेठमलानी ने कहा कि राहुल गांधी ने पहले भी इस तरह का बयान दिया था। जिसमें राफेल मामले को लेकर उन्होंने कहा था कि चौकीदार चोर है। इसके अलावा महेश जेठमलानी ने कहा कि राहुल कहते हैं कि वह माफी नहीं मांगते। इसका मतलब है कि आप जो चाहते हैं वह करें।

पीएम ने संभव मदद का आश्वासन दिया: आशा

पीएम ने संभव मदद का आश्वासन दिया: आशा   
पंकज कपूर  
शिमला। मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने शुक्रवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंट की। मुख्यमंत्री ने हाल ही में राज्य में भारी बारिश एवं बाढ़ से हुई भारी क्षति के बारे में प्रधानमंत्री को अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि राज्य में भारी बारिश से सड़कों और पुलों के बह जाने, जलापूर्ति योजनाओं, सिंचाई योजनाओं, विद्युत आपूर्ति लाइनों सहित सार्वजनिक एवं निजी सम्पति का बड़े स्तर पर नुकसान हुआ है।उन्होंने बाढ़ से लारजी परियोजना को हुए नुकसान से भी प्रधानमंत्री को अवगत करवाया। उन्होंने राहत एवं पुनर्वास अभियान में तेजी लाते हुए राज्य में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए केंद्र सरकार से त्वरित वित्तीय सहायता प्रदान करने का भी आग्रह किया।
प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से हिमाचल में बाढ़ से हुई क्षति का आकलन करने के लिए तुरंत एक केंद्रीय दल भेजा गया। उन्होंने कहा कि इस दल द्वारा प्रस्तुत की जाने वाली रिपोर्ट के आधार पर राज्य को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। प्रधानमंत्री ने राज्य को हरसम्भव मदद का भी आश्वासन दिया।

लोकसभा चुनाव, सीमा को पार्टी ने दिया ऑफर

लोकसभा चुनाव, सीमा को पार्टी ने दिया ऑफर
अकाशुं उपाध्याय   
नई दिल्ली। पाकिस्तान से अपने पबजी प्रेमी के लिए चार बच्चों को लेकर भारत पहुंची सीमा हैदर का नाम बच्चे-बच्चे के जुबान पर है। सीमा पर पाकिस्तानी जासूस तक के आरोप लगे, किसी ने प्यार की दीवानी कहा तो किसी ने कुछ… अब खबर आ रही है कि सीमा हैदर 2024 के लोकसभा चुनाव में सांसदी का चुनाव लड़ सकती है। रिपोर्ट है कि सीमा को एनडीए के सहयोगी दल और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया से ऑफर मिला है। यह जानकारी भी सामने आई है कि सीमा हैदर ने यह प्रपोजल स्वीकार कर लिया है। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मासूम किशोर ने जानकारी दी कि सीमा हैदर को पार्टी को तरफ से न्योता मिला है। सीमा हैदर को महिला संगठन का अध्यक्ष बनाया जा सकता है। उनमें बोलने की अच्छी पकड़ है। इसलिए उन्हें पार्टी प्रवक्ता का पद भी दिया जा सकता है।

खाई में गिरी बस, 6 भारतीयों समेत 18 की मौत

खाई में गिरी बस, 6 भारतीयों समेत 18 की मौत
सुनील श्रीवास्तव   
मैक्सिको सिटी।मेक्सिको में गुरुवार देर रात एक बस हाइवे से नीचे खाई में गिर गई। इस हादसे में कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई है। रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, मरने वाले लोगों में 6 भारतीय भी शामिल हैं। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है। उनका कहना है कि बस में सवार ज्यादातर लोग विदेशी नागरिक थे। हादसे का शिकार हुई बस में बैठे कुछ लोग अमेरिकी सीमा की ओर जा रहे थे। दरअसल, अमेरिकी में अवैध रुप से घुसने की कोशिश करने वाले ज्यादातर लोग मेक्सिको के रास्ते ही जाने का विकल्प चुनते हैं। बस अमेरिका की सीमा से लगने वाले शहर तिजुआना जा रही थी। बस में करीब 42 यात्री सवार थे, जिसमें भारत, डॉमिनिकल रिपब्लिक और अफ्रीकी देशों के रहने वाले यात्री भी शामिल थे। ये हादसा मेक्सिको के नयारित राज्य में हुआ है। राज्य सरकार का कहना है कि बस ड्राइवर को हिरासत में ले लिया गया है। अधिकारियों को शक है कि हाइवे पर तीव्र मोड़ की जानकारी होते हुए भी ड्राइवर ने बस को तेजी से मोड़ा, जिसकी वजह से बस पलटकर खाई में गिर गई। घायलों का अस्पताल में चल रहा इलाज अधिकारियों का कहना है कि बस हादसे का शिकार हुए लोगों की पहचान करने के लिए अभी भी काम चल रहा है। राज्य सरकार की मानें तो 20 के करीब घायल लोगों को अस्पताल ले जाया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। घायलों में एक महिला भी शामिल है, जिसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। हादसे का शिकार बनी बस 'एलिट पैसेंजर लाइन' का हिस्सा है। अधिकारियों ने बताया कि ये हादसा नयारित राज्य की राजधानी टेपिक के बाहर एक हाइवे पर हुआ।

बारिश से गौरीकुंड में बाढ़ व भूस्खलन, तबाही

बारिश से गौरीकुंड में बाढ़ व भूस्खलन, तबाही   
श्रीराम मौर्य 
रुद्रप्रयाग। उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में केदारनाथ यात्रा मार्ग पर गौरीकुंड में भारी बारिश के कारण आई बाढ़ और भूस्खलन के बाद एक दर्जन लोग लापता हो गए हैं। अब तक दो शव बरामद किये जा चुके हैं। अन्य की तलाश जारी है। केदारनाथ यात्रा मार्ग पर गौरीकुंड के पास भूस्खलन से तीन दुकानें मंदाकिनी नदी में बह गईं। हादसे में 19 लोगों के मरने की आशंका है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। घटना गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात करीब 12.15 बजे डाट पुलिया पर हुई। रुद्रप्रयाग जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी (डीडीएमओ) नंदन सिंह रजवार ने कहा, ‘गौरीकुंड के पास भूस्खलन के कारण तीन दुकानें नदी में बह जाने से 19 लोग लापता हो गए हैं।’
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ), राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ), पुलिस और जिला प्रशासन के कर्मी बचाव और खोज अभियान चला रहे हैं। रजवार ने कहा कि लापता लोगों के तीर्थयात्री नहीं बल्कि दुकानदार होने की आशंका है। इस बीच, रुद्रप्रयाग जिला प्रशासन ने 18 लोगों की सूची जारी की है जिनके नदी में बहने की आशंका है।
उनकी पहचान आशु (23) निवासी जनाई, प्रियांशु चमोली (18) निवासी तिलवाड़ा, रणबीर सिंह (28) निवासी बस्ती, विनोद (26) निवासी खानवा भरतपुर, मुलायम (26) के रूप में हुई है। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के निवासी और एक नेपाली परिवार के सात सदस्य – अमर बोहरा (29), पत्नी अनीता बोहरा (26), और पांच बच्चे राधिका बोहरा (14), पिंकी बोहरा (8), पृथ्वी (7), कॉम्प्लेक्स (6), वकील (3), वीर बहादुर, सुमित्रा, निशा, धर्मराज, चंद्रकामी और सुखराम रावत के रूप में।
एसडीआरएफ के अधिकारियों ने बताया कि भूस्खलन की सूचना मिलने के बाद उनकी टीम मौके पर पहुंची और बचाव एवं खोज अभियान शुरू किया। लेकिन लगातार बारिश और गिरते पत्थरों के कारण इसे रोकना पड़ा। एसडीआरएफ की मीडिया प्रभारी ललिता नेगी ने कहा, ‘शुक्रवार सुबह, हमने लापता व्यक्तियों की तलाश के लिए अभियान फिर से शुरू किया।’ उन्होंने कहा कि उनकी एक टीम कुंड बैराज पर भी तलाशी अभियान चला रही है, जो घटनास्थल से दो किमी नीचे की ओर है।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी गौरीकुंड हादसे का जायजा लेने देहरादून स्थित आपदा नियंत्रण कक्ष पहुंचे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को गौरीकुंड में चल रहे राहत एवं बचाव कार्यों में तेजी लाने और प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया। उन्होंने राज्य की प्रमुख नदियों के जलस्तर की भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि बाढ़ संभावित इलाकों में अलर्ट जारी किया जाए और वहां रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाए।
धामी ने कहा कि भूस्खलन क्षेत्रों में संवेदनशील क्षेत्रों के आसपास बनी इमारतों और कच्चे घरों में रहने वाले लोगों को भी अन्य स्थानों पर स्थानांतरित किया जाना चाहिए। सीएम ने कहा, ‘गौरीकुंड हादसे में लापता लोगों की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। उसके परिजनों से संपर्क किया जा रहा है। एसडीआरएफ, जिला प्रशासन और अन्य आधिकारिक टीमें मौके पर मौजूद हैं। सरकार, स्थानीय प्रशासन किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। पिछले 24 घंटों में (शुक्रवार सुबह 8.30 बजे आईएमडी द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार), उत्तराखंड में 20.4 मिमी बारिश हुई, जिसमें 46 प्रतिशत की सकारात्मक गिरावट दर्ज की गई। जबकि रुद्रप्रयाग जिले, जहां गौरी कुंड स्थित है, में 23.7 मिमी बारिश हुई।

राजस्थान: 17 नए जिलों के नोटिफिकेशन मंजूर

राजस्थान: 17 नए जिलों के नोटिफिकेशन मंजूर   
नरेश राघानी   
जयपुर। राज्य सरकार ने 17 नए जिलों के नोटिफिकेशन को मंजूरी दे दी है। कैबिनेट की मीटिंग में इन जिलों के नोटिफिकेशन को मंजूरी दी गई है। जबकि बजट में 19 जिलों की घोषणा की गई थी। विरोध के चलते जयपुर और जोधपुर जिले यथावत रहेंगे। प्रदेश में पहले से 33 जिले थे। अब 17 नए जिलों के बाद 50 जिले हो गए हैं। सरकार ने 17 जिलों में आईएएस और आईपीएस अफसरों को ओएसडी लगाया था। अब नए जिलों की अधिसूचना जारी करते ही उनका पद कलेक्टर और एसपी हो जाएगा। नए जिलों मे अब कलेक्टर, एसपी और जिला लेवल के ऑफिस खुलने शुरू होंगे।
राजस्व मंत्री बोले- आगे और नए जिले बनाएंगे
राजस्व मंत्री रामलाल जाट ने कहा- सीएम ने इतिहास बनाया है। मेरी मांग है कि आगे और भी जिले बनें। कुछ छोटे जिले भी बनाए जाएं। लोगों की जिलों की और मांग आ रही है। बीजेपी के लोग भी जिलों की मांग कर रहे हैं। आगे और नए जिले बनाएंगे।
ये हैं नए जिले
जयपुर
इसमें जयपुर नगर निगम हेरिटेज और ग्रेटर में आने वाला पूरा भाग आएगा।
तहसील: जयपुर, कालवाड़, आमेर और सांगानेर।
जयपुर ग्रामीण
इसमें 13 उपखंड और 18 तहसील होंगी।
उपखंड: जयपुर, सांगानेर, आमेर, बस्सी, चाकसू, जमवारामगढ़, चौमूं, सांभर लेक, माधोराजपुरा, रामपुरा डाबड़ी, किशनगढ़, रेनवाल, जोबनेर और शाहपुरा।
तहसील: नगर निगम का इलाका छोड़कर जयपुर, कालवाड़, सांगानेर और आमेर तहसील का हिस्सा भी ग्रामीण में आएगा। इसके अलावा जालसू, बस्सी, तूंगा, चाकसू, कोटखावदा, जमवारामगढ़, आंधी, चौमूं, फुलेरा, माधोराजपुरा, रामपुरा डाबड़ी, किशनगढ़, रेनवाल, जोबनेर और शाहपुरा तहसील में शामिल होंगी।
जोधपुर
इसमें जोधपुर तहसील का नगर निगम जोधपुर के तहत आने वाला पूरा भाग होगा।
जोधपुर ग्रामीण
इसमें 10 उपखंड और 15 तहसील होंगी।
उपखंड: जोधपुर उत्तर, जोधपुर दक्षिण, लूणी, बिलाड़ा, भोपालगढ़, पीपाड़ सिटी, ओसियां, बावड़ी, शेरगढ़ और बालेसर।
तहसील: नगर निगम के क्षेत्र को छोड़कर जोधपुर उत्तर और दक्षिण तहसील का हिस्सा होंगे। कुड़ी, भगतासनी, लूणी, झवर, बिलाड़ा, भोपालगढ़, पीपाड़ सिटी, ओसियां, तिंवरी, बावड़ी, शेरगढ़, बालेसर, शेखला और चामू।
बालोतरा
इसमें 4 उपखंड और 7 तहसील होंगी।
उपखंड: बालोतरा, सिवाना, बायतु और सिणधरी।
तहसील: पचपदरा, कल्याणपुर, सिवाना, समदड़ी, बायतु, गिड़ा और सिणधरी
डीग
इसमें 6 उपखंड और 9 तहसील होंगी।
उपखंड: डीग, कुम्हेर, नगर, सीकरी, कामां और पहाड़ी।
तहसील: डीग, जनूथर, कुम्हेर, रारह, नगर, सीकरी, कामां, जुरहरा और पहाड़ी।
डीडवाना कुचामन
इसमें 6 उपखंड और 8 तहसील होंगी।
उपखंड: डीडवाना, लाडनूं, परबतसर, मकराना, नागौर और कुचामन सिटी।
तहसील: डीडवाना, मौलासर, छोटी खाटू, लाडनूं, परबतसर, मकराना, नावां और कुचामन सिटी।
दूदू
इसमें 3 उपखंड और 3 तहसील होंगी।
उपखंड: मोजमाबाद, दूदू और फागी।
तहसील: मोजमाबाद, दूदू और फागी।
गंगापुर सिटी
5 उपखंड और 7 तहसील होंगी।
उपखंड: गंगापुर सिटी, वजीरपुर, बामनवास, टोडाभीम और नादौती।
तहसील: गंगापुर सिटी, तलवाड़ा, वजीरपुर, बामनवास, बरनाला, टोडाभीम और नादौती।
ब्यावर
इसमें 6 उपखंड और 7 तहसील होंगी।
उपखंड: ब्यावर, टॉडगढ़, जैतारण, रायपुर, मसूदा और बदनोर।
तहसील: ब्यावर, टॉडगढ़, जैतारण, रायपुर, मसूदा, विजयनगर और बदनोर।
केकड़ी
इसमें 5 उपखंड और 6 तहसील होंगी।
उपखंड: केकड़ी, सावर, भिनाय, सरवाड़ और टोडारायसिंह।
तहसील: केकड़ी, सावर, भिनाय, सरवाड़, टाटोटी और टोडारायसिंह
कोटपूतली बहरोड़
इसमें 7 उपखंड 8 तहसील शामिल।
उपखंड: बहरोड़, बानसूर, नीमराणा, नारायणपुर, कोटपूतली, विराटनगर और पावटा।
तहसील: बहरोड़, बानसूर, नीमराणा, मांधन, नारायणपुर, कोटपूतली, विराटनगर और पावटा।
खैरथल तिजारा
​​​​​​​इसमें 5 उपखंड और 7 तहसील होंगी।
उपखंड: तिजारा, किशनगढ़ बास, कोटकासिम, टपूकड़ा और मुंडावर।
तहसील: तिजारा, किशनगढ़ बास, खैरथल, कोटकासिम, हरसोली, टपूकड़ा और मंडावर।
नीमकाथाना
​​​​​​​इसमें 4 उपखंड और 5 तहसील होंगी।
उपखंड: नीमकाथाना, श्रीमाधोपुर, उदयपुरवाटी और खेतड़ी।
तहसील: नीमकाथाना, पाटन, श्रीमाधोपुर, उदयपुरवाटी और खेतड़ी।
सलूंबर
​​​​​​​इसमें 4 उपखंड और 5 तहसील होंगी।
उपखंड: सराडा, सेमारी, लसाडिया और सलूंबर।
तहसील: सराडा, सेमारी, लसाडिया, सलूंबर और झल्लारा।
सांचौर​​​​​​​
4 उपखंड और 4 तहसील होंगी।
उपखंड और तहसील: सांचौर, बागोड़ा, चितलवाना और रानीवाड़ा।
शाहपुरा
​​​​​​​इसमें 5 उपखंड और 6 तहसील होंगी।
उपखंड: शाहपुरा, जहाजपुर, फुलिया कला, बनेड़ा और कोटडी।
तहसील: शाहपुरा, जहाजपुर, काछोला, फुलिया कला, बनेड़ा और कोटडी।

कांग्रेस में उम्मीदवार चयन की प्रक्रिया शुरू हुई

कांग्रेस में उम्मीदवार चयन की प्रक्रिया शुरू हुई  
नरेश राघानी 
जयपुर। राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए टिकटों की दौड़ अब शुरू हो गई है। दावेदारों ने अपने बायोडाटा तैयार करने और नेताओं के यहां चक्कर लगाने शुरू कर दिए हैं। कांग्रेस ने बुधवार को टिकट वितरण को लेकर गठित स्क्रीनिंग कमेटी की घोषणा कर दी थी। इसमें सांसद गौरव गोगोई को कमेटी का अध्यक्ष और गणेश गोदियाल व अभिषेक दत्त को सदस्य बनाया गया है। स्क्रीनिंग कमेटी के गठन के साथ ही अब कांग्रेस में उम्मीदवार चयन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। पार्टी सूत्रों के मुताबिक अगस्त में स्क्रीनिंग कमेटी की पहली बैठक होने की संभावना है। स्क्रीनिंग कमेटी हर सीट का पैनल तैयार करके टिकट चयन का काम करेगी। 
हालांकि टिकट वितरण के मापदंड भी अभी तय होने हैं। यह कमेटी टिकट वितरण को लेकर महत्वपूर्ण मानी जाती है। कमेटी के पास प्रदेश, जिला, ब्लॉकों से उम्मीदवारों के लिए पैनल आते हैं। इसके अलावा प्रदेश चुनाव समिति के सदस्यों से भी कमेटी राय लेती है, वहीं पार्टी की ओर से कराए गए सर्वे की रिपोर्ट, प्रदेश प्रभारी, सहप्रभारियों की रिपोर्ट भी देखी जाती है। कांग्रेस में अब बची हुई चुनावी कमेटियों की घोषणा भी जल्द होने के आसार हैं। इनमें चुनाव प्रचार अभियान समिति और घोषणा पत्र समिति पर सबकी निगाहे हैं। फिलहाल कांग्रेस ने स्क्रीनिंग कमेटी बनाकर उम्मीदवार चयन की कवायद शुरू कर दी है। विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली सूची सितंबर में आ सकती है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी आलाकमान को यही राय दी है। इसके बाद कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने भी कहा था कि उम्मीदवारों के चयन का काम जल्दी किया जाएगा ताकि वे पूरी तैयारी कर सके।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-293, (वर्ष-06)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. शनिवार, अगस्त 5, 2023

3. शक-1944, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि-चतुर्थी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:19, सूर्यास्त: 07:07।

5. न्‍यूनतम तापमान- 25 डी.सै., अधिकतम- 37+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...