रविवार, 26 जनवरी 2020

हनुमान मंदिर पर जटिल-रोगों से निजात

हरिया कॉल जंगल में 40 वे' वर्ष में ऑपरेशन की भरमार
विदेशों से आए डॉक्टर निशुल्क ऑपरेशन के लिए
पूज्य संत अजय याग्निक द्वारा किया गया सुंदरकांड का पाठ



बाराबंकी। जिले के हरिया कॉल जंगल में स्थापित "रोग-हरण" हनुमान जी का मंदिर जहां पर पिछले 40 वर्षों से लगभग 5000 ऑपरेशन हर वर्ष निशुल्क आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए किए करता हैं। जिसमें देश-विदेश से बड़े-बड़े डॉक्टर आते हैं और निशुल्क ऑपरेशन करके जाते हैं। समस्त लाभार्थियों को रहना-खाना, पीने की व्यवस्था, रोग हरण हनुमान जी की तरफ से निशुल्क की जाती है। एक तस्वीर में डॉक्टर जी के छापरवाल हैं जो उदयपुर राजस्थान  से पिछले 38 वर्षों से लगातार अपनी निशुल्क सेवाएं देते हैं दो वोल्वो बसों के साथ में पूरी टीम के साथ में आते हैं और 15 दिन रुक कर निशुल्क इलाज में मदद करते हैं इस बार चीन और कैलिफोर्निया से भी डॉक्टर आए थे निशुल्क इलाज के लिए राम वन कुटीर हरिया कोई जंगल लोग हरण हनुमान जी मंदिर में पूरी व्यवस्था प्रभु हनुमान लगता है स्वर्ण संभालते हैं हजारों लोगों की भीड़ और कंट्रोल करने वाला कोई नहीं सब एक अनुशासन के तरीके से बैठे रहते हैं अपनी बारी का इंतजार करते हैं इन सबके लिए मेरे मित्र मनीष मल्होत्रा और निगम साहब पूरी सेवाएं देते हैं।


मदन चौहान


'हम इस राष्ट्र को बिखरने नहीं देंगे'

आकाशुं उपाध्याय


गाजियाबाद। नगर-पालिका परिषद, विधानसभा-क्षेत्र, विकासखंड एवं तहसील लोनी स्थित विकास-कुंज में जनसंख्या समाधान फाउन्डेशन द्वारा आयोजित "जनसंख्या कानून सभा" में उपस्थित लोगों ने एक स्वर में कहा कि करोड़ों भारतीयों ने मिलकर इस महान देश का निर्माण किया है। इसके निर्माण के प्रति हम संकल्पबध्द है। अपने नैतिक, मौलिक और संवैधानिक अधिकारों के प्रति आम आदमी पूरी तरह समर्पित है, हम इसे बिखरने नहीं देंगे।
राष्ट्र निर्माण में हो रहे सभी कार्यों का समर्थन भी करेंगे और जनसंख्या नियंत्रण कानून बनवाने हेतु राष्ट्रवादियों को एकजुट करेंगे।


फिर 'चुरा के दिल मेरा... शिल्पा चली

मुंबई। बॉलिवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी भले ही 13 साल से फिल्मी दुनिया से दूर हों। लेकिन वह अपना कमबैक फिर धमाकेदार अंदाज में चाहती हैं। यही वजह है कि फिल्मी पर्दे पर लौटने के लिए शिल्पा ने अपने करियर का सबसे धमाकेदार गाना "चुरा के दिल मेरा…." को चुना है। निर्देशक प्रियदर्शन की अपकमिंग फिल्म हंगामा-2 में इस गाने पर अपनी अदाओं से एक बार फिर हंगामा बरपाती नजर आएंगी। वैसे भी इस फिल्म के 25 साल पूरे हो जाने के बावजूद, इस गाने के जरिए आज भी सबका दिल चुरा लेती हैं। 


1994 में आई फिल्म मैं खिलाड़ी, तू अनाड़ी का यह गाना उस साल के सुपरहिट गानों में शुमार था। यह गाना ऐसा है कि सुनते ही हर शख्स झूम उठे। शिल्पा के डांस ने इस गाने को चार चांद लगा दिया था। अब शिल्पा एक बार फिर तैयार हैं। हालांकि इस बार गाने में तंग करने के लिए उनके पास अक्षय कुमार नहीं होंगे। बता दें कि मैं खिलाड़ी, तू अनाड़ी में शिल्पा के साथ अक्षय कुमार और सैफ अली खान थे।
अब हंगामा-2 फिल्म में इस गाने को रीक्रिएट किया जाएगा। प्रियदर्शन के निर्देशन में बन रही इस फिल्म में रीक्रिएट हो रहे इस गाने को भी शिल्पा शेट्टी पर ही फिल्माया जाएगा। शिल्पा इस फिल्म में मुख्य किरदार में हैं। इस फिल्म में उनके साथ मिजान जाफरी और परेश रावल हैं। 
बता दें कि हाल ही में एक कार्यक्रम में कुमार सानू ने जब शिल्पा से पूछा कि 90 के दशक में उनकी फिल्मों के वे कौन से गाने हैं, जिसे वह दोबारा बनाना चाहेंगी, शिल्पा का जवाब था- कुछ ना कहो और चुरा के दिल मेरा…। अब उनकी यह ख्वाहिश पूरी होने जा रही है।


 केपी खोकरान


स्पोर्ट्स कोटे की पांच हजार कांस्टेबल भर्ती

जयपुर। राजस्थान पुलिस में कॉन्स्टेबल के 5 हजार पदों पर भर्ती होनी है। ये भर्ती स्पोर्ट्स कोटे के तहत की जाएगी। इन पदों पर आवेदन की प्रक्रिया अगले महीने की शुरुआत में शुरू होगी। आवेदन की प्रक्रिया 30 दिनों तक चलेगी। स्पोर्ट्स कोटे के लिए योग्य अभ्यर्थियों को ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भरकर सबमिट करना होगा। अगर आप इन पदों पर आवेदन करना चाहते हैं। तो नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ने के बाद ही अप्लाई करें। पद का नाम
कॉन्स्टेबल (स्पोर्ट्स कोटा) कुल पदों की संख्या
5 हजार  योग्यता
-अभ्यर्थी राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए.
-अभ्यर्थी को देवनागरी लिपि में हिंदी लेखन का व्यावहारिक ज्ञान और राजस्थान की संस्कृति का
ज्ञान आवश्यक होना है।
-जिला पुलिस के लिए सिर्फ वही लोग आवेदन कर सकते हैं जो 10वीं पास हैं। वहीं,
आर.ए.सी/एमबीसी बटालियन के लिए 8वीं पास आवेदन कर सकते हैं। आयु सीमा न्यूनतम आयु सीमा
01.01.2003 के बाद जन्म न हुआ हो। अधिकतम आयु सीमा
पुरुष- 02.01.1997 के पूर्व का जन्म नहीं हो
महिला- 02.01.1992 के पूर्व का जन्म नहीं भर्ती हेतु चयन प्रक्रिया
चयन प्रक्रिया के 100 अंक होंगे जो तीन चरणों में आयोजित होगी- खेल प्रमाण पत्रों का मूल्यांकन,
शारीरिक मापतौल एंव ट्रायल. खेल प्रमाण पत्र के 70 अंक और ट्रायल के 30 अंक होंगे। सैलरी
दो साल तक ट्रेनी के दौरान 14600 रुपये प्रति माह मिलेंगे।इसके बाद 7वें वेतन आयोग के मुताबिक नियमित वेतन एल-5 वेतन व नियमानुसार अन्य भत्ते मिलेंग। आवेदन फीस
सामान्य/आर्थिक पिछड़ा वर्ग, अन्य पिछड़ा वर्ग/एमबीसी वर्ग – 400 रुपये एससी, एसटी, सहसिया (केवल राजस्थान के मूल निवासी)- 350 रुपये सामान्य, आर्थिक पिछड़ा वर्ग, अन्य पिछड़ा वर्ग/एमबीसी वर्ग के ऐसे आवेदक जिनके परिवार की वार्षिक आय 2.50 लाख से कम है – 350 रुपये।


'शर्मनाक' गणतंत्र दिवस पर नेताओं में मारपीट

राणा ओबराय

गणतंत्र दिवस के अवसर पर दो नेताओं में चले थप्पड़-घूंसे,शर्म की बात


नई दिल्ली। आपको पता ही होगा कि मध्य प्रदेश में इन दिनों कांग्रेस पार्टी की सरकार है। जहां, आज 71वें गणतंत्र दिवस के मौके पर इंदौर स्थित पार्टी ऑफिस में झंडारोहण कार्यक्रम का अयोजन किया गया। वहीँ झंडारोहण के इस कार्यक्रम में पार्टी को शर्मसार होना पड़ गया। दरअसल, झंडारोहण का कार्यक्रम चल ही रहा था कि अचानक से दो कोंग्रेसी नेता आपस में भिड़ गए। लोगों के हुजूम के सामने दोनों कांग्रेसी नेताओं में जमकर मारपीट हुई|दोनों के बीच जमकर थप्पड़-घूंसे चले। मौजूद पुलिस ने दोनों को किया अलग-अलग….. कार्यक्रम में मौजूद पुलिस ने झगड़े को सुलझाया। पुलिसकर्मियों ने कांग्रेस के दोनों नेताओं को अलग-अलग किया और स्थिति को नियंत्रण में लेकर आए। तिरंगा फहराने को लेकर भिड़े कांग्रेसी नेता……. हालांकि कारण साफ़ तरीके से अभी सामने नहीं आया है। लेकिन माना जा रहा है, कि तिरंगा फहराने को लेकर दोनों कांग्रेसी नेता आपस में भिड़ बैठे। कांग्रेस नेताओं देवेंद्र सिंह यादव और चंदु कुंजीर के बीच जमकर थप्पड़ और घूंसे चलने लगे। दोनों की लड़ाई के वक्त बड़ी संख्या में स्थीनाय लोग मौजूद थे जो कि इनकी हाथापाई देख दंग रह गए।


बलराज कुंडू को भेजा 'कानूनी नोटिस'

राणा ओबराय

पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर ने महम विधायक बलराज कुंडू को भेजा कानूनी नोटिस, कुंडु मांगे माफी!

रोहतक। हरियाणा के पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने महम के निर्दलीय विधायक को माफी मांगने के लिए 15 दिन का समय दिया है। अधिवक्ता के माध्यम से भेजे गए लीगल नोटिस में कहा गया है कि निर्दलीय विधायक माफी मांगे और झूठे और आधारहीन आरोप लगाने का खंडन भी करें। वरना कुंडु के खिलाफ आगे कानूनी कार्रवाई की जाएगी! हरियाणा की राजनीति में पिछले कई दिनों से चल रहे इस घटनाक्रम में आज नया मोड़ आया है! पूरे प्रकरण के दौरान सभी की निगाहें लगी हुई थी कि हरियाणा के पूर्व सहकारिता मंत्री चुप क्यों है औऱ वह क्या कदम उठाते है!


11वीं की छात्रा से कार में किया गैंगरेप

हवस की शिकार बनी 11वीं कक्षा की छात्रा, कार में लड़कों ने किया गैंगरेप


चंडीगढ़। शर्मनाक मामला हरियाणा प्रदेश के पानीपत का है। यहां, दो लड़कों ने कार में 11वीं कक्षा की एक छात्रा के साथ गैंगरेप की घिनौनी घटना को अंजाम दिया। लड़कों ने पहले छात्रा को नशीला पदार्थ खिलाया और फिर उसके साथ गैंगरेप किया|हालांकि, दोनों लड़कों को पुलिस ने पकड़ लिया है। पहले पार्क में बुलाया, फिर कार में ले जाकर किया गैंगरेप…पीड़ित छात्रा के मुताबिक वह पानीपत के पॉश इलाके में रहती है। और 11वीं कक्षा में पढ़ाई कर रही है। वह शाम को रोजाना पांच बजे ट्यूशन के लिए जाती है, और सात बजे वापस घर लौटती है, लेकिन शुक्रवार को जैसे ही वह घर से ट्यूशन के लिए निकली तो उसके एक जानकार ने उसे फोन करके पार्क में बुला लिया।उसने भी समझा कुछ काम होगा इसलिए वह पार्क चली गई। जब वह स्कूटी लेकर पार्क में पहुंची तो आशीष और उसके दोस्त एक कार में सवार होकर पार्क में आये। कार में उसके जानकर समेत चार लड़के सवार थे।पार्क में स्कूटी खड़ी करवा वह उसे भी अपनी कार में ले गए। जहां कार में उन्होंने उसे नशीला पदार्थ खिला दिया और उसके बाद उसके साथ गैंगरेप किया। पीड़ित छात्रा ने बताया कि, थोड़ी दूर जाकर कार में से दो लड़के उतर गए। और दो लड़कों ने उसके साथ बारी बारी से गैंगरेप किया। उसके जानकर और उसके दोस्त ने गैंगरेप किया। गैंगरेप कर वापस पार्क में छोड़ने आये थे। तभी पकड़े गए पुलिस ने बताया कि, आरोपी पीड़िता बेहोशी की हालत में पार्क में वापस छोड़ने आये थे। वह जब बेहोशी की हालत में छात्रा को कार से उतारने लगे तो वहां मौजूद लोगों को शक हो गया और उनोने आरोपियों पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने बताया कि, कार में कुल चार लड़के थे जिनमे से दो अभी गिरफ्त में है। दो और की तलाश जारी है।


आज सविधान 'संपादकीय'

आज संविधान    'संपादकीय'


आज फिर देश के प्रधानमंत्री के द्वारा पूर्व की भांति लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज का रोहण किया गया। परंपरागत निर्धारित कार्यक्रमों का समापन किया गया। देश के विकास, निर्माण और योजनाओं का व्याख्यान भी किया गया। सरकार की उपलब्धियां एवं आगामी योजनाओं पर खूब वाहवाही के साथ तालियों की गड़गड़ाहट ने कुछ समय के लिए, समय को भी बांध लिया। गणतंत्र-दिवस के आयोजन की गूंज संपूर्ण विश्व में गूंजी है। दुनिया की सबसे बड़ी दूसरी लोकतांत्रिक व्यवस्था भारत गणराज्य में गणतंत्र-दिवस अत्यंत महत्वपूर्ण और विशेष है। गणराज्य की परिभाषा के प्रतिकूल होने वाले विकारों पर शायद किसी का ध्यान नहीं है। सरकार अपनी उपलब्धियों के गुणगान में मूलभूत कर्तव्य से पिछड़ गई है। इसके पीछे भाजपा ही है, भाजपा में कुछ नेताओं की नीति स्पष्ट नहीं होती है। जनता की कुछ अपेक्षाओं को पूर्ण करना और अपने दायित्व से मुंह मोड़ लेना, इसे छद्दम कार्य ही कहा जाएगा। जहां जनता का राज्य है। वहां जनता का भीषण शोषण और उत्पीड़न होना, कितना शर्मनाक है ? इसका अनुमान लगाया जा सकता है। आज संविधान के अनुरूप देश में बहुत कुछ नहीं हो रहा है। देश में बेरोजगारी का बढ़ता ग्राफ इतना गंभीर बन चुका है कि इस को व्यवस्थित करने में अभी कई सालों का समय लग सकता है। जनता सरकार से यह आशा तो कर ही सकती है कि जनता को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएं। दैनिक भरण-पोषण में आने वाली समस्याओं का संबंध आर्थिक समस्या से न जुड़ा हो। लेकिन वर्तमान सरकार में इस नीति पर विशेष ध्यान नहीं दिया गया है। मजदूर व्यक्ति का इतना शोषण शायद पहले कभी नहीं हुआ है। मजदूरों की हड्डियों का जूस निकालने पर व्यवस्थाएं अमादा है। इसके विपरीत अधिकारी इतने भ्रष्ट हैं कि चश्मा पहन कर रखते हैं कि कहीं किसी से नजर मिलानी पड़ी तो काम आएगा। केसरिया बंधेज बांधकर ट्टपूजिंया नेता जनता के धन पर डाका डाल रहे है। आखिरकार यह कैसा अद्भुत विकास है? क्या गणराज्य में सब के विकास के प्रति कोई नियम निर्धारित नहीं है? आज संविधान और संविधान के शुभचिंतकों को शायद विचारने के लिए विवश होना पडे। जनता को प्रधानमंत्री से जो उम्मीद थी, वह शायद ही पूर्ण हो सके। हालांकि यह बात भी पूरी तरह सत्य है कि सभी को संतुष्ट करना बड़ा कठिन है। लेकिन यह बात भी सही है कि सबकी अपनी क्षमताएं होती है। देश में फैला खुला भ्रष्टाचार और संविधान के विरुद्ध होने वाले अनैतिक कार्य अभी भी एक चुनौती है। इसे स्वीकार करना या इससे भाग जाना, यह स्वविवेक पर निर्भर करता है।


कुर्बानियों का दौर, आज भी नया है।
जज्बात है जिंदा, कतरा-कतरा खून जवां है।
राधेश्याम 'निर्भय-पुत्र'


गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर को 108 पदक

नई दिल्ली। भारत के 71वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर 108 पदकों के साथ जम्मू कश्मीर पुलिस को सबसे अधिक वीरता पदक प्रदान किए गए हैं। सीआरपीएफ दूसरे स्थान पर रहा, उसे 76 वीरता पदक मिले हैं।


केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश में कहा गया है कि केंद्रशासित पुलिस कश्मीर घाटी में आतंकवाद रोधी अभियानों में निरंतर शामिल रही है, जिसे तीन शीर्ष राष्ट्रपति पुलिस पदक भी मिले हैं, जबकि सीआरपीएफ को एक राष्ट्रपति पुलिस पदक (मरणोपरांत) मिला है।
जम्मू कश्मीर पुलिस को वीरता के लिए 105 पुलिस पदक (पीएमजी) और तीन पीपीएमजी दिए गए हैं। इसके बाद केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) को 75 पीएमजी मिले हैं। इसे एक पीपीएमजी (मरणोपरांत) मिला है। केंद्रशासित क्षेत्र में आतंकवाद रोधी ड्यूटी में सीआरपीएफ भी तैनात है। झारखंड पुलिस को 33 पीएमजी दिए गए हैं।
इन पदकों की घोषणा साल में दो बार गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर की जाती है।


जगदलपुर में बनेगा 'नर्सरी स्कूल'

जगदलपुर। मुख्यमंत्री ने आज जगदलपुर के लालबाग़ परेड मैदान ध्वजारोहण किया। मुख्यमंत्री ने आज कई बड़ी घोषणाएं भी की। मुख्यमंत्री भूपेश ने  दो हजार आंगनबाड़ी भवन निर्माण करने की मंजूरी दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मातृ शक्ति को समुचित अधिकार व आदर देने के साथ माताओं तथा शिशुओं की देखरेख में सहायक आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं का मानदेय 700 रूपए से 1500 रूपए तक बढ़ाया गया है। सीएम भूपेश ने कहा, ‘’10 हजार आंगनबाड़ी केन्द्रों को नर्सरी स्कूल के रूप में विकसित करने 2 हजार आंगनवाड़ी केन्द्र भवनों के निर्माण की मंजूरी दी गई है। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत् सहायता राशि 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार रूपए की गई हैै।”


ओकलैंड में फिर से जीता भारत

ऑकलैंड। कसी हुई गेंदबाजी के बाद ओपनर लोकेश राहुल (57) के अर्धशतक की मदद से भारत ने न्यू जीलैंड को दूसरे टी20 में 7 विकेट से हरा दिया। रविवार को ऑकलैंड के ईडन पार्क में खेले गए इस मुकाबले में मिली शानदार जीत से भारतीय टीम ने 5 मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त बना ली।


न्यू जीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 5 विकेट पर 132 रन बनाए। भारतीय टीम ने 17.3 ओवर में 3 विकेट पर 135 रन बनाकर 15 गेंद शेष रहते लक्ष्य हासिल कर लिया। शिवम दुबे (8) ने विजयी छक्का लगाया। राहुल-अय्यर ने जोड़े 86 रन
भारत के लिए लोकेश राहुल ने 57 और श्रेयस अय्यर ने 44 रन का योगदान दिया। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 86 रन जोड़े। राहुल ने 50 गेंदों पर 3 चौके और 2 छक्के लगाए। वहीं, अय्यर ने 44 रन के लिए 33 गेंदों का सामना किया, 1 चौका और शानदार 3 छक्के लगाए। राहुल की 11वीं टी20 इंटरनैशनल फिफ्टी
लोकेश राहुल ने करियर का 11वां टी इंटरनैशनल अर्धशतक जड़ा। उन्होंने चौके से 43 गेंदों पर फिफ्टी पूरी की। राहुल ने हाशिम बेनेट के ओवर (पारी का 15वां) की तीसरी गेंद पर सिक्स लगाया, फिर अगली ही गेंद पर चौका लगाकर अर्धशतक पूरा किया। सस्ते में लौटे रोहित और विराट
लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और रोहित शर्मा को पहले ही ओवर की अंतिम गेंद पर टिम साउदी ने पविलियन की राह दिखा दी। उन्हें रॉस टेलर ने लपका। रोहित ने 6 गेंदों पर 2 चौके भी लगाए। छठे ओवर की दूसरी गेंद पर कप्तान विराट कोहली (11) को साउदी ने विकेट के पीछे सिफर्ट ने लपका। विराट ने 12 गेंदों का सामना किया और 1 चौका लगाया। भारत के 2 विकेट 39 रन तक गिर गए। भारत को मिला 133 रन का टारगेट
रविंद्र जडेजा की अगुआई में बेहद कसी हुई गेंदबाजी के दम पर भारत ने न्यू जीलैंड को 5 विकेट पर 132 रन पर रोक दिया। न्यू जीलैंड को मार्टिन गप्टिल (20 गेंदों पर 33 रन) ने तेजतर्रार शुरुआत दिलाई लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने अच्छी वापसी की और 33 रन के अंदर चार विकेट लेकर कीवी टीम को इसका फायदा नहीं उठाने दिया। गप्टिल और मुनरो ने पहले विकेट के लिए 48 रन जोड़े। भारतीय गेंदबाजों का अच्छा प्रदर्शन
विकेटकीपर बल्लेबाज टिम सिफर्ट ने 26 गेंदों पर नाबाद 33 रन बनाकर न्यू जीलैंड को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। जडेजा ने 4 ओवर में 18 रन देकर 2 विकेट जबकि जसप्रीत बुमराह ने 21 रन देकर एक विकेट लिया। मोहम्मद शमी ने चार ओवर में केवल 22 रन दिए, भले ही उन्हें विकेट नहीं मिला। शार्दुल ठाकुर (दो ओवर, 21 रन, एक विकेट) और शिवम दुबे (दो ओवर, 16 रन एक विकेट) ने भी सफलताएं हासिल कीं। शार्दुल को मिले केवल 2 ओवर, लुटाए 21 रन
गप्टिल ने ठाकुर के पारी के पहले ओवर में ही दो छक्के जड़कर अपने इरादे जताए। ठाकुर जब पावरप्ले के आखिरी ओवर में छोर बदलकर गेंदबाजी के लिए आए, तब भी गप्टिल ने उन पर लगातार दो चौके लगाए। वह पावरप्ले की अंतिम गेंद का पूरा उपयोग करके उसे छह रन के लिए भेजना चाहते थे लेकिन गेंद हवा में लहरा गई और विराट कोहली ने मिडऑफ पर उसे कैच में बदल दिया और मुट्ठी भींचकर अपने खास अंदाज में जश्न मनाया। 81 रन तक गिरे 4 विकेट
न्यू जीलैंड का पहला विकेट 48 रन पर गिरा लेकिन इसके बाद जल्द ही उसका स्कोर चार विकेट पर 81 रन हो गया। कोहली ने एक्स्ट्रा कवर पर दुबे की गेंद पर दूसरे सलामी बल्लेबाज कोलिन मुनरो (25 गेंदों पर 26) का कैच लपका। जडेजा ने 11वें ओवर में गेंद संभाली और अपने लगातार ओवरों में कोलिन डि ग्रैंडहोम (3) और कप्तान केन विलियमसन (14) को पविलियन भेजकर कीवी टीम को बैकफुट पर भेज दिया। अंतिम 4 ओवर में बने केवल 23 रन
सिफर्ट ने युजवेंद्र चहल (चार ओवर में 33 रन) पर चौका और छक्का लगाया लेकिन जडेजा, बुमराह और शमी ने रनों पर अंकुश लगा दिया। न्यू जीलैंड अंतिम चार ओवरों में केवल 23 रन बना पाया जिसमें केवल एक छक्का शामिल है जो सिफर्ट ने बुमराह पर लगाया। इस बीच कोहली ने रोस टेलर (18) का कैच भी छोड़ा लेकिन बुमराह ने उन्हें अपने अगले ओवर में पविलियन भेज दिया। टेलर ने 24 गेंदें खेलीं लेकिन इनमें एक भी बाउंड्री शामिल नहीं रही।


जिला पूर्ति अधिकारी की लापरवाही का दंड

पंकज राघव


संभल। जिला पूर्ति अधिकारी को जिले एवं बैठक में अनुपस्थित होने के कारण वेतन रोकने के लिए निर्देश।


जिलाधिकारी अविनाश कृष्ण सिंह ने गंगा यात्रा की तैयारियों को लेकर सभी जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक की उसमें उन्होंने कहा कि 38 गांव को पूर्ण रूप से विकसित किया जाए। और  38 गांव को खुले में शौच मुक्त कराया जाए। गांव में शौचालय का प्रयोग सत प्रतिशत होना चाहिए । अगर गंगा किनारे के गांव में कोई भी खुले में शौच जाता है तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और उन्होंने कहा कि जो शौचालय खराब है या अपूर्ण हैं उन्हें पूर्ण करा कर शौचालय का उपयोग करने के लिए जागरूक किया जाए। गंगा किनारे की गांव में खुले में शौच नहीं होनी चाहिए। जिलाधिकारी ने कहा सभी प्रधानों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने अपने गांव में साफ सफाई का कार्य युद्ध स्तर पर करना सुनिश्चित करें गंगा किनारे के गांव में कोई भी कूड़ा करकट नहीं होना चाहिए। और उन्होंने कहा की जिस गांव से होकर गंगा यात्रा अभियान समिति गुजरेगी हर गांव में स्वागत द्वार होना चाहिए। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में गंगा यात्रा रथ द्वारा गंगा यात्रा अभियान समिति भ्रमण करेगी। उन्होंने बताया कि जनपद गंगा यात्रा रथ गंगा यात्रा अभियान समिति का विशेषकर स्वागत करेगा जिलाधिकारी ने कहा कि  गंगा यात्रा रथ के द्वारा गंगा किनारे 38 गांव में जागरूक किया जाएगा। जिलाधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि गंगा किनारे 38 गांव में पर डे प्रभात फेरी की जाए। गंगा मां के संबंध में नारेबाजी करते हुए जिससे ग्रामवासी जागरूक हों। मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि किनारे 38 गांव में स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जाए। और उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि छुट्टा गोवंश किसी भी दशा में नहीं दिखना चाहिए। नहीं तो संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी जिला पूर्ति विभाग को निर्देश दिए कि अपनी कार्य को पूर्ण करें इसमें किसी प्रकार की लापरवाही ना करें जिलाधिकारी ने कहा कि गंगा किनारे प्रत्येक गांव में गंगा किनारे चबूतरा बनाना सुनिश्चित करें। सभी ई ओ को निर्देश दिए कि अपनी अपनी नगरों में प्रभात फेरी एवं वॉल पेंटिंग फोल्डिंग इत्यादि में लगवा कर जागरूक करें इसमें किसी प्रकार की लापरवाही ना की जाए। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए की जनसभा स्थल की वेरी वेकेटिंग की जाए इसमें किसी प्रकार की लापरवाही ना की जाए जिलाधिकारी ने जिला कृषि अधिकारी एवं जिला उद्यान अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्रामों में गंगा नर्सरी एवं गंगा पौधशाला का निर्माण किया जाए जिसमें फलदायक पौधे एवं छायादार पौधे होने चाहिए। जिलाधिकारी ने बैठक एवं जिले में अनुपस्थित होने के कारण जिला पूर्ति अधिकारी का वेतन रोकने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी उमेश कुमार त्यागी, अपर जिलाधिकारी कमलेश कुमार अवस्थी, उप जिलाधिकारी गुन्नौर दीपेंद्र यादव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी अमिता सिंह, पशु मुख्य चिकित्सा अधिकारी, परियोजना निदेशक डीआरडीए, जिला पंचायत राज अधिकारी/जिला सूचना अधिकारी जाहिद हुसैन सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी एवं संबंधित ग्राम विकास अधिकारी अथवा संबंधित ग्राम प्रधान उपस्थित रहे।


बेटियों के हक की आवाज को बुलंद किया

पंकज राघव 


बेटियों के हक की आवाज को बुलंद किया
धूमधाम से मनाया गया राष्ट्रीय बालिका दिवस, छात्राओं ने पेश किए कार्यक्रम, रैली निकाली


बहजोई-सम्भल। स्वास्थ्य विभाग के तत्वावधान में राष्ट्रीय बालिका दिवस धूमधाम से मनाया गया। विभिन्न कार्यक्रमों के जरिए बेटियों की हिफाजत का संदेश दिया गया। छात्राओं ने रैली निकालकर बेटियों के हक की आवाज को बुलंद किया।
बहजोई डिग्री कॉलेज में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर छात्राओं ने लघु नाटिका पेश की और जागरूकता रैली निकाली। सीएमओ डॉ. अमिता सिंह और बहजोई डिग्री कॉलेज की प्राचार्या डॉ. गीता वार्ष्णेय ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। छात्राओं ने नारों के जरिए बेटियों के अधिकारों की आवाज को बुलंद किया। सीएमओ डॉ. अमिता सिंह ने कहा कि बेटियां भी समाज का प्रमुख अंग हैं। उन्हें भी समानता की नजर से देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि बेटियों के जन्म का गिरता अनुपात चिंता का विषय है। गर्भस्थ शिशु के लिंग की जांच करना या कराना कानूनी अपराध है। इसमें लिप्त पाए जाने पर सजा का प्रावधान है। सीएमओ ने तमाम सफलतम महिलाओं के नाम गिनाते हुए कहा उनसे प्रेरणा लेने का आहवान किया।
जिला कार्यक्रम प्रबंधक संजीव राठौर ने छात्राओं से कहा कि लिंग के आधार पर हो रहे भेदभाव खत्म को करने, महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 24 जनवरी 2008 से की गई। इसका मुख्य उद्देश्य बेटियों के अधिकार, शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण समेत कई अहम विषयों पर जागरूकता पैदा करना है। उन्होंने कहा कि बेटियों की पढ़ाई और सुरक्षा पर सरकार विशेष ध्यान दे रही है। हमें भी सरकार की इसमें सहयोग सहयोग करना चाहिए। यहां डॉॅ. बीएल विराटिया, महेश गौतम, भीकम सिंह, केपी सिंह, मनु तेवतिया, देवराज श्रीवास्तव, राहुल वार्ष्णेय समेत सभी शिक्षक मौजूद रहे।


राष्ट्र की उन्नति का लिया संकल्प

गणतंत्र दिवस पर झंडा फहरा कर, राष्ट्रगान गाकर देश की उन्नति का लिया संकल्प।


गणतंत्र दिवस के अवसर पर  प्रदेश सचिव ने लोगों से अपने संविधान और अधिकार को समझने की बात कही: ओ पी कश्यप।


वाराणसी। अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार सामाजिक न्याय संगठन के वाराणसी कार्यालय पर प्रदेश सचिव ओपी कश्यप की अगुवाई में 71 वें गणतंत्र दिवस समारोह पर झंडा फहराया। वहां मौजूद रहे सभी लोगों ने अपने देश के संविधान के महत्व को समझा। इसी के साथ लोगों ने साथ मिलकर संकल्प भी लिया की हम अपने भारत के संविधान का सदैव सम्मान करेंगे। कार्यक्रम में मौजूद एडवोकेट संतोष कश्यप,प्रदेश महासचिव संतोष कुमार सिंह,प्रदेश सचिव शिल्पा सिंह,मधुबाला,फूलचंद्र विश्वकर्मा,प्रमोद श्रीवास्तव,शाहबाज खान,प्रमोद कुमार वर्मा,सूर्या राय,आनंद मिश्रा,मुशील अहमद,एम पी शुक्ला,विशाल गुप्ता,मनीष कश्यप के साथ आदि लोग मौजूद रहे।


गणतंत्र दिवस पर सीएए समर्थन की शपथ

अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद। गणतन्त्र दिवस पर दर्जनों जगह सीएए के समर्थन की शपथ कार्यक्रम का आयोजन किया। विजेन्द्र त्यागी के द्वारा लोनी विधानसभा क्षेत्र की बंथला ,राम विहार, श्री राम कालोनी,प्रशांत विहार,भारत सिटी ,ऑक्सिहोम,पाभी सरस्वती विहार समेत दर्जनों कालोनीयो में गणतन्त्र दिवस पर झंडा रोहण के अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप मे उपस्थित रहने का सुअवसर मिला। इस अवसर पर बोलते हुए भाजपा नेता विजेन्द्र त्यागी ने बताया कि देश के संविधान निर्माता डॉ भीम राव अंबडेकर जी द्वारा निर्मित संविधान 26 जनवरी 1950 को भारत वर्ष में लागू किया गया। लेकिन आज कुछ राष्ट्रविरोधी लोग सीएए का विरोध कर आम जनमानस को बरगलाने का प्रयास कर रहे हैं। जो संविधान के विरूद्ध है। श्री राम कालोनी में कन्हैया गोशाला में गो प्रेमियोँ द्वारा गो सेवा के लिए गो रक्षक विजेन्द्र त्यागी ,महेश प्रधान बंथला,ओमी प्रधान टीला समेत अनेक गो प्रेमियों को पुष्प माला ओर पटका डालकर सम्मानित किया* कार्यक्रम में पवन ,मावी ,संजय मावी,आलोक सिंह ,महेष्वर सिंह ,रणधीर शर्मा ,जय ठाकुर , रजनीश ठाकुर ,ओमपाल सिंह ,पवन राणा ,अजीत राणा रोहित राणा समेत अनेको लोग उपस्थित रहे।


जर्जर भवन में पढ़ते आंगनवाड़ी के बच्चे

जर्जर भवन में पढ़ रहे आंगनवाड़ी के बच्चों के सिर पर मंडरा रही है मौत


खुर्द असरावल जलालपुर घोसी का पंचायत भवन जर्जर


प्रयागराज। खुर्द असरावल जलालपुर घोसी गांव मे बनाया गया पंचायत भवन अव्यवस्था के कारण जर्जर हो चुका है यह भवन कभी भी गिर सकता है जब पंचायत भवन का निर्माण किया गया था तो अधिकारियों की लापरवाही से कार्यदायी संस्था ने घटिया निर्माण कर भवन खड़ा कर दिया शिकायत के बाद भी पंचायत भवन के निर्माण में गुणवत्ता के खेल को अधिकारी नजर अंदाज करते रहे जिसका खामियाजा बच्चे भुगत सकते है।


बताना चाहेगे की खुर्द असरावल का पंचायत भवन एकदम जर्जर हो चुका है। जिससे कभी भी आंगनवाड़ी के बच्चो के साथ कोई भी बड़ी दुर्घटना घट सकती है आज कई सालो से इस पंचायत भवन मे आगनवाडी केंद्र चलाया जाता है जो व्यवस्था पर सवाल है। इस पंचायत भवन के आंगनवाड़ी केंद्र में कई दर्जन छोटे बच्चे पढ़ने आते है पंचायत भवन जर्जर होने की वजह से कभी भी बच्चो के साथ बड़ी दुर्घटना घट सकती है इसमे गाव वालो ने कई बार अधिकारियो और ग्राम प्रधान से शिकायत भी किया पर आज तक किसी जिम्मेदार अधिकारी ने जाच कर जर्जर पंचायत भवन से आंगनवाड़ी केंद्र अन्य स्थान पर हटाने की पहल नही की है जो ब्यवस्था पर बड़ा सवाल है अब देखना यह है की इस जर्जर पंचायत भवन तक अधिकारियो की नजर पहुचती है।या फिर वह देख कर जानबूझ कर अंजान बने रहे गे।कोई बड़ी दुर्घटना का इन्तजार उन्हें रहेगा


अमन केशरवानी


दिव्या-भव्य संपन्न कुंभ समारोह पर सम्मान

राजू सिंह


कौशांबी। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिव्य व भव्य कुंभ के समारोह में अपनी जिम्मेदारी को शानदार ढंग से निभाने के लिए चायल सीओ डॉ. कृष्ण गोपाल सिंह को सम्मानित किया है। बता दें कि पिछले वर्ष 15 जनवरी से 4 मार्च तक कुम्भ का आयोजन किया गया था। केंद्र की मोदी व प्रदेश की योगी सरकार ने कुंभ के आयोजन को अभूतपूर्व बनाने के लिए हरसंभव प्रयास किए थे। जिसमें सुरक्षा के बेहतरीन इंतजाम किए गए थे। कुंभ की सुरक्षा के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा उत्कृष्ट कार्य करते हुए असामाजिक तत्त्वों पर भी निगरानी रखी गई थी। जिसके कारण बिना किसी अप्रिय घटना के कुम्भ का सफलता पूर्वक समापन हो सका था। इस कुंभ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर मंत्रीगण और कई हस्तियों ने स्नान किया था। वहीं विदेशी पर्यटक और आस्थावान लोग भी कुंभ आकर इसकी भव्यता का लुत्फ उठाया था और कुंभ के आयोजन की सराहना भी की थी। कुम्भ के सफल आयोजन के लिए मुख्यमंत्री ने अधिकारी और कर्मचारियों को सम्मानित किया है। यही सम्मान सीईओ चायल डॉ. कृष्ण गोपाल सिंह को भी सम्मानित किया गया है। उनको सम्मानित किए जाने पर जिले के पुलिस प्रशासन और लोगो ने उनकी तारीफ की है।


'केवल हिंदुस्तानी' 'विश्लेषण'

71वा गणतंत्र दिवस भोपाल समेत देशभर में धूमधाम से मनाया गया।
शेख़ नसीम 


 हमारे देश का संविधान दिवस आज पूरे उत्साह और हर्षोउल्लास के साथ पूरे देश मे मनाया गया आज कोई न हिन्दू था न मुसलमान न सिख था और न ईसाई आज हर एक देशवासी सिर्फ और सिर्फ हिन्दोस्तानी था। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल आज चारो तरफ से भारतीयता में डूबी हुई थी सुबह से ही स्कूलों के बच्चे हाथों में तिरंगा थामे स्कूलों की तरफ जा रहे हैं भोपाल के सभी स्कूल और कॉलेज के अलावा चौराहों सरकारी दफ्तरों अस्पतालों और सार्वजनिक स्थानों पर राष्टगान के साथ ही झंडावंदन किया गया और भारत की आन,बान और शान का प्रतीक तिरंगा लहराया गया।


राजधानी भोपाल का हर नागरिक चाहे वो किसी भी मज़हब और धर्म का क्यों न हो आज भारतीय होने के नाते देश का गुणगान और  हिन्दोस्तान ज़िंदाबाद जैसे देशभक्ति से ओतप्रोत नारे लगाकर अपने भारतीय होने का सबूत पेश कर रहा था। कहीं हाथों में तिरंगा लिए रैली निकाली गई तो कही ब्लड डोनेशन केम्प लगाए गए कही गरीबो को भोजन और मिठाई वितरित की गई तो कही कम्बल बांटे गए। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लाल परेड ग्राउंड पर तिरंगा फहराया था और कमलनाथ सरकार में मंत्री और विधायकों ने अपने अपने निवास तथा क्षेत्र में तिरंगा फहराया।


केसरिया रंग के बंधेज में लहराया तिरंगा

नई दिल्ली। आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 71 वें गणतंत्र दिवस में केसरिया रंग का ‘बंधेज’ का साफा बांधा है। प्रधानमंत्री मोदी स्वतंत्रता दिवस में भी साफा बांधे हुए थे। उसी परंपरा को प्रधानमंत्री ने निभाया है। अपने कुर्ता पजामा और जैकेट के साथ इंडियागेट पर स्थित नेशनल वॉर मेमोरियल स्मारक पर पहली बार शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी है। आपको बता दें प्रधानमंत्री के परिधान में खास तौर पर गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर उनके साफे की काफी चर्चा होती है। बता दें पिछले साल प्रधानमंत्री ने लाल किले की प्राचीर से छठी बार स्वतंत्रता दिवस का भाषण दिया था और उस दौरान उन्होंने कई रंगों वाला साफा बांधा था। वहीं 2014 में मोदी ने प्रधानमंत्री के तौर पर पहली बार अपने भाषण के दौरान लाल रंग का बंधेज वाला साफा पहना था, जिसकी पीछे की पट्टी का रंग हरा था। प्रधानमंत्री ने 2015 में धारीदार पट्टियों वाला साफा बांधा था।


जिनमें से कुछ का रंग लाल और गहरा हरा था। इसके बाद 2016 में लाल किले से भाषण के दौरान वह गुलाबी और पीले रंग वाले साफे में नजर आए थे। वहीं 2017 में उन्होंने चमकदार लाल और पीले रंग का साफा पहना था।


कोचिंग सेंटर की छत गिरी, 5 की मौत

नई दिल्ली। दिल्ली के भजनपुरा में शनिवार को एक निर्माणाधीन इमारत की 2 मंजिल ढह जाने के कारण 4 स्कूली छात्रों सहित 5 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। अफसरों ने बताया कि इमारत में कोचिंग सेंटर चल रहा था और करीब 30 छात्र ट्यूशन ले रहे थे। इमारत की ऊपरी 2 मंजिल ढह गई और मलबे में कई लोग फंस गए। अधिकारियों ने बताया कि 14 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों में छात्र भी शामिल हैं।


घायलों को गुरू तेग बहादुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों में इमारत का मालिक उमेश कश्यप शामिल है। उन्होंने बताया कि दमकल विभाग को शाम करीब साढ़े 4 बजे इसकी सूचना मिली। इसके बाद दमकल की 7 गाड़ियों को मौके पर भेजा गया।  दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने इस घटना पर शोक जताया और घायलों को जरूरी मदद पहुंचाने का निर्देश दिया। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल घटनास्थल पर पहुंचे और छात्रों की मौत पर दुख जताया।


वन-विभाग टीम ने पकड़ा दुर्लभ कोबरा

लखना रेंजर विवेकानन्द दुबे ने अपनी टीम के साथ बिना किसी संसाधन के पकड़ा खतरनाक कोबरा सांप


सनत तिवारी


सूचना पर ग्राम महिपालपुर पहुंची वन विभाग की टीम उस वक्त हैरत में पड़ गयी जब उन्होंने वहाँ  खतरनाक कोबरा सांप देखा।


इटावा। लखना रेंजर विवेकानन्द दुबे ने ग्राम महिपालपुर पहुँचकर कड़ी मशक्कत के बाद एक खतरनाक कोबरा सांप को पकड़ लिया। रेंजर व उनकी टीम ने बिना किसी संशाधन के खतरनाक कोबरा को सफलतापूर्वक पकड़ लिया।
वन विभाग की टीम को लगभग 1 घण्टे की कड़ी मशक्कत करनी पड़ी तब कहीं जाकर खतरनाक कोबरा सांप को पकड़ने में वन विभाग की टीम को सफलता हाथ लगी।ग्रामीणों ने वन विभाग की टीम को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि बिना किसी संशाधन की खतरनाक कोबरा सांप को पकड़ना किसी बड़ी चुनोती से कम नही।


10 साल के बेटे ने किया मां का अंंगदान

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अंगदान का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसके बारे में जिसने भी सुना उसकी आंखें भर आईं। यहां एक ब्रेन डेड घोषित महिला के अंगों को उसके बेटे ने डोनेट करने का फैसला किया है। बेटे की उम्र महज 10 साल है। हैरान करने वाली बात यह है कि 7 साल पहले बच्चे के सिर से पिता का भी साया उठ चुका है। इन मुसीबतों के बाद भी बेटे ने अपनी मां के अंगदान का फैसला किया है।


5वीं कक्षा में पढ़ने वाले मयंक का उसकी मां दिशा साथ छोड़ गई है। दो दिन पहले एक्सीडेंट में घायल हुई दिशा को डॉक्टरों ने शनिवार को ब्रेन डेड घोषित कर दिया। मयंक पर जैसे पहाड़ टूट गया हो क्योंकि जब वो सिर्फ 3 साल का था तब आज से 7 साल पहले पिता का साया उसके सिर से उठ गया और अब उसकी मां ने भी उसका साथ छोड़ दिया। लेकिन इस 10 साल के बेटे ने ऐसे मुश्किल समय में भी ऐसा फैसला किया जिसके बारे में सुनकर हर किसी की आंख भर आई।


परिवार के लोग फैसले का कर रहे स्वागत


मयंक ने अपनी प्यारी मां के अंगदान का फैसला किया है। अब परिवार के लोग मयंक के इस फैसले का भीगी आंखों से स्वागत कर रहे हैं।‘आजतक’ से बात करते हुए मयंक के ताऊजी जगदीश छावानी ने बताया कि ‘बच्चा छोटा है लेकिन जब हम सबने उससे पूछा तो वो यही बोला कि अगर इनको जला दोगे तो सबकुछ खत्म हो जाएगा, इससे अच्छा इनके ऑर्गन डोनेट कर दिए जाएं जिससे वो अलग-अलग लोगों के जरिए अपनी मां को महसूस कर सकेगा’


हादसे में ब्रेन डेड हुई थी महिला


दरअसल, इसी 23 जनवरी को भोपाल में बस से उतरते समय दिशा घायल हो गई थी। डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर के ज़रिए बचाने की कोशिश तो की लेकिन शनिवार सुबह डॉक्टरों ने दिशा को ब्रेन डेड घोषित कर दिया। इसके बाद ही परिवार के बड़े-बुजुर्गों ने मयंक से मां के अंगदान के बारे में बात की तो उस मासूम ने बिना देर किए अंगदान के लिए हामी भर दी।


अंगदान की कागजी कार्रवाई पूरी


अब मयंक की मां के ऑर्गन्स को निकालकर अलग-अलग लोगों में ट्रांसप्लांट किया जाएगा। ऑर्गन डोनेशन की जानकारी मिलने पर किरण फाउंडेशन के डॉक्टर राकेश भार्गव भी हमीदिया अस्पताल पहुंचे थे और अंगदान से जुड़े ज़रूरी कागज़ी कार्यवाही को पूरा किया।


इसके बाद मयंक की मां को हमीदिया में वेंटिलेटर से हटाकर अब दूसरे हॉस्पिटल ले जाया गया है, जहां उनके शरीर से ऑर्गन्स निकाल लिए जाएंगे। जिस तरह से महज 10 साल के बेटे ने ये कदम उठाया है, उसके बाद अब परिवार के अन्य लोग भी अपनी मौत के बाद अंगदान के बारे में मन बना चुके हैं। जाहिर है मां की मौत के बाद भी इस बेटे ने समाज को एक बड़ा संदेश जरूर दे दिया है।


गणतंत्र दिवस पर गंगा स्वच्छता अभियान

गणतंत्र दिवस के साथ गंगा स्वच्छता अभियान की शपथ


गंगा टाक्स फोर्स के जवानों के साथ गंगा सुरक्षा दल जलीय जीवो व गंगा की करेगी सुरक्षा


कानपुर। बिठूर तीर्थ पर जलीय जीवो की सुरक्षा, मां गंगा की स्वच्छता ही सेवा के तहत वर्षों से निस्वार्थ सेवा करते आ रहे हैं। गंगा सुरक्षा दल के सदस्यों ने आज प्रत्येक रविवार की तरह बिठूर तीर्थ के गंगा घाटों पर चलाया स्वच्छता एवं जागरूकता अभियान। इस महा अभियान में ब्रह्मा व्रत घाट, तुलसी राम घाट, महिला घाट, बारादरी घाट, पत्थर घाट, भज्जू घाट, गोदारा घाट सहित गंगा में पड़ा कूड़ा कचरा आदि की की गई साफ-सफाई। गंगा घाटों पर मौजूद तीर्थ यात्रियों व पंडा समाज के लोगों से मां गंगा में किसी भी प्रकार की गंदगी ना करने की अपील भी की गई। वही सदस्यों का कहना है मां गंगा की स्वच्छता को लेकर सरकार करोड़ों रुपए खर्च कर रही हैं। सफाई कर्मचारी तो नियुक्त हैं लेकिन गंगा घाटों पर गंदगी ही गंदगी बनी रहती है। गंगा में टनो  कूड़ा समा रहा है। लेकिन जिम्मेदार बेखबर भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी नमामि गंगे स्वच्छता अभियान योजना। इस मौके पर बच्चा तिवारी, राजू बाबा, कल्लू मिश्रा, गोलू सिंह, लालजी अवस्थी, क्षमा शशांक शुक्ला, अखिलेश, रजनीश, रामविलास, अनिल निषाद, सौरभ, सुनील पांडे, गोलू सहित दर्जनों लोग उपस्थित रहे।


जेल में दरिंदे ने बनाई 'दरिंदगी की फोटो'

कविता गर्ग


नई दिल्ली। निर्भया के 4 गुनहगाराें में से एक विनय तिहाड़ जेल में पेंटिंग और शायरी लिखकर समय काट रहा है। उसने एक पेंटिंग निर्भया के साथ 16 दिसंबर 2012 की रात हुई दरिंदगी पर बनाई है। इसमें एक असहाय लड़की को दरिंदे के चंगुल में फंसा दिखाया गया है। इस पर 16 दिसंबर 2012 लिखा है। इसके नीचे फांसी के 4 फंदे भी बने हैं।


पेंटिंग को देखने से प्रतीत होता है कि असहाय लड़की के साथ जो दरिंदगी हुई, उसका अंजाम फांसी है। विनय ने दरिंदा नाम से भी एक पेंटिंग बनाई है। विनय की मांग पर जेल प्रशासन ने उसे कागज, पेंसिल और ब्रश मुहैया कराया था। इनकी मदद से उसने 19 से भी ज्यादा पेंटिंग बनाई हैं। दैनिक भास्कर के पास उसकी पेंटिंग की तस्वीर है। उसने अपनी मां और स्वर्गीय दादा की भी पेंटिंग बनाई है। अपनी मां के लिए बनाई गई पेंटिंग में उसने लिखा है कि आपको बहुत याद करता हूं। जेल सूत्राें के अनुसार विनय जेल में रातभर अपनी मां को याद कर रोता है।


दोस्तों के नाम चिट्‌ठी में दी नसीहत


विनय ने अपने चार दोस्तों के नाम एक चिट्ठी भी लिखी है। इसमें उसने दोस्तों को अच्छा व्यवहार करने की नसीहत दी है। दोस्ताें- राजू, कमल, रोहित सिंह और दिनेश के नाम लिखी चिट्ठी में उसने कहा है- मैं आप सभी दोस्तों को याद करता हूं और आपको प्यार करता हूं। मेरे सभी दोस्तों को मेरा एक पैगाम है। कभी भी किसी को वह मत कहना, जिसे तुम खुद बर्दाश्त न कर सको। अपने पत्र में विनय शर्मा ने कुछ शेर भी लिखे हैं।


‘दरिंदा’ की फाेटाे वकील काे दी गई


दिल्ली की पटियाला हाउस सेशन काेर्ट के निर्देश पर तिहाड़ जेल प्रशासन ने निर्भया के गुनहगार विनय कुमार की जेल में लिखी डायरी ‘दरिंदा’ की फाेटाे और अन्य दस्तावेज उसके वकील एपी सिंह काे दे दिए हैं। इसके साथ ही कोर्ट 3 गुनहगाराें की याचिका का निपटारा किया।


17 हजार फिट ऊंचाई पर फहराया तिरंगा

17 हजार फीट ऊंचाई पर लद्दाख में ITBP के जवानों ने लहराया तिरंगा
 
कविता गर्ग


लद्दाख। देशभर में आज 71वां गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। इस बीच भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवानों ने 17 हजार फीट की ऊंचाई पर लद्दाख में तिरंगा फहराया। ITBP के जवानों का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें जवान मानइस 20 डिग्री सेल्सियस से कम तापमान में तिरंगा थामे हुए भारत मात की जय और वन्दे मातरम् के नारे लगाते नजर आ रहे हैं।


बता दें कि यह पहली बार है जब जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद अलग केंद्रशासित प्रदेश बने लद्दाख में गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। मानइस 20 डिग्री सेल्सियस से कम तापमान में लोकतंत्र के इस त्योहार को आईटीबीपी के जवानों ने पूरे जोश के साथ मनाया। इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने एक रैली के दौरान कहा था कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार घाटी में घुल मन और जोश से गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा। पीएम मेदी ने गणतंत्र दिवस की दी शुभकामनाएं।


बता दें, गणतंत्र दिवस के अवसर पर देश के विभिन्न हिस्सों में ध्वजारोहण हुए। वहीं, राजपथ पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद परेड की सलामी ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ ब्राजील के राष्ट्रपति जे बोलसनारो भी परेड देखने राजपथ पहुंचे। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा, ‘सभी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बहुत-बहुत बधाई. जय हिंद!’


यूपी पुलिस कमिश्नर ने ध्वजारोहण किया

पुलिस कमिश्नर लखनऊ श्री सुजीत पाण्डेय महोदय द्वारा 71 वें गणतंत्र दिवस के महापर्व पर रिजर्व पुलिस लाइन लखनऊ में ध्वजारोहण कर पुलिसकर्मियों को दी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं


पुलिस कमिश्नर लखनऊ महोदय को अपने बीच पाकर खिले नौनिहालों के चेहरे
पुलिस कमिश्नर लखनऊ महोदय द्वारा बच्चों को मिष्ठान वितरण कर दी गणतंत्र दिवस के महापर्व की शुभकामनाएं


उत्कृष्ट कार्य करने व अपने कार्य के प्रति ईमानदार रहने वाले पुलिसकर्मियों को किया पुरस्कृत


 लखनऊ। 26 जनवरी 2020 को 71वें गणतंत्र दिवस के पावन पर्व पर श्रीमान पुलिस कमिश्नर लखनऊ श्री सुजीत पाण्डेय द्वारा रिजर्व पुलिस लाइन्स लखनऊ मे ध्वजारोहण किया गया, ध्वजारोहण कार्यक्रम में श्रीमान पुलिस कमिश्नर लखनऊ श्री सुजीत पाण्डेय महोदय द्वारा उपस्थित सभी पुलिसकर्मियों को भारतवर्ष के गौरवशाली इतिहास से अवगत कराया गया तथा यह शपथ दिलायी गयी कि सभी पुलिसकर्मी अपने-अपने कार्यो का पूरे मनोयोग व ईमानदारी से निर्वाहन करते हुये देश की एकता व अखण्डता को बनाये रखेंगे। उत्कृष्ट कार्य करने व अपने कार्य के प्रति ईमानदार रहने वाले पुलिसकर्मियों को किया पुरस्कृत करते हुए पुलिस मार्डन स्कूल के बच्चों को मिठाई वितरित किया।


आंखों के संक्रमण पर विस्तृत चर्चा

एम्स में आयोजित संगोष्ठी में विशेषज्ञों ने आंखों को सुरक्षित रखने व संक्रमण की रोकथाम को लेकर विस्तृत चर्चा की।।


चिकित्सक को अपने विषय में दक्षता के साथ साथ व्यवहारिक ज्ञान का होना भी जरुरी :- प्रो. रवि कांत


ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में नेत्र रोग विभाग की ओर से आयोजित संगोष्ठी में विशेषज्ञों ने आंखों को सुरक्षित रखने व संक्रमण से आंखों की रोकथाम को लेकर विस्तृत चर्चा की। उन्होंने व्याख्यानमाला के माध्यम से नेत्र संक्रमण के लक्षण, सावधानियां व उपचार आदि के बारे में जानकारी दी। संगोष्ठी में राज्यभर से सरकारी, गैर सरकारी नेत्र चिकित्सकों ने प्रतिभाग किया।
शनिवार को उत्तराखंड ऑप्थोमोलॉजी सोसाइटी व ऑल इंडिया ऑप्थोमोलॉजी सोसाइटी के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित संगोष्ठी का बतौर मुख्य अतिथि एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी ने विधिवत शुभारंभ किया। इस अवसर पर निदेशक एम्स ने संगोष्ठी में उपस्थित नेत्र विशेषज्ञों से उत्तराखंड को दृष्टिबाधिता से मुक्ति दिलाने को सामुहिक प्रयास का आह्वान किया। निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो. रवि कांत जी ने आंखों के संक्रमण को लेकर जन सामान्य को जागरुक करने पर जोर दिया, जिससे लोगों को आंखों की सुरक्षा संबंधी जानकारियों से रूबरू हो सकें। निदेशक एम्स ने कहा कि चिकित्सक को अपने विषय में दक्षता के साथ साथ व्यवहारिक ज्ञान का होना भी जरुरी है। पद्मश्री प्रो. रवि कांत जी ने कहा कि मरीज व उनके तीमारदारों के प्रति कुशल व्यवहार चिकित्सक को लोकप्रिय बनाते हैं।
संगोष्ठी में मुख्यवक्ता एलवी प्रसाद आई इंस्टीट्यूट हैदराबाद की वरिष्ठ माईक्रो बायोलाॅजिस्ट डा. सावित्री शर्मा ने नेत्रों में होने वाले विभिन्न प्रकार के  संक्रमण की जानकारी दी। उन्होंने इसके लक्षण, कारण और निदान विषय पर विस्तृत व्याख्यान दिया। उन्होंने बताया कि यदि किसी की आंखों में पानी आने, दर्द होने या रोशनी कम होने जैसे लक्षण नजर आएं तो उस व्यक्ति की आंखों में संक्रमण हो सकता है। ऐसी स्थिति में उसे नेत्र सुरक्षा के लिए अति शीघ्र विशेषज्ञ चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।
संस्थान के नेत्र रोग विभागाध्यक्ष डा. संजीव मित्तल ने बताया कि आंखों में संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर तत्काल उपचार शुरू कर लेना चाहिए, अन्यथा संक्रमण के फैलने पर आंखों में दृष्टि दोष उत्पन्न होने लगता है और आंखें खराब हो जाती हैं। संगोष्ठी में डीन एकेडमिक प्रो. मनोज गुप्ता, डीन एलुमिनाई प्रोफेसर बीना रवि, यूएसओएस के अध्यक्ष डा. सौरभ लूथरा, प्रोफेसर केपीएस मलिक, डा. अजय अग्रवाल, डा. विनीता गुप्ता, डा. अनुपम, रेटिना स्पेशलिस्ट डा. रामानुज, डा. देवेश, कॉर्निया स्पेशलिस्ट डा. नीति गुप्ता, माइक्रो बाॅयालाॅजी विभाग की डा. नीलम, अरूप मोहंती आदि ने व्याख्यान दिया। इस अवसर पर महंत इंद्रेश अस्पताल देहरादून, निर्मल आश्रम अस्पताल ऋषिकेश आदि के नेत्र चिकित्सकों ने भी प्रतिभाग किया।


हादसे में एक जवान की मौत दो घायल

गया। जिले के बाराचट्टी से बड़ी खबर आ रही है जहां हादसे में एक कोबरा जवान की मौत हो गई है। वहीं 2 जवान घायल बताए जा रहे है।आपको बता दें कि बाराचट्टी के कोबरा कैंप में तार के संपर्क में आने से ये बड़ा हादसा हुआ है। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि कोबरा कैंप ही तार गिर गया था जिसमे ये बड़ा हादसा हुआ है।


नीतीश ने आवास पर फहराया तिरंगा

पटना। देश आज 71वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। सीएम नीतीश कुमार ने आज अपने आवास पर झंडा फहराया और तिरंगे को सलामी दी। इस मौके पर सीएम आवास में बड़ी संख्या में स्कूल बच्चे भी मौजूद रहे। सीएम नीतीश ने बच्चों को जलेबी खिलाकर बधाई दी। आपको बता दें कि  मछरियावां गांव के दलित टोले में आज झंडोत्तोलन 85 वर्षीय झपसी मोची मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई में करेंगे। इसको लेकर मछरियावां गांव में विकास की ब्यार बह चली। गांव में स्थित मंगल तालाब का कायाकल्प हो गया। सड़कें बन गयी, किसानों के लिए नये 13 ट्रांसफाॅर्मर लग गये।


नोडल आंगनबाड़ी केंद्र बन गये, हर घर में नल-जल पहुंच गया, तालाब और सड़क किनारे पौधारोपण किया गया, एक सौ वृद्धावस्था पेंशन, सौ शौचालय बन गये, एक सौ बिजली के नये कनेक्शन दिये गये व गांव व खेतों में कवर वाले बिजली तार लग गये। इसको ले ग्रामीणों में तो खुशी है। वहीं 26 जनवरी को झंडोत्तोलन कर रहे झपसी मोची के खुशी का ठिकाना नहीं है। वह कहते हैं कि मैं इस गांव में  बैंड पार्टी चलता था। मेरी झपसी बैंड पार्टी पूरे दनियावां व फतुहा प्रखंड में फेमस थी। खेती भी करते थे। उन्होंने बताया कि मेरे दो बेटे बिनोद और अयोध्या हैं। बड़ा बेटा पेंटर, छोटा दर्जी है. छह पोते और छह पोतियां हैं। बड़े सौभाग्य की बात है की मुख्यमंत्री ने हमें झंडोत्तोलन के लिए चुना है। सीएम के कार्यक्रम को लेकर डीएम कुमार रवि और एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने का जायजा लिया।


खुशबू गुप्ता


ध्वजारोहण को लेकर कांग्रेसियों में थप्पड़ बाजी

नीलमणि पाल


इंदौर। गणतंत्र दिवस पर कांग्रेस कार्यालय में मुख्यमंत्री कमलनाथ के कार्यक्रम में शामिल होने से पहले पार्टी नेता आपस में भिड़ गए। यहां एक-दूसरे को अपशब्द कहते हुए थप्पड़ मारे। अन्य लोगों ने बीच-बचाव कर दो नेताओं को अलग किया।


गांधी भवन स्थित कार्यालय में रविवार को कांग्रेस नेता देवेंद्र यादव और चंदू कुंजीर के बीच किसी बात को लेकर बहस शुरू हुई। देखते ही देखते विवाद मारपीट तक पहुंच गया। दोनों से एक-दूसरे पर मुक्के और थप्पड़ बरसा दिए। कांग्रेसियों को विवाद करते देख मुख्यमंत्री की सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों ने दौड़कर अन्य नेताओं के साथ इन्हें अलग किया। दोनों कांग्रेस नेताओं के बीच विवाद क्यों हुआ था, इस बारे में जानकारी की जा रही है। बताया गया कि कुछ देर बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे तो फिर से स्वागत के लिए कांग्रेसियों में धक्का-मुक्की शुरू हो गई। इस बीच मुख्यमंत्री ने यहां ध्वजारोहण किया।


आंध्रप्रदेश-तेलंगाना में भूकंप के झटके

विजयवाड़ा। आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप के झटके रिक्टर स्केल पर 4.7 दर्ज किए गए। इसके कारण लोग भयभीत हो गए। भूकंप के झटके कृष्णा और गुंटूर जिले में रविवार को सुबह 2.37 बजे महसूस किए गए। भूकंप तीन सेकंड तक रही। प्राप्त जानकारी के अनुसार, भूकंप के झटके पेदकूरपाडु,ताडिकोंडा निर्वाचन के साथ नंदिगामा, बेल्लमकोंडा, वेंकटायपालेम, क्रोसुरू, पिडुगुराल्लु, माचावरम, तुल्लुरू, ताडिकोंडा और अन्य इलाकों में दर्ज किया गया। इसके चलते लोग भयभीत होकर मकानों से बाहर आ गये। इसी तरह तेलंगाना के नलगोंडा, खम्मम और सूर्यापेट जिलों में भी भूकंप के झटके महसूस किये गये। सूर्यापेट जिले में अल सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए । जिले के चिलुकुरु, मुनगाला, अनंतगिरी, नडिगुडेम, कोदाडा और अन्य इलाकों में भी भूकंप के झटके महूसस किये गये। भूकंप के झटके 45 सेकंड तक महसूस किए गए। भूकंप के कारण अनेक मकानों में दरारे आई। मकानों में रखा हुआ सामान नीचे गिर गया। कांच के ग्लास और अन्य वस्तू टूट गए।


दुनिया ने देखी भारत की 'सैन्य ताकत'

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस पर रविवार को राजपथ से दुनिया ने भारत की सैन्य का नमूना देखा। इसके साथ ही सांस्कृति झाकियों ने भी दर्शकों का दिल जीत लिया। समारोह के मुख्य अतिथि ब्राजील के राष्ट्रपति जाईख मेसीआस बोल्सोनारो भी आनंद लेते नजर आए। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह,तीनों सेना प्रमुखों और प्रमुख रक्षा अध्यक्ष बिपिन रावत की मौजूदगी में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद परेड का सिलसिला शुरू हुआ। सबसे पहले तीनों सेनाओं ने अपने हथियारों का प्रदर्शन किया। राजपथ पर भारतीय सेना का T-90 भीष्म टैंक को पेश किया गया। इस टैंक को कैप्टन सन्नी चहर कमांड कर रहे थे। इसके अलावा के-9 वज्र-टी टैंक की भी परेड में शामिल किया गया। कैप्टन अभिनव साहू इस टैंक को कमांड कर रहे थे। नेवी ने बोइंग पी 8I लॉन्ग रेंज मेरीटाइम पट्रोल एयरक्राफ्ट और कोलकाता क्लास डिस्ट्रायर को पेश किया गया। राजपथ पर भारतीय सेना की पैराशूट रेजिमेंट की टुकड़ी भी नजर आई। तीनों सेनाओं के बाद राजपथ पर राज्यों की झाकियों का सिलसिला शुरू हुआ। सबसे पहले छत्तीसगढ़ की झांकी दिखाई दी। झांकियों को लेकर राजपथ पर मौजूद दर्शकों में भारी उत्साह भी देखने को मिला। छत्तीसगढ़, मेघालय,गुजरात, हिमाचल प्रदेश,पंजाब,जम्मू कश्मीर,राजस्थान,ओडिशा,तेलंगाना और गोवा की झाकियां राजपथ पर प्रदर्शित की गईं। सभी झाकियों में उन राज्यों की सांस्कृतिक विरासत की झलक देखने को मिली। इसके साथ ही अलग अलग मंत्रालयों की झांकी ने भी प्रदर्शित की गई। 90 मिनट की परेड में कुल 22 झांकियां देखने को मिलीं। झाकियों के बाद अलग अलग स्कूल के बच्चों ने विभिन्न राज्यों का लोक नृत्य पेश किया। बच्चों के प्रदर्शन के बाद राजपथ पर सीआरपीएफ की महिला डेयर डेविल्स का दस्ता हैरत अंगेज कारनामे दिखाए। यह पहली बार है जब महिला दस्ते ने इस तरह के करतब को अंजाम दिया। इसके बाद आसमान में वायुसेना के हेलिकॉप्टर और जंगी जहाजों के बेड़े ने भी नजर आए। कार्यक्रम के खत्म होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाथ हिलाकर दर्शकों का अभिवादन किया। दर्शकों ने भी उनका अभिवादन किया और उनकी तस्वीरें भी लीं।


विद्वान-मनीषियों ने दिया श्रेष्ठ संविधान

रायपुर। गणतंत्र दिवस के अवसर पर रविवार को राजधानी रायपुर में मुख्य समारोह में राज्यपाल अनुसुइया उइके ने ध्वजारोहण किया। उन्होंने परेड की सलामी ली और प्रदेश के नाम उद्बोधन दिया। राज्यपाल अनुसुइया उइके ने कहा कि गणतंत्र दिवस भारतवासियों के लिए अपार गौरव का दिन है। जिन मनीषियों और महान नेताओं के कारण भारत को विश्व का सर्वश्रेष्ठ संविधान मिला, आज उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने का दिन है। भारत को आजादी दिलाने के लिए त्याग और बलिदान करने वाले सभी भारतवासियों, शहीदों और पुरखों को नमन है। राज्यपाल ने कहा कि हमें संविधान निर्माता डॉ. अम्बेडकर की अपेक्षाओं और कसौटियों पर भी गौर करना होगा। डॉ. अम्बेडकर ने कहा था संविधान चाहे कितना भी अच्छा क्यों न हो लेकिन जिन्हें संविधान को अमल में लाने का काम सौंपा जाए, यदि वे कसौटी पर खरे न उतरे तो संविधान भी गलत सिद्ध हो जाएगा। छत्तीसगढ़ सरकार की तारीफ करते हुए राज्यपाल ने कहा कि सरकार ने प्रदेश के सबसे पिछड़े, सबसे कमजोर और सबसे जरूरतमंद लोगों को पहले राहत देने की शुरुआत की है। सरकार ने गांव-गांव में स्वावलंबन और विकास की अलख जगाकर किसानों, ग्रामीणों, महिलाओं, युवाओं के लिए कार्य करने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने सुरक्षा, विश्वास और विकास की त्रिवेणी से कानून और व्यवस्था को संवारा है। देश के सर्वांगीण विकास में छत्तीसगढ़ राज्य और यहां की जनता की अमिट भागीदारी दर्ज हो।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


जनवरी 27, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-170 (साल-01)
2. सोमवार, जनवरी 27, 2020
3. शक-1941, माघ - शुक्ल पक्ष, तिथि- तीज, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:04,सूर्यास्त 05:52
5. न्‍यूनतम तापमान 6+ डी.सै.,अधिकतम-21+ डी.सै., कोहरे की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


एमपी: परिजन ने मिट्टी का तेल डालकर लगाईं आग

मनोज सिंह ठाकुर       भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले के एक गांव में 25 वर्षीय युवक पर कथित तौर पर प्रेम प्रसंग के चलते युवती के परिजन ने मि...