सोमवार, 9 मार्च 2020

होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।

भौर हुई 'सूरज' उग आया, 
लालू ने खूब रंग जमाया।
'हरे-पीले' रंगों में नहाया,
'गली-कूचो' में मच गया शोर....
उसने उसकी चुटिया खींची,
चटनी के रंगों ने रेखा खिचीं।
पानी के गुब्बारे ले आया 'लडडू',
इन्हीं संस्कारों से रचा 'जग-संसार'।


आपको, आपके परिवार को 'यूनिवर्सल एक्सप्रेस' के परिवार की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं।


शिवांशु 'निर्भयपुत्र'


वाराणसी में निर्भया के दोषियों को फांसी

वाराणसी। कार्यक्रम में कलाकारों ने निर्भया केस में हो रही देरी के कारण पीड़िता की माँ के दर्द को बयान किया और लोगों के सामने नाट्य के जरिए निर्भया के चारों गुनहगारों को फांसी की सजा सुनाई। इसके साथ ही महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार और दुर्व्यहवहार का कड़ा विरोध किया। यह रंगमंच अष्टभुजा मिश्रा द्वारा रची गई थी।
यही नहीं इस नाट्य में बूंदीपरकोटा घाट पर निर्भया के गुनहगारों को फांसी की सजा सुनाई और हैंग टिल डेथ के आदेश पर निर्भया कि माँ द्वारा सभी गुनहगारों को फांसी दिलाई। साथ ही लोगों ने कहा कि हर किसी को मां, बेटियों और देश की हर नारी का सम्मान करना चाहिए क्योंकि उन सब के आशीर्वाद से ही हम है।


50 से 100 रूपये में भरें जाएंगे सिलेंडर

नई दिल्ली। एलपीजी सिलेंडरों की बढ़ती कीमत से राहत देने के लिए सरकार अब ग्राहकों को लोन देने पर भी विचार कर रही है। इस पॉलिसी के तहत उज्ज्वला योजना के ग्राहकों को सिर्फ 50 से 100 रुपये में सिलेंडर भरवाने की सुविधा मिल सकेगी। इसके अलावा बाकी रकम तेल कंपनियां सब्सिडी के आने पर लेंगी। उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों की ओर से दोबारा सिलेंडर लेने में रुचि नहीं दिखाई जा रही थी। कहा जा रहा था कि मौके पर सिलेंडर खरीदने के लिए ज्यादा रकम देनी पड़ती है, जिसकी कमी के चलते लोग सिलेंडर ही नहीं ले रहे। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए ही सरकार ने यह योजना बनाई है। हालांकि यह अभी शुरुआती स्तर पर ही है।


दरअसल सरकार घर-घर सिलेंडर पहुंचाने के लिए मोबाइल लिक्विफाइड पेट्रोलियम गैस स्कीम ला रही है। बिजनस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक इस स्कीम के साथ ही उज्ज्वला के लाभार्थियों के लिए लोन की सुविधा भी शुरू की जाएगी। अभी इस स्कीम के बारे में पूरी डिटेल नहीं मिल सकी है, लेकिन पेट्रोलियम मंत्रालय इस पर गंभीरता से विचार कर रहा है। बता दें कि पिछले दिनों भारतीय स्टेट बैंक की ओर से की गई एक रिसर्च में यह बात सामने आई थी कि करीब 25 पर्सेंट लाभार्थियों ने दोबारा सिलेंडर ही नहीं लिया। एसबीआई की ईकोरैप रिपोर्ट के मुताबिक एलपीजी सिलेंडरों की कीमतों में बढ़ोतरी के चलते ऐसा हो रहा है।उत्तराखंड में उज्ज्वला स्कीम के 99 फीसदी लाभार्थियों ने नहीं लिया दूसरा सिलेंडर
LPG सिलेंडरों की कीमत में 144 रुपये का बड़ा इजाफा, 7 महीने में 221 रुपये महंगी हुई बिना सब्सिडी वाली घरेलू गैस इस रिपोर्ट में सुझाव दिया गया था कि उज्ज्वला के लाभार्थियों सिलेंडरों के इस्तेमाल के लिए साल में कम से कम 4 सिलेंडर मुफ्त में दिए जाने चाहिए। हालांकि सूत्रों का कहना है कि मुफ्त सिलेंडरों की बजाय लोन की स्कीम को तेल एवं पेट्रोलियम गैस मंत्रालय ज्यादा मुफीद मान रहा है। इससे सरकार पर आर्थिक बोझ नहीं पड़ेगा और मौके पर ज्यादा रकम चुकाने के दबाव से भी ग्राहक मुक्त हो सकेंगे।25 पर्सेंट लाभार्थियों ने दूसरा सिलेंडर नहीं लिया: दिल्ली के रेट की ही बात करें तो बीते 6 महीने में गैर-सब्सिडी वाले सिलेंडरों की कीमत 284 रुपये बढ़कर 859 हो गई है, जो पहले 575 रुपये थी। दिसंबर, 2018 तक उज्ज्वला स्कीम से जुड़े 5.92 करोड़ लाभार्थियों के डेटा के मुताबिक करीब 25 पर्सेंट ऐसे लोग रहे हैं, जिन्होंने दोबारा सिलेंडर नहीं भरवाया। इसके अलावा 18 पर्सेंट के करीब लोग ऐसे हैं, जिन्होंने दूसरा सिलेंडर लिया। 11.7 फीसदी ऐसे हैं, जिन्होंने तीसरा सिलेंडर भी लिया।


सोने और चांदी का बड़ा दाम

नई दिल्ली। शुक्रवार को सोने और चांदी की कीमत में बढ़त देखने को मिली है। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार, सोने में आज 773 रुपये की बढ़त आई है। इस बढ़त से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोने का दाम 45,343 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया है।


कोरोना वायरस के डर के चलते सोने की कीमत में इजाफा हुआ है। इतनी महंगी हुई चांदी
चांदी की बात करें, तो शुक्रवार को चांदी की कीमत में भी बढ़त दर्ज की गई है। चांदी में 192 रुपये की बढ़त आई है। इस बढ़त से चांदी का दाम 48,180 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया है। इसलिए महंगा हुआ सोना
एचडीएफसी सिक्योरिटीज के विश्लेषक ( कमोडिटी ) तपन पटेल ने कहा कि दिल्ली में 24 कैरेट सोना 773 रुपये महंगा हुआ है। आज डॉलर के मुकाबले रुपये में उतार-चढ़ाव देखा गया। रुपया 23 पैसे की गिरावट पर कारोबार कर रहा था। कोरोनावायरस की वजह से अर्थव्यवस्था में गिरावट आ रही है। इस वजह से भी सोना महंगा हुआ है। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स में 1,400 से ज्यादा अंकों की गिरावट देखी गई थी। वैश्विक बाजार में इतना रहा दाम
वैश्विक बाजार की बात करें, तो सोना 1,678 डॉलर प्रति औंस पर और चांदी 17.34 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रही थी। पिछले कारोबारी सत्र के दौरान इतना था दाम
इससे पहले गुरुवार को सोने और चांदी की कीमत में गिरावट देखने को मिली थी। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार, कल सोने में 157 रुपये की गिरावट आई थी। इस गिरावट से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोने का दाम 44,250 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया था। सोने की मांग में स्थिरता के कारण सोना सस्ता हुआ था। चांदी की बात करें, तो कल चांदी की कीमत में भी गिरावट दर्ज की गई थी। चांदी में 99 रुपये की गिरावट आई थी और यह 47,517 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया था। दिल्ली में 24 कैरेट सोना 157 रुपये सस्ता हुआ था। वैश्विक बाजार की बात करें, तो सोना 1,640 डॉलर प्रति औंस पर और चांदी 17.17 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रही थी।


कोरोना संक्रमित कुल 43 मामलों की पुष्टि

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस से संक्रमण के कुल 43 मामलों की पुष्टि हुई है जिनमें केरल के वे तीन लोग भी शामिल हैं जिन्हें उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार बाकी 40 मामले सक्रिय संक्रमण के हैं। रविवार से अबतक जिन चार नए मामलों की जानकारी मिली है उनमें से एक केरल के एर्नाकुलम से, एक दिल्‍ली, एक उत्‍तर प्रदेश और एक जम्‍मू से है।


केरल में रविवार को जिन पांच नए मामलों का पता चला था उनमें से तीन लोग ऐसे हैं जिन्‍होंने हाल ही में इटली की यात्रा की थी और दो अन्‍य उनके परिजन हैं जो उनके संपर्क में आए थे। इन लोगों ने हाल ही में एक पारिवारिक समारोह में हिस्‍सा लिया था और अपने कुछ रिश्‍तेदारों से मिलने गए थे। उनके संपर्क में आए व्‍यक्तियों का पता लगाया जा रहा है।देश में कोरोना वायरस के 3003 नमूनों की जांच में से 43 के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है जबकि 2694 नमूने नेगटिव पाए गए हैं। अब तक विदेशों से आने वाली 8255 उड़ानों के कुल 874708 यात्रियों की हवाई अड्डों पर स्‍क्रीनिंग की जा चुकी है जिसमें से 1921 के कोरोना से संक्रमित होने का संदेह है। इनमें से 177 को अस्‍पताल में भर्ती किया गया है।कुल 33,599 यात्रियों को निगरानी में रखा गया है और 21,867 यात्रियों की निगरानी की अवधि पूरी हो चुकी है।देश में आने वाले यात्रियों से अपील की गई है कि वह हवाई अड्डों पर स्‍वघोषित प्रपत्र भरते समय अपनी यात्रा की पूरी जानकारी स्‍पष्‍ट रूप से दें और यह बताएं कि वह किन-किन स्‍थानों की यात्रा कर चुके हैं। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय के विशेष सचिव ने बताया है कि पचिश्‍म बंगाल के मुर्शिदाबाद में एक व्यक्ति की कोरोना संक्रमण की जांच की गई थी जो नेगेटिव पाई गई है। देश में कोरोना संक्रमण से मौत का कोई मामला नहीं है। केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्री डा. हर्षवर्धन लगातार स्थिति पर नजर रखे हुए हैं और संक्रमण से निपटने की तैयारियों और प्रयासों की समीक्षा कर रहे हैं। स्‍वास्‍थ्‍य सचिव भी राज्‍य सरकारों और संघ शासित प्रदेशों के साथ संपर्क कर नियमित रूप से स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने लोगों से अपील की है कि वे खांसते और छींकते समय सावधानी बरतें, हाथों की सफाई का पूरा ध्‍यान रखें, भीड़-भाड़ वाले स्‍थानों से बचें और क्‍या करना चाहिए और क्‍या नहीं करना चाहिए इस बारे में जारी सलाह का पालन करें। इटली से लौटा तीन साल का बच्चा कोरोना से संक्रमित
कोच्चि। इटली से केरल के कोच्चि लौटे तीन वर्षीय बच्चे के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। सोमवार को कोरोना वायरस का यह नया मामले सामने आने के बाद केरल में संक्रमितों की संख्या बढ़कर छह हो गई है। सूत्रों के अनुसार यह बच्चा अपने माता-पिता के साथ दुबई के विमान से शनिवार सुबह कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आया था। इसके बाद उसमें कोरोना वायरस से संक्रमित होने के लक्षण पाये जाने के तुरंत बाद एर्नाकुलम मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अलग वार्ड में भर्ती कराया गया।


वायरस से बचने की 'आयुर्वेदिक विधी'

बीजिंग। चीन के घातक कोरोना वायरस से दुनियाभर में अब तक 3,831 लोगों की मौत हो गई है। इनमें चीन में सबसे ज्यादा 3,120, इसके बाद इटली में 366 और ईरान में 194 मौत हुई हैं। मौत के इस वायरस की चपेट में अब तक 110,090 लोग आ चुके हैं। भारत में कोरोना वायरस के अब 40 मामले सामने आये हैं।


कोरोना का कहर बढ़ने से लोग इससे बचने के उपाय सर्च कर रहे हैं। अधिकतर लोग यह जानना चाहते हैं कि कोरोना वायरस से बचने के क्या उपाय हैं, कोरोना से कैसे बचा जा सकता है, कोरोना से बचने का आसान तरीके क्या हैं?
आपको बता दें कि कोरोना वायरस के लिए अभी तक कोई स्थायी इलाज और दवा नहीं बनी है। इससे सुरक्षा ही बचाव है। हालांकि कुछ आयुर्वेदिक एक्सपर्ट मानते हैं कि इम्युनिटी सिस्टम मजबूत करके काफी हद तक आप अपने शरीर को इस वायरस के खिलाफ लड़ने के लिए ताकतवर जरूर बना सकते हैं।


च्यवनप्राश
आयुर्वेद विशेषज्ञों के अनुसार, रोजाना एक चम्मच च्यवनप्राश खाने से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और यह वायरस के प्रसार को रोकने में मदद कर सकता है। समाचार एजेंसी आईएएनएस को दिए एक इंटरव्यू में जीवा आयुर्वेद के निदेशक प्रताप चौहान ने बताया कि किसी भी प्रकार की बीमारी से लड़ने के लिए इम्युनिटी सिस्टम का मजबूत होना जरूरी है। कोरोना वायरस मुख्य रूप से फेफड़ों और श्वसन प्रणाली को प्रभावित करता है।
 आंवला, गिलोय, नीम, कुटकी, तुलसी
उन्होंने कहा कि रोजाना एक चम्मच च्यवनप्राश खाने इम्युनिटी सिस्टम मजबूत बनता है। यह फेफड़ों और श्वसन प्रणाली के कामकाज को बढ़ाने में भी सहायक है। आंवला, गिलोय, नीम, कुटकी, तुलसी जैसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां भी इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने और इन्फेक्शन से बचाने में सहायक हैं।


 अदरक, पुदीने, दालचीनी की चाय
उन्होंने बताया कि आयुर्वेद में, अच्छा और मजबूत पाचन रोगों से लड़ने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके लिए रोजाना ताजा अदरक का एक टुकड़ा खाएं या अदरक की चाय पिएं। पुदीने की चाय, दालचीनी की चाय और सौंफ की चाय भी बेहतर ऑप्शन हैं।


 शिलाजीत और अश्वगंधा
उपकर्मा आयुर्वेद के संस्थापक और प्रबंध निदेशक विशाल कौशिक के अनुसार, कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के बीच शिलाजीत और अश्वगंधा जैसी औषधीय जड़ी बूटियों की मांग में 15 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। कौशिक ने कहा कि शक्तिशाली आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों के नियमित सेवन से मानव शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा मिलता है।


तिल का तेल
चौहान ने यह भी सुझाव दिया कि नाक में तिल के तेल की दो-तीन बूंद डालने और इसे सूँघने से न केवल नाक के मार्ग और गले को चिकनाई मिलेगी, बल्कि यह भीतर के बलगम झिल्ली को भी मजबूत कर सकता है। कोरोना वायरस के लक्षणों में बुखार, खांसी, सांस की कमी, गले में खराश, सिरदर्द, छींक आना और किडने फेलियर आदि शामिल हैं, अगर आपको ये लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो आपको यह टेस्ट कराना चाहिए। इसके अलावा अगर आप हाल ही में आपने ऐसे देश की यात्रा की है, जहां संक्रमण फैला हुआ है तो आपको किसी भी कीमत पर इसकी जांच करानी चाहिए।


भारत की ग्रोथ रेट 6 प्रतिशतः अनुराग

सुप्रिया पाण्डेय


रायपुर। भारत सहित विश्वभर में छाई मंदी के बीच केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने बड़ा दावा किया है कि 2020-21 के वित्तीय वर्ष में भारत की ग्रोथ रेट 6 प्रतिशत होगी। ठाकुर ने कहा कि यह सब सरकार के उठाये कदमों का नतीजा है।


भारत आज स्ट्रांग ग्रोथ रेट के रूप में आकर खड़ा है। जबकि वैश्विक निकाय आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन ने मार्च 2020 में समाप्त हो रहे वित्तीय वर्ष में जीडीपी 4.9 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है। अनुराग ठाकुर छत्तीसगढ़ के एक दिवसीय दौरे पर रायपुर पहुंचे हैं। जहां वे एक निजी होटल में व्यापारियों और उद्योगपतियों को संबोधित कर रहे थे। व्यापारियों और उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए कहा कि केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने ट्रांजेक्शन के लिए भीम यूपीआई डिजिटल प्लेटफार्म का इस्तेमाल करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि करोड़ों लोग फेसबुक या व्हाट्सएप्प का इस्तेमाल करते है तो डिजिटल पेमेंट में दिक्कत क्या है। अनुराग ठाकुर ने जीएसटी को क्रांतिकारी कदम बताया।उन्होंने कहा जीएसटी लाना सरकार के लिए क्रांतिकारी कदम था। महज 2 वर्ष बाद चुनाव होने थे हम चुनाव जीतने के लिए कदम नहीं उठाते जीएसटी में बदलाव लाने का काम केंद्र सरकार नहीं जीएसटी काउंसिल करती है। साल में केवल एक बार टैक्स रेट में बदलाव किया जाना चाहिए ताकि गरीब उपभोक्ता पर फर्क ना पड़े। हमने 25 हजार करोड़ रुपए का फंड बनाया है। आजादी के बाद से 2014 तक 18 लाख करोड़ का बजट था जो बढ़कर 52 लाख करोड़ तक पहुंच गया। 63 हजार बैंकों को दे दिया. बैंकों को मजबूत करने के लिये उन्हें मर्ज करने का काम किया। पिछले 4 महीनों में 1 लाख करोड़ से ज्यादा जीएसटी का कलेक्शन हुआ है। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री ने कहा कि टैक्स भरने के स्लैब में आप सुविधा मांग रहे है तो में आपसे यही कहना चाहता हूं कि आप खुद लिख कर दीजिए कि 5 स्लैब को 3 स्लैब कैसे किया जाए। गरीब उपभोक्ता पर कोई फर्क ना पड़े इसका ख्याल रखना है। मैं आपको भरोसा दिलाना चाहता हूं की सरकार ने यह कदम उठाया कि आज किसी भी ऑटोमोबाइल कंपनी में स्टॉक नहीं बचा है। सब क्लियर चल रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में पीएम किसान योजना के माध्यम से 6 हजार उनके खातों में डालने का काम किया। 70 सालों में जितने मेडिकल कॉलेज नहीं खोले गए वो हमने 5 वर्षों में खोल दिया। हम टैक्सपेयर चार्टर ला रहे है जो पहले गिने चुने देशों में ही यह था। इसमें हम कर दाताओं का सम्मान करेंगे। लोगो को इनकम टैक्स विभाग परेशान ना करे इसका ख्याल किया है लेकिन कोंग्रेस और विपक्ष से उम्मीद है कि वे सदन को चलने दें ताकि यह भी लागू किया जा सके। जानकारों का मानना है कि 2020-21 के वित्तीय वर्ष में भारत की ग्रोथ रेट 6 प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद है। यह सब सरकार के उठाये कदमों का नतीजा है। भारत आज स्ट्रांग ग्रोथ रेट के रूप में आकर खड़ा है।


शराब की दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण

अतुल त्यागी जिला प्रभारी, रिंकू सैनी रिपोर्टर, मुकेश सैनी रिपोर्टर


उप जिलाधिकारी हापुड़ एवं जिला आबकारी अधिकारी ने शराब की दुकानों पर किया अकस्मिक निरीक्षण


हापुड। जिलाधिकारी हापुड़ द्वारा दिये गए। आदेशों के क्रम में बीति रात उप जिलाधिकारी हापुड़ सत्यप्रकाश, जिला आबकारी अधिकारी महेन्द्र नाथ सिंह व आबकारी स्टाफ के साथ हापुड़ देसी, विदेशी व बियर की दुकान हापुड़ गढ़ रोड, विदेशी व वियर की दुकान दिल्ली गढ़ रोड हापुड़ नं0-1 तथा अतरपूरा चौपला हापुड़ मॉडल शॉप का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने अनुज्ञापियों को दुकान पर साफ- सफाई रखने व ओवर रेटिंग न करने के कड़े निर्देश दिए।


2 आतंकी ढेर, गोला-बारूद बरामद

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर के शोपियां जिले में सोमवार सुबह सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में दो अज्ञात आतंकवादी मारे गए। उनके पास से गोला-बारूद बरामद हुआ है। सेना ने इस बात की जानकारी दी। सुरक्षाकर्मियों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ खोजपुरा इलाके के रेबन गांव में सुबह 6.40 बजे के आसपास शुरू हुई।


एक गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), जम्मू एवं कश्मीर पुलिस, और राष्ट्रीय राइफल्स की एक संयुक्त टीम ने रात के समय इलाके की घेराबंदी की। सुरक्षा बलों ने जैसे ही आतंकवादियों के ठिकाने वाले घर में प्रवेश करने की कोशिश की, उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद आतंकवादियों के साथ शुरू हुई मुठभेड़ में दो अज्ञात आतंकी मारे गए। सेना के एक अधिकारी ने कहा, “इस ऑपरेशन में दो आतंकवादियों को मार गिराया गया है। शवों को बरामद कर लिया गया है और उनकी पहचान की जानी बाकी है। गोलीबारी बंद हो चुकी है और इलाके में तलाशी अभियान जारी है।” तलाशी अभियान के दौरान मुठभेड़ वाले स्थान से गोला-बारूद बरामद हुआ है। सेना ने कहा, “हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं। तलाशी अभियान जारी है।” सीआरपीएफ के अधिकारी ने कहा कि गोलीबारी के बाद शुरू हुई मुठभेड़ में शुरुआत में कितने आतंकवादी वहां मौजूद थे, इसका पता करना अभी बाकी है।


जंगली सूअर ने महिला पर किया हमला

गोविंद रावत


अल्मोड़ा। घर के निकट ही मवेशियों के लिए चारा लेने गई महिला पर जंगली सूअर ने प्राणघातक हमला कर बुरी तरह घायल कर दिया। जंगली सूअर ने महिला के कान फाड़ डाले हैं और सिर पर दांतों से जोरदार हमला किया है। उसे प्राथमिक चिकित्सा देने के बाद हल्द्वानी के लिए रेफर कर दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार जिले के विकास खंड सल्ट के ग्राम पूनाकोट निवासी खीमुली देवी पत्नी भूपाल सिंह रविवार सांय घास लेने के लिए गयी थी। इस बीच एक जंगली सूअर ने महिला पर अचानक हमला बोल दिया। सूअर ने उसके कान फाड़ दिये और सिर पर दांतों से गहरे घाव लगा दिये। घायल महिला को आनन-फानन में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवायल लाया गया, जहां डाक्टरों ने घायल महिला के कान के टांके लगाये। इसके बाद रामनगर रेफर कर दिया। रामनगर रामदत्त जोशी संयुक्त चिकित्सालय ने महिला की गंभीर हालत देख कर हल्द्वानी रेफर कर दिया है।


इलाहाबाद हाईकोर्टः यूपी सरकार को झटका

प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी सरकार को बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने आदेश दिया है कि सीएए विरोधी प्रदर्शनों के दौरान सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोपियों की तस्वीर वाले पोस्टर तुरंत हटाए जाएं।


उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सीएए विरोधी प्रदर्शनों के दौरान हिंसा हुई थी। उत्तर प्रदेश सरकार ने हिंसा भड़काने के कुछ आरोपियों की तस्वीर वाला पोस्टर लगवा दिया था। अब इलाहाबाद हाई कोर्ट ने इन पोस्टरों को हटवाने का आदेश दिए हैं। इससे पहले लखनऊ में पोस्टर लगाए जाने का बाद हाईकोर्ट ने मामले में स्वत: संज्ञान लिया था। जिन लोगो की सम्पाति को नुकसान पहुँचाया है उनकी स्वत्रान्तरता ओर निजता नही थी अपराधी लोगो की स्वतनत्रा को मान्यता देना कोर्ट के एकतरफा कार्यवाही है मामले पर रविवार को ही इलाहाबाद हाई कोर्ट ने सुनवाई शुरू कर दी थी। हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस गोविंद माथुर और रमेश सिन्हा की बेंच ने लखनऊ में सीएए विरोधी प्रदर्शन में संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोपियों की सड़क किनारे लगी फोटो वाले पोस्टर तत्काल हटाने का आदेश दे दिया है। साथ ही 16 मार्च को अनुपालन रिपोर्ट के साथ हलफनामा दाखिल करने का भी निर्देश दिया है।


पानी से सस्ता हुआ, कच्चा तेल

मुंबई। कच्चा तेल अब पानी से सस्ता हो गया है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में अचानक कच्चे तेल के दाम में 30 फीसदी की गिरावट आई है, जिसके बाद भारतीय वायदा बाजार में कच्चा तेल 2,200 रुपये प्रति बैरल के नीचे आ गया है।


कच्चे तेल के दाम में 1991 के खाड़ी युद्ध के बाद यह सबसे बड़ी एक दिनी गिरावट है, जो कि मुख्य रूप से सऊदी अरब द्वारा तेल का भाव घटाने के कारण आई है। एक बैरल में 159 लीटर कच्चा तेल होता है। इस प्रकार एक लीटर कच्चे तेल का दाम करीब 13-14 रुपए आएगा जबकि एक लीटर पानी की बोतल के लिए कम से कम 20 रुपए चुकाने पड़ते हैं। कच्चे तेल को लेकर शुरू हुए प्राइस वार और कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में सोमवार को 30 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। विदेशी बाजार से चलने वाले कच्चे तेल के कारोबार में घरेलू वायदा बाजार में कच्चे तेल का भाव 30 फीसदी से ज्यादा टूटकर 2,200 रुपए प्रति बैरल से नीचे आ गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज यानी एमसीएक्स पर कच्चे तेल के मार्च अनुबंध में 997 रुपए यानी 31.56 फीसदी की गिरावट के साथ 21,62 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था।वहीं, अंतरराष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज यानी आईसीई पर ब्रेंट क्रूड के मई अनुबंध में पिछले सत्र से 26.51 फीसदी की गिरावट के साथ 33.27 डॉलर पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले दाम 31.27 डॉलर प्रति बैरल तक गिरा। न्यूयार्क मर्के टाइल एक्सचेंज यानी नायमैक्स पर अप्रैल डिलीवरी अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट के अनुबंध में 28.44 फीसदी की गिरावट के साथ 29.54 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले भाव 27.34 डॉलर प्रति बैरल तक गिरा था। एंजेल ब्रोकिंग के (एनर्जी व करेंसी रिसर्च) के डिप्टी वाइस प्रेसीडेंट अनुज गुप्ता ने बताया कि तेल के उत्पादन में कटौती को लेकर ओपेक और रूस के बीच सहमति नहीं बनने के बाद सऊदी ने प्राइस वार छेड़ दिया है और इसमें अगर ओपेक के कुछ और सदस्य शामिल हुए तो कच्चे तेल के दाम में और गिरावट आ सकती है। उन्होंने बताया कि 2015 में भी इसी तरह की प्राइस वार का परिदृश्य देखने को मिला था जब सऊदी ने कहा था कि अगर क्रूड का भाव 20 डॉलर प्रति बैरल तक भी आ गया तो उसे कोई चिंता नहीं है।


विश्व कप टीम में शामिल एकमात्र भारतीय

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने सोमवार को आईसीसी महिला टी-20 विश्व कप टीम की घोषणा कर दी है। टीम में शामिल स्पिन गेंदबाज पूनम यादव एकमात्र भारतीय हैं। वहीं, ऑस्ट्रेलिया की पांच और इंग्लैंड की चार खिलाड़ियों को टीम में जगह मिली है। ऑस्ट्रेलिया की मेग लेनिंग को टीम का कप्तान नियुक्त किया गया है। 16 वर्ष की युवा सलामी बल्लेबाज शैफाली वर्मा को 12वें खिलाड़ी के रूप में शामिल किया गया है। हालांकि उन्हें अंतिम एकादश में जगह नहीं मिली है। पूनम ने विश्व कप में 10 विकेट हासिल किये, जिसमें उनके द्वारा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में लिए गए चार विकेट शामिल है। वहीं, शैफाली ने टूर्नामेंट में 5 मैचों में 165 रन बनाए और इस प्रदर्शन की बदौलत वह टी-20 रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर पहुंची।


सब्जियों से भी सस्ता हुआ चिकन

जशपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में कोरोना वायरस की दहशत का असर चिकन कारोबार पर पड़ा है। ब्रॉयलर चिकन से कोरोना वायरस फैलने की खबरों से मुर्गा व्यवसाय बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।


जशपुर जिले में थोक में 15 रुपए और खुदरा 30 रुपए प्रति किलो तक ब्रॉयलर मुर्गा बिक रहा है। जबकि मौसमी सब्जियां जैसे गोभी, भिंडी, करेला, कटहल व अन्य की कीमत 30 से 60 रुपए किलो तक है। एक अनुमान के मुताबिक कोरोना वायरस की अफवाह से जशपुर जिले में 20 करोड़ रुपए से अधिक का नुकसान मुर्गा व्यापारियों को हुआ है। जशपुर जिले समेत पूरे प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है, लेकिन कोरोना वायरस को लेकर जशपुर में फैली अफवाह से जरूर लोगों में दहशत का माहौल है।कोरोना वायरस को लेकर फैली अफवाह की वजह से जशपुर का चिकन कारोबार बुरी तरह प्रभावित हुआ है। आमतौर पर थोक में 80 और खुदरा में 120 रुपए प्रति किलोग्राम बिकने वाला ब्रॉयलर चिकन इन दिनों थोक में 15 और चिल्हर में 30 रुपए प्रति किलो की दर से बिक रहा है।चिकन खाने से कतरा रहे लोग
ब्रॉयलर चिकन के दामों में भारी गिरावट के बावजूद ग्राहक चिकन खाने से कतरा रहे हैं। कोरोना वायरस को लेकर फैली अफवाह की वजह से मुर्गा व्यवसाय प्रभावित हो रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे मैसेज इस अफवाह को और बढ़ा रहे हैं। इसकी वजह से लोग ब्रॉयलर चिकन खाने से कतरा रहे हैं। इससे चिकन कारोबारियों की चिंता बढ़ गई है। जशपुर जिले के कई कारोबारियों ने बताया कि होली में चिकन का कारोबार हर साल बढ़ता है, लेकिन इस बार कोरोना वायरस की अफवाहों से भारी नुकसान की आशंका है।


सीएम कमलनाथ ने खेला बड़ा दावा

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में विपक्षी भाजपा और सत्ता धारी कांग्रेस के बीच सियासी खींचतान चरम पर है। दोनों पार्टियों के बीच शह और मात का खेल जारी है। अब सीएम कमलनाथ ने बड़ा दांव खेला है।


मध्यप्रदेश में सीएम कमलनाथ ने प्रदेश में बीजेपी के विधायकों की सुरक्षा वापस ले ली है। सुरक्षा वापस लिये जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी के एक पदाधिकारी ने इन विधायकों के लिये गृह मंत्री अमित शाह से केंद्रीय सुरक्षा उपलब्ध कराने की मांग की है। भाजपा अब सीएम के इस फैसले को मुद्दा बनाने में जुट गई है। बीजेपी के दो विधायकों संजय पाठक और विश्वास सारंग ने प्रदेश सरकार द्वारा अपने निजी सुरक्षा अधिकारी ‘पीएसओ’ को हटाए जाने के बाद अपनी जान को खतरा बताया था। अब भाजपा इसको लेकर सीएम कमलनाथ को घेरने में लग गई है। देखना है वो अपने मकसद में कितना सफल हो पाती है।


499 साल बाद बनेगा 'विशेष योग'

मुंबई। जाने कौन सी राशि वाले किस कलर से खेले होली किस रिस्ते के साथ बनाए यह त्योहार।
इस साल होली पर गुरु और शनि का विशेष योग बन रहा है। ये दोनों ग्रह अपनी-अपनी राशि में रहेंगे।
9 मार्च को गुरु अपनी धनु राशि में और शनि भी अपनी ही राशि मकर में रहेगा। ज्योतिष गणना के अनुसार इससे पहले इन दोनों ग्रहों का ऐसा योग 3 मार्च 1521 को अर्थात 499 साल पहले बना था, तब भी ये दोनों ग्रह अपनी-अपनी राशि में ही थे। इसके अलावा इस वर्ष होली पर शुक्र मेष राशि में, मंगल और केतु धनु राशि में, राहु मिथुन में, सूर्य और बुध कुंभ राशि में, चंद्र सिंह में रहेगा। ग्रहों के इन योगों में होली आने से ये शुभ फल देने वाली रहेगी। ज्योतिषाचार्य पंडित अतुल शास्त्री  के अनुसार, यह योग देश में शांति स्थापित करवाने में सफल होगा। व्यापार के लिए हितकारी रहेगा और लोगों में टकराव समाप्त होगा। आम तौर पर हर वर्ष जब सूर्य कुंभ राशि में और चंद्र सिंह राशि में होता है, तब होली मनाई जाती है।
ज्योतिष गणना के अनुसार इस वर्ष होली पर बन रहे इस विशेष योग का फ़ायदा भी विशेष है। इसके बारे में क्रमानुसार बता रहे हैं ज्योतिषाचार्य पंडित अतुल शास्त्री।
घर में कोई शारीरिक कष्टों से पीड़ित है ओर उसको रोग छोड़ नहीं रहे है तो 11 अभिमंत्रित गोमती चक्र बीमार ब्यक्ति के शरीर से 21 बार उसार कर होली की अग्नि में डाल दे शारीरिक कष्टों से शीघ्र मुक्ति मिल जायेगी।
दुर्भाग्य को दूर करने के लिए होली के दिन से प्रारंभ करके लगातार 41 दिन तक बजरंग बाण का पाठ करे।
होली की राख को घर लाकर उसमें थोडी सी राई व नमक मिलाकर रख लें। इस प्रयोग से भूतप्रेत या नजर दोष से मुक्ति मिलती है।
होली पर पूरे दिन अपनी जेब में काले कपड़े में बांधकर काले तिल रखें। रात को जलती होली में उन्हें डाल दें। यदि पहले से ही कोई टोटका होगा तो वह भी खत्म हो जाएगा।
जो लोग राहु केतु के दोषो से पीड़ित है वे लोग होली मे काले तिल अवश्य चढ़ाना चाहिए इससे राहु केतु के दोषो मे आराम मिलता है।
अगर आपको कोई दुश्मन परेशान कर रहा है तो उसके नाम के अक्षरो के बराबर गोमती चक्र लेकर उस पर दुश्मन का नाम लिखकर होली की आग मे डाल दे दुश्मन से छुटकारा मिल जाएगा।
अगर व्यापार मे रुकावट आ रही है तो होलिका दहन की रात को होली की आग से व्यापार स्थान पर धूप देवे व्यापार सुचारू रूप से चलने लगेगा।
होली की रात को चंद्रमा की पूजा करने से चंद्रमा के दोषो मे आराम मिलता है।
जो लोग क़र्ज़ से परेशान है वे होली की रात को मंगल ऋण मोचन का पाठ करे जल्द ही क़र्ज़ मुक्ति का योग बनेगा।
अगर आप कोई मंत्र सिद्ध करना और फिर उस मंत्र की सिद्धि प्राप्त करना चाहते है तो होली की रात को आप उसे सिद्ध करके सिद्धि प्राप्त कर सकते हैं।
होलिका दहन में देशी घी में भिगोई हुई दो लौंग, एक बताशा और एक पान का पत्ता अवश्य चढ़ाना चाहिए । इससे सुख-समृद्धि बढ़ती है, कष्ट दूर होते हैं।
होली वाले दिन भगवान नृसिंह ओर माता लक्ष्मी की विधिवत तरीके से पूजा एवं पंचामृत का अभिषेक अवश्य करे इससे सोभाग्य मे वृद्धि होती है।
जो युवा विवाह योग्य हैं और सर्वगुण संपन्न हैं, फिर भी शादी नहीं हो पा रही है, उन्हे यह उपाय अवश्य करना चाहिए। होली के दिन किसी शिव मंदिर जाएं और अपने साथ 1 साबूत पान, 1 साबूत सुपारी एवं हल्दी की गांठ रख लें। पान के पत्ते पर सुपारी और हल्दी की गांठ रखकर शिवलिंग पर अर्पित करें। इसके बाद पीछे देखें बिना अपने घर लौट आएं। जल्दी ही विवाह के योग बन जाएंगे। इन उपायो के अलावा इस होली राशि अनुसार भी जातको के लिए कुछ विशेष फ़लदायी उपाय बता रहे हैं ज्योतिषाचार्य पंडित अतुल शास्त्री। मेष-  हनुमान जी को 11 गुलाब फूल चढ़ायें एंव उसमें से फूल लेकर लाल कपड़े में बांधकर तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से पूरे वर्ष माँ लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी।भतीजे एंव भतीजियों को लाल गुलाल लगाकर होली खेलें। वृष-  होली के दिन शिव जी पर लाल गुलाब का लेपन करने से आने वाली समस्याओं का शमन होगा और मनोकामना पूर्ण होगी।ससुराल पक्ष के लोगों के साथ चमकीले गुलाल से होली खेलें जिससे सम्बन्धों में मधुरता आयेगी। मिथुन- मित्रगणों के साथ हरा रंग या गुलाल लगाकर मस्ती करें। गणेश जी पर हरा गुलाल चढ़ाये एंव गणेश स्त्रोत का पाठ करें।बुध ग्रह भी देगा शुभ फल कर्क-  होली के दिन शिव-पार्वती का गुलाल चढ़ायें एंव मिश्री का भोग लगाकर विधिवत पूजन करें।आज के दिन अपनी माँ को गुलाल लगाकर अशीर्वाद लेने से आप हर बाॅधा को पार कर आगे बढ़ेगें। सिंह-  होली के दिन प्रातःकाल जल में गुलाल एंव गुलाब फूल चढ़ाकर सूर्य देव को अर्पित करें।अपने पिता को गुलाल का टीका लगाकर उनसे अशीर्वाद लें। कन्या- शनि देव की स्तुति करें एंव उन्हे नीला गुलाल व काले तिल चढ़ायें। अपनी बहन एंव बुआ को नीला गुलाल अवश्य लगायें।साढ़े साती जिन लोगों पर चल रही है वह जरूर करें तुला- होली के दिन अपनी पत्नी को ब्राइट कलर का गुलाल लगायें जिससे आपसी प्रेम बना रहेगा। माँ
लक्ष्मी स्त्रोत का पाठ करायें। शुक्र ग्रह बलवान होगा। वृश्चिक- आज के दिन अपने भाईयों लाल गुलाल अवश्य लगायें जिससे आपसी सौहाद्र में वृद्धि होगी। हनुमान जी के दाहिने बाजू पर लाल गुलाल लगायें। धनु- अपनी सन्तान के साथ पीले रंग के गुलाल के साथ होली खेलने से गिले-शिकवे दूर होकर एक-दूसरे के प्रति गहरा प्रेम उमड़ेगा। केले पर कच्चा दूध चढ़ाने से धन-धान्य में वृद्धि होगी। मकर- इस राशि वाले लोग अपनें कर्मचारियों, नौकरों व सेवकों के साथ नीले गुलाल से होली जरूर खेलें। ऐसा करने से इन लोगों के साथ आपके सम्बन्ध मधुर होंगे। शनि देव की स्तुति करें। कुम्भ- आप लोग वृद्ध व्यक्तियों के साथ नीले व गुलाबी रंग के साथ होली खेलें जिससे शनि देव की कृपा आप पर हमेशा बनी रहेगी। कालभैरव का पूजन करने से आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी। मीन-होलिका दहन के समय गोबर के कण्डे अग्नि में डालने से बाधायें दूर होगी।मीन राशि के जातक अपने गुरू को पीले रंग गुलाल जरूर लगायें। ऐसा करने से गुरू की कृपा से आप दिन-रात उन्नति करेंगे।


 पंडित अतुल शास्त्री


चुटकियों में हो जाएगा होली का रंग साफ

होली खेलने में जितना मजा आता है, उतनी ही दिक्कत होती है होली के बाद रंग छुड़ाने में। जिन लोगों को रंग खेलना बहुत पसंद होता है, वे अक्सर ऐसे तरीके खोजने में लगे रहते हैं, जिससे स्किन पर रंग ज्यादा दिनों तक ना टिका रहे और त्वचा को होनेवाले उस नुकसान से बचाया जा सके, जो रंगों में मिले कैमिकल्स की वजह से होता है। आइए, यहां जानते हैं उन आसान और मजेदार टिप्स के बारे में जो होली रंग त्वचा से चुटकियों में साफ कर सकते हैं… 
सरसों और नारियल तेल
ऑफिस और स्कूल्स में छुट्टियां होने लगी हैं, जाहिर है सभी लोग होली का त्योहार मनाने के लिए तैयारी में जुट रहे हैं। तो रंग खरीदते वक्त आप सरसों तेल, नारियल तेल और वैसलीन का छोटा पैक भी खरीद लीजिए। होली वाले दिन रंग खेलने से पहले अपने पूरे शरीर पर सरसों तेल की मालिश कर लीजिए। तेल थोड़ा अधिक और रंगड़कर लगाएं। ताकि त्वचा सोख सके और तेल स्किन पर टिका भी रह सके। 
बालों की देखभाल 
सरसों तेल से बालों में भी अच्छी तरह मसाज करें। तेल बालों में और सिर की त्वचा पर बहुत अच्छी तरह लगा होना चाहिए। ताकि रंग आपके बालों को डैमेज ना कर सके। साथ ही रंग खेलने के बाद जब आप शैंपू करें तो आपके बालों का नैचरल ऑइल और मॉइश्चराइजिंग डिसबैलंस ना हो।
ऐसे लगाएं नारियल तेल 
नारियल तेल आपको तब लगाना है, जब आप होली खेलने के बाद नहा लें। नहाने के पश्चात आप स्किन पर कोई और मॉइश्चराइजर लगाने की जगह नारियल का तेल लगाएं। यह तेल सिर और पूरे शरीर पर लगाएं। इससे आपकी स्किन को जरूरी पोषण मिलेगा। त्वचा पर बाकी बचा रह गया रंग अगली बार नहाते समय निकालने में आसानी होगी। साथ ही किसी तरह की एलर्जी और इंफेक्शन आपको परेशान नहीं कर पाएगा। क्योंकि नारियल तेल ऐंटीफंगल और ऐंटिबैक्टीरियल होता है। 
नेल्स की देखभाल 
रंग खेलने के दौरान हमारे हाथ और पैर दोनों के ही नाखूनों में रंग भर जाता है। जिन लोगों की स्किन सेंसेटिव होती है, उन्हें नेल्स के आस-पास की स्किन में जलन या खुजली की दिक्कत भी हो जाती है। इससे बचने के लिए अपने नाखूनों और क्यूटिकल्स यानी नाखूनों के तीनों तरफ की त्वचा पर अच्छी तरह से वैसलीन लगा लें। इससे आपकी क्यूटिकल्स में फंसे रंग को निकालने में आसानी होगी और रंग सीधे स्किन को डैमेज भी नहीं कर पाएगा।
लिप और आई केयर ऐसे करें 
होठों, आखों और चेहरे की देखभाल के लिए आप होठों पर वैसलीन पैट्रोलियम जेली, लगा लें। चेहरे पर किसी भी तरह के तेल का उपयोग करने से बचें। चेहरे और गर्दन पर पहले मॉइश्चराइजर लगाएं और उसके बाद पैट्रोलियम जैली। इससे आपकी स्किन रंगों से होनेवाले खतरे से पूरी तरह प्रोटैक्ट रहेगी। नहाते समय अपनाएं ये टिप्स 
-रंग खेलने के बाद नहाते समय बालों पर दो बार शैंपू अप्लाई करें। इससे बालों में फंसा रंग भी अच्छी तरह साफ हो पाएगा और आपने जो अतिरिक्त सरसों का तेल लगाया है, वह भी क्लीन हो जाएगा। 
-बालों में लगा सरसों का तेल अधिक शैंपू यूज करने से होनेवाले नुकसान और ड्राइनेस से बालों को प्रोटैक्ट करेगा। साथ ही रंग को अधिक समय तक बालों और सिर की स्किन पर टिकने नहीं देगा। शैंपू करने के बाद कंडीशनर का उपयोग जरूर करें। इससे बालों को पोषण मिलेगा और उन्हें कैमिकल रंगों के कारण होनेवाली किसी भी तरह की इजिंग, बर्निंग या रैशेज से खुद को प्रोटैक्ट करने में मदद मिलेगी।
-नहाते समय शरीर पर ऐंटिबैक्टीरियल सोप का उपयोग करें। अगर आप अपने डेली ब्यूटी सोप से नहा रहे हैं तो ध्यान रखें कि आपको यह सोप दो बार अपनी बॉडी पर लगाना है। ताकि स्किन पोर्स में फंसा रंग बाहर निकल सके। नहाते समय हाथ और पैर के नाखून साफ करने के लिए पैडिक्यॉर ब्रश का उपयोग करें। अगर आपके पास यह ब्रश नहीं है तो किसी पुराने लेकिन साफ टूथब्रश से अपने नाखूनों और आस-पास के क्यूटिकल एरिया में फंसे रंग को साफ करें। नारियल तेल वॉशरूम में साथ लेकर जाएं और शॉवर के तुरंत बाद स्किन पोंछकर पूरी बॉडी पर इसे लगा लें। ऐसा इसलिए क्योंक नहाने के बाद हमारी स्किन काफी सॉफ्ट होती है। ऐसे में उसे मॉइश्चराइज करने का अधिक लाभ मिलता है। त्वचा को अच्छी तरह पोषण मिल पाता है।


घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करना चाहिए

हेल्थ से जुड़ी हर छोटी परेशानी के लिए कभी-कभी घरेलू नुस्खों को अपनाकर देखना चाहिए। इसी के चलते अगर हम अपने घरों में कुछ मेडिसिनल प्लांट लगा लेते हैं तो ये हमारी कई बीमारियों के लिए रामबाण इलाज साबित हो सकते हैं।कई प्रकार के पौधों और जड़ी-बूटियों में औषधीय गुण होते हैं। इसके अलावा दवाई की तरह इनका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता। हेल्थ को अच्छा बनाए रखने के लिए ये पौधे काफी अच्छे साबित हो सकते हैं। अगर आप प्राकृतिक तरीकों पर भरोसा रखते हैं, तो कुछ औषधीय पौधे हैं, जिनमें उपचार के अद्भुत गुण मौजूद हैं। इन पौधों का उपयोग प्राचीन समय से उनके गुणकारी गुणों के लिए किया जाता है। आइए जानते हैं कौन से हैं वो पौधे।
जिन्कगो बाइलोबा 
यह होम्योपैथी चिकित्सा में इस्तेमाल किया जाता है। इनसे स्ट्रेस, सूजन, चिंता, अवसाद और आंखों की कई तरह की समस्याओं का इलाज किया जा सकता है। कहते हैं कि ये ब्लड शुगर के स्तर को भी नियंत्रित कर सकते हैं और हड्डियों को तेजी से ठीक करने में मदद करते हैं। जिन्कगो बाइलोबा की न सिर्फ पत्तियां, बल्कि इसकी शाखा से लेकर जड़ तक हर एक चीज का इस्तेमाल किया जा सकता है।
चाय का पेड़ 
चाय के पेड़ से निकाला गया तेल स्किन के लिए बहुत अच्छा होता है। ये पिंपल्स, एथलीट फुट, छोटे घाव, ड्रैंड्रफ और कीड़े के काटने को ठीक कर सकते हैं। हालांकि इसे त्वचा पर लगाने से पहले एलर्जी की जांच कर लें। चाय के पेड़ का तेल हैंड सेनिटाइजर के रूप में भी अच्छा काम कर सकता है। यह कीट निवारक भी है। मामूली कट जाने पर और स्क्रैप के लिए यह एंटीसेप्टिक का काम कर सकता है।
लैवेंडर 
इस सुगंधित बैंगनी फूल के तेल में एंटीस्ट्रेस गुण होते हैं। यह संज्ञानात्मक क्षमता में भी सुधार करता है और आपको बेहतर नींद दिलाने में मदद करता है। यह तेल ब्लड प्रेशर के स्तर को भी नियंत्रित कर सकता है। इसके अलावा यह स्ट्रेस और तनाव को भी दूर करता है। कहते हैं कि इसे घर में लगाने से पॉजिटिविटी मिलती है।
कैमोमिल
यह आपको चिंता, तनाव, अनिद्रा और कैंसर से निपटने में मदद कर सकता है लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले आपको एलर्जी टेस्ट कराना जरूरी होता है। कहते हैं कि ये हॉर्ट के लिए भी बहुत अच्छा होता है। हालांकि नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
ईवनिंग प्रिमरोज 
इस फूल का तेल मल्टीपल स्केलेरोसिस के रोगियों के लिए अच्छा होता है। यह पीएमएस, त्वचा की स्थिति, मेनॉपोज, मधुमेह न्यूरोपैथी और ब्लड प्रेशर से निपटने में भी आपकी मदद कर सकता है।


दूसरों की राय से फर्क नहीं पड़ताः श्रुति

मुंबई। ऐक्ट्रेस श्रुति हासन ने बॉडी शेमिंग करने वालों को बता दिया है कि वह बॉडी शेमिंग को हल्के में नहीं ले सकतीं। उन्होंने एक सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए ट्रोल्स को मुंहतोड़ जवाब दिया है। उन्होंने लिखा है कि उन्हें दूसरों की राय से फर्क नहीं पड़ता और लगातार कॉमेंट करना है कि वह पतली हैं या मोटी, वह ध्यान नहीं देतीं।


बॉडी शेमिंग के कॉमेंट्स पर गुस्सा जताते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने सर्जरी करवाई है लेकिन न वह इसे प्रमोट करती हैं और न ही इसके खिलाफ हैं। उन्होंने लिखा, मैं दूसरों की राय पर नहीं चलती लेकिन लगातार कॉमेंट करना कि वह बहुत मोटी है और वह बहुत पतली है, ध्यान देने लायक ही नहीं हैं। ये दो तस्वीरें 3 दिन पहले ली गई हैं। मुझे विश्वास है कि मैं जो कहना चाह रही हूं, महिलाएं उससे रिलेट करेंगी। कई बार मैं मेंटली और फिजिकली अपने हॉर्मोन्स से प्रभावित होती हूं और कई सालों से मैं इनसे सामंजस्य बैठाने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हूं। यह आसान नहीं है। दर्द आसान नहीं है, शारीरिक बदलाव आसान नहीं है लेकिन जर्नी शेयर करना आसान बन जाता है।


कोई इस पोजिशन में नहीं है कि किसी दूसरे इंसान को जज करे। कभी भी। यह सही नहीं है। मैं यह कहकर खुश हूं कि यह मेरी लाइफ है, मेरा चेहरा है और हां मैंने प्लास्टिक सर्जरी करवाई है, जिसे मानने में मुझे कोई शरम नहीं है। क्या मैं इसे प्रमोट कर रही हूं? नहीं, क्या मैं इसके खिलाफ हूं? नहीं- बस मैंने ऐसे जीना चुना है। हमने लिए और दूसरों के लिए हम सबसे बड़ा काम यह कर सकते हैं कि अपने शरीर और दिमाग के बदलावों को स्वीकार करना सीखें।
श्रुति के पोस्ट को फॉलोअर्स का काफी प्यार मिला है। इससे पहले भी एक इंटरव्यू के दौरान श्रुति बता चुकी हैं कि वह अपने चेहरे और बॉडी पर जो करती हैं उससे किसी को लेना-देना नहीं होना चाहिए। यह भी कहा था कि लोग जो सोशल मीडिया पर लिखते हैं, इससे उन पर कोई फर्क नहीं पड़ता।
बता दें कि श्रुति हासन ने 2009 में फिल्म लक से बॉलिवुड डेब्यू किया था इसके बाद वह कई तमिल और तेलुगु फिल्मों में नजर आ चुकी हैं। बहन होगी तेरी बॉलिवुड में उनकी पिछली फिल्म थी।


सेंसेक्सः 2357 अंक की गिरावट दर्ज

मुंबई। कोरोना वायरस और येस बैंक की वजह से सोमवार को भी भारतीय शेयर बाजार की शुरुआत बड़ी गिरावट के साथ हुई है, सेंसेक्स 2357 अंक गिर गया, वहीं निफ्टी में भी करीब 600 से ज्यादा अंकों की गिरावट दर्ज की गई।


भारतीय शेयर बाजार में यह अब तक की सबसे बड़ी गिरावट है। इससे पहले 24 अगस्त, 2015 को सेंसेक्स 1,624 अंक लुढक़ा था। बाजार में इतनी बड़ी गिरावट से निवेशक घबरा गए हैं। सुबह साढ़े 9 बजे सेंसेक्स 1169.74 अंक गिरकर 36,406.88 पर कारोबार कर रहा था, जबकि निफ्टी 332.40 अंक गिरकर 10,657.05 पर कारोबार कर रहा था. येस बैंक के शेयर मजबूती के साथ खुले और 20 फीसदी तक उछला. फिलहाल 34 फीसदी के उछाल पर कारोबार कर रहा है। दोपहर 1 बजे सेंसेक्स 2200 अंक से ज्यादा गिर गया और 35,547.27 पर कारोबार कर रहा है।


अच्छे प्रदर्शन के बाद धोनी की एंट्री

नई दिल्ली। BCCI के एक आला अधिकारी ने कहा कि सेलेक्शन कमिटी में अध्यक्ष समेत दो नए सदस्य आने के बावजूद एम एस धोनी को लेकर रूख में कोई बदलाव नहीं होगा और उन्हें टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में जगह पाने के लिए आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करना ही होगा।


सुनील जोशी की अध्यक्षता वाली सेलेक्शन कमिटी की रविवार को अहमदाबाद में हुई पहली बैठक में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 12 मार्च से शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का चयन किया गया।हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार और शिखर धवन ने टीम में जगह बनाई। पिछले अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने साफ तौर पर कहा था कि धोनी को टीम में जगह बनाने के लिए अच्छा प्रदर्शन करना होगा। जुलाई में न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमीफाइनल के बाद से धोनी क्रिकेट से दूर है। वह 29 मार्च से शुरू हो रहे आईपीएल के जरिए वापसी करेंगे। बोर्ड के एक सूत्र ने कहा, ‘बैठक में बस मुद्दे पर बात की गई। अभी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में धोनी चयन की दौड़ में नहीं थे तो उन पर कोई बात नहीं हुई।’ बोर्ड के सूत्र ने कहा, ‘आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने पर ही धोनी की वापसी होगी। सिर्फ वही नहीं आईपीएल में खेलने वाले कई सीनियर और युवा खिलाड़ियों पर यह बात लागू होती है। अच्छा खेलने पर उनके नाम पर भी विचार किया जाएगा। कुछ चौंकाने वाले चयन हो सकते हैं।’ टी-20 वर्ल्ड कप अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में खेला जाएगा। मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन रहने पर धोनी की वापसी के संकेत दिए थे।
धोनी के वारिस माने जा रहे ऋषभ पंत के खराब फॉर्म के चलते केएल राहुल से विकेटकीपिंग कराई जा रही है जिससे धोनी की वापसी की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।


होलीः कोरोना सुर के पुतले का दहन

कोरोना वायरस के चलते भारत में लोग होली खेलने से बच रहे हैं। लोग कोरोना वायरस के कारण होली खेलने से कतरा रहे हैं। मुंबई में होलिका दहन के मौके पर कोरोनासुर का पुतला लगाया गया है।


होलिका दहन पर जलाया जाएगा 'कोरोनासुर' का पुतला


मुंबई। भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कोरोना वायरस से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा करते हुए। अधिकारियों को संदिग्धों को पृथक रखने के उचित स्थान की पहचान और बेहतर इलाज की व्यवस्था करने को कहा है।


कोरोना वायरस के चलते भारत में लोग होली खेलने से बच रहे हैं। लोग कोरोना वायरस के कारण होली खेलने से कतरा रहे हैं। मुंबई में होलिका दहन के मौके पर कोरोनासुर का पुतला लगाया गया है। वर्ली में कोरोना वायरस की थीम पर आधारित 'कोरनासुर' का पुतला लगाया गया है। होलिका दहन के अवसर इस पुतले को जलाया जाएगा। बड़े से पुतले में COVID-19 लिखा है। उसके हाथ में एक सूटकेस है, जिसमें आर्थिक मंदी लिखा है।खुद


एनकाउंटर मैन आईपीएस के खिलाफ मामला

लखनऊ। 'सिंघम' और 'एनकाउंटर मैन' के रूप में पहचाने जाने वाले IPS अजयपाल शर्मा के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में FIR दर्ज करवाई गई है। खुद को अजय पाल की पत्नी बताने वाली दीप्ति शर्मा गाजियाबाद के साहिबाबाद स्थित आस्था अपार्टमेंट में रहती है।


दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस कर रही हैं। महिला का दावा है कि अजय पाल वर्ष 2016 में IPS गाजियाबाद में एसपी सिटी थे, और यह उसी समय का मामला है। महिला का दावा है कि इस दौरान उसकी शादी IPS अजय पाल से हुई थी। शादी गाजियाबाद में रजिस्टर्ड भी हुई थी। दीप्ति का कहना है कि अजय पाल से उनके रिश्ते कुछ बातों को लेकर खराब हो गए थे। इस संबंध में उन्होंने महिला आयोग, पुलिस विभाग, हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में शिकायत भी की थी।विशेष सचिव गृह अनिल कुमार सिंह के निर्देश पर हजरतगंज पुलिस ने IPS अजयपाल के खिलाफ गबन, आपराधिक साजिश और साक्ष्य मिटाने की धाराओं में FIR दर्ज की है। महिला द्वारा दर्ज कराए गए रिपोर्ट में अन्य पुलिसकर्मियों को भी आरोपी बनाया गया है। पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है। उल्लेखनीय है कि नोएडा से हटाए गए IPS वैभव कृष्ण ने जिन पांच अफसरों पर आरोप लगाया था, उनमें अजय पाल शर्मा भी शामिल हैं। इनके खिलाफ SIT जांच भी हुई थी, जिसमें अजय पाल के खिलाफ भी सबूत मिले हैं। उल्लेखनीय है कि अजय पाल के नाम 100 से अधिक एनकाउंटर दर्ज हैं।


भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक

नयी दिल्ली। होली के दिन भाजपा के राज्यसभा प्रत्याशियों की लिस्ट जारी हो सकती है। कल भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होने जा रही है। इससे पहले राज्यसभा की 55 सीटों के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो गई है। कई दलों ने अपने प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है, लेकिन भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अभी तक नामों का ऐलान नहीं किया है। प्रत्याशियों के नामों पर मंथन के लिए कल यानी मंगलवार को शाम 6 बजे केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होगी। इस बैठक में 16 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की जा सकती है। छत्तीसगढ़ में भी दो सीटें खाली हो रही है, लेकिन संख्या बल के हिसाब से भाजपा के खाते की एक सीटें भी इस बार कांग्रेस पर चली जायेगी, लिहाजा भाजपा यहां अपने उम्मीदवार खड़े करेगी भी या नहीं, इस पर सस्पेंस बना हुआ है।


इधर कांग्रेस के बारे में भी कहा जा रहा है कि आज या कल पार्टी अपने प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर सकती है। दोनों सीटों पर कांग्रेस कब्जा करने की तैयारी में है। जिन दो सांसदों की सीट खाली हो रही है, उनमें मोतीलाल वोरा और रणविजय सिंह जूदेव शामिल हैं। कहा जा रहा है मोतीलाल वोरा का रिपीट होना तय माना जा रहा है कि जबकि एक सीट पर कई दावेदारों के चेहरे सामने आ रहे हैं।


खतरनाक वायरस की वैक्सीन तैयार

कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया में 108,610 लोग संक्रमित हैं। 3825 लोगों की मौत हो चुकी है। यूरोपियन यूनियन और अमेरिका भी चीन से निकली बीमारी से परेशान है। अब एक बड़ी खुशखबरी आई है। अमेरिका और यूनाइटेड किंगडम (यूके) के वैज्ञानिक अगले माह से इंसानों पर कोरोनावायरस के वैक्सीन का परीक्षण यानी ह्यूमन ट्रायल करेंगे। यानी इन्होंने मिलकर कोरोना का दवा यानी वैक्सीन बना लिया है। अगले माह यानी अप्रैल से यूके और अमेरिका में कोरोना वायरस के वैक्सीन यानी टीके के जो इंसानी परीक्षण शुरु होंगे, उसे यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन और अमेरिकी दवा कंपनी मॉडर्ना और इनवोइओ ने मिलकर बनाया है। डेली मेल में प्रकाशित खबर के अनुसार अगर इंसानों पर कोरोना के वैक्सीन का परीक्षण सफल होता है तो उस टीके से दुनिया भर के कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज किया जाएगा।


यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन से संबंधित इंपीरियल कॉलेज के वैज्ञानिक और अमेरिकी दवा कंपनी दोनों अप्रैल से इंसानी परीक्षण के लिए तैयार है। अमेरिकी दवा कंपनियों ने कहा है कि इस संयुक्त ह्यूमन ट्रायल के अलावा अपनी तरफ से भी इंसानों पर परीक्षण करेंगे। इंपीरियल कॉलेज लंदन के वैज्ञानिक प्रोफेसर रॉबिन शैटॉक ने कहा कि कोई भी वैक्सीन शुरुआती दौर में वायरस को सिर्फ रोक सकती है। ताकि बीमारी ज्यादा फैले न। इंसानी शरीर में ही बेहद कमजोर हो जाए।


इसके बाद ऐसी वैक्सीन खोजी जाती है जो इंसान के शरीर में मौजूद वायरस को खत्म कर दे। या इंसानी कोशिकाओं को वायरस से लड़ने और हराने के लायक बना दे
प्रो. रॉबिन शैटॉक ने बताया कि अगर इंसानों पर शुरुआती परीक्षण सफल रहे तो हम उन देशों में दवाइयां भेजेंगे जहां सच में लोग कोरोना से संक्रमित है। ताकि लोगों का इलाज हो सके। अमेरिकी दवा कंपनी इनवोइओ ने कहा है अगर कोरोना के वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल सफल होता है तो हम इस साल के अंत तक 10 लाख दवाएं बनाकर पूरी दुनिया बांट देंगे।
प्रो. रॉबिन शैटॉक ने बताया कि सामान्य तौर पर किसी भी बीमारी का वैक्सीन बनने में 5 साल तक का समय लगता है। लेकिन इस बार हमने रिकॉर्ड तोड़ समय पर कोरोना का वैक्सीन बनाया है।


हमने इतनी लंबी प्रक्रिया को बेहद जल्द पूरा कर लिया है। वैक्सीन बनाने में हमें सिर्फ 4 महीने लगे। अब उम्मीद बस ह्यूमन ट्रायल के सफल होने से लगाई जा सकती है।
जो वैक्सीन बनाई गई है उसमें 2003 में फैली महामारी सार्स की दवा को भी मिलाया गया है। ताकि ये भी पता चल सके कि नए कोरोनावायरस पर इस वैक्सीन का क्या असर होता है।


होली का धार्मिक एवं पौराणिक महत्व

होलिका दहन, होली त्योहार का पहला दिन, फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इसके अगले दिन रंगों से खेलने की परंपरा है जिसे धुलेंडी, धुलंडी और धूलि आदि नामों से भी जाना जाता है। होली बुराई पर अच्छाई की विजय के उपलक्ष्य में मनाई जाती है। होलिका दहन (जिसे छोटी होली भी कहते हैं) के अगले दिन पूर्ण हर्षोल्लास के साथ रंग खेलने का विधान है और अबीर-गुलाल आदि एक-दूसरे को लगाकर व गले मिलकर इस पर्व को मनाया जाता है। होलिका दहन के दिन एक पवित्र अग्नि जलाई जाती है जिसमें सभी तरह की बुराई, अहंकार और नकारात्मकता को जलाया जाता है। अगले दिन अपनों को रंग लगाकर इस पर्व की शुभकामनाएं दी जाती हैं।


होलिका दहन के बारे में कई कथाएँ प्रचलित हैं-
पुराणों के अनुसार दानवराज हिरण्यकश्यप ने जब देखा कि उसका पुत्र प्रह्लाद सिवाय विष्णु भगवान के किसी अन्य को नहीं भजता, तो वह क्रुद्ध हो उठा और अंततः उसने अपनी बहन होलिका को आदेश दिया की वह प्रह्लाद को गोद में लेकर अग्नि में बैठ जाए, क्योंकि होलिका को वरदान प्राप्त था कि उसे अग्नि नुक़सान नहीं पहुंचा सकती। किन्तु हुआ इसके ठीक विपरीत, होलिका जलकर भस्म हो गई और भक्त प्रह्लाद को कुछ भी नहीं हुआ। इसी घटना की याद में इस दिन होलिका दहन करने का विधान है। होली का पर्व संदेश देता है कि इसी प्रकार ईश्वर अपने अनन्य भक्तों की रक्षा के लिए सदा उपस्थित रहते हैं।होली की केवल यही नहीं बल्कि और भी कई कहानियां प्रचलित है। एक कथा के अनुसार होली की एक कहानी कामदेव की भी है। पार्वती शिव से विवाह करना चाहती थीं लेकिन तपस्या में लीन शिव का ध्यान उनकी तरफ गया ही नहीं। ऐसे में प्यार के देवता कामदेव आगे आए और उन्होंने शिव पर पुष्प बाण चला दिया। तपस्या भंग होने से शिव को इतना गुस्सा आया कि उन्होंने अपनी तीसरी आंख खोल दी और उनके क्रोध की अग्नि में कामदेव भस्म हो गए। कामदेव के भस्म हो जाने पर उनकी पत्नी रति रोने लगीं और शिव से कामदेव को जीवित करने की गुहार लगाई। अगले दिन तक शिव का क्रोध शांत हो चुका था, उन्होंने कामदेव को पुनर्जीवित किया। कामदेव के भस्म होने के दिन होलिका जलाई जाती है और उनके जीवित होने की खुशी में रंगों का त्योहार मनाया जाता है। इस प्रकार हम होलिका दहन में अपने बुरे कर्मों की तिलांजलि देते है और सत्कर्म के प्रति अग्रसर होते है।


रिपोर्ट- डॉ ए० के० पाण्डेय


हेरोइन के साथ एक नेपाली गिरफ्तार


सोनौली: हेरोइन के साथ एक नेपाली नागरिक गिरफ्तार।


सोनौली। हेरोइन के साथ एक नेपाली नागरिक गिरफ्तार।
भारत नेपाल के सनौली सरहद से सटे सनौली थाना क्षेत्र के डांडा हेट के पास पगडंडी मार्ग से भारतीय सीमा से नेपाल जा रहे एक संदिग्ध नेपाली नागरिक को एसएसबी ने दबोच कर उसके पास से 32 ग्राम हेरोइन बरामद कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। खबरों के मुताबिक सोमवार को करीब 10 बजे पुलिस और एसएसवी की संयुक्त टीम बॉर्डर की तरफ गश्त पर थी। इसी बीच एक संदिग्ध युवक भारत से नेपाल की तरफ जा रहा था जिसे जवानों ने रोक कर उसकी तलाशी लिया तो छिपा कर रखा गया करीब 32 ग्राम हेरोइन बरामद कर उसे गिरफ्तार कर लिया।
पकड़े गए युवक ने पुलिसिया पूछताछ में अपना नाम मोहम्मद शेख पुत्र अजहर शेख निवासी भैरहवां गल्ला मंडी बताया है।
पुलिस उक्त युवक के विरुद्ध एनडीपीएस की धारा 8/ 20 के तहत मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्य में जुट गई है।


पीएम ने रद्द किया बांग्लादेश का दौरा

नई दिल्ली। कोरानावायरस का कहर पूरी दुनियाभर में लोगों के सिर चढकर बोल रहा है। अब हाल ये है कि दुनियाभर के राष्ट्राध्यक्ष इसको लेकर बेहद सतर्कता बरत रहे हैं।
कोरोनावायरस के कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना 17 मार्च को प्रस्तावित बांग्लादेश का दौरा रद्द कर दिया है। दरअसल बांग्लादेश सरकार ने शेख मुजीबुर रहमान की जयंती शताब्दी समारोह को कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए स्थगित कर दिया है। वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने भी कोरोनावायरस के चलते फिलहाल के लिए अपना बांग्लादेश दौरा रद्द कर दिया है।
दरअसल, प्रधानमंत्री को इसी कार्यक्रम में भाग लेने के लिए बांग्लादेश की राजधानी ढाका जाना था। इससे पहले कोरोनावायरस के चलते ही प्रधानमंत्री ने अपना ब्रुसेल्स दौरा रद्द कर दिया था, जहां यूरोपीय संघ की बैठक में उन्हें हिस्सा लेना था। मोदी ही नहीं बल्कि कई देशों के नेता इन दिनों कोरोनावायरस के चलते अपने विदेश दौरे रद्द कर रहे हैं।


नव वर्ष एवं होली की हार्दिक शुभकामनाएं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


मार्च 10, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-212 (साल-01)
2. सोमवार , मार्च 10, 2020
3. शक-1942,चैैत्र - कृष्ण पक्ष, तिथि- प्रतिपदा, संवत 2077


4. सूर्योदय प्रातः 06:41,सूर्यास्त 06:15
5. न्‍यूनतम तापमान 13+ डी.सै.,अधिकतम-24+ डी.सै., बारिश की संभावना रहेगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)



आईटीओ से लाल किले तक ‘तिरंगा यात्रा’ निकाली

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 71वें जन्मदिन पर शुक्रवार को सामाजिक संगठनों ने राष्ट्रीय राजधानी में आईटीओ से ...