गुरुवार, 18 फ़रवरी 2021

चीन ने व्यापक ट्रेंड को रोकने में सफलता पाई

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। वर्ष 2020 में अमेरिका को पीछे छोड़ते हुए चीन अब यूरोपीय संघ का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार बन गया है। कोरोना महामारी के कारण यूरोप के प्रमुख साझेदार देशों के बीच व्यापार घटा। लेकिन चीन ने इस व्यापक ट्रेंड को रोकने में सफलता पाई। पिछले साल चीन और यूरोपीय संघ के बीच व्यापर 709 अरब डॉलर का रहा। जबकि, इसकी तुलना में यूरोपीय संघ के साथ अमेरिका का व्यापार वर्ष 2020 में 671 अरब डॉलर ही रहा। हालांंकि चीन की अर्थव्यवस्था कोरोना महामारी के कारण पहली तिमाही में ख़राब हो गई थी। लेकिन साल के आख़िर में आर्थिक स्थिति सुधरने के कारण यूरोपीय संघ के सामानों की मांग बढ़ी। वर्ष 2020 में प्रमुख वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं में चीन ही एकमात्र देश था। जहाँ आर्थिक विकास देखा गया। इसी कारण यहाँ यूरोपीय कारों और लग्ज़री सामानों की मांग बढ़ी। इस बीच मेडिकल उपकरणों और इलेक्ट्रॉनिक्स की भारी मांग के कारण यूरोप में चीन के निर्यात को भी फ़ायदा मिला। यूरोपीय संघ के सांख्यिकी कार्यालय यूरोस्टैट के मुताबिक़ 2020 में चीन यूरोपीय संघ का प्रमुख पार्टनर था। आयात (+5.6%) और निर्यात (+2.2%) में बढ़ोत्तरी के कारण ऐसे नतीजे आए हैं।

कोरोना वायरस का हाइब्रिड वर्जन सामने आया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के कैलिफोर्निया में कोरोना वायरस का एक हाइब्रिड वर्जन सामने आया है। वैज्ञानिकों को स्टडी के दौरान पता चला है, कि ब्रिटेन में मिले कोरोना वायरस के वैरिएंट B.1.1.7 और अमेरिका में पाए गए कोरोना के वैरिएंट B.1.429, आपस में मिल गए हैं और इससे कोरोना का हाइब्रिड वर्जन तैयार हो गया है। ब्रिटेन और अमेरिका के वैरिएंट के एक साथ मिलकर तैयार हुए हाइब्रिड वैरिएंट को अब तक कोई नाम नहीं दिया गया है। अब तक सिर्फ एक मरीज में यह हाइब्रिड वैरिएंट पाया गया है। लेकिन वैज्ञानिकों को डर है, कि हाइब्रिड वैरिएंट के और भी मामले होंगे। डेली मेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, वैज्ञानिकों का कहना है कि जब इंसान के शरीर का एक ही सेल, वायरस के दो वैरिएंट से संक्रमित हो जाता है तो वायरस के जीन में अदला बदली होती है। इसी से नए वैरिएंट तैयार हो जाते हैं। वैज्ञानिकों का यह भी कहना है कि जब एक ही समय में कोई व्यक्ति, दो अलग-अलग वैरिएंट से संक्रमित हो जाता है तो इससे हाइब्रिड वैरिएंट तैयार होने का खतरा रहता है। बता दें कि दुनिया के कई देशों में कोरोना के अलग-अलग वैरिएंट सामने आ चुके हैं। साउथ अफ्रीका में पाए गए कोरोना वैरिएंट के काफी अधिक संक्रामक होने की बात कही गई है। रिसर्चर्स ने इससे पहले भी चेतावनी दी थी कि कोरोना के हाइब्रिड वैरिएंट तैयार हो सकते हैं। वहीं, अमेरिका के वैज्ञानिकों ने उस मरीज को लेकर अधिक जानकारी सार्वजनिक नहीं की है। जो कोरोना के हाइब्रिड वैरिएंट से संक्रमित पाया गया। यह भी पता नहीं चल सका है, कि हाइब्रिड वैरिएंट की वजह से मरीज कितना अधिक बीमार हुआ।

बदांयू: छात्र ने शिक्षकों से प्रताड़ित होकर खाया जहर

बदायूं। राजकीय पॉलिटेक्निक बदायूं के शिक्षकों द्वारा एक छात्र को प्रताड़ित करने का मामला सामने आया है। आरोप है, कि इसी से परेशान होकर बुधवार को छात्र ने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। हालत बिगड़ने पर साथियों ने उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस ने अस्पताल पहुंचकर छात्र के बयान दर्ज किए हैं। जानकारी के अनुसार छात्र रवि शर्मा राजकीय पॉलीटेक्निक का छात्र है। छात्र के अनुसार वहां के तीन शिक्षक पिछले एक साल से लगातार उसका उत्पीड़न कर रहे थे। बुधवार को रवि के साथ अभद्रता की गयी जिससे दुखी होकर उसने ज़हर खा लिया। छात्र के दो साथियों ने बदायूं के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया।

आंदोलन में बुजुर्ग किसान की मौत, चूहों ने कुतरा शव

राणा ओबराय  

सोनीपत। हरियाणा में सोनीपत के कुंडली बॉर्डर कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन में शामिल बुजुर्ग किसान की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। परिजनों ने बुधवार देर रात उनका शव सामान्य अस्पताल के पोस्टमार्टम हाउस में फ्रीजर के अंदर रखवा दिया। जहां पर शव को चूहों ने कुतर दिया।गुरुवार सुबह परिजन और ग्रामीण अस्पताल में पहुंचे तो इसकी जानकारी मिलने पर अस्पताल में हंगामा कर दिया। बाद में मुख्य चिकित्सा अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच का आश्वासन देकर उन्हें शांत कराया। मिली जानकारी के अनुसार गांव बैंयापुर जिला निवासी राजेंद्र सरोहा (70) कई दिन से कुंडली धरना स्थल पर मौजूद थे। बुधवार देर रात अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई। जिस पर उन्हें सामान्य अस्पताल में ले जाया गया, जहां पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। जिस पर परिजन उनके शव को पोस्टमार्टम करवाने के लिए पोस्टमार्टम हाउस में फ्रीजर के अंदर रखकर चले गए।गुरुवार सुबह जब परिजन अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए पहुंचे तो उन्हें पता लगा कि राजेंद्र के शव को आंख और पैर के पास से चूहों ने कुतर दिया है। इस पर उन्होंने शव की बेकद्री को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। उन्होंने मामले में लापरवाही बरतने वाले कर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इस पर सीएमओ डा.जसवंत पूनिया मौके पर पहुंचे और जांच कराकर कार्रवाई का आश्वासन दिया। जिसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही बुजुर्ग की मौत के कारणों का पता लग सकेगा। कुंडली धरना स्थल पर अब तक 19 किसानों की मौत हो चुकी है। सोनीपत सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद किसान राजेंद्र सरोहा का शव ग्रामीण फूलों से सजी गाड़ी में रखकर गांव में लेकर पहुंच। गाड़ी को फूलों से सजाने के साथ ही उस पर तिरंगे लगाए गए थे। ग्रामीण राजेंद्र सिंह अमर रहे के नारे लगाते हुए चल रहे थे। गांव में उनके नाम से नारे लगाए जाते रहे। किसानों ने उन्हें शहीद बताते हुए कृषि कानूनों को रद्द किए जाने तक आंदोलन को जारी रखने की बात कही।

तीनों कृषि विरोधी कानूनों को रद्द करें सरकार: राहुल

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों के रेल रोको आंदोलन की पृष्ठभूमि में बृहस्पतिवार को कहा, कि सरकार को समय नष्ट करने के बजाय तीनों कृषि कानूनों को रद्द करना चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया, ”सीधी सी बात है- तीनों कृषि विरोधी क़ानून रद्द करो। समय नष्ट करके मोदी सरकार अन्नदाता को तोड़ना चाहती है, लेकिन ऐसा होगा नहीं। सरकार के हर अन्याय के ख़िलाफ़, अबकी बार किसान व देश तैयार। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ”यह आज़ाद भारत का सबसे बड़ा जन आंदोलन है। 85 दिन, 230 से अधिक किसानों की क़ुर्बानी हो गई। जब तक दिल्ली के अहंकारी राजा को तीन काले क़ानून ख़त्म करने को नहीं मना लेते तब तक किसान नहीं जाएंगे।” उल्लेखनीय है कि कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे संगठनों के समूह संयुक्त किसान मोर्चा ने घोषणा की थी, कि किसान 18 फरवरी को दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे तक पूरे देश में रेल रोकेंगे।

सीएम ने हमले में घायल मंत्री जाकिर से मुलाकात की

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने मुर्शिदाबाद बम हमले में घायल मंत्री जाकिर हुसैन से मुलाकात करने गुरुवार को एसएसकेएम अस्पताल पहुंची। जबकि, राज्य सरकार ने इस मामले की पड़ताल अपराध जांच विभाग (सीआईडी) को सौंप दी है। हुसैन पर बुधवार की रात मुर्शिदाबाद जिले में निमतिता रेलवे स्टेशन पर बम से हमला किया गया। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गए। हाल के दिनों में यह पहली बार हुआ है। जब राज्य के किसी मंत्री को लक्ष्य कर हमला किया गया। इस बम हमले में कम से कम 26 लोग घायल हुए हैं। इनमें से 12 लोगों की हालत गंभीर है। जिन्हें कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में रेफर किया गया है। हुसैन की हालत अब स्थिर बतायी जा रही है। फिलहाल वह होश में हैं। इस बीच सीआईडी ने इस बम हमले की जांच का जिम्मा संभाल लिया है। निमतिता रेलवे स्टेशन पर जांच का काम शुरू हो गया है।

निकाय चुनाव में भाजपा की हार से राह कठिन होगी

राणा ओबराय  

चंडीगढ़। पंजाब में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने मोहाली नगर निगम चुनाव में जीत दर्ज की है। पार्टी को 50 वार्ड में से 37 वार्ड में जीत हासिल हुई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मतगणना हो चुकी है। जिनमें से कांग्रेस ने 37 वार्ड में जीत दर्ज की है। वहीं, 13 वार्ड में निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है। इसके साथ ही सत्तारूढ़ दल ने 7 नगर निगमों में जीत हासिल कर ली है और मोगा नगर निगम में सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी है। पंजाब के मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू के भाई अमरजीत सिंह सिद्धू ने वार्ड नंबर दस से जीत हासिल की है। मोहाली नगर निगम चुनाव के लिए मतगणना बृहस्पतिवार को शुरू हुई। दो केन्द्रों पर बुधवार को दोबारा चुनाव कराए गए थे। गौरतलब है कि 14 फरवरी को मतदान के दौरान गड़बड़ी की शिकायत मिलने पर पंजाब राज्य चुनाव आयोग ने दोबारा मतदान के आदेश दिए थे। सत्तारूढ़ कांग्रेस ने बुधवार को पंजाब में शहरी निकाय चुनाव में भारी जीत दर्ज की थी। उसने छह नगरनिगमों में जीत हासिल की जबकि मोगा नगरनिगम में सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी। उसने 109 नगर परिषदों और नगर पंचायतों में से ज्यादातर में जीत हासिल की।

वायु प्रदूषण से करीब 54 हजार लोगों की मौत

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में पिछले साल पीएम-2.5 से हुए वायु प्रदूषण से करीब 54 हजार लोगों की जान चली गई। यह दावा एक नवीनतम अध्ययन में किया गया है। उल्लेखनीय है, कि दिल्ली में पिछले साल वायु प्रदूषण का स्तर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मानकों से छह गुना अधिक रहा। ग्रीनपीस दक्षिण पूर्व एशिया द्वारा वायु गुणवत्ता विश्लेषण में अनुमान लगाया गया है कि दिल्ली में पीएम-2.5 के प्रदूषण से प्रत्येक 10 लाख आबादी पर 18 हजार लोगों की मौत हुई। अध्ययन में कहा गया, ” पीएम-2.5 के प्रदूषण की वजह से भारत की राष्ट्रीय राजधानी में वर्ष 2020 में करीब 54,000 लोगों की जान चली गई।” पीएम-2.5 हवा में मौजूद सूक्ष्म कण है। जिनका आकार 2.5 माइक्रोमीटर होता है। अध्ययन के मुताबिक वैश्विक आधार पर पर्यावरण खतरों में पीएम-2.5 के संपर्क को खतरनाक माना जाता है और वर्ष 2015 में करीब 42 लाख लोगों की असमय मृत्यु इसकी वजह से हुई। अध्ययन के मुताबिक इसी तरह की क्षति अन्य भारतीय शहरों में भी हो रही है, जो चिंताजनक है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा महंगाई का विरोध-प्रदर्शन

अतुल त्यागी
हापुड़। जनपद कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा महंगाई के विरोध में जोरदार प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर कांग्रेसियों ने जहां मोटरसाइकिल को बैलगाड़ी में रखकर चलाया। वही गैस सिलेंडरों की अर्थी भी निकाली कांग्रेस पार्टी के द्वारा यह जोरदार प्रदर्शन आज जिले भर में किया गया। एसडीएम सदर सत्य प्रकाश सिंह को इस अवसर पर एक ज्ञापन राज्यपाल उत्तर प्रदेश के नाम सौंपा गया। जिसमें कांग्रेस द्वारा मांग की गई थी गैस और पेट्रोल के दाम कम किए जाएं तथा आम जनमानस को राहत दी जाए। क्योंकि यदि पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ते हैं तो हर उत्पादन की लागत पर पैसे बढ़ते हैं। क्योंकि इससे कच्चे माल, माल की सप्लाई में खर्चा अधिक होता है। लॉकडाउन दौरान केंद्र व राज्य सरकार ने जो टैक्स लगाए थे। उनको कम किए जाएं तथा आम जनमानस को राहत दी जाए। इस अवसर पर कांग्रेस के पूर्व विधायक गजराज सिंह ने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में जो पार्टी दो - चार रुपए बढ़ने पर सड़कों पर आकर हंगामा करते थे। आज वह सैकड़ों रुपये बढ़ने पर भी मौन है। आखिर कब तक आम आदमी का शोषण होता रहेगा। इस अवसर पर सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

मजबूर करेंगे तो अपनी फसलों को जला देंगे: टिकैत

राणा ओबराय 

हिसार। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने गुरुवार को कहा, केंद्र को किसी भी गलतफहमी में नहीं रहना चाहिए, कि किसान फसल की कटाई के लिए वापस जाएंगे। यदि वे मजबूर करेंगे तो हम अपनी फसलों को जला देंगे। उन्हें यह नहीं सोचना चाहिए कि विरोध 2 महीने में खत्म हो जाएगा। हम फसल के साथ-साथ विरोध करेंगे। हरियाणा के हिसार जिले के खरकपुनियों में आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए टिकैत ने कहा कि फसलों की कीमतों में वृद्धि नहीं हुई है। लेकिन ईंधन की कीमतें बढ़ गई हैं। केंद्र ने स्थिति को बर्बाद कर दिया है। यदि जरूरत हुई तो हम अपने ट्रैक्टरों को पश्चिम बंगाल में भी ले जाएंगे, क्योंकि वहां पर भी किसानों को एमएसपी नहीं मिल रही है। हिंदुस्तान प्रकाशित खबर के अनुसार टिकैत ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि उनका अगला लक्ष्य 40 लाख ट्रैक्टरों का है। देशभर में जाकर 40 लाख ट्रैक्टर इकट्ठा करेंगे। ज्यादा समस्या की तो ये ट्रैक्टर भी वहीं हैं, ये किसान भी वही हैं। ये फिर दिल्ली जाएंगे। इस बार हल क्रांति होगी। जो खेत में औजार इस्तेमाल होते हैं, वे सब जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों के सब्र का इम्तिहान ले रही है। उन्होंने कहा कि कानून वापसी तक किसान कहीं जाने वाला नहीं है। कानून वापसी से ही किसानों की घर वापसी संभव है। इसके साथ ही सरकार को एमएसपी पर कानून भी लाना होगा। गौरतलब है, कि केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों को लेकर गतिरोध अब भी बरकरार है। कानूनों को रद्द कराने पर अड़े किसान इस मुद्दे पर सरकार के साथ आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर चुके हैं। इसके लिए दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन गुरुवार को 85वें दिन भी जारी है। इस बीच किसानों को मनाने के लिए अब तक केंद्र सरकार की ओर से की गईं सभी कोशिशें बेनतीजा रही हैं।

ग्राम पंचायत चुनाव, 28 ग्राम प्रधान दौड़ से ही बाहर

अश्वनी उपाध्याय  

गाजियाबाद। जिलें में पंचायत चुनाव को लेकर तैयार हो रहे माहौल में करीब 28 ग्राम प्रधान दौड़ से ही बाहर हो रहे है। डीपीआरओ के अनुसार जिन प्रधानों पर मनरेगा प्रकरण की जांच, रिकवरी और ऑडिट जांच बैठने के बाद करोड़ों की गड़बड़ी मिली। उनकी ओर से 20 फरवरी तक नोटिस का जवाब दिया जाना है। हालांकि, अभी तक किसी भी ग्राम प्रधान ने जवाब नहीं दिया है। ऐसे में उन्हें ग्राम प्रधान के चुनावों में मौका नहीं मिलेगा। जिले के चार ब्लाकों भोजपुर, रजापुर, लोनी व मुरादनगर क्षेत्र की 28 ग्राम पंचायतों में एक साल में प्रधान और सचिव संबन्धित ऑडिट अधिकारियों को करोड़ों की रकम का हिसाब नहीं दे सके थे। ऑडिट के दौरान प्रधान और सचिव दस्तावेज खर्च के भी नहीं दिखा सके। जिला लेखा परीक्षा अधिकारी ने गांव बेगमाबाद, रोरी, सीकरीखुर्द, बसंतपुर सैथली सहित 28ग्राम पंचायत का वित्तीय वर्ष 2018-19 का ऑडिट किया था। ऑडिट टीम ने ग्राम निधि से निकाली गई रकम के खर्च का मिलान किया। 28 ग्राम पंचायतों में बड़ी गड़बड़ी सामने आई। ग्राम निधि के खाते से इन ग्राम पंचायतो में करीब पांच करोड़ से अधिक की ऐसी रकम निकाली गई जिसका खर्च का कहीं कोई लेखा-जोखा नहीं मिला। गड़बड़ियां मिलने पर ग्राम प्रधानों के नो ड्यूज जारी करने पर रोक लगा दी गई है। जिला पंचायत अधिकारी अनिल त्रिपाठी ने बताया कि मेरी ओर से शासनादेश के तहत अनियमिताओं से जुड़े मामलों में जिले की 28 ग्रामपंचायतो के प्रधानों को नोटिस देकर 20 फरवरी तक जवाब तलब किया गया है। लेकिन अभी तक आरोपी पक्षों की ओर से काई जवाब नहीं मिला है। ऐसे डिफाल्टर प्रत्याशियों के चुनाव लड़ने पर रोक लगायी जायेगी।

46 महिला उत्पीड़न संबंधी मामलों में सुनवाई की

अश्वनी उपाध्याय  

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष विमला बाथम ने गुरूवार को कलक्ट्रेट सभागार में 46 महिला उत्पीड़न संबंधी मामलों में सुनवाई की। इस दौरान पुलिस व प्रशासन के अधिकारी भी मौजूद थे। सुनवाई के दौरान सर्वाधिक दहेज उत्पीड़न से जुड़े मामले सामने आए। महिला आयोग की अध्यक्ष ने मामलों की जांच कर उचित कार्रवाई के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि महिलाओं पर हो रहे उत्पीड़न को रोकने के लिए विशेष प्रयास करें। महिलाओं पर अत्याचार करने वालों को किसी भी कीमत पर नहीं बख्शा जाए। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो। ताकि किसी भी महिला का उत्पीड़न नहीं हो सके। जनसुनवाई के दौरान आयोग सदस्या की मौजूदगी में डीएम अजयशंकर पांडे, एसएसपी कलानिधि नैथानी के अलावा महिला थाने तथा समाज कल्याण विभाग सहित कई विभाग के अधिकारी मौजूद रहे। सुनवाई दौर में एक पीड़िता ने बताया कि शादी के बाद से ससुराल पक्ष के लोग आये दिन उसके साथ गाली गलौच व मारपीट करते है। पीड़िता की बात सुनकर उन्होंने पुलिस को सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा। एक पीड़िता ने बताया कि पति की मृत्यु हो चुकी है। उसके परिवार के कुछ लोग संपत्ति पर कब्जा करना चाहते है। महिला आयोग ने प्रशासनिक अधिकारियों को जांच करने के निर्देश दिए।

हादसा: मां-बेटा की मौत, सपा नेताओं ने दी सांत्वना

कौशांबी। सिराथू तहसील क्षेत्र के अफजलपुर वारी गांव के रहने वाले लेफ्टिनेंट सैयद आरिफ हुसैन व उनकी माता की मौत कोलकाता जाते समय प्रयागराज के सराय इनायत के पास सड़क हादसे में हो गई है। जैसे ही इस हादसे की जानकारी समाजवादी पार्टी के नेताओं को लगी सपा के कुछ नेता उनके आवास पर पहुंचे हैं और परिजनों को सांत्वना दी है। लेफ्टिनेंट की मौत के बाद समाज वादी पार्टी के प्रदेश सचिव हाजी आवेश हुसैन पूर्व प्रदेश सचिव मेहबूब आलम अपनी टीम के साथ पीड़ित परिवार के घर अफजलपुर वारी गांव पहुंचे हैं।परिजनों को सांत्वना दी सपा नेताओं ने पार्टी की तरफ से हर संभव मदद का अस्वासन परिजनों को दिया है।
इस मौके पर सपा नेता सज्जू ने बताया, कि लेफ्टिनेंट सैयद आरिफ अपने पांच चाचा ताऊ के परिवार में एकलौते पुत्र थे। जो अपनी माँ के साथ कलकत्ता जा रहे थे। प्रयागराज के सराय इनायत के पास वह पहुचे थे, कि सामने से आ रही अज्ञात वाहन की टक्कर से उनकी व उनकी माता की दर्दनाक मौत ही गई।
राजू सक्सेना 

पीसीएस में मिली सफलता, पांचवी बार किया प्रयास

पंकज कुमार 
एटा। अमांपुर के परिवार के लिए बुधवार का दिन खुशियों से भरा साबित हुआ। घर की बड़ी बेटी प्रियंका ने पीसीएस परीक्षा में पांचवां स्थान पाकर न केवल घर का बल्कि कासगंज जिले का नाम रोशन कर दिखाया। परीक्षा परिणाम आते ही अमांपुर की अफसर बनने जा रही बिटिया को बधाइयां देने का सिलसिला शुरू हो गया। अमांपुर के गांधी नगर बारहद्वारी के पास रहने वाले अनिल कुमार गोयल कस्बे में मेडिकल स्टोर चलाते हैं। उनके दो बेटियां और एक बेटा है। बड़ी बेटी प्रियंका गोयल और छोटी बेटी नीति गोयल दिल्ली में रहकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने में लगी हैं। बड़ी बेटी प्रियंका ने वर्ष 2019 में पीसीएस की परीक्षा दी थी। कड़ी मेहनत और मजबूत तैयारी की थी। बुधवार को परीक्षा का परिणाम आने की उम्मीद को देखते हुए वह घर से दिल्ली पहुंची। शाम को जैसे ही पीसीएस का परिणाम आया तो प्रियंका का पांचवां स्थान पर देखकर उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने फोन पर यह खुशखबरी पिता अनिल गोयल व मां लक्ष्मी गोयल को दी तो घर में खुशी का माहौल बन गया। परिवार के लोगों ने इसकी जानकारी अपने परिचितों को दी तो बधाइयों का सिलसिला शुरू हो गया। 
पांचवीं बार में पाई सफलता...
प्रियंका गोयल ने बताया कि उन्होंने कड़ी मेहनत करके इस परीक्षा को पास किया है। इससे पहले वह चार बार परीक्षा में बैठ चुकी थीं। लेकिन हिम्मत नहीं हारी और निरंतर तैयारी की और उन्हें इस बार पूरा भरोसा था कि परिणाम बेहतर होगा। 
शुरुआती पढ़ाई अमांपुर, स्नातक एटा से....
कासगंज। पीसीएस परीक्षा में पांचवें स्थान प्राप्त करने वाले प्रियंका गोयल के बारे में उनके भाई पीयूष ने बताया कि दीदी ने शुरुआती पढ़ाई अमांपुर के मक्खन  लाल इंटर कॉलेज से की और स्नातक की पढ़ाई एटा के जेएलएन डिग्री कालेज से की थी। पीयूष ने बताया कि वह खुद अपने पिता के मेडिकल स्टोर के काम में हाथ बंटाते हैं।
केंद्रीय सचिवालय में कार्यरत हैं प्रियंका....
कासगंज। प्रियंका गोयल ने बताया कि, वह परीक्षा की तैयारी के साथ नौकरी भी कर रही हैं और फिलहाल केंद्रीय सचिवालय में कार्यरत हैं। इससे पहले भी एफसीआई में कार्य कर चुकी हैं। वह नौकरी के साथ एक बड़े पद तक पहुंचने के लिए पीसीएस की परीक्षा में बैठी थीं। जो माता-पिता व गुरुजनों के आशीर्वाद से सफल हुई हैं।

4,500 कारतूस बरामद किए, 6 आरोपी अरेस्ट

पालूराम  

नई दिल्ली। उत्तरी दिल्ली में छह लोगों को गिरफ्तार करके उनके कब्जे से 4,500 कारतूस बरामद किए गए हैं। पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आरोपियों की पहचान रमेश कुमार, दिपांशू, इकराम, अकरम, मनोज कुमार और अमित राव के तौर पर की गई। पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ)संजीव कुमार यादव ने कहा कि दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने छह लोगों को गिरफ्तार करके उनके कब्जे से 4,500 कारतूस बरामद किए हैं। यादव ने कहा कि इस मामले में पहली गिरफ्तारी 14 फरवरी को बुराड़ी इलाके से की गई थी। उन्होंने बताया कि मामले की जांच चल रही है।

पूर्व चीफ जज गोगोई के खिलाफ सभी जांच बंद की

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने भारत के पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई को कथित यौन उत्पीड़न और शीर्ष अदालत में पीठ ‘फिक्सिंग’ जैसे मामलों में फंसाने के ‘गहरे षड्यंत्र’ की स्वत: संज्ञान से शुरू की गई जांच प्रक्रिया बृहस्पतिवार को बंद करने का फैसला लिया।न्यायमूर्ति संजय किशन कौल की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि करीब दो साल गुजर गए हैं और जांच के लिए इलेक्ट्रॉनिक रिकॉर्ड हासिल करने की संभावना बहुत कम है।
स्वत: संज्ञान से शुरू की गई जांच प्रक्रिया बंद करते हुए शीर्ष अदालत ने कहा कि न्यायमूर्ति गोगोई के खिलाफ कथित यौन उत्पीड़न मामले की अंदरूनी जांच पहले ही पूरी की जा चुकी है और न्यायमूर्ति एसए बोबड़े (वर्तमान प्रधान न्यायाधीश) की अध्यक्षता वाले तीन सदस्यीय पैनल ने उन्हें दोष मुक्त करार दिया था। पीठ में न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी रामासुब्रमणियन भी शामिल थे। पीठ ने कहा कि न्यायमूर्ति (अवकाश प्राप्त) एके पटनायक पैनल षडयंत्र की जांच करने के लिए व्हाट्सएप मैसेज जैसे इलेक्ट्रॉनिक रिकॉर्ड प्राप्त नहीं कर सका है इसलिए स्वत: संज्ञान से शुरू किए गए मामले से कोई उद्देश्य पूरा नहीं होगा।

शीर्ष अदालत ने खुफिया ब्यूरो के निदेशक की चिट्ठी का हवाला दिया जिसमें कहा गया था कि चूंकि न्यायमूर्ति गोगोई ने असम में राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनआरसी) सहित अन्य कई मुश्किल फैसले सुनाए हैं, इसलिए संभवत: उन्हें फंसाने की साजिश की जा रही है। न्यायमूर्ति पटनायक के हवाले से पीठ ने कहा कि यह मानने के ठोस कारण हैं कि तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश गोगोई को फंसाने की साजिश की गई होगी।

पीठ ने कहा कि 25 अप्रैल, 2019 के आदेशानुसार न्यायमूर्ति पटनायक पैनल की रिपोर्ट में कहा गया है कि वह व्यावहारिकता में इसकी जांच नहीं कर सकता है कि तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश के न्यायिक फैसलों के कारण गोगोई के खिलाफ साजिश रची गई।

आतंकियों के अड्डे का भंडाफोड़, जखीरा बरामद

पालूराम  
जम्मू। केन्द्र शासित जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में महोरे इलाके के वन क्षेत्र में सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों के अड्डे का भंडाफोड़ कर हथियारों और गोला-बारूद का जखीरा बरामद किया है। आधिकारिक प्रवक्ता ने गुरुवार को यहां बताया कि सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के संयुक्त दल ने रियासी जिले के मक्खिधर जंगल में एकत्र किये गये भारी मात्रा में हथियार और युद्ध सामग्री बरामद की है।
प्रवक्ता ने बताया कि 17-18 फरवरी की मध्य रात्रि में जम्मू क्षेत्र के रियासी जिले के भीतरी इलाकों में चलाए गये संयुक्त अभियान में युद्ध सामग्री के साथ भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं। उन्होंने बताया कि रियासी जिले के मक्खिदर के दूरस्थ और घने जंगलों में संदिग्ध गतिविधियों को लेकर विश्वसनीय स्रोत से जानकारी मिली थी।
उन्होंने बताया कि सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से लगातार चलाये जा रहे प्रयासों से युद्ध सामग्री और हथियारों के विशाल जखीरे का पता चला है। हथियारों के जखीरे मेें एक ए के 47 राइफल, एक एस एल राइफल, एक 303 बोल्ट राइफल, दो चीनी पिस्तौल, गोला-बारूद के साथ एक पिस्तौल एमएजी, एंटीना वाले दो रेडियो सेट, एक एके 47, गोला बारूद का डिब्बा, चार यूबीजीएल ग्रेनेड शामिल हैं।

मुखर्जी की वजह से बंगाल का अस्तित्वः गृहमंत्री

अकांशु उपाध्याय  
कोलकाता। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत सेवाश्रम संघ (बीएसएस) द्वारा दिखाए गए मार्ग भारत को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में अहम योगदान देंगे। शाह ने भारत सेवाश्रम संघ के मुख्यालय का दौरा किया और उम्मीद जताई कि जिस मार्ग पर चलते हुए बीएसएस ने समाज में अपना योगदान दिया है वह उसे आगे भी जारी रखेगा और नये ”हिन्दुस्तान” के लिए मार्ग प्रशस्त करेगा।
भारत सेवाश्रम संघ के संस्थापक स्वामी प्रणवानंद की 125वीं जयंती पर अपनी श्रद्धंजलि अर्पित करते हुए शाह ने कहा कि उन्होंने उस समय स्वधर्म और स्वराज की संकल्पना को बुलंद किया, जब देश को इसकी सबसे ज्यादा जरूरत थी। भाजपा के पूर्व अध्यक्ष शाह ने कहा कि भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी और स्वामी प्रणवानंद के विचार एक जैसे थे और दोनों ने देश के लिए काम किया।
उन्होंने दावा कि आज जो पश्चिम बंगाल का अस्तित्व है वह मुखर्जी की वजह से है नहीं तो यह बांग्लादेश में चला गया होता। शाह ने कहा कि देश भर में कहीं पर भी विपदा आई हो, भारत सेवाश्रम संघ के संन्यासियों ने जाति, धर्म और पंथ से ऊपर उठकर सेवा का एक उत्कृष्ट उदाहरण पेश किया है। शाह के साथ इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष और अन्य वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे।

बंगाल के मंत्री पर बम से हमला किया, हालत गंभीर

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि राज्य के मंत्री जाकिर हुसैन पर बम से हुआ हमला एक साजिश का हिस्सा था और कुछ लोग उन पर दूसरी पार्टी में शामिल होने के लिए ‘दबाव’ बना रहे थे। पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में निमटीटा रेलवे स्टेशन पर अज्ञात हमलावरों द्वारा बुधवार की रात बम से किए गए हमले में राज्य के मंत्री जाकिर हुसैन गंभीर रूप से घायल हो गए थे। वह एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती हैं।

हुसैन से मिलने अस्पताल पहुंचीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रेलवे पर भी निशाना साधा। बनर्जी ने पत्रकारों से कहा, ” मंत्री जाकिर हुसैन पर हमला एक सोची-समझी साजिश थी। कुछ (पार्टी के) लोग पिछले कुछ महीने से जाकिर हुसैन पर दबाव बना रहे थे, कि वह उनकी पार्टी में शामिल हों। मैं अधिक जानकारी नहीं दूंगी क्योंकि जांच जारी है।” उन्होंने कहा कि हमलावर स्पष्ट तौर पर हुसैन के आने के बारे में जानते थे और शायद उनका पीछा कर रह थे। बनर्जी ने कहा कि सिर्फ सीआईडी नहीं, बल्कि राज्य एसटीएफ और ‘काउंटर इंसर्जेंसी फोर्स’ (सीआईएफ) भी जांच में सहयोग करेगी।

मुख्यमंत्री ने हमले में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को पांच-पांच लाख रुपये और मामूली रूप से घायल हुए लोगों को एक-एक लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है। उन्होंने पूछा, ” जब हमला रेलवे स्टेशन पर हुआ, तो रेलवे सुरक्षा में चूक की अपनी जिम्मेदारी से इनकार कैसे कर सकती है? हमले के समय स्टेशन पर कोई सुरक्षा कर्मी नहीं था। वहां बिजली भी नहीं थी, बिल्कुल अंधेरा था। रेलवे पुलिस आखिर क्या कर रही थी?”

उन्होंने कहा कि रेलवे को जांच में सहयोग करना चाहिए। बनर्जी ने कहा, ” रेलवे स्टेशन, रेलवे की सम्पत्ति है। रेलवे पुलिस उसकी सुरक्षा के लिए जिम्मेदार है। यह हमारे अधिकार-क्षेत्र में नहीं आता।” बनर्जी ने बताया कि हमले में 26 लोग घायल हुए हैं। राज्य सरकर ने घटना की जांच अपराध जांच विभाग (सीआईडी) को सौंप दी है। बनर्जी ने कानून एवं व्यवस्था के बदतर होने के दावों को खारिज करते हुए कहा कि घटना रेलवे स्टेशन के अंदर हुई और परिसर केन्द्र के अधीन आता है। इस बीच भाजपा नेतृत्व ने इसे राज्य सरकार की विफलताओं से जनता का ध्यान हटाने की कोशिश करार देते हुए बनर्जी पर निशाना साधा। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजुमदार ने कहा, ” यह घटना दर्शाती है कि यहां कानून-व्यवस्था खत्म हो चुकी है। क्या रेलवे राज्य में शासन करता है? ऐसी बातों से कुछ नहीं होगा। वह (ममता) राज्य की गृह मंत्री और मुख्यमंत्री दोनों ही रूप में विफल हो चुकी हैं।”


कई राज्यों में रेल-यात्रा बाधित, दर्ज किया विरोध

हरिओम उपाध्याय  
नई दिल्ली। केंद्रीय कृषि कानूनों के विरूद्ध किसान संगठनों के रोल रोको अभियान के तहत किसानों ने हरियाणा के सिरसा जिले में दिल्ली-बठिंडा रेल लाईन को पांच अलग अलग जगहों बाधित कर अपना विरोध जताया। वहीं दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने सुरक्षा के दृष्टिकोण से टीकरी बॉर्डर सहित कुल चार मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए।
किसानों ने दोपहर 12 बजे से सायं चार बजे तक सिरसा, डिंग, डबवाली, कालांवाली और ऐलनाबाद रेल लाईन जाम रखी। किसानों के इस आहवान के मद्देनजर कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिये 26 ड्यूटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में करीब एक हजार पुलिस जवान तैनात किये गये थे। हालांकि किसानों के रेल लोको आहवान के दौरान रेल का आवागमन नहीं हुआ लेकिन किसान रेल लाईन पर जमे रहे। किसानों के रेल रोको आंदोलन के आहवान के मद्देनजर रेलवे ने वीरवार को रेलों का संचालन ही बंद रखा।
पंजाब और हरियाणा में बृहस्पतिवार को किसान कई जगहों पर ट्रेन की पटरियों के पास एकत्र हो गए हैं। एहतियात के तौर पर अधिकारी ट्रेनों को स्टेशनों पर रोक रहे हैं। किसान आंदोलन के प्रमुख संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के लिए दबाव बनाने को लेकर 18 फरवरी को दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे तक ‘रेल रोको’ का आह्वान किया था। भारतीय किसान यूनियन (एकता उग्रहान) के महासचिव सुखदेव सिंह कोकरीकलां ने बताया कि संगठन के सदस्य पंजाब के नाभा, मनसा, बरनाला, बठिंडा, फिरोजपुर, जालंधर और तरन तारन सहित 22 जगहों पर ट्रेन की पटरियां अवरुद्ध करेंगे।

अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा और पंजाब दोनों राज्यों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और सरकारी रेलवे पुलिस तथा राज्य पुलिस बल के कर्मियों को तैनात किया गया है। उत्तर रेलवे के फिरोजपुर डिवीजन ने ट्रेनों को स्टेशन पर ही रोकने का फैसला लिया है ताकि यात्रियों को ‘रेल रोको’ आह्वान के कारण परेशानी ना उठानी पड़े। अधिकारियों ने बताया कि किसानों के ‘रेल रोको’ आह्वान के कारण ट्रेनें देरी से चल सकती हैं। उन्होंने बताया कि प्रदर्शन समाप्त होने के बाद सुरक्षा नियमों का पालन करते हुए ट्रेन सेवा पुन:बहाल की जाएगी।

मेट्रो मैन, ई श्रीधरन चुनाव से पहले पार्टी में शामिल

कोझीकोड। भारतीय जनता पार्टी ने बृहस्पतिवार को कहा कि ”मेट्रो मैन” ई श्रीधरन केरल विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी में शामिल होंगे। भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने बताया कि श्रीधरन 21 फरवरी को कासरगोड़ से पार्टी की ”विजय यात्रा” शुरु होने के दौरान भगवा दल में शामिल होंगे। श्रीधरन को देश में सार्वजनिक परिवहन प्रणाली में बदलाव का श्रेय दिया जाता है। सुरेंद्रन ने संवाददाताओं को बताया कि श्रीधरन ने भाजपा के साथ काम करने की इच्छा जाहिर की थी। श्रीधरन की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

रेल रोको आंदोलन में किसान सभा ने धरना दिया

पंकज कपूर  अल्मोड़ा। संयुक्त किसान मोर्चा के आज रेल रोको आंदोलन के समर्थन में उत्तराखंड किसान सभा ने यहां धरना दिया और सभा करते हुए केंद्र सरकार की इस बात को लेकर जमकर आलोचना की कि वह किसानों के साथ असंवेदनशील रवैया अपना रही है।
तय कार्यक्रम के अनुसार गुरुवार को किसान सभा व समर्थक संगठनों के प्रतिनिधि यहां गांधी पार्क में जुटे और उन्होंने रेल रोको आंदोलन के समर्थन धरना दिया। वहीं जनसभा भी की। जिसमें वक्ताओं ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों की मांगों के प्रति असंवेदनशीलता का परिचय दिया है। जो निंदनीय है। वक्ताओं ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री एक ओर अनावश्यक व गैर जरूरी मुद्दों पर ट्वीट करते रहते है, लेकिन आज 250 से ज्यादा किसानों की शहादत पर कुछ बोलने से बच रहे हैं। यह स्थिति अत्यंत खेदजनक है। वक्ताओं ने कहा कि गृह मंत्री येन केन प्रकारेण चुनाव जीतने की मुहिम में लगे हैं और देश की जनता लगातार तेल व एलपीजी के दामों के बढ़ने से बेहद संकट में जीवन जीने को मजबूर है।
वक्ताओं ने सरकार से किसान विरोधी तीनों काले कानूनों को वापस लेने, एमएसपी को कानूनी रूप से लागू करने, पेट्रोल व एलपीजी के दामों पर लगाम लगाने व आंदोलनकारियों पर बरती जा रही तानाशाही पर अंकुश लगाने व गिरफ्तार निर्दोष लोगों की रिहाई की पुरजोर मांग की। वहीं देश में बेरोजगारी की मार से छुटकारा दिलाने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि किसानों का यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा। धरने में जनवादी महिला समिति, जनवादी नौजवान सभा, सीटू, किसान सभा आदि संगठनों के लोगों ने शिरकत की। सभा को सुनीता पांडे, आरपी जोशी, महेश आर्या, दयाकृष्ण, दिनेश पांडे ने संबोधित किया। धरने में नंदबल्लभ जोशी, आरसी उपाध्याय, स्वप्निल पांडे, नंदलाल गुप्ता, अरुण जोशी, किशन राम आदि लोगों ने भाग लिया। सभा की अध्यक्षता महेश आर्या व संचालन किसान सभा के जिला संयोजक दिनेश पांडे ने किया।

मिस कॉल पर एक लाख का लोन देगा एसबीआई

आकाश उपाध्याय  

 नई दिल्ली। किसी भी तरह की आकस्मिक जरूरत के लिए अगर आप भी पर्सनल लोन लेने का मन बना रहे हैं तो ये आपके काम की खबर हो सकती है। देश का सबसे बड़ा बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) अपने ग्राहकों के लिए एक खास सुविधा लेकर आया है। SBI ने अपने ग्राहकों को सिर्फ एक मिस्ड कॉल के जरिए पर्सनल लोन देने की शुरुआत की है। बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी है। SBI के ट्वीट के मुताबिक SBI के एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन सर्विस में झटपट पर्सनल लोन मिल रहा है। कस्‍टमर को सिर्फ एक मिस्‍ड कॉल करना होगा और फिर बैंक जल्‍द अप्रूवल के साथ लोन दे देगा। इस लोन का ब्‍याज भी सबसे कम 9.6% है।

कितना लोन मिलेगा SBI इस स्‍कीम में 25 हजार रुपये से लेकर 20 लाख रुपये तक लोन ऑफर कर रहा है। साथ ही 5 से 20 लाख रुपये की ओवरड्राफ्ट सर्विस भी मिल रही है। इसमें किसी गारंटर या सिक्‍योरिटी की जरूरत नहीं है। – SBI में आपका सैलरी अकाउंट होना चाहिए – आपकी मंथली सैलरी 15000 रुपये या उससे ज्यादा होनी चाहिए – ईएमआई / एनएमआई रेश्यो 50 प्रतिशत से कम – SBI सैलरी अकाउंट होल्डर को केंद्र/राज्य/अर्ध सरकारी, केंद्रीय PSU, लाभकारी राज्य PSUs या चयनित कॉर्पोरेट्स के शिक्षण संस्थानों में कार्यरत होना चाहिए।

किसान आंदोलन के समर्थन में 'रेल रोको' अभियान

राणा ओबराय  

चंडीगढ़। हरियाणा के कई जिलों में किसानों ने रेल रोको आंदोलन के चलते आज पटरियों पर अपना डेरा जमा दिया है। आज किसान आंदोलन के समर्थन में 12 बजे से लेकर 4 बजे तक रेल रोकने का आह्वान किया है। चरखी दादरी में खापों की अगुवाई में किसानों ने रेलवे ट्रैक जाम किया है। यहां पर गांव पातुवास के रेलवे ट्रैक पर किसान धरने पर बैठ गए हैं। यहां महिलाएं भी किसानों के साथ आंदोलन में उतर आई हैं।

150 तहसीलदार-नायब तहसीलदारों पर उठे सवाल

राणा ओबराय 

चंडीगढ़। हरियाणा की तहसीलों व सब-तहसीलों में हुए भूमि पंजीकरण के मामलों में बड़ा फर्जीवाड़ा निकल कर सामने आया है। अर्बन एरिया डेवलेपमेंट एक्ट के नियम-7ए के तहत हुई रजिस्ट्रियों में बड़े पैमाने पर गड़बड़ हुई है। इतना ही नहीं, गड़बड़ की वजह से संदेह के दायरे में आए रेवन्यू अधिकारियों व अन्य स्टाफ का आंकड़ा बढ़कर 300 पार कर गया है। ऐसे में अब एक साथ इतने अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ एक्शन कर पाना सरकार के लिए आसान नहीं होगा। फिलहाल राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने प्रदेशभर की रिपोर्ट और इसमें शामिल नामों की सूची विभाग के मंत्री व डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के पास भेज दी है। माना जा रहा है कि दुष्यंत इस पूरे मामले को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से चर्चा करेंगे।

रुक सकती हैं पेट्रोल की बढ़ती कीमतें: पीएम

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा तेल आयातक देश है। साथ ही तेल की लगातार बढ़ती कीमतों से आम जनता के साथ-साथ सरकार भी परेशान है। आपको बता दें कि लगातार दस दिन से तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है। ऐसे में भारत ने सऊदी अरब और दूसरे तेल उत्पादक देशों से कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती का स्तर घटाने की मांग की है। भारत ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्‍चा तेल महंगा होने के कारण इकोनॉमिक रिकवरी और डिमांड को नुकसान हो रहा है।

बहुआयामी सम्पर्क व्यवस्था से असम में व्यापार बढ़ेगा

गुवाहाटी। आगामी विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को असम को कई विकास परियोजनाओं की सौगात दी। उन्होंने ”महाबाहु- ब्रह्मपुत्र” जलमार्ग का लोकार्पण किया, धुबरी-फुलबाड़ी पुल की आधारशिला रखी और माजुली सेतु के निर्माण के लिए भूमिपूजन किया। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से कार्यक्रम में शामिल होते हुए प्रधानमंत्री ने रिमोट कंट्रोल का बटन दबाकर इन परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।इससे पहले प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा कि असम की विकास यात्रा में आज का दिन ऐतिहासिक है क्योंकि ”महाबाहु-ब्रह्मपुत्र” जलमार्ग के जरिये नई पहल का शुभारंभ होगा। इस अवसर पर केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, केंद्रीय संचार व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद, केंद्रीय पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री मनसुख भाई मंडाविया, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा भी उपस्थित थे।

बदायूं: घरेलू कलह के चलते पत्नी को फावड़े से काटा

बदायूं। उत्तर प्रदेश के जनपद बदायूं के थाना फैजगंज बेहटा क्षेत्र के एक गांव में हैवान बने पति ने मामूली घरेलू कलह के चलते अपनी पत्नी की फावड़े से गला काटकर हत्या कर दी। आरोपी पति को पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त फावड़े के साथ गिरफ्तार कर लिया है।पुलिस अधीक्षक (देहात) सिद्धार्थ वर्मा ने आज कहा कि फैजगंज बहेटा इलाके के गनगोली गांव का रहने वाला हरदेव मानसिक रूप से कमजोर है और अपनी पत्नी ऊषा के साथ रहता है। इसके बड़े बेटे की शादी हो चुकी है। हरदेव आये दिन अपनी पत्नी से झगड़ा करता था। आज गुरुवार सुबह उसने अपनी पत्नी की फावड़े से गला काटकर हत्या कर दी। मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया है।

कोरोना के कारण होगी पीएम की ‘परीक्षा पे चर्चा

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के छात्रों के साथ वार्षिक संवाद कार्यक्रम ‘परीक्षा पे चर्चा’ का आयोजन कोविड-19 महामारी के मद्देनजर इस साल ऑनलाइन किया जाएगा। शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बृहस्पतिवार को इस आशय की जानकारी देते हुए बताया कि नौवीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों के साथ यह चर्चा उनकी परीक्षाएं शुरू होने से पहले मार्च में की जाएगी।उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि मुझे यह सूचना साझा करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि सभी छात्रों को जिस चर्चा का इंतजार था, वह अब होने वाली है। ‘परीक्षा पे चर्चा 2021’ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मिल कर मुस्कुराते हुए अपनी परीक्षाओं की बाधा को पार करने के लिए तैयार हो जाएं।

मोदी सरकार में मुनाफाखोर काट रहे चांदी: दीपक

काशीपुर। पेट्रोलियम पदार्थो एवं घरेलू सिलेंडर की कीमतों में वृद्धि होने को लेकर केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं राज्य आंदोलनकारी दीपक बाली ने देश में बढ़ती मंहगाई के लिए भाजपा की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया है। श्री बाली ने कहा है कि लगातार पेट्रोलियम पदार्थों व घरेल गैस सिलेंडर की कीमतों में वृद्धि ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। प्रेस को जारी बयान में दीपक बाली ने कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विपक्ष में थे तो पेट्रोलियम कीमतों में बढ़ोतरी को केन्द्र की नाकामी बताते थे। आज वही नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनने के बाद  हास्यास्पद बात कह रहे हैं कि पेट्रोलियम कीमतें पूर्व की सरकारों की वजह से बढ़ रही हैं।

टूलकिट मामला: दिशा रवि ने किया एचसी का रुख

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। किसानों के प्रदर्शन से जुड़ी ‘टूलकिट’ साझा करने के मामले में गिरफ्तार की गई जलवायु पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि ने दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल कर पुलिस को उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी से जुड़ी जांच की कोई भी सामग्री मीडिया में लीक करने से रोकने का अनुरोध किया है। रवि के वकील अभिनव सेखरी ने कहा कि वह याचिका को उच्च न्यायालय में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किए जाने का इंतजार कर रहे हैं और इसके बाद ही इस पर कोई टिप्पणी करेंगे। याचिका में मीडिया को उनके और तीसरे पक्ष के बीच व्हाट्सऐप पर मौजूद किसी भी कथित निजी वार्तालाप की सामग्री या अन्य चीजें प्रकाशित करने से रोकने का भी अनुरोध किया गया है।

राजस्थान के बाद एमपी में पेट्रोल 100 रुपए के पार

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार 10वें दिन बढ़ोतरी के चलते राजस्थान के बाद गुरुवार को मध्य प्रदेश में भी पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर के स्तर को पार कर गई है। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों की अधिसूचना के मुताबिक पेट्रोल की कीमत में 34 पैसे प्रति लीटर और डीजल में 32 पैसे की बढ़ोतरी की गई थी।इसके अलावा ब्रांडेड पेट्रोल, जिस पर अधिक कर लगाया जाता है, की कीमत महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों में 100 रुपये प्रति लीटर के आंकड़े को पार कर चुकी है।

विधानसभा में बजट सत्र के पहले विपक्ष का हंगामा

हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश राज्य में गुरूवार को शुरू हुये बजट सत्र के पहले दिन विपक्ष ने गन्ना किसानों की समस्या, कानून व्यवस्था और पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमतों को लेकर जबरदस्त हंगामा किया और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के अभिभाषण का बहिष्कार किया। वहीं विधानसभा की कार्यवाही कल 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है।सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले से ही मुख्य विपक्षी दल सपा और कांग्रेस के सदस्यों के तेवर उग्र दिखे। सपा के कुछ सदस्य ट्रैक्टर पर बैठ कर आये थे जबकि कई के हाथ में गन्ना और पेट्रोल से भरी बोतलें थीं। कार्यवाही शुरू होने से पहले सपा और कांग्रेस के सदस्यों ने अलग अलग विधानभवन के मुख्य द्वार पर नारेबाजी की और तख्तियां लहरायीं।

पंजाब-हरियाणा में ट्रेन की पटरियों पर जमा किसान

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का रेल रोको अभियान जारी है। केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में ‘रेल रोको’ प्रदर्शन के तहत पंजाब और हरियाणा में बृहस्पतिवार को किसान कई जगहों पर ट्रेन की पटरियों के पास एकत्र हो गए हैं। एहतियात के तौर पर अधिकारी ट्रेनों को स्टेशनों पर रोक रहे हैं।किसान आंदोलन के प्रमुख संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के लिए दबाव बनाने को लेकर 18 फरवरी को दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे तक ‘रेल रोको’ का आह्वान किया था। भारतीय किसान यूनियन (एकता उग्रहान) के महासचिव सुखदेव सिंह कोकरीकलां ने बताया कि संगठन के सदस्य पंजाब के नाभा, मनसा, बरनाला, बठिंडा, फिरोजपुर, जालंधर और तरन तारन सहित 22 जगहों पर ट्रेन की पटरियां अवरुद्ध करेंगे।

ट्रेक्टर-ट्रालियां छोड़कर फरार हुए खनन माफिया

 जेसीबी और ट्रेक्टर-ट्रालियां छोड़कर फरार हुए खनन माफिया

संदीप मिश्र 

बरेली। क्षेत्र में अवैध खनन करने वाले माफिया बेकाबू हो गये है। पुलिस-प्रशासन की शह पर बड़े पैमाने पर क्षेत्र की जमीन को खोखला किया जा रहा है। जंगलो में जेसीबी से धंदेबाज़ मिट्टी का खनन कर ट्रैक्टर-ट्रालियों से ढो रहे है सूत्र बताते है कि धंदेबाज़ रात दिन खुदाई कर कई टन मिट्टी बेचकर अपनी जेबे भर रहे है। अधिकारियों की माने तो जरूरत के हिसाब से साथ ही खेत मालिको की सहमति से फावड़े से तीन फीट खनन किया जा सकता है लेकिन गांव में रात दिन गरज़ रही जेसीबी मशीनें मिट्टी खनन का खेतो को बंजर बना रही है खनन माफिया जमकर चांदी काट रहे है प्रशासनिक अफसरों की अनदेखी इस अवैध धंदे को और बड़ा रही है। बुधवार को एसडीएम राजेश चंद्र को सूचना मिली कि गांव मितापुर जागीर में शमशान भूमिनक समीप जेसीबी द्वारा अवैध खनन किया जा रहा है। तब एसडीएम ने पुलिस को आदेश किए तब कोतवाल ने मौके पर पुलिस को भेजा पर खनन माफियाओं को पुलिस के आने की पहले ही सूचना मिल जाने पर वे जेसीबी छोड़कर फरार हो गए। मौके पर पुलिस को बड़े पैमाने पर जमीन में अवैध खनन के द्वारा बना हुआ गहरा गड्डा व एक जेसीबी मिल गयी लेकिन जेसीबी की चाबी न होने के कारण पुलिस को जेसीबी छोड़कर आना पड़ा। एसडीएम राजेश चंद्र ने बताया कि मामले में कोतवाल से जानकारी लेकर कार्यवाही की जाएगी।


कई और शबनम के गले से दूर है फांसी का फंदा

संदीप मिश्र 
बरेली। प्रेम प्रसंग में परिजनों के मना करने से नाराज अमरोहा के गांव बावनखेड़ी की शबनम ने अपने ही परिवार के सात लोगों को कुल्हाड़ी से काट दिया था। इनमें एक मासूम भी शामिल था। ऐसे दुस्साहसिक और चर्चित हत्याकांड ने वर्ष 2008 में पूरे देश को हिला कर रख दिया था। हत्याकांड की मुख्य आरोपी शबनम को फांसी की सजा होनी वाली है। डेथ वारंट मिलने के बाद उसे फंदे पर लटका दिया जाएगा।अमरोहा जैसी शबनम बरेली जिले में भी हैं, जिन्होंने प्यार के लिए अपनों को ही मौत की नींद सुला दिया। किसी ने प्रेमी के लिए अपने पति को मौत के घाट उतार दिया, तो किसी ने बेटी के प्रेम प्रसंग से नाराज होकर बेटी को काट डाला। यही नहीं प्रेमी के साथ बहन को देखने के बाद भाइयों ने बहन के खून से अपने हाथ लाल कर लिए।यहीं नहीं मां की ममता भी प्रेम प्रसंग पर भारी पड़ गई। प्रेमी के साथ जीने मरने की कसमे खाने वाली मां ने बेटी की गला घोटकर हत्या कर दी। प्रेमी और दौलत के लिए फिरोजाबाद की एक महिला ने अपने शिक्षक पति को प्रेमी और सुपारी किलर के साथ मिलकर मार डाला। फिलहाल इन सभी हत्याओं के आरोपियों में से अधिकांश जेल में हैं, जहां वे अपने खूनी कारनामों को लेकर सींखचों के पीछे सजा के इंतजार करते हुए हर दिन दहशत में गुजार रहे हैं।

महिला ने प्रेमी के लिए कर दिया बेटी का कत्ल
सुभाषनगर के करेली निवासी उस्मान की पत्नी मुकीम का घर के पास रहने वाले कौसर से प्रेम संबंध थे। कौसर उनके घर आता जाता था। इसी बीच मुकीम की बेटी उस्मा से भी उसके प्रेम संबंध हो गए। वह कौसर से निकाह करने की जिद करने लगी। इस बात से नाराज मुकीम बानों ने प्रेमी संग मिलकर बेटी की हत्या कर दी और बताया कि डकैत उसके घर में घुस आए थे। लेकिन सच खुला और आज दोनों आरोपी जेल में  सजा काट रहे हैं।

नवाबगंज में बहन को प्रेमी के साथ देखना भाई को इतना महंगा पड़ गया की उसे जान से हाथ धोना पड़ा। लड़की और प्रेमी की बात उजागर न हो इसके लिए उसने प्रेमी संग मिलकर भाई की गला घोटकर हत्या कर उसे झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस ने मामले का खुलासा कर दोनों को जेल भेज दिया। 

बेटी की हत्या के बाद घर में दफन किया शव

इज्जतनगर के आलोक नगर के रहने वाले रवि शर्मा की दो बेटियां थी। उन्होंने पत्नी की मौत के बाद दूसरा विवाह कर लिया। दूसरी पत्नी रितु से उसके प्रेमी के साथ अन्य लोग मिलने आते थे। इस बात का छोटी बेटी विरोध करती थी। इसपर रितु ने उसकी गला घोटकर हत्या कर शव को घर के अंदर ही दबा दिया। पुलिस ने मामले का खुलासा कर आरोपी महिला को जेल भेज दिया।

प्रेमी के लिए करवा दिया पति का कत्ल 
कर्मचारी नगर निवासी शिक्षक अवधेश सिंह की पत्नी विनीता का प्रेम संबंध था। उसने प्रेमी अंकित और हिस्ट्रीशीटर शेरा के साथ मिलकर पति की हत्या की और फिर पहले उसे जलाया और फिर बाद में फिरोजाबाद में दफन कर दिया। पुलिस ने घटना में शामिल सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

कई लोगों ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने भाई, बहनों, पति समेत अन्य रिश्तेदारों का कत्ल किया है। उनके केस की सुनवाई चल रही है। सभी मामलों में मजबूत साक्ष्य हैं। 

विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले सदस्यों का प्रदर्शन

हरिओम उपाध्याय  

लखनऊ। विधानमंडल के बजट सत्र की शुरुआत के पहले दिन, बृहस्पतिवार को सुबह विधान मंडल के दोनों सदनों के समाजवादी पार्टी के सदस्य गेट नंबर एक से विधान भवन पहुंचे और उन्होंने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी, विधान परिषद में नेता विपक्षी दल अहमद हसन और समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल की अगुवाई में सदस्यों ने चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के समक्ष धरना देकर सरकार विरोधी नारे लगाए।

सपा सदस्य नारा लगा रहे थे- ‘‘काला क़ानून वापस लो। जबसे भाजपा सरकार आई है- कमर तोड़ महंगाई है। नया कृषि क़ानून वापस लो, वापस लो। महंगा डीज़ल, महंगी बिजली- भाजपा सरकार निकली नक़ली।’’ सपा सदस्यों ने हाथों में तख्तियां भी ले रखी थीं। सपा के विधान परिषद सदस्य रामवृक्ष यादव ने बताया कि कुछ सदस्य ट्रैक्टर से आए जिन्हें गेट पर पुलिस ने रोक दिया।विधानमंडल के बजट सत्र की शुरुआत के पहले दिन सुबह बहुजन समाज पार्टी के निलंबित सदस्य भी विधान भवन पहुंचे। निलंबित सदस्य हरगोविंद भार्गव ने बताया, ‘‘हम किसान कानूनों और उत्तर प्रदेश की बदहाल क़ानून व्यवस्था के ख़िलाफ़ सदन में आए हैं, हम सरकार के विरोध में खड़े हैं। हमारी पार्टी ने अपनी नीतियों को भाजपा के पक्ष में रखा है लेकिन हम भाजपा के विरोध में हैं।’’ बसपा के निलंबित सदस्य असलम राइनी ने कहा, ‘‘विधानसभा अध्यक्ष से मिलकर हम लोग अलग बैठने की माँग करेंगे।’’

10वें दिन पेट्रोल-डीजल के दाम में लगी आग

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। सरकारी तेल कंपनियों ने आज लगातार 10वें दिन पेट्रोल डीजल के दाम में इजाफा कर दिया है। गुरुवार को ईंधन के दाम में 30-35 पैसे की बढ़ोत्तरी की गई, जिसके बाद दिल्ली में आज एक लीटर पेट्रोल की कीमत 89.88 रुपये पर पहुंच गई है और डीजल प्रति लीटर 80.27 रुपये में मिल रहा है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत बढ़कर 96.32 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 87.32 रुपये लीटर हो गई है। पेट्रोल डीजल के दाम देश के कई शहरों में अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच चुके हैं। देश के कई हिस्सों में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर की दर से बिक रहा है।
पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रोजाना सुबह 6 बजे बदलाव होता है। सुबह 6 बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं। पेट्रोल डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है।

केंद्र सरकार और राज्य सरकार पर साधा निशाना

पंकज कपूर 
हल्द्वानी। हल्द्वानी के रामपुर रोड में आज कांग्रेस किसान मोर्चा की बैठक में पहुंचे। पूर्व सीएम हरीश रावत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी हमेशा से किसानों के आंदोलन के साथ खड़ी रही है। कांग्रेस ने सरकार के रहते समय हमेशा किसान के हितों में काम किया, लेकिन प्रदेश की सरकार और केंद्र की सरकार ने किसान के हितों में लिये गए हर फैसले को बदलने का काम किया है। कांग्रेस के समय सार्वजनिक वितरण प्रणाली एफसीआई जैसे संस्था को काफी सुविधाएं दी गई थी, लेकिन इनके सरकारों ने उसको भी बदलने का काम किया है। कृषि कानून पूरी तरह से किसानों के खिलाफ है इससे उपभोक्ता को भी परेशानी होगी, प्रधानमंत्री के कारपोरेट मित्रों अडानी और अंबानी के खजाने को भरने के लिए सरकार ने इस तरह का काला कानून बनाया है।

देश में कोरोना वायरस के 12,881 नए मामले

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। देश में कोविड-19 के 12,881 नए मामले सामने आने के साथ ही बृहस्पतिवार को संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,09,50,201 हो गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से उबरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,06,56,845 पर पहुंच गई।मंत्रालय के सुबह आठ बजे के आंकड़ों के अनुसार, एक दिन के भीतर संक्रमण से 101 लोगों की मौत होने के बाद, इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1,56,014 पर पहुंच गई। इसके मुताबिक, कोविड-19 के कारण मरने वालों की दर कम होकर 1.42 फीसदी रह गई है जबकि संक्रमणमुक्त होने वालों की राष्ट्रीय दर बढ़कर 97.32 फीसदी हो गई है। इलाज करवा रहे, कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 1.5 लाख से कम बनी हुई है।

पेट्रोल के दामों में बढ़ोतरी, यूथ कांग्रेस का प्रदर्शन

हल्द्वानी। हल्द्वानी में पेट्रोल डीजल के बढ़े दामों को लेकर यूथ कांग्रेस ने अनोखे अंदाज में आज प्रदर्शन किया। यूथ कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष गुरप्रीत सिंह प्रिंस के नेतृत्व में यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मोटरसाइकिल और स्कूटी को नैनीताल रोड में धक्का मारते हुए पेट्रोल पंप तक ले गए और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।यूथ कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष गुरप्रीत सिंह प्रिंस का कहना है कि पेट्रोल डीजल के लगातार दाम बढ़ते जा रहे हैं, केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने अच्छे दिनों का वादा किया था, लेकिन बेतहाशा बढ़ते पेट्रोल डीजल के दाम से आम खाने पीने चीजों में महंगाई हुई है, जिससे आम आदमी का जीना दूभर हो गया है। यदि पेट्रोल डीजल के दामों में कमी नहीं आई तो यूथ कांग्रेस आगे भी उग्र आंदोलन करने को बाध्य होगी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-186 (साल-02)
2. शुक्रवार, फरवरी 19, 2021
3. शक-1983, माघ, शुक्ल-पक्ष, तिथि-अष्टमी, विक्रमी संवत 2077।

4. प्रातः 06:55, सूर्यास्त 06:15

5. न्‍यूनतम तापमान -07 डी.सै.,अधिकतम-25+ डी.सै.। घने कोहरे की संभावना बनी रहेगी।

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +91935030275                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)

नये सिरे से चुनाव प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ(एनआरएआई) के मोहाली में होने वाले चुनावों से एक दिन पहले खेल मंत्रालय ने निशानेब...