सोमवार, 14 अक्तूबर 2019

एक्सप्रेस वे पर किसानों का धरना जारी

अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद,मोदीनगर। अपनी विभिन्न मांगों को लेकर दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे पर किसानों द्वारा चलाया जा रहा धरना सातवे दिन भी जारी रहा। कई संगठन के नेताओं ने ध्ररना स्थल पहुंचकर अपना समर्थन दिया। इसमें मुख्य रूप से देहात मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बाबू सिंह आर्य, प्रदेश सचिव मंतराम नागर, बसपा के वरिष्ठ नेता सतपाल चौधरी, सपा के मुरादनगर अध्यक्ष परवेज चौधरी, लोक दल के वरिष्ठ नेता रेखा चौधरी, राजपूत उत्थान सभा मोदीनगर के अध्यक्ष सोनू ठाकुर आदि शामिल हैं। उन्होंने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों की सभी मांगे जायज हैं और जब तक इनकी मांगे नहीं मानी जाएंगी। तब तक किसानों का यह धरना जारी रहेगा। साथ ही तब तक वह लोग एक्सप्रेव कार्य नहीं होने देंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता भोजराज अमराला ने की तथा संचालन पूर्व जिला पंचायत सदस्य सतीश राठी ने किया। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य बबली गुर्जर, डॉक्टर दीपक त्यागी, दलबीर नेता, कपिल खटाना,राजेंद्र प्रधान, भूले शर्मा, चरण सिंह मास्टर व महेश प्रधान सहित सैकड़ों किसान मौजूद रहे।


पुलिस ने चलाया सघन जांच अभियान

यातायात के विरुद्ध चलाया अभियान


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। लोनी क्षेत्र में डग्गामार वाहन के साथ प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों की भरमार है। जिसमें थ्री व्हीलर के द्वारा ज्यादा आतंक मचाया गया है। यातायात नियमों के विरुद्ध आवागमन किया जा रहा था। जिसको ध्यान में रखते हुए पुलिस अधीक्षक देहात नीरज कुमार जादौन एवं क्षेत्र अधिकारी राजकुमार पांडेय के नेतृत्व में लोनी तिराहे पर सघन जांच अभियान चलाया गया। अभियान के दौरान 30 वाहनों का चालान किया गया। जिसमें ज्यादातर के पास गाड़ी से संबंधित पूरे कागज नहीं थे। उसके बाद 54 गाड़ियों को सीज किया गया। जिनके पास गाड़ी से संबंधित किसी प्रकार का कोई कागजात नहीं पाया गया। इससे यह अनुमान लगाया जा सकता है कि क्षेत्र में अवैध यातायात की भरमार है। जिसके विरुद्ध इस प्रकार के अभियान की क्षेत्र में सख्त आवश्यकता है। अवैध वाहनों का उपयोग चोरी, चकारी ,लूट और छीना-झपटी में भी किया जाता है। यदि पुलिस इसी प्रकार के अभियान को संचालित रखेगी तो निसंदेह पुलिस सामान्य अपराध में कमी महसूस करेगी।


जन विकास के लिए संत का संकल्प

गाजियाबाद। लोनी बॉर्डर क्षेत्र के बेहटा हाजीपुर नहर रोड स्थित रेलवे फाटक पर अंडर पास बनने का कार्य शुरू हो चुका है। जबकि पाइपलाइन रोड वर्षो से बंद पड़े फाटक की समस्या का कोई समाधान होता दिखाई नहीं दे रहा है। वर्षों से बंद पड़े फाटक पर अंडरपास या ओवर ब्रिज की मांग को लेकर कई बड़े आंदोलन भी हो चुके हैं। फाटक के दोनों तरफ 8 वार्ड है। जिसमें दोनों तरफ लाखों लोग निवास करते हैं। यह रास्ता लोनी बॉर्डर से मुरादनगर जाता है दर्जनों कॉलोनी एवं ग्रामों का रास्ता है।


हालांकि क्षेत्रीय विधायक गंभीर है विधानसभा में भी प्रश्न उठा चुके हैं। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि हमारे गाजियाबाद के सांसद श्री वीके सिंह इस समस्या को लेकर गंभीर नहीं हैं। चाहे तो लोकसभा में समस्या को रखकर अंडरपास या ओवर ब्रिज पास करा सकते हैं। उनके लिए कोई बड़ा काम नहीं है। वही बागपत के सांसद श्री सतपाल सिंह ने अपने क्षेत्र के सभी अंडरपास रेलवे अंडरपास बनवा दिए हैं। क्षेत्र की जनता अपने को ठगा सा महसूस कर रही है। वही एक शिव भक्त कई महीनों से बंद फाटक पर  अंडरपास या ओवर ब्रिज की मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं। उनका कहना है कि जब तक कोई समाधान नहीं होता  मंदिर में जल नहीं चढाएंगे। अब देखना यह है कि कब तक लोगों को इंतजार करना पड़ेगा। क्षेत्र की जनता अपने जनप्रतिनिधियों पर आस लगाए बैठी है।


रिपोर्टर-प्रमोद गर्ग


दूसरी मुठभेड़ में मारा गया पुष्पेंद्र:योगी

लखनऊ। झांसी में पुष्पेंद्र यादव की पुलिस एनकाउंटर में हुई मौत के बाद गरमाई सियासत पर पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि पुष्पेंद्र यादव की पुलिस से दो बार अलग-अलग मुठभेड़ हुई थी, जिसमें वह मारा गया। उन्होंने अखिलेश यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि अपराधियों पर कार्रवाई होने से उन्हें बुरा लग रहा है।


न्यूज18 से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा, "पहले दरोगा को गोली मारी गई। फिर दूसरी टीम ने रोकने की कोशिश की तो मुठभेड़ हुई और अपराधी मारा गया। जानबूझकर लोगों को नहीं मारा जा रहा है। मुझे लगता है कि अखिलेश यादव की जो प्रकृति रही है, उन्होंने सत्ता में रहते हुए भी हर माफिया, गुंडा, अपराधी और प्रदेश-देश की सुरक्षा के लिए जो भी लोग खतरा बने हुए थे उनके सगे बने हुए थे। आज जब उनके अंदर भय पैदा हुआ तो इनको बुरा लगना स्वाभाविक है।


झांसी में जो कुछ हुआ वह एक एनकाउंटर था


उन्होंने कहा, "झांसी की घटना पूरी तरह इनकाउंटर की घटना है। गाड़ी के लिए किया गया एनकाउंटर नहीं था। लेकिन पुलिस को जब मैसेज किया की इंस्पेक्टर को गोली मारकर गाड़ी को लूटा गया है तो 40 किलोमीटर दूर पुलिस की दूसरी टीम से उसका सामना हुआ। जिसके साथ हुए मुठभेड़ में अपराधी मारा गया। इसमें जो भी होगा उसमें सख्त कार्रवाई की जाएगी। मुझे लगता है कानून हाथ में लेने की इजाजत किसी को नहीं है। न पुलिस को, न नेता को और न ही अपराधियों को. कानून का राज होगा।


परंपरा का पालन गुनाह नहीं: सिंह

करनाल । रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह राफेल पूजा विवाद पर विरोधियों को करारा विवाद दिया है। उन्होंने कहा इस मुद्दे को बेवजह इतना तूल क्यों दिया जा रहा है। उन्होंने सवाल किया कि क्या भारतीय परंपरा का पालन करना कोई गुनाह है।  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा विमान पर ऊं लिख दिया तो इसमें कौन सा गजब कर दिया। विपक्ष ने इस पर विवाद पैदा कर दिया है। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस बिना सोचे समझे आरोप लगाती है। एक चुनावी सभा में बोलते हुए राजनाथ सिंह ने मौजूद लोगों से कहा मैं आप लोगों से पूछना चाहता हूं कि क्या आपके घरों में ऊं नहीं लिखा होता। जब कोई नया वाहन खरीदते हैं तो क्या मंदिर में पुजारी से पूजा नहीं कराते।
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की तारीफ करते हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हरियाणा के पुराने मुख्यमंत्री, चाहे कांग्रेस के हों या आईएनएलडी के, दिल्ली से सरकार चलाते थे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जमीनी स्तर पर सरकार चलाते हैं। रक्षामंत्री राजनाथ सिह ने दशहरा के अवसर पर 8 अक्टूबर को 36 राफेल विमानों की खेप में से पहला विमान औपचारिक रूप से प्राप्त किया। 
राफेल ग्रहण करने के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पूरे विधि-विधान से इसकी पूजा की थी। उन्होंने राफेल पर नारियल चढ़ाया और फूल अर्पित किए। धागा बांधा और उसपर ऊं लिखा। पूजा के दौरान उसके पहिए के नीचे नींबू रखे गए थे। इसके बाद राजनाथ सिंह ने एक फाइटर पायलट की तरह ड्रेसअप होकर फाइटर प्लेन से पहली उड़ान भरी।


यूपी कांग्रेस को मिलेगा मंत्र,होगा बदलाव

रायबरेली । कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का 14 अक्टूबर को होने वाला रायबरेली दौरा अपरिहार्य कारणों से टल गया है। प्रियंका गांधी के नेतृत्व में रायबरेली में होने वाला कांग्रेस प्रशिक्षण शिविर अब 22 अक्टूबर से होगा। उपचुनाव की वजह से कार्यक्रम में यह बदलाव किया गया है। अब उपचुनाव के बाद तीन दिन के प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी 14 और 15 अक्टूबर को रायबरेली दौरे पर आने का कार्यक्रम था। इस कार्यक्रम को अब विधानसभा उप-चुनाव के बाद आयोजित किया जाएगा।
इस दौरान पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से नए पदाधिकारियों का औपचारिक परिचय भी कराया जाएगा। प्रियंका गांधी के महासचिव बनने के बाद उत्तर प्रदेश में बनी इस नई टीम को सोनिया गांधी कई मंत्र देना चाहती हैं। सोनिया की रायबरेली यात्रा के दौरान पार्टी पदाधिकारियों के कार्यों का भी बंटवारा किया जाएगा। प्रियंका गाधी ने अजय कुमार लल्लू को प्रदेश अध्यक्ष और आराधना मिश्रा को विधान मंडल दल का नेता बनाने के साथ साथ कई नए और नौजवान चेहरों को संगठन में जगह दी है। अजय कुमार लल्लू को पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के साथ ही चार उपाध्यक्ष, 12 महासचिव और 24 सचिव भी बनाए गए हैं।


सुधार के सामने बाधा बनता है विपक्ष

फरीदाबाद। हरियाणा  विधानसभा चुनाव 2019  के लिए सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बल्लभगढ़ में हुंकार भरी। पीएम मोदी ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि हरियाणा आकर मुझे लगता है, जैसे मैं अपने घर में आया हूं। हरियाणा ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा का विकास मेरी प्राथमिकता है। वहीं विपक्षियों पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बिखरे हुए लोग हरियाणा का विकास नहीं कर सकते है। कांग्रेस अपनी बिगड़ी टीम जोडऩे में मशहूर है। विपक्षियों में स्वार्थ और अहंकार है। पीएम मोदी ने कहा कि मैं देश के विकास के लिए कदम उठा रहा हूं। आपने मुझे 5 साल का समय दिया है। मैंने संकल्प पूरा करना शुरू कर दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि देश में हो रहे हर सुधार और हर परिवर्तन के सामने कांग्रेस और उसके जैसे दल दीवार बनकर खड़े हो जाते हैं। आपने देखा है कि कैसे तीन तलाक के खिलाफ कानून को इन लोगों ने हर बार रोका, हर तरह के बहाने बनाकर रोका। राफेल मुद्दे का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि राफेल विमान को लेकर इन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान कैसी हायतौबा मचाई थी? इन लोगों ने पूरा जोर लगा दिया था कि ये विमान समझौता रद्द हो जाए, भारत में नया लड़ाकू  विमान न आने पाए, लेकिन इन लोगों की तमाम कोशिशों के बावजूद भारत को पहला राफेल विमान सौंपा जा चुका है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ये कितना भी विरोध करें, कितनी ही साजिशें करें, राष्ट्रीय सुरक्षा और सेना के सशक्तीकरण के लिए भाजपा प्रतिबद्ध है और हम लगातार उसे गति दे रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हरियाणा की धरती और यहां के लोगों का सहयोग और समर्थन है, जिन्होंने मनोहर लाल जी और उनकी टीम को ताकत दी है। आपका यही आशीर्वाद हमें लोकसभा चुनाव के दौरान भी मिला है। पीएम ने कहा कि आज आप देख रहे हैं कि कैसे पूरी दुनिया, दुनिया के बड़े-बड़े नेता भारत के साथ खड़े होने के लिए, भारत के साथ आने के लिए दुनियाभर में आतुर नजर आते हैं।


खट्टर ने सोनिया को मरी चुहिया कहा

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा कथित तौर अपमानजनक टिप्पणी करने से जुड़ी खबर को लेकर अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की प्रमुख सुष्मिता देव ने सोमवार को कहा कि इस 'असंसदीय एवं निंदनीय' बयान के लिए बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने एक बयान जारी कर कहा कि मैं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की टिप्पणी की निंदा करती हूं।


सुष्मिता ने कहा कि उनकी टिप्पणी असंसदीय और निंदनीय है। यह महिलाओं के प्रति उनके और भाजपा के अपमानजनक रुख को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि विमर्श के स्तर को नीचे ले जाना बेरोजगारी और गंभीर आर्थिक मंदी जैसे असली मुद्दों से ध्यान भटकाने का प्रयास है। महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ने कहा कि क्या इससे कोई इनकार कर सकता है कि हरियाणा भारत का 'रेप कैपिटल' बन चुका है ? वहां अपहरण के मामले बहुत बढ़ गए हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री के पास इसका कोई जवाब नहीं है। कांग्रेस में हम सार्वजनिक गरिमा को बरकरार रखने को प्रतिबद्ध हैं। मैं खट्टर से बिना शर्त माफी की मांग करती हूंं।


खबरों के मुताबिक, खट्टर ने एक सभा में कथित तौर पर कहा कि लोकसभा चुनाव में हार के बाद राहुल (राहुल गांधी) ने पार्टी अध्यक्ष पद छोड़ दिया और कहा कि नया कांग्रेस अध्यक्ष गांधी परिवार से नहीं होगा। हमने इस निर्णय का स्वागत किया था। वंशवाद की राजनीति को खत्म करने के लिए यह अच्छा फैसला था। फिर, इन लोगों ने देशभर में (नए अध्यक्ष की) तलाश शुरू की। तीन महीने के बाद, उन्होंने सोनिया गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बना दिया। यह तो ऐसा हुआ, जैसे खोदा पहाड़, निकली चुहिया, वह भी मरी हुई।


75 साल की महिला ने बेटी को जन्म दिया

कोटा। राजस्थान राज्य के कोटा में एक 75 साल की बूढ़ी महिला ने IVF के जरिए शनिवार देर शाम एक बच्ची को जन्म दिया। डॉक्टरों ने रविवार को बताया कि बच्ची का वजन मात्र 600 ग्राम है और उसे एक अन्य अस्पताल की नवजात गहन चिकित्सा इकाई  में ले जाया गया है, जबकि महिला को कोटा के किंकर हॉस्पिटल में रखा गया है। बाल रोग विशेषज्ञों की एक टीम बच्ची की देखभाल कर रही है। हॉस्पिटल की डॉक्टर अभिलाषा किंकर ने कहा कि महिला ने पहले एक बच्चे को गोद लिया था, लेकिन वह अपना खुद का बच्चा चाहती थी, और इसलिए उसने मां बनने की संभावनाओं के बारे में डॉक्टरों से पूछताछ की थी। इसके बाद उसने IVF को आजमाना चाहा।


बता दें कि मां की उम्र के कारण गर्भ धारण करने के 6.5 माह बाद सी-सेक्शन के जरिए समय पूर्व बच्चे का जन्म कराना पड़ा, क्योंकि मां शारीरिक और स्वास्थ्य के लिहाज से कमजोर थी। बड़ी दिक्कत यह थी कि महिला के पास सिर्फ एक ही फेफड़ा था, जो चिकित्सा टीम के लिए एक चुनौती था।


डांस और अंदाज से सबका होश उड़ाया

मुंबई। बॉलीवुड की डांसिंग क्वीन नोरा फतेही अपने धमाकेदार डांस और अंदाज से सबके होश उड़ा देती हैं। एक बार फिर नोरा फतेही  का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर तहलका मचा रहा है। इस वीडियो में एक्ट्रेस हाल ही में रिलीज हुए अपने गाने 'पपेटा' पर अलग ही अंदाज में डांस कर रही हैं। इस वीडियो को डांस प्लस ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट के जरिए शेयर किया है। इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो रहे इस वीडियो में नोरा फतेही द पपेटा चैलेंज एक्सेप्ट कर उस पर डांस कर रही हैं। नोरा फतेही के इस वीडियो पर फैन्स खूब कमेंट कर रही हैं।


आयुष्मान की बड़ी फिल्म 'ड्रीमगर्ल'

निशा गोस्वामी


मुंबई। आयुष्मान खुराना अभिनीत पावरहाउस निर्माता एकता कपूर की हालिया रिलीज़ ड्रीम गर्ल ने बॉक्स ऑफिस पर शानदार प्रदर्शन किया है और रिलीज़ के बाद, अपने छठे सप्ताह में भी मजबूत पकड़ बनाये हुए है। इस साल 13 सितंबर को रिलीज हो चुकी यह फिल्म अपने 5वें वीकेंड में 1.70 करोड़ की कमाई करने में सक्ष्म रही और इसी के साथ यह फ़िल्म अब तक कुल मिलाकर 139.70 करोड़ रुपये का बिज़नेस कर चुकी है। जबकि ड्रीम गर्ल अभिनेता आयुष्मान खुराना की सबसे बड़ी ओपनिंग फ़िल्म थी लेकिन अब यह उनकी सबसे अधिक कमाई करने वाली फिल्म भी बन गई है।


और 'बधाई हो' के लाइफटाइम कलेक्शन को भी पीछे छोड़ दिया है जिसने बॉक्स ऑफिस पर कुल 137.61 करोड़ का आंकड़ा दर्ज किया था। दिलचस्प बात यह है कि “ड्रीम गर्ल” एकता कपूर के प्रोडक्शन हाउस बालाजी टेलीफिल्म्स की भी सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बन गई है। ड्रीम गर्ल का निर्देशन राज शांडिल्य ने किया है और इसमें नुसरत भरूचा, अन्नू कपूर, मनजोत सिंह, अभिषेक बनर्जी, राजेश शर्मा, विजय राज, निधि बिष्ट और राज भंसाली ने भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।


विज्ञान,गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी

रायपुर। राजधानी रायपुर के शंकर नगर स्थित बी.टी.आई. मैदान में बच्चों के लिए 46वीं जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय विज्ञान, गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी का आयोजन 15 से 20 अक्टूबर 2019 तक किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुईया उइके 15 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे और स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, महापौर रायपुर प्रमोद दुबे विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। राष्ट्रीय प्रदर्शनी 15 अक्टूबर को उद्घाटन के पश्चात् 19 अक्टूबर तक प्रातः 11 से संध्या 5 बजे तक अवलोकन के लिए खुली रहेगी। राष्ट्रीय प्रदर्शनी का आयोजन स्कूल शिक्षा विभाग, राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद छत्तीसगढ़ और राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद नई दिल्ली के सहयोग से किया जा रहा है। सांस्कृतिक कार्यक्रम 15 अक्टूबर से 19 अक्टूबर तक प्रतिदिन संध्या 5.30 से 7 बजे तक आयोजित किये गये है। प्रतिदिन दो वैज्ञानिकों के व्याख्यान 16 से 18 अक्टूबर तक प्रातः 9 बजे से 10.30 बजे तक होंगे। प्रतिभागियों को शैक्षणिक भ्रमण 20 अक्टूबर को कराया जाएगा।


राष्ट्रीय स्तरीय प्रदर्शनी की तैयारी के संबंध में आज सुबह स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव श्री गौरव द्विवेदी ने व्यवस्थाओं का अवलोकन कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होने तैयार किये जा रहे पण्डालों का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर संचालक राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एस.सी.ई.आर.टी.), संचालक, लोक शिक्षण संचालनालय तथा राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।


स्कूली बच्चों द्वारा निर्मित प्रादर्श एवं मॉडलों का मुख्य विषय ''जीवन की चुनौतियों के लिए वैज्ञानिक समाधान'' है। प्रादर्श और मॉडलों को 6 विषयों में विभाजित किया है इनमें – कृषि एवं जैविक खेती, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता, संसाधन प्रबंधन, अपशिष्ट प्रबंधन, परिवहन एवं संचार और गणितीय प्रतिरूपण शामिल है। राष्ट्रीय प्रदर्शनी में देश भर से 400 प्रतिभागी विद्यार्थी और 200 मार्गदर्शक शिक्षक शामिल होंगे। प्रदर्शनी में 147 प्रादर्शो का प्रदर्शन किया जायेगा जिसमें छत्तीसगढ़ राज्य के 22 प्रादर्श भी शामिल है। राष्ट्रीय प्रदर्शनी में प्रतिभागियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। अब तक 18 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से 151 प्रतिभागी विद्यार्थी और 26 मार्गदर्शक शिक्षक पहुंच चुके है। जिन राज्यों के प्रतिभागी दल आ चुके है उनके गोवा, गुजरात, हरियाणा, मणिपुर, मेघालय, राजस्थान, तेलगांना, उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश, चण्डीगढ़, दिल्ली, आसाम और मेजबान छत्तीसगढ़ शामिल है। इसके अतिरिक्त विभिन्न संगठनों में केन्द्रीय विद्यालय, सीबीएसई, एनसीईआरटी के दल भी आ चुके है। स्टेट पवेलीयन में राज्य में प्रमुख योजनाओं पर आधारित नरवा, गरुवा, घुरुवा और बारी, मल्टी मीडिया पाठ्यपुस्तकें, एससीईआरटी के प्रकाशन और दीक्षा की भी प्रदर्शनी लगायी जायेगी।


सरकार ने युवाओं को मूर्ख बनाया

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़।  हरियाणा विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए सोमवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी यहां के नूंह विधानसभा क्षेत्र में पहुंचे। राहुल ने अपनी सभा में सीएम खट्टर और पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी अंबानी-अडानी के लाउडस्पीकर हैं और दिनभर उन्हीं की बात करते हैं। राहुल गांधी ने कहा कि देश में जो बेरोजगारी है और जो अर्थव्यवस्था की हालत है, आप देखना कि 6 महीने बाद यहां क्या होता है। देश में युवाओं को ज्यादा वक्त तक बेवकूफ   बनाकर सरकार नहीं चला सकता। आप 6 महीने एक साल सरकार चला सकते हो, लेकिन एक दिन सच्चाई बाहर आएगी। फिर देखना क्या होता है देश में और क्या होता है नरेंद्र मोदी का? कांग्रेस नेता ने कहा कि इस देश में अलग-अलग जाति और धर्म के लोग रहते हैं। यहां अमीर लोग गरीब लोग सभी एक साथ रहते हैं और इन सभी को हम हिंदुस्तान कहते हैं। कांग्रेस सबकी पार्टी है और हमारा काम लोगों को जोडऩे का है। बीजेपी और आरएसएस का काम जो पहले अंग्रेज करते थे देश को तोडऩे का काम और देश में एक दूसरे को लड़ाने का काम है। नोटबंदी और जीएसटी पर कटाक्ष करते हुए राहुल ने कहा कि पहले नोटबंदी ने देश में सबको लाइन में लगा दिया। उस लाइन में अनिल अंबानी और अडानी को देखा था क्या आपने? उस दौरान काले धन का कोई आदमी लाइन में नहीं लगा। उसके बाद गब्बर सिंह टैक्स आया। यहां कोई है जो कह सके कि जीएसटी से मुझे फायदा हुआ। छोटे दुकानदार, मिडिल साइज बिजनस सब खत्म हो गए क्योंकि उनका बिजनस मोदी अपने 15-20 दोस्तों को देना चाहते हैं।


राहुल की मौजूदगी भाजपा की जीत

उमरखेड। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार अभियान के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी की मौजूदगी का मतलब है कि भाजपा '100 प्रतिशत' जीतने जा रही है।


उमरखेड़ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आतंकवाद को खत्म करने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के लिए मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इन दोनों ने इस कदम के जरिए 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' की अवधारणा स्थापित की।


योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'मुझे नांदेड हवाईअड्डे पर मालूम चला कि राहुल गांधी महाराष्ट्र में रैलियां संबोधित करने वाले हैं। राहुल गांधी का महाराष्ट्र में पहुंचने का मतलब है कि भाजपा 100 फीसदी चुनाव जीतने जा रही है'। उन्होंने कहा, 'राहुल गांधी जिस भी पार्टी का समर्थन करने जा रहे है उसका हारना तय है। राहुल की मौजूदगी ने कांग्रेस तथा राकांपा की हार तय कर दी है'।


भाजपा उम्मीदवार नामदेव ससाने के लिए प्रचार के दौरान आदित्यनाथ ने लोगों से किसानों के कल्याण के लिए योजनाओं को गति देने के वास्ते भाजपा को वोट देने की अपील की। महाराष्ट्र की 288 सदस्यीय विधानसभा के लिए चुनाव 21 अक्टूबर को होंगे, चुनाव नतीजे 24 अक्टूबर को आएंगे।


पाक आतंकीयो को कर रहा प्रशिक्षित

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादियों का प्रशिक्षण लेना जारी है। सरकार के सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान के खैबर पख्तूनवा प्रांत में बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के लगभग 50 आतंकवादी प्रशिक्षण ले रहे हैं। आतंकवादी मुख्य रूप से आत्मघाती हमलावर हैं जिन्हें कश्मीर और अफगानिस्तान में हमले करने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। भारतीय खुफिया एजेंसियां इसपर नजर रख रही हैं। वहीं, आतंकवादियों के एक समूह को सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए बालाकोट से भेजा गया है।


स्वर्णकार संघ ने निकाली शोभायात्रा

मोहित श्रीवास्तव


गाजियाबाद। राष्ट्रीय स्वर्णकार संघ लोनी के द्वारा महाराजा अजमीढ़ देव जी के जन्मदिवस पर शोभा यात्रा निकाली गई। जिसमें प्रमुख रूप से लोनी नगर पालिका चेयरमैन रंजीता धामा मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रही। जिनका स्वागत समिति के अध्यक्ष महेंद्र सिंह प्रधान ने पटका एवं माला भेंट प्रदान करके किया। वह महिलाओं की तरफ से मंजू वर्मा ने माल्यार्पण करके स्वागत किया। शोभा यात्रा की प्रमुख रूप से मनमोहक झांकियां बैंड बाजा, डीजे बग्गी, महिलाओं की टोली, बाइकों की टोली, कारों की टोली, पैदल कार्यकर्ताओं द्वारा सुचारू रूप से यातायात को नियंत्रण करते हुए किया गया। जोहरी एनक्लेव मेट्रो स्टेशन से लक्ष्मी गार्डन दो नंबर बस स्टैंड से होते हुए शोभा यात्रा का नरेश वर्मा एवं विक्की वर्मा एवं उनके साथियों के द्वारा शांति नगर स्टैंड पर फूल बरसा कर और जलपान व्यवस्था करा कर स्वागत किया गया एवं अन्य जगहों पर भी पानी की सेवा रही पुष्प वर्षा रही और शोभायात्रा में प्रसाद वितरण का भी प्रबंध था। साथ ही समापन स्थल पर सुरुचि प्रीतिभोज की व्यवस्था थी। जहां पर सभी लोगों ने एकत्रित होकर आनंद पूर्वक प्रसाद ग्रहण किया और अपने महाराजा अजमीढ़ देव जी की जय जयकार की । जिसमें मुख्य रूप से राष्ट्रीय स्वर्णकार संघ के कार्यकर्ता निम्न प्रकार से रहे समिति के अध्यक्ष महेंद्र सिंह प्रधान, राजेंद्र ,मनोज वर्मा, संजीव सोनी, सतीश वर्मा, विक्की वर्मा, नरेश वर्मा, राजीव वर्मा, प्रेमपाल वर्मा, उमेश ,राम मोहन वर्मा, संदीप सोनी, अरुण वर्मा व सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


पानीपत वासियों की आवाज बने 'विज'

राजेश ओबराय
पानीपत वासियों की एक ही आवाज, हजारों वोटों से जीतेंगे अपने प्रमोद विज
पानीपत। जैसे-जैसे विधानसभा का चुनाव नजदीक आता जा रहा है वैसे-वैसे पानीपत शहरवासियों की चुनाव परिणाम को लेकर चर्चाएं तेज होती जा रही हैं। पानीपत शहर वासियों की एक ही आवाज है। अबकी बार पानीपत शहरी सीट से हमारे प्रमोद विज हजारों वोटों से जीत हासिल करेंगे। क्योंकि प्रमोद विज एक ईमानदार शरीफ और पार्टी के समर्पित कार्य करता है। जब किसी विधानसभा में ऐसी चर्चाएं होती हैं तो यह परिणाम में बदल जाती है क्योंकि विधानसभा में मतदाता होता है और मतदाता ही जीत और हार का आधार होता है इसलिए ऐसा लगने लगा है की प्रमोद विज की जीत निश्चित है नही बल्कि काफी ज्यादा मतों के अंतर से जीत होगी ऐसा निश्चित लग रहा है। पानीपत वासियों का मानना है कि प्रमोद विज के विधायक बनने के बाद पानीपत से भ्रष्टाचार खत्म होगा और जिले में विकास भी देखने को मिलेगा।


जाली नोट छापने वाले गिरोह का भंडाफोड़

कोयंबटूर। तमिलनाडु के कोयंबटूर में पुलिस ने जाली नोट छापने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक युवक आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी कर रहा था।
पुलिस ने बताया कि गिरोह के पास से 14 लाख रूपये मूल्य के जाली नेाट जब्त किए गए हैंं। जाली नोट छापने वाले का पता तब चला जब शनिवार शाम को कुछ दुकानदारों ने दो व्यक्तियों को जाली नोट चलाने का प्रयास करते हुए पकड़ा और उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया।
IAS परीक्षा की कर रहा था तैयारी:-पुलिस के अनुसार पूछताछ के दौरान दोनों ने पिछले एक महीने से जाली नोट चलाने की बात कबूलीी। उनमें से एक आईएएस परीक्षा की कोचिंग ले रहा हैै। लेकिन जब उसे सफलता नहीं मिली तो उसने इस जुर्म को अपना लिया।
चार लोगों को किया गिरफ्तार।
पुलिस ने दोनों से मिली जानकारी के आधार पर इस रविवार तड़के इस इकाई के सरगना धनराज को पकड़ा। पुलिस को पता चला कि वह किराए के मकान में जाली नोट छाप रहा था और तीनों लोगों की मदद से उन्हें बाजार में चला रहा था। एक अन्य व्यक्ति भी इस रैकेट में पकड़ा गया हैै।


विश्व बैंक ने भारत की विकास दर घटाई

वाशिंगटन। विश्वबैंक ने चालू वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटाकर छह प्रतिशत कर दिया। वित्त वर्ष 2018-19 में वृद्धि दर 6.9 फीसदी रही थी। हालांकि, दक्षिण एशिया आर्थिक फोकस के ताजा संस्करण में विश्वबैंक ने कहा कि मुद्रास्फीति अनुकूल है और यदि मौद्रिक रुख नरम बना रहा तो वृद्धि दर धीरे-धीरे सुधर कर 2021 में 6.9 प्रतिशत और 2022 में 7.2 प्रतिशत हो जाने का अनुमान है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक की संयुक्त वार्षिक बैठक से पहले जारी रिपोर्ट में लगातार दूसरे साल भारत की आर्थिक वृद्धि दर में गिरावट का अनुमान व्यक्त किया गया है।


वित्त वर्ष 2018-19 में वृद्धि दर, वित्त वर्ष 2017-18 के 7.2 प्रतिशत से नीचे 6.8 प्रतिशत रही थी। विनिर्माण और निर्माण गतिविधियों में वृद्धि के कारण औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर बढ़कर 6.9 प्रतिशत हो गयी, जबकि कृषि और सेवा क्षेत्र में वृद्धि दर क्रमशः 2.9 और 7.5 प्रतिशत रही।


रिपोर्ट में कहा गया है कि 2019-20 की पहली तिमाही में मांग के मामले में निजी खपत में गिरावट तथा उद्योग एवं सेवा दोनों में वृद्धि कमजोर होने से अर्थव्यवस्था में सुस्ती रही। विश्वबैंक की रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि 2018-19 में चालू खाता घाटा बढ़कर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 2.1 प्रतिशत हो गया।


एक साल पहले यह 1.8 प्रतिशत रहा था। इससे बिगड़ते व्यापार संतुलन का पता चलता है। रिपोर्ट के अनुसार, 2018-19 में आर्थिक गति तथा खाद्य पदार्थों की कम कीमत के कारण खुदरा मुद्रास्फीति औसतन 3.4 प्रतिशत रही। यह रिजर्व बैंक के चार प्रतिशत के लक्ष्य से ठीक-ठाक कम है।


पाक पर मंडराया ब्लैक लिस्ट का खौफ

पेरिस। टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग पर नजर रखने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की बैठक पेरिस में शुरू हुई। पाकिस्तान पर ब्लैक लिस्ट होने का खतरा है। इससे बचने के लिए उसे समिति के सामने साबित करना होगा कि उसने टेरर फंडिंग में लिप्त लोगों पर कार्रवाई की है। एफएटीएफ की बैठक 18 अक्टूबर तक चलेगी। इसमें पाकिस्तान के आर्थिक मामलों के मंत्री हम्माद अजहर मौजूद रहेंगे।


एफएटीएफ ने जून 2018 में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाल दिया था। साथ ही ब्लैक लिस्ट से खुद को बचाने के लिए 27 सूत्रीय एक्शन प्लान सौंपा था। अगर संस्था को लगता है कि पाकिस्तान ने एक्शन प्लान को सही तरीके से लागू नहीं किया है तो उसे ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाएगा।


इससे पहले अगस्त में ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में हुई बैठक में एफएटीएफ से जुड़े एशिया पैसिफिक जॉइंट ग्रुप ने मानकों को पूरा नहीं करने पर पाकिस्तान को इनहेन्स्ड एक्सपीडिएट फॉलोअप लिस्ट में डाल दिया था। ग्रुप के मुताबिक, पाकिस्तान आतंकियों की वित्तीय मदद और मनी लॉन्ड्रिंग के 40 में से 32 मानकों का पालन नहीं कर रहा है।


पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एफएटीएफ की बैठक में पाकिस्तान के ब्लैक लिस्ट होने से बचने के संकेत मिले हैं। सूत्रों का दावा है कि पिछले महीने बैंकॉक में एपीजेजी की बैठक में पाकिस्तान ने अपनी वित्तीय स्थिति के आंकड़े और वित्तीय रिपोर्ट लिखित में मुहैया करवाई थी। वहीं, भारतीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बैंकॉक में बैठक के बाद से पाकिस्तान तनाव में है। इस बैठक में वह एफएटीएफ के 27 में से केवल 6 मानकों पर ही खरा उतरा था।


ब्लैक लिस्ट होने के चलते अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष, विश्व बैंक और यूरोपीय संघ पाकिस्तान की वित्तीय साख को और नीचे रख गिरा सकते हैं। ऐसे में वित्तीय संकट में जूझ रहे पाकिस्तान की स्थिति और खराब हो सकती है। एफएटीएफ आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों की फंडिंग पर नजर रखती है। एफएटीएफ ने पाक को लगातार ग्रे लिस्ट में रखा। ग्रे लिस्ट में जिस भी देश को रखा जाता है, उसे कर्ज देने में बड़ा जोखिम समझा जाता है। इसके कारण अंतरराष्ट्रीय कर्जदाताओं ने पाक को आर्थिक मदद और कर्ज देने में कटौती की है। इस कारण पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति लगातार खराब हुई।


भारत-अमेरिका संयुक्त सैन्य अभ्यास

वॉशिंगटन। भारत और अमेरिका के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास वज्र प्रहार सिएटल के संयुक्त बेस लुईस-मैककॉर्ड में शुरू हो रहा है। यह संयुक्त अभ्यास का 10वां संस्करण है, जो 28 अक्टूबर तक चलेगा। इसका आयोजन बारी-बारी से भारत और अमेरिका में होता है। पिछले साल यह अभ्यास जयपुर में हुआ था।


भारतीय दूतावास ने कहा कि सैन्य अभ्यास में 45 सदस्यीय भारतीय बल अमेरिकी सैनिकों के साथ प्रशिक्षण लेगा। अभ्यास के दौरान दोनों देशों के सेना अपने अनुभव साझा करेगी। द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास और रक्षा क्षेत्र में आदान-प्रदान से भारत और अमेरिका के बीच रक्षा सहयोग और बढ़ेगा। इससे पहले सितंबर में लुईस-मैककॉर्ड बेस पर दोनों देशों के सैनिकों ने संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण लिया था। इसमें उन अत्याधुनिक हथियारों और सैन्य उपकरणों को शामिल किया गया, जो हाल ही में भारतीय सेना को मिले हैं। इनमें हॉवित्जर तोप और चिनूक हेलिकॉप्टर भी शामिल हैं। वहीं, अभ्यास के दौरान अमेरिकी सेना ने 'जन गण मन' की धुन बजाई थी।


धड़ल्ले से चल रही प्लास्टिक पॉलिथीन

रोक के बाद धड़ल्ले से चल रहे हैं पॉलीथिन बैग , खूब पिये जा रहे है पानी के पाऊच।


शिवपुरी। सिंगल यूज प्लास्टिक के घातक परिणामों को देखते हुये भारत सरकार द्वारा 2 अक्टूबर से सम्पूर्ण भारत में सिंगल यूज प्लास्टिक को बैन की जा चुका है। परंतु शिवपुरी में बैठे अधिकारियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सिंगल यूज प्लास्टिक को बंद करने के आह्वान को अनसुना कर दिया है।


आज भी शिवपुरी के बाजारों में पॉलीथिन बैग का इस्तेमाल देखा जा सकता है,कपड़े की दुकान से लेकर एक सब्जी वाला भी पॉलीथिन बैग का इस्तमाल अपने लेनदेन में कर रहा है। खुलेआम हो रहे पॉलीथिन बैग के इस्तमाल को रोकने के लिये इससे जुड़े अधिकारियों द्वारा न कोई प्रचार प्रसार किया गया और न ही पॉलीथिन के बड़े व्यापारियों पर कोई कार्यवाही की गई। इसी क्रम में पानी के पाऊच का अवैध कारोबार बड़े स्तर से इस शहर में खुलेआम आज भी चल रहा है। पान की दुकान से लेकर हाथ ठेला, शराब के अहाते पर इनका अंबार देखा जा सकता है। सबसे बड़ी बात शहर के बस स्टैंड पर जिसे हम सरकारी संम्पत्ति कह सकते है। जहां लगभग सभी छोड़ी बड़ी दुकानों पर पानी के पाऊच का उपयोग होता है।
पानी के पाऊच के व्यापारियों द्वारा इसे सिर्फ मेन्युफेक्चरिंग किया जाता है जिस पर न तो कोई बैच डाला जाता है और न ही कोई तारीख़। अधिकांश पाउचों में न तो वाटर प्लांट का पता लिखा है। यानी यह पानी पाऊच भले ही तात्कालिक रुप से लोगों के कंठ को तर कर देता हो, लेकिन बाद में न जाने कितनी बीमारियों का कारण बन रही हैं। यह पानी पाउच खाद्य एवं औषधि विभाग से बिना अनुमति एवं नगरीय प्रशासन कार्यालय में रजिस्ट्रेशन कराएं बिना ही बेचे जा रहे हैं, यानी की ऐसे इस धीमे जहर के व्यापारियों का मकसद सिर्फ पाउचों को बेच कर अपनी जेबों को भरना है। लोगो की सेहत पर इसका क्या दुष्प्रभाव पड़ेगा। इससे इन व्यापारियों का कोई लेना देना नही है।


कपिल मिश्रा


70 वर्षीय वृद्ध महिला से दुष्कर्म

बागपत। यूपी के बागपत जनपद में छपरौली थाना क्षेत्र के एक गांव में 70 वर्षीय वृद्ध महिला ने एक युवक पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया। ग्रामीणों ने आरोपी को पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने वृद्धा को मेडिकल परीक्षण के लिए सीएचसी पर भेजा। पुलिस आरोपी युवक से पूछताछ कर रही है। अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है।


थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली 70 वर्षीय महिला सोमवार की शाम गांव के बाहर मुख्य मार्ग पर टहल रही थी। टहलते हुए गांव से थोड़ा दूर निकल गई। आरोप है कि एक युवक यमुना की तरफ से आया और उसने वृद्ध महिला को पकड़ लिया। उसके साथ दुष्कर्म किया। महिला के शोर मचाने पर लोगों ने आरोपी युवक को पकड़ लिया। फिर उसकी जमकर धुनाई की। इसके बाद पुलिस आरोपी को हिरासत में लेकर थाने ले गई।


तुर्की हमलों में 26 नागरिकों की मौत

दमिश्क। तुर्की ने अंतरराष्ट्रीय दबाव के बावजूद सीरिया में कुर्दिश ठिकानों पर हमले जारी रखे हैं। मानवाधिकार संगठन सीरियन ऑब्जर्वेटरी के मुताबिक, रविवार को तुर्की के हमलों में करीब 26 नागरिकों की मौत हो गई। इसी बीच, अमेरिका की विपक्षी डेमोक्रेट पार्टी ने अपील की है कि ट्रम्प सीरिया में सेना वापस न बुलाएं। इसे लेकर लेकर संसद में एक प्रस्ताव भी रखा जाएगा। ट्रम्प पहले ही कह चुके हैं कि वे कुर्दों पर तुर्की के हमले रोकने के लिए उस पर कड़े से कड़े प्रतिबंध लगाएंगे। तुर्की ने कुर्दों के खिलाफ सीरिया में बुधवार को हमले शुरू किए थे। तब से अब तक 104 कुर्द सैनिक और 60 आम नागरिक एयर स्ट्राइक में मारे जा चुके हैं। रविवार को तुर्की ने आम नागरिकों के वाहन काफिले पर हमला कर दिया। इसमें फ्रांस की एक टीवी पत्रकार स्टेफनी पेरेज बाल-बाल बच गईं। उन्होंने बताया कि चैनल के कुछ अन्य सदस्य हमले में मारे गए हैं। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, सीरिया में इस हिंसा की वजह से 1,30,000 लोगों को अपना घर छोड़कर भागना पड़ा है। 
कुर्दों की गिरफ्त में 12 हजार आईएस आतंकी
अमेरिकी न्यूज एजेंसी 'द हिलÓ को दिए इंटरव्यू में सीनेट (अमेरिकी उच्च सदन) के नेता चाल्र्स शुमर ने कहा कि वे जल्द ही ट्रम्प से अपील करेंगे कि वे सीरिया से सैनिकों को वापस बुलाने का फैसला पलट दें। ताकि कुर्दों को बचाया जा सके और आईएस के सैनिकों को भागने से रोका जाए। दरअसल, कुर्दों की गिरफ्त में करीब 12 हजार इस्लामिक स्टेट आतंकवादी है। शुमर ने कहा कि हम यह भी तय करने की कोशिश करेंगे कि तुर्की अमेरिका के साथ किए गए समझौतों का सम्मान करे। 
सीरिया में 35 लाख कुर्द रहते हैं
कुर्द इराक, सीरिया, तुर्की, ईरान और अर्मेनिया के पहाड़ी इलाकों में रहते हैं। इनकी आबादी करीब 3.5 करोड़ है। 
सीरिया में 35 लाख कुर्द हैं। कुर्दों का अपना अलग देश नहीं है। पर वे आजादी के लिए मुहिम चला रहे हैं।  
आजादी की मुहिम के कारण कुर्दों का तुर्की, इराक, सीरिया और ईरान की सरकारों से अच्छे संबंध नहीं हैं।  
कुर्द लड़ाकू अपने कब्जे वाली 7 जेलों में बंद 12 हजार आईएस आतंकियों, उनके परिजन की निगरानी करते हैं।
अमेरिका: कुर्दों संग आईएस को हराया, अब साथ छोड़ा
कुर्द लड़ाके सीरिया में आतंकी संगठन आईएस को हराने में अमेरिका के प्रमुख सहयोगी रहे हैं। इस लड़ाई में 11 हजार कुर्द लड़ाके मारे गए। हमलों से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा था कि कुर्दों के खिलाफ तुर्की की योजना ठीक है। पर आलोचना होने पर कहा कि तुर्की सीरिया में हद न पार करे।


प्रेम से सबको जोड़ेंगे,मर्यादा नहीं तोड़ेंगे

कोरबा। जननी जन्म भूमि स्वर्ग से महान है, हम प्रेम से सबको जोड़ेंगे मर्यादा को नहीं तोड़ेंगे। राष्ट्र प्रेम की यह अभिव्यक्ति प्रकट हुई कोरबा में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पथ संचलन में। सैंकड़ों स्वयंसेवक इसमें शामिल हुए। भ्रमण पथ पर अनेक स्थानों में लोगों ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कोरबा केंद्र स्तर पर विजयादशमी उत्सव एसईसीएल हेलीपैड मैदान, घंटाघर मार्ग में आयोजित किया। निर्धारित समय अनुसार अपरान्ह 3 बजे विभिन्न क्षेत्रों के पूर्ण गणवेशधारी स्वयंसेवकगण यहां एकत्रित हुए। सामान्य प्रक्रिया की पूर्ति के बाद संघ के घोष दल की अगुवाई में भव्य पथ संचलन प्रारंभ हुआ। घंटाघर चौराहा, मुख्य मार्ग, नेताजी सुभाषचंद्र बोस चौराहा, डॉ.राजेन्द्र प्रसाद नगर, एसबीआई कॉलोनी, महाराणा प्रताप नगर में पथ संचलन का स्वागत नागरिक समाज ने पुष्प वर्षा कर किया। इन क्षेत्रों से होते हुए पथ संचलन हेलीपैड मैदान पर पहुंचकर पूर्ण हुआ।
अगले चरण के कार्यक्रम में स्वयंसेवकगणों की ओर से लयबद्ध व अनुशासित व्यवस्था में शारीरिक प्रदर्शन, दंड योग प्रस्तुत किए गए। कोरबा सर्वश्रीवास समाज के जिलाध्यक्ष मोहनलाल श्रीवास के मुख्य आतिथ्य व  नगर संघ चालक डॉ.विशाल उपाध्याय की उपस्थिति में मंचीय कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। मुख्य वक्ता डॉ. सुरेन्द्र कुमार ने उपस्थित नागरिकों और स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहा कि रामायण की रचना करने वाले महर्षि वाल्मीकि की जयंती और शरद पूर्णिमा पर आयोजित किया गया यह अत्यंत महत्वपूर्ण संयोग है। सज्जन शक्ति को संगठित कर श्रेष्ठ कार्यों में उसकी उपयोगिता तय की जाए, यह ध्येय को सामने रख कार्य जारी है। स्वच्छता, पर्यावरण संरक्षण, सद्भाव और सामाजिक समरसता को लेकर भी उन्होंने प्रेरणादायक विचार रखे। कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग, जिला, नगर और उपनगर क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की काफी उपस्थिति रही।


गस्त में नींद ना आए,फार्मूला ईजाद

हरदोई। दिनभर लॉ एंड ऑर्डर ड्यूटी के बाद रात में शहर की गश्त करना इतना आसान नहीं है। थकान के कारण नींद आती है। बैठो तो मच्छर काटते हैं। ऐसे में उत्तरप्रदेश के हरदोई जिले के एसपी आलोद प्रियदर्शी ने गश्त पार्टियों को एक्टिव रखने के लिए नया फॉर्मूला तय किया है। इस फॉर्मूले के कारण एसपी काफी चर्चित हो गए हैं।


दरअसल, पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने सभी थानेदारों को निर्देश दिए हैं कि रात में 2 से तीन बजे के बीच में एक केतली में चाय और बिस्किट लेकर गश्ती दलों को कुल्हड़ में चाय और बिस्किट दें। इससे उनकी सुस्ती दूर हो सकेगी और वे बिना आलस के कार्य कर सकेंगे। रात में गश्त के दौरान अक्‍सर पुलिसकर्मी सुस्त हो जाते थे जिसको ध्यान में रखते हुए हरदोई एसपी प्रियदर्शी ने यह प्रयोग किया है। एसपी ने सभी थानेदारों को आदेश दिए हैं कि रात में गश्त करने वालों को चाय और बिस्किट वितरित करें, जिससे उनकी सुस्ती दूर हो सके।


एसपी प्रियदर्शी का कहना है कि रात में गश्त के दौरान पुलिसकर्मी आलस आने के कारण अपनी ड्यूटी करने में थोड़ा असहज महसूस करते हैं। इसको देखते हुए जिले के सभी पिकेट, गश्त पार्टियों और पीआरवी को रात में चाय और बिस्किट उपलब्ध कराने की यह योजना शुरू की गई है। थानेदार चाय की केतली, बिस्किट और कुल्हड़ लेकर 2 से 3 बजे के बीच सभी को वितरित करेंगे। इससे पुलिसकर्मियों को कई घंटों तक सक्रिय रखने में मदद मिलेगी, वहीं सभी गश्त पार्टियों की जांच भी हो सकेगी।


3 को अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार

नार्वे। भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी को अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। उनके साथ ही एस्थर डुफलो और माइकल क्रेमर को भी सम्मानित किया गया है। तीनों अर्थशास्त्रियों को 'वैश्विक गरीबी खत्म करने के प्रयोग' के उनके शोध के लिए सम्मानित किया गया है। इकनॉमिक साइंसेज कैटिगरी के तहत यह सम्मान पाने वाले अभिजीत बनर्जी भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक हैं।


जम्मू-कश्मीर में मोबाइल सेवा बहाल

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर में करीब 70 दिनों बाद आज से मोबाइल फोन की घंटियां बजनी शुरू हो गई हैं। सोमवार दोपहर से घाटी के 40 लाख से ज्यादा मोबाइल फोन एक्टिव हो गए हैं। ये सभी फोन पोस्टपेड सेवा वाले हैं। राज्य सरकार ने दो दिन पहले पोस्टपेड सेवाओं पर पाबंदी हटाने का फैसला लिया था। सोमवार से मोबाइल पोस्टपेड सेवाएं बहाल कर दी गईं।


सरकार ने फिलहाल पोस्टपेड मोबाइल पर कॉलिंग की सुविधा शुरू करने का फैसला लिया है। लोगों को मोबाइल इंटरनेट के लिए अभी कुछ और दिनों का इंतजार करना पड़ेगा। इसके साथ ही प्रीपेड सेवा पर भी फैसला बाद में होगा। जम्मू एवं कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को 5 अगस्त को रद्द करने के बाद से ही कश्मीर में एहतियात के तौर पर मोबाइल फोन सेवाओं और इंटरनेट सुविधाओं को बंद कर दिया गया था।


इस अवधि के दौरान हालांकि जम्मू और लद्दाख क्षेत्र में मोबाइल फोन सेवाएं उपलब्ध थीं, लेकिन कश्मीर घाटी में पांच अगस्त से इन पर प्रतिबंध बना हुआ है। श्रीनगर में मीडिया से बात करते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने कहा, 'घाटी में समग्र स्थिति में सुधार के बाद सोमवार सुबह से पोस्ट-पेड मोबाइल फोन सेवाओं को बहाल करने की अनुमति देने का निर्णय लिया गया है।


विभाजन की नियत वाले को कुचल देंगे

काठमांडू। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि उनके देश को विभाजित करने की कोशिश करने वालों को कुचल दिया जाएगा। उन्होंने यह बयान भारत के दो दिवसीय दौरे के बाद नेपाल पहुंचने पर दिया। जिनपिंग ने नेपाल के शीर्ष नेतृत्व के साथ व्यापक वार्ता की और दोनों देशों ने अपने द्विपक्षीय संबंधों को सहयोग की रणनीतिक साझेदारी तक पहुंचाया। चीन और नेपाल ने एक ट्रांस हिमालयन रेलवे लाइन बिछाने की योजना सहित कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए। शी ने इससे पहले शनिवार को नेपाल की राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी के साथ अपनी बैठक के दौरान नेपाल के विकास कार्यक्रमों के लिए 56 अरब नेपाली रुपए की मदद की घोषणा की। शी जिनपिंग पिछले 23 वर्षों में नेपाल की यात्रा करने वाले पहले चीनी राष्ट्रपति हैं।


नेपाल दौरे पर शी जिनपिंग ने दिया यह बयान


चीन की आधिकारिक समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के मुताबिक नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली के साथ रविवार को अपनी बैठक के दौरान शी ने कहा, 'जो कोई भी चीन को विभाजित करने की कोशिश करेगा उसे कुचल दिया जाएगा।' चीनी राष्ट्रपति ने काठमांडू और तातोपानी ट्रांजिट बिंदु को जोड़ने वाले अरनिको हाईवे का उन्नयन करने का संकल्प लिया। इसे नेपाल में 2015 में आए विनाशकारी भूकंप के बाद बंद कर दिया गया था। उन्होंने संपर्क बढ़ाने के लिए और अधिक सीमा चौकियां खोलने का भी संकल्प लिया। उन्होंने कहा कि ट्रांस हिमालयन रेलवे के लिए ​तैयारी जल्द शुरू की जाएगी। इसके साथ ही चीन केरूंग-काठमांडू सुरंग मार्ग के निर्माण में भी नेपाल की मदद करेगा।


नेपाल और चीन में कई समझौतों पर हस्ताक्षर


नेपाल में तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा के समर्थकों पर नकेल कसने के लिए काठमांडू पर बीजिंग के दबाव बनाए जाने के बीच शी की ये टिप्पणियां आई हैं। तिब्बत के साथ नेपाल एक लंबी सीमा साझा करता है और करीब 20,000 निर्वासित तिब्बती इस देश में रहते हैं। बीजिंग भारत में स्वनिर्वासन में रह रहे तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा को चीन को विभाजित करने की कोशिश करने वाले एक अलगाववादी के तौर पर देखता है। नेपाल के पीएम ओली ने कहा कि उनका देश चीन को उसकी संप्रभुता एवं क्षेत्रीय अखंडता की हिफाजत करने में पूरा समर्थन करता है तथा एक चीन की नीति के प्रति दृढ़ता से खड़ा है। उन्होंने कहा कि दोनों देश सच्चे मित्र एवं साझेदार हैं।


4 हॉकी खिलाड़ियों की जान गई,3 गंभीर

भोपाल। तेज और बेलगाम रफ़्तार के कारण आए दिन सड़क हादसे होते है, इन सड़क हादसों में कई लोगों को अपनी जान गवानी पड़ती है। सोमवार सुबह भी मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में जबरदस्त कार हादसा हुआ है। इस हादसे में राष्ट्रीय स्तर से चार हॉकी खिलाड़ियों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य घायल हुए हैं। घायलों को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


होशंगाबाद में होने जा रहे मेजर ध्यानचंद हॉकी टूर्नामेंट में शामिल होने खिलाड़ी जा रहे थे। हादसे के वक्त खिलाड़ी स्विफ्ट डिजायर कार में सवार थे, इसी दौरान कार अनियंत्रित होकर एक पेड़ से जा टकराई। कार की स्पीड बेहद तेज थी। कार की टक्कर इतनी ज़ोरदार थी कि कार के परखच्चे उड़ गए और टक्कर के बाद कार सड़क किनारे बने एक गड्ढे में जा धंसी। मृतकों में शाहनवाज खान निवासी इंदौर, आदर्श हरदुआ निवासी इटारसी, आशीष लाल निवासी जबलपुर और अनिकेत निवासी ग्वालियर शामिल हैं। इसके अलावा कार में सवार अन्य 3 लोग गम्भीर रूप से घायल हैं जिनका इलाज नज़दीकी अस्पताल में चल रहा है। सभी खिलाड़ी होशंगाबाद में चल रही मेजर ध्यानचंद हॉकी टूर्नामेंट में हिस्सा लेने आए हुए थे।


इस कार में कुल 7 लोग सवार थे। हादसे में 3 लोग गंभीर रूप से घयाल हो गए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। घटनास्थल पर पुलिस के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन भी पहुंचा है। पुलिस हर मामले में हादसे की जांच कर रही है। यह हादसा होशंगाबाद में एनएच-69 के पास हुआ है। मौके पर ही 4 खिलाड़ियों की मौत हो गई थी। दरअसल होशंगाबाद में अखिल भारतीय हॉकी टूर्नामेंट चल रही है, जिसमें ये खिलाड़ी शामिल हुए थे। जिस जगह यह हादसा हुआ है, वो सड़क सिंगल लेन की है, लेकिन हाईवे होने की वजह से भारी वाहन भी यहां से गुजरते हैं। कार की रफ्तार बेहद तेज थी इसी दौरान एक गाड़ी को ओवरटेक करने के प्रयास में अनियंत्रित होकर कार पेड़ से जा टकराई।


भारत न हिंदू राष्ट्र था न बनेगा: ओवैसी

हैदराबाद। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत के हिंदू राष्ट्र वाले बयान पर असदुद्दीन ओवैसी ने कड़ी आपत्ति जताई है। एआईएमआईएम प्रमुख ओवैसी ने ट्विटर के जरिए संघ पर हमला बोलते हुए कहा है, 'भागवत भारत को हिंदू राष्ट्र बताकर यहां मेरा इतिहास मिटा नहीं सकते। यह काम नहीं करेगा। वह यह नहीं कह सकते कि हमारी संस्कृति, आस्था और पहचान हिंदुओं से जुड़ी हुई है। भारत न कभी हिंदू राष्ट्र था, न है और न ही कभी बनेगा इंशाअल्लाह।


(हम हिंदुओं का देश हैं। हम हिंदू राष्ट्र हैं। हिंदू किसी पूजा का नाम नहीं, किसी भाषा का नाम नहीं, किसी प्रांत प्रदेश का नाम नहीं। हिंदू एक संस्कृति का नाम है। जो भारत में रहने वाली सबकी सांस्कृतिक विरासत है।)


इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा, 'भागवत चाहे कितना भी हमें विदेशी मुस्लिमों से जोड़ें, इससे मेरी भारतीयता कम नहीं होगी।' ओवैसी ने कहा कि हिंदू राष्ट्र को हिंदू वर्चस्व बताना स्वीकार नहीं होगा।


सिलेंडर फटने से मकान ध्वस्त,11 की मौत

मऊ। उत्तर प्रदेश के जिला मऊ के मुहम्मदाबाद गोहना कोतवाली क्षेत्र के वलीदपुर नगर पंचायत में सुबह 6:45 पर सिलिंडर फटने से तीन मकान पूरी तरह ध्वस्त हो गए। मकानों के मलबे में दबकर 11 लोगों के मरने की सूचना है।


जबकि हादसे में एक दर्जन से अधिक लोगों के घायल होने की जानकारी मिल रही है। सोमवार सुबह हुए इस बड़े हादसे की सूचना पर आला अधिकारियों और पुलिसकर्मियों के आलावा डेढ़ दर्जन एंबुलेंस मौके पर पहुंच गईं। हादसे वाले मकान की गली संकरी होने के कारण मलबा हटाने में दिक्कत आ रही है।


बताया जाता है कि वलीदपुर नगर के संगत जी के पास छोटू विश्वकर्मा के घर में सुबह सिलिंडर में आग लग गई। सिलिंडर में आग लगने की सूचना पर आसपास के लोग भी आग बुझाने के लिए पहुंच गए। इस बीच इतने जोरदार धमाके के साथ सिलिंडर फटा कि उस मकान के साथ आसपास के दो अन्य मकान भी मलबे में तब्दील हो गए। तीनों मकान में कुल 23 लोग रहते थे। इस दौरान मलवे में दबकर परिवार के सदस्यों के अलावा कुछ अन्य लोगों को मिलाकर कुल 11 लोगों के मरने की खबर आ रही है। समाचार मिलने तक बचाव और राहत कार्य जारी था। मृतकों की लाश बाहर निकाली जा रही थी। एक दर्जन लोगों को घायल अवस्था में अस्पताल पहुंचाया गया है।


अंतिम सुनवाई शुरू ,धारा 144 लागू

नई दिल्ली। दशहरा की हफ्ते भर की छुट्टी के बाद सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या के राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की सुनवाई सोमवार को अंतिम चरण में प्रवेश कर जाएगी। न्यायालय की संविधान पीठ 38 वें दिन इस मामले की सुनवाई करेगी। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने इस जटिल मुद्दे का सौहार्दपूर्ण हल निकालने के लिए मध्यस्थता प्रक्रिया के नाकाम होने के बाद मामले में छह अगस्त से प्रतिदिन की कार्यवाही शुरू की थी। इलाहाबाद उच्च न्यायालय के 2014 के फैसले के खिलाफ शीर्ष न्यायालय 14 अपीलों पर सुनवाई कर रहा है।


मामले में 17 नवंबर तक फैसला सुनाए जाने की उम्मीद
पीठ ने इस मामले में न्यायालय की कार्यवाही पूरी करने की समय सीमा की समीक्षा की थी और इसके लिए 17 अक्टूबर की सीमा तय की है। पीठ के सदस्यों में न्यायमूर्ति एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़, न्यायामूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एस ए नजीर भी शामिल हैं। न्यायालय ने अंतिम चरण की दलीलों के लिए कार्यक्रम निर्धारित करते हुए कहा था कि मुस्लिम पक्ष 14 अक्तूबर तक अपनी दलीलें पूरी करेंगे और इसके बाद हिंदू पक्षकारों को अपना प्रत्युत्तर पूरा करने के लिए 16 अक्टूबर तक दो दिन का समय दिया जाएगा। इस मामले में 17 नवंबर तक फैसला सुनाए जाने की उम्मीद है। इसी दिन प्रधान न्यायाधीश गोगोई सेवानिवृत्त हो रहे हैं।


अयोध्या जिले में 10 दिसंबर तक धारा 144 लागू रहेगी
अयोध्या के डीएम अनुज कुमार झा ने जिले में 12 अक्तूबर से 10 दिसंबर तक के लिए धारा 144 लागू कर दी है। यह आदेश आगामी पर्व चेहल्लुम, नरक चतुर्दशी, दीपोत्सव, दिवाली, गोवर्धन पूजा, भैयादूज, चित्रगुप्त जयंती, चौदह व पंचकोसी परिक्रमा के साथ श्रीराम जन्मभूमि/बाबरी मस्जिद विवादित परिसर की सर्वोच्च न्यायालय द्वारा की जा रही सुनवाई एवं भविष्य में इसके संभावित निर्णय के मद्देनजर लगायी गई है। डीएम ने बताया कि अयोध्या के विभिन्न मंदिर, मठ, धर्मशालाओं आदि एवं होने वाली विभिन्न सेवा आयोगों की प्रतियोगी शैक्षिक परीक्षाओं के मद्देनजर लोक व्यवस्था एवं शंति सुरक्षा बनाए रखने के लिए धारा 144 लगाई गई है। यह आदेश आगामी 10 दिसम्बर तक प्रभावी रहेगा।


आज का दिन शुभ रहेगा: धनु

राशिफल


मेष-मेष राशि वालों के लिए आज का दिन थोड़ा परेशानी भरा रहेगा। कार्यक्षेत्र पर सहकर्मियों से असहयोग प्राप्त होगा। कारोबार की स्थिति मध्यम रहेगी। कुछ लाभकारी सौदे होने से आर्थिक स्थिति पटरी पर आएगी। दूसरों को अपनी बात समझाने में खासी मेहनत करनी पड़ेगी। पारिवारिक जीवन सामान्य रहेगा। किसी करीबी से मनमुटाव हो सकता है।


वृषभ-वृष राशि के लोगों के लिए आज का दिन आर्थिक रूप से शुभ है। व्यापार को नए मुकाम पर ले जाएंगे। लाभ में वृद्धि होगी। पारिवारिक जीवन खुशहाल होगा। आमदनी में बढ़ोतरी होगी और खर्च भी ज्यादा होगा। अपने काम में व्यस्त रहेंगे। लव लाइफ के हिसाब से आज का दिन काफी अच्छा बीतेगा।


मिथुन-मिथुन राशि वालों के लिए आज का दिन उतार चढ़ाव भरा रहेगा। आर्थिक मोर्चे पर असफल हो सकते हैं। हालांकि अपनी सूझबूझ और समझदारी से कार्य संबंधी सभी मुश्किलों का हल निकाल लेंगे। सेहत में गिरावट आएगी। किसी करीबी से धोखा मिल सकता है संभल कर रहें।


कर्क-कर्क राशि के लोगों के लिए आज का दिन शुभ है। नौकरीपेशा वाले लोगों के काम की तारीफ होगी। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी। प्रभावशाली लोगों से संबंध बनेंगे। कारोबार में लाभ के योग बने रहेंगे। पारिवारिक जीवन में खटास आ सकती है। जीवनसाथी से बहस होने के आसार हैं।


सिंह-सिंह राशि वालों को आज किस्मत का साथ मिलेगा। लंबे समय से प्रयासरत प्रोजेक्ट में सफलता मिलेगी। नौकरी की तलाश कर रहे जातकों को खुशखबरी मिल सकती है। आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। तंगी की हालत दूर होगी। पुराने लोन का भुगतान करेंगे। पारिवारिक जीवन यथावत रहेगा।


कन्या-कन्या राशि के लोगों के लिए आज का दिन अच्छा रहेगा। पूरे दिन आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे। कारोबार को नई ऊंचाईयों पर ले जाएंगे। नौकरीपेशा वाले लोगों को काम की तारीफ मिलेगी। अपना टैलेंट दिखाने के लिए मौके मिलेंगे। घर-परिवार की स्थिति अच्छी रहेगी। जीवनसाथी का पूरा सहयोग मिलेगा।


तुला-तुला राशि वालों के लिए आज का दिन कुछ खास नहीं रहेगा। पूरा दिन चिड़चिड़ा महसूस करेंगे। सेहत में गिरावट आएगी। अकेले वक्त बिताने का मन करेगा। आलस्य के कारण अपने जरूरी कामों को निपटाने में देरी हो सकती है, जिसका निकट भविष्य में खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। सेहत में सुधार आएगा।


वृश्चिक-वृश्चिक राशि के लोगों के लिए आज का दिन मिले-जुले परिणामों वाला रहेगा। कार्य को लेकर थोड़ा चिंतित रहेंगे। नए लोगों से मुलाकात होगी, संपर्क स्थापित होंगे। कार्यक्षेत्र पर किसी से मनमुटाव हो सकता है। पारिवारिक जीवन अच्छा रहेगा. वैवाहिक जीवन में प्रेम बढ़ेगा।


धनु-धनु राशि वालों के लिए आज का दिन शुभ है। लंबे समय से प्रयासरत कामों में सफलता मिलेगी। करियर में उन्नति के नए रास्ते खुलेंगे। कारोबार की स्थिति अच्छी रहेगी। कोई नया निवेश न करें। सामाजिक जीवन में प्रतिष्ठा बढ़ेगी। पारिवारिक जीवन सुखदायक रहेगा।


मकर-मकर राशि के लोगों के लिए आज का दिन परेशानियों भरा रहेगा. कार्यक्षेत्र पर कई तरह की चुनौतियां मिलेंगी। हालांकि अपनी समझदारी और आत्मविश्वास के जरिए सभी कठिनाईयों को दूर कर सकेंगे। कारोबार में नए संबंध स्थापित होंगे, जिनका लाभ आने वाले समय में निश्चित ही मिलेगा। परिवार में किसी बात से परेशान रह सकते हैं।


कुंभ-कुंभ राशि वालों के लिए आज का दिन सामान्य रहेगा। कार्य सिद्धि के लिए ज्यादा मेहनत की जरूरत होगी। नौकरी की तलाश कर रहे जातकों को असफलता हाथ लगेगी। नए लोगों से मुलाकात होगी. कारोबार की स्थिति ठीक रहेगी। पारिवारिक जीवन यथावत रहेगा।


मीन-मीन राशि वालों के लिए आज का दिन सामान्य रहेगा। कार्यक्षेत्र पर चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। पूरे दिन काम में व्यस्त रहेंगे। पारिवारिक जीवन में मनमुटाव की स्थिति पैदा हो सकती है।


मुगल रसोई से आई इमरती

इमरती या झंग्री एक प्रकार की स्वादिष्ट मिठाई हैं जो भारत एवं इसके आस पास के देशों में मुग़ल रसोइयों द्वारा लायी गयी थी। यह उरद दाल के पिसी गयी मिश्रण को तेल में तलकर बनाई जाती हैं। इसका आकर गोल एवं फूलों की तरह होता हैं। तलने के बाद इसे चीनी के चासनी में डाला जाता है। इस व्यंजन को जलेबी भी कुछ लोग गलती से समझ लेते हैं, जो आकार में इससे थोड़ी पतली एवं इमारती से एवं ज्यादा मीठी होती हैं।


इमरती उड़द के आटे की घोल से बनाया जाता हैं एवं इसे बोलचाल की भाषा जलेबी परपू (दाल) भी कहा जाता हैं चीनी की चाशनी एवं केशर इसमें रंग लाने के लिए मिलाया जाता है।


जन्गिरी-इस को जन्गिरी या झांगरी भी कहते हैं। दक्षिण भारत में झांगरी के नाम से लोकप्रिय है। उड़द की दाल को कुछ घंटे के लिए पानी में भिंगो कर रख देते है फिर इसको पत्थर से पीसकर इसका एक महीन मिश्रण बना देते हैं फिर इस घोल को घी में तल दिया जाता हैं कभी कभार इसमें अन्य प्रकार के तेल भी मिलाया जाता है। इसकी सबसे बड़ी विशेषता इसका स्वाद हैं एवं मुह में घोलते ही यह पिघल सा जाता हैं।


इस घोल को तलने के पहले कपूर (खाने योग्य), लौंग, इलाइची एवं केशर के साथ मिलाया जाता हैं, इस तले हुए पदार्थ को चीनी चासनी में मिलाया जाता हैं। इसे तब तक बाहर नहीं निकाला जाता जबतक इसकी आकार में वृद्धि नहीं हो जाये एवं इसके अन्दर पर्याप्त मात्रा में चासनी नहीं मिल जाये, उत्तरी भारत में बनने वाली इमरती को आमतौर थोड़ी सुखी रहती हैं। फिर इस चासनी से निकाले गए गरमागरम इमरती को या तो गरम,कमरे के तापमान या फिर फ्रिज में रख कर ठंडा कर के परोसा जाता हैं। लेकिन ज्यादातर यह गरम में ही ज्यादा पसंद की जाती हैं।


भालू की 8 ज्ञात जातियां

भालू या रीछ (Bear), जिसका वैज्ञानिक नाम उरसीडे (Ursidae) है, स्तनधारी प्राणियों के मांसाहारी गण का एक जीववैज्ञानिक कुल है। हालाँकि इसकी सिर्फ आठ ज्ञात जातियाँ हैं, इसका निवास पूरी दुनिया में बहुत ही विस्तृत है। यह एशिया, यूरोप, उत्तर अमेरिका और दक्षिण अमेरिका के महाद्वीपों में पाया जाता है। देखने में, सभी भालुओं के आम लक्षणों में बड़ा शरीर, मोटी टाँगे व बाज़ू, लम्बा बुक्क (नाक), पूरे बदन पर घने बाल और पाँव में सख़्त नाख़ून शामिल हैं। ध्रुवीय भालू (पोलर बेयर) अधिकतर मांस-मछली ही खाता है और बड़ा पांडा (जायंट पांडा) सिर्फ़ बांस के पत्ते-टहनियाँ खाता है, लेकिन भालुओं की अन्य छह जातियाँ सर्वाहारी होती हैं और मांस और वनस्पति दोनों खाती हैं। भालू झुण्ड के बजाय अकेला रहना पसंद करते हैं। केवल बच्चे जनने के लिए नर और मादा साथ करते हैं और फिर अलग हो जाते हैं। बच्चों के पैदा होने के बाद, ये छोटे भालू कुछ समय के लिए अपनी माँ का साथ रखते हैं। भालू ज़्यादातर दिन के समय ही सक्रिय होते हैं, हालाँकि कभी-कभी रात को भी घूमते हुए या खाना ढूंढते हुए पाए जा सकते हैं। इनकी सूंघने की शक्ति बहुत तीव्र होती है। देखने में भारी-भरकम लगने के बावजूद भालू तेज़ी से दौड़ सकते हैं और इनमें पेड़ों पर चढ़ने और पानी में तैरने की भी अच्छी क्षमता होती है। ये अक्सर ग़ुफ़ाओं या ज़मीन में बड़े गड्ढों में अपना घर बनाते हैं। भालू की कुछ जातियाँ शीतनिष्क्रियता (सर्दियों के मौसम को सो कर गुज़ारना) प्रदर्शित करती हैं।


एशिया में सिरके का उपयोग

सिरका या चुक्र (Vinagar) भोजन का भाग है जो पाश्चात्य, यूरोपीय एवं एशियायी देशों के भोजन में प्राचीन काल से ही प्रयुक्त होता आया है।


किसी भी शर्करायुक्त विलयन के मदिराकरण के अनंतर ऐसीटिक (अम्लीय) किण्वन (acetic fermentation) से सिरका या चुक्र (Vinegar, विनिगर) प्राप्त होता है। इसका मूल भाग ऐसीटिक अम्ल का तनु विलयन है पर साथ ही यह जिन पदार्थों से बनाया जाता है उनके लवण तथा अन्य तत्व भी उसमें रहते हैं। प्रायः भोजन के लिये प्रयुक्त सिरके में ४% से ८% तक एसेटिक अम्ल होता है। विशेष प्रकार का सिरका उसके नाम से जाना जाता है, जैसे मदिरा सिरका (Wine Vinegar), मॉल्ट (यव्य या यवरस) सिरका (Malt Vinegar), अंगूर का सिरका, सेब का सिरका (Cider Vinegar), जामुन का सिरका और कृत्रिम सिरका इत्यादि।


रसायनिक और भौतिक गुण 
इतिहास-इसकी उत्पत्ति बहुत प्राचीन है। आयुर्वेद के ग्रंथों में सिरके का उल्लेख औषधि के रूप में है। बाइबिल में भी इसका उल्लेख मिलता है। 16वीं शताब्दी में फ्रांस में मदिरा सिरका अपने देश के उपभोग के अतिरिक्त निर्यात करने के लिए बनाया जाता था।


सिरके के बनने में शर्करा ही आधार है क्योंकि शर्करा ही पहले ऐंजाइमों से किण्वित होकर मदिरा बनती है और बाद में उपयुक्त जीवाणुओं से एसिटिक अम्ल में किण्वित होती है। अंगूर, सेब, संतरे, अनन्नास, जामुन तथा अन्य फलों के रस, जिनमें शर्करा पर्याप्त है, सिरका को तैयार करने के लिए बहुत उपयुक्त हैं क्योंकि उनमें जीवाणुओं के लिए पोषण पदार्थ पर्याप्त मात्रा में होते हैं। फलशर्करा और द्राक्ष-शर्करा का ऐसीटिक अम्ल में रासायनिक परिवर्तन निम्नलिखित सूत्रों से अंकित किया जा सकता है: ये दोनों ही क्रियाएँ जीवाणुओं (Bacteria) के द्वारा होती हैं। यीस्ट (ख़मीर) किण्वन में ऐल्कोहॉल की उत्पत्ति किण्वित शर्करा की प्रतिशत की आधी होती है और सिद्धांतत: ऐसीटिक अम्ल की प्राप्ति ऐल्कोहॉल से ज्यादा होनी चाहिए, क्योंकि दूसरी क्रिया में ऑक्सीजन का संयोग होता है, लेकिन प्रयोग में इसकी प्राप्ति उतनी ही होती है क्योंकि कुछ ऐल्कोहॉल जीवाणुओं के द्वारा तथा कुछ वाष्पन द्वारा नष्ट हो जाते हैं।


उड़ने वाला सांप 'क्रिसोपिली'

उड़न साँप क्रिसोपिली (Chrysopelea) जीनस के साँप हैं जो बहुत कम विषैले होते हैं और मनुष्यों के लिए हानिरहित है। ये दक्षिण-पूर्वी एशिया, दक्षिणी चीन, भारत और श्रीलंका में पाए जाते हैं। भारत में ये मध्य भारत, बिहार, उड़ीसा और बंगाल में अधिक पाए जाते हैं।


यह बहुत तीव्र गति से चलने की क्षमता रखता है जो इसकी विशिष्टता है। यह अपने शरीर को फुलाकर तथा शरीर को एक विशेष आकार देकर एक डाल से दूसरी डाल पर ग्लाइड कर जाता (कूद जाता) है। इसीलिए इसे 'उड़न साँप' का भ्रामक नाम दिया गया है। यह इस तरह कूदता चलता है मानो उड़ रहा हो। इनका रंग ऊपर से हल्का पीलापन लिए हुए हरा होता है। नियमित दूरियों पर काले रंग की आड़ी पट्टियाँ रहती हैं जो काले सीमांतोंवाले शल्कों के कारण बनी होती हैं। अधरशल्क हरे होते हैं। सिर काला होता है जिसपर साथ साथ पीले या हल्के हरे रंग को आड़ी पट्टियाँ तथा कुछ धब्बे होते हैं।


यह साँप छिपकलियों, छोटे स्तनियों, पक्षियों, छोटे साँपों और कीटों को खाता है। यह घरों के आस पास भी कभी कभी दिखाई देता है। यह अंडप्रजक है। यह कभी कभी पेड़ की शाखाओं से लटका भी देखा गया है।


महर्षि वशिष्ठ का राष्ट्रवाद उपदेश

गतांक से...
 इसी प्रकार देखो एक राष्ट्रीय दूसरे से स्नेह कर रहा है स्नेह करते हुए एक दूसरे में परिणत होने का नाम ही बेटा, देखो माला बननी है। जैसे माता-पिता है, पित्र जन है, आचार्य जन है, शिष्य गण है। इसी प्रकार की विचारमयी माला बन जाती है। उस माला को कौन धारण करता है। बेटा विचारक, उस माला को कौन धारण करता है, जो परमात्मा को जान लेता है। उस माला को कौन धारण करता है, बेटा जिसको हम आत्मा के रूप में परिणत करते हैं। आओ मुनिवरो, इस संबंध में तुम्हें विशेषता में नहीं ले जाना चाहता हूं। विचार केवल यह है कि हमें उस माला के सूत्रों को अपनी गणना में लाकर के ही तो पार होना है। आओ मेरे पुत्रों देखो मैं कहां चला गया हूं। विचार केवल यह है कि कई समय से हमारा विचार राष्ट्रवाद और तपस्या के ऊपर विचार-विनिमय हो रहा है। प्रत्येक मानव यह कहता है कि अपने को कैसे जाना जाए। अपने को जाने बिना हम परमात्मा की प्रतिभा को नहीं पा सकेंगे। फिर अपने पन कैसे जाने? मेरे प्यारे देखो इंद्रियों में जो ज्ञान और विज्ञान समाहित हो रहा है। उस प्रत्येक इंद्रियों के ज्ञान और विज्ञान को हम जानने वाले बने। वही हमारी जानकारी है मेरे पुत्रों जब हम प्रत्येक इंद्रियों के विषयों को जानकारी में लाते हैं और हृदय से हृदय का मिलान करते हैं। तो वही मानवीयता की आभामयी एक उपलब्धि मानी गई है। इस उपलब्धि को प्राप्त करने के पश्चात मानव नाना प्रकार की तपस्या में परिणत हो जाता है। एक माला बनाना प्रारंभ कर देता है। हम विचार-विनिमय करते चले जाएं कि हमारा जीवन हमारा राष्ट्र हमारी मानवीयता कैसे ऊंची बनेगी। मेरे प्यारे देखो राष्ट्र के लिए गमन करने से पूर्व राम यह विचार कर रहे थे। मैं ऋषि वशिष्ठ मुनि महाराज और माता अरुंधति इत्यादि की विवेचना हो रही थी। महात्मा विभीषण ने 'अमृताम् महात्मम् ब्रह्मा: कृतम देवत्वम दुष्टाम् ब्रव्हे क्रतम्। महर्षि वशिष्ठ मुनि महाराज ने यह कहा कि, हे राम, यदि तुम राष्ट्र का पालन करना चाहते हो तो तुम्हें वशिष्ठ बनना है। तुम्हें इतनी वृत्ति बनना है। उन्होंने कहा है प्रभु मैं आपसे यह जानना चाहता हूं कि आप जो राष्ट्रवाद की चर्चा कर रहे हैं यह राष्ट्रवाद क्या है? उन्होंने कहा राष्ट्रवाद वास्तव में अपने ऊपर अनुशासन करने को कहते हैं। अपने ऊपर अनुशासन करता हुआ, जब अपने को जान लेता है तो वह राष्ट्र को उस प्रकार भोगत्व मे लाता है जैसे शब्द आता है यह जनह ममह, कि यह संसार, यह राष्ट्र मेरा नहीं है मैं तो कर्तव्य करने के लिए तत्पर रहता हूं। जो कर्तव्य करते हुए करते स्वीकार करता है। वही राष्ट्रवादी कहलाता है। भगवान राम ने पुन: यह कहा कि महाराज यह राष्ट्रवाद क्या है? उन्होंने कहा ब्रह्म जगत में राष्ट्रवाद उसे कहते हैं। जहां-जहां राष्ट्र को प्रजा मे महानता और शांति की स्थापना हो। राजा के राष्ट्र में प्रजा और राष्ट्र एक ही रस रहने चाहिए। उसे राष्ट्रवाद कहते हैं। भगवान राम ने उन्हें प्रश्न किया कि भगवान यह राष्ट्रवाद क्या है? उन्होंने कहा राष्ट्रवाद वह है,जिस राजा के राष्ट्र में वेद के मार्ग को जानने वाले पंडित्व होते हैं जिस राजा के राष्ट्र में वृद्धि वाले हो और उसमें अपनी आभा वाले विवेकी पुरुष होने चाहिए। जिस राजा के राष्ट्र में विवेकी पुरुष नहीं होते, जिस राजा के राष्ट्र में महापुरुष त्याग और तपस्या में नहीं होते। उस राजा का राष्ट्र नग्न रह जाता है। इसलिए हमारे यहां परंपरागतो  से ही राष्ट्रीयता, राष्ट्रीय प्रणाली में महापुरुषों का बड़ा वर्णन आता रहा है। विवेकी पुरुषों के, ऋषि मुनि के चरणों को स्पर्श करते रहते हैं और वह किसी न किसी काल में अपनी पिपासा को शांत करते हैं। वह पिपाशा जब शांत हो जाती है तो राष्ट्रीय प्रणाली पवित्र बनती है। क्योंकि राजा जब अशांत होगा तो वह कहां जाएगा? वह ग्रह में नहीं जा सकता है, वनों में नहीं जा सकता है। क्योंकि उसके ऊपर एक राष्ट्रीय परंपरा है।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस


हिंदी दैनिक


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


October 15, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-72 (साल-01)
2. मंगलवार,15 अक्टूबर 2019
3. शक-1941,अश्‍विन,कृष्णपक्ष,तिथि- दूज,विक्रमी संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:18,सूर्यास्त 06:00
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै.,अधिकतम-31+ डी.सै., हवा की गति धीमी रहेगी।
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


एमपी: परिजन ने मिट्टी का तेल डालकर लगाईं आग

मनोज सिंह ठाकुर       भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले के एक गांव में 25 वर्षीय युवक पर कथित तौर पर प्रेम प्रसंग के चलते युवती के परिजन ने मि...