बिहार लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
बिहार लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 14 अगस्त 2022

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन 

अविनाश श्रीवास्तव 

चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में वर्तमान मुख्य कलावती देवी, पैक्स अध्यक्ष विजेंद्र कुमार सिंह, गंगासागर सिंह, अशोक सिंह,चंद्रावती देवी, आरती देवी,पद्मावती देवी, लक्ष्मण चौधरी,तथा किसान भी मौजूद रहे। पैक्स अध्यक्ष विजेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि इस प्रकार की आमसभा बिहार में पहली बार एक साथ की गई है, जो कि किसानों को जागरूक करने के लिए है।

किसानों के लिए किसान ऋण किस प्रकार देना है। किसान कैसा बीज बोए, जिससे कि उत्तम गेहूं चावल की उपज हो इत्यादि। साथ ही बताया गया कि बिहार सरकार कोई फंड नहीं देती है, खाद खरीदने के लिए। राज्य में सूखा होने के चलते किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

ट्रेन की पटरियों पर मछली फ्राई, वीडियो वायरल 

ट्रेन की पटरियों पर मछली फ्राई, वीडियो वायरल 

अविनाश श्रीवास्तव

पटना। बिहार की सोशल मीडिया पर कई ऐसे वीडियो सामने आते हैं, जो बिल्कुल हैरान करके रख देते हैं। इन वीडियो को देख लोग सोचने को मजबूर हो जाते हैं कि आखिर ये कैसे हो सकता है। अभी फिर से इसी तरह का एक वीडियो सामने आया है, जिसे देख हर किसी का सिर चकरा रहा है। वीडियो एक लड़के से जुड़ा है, जो ट्रेन की पटरियों पर मछली फ्राई करने लगता है। वो इसमें कामयाब भी हो जाता है। थोड़ी देर बाद आप देखेंगे कि वो आराम से मछली फ्राई खाने लगता है। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक लड़का ट्रेन जाने गुजरने के बाद एक पटरी पर बैठ जाता है। वो मछली में मिर्च-मसाला लगता है और उसे ट्रेन की पटरी पर सेंकने लगता है। मछली कुछ ही देर में पूरी तरह से पोस्ट हो जाती है। कुछ देर बाद लड़का वहीं बैठकर मछली का आनंद लेने लगता है। इस नजारे को देख लोगों को अभी तक विश्वास नहीं हो रहा है।

कहीं नहीं देखा होगा ऐसा नजारा...

जिस तरह का नजारा इस वीडियो में देखने को मिल रहा है, वैसा आपने कहीं नहीं देखा होगा ? एक शख्स इस पर लिखते हैं, ‘बहुत गर्मी है, बिहार में एक और शख्स लिखते हैं, ‘ये टैलेंट इंडिया से बाहर नहीं जाना चाहिए।

शनिवार, 13 अगस्त 2022

विकलांगों के लिए 'पेंशन शिविर' का आयोजन किया 

विकलांगों के लिए 'पेंशन शिविर' का आयोजन किया 

अविनाश श्रीवास्तव 

चक्की। प्रखंड मुख्यालय में विकलांगों के लिए 'पेंशन शिविर' का आयोजन किया गया। जिसमें वृद्धा पेंशन, लक्ष्मीबाई पेंशन, विकलांग पेंशन, यानी सरकार की योजना से संबंधित सभी तरह की पेंशन का नया आवेदन दिया गया, जिसमें पुराने पेंशन में किसी का पैसा नहीं आ रहा है या किसी प्रकार की कोई त्रुटि है, तो उसके लिए भी आधार कार्ड पासबुक तथा पेंशन के कागज जमा करवाएंगे। इस शिविर के आयोजन में चक्की प्रखंड की मुखिया उर्मिला देवी, सामाजिक सुरक्षा के डाटा ऑपरेटर संपत नारायण उपाध्याय, पंचायत सचिव लाल बहादुर, वार्ड संघ के अध्यक्ष अशोक यादव मौजूद थे।

बुधवार, 10 अगस्त 2022

चक्की: यूडी आईडी कार्ड बनाने का कार्य किया

चक्की: यूडी आईडी कार्ड बनाने का कार्य किया 

अविनाश श्रीवास्तव 

चक्की। प्रखंड मुख्यालय चक्की में विकलांग शिविर का आयोजन किया गया। जिस में विकलांगों के लिए यूडी आईडी कार्ड बनाने का कार्य किया गया। ताकि, विकलांगों को भी प्रकार की कोई समस्या ना आए इसको देखते हुए इस कार्ड को बनाने का आयोजन किया गया। चक्की के चारों पंचायतों से आवेदन पड़े। चक्की पंचायत में 6 आवेदन पड़े थे। अरक में 13, चंदा पंचायत से 6, तथा जवाहिदीयर से 22 शिविर आयोजन में चारों पंचायत के विकास मित्र मौजूद रहे श्री राम राम जवाहिदिर मुन्ना कुमार अरक, पुष्पा देवी चक्की, हीरा मुन्नी देवी चंदा तथा चिकित्सक पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

रविवार, 31 जुलाई 2022

लक्ष्मण डेरा में निशुल्क स्वास्थ्य जांच केंद्र शिविर लगा  

लक्ष्मण डेरा में निशुल्क स्वास्थ्य जांच केंद्र शिविर लगा  


चक्की: प्रखंड के लक्ष्मण डेरा मे लगा स्वास्थ्य जांच केंद्र का शिविर

अविनाश श्रीवास्तव 

पटना। कृष हॉस्पिटल चाइल्ड एंड मल्टी स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल पटना के माध्यम से एमबीबीएस डॉक्टर रामजी प्रसाद के द्वारा चक्की प्रखंड के लक्ष्मण डेरा के वार्ड संख्या-16 में निशुल्क स्वास्थ्य जांच केंद्र शिविर लगा। डॉ रामजी प्रसाद आईजीएमएस के सीनियर प्रोफेसर भी है। उनके द्वारा लगाए गए शिविर में लगभग डेढ़ सौ मरीजों की जांच उन्होंने की और फ्री दवाईयों का वितरण भी किया‌‌। जांच में बताया गया कि ब्लड टेस्ट, बीपी, शुगर, खांसी, बुखार, पुराने हड्डियों का दर्द, दाद खाज खुजली,इत्यादि रोगों की जांच हुई। डॉ रामजी प्रसाद ने अपना बहुमूल्य समय निकालकर गांव के लोगों का इलाज किया। उनके इस कार्य से वहां के जितने भी मरीज थे सब खुश लग रहे थे। डॉ रामजी प्रसाद ने बताया, कि मैं समय-समय पर ऐसा कार्य करते रहता हूं।

ताकि, मैं गरीब लोगों के जिनके पास पैसे नहीं है और वह इलाज नहीं करा पाते हैं। इस को ध्यान में रखते हुए में खुद उन लोगों के पास जाता हूं और उनका बेहतर से बेहतर इलाज करता हूं। इस कार्य के लिए मुझे बहुत ही आनंद मिलता है। मेरा यह निशुल्क शिविर बक्सर जिले या फिर अन्य जिले के हर गांव में लगता है। वार्ड संख्या 16 के वार्ड पार्षद मनोज कुमार गोंड ने कहा कि इस शिविर को लगवाने का मकसद है कि जो भी गरीब तत्व के लोग हैं। पैसे के अभाव के कारण बड़े-बड़े हॉस्पिटलों में नहीं जा सकते। इस शिविर लगने से निशुल्क इलाज बेहतर और निशुल्क दवाईयों का वितरण मरीजों को एक तरफ से जीने का साहस देगा और यह शिविर समय-समय पर लगता रहेगा।

सोमवार, 18 जुलाई 2022

शिव मंदिर में पूजा-अर्चना, भंडारे का आयोजन किया

शिव मंदिर में पूजा-अर्चना, भंडारे का आयोजन किया

सावन का पहला सोमवार भगवान शिव की पूजा अर्चना करते श्रद्धालु
अविनाश श्रीवास्तव
बेगूसराय। प्रखंड के लक्ष्मण डेरा में भगवान शिव के मंदिर में पूजा-अर्चना करते श्रद्धालु और भंडारे का भी आयोजन किया गया। मंदिर के पुजारी आचर्य लक्ष्मी नारायण पाठक ने बताया कि श्रद्धालुओं के लिए उत्तम व्यवस्था की गई है। मठ के जमीन से जो भी लगान मिलता है, उसे मंदिर में लगाया जाता है। परंतु, बेशकीमती मूर्तियां होने के बावजूद भी सरकार इस पर ध्यान नहीं देती है। आलम यह है, कि मंदिर जजर्र अवस्था में हो गया है। 
वहीं, वहां के वार्ड पार्षद प्रतिनिधि अशोक कुमार यादव ने बताया कि मंदिर की लगन से जो कुछ आता है, इससे मंदिर का निर्माण कराया जा रहा है। लेकिन सरकार थोड़ा ध्यान दे देती, तो सही ढंग पूर्वक मंदिर का निर्माण हो जाता है।

बुधवार, 13 जुलाई 2022

जर्जर अवस्था में चक्की मुख्यालय जाने वाली सड़क

जर्जर अवस्था में चक्की मुख्यालय जाने वाली सड़क

अरक चक्की प्रखंड मुख्यालय मुख्य मार्ग जर्जर अवस्था में
अविनाश श्रीवास्तव
पटना/बक्सर/बेगूसराय। अरक से चक्की प्रखंड मुख्यालय जाने वाली सड़क जर्जर अवस्था में है। आलम यह है, कि सड़क मैं आने जाने में बहुत परेशानी हो रही है। शासन-प्रशासन वहीं से गुजरता है, लेकिन उस पर कोई ध्यान नहीं रहता। ग्रामीणों का कहना है, कि सड़क निर्माण होने के बाद कभी भी उसका सही ढंग से मरम्मत नहीं किया गया। पास में ही धर्मावती नदी होने के कारण बरसात के समय में जब बाढ़ आती है, तब नदी का सारा पानी सडक पर चल जाता है और सडक डूब जाता है। जिससे वह रास्ता बंद हो जाता है और नौका के द्वारा लोग इस पार से उस पार जाते हैं।
पानी में डूबे होने के कारण उस रास्ते का जर्जर स्थिति बना हुआ है। शासन प्रशासन के कई नुमाइंदे आते-जाते हैं, लेकिन किसी की नजर नहीं है। उस सड़क पर अगर इस बार भी बरसात हुई, तो धर्मावती नदी का जल स्तर बढ़ जाएगा और फिर से सडक डूब जाएगी। आने-जाने वाले ग्रामीणों का कहना है कि सरकार इस पर ध्यान नहीं दे रही है।

रविवार, 19 जून 2022

प्लेन में आग लगने की वजह से इमरजेंसी लैंडिंग कराई

प्लेन में आग लगने की वजह से इमरजेंसी लैंडिंग कराई

अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। बिहार के पटना में रविवार को एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया। दरअसल, पटना में स्पाइसजेट के प्लेन की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई है। जानकारी के मुताबिक, प्लेन में आग लगने की वजह से इसकी इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई है। बता दें दिल्ली जा रहे इस विमान को पटना एयरपोर्ट पर लैंड कराया गया है। इस विमान में 185 लोग सवार थे। अबत क की रिपोर्ट के अनुसार विमान में सवार सभी यात्री सुरक्षित हैं। अधिकारियों के मुताबिक, सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।
जानकारी के मुताबिक, विमान के उड़ान भरते समय इंजन में आग लग गई। मौके पर फायर ब्रिगेड और दमकल की गाड़ियों को बुला लिया गया है। जानकारी के मुताबिक ये विमान पटना के जयप्रकाश इंटरनेशनल एयरपोर्ट से 12 बजतक 10 मिनट पर उड़ा था। टेक ऑफ के कुछ ही मिनट के बाद इस विमान के एक पंखे में आग  लग गई।
हैरानी की बात ये है कि इस विमान के पंखे में लगी आग को नीचे से लोगों ने देखा। लोगों ने देखा कि विमान के एक पंखे से आग का लपटें निकल रही थी। लोगों ने इस घटना की सूचना तत्काल पटना पुलिस को दी। इसके बाद इस घटना की सूचना एयरपोर्ट को दी गई। फिर इस विमान को वापस लाया गया।

शुक्रवार, 27 मई 2022

हादसा: गंगा नदी में डूबने से 3 युवकों की मौंत हुईं

हादसा: गंगा नदी में डूबने से 3 युवकों की मौंत हुईं  

अविनाश श्रीवास्तव     

भागलपुर। बिहार में भागलपुर जिले के अंतीचक थाना क्षेत्र में शुक्रवार को गंगा नदी में डूबने से तीन युवकों की मौंत हो गई। कहलगांव के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी शिवानंद सिंह ने यहां बताया कि बटेश्वर स्थान घाट पर गंगा नदी में स्नान करने के दौरान तीन युवकों की डूबकर मौत हो गई। मृतक युवकों की पहचान राहुल कुमार (22), उसका भाई रोहित राय (18) एवं शिवम राय (14) वर्ष के रुप में की गई है। मृतक युवक पीरपैंती प्रखंड के टोपरा टोला गांव के निवासी थे। तीनों युवक अपने परिजनों के साथ शुक्रवार की सुबह मुडंन कार्यक्रम के लिए बटेश्वर स्थान घाट पर आये हुए थे।

सिंह ने बताया कि स्थानीय गोताखोरों की मदद से शवों को नदी से बाहर निकाल लिया गया है। इस सिलसिले में प्राथमिकी दर्ज कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर के जवाहरलाल नेहरु मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया है।

शनिवार, 21 मई 2022

ट्रक ने बाइक सवार पति-पत्नी को कुचला, मौंत

ट्रक ने बाइक सवार पति-पत्नी को कुचला, मौंत

अविनाश श्रीवास्तव        

बक्सर। चौसा-रामगढ़ पथ पर रोइनीभान गांव के समीप ट्रक (डम्फर) ने बाइक सवार पति-पत्नी को कुचल दिया। मौके पर ही उनकी दर्दनाक मौत हो गई। दुर्घटना इतनी विभत्स थी कि देखने वालों के रोंगटे खड़े हो गए। हालांकि यह इलाका चौसा प्रखंड की सीमा के अंतिम छोर पर है। लेकिन, थाना राजपुर लगता है। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी तो कुछ घंटे बाद पुलिस मौके पर पहुंची। शव को बाहर निकाला गया।

तब उनकी पहचान मो सरदार हुसैन (40) व सरवरी बेगम (35) के रुप में हुई। वे आरा जिला के शाहपुर के रहने वाले थे। वे मोहनिया में किसी रिश्तेदार के यहां शादी में शामिल होने जा रहे थे। तभी चौसा की तरफ आ रहे डम्फर ट्रक ने उन्हें कुचल दिया। राजपुर के थानाध्यक्ष ने बताया कि ट्रक का चालक गिरफ्तार कर लिया गया है। मृतक के परिजन भी बक्सर पहुंच गए हैं। उनके द्वारा घटना की प्राथमिकी दर्ज कराई जा रही है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। 


शुक्रवार, 6 मई 2022

बिहार: 'दारोगा भर्ती परीक्षा' का रिजल्ट जारी

बिहार: 'दारोगा भर्ती परीक्षा' का रिजल्ट जारी  

अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। बिहार पुलिस की दारोगा भर्ती परीक्षा का रिजल्ट शुक्रवार को जारी हो गया। दारोगा के पदों के लिए आयोजित मुख्य परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों में कुल 14 हजार 856 अभ्यर्थी सफल हुए हैं। बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग की आधिकारिक वेबसाइट https://www.bpssc.bih.nic.in/ पर अभ्यर्थी परीक्षा का रिजल्ट देख सकते हैं। 
भर्ती प्रक्रिया के माध्यम से बिहार पुलिस में एसआई और सार्जेंट के 2213 पद भरे जाएंगे। पुलिस अवर निरीक्षक के 1998 और सार्जेंट के 215 पदों पर नियुक्ति होगी।

मंगलवार, 26 अप्रैल 2022

संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2022 का नोटिस जारी

संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2022 का नोटिस जारी 

अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। बिहार स्टाफ सेलेक्शन कमीशन ने तीसरे स्नातक स्तरीय संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2022 का नोटिस जारी किया है। इसके जरिए ग्रेजुएट्स के लिए बंपर भर्ती निकली है। बिहार स्टाफ सेलेक्शन कमीशन ने तीसरे स्नातक स्तरीय संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2022 का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। नोटिस के अनुसार इसके जरिए 2187 पदों पर भर्ती होगी। नोटिस के अनुसार तीसरे स्नातक स्तरीय संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2022 के लिए आवेदन प्रक्रिया 14 अप्रैल से जारी है। आवेदन की आखिरी तारीख 15 मई 2022 है।
वैकेंसी डिटेल...
सचिवालय सहायक- 1360 पद
प्लानिंग असिस्टेंट-125
मलेरिया इंस्पेक्टर- 74
डाटा एंट्री ऑपरेटर ग्रेड सी- 2 पद
ऑडिटर-626 पद
कुल-2187
आवश्यक शैक्षिक योग्यता
उम्मीदवारों को किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएट होना चाहिए।
आयु सीमा
पुरुष-21 से 37 वर्ष
सामान्य महिला- 21 से 40 वर्ष
ओबीसी/बीसी-21 से 40 वर्ष
एससी/एसटी- 21 से 40 वर्ष

शुक्रवार, 4 मार्च 2022

बिहार: बम ब्लास्ट में 10 की मौंत, 3 शव निकालें

बिहार: बम ब्लास्ट में 10 की मौंत, 3 शव निकालें    

अविनाश श्रीवास्तव               

भागलपुर। बिहार के भागलपुर में बम ब्लास्ट में 10 लोगों की मौत हो गई है। शुक्रवार को सुबह नौ बजे के बाद एक बच्चे समेत तीन लोगों के शव निकाले गए हैं। मलबे में अभी भी कई और लोगों के दबे होने की आशंका है। यहां जिले के ततारपुर थाना क्षेत्र के काजवलीचक यतीमखाना के पास भीषण ब्लास्ट होने के बाद 10 लोगों की मौत हो गई है। ब्लास्ट गुरुवार देर रात हुआ है। विस्फोट इतना जबरदस्त था। 4 घर पूरी तरह से जमींदोज हो गए है। इसके साथ ही कई और घर भी क्षतिग्रस्त हैं। ब्लास्ट की घटना के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जाहिर किुया है। उन्होंने कहा है कि बिहार के भागलपुर में विस्फोट से हुई मौत की खबर दर्दनाक है। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। मैंने घटना के संबंध में सीएम नीतीश कुमार से बात की। प्रशासन राहत और बचाव कार्य में लगा हुआ है। पीड़ितों की हर संभव मदद की जा रही है, तो वहीं बिहार के मंत्री शाहनवाज़ हुसैन ने घटना को लेकर कहा कि, भागलपुर की घटना में 10 लोग की मृत्यु हो गई है जबकि कई  लोग अस्पताल में भर्ती हैं। अभी भी घटनास्थल पर मलबा हटाया जा रहा है। पुलिस सभी पहलुओं की जांच कर रही है।

घटना कोतवाली थाने से महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित एक मकान की है। इस ब्लास्ट से एक तीन मंजिला मकान जमींदोज हो गया। घटना की जानकारी पर डीआईजी सुजीत कुमार, डीएम सुब्रत कुमार सेन, एसएसपी बाबू राम भी मौके पर पहुंच गए हैं। घटना के बारे में कहा जा रहा है कि इस इलाके मे पटाखे बनाने का काम किया जाता है। इसके साथ ही पुलिस इसे ब्लास्ट के एंगल से भी देख रही है। भागलपुर पुलिस को कुछ दिनों पहले IB ने भी अलर्ट किया था और यहां संदिग्ध गतिविधियों की बात कही थी। तो वहीं स्थानीय लोगों के मुताबिक सब-ए-बारात के लिए घर में बम बनाया जा रहा था, जिसके बाद ये ब्लास्ट हुआ है। तो वहीं DIG सुजीत कुमार का कहना है कि FSL की टीम जांच कर रही है। इसके बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि यह किस तरह का विस्फोट था। तो वहीं भागलपुर के डीएम सुब्रत कुमार ने बताया है मामले की जांच की जा रही है। घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। जांच के बाद ही ब्लास्ट के बारे में ज्यादा जानकारी मिल पाएगी।

रविवार, 13 फ़रवरी 2022

रांची एयरपोर्ट पर पहुंचे, लालू का जोरदार स्वागत

रांची एयरपोर्ट पर पहुंचे, लालू का जोरदार स्वागत      
अविनाश श्रीवास्तव        
रांची। देश के बहुचर्चित चारा घोटाले से जुड़े डोरंडा ट्रेजरी के मामले में कोर्ट का फैसला आगामी 15 फरवरी को आने वाला है। इसमें आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव सहित कुल 99 आरोपियों को सीबीआई के विशेष जज एसके शशि की अदालत में सशरीर उपस्थित होने का आदेश दिया गया है।
सुनवाई से दो दिन पहले रविवार को लालू प्रसाद यादव रांची एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट के बाहर लालू के समर्थकों का हुजूम उमड़ा हुआ था। अपने नेता के स्वागत के लिए कार्यकर्ताओं की भीड़ ढोल, नगाड़े और गाजे-बाजे के साथ पहुंची थी। एयरपोर्ट पर उतरने के बाद लालू का जोरदार स्वागत हुआ। इसके बाद वह समर्थकों के काफिले के साथ अपनी गाड़ी में बैठकर स्टेट गेस्ट हाउस के लिए रवाना हो गए। गेस्ट हाउस पहुंचने पर भी पार्टी के नेताओं ने पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया।

गुरुवार, 14 अक्तूबर 2021

दशहरा के बाद ताकत झोंकने की तैयारी में दल

अविनाश श्रीवास्तव      

पटना। बिहार की दो विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव को लेकर सभी दल दशहरा के बाद अपनी पूरी ताकत झोंकने की तैयारी में हैं। सभी दल दशहरा के बाद अपनी-अपनी रणनीति के साथ चुनावी समर में खम ठोकेंगे। ऐसे में देखा जाए तो राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को जहां महागठबंधन में फूट पड़ने की आस है। वहीं प्रमुख विपक्षी पार्टी आरजेडी को अपने नेता लालू प्रसाद पर भरोसा है। वैसे, देखा जाए तो एनडीए और आरजेडी सहित सभी पार्टियां अपनी-अपनी जीत के दावे कर रही हैं।

इस चुनाव में सत्ताधारी गठबंधन एनडीए में जेडीयू के कोटे में दोनों सीटें कुशेश्वरस्थान और तारापुर गई हैं। जेडीयू ने इन दोनों सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं। इधर, आरजेडी और कांग्रेस इस चुनाव में अलग-अलग ताल ठोंक रहे हैं। जबकि एलजेपी (रामविलास) ने भी अपने प्रत्याशी उतार दिए हैं। जिससे मुकबला दिलचस्प होने की उम्मीद है।
बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद कहते हैं कि पिछले साल हुए चुनाव में दोनों सीटों पर जेडीयू के प्रत्याशी विजयी हुए थे और इस उपचुनाव में भी वही परिणाम होगा। उन्होंने एनडीए की जीत का दावा करते हुए कहा, विधानसभा उपचुनाव में निश्चित तौर पर एनडीए जीतने की स्थिति में है। महागठबांन का सवाल है तो दोनों पार्टियां कांग्रेस और आरजेडी अलग हो चुकी हैं। लालू के चुनाव प्रचार में आने से प्रभाव के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद को प्रचार में आने के पहले अदालत से आदेश लेना चाहिए। उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि आरजेडी कभी भी उपचुनाव को लेकर लालू प्रसाद के स्वास्थ्य पर दांव नहीं लगाएगी। अभी उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस की स्थिति तो पहले से ही खराब चल रही है। इधर, जेडीयू के प्रवक्ता और पूर्व केंद्रीय मंत्री नीरज कुमार भी कहते हैं कि विपक्ष पहले से ही हार स्वीकार कर चुका है। उन्होंने आरजेडी और उस के नेता लालू प्रसाद पर कटाक्ष करते हुए कहा, सुनने में आ रहा है कि जो पंचायत चुनाव भी नहीं लड़ सकते उन्हें प्रचार के लिए बुलाया जा रहा है। तेजस्वी यादव को अपने राजनीतिक पुरूषार्थ पर भरोसा नहीं। वे अनुकंपा की बुनियाद पर राजनीति में हैं। अब बिहार की जनता ऐसे लोगों को नहीं जीताएगी।

बिहार के राजनीतिक गलियारों में इस उपचुनाव को लेकर चर्चा है कि प्रचार के लिए लालू प्रसाद आने वाले हैं। हालांकि, अब तक इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। इधर, आरजेडी के स्टार प्रचारकों की सूची में भी लालू प्रसाद पहले नंबर पर हैं। ऐसे में कहा जा रहा है कि इस उपचुनाव में लालू प्रसाद प्रचार के लिए जरूर आएंगे।
इस बीच, आरजेडी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि विधानसभा के दो सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। दोनों सीटों पर यदि लालू प्रसाद चुनाव प्रचार के लिए आएंगे तो उसका कोई मुकाबला नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद यहां के लोगों के दिल में बसते हैं। उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव में भी राज्य के मतदाताओं ने आरजेडी को सबसे बड़ी पार्टी बनाई थी और इस उपचुनाव में भी आरजेडी विजयी होगी।

मंदिर के प्रधान पुजारी की गोली मारकर हत्या की

अविनाश श्रीवास्तव      

दरभंगा। बिहार में दरभंगा जिले के विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र में अपराधियों ने गुरूवार की सुबह कुलदेवी कंकाली मां मंदिर के प्रधान पुजारी की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं भाग रहे अपराधियों में से एक को ग्रामीणों ने पीट-पीटकर मार डाला।

दरभंगा के वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने यहां बताया कि आज अहले सुबह रामबाग मुहल्ला स्थित कंकाली मंदिर के पुजारी राजीव कुमार झा उर्फ अंटू की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। वही पुजारी के साथ सोए एक अन्य भक्त चिरंजीव झा उर्फ शंभू गोली लगने से घायल हो गया। उन्होंने बताया कि घायल शंभू झा का इलाज शहर के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। घटना से आक्रोशित लोगों ने भाग रहे तीन अपराधियों को पकड़ लिया और उन्हें पीट पीटकर घायल कर दिया।

बुधवार, 13 अक्तूबर 2021

150 वर्ष पुराने मंदिर में 501 कलश स्थापित किएं

अविनाश श्रीवास्तव        
मोतिहारी। पूर्वी चंपारण के मोतिहारी स्थित मीना बाजार में 150 वर्ष पुराने मंदिर में 501 कलश स्थापित कर माता भगवती की आराधना की जा रही है। यह बात मोतिहारी सहित पूरे जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है।
श्रद्धालु भक्त विभिन्न स्थानों से आकर इस कलश पूजा व माता भगवती की आराधना को देख रहे हैं। बताया जाता है कि इस अति पुराने मंदिर का निर्माण मीना बाजार के व्यवसायियों ने कराया था। यहां पूजारी के रूप में रहकर एक दानी बाबा भगवान की पूजा अर्चना करते थे। इस मंदिर में लगभग 45 देवी-देवताओं की मूर्ति स्थापित है।
30 वर्षों से चल रही कलश स्थापना की परंपरा : बताया जाता है कि इस मंदिर में लगभग 30 वर्षों से कलश स्थापना की परंपरा चल रही है। मंदिर निर्माण काल समय मंदिर की व्यवस्था उतना सुदृढ नहीं था, तो मोतिहारी के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मलकौनिया गांव निवासी श्री केदारनाथ सिंह ने मंदिर के जीर्णोद्धार का संकल्प लिया तथा यहां के व्यवसायियों के सहयोग से इस मंदिर का जीर्णोद्धार शुरू किया। अभी इस मंदिर परिसर में लगभग 45 देवी-देवताओं की मूर्ति प्रतिष्ठित है। मंदिर में माता वैष्णो देवी दरबार एवं नवदुर्गा की अलग-अलग प्रतिमा है।
एक कलश से शुरू होकर 501 कलश तक का सफर : मंदिर में चैत नवरात्र व शारदीय नवरात्र पूजा में कलश स्थापित करने की शुरुआत 30 वर्ष पहले एक कलश स्थापित कर शुरू की गई। इसके बाद कलश स्थापना की परंपरा लगातार बनी रही। साथ हीं धीरे-धीरे कलश की संख्या भी बढ़ती चली गई। पहले एक से बढ़कर कलश की संख्या पांच पर पहुंची। पांच के बाद 11 कलश की स्थापना की गई।
इसके बाद यह सफर 11, 21, 51, 101, 151, 201, 251, 301, 350, 501 कलश तक पहुंच गई है तथा इस वर्ष इस मंदिर में 501 कलश की स्थापना की गई है। इस मंदिर की व्यवस्था में केदारनाथ सिंह, आराधना सम्राट संजय कुमार रमण, प्रकाश सिंह, समीर कुमार पिंटू, पं. प्रमोद कु0 मिश्रा सहित जितने बहुत सारे लोग भी जुडें हुए हैं, उनकी स्थिति हर दृष्टि से अच्छी है तथा उन लोगों की चांदी कट रही है। 

नेता तेजस्‍वी ने आरजेडी नेताओं की मीटिंग बुलाई

अविनाश श्रीवास्तव     

पटना। बिहार में विधानसभा की दो सीटों कुशेश्वरस्थान और तारापुर सीट पर होने वाले उपचुनाव की तैयारियों को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने मंगलवार को आरजेडी नेताओं की हाईलेवल मीटिंग बुलाई है। यह बैठक बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड पर बुलाई गई है।

बताया जा रहा है कि यह बैठक दोपहर करीब दो बजे से शुरू होगी। बैठक में तेजस्वी यादव, प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह के अलावा राबड़ी देवी और पार्टी के और भी अनुभवी नेता शामिल हो सकते हैं। इस बैठक में 2020 बिहार विधानसभा चुनाव में आरजेडी की ओर से उतरे सभी प्रत्याशियों और पूर्व विधायकों को मौजूद रहने को कहा गया है। पार्टी की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक इस बैठक में इस बात पर चर्चा होगी कि कैसे उपचुनाव में आरजेडी के प्रत्याशी को दोनों सीटों पर जीत दिलाई जा सके।

मंगलवार, 12 अक्तूबर 2021

बिहार के सबसे बड़े घोटाले का खुलासा किया: अमित

अविनाश श्रीवास्तव       

पटना। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी अमित खरे ने बिहार के सबसे बड़े घोटाले का खुलासा कर देश की सियासत में तूफान ला दिया था। चाइबासा के उपायुक्त के रूप में अमित खरे ने पशुपालन विभाग में वित्तीय अनियमितता का मामला पकड़ा था और एक बड़े घोटाले की आशंका व्यक्त की थी। इस समाचार को सबसे पहले प्रभात खबर ने प्रमुखता से प्रकाशित किया था। 1985 बैच के अमित खरे चाइबासा के अलावा पटना, दरभंगा के जिलाधिकारी रहे और उन्होंने बिहार में मेडिकल और इंजीनियरिंग की परीक्षा कंबाइंड करा कर मेधा घोटाला को रोका था। 1993-94 में उन्होंने पश्चिम सिंहभूम जिले के तत्कालीन उपायुक्त रहते हुए चाईबासा कोषागार से 34 करोड़ रुपये से अधिक की अवैध निकासी को उजागर किया था और इसकी प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया था।

जब इस मामले की जांच शुरू हुई तो पशुओं के चारा मद में 950 करोड़ का घोटाला उजागर हुआ। सरकारी खजाने की इस चोरी में बिहार के तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद, पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र और अन्य ताकतवर लोगों पर आरोप पत्र दाखिल हुआ। इस घोटाले के कारण लालू प्रसाद को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा और जेल की सजा हुई। इस पूरे प्रकरण में अमित खरे की भूमिका बेहद अहम रही। इस वजह से उन्हें कुछ दिनों तक तत्कालीन शासन का कोपभाजन भी बनना पड़ा था, लेकिन वे अपने कर्तव्य पथ पर अडिग रहे। उनकी पत्नी निधि खरे फिलहाल केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय में अपर सचिव के पद पर तैनात हैं।

सोमवार, 11 अक्तूबर 2021

पटना की सड़कों पर ताकत दिखाने की कोशिश की

अविनाश श्रीवास्तव          

पटना। लालू परिवार और राजद में किनारे कर दिए गए तेजप्रताप यादव ने जनशक्ति यात्रा के बहाने आज पटना की सड़कों पर अपनी ताकत दिखाने की कोशिश की।उन्होंने लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जयंती के अवसर पर अपने नवगठित छात्र जनशक्ति परिषद के कार्यकर्ताओं के साथ मार्च निकाला। इसके पहले उन्‍होंने कहा कि जो छात्र शक्ति से टकराएगा। उसका नाश हो जाएगा। उन्होंने सबसे पहले पटना के गांधी मैदान पहुंचकर लोकनायक जयप्रकाश नारायण की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। इसके बाद तेजप्रताप नंगे पांव ही जेपी आवास चरखा समिति समिति पहुंचकर जेपी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

इसके बाद उन्होंने जेपी के बताए रास्ते पर चलने का संकल्प लेते हुए कहा कि जिस तरह हमारे पिता ने छात्र आन्दोलन में जेपी का साथ दिया था। हम भी उनके साथ ही खडे़ हैं। बिहार में हम शिक्षा, रोजगार के मुद्दे पर छात्रों को एकजुट कर काम करेंगे। इस दौरान तेजप्रताप यादव अकेले नहीं रहे बल्कि इस दौरान उनके पार्टी के कई लोग उनके साथ मौजूद थे। वहीं, पार्टी से नाराज चल रहे तेजप्रताप इस बार इतने गुस्‍से में हैं कि झगड़ा सुलझाने में शायद अपनी मां राबड़ी देवी का भी हस्‍तक्षेप नहीं चाहते हैं। कल दिल्ली से पटना लौटीं राबड़ी देवी उनके आवास पर पहुंची थीं। लेकिन तेजप्रताप ने उनसे मुलाकात नहीं की। यात्रा पर निकलने के दौरान तेजप्रताप अपनी मां राबड़ी देवी के आवास के ठीक सामने से गुजरे, लेकिन मां से नहीं मिले।

हालांकि, यात्रा शुरू करने से पहले तेजप्रताप अपनी मां राबड़ी देवी से मिलने उनके घर जाने वाले थे। वे अपने आवास से निकलकर राबड़ी देवी के सरकारी आवास के तरफ गए भी। लेकिन मां से मिले बगैर ही वह अपनी जनशक्ति यात्रा पर निकल गए। तेजप्रताप की इस यात्रा को कुछ दिन पहले उनके भाई तेजस्वी यादव से हुए मनमुटाव और राजद में उनकी नजरंदाजगी से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

इसके पहले मीडिया से बातचीत के दौरान एक सवाल के जवाब में तेजप्रताप ने कहा कि जिनको हमारी काबलियत से जलन होती है वे ही सवाल उठाते हैं। मां दुर्गा उनको सद्बुद्धि दे। पार्टी के बारे में पूछे जाने पर कहा कि छात्र और जनता ही मेरी पार्टी है। उन्होंने कहा कि देश एक बार फिर से बुरे दौर से गुजर रहा है। चारो तरफ अराजकता फैली हुई है, छात्रों के साथ अन्याय हो रहा है।

मैं अपनी इस यात्रा के माध्यम से सरकार को जगाने का प्रयास कर रहा हूं। तेजप्रताप ने कहा कि जेपी जयंती से अच्छा मौका नहीं मिलता इसलिए भ्रष्टाचार, अशिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाओं में गिरावट के खिलाफ मैंने क्रांति का आगाज करने का निर्णय लिया है। इसका नाम एलपी मूवमेंट रखा गया। तेजप्रताप ने लालू प्रसाद यादव के आने के सवाल पर कहा कि पिताजी पटना आएंगे तो साथ में ही रहेंगे और जो चाटुकार हैं। वो खुद साइड हो जाएंगे। राबड़ी देवी से मुलाकात के सवाल पर उन्होंने कहा कि जल्द ही वे अपनी मां से मुलाकात करेंगे, उनसे आशीर्वाद लेने जाएंगे।

तेजप्रताप ने पदयात्रा में शामिल होने का न्‍योता तेजस्‍वी यादव को भी दिया था। उन्‍होंने कहा वो अपने अर्जुन (तेजस्वी यादव) को भी बुला रहे हैं। वे आएं, उनका इंतजार होगा। लेकिन तेजस्वी यादव ने इसमें भाग लेना उचित नही समझा। यहां बता दें कि राजद की बैठकों और कार्यक्रमों में अब तेजप्रताप को बुलाया तक नहीं जा रहा हैं। कुछ दिनों से राजद के प्रदेश कार्यालय में भी जाना उन्‍होंने छोड़ दिया है।

राजद के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष शिवानंद तिवारी ने कह दिया था कि तेज प्रताप ने खुद ही अपना रास्‍ता पार्टी से अलग चुन लिया है। उन्‍हें पार्टी का चुनाव चिह्न इस्‍तेमाल करने से मना किया गया है और यह बात उन्‍होंने खुद ही स्‍वीकार की है। इससे पहले राजद के प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह ने 'तेज प्रताप कौन है' कहकर खलबली मचा दी थी।

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...