रविवार, 5 दिसंबर 2021

इंश्युरेंस कन्सलटेन्ट के 25 पदों पर होगीं भर्ती: सीजी

इंश्रेंयुस कन्सलटेन्ट के 25 पदों पर होगीं भर्ती: सीजी
दुष्यंत टीकम         
कांकेर। जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र जगदलपुर में 6 दिसम्बर सोमवार को प्रातः 11 बजे से दोपहर 03 बजे तक प्लेसमेंट कैम्प का आयोजन किया जायेगा। जिसमें 65 रिक्तियों के आधार पर भर्ती किया गया जाएगा। असिस्टेंट सेल्स मैनेजर, सेल्स मैनेजर, सीनियर सेल्स मैनेजर, एजेंसी सेल्स ऑफिसर के 10-10 पद और इंश्रेंयुस कन्सलटेन्ट के 25 पदों पर भर्ती किया जाएगा।
इच्छुपंक आवेदक 6 दिसम्बर को प्रातः 11 बजे से दोपहर 03 बजे तक निर्धारित स्थल प्रर्वतन कक्ष जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र जगदलपुर में उपस्थित होकर समस्त शैक्षणिक दस्तावेजों की मूलप्रतियां, एक सेट छायाप्रतियां, एक पासपोर्ट साईज फोटो सहित उपस्थित होकर अवसर का लाभ ले सकते हैं। 
अधिक जानकारी के लिए उप संचालक जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र जगदलपुर से संपर्क किया जा सकता है।

संस्कृति मंत्री उषा की तबियत बिगड़ीं, कार्यक्रम रद्द 

मनोज सिंह ठाकुर        भोपाल। शिवराज सरकार में पर्यटन और संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर की अचानक तबियत बिगड़ गई है। इसके बाद उनके सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए गए है। उन्हें मेडिकल स्टाफ के साथ एम्बुलेंस से इंदौर भेजने की तैयारी की जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, आज रविवार को अपने खंडवा प्रवास के दौरान कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर अचानक बीमार हो गई। इसके बाद उन्हें स्थानीय सर्किट हाउस में ले जाया गया जहां वे अभी आराम कर रही है और अब उन्हें मेडिकल स्टाफ के साथ एम्बुलेंस से इंदौर भेजने की तैयारी की जा रही है। स्थानीय सर्किट हाउस में डॉक्टरों ने स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें आराम करने की सलाह दी है। वही तबियत ठीक ना होने के चलते उन्होंने मीडिया से भी बात करने से मना कर दिया। वही, मंत्री ठाकुर के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए है।

उत्तराखंड: कोरोना के कुल 8 नए मामलें सामने आए
पंकज कपूर          देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना का खतरा बरकरार है। आज कुछ राहत सामने आई है। जहां कोरोना के मामले काम आए। वही किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई। राज्य में आज कोरोना के कुल 08 नए मामले सामने आए है। इसी के साथ राज्य में कोरोना का आंकड़ा 3,44,353 पहुंच गया है। जबकि राज्य में आज 07 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए इस तरह अब तक 3,30,599 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।
रविवार की सांय 6:00 बजे स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य में 08 नए लोगों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई। जिनमें देहरादून जिले से 02 ,हरिद्वार से 01, नैनीताल जिले से 03, उधमसिंह नगर से 01, पौडी से 01, टिहरी से 0, चंपावत से , पिथौरागढ़ से 0 , अल्मोड़ा 0, बागेश्वर से 0, चमोली से 0, रुद्रप्रयाग से 0, उत्तरकाशी से 0 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं।

नागालैंड: सुरक्षा बलों द्वारा 13 नागरिकों की हत्या 

कोहिमा। नागालैंड में सुरक्षा बलों द्वारा 13 नागरिकों की हत्या के कारण पूर्वोत्तर से सशस्त्र बल (विशेषाधिकार) अधिनियम,1958 को वापस लेने की मांग रविवार को नए सिरे से जोर पकड़ने लगी है। नागरिक संस्था समूह और अधिकार कार्यकर्ता व क्षेत्र के राज नेता वर्षों से अधिनियम की आड़ में सुरक्षा बलों द्वारा ज्यादती का आरोप लगाते हुए “कठोर” कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

आफस्पा असम, नगालैंड, मणिपुर (इंफाल नगर परिषद क्षेत्र को छोड़कर), अरुणाचल प्रदेश के चांगलांग, लोंगडिंग और तिरप जिलों के साथ असम की सीमा से लगे अरुणाचल प्रदेश के जिलों के आठ पुलिस थाना क्षेत्रों में आने वाले इलाकों में लागू है। क्षेत्र के छात्र संघों के एक छत्र निकाय ‘नॉर्थ ईस्ट स्टूडेंट्स ऑर्गनाइजेशन’ (एनईएसओ) ने कहा कि अगर केंद्र पूर्वोत्तर के लोगों के कल्याण और कुशलता के बारे में चिंतित है तो उसे कानून को निरस्त करना चाहिए।


जनगणना के रास्‍ते में आएगा, हवा में उड़ जाएगा
अविनाश श्रीवास्तव          पटना। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने कहा है कि जातीय जनगणना के रास्‍ते में जो आएगा, वह हवा में उड़ जाएगा। जातिगत जनगणना करानी ही होगी। तब ही गरीब-गुरबों को उनका सही हक मिल पाएगा। उन्होंने कहा कि अगर जातीय जनगणना नहीं होती है तो राजद आंदोलन करेगा। दिल्‍ली में स्‍वास्‍थ्‍य लाभ कर रहे राजद सुप्रीमो ने मीडिया से बातचीत में नीतीश सरकार की शराबबंदी को पूरी तरह फेल बता दिया। साथ ही असदुद्दीन ओवैसी को भाजपा का आदमी बता दिया।  
लोकसभा में जातीय जनगणना से केंद्र के इंकार की बाबत राजद सुप्रीमो ने कहा कि गरीबों का कायाकल्‍प होने वाला है। अनुसूचित जाति-जनजाति की संख्‍या बढ़ी है। उस अनुपात में उनकाे जॉब देना पड़ेगा। इसकी गहराई को वे समझते हैं। इसलिए जनगणना नहीं करवा रहे। लेकिन हमलोग आंदोलन करके भी इसे लागू करवाकर रहेंगे। क्‍या इस मुद्दे पर वे नीतीश कुमार से मिलने के जवाल पर उन्‍होंने कहा कि नीतीश से क्‍या मिलना है। हमारी आज से लड़ाई है क्‍या ? मुलायम सिंह यादव, शरद यादव के साथ हमलोगों ने आंदोलन किया। बिहार सरकार अपने खर्चे पर जातीय जनगणना करवाए। इस मुद्दे पर उन्‍होंने कहा कि ये सब बाद की बात है।  

245 और कर्मचारियों को निलंबित किया: परिवहन
कविता गर्ग         मुंबई। महाराष्ट्र सड़क परिवहन निगम (एमएसआरटीसी) ने कर्मचारियों की चल रही हड़ताल में शामिल होने के आरोप में शनिवार को 245 और कर्मचारियों को निलंबित कर दिया। जबकि 10 कर्मचारियों को बर्खास्त किया। उल्लेखनीय है कि कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से एमएसआरटीसी की बस सेवा करीब एक महीने से प्रभावित है।

एमएसआरटीसी ने एक बयान में कहा कि वह अबतक 9,625 कर्मचारियों को निलंबित किया जा चुका है। जबकि 1,990 कर्मचारियों को बर्खास्त किया गया है। उसने दावा किया कि वर्तमान में 67 डिपो से बसों का परिचालन हो रहा है और शनिवार को निगम ने 1,564 बस सेवाओं का परिचालन किया।

'जोगी' समाज के महा जनसम्मेलन का आयोजन

'जोगी' समाज के महा जनसम्मेलन का आयोजन 
भानु प्रताप उपाध्याय           
मुजफ्फरनगर। रविवार को आर्य समाज मंदिर निकट डीएवी कॉलेज मुजफ्फरनगर में महंत श्री शिवनाथ उपाध्याय, मुख्य संरक्षक अखिल भारतीय योगीनाथ उपाध्याय, समाज रजिस्टर्ड की अध्यक्षता में उपाध्याय समाज का एक विशाल जन सम्मेलन का आयोजन हुआ। 
इस महासम्मेलन के मुख्य आयोजक श्री चमन लाल उपाध्याय अध्यक्ष पश्चिम उत्तर प्रदेश एवं जिला कार्यकारिणी के समस्त पदाधिकारियों, केपी उपाध्याय व जिलाध्यक्ष, श्री तेजपाल सिंह उपाध्याय जिला महामंत्री, श्री सोराज उपाध्या
य जिला सचिव, मुलक राज उपाध्याय जिला उपाध्यक्ष, श्री रण कुमार उपाध्याय जिला उपाध्यक्ष, सचिन कपूर जिला उपाध्यक्ष आदि की ओर से कार्यक्रम में उपस्थित मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि, राज्य एवं भारत सरकार के मंत्री गणों, प्रदेश कार्यकारिणी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी के समस्त पदाधिकारियों एवं चेतना सम्मेलन मे उपस्थित सभी दूरदराज से आए सम्मानित आगंतुक बंधुओं एवं महिलाओं का कार्यक्रम में उपस्थित होने एवं कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए आप सभी का हार्दिक अभिनंदन बहुत-बहुत आभार प्रकट किया जाता है।

कौशाम्बी: विधायक ने जनसंवाद का कार्यक्रम किया
गणेश साहू           
कौशाम्बी। विधायक संजय कुमार गुप्ता ने नवगठित नगर पंचायत चरवा के वार्ड नबर 14 सूर्यबली नगर केसी का पुरवा और काजू ग्राम सभा के हौसी में जनसंवाद का कार्यक्रम किया। जनसंवाद के दौरान विधायक ने योगी और मोदी की चल रही योजनाओं को एक-एक कर गिन वाया।विधायक ने कहा कि आज हमारी भाजपा सरकार गरीब कमजोर मजलूम जरूरतमंद परिवार को मुफ्त में राशन दे रही है। जनसंवाद कार्यक्रम में चायल विधायक संजय कुमार गुप्ता ने कहा कि 16 से 18 घंटे हमारी भाजपा सरकार बिजली दे रही है। उन्होंने कहा कि योगी मोदी सरकार द्वारा सड़को का जाल चारो तरफ बिछाया गया है। गंगा नदी पर पुल और यमुना नदी पर पुल का निर्माण योगी मोदी सरकार के कार्यकाल में हुआ है। जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को आवागमन में सहूलियत होगी।
चायल विधायक संजय गुप्ता ने जन संवाद के माध्यम से लोगों को बताया कि किसान सम्मान निधि जैसी तमाम जन कल्याणकारी योजनाओं को योगी मोदी सरकार ने चला कर आम जनता को राहत दी है। विधायक ने कहा आपका विधायक 24 घंटे अपने विधानसभा में उपलब्ध रहने वाला विधायक है। सप्ताह में दो दो जगह जनसुनवाई कर लोगो की समस्याओं का निस्तारण किया और अपने आवास में प्रतिदिन जनसुनवाई किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से भाजपा जिला मंत्री रमेश केसरवानी मंडल अध्यक्ष राम बहादुर जयसवाल ग्राम प्रधान उदाथु महेंद्र मौर्या,बीरेंद्र फौजी, पिछला मोर्चा जिला महामंत्री,पंकज सिंह,भरत द्विवेदी,योगेश यादव सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

पार्षद द्वारा सड़क सुधार कार्य का शुभारंभ किया गया
अश्वनी उपाध्याय        
गाजियाबाद। वार्ड 72 के पार्षद मनोज गोयल के प्रयासों द्वारा सेक्टर 2 पुलिया नाले के साथ-साथ क्लाउड नाइन एक्सप्रेस ग्रीन अंसल माल होते हुए डाबर रोड तक सड़क सुधार कार्य का शुभारंभ किया गया।
क्षेत्रीय निवासी तिलक मानिक समाजसेवी के एल शर्मा द्वारा  नारियल तोड़कर इस कार्य का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर क्लाउडनाइन के उपाध्यक्ष राकेश जैन, एक्सप्रेस ग्रीन टावर से प्रवीण महेश्वरी, महानगर कार्यकारिणी सदस्य अवधेश कटिहार, मंडल मंत्री शुभम सिंह, महिला मोर्चा में मंडल मंत्री ममता त्रिपाठी, एससी तिवारी, श्याम सुंदर सिंह, शिव शंकर उपाध्याय, दिनेश जैन, मंगल सिंह क्षेत्र के अन्य निवासी उपस्थित रहे।

जंगल में मिलीं युवती की लाश, मचा हड़कंप: यूपी

जंगल में मिलीं युवती की लाश, मचा हड़कंप: यूपी
सत्येंद्र पांंवार    
मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में रविवार सुबह खरखौदा के जंगल में एक युवती की लाश बक्से में मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। युवती के हाथ पैर बंधे हुए है और गर्दन पर चोट के निशान होने के कारण हत्या कर शव फेंके जाने की आशंका जताई जा रही है। ग्राम प्रधान की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। शव की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं। आसपास लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जानकारी ली।
जानकारी के अनुसार अतराड़ा के जंगल में काली नदी के किनारे एक संदूक में युवती का शव होने की सूचना पर आसपास के लोग मौके पर एकत्र हो गए। घटना से इलाके में दहशत फैल गई। वहीं सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को वहां से हटाकर शव को अपने कब्जे में लिया। मौके पर डॉग स्क्वायड व फोरेंसिक टीम के साथ एसपी देहात भी पहुंचे हैं।
पुलिस के अनुसार शव एक दो दिन पुराना लग रहा है। हालांकि शव की शिनाख्त नहीं हो पाई है। ग्रामीणों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस का कहना है कि शव की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं। हत्या की पुष्टि शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हो पाएगी। शिनाख्त होने के साथ ही जल्द वारदात का खुलासा कर दिया जाएगा। फिलहाल पुलिस की जांच पड़ताल जारी है। पुलिस के मुताबिक प्रथम दृष्टिया लड़की की हत्या करके शव को ठिकाने लगाने की कोशिश की गई है।

पिता ने 4 साल के बच्चे को उतारा 'मौंत' के घाट

दुष्यंत टीकम      अमलीपदर। मानसिक रोगी पिता ने पहले अपने चार साल के बच्चे को बेरहमी से मौत के घाट उतारा।उसके बाद खुद फांसी के फंदे पर झूल गया। इस हृदयविदारक घटना की जांच में जुटी पुलिस कारणों की तलाश कर रही है। घटना दो दिन पहले की है। अमलीपदर थाना के भेजीपदर पंचायत के नदीपारा में रहने वाला 26 वर्षीय चन्द्रशेखर ध्रुवा साल भर से मानसिक बीमारी से ग्रसित है। 1 दिसम्बर को सुबह से ही चन्द्रशेखर पर पागलपन सवार था। वह कुल्हाड़ी-तलवार लेकर पूरे परिवार को मारने पर तुला था। पत्नी चंम्पा ध्रुवा बेटे प्रेमलाल, बेटी रायमनी व टिकेश्वरी को लेकर बगल में जेठ के घर शरण ले ली।

उस वक्त घर के अन्य बड़े सदस्य मजदूरी करने बाहर गए थे। लगभग 2 बजे चंद्रशेखर हथियार लेकर बाजू के घर में भी घुस गया, और अपने 4 साल के बेटे प्रेम को झपटते हुए अपने घर लेकर कमरे में बन्द कर दिया। पीछे-पीछे परिवार के अन्य सदस्य छुड़ाने की नाकाम कोशिश करते रहे। हथियार के डर से कोई भी सामने जाने का साहस नहीं जुटा पाया। इस दौरान उसने अपने बेटे पहले जमीन पर पटका, फिर कुल्हाड़ी व छुरे से दो तीन वार कर मासूम को मौत के घाट उतार दिया।


रासुका के तहत गिरफ्तारी पर महापंचायत आयोजित
अश्वनी उपाध्याय          गाजियाबाद। धौलाना विधायक असलम चौधरी की रासुका के तहत गिरफ्तारी को लेकर लोनी में आयोजित हुई महापंचायत। हजारों लोगों ने एसपी देहात पर लगाये गंभीर आरोप। कहा, कि धौलाना विधायक, आईएसआई, गौतस्कर और आतंकी संगठन लोनी में बलवा करवाकर कराना चाहते है। लोनी विधायक की हत्या, सीएम के नाम एसडीएम को दिया ज्ञापन। मांग पूरी नहीं होने पर लाखों लोगों के साथ 22 दिसंबर को किया जाएगा अल्टीमेटम। एसएसपी कार्यालय का घेराव और अनिश्चितकालीन धरना, रोड़ जाम करने और महापंचायत खत्म नहीं करने की जिद्द पर अड़े लोगों को एसडीएम की उपस्थिति में विधायक नंदकिशोर गुर्जर द्वारा फ़ोन पर कड़ी कार्यवाही के लिए आश्वस्त करने पर खत्म हुई महापंचायत। 
लोनी में पिछले दिनों हुई गौतस्करी की घटना और लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर और उनके परिवार को धौलाना विधायक द्वारा दी गई जान से मारने की धमकी पर रविवार को लोनी की जनता का गुस्सा फूट पड़ा। लोनी के शिव मंदिर में प्रशासन की चौकसी के बावजूद 36 बिरादरी के लोगों ने हजारों की संख्या में पहुंचकर महापंचायत में क्षेत्र में घटित हो रही गौकशी की घटनाओं पर आक्रोश जताया। 
इस दौरान महापंचायत में असलम चौधरी, वृंदा करात की रासुका के तहत और फरार गौतस्करों की तत्काल गिरफ्तारी, लोनी एन्काउंटर की उच्च स्तरीय जांच, थाना प्रभारी राजेन्द्र त्यागी की वापसी समेत एसपी देहात पर गौतस्करों को संरक्षण देने का आरोप लगाया। इस दौरान महापंचायत में पुलिस प्रशासन और महापंचायत में आये लोगों के बीच नोंकझोंक भी हुई। इस दौरान लोनी के व्यापारियों ने असलम की गिरफ्तारी न होने और विधायक नंदकिशोर गुर्जर के समर्थन में बाज़ार भी बंद रखे। एसडीएम लोनी और सीओ को ज्ञापन देने और विधायक नंदकिशोर गुर्जर द्वारा फ़ोन से संबोधन के बाद और आश्वस्त किये जाने पर महापंचायत खत्म हुई। इस दौरान महापंचायत की सूचना पर प्रशासनिक अमला अलर्ट दिखा, सभी थानों के सिपाही, पीएससी, बज्र वाहन और वाटर कैनन की गाड़ी को संभावित गड़बड़ी के मद्देनजर तैनात किया गया था। सख्ती के बावजूद सैकड़ों की संख्या में गौभक्त महापंचायत में पहुंचने में कामयाब रहें। इस दौरान महापंचायत को दर्जनों समाजसेवी, 36 बिरादरी के प्रमुख लोगों ने संबोधित किया।
महापंचायत की सूचना पर सुबह से ही लोनी रोड़ पर बेरिकेडिंग करके सभी वहनों पर नजर रखी जा रही थी। प्रशासनिक अमला पूरी तरह से अलर्ट दिखा। सभी थानों के सिपाही, पीएससी, बज्र वाहन और वाटर कैनन की गाड़ी को संभावित  गड़बड़ी के मद्देनजर तैनात किया गया था। प्रशासन की चौकसी के बाद भी हज़ारों की संख्या में लोग कार्यक्रम में पहुंचने में कामयाब हुए। महापंचायत में पहुंचे लोगों ने बताया कि काफी दिनों से यह घटनाक्रम चल रहा था पहले थाना प्रभारी के साथ अन्याय किया गया। एसपी देहात गौतस्करों वे संरक्षक के रूप में कार्य कर रहे है। उसके बाद हमारे स्वाभिमान लोनी विधायक और उनके पिता को मारने की धमकी दी गई। जो अब बर्दाश्त से बाहर था। इसलिए सर्वसमाज ने तय करके महापंचायत बुलाई थी और हमने एसडीएम को ज्ञापन सौंप दिया है और 22 दिसंबर का अल्टीमेटम दिया गया है। अगर प्रशासन द्वारा मांगे और विधायक नंदकिशोर गुर्जर की तरफ उंगली भी उठी तो  तो 22 तारीख को लोनी का बच्चा-बच्चा उनके स्वाभिमान में गाजियाबाद होगा। वहीं एक व्यक्ति द्वारा बताया गया कि प्रशासन द्वारा हमारे यहां से आ रही बस को रोक दिया गया। लेकिन गौरक्षा के लिए फिर भी हम आये है।
महापंचायत में पहुंचे गौरक्षा हिन्दू दल के अध्यक्ष वेद नागर ने प्रशासन द्वारा भेजे गए एसडीएम लोनी, सीओ को महापंचायत में पास किये गए पांच बिंदुओं का ज्ञापन देते हुए कहा अगर प्रशासन ने 22 तारीख तक महापंचायत की मांगों पर कार्यवाही नहीं की और गौतस्कर धौलाना विधायक असलम समेत अन्य  दोषी गौतस्करों की गिरफ्तारी, दोषी पुलिसकर्मीयों पर कार्यवाही नहीं की गई तो लाखों लोगों के साथ गाजियाबाद एसएसपी का घेराव और धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इस दौरान लोगों द्वारा सड़क जाम और पंचायत न खत्म करने की जिद्द पर विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने फ़ोन पर वार्ता कर लोगों को ज्ञापन पर कार्यवाही नहीं होने पर स्वंय मुख्यमंत्री से मिलकर दोषियों पर कार्यवाही कराने की बात कहीं।
1. गौतस्करों के सरगना और लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर व उनके परिवार को जान से मारने की धमकी देने वाले असलम को तत्काल रासुका के तहत गिरफ्तार किया जाए।
2. लोनी के गौतस्कर सरगना और गोदाम मालिक सलीम पहलवान और उसके पुत्रों पर रासुका के तहत मुकदमा दर्ज कर इसकी संपत्ति को ढहाया जाए, जिसे एसपी देहात द्वारा लोनी एनकाउंटर के बाद बचाने का भरसक प्रयास किया और अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं होने दिया।
3. अधिकरियों द्वारा गौतस्करों और कट्टरपंथी ताकतों के इशारे पर साजिश कर किये गए थाना प्रभारी राजेन्द्र त्यागी के निलंबन को रद्द कर ससम्मान बहाली और साजिश में शामिल पुलिसकर्मियों और एसपी देहात की भूमिका की जांच हेतु लोनी एनकाउंटर की उच्चस्तरीय जांच कमेटी बनकर की जाए।
4. लोनी समेत गाजियाबाद के सभी थानों में दर्ज पिछली सभी गौकशी के मामले में फरार गौतस्करों को 1 सफ्ताह में गिरफ्तार कर उनके मकान ढहाकर कठोर कार्यवाही की जाए।
5. आईएसआई, आतंकी संगठनों और धौलाना विधायक से मिलकर लोनी में बलवा कराने का प्रयास करने वाली भाकपा नेता वृंदा करात को तत्काल गिरफ्तार किया जाए।
इस दौरान कार्यक्रम में प्रमुख रूप से पूर्व प्रधान सदुल्लाबाद बच्चू प्रधान, अरविंद गोयल, चौधरी करतार सिंह, आरती मिश्रा, महेश प्रधान, सुशील श्रीवास्तव, अजय खारी, कुलवीर चौहान, अनूप भड़ाना, मामराज प्रधान, कैलाश शर्मा, सुनील फैजी, जितेंद्र काशयप, देवेश दीक्षित, राजकुमार चौधरी, अरुण मिश्रा समेत दर्जनों की संख्या में प्रधान, सभासद, गौरव तंवर, आरडब्ल्यूए, बीडीसी व विभिन्न सामाजिक संगठनों के लोग उपस्थित रहें।

थाना शिकारपुर पर गुमशुदगी दर्ज कराईं, मुकदमा
शिकारपुर। थाना शिकारपुर क्षेत्र के मौहल्ला शिव कालोनी निवासी प्रमोद कुमार शर्मा पुत्र हरिराम शर्मा, द्वारा अपने पुत्र अजय कुमार शर्मा उम्र करीब-25 वर्ष, के घर से बुलन्दशहर जाने की बात कह कर गायब होने के सम्बन्ध में थाना शिकारपुर पर गुमशुदगी दर्ज करायी गयी थी तथा वादी द्वारा दिनांक 01/12/21 को थाना शिकारपुर पर मुअसं-445/21 धारा 365 भादवि बनाम गोल्डी उर्फ दीपांशु ,पुत्र विजय शर्मा निवासी मौहल्ला मूर्ति विहार, लोकेश उर्फ भाटी पुत्र टीटू निवासी ग्राम तैय्यबपुर थाना शिकारपुर, शिवम पुत्र नामालूम निवासी खुर्जा बस स्टैण्ड मौहल्ला मुफ्तीवाडा थाना शिकारपुर, सागर ठाकुर पुत्र नामालूम निवासी हाथरस, सागर ठाकुर पुत्र नामालूम निवासी फरीदाबाद हरियाणा, सुमित पुत्र पप्पू निवासी तैय्यबपुर थाना शिकारपुर, हनी शर्मा, पुत्र नामालूम निवासी नामालूम के विरूद्ध पंजीकृत कराया गया। 
एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि उपरोक्त घटना के शीघ्र अनावरण हेतु एसएसपी संतोष कुमार सिंह के निर्देशन अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण निकट पर्यवेक्षण व क्षेत्राधिकारी सुरेश कुमार, के कुशल नेतृत्व में शिकारपुर थाना प्रभारी को निर्देशित किया गया था। थाना प्रभारी मय पुलिस टीम द्वारा घटना का सफल अनावरण करते हुए घटना मे सलिप्त चार अभियुक्तों उनके घरों से प्रातः गिरफ्तार किया गया है।
शिकारपुर कोतवाली पुलिस ने अजय हत्याकांड में संलित्त उर्फ दीपाशुं पुत्र विजय शर्मा निवासी मौहल्ला मूर्ति विहार कस्बा व थाना शिकारपुर, शिवम उर्फ विवेक पुत्र अशोक कुमार निवासी मौहल्ला खुर्जा बस स्टैण्ड मौहल्ला मुफ्तीबाडा कस्बा व थाना शिकारपुर, सुमित पुत्र नरेन्द्र उर्फ पप्पू निवासी ग्राम तैय्यबपुर थाना शिकारपुर, हनी पुत्र सतीश शर्मा निवासी ग्राम सरगाँव थाना शिकारपुर, चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया शिकारपुर पुलिस ने आलाकत्ल ब्लेड, मृतक का अर्धजला आधार कार्ड व अर्ध जले कपड़े के टुकडे बरामद कर लिए है। 
गिरफ्तार अभियुक्तों से हुई पूछताछ एवं विवेचना कार्यवाही में ज्ञात हुआ कि दिनाँक 29/11/21 को अपहृत अजय कुमार पुत्र प्रमोद कुमार निवासी मौहल्ला मूर्ति विहार कस्वा व थाना शिकारपुर, को उसके दोस्त गोल्डी उर्फ दीपान्शू शर्मा, द्वारा अपनी शादी की पार्टी देने हेतु घर से बुला कर जंगल ग्राम तैयबपुर स्थित अभियुक्त सुमित की ट्यूबवेल के पास ले जा कर शादी की पार्टी के दौरान पुरानी रंजिश को लेकर कहासुनी होने पर अभियुक्त गोल्डी, शिवम, सुमित, व हनी, द्वारा अन्य साथियों के साथ मिल कर बदला लेने के लिए ब्लेड से गर्दन रेत कर निर्मम हत्या कर सबूत मिटाने के उद्देश्य से अजय शर्मा के शव को कपडे उतार कर नग्न अवस्था मे काली नदी के पुल से नदी मे फैक दिया था।अभियुक्तों की निशांदेही पर मृतक अजय शर्मा, के शव को निरन्तर तलाश किया जा रहा है। पंजीकृत अभियोग में धारा 302, 201, 120 बी, 34 भादवि की वृद्धि की गयी है।अभियुक्तों की गिरफ्तारी एवं बरामदगी के सम्बन्ध में थाना शिकापुर पर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही करते हुए अभियुक्तों को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जा रहा है। अजय हत्याकांड के चारों आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली टीम में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ऋषिपाल शर्मा, एस एस आई सुनील कुमार गौतम, एस आई मनोज कुमार पटेल, एस आई सन्तोष कुमार रावत, एस आई सुखपाल सिंह, मौहम्मद आजाद, राहुल वाशिष्ठ, सुनील मावी, शामिल रहे।

अपनी कुछ तस्वीरें इंस्टाग्राम पर शेयर की: मुंबई

अपनी कुछ तस्वीरें इंस्टाग्राम पर शेयर की: मुंबई
कविता गर्ग     
मुबंई। सारा अली ख़ान सोशल मीडिया में काफ़ी बिंदास हैं। सारा की तस्वीरें जितनी दिलचस्प होती हैं। उतने ही मज़ेदार होते हैं उन तस्वीरों के कैप्शन। सारा ने अब अपने नये फोटोशूट की कुछ तस्वीरें इंस्टाग्राम पर शेयर की हैं।
इन तस्वीरों में जहां सारा का बोल्ड अंदाज़ सामने आ रहा है, वहीं इनके साथ लिखा कैप्शन उनके फनी स्वभाव और सेंस ऑफ ह्यूमर सामने ला रहा है। सारा ने सफेद रंग की कमीज़ पहनी हुई है, जिसके बटन खुले हैं और अंदर उन्होंने काले रंग का इनर पहना है। बाल बिखरे हुए हैं।
इन तस्वीरों के साथ उन्होंने कैप्शन लिखा- इक बेवफ़ा के ज़ख़्मों पर, मरहम लगाने हम गये। मरहम की कसम, मरहम ना लगा। मरहम की जगह, मर हम गये। सारा ने इस कैप्शन में ब्रेकअप वाली इमोजी का इस्तेमाल भी किया है। हालांकि बाद में सारा ने इस कैप्शन को एडिट करके फायर इमोजी बना दीं। सारा के फोटोशूट की तस्वीरें अब वायरल हो रही हैं और फैंस इन्हें जमकर लाइक कर रहे हैं।
इससे पहले सारा ने साड़ी में फोटोशूट की तस्वीरें शेयर की थीं, जिनमें वो बेहद ट्रेडिश्नल और ख़ूबसूरत दिख रही थीं। सारा की नई तस्वीरें पुरानी फोटो के मिज़ाज से बिल्कुल अलग हैं। इन तस्वीरों में सारा ने गुलाबी रंग की प्रिंटेड साड़ी के साथ स्लीवलेस ब्लाउज पहना था और माथे पर एक बिंदी लगायी। इसके साथ कैप्शन में लिखा- बिंदिया चमकेगी। सारा की इन तस्वीरों को 9 लाख से अधिक लोगों ने पसंद किया था।
एक्ट्रेस जाह्नवी ने कटरीना की बात पर साधा निशाना
कविता गर्ग      
मुबंई। बॉलीवुड एक्ट्रेस अक्सर अपने कपड़ो को लेकर चर्चा में घिर जाती हैं और अगर किसी चीज के उपर कुछ बोल दे तो वह एक कॉन्ट्रोवर्सी में भी बदल सकती है। एसे ही बॉलीवुड एक्ट्रेस जाह्नवी कपूर के जिम शार्ट्स को लेकर कॉन्ट्रोवर्सी हो गई है। एक इंटरव्यू के दौरान जाह्नवी ने उन लोगों के बारे में बात की जिन्हें उनके जिम के कपड़ो से दिक्कत है। जाह्नवी ने कहा जिम जाते वक्त उन्हें जो मीडिया से फैंस से प्यार मिलता है। उससे वह काफी खुश हो जाती हैं। लेकिन जिन लोगों को इससे दिक्कत है उससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। उन्हें समझाना मेरा काम नहीं है। इंटव्यू के दौरान जाह्नवी ने कटरीना की बात पर निशाना साधते हुए यह बात कही है। 
जानवी ने कहा कई लोगों ने मुझसे बोला है कि हमने आपके जिम लुक की सभी तस्वीरें देखी हैं तो उन्हें में बताना चाहती हूं कि मैं लाइफ में और भी कई चीजें करती हूं। आपको थोड़ी और जानकारी की जरूरत है। एक किस से अरबपति बानी काइली जेनर, जानिए क्या है मामला फैंस ही नहीं ब्लकि बॉलीवुड अभिनेत्री कटरीना कैफ भी जाह्नवी के जिम लुक को लेकर कमेंट कर चुकी हैं। नेहा धूपिया द्वारा होस्ट किए गए एक चैट शो के दौरान, कैटरीना से एक सेलिब्रिटी का नाम लेने के लिए कहा गया, जो अपने जिम और वर्कआउट लुक के साथ ओवर-द-टॉप जाती है। इसपर, कटरीना ने जाह्नवी के जिम लुक पर निशाना साधा और कहा जाह्नवी के शॉर्ट्स बहुत छोटे होते हैं। वह मेरे जिम में भी आती है, इसलिए हम अक्सर जिम में एक साथ होते हैं, मैं बस कभी-कभी उनकी चिंता करती हूं। हालांकि कटरीना ने बात जाह्नवी के अच्छे के लिए कही थी लेकिन इस चक्कर में जाह्नवी के फैंस द्वारा कटरीना को इस बात पर आलोचना का सामना करना पड़ा। है। इसको लेकर जाह्नवी ने कहा कपूर परिवार को अब इसकी आदत पड़ चुकी है। सोशल मीडिया काफी बड़ा प्लेटफॉर्म है, जिसकी बातें लोगों की बहुमत पर निर्भर करती हैं।

'केबीसी' ने शानदार प्रोमो वीडियो शेयर किया
कविता गर्ग          मुंबई। 'कौन बनेगा करोड़पति’ एक ऐसा शो है। जिसे देखकर आपका ज्ञान तो बढ़ता ही है। साथ ही आपका भरपूर मनोरंजन भी हो जाता है। हर शुक्रवार शो पर सेलेब्स आते हैं और दर्शकों का खूब एंटरटेनमेंट होता है। हाल ही में शो से शानदार शुक्रवार का एक प्रोमो वीडियो शेयर किया गया है। इस प्रोमो वीडियो में कॉमेडी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ की पूरी टीम अमिताभ बच्चन के शो पर दिखाई दे रही है।

सोनी टीवी के ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट से ‘केबीसी 13’ का लेटेस्ट प्रोमो वीडियो शेयर किया गया है। इस प्रोमो वीडियो में आप देख सकते हैं कि शो के होस्ट अमिताभ बच्चन इस बार ‘टीएमकेओसी’ के जेठालाल, पोपटलाल और निर्माता असित कुमार मोदी के साथ गेम खेलते हुए दिखाई देंगे। शो पर इस बार तारक मेहता की पूरी कास्ट दिखाई देगी। जिसमें कुछ गेम खेल रहे हैं तो कुछ ऑडियंस में बैठे हुए नजर आ रहे हैं।

डिप्टी सीएम केशव ने अखिलेश पर कसा तंज: यूपी

डिप्टी सीएम केशव ने अखिलेश पर कसा तंज: यूपी
संदीप मिश्र          
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधान सभा चुनाव 2022 जैसे-जैसे नजदीक आता जा रहा है। वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियों के बीच नोंक-झोंक और बयानबाजी तेज होती जा रहा है। खासकर समाजवादी पार्टी और बीजेपी जबरदस्त तरीके से एक-दूसरे पर हमला कर रही हैं। माना जा रहा है कि आगामी विधान सभा चुनाव में नंबर 1 और 2 की लड़ाई इन्हीं दोनों पार्टियों के बीच होगी। इस बीच उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने एक ऐसा बयान दिया है। जिसको लेकर हंगामा होना तय है। यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अखिलेश यादव पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि अब मैं उन्हें अखिलेश यादव नहीं। बल्कि अखिलेश अली जिन्ना कहता हूं। केशव प्रसाद ने आगे कहा कि अखिलेश पिछड़ों के नाम पर राजनीति करने की कोशिश कर रहे हैं जोकि मौकापरस्ती है।
बता दें कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चुनाव प्रचार के दौरान एक रैली में कहा था कि देश की आजादी में मोहम्मद अली जिन्ना की भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और लौहपुरुष सरदार पटेल की तरह ही अहम भूमिका थी। मोहम्मद अली जिन्ना स्वंतत्रता सेनानी थे। जिसके बाद उन्हें काफी विरोध का सामना करना पड़ा था।
गौरतलब है कि केशव प्रसाद मौर्य के कई हालिया बयान चर्चा में हैं। हाल ही में उन्होंने कहा था कि रामलला की जन्मभूमि अयोध्या हमारी हो चुकी है। वहां राम मंदिर का निर्माण शुरू होने से श्रद्धालु बहुत खुश हैं। बाबा विश्वनाथ की काशी में भी कॉरिडोर तैयार हो चुका है, अब मथुरा में भगवान कृष्ण की जन्मभूमि की बारी है।
उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के इस बयान पर कुछ राजनीतिक पंडितों का मानना है कि बीजेपी यूपी विधान सभा चुनाव 2022 में कृष्ण जन्मभूमि को मुद्दा बना सकती है।

कांग्रेस सरकार पर 'महंगाई' बढ़ाने का आरोप लगाया

नरेश राघानी         जयपुर। भारतीय जनता पार्टी (भापजा) के राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह ने कांग्रेस की महंगाई को लेकर प्रस्तावित रैली पर पलटवार करते हुए राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर महंगाई बढ़ाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि महंगाई से त्रस्त उसके कार्यकर्ता रैली में भाग लेकर सरकार की खिलाफी का काम करेंगे। अरुण सिंह ने प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी की बैठक के अवसर पर आज यहां अमित शाह की अगवानी के लिए हवाई अड्डे के लिए रवाना होने से पहले मीडिया से यह बात कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस महंगाई को लेकर रैली करने जा रही है लेकिन महंगाई तो वह खुद बढ़ा रही है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में डीजल एवं पेट्रोल के दाम महंगे, बस किराया महंगा, बिजली महंगी, महंगाई तो कांग्रेस खुद कर रही है।

महंगाई से त्रस्त उसके कार्यकर्ता रैली में भाग लेकर सरकार की खिलाफी का ही काम करेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने राज्य सरकार के खिलाफ जिलों में आक्रोश रैलियां की है और अब जयपुर में जनप्रतिनिधियों के महासम्मलेन के बाद प्रदेश में बड़ी आक्रोश रैली का आयोजन होगा। इस सम्मेलन के बाद कांग्रेस की विदाई शुरु हो जायेगी। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि कांग्रेस खुद में कई गुट हैं और मंत्रिमंडल के गठन में कई महीने लगा दिये गये और गठन के बाद भी गतिरोध पैदा हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ऐसी पार्टी हैं जिसके शासन में चुनाव पर चुनाव कराये जा रहे हैं जिससे प्रदेश विकास से दूर रह रहा है।

राहुल ने यूपी सरकार पर साधा निशाना: राजनीति

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लखनऊ में प्रदर्शनकारियों के एक समूह पर पुलिस के लाठीचार्ज की खबरों को लेकर रविवार को उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा और कहा कि रोजगार मांगने वालों को यह सरकार लाठियों से पीटती है। गांधी ने कहा कि जब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) वोट मांगने आए तो जनता इसे याद रखे।

राहुल ने इन खबरों को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा कि लखनऊ पुलिस ने शनिवार शाम को ‘कैंडललाइट मार्च’ निकाल रहे प्रदर्शनकारियों के एक समूह पर लाठियां चलाईं। खबरों के अनुसार प्रदर्शनकारी 2019 में हुई उत्तर प्रदेश शिक्षक प्रवेश परीक्षा में कथित अनियमितताओं को लेकर मार्च निकाल रहे थे। कांग्रेस नेता ने घटना का कथित वीडियो साझा करते हुए हिंदी में ट्वीट किया, ”रोज़गार मांगने वालों को उत्तर प्रदेश सरकार ने लाठियां दीं। जब भाजपा वोट मांगने आए तो याद रखना।

उत्तराखंड में भारी बारिश होने की संभावना जारी

पंकज कपूर      देहरादून। उत्तराखंड में रविवार व सोमवार को मौसम फिर करवट बदल सकता है। पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश हो सकती है। कुछ मैदानी इलाकों में भी बारिश होने की संभावना है। प्रदेश के 2500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो सकती है। मौसम विभाग ने इसको लेकर यलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, रविवार को राज्य के अनेक हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश, बर्फबारी हो सकती है।

2500 मीटर की ऊंचाई से ऊपर के इलाकों में बर्फबारी होने का अनुमान है। छह दिसम्बर को भी राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों के 2500 मीटर से ऊपर के इलाकों में बर्फबारी व अन्य इलाकों में बारिश हो सकती है। इस दौरान ऊंचाई वाले हिस्सों बर्फ जमा होने के कारण सड़कें अवरुद्ध हो सकती हैं। कम तापमान और सर्द हवाएं सुबह शाम ठंड में इजाफा कर सकती हैं। हालांकि 7 दिसम्बर को प्रदेश में मौसम शुष्क रहने का अनुमान है।

84.8 प्रतिशत से अधिक आबादी को पहली खुराक

अकांशु उपाध्याय         नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण रोधी टीके की 127.61 करोड़ से अधिक खुराक दिए जाने के बीच रविवार को कहा कि देश में 50 प्रतिशत से अधिक पात्र वयस्क आबादी का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि देश में 84.8 प्रतिशत से अधिक वयस्क आबादी को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है।

मांडविया ने ट्वीट किया ” बधाई हो भारत। यह बेहद गर्व का क्षण है क्योंकि 50 प्रतिशत से अधिक पात्र आबादी का पूर्ण टीकाकरण हो गया है। हम साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई जीतेंगे।” सुबह सात बजे तक की एक रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे की अवधि में टीके की 1,04,18,707 खुराक दिए जाने के साथ ही देश में अब तक दी जा चुकी खुराकों की संख्या 127.61 करोड़ के पार हो गई है। मंत्रालय के अनुसार यह उपलब्धि 1,32,44,514 सत्रों में हासिल की गई। गौरतलब है कि देशव्यापी टीकाकरण अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से की गई थी और पहले चरण में स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारियों का टीकाकरण किया गया था। 

इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के फायदें: गडकरी

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री ने इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के फायदों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि पेट्रोल से इलेक्ट्रिक वाहन चलाना कितना सस्ता है और यह आपको कितना बचाता है।केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को 9वें एजेंडा आजतक में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के फायदों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि पेट्रोल से इलेक्ट्रिक वाहन चलाना कितना सस्ता है और यह आपको कितना बचाता है।

देश में इलेक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देने पर नितिन गडकरी ने कहा कि फिलहाल हम देश में 8 लाख करोड़ रुपये के पेट्रोलियम का आयात करते हैं। आने वाले वर्षों में इसे बढ़ाकर 25 लाख करोड़ रुपये करना चाहिए, यह कोई बड़ी बात नहीं है। इसलिए हमें विकल्प पर ध्यान देना होगा ताकि देश के लोगों को एक स्थायी जीवन दिया जा सके।उन्होंने कहा कि आने पर सरकार पेट्रोल-डीजल वाहनों को नहीं रोकेगी। बल्कि यह भी एक विकल्प होगा। इसके अलावा वैकल्पिक ईंधन, जैव ईंधन और फ्लेक्स ईंधन इंजन जैसे विचारों पर भी अध्ययन जारी है।

गडकरी ने कहा कि अब अगर आप पेट्रोल कार चलाते हैं तो 1 किमी जाने का खर्च 10 रुपये आता है। डीजल पर इतना ही खर्च 7 रुपये है। ऐसे में इलेक्ट्रिक वाहन की कीमत मात्र 1 रुपये प्रति किलोमीटर है। अगर पेट्रोल कार पर आपका मासिक खर्च 20,000 रुपये है। तो इलेक्ट्रिक वाहन पर यह खर्च 1500 से 2000 रुपए होगा। इससे आपको हर महीने 18000 रुपये की बचत होगी।

सीएम ममता के अब 'कोई संप्रग नहीं': भूपेश

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के ‘अब कोई संप्रग नहीं है’ वाले बयान के बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन पर निशाना साधते हुए रविवार को कहा कि तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष को यह स्पष्ट करना चाहिए कि वह सत्ता में बैठे लोगों से मुकाबला करके अपनी पार्टी को मुख्य विपक्षी दल बनाना चाहती हैं या फिर विपक्ष के अन्य दलों से लड़कर।

भूपेश बघेल ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस के बिना कोई भी विपक्षी गठबंधन बनाना संभव ही नहीं है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से मुकाबला करने के लिए गठबंधन का प्रमुख स्तंभ कांग्रेस को ही बनना होगा। बघेल ने ‘पीटीआई-भाषा’ को दिए साक्षात्कार में कहा कि 2024 के आम चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सामना करने के लिए विपक्षी खेमे का चेहरा कौन होगा, इसका निर्णय सोनिया गांधी की अध्यक्षता में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) मिलकर करेगा।

बनर्जी ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार से बुधवार को मुंबई में मुलाकात की थी और कांग्रेस नेतृत्व पर परोक्ष रूप से तंज कसते हुए था। अब कोई संप्रग नहीं है। बनर्जी की टिप्पणियों के बारे में बघेल ने कहा कि मैं ममता बनर्जी से कहना चाहता हूं कि आप मुख्य विपक्षी दल बनना चाहते हैं तो यह बहुत अच्छी बात है। यदि आप किसी योजना के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं, सपना देखना चाहते हैं तो इसका भी स्वागत किया जाएगा लेकिन सवाल यह है कि आप मुख्य विपक्षी दल सत्ता में बैठे लोगों के साथ मुकाबला करके बनना चाहते हैं या फिर साथी विपक्षी दलों के साथ लड़कर।


खेल: टेनिस प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बनाईं

खेल: टेनिस प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बनाईं

मैड्रिड। आंद्रे रूबलेव और दानिल मेदवेदेव की एकल मैचों में जीत से रूस ने जर्मनी को 2-1 से हराकर डेविस कप टेनिस प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बनाई। रूबलेव ने पहले एकल मैच में डोमिनिक कोफर को 6-4, 6-0 से हराया।जिसके बाद मेदवेदेव ने जान लेनार्ड स्ट्रफ को 6-4, 6-4 से हराकर रूस की जीत सुनिश्चित की।

जर्मनी के केविन क्राविट्ज और टिम पुएट्ज ने असलान करात्सेव और कारेन खाचनोव को युगल मुकाबले में 4-6, 6-3, 6-4 से हराया लेकिन इससे वह हार का अंतर ही कम कर पाये। रूस फाइनल में क्रोएशिया का सामना करेगा जिसने नोवाक जोकोविच की अगुवाई वाले सर्बिया को हराया। रूस और क्रोएशिया अपने तीसरे डेविस कप खिताब के लिये एक दूसरे का सामना करेंगे।


सर्दियों में ड्राईनेस की समस्या, जानिए उपाय

मो. रियाज        सर्दियों में ड्राईनेस की समस्या सभी के लिए आम है। वहीं प्रदूषण के प्रभाव से स्किन में न सिर्फ ड्राईनेस बढ़ती है, ​बल्कि स्किन डल भी लगने लगती है। ऐसे में चेहरे की सारी रौनक गायब हो जाती है। हालांकि बाजार में कई तरह की क्रीम मिल रही है, जो स्किन की ड्राईनेस को कुछ ही समय में दूर कर देती हैं लेकिन इन क्रीमस का ज्यादा देर तक असर नहीं रहता है। तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे प्राकृतिक नुस्खों के बारे में जो आपकी त्वचा को अंदर से मॉइश्चराइज करते हैं और चमकदार बनाते हैं।

खीरा: खीरा आपके चेहरे को चमकदार बनाता है। ये चेहरे पर ताजगी लाता है और गंदगी को दूर करता है। खीरे के रस को दही में मिक्स करके लगाने से स्किन शाइनी होती है और अंदर तक इसे नमी मिलती है।

कच्चा दूध: कच्चा दूध स्किन के लिए वरदान होता है। इसमें तमाम पोषक तत्व होते हैं जो आपकी स्किन को पोषण देने का काम करते हैं। दूध में मौजूद लैक्टिक एसिड, कई तरह के विटामिन और प्रोटीन स्किन को एक्सफोलिएट करते हैं और हाइड्रेट रखते है। कच्चा दूध आपकी स्किन से गंदगी को हटा देता है और एक बेहतरीन टोनर का काम करता है। इसे स्किन पर लगाकर कुछ देर के लिए ऐसे ही छोड़ दें, इसके बाद चेहरे को पानी से धो लें।

शहद: शहद आपकी त्वचा में नमी को सील करने का काम करता है। ये एक्जिमा और सोरियासिस जैसी स्किन प्रॉब्लम्स को भी दूर करने का काम करता है। रोजाना आधा चम्मच शहद थोड़े से पानी में मिक्स करके चेहरे पर लगाने से चेहरे को नमी मिलती है। ड्राईनेस दूर होती है। अगर चेहरा ज्यादा ड्राई है तो आप इसमें दूध मिक्स करके लगा सकती हैं।


‘एक चीन’ नीति को लेकर प्रतिबद्ध हैं अमेरिका

 ‘एक चीन’ नीति को लेकर प्रतिबद्ध हैं अमेरिका

अखिलेश पांंडेय          वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन ने शनिवार को कहा कि पेंटागन उच्च प्रौद्योगिकी प्रणालियों को विकसित करने के लिए निजी उद्योग के साथ मिलकर बेहतर तरीके से काम करने का इरादा रखता है और चीन पर प्रतिस्पर्धी बढ़त बनाए रखने के लिए हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोगियों के साथ संबंध मजबूत करना चाहता है। रक्षा मंत्री ने कैलिफोर्निया में ‘रीगन नेशनल डिफेंस फोरम’ में कहा कि क्षेत्र में और खासकर स्वशासी ताइवान के निकट चीन की सैन्य गतिविधियां और उसके आक्रामक कदम परेशान करने वाले हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका लंबे समय से चली आ रही ‘एक चीन’ नीति को लेकर अब भी प्रतिबद्ध है तथा इसके साथ ही वह ताइवान को अपनी रक्षा करने में और सक्षम बनाना चाहता है।

ऑस्टिन ने कहा, ‘‘चीन की ओर से पेश चुनौती को हम साफ-साफ देख पा रहे हैं, लेकिन चीन का कद बड़ा नहीं है, कद अमेरिका का बड़ा है। अमेरिका ऐसा देश नहीं है जो प्रतिस्पर्धा से घबराता हो। हम इसे आत्मविश्वास और संकल्प के साथ पछाड़ेंगे। हम निराश नहीं होंगे और न ही घबराएंगे।’’ ऑस्टिन ने यह बात ऐसे समय में कही, जब चीन की बढ़ती सैन्य और आर्थिक शक्ति से निपटने के लिए अमेरिका संघर्ष कर रहा है। चीन अंतरिक्ष, साइबर और परमाणु क्षमताओं के क्षेत्र में भी आगे बढ़ रहा है और अमेरिका उससे सीधा आमना-सामना होने से बच रहा है।

वीडियो कॉल के माध्यम से बातचीत करेंगे 'राष्ट्रपति'

सुनील श्रीवास्तव       मॉस्को। यूक्रेन की सीमा पर रूसी बलों की मौजूदगी बढ़ने के कारण अमेरिका और रूस के बीच बढ़े तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन मंगलवार को वीडियो कॉल के माध्यम से बातचीत करेंगे। व्हाइट हाउस और क्रेमलिन ने इस बात की पुष्टि की है। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने शनिवार को कहा कि बाइडन सीमा पर रूसी सैन्य गतिविधियों को लेकर अमेरिका की चिंता व्यक्त करेंगे और ‘‘यूक्रेन की संप्रभुता एवं क्षेत्रीय अखंडता के लिए अमेरिकी सहयोग की पुन: पुष्टि’’ करेंगे। वहीं, पुतिन इस बातचीत के दौरान अपनी चिंताएं व्यक्त करेंगे और उनका नाटो सैन्य गठबंधन में यूक्रेन को शामिल करने के हर प्रकार के कदम को लेकर विरोध प्रकट करने का इरादा है। क्रेमलिन के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने कहा कि दोनों देशों के राष्ट्रपति ‘‘स्वयं फैसला करेंगे’’ कि वार्ता कितनी लंबी चलेगी।

इससे पहले, दोनों नेताओं के बीच वार्ता जुलाई में हुई थी। उस समय बाइडन ने अमेरिका के खिलाफ रैनसमवेयर हमले करने वाले रूसी आपराधिक हैकिंग गिरोहों पर लगाम लगाने के लिए पुतिन पर दबाव डाला था। रूस इस बात का दबाव बना रहा है कि अमेरिका यूक्रेन को नाटो में शामिल नहीं किए जाने की गारंटी दे, लेकिन नाटो के महासचिव जेन्स स्टोल्टेनबर्ग ने पिछले सप्ताह कहा था कि यदि अन्य देश या गठबंधन विस्तार करना चाहते हैं, तो रूस का इससे कोई लेना-देना नहीं होना चाहिए।

बाडइन प्रशासन के एक अधिकारी के अनुसार, अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने पता लगाया है कि रूस ने यूक्रेन के साथ लगती सीमा पर करीब 70 हजार सैनिकों की तैनाती की है और अगले वर्ष की शुरुआत में उसने संभावित आक्रमण की योजना बनाई है। अमेरिका के अधिकारियों और पूर्व अमेरिकी राजनयिकों का कहना है कि रूस के राष्ट्रपति जहां संभावित आक्रमण की तैयारियां कर रहे हैं, वहीं यूक्रेन की सेना पहले की तुलना में ज्यादा हथियारबंद एवं तैयार है और पश्चिमी देशों द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने से रूस की अर्थव्यवस्था को गंभीर नुकसान पहुंचेगा।यूक्रेन के अधिकारियों का कहना है कि रूस अगले महीने आक्रमण कर सकता है। यूक्रेन के रक्षा मंत्री ओलेक्सी रेजनिकोव ने कहा कि यूक्रेन और क्रीमिया के पास रूस के सैनिकों की अनुमानित संख्या 94,300 है और उन्होंने चेतावनी दी कि जनवरी में युद्ध भड़क सकता है। क्रेमलिन ने शुक्रवार को कहा कि बाइडन के साथ फोन पर बातचीत में पुतिन इस बात की गारंटी चाहेंगे कि यूक्रेन को नाटो के विस्तार में शामिल नहीं किया जाए।

यदि रूस यूक्रेन पर हमला करता है, तो बाइडन प्रशासन के पास रूस को वित्तीय नुकसान पहुंचाने के अपने संकल्प को पूरा करने के कई विकल्प हैं, जिनमें पुतिन के सहयोगियों को लक्ष्य बनाने वाले प्रतिबंध लागू करने से लेकर दुनियाभर में धन प्रवाहित करने वाली वित्तीय प्रणाली से रूस को काटना शामिल है। अमेरिका और उसके यूरोपीय सहयोगियों ने यूक्रेन पर रूसी हमले की स्थिति में कोई सैन्य कदम उठाने की घोषणा नहीं की है, लेकिन वे उसे वित्तीय नुकसान पहुंचा सकते हैं। अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने इस सप्ताह कहा था, ‘‘हम अत्यधिक प्रभावित करने वाले वे वित्तीय कदम उठाएंगे, जिन्हें हम अतीत में उठाने से बचते रहे हैं।’’

बाइडन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के लिए यूक्रेन में सैन्य कार्रवाई को “बेहद कठिन” बनाने का शुक्रवार को संकल्प लिया था और कहा था कि उनका प्रशासन रूस के आक्रमण को रोकने के लिए व्यापक कदम उठा रहा है। बाइडन ने कहा था कि वह व्यापक और सार्थक कदम उठा रहे हैं जिससे पुतिन के लिए आगे बढ़ना और लोगों को चिंतित करने वाले कदम उठाना बहुत मुश्किल हो जाएगा।

अफ्रीका व यूरोप के कई देशों में खलबली: ओमिक्रोन

अखिलेश पांंडेय          प्रिटोरिया। कोराना वायरस के 'अत्यंत संक्रामक' बताए जा रहे नए वेरिएंट 'ओमीक्रोन'  को लेकर जहां अफ्रीका और यूरोप के कई देशों में खलबली मची है। वहीं इसने भारत में भी दस्तक देकर सरकार और प्रशासन के साथ ही आमजन की चिंता बढ़ा दी है। इसकी संक्रामक प्रवृत्ति और स्वास्थ्य पर इसके प्रभाव को लेकर देश में तमाम तरह की आशंकाएं व्यक्त की जा रही हैं। इन्हीं सब मुद्दों पर पब्लिक हेल्थ ौौ ऑफ इंडिया के अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के हृदय रोग विज्ञान (कार्डियोलॉजी) विभाग के पूर्व प्रोफेसर के. श्रीनाथ रेड्डी ने न्यूज एजेंसी पीटीआई से बातचीत की।

सवाल ओमीक्रोन ने भारत में दस्तक दे दी है और इसे लेकर दहशत का माहौल है क्योंकि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे बेहद संक्रामक बताते हुए चिंता जताई है। इस बारे में आपका क्या कहना है। जवाब जहां तक इसकी संक्रामक क्षमता का सवाल है तो यह सही है कि यह ज्यादा संक्रामक है। दक्षिण अफ्रीका और यूरोप के देशों में जिस गति से यह फैला है, वह इसका सबूत भी है। वायरस का यह वेरिएंट गंभीर रूप से बीमार करता है, अभी तक इसका कोई संकेत नहीं है। बल्कि अभी तक जो भी चीजें सामने आई हैं, उससे पता चलता है कि कि संक्रमित लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराने की बहुत ज्यादा आवश्यकता नहीं पड़ी और इससे लोगों की जान नहीं जा रही है, जैसा कि हमें वायरस के डेल्टा वेरिएंट में देखने को मिला था। रही बात टीकों के प्रभाव की तो यह संभावना ज्यादा है कि टीकों का असर कम हो जाए। क्योंकि टीकों से बनने वाले एंटीबॉडी का स्तर कुछ समय बाद कम हो जाता है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि टीके वायरस से पूरी तरह हार जाएंगे।

सवाल इससे पहले कि ओमीक्रोन खतरनाक रूप धारण करे, सरकार को तत्काल क्या कदम उठाने चाहिए। अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर भी प्रतिबंध की बात उठ रही है। इसलिए मास्क पहनकर चलें ताकि वायरस हमारे शरीर में प्रवेश नहीं कर सके। भीड़-भाड़ वाले जो कार्यक्रम हैं, उन पर प्रतिबंध लगना चाहिए। टीकाकरण की गति बढ़नी चाहिए। स्वास्थ्य पर इसके असर की लगातार निगरानी करते रहनी होगी। संक्रमण भले ही फैले लेकिन अगर यह लोगों को गंभीर रूप से बीमार नहीं कर रहा है तो घर में ही इलाज का प्रबंध किया जाना चाहिए। बीमारी तीव्र हो तो जरूर अस्पतालों का भी प्रबंध किया जाना चाहिए। रही बात अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने कि तो मेरा मानना है। इससे कुछ फायदा नहीं होने वाला है। चीन में जब यह महामारी आई तो कई देशों ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया था, ब्रिटेन में अल्फा वेरिएंट आया तब भी हमने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया और डेल्टा वेरिएंट के मामले में भी यही किया लेकिन इसके बावजूद हम इसे फैलने से नहीं रोक सके। लेकिन इसकी गति को हम थोड़ा कम कर सकते हैं, उड़ानों पर प्रतिबंध लगाकर। प्रतिबंध लगाने की बजाय जो यात्री विदेशों से आ रहे हैं, उनकी जांच की जाए और उनमें रोगों के लक्षण का पता लगाया जाए। उनके संपर्कों का पता किया जाना चाहिए।

सवाल। जब भी वायरस का कोई नया वेरिएंट सामने आता है, देश में यह बहस छिड़ जाती है कि टीके इसके खिलाफ कारगर हैं या नहीं। अगर हैं तो कौन सा टीका अत्यधिक प्रभावी है। बूस्टर खुराक की भी चर्चा होने लगती है। आप क्या कहेंगे। जवाब मैं पिछले अप्रैल महीने से ही कह रहा हूं कि ये जो टीके बने हैं या फिर जिनका हम दुनिया भर में इस्तेमाल कर रहे हैं, वे गंभीर बीमारी को रोक सकते हैं लेकिन वायरस का संक्रमण फैलने से नहीं रोक सकते। संक्रमण को फैलने से रोकने का काम मास्क ही कर सकता है और टीका हमें सुरक्षा प्रदान करता है। इसलिए हमें टीके भी लगवाने हैं और मास्क भी पहनना है। रही बात बूस्टर खुराक की तो यह टीकों के प्रभाव पर निर्भर करता है।कुछ टीके हैं जो तेजी से एंटीबॉडीज बढ़ा देते हैं। कुछ हैं कि जिनमें एंटीबॉडी का स्तर कुछ महीनों के बाद खत्म भी हो जाता है। टीके-टीके में फर्क है और व्यक्ति-व्यक्ति में भी फर्क है। बूस्टर खुराक देने से पहले यह देखना जरूरी होगा कि ओमीक्रोन कितने गंभीर रूप से बीमार कर रहा है।

सवाल: देशव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक टीकों की 126.53 करोड़ से अधिक खुराक लगाई गई हैं। इनमें से दोनों खुराक सिर्फ 46,88,15,845 लोगों को ही दी गई हैं जबकि 79,56,76, 342 लोगों ने पहली खुराक ली है। इस बारे में आपकी राय। जवाब हमें जल्दी से जल्दी टीकों की दोनों खुराक देनी होंगी। टीकाकरण कार्यक्रम को जल्द से जल्द पूरा किया जाना आवश्यक है। अगर यह साबित होता है कि ओमीक्रोन से स्वास्थ्य को गंभीर खतरा पैदा हो रहा है, तो बूस्टर खुराक शुरू कर सकते हैं। इसमें भी 60 साल से अधिक उम्र या गंभीर बीमारी वालों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए।

सवाल लोगों के मन में बार-बार यह सवाल उठ रहा है कि क्या हर साल कोरोना वायरस का कोई न कोई वेरिएंट आता रहेगा और हम इसी प्रकार भय के साये में जीने को मजबूर रहेंगे। इसके खतरे को हम जरूर कम कर सकते हैं और उसे संकेत दे सकते हैं कि तुम्हें हमारे बीच में रहना है तो बीमारी ज्यादा मत फैलाओ, फिलहाल, घबराने वाली बात नहीं है क्योंकि ओमीक्रोन से अभी तक स्वास्थ्य पर बहुत गंभीर असर नहीं देखा गया है। यह हमारे लिए अच्छा संकेत है। इसलिए मास्क पहनें, भीड़-भाड़ से दूर रहें और टीका लगवाएं।

विभिन्न पदों पर भर्ती, उम्मीदवारों से आवेदन मांगे

विभिन्न पदों पर भर्ती, उम्मीदवारों से आवेदन मांगे 
अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। भारतीय डाक में नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए बिहार सर्कल में विभिन्न पदों पर भर्ती के लिए योग्य उम्मीदवारों से आवेदन मांगे हैं। इस प्रक्रिया के माध्यम से कुल 60 रिक्त पदों पर भर्ती की जाएगी। जिसमें, पोस्टल असिस्टेंट के 31 पद, सॉर्टिंग असिस्टेंट के 11 पद , पोस्टमैन के 5 पद और मल्टी टास्किंग स्टाफ के 13 पद शामिल हैं।
इसके अलावा डाक विभाग, पश्चिम बंगाल ने पोस्टल असिस्टेंट के 51 पद, सॉर्टिंग असिस्टेंट के 25 पद और पोस्टमैन के 48 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है। साथ ही जम्मू और कश्मीर सर्कल में भी स्पोर्ट्स कोटा के तहत पोस्टल असिस्टेंट के कुल 5 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया जारी है। भारतीय डाक में असिस्टेंट / सॉर्टिंग असिस्टेंट और पोस्टमैन पदों पर भर्ती के लिए उम्मीदवार किसी मान्यता मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 12वीं पास होना चाहिए। जबकि, मल्टी टास्किंग स्टाफ पद के लिए कक्षा 10वीं पास भी आवेदन कर सकते हैं। 
इच्छुक उम्मीदवार के लिए 31 दिसंबर 2021 तक अपना आवेदन नोटिफिकेशन में दिए गए पते पर भेज सकते हैं। हालांकि, आवेदन शुल्क जमा करने की आखिरी तारीख 21 दिसंबर 2021 है। 24 दिसंबर तक या उससे पहले निर्धारित फॉर्मेट में आवेदन कर सकते हैं। जबकि, जम्मू कश्मीर पोस्टल सर्कल के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख 20 दिसंबर 2021 है। अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट चेक करें।
नोटिफिकेशन के अनुसार, एमटीएस पदों के लिए उम्मीदवार की आयु 18 साल से 25 साल के बीच होनी चाहिए। अन्य पदों के लिए न्यूनतम आयु 18 साल और अधिकतम आयु 27 साल निर्धारित की गई है। 

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,46,33,255 हुईं

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 8,895 नए मामले सामने आने से जहां कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,46,33,255 हो गई, वहीं बिहार में आंकड़ों का पुनर्मिलान किए जाने के बाद देश में एक दिन में संक्रमण से मृत्यु के 2,796 मामले सामने आने के बाद महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 4,73,326 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार सुबह आठ बजे अद्यतन आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई। इससे पहले 21 जुलाई को भारत में एक दिन में संक्रमण से मृत्यु के 3,998 मामले सामने आए थे। तब महाराष्ट्र राज्य ने अपने कोविड आंकड़ों का 14वीं बार पुनर्मिलान किया था। मंत्रालय ने बताया कि मृत्यु के 2,796 मामलों में बिहार के 2,426 मामले जोड़े गए हैं जिन्हें रविवार के आंकड़ों में शामिल किया गया। केरल में भी मृत्यु के पिछले 263 मामले शामिल किए गए हैं। इस वजह से देशभर में संक्रमितों की मृत्यु का आंकड़ा बढ़ गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, लगातार 161 दिन से देश में कोरोना वायरस संक्रमण के दैनिक मामलों की संख्या 50,000 से कम बनी हुई है। इस समय देश में महामारी के 99,155 मरीज उपचाराधीन हैं। यह संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 0.29 प्रतिशत है और पिछले साल मार्च के बाद सबसे कम है। संक्रमण से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.35 प्रतिशत है। मंत्रालय ने कहा कि 24 घंटे की अवधि में कोविड-19 के उपचाराधीन रोगियों की संख्या में 819 की कमी आई है। दैनिक संक्रमण दर 0.73 प्रतिशत रही जो पिछले 62 दिन से दो प्रतिशत से कम बनी हुई है। साप्ताहिक संक्रमण दर 0.80 फीसद रही। मंत्रालय के अनुसार, यह पिछले 21 दिन से एक प्रतिशत से कम बनी हुई है। कोरोना वायरस संक्रमण से अब तक 3,40,60,774 रोगी उबर चुके हैं, वहीं संक्रमण से मृत्यु दर बढ़कर 1.37 प्रतिशत हो गई है। देश में अब तक कोविड-19 रोधी टीकों की 127.61 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं।

नए साल के पहले दिन से बैंकों के नियमों में बदलाव

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। नए साल के पहले दिन से ही बैंकों के नियमों में बदलाव आएगा और अब पैसे निकालने के लिए बैंक के एटीएम का इस्तेमाल करना महंगा पड़ सकता है। पहली जनवरी से बैंक एटीएम से ट्रांजेक्शन के नियमों में बदलाव करने वाले हैं। जिसमें ट्रांजेक्शन की बढ़ी हुई फीस भी शामिल है।

दरअसल रिजर्व बैंक ने  पहली जनवरी से फ्री लिमिट के बाद एटीएम ट्रांजेक्शन पर फीस बढ़ाने को मंजूरी दे दी है। जिसके बाद बैंक एटीएम से फ्री लिमिट के बाद किये जाने वाले ट्रांजेक्शन को पहली जनवरी से महंगा कर देंगे और आपको फीस चुकानी होगी। आरबीआई ने बैंकों को 1 जनवरी, 2022 से फ्री मंथली लिमिट के बाद कैश और नॉन-कैश एटीएम लेनदेन पर लागू शुल्क में बढोतरी करने की मंजूरी दे दी है। आरबीआई के निर्देशों के अनुसार ही, एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को एसएमएस भेजकर यह बताना शुरू कर दिया है कि एक्सिस बैंक या अन्य बैंक के एटीएम से तय फ्री लिमिट के बाद किए जाने वाले लेनदेन पर एक जनवरी, 2022 से 21 रूपए का शुल्क और जीएसटी देना होगा। पहले यह शुल्क 20 रूपए था।

 के रूप में  मूल्यवृद्धि क्यों की जा रही है। इसे ऐसे समझिए-इस साल एक अगस्त, 2021 से आरबीआई ने बैंकों को वित्तीय ट्राजेक्शन के लिए प्रति लेनदेन इंटरचेंज शुल्क को 15 रूपए से बढ़ाकर 17 रूपए और गैर-वित्तीय ट्रांजेक्शन के लिए प्रति लेनदेन शुल्क 5 रूपए से बढाकर 6 रूपए कर दिया है। इसके अलावा महानगरों में रहने वाले बैंक उपभोक्ताओं को अन्य बैंक के एटीीीएममसे माह में तीन फ्री और छोटे नगरों में 5 फ्री लेनदेन करने की सुविधा भी जारी रहेगी।

शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव जारी रहने के आसार 
अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन को लेकर अनिश्चितता के बीच इस सप्ताह शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव जारी रहने के आसार हैं। इसके अलावा सप्ताह के दौरान रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक भी है, जो मुख्य रूप से शेयर बाजारों को दिशा देगी। विश्लेषकों ने यह राय जताई है।

विश्लेषकों ने कहा कि यह सप्ताह काफी घटनाक्रमों वाला रहेगा। मौद्रिक समीक्षा के अलावा सप्ताह के दौरान कई वृहद आर्थिक आंकड़े भी आने हैं। स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, ‘‘ओमीक्रोन को लेकर अनिश्चितता, रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा तथा वृहद आर्थिक आंकड़ों के बीच बाजार में उतार-चढ़ाव रहने की संभावना है। ओमीक्रोन को लेकर काफी खबरें आ रही हैं, जो बाजार में अनिश्चितता पैदा कर रही हैं। वहीं घरेलू मोर्चे पर मौद्रिक समीक्षा बैठक महत्वपूर्ण होगी। केंद्रीय बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के नतीजे आठ दिसंबर को आएंगे।’’

मीणा ने कहा, ‘‘इस सप्ताह औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) और मुद्रास्फीति के आंकड़े भी आने हैं। हालांकि, ये आंकड़े शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद जारी किए जाएंगे।’’ भारत में ओमीक्रोन का पहला मामला सामने आने के बाद शुक्रवार को शेयर बाजारों में गिरावट आई थी।रेलिगेयर ब्रोकिंग के उपाध्यक्ष शोध अजित मिश्रा ने कहा, ‘‘हमारा अनुमान है कि इस सप्ताह बाजार में काफी उतार-चढ़ाव रहेगा। सप्ताह के दौरान कई महत्वपूर्ण आर्थिक आंकड़े आने हैं। बाजार भागीदारों की निगाह रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा पर रहेगी। वृहद आर्थिक मोर्चे पर 10 दिसंबर को आईआईपी तथा मुद्रास्फीति के आंकड़े आने हैं।’’ सैमको सिक्योरिटीज में इक्विटी शोध प्रमुख येशा शाह ने कहा कि कई आर्थिक आंकड़ों तथा घटनाक्रमों की वजह से बाजार भागीदारों को इस सप्ताह में उतार-चढ़ाव के लिए तैयार रहना चाहिए। बाजार के खिलाड़ी रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा के नतीजों से चीजों को समझने की कोशिश करेंगे।

पिछले सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 589.31 अंक या 1.03 प्रतिशत के लाभ में रहा। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की बैठक इस सप्ताह होने वाली है। आने वाले दिनों में यह बाजार के लिए एक प्रमुख उत्प्रेरक रहेगी। वायरस के नए स्वरूप के बीच निवेशकों को मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के नतीजों का इंतजार रहेगा।’’ उन्होंने बताया कि सप्ताह के दौरान नवंबर के मुद्रास्फीति आंकड़े तथा अक्टूबर के लिए औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े आएंगे।

दिल्ली: नए वेरिएंट ओमिक्रोन की एंट्री हुईं, संक्रमण

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन की एंट्री हो गई है। जानकारी के मुताबिक मरीज को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने रविवार इस बात की जानकारी दी है। ओमिक्रॉन का पता लगाने वाली दक्षिण अफ्रीका की डॉक्टर ने बताया कि फिलहाल मरीजों में हल्के लक्षण ही देखे जा रहे हैं। इस वैरिएंट से संक्रमित लोग गंभीर रूप से बीमार नहीं पड़े हैं।

डब्ल्यूएचओ ने ओमिक्रॉन को 'वैरिएंट ऑफ कंसर्न' (चिंताजनक) की कैटिगरी में डाला है। ओमिक्रॉन वैरिएंट को लेकर अभी कुछ भी सही तरीके से स्पष्ट नहीं है। हालांकि, प्रारंभिक साक्ष्य इस बात की संभावना को बढ़ाते हैं कि इस वैरिएंट में ऐसे म्यूटेशन हैं जो इम्यून सिस्टम रिस्पॉन्स से बच सकते हैं और एक से दूसरे व्यक्ति में इसे फैलाने की क्षमता को बढ़ा सकते हैं।

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का असर नई साल में दिखना शुरू हो जाएगा। जनवरी 2022 के अंतिम सप्ताह और फरवरी की शुरुआत में इस वैरिएंट से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या पीक पर होगी। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) कानपुर में कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग विभाग में प्रोफेसर और डिप्टी डायरेक्टर मनिंदर अग्रवाल ने यह दावा किया है।
प्रो. मनिंदर अग्रवाल के मुताबिक, ओमिक्रॉन वैरिएंट के तेजी फैलने के लक्षण तो हैं, लेकिन ज्यादा घातक नहीं दिख रहे। इस वैरिएंट के हर्ड इम्यूनिटी को बाईपास करने की संभावना कम है। हालांकि, इसके फैलने के लक्षण ज्यादा हैं और अभी तक साउथ अफ्रीका से लेकर दुनिया भर में जहां भी यह फैला है, इसके लक्षण गंभीर नहीं बल्कि हल्के देखे गए हैं।
आईआईटी प्रोफेसर की रिसर्च के अनुसार, भारत में इसकी गंभीरता ज्यादा होने की संभावना कम है, क्योंकि 80 फ़ीसदी लोगों में नेचुरल इम्यूनिटी डेवलप हो चुकी है। ऐसे में अगर इसकी लहर आती भी है तो इसका असर दूसरी लहर के डेल्टा वैरिएंट जैसा नहीं होगा। प्रो. अग्रवाल ने पहली और दूसरी लहर में भी अपनी रिसर्च जारी की थी, तब भी उनकी गणना काफी हद तक सही साबित हुई थी।
मालूम हो कि दक्षिण अफ्रीका से निकला यह वैरिएंट दुनिया के तकरीबन 30 देशों तक पहुंच चुका है। भारत के कर्नाटक, गुजरात, महाराष्ट्र में भी इस वैरिएंट के 4 केस मिल चुके हैं। इन मरीजों में फिलहाल हल्के लक्षण देखे गए हैं जिन्हें उचित तरीके से इलाज दिया जा रहा है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-48, (वर्ष-05)
2. सोमवार, नवंबर 6, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-तीज, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:48, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान -13 डी.सै., अधिकतम-26+ डी.सै.।  
बर्फबारी व शीतलहर के साथ कहीं- कहीं तेज बारिश की संभावना।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवाशुं के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

यूके: कोरोना एक्टिव केसों की संख्या-30,927 हुईं

यूके: कोरोना एक्टिव केसों की संख्या-30,927 हुईं पंकज कपूर            देहरादून।  राज्य में पिछले 24 घंटों में कोरोना से 7 संक्रमितों की मौत ह...