शुक्रवार, 11 मार्च 2022

वृंदावन की लट्ठमार होली 'कविता'

वृंदावन की लट्ठमार होली      'कविता'

फूल खिले हैं पलास के,
केसरिया और रंग लाल।
खूब डुबोकर भिगा दिए,
बना दिया गुलाल।

फाग खेलकर थक गए,
तीन रंग का चैत्र करें निढाल।
गोरी-गोरी बाहें, 
'गौरी' के गाल लाल-लाल।

होरी खेरे सखा संग नंदलाल,
होरे शा, रा, रा, रा, 
होरे शा, रा, रा, रा।
चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भयपुत्र'

लट्ठमार होली की हार्दिक शुभकामनाएं।

भाजपा पर ईवीएम में धांधली करने का आरोप लगाया

भाजपा पर ईवीएम में धांधली करने का आरोप लगाया    

हरिओम उपाध्याय             

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों में से चार राज्यों में विधानसभा चुनावों के नतीजे भाजपा के पक्ष में आने के बाद विपक्षी दल व उनके समर्थक मीडिया चैनल अब बीजेपी पर तरह-तरह के आरोप लगा रहे हैं। कभी बूथ कैप्चरिंग के कारण चुनाव जीतने वाले दलों का गुस्सा सबसे पहले ईवीएम पर फूटता है। समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव मतगणना से पहले ही ईवीएम में छेड़छाड़ का आरोप लगा चुके हैं। अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी भारतीय जनता पार्टी पर ईवीएम में धांधली करने का आरोप लगाया है। सीएम बंगाल ने कहा कि चार राज्यों में भाजपा की जीत के पीछे विशाल जनादेश नहीं, मशीनरी जनादेश रही। ममता बनर्जी ने जोर देकर कहा कि “केंद्रीय एजेंसियों का उपयोग करके और तानाशाही के माध्यम से” चुनाव जीतना भाजपा को 2024 की जीत तक नहीं पहुंचाएगा।एक निजी चैनल से हुई बातचीत में ममता बनर्जी ने कहा कि यह एक लोकप्रिय जनादेश नहीं है, यह एक मशीनरी जनादेश है। 

सिर्फ इसलिए कि उन्होंने केंद्रीय एजेंसियों का उपयोग करके और तानाशाही के माध्यम से कुछ राज्यों को जीत लिया है, वे यह सोचकर खुशी से झूम रहे होंगे कि वे 2024 भी जीतेंगे‌। लेकिन यह इतना आसान नहीं होने वाला है। ममता बनर्जी ने कहा कि मुझे लगता है कि अखिलेश यादव को जबरन हराया गया था। उसे इसे चुनौती देनी चाहिए। ईवीएम की फोरेंसिक जांच होनी चाहिए। ममता बनर्जी ने अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी को अपना समर्थन दिया था, वाराणसी में एक रैली में भाग लिया था और सपा की संभावनाओं को बेहतर बनाने के लिए अपने उम्मीदवार नहीं उतारे थे।

आयुक्त ने निर्माण कार्यो की व्यवस्था का जायजा लिया

आयुक्त ने निर्माण कार्यो की व्यवस्था का जायजा लिया    

अश्वनी उपाध्याय           

गाज़ियाबाद। जिला नगर निगम ने स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 मिशन के तहत शहर को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने के लिए कमर कस ली है। इसके लिए निगम की तैयारियां देखने के लिए नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने शुक्रवार को निगम अधिकारियों के साथ सिटी जोन, विजय नगर जोन की शौचालय, पार्क एवं निर्माण कार्यो की व्यवस्था का जायजा लिया। नगर आयुक्त ने सिटी जोन कालका गढ़ी स्थित शौचालयों का जायजा लिया। जिसमें मौके पर मरम्मत कार्य की आवश्यकता पाई गई। जिसके लिए शहर के समस्त शौचालय में छोटी-मोटी कमियों को पूरा करने के लिए नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथिलेश को 2 दिन का समय दिया गया। विजय नगर जोन में नाले की सफाई व्यवस्था को लेकर तत्काल प्रभाव से कार्य करने के लिए एसएफआई नरेश को निर्देश दिए। पार्कों की सफाई व्यवस्था का जायजा सिटी जोन नंदग्राम के अंतर्गत उद्यान प्रभारी डॉ. अनुज कुमार सिंह समेत पार्कों का जायजा लिया।

जिसमें प्रकाश व्यवस्था सुचारु करने के लिए निर्देश दिए। पार्कों में स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 के मानकों के अनुरूप समस्त व्यवस्थाओं को सुचारु करने के लिए भी निर्देश दिए। नगर आयुक्त ने मुख्य अभियंता निर्माण अधिकारी एन. के चौधरी को शहर में चल रहे समस्त निर्माण कार्यों की गुणवत्ता की जांच करने एवं कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के लिए निर्देश दिए। नगर निगम अधिकारियों के साथ-साथ स्वच्छ भारत मिशन टीम द्वारा शहर स्वच्छता को लेकर किए जा रहे कार्यों का भी जायजा लिया। विजय नगर, सिटी जोन, कविनगर जोन में चल रहे कचरा पृथक्करण अभियान को बढ़ावा देने के लिए निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 के मानकों अनुरूप कार्यवाही में तेजी लाने के लिए संबंधित जोनल प्रभारियों को आदेश दिए।

नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 के लिए सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। अब लोगों की भागीदारी और जिम्मेवारी शुरू होती हैं। स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 शुरू हो चुका है। यह एक ऐसा सर्वे हैजिसमें देशभर के गांवशहरों और कस्बों की स्वच्छता देखी जाती है। इसमें लोग भी सहयोग करें। लोगों के सुझाव और प्रश्नों के उत्तरोंयूजर चार्ज देने समेत अन्य चीजों को ध्यान में रखते हुए यह रैंकिंग अपने शहर को मिलेगी। उन्होंने कहा कि अब शहर वासियों को अपने दायित्व का निर्वाह करना है। नगर निगम ने तो अपने स्तर पर काम कर रहा है। निगम ने कचरे वाले स्थानों को गंदगी से राहत दिलाते हुए इनका सौंदर्यीकरण किया है। सोशल मीडिया पर भी अपडेट किए जा रहे हैं। बिना आप सभी के सहयोग से स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में अपना शहर नंबर 1 नहीं आ सकता है। निरीक्षण के दौरान अपर नगर आयुक्त शिवपूजन यादव, अपर नगर आयुक्त अरुण कुमार यादव भी उपस्थित रहे।

शामली की 3 सीटों पर सपा-रालोद गठबंधन की जीत

शामली की 3 सीटों पर सपा-रालोद गठबंधन की जीत   

भानु प्रताप उपाध्याय      
शामली। जनपद शामली की तीनों विधानसभा सीटों पर सपा-रालोद गठबंधन ने जीत दर्ज की है। शुरूआती दौर में शामली विधानसभा सीट पर ही भाजपा प्रत्याशी बढत बनाये रखें। लेकिन, बाद में मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र की मतगणना में पिछड गए। वही, कैराना व थाना भवन सीट पर गठबंधन प्रत्याशी शुरू से ही बढत बनाकर चले। थाना भवन सीट पर गन्ना मंत्री सुरेश राणा की करारी हार से भाजपा को झटका लगा है।
शामली जिले की तीनों विधानसभा सीटों पर मतगणना कार्य सुबह 8 बजे ही शुरू करा दिया था। शुरूआती दौर में शामली विधानसभा सीट के भाजपा प्रत्याशी तेजेन्द्र निर्वाल बढत बनाकर मुकाबले को रौचक बनाये रखें। वही, कैराना व थाना भवन सीट पर गठबंधन प्रत्याशी शुरू से ही भाजपा प्रत्याशियों को मात देकर बढत लेकर चले। कैराना सीट पर सपा प्रत्याशी नाहिद हसन व भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह के बीच ग्रामीण क्षेत्र में कडी टक्कर रही। कस्बा कैराना में नाहिद हसन ने भाजपा प्रत्याशी को लगभग 18 हजार वोटों की लीड से पीछा कर दिया और अंत में सपा प्रत्याशी नाहिद हसन ने भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह को 28,284 वोटों से मात दे दी। वही शामली विधानसभा सीट पर मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में रालोद प्रत्याशी प्रसन्न चैधरी बढत बना गए और अंत तक जारी रही। मौजूदा विधायक तेजेन्द्र निर्वाल को 7262 वोटों से मात देते हुए रालोद प्रत्याशी प्रसन्न चैधरी ने जीत दर्ज की। थानाभवन विधानसभा सीट पर पहले राउंड में गन्ना मंत्री सुरेश राणा 171 वोटों से ही बढत बना पाये। 
जिसके बाद गठबंधन प्रत्याशी अशरफ अली खान ने गन्ना मंत्री को आगे नही पहुंचने दिया और प्रत्येक राउंड में गन्ना सुरेश राणा को कडी चुनौती देते हुए अंत में 10853 वोटों से जीत दर्ज की। तीनों विजेता प्रत्याशियों को आरओ द्वारा जीत के प्रमाण पत्र दिए गए। तीनों प्रत्याशियों ने संयुक्त रूप से कहा कि यह जीत किसानों के नाम समर्पित है। 36 वर्ग के लोगों ने गठबंधन प्रत्याशियों को जीत दिलाई है।

मनोज की अध्यक्षता में एक भव्य सैंड आर्ट किया

मनोज की अध्यक्षता में एक भव्य सैंड आर्ट किया     

बृजेश केसरवानी        
प्रयागराज। शुक्रवार को इलाहाबाद विश्वविद्यालय दृश्य कला विभाग के छात्र अजय कुमार गुप्ता, उनके मित्र मनोज कुमार की अध्यक्षता में भारतीय जनता पार्टी का पुनः सत्ता में आने की खुशी में एक भव्य सैंड आर्ट किया गया। 
जिसमें उत्तर प्रदेश को सैंड आर्ट में बनाकर भारतीय जनता पार्टी का स्वागत किया‌। साथ ही अजय कुमार गुप्ता ने सरकार से यह अपील की है, कि उत्तर प्रदेश सरकार को कलाकारों के ऊपर भी ध्यान देना चाहिए। ताकि वह लोग अपने कला के माध्यम से जनता को जागरूक कर सकें इस सैंड आर्ट में सहयोगी आशीष  निषाद, बादल सृष्टि सिंह, अंजली यादव, अंकित यादव, शालिनी कुशवाहा मौजूद रही।

सोयाबीन की कीमत में 23 रुपये की गिरावट दर्ज

सोयाबीन की कीमत में 23 रुपये की गिरावट दर्ज 

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली। कमजोर हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों की कटान की जिससे वायदा कारोबार में शुक्रवार को सोयाबीन की कीमत में 23 रुपये की गिरावट के साथ 7,900 रुपये प्रति क्विन्टल रह गई। 

एनसीडीईएक्स में सोयाबीन के मार्च महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 23 रुपये अथवा 0.29 प्रतिशत की गिरावट के साथ 7,900 रुपये प्रति क्विन्टल रह गई जिसमें 605 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार सूत्रों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से मुख्यत: यहां सोयाबीन वायदा कीमतों में गिरावट आई।

मणिपुर के सीएम ने राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा

मणिपुर के सीएम ने राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा   

इकबाल अंसारी        

इंफाल। मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने शुक्रवार को राज्यपाल ला गणेशन को अपना इस्तीफा सौंप दिया। बीरेन सिंह भाजपा विधायक दल के नए नेता की औपचारिक नियुक्ति होने तक कार्यवाहक मुख्यमंत्री के रूप में कार्य करते रहेंगे। राज्यपाल ने कहा कि बीरेन सिंह ने औपचारिकता के तौर पर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि स्थायी व्यवस्था होने तक वे कार्यवाहक मुख्यमंत्री बने रहें।

बीरेन सिंह मार्च-2017 में मणिपुर के मुख्यमंत्री बने थे। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने भाजपा के अभियान का नेतृत्व किया और पार्टी 60 में से 32 सीटें जीतकर पूर्ण बहुमत हासिल करने में सफल रहे। भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व जल्द ही प्रदेश के नेतृत्व पर फैसला कर सकता है।

रूखी त्वचा की समस्या, अपनाएं घरेलू नुस्खे

रूखी त्वचा की समस्या, अपनाएं घरेलू नुस्खे       

सरस्वती उपाध्याय     

कई बार बदलते मौसम के कारण रूखी त्वचा की समस्या का सामना करना पड़ता है। अगर सही समय पर इसका इलाज न किया जाए तो ये फट सकती है या संक्रमित हो सकती है। रूखी त्वचा को मॉइस्चराइज रखना बहुत जरूरी है‌। बहुत से लोग त्वचा को मॉइस्चराइज करने के लिए कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का भी इस्तेमाल करते हैं। हालांकि, ये लंबे समय में त्वचा को काफी नुकसान पहुंचाते हैं। ऐसे में हम घरेलू नुस्खे भी आजमा सकते हैं। ये हमारी त्वचा को न केवल गहराई से पोषण देने का काम करेंगे बल्कि इससे आपके त्वचा ग्लोइंग और मुलायम भी बनी रहेगी।

सूरजमुखी के बीज का तेल...

सूरजमुखी के बीज के तेल का इस्तेमाल आप त्वचा को मॉइस्चराइज करने के लिए कर सकते हैं‌। ये त्वचा को हाइड्रेट और मॉइस्चराइज करने का काम करता है‌।

नारियल का तेल...

रूखी त्वचा के इलाज के लिए नारियल का तेल बहुत ही प्रभावी है. ये त्वचा को हाइड्रेट रखता है। नारियल के तेल में सैचुरेटेड फैटी एसिड होते हैं। ये तेल त्वचा को मॉइस्चराइज करने का काम करता है।

डाइट में दूध करें शामिल...

अपनी डाइट में दूध शामिल करें। ये रूखी त्वचा से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। इसमें फॉस्फोलिपिड नामक फैट होता है, ये त्वचा के लिए फायदेमंद है।

शहद...

शहद में कई गुण होते हैं जो त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं। ये त्वचा संबंधित समस्याओं को दूर करने में मदद करते हैं। शहद मॉइस्चराइजिंग, हीलिंग और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। ये रूखी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है।

पेट्रोलियम जेली...

कई बार बढ़ती उम्र के कारण भी त्वचा रूखी हो जाती है। ऐसे में आप पेट्रोलियम जेली का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये त्वचा को मॉइस्चराइज करने का काम करती है।

एलोवेरा...

एलोवेरा रूखी त्वचा से राहत पाने में काफी मदद करता है। आप एलोवेरा जेल को अपनी त्वचा पर लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। ऐसा करने से आपकी त्वचा पर निखार आएगा‌। ये त्वचा को गहराई से नमी प्रदान करने का काम करता है‌।

बादाम तेल...

बादाम का तेल भी रूखी त्वचा के लिए बहुत उपयोगी है।आप बादाम के तेल से त्वचा की मसाज कर सकते हैं। आप शहद में बादाम का तेल मिलाकर भी त्वचा की मसाज कर सकते हैं। इसे 10 मिनट तक लगा रहने दें।इसके बाद तौलिए से पोंछ लें। ये त्वचा पर निखार लाने का काम करता है‌।

स्टेशन के पास पटरी से उतरें मालगाड़ी के 6 डिब्बे

स्टेशन के पास पटरी से उतरें मालगाड़ी के 6 डिब्बे 

इकबाल अंसारी   

भुवनेश्वर। ओडिशा के कोरापुट जिले में रेलवे स्टेशन के पास शुक्रवार को एक मालगाड़ी के छ: डिब्बे पटरी से उतर गए। रेलवे सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि हालांकि, इसमें किसी के हताहत होने की खबर नहीं है, लेकिन मार्ग पर ट्रेन सेवाएं बाधित रहीं। 

सूत्रों ने बताया कि विशाखापत्तनम-किरंदुल एक्सप्रेस रद्द कर दी गई है। उन्होंने बताया कि यह घटना शुक्रवार को तड़के कोरापुट रेलवे स्टेशन से लगभग 40 किलोमीटर दूर उस समय हुई जब लौह अयस्क ले जा रही मालगाड़ी किरंदुल से विशाखापत्तनम की ओर जा रही थी। सूत्रों के अनुसार, रेलवे के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और डिब्बों को पटरी से हटा दिया गया है।

होली के त्यौहार पर गैस-सिलेंडर मुफ्त देगी सरकार

होली के त्यौहार पर गैस-सिलेंडर मुफ्त देगी सरकार  

संदीप मिश्र          

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में उज्जवला योजना के 1.50 करोड़ लाभार्थी हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि, उत्तर प्रदेश सरकार 7वें दिन आने वाले होली के त्यौहार पर लाभार्थियों को रसोई गैस-सिलेंडर मुफ्त में देगी।
उत्तर प्रदेश में 37 साल बाद लगातार दूसरी बार कोई राजनीतिक पार्टी सत्ता में वापिस आने में सफल हुई है। इसके पीछे भाजपा का चुनावी घोषणा पत्र और पूर्व में चलाई गई योजनाओं का बड़ा योगदान है। सत्ता में वापस आने के लिए भाजपा ने उत्तर प्रदेश की सरकार से अपने चुनावी लोक कल्याण संकल्प पत्र में जनता से 130 वादों को पूरा करने का वचन दिया था। 10 मार्च को चुनावी परिणाम में प्रचंड बहुत से के साथ सत्ता में वापसी होने के साथ ही प्रदेश सरकार को 7वें दिन (होली) से ही अपने चुनावी वादों को पूरा करना शुरू करना होगा। दरअसल भाजपा ने अपने चुनावी वादों में घोषणा की थी की अगर उत्तर प्रदेश में भाजपा की वापसी होती है तो होली और दीपावली पर उज्जवला योजना के लाभार्थियों को एलपीजी गैस का फ्री सिलेंडर देगी।

उत्तर प्रदेश में उज्जवला योजना के 1.50 करोड़ लाभार्थी हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि, उत्तर प्रदेश सरकार 7वें दिन आने वाले होली के त्यौहार पर लाभार्थियों को रसोई गैस सिलेंडर मुफ्त में देगी। सरकार इस चुनावी वादे को इसी होली से अमल में लाती है तो उत्तर प्रदेश सरकार को योजना को पूरा करने के लिए 1400 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे। आपको बता दें इस समय घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत 937.50 रुपये हैं।

सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 2 आतंकी मारें गए

सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 2 आतंकी मारें गए 

इकबाल अंसारी 
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए। जबकि सेना के दो जवान घायल हो गये। पुलिस ने यह जानकारी दी।
एक पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद, सुरक्षा बलों ने दक्षिण कश्मीर जिले के नैना बटपोरा इलाके की घेराबंदी कर वहां तलाशी अभियान शुरू किया। उन्होंने कहा तलाशी अभियान के दौरान एक स्थानीय मस्जिद के पास एक अलग इमारत में छिपे आतंकवादियों की मौजूदगी का पता चला और उनसे आत्मसमर्पण करने के लिए बार-बार अपील की गई। प्रवक्ता ने बताया कि आतंकवादियों द्वारा सुरक्षा बलों पर गोलीबारी करने के बाद अभियान, मुठभेड़ में तब्दील हो गया। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने भी गोलीबारी का माकूल जवाब दिया। उन्होंने कहा मस्जिद के पवित्र स्थान होने की बात को ध्यान में रखते हुए, संयुक्त टीम ने अधिकतम संयम बरता ताकि इसे कोई नुकसान न हो। मुठभेड़ के दौरान सेना के दो जवान घायल हो गये। दोनों घायलों को अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

भारत की ओर से पाकिस्तान पर 'मिसाइल' हमला

भारत की ओर से पाकिस्तान पर 'मिसाइल' हमला      

सुनील श्रीवास्तव      
इस्लामाबाद। पाकिस्तानी सेना ने सनसनीखेज दावा करते हुए बताया कि भारत की ओर से पाकिस्तान पर मिसाइल हमला किया गया है। जिसमें कई इलाकों को भारी नुकसान हुआ है। पाकिस्तानी सेना ने ने मीडिया को बताया कि यह मिसाइल पंजाब प्रांत में गिरी थी। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने बताया कि 9 मार्च की शाम 6.43 बजे एक तेज रफ्तार वस्तु ने भारतीय क्षेत्र से उड़ान भरी और पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र में घुस गई थी। बाबर इफ्तिखार ने बताया कि मिसाइल जैसी चीज पाकिस्तानी क्षेत्र में तेज रफ्तार से घुसी और गिर पड़ी, जिसके गिरने से असैन्य इलाकों को कुछ नुकसान हुआ है, लेकिन इसमें किसी की जान नहीं गई।
पाकिस्तानी सेना के इस दावे पर भारत की ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। मेजर जनरल इफ्तिखार ने बताया कि बुधवार रात पंजाब के खानेवाल जिले के मियां चन्नू इलाके में अज्ञात वस्तु (मिसाइल) गिर गई। उन्होंने बताया कि इस मिसाइल को सतह से लॉन्च किया गया था। इससे हुई तबाही के बाद जांच के लिए पाकिस्तानी वायुसेना ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।
पाकिस्तान किसी अज्ञात वस्तु को भारत की मिसाइल बता रहा है। साथ ही भारत पर आरोप लगाना भी शुरू कर दिया है। पाकिस्तानी सेना का दावा है कि भारत की ओर से मिसाइल अटैक किया गया है। उन्होंने कहा कि मिसाइल की उड़ान ने पाकिस्तान और भारत दोनों में नागरिकों को खतरे में डाल दिया। भारतीय सेना और सरकार को बताया चाहिए कि इसकी वजह क्या है। यह एक बड़ी विमानन आपदा हो सकती थी। मेजर जनरल इफ्तिखार ने एक सवाल पर कहा कि यह कोई गोली नहीं मारी गई थी, जो अपने आप गिर गई। यह मिसाइल 40 हजार फीट की ऊंचाई से गुजरी थी। पाकिस्तान ने यह भी दावा किया है कि यह मिसाइल 260 किलोमीटर की रफ्तार से पाकिस्तानी इलाके में घुसी थी।
गौरतलब है कि पाकिस्तानी सेना पहले भी ऐसे ऊंटपटांग दावे कर चुकी है। गौरतलब है कि आतंकी गतिविधियों को प्रश्रय देने के आरोप के चलते पाकिस्तान खुद एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट में फंस गया है। मिसाइल के दावे के पीछे दूसरी वजह लोगों का ध्यान भटकाना भी माना जा रहा है क्योंकि पाकिस्तान में बढ़ती महंगाई और राजनीतिक कलह के चलते प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार मुश्किलों का सामना कर रही है। विपक्षी दल सरकार पर बड़े-बड़े आरोप लगा रहे हैं।

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने बेहतर प्रदर्शन किया

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने बेहतर प्रदर्शन किया     

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के परिणाम आ चुके है। बीजेपी ने विधानसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन किया है। विधानसभा चुनावों में बीजेपी की जीत ने उसे इस साल होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए मजबूत स्थिति में लगा दिया है।
विश्लेषकों का कहना है कि उत्तरप्रदेश में बीजेपी की बड़ी जीत से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के उत्तराधिकारी के बारे में फैसला करने का भरपूर मौका होगा जो 24 जुलाई 2022 को अपना कार्यकाल पूरा करेंगे।
राष्ट्रपति चुनावों से पहले इन पांच राज्यों की 19 राज्यसभा सीटें खाली होने वाली हैं, जो उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड और पंजाब में हैं और इन सीटों का फैसला नए विधायक ही करेंगे। राष्ट्रपति चुनाव के लिए क्षेत्रीय पार्टियों के मुख्यमंत्रियों की लामबंदी भी शुरू हो गई है। उत्तरप्रदेश के हर विधायक के वोट की वैल्यू 208 है, जो देश में सबसे अधिक है। इस वजह से यूपी के विधायक राष्ट्रपति चुनावों में भी निर्णायक भूमिका निभा सकते हैं।

उत्तरप्रदेश के चुनाव परिणाम अगर समाजवादी पार्टी के पक्ष में आते तो बीजेपी को बीजद, टीआरएस, वाईएसआर कांग्रेस पार्टी जैसे दलों के समर्थन पर निर्भर रहना पड़ता, राष्ट्रपति चुनाव के लिए निर्वाचक मंडल में लोकसभा, राज्यसभा के निर्वाचित सदस्य और राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेश दिल्ली एवं पुडुचेरी विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्य शामिल है।
वहीं इस साल राज्यसभा की 75 सीटें खाली होने वाली हैं। इनमें 73 को राष्ट्रपति चुनावों से पहले भरा जाएगा। ज्यादातर सदस्य अप्रैल में रिटायर होंगे। इनके चुनाव जून और जुलाई में हो जाएंगे। सात नॉमिनेटेड सदस्यों को छोड़ दे तो इन 73 में से 66 सांसद राष्ट्रपति चुनावों में वोट डालेंगे। इनमें 19 सीटें तीन चुनावी राज्यों से हैं।

पंजाब में भाजपा को सीटें नहीं मिलने पर चिंता: राउत

पंजाब में भाजपा को सीटें नहीं मिलने पर चिंता: राउत   

कविता गर्ग           
मुंबई। शिवसेना के प्रवक्‍ता संजय राउत ने मयावती और औवेसी को पद्मविभूषण एवं भारत रत्न देने की वकालत की है। पंजाब में भाजपा को सीटें नहीं मिलने पर उन्‍होंने चिंता जताई। भाजपा पर तंज भी कसा।
संजय राउत ने कहा कि बीजेपी को बड़ी जीत मिली है। यूपी उनका राज्य था। फिर भी अखिलेश यादव की सीटें बढ़ गई है। बीजेपी की जीत में मायावती और असुद्दीन औवेसी का योगदान है। इन सबको पद्मविभूषण और भारत रत्न देना पड़ेगा। हम लोग खुश हैं, हार-जीत होती रहती है। आपकी खुशी में हम भी शामिल हैं।
संजय राउत ने कहा कि पंजाब की जनता ने भाजपा को पूरी तरह से नकारा है। पीएम मोदी, गृह मंत्री और रक्षा मंत्री ने वहां जमकर प्रचार किया। फिर भी बीजेपी क्यों हार गई? चिंता का विषय ये हैं कि राष्ट्रीय पार्टी बीजेपी को जनता ने क्‍यों नकारा दिया।
प्रवक्‍ता ने कहा कि बीजेपी हमें बार-बार बोलती है कि शिवसेना को यूपी में कितनी सीटें मिलीं? यूपी में कांग्रेस और शिवसेना की जो हार हुई है, उससे बुरा हाल आपका पंजाब में हुआ है। इस बारे में आप थोड़ा देश को मार्गदर्शन दीजिए।

जैविक हथियारों का निर्माण कर रहा यूक्रेन: रूस

जैविक हथियारों का निर्माण कर रहा यूक्रेन: रूस   


सुनील श्रीवास्तव    

कीव/मास्को। रूस ने यूक्रेन पर आरोप लगाया है कि वो अमेरिका के सहयोग से जैविक हथियारों का निर्माण कर रहा है। और उसे इससे संबंधित दस्तावेज भी प्राप्त हुए हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने रूस के आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि उनके दो बच्चे हैं वो ऐसा क्यों करेंगे। यूक्रेन ने रूस के उस आरोप को खारिज किया है जिसमें रूस ने कहा था कि यूक्रेन अमेरिका के सहयोग से देश में बायोलॉजिकल हथियारों का निर्माण कर रहा है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा है कि उनके भी दो बच्चे हैं और वो एक जिम्मेदार देश के राष्ट्रपति है और देश का हर बच्चा उनके बच्चे जैसा ही है। उन्होंने कहा कि उनके देश में भारी तबाही मचाने वाले किसी तरह के जैविक हथियार का निर्माण नहीं हुआ है।

राष्ट्रपति जेलेंस्की ने शुक्रवार सुबह एक वीडियो जारी किया है जिसमें उन्होंने रूस को जैविक हथियारों के इस्तेमाल को लेकर चेतावनी दी और कहा कि अगर रूस यूक्रेन के खिलाफ जैविक हथियारों का इस्तेमाल करता है तो उसे अब तक के सबसे गंभीर प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा। सोशल मीडिया पर शेयर अपने वीडियो में जेलेंस्की ने रूस के आरोपों को खारिज करते हुए कहा, ‘मैं एक जिम्मेदार देश का राष्ट्रपति हूं, हम एक जिम्मेदार देश हैं। मैं दो बच्चों का पिता भी हूं। मेरे देश की जमीन पर किसी तरह का केमिकल हथियार या भारी तबाही मचाने वाला कोई हथियार नहीं बनाया गया है।

यूक्रेन, रूस व रेडक्रॉस का आभार व्यक्त किया‌

यूक्रेन, रूस व रेडक्रॉस का आभार व्यक्त किया‌    

सुनील श्रीवास्तव     

कीव/मास्को/ नई दिल्ली। भारत ने युद्धग्रस्त यूक्रेन के विभिन्न शहरों से अपने नागरिकों को बाहर निकालने में मदद करने के लिये शुक्रवार को यूक्रेन, रूस और रेडक्रॉस का आभार व्यक्त किया‌। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्विटर पर अपने पोस्ट में खास तौर पर यूक्रेन के उत्तर पूर्वी शहर सूमी से भारतीय छात्रों की निकासी का उल्लेख किया जो ‘बेहद चुनौतीपूर्ण’ था। उन्होंने ‘ऑपरेशन गंगा’ अभियान के तहत भारतीय नागरिकों को देश वापस लाने में ‘अभूतपूर्व सहयोग’ के लिये यूक्रेन के पड़ोसी देशों रोमानिया, हंगरी, पोलैंड, स्लोवाकिया और माल्दोवा को भी धन्यवाद दिया । जयशंकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर शुरू किये गए ‘ऑपरेशन गंगा’ ने नेतृत्व और प्रतिबद्धता दोनों को प्रदर्शित किया और ”इस उद्देश्य की पूर्ति में सहयोग के लिए सभी के प्रति हम आभार प्रकट करते हैं । उन्होंने कहा, ” निकासी में सहयोग के लिये हम खास तौर पर यूक्रेन, रूस और रेडक्रॉस के प्रशासन का आभार प्रकट करते हैं। यूक्रेन के पड़ोसी देशों… रोमानिया, हंगरी, पोलैंड, स्लोवाकिया और माल्दोवा ने हमें अभूतपूर्व सहयोग दिया । उन्हें हम धन्यवाद देते हैं । ” उल्लेखनीय है कि भारत सरकार, 24 फरवरी से रूस के सैन्य अभियान शुरू होने के बाद पूर्वी यूरोपीय देश यूक्रेन में फंसे हुए भारतीयों को वहां से निकलने में मदद करने के लिए ‘ऑपरेशन गंगा’ के तहत एक चुनौतीपूर्ण निकासी अभियान चला रही है।

सूमी से 600 छात्रों को निकालने का अभियान मंगलवार को सुबह शुरू हुआ। सूमी से निकाले गए 600 छात्रों के एक बड़े अंतिम समूह को वापस लाने के लिए भारत ने पोलैंड के लिए तीन उड़ानें भेजी हैं। यूक्रेन के खिलाफ रूस के सैन्य अभियान के दो दिन बाद शुरू किये गए ‘ऑपरेशन गंगा’ अभियान के तहत अब तक करीब 18 हजार भारतीयों को स्वदेश वापस लाया गया है। जयशंकर ने कहा, ” हम इस अभियान में अथक परिश्रम से योगदान देने वाले एनजीओ, स्वयंसेवकों, कारपोरेट समूहों, हमारी विमानन सेवाओं, भारतीय वायु सेना के आभारी हैं । विदेश मंत्री ने इस निकासी अभियान में मंत्रिमंडल में अपने सहयोगियों ज्योतिरादित्य सिंधिया, हरदीप सिंह पुरी, किरेन रिजीजू और वी के सिंह की भूमिका की सरहना की। उन्होंने कहा, ” यूक्रेन में अपने दूतावास और विदेश मंत्रालय की टीम की, संघर्ष के इस कठिन समय में उनके समर्पित प्रयासों के लिये हम सराहना करते हैं।

वेस्टलैंड घोटाला मामलें में याचिकाएं खारिज की

वेस्टलैंड घोटाला मामलें में याचिकाएं खारिज की  

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला मामलें में कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल जेम्स की जमानत याचिकाएं शुक्रवार को खारिज कर दी। घोटाले की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) कर रहा है। न्यायमूर्ति मनोज कुमार ओहरी ने कहा कि याचिका खारिज की जाती है। अन्य आवेदन में भी यही आदेश दिया जाता है। 

गौरतलब है कि 3,600 करोड़ रुपये का कथित घोटाला अगस्ता वेस्टलैंड से 12 वीवीआईपी हेलीकाप्टर की खरीद से संबंधित है। सीबीआई और ईडी द्वारा दर्ज मामलों में अपनी रिहाई का अनुरोध करते हुए, जेम्स ने कहा था कि जांच के उद्देश्य के लिए उनकी आवश्यकता नहीं है और उन्होंने जांच में सहयोग करने की इच्छा व्यक्त की थी। याचिकाओं में यह भी कहा गया है कि आरोपी ने कभी भी कानून की प्रक्रिया से बचने की कोशिश नहीं की और उन्हें आगे हिरासत में रखने से कोई उद्देश्य पूरा नहीं होगा। सीबीआई और ईडी दोनों ने जमानत याचिका का विरोध किया। जेम्स को दिसंबर 2018 में दुबई से प्रत्यर्पित किया गया था और बाद में दो जांच एजेंसियों द्वारा गिरफ्तार किया गया था।

इंसानों से भी कई आलीशान जिन्दगी जीता हैं कुत्ता

इंसानों से भी कई आलीशान जिन्दगी जीता हैं कुत्ता   

अखिलेश पांडेय      

कैलिफोर्निया। दुनियाभर में कई लोग हैं, जो जानवरों को पालते हैं और उन्हें अपने बच्चों की तरह रखते हैं। लेकिन कई बार आप उन्हें अपने बच्चों जैसी आरामदायक जिंदगी नहीं दे पाते हैं। लेकिन आज इस कड़ी में हम आपको एक ऐसे कुत्ते के बारे में बताने जा रहे हैं, जो इंसानों से भी कई आलीशान जिन्दगी जीता हैं और सोशल मीडिया पर भी उसके बहुत फैंस हैं। 

हम बात कर रहे हैं, अमेरिका के कैलिफोर्निया के एक पालतू कुत्ते की जिसका नाम जोजो हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि जोजो का अपना इंस्टाग्राम अकाउंट भी है, जिसपर उसकी ढेर सारी तस्वीरें हैं। जोजो के इस अकाउंट पर 1 लाख 19 हजार फॉलोवर्स भी हैं। उसकी मालकिन का नाम जोसपाइन जोसा है। वह जोजो को अपने बच्चों की तरह मानती हैं। वह उससे कितना प्यार करती हैं, इसका अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि उन्होंने जोजो के लिए एक अलग से कमरा भी बनवा दिया है। जोसपाइन ने जोजो को तब से पाल रखा है, जब जोजो महज 4 महीने का था। आज जोजो की उम्र 12 साल है।


कंप्यूटर अनुदेशक के 10,157 पदों पर भर्ती, मौका

कंप्यूटर अनुदेशक के 10,157 पदों पर भर्ती, मौका  

नरेश राघानी         

जयपुर। सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने कंप्यूटर अनुदेशक के 10,157 पदों पर बंपर भर्ती निकली है। इसके तहत बेसिक कंप्यूटर अनुदेशक के 9862 और वरिष्ठ कंप्यूटर अनुदेशक के 295 पदों पर भर्ती की जाएगी। इसके लिए 18 से 40 साल की उम्र तक के अभ्यर्थी आज शुक्रवार को रात 12 बजे तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अभ्यर्थियों का सिलेक्शन जून के में होने वाले रिटर्न टेस्ट के आधार पर किया जाएगा।

कंप्यूटर अनुदेशक के पद पर आवेदन करने के लिए अभ्यर्थियों को ई-मित्र कियोस्क या जन सुविधा पोर्टल का उपयोग करना होगा। अभ्यर्थियों को राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की अधिकृत वेबसाइट www.rsmssb.rajasthan.gov.in खोलकर रिक्रूटमेंट पर क्लिक करना होगा। इसके बाद SSO ID के जरिए लॉगइन करके आवेदन भरना होगा। ऐसे में अगर किसी अभ्यर्थी की SSO ID नहीं है, तो आवेदन से पहले उन्हें SSO ID बनानी होगी। साइंस, आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स इंस्ट्रूमेंटेशन एंड कंट्रोल, टेली कम्युनिकेशन एंड इंस्ट्रूमेंटेशन में मास्टर डिग्री के साथ ही कंप्यूटर साइंस, आईटी में एमएससी, एमसीए, बी लेवल, सी लेवल करने वाले अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं।

ग्रेजुएट और ए लेवल / PGDCA ( कम से कम एक साल का ) इसके साथ ही कंप्यूटर साइंस, आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स इंस्ट्रूमेंटेशन एंड कंट्रोल, टेली कम्युनिकेशन एंड इंस्ट्रूमेंटेशन में बीई/बीटेक के साथ ही कंप्यूटर साइंस, आईटी में बीएससी, बीसीए करने वाले अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं।
परीक्षा शुल्क।

सामान्य वर्ग और क्रीमीलेयर श्रेणी के अन्य पिछड़ा वर्ग/अति पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थी लिए 450 रुपए।

राजस्थान के नॉन क्रीमीलेयर श्रेणी के पिछड़ा वर्ग/अति पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के अभ्यर्थी के लिए 350 रुपए।
समस्त विशेष योग्यजन और राजस्थान के अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थी के लिए 250 रुपए।

राजस्थान सरकार द्वारा लागू सातवें वेतनमान के अनुसार कंप्यूटर अनुदेशक वरिष्ठ को पे-मैट्रिक्स लेवल 10 (33,800) के आधार पर सैलरी दी जाएगी। जबकि बेसिक कंप्यूटर अनुदेशक को पे-मैट्रिक्स लेवल 8 के अनुसार सैलरी दी जाएगी। हालांकि प्रोबेशन पीरियड के दौरान सरकार की गाइडलाइन के अनुसार सैलरी दी जाएगी।

ला एवं संस्कृति, इतिहास, भूगोल, सामान्य विज्ञान और राजस्थान के समसामयिक मामले।
सामान्य योग्यता में निम्नलिखित बिन्दु सम्मिलित होंगे।
लॉजिकल रीजनिंग एंड एनालिटिकल एबीलिटी।
डिसीजन मेकिंग एंड प्रॉब्लम सोल्विंग। सामान्य बौद्धिक योग्यता।
बेसिक न्यूमरेसी नंबर एंड देयर रिलेशन, आर्डर ऑफ मैग्निट्यूड, इत्यादि (कक्षा- X स्तर )
डाटा इन्टरप्रिटेशन-चार्ट्स, ग्राफ्स, टेबल्स डाटा सफिशियन्सी, इत्यादि (कक्षा X स्तर)
उत्तर के मूल्यांकन में नकारात्मक अंकन लागू होगा। प्रत्येक गलत उत्तर के लिए, उस विशिष्ट प्रश्न के लिए विहित अंकों का एक तिहाई भाग काटा जाएगा।
बेसिक कंप्यूटर अनुदेशक का सिलेबस (प्रश्न पत्र-2)

प्रश्न पत्र अधिकतम 100 अंकों का होगा। 

प्रश्न पत्र की अवधि 2 घंटे की होगी।

प्रश्न पत्र में 100 प्रश्न बहु विकल्पीय होंगे।

उत्तर के मूल्यांकन में निगेटिव मार्किंग लागू होगी। प्रत्येक गलत उत्तर के लिए, उस विशिष्ट प्रश्न के लिए विहित अंकों का एक तिहाई भाग काटा जाएगा।

पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़ा सकती है कंपनियां

पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़ा सकती है कंपनियां

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। बीते कई दिनों से यह सुगबुगाहट चल रही थी कि पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद देश की तेल कंपनियां जल्द ही पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़ा सकती है। लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजार से कुछ अच्छे संकेत मिलने के बाद शायद यह भी संभव है कि आने वाले दिनों में आशंकाओं के विपरीत देश में पेट्रोल-डीजल के दाम और सस्ते हो जाए। रूसऔर यूक्रेन के बीच जारी घमासान युद्ध के बीच बीते कुछ दिनों में ब्रेंट क्रूड ऑयल का भाव आसमान छू रहा था और रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया था। भयावह युद्ध के बीच यह भी आशंकाएं जताई जा रही थी कि क्रूड ऑयल का भाव 300 डॉलर के पार जा सकता है। 

लेकिन यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने जैसे ही झुकने के संकेत दिए तो रूस ने भी हमले कम कर दिए। इसका असर क्रूड ऑयल मार्केट पर भी दिखा और दो दिन में ही क्रूड ऑयल $139 प्रति बैरल से फिसलकर रिकॉर्ड गिरावट के साथ $108.7 पर आ पहुंचा है। अब यदि आने वाले कुछ दिनों में क्रूड ऑयल की कीमत 100 डॉलर के नीचे आ जाती है तो देश में पेट्रोल-डीजल का भाव कुछ कम हो सकता है। देश की सबसे बड़ी रिफाइनरी चलाने वाली कंपनी बीपीसीएल के चेयरमैन और एमडी अरुण कुमार सिंह का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार के ट्रेंड को देखा जाए तो पेट्रोल और डीजल का रेट अब बढ़ने की जगह घटने वाला है। दो दिन से कच्चे तेल का भाव बहुत तेजी से गिरा है। सिर्फ एक दिन में तेल कीमतों में रिकॉर्ड गिरावट देखने को मिली है। अरुण कुमार सिंह का कहना है कि आने वाले दिनों में यदि कच्चे तेल की कीमत 100 डॉलर के भी नीचे आ जाती है तो पेट्रोल डीजल की कीमत 2 से 3 रुपए कम हो सकती है।

वश्विक स्तर पर बढ़ते क्रूड आयल रेट के चलते UAE ने अब कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने का तैयार हो गया है। बाजार में जैसे ही यह खबर आई तो ब्रेंट क्रूड फ्यूचर का रेट एक दिन में ही करीब 16.84 डॉलर (13.2 फीसदी) फिसलकर $111.14 प्रति बैरल पर आकर बंद हो गया। 21 अप्रैल 2020 के बाद ये एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है। US क्रूड फ्यूचर भी 15.44 डॉलर (12.5 फीसदी) गिरावट के बाद 108.70 डॉलर के स्तर पर बंद हुआ। ये नवंबर 2021 के बाद से सबसे बड़ी एक दिन की गिरावट रही आपको बता दे कि संयुक्त अरब अमीरात तेल उत्पादक देशों के संगठन ओपेक का प्रमुख सदस्य है। यूएई ने कहा है कि वैश्विक तेल संकट की स्थिति से बचने के लिए हम कच्चे तेल के उत्पादन बढ़ाने के पक्ष में हैं। आओपीईएसई को कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने के लिए दूसरे देशों से भी कहना होगा। युद्ध के हालत में रूस पर कई प्रतिबंध लगाए गए हैं और ऐसे में यदि तेल उत्पादन बढ़ता है तो रूस के प्रतिबंधों का असर दुनिया पर बहुत कम होगा।

युविका, विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया

युविका, विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया



इकबाल अंसारी 

बेंगलुरू। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) स्कूली बच्चों के लिए एक विशेष कार्यक्रम ‘युवा विज्ञान कार्यक्रम’ (युविका) का आयोजन कर रहा है। इस कार्यक्रम में युवा छात्रों, खासकर ग्रामीण क्षेत्र से नाता रखने वालों को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष विज्ञान तथा अंतरिक्ष अनुप्रयोगों पर बुनियादी ज्ञान प्रदान किया जाएगा। अंतरिक्ष एजेंसी के अनुसार, कार्यक्रम का उद्देश्य युवाओं के बीच विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के उभरते रुझानों के बारे में जागरूकता पैदा करना है, जो हमारे देश के भविष्य का अभिन्न हिस्सा हैं।

इसरो ने कार्यक्रम की घोषणा करते हुए कहा कि कार्यक्रम का उद्देश्य देश भर में 150 छात्रों का चयन करना है, जो एक मार्च, 2022 को कक्षा 12वीं में पढ़ रहे हों। इसरो ने कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से अधिक छात्रों को विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (एसटीईएम) आधारित करियर तथा शोध कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करने की भी उम्मीद है। ‘युविका-2022’ आवासीय कार्यक्रम 16 मई से 28 मई तक दो सप्ताह तक चलेगा।

यूक्रेन में मिग लड़ाकू विमान भेजने की अनुमति, मांग

यूक्रेन में मिग लड़ाकू विमान भेजने की अनुमति, मांग   

अखिलेश पांडेय   

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के कई सांसदों ने बाइडन प्रशासन पर अपना रुख बदलने का दबाव बनाते हुए उससे यूक्रेन में रूसी हमलों से निपटने के लिए पोलैंड के मिग लड़ाकू विमान भेजने की अनुमति देने की मांग की है। रिपब्लिकन पार्टी के 40 सांसदों ने अयोवा से सांसद जोनी अर्न्स्ट और ऊटा से सांसद मिट रोमनी द्वारा तैयार एक पत्र पर दस्तखत किए हैं। इस पत्र में राष्ट्रपति जो बाइडेन से यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की की उस अपील का जवाब देने की मांग की गई है, जिसमें उन्होंने बीते सप्ताहांत अमेरिकी सांसदों से कहा था कि अगर अमेरिका देश के हवाई क्षेत्र को ‘उड़ान निषेध क्षेत्र’ घोषित नहीं कर सकता है तो कम से कम वह रूसी हमलों से निपटने के लिए कीव को अतिरिक्त लड़ाकू विमान तो भेज ही सकता है। संसद भवन में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में रोमनी ने कहा, “बातचीत बहुत हो चुकी। लोग मर रहे हैं।उन्हें जरूरी लड़ाकू विमान भेजें।” मेन से रिपब्लिकन सांसद सुजैन कॉलिंस ने कहा, “विनाश देखना दर्दनाक है, खासतौर पर प्रसूती अस्पताल पर रूसी हमले जैसी घटनाओं को। 

यूक्रेन को जरूरी लड़ाकू विमान उपलब्ध न कराना अस्वीकार्य है।” बाइडन प्रशासन से जुड़े सूत्रों के अनुसार अमेरिकी ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मिले रिपब्लिकन सांसदों की मांग पर ध्यान देने की कवायद में जुट गए हैं। बाइडन प्रशासन ने शुरुआत में संकेत दिए थे कि नाटो सहयोगी पोलैंड में मौजूद सोवियत युग के लड़ाकू विमानों को रूसी आक्रमण से निपटने में हवाई मदद मुहैया कराने के लिए यूक्रेन स्थानांतरित किया जा सकता है,लेकिन बुधवार को पेंटागन ने पोलैंड की इससे जुड़ी पेशकश को नामंजूर का दिया था।

केरल: वित्तमंत्री ने 2022-23 के लिए बजट पेश किया

केरल: वित्तमंत्री ने 2022-23 के लिए बजट पेश किया 

इकबाल अंसारी        

तिरुवनंतपुरम। केरल के वित्तमंत्री के एन बालगोपाल ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए शुक्रवार को विधानसभा में बजट पेश किया और इसमें एक नया आईटी (सूचना प्रौद्योगिकी) पार्क, चार आईटी कॉरिडोर और 20 सैटेलाइट आईटी केंद्र स्थापित करने का प्रस्ताव रखा। वित्त मंत्री ने कहा कि नया आईटी पार्क कन्नूर जिले में बनाया जाएगा और वहां अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा होने से उम्मीद है इस क्षेत्र की वृद्धि में मदद मिलेगी। बालगोपाल ने बताया कि प्रस्तावित आईटी कॉरिडोर राष्ट्रीय राजमार्ग-66 के समांतर बनाए जाएंगे। 

उन्होंने कहा कि आईटी पार्कों के विस्तार के लिए केरल अवसंरचना निवेश बोर्ड के जरिए कुल 100 करोड़ रुपये अलग रखे गए हैं वहीं भूमि अधिग्रहण की खातिर 1,000 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। कोविड-19 महामारी और रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण पेट्रोलियम उत्पादों के दाम बढ़ने और उससे अन्य वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि के नियमन के लिए पिनराई विजयन की सरकार ने बजट में 2,000 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।

पीएम ने अहमदाबाद हवाई अड्डे से रोड शो शुरू किया

पीएम ने अहमदाबाद हवाई अड्डे से रोड शो शुरू किया 

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश, मणिपुर, उत्तराखंड और गोवा विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जीत के एक दिन बाद शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में अहमदाबाद हवाई अड्डे से रोड शो शुरू किया। फूलों की मालाओं से सजी खुली जीप में सवार मोदी ने रोड शो के दौरान सड़क किनारे जमा हुए सैकड़ों समर्थकों और प्रशंसकों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। 

यह काफिला हवाई अड्डे से शुरू हुआ है और गांधीनगर में भाजपा के राज्य मुख्यालय ‘कमलम’ तक जाएगा। राज्य में भाजपा के एक नेता ने बताया कि प्रधानमंत्री आज दिन में पंचायत निकायों के एक लाख से अधिक निर्वाचित प्रतिनिधियों की एक रैली को भी संबोधित करने वाले हैं। प्रधानमंत्री मोदी आज से दो दिवसीय गुजरात दौरे पर हैं। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के एक दिन बाद मोदी अपने गृह राज्य का दौरा कर रहे हैं। गुजरात में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होंगे।

केजरीवाल से मुलाकात के लिए दिल्ली जाएंगे भगवंत

केजरीवाल से मुलाकात के लिए दिल्ली जाएंगे भगवंत 

अमित शर्मा      

चंडीगढ़। पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे भगवंत मान शुक्रवार को पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल से मुलाकात करने के लिए दिल्ली जाएंगे। पंजाब में कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल (शिअद) – बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन को पछाड़ते हुए पार्टी के शीर्ष में आने के बाद मान और केजरीवाल की मुलाकात होने वाली है। राष्ट्रीय राजधानी के लिए रवाना होने से पहले संगरूर में मान ने पत्रकारों से कहा कि वह केजरीवाल से मिलने जा रहे हैं और पंजाब चुनाव में पार्टी की शानदार जीत पर उन्हें बधाई देंगे। सरकार गठन के सवाल पर मान ने कहा, ”मैं कल (पंजाब) राज्यपाल से मिलूंगा। हम आज उनसे समय मांगेंगे।” मान ने कहा कि शपथ ग्रहण समारोह नवांशहर जिले के महान स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के पैतृक गांव खटकर कलां में होगा।

पार्टी की शानदार चुनावी जीत पर मान ने कहा कि लोगों ने अभिमानी लोगों को हराया और उन्होंने आम लोगों को विजयी बनाया।” मान ने धूरी सीट से 58,206 मतों के भारी अंतर से जीत हासिल की। आम आदमी पार्टी ने 117 सीटों में से 92 पर जीत हासिल की। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, प्रकाश सिंह बादल और अमरिंदर सिंह सहित कई दिग्गज आप उम्मीदवारों से हार गए।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 4,194 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 4,194 नए मामलें 

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 4,194 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 4,29,84,261 हो गई, जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 42,219 हो गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार को सुबह आठ बजे तक अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, महामारी से 255 और मरीजों के जान गंवाने के बाद मृतकों की कुल संख्या 5,15,714 हो गई गयी है। उपचाराधीन मरीजों की संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 0.10 प्रतिशत है, जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर सुधरकर 98.70 प्रतिशत हो गई है। मंत्रालय द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 2,269 मामलों की कमी दर्ज की गयी है। संक्रमण की दैनिक दर 0.52 प्रतिशत दर्ज की गयी जबकि साप्ताहिक संक्रमण दर 0.55 प्रतिशत दर्ज की गयी। इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 4,24,26,328 हो गयी है और मृत्यु दर 1.20 प्रतिशत दर्ज की गयी। देशव्यापी कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक 179.72 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी है।

उल्लेखनीय है कि देश में सात अगस्त 2020 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ के पार हो गए थे। पिछले साल चार मई को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ के पार और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी। इस साल 26 जनवरी को मामले चार करोड़ के पार पहुंच गए थे।

देश में जीवित लौटना, किसी चमत्कार जैसा: छात्र

देश में जीवित लौटना, किसी चमत्कार जैसा: छात्र   

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। उत्तरपूर्वी यूक्रेन में संकटग्रस्त सूमी शहर में फंसे भारतीय छात्रों ने कहा कि युद्ध से बच निकलना उनके लिए एक ‘चमत्कार’ की तरह है और शुक्रवार की सुबह आखिरकार वे दिल्ली पहुंचे। जिसके बाद उन्हें राहत महसूस हुई। सूमी स्टेट यूनिवर्सिटी में छठे वर्ष के मेडिकल छात्र धीरज कुमार ने कहा कि वह यहां इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय (आईजीआई) हवाई अड्डे पर अपने माता-पिता को देखकर खुश हैं।
कुमार ने कहा कि हम सूमी में अप्रत्याशित चुनौतियों से गुजरे हैं। 13 दिनों तक युद्ध की विभीषिका को देखना और उससे बचे रहना एक भयानक अनुभव था। मेरे लिए, अपने देश में जीवित लौटना किसी चमत्कार जैसा लगता है। आईजीआई हवाई अड्डे पर पहुंचने पर कुमार ने अपने माता-पिता के पैर छुए, जो अपने बेटे को लेने के लिए हिमाचल प्रदेश के चंबा से आए थे। कुमार ने भारत सरकार और यूक्रेन और पोलैंड में दूतावासों को उनकी निकासी और भारत में सुरक्षित वापसी में मदद करने के लिए सबका आभार जताया।
कुमार ने कहा कि हमारी सरकार ने हमारा बहुत सहयोग किया। उन्होंने हमें वापस लाने के लिए सब कुछ किया। मुझे यहां वापस आकर राहत मिली है। पूर्वी यूरोपीय देश के सूमी शहर में युद्ध के माहौल में दो सप्ताह तक रहने के बाद परिवहन के कई साधनों का उपयोग कर यूक्रेन में सैकड़ों मील की दूरी तय करते हुए छात्र युद्धग्रस्त क्षेत्र से बाहर निकाले। युद्ध प्रभावित क्षेत्र से बचने के लिए कठिन यात्रा से गुजरने के बाद छात्रों को सूमी से दूसरे प्रयास में निकाला गया।
पिछले महीने यूक्रेन पर रूसी आक्रमण शुरू होने के बाद से सूमी में भारी गोलाबारी देखी जा रही है। सूमी से लौटी मेडिकल की छात्रा उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर की मूल निवासी महिमा राठी ने कहा कि हर बार सायरन बजने पर उन्हें बंकरों में भागना पड़ता था। राठी ने कहा, ”जब भी सायरन बजता था, हमें बंकरों में शरण लेनी पड़ती थी। हम सभी बहुत डरे हुए थे। हम नहीं जानते थे कि क्या हम जीवित बच पाएंगे और सुरक्षित लौट पाएंगे। 
भारत लौटने के बाद अब हमने राहत की सांस ली है।” पोलैंड के रेजजो से एअर इंडिया की एक उड़ान सूमी से निकाले गए 240 छात्रों को लेकर शुक्रवार सुबह दिल्ली में उतरी। अधिकारियों ने बताया कि विमान ने बृहस्पतिवार को रात करीब साढ़े 11 बजे (भारतीय समयानुसार) रेजजो से उड़ान भरी और शुक्रवार सुबह पौने छह बजे बजे दिल्ली में उतरा। सूमी से निकाले गए 600 छात्रों के एक बड़े अंतिम समूह को वापस लाने के लिए भारत ने पोलैंड के लिए तीन उड़ानें भेजी हैं।
अधिकारियों ने कहा कि एक और विमान के दिल्ली में सुबह करीब आठ बजकर 40 मिनट पर उतरने की उम्मीद है। भारत सरकार फंसे हुए भारतीयों को यूक्रेन से निकलने में मदद करने के लिए ‘ऑपरेशन गंगा’ के तहत एक चुनौतीपूर्ण निकासी अभियान चला रही है। सूमी से 600 छात्रों को निकालने का अभियान मंगलवार को सुबह शुरू हुआ।

कमजोर: शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स-निफ्टी खुले

कमजोर: शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स-निफ्टी खुले

कविता गर्ग    

मुंबई। वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख के कारण शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स और निफ्टी भी कमजोर खुले। हालांकि कुछ ही मिनट के बाद ये लाभ में कारोबार करने लगे। इस दौरान 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 414.44 अंक की गिरावट के साथ 55,049.95 पर था। हालांकि कुछ ही मिनट बाद यह घाटे से उबरा और 268.39 अंक चढ़कर 55,732.78 पर आ गया। इसी तरह एनएसई निफ्टी शुरुआती कारोबार में 124 गिरकर 16,470.90 पर आ गया। लेकिन जल्द लिवाली शुरू हो गई और यह 70.70 अंक की बढ़त के साथ 16,665.60 पर आ गया। सेंसेक्स में टाटा स्टील, एक्सिस बैंक, बजाज फाइनेंस, सन फार्मा और बजाज फिनसर्व के शेयर लाभ में थे जबकि मारुति सुजुकी इंडिया, नेस्ले, इंफोसिस और विप्रो के शेयर नुकसान में थे। पिछले सत्र में तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स कारोबार के अंत में 817.06 अंक यानी 1.50 प्रतिशत बढ़कर 55,464.39 अंक पर बंद हुआ था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 249.55 अंक यानी 1.53 प्रतिशत की उछाल के साथ 16,594.90 अंक के स्तर पर जाकर बंद हुआ था।

इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.36 प्रतिशत गिरकर 108.90 डॉलर प्रति बैरल हो गया। शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को सकल आधार पर 1,981.15 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

सिक्किम के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे उपराष्ट्रपति

सिक्किम के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे उपराष्ट्रपति 

इकबाल अंसारी  
गंगटोक। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू शुक्रवार को सिक्किम के दो दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचे। राज्यपाल गंगा प्रसाद, मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने लिबिंग हेलीपैड पर उनकी अगवानी की। 
मुख्यमंत्री ने ट्विटर पर कहा कि मैंने राज्यपाल,  गंगा प्रसाद, कैबिनेट सहयोगियों, विधायकों और अधिकारियों के साथ उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू जी की गंगटोक के लिबिंग हेलीपैड पर अगवानी की। नायडू दिन में यहां दक्षिण सिक्किम जिले में 300 करोड़ रुपये की लागत वाले खांगचेंदजोंगा सिक्किम विश्वविद्यालय की ऑनलाइन तरीके से आधारशिला रखेंगे।

'आईसीबीएम' के 2 सफलतापूर्वक परीक्षणों को अंजाम

'आईसीबीएम' के 2 सफलतापूर्वक परीक्षणों को अंजाम 

अखिलेश पांडेय  

वाशिंगटन डीसी/ प्रीटोरिया। उत्तर कोरिया ने हाल ही में एक नए इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) के दो सफलतापूर्वक परीक्षणों को अंजाम दिया। अमेरिका ने न केवल इसकी निंदा की है, बल्कि बार-बार उत्तर कोरिया द्वारा किए जा रहे मिसाइलों के परीक्षण की बात पर भी गहरी चिंता व्यक्त की है।

अमेरिकी प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'काफी गहरी सोच समझ के बाद अमेरिकी सरकार ने निष्कर्ष निकाला है कि उत्तर कोरिया ने इस साल 26 फरवरी और 4 मार्च को दो बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है, जिनमें एक अपेक्षाकृत नई अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल सिस्टम भी शामिल है। उत्तर कोरिया ऐसा बार-बार कर रहा है, जो एक गंभीर मुद्दा है।'

अधिकारी ने कहा कि अमेरिका उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षणों की निंदा करता है और यह भी मानता है कि उनके द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का उल्लंघन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इन तरह के परीक्षणों से न केवल अनावश्यक रूप से तनाव बढ़ता है बल्कि शांति भंग होने का भी जोखिम बना रहता है।

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न    सुशील केसरवानी         कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी की अध्यक्षता में उद...