गुरुवार, 24 सितंबर 2020

विश्व में 3.17 करोड़ से अधिक संक्रमित

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 3.17 करोड़ से अधिक।


वाशिंगटन डीसी। वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस मामलों की कुल संख्या 3.17 करोड़ से अधिक हो गई है। जबकि इस संक्रमण से हुई मौतों की संख्या 975,000 का आंकड़ा पार कर गई है। यह जानकारी जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय ने गुरुवार को दी। विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने अपने नवीनतम अपडेट में खुलासा किया कि गुरुवार की सुबह तक कुल मामलों की संख्या 31,787,190 हो गई और मृत्यु दर बढ़कर 975,038 हो गई थी।
सीएसएसई के आंकड़ों के अनुसार, अमेरिका दुनिया के सबसे अधिक मामलों 6,943,071 और 201,957 मौतों के साथ सबसे अधिक प्रभावित देश है। वहीं वर्तमान में भारत 5,646,010 मामलों के साथ प्रभावित देशों की सूची में शीर्ष पर दूसरे स्थान पर है। जबकि देश में संक्रमण से 90,020 मौतें दर्ज की गई हैं। सीएसएसई के आंकड़ों के अनुसार, अधिक मामलों वाले अन्य शीर्ष 15 देशों में ब्राजील (4,591,364), रूस (1,117,487), कोलंबिया (784,268), पेरू (776,546), मेक्सिको (710,049), स्पेन (693,556), दक्षिण अफ्रीका (665,188), अर्जेंटीना (664,799), फ्रांस (508,381), चिली (449,903), ईरान (432,798), ब्रिटेन (412,241), बांग्लादेश (353,844), इराक (332,635) और सऊदी अरब (331,359) शामिल हैं।
ब्राजील 138,105 मौतों के साथ संक्रमण से हुई मृत्यु के मामले में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है। वहीं 10,000 से अधिक मौतों वाले देश मेक्सिको (74,949), ब्रिटेन (41,951), इटली (35,758), पेरू (31,568), फ्रांस (31,444), स्पेन (31,034), ईरान (24,840), कोलंबिया (24,746), रूस (19,720), दक्षिण अफ्रीका (16,206), अर्जेंटीना (14,376), चिली (12,345) और इक्वाडोर (11,171) हैं।             


फेसबुक ने हटाएं चीन के 150 फर्जी खाते

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। फेसबुक ने अमेरिकी चुनाव को लेकर चीन से चलने वाले फर्जी खातों के एक छोटे नेटवर्क को हटा दिया है। इन नेटवर्क से अमेरिका समेत कुछ अन्य देशों में राजनीतिक गतिविधियों को बाधित करने की कोशिशें की जा रही थीं। चीन से संचालित इन फर्जी खातों का प्राथमिक फोकस दक्षिण-पूर्वी एशिया भी रहा है जिसमें फिलीपींस शामिल है। कहा, इन नेटवर्क से राजनीतिक गतिविधियां बाधित करने की कोशिशें जारी थी। अमेरिकी चुनाव में इन खातों से राष्ट्रपति पद के दोनों उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन के खिलाफ सामग्री पोस्ट की गईं। हालांकि फेसबुक ने इस नेटवर्क को सीधेतौर पर चीन सरकार के साथ नहीं जोड़ा है। इसमें कहा गया है कि नेटवर्क के पीछे जो लोग शामिल थे उन्होंने वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क और दूसरे तरीकों का इस्तेमाल करते हुए अपनी पहचान और स्थान छिपाने की कोशिश की है।


इससे पहले एफबीआई ने एक चेतावनी देते हुए अमेरिकी चुनाव में विदेशी दखल की कोशिशों पर चिंता जताई थी। उसने कहा था कि साइबर अपराधी फर्जी वेबसाइटें बनाकर चुनाव परिणामों को प्रभावित करने की कोशिश में जुटे हैं।           


नीदरलैंड फुटबॉल टीम के कोच बने फ्रैंक

नीदरलैंड फुटबाल टीम के कोच बने फ्रैंक बोएर।


एम्सटर्डम। फ्रैंक बोएर को नीदरलैंड की राष्ट्रीय फुटबाल टीम का नया मुख्य कोच नियुक्त किया गया है। डच फुटबाल एसोसिएशन केएनवीबी ने इसकी पुष्टि की है। अगस्त में रोनाल्ड कोमैन के एफसी बार्सिलोना चले जाने के बाद यह पद खाली हुआ था।
कोमैन की गैरमौजूदगी में सहायक कोच ड्वाइट लोडेवेजेस की देखरेख में टीम ने पोलैंड को 1-0 से हराया था और इटली से 0-1 से हार गई थी।
मुख्य कोच पद के लिए केएनवीबी ने तीन नाम तय किए थे। फ्रैंक रिजकार्ड ने ना कर दिया क्योंकि वह मुख्यधारा में लौटना नहीं चाहते थे। इसी तरह पीटर बॉस ने भी ना कर दिया क्योंकि वह बायेर लेवरकुसेन के साथ करारबद्ध हैं और अंत में महासंघ ने बोएर के नाम पर अंतिम मुहर लगा दी।
50 साल के बोएर को 2022 विश्व कप तक के लिए करारबद्ध किया गया है। बोएर एक खिलाड़ी के तौर पर नीदरलैंड्स के लिए 112 मैच खेल चुके हैं। दिसम्बर 2010 में बतौर कोच उन्होंने एजाक्स के साथ नई पारी की शुरुआत की थी। इसके बाद वह इंटर्नाजियोनेल, क्रिस्टल पैलेस और एटलांटा युनाइटेड के कोच रह चुके हैं।             


जायफल की उपज की 'विधि और मुनाफा'

जायफल की उपज की विधि और मुनाफा 
सोहनवीर पंवार
जायफल एक सदाबहार वृक्ष है। इसकी उत्पत्ति का स्थान इंडोनेशिया का मोलुकास द्वीप माना जाता है। वर्तमान में इसे भारत के साथ-साथ अन्य कई देशों में उगाया जाता है। जायफल के कच्चे फलों का इस्तेमाल अचार, जैम, कैंडी बनाने में तथा सूखे फलों का इस्तेमाल सुगन्धित तेल, मसाले और औषधीय रूप में किया जाता है। इसका पौधा सामान्य रूप से 15 से 20 फिट ऊंचा होता है, जिस पर फल पौध रोपाई के लगभग 6 से 7 साल बाद लगते हैं। जायफल की अनेक प्रचलित प्रजातियाँ पाई जाती हैं।
मिरिस्टिका प्रजाति के वृक्ष पर लगने वाले फलों को जायफल कहा जाता है। जायफल के फल और फूल गुच्छों में तथा नाशपाती के आकार के होते हैं।
जायफल की खेती के लिए उचित जल निकासी वाली गहरी उपजाऊ भूमि का चयन करें। पौधों के जल्द विकास करने के लिए बलुई दोमट मिट्टी या लाल लैटेराइट मिट्टी में आवश्यक है। भूमि का पी. एच. मान सामान्य के आस-पास होना चाहिए।
उपयुक्त मिट्टी:- जायफल की खेती के लिए उचित जल निकासी वाली गहरी उपजाऊ भूमि का चयन करें। पौधों के जल्द विकास करने के लिए बलुई दोमट मिट्टी या लाल लैटेराइट मिट्टी में आवश्यक है। भूमि का पी. एच. मान सामान्य के आस-पास होना चाहिए।
जलवायु और तापमान:- यह एक उष्णकटिबंधीय जलवायु का पौधा है। पौधे के विकास के लिए सर्दी और गर्मी दोनों मौसम की सामान्य रूप में आव्यशकता होती है। अधिक सर्दी और गर्मी दोनों इसकी खेती के लिए उपयुक्त नही है। सर्दियों में पड़ने वाला पाला इसकी खेती के लिए अत्यंत अनुपयोगी है। पौधों को विकास करने के लिए सामान्य बारिश तथा शुरुआत में विकास के दौरान हल्की छाया की आवश्यकता होती है।
अंकुरण के वक्त तापमान 20 से 22 डिग्री सेंटीग्रेट के बीच तथा अंकुरण के बाद सामान्य तापमान 25 से 30 डिग्री सेंटीग्रेट के मध्य आवश्यक है। पूर्ण रूप से तैयार पेड़ गर्मियों में अधिकतम 37 और सर्दियों में न्यूनतम 10 डिग्री के आसपास के तापमान पर अच्छे से विकास कर लेते हैं।
उन्नत किस्में:- जायफल की कुछ प्रचलित उन्नत प्रजातियाँ हैं, जिसे दक्षिण भारत के कुछ राज्यों में बड़े पैमाने पर उगाया जाता है।
आई. आई. एस. आर विश्वश्री – इसे भारतीय मसाला फसल अनुसंधान संस्थान, कालीकट द्वारा तैयार किया गया है। इसकी पैदावार रोपाई के 8 वर्ष बाद प्रारंभ होती है। इसके एक पौधे से एक बार में 1000 के आसपास फल प्राप्त होते हैं। इसके सूखे छिलके युक्त फलों से प्रति हेक्टेयर औसतन उत्पादन 3100 किलो के आस-पास पाया जाता है। 1 हेक्टेयर में पौधों की संख्या लग-भग 350 की होती है। इसके पौधे से 70 प्रतिशत जायफल और 30 प्रतिशत जावित्री प्राप्त होती है।
केरलाश्री – इस किस्म को मुख्य रूप से केरल तथा तमिलनाडु में लगाने के लिए विकसित किया गया है। इसकी पैदावार भी रोपाई के 8 वर्ष बाद प्रारंभ होती है। इसे कालीकट कृषि विश्वविद्यालय के द्वारा विकसित किया गया है।
खेत की तैयारी:- जायफल के पौधों की रोपाई के लिए सबसे चयनित खेत में गड्डे तैयार की जाती है। गढ्डे बनाने के पहले खेत को पेड़ लगाने के लिए अच्छे से तैयार किया जाना जरूरी होता है। क्योंकि जायफल एक बहुवर्षीय पौधा है, यह कई सालों तक पैदावार देता है। खेत की तैयारी हेतु खेत की अच्छे से सफाई कर खेत में मौजूद पुरानी फसलों के अवशेषों को नष्ट कर देना चाहिए। उसके बाद खेत की मिट्टी पलटने वाले हलों से गहरी जुताई करके कुछ दिन खेत को खुला छोड़ दें।
इससे मिट्टी में मौजूद हानिकारक कीट शुरुआत में ही नष्ट हो जाते हैं। फिर कल्टीवेटर के माध्यम से दो से तीन तिरछी जुताई करके रोटावेटर से मिट्टी को भुरभुरा बना ले। इसके बाद खेत में उचित दूरी पर पंक्तियों में गड्डे बना दें। गड्डों के बीच 20 फीट के आस-पास दूरी तथा पंक्तियों के बीच भी 18 से 20 फिट की दूरी रखें। गड्डों का आकार डेढ़ से दो फिट गहरा और दो फीट चौड़ा होना चाहिए। गड्डों में उचित मात्रा में जैविक और रासायनिक उर्वरकों को मिट्टी में मिलाकर भर दें। गड्डों को रोपाई के लगभग एक से दो महीने पहले भरकर तैयार कर लें।
जायफल की सिंचाई एवं निराई-गुड़ाई।
पौध तैयार करना:- जायफल के पौध, बीज और कलम दोनों के माध्यम से नर्सरी में तैयार की जाती है। बीज के माध्यम से पौधा तैयार करने में नर और मादा पेड़ों के चयन में बहुत समस्या होती है।
इस कारण इसकी पौध कलम रोपण के माध्यम से तैयार करना बेहतर माना जाता है। कलम के माध्यम से पौध तैयार करने की सबसे अच्छी तथा प्रचलित विधि कलम दाब और ग्राफ्टिंग है।
पौधों की रोपाई खेत में तैयार गड्डों में की जाती है। रोपाई से पूर्व गड्डों के बीचों बीच एक और छोटे आकार का गड्डा बना लें। गड्डे को गोमूत्र या बाविस्टीन से उपचारित कर ले, ताकि पौधे शुरूआती दौर में किसी बीमारि से ग्रस्त ना हो। 
जायफल की खेती
ग्राफ्टिंग विधि से पौध तैयार करना काफी आसान होता है। ग्राफ्टिंग विधि में अच्छे से उत्पादन देने वाली किस्म के पौधों की शाखाओं से पेंसिल के सामान आकार वाली कलम तैयार किया जाता है। इन कलमों को जंगली पौधों के मुख्य शीर्ष को काटकर उनके साथ वी (^) रूप में लगाकर पॉलीथीन से बांध दे। कुछ समय बाद आपका कलम तैयार होगा।
पौध रोपाई का तरीका और समय:- पौधों की रोपाई खेत में तैयार गड्डों में की जाती है। रोपाई से पूर्व गड्डों के बीचों बीच एक और छोटे आकार का गड्डा बना लें। गड्डे को गोमूत्र या बाविस्टीन से उपचारित कर ले, ताकि पौधे शुरूआती दौर में किसी बीमारि से ग्रस्त ना हो। गड्डों को उपचारित करने के बाद पौधे उसमें लगा दें तथा पौधे के तने को दो सेंटीमीटर तक मिट्टी से दबा दें। इसके पौधों की रोपाई का सबसे उपयुक्त समय बारिश का मौसम होता है।
अतः पौधों की रोपाई जून के मध्य से अगस्त माह के शुरुआत तक कर देनी चाहिए। इस दौरान पौधों को विकास करने के लिए उचित वातावरण मिलता है।
पौधों को मार्च के बाद भी उगा सकते हैं, इस दौरान रोपाई करने पर इसके पौधों को देखभाल तथा सिंचाई की अधिक आवश्यकता होती है।
पौधों की सिंचाई:- सिंचाई की जरूरत शुरुआत के दिनों में अधिक होती है। गर्मियों में 15 से 17 दिन और सर्दियों के मौसम में 25 से 30 दिन के अंतराल में पानी देना चाहिए। बारिश के मौसम में पौधों को पानी की आवश्यकता नही होती।           


'चाइना पीक' पर कीजिए निशुल्क ट्रैकिंग

चाइना पीक पर कीजिए निशुल्क ट्रैकिंग, पर्यटन विभाग ने जारी की यह गाइडलाइन। 


बीजिंग। जिला पर्यटन विकास अधिकारी अरविन्द गौड़ ने बताया कि विश्व पर्यटन दिवस के उपलक्ष्य में 27 सितम्बर को पर्यटन विभाग, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा नैनीताल में टांकी-नैना पीक (चाइना पीक)-किलबरी तक 8 किमी निःशुल्क ट्रेकिंग कार्यक्रम का आयोजन प्रातः 8 बजे से किया जा रहा है। जिसमें मा.सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशानुसार 10 वर्ष से अधिक उम्र के छात्राओं द्वारा प्रतिभाग किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष विश्व पर्यटन संगठन द्वारा ’’टूरिस्ट एवं रूरल डेवलपमेंट’’ थीम निर्धारित की गयी है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए ट्रेकर्स अपने साथ मास्क एवं सेनिटाईज़र अवश्य लायें, ट्रेकिंग प्रोग्राम में शासन द्वारा जारी कोविड-19 से सम्बन्धित दिशा-निर्देशों का किया जायेगा।             


संघ के रूप में प्रतिस्थापित कश्यप समाज

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। कश्यप समाज कल्याण ट्रस्ट दौराला मेरठ को एक वर्ष पूरा हो गया है। इस मौके पर कश्यप समाज कल्याण ट्रस्ट के ने सर्वोदय मॉडल इंटर कॉलेज मटौर दौराला मेरठ के प्रांगण में हवन यज्ञ करके मिठाई बांटकर खुशी मनाई। इसके बाद पदाधिकारियों ने समाज की भलाई व संगठन को मजबूत करने के लिए सुझाव दीयें। इस एक साल में कश्यप समाज कल्याण ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने कश्यप समाज के कल्याण और समाज को संगठित करने के लिए दिन रात प्रयास किया है और यह प्रयास आगे भी जारी रहेगा। इस मौके पर ट्रस्ट के अध्यक्ष- मुकेश कश्यप जी,उपाध्यक्ष- करण कश्यप,कोषाध्यक्ष- संजीव कश्यप एडवोकेट, सचिव -अनिल कश्यप ,मास्टर उम्मेदपाल कश्यप,संदीप कश्यप,सहेन्द्र कश्यप, मिस्त्री विजय कश्यप, मिस्त्री रोशन लाल कश्यप, डॉक्टर संजय कश्यप सकौती टांडा, प्रदीप कश्यप घटायन,हरबीर कश्यप, कॉलेज के प्रिंसिपल श्री गुलशन चौहान जी, कॉलेज के क्लर्क श्री विनीत शर्मा जी आदि उपस्थित रहे।


संचारी रोग के विरुद्ध कार्यशाला का आयोजन

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


शिक्षको के लिए संचारी रोग अभियान कार्यशाला आयोजित की गई


हापुड़। नगर क्षेत्र हापुड़ के सभी परिषदीय प्राथमिक  व जूनियर हाई स्कूलों के शिक्षकों संचारी रोग अभियान कार्यशाला आयोजित की गई। जिसमें प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ योगेश गुप्ता सहित गजेन्द्र सिंह, नगर शिक्षा अधिकारी, हापुड़ ने भी विस्तार से प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इस कार्यशाला में संजय कोशल,नगर शिक्षा अधिकारी पिलखुवा ने भी प्रतिभागियों को संबोधित किया, इस प्रशिक्षण में सुश्री शबनम परवीन यूनिसेफ की बीएमसी ने भी प्रतिभाग किया और इस प्रशिक्षण हेतु सॉफ्ट कॉपी में निर्देश आदि भी उपलब्ध कराए गए। इस कार्यशाला में भौतिक दूरी व सामाजिक दूरी का भी सभी के द्वारा अनुपालन किया गया। 
आज की इस आयोजित कार्यशाला के द्वितीय सत्र में सभी शिक्षकों को उनके द्वारा दीक्षा एप पर पंजीकरण के बाद मानव सम्पदा आईडी से जोड़कर डाटा मर्ज करवाए जाने की विषय में तथा नवीन शासनादेश जिसमें स्कूलों के टाइम एंड मोशन विषय तथा विभिन्न विभागीय प्रशिक्षण मॉड्यूल तथा आकाशवाणी, दूरदर्शन, दीक्षा तथा मानव संसाधन विकास विभाग के पोर्टल व ऐप पर उपलब्ध विभिन्न शैक्षणिक सामग्री तथा संचालित प्रशिक्षण विषय व बच्चों के कार्यक्रमों के विषय में विस्तार से जानकारी भी अखिलेश शर्मा, ए आर पी हापुड़ ने जानकारी प्रदान की गई ।                 


महिला आयोग ने सुनी उत्पीड़न की समस्या

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


उपाध्यक्ष राज्य महिला आयोग ने सुनी महिलाओं के उत्पीड़न की समस्याएंः सुषमा सिंह


हापुड़। महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह द्वारा महिलाओं के उत्पीड़न की जनसुनवाई को सिंचाई विभाग के गेस्ट हाउस में संबोधित करते हुए महिला उत्पीड़न की समस्या का कराया गया निराकरण।
मान्य मुख्यमंत्री द्वारा संचालित बालिका सुरक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत एवं महिलाओं के साथ हो रहे उत्पीड़न पर न्याय दिलाने के उद्देश्य से सिंचाई विभाग के गेस्ट हाउस में माननीय उपाध्यक्ष राज्य महिला आयोग सुषमा सिंह द्वारा महिला उत्पीड़न की रोकथाम एवं पीड़ित महिलाओं को त्वरित न्याय दिलाए जाने एवं महिला उत्पीड़न की घटनाओं की समीक्षा हेतु अधिकारियों के साथ बैठक की गई।  माननीय उपाध्यक्ष नें महिला फरियादियों की शिकायतों को सुना तथा समस्या का जल्द से जल्द निस्तारण हेतु पुलिस विभाग व वन स्टाॅप सैंटर के अधिकारियों को निर्देषित किया गया। जो शिकायतें घरेलू हिंसा से संबंधित थी उनके निस्तारण हेतु महिला आयोग की उपाध्यक्ष ने महिला थाना अध्यक्ष को घरेलू हिंसा की शिकायतों का जांच कराकर तत्काल कार्यवाही कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार महिलाओं की सुरक्षा हेतु पूर्ण रूप से कटिबद्ध है अतः महिलाएं निसंकोच अपनी शिकायत मेरे समक्ष या महिला थाने में उपस्थित होकर कर सकती हैं जिनका निस्तारण संबंधित अधिकारियों द्वारा गुणवत्ता परक कराया जाएगा एवं महिलाओं को सुरक्षा भी प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप मेरा यह प्रयास रहेगा कि अधिक से अधिक संख्या में महिलाएं मेरे समक्ष उपस्थित होकर निसंकोच अपनी समस्या प्रस्तुत करें ताकि पीड़ित महिला के साथ न्याय हो सके। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनपद में महिलाओ उत्पीड़न संबंधित जो भी शिकायतें आती है। उसकी तत्काल जांच कराकर पूर्ण गुणवत्ता के साथ निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाए।  महिला जनसुनवाई के दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी हापुड़ अरविन्द कुमार, डॉक्टर निशा रावत लीगल प्रोबेशन अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी, जिला विकलांग कल्याण अधिकारी, बाल संरक्षण पुष्टाहार अधिकारी, अमित कुमार संरक्षण अधिकारी, महिला थाना, वन स्टाॅप सेंटर सहित सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।             


नकली कंडेनसर बनाने की फैक्ट्री का पर्दाफाश

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
नामची कंपनी के कंडेनसर बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़


हापुड़। जनपदों में आज थाना पिलखुवा कोतवाली पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए नामची कंपनी के कंडेनसर व कंडेनसर बनाने वाली एक कंपनी का भंडाफोड़ किया। यह लोग नामची कंपनी के कंडेनसर बनाकर बाजार में बेक रहे थे। मुखबिर की सूचना पर पिलखुवा कोतवाली में तैनात उपनिरीक्षक सुमित तोमर व सहयोगी अमित कुमार, विनय कुमार, कमर कुमार द्वारा मुखबिर की सूचना पर जब दबिश दी गई तो वहां से दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। जो नामची कंपनी के C TECH के नाम से कंडेनसर बनाकर बाजार में बेच रहे थे। गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से कंपनी के नाम के अनेकों लेवल के पत्ते व कंडेनसर प्राप्त किए गए खाली पड़े मकान में बनाते थे अवैध कंडेनसर गिरफ्तार अभियुक्त ओम प्रकाश पुत्र हरिनारायण निवासी चंडी मंदिर के पास पिलखुवा थाना जनपद हापुड़ तथा दूसरा अभियुक्त अनिल पुत्र अंशु कुमार निवासी नंगला कसेरा थाना दादो जनपद अलीगढ़ हैं। अभियुक्तों के कब्जे से 10 पेटी सीटी मार के तैयार कंडेनसर तथा पांच पेटी सफेद कंडेनसर अध बने चक कंडेनसर बनाने का अन्य उपकरण पुलिस ने जप्त किए हैं।


संगठन ने 8वीं बार जिला मीडिया प्रभारी बनाया

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


हापुड़। भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष उमेश राणा ने प्रवीण सेठी कर्मठ कायर्कर्ता को आठवीं बार जिला मीडिया प्रभारी नियुक्त किया है। भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष उमेश राणा ने प्रवीण सेठी कर्मठ कार्यकर्ता को आठवीं बार जिला मीडिया प्रभारी नियुक्त किया हैl बता दें कि यहां दिल्ली रोड स्थित भाजपा जिला कार्यालय पर एक पत्रकार वार्ता के दौरान जिला अध्यक्ष उमेश राणा ने प्रवीण सेठी को को जिला अध्यक्ष नियुक्त करने की घोषणा कीl               


घरेलू हवाई यात्राओं में दी जाएगी काफी छूट

हवाई यात्रियों के लिए सिर्फ एक चेकइन बैगेज की सीमा समाप्त।


नई दिल्ली। हवाई यात्रियों के लिए सिर्फ एक चेकइन बैगेज और एक हैंडबैगेज की सीमा समाप्त कर दी गई है। पूर्णबंदी के बाद 25 मई से घरेलू विमान सेवा दुबारा शुरू होने पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर प्रति यात्री सिर्फ एक चेकइन बैगेज और एक हैंडबैगेज की ही अनुमति दी थी।
अपने उस आदेश में संशोधन करते हुये अब मंत्रालय ने कहा है “बैगेज की सीमा अब विमान सेवा कंपनी की नीति के अनुरूप होगी।” इससे पहले 21 मई को जारी आदेश में कहा गया था कि यात्री सिर्फ एक चेकइन बैगेज और एक हैंडबैगेज ही ले जा सकता है।               


राजीव गांधी के हत्यारों को 30 दिन की पैरोल

मद्रास हाईकोर्ट ने राजीव गांधी के हत्यारे पेरारिवलन को दी 30 दिन की पैरोल।


चेन्नई। मद्रास उच्च न्यायालय ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के हत्यारे पेरारीवलन को गुरुवार को 30 दिन की पैरोल दी है। पेरालिवलन की मां अर्पुथमल ने अपनी स्वास्थ्य स्थिति का हवाला देते हुए याचिका दायर की थी, जिस पर यह पैरोल दी गई है। साथ ही पैरोल ऐसे समय में दी गई है, जब पुझाल जेल में कैदियों का कोरोना वायरस परीक्षण पॉजिटिव आया है।
राजीव गांधी की हत्या के मामले में 7 लोगों को दोषी ठहराया गया था। इनके नाम हैं- ए.जी. पेरारिवलन, वी.श्रीहरन उर्फ मुरुगन, टी. सुतेन्द्रराज उर्फ संथान, जयकुमार, रॉबर्ट पायस, रविचंद्रन और वी. श्रीहरन की पत्नी नलिनी श्रीहरन।
ये सभी अपराधी 1991 से जेल में हैं। उसी साल चेन्नई के पास एक चुनावी रैली में लिट्टे की एक महिला आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा दिया था, जिसमें राजीव गांधी की मौके पर ही मौत हो गई थी। तमिलनाडु सरकार ने इन सभी दोषियों की रिहाई के लिए एक प्रस्ताव पारित किया है, जिस पर अभी राज्यपाल का निर्णय आना बाकी है।               


पंजाब में रद्द किया 'ट्रेनों' का परिचालन

किसान आंदोलन के मद्देनजर पंजाब में रद्द किया गया ट्रेनों का परिचालन।


राणा ऑबरॉय


चंडीगढ़। संसद के दोनों सदनों से पारित हुए तीनों कृषि विधेयकों के विरोध में किसानों ने तीन दिवसीय ‘रेल रोको’ अभियान शुरू किया है। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर फिरोजपुर रेलवे डिवीजन ने 26 सितंबर तक विशेष ट्रेनों का परिचालन रद्द करने का फैसला किया है।
इस फैसले के तहत जिन ट्रेनों को निलंबित किया गया है उनमें स्वर्ण मंदिर मेल (अमृतसर-मुंबई सेंट्रल), जन शताब्दी एक्सप्रेस (हरिद्वार-अमृतसर), नई दिल्ली-जम्मू तवी, सचखंड एक्सप्रेस (नांदेड़-अमृतसर) और शहीद एक्सप्रेस। (अमृतसर-जयनगर) शामिल हैं।
अब तक के इतिहास में पहली बार पार्टी लाइन से हटकर एकजुटता दिखाते हुए पंजाब के 31 किसान संगठनों ने शुक्रवार को संयुक्त राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन करने की घोषणा की है। संगठनों ने पूर्ण पंजाब बंद का भी आह्वान किया है। उन्होंने 25 सितंबर के बाद विरोध प्रदर्शन जारी रखने की भी रणनीति भी बनाई है। बता दें कि भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता बरनाला और संगरूर कस्बों में रेल पटरियों पर धरना दे रहे हैं।               


एक कुंटल गौ मांस के साथ चार गिरफ्तार

एक क्विंटल गोमांस के साथ चार गिरफ्तार, दो मौके से फरार, बाइक व गोकशी के औजार बरामद।


सितारगंज। गोकशी की सूचना पर गोवंश स्क्वायड और पुलिस की संयुक्त टीम ने ग्राम बघौरी में दबिश डाली। मौके से चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि दो मौके से फरार हो गए। घटनास्थल से एक क्विंटल गोमांस, एक बाइक और औजार बरामद किया गया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ गोकशी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। बृहस्पतिवार को गोवंश स्क्वायड को सूचना मिली कि ग्राम बघौरी में कुछ लोग गोकशी कर रहे हैं।
इस इंस्पेक्टर विनोद कुमार यादव के नेतृत्व में टीम ने गांव में छापा मारा। यहां पर छह लोग गोकशी कर रहे थे। टीम को देखकर दो अकरम कुरैशी पुत्र अनवार और आरिफ कुरैशी फरार हो गए। जबकि अजीम अली, शाकिर अंसारी, सलमान खान, दानिश कुरैशी को गिरफ्तार किया गया।
यहां से एक क्विंटल मांस, गौकशी के औजार, तराजू, बाट और बाइक संख्या यूके06-एक्स 7330 बरामद की गई। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ गोवंश संरक्षण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। टीम में एसआई अम्बिराम आर्या, एसआई चंदन सिंह बिष्ट, जीवन चन्द्र जोशी, कांस्टेबल रविंद्र सिंह, जगपाल सिंह, रविंद्र सिंह, स्वरूप सिंह, चंद्रशेखर मल्होत्रा, नरेंद्र कुमार व केशर सिंह थे।                        


एक्सप्रेस-वे पर भीषण हादसा, 30 घायल

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर भीषण सड़क हादसा, 30 घायल।


उन्नाव। उन्नाव में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर बेहटा मुजावर क्षेत्र में गुरुवार सुबह 30 सवारियां लेकर हरियाणा से लखनऊ आ रही मिनी बस गौरिया कला गांव के पास खड़े कंटेनर में पीछे से जा घुसी। उसी समय आगरा की ओर से आ रही एक कार भी मिनी बस में पीछे से टकरा गई।
पुलिस ने यहां कहा कि हादसे में 30 यात्री घायल हो गए। पुलिस ने बस में फंसे यात्रियों को बाहर निकाल कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। प्राथमिक उपचार के बाद डाक्टरों ने गंभीर रूप से घायल 12 लोगों को जिला अस्पताल भेज दिया है।
हरियाणा से एक मिनी बस लगभग 30 सवारियां लेकर लखनऊ के लिए चली थी। आगरा- लखनऊ एक्सप्रेस वे पर बेहतामुजावर इलाके में बस एक्सप्रेस वे पर खराब खड़े कंटेनर में जा घुसी। पीछे से आ रही एक तेज रफ्तार कार भी मिनी बस में टकरा गई। कार सवार बाल-बाल बच गए।             


आप भी यो-यो टेस्ट कराते हैं क्याः विराट

प्रधानमंत्री ने कोहली से पूछा: आप भी यो-यो टेस्ट कराते हैं क्या?


नई दिल्ली। फिटनेस और विराट कोहली का चोली-दामन का नाता है। कोहली देश के सबसे फिट खिलाड़ियों में से एक हैं। यही कारण है कि फिट इंडिया मूवमेंट की पहली वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोहली से पूछ ही लिया कि उनकी फिटनेस का राज क्या है और क्या वह भी अपना यो-यो टेस्ट कराते हैं?
प्रधानमंत्री गुरुवार को भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए इस अभियान की पहली वर्षगांठ पर भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान कोहली से मुखातिब थे। इस दौरान दोनों के बीच रोचक संवाद हुआ। कोहली अभी संयुक्त अरब अमीरात में अईपीएल खेल रहे हैं और इस अभियान के एक साल होने पर वब खासतौर पर पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री से मुखातिब हुए।
इस संवाद के दौरान प्रधानमंत्री ने कोहली से यो-यो टेस्ट और थकान के बारे में सवाल पूछा, जिसका विराट कोहली ने अपने अंदाज में जवाब दिया। कोहली ने कहा कि आजकल लाइफ की डिमांड ज्यादा हो गई है। फिटनेस को नहीं इंप्रूव करेंगे तो खेल में पीछे छूट जाएंगे। खेल में सफलता के लिए सिर्फ स्किल ही नहीं शरीर और दिमाग कितना तंदरुस्त है, ये भी मायने रखता है।
प्रधानमंत्री ने कोहली से पूछा कि आपको कभी थकान नहीं लगती? जिस पर कोहली बोले, ईमानदारी से कहूं तो थकान हर किसी को होती है। अगर आप शारीरिक मेहनत करेंगे तो थकान लगेगी। लेकिन अगर आपका लाइफस्टाइल अच्छा है, अच्छा खा रहे हैं, नींद अच्छी है तो आपकी रिकवरी तेज होगी। अगर मैं थक रहा हूं और एक मिनट में दोबारा तैयार हो जाता हूं, यह मेरा प्लस प्वाइंट है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आजकल टीम के लिए यो-यो टेस्ट हो रहा है। क्या कैप्टन को भी ये टेस्ट कराना पड़ता है? इस पर भारत और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर टीम के कप्तान कोहली ने फिटनेस के लिहाज से यो-यो टेस्ट को बहुत जरूरी बताया।
कोहली ने कहा, ” इससे टीम का फिटनेस लेवल बढ़ता है। टेस्ट मैच में फिटनेस बहुत जरूरी है। टी-20 और वन डे की तुलना में टेस्ट मैच पांच दिन खेलना होता है। इसमें फिटनेस स्टैंडर्ड ज्यादा मायने रखता है। इसीलिए यो-यो टेस्ट में मैं भी भाग लेता हूं। अगर मैं भी फेल हो जाऊंगा तो सलेक्शन के लिए उपलब्ध नहीं रहूंगा। स्किल हमारे पास हमेशा से रही है, लेकिन फिटनेस भी जरूरी होता है। फिटनेस की वजह से अब हमारे रिजल्ट बेहतर आ रहे हैं।
विराट कोहली ने कहा, जिस पीढ़ी में हमने खेलना शुरू किया, चीजें बहुत तेजी से बदलीं। हमारे स्किल में प्राब्लम नहीं थी, लेकिन फिटनेस में प्रभाव पड़ रहा था। फिटनेस प्रायरिटी होनी चाहिए। प्रैक्टिस मिस हो जाए तो मुझे खराब नहीं लगता। लेकिन फिटनेस छूट जाए तो खराब लगता है।              


सिख पांडुलिपियांं गुरुद्वारे में स्थानांतरित

पाक सूफी संगठन ने 110 साल पुरानी सिख पांडुलिपियों को गुरुद्वारे में किया स्थानांतरित।


इस्लामाबाद। एक पीर के घर पर 90 साल तक सुरक्षित रखी गईं गुरु ग्रंथ साहिब की 110 साल पुरानी दुर्लभ पांडुलिपियों को अब पाकिस्तानी सूफी संगठन ने सियालकोट के एक गुरुद्वारे में स्थानांतरित करा दिया है। गुरुवार को मीडिया के जरिए यह जानकारी मिली है।
द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, मित्र सांझ पंजाब संगठन के प्रमुख इफ्तिखार वाराइच कालरावी ने बताया कि 2 पांडुलिपियां लंबे समय से गुजरात जिले के कालरा दीवान सिंघाला के एक सूफी पीर सैयद मुनीर नक्शबंदी के घर पर सुरक्षित थीं। आपसी सद्भाव की वकालत करने वाले नक्शबंदी ने विभाजन से पहले जातीय हिंसा से बचने की कोशिश कर रहे कुछ सिख परिवारों को अपने घर पर शरण दी थी।
कालरवी ने बताया, “परिवार को आश्रय देने के अलावा उन्होंने उनके कुछ धार्मिक शास्त्रों को भी सुरक्षा दी थी और उन्हें अपवित्र होने से बचाया था। उनमें गुरु ग्रंथ साहिब की 2 पांडुलिपियां भी थीं। 1950 में जब सूफी बुजुर्ग का निधन हुआ तब उनके बच्चों ने इन्हें सुरक्षित रखा। तब से वे परिवार के पास ही थे। उन्होंने आगे कहा, “पीर के परिवार के पास 90 से अधिक सालों तक सुरक्षित रहने के बाद अब हमने फैसला किया है कि इन पांडुलिपियों को अब गुरुद्वारा बाबा दी बेरी में स्थानांतरित कर दिया जाना चाहिए। यह मुस्लिम-सिख दोस्ती का एक शानदार उदाहरण है और यह हमारे रिश्तों को और मजबूत बनाने में मदद करेगा। सात दशक से ज्यादा समय तक खराब स्थिति में रहने के बाद सियालकोट के इस गुरुद्वारे की 2015 में मरम्मत की गई थी, जिसके बाद एक बार फिर सिख तीर्थयात्रियों और भक्तों का यहां आना शुरू हो गया है।                 


प्यार के चक्कर में फंसे पादरी, लगी चपत

पादरी फंसे विदेशी युवती के प्यार में, गंवा बैठे 3.50 लाख की रकम, जानिए मामला।


तिरुवनंतपुरम। केरल के एक पादरी फेसबुक पर विदेशी युवती के प्यार में फंस गए। युवती ने उन्हें महंगे गिफ्ट भेजे। उसे एयरपोर्ट से छुड़ाने के लिए कस्टम ड्यूटी के नाम पर साढ़े तीन लाख की ठगी कर ली। तफ्तीश में अकॉउंट बरेली जिले के आंवला थाना क्षेत्र का निकला। अकॉउंट का संचालन बदायूं के बिसौली निवासी युवक कर रहा है। एडीजी के आदेश पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।
पुष्प विहार दिल्ली निवासी जयशंकर टीएस ने बताया कि केरल के फादर जोमन मनालल उनके फ्रेंड हैं। उनके दोस्त के फेसबुक पर एक मैसेज आया। मैसेज करने वाली ने खुद को रेगिना हेंडर्सन निवासी यूनाइटेड किंगडम बताया। उसने पादरी को यूनाइटेड किंगडम से आईफोन, लैपटॉप, 50 हजार जीबीपी यानी करीब 46 लाख रुपए और अन्य सामान गिफ्ट के तौर पर भेजने की बात कही। उसने उनके व्हाट्सएप नम्बर पर कोरियर से सामान भेजने की फर्जी रसीद भी भेजी।
उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट दिल्ली पर कस्टम के पास सामान होने के बहाने से डेढ़ लाख रुपयों की डिमांड की। उनके पास एक फोन भी आया, जिसमें युवक ने खुद को कस्टम अधिकारी बताया। भरोसे में लेकर साढ़े तीन लाख रुपए अपने बैंक खाते में जमा करा लिए। पादरी ने बैंक अकाउंट की डिटेल चेक की तो पता चला कि अकाउंट नंबर कस्टम डिपार्टमेंट का नहीं है, बल्कि आंवला एसबीआई ब्रांच में अकिल नवी का है। इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने बताया कि एडीजी के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू करा दी गई है।
इस मामले की विवेचना कर रहे इंस्पेक्टर क्राइम उदयवीर सिंह यादव का कहना है कि खाताधारक अकिल नवी बिसौली बदायूं का रहने वाला है। शाखा प्रबंधक ने जानकारी के नाम पर उसका केवल नाम और पता बताया। प्रबंधक का कहना है कि खाता संबंधी सभी रिकॉर्ड लखनऊ चला जाता है, वहीं से वापस आएगा। उन्होंने तो इस खाते में खाताधारक की शिनाख्त न होने की बात भी कही है। लखनऊ से रिकॉर्ड आने के बाद ही जांच की कार्रवाई आगे बढ़ सकेगी।               


महिला जागृति के लिए चलाएंगे 'अभियान'

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। भारतीय उचित जनजागृति समिति रजि के मुख्यालय मोहल्ला पंसारी ऑन वाल्मीकि कॉलोनी में एक बैठक हुई। जिसकी अध्यक्षता बबीता देवी नेकी संचालन रामवती देवी ने किया बैठक में मुख्य रूप से शामिलकुमारी काजल वाल्मीकि प्रदेश प्रभारी भारतीय अनुसूचित जन जागृति समिति ने बैठक को संबोधित करते हुए कहां की संगठन द्वारा जन समाज को एवं महिलाओं को जागरूक करने के लिए शीघ्र एक अभियान चलाया जाएगा और अपने हक अधिकारों के प्रति जन समाज को  एकजुट होकर अपने हक अधिकारों के प्रति जागरूकता अभियान चलाया जाएगा और उत्तर प्रदेश सरकार से सरकारी महकमों में निजी करण करने के फैसले को रद्द करने एवं बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिलाए जाने की मांग की है। बैठक में रेखा पाल बबीता प्रजापति कविता देवी कुसुम प्रजापति रामवती देवी बेबी देवी अंजू देवी उषा देवी सुशीला देवी शामिल रही।


बेटी दिवस पर 51 बेटियों का किया सम्मान

बेटी सुरक्षा दल द्वारा दिल्ली में बेटी दिवस पर 51 बेटियो का किया सम्मान।


बेटी दिवस पर बेटी सुरक्षा दल दिल्ली ने राष्ट्रीय अध्यक्ष बबीता शर्मा जी के निर्देश पर सम्पूर्ण भारत मे बेटी दिवस मनाने के निर्देश के तहत।


नई दिल्ली। दिल्ली में प्रदेश प्रभारी नरेश कुमार जी व बेटी सुरक्षा दल की प्रदेश अध्यक्ष नीतू सिंघल जी के नेतृत्व में कोरल बैंकट होल कीर्ति नगर दिल्ली में 51 मेधावी छात्राओं का जिन्होंने 90 प्रतिशत अंक के ऊपर प्राप्त किये है उनको मैडल व प्रमाण पत्र दे कर बेटियों को सम्मानित किया ।
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बेटी सुरक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्यकारणी डॉ एस के शर्मा उपस्थित रहे ।
कार्यक्रम में बेटी सुरक्षा दल के इस कार्यक्रम दिल्ली प्रदेश के कई बड़े दिग्गज नेता अभिनेता समाजसेवी समाजसेविका व कई निगम पार्षद ,मॉडल, चिकित्सक, शिक्षक उपस्थित रहे ।
कार्यक्रम में उपस्थित बेटी सुरक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्यकारणी डॉ एस के शर्मा ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधि पूर्वक शुभारंभ किया व उन्होंने कहा कि बेटी सुरक्षा दल बनाने का उद्देश्य है कि देश मे बेटियों को सुरक्षा, शिक्षा, चिकित्सा गारंटी क़ानून मिले व बेटियो को सुरक्षा गारंटी कार्ड सरकार उपलब्ध कराए ताकि देश की बेटियां देश मे सुरक्षित रहे ।
इस कार्यक्रम में शामिल रहे बेटी सुरक्षा दल के दिल्ली प्रदेश प्रभारी।
नरेश कुमार जी ने कहा कि दिल्ली प्रदेश में बेटी सुरक्षा दल से जुड़कर अगर में ओर मेरी पूरी टीम एक भी बेटी को बचाने में कामयाब रहे तो हमारा ये जीवन सार्थक होगा ।                      बेटी सुरक्षा दल की प्रदेश अध्यक्ष नीतू सिंघल ने कहा कि बेटी सुरक्षा दल दिल्ली में बेटियो की रक्षा के साथ साथ बेटियों को एजुकेशन दिलाएगी व बेटियों को मजबूत करने के लिए सम्पूर्ण दिल्ली में जन जागरूकता अभियान चला कर दिल्ली में बेटियों को मजबूत करने का काम करेगी बेटियों को बेटी सुरक्षा दल द्वारा फ्री सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिग व बेटियों को स्वालंभी बनाने के लिए सिलाई, कड़ाई,मेहंदी, डिजाइन,आदि ट्रेनिंग की व्यवस्था की जाएगी ताकि बेटियां बोझ ना लगे । इस कार्यक्रम में बेटी सुरक्षा दल की हरियाणा प्रदेश की ब्रेंड अम्बेसडर डॉ पूनम वीरेन ने कहा कि बेटी सुरक्षा दल के इस कार्यक्रम की जितनी भी प्रसंशा की जाए कम है । में ओर मेरी पूरी टीम सम्पूर्ण भारत मे बेटियो के लिए काम करेंगे ।।                                                          बेटी सुरक्षा दल की दिल्ली से ब्रेंड अम्बेसडर मोनिका काण्डपाल ने कहा बेटियां अब कमजोर नही बस जरूरत है तो इनको बचाने की हम सब इस ओर जागरूक होकर हम बेटी बचाने में कामयाब होंगे । बेटी सुरक्षा दल की उत्तर प्रदेश की ब्रेंड अम्बेसडर आकांक्षा गुप्ता ने कहा कि बेटियों के लिए देश मे सुरक्षा व्यवस्था व शिक्षा जरूरी है इसको सरकार जल्द कानून बना कर बेटियों को फ्री शिक्षा, सुरक्षा, चिकित्सा, गारंटी कार्ड प्रवाइड कराए । ताकि देश मे सुरक्षित हो सके । में ओर मेरी पूरी टीम उत्तर प्रदेश के साथ साथ देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान चलाकर लोगो को जागरूक करने का काम करूंगी व बेटियों को सुरक्षित करूंगी ।
बेटी सुरक्षा दल की उत्तराखंड प्रदेश अध्यक्ष शीलू त्यागी ने कहा कि देश को जरूरत है बेटियों को सम्मान देने की आज दिल्ली में इस कार्यक्रम में मेधावी बेटियों को सम्मानित करना गौरव की बात है । हम धन्य है जो हमे बेटियो का सम्मान करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ ।
बेटी देश का गौरव है इस को संभालने के साथ साथ इन को बचाने का कर्तव्य भी हमारा ही बनता है ।
इस कार्यक्रम में सामाजिक व मीडिया, राजनीतिक , महान व्यक्तिओ का शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया
इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे।
संजय आनंद ,नरेश कुमार,डॉ सुनील वशिष्ठ, राष्ट्रीय संगठन मंत्री डॉ जुबैर त्यागी,राष्ट्रीय प्रमुख सचिव डॉ राजाराम,राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष परमप्रीत कोर,उपाध्यक्ष उत्तराखंड बेटी सुरक्षा दल शुखजिंदर कोर, प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ आर के शर्मा,राष्ट्रीय सचिव डॉ फ़हीम खान, डॉ वाई के राठौड़,प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ आर के वर्मा , मंडल अध्यक्ष मेरठ शाजिद भाई, राष्ट्रीय मीडिया संयोजक डॉ जमील खान ,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय सिंह राष्ट्रीय महा सचिव सर्वेश गुप्ता प्रदेश सचिव उत्तराखंड ,शीलू त्यागी प्रदेश अध्यक्ष उत्तराखंड, प्रताप कुमार प्रदेश सचिव दिल्ली, दीपिका,
राजकुमार जैन दिल्ली संग़ठन सचिव डॉ राकेश वाही प्रदेश सचिव,सिमा द्विवेदी प्रदेश संगठन मंत्री अनुभव गर्ग प्रदेश सचिव ,विजय सिंह, स्पेशल गेस्ट सुभाष यादव जी संजय मित्तल व परमानंद जी उपस्थित रहे ।           


कश्मीरः एएसआई शहीद 1 आतंकी ढेर

कश्मीर में बीडीसी चेयरमैन की हत्या, सीआरपीएफ का एएसआई शहीद… एक आतंकी भी ढेर।


श्रीनगर। कश्मीर में पिछले 12 घंटों में आतंकियों ने भाजपा से संबंधित बीडीसी चेयरमैन की हत्या कर दी। वहीं सुबह सीआरपीएफ के काफिले पर हमले में एक एएसआई शहीद हो गया तथा एक अन्य स्थान पर आतंकियों से मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया है।
मध्य कश्मीर के बडगाम जिले के चामोरा के केसरमुल्ला इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के गश्ती दल को निशाना बनाया। इस दौरान घायल जवान की राइफल भी छीनकर ले गए। बाद में सीआरपीएफ अधिकारी की मौत हो गई। वहीं दूसरी ओर सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराने में कामयाबी पाई है। फिलहाल आतंकियों से मुठभेड़ जारी है। अवंतीपोरा में जारी एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया है। वहीं बडगाम में बीडीसी चेयरमैन की हत्या के बाद सुबह सीआरपीएफ टीम पर आतंकी हमला हुआ। इसमें एक जवान शहीद हो गया है। शहीद की पहचान सीआरपीएफ के एएसआई एनयू बडोले के तौर पर की गई है। अवंतीपोरा के त्राल के मघामा इलाके में बृहस्पतिवार सुबह आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच एनकाउंटर शुरू हुआ। कश्मीर जोन पुलिस ने बताया कि सुरक्षाबलों के हाथ कामयाबी लगी है। एक आतंकी मारा जा चुका है। पुलिस और सुरक्षाबल डटे हुए हैं। बताया जा रहा है। कि मुठभेड़ में 2 से 3 आतंकी घेराबंदी में फंसे हुए हैं।               


किसानों को मजदूर बनाने की साजिश

किसानों को मजदूर बनाने की साजिश। सीएम भूपेश बघेल


नए कानून से मंडियों का अस्तित्व ही मिट जाएगा।
कृषि विधेयक पर केन्द्र सरकार पर साधा निशाना।


नागपुर। केन्द्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि विधेयक को लेकर मचे घमासान के बीच गुरुवार को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे किसान विरोधी करार देते हुए केन्द्र सरकार पर जमकर हमला किया।
नागपुर में एक प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि केन्द्र सरकार ने राज्य सरकारों को और किसान संगठनों से बिना कोई चर्चा या सलाह किए बिना यह विधेयक लाया है। श्री बघेल ने कहा कि केन्द्र सरकार के इस फैसले का चौतरफा विरोध हो रहा है। इससे मंडी व्यवस्था पूरी तरह से ठप हो जाएगी। मंडियों में उपज बेचकर किसान खुश थे। लेकिन केन्द्र सरकार किसानों को खुश देखना ही नहीं चाहती। उन्होंने कहा कि मंडियों में क्रेता।विक्रेताओं के मध्य होने वाले व्यापार मंडी सचिवों की निगरानी में होती थी। कोई विवाद होने पर मंडी सचिव इसे सुलझाता था। अब यदि विवाद होगा तो इसका निराकरण कराने किसान कहां जाएंगे। किसानों के साथ यदि धोखा होता है। तो वे किससे गुहार लगाएंगे। नए नियमों के अनुसार मंडियों में लाइसेंस लेने की जरूरत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि किसानों के पास आधार क्या होगा कि उसने अपनी उपज किसे और कितने में बेचा है। जबकि मंडियों में बकायदा किसानों का रिकार्ड होता है। मंडी के बाहर होने वाले इस व्यापार की निगरानी कौन करेगा। यह सीधे-सीधे मंडियों को समाप्त करने की साजिश है। मंडियां नहीं होगी तो मंडियों में कार्यरत हजारों-लाखों कर्मचारी भी बेरोजगार हो जाएंगे। किसानों की उपज का यदि भुगतान नहीं होगा तो वह कहां जाएगा यह किसानों को उनकी ही जमीन पर मजदूर बनाने की सोची-समझी साजिश है। सीएम श्री बघेल ने कहा कि केन्द्र सरकार ने अब तक राज्यों को जीएसटी की बकाया राशि नहीं दी है।  राज्यों की हालात खराब होती जा रही है। श्री बघेल ने कहा कि कान्टे्रक्ट फार्मिंग का फार्मूला सीधे-सीधे किसानों को मजदूर बनाने का है। इस फार्मूले में किसान अपनी ही जमीन पर बंधवा मजदूर बनकर काम करेगा क्या यह उचित है। उन्होंने कहा कि उपजों का एमपीएस भी निर्धारित नहीं किया गया है। ऐसे में निजी कंपनियां मनमानी करेंगी और अपने लाभ के अनुसार किसानों से उपज खरीदेंगी यह क्या देश भर के किसानों के लिए उचित होगा।             


30 सितंबर तक सख्त रहेगा 'लॉकडाउन'

30 सितंबर तक सख्त लॉकडाउन रहेगा 
मनोज सिंह ठाकुर 
रायगढ़। जिले में लगातार बढते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए आज से 30 सितंबर तक सख्त लॉकडाउन रहेगा। कलेक्टर भीम सिंह के निर्देश पर आज से इसका परिपालन शुरु हो गया है। वहीं महासमुंद में भी आज रात 12 बजे से लाकडाउन लागू हो गया है, दुर्ग जिले में भी आज से लॉकडाउन जारी हो गया है, बाहर निकलने वालों पर पुलिस द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी। लॉकडाउन के दौरान इस बार जिले में फल, सब्जी व राशन दुकानें भी पूरी तरह बंद रहेंगी। इतना ही नहीं पेट्रोल पंप भी दोपहर 12 बजे के बाद पूरी तरह बंद रहेंगे। हालांकि दूध विक्रेताओं को सुबह 8 बजे तक और शाम 5 से 6.30 बजे तक विक्रय की अनुमति दी गई है।


दरअसल जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या जहां पांच हजार चुकी है तो वहीं मौतों का आंकड़ा भी 45 तक जा पहुंचा है जिसे देखते हुए जिला प्रशासन ने ये आदेश जारी किया है। लाकडाउन का पालन सुनिश्चित करने के लिए पुलिस होम गार्ड के 5 सौ से अधकि जवानों की शहर में तैनाती कीगई है वहीं राजपत्रित अधिकारी भी मानीटरिंग के लिए नियुक्त किए गए हैं। खास बात ये है कि इस लाकडाउन के दौरान जिले के सारे नगरीय निकाय क्षेत्रों में धारा 144 लागू करते हुए पूरी तरह सख्ती बरतने के निर्देश दिए गए हैं। लाकडाउन के दौरान अनावश्यक घर से बाहर निकलने पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है।


दरअसल जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या जहां पांच हजार चुकी है तो वहीं मौतों का आंकड़ा भी 45 तक जा पहुंचा है जिसे देखते हुए जिला प्रशासन ने ये आदेश जारी किया है। लाकडाउन का पालन सुनिश्चित करने के लिए पुलिस होम गार्ड के 5 सौ से अधकि जवानों की शहर में तैनाती कीगई है वहीं राजपत्रित अधिकारी भी मानीटरिंग के लिए नियुक्त किए गए हैं।               


अवकाश पर रहेंगे पटवारी, सौंपा ज्ञापन

पटवारी से मारपीट करने के विरोध मे तीन दिन के सामूहिक अवकाश पर रहेंगे पटवारी,सौंपा ज्ञापन।


चिचोली। चिचोली तहसील कार्यालय के समस्त पटवारीयो ने मध्य प्रदेश पटवारी संघ मध्य प्रदेश के आव्हान पर भिड़ जिले के रौन तहसील मे पदस्थ सचिन शाक्य पटवारी  के साथ वकील और 25 गुंडो दवरा बुरी तरह से मारपीट कर घायल किये जाने पर चिचोली पटवारी संघ विरोध प्रदर्शन कर तहसीलदार लवीना घागरे को तीन दिन सामुहिक अवकाश लेने और दोषीयो पर उचित कार्य वाही करने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा गया पटवारी संघ अध्यक्ष अनिल सावरकर ने बताया कि आये दिन पटवारी अकेला विवादित भूमि बंटवारा लोगो के राजस्व सबंधी कार्य सीमांकन आदि कार्य करते हैं। लोगो से विवाद होने के आसार हमेशा बने रहते हैं तो पटवारी की सुरक्षा हेतू पटवारीयो को शस्त्र लाईसेंस सुरक्षा दी जाय। वरिष्ठ पटवारी सहदेव गंगारे प्रविण मालवी ने कहा कि अगर दोषियो पर कार्यवाही नही की गई तो पटवारी संघ आगे उग्र आंदोलन करेगा इस अवसर पर संजय  नागले योगेश झरबडे सुनिल बर्डे रेखा चौकीकर विजय राठौर संजय मानकर कैलाश मालवी दिपक उइके लव प्रीत सोनी लीना घनेशवरी युवराज ढावले के साथ ब्लाक तहसील के पटवारी गण थे।               


दूसरे मैच में पंजाब के सामने होगी आरसीबी

आईपीएल-2020 अपने दूसरे मैच में पंजाब के सामने होगी आरसीबी।
रोशन कुमार प्रजापति
दुबई। दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अपने पहले मैच में सुपर ओवर में हारने के बाद किंग्स इलेवन पंजाब की टीम इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें संस्करण के अपने दूसरे मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ गुरुवार को यहां दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में उतरेगी।
दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ पंजाब ने मयंक अग्रवाल की 60 गेंदों में 89 रनों की पारी के दम पर 158 रनों का लक्ष्य का पीछा किया था। पंजाब के बाकी बल्लेबाज प्रभाव नहीं छोड़ सके थे।लेकिन मयंक ने एक छोर संभाले रखते हुए अपने दम पर पंजाब को टारगेट के पास पहुंच दिया था।
लग रहा था। कि केएल राहुल की कप्तानी वाली पंजाब मैच जीत लेगी। पंजाब को जब तीन गेंदों पर एक रन की जरूरत थी तभी पंजाब ने आखिरी दो गेंदों पर दो विकेट खो दिए और मैच सुपर ओवर में चला गया। सुपर ओवर में कागिसो रबादा ने दिल्ली कैपिटल्स को जीत दिलाई।
पंजाब की कोशिश सलामी जोड़ी राहुल और मयंक के ऊपर अति आत्मनिर्भरता को कम करने की होगी और उम्मीद करेगी कि मध्य क्रम में करुण नायर, ग्लैन मैक्सवेल और निकोलस पूरन रन बनाएं। पहले मैच में यूनिवर्स बॉस क्रिस गेल को प्लेंइंग-11 में जगह नहीं मिली थी। इस मैच में टीम मैनेजमेंट उन्हें लाकर मंयक को तीसरे नंबर पर भेज मध्य क्रम को मजबूत करने की रणनीति अपना सकता है। गेंदबाजी में मोहम्मद शमी एक बार फिर उसी फॉर्म को जारी रखने की कोशिश करेंगे जो उन्होंने पहले मैच में दिखाई थी। शमी ने पहले मैच में 15 रन देकर तीन विकेट लिए थे। वेस्टइंडीज के तेज गेंजबाज शेल्टन कॉटरेल शमी के साथ भार साझा करेंगे। नए खिलाड़ी रवि बिश्नोई ने दिल्ली के खिलाफ अच्छा किया था। वह एक बार फिर प्लेइंग। 11 में दिख सकते हैं। टीम मैनेजमेंट ज्यादा बदलाव करने के बारे में नहीं सोच रहा होगा। वहीं दूसरी तरफ कोहली की कप्तानी वाली आरसीबी पहले मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को हराकर आत्मविश्वास से लबरेज होगी। आरसीबी का अपनी भी कुछसमस्याएं हैं। 
खासकर तेज गेंदबाजी में। साउथ अफ्रीका के डेल स्टेन ने विकेट तो लिया था। लेकिन 37 साल का यह खिलाड़ी अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के करीब भी नहीं था। उमेश यादव ने 48 रन देकर निराश किया था। और विकेट भी नहीं ले पाए थे।नवदीप सैनी और शिवम दुबे ने भी कुछ खास नहीं किया था। लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने परिस्थितियों का भरपूर इस्तेमाल किया था।और तीन विकेट लेकर मैच में गेम चेंजर साबित हुए थे। अभी तक ट्रॉफी से दूर आरसीबी बल्लेबाजी में देवदत्त पडिकल और एरॉन फिंच से एक और शानदार ओपनिंग पार्टरनशिप की उम्मीद करेगी। पडिकल ने पहले मैच में ही प्रभावित किया था और 42 गेंदों पर 56 रन बनाए थे। मध्य क्रम में टीम के पास कप्तान कोहली और एबी डिविलियर्स हैं। ऐसे में एक और अच्छे मुकाबले की उम्मीद की जा सकती है।
किंग्स इलेवन पंजाब।लोकेश राहुल (कप्तान), मयंक अग्रवाल, करुण नायर, सरफराज खान, ग्लेन मैक्सवेल, निकोलस पूरन, कृष्णाप्पा गौतम, क्रिस जोर्डन, शेल्डन कॉटरेल, रवि बिश्नोई, मोहम्मद शमी, मुरुगन अश्विन, अर्शदीप सिंह, क्रिस गेल, मनदीप सिंह, हरडस विजोलेन, दीपक हुड्डा, हरप्रीत ब्ररार, मुजीब उर रहमान, दर्शन नालकंडे, जेम्स नीशाम, ईशान पोरेल, सिमरन सिंह, जगदीश सुचित, तेजिंदर सिंह।
आरसीबी। एरॉन फिंच, देवदत्त पडिकल, विराट कोहली (कप्तान) एबी डिविलियर्स, जोश फिलिपे, वॉशिंगटन सुंदर, शिवम दुबे, नवदीप सैनी, उमेश यादव, डेल स्टेन, युजवेंद्र चहल, मोइन अली, पवन देशपांडे, गुरकीरत सिंह मान, मोहम्मद सिराज, क्रिस मौरिस, पवन नेगी, पार्थिव पटेल, शहबाज अहमद, इसुरु उदाना, एडम जाम्पा, केन रिचर्डसन।             


कश्मीरः आतंकी हमले में जवान की मौत

कश्मीर में आतंकी हमले में घायल सीआरपीएफ जवान की मौत।


श्रीनगर। जम्मू और कश्मीर के बडगाम में आतंकवादियों के हमले में घायल केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवान की मौत हो गई है। गुरुवार को मोटरसाइकिल सवार आतंकवादियों ने सीआरपीएफ के जवान पर नजदीक से गोली चला दी थी। जिसमें जवान घायल हो गया था। उसे श्रीनगर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसकी मौत हो गई। अधिकारियों ने जवान की मौत की पुष्टि की।आतंकवादियों ने जवान की रायफल भी छीन ली थी। पुलिस और सुरक्षा बलों ने मिलकर आतंकवादियों को पकड़ने के लिए सर्च अभियान शुरू कर दिया है।               


गुजरातः गैस प्लांट में लगी आग, धमाका

गुजरात के ओएनजीसी गैस प्लांट में आग, कई हुए धमाके।


गुजरात। सूरत स्थित ऑयल एंड नैचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी ) के प्लांट में गुरुवार तड़के आग लग गई। गैस प्लांट में दमकलकर्मियों की कई टीम मौके पर पहुंची और आग बुझाने की कोशिशें जारी हैं। मिल रही जानकारी के अनुसार फिलहाल किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।                 


रोहित ने वॉर्नर को पीछे छोड़ बनाया कीर्तिमान

आइपीएल 2020- रोहित शर्मा ने डेविड वॉर्नर को पीछे छोड़ते हुए आईपीएल में यह बड़ा रिकॉर्ड किया अपने नाम


नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मुंबई इंडियंस के कप्तान और तूफानी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने एक और रिकॉर्ड अपने नाम किया है। रोहित शर्मा ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 54 गेंदों में 80 रन बनाकर न सिर्फ आईपीएल के फैंस का खूब मनोरंजन किया बल्कि छह छक्के और तीन चौके लगाने के साथ ही। आईपीएल में रोहित शर्मा ने अपने 200 छक्कों का रिकॉर्ड बनाया। इसके अलावा उन्होंने एक और आई पी एल का बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया है।रोहित शर्मा आईपीएल में किसी एक टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने अब तक नंबर वन चल रहे डेविड वॉर्नर को पीछे छोड़ दिया है। रोहित शर्मा ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 904 रन बनाए हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड डेविड वॉर्नर के नाम था। जिन्होंने 829 रन बनाए थे। इसके अलावा इस रिकॉर्ड में तीसरे नंबर पर विराट कोहली हैं। जिन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 825 रन बनाए हैं।               


शर्लिन ने स्टार-क्रिकेटरों के उड़ाएं परखच्चे

शर्लिन ने स्टार और क्रिकेटरो के परखच्चे उड़ाएं 
अकाशुं उपाध्याय
मुंबई/नई दिल्ली। इन दिनों बॉलीवुड में ड्रग्स के इस्तेमाल को लेकर कोहराम मचा हुआ है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की तरफ से फिल्म जगत के कई एक्टर और एक्ट्रेस को पूछताछ के लिए लगातार बुलाया जा रहा है। दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर, सारा अली खान और रकुल प्रीत सिंह समेत कई अन्‍य को समन जारी किया गिया है। इस बीच बॉलीवुड एक्ट्रेस और मॉडल शर्लिन चोपड़ा ने दावा किया है कि आईपीएल में भी ड्रग्स का इस्तेमाल जमकर हुआ है। उनका कहना है कि आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के मैच के बाद क्रिकेटर और बॉलीवुड स्टार्स की पत्नियां वॉशरूम में कोकीन का सेवन करती थीं।
शर्लिन चोपड़ा ने और क्या कहा
न्यूज़ चैनल एबीपी से बातचीत करते हुए शर्लिन चोपड़ा ने ये भी कहा है कि अगर उन्हें NCB की तरफ से पूछताछ के लिए बुलाया जाता है तो वो सारे राज़ खोल देंगी। उन्होंने टीवी चैनल से कहा, ‘ केकेआर के मैच के बाद क्रिकेटर्स और बॉलीवुड स्टार्स की पत्नियां वॉशरूम में कोकीन का सेवन करती थीं।’ हालांकि उन्होंने ये नहीं बताया कि ये घटना आईपीएल के किस सीज़न की है। बता दें कि तीसरी बार आईपीएल के मुकाबले देश से बाहर खेले जा रहे हैं। इससे पहले ये टूर्नामेंट दक्षिण अफ्रीका में भी हुआ है। जबकि दूसरी बार आईपीएल का आयोजन यूएई में किया जा रहा है। बता दें कि तथ्य शर्लिन चोपड़ा के दावों की पुष्टि नहीं करता है।
वॉशरूम में कोकीन का सेवन
शर्लिन चोपड़ा ने ड्रग्स पार्टी के बारे में कहा। ‘मैं केकेआर का मैच देखने के लिए कोलकाता गई थी। मैच के बाद पार्टी रखी गई थी। मैं भी उस पार्टी में गई। उस पार्टी में मैंने देखा कि क्रिकेटर्स और बॉलीवुड की बड़ी हस्तियां वहां थीं। मैं डांस करते करते बहुत थक गई थी। तो मैं फ्रेश होने के लिए वॉशरूम में गई। वहां जो चल रहा था वो देखकर मैं हैरान हो गई। हर कोई कोकीन का इस्तेमाल कर रहा था।             


छेड़खानी करने वालों के लगेंगे पोस्टरः योगी

छेड़खानी करने वालों के लगेंगे पोस्टर 
बृजेश केसरवानी 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं के खिलाफ अपराध को लेकर बड़ा फैसला लिया है। यूपी में अगर कोई भी महिलाओं से छेड़खानी करते पकड़ा जाता है कि तो उसके पोस्टर शहर में लगेंगे। योगी सरकार ने इसी तरह का कदम नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हुई हिंसा के दौरान भी उठाया था। सरकार ने सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों का पोस्टर सड़कों पर लगाया था। 
मिशन दुराचारी के तहत महिला पुलिसकर्मियों को जिम्मा दिया जाएगा. महिला पुलिस शहर के चौराहों पर नजर रखेगी। प्रदेश में महिला अपराध के कई मामले सामने आने के बाद सीएम योगी ने ये फैसला लिया है। मुख्यमंत्री ने अधिकारीयों को निर्देश दिया है कि सरेराह छेड़खानी करने वाले शोहदों और आदतन दुराचारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। साथ ही सीएम योगी ने बड़ा फैसला लेते हुए ऐसे अपराधियों के पोस्टर सार्वजानिक सथलों पर लगाने के निर्देश दिए हैं।
मुख्यमंत्री ने क्या आदेश दिया:-
महिलाओं से किसी भी तरह का अपराध करने वाले दुराचारियों को महिला पुलिसकर्मियों से ही दंडित कराएं।
महिला पुलिसकर्मियों से ही इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई कराई जाए। ऐसे अपराधियों और दुराचारियों के मददगारों के भी नाम उजागर करें।
जिस तरह एंटी रोमियो स्क्वायड ने मनचलों और महिलाओं के साथ अपराध करने वालों की कमर तोड़ी, वैसे ही हर जनपद की पुलिस अभियान चलाती रहे। 
कहीं भी महिलाओं के साथ कोई आपराधिक घटना हुई तो संबंधित बीट इंचार्ज, चौकी इंचार्ज, थाना प्रभारी और सीओ जिम्मेदार होंगे।
सीएम योगी ने कहा कि महिलाओं और बच्चियों के साथ रेप, छेड़खानी, यौन उत्पीड़न या शोषण करने वाले अपराधियों और दुराचारियों के मददगारों के भी नाम उजागर किए जाएं। ऐसा करने से उनके मददगारों में भी बदनामी का डर पैदा होगा।             


कोविड सेंटर में जाने वाले की बिगड़ी हालत

कोविड सेंटर को जाने वाला मार्ग जर्जर हालत में, एक्सीडेंट जोन बना।


मोटाहल्दू। एक और क्षेत्रीय विधायक द्वारा लालकुंआ विधानसभा क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। वही इसे विभागीय लापरवाही कहें या अनदेखी, यहां मोटाहल्दू के पास सड़क बुरी तरह क्षतिग्रस्त होकर एक्सीडेंट जोन बन चुकी है।
मोटाहल्दू मुख्य मार्ग से रामपुर रोड को जोड़ने वाले बाईपास लिंक मार्ग के हालत खस्ताहाल हो चुकी है, बावजूद इसके कोई भी जिम्मेदार व्यक्ति इस और देखने की जहमत नहीं उठा रहा है, क्षतिग्रस्त रोड़ में गिर कर आए दिन दर्जनों लोग चोटिल भी हो रहे हैं। देर रात क्षतिग्रस्त सड़क होने के कारण एक एंबुलेंस भी पलटते-पलटते बच गई, गनीमत रही कि उस वक्त सड़क पर कोई अन्य वाहन नहीं चल रहा था अन्यथा एक बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।
विदित हो कि मोटाहल्दू प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व कोविड-19 केयर सेंटर को जाने वाले एकमात्र सड़क मार्ग की हालत इतनी खराब है इसमें किसी भी वक्त बड़ी दुर्घटना हो सकती है। प्रतिदिन दर्जनों एंबुलेंसओं का कोविड-19 केयर सेंटर व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बने प्रशव केंद्र में आना जाना लगा रहता है। लेकिन जिम्मेदार विभागीय अधिकारी इन गड्ढों को भरने की कोशिश भी नहीं कर रहे हैं।
विगत दिनों इस मार्ग में जगह-जगह पैच वर्क का कार्य किया गया था। लेकिन घटिया सामग्री का इस्तेमाल होने की वजह से सड़क में किया गया पैच वर्क एक महीना भी टिक नहीं पाया। अब देखना यह होगा कि क्या संबंधित विभाग इन गड्ढों को भरता है, या फिर किसी घटना के इंतजार में बैठा रहता है।                 


ब्राजील-बोलीविया वर्ल्ड कप नहीं देख पाएंगे

ब्राजील-बोलीविया फीफा वर्ल्ड कप क्वालीफायर देखने नहीं जा सकेंगे दर्शक।


साओ पाउलो। अगले महीने यहां के कोरिंथियंस एरेना में होने वाला 2022 फीफा वर्ल्ड कप क्वालीफायर दौर में ब्राजील का पहला मुकाबला होना है लेकिन इस मुकाबले को देखने के लिए दर्शकों को स्टेडियम में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक साओ पाउलो स्टेट गवर्मेट ने यह आदेश जारी किया है। 
ब्राजीली फुटबाल महासंघ ने ब्राजीली स्वास्थ्य मंत्रालय के सामने प्रस्ताव रखा था कि वह 30 फीसदी क्षमता के साथ स्टेडियम में मुकाबला कराने की अनुमति चाहत है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने उसके इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया था और इसी के बाद फुटबाल महासंघ ने यह आदेश पारित किया है।
ब्राजील और बोलीविया का मुकाबला दक्षिण अमेरिका के सबसे बड़े मेट्रोपॉटिन शहर साओ पाउलो में 9 अक्टूबर को खेला जाना है और इसके चार दिन बार उसे लीमा में पेरू के खिलाफ एक और क्वालीफायर खेलना है।
दक्षिण अमेरिकी वर्ल्ड कप क्वालीफाइंग टूर्नामेंट की शुरुआत 23 मार्च से होनी था लेकिन पब्लिक हेथ क्राइसिस के कारण इस दो बार टालना पड़ा था। ब्राजील में कोरोना के कारण अमेरिका के बाद सबसे अधिक मौतें हुई हैं।                 


यूपीः तीसरे चरण के ट्रायल को दी मंजूरी

कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को योगी ने दी मंजूरी, लखनऊ और गोरखपुर में होगा परीक्षण।


लखनऊ। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लगातार कदम उठा रही है। इसी क्रम में कोवैक्सीन का मानव परीक्षण लखनऊ और गोरखपुर में किये जाने की इजाजत मुख्यमंत्री योगी ने दे दी है। भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल उत्तर प्रदेश के इन दो शहरों में करने को लेकर मंजूरी दी गई है।
इसके लिए संजय गांधी पीजीआई के निदेशक डॉ. आर.के. धीमन को लखनऊ का नोडल अधिकारी और बीआरडी मेडिकल कॉलेज के निदेशक डॉ. गणेश कुमार को गोरखपुर का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। यह लोग भारत बॉयोटेक के वैज्ञानिक नोडल अधिकारियों के सहयोग से वैक्सीन का क्लीनकल ट्रायल करेंगे।
अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने इसका आदेश जारी कर दिया है। कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए वैक्सीन बनायी जा रही है। कोवैक्सीन की क्षमता व सुरक्षा का पता लगाने के लिए यह ट्रायल होगा। मानव पर होने वाला यह तीसरे चरण का प्रयोग संवेदनशील होता है। कंपनी इस महीने के अंत या फिर अक्टूबर के पहले सप्ताह में तीसरे चरण का ट्रायल शुरू कर सकती है।
भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड ने भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) व राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआइवी) के साथ मिलकर यह पहला स्वदेशी टीका कोवैक्सीन तैयार कर रहा है। फिलहाल दो चरण के ट्रायल किए जा चुके हैं। अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि तीसरे चरण का ट्रायल यूपी में लखनऊ व गोरखपुर में करने को मंजूरी दी गई है। इसमें इन दो संस्थानों के साथ-साथ और लोगों पर भी इसका परीक्षा किया जाएगा।
विशेषज्ञों के अनुसार वैक्सीन के तीसरे चरण में देखा जाता है कि लोगों की बीमारी के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता विकसित हुई है या नहीं। इसका कोई दुष्परिणाम तो नहीं हो रहा है। टीका कोवैक्सीन के ट्रायल के तहत कोरोना के फ्रंट लाइन वर्कर व अन्य अलग-अलग उम्र के लोगों को टीका लगाया जाता है। टीका लगाने से पहले एंटीबाडी चेक की जाती है, अगर एंटीबाडी शून्य है तो टीका लगाया जाता है। फिर दोबारा खून के नमूने की जांच होती है, अगर एंटीबाडी बन रही है तो टीका काम कर रहा है।             


24 घंटे में वायरस के 576 मरीज स्वस्थ हुए

रायपुर। कोरोना संक्रमण कोविड 19 की स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी जानकारी के अनुसार बुलेटिन में नोडल अधिकारी डॉ. सुभाष पांडेय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 576 मरीज स्वस्थ हुए। वहीं 2434 नए संंक्रमित मरीजों की संख्या में वृद्धि की जानकारी मिली है। डॉ. पांडेय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अब तक प्रदेश में 40 हजार 469 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों की ओर रवाना हो चुके हैं। वहीं 4196 मरीज होम आइसोलेशन में है अब तक 16 हजार 304 मरीज होम आइसोलेशन में क्वारंटाइन किये गए थे जिनमें बीते दिन के अनुसार 4 हजार 772 मरीजों की रिकव्हरी हुई है। प्रदेश में अब तक 56773 मरीज रिकवरर्ड होकर अपने घरों में है वहीं कुल एक्टिव मरीज अब तक प्रदेश में 35850 पाये गये हैं। 24 घंटे में 90 हजार 20 व्यक्ति कोरोना वायरस संक्रमित होने की जानकारी दी गई है। जिलेवार कोरोना पाजीटिव मरीजों की संख्या इस प्रकार है। रायपुर 748, दुर्ग 292, बस्तर 187, राजनांदगांव 162, दंतेवाड़ा 118, धमतरी 112, बालोद 83, सुकमा 70, सरगुजा 60, बलरामपुर 73, बिलासपुर 52, रायगढ़-बीजापुर 51-51, बेमेतरा 49, सूरजपुर 48, महासमुंद 47, कबीरधाम 44, गरियाबंद 42, जांजगीर चांपा 35, कांकेर 28, मुंगेली 26, नारायणपुर 22, जशपुर 17, कोंडागांव 16, कोरबा 13, बलौदाबाजार व गौरेला पेड्रा मरवाही से दो-दो एवं सबसे कम एक मरीज कोरिया से कोरोना पाजीटिव पाया गया । तीन अन्य राज्यों से आए लोगों के कोरोना पाजीटिव होने की जानकारी बुलेटिन में दी गई है साथ ही कोरोना संक्रमित 6 मरीजों की मृत्यु हुई है। इनमें रायपुर से दो व दुर्ग से एक कोरोना संक्रमित मरीज की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है।             


3 जिलों में लगा संपूर्ण लॉकडाउन, कार्रवाई

दुर्ग/रायगढ़। जिले में लगातार बढते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए आज से 30 सितंबर तक सख्त लाकडाउन रहेगा। कलेक्टर भीम सिंह के निर्देश पर आज से इसका परिपालन शुरु हो गया है। वहीं महासमुंद में भी आज रात 12 बजे से लाकडाउन लागू हो गया है, दुर्ग जिले में भी आज से लाकडाउन जारी हो गया है, बाहर निकलने वालों पर पुलिस द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी।
लाकडाउन के दौरान इस बार जिले में फल, सब्जी व राशन दुकानें भी पूरी तरह बंद रहेंगी। इतना ही नहीं पेट्रोल पंप भी दोपहर 12 बजे के बाद पूरी तरह बंद रहेंगे। हालांकि दूध विक्रेताओं को सुबह 8 बजे तक और शाम 5 से 6.30 बजे तक विक्रय की अनुमति दी गई है।


खास बात ये है कि इस लाकडाउन के दौरान जिले के सारे नगरीय निकाय क्षेत्रों में धारा 144 लागू करते हुए पूरी तरह सख्ती बरतने के निर्देश दिए गए हैं। लाकडाउन के दौरान अनावश्यक घर से बाहर निकलने पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है।
दरअसल जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या जहां पांच हजार चुकी है तो वहीं मौतों का आंकड़ा भी 45 तक जा पहुंचा है जिसे देखते हुए जिला प्रशासन ने ये आदेश जारी किया है। लाकडाउन का पालन सुनिश्चित करने के लिए पुलिस होम गार्ड के 5 सौ से अधकि जवानों की शहर में तैनाती कीगई है वहीं राजपत्रित अधिकारी भी मानीटरिंग के लिए नियुक्त किए गए हैं।                 


सेल्फी लेने से पहले जान लें 'साइड इफेक्ट'

अगर हम कही घूमने जाते है, तो दोस्तों के साथ अपनी सेल्फी क्लिक कर सोशल मीडिया पर पोस्ट करना नहीं भूलते। जरूर आपकी जिंदगी का भी अहम हिस्सा बन चुका होगा। सोशल मीडिया पर भी आप ऐसी कई तरह की सेल्फी देखते होंगे, जिन्हें सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। ऐसे में सेल्फी की लत भी आपके लिए बड़ी समस्या बन सकती है। यदि आप भी बहुत अधिक सेल्फी खींचने का शौक रखते हैं, तो अब जरूरत है आपको अलर्ट होने की।
जानकारी के अनुसार भारत में एक अध्य्यन से पता चला है कि आपको सैल्फी की दीवानगी आपको काफी नुकशान पंहुचा सकती है। हाल ही में ब्रिटेन की नाटिंघम ट्रेंट यूनिवर्सिटी और तमिलनाडु के थिगाराज स्कूल ऑफ मैनेजमेंट (टीएसएम) ने रिसर्च कर बताया कि, हमारे देश में सबसे ज्यादा मोते सेल्फी के कारण ही हुयी है।


शोधकर्ताओं का मानना है की हमें पता भी नहीं चलता और सेल्फी धीरे-धीरे एक विकार बन जाती है। शोधकर्ताओं के मुताबिक बताया गया कि, फेसबुक के सबसे ज्यादा यूजर्स हमारे देश में ही हैं।
रिसर्च से यह बात सामन आई है कि, सेल्फी का स्किन पर इतना ज़्यादा प्रभाव पड़ता है कि जिस साइड से आप अक्सर सेल्फी लेते हैं, उस साइड की स्किन ड्राई हो जाती है। ऐसे में जब आप उस जगह पर कोई भी क्रीम लगाते हैं तो वह बेअसर रहती है। मोबाइल फोन से पडऩे वाली लाइट और रेडिएशन स्किन को धूप की किरणों से 3 गुना ज्यादा नुकसान पहुंचाती है। ऐसे में सेल्फी की आदत आपकी स्किन को बूढ़ा बना सकती है।
दरअसल मोबाइल फोन की तरंगें सीधे डीएनए को नुकसान पहुंचाती है, जिसकी वजह से स्किन की नेचुरल रिपेयर क्षमता दिन-प्रतिदिन कम होती जाती है और आप समय से पहले ही बूढ़े दिखने लगते हैं।


सेल्फी नया ट्रेंड हैं और इससे होने वाले नुकसान के पीढि़तों की कहानी आपको सुनाई नहीं दी परंतु अब इसके नुकसानों पर चर्चा शुरू हो चुकी हैं और आपकी त्वचा इसका पहला शिकार हो सकती है। अगर आप उन लोगों में से हैं जिन्हें सेल्फी का शौक नहीं तो आप भी जान लें स्मार्टफोन अपने आप में आपकी त्वचा के रंग के लिए बुरी खबर है।
इसके अलावा टेक नेक जैसे शब्दों ने आपके शरीर को स्मार्टफोन से होने वाले नुकसानों के लिए शब्दावली देना शुरू कर दिया है। टेक नेक लगातार स्क्रीन की तरफ देखने से होने नुकसान को दिखाता है। आपके स्मार्टफोन का लगातार आपके गालों को दबाने से आपकी त्वचा पर बैक्टेरिया आ जाते हैं तो टॉयलेट सीट से भी अधिक नुकसानदायक हो सकते हैं।
सेल्फी लेने से न केवल त्वचा सम्बंधित बीमारियां होने का खतरा होता है बल्कि अन्य घातक बीमारियां आपको घेर सकती हैं। सेल्फी लेने के लिए जब आप हाथ ऊपर उठाते हैं, तो कोहनी मुड़ी हुई रहती है। लोग इसी स्थिति में लगातार 20-30 क्लिक कर जाते हैं। ऐसे में मांसपेशियों पर अधिक दबाव पड़ता है, जिससे उनमें सूक्ष्म विघटन होता है। इससे कोहनी में सूजन और दर्द की समस्या शुरू हो जाती है।               


घर में ही तैयार करें 'नैचरल ऑइल ब्लैंड'

गर्मी और पसीने के कारण खुजली की समस्या होना, रैशेज होना आम बात है। इसके साथ ही यदि नींद में कभी तेज खुजली करते समय नाखून लग जाए तो समस्या और अधिक बढ़ जाती है। इन सभी समस्याओं से बचने के लिए हम आज आपको यहां नैचरल ऑइल ब्लेंड घर पर ही तैयार करने का तरीका बता रहे हैं। ताकि आपकी स्किन कैमिकल मुक्त रहे और आप स्किन इंफेक्शन जैसी समस्याओं से भी बचे रहें…
घर में ब्लैंड तैयार करने के लिए चाहिए
घर में नैचरल ऑइल ब्लैंड तैयार करने के लिए आपको तीन ऑइल्स की जरूरत है। कोकोनट वर्जिन ऑइल (नारियल वर्जिन तेल), ऑल्मंड ऑइल (बादाम का तेल) और क्लोव ऑइल (लौंग का तेल)। इन सभी तेल को एक निश्चित मात्रा में आपको मिलाना होगा। इस बारे में यहां बताया जा रहा है…
इन तेलों की खूबियां
नारियल तेल: त्वचा को प्राकृतिक रूप से नमी देने, ड्राइनेस से बचाने और त्वचा की कोशिकाओं को पोषण देने के लिए नारियल तेल एक बहुत ही अच्छा माध्यम है। यह एक ऐंटिबैक्टीरियल प्राकृतिक औषधि की तरह काम करता है।
बादाम का तेल: त्वचा को प्राकृतिक रूप से रंगत प्रदान करने, दाग-धब्बे मिटाने और त्वचा को स्मूदनेस देने के लिए बादाम का तेल बहुत ही उपयोगी होता है। यह आपकी त्वचा को डीप नरिशमेंट देने का काम करता है।
लौंग का तेल: यह तेल ऐंटिफंगल और ऐंटिएलर्जिक होता है। किसी भी तरह के पैथोजेन्स (बैक्टीरिया, फंगस और हानिकारक माइक्रोब्स) को आपकी स्किन पर ऐक्टिव नहीं होने देता है।
इस कारण यदि आप किसी त्वचा पर होनेवाले संक्रमण की चपेट में आ भी जाते हैं तो यह ऑइल उस संक्रमण को बढऩे से रोकता है। साथ ही आपका स्किन डिफेंस मैकेनिज़म को अधिक मजबूत बनाने का काम करता है।
ऐसे तैयार करें ब्लैंड
जैसा कि हमने आपको बताया कि घर पर नैचरल ऑइल ब्लैंड तैयार करने के लिए सबसे अधिक जरूरी है सही ऑइल्स का चुनाव और सही मात्रा में इनका उपयोग।
घर पर ब्लैंड तैयार करने कि लिए आपको 2 टेबल स्पून नारियल वर्जिन तेल चाहिए और इतनी ही मात्रा में बादाम का तेल लें। अब इन दोनों तेल को एक साथ मिला लें।
जब ये दोनों तेल एक साथ मिल जाए तो इनमें 1 से 2 बूंद तेल लौंग का तेल मिक्स करें। तीनों तेल को एक साथ अच्छी तरह मिला लें। ध्यान रखें कि लौंग का तेल 2 बूंद से ज्यादा नहीं होना चाहिए नहीं तो आपकी त्वचा की दिक्कत कम होने की जगह बढ़ सकती है।
अधिक मात्रा में बनाते हुए
यदि आप इस ब्लैंड को एक बार में ही अधिक मात्रा में तैयार करना चाहते हैं तो इस बात की गांठ बांध लें कि आप नारियल वर्जिन तेल और बादाम तेल को बराबर मात्रा में मिला सकते हैं। लेकिन इन दोनों तेलों की कुल मात्रा को मिलाकर, उसका 5 प्रतिशत ही लौंग का तेल रखना है।
रैशेज ना बढऩे दे
घर पर तैयार किया गया यह नैचरल ऑइल ब्लैंड आपको त्वचा पर रैशेज की समस्या से बचाएगा और यह समस्या अगर आपको हो चुकी है तो इसे जल्दी ठीक कर देगा।
एग्जिमा से बचाए
एग्जिमा जैसी स्किन डिजीज होने से बचाएगा। यदि आपको किसी कारण यह रोग हो भी गया है तब भी खुजली को शांत करने और रोग को जल्दी ठीक करने के लिए आप इस ब्लैंड का उपयोग कर सकते हैं।
बैक्टीरियल इंफेक्शन से बचाए
कई बार गर्मी और पसीने के कारण त्वचा पर देर तक नमी बनी रहती है। इस कारण त्वचा पर हानिकार बैक्टीरिया ऐक्टिव हो जाते हैं और दाने, फुंसी या फोड़े जैसी समस्या की वजह बन जाते हैं।
आप नहाने के बाद इस ब्लैंड से अपने पूरे शरीर को पोषण दें, आपको किसी तरह की समस्या नहीं होगी। साथ ही आपकी त्वचा प्राकृतिक रूप से स्वस्थ बनेगी।               


6 साल की मासूम के साथ किया दुष्कर्म

रायपुर/बिलासपुर। जिले के बेलगहना क्षेत्र में 6 साल की बच्ची को मध्यप्रदेश ले जाकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। वारदात के बाद आरोपी बच्ची को गांव के बाहर छोड़कर भाग गया। शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश में जुट गई है। बेलगहना पुलिस चौकी के मुताबिक मध्यप्रदेश के जबलपुर निवासी दीपक मरावी की बेलगहना क्षेत्र में ससुराल है।


वह बीते दिनों ससुराल पहुंचा था। इस दौरान पड़ोस में रहने वाली 6 साल की बच्ची उससे घुल मिल गई थी। रविवार की दोपहर दीपक मासूम को बाइक में बिठाकर अपने साथ मध्यप्रदेश लेकर चला गया। उसने बच्ची को दो दिनों तक अपने साथ रखा। इस बीच दीपक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद बच्ची को लेकर मंगलवार को ससुराल पहुंचा। उसे गांव के बाहर छोड़कर भाग गया। बच्ची किसी तरह अपने घर पहुंची। इसके बाद उसने अपने साथ हुई घटना की जानकारी परिजनों को दी। परिजन उसे लेकर बेलगहना चौकी पहुंचकर मामले की शिकायत किए। बेलगहना पुलिस चौकी मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश में जुट गई है।             


नशीली दवाओं के साथ 3 आरोपी गिरफ्तार

जगदलपुर। बस्तर जिला मुख्यालय के कुम्हारपारा माडिया चौक स्थित यात्री प्रतिक्षालय में नशीली दवाओं का विक्रय कर रहे तीन आरोपियों को रंगे हाथों आज सुबह गिरफ्ताार किया गया है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्ताार आरोपियों में किशोर दास निवासी कुम्हारपारा, नवीन झा निवासी गीदम रोड, व दिवाकर दीवान निवासी हटकचोरा के पास से नशीली दवा पीवोन स्पोस प्लस, ड्यक्लोमिएन एचसीएल, ट्रामाडोल एचसीएल, व एसिटामिनोफेन कैप्सूल कुल 90 स्ट्रिप, जिसमे 720 कैप्सूल प्रत्येक में ट्रामाडोल 0.5 एमजी जुमला जिसकी अनुमानित बाजार मूल्य 4455 रुपये को बरामद कर अपराध क्रमांक 430/2020 धारा 21 एन.डी.पी. एएस. एक्ट के तहत गिरफ्ताार किया गया है।             


पंजाबः मकान ढहने से 3 की मौत, कई दबे

राणा ऑबराय


चंडीगढ़। पंजाब के डेरा बस्सी शहर में एक निर्माणाधीन मकान के ढहने से उसमें दबकर तीन लोगों की मौत हो गई जबकि छह लापता बताए जा रहे हैं। पुलिस ने बताया कि यह घटना गुरुवार की है। बचाव दल ने तीन शव बरामद किए हैं। पुलिस का कहना है कि इमारत की कंक्रीट की छत ढहने से यह हादसा हुआ। स्थानीय प्रशासन और एनडीआरएफ की टीमें बचाव कार्य में जुटी हैं।


आसमान में बादल, बारिश की संभावना नहीं

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। एनसीआर के आसमान में बृहस्पतिवार सुबह से ही बादल छाए हुए हैं, जिससे बारिश होने की संभावना बन रही है। वहीं, मौसम विभाग बारिश से साफ इनकार कर रहा है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि अब 29 सितंबर तक मौसम शुष्क रहेगा। बृहस्पतिवार को भी बादल छाए रह सकते हैं, लेकिन बारिश नहीं होगी। इस दौरान अधिकतम तापमान 37 और न्यनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने के आसार हैं। इससे पहले मौसम विभाग ने बुधवार को बारिश का अनुमान जताया गया था, लेकिन बादल बिन बरसे ही उड़ गए। फिलहाल, अगले कई दिन तक बारिश के कोई आसार नहीं हैं। इस दौरान लोगों को उमस एवं गर्मी का सामना करना पड़ेगा। बुधवार को दिनभर धूप खिली रही। बीच-बीच में बादल भी छाए। कई बार लगा, बारिश होने वाली है, लेकिन हुई नहीं। अधिकतम तापमान 36.5 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान 27.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 56 से 85 फीसद रहा।               


दंगाः सोच समझकर उत्तर-पूर्वी दिल्ली चुनी

उमय सिंह साहू


नई दिल्ली। मौत के सौदागरों ने दंगों के लिए उत्तर-पूर्वी दिल्ली को सोच समझकर चुना था। फरवरी महीने में भड़के साम्प्रदायिक दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अपने आरोप पत्र में बड़ी साजिश का खुलासा किया है। कोर्ट में दाखिल आरोपपत्र में पुलिस ने दावा किया है कि एक बड़ी साजिश के तहत उत्तर-पूर्वी दिल्ली को दंगों के लिए चुना गया था। पुलिस ने आरोपपत्र में कहा है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के अलग तरह की आर्थिक, सामाजिक व जनसंख्या के समीकरणों के आधार पर दंगों के लिए इस स्थान को चुना गया था। यहां दंगों के लिए समुदाय विशेष के लिए भीड़ को जुटाना और उन्हें भड़काकर दंगा कराना आसान था। कड़कड़डूमा स्थित अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अमिताभ रावत की अदालत में पेश आरोपपत्र में कहा गया है कि जहां से दंगों की शुरुआत हुई वह अतिसंवेदनशील इलाका है। जबकि दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली में यह काम दंगों की साजिश रचने वालों के लिए आसान नहीं होता। यहां दंगे फैलाने का मुख्य उद्देश्य यह भी था कि समुदाय विशेष को भड़का कर दंगे शुरु करवा दिए जाएं और खुद इसकी साजिश का नेतृत्व कर रहे नेता घर पर टीवी पर दिल्ली को जलता हुआ देखें। जबकि इन दंगों का नुकसान उन लोगों को उठाना पड़ा जोकि रोज कमाते व रोज खाते हैं।             


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)











 सितंबर 25, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-42 (साल-02)
2. शुक्रवार, सितंबर 25, 2020
3. शक-1943, अश्विन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- अष्टमी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 60:04, सूर्यास्त 06:25।


5. न्‍यूनतम तापमान 28+ डी.सै.,अधिकतम-36+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेंगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275                                


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                        











अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...