मंगलवार, 27 जून 2023

प्लेन में शौच और पेशाब करने के बाद थूका: पैसेंजर 

प्लेन में शौच और पेशाब करने के बाद थूका: पैसेंजर 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से चलकर दिल्ली आ रही फ्लाइट में यात्रा कर रहे पैसेंजर ने प्लेन में शौच और पेशाब कर दिया। पूरी तरह से निरंकुश हुआ यात्री प्लेन में थूकने से भी नहीं चूका। दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई एफ आई आर के बाद पुलिस ने घिनौनी हरकत करने वाले पैसेंजर को गिरफ्तार कर लिया है। 

दरअसल, एयर इंडिया की फ्लाइट 24 जून को देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से चलकर नई दिल्ली आ रही थी। दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पुलिस स्टेशन पर फ्लाइट कैप्टन की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में बताया गया है कि 24 जून को मुंबई से दिल्ली जा रही एयर इंडिया की फ्लाइट में लाईन नंबर 9 की सीट संख्या 17 एफ यात्रा कर रहे पैसेंजर ने प्लेन में पहले तो शौच एवं पेशाब कर दिया और मना किए जाने पर उसने प्लेन के भीतर थूक भी दिया।

केविन सुपरवाइजर ने उसे वार्निंग भी दी, लेकिन वह हरकतों से बाज नहीं आया। कैप्टन ने तुरंत कंपनी को एक मैसेज भेजा। जैसे ही फ्लाइट दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरी तो यात्री की हरकतों से नाराज अन्य पैसेंजर वहां पर हंगामा करने लगे। एयर इंडिया के सुरक्षा प्रमुख की निगरानी में आरोपी पैसेंजर को गिरफ्तार कर पुलिस स्टेशन ले जाया गया। बताया जा रहा है कि गिरफ्तार किया गया, आरोपी अफ्रीका में कुक का काम करता है।

विकास भवन के कार्यालयों का निरीक्षण: सीडीओ 

विकास भवन के कार्यालयों का निरीक्षण: सीडीओ 

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। मुख्य विकास अधिकारी ने विकास भवन के सभी कार्यालयों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सीडीओ ने अनुपस्थित अधिकारियों व कर्मचारियों से स्पष्टीकरण मांगा।
बता दें कि मंगलवार को मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार द्वारा सुबह 10 बजे विकास भवन के समस्त कार्यालयों का निरीक्षण किया गया।
निरीक्षण में अनुपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों का स्पष्टीकरण मांगते हुए अग्रेतर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए तथा विभिन्न कार्यालयों में व्याप्त गंदगी की सफाई करने के निर्देश दिए गए। वहीं, विभिन्न कार्यालयों के कक्षों में अस्त-व्यस्त रखे गए अभिलेखों व अलमारियों को व्यवस्थित रखने के निर्देश भी दिए गए। सभी कार्यालय अध्यक्षों को निर्देशित किया गया कि मरम्मत योग्य सामग्रियों की मरम्मत भी करा ली जाए और व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखने के निर्देश दिए गए।

रिश्तों की बुनियाद   'समसामयिक'

रिश्तों की बुनियाद   'समसामयिक'

यूं असर डाला है, मतलबी लोगों ने दुनियां पर।

हाल भी पूछो तो समझते हैं कुछ काम होगा ?

वक्त के आईने में हर तस्वीर अब धुंधली नजर आती है। लोगों के दिलों में चाहत कम, मुखालिफत का दौर चल रहा है। रिश्तों की बुनियाद दरक रही है, हर आदमी के हाथ से सम्बन्धों की रेत, जरा सा ठोकर लगी बेईंतहा तेजी से सरक रही है। चारों तरफ धुन्ध ही धुन्ध छाया है। उपर वाले की गजब माया है। आज दगाबाज निकल रहा हर हम साया है।बदलती ज़िन्दगी का हर लम्हा दर्द की सौगात देते गुजर रहा है। किसी ने सच कहा है कि इस मतलबी जहां में कोई नहीं अपना है। माया की मृगतृष्णा में मानव समाज, दौलत की प्यास में दर-दर भटक रहा है। उसी दौलत की चकाचौंध में सम्बन्धों का खून कर रहा है। जबकि उसको पता है साथ कुछ नहीं जायेगा? जिसके लिए सम्पूर्ण जीवन दर्द में रहकर, भाग-दौड करता रहा, पाई-पाई जोड़कर, तरक्की की बग्गी पर सवार हो कर, अपने भाग्य पर इतरा रहा था।

वही, जब आखरी सफर के कठिन राह में अकेला छोड़कर चला गया, तो पश्चाताप के आंसू सैलाब बनकर बहने लगे। दुनियां में जो कल तक तमाशाई थे, आज वही तमाशा बनकर निराशा के भंवर में सिसक-सिसक कर दम तोड रहे हैं। आधुनिक जमाने में अपनों की भक्ति तभी तक है, जब तक शरीर में शक्ति है। स्वार्थ की आशक्ति, उम्मीदों का सहारा पाकर जिन्दा है। यह भी सच है कि धन-दौलत चाहत विहीन इन्सान का जीवन भिखारी से भी बद्तर है। मगर रिश्तों की मर्यादा में रहकर सम्मान के साथ सर्वत्र व्याप्त निरंकार की सरपरस्ती के साथ धन-सम्पदा आहरण कर मानवता की राह पर चलते हुए इन्सानियत की आभा से ग्रसित होकर, संयमित जीवन में रहकर, महाप्रयाण तक का सफर जिसने पूरा किया, उसका परिवार भी सुखी रहा।

यह सच है कि सुख के लम्हे तक पहुंचते-पहुंचते हम उन लोगों से जुदा हो जाते हैं‌। जिनके साथ हमने दुःख झेलकर सुख का स्वप्न देखा था। हम अपनो से परखे गयें कि गैरो की तरह। हमने लोगों को बदलते देखा है गुजरते मौसम की तरह। समय के साथ बदलती दुनिया में रिश्तों का मोल खत्म हो रहा है। जिंदगी में सब कुछ दोबारा मिल सकता है। लेकिन वक्त के साथ खोया हुआ रिश्ता और भरोसा दोबारा नहीं मिल सकता। आदमी समय की चक्की में पीस कर रह जाता है। कर भी क्या सकता है? अपनी बेबसी पर हंसता है, रोता है। फिर तन्हाई में जीवन भर के गुजरे लम्हों के यादों मे खोए भाव, शून्य होकर शिथिल पड़ जाता है। 

जिस घर को सजाने में जीवन का अनमोल समय गंवा दिया। वहीं पर अपमान का घूंट पीना मजबूरी बन जाती है। जो कभी सभी के लिए बेहद खास था, आज उसी का उपहास उड़ाया जा रहा है। किसी ने सच कहा है कि कुछ किरदारों से ही निकलती है वफादारी की महक, वक्त का मारा हर इन्सान बेईमान नहीं होता है।

तेजी से बदलते आधुनिक समाज में आज अपनत्व का घनत्व स्वयं के सूत्र पर आधारित हो गया, ममत्व का फार्मूला फेल है। यही तो नये जमाने का खेल है।ज़िन्दगी के सफर में ज्यों ही दोपहर का समय पार होता है, अपार अकुलाहट के साथ वियोग की धूप-छांव खेल करने लगती है। इक अदद वफ़ा की तलास मे यकीने दिल लुटा के आयें है। तुम इश्क-ए-समन्दर कहते हो हम प्यासे वहीं से आये है। आज हालात इसी दौर से गुजर रहे हैं।बदलाव की गंगा में उफान है। रिश्तों की मर्यादा खत्म हो रही है।आदमी बस जरूरत भर का सामान है। कभी फुर्सत में सोचना कि क्या पाया, क्या खोया? ज़िन्दगी जीने की जद्दोजहद में दर्द भरी ज़िन्दगी को गंवाया है। दुनियां की इस सच्ची-झूठी रस्मों में हमने ना जाने  कितनी खुशियों को खोया है? सिर्फ अपनों के उज्जवल भविष्य के लिए। मगर आखरी डगर पर सिर्फ तन्हाई ही साथ रह गई।

जगदीश सिंह

आईसीसी: विश्व कप का कार्यक्रम जारी किया 

आईसीसी: विश्व कप का कार्यक्रम जारी किया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप इसी साल भारत की मेजबानी में खेला जाएगा। आईसीसी ने क्रिकेट विश्व कप का कार्यक्रम जारी किया कर दिया है। वर्ल्ड कप का आयोजन 5 अक्टूबर से 19 नवंबर के बीच होगा। क्रिकेट इतिहास में पहली बार ऐसा हो रहा है, जब पूरा वर्ल्ड कप ही भारत में खेला जाएगा। इससे पहले भारत 1987, 1996 और 2011 के वनडे क्रिकेट वर्ल्ड कप की संयुक्त मेजबानी कर चुका है। मुंबई में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने मंगलवार को भारत में अक्टूबर नवंबर में होने वाले 13वें वनडे वर्ल्ड कप के कार्यक्रम की घोषणा की।

भारत और पाकिस्तान के बीच वनडे विश्व कप 2023 का बहुचर्चित मुकाबला 15 अक्टूबर को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा, जबकि टूर्नामेंट का आगाज इसी मैदान पर पांच अक्टूबर को पिछले विजेता इंग्लैंड और उपविजेता न्यूजीलैंड के बीच मैच से होगा। पहला सेमीफाइनल 15 नवंबर को मुंबई में और दूसरा अगले दिन कोलकाता में खेला जायेगा। दोनों सेमीफाइनल में एक रिजर्व दिन होगा। फाइनल मैच अहमदाबाद में 19 नवंबर को होगा जबकि 20 नवंबर रिजर्व दिन रहेगा। सभी तीन नॉकआउट मैच दिन रात के होंगे। 

मेजबान भारत अपने अभियान का आगाज आठ अक्टूबर को पांच बार की विश्व कप विजेता आस्ट्रेलिया के खिलाफ चेन्नई में करेगा। विश्व कप में दस टीमें भाग लेंगी जिनमें से आठ क्वालीफाई कर चुकी हैं और शेष दो जिम्बाब्वे में चल रहे क्वालीफायर टूर्नामेंट के जरिये पहुंचेंगी। पाकिस्तान का सामना आस्ट्रेलिया से 20 अक्टूबर को बेंगलुरू में होगा जबकि अगले दिन इंग्लैंड की टक्कर दक्षिण अफ्रीका से मुंबई में होगी। भारत और न्यूजीलैंड का सामना 22 अक्टूबर को धर्मशाला में होगा।

पीएम ने वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई   

पीएम ने वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई   

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भोपाल के रानी कमलापति रेलवे स्टेशन से भोपाल- इंदौर वंदे भारत एक्सप्रेस, भोपाल-जबलपुर वंदे भारत एक्सप्रेस समेत पांच वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रांची-पटना वंदे भारत एक्सप्रेस, धारवाड़-बेंगलुरु वंदे भारत एक्सप्रेस, गोवा (मडगांव)-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को पीएम मोदी ने वर्चुअली हरी झंडी दिखाई।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज 27 जून को सुबह करीब दस बजे वायुसेना के विशेष विमान से मध्य प्रदेश के भोपाल के दौरे पर पहुंचे। स्‍टेट हैंगर पर राज्‍यपाल मंगुभाई पटेल, सीएम शिवराज सिंह समेत अन्‍य नेताओं ने उनकी आत्‍मीय अगवानी की। यहां से सड़क मार्ग के जरिए प्रधानमंत्री मोदी रानी कमलापति स्‍टेशन पहुंचे। यहां पर उन्‍होंने इंदौर-भोपाल और जबलपुर-भोपाल के बीच चलने वाली वंदे भारत ट्रेन की प्रदेश को सौगात दी। भोपाल से ही प्रधानमंत्री मोदी भाजपा के मेरा बूथ सबसे मजबूत अभियान के तहत देशभर के 10 लाख बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। भोपाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का रोड शो खराब मौसम की वजह से रद कर दिया गया है।

गुरु पूर्णिमा पर कई राशियों को मिलेगा लाभ

गुरु पूर्णिमा पर कई राशियों को मिलेगा लाभ

सरस्वती उपाध्याय

कहते है कि यदि कुंडली में गुरु उच्च और प्रबल स्थान पर हैं, तो हमें कार्यों में सफलता, यश और कीर्ति की प्राप्ति होती है और अगर गुरू पूर्णिमा पर गुरू की पूजा की जाए तो बड़ा फल प्राप्त होगा। खास बात ये है कि इस दिन महर्षि वेद व्यास जी का जन्म हुआ था, तभी से इस दिन गुरू पुर्णिमा मनाई जाती है। हर साल आषाढ़ मास के शुक्लपक्ष की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा मनाई जाती है।  इस साल गुरू पूर्णिमा 3 जुलाई को पड़ रही है और इस दिन 3 बड़े संयोग भी बन रहे है, जिससे कई राशियों को लाभ मिलेगा।

एक साथ बनेंगे 3 योग

ज्योतिष के मुताबिक, गुरु पूर्णिमा वाले दिन ब्रह्म योग, इंद्र योग और बुधादित्य राजयोग बन रहा है। इन शुभ योग में गुरुओं दीक्षा लेना शुभफलदायी होगा। गुरु की चरण वंदना करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होगी और सफलता मिलेगी।ब्रह्म योग 02 जुलाई 2023 को रात 07.26 से 03 जुलाई 2023 दोपहर 03.45 रहेगा।इंद्र योग – 03 जुलाई 2023 से दोपहर 03.45 से 04 जुलाई 2023 सुबह 11.50 तक रहेगा। बुधादित्य योग भी बनेगा क्योकि 24 जून को बुध का मिथुन राशि में प्रवेश हो गया है, ऐसे में सूर्य पहले से ही मिथुन राशि में विराजमान हैं, ऐसे में इन ग्रहों की युति से बुधादित्य राजयोग बन रहा है।

गुरु पूर्णिमा तिथि 2023

हिंदू पंचांग की गणना के मुताबिक इस वर्ष 2 जुलाई को शाम 6 बजकर 2 मिनट पर आषाढ़ माह की पूर्णिमा तिथि शुरू हो जाएगी। जिसका समापन 3 जुलाई को रात 11 बजकर 8 मिनट पर होगा। ऐसे में उदया तिथि के अनुसार गुरु पूर्णिमा का त्योहार 3 जुलाई को मनाया जाएगा।

मिथुन राशि : गुरू पूर्णिमा मिथुन राशि वालों के लिए बेहद शुभ रहने वाली है। मिथुन राशि वालों को करियर में सफलता मिलेगी। बैंक बैलेंस बढ़ेगा। पारिवारिक समस्या से मुक्ति मिलेगी। आपको शुभ समाचार भी प्राप्त हो सकता है।

सिंह राशि : गुरू पूर्णिमा का दिन जातकों के लिए बेहद अच्छा रहने वाला है। सिंह राशि के जातकों को धन लाभ हो सकता है। लंबे समय से रुके कार्यों में गति आएगी। कार्यस्थल में शुभ समाचार मिलने की प्रबल संभावना है। नया काम शुरू करने के लिए अच्छा समय है।

सैलजा का बयान, संगठन में कई बदलाव होंगे

सैलजा का बयान, संगठन में कई बदलाव होंगे

इकबाल अंसारी 

रायपुर। आज कांग्रेस संगठन में अंदरुनी खींचतान की खबरों के बीच आज कांग्रेस भवन में महत्वपूर्ण बैठक होने जा रही है। इस बैठक में विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति पर चर्चा होगी। इस बैठक में कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम मौजूद रहेंगे। बैठक में पार्टी के सभी मोर्चा-संगठन, प्रकोष्ठ-विभाग के प्रदेश अध्यक्ष शामिल होंगे।

कांग्रेस में चार-पांच दिनों से नियुक्ति को लेकर चल रहे विवाद के बीच सैलजा और मरकाम पहली बार साथ बैठक लेने जा रहे हैं। इस बीच नियक्ति विवाद को लेकर प्रदेश प्रभारी सैलजा का बयान सामने आया है। उन्होंने ने कहा कि अभी संगठन में कई बदलाव होने हैं, इसलिए महामंत्रियों की नियुक्ति से संबंधित आदेश को रद किया था।

उन्‍होंने मरकाम के साथ किसी तरह के मदभेद से इनकार करते हुए, कहा कि पार्टी में सभी निर्णय आपस में बातचीत करने के बाद ही लिए जाते हैं। वहीं, इस मामले में मरकाम के तेवर में भी बदलाव आ गया है। एक दिन पहले ही मरकाम का बयान आया है जिसमे उन्होंने कहा कि प्रदेश प्रभारी के ही आदेश के हिसाब से काम होगा। इधर, कांग्रेस कार्यालय में अब से कुछ ही देर में एक बैठक होने जा रही है। इसमें सभी प्रदेश पदाधिकारी शामिल होंगे।

राजनीतिक दल मुसलमानों को भड़का रहे: मोदी 

राजनीतिक दल मुसलमानों को भड़का रहे: मोदी 

हरिओम उपाध्याय  

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के भोपाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। शुरुआती भाषण में उन्होंने मध्य प्रदेश चुनावों को ध्यान में रखते हुए राज्य के कार्यकर्ताओं और बूथ समितियों के प्रमुखों को दिशानिर्देशित किया। इस दौरान उन्होंने तमाम कार्यकर्ताओं के सवालों का जवाब भी दिया। इसी बीच पीएम मोदी ने यूनिफ़ॉर्म सिविल कोड का जिक्र छेड़ दिया। पीएम मोदी का केवल UCC कहना भर था कि वहां मौजूद कार्यकर्ताओं में अलग ही प्रकार का जोश आ गया।

पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग तीन तलाक की बात करते हैं। जो भी तीन तलाक के पक्ष में बात करते हैं, जो भी इसकी वकालत करते हैं। वो वोट बैंक के भूखे लोग मुस्लिम बेटियों के साथ बहुत बड़ा अन्याय कर रहे हैं। तीन तलाक से केवल बेटियों पर अन्याय नहीं होता बल्कि पूरे परिवार तबाह हो जाते हैं। अगर तीन तलाक इस्लाम का जरूरी अंग है तो कतर, जॉर्डन, इंडोनेशिया जैसे देशों में क्यों इसको बंद कर दिया।

राजनीतिक दल मुसलमानों को भड़का रहे- पीएम मोदी 

उन्होंने कहा, “भारत के मुसलमान भाई बहनों को ये समझना होगा कि कौन से राजनीतिक दल उनको भड़का कर उनका राजनीतिक फायदा ले रहे हैं। हम देख रहे हैं कि यूनिफॉर्म सिविल कोड के नाम पर ऐसे लोगों को भड़काने का काम हो रहा है। एक घर में एक सदस्य के लिए एक कानून हो और दूसरे के लिए दूसरा तो घर चल पायेगा क्या? तो ऐसी दोहरी व्यवस्था से देश कैसे चल पाएगा?”

सुप्रीम कोर्ट ने बार-बार कहा है कि ‘कॉमन सिविल कोड’ लाओ- पीएम मोदी 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने बार बार कहा है कि ‘कॉमन सिविल कोड’ लाओ लेकिन ये वोटबैंक के भूखे लोग, वोट बैंक की राजनीति करने वालों ने पसमंदों मुसलमानों का शोषण किया है लेकिन उनकी कभी चर्चा नहीं हुई। उन्हें आज भी बराबरी का हक़ नहीं मिलता। लेकिन अब ऐसा नहीं होने वाला है। पीएम मोदी ने कहा कि UCC को लेकर मुसलमानों के बीच काफी गलत बातें फैलाई गई हैं, जिन्हें अब बीजेपी के कार्यकर्ता एक-एक मुस्लिम के पास जाकर दूर करेगा।

पीएम मोदी के भाषण से मिला यह बड़ा संकेत 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस तरह से एक जनसभा में UCC की चर्चा करना यह संकेत दे रहा है कि केंद्र सरकार जल्द ही इसे देशभर में लागू कर सकती है। बता दें कि बीजेपी के चुनावी घोषणा पत्र में यह सबसे बड़े वादों में से एक है। माना जा रहा है कि केंद्र सरकार 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले इसे संसद के माध्यम से पास कराकर लागू कराने का प्रयास करेगी।

लिफ्ट हुई खराब, घंटों फंसे रहे लोग

लिफ्ट हुई खराब, घंटों फंसे रहे लोग

अश्वनी उपाध्याय 

गाज़ियाबाद। जनपद की गौर होम सोसाइटी में सोमवार को एक बड़ा हादसा होने से उस समय टल गया। जब चलते- चलते लिफ्ट बीच में ही अचानक से बंद हो गई। लिफ्ट में करीब 9 लोग सवार थे। जिसके बाद लिफ्ट में ही लोग चीख पुकार करने लगे। करीब 15 मिनट तक लोग अंदर फंसे रहे और चीखते पुकारते रहे। लोगों की जान बचाई जा सके। जैसे-तैसे लोगों को मैनुअल तरीके से लिफ्ट खोलकर बाहर निकाला गया।

जिसके बाद लोगों की जान बच सकी। इस घटना को लेकर बिल्डिंग में रहने वाले लोग काफी गुस्से में हैं। लोगों का आरोप है कि लिफ्ट का समय-समय सर्विस नहीं होने की वजह से खराब हुई है।

सीएम ममता के हेलीकॉप्टर की आपात लैंडिंग

सीएम ममता के हेलीकॉप्टर की आपात लैंडिंग

इकबाल अंसारी 

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को ले जा रहे हेलीकॉप्टर की आपात लैंडिंग कराई गई है। सीएम ममता बनर्जी जलपाईगुड़ी के क्रिन्टी में एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करने के बाद बागडोगरा जा रही थीं। बारिश के चलते विजिबिलिटी बहुत कम हो गई, जिसके बाद उनके हेलीकॉप्टर को उत्तरी बंगाल के सालूगड़ा में आर्मी एयरबेस पर आपात लैंडिंग करनी पड़ी।

टीएमसी नेता राजीब बनर्जी का कहना है कि वह सुरक्षित हैं। जानकारी के अनुसार, सीएम ममता बनर्जी अब सड़क मार्ग से कोलकाता के लिए आ रही हैं।

बिहार कैबिनेट में 25 प्रस्तावों पर मुहर लगी  

बिहार कैबिनेट में 25 प्रस्तावों पर मुहर लगी  

अविनाश श्रीवास्तव   

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कैबिनेट की मीटिंग बुलाई थी। आज मंत्रिपरिषद की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। आज की बैठक में कुल 25 एजेंडों पर मुहर लगी है। बिहार राज्य विद्यालय अध्यापक नियुक्ति संशोधन नियमावली 2023 की स्वीकृति दी गई है। इस नियमावली के संशोधन के बाद विद्यालय अध्यापक के पद पर नियुक्ति के लिए बिहार के स्थाई निवासी होने की अहर्ता अनिवार्य नहीं रहेगी। यानी कि बिहार का स्थायी निवासी नहीं होने के बाद भी आप इसके लिए योग्य हैं।

पंचायती राज विभाग में 675 पदों के सृजन की स्वीकृति

पंचायती राज विभाग के क्षेत्रीय कार्यालयों में लिपिक संवर्ग के पूर्व से सृजित पदों के अलावे 675 पद, जिसमें निम्न वर्गीय लिपिक 593, उच्च वर्गीय लिपिक 42, प्रधान लिपिक 31 एवं कार्यालय अधीक्षक के 9 पदों के सृजन की स्वीकृति दी गई है। बिहार के 8 जिलों अररिया, अरवल, नवादा, मधुबनी, लखीसराय, वैशाली, कटिहार एवं सीतामढ़ी में 520 बेड के अन्य पिछड़ा वर्ग कन्या आवासीय प्लस टू विद्यालय निर्माण के लिए 46 करोड़ 35 लाख 28,000 प्रति विद्यालय की दर से कुल 370 करोड़ 82 लाख 24 हजार रू की प्रशासनिक स्वीकृति दी गई है।

नौबतपुर से शहर रामपुर दुल्हन बाजार पथ के चौड़ीकरण के लिए 49 करोड़ 77 लाख ₹77000 की प्रथम किस्त की प्रशासनिक स्वीकृति दी गई है। भूमि संरक्षण निदेशालय के अधीन पूर्व से स्वीकृत विभिन्न कोटि के 305 पदों में से 108 पदों को प्रत्यर्पित किया गया एवं 197 पदों को सम परिवर्तित किया गया। इसके बाद विभिन्न कोटि के कुल 151 नए पदों के सृजन की स्वीकृति दी गई है। बिहार में पर्यटकों को आधुनिक सुविधा उपलब्ध कराने के लिए पटना में होटल पाटलिपुत्र अशोक, बांकीपुर बस स्टैंड परिसर एवं सुल्तान पैलेस की भूमि पर पांच सितारा होटल के निर्माण एवं संचालन की स्वीकृति दी गई है।

मुख्यमंत्री नारी शक्ति योजना के तहत पालना घर के संचालन के लिए पूर्व से निर्धारित दर में बढ़ोतरी की गई है। अब 852868 की दर से पालना घर की स्थापना एवं संचालन किए जाने की स्वीकृति मिली है। मेसर्स बृजेंद्र कुमार बिल्डर्स बाढ़ मोकामा को बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नियमावली के तहत वित्तीय प्रोत्साहन क्लीयरेंस की स्वीकृति दी गई है।

वित्तीय वर्ष 2023-24 में सात निश्चय योजना-2 के तहत देशी गाय गोपालन योजना के तहत सैंतीस करोड़ पांच लाख पैंतालीस हजार रू की स्वीकृति दी गई है। इस राशि से सभी वर्ग के पशुपालक, कृषक बोरजगार नौजवान युवक-युवती स्वरोजगार कर सकते हैं। इसके लिए सरकार 2,4,15 एवं 20 देशी गाय, साहिवाल,गीर, थारपारकर की डेयरी इकाई की स्थापना के लिए अनुदान देगी।

चंडीगढ़-मनाली राजमार्ग यातायात के लिए बहाल

चंडीगढ़-मनाली राजमार्ग यातायात के लिए बहाल

पंकज कपूर  

शिमला। भूस्खलन और बाढ़ के कारण करीब 24 घंटे तक बंद रहने के बाद चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग सोमवार रात यातायात के लिए बहाल कर दिया गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। राजमार्ग अवरुद्ध होने के कारण रविवार शाम से हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में पर्यटकों सहित सैकड़ों यात्री फंस गए थे।

अचानक आई बाढ़ के बाद मंडी शहर से करीब 40 किलोमीटर दूर औट के पास खोतीनल्ला में राजमार्ग का 70 किलोमीटर लंबा मंडी-पंडोह-कुल्लू मार्ग अवरुद्ध हो गया, जबकि भूस्खलन के बाद मंडी-पंडोह खंड 6-माइल्स के पास अवरुद्ध हो गया था। हिमाचल प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश जारी है।

मौसम विज्ञान विभाग ने 28-29 जून को अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश, आंधी चलने तथा बिजली कड़कने और 30 जून तथा एक जुलाई को आंधी चलने तथा बिजली कड़कने का पूर्वानुमान लगाया है। भारी बारिश के बाद राज्य में कुल 301 सड़क मार्ग बंद हो गए थे, जबकि 140 बिजली ट्रांसफार्मर इससे प्रभावित हुए।

भारी बारिश के कारण मंडी शहर से करीब 40 किलोमीटर दूर पंडोह-कुल्लू मार्ग पर औट के पास खोतिनल्ला में अचानक बाढ़ आ गई थी। राज्य आपदा अभियान केंद्र की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, भूस्खलन, बारिश संबंधी घटनाओं और डूबने से राज्य में अभी तक नौ लोगों की मौत हुई है। आंकड़ों के अनुसार, बारिश से जुड़ी घटनाओं में राज्य को 102 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

डेंगू व मलेरिया के हाई रिस्क, टीमें भेजने के निर्देश

डेंगू व मलेरिया के हाई रिस्क, टीमें भेजने के निर्देश

नरेश राघानी   

जयपुर। राजस्‍थान में गर्मी के दौर के बीच डेंगू और मलेरिया जैसी मौसमी बीमारियां का “डंक” सताने लगा है। इस बीच, अतिरिक्‍त मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) शुभ्रा सिंह ने सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेशभर में मौसमी बीमारियों की समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।

वीसी में सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी शामिल हुए। अतिरिक्त मुख्य सचिव ने जुलाई माह को एन्टी डेंगू माह के रूप में मनाये जाने के निर्देश प्रदान दिए।

प्रधानमंत्री आवास योजना में अनियमितता: आरोप

प्रधानमंत्री आवास योजना में अनियमितता: आरोप

सुनील श्रीवास्तव

भुवनेश्वर। ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राज्य इकाई ने प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) में बड़े पैमाने पर अनियमितताएं होने का आरोप लगाते हुए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) जांच की मांग की है। यह मांग भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा द्वारा कालाहांडी जिले के भवानीपटना में 23 जून को एक रैली को संबोधित करने के तीन दिन बाद की गई है।

उन्होंने रैली में कहा था कि पीएमएवाई के कार्यान्वयन में अनियमितताओं में संलिप्त लोगों को जेल भेजा जाएगा। भाजपा की राज्य इकाई के महासचिव पृथ्वीराज हरिचंदन ने यहां सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजेडी) के नेताओं ने पीएमएवाई के तहत मकान देने के एवज में प्रत्येक लाभार्थी से 20 हजार से 25 हजार रुपये लिए हैं।

हरिचंदन ने आरोप लगाया कि ओडिशा के लिए 9.5 लाख मकान स्वीकृत किए गए हैं लेकिन राज्य में बीजद सरकार वास्तविक लाभार्थियों को घर आवंटित करने में देरी कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि पीएमएवाई के अंतर्गत विभिन्न पात्र परिवारों को घर देने से मना कर दिया गया है जबकि बीजद का समर्थन करने वाले कई अमीर लोग योजना का लाभ उठा रहे हैं।

हरिचंदन ने दावा किया कि भाजपा द्वारा वर्ष 2019 में लाभार्थियों की सूची तैयार करने में अनियमितताओं का मुद्दा उठाए जाने के बाद राज्य सरकार ने फरवरी 2020 में सभी ब्लॉकों और पंचायतों में शिकायत पेटियां स्थापित की थीं। उन्होंने कहा, ''हम राज्य सरकार से स्पष्टीकरण की मांग कर रहे हैं कि शिकायतों को लेकर क्या कार्रवाई की गयी।'' भाजपा ने कहा कि अगर राज्य सरकार व्यवस्था में पारदर्शिता चाहती है तो उसे चाहिए कि वह कथित अनियमितताओं की सीबीआई से जांच कराए।

हरिचंदन ने चेतावनी दी कि अगर एक माह के भीतर उचित कदम ना उठाए गए तो भाजपा सभी ब्लॉक कार्यालयों का घेराव करेगी और सड़कों पर आंदोलन करेगी। इस बीच, वरिष्ठ बीजद नेता और मंत्री प्रमिला मलिक ने सभी आरोपों को खारिज करते हुए दावा किया है कि राज्य में पीएमएवाई के कार्यान्वयन में कोई अनियमितता नहीं हुई है।

'काम नहीं, वेतन नहीं’ नियम लागू: मणिपुर

'काम नहीं, वेतन नहीं’ नियम लागू: मणिपुर

हरिओम उपाध्याय 

इंफाल। मणिपुर सरकार ने कार्यालय नहीं आने वाले अपने कर्मचारियों पर ‘काम नहीं, वेतन नहीं’ नियम लागू करने का फैसला लिया है। सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) से उन कर्मचारियों का ब्योरा देने के लिए कहा गया है, जो जातीय हिंसा से प्रभावित राज्य की मौजूदा स्थिति के कारण कार्यस्थल पर उपस्थिति नहीं दर्ज करा पा रहे हैं।

जीएडी सचिव माइकल एचोम की ओर से सोमवार रात जारी एक परिपत्र में कहा गया है, “12 जून को मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक और कार्यवाही के पैरा 5-(12) में लिए गए निर्णय के अनुसार, मणिपुर सचिवालय के सामान्य प्रशासन विभाग से वेतन प्राप्त कर रहे सभी कर्मचारियों को सूचित किया जाता है कि उन सभी कर्मचारियों पर ‘काम नहीं, तो वेतन नहीं’ नियम लागू किया जा सकता है, जो अधिकृत छुट्टी लिए बगैर कार्यस्थल पर नहीं पहुंच रहे हैं।”

मणिपुर सरकार के लगभग एक लाख कर्मचारी हैं। परिपत्र में सभी प्रशासनिक सचिवों से “उन कर्मचारियों का ब्योरा उपलब्ध कराने को कहा गया है, जो राज्य के मौजूदा हालात के चलते कार्यालय नहीं आ रहे हैं।”

इसमें निर्देश दिया गया है कि सामान्य प्रशासन विभाग और कार्मिक विभाग को 28 जून तक ऐसे सभी कर्मचारियों के नाम, ईआईएन (कर्मचारी पहचान संख्या), मौजूदा पता सहित अन्य विवरण उपलब्ध कराए जाएं, ताकि उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की जा सके। मणिपुर में बहुसंख्यक मेइती और अल्पसंख्यक कुकी समुदाय के बीच मई की शुरुआत में भड़की जातीय हिंसा में अब तक 100 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-257,(वर्ष-06) पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. बुधवार, जून 28, 2023

3. शक-1944, आषाढ़, शुक्ल-पक्ष, तिथि- दसवीं, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:20, सूर्यास्त: 07:15। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 20 डी.सै., अधिकतम- 33+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए  सरस्वती उपाध्याय  बेहद सुंदर और सुगंधित फूल 'गुलाब' गुणों की खान है और इसकी पं...