रविवार, 21 जुलाई 2019

सजा के लिए तैयार रहना चाहिए:योगी

लखनऊ ! मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र हत्याकांड के लिये कांग्रेस और सपा के नेताओं को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उन्हें इसकी सजा के लिये तैयार रहना चाहिये! योगी ने सोनभद्र के उम्भा गांव में बुधवार को जमीन पर कब्जे को लेकर हुई गोली बारी में मारे गये लोगों के परिजन से मुलाकात के बाद ,प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रियंका पर परोक्ष रूप से हमला करते हुए कहा, कि उनकी सरकार इस वारदात की तह में जाएगी! 'घड़ियाली आंसू' बहाने वालों का पर्दाफाश करेगी! उन्होंने सपा को भी घेरे में लेते हुए कहा, ''यह बात सामने आयी है कि इस मामले की तह में कांग्रेस के नेताओं का पाप है! जिन लोगों ने यह पाप किया है! उनकी समाजवादी पार्टी के साथ आर्थिक साझेदारी रही है! उन लोगों के खिलाफ सरकार ने सख्त कार्रवाई भी की है!'' योगी ने एक सवाल पर कहा ,कि कांग्रेस और सपा के नेता इस पाप के लिये जिम्मेदार हैं ? इसकी सजा के लिये उन्हें तैयार भी रहना चाहिये! मालूम हो कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने करीब 30 घंटे तक मिर्जापुर के चुनार गेस्ट हाउस में हिरासत में रहने के दौरान शनिवार को सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मुलाकात की थी!


दो पर गिरी बिजली,एक को सांप ने काटा

आकाशीय बिजली गिरने से एक की मौत , एक गम्भीर रूप से घायल 


फतेहपुर ! असोथर थानाक्षेत्र के सांतो गांव के मजरे केवटरा में आकाशीय बिजली गिरने से शाम 6 बजे फूलचंद्र निषाद 55 वर्ष की मृत्यु हो गई ! फूलचंद्र निषाद पेशे से किसान हैं , व अत्यंत गरीब परिवार से हैं ! खेतों में पानी लगाने के समय अचानक आकाशीय बिजली गिरने से फूलचंद्र की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई !


 असोथर थानाक्षेत्र के ही ग्राम कैथनपुर उग्रसेन पाल 40 वर्ष के ऊपर आकाशीय बिजली गिर गई , जिससे युवक गम्भीर रूप से झुलस गया , युवक गांव के बाहर खेतों में गाय चराने गया था , गाय की मौके पर मौत , युवक जिला अस्पताल के लिए रेफर!


सर्पदंश से किशोरी की मौत


असोथर थानाक्षेत्र के सरकंडी गांव के मजरे बर्रा - बगहा की घटना !छप्पर में मोबाईल चार्जर निकालने के सर्प ने ड़सा , मौके पर ही हो गई किशोरी की मौत!


कार एक्सीडेंट में गई एक जान:गाजियाबाद

गाजियाबाद,मोदीनगर !भोजपुर थानाक्षेत्र में गांव तलहेटा निवासी किशनलाल शर्मा (६0वर्ष) परिवार सहित रहते है। वह खेत पर काम करने के लिए गए थे। वह वापस आ रहे थे। जब वह तलहेटा खरखौदा मार्ग पर पहुंचे तो इसी बीच तेज रफ्तार कार आई और किशनलाल को जोरदार टक्कर मार दी। इतना ही नहीं किसान को टक्कर मारने के बाद कार अनियंत्रित होकर नाले में जा पलट गई। कार पलटने से उसमें सवार चार युवक घायल हो गए। जिसको अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर किशनलाल शर्मा ने मोदीनगर के अस्पताल में दम तोड़ दिया। पुलिस ने कार को कब्जे में लेकर युवकों को हिरासत में ले लिया है। थानाप्रभारी ने बताया शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।


3 महीने में एक भी लड़की नहीं:उत्तरकाशी

उत्तराखंड: उत्तरकाशी में पिछले तीन महीने में नहीं हुआ एक भी बेटी का जन्म, सकते में प्रशासन


उत्तरकाशी ! उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में पिछले तीन महीने में एक भी लड़की का जन्म नहीं हुआ है! इस मामले के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री ने चिंता व्यक्त की है! उन्होंने अधिकारियों ने मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी है! जिला प्रशासन मामले की पड़ताल कर रहा है!उत्तरकाशी उत्तराखंड के उत्तरकाशी से एक हैरतअंगेज मामला सामने आया है !यहां पिछले तीन महीने से एक भी बेटी ने जन्म नहीं लिया है! घटना के सामने आने के बाद से उत्तरकाशी जिले में बड़े स्तर पर भ्रूण हत्या की आशंका जताई जा रही है! बता दें कि इस जिले के 133 गांवों में पिछले तीन महीने में 216 बच्चे पैदा हुए हैं, लेकिन इसमें एक भी लड़की नहीं है! इस मामले का खुलासा स्वास्थ्य विभाग की एक रिपोर्ट से हुआ है! मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी मामले पर चिंता जताई है!उन्होंने अधिकारियों से मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी है!


नगर पालिका में जीवन बना नरक:लोनी

 गाजियाबाद,लोनी ! नगर पालिका स्‍थित वार्ड नंबर 46 खुशालपार्क, नंदा कॉलोनी इत्यादि क्षेत्र में लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं! कुछ चापलूस लोग नगर पालिका की चापलूसी करते-करते अपने क्षेत्र के विकास पर मौन है !अरे, कोई आवाज उठाने की कोशिश करता है तो उसकी आवाज दबाने की कोशिश की जाती है ! लोनी नगर पालिका के वार्ड नंबर 46 में तालाब के आसपास के एरिया में जाकर देखो कि वहां के लोगों की जिंदगी किस प्रकार नरक बन रही है !परंतु हमारे आगे कुछ लोग नगर पालिका नेताओं की इस प्रकार चापलूसी करते फिर रहे हैं! जैसा कि वहीं से उनको कुछ दाना-पानी मिलता है !आखिर लोनी नगर पालिका के नेता जब यहां वोट मांगने आए थे! तो कहते हैं की मैं तो इस एरिया के बारे में जानता भी नहीं था! पर मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि जिस क्षेत्र के लोग विदेशों में नौकरी कर रहे हैं! क्षेत्र के बारे में आप नहीं जानते हैं !शर्म आनी चाहिए ऐसे नेताओं को जो जनता को मूर्ख बनाते हैं! जो उनका साथ देते हैं ! लोनी नगर पालिका का वार्ड नंबर 46 ही नहीं कितने ही वार्ड है, जो गली, नाली-खड़ंजा के लिए तरस रहे हैं !और लोनी नगर पालिका क्षेत्र का मुख्य मुद्दा जलभराव की निकासी का है! जिस पर लोनी नगर पालिका के नेताओं ने भ्रष्टाचार का खेल खेला है !आखिर कब तक लोनी नगर पालिका क्षेत्र के वासी इस प्रकार गली, नाली, खड़ंजा और जलभराव की स्थिति से लड़ते रहेंगे! आखिर लोनी नगर पालिका के अधिकारी और नेता चुप क्यों है? जब उनसे शिकायत की जाती है तो फंड का रोना शुरू कर देते हैं! आखिर योगी सरकार फंड क्यों नहीं दे रही? इसका कारण जानने की कोशिश की किसी ने ? क्योंकि इसका मुख्य कारण है लोनी नगर पालिका में पिछली योजना में 300 करोड रुपए का घोटाला होना! आखिर योगी सरकार कैसे एक भ्रष्ट नगर पालिका को फंड जारी करेगी! पहले योगी सरकार पिछली योजनाओं का हिसाब मांग रही है! आखिर लोनी नगरपालिका उसका हिसाब क्यों नहीं दे रही है? योगी सरकार चाहती है ! लोनी मे विकास हो परंतु लोनी में जब भ्रष्टाचार जमीनी स्तर पर नगर पालिका में जम गया है! बस अब तो एक ही समाधान है की संपूर्ण लोनी नगर पालिका को बर्खास्त किया जाए!
संदीप गुप्ता


सत्ता और विपक्ष दोनों तनाव में: कर्नाटक

कर्नाटक में सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों तनाव में


कर्नाटक में बागी विधायक पहले से ही विधानसभा में होने वाले फ्लोर टेस्ट से दूरी बनाए हुए हैं, वहीं अब मायावती की पार्टी बसपा की तरफ से भी सीएम एचडी कुमारस्वामी को तगड़ा झटका लगा है। बसपा विधायक एन नागेश ने कहा कि वे सोमवार को होने वाले फ्लोर टेस्ट में शामिल नहीं होंगे।


वहीं दूसरी ओर कर्नाटक में बीजेपी नेताओं का मूड इन दिनों बेहद खुशनुमा है। बीजेपी नेताओं की इस खुशी की वजह भी है। लंबे अरसे बाद विधानसभा में विश्‍वासमत के बाद उन्‍हें सरकार बनाने का मौका मिल सकता है। सरकार बनाने की कवायद शुरू होते ही बीजेपी के कई नेता टेंशन में आ गए हैं।


बीजेपी नेताओं के टेंशन की वजह 15 कांग्रेस-जेडीएस विधायकों की भूमिका है। यदि इन विधायकों को भगवा खेमे में शामिल किया जाता है तो उन्‍हें सरकार में शामिल करना पड़ सकता है। टेंशन में चल रहे बीजेपी नेताओं ने बताया कि बीजेपी जब राज्‍य में सरकार बनाने के नजदीक पहुंच जाएगी तो कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायक मंत्री बनाए जाने की मांग कर सकते हैं। सभी विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल करना नई सरकार के लिए बेहद मुश्किल होगा।


मनोज बने ज़ी न्यूज़ के रेजिडेंट एडिटर


मनोज माथुर बने जी न्यूज चैनल राजस्थान के रेजीडेंट एडिटर



जयपुर ! यूं तो मेरे द्वारा प्रशिक्षित पत्रकार आज अनेक दैनिक समाचार पत्रों, न्यूज चैनलों आदि में सफल पत्रकारिता कर रहे हैं, कई पत्रकार तो भास्कर, पत्रिका जैसे अखबारों के संस्करण प्रभारी हैं। पत्रकारिता के चालीव वर्षों में मुझ से युवा साथियों के लिए जो कुछ बना वो मैंने किया। पत्रकारों को अनुभव प्रमाण पत्र देने में भी मैंने कोई कंजूसी नहीं। यदि मेरे लिखे पर किसी को नोकरी अथवा भूखंड मिल रहा है तो मेरे लिए यह सम्मान की बात रही। मेरा मानना रहा कि व्यक्ति अपनी मेहनत और किस्मत से आगे बढ़ता है, लेकिन ऐसे कम लोग होते हैं जो अपनी सफलता का श्रेय किसी अन्य को दें। 21 जुलाई को मुझे जी न्यूज राजस्थान चैनल के वरिष्ठ पत्रकार मनोज माथुर का फोन आया। माथुर ने बताया कि अब इस चैनल में उनकी पदोन्नति रेजीडेंट एडिटर के पद पर हो गई है। माथुर का कहना रहा कि इस सफलता में मेरा भी सहयोग रहा है। आपसे ही मैंने पत्रकारिता के गुर सीखे और अनुभव प्रमाण पत्र लिया। मनोज माथुर ने अपनी खुशी और सफलता में जिस तरह से मुझे शामिल किया उससे मुझे भी एक सुखद अनुभूति हुई। मनोज माथुर शुरू से ही मेहनती पत्रकार रहे हैं। पिछले कई वर्षों से मनोज जी न्यूज में समाचार संकलन का महत्वपूर्ण कार्य कर रहे थे। संस्थान ने अब उन्हें सम्मानजनक पद दिया है। उम्मीद है कि मनोज इस पद पर खरा उतरेंगे।
एस.पी.मित्तल


अमेरिका:इमरान को मेट्रो मे कराया सफर


अमरीका में इमरान खान को मेट्रो में सफर करना पड़ा।
भारत में रह कर पाकिस्तान के गीत गाने वाले इस दुर्दशा को देख लें।

नई दिल्ली ! पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की मुलाकात अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से होनी है। इस मुलाकात के लिए इमरान खान 21 जुलाई को अमरीका पहुंच गए। इमरान को पूरी उम्मीद है कि अमरीका से कुछ न कुछ आर्थिक मदद मिल जाएगी। चूंकि इमरान खान हाथ में कटोरा लेकर गए हैं, इसलिए अमरीका में भी इमरान की कोई इज्जत नहीं हो रही है। वाशिंगटन एयरपोर्ट पर पहुंचने पर अमरीका का कोई मंत्री या बड़ा अधिकारी इमरान खान का स्वागत करने के लिए नहीं आया। न ही अमरीका प्रशासन ने एयरपोर्ट से होटल तक के सफर के लिए कोई कार उपलब्ध करवाई। ऐसे में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को अपने विदेश मंत्री शाह मेहमूद कुरैशी के साथ मेट्रो में सफर करना पड़ा। यानि अमरीका की सरकार ने इमरान खान को एक राष्ट्राध्यक्ष के तौर पर कोई सम्मान नहीं दिया। इमरान की बेइज्जती का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एयरपोर्ट से होटल तक का सफर मेट्रो में करना पड़ा है।
पाकिस्तान का जहाज भी नहींः
आमतौर पर राष्ट्राध्यक्ष अपने देश के जहाज का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति इतनी खराब है कि इमरान खान अपने देश के जहाज का इस्तेमाल भी नहीं कर पा रहे हैं। यही वजह रही कि इमरान खान ने इस्लामाबाद से वाशिंगटन तक का सफर कतर एयरवेेज की सामान्य फ्लाइट से किया। यानि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री सामान्य यात्री की तरह अमरीका पहुंचे। इससे पाकिस्तान की दननीय स्थति का अंदाजा लगाया जा सकता है। जो लोग भारत में रह कर पाकिस्तान के गीत गाते हैं उन्हें इमरान खान और पाकिस्तान की इस दननीय स्थिति से सबक लेना चाहिए। जिस पाकिस्तान के लोगों के सामने आज भूखों मरने की स्थिति है उस पाकिस्तान की तरफदारी भारत के कुछ लोग करते हैं। वहीं नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद अंतर्राष्ट्रीय मंच पर भारत का रुतबा बढ़ा है। डोनाल्ड ट्रंप भी अमरीका सरकार के प्रोटोकाॅल को तोड़ कर नरेन्द्र मोदी का स्वागत करते हैं। आज पूरी दुनिया में भारत की आवाज को सुना जाता है।
एस.पी.मित्तल


उपायुक्त और मेयर ने नगर निगम को लूटा


जिस गजेन्द्र सिंह रलावता को आयुक्त ने चार्जशीट थमाई, अब वही अजमेर नगर निगम के सबसे महत्वपूर्ण अधिकारी हैं। आयुक्त भी कर रही है प्रशंसा, तो फिर मेयर धर्मेन्द्र गहलोत का क्या दोष है?

अजमेर ! दो माह पहले ऐसी छवि बनाई गई कि अजमेर के मेयर धर्मेन्द्र गहलोत और नगर निगम के उपायुक्त गजेन्द्र सिंह रलावता ने मिल कर अजमेर को लूट लिया। राज्य में कांग्रेस की सरकार आने के बाद भाजपा के मेयर गहलोत को निलंबित करने की कार्यवाही भी शुरू हो गई। आरोपों के चलते ही निगम की आयुक्त सुश्री चिन्मयी गोपाल ने रलावता को चार्जशीट भी थमा दी। माना जा रहा था कि रलावता को सस्पेंड किया जाएगा। लेकिन अब वही रलावता निगम के सबसे जिम्मेदार और खास अफरसर हो गए हैं। बदली हुई परिस्थितियों में आयुक्त चिन्मयी भी सबसे ज्यादा भरोसा रलावता पर ही करती हैं। 20 जुलाई को निगम ने जब पहली आॅन लाइन नक्शे स्वीकृत किए तब मीडिया के सामने आयुक्त चिन्मयी ने इस काम का श्रेय रलावता को ही दिया। इतना ही नहीं आयुक्त ने रलावता को अपने साथ खड़ा कर नक्शों का वितरण किया। 21 जुलाई को अखबारों में आयुक्त और रलावता के फोटो ही प्रकाशित हुए हैं। यानि जो रलवता कल तक मेयर के विश्वास पात्र थे, आज वो ही रलावता आयुक्त के सबसे भरोसे के अफसर हैं। आॅन लाइन नक्शों के समारोह में भले ही मेयर को नहीं बुलाया गया लेकिन रलावता तो उपस्थित रहे। पिछले दिनों निगम के वार्डों के परिसीमन का कार्य भी रलावता को ही दिया गया। सवाल उठता है कि जब रलावता निगम के इतने जिम्मेदार अफसर हैं तो मेयर गहलोत के फैसलों पर आपत्ति क्यों दर्ज करवाई जा रही है? भ्रष्टाचार के मुद्दे पर मेयर को क्यों कटघरे में खड़ा किया जा रहा है? जबकि मेयर गहलोत के इशारे पर जो भी आदेश जारी हुए, उन पर रलावता के ही हस्ताक्षर हैं। चाहे बहुचर्चित 13 काॅमर्शियल नक्शों का मामला या फिर किसी ठेके की अवधि बढ़ाने का निर्णय। अब यदि आयुक्त सुश्री चिन्मयी अपने उपायुक्त रलावता को काबिल अफसर मान कर प्रशंसा कर रही हैं तो मेयर को भी आरोपों से मुक्त किया जाना चाहिए। ऐसा कैसे हो सकता है कि रलवता रातों रात दूध के धुले हो जाएं और मेयर कोयले की कोठरी में ही बैठे रहें। रलावता के माध्यम से अजमेर नगर निगम के हालातों को आसानी से समझा जा सकता है। इतना जरूर है कि उपायुक्त रलावता सद्व्यवहार वाले अधिकारी हैं। उनकी मिलनसारिता के सभी लोग कायल हैं। कांग्रेस और भाजपा के पार्षदों में भी रलावता का मान सम्मान हैं। रलावता के बढ़ते महत्व से मेयर गहलोत भी उत्साहित हैं, क्योंकि अब गहलोत स्वयं को भी पाक साफ बता सकेंगे।
एस.पी.मित्तल


अजब ब्लॉग-गजब कहानी (संपादकीय)

मधुकर कहिन
अजब ब्लॉग की गज़ब कहानी


नरेश राघानी


आज एक क्रांतिकारी ब्लॉग पढ़ा। जिसमें यह लिखा गया की 
जिस गजेन्द्र सिंह रलावता को आयुक्त ने चार्जशीट थमाई, अब वही अजमेर नगर निगम के सबसे महत्वपूर्ण अधिकारी हैं। आयुक्त भी कर रही है प्रशंसा, तो फिर मेयर धर्मेन्द्र गहलोत का क्या दोष है?पढ़कर बड़ा अजीब लगा । यह तो बिल्कुल ऐसे ही था जैसे कोई कह रहा हो कि - 


मुझे और मेरे मित्रों को भूख लगी थी। मैंने कचोरी बनाई , सबको बहुत अच्छी लगी।लेकिन,अमरीका का इसमें क्या दोष है ?


उस ब्लॉग में लिखी गई लाइन भी , बिल्कुल ऐसी ही अजीब थीं। जिस में लेखक दो अलग अलग घटनाओं को जोड़कर कोई तीसरा ही लक्ष्य साधने का प्रयास कर रहा हैं।
जितना मेरी समझ आया उस अनुसार उस ब्लॉग में यह कहा गया था कि , जिस निगम उपायुक्त गजेंद्र सिंह रलावता को निगमायुक्त चिन्मयी गोपाल ने कुछ रोज पहले 13 नक्शों के प्रकरण में नोटिस थमाया था। उसी उपायुक्त गजेंद्र सिंह रलावता को अब निगम में महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां सौंपी जा रही है। ऑनलाइन नक्शा पास कराने की सुविधा के प्रारंभ करने पर जो प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी गजेंद्र सिंह रलावता को बिठाकर तवज्जो दी गई। और इसी तवज्जो को आधार मानकर यह तक लिख दिया गया है कि गजेंद्र सिंह रलावता संभवत आयुक्त की नजर में दोषमुक्त हो गए हैं। फिर जब गजेंद्र सिंह रलावता ही दोष मुक्त हो गए हैं तो अब धर्मेंद्र गहलोत का क्या दोष है ?
चलिए माना साहब ! धर्मेंद्र गहलोत का तो क्या किसी का कोई भी दोष नहीं है। दोष तो दरअसल जनता का है । जो इस तरह के दृश्य देख कर भी मौन साधे बैठी है। 13 फाइलों को भ्रष्टाचार निरोधक दस्ता ले जाने के बाद न जाने कौनसी पहाड़ी गुफा में छोड़कर आ गया है । यह कोई क्यूँ नहीं लिखता भाई ?
शांति से बैठो और लोगों को अपना काम करने दो भाई !


फिर विचारणीय बात यह है कि धर्मेंद्र गहलोत निगम में रलावता की तरह नौकरी थोड़े ही कर रहें हैं। जो उन्हें निगम के रोज़मर्रा के कामों में शामिल किया जाए। आयुक्त काम की ज़िम्मेदारी किसी न किसी सरकारी अधिकारी को ही देगी न ?
हाँ अगर निगम में मेयर साहब, गजेंद्र सिंह रलावता की तरह ही नौकरी कर रहे होते, तो उनको कोई जिम्मेदारी अवश्य दी जा सकती थी। मेरे ख्याल से वह बखूबी गज़ब की ज़िम्मेदारी निभाते भी ।


अब यदि 'ब्लॉग बादशाह' यह चाहते हैं , कि परिसीमन इत्यादि का काम गजेंद्र सिंह रलावता की जगह मेयर साहब को दे दिया जाए। और मेयर साहब निगम आयुक्त चिन्मयी गोपाल को रिपोर्ट करें। तो इस क्रांतिकारी सोच को 21 तोपों की सलामी देने की इच्छा करती है।
इन सब बातों से हट कर - अभी कुछ रोज पहले ही मैंने सोशल मीडिया पर एक बड़ा गजब का कार्टून देखा था। बनाने वाला कौन था इसका तो मुझे ज्ञान नहीं। परंतु उस कार्टून में यह दिखाया गया था कि एक हाथ कलम पकड़कर कुछ लिख रहा है। उस कलम में एक छेद है , जिसमें कोई दो रुपये का सिक्का डाल रहा है । शायद यह कार्टून पैसे लेकर खबरें लिखने वाले आधुनिक युग के पेड मीडिया को परिभाषित कर रहा था। मां कसम ! वह कार्टून अब तक मेरी आंखों के आगे घूम रहा है। हो सकता है मेरी सोचने समझने की शक्ति में कुछ गड़बड़ हो !लेकिन आधुनिक युग के पेड लेखन को मेरा कोटि-कोटि प्रणाम ।


नरेश राघानी


नगर पालिका के विकास में फैला संक्रमण

टंडन पुरी कॉलोनी की स्थिती नारकीय
सीवर का पानी घरों में घुसा
फैल रहा है संक्रमण रोग


मीरजापुर। जल निकासी और स्वच्छता पर किए जा रहे करोड़ों रुपए के व्यय भी नगर के दक्षिण ओर स्थित टंडन पुरी कॉलोनी की हालत को सुधार नहीं पा रहे हैं। क्या सोच कर इंजीनियरों द्वारा जल निकासी के नाम पर योजनाएं बनाई जाती हैं और टेंडर कराये जाते हैं, क्योंकि जिस समस्या के समाधान के लिए धन खर्च किया गया, वह समस्या जस की तस बनी हुई है। नगर पालिका की लापरवाही से टंडन पुरी कॉलोनी के वासियों का जीना दुश्वार हो गया है जहां एक ओर सीवर का पानी घरों व सड़कों पर फैला हुआ है वही अब संक्रामक रोग अपना पैर पसार रहा है। जिससे लोगों का जीना दुश्वार हो गया है जिसको लेकर कर स्थानीय लोगों में जबरदस्त आक्रोश है।
बताते चलें कि टन्डन पुरी कॉलोनी की यह समस्या बहुत पुरानी है बार-बार शिकायत के बावजूद नगर पालिका प्रशासन द्वारा इस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। टंडन पुरी कॉलोनी के लोग सीवर के गंदे पानी में रहने व जाने के लिए बाध्य है लोग अपने छतो पर शरण लिए हुए हैं बच्चों को स्कूल जाने में दिक्कत हो रही हैं।वही स्थानीय महिलाओं का घर से निकला मुश्किल हो गया है। इसके बावजूद पालिका द्वारा न कोई गंभीरता, न कोई संवेदनशीलता दिखाई पड़ रही हैं। स्थानीय लोगों ने नगर पालिका प्रशासन एवं जिलाधिकारी का इस ओर ध्यान आकर्षित करते हुए जल जमाव की समस्या है निजात दिलाने की मांग की है।


कावड़ यात्रा शिविर का किया उद्घाटन

गाजियाबाद,लोनी !भारतीय जनता पार्टी की नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती रंजीता धामा व पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मनोज धामा ने बेहटा बंद फाटक व लोनी नगरपालिका के द्वारा हर वर्ष आयोजित कावंड कैंप का फीता काटकर उद्घाटन किया ।
सभी जगहों पर विधिवत रूप से पूजा पाठ करके व हवन करके धार्मिक मंत्रोचार के साथ कावंड शिविर का शुभारंभ किया गया ।कावंड शिविर का उद्घाटन लोनी नगरपालिका अध्यक्ष व पूर्व अध्यक्ष मनोज धामा व जलवाले गुरूजी ने फीता काटकर किया।इस अवसर पर पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मनोज धामा  व रंजीता धामा  ने विधिवत रूप से पूजा अर्चना मे भाग लिया ! ईश्वर के चरणों मे शीश झुकाकर आशीर्वाद लिया।
कावंड शिविर की समितियों के द्वारा रंजीता धामा व मनोज धामा को फूल-माला पहनाकर व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया ।
कावंड शिविर मे सभी भक्तों को संबोधित करते हुये मनोज धामा ने कहा कि सावन का पावन महीना शुरू हो चुका है! इसके साथ ही शुरू हो चुका है शिव के भक्तों का मेला! इस मेले मे लाखों शिवभक्त हरिद्वार व गौमुख से पावन गंगा जल लेकर अपने गंतव्य स्थान की तरफ भोले बाबा की भक्ति मे चूर होकर कई दिनों की पैदल यात्रा करके दिन-रात चलते रहते हैं! ये वो समय होता है जब हर तरफ सडकों पर भोले के भक्त दिखायी देते हैं, जो मस्त होकर चलते हैं ।मैं ईश्वर के समक्ष आज ये कामना करता हूँ कि हे ईश्वर,सभी भक्तों को सकुशल उनकी यात्रा पूर्ण कराना व मन चाहा फल देना ।
इस अवसर पर लोनी नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती रंजीता धामा ने भी सभी को संबोधित करते हुये कहा कि इस वर्ष बार्डर नहर थाने पर आयोजित ये पांचवा कावंड शिविर लगाया जा रहा है पिछले चार वर्षों से निरंतर लोनी नगरपालिका के कर्मचारी व अधिकारी भोले बाबा के भक्तों की सेवा करते हैं जिसमे सर्वसमाज के सभी सभासदगण, समाजसेवी लोगों व कर्मचारीयों के दुारा कई दिनों तक सेवाभाव से सेवा की जाती है कैंप के माध्यम से कावंडियों को चिकित्सा सुविधा, शुद्ध व ताजा भोजन, उनके आराम करने के लिये व नहाने के लिये व्यवस्था सुचारु रूप से की जाती हैं ।ये सावन मास बेहद ही पावन माह होता है बरसात की हल्की हल्की फुहारों के बीच सडकों पर पैदल जल लेकर चलने का आन्न्द बेहद ही सुहाना होता है ।भोले बाबा के भक्त विभिन्न कष्टों को सहकर भी पवित्र गंगा जल लेकर अपने गंतव्य को प्राप्त करते हैं । रंजीता धामा ने सभी को शिवरात्रि की शुभकामनाएं दी तथा सभी से अपील करते हुये कहा कि हम सभी को भोले के भक्तों की सेवा करने का अवसर जब भी जँहा भी मिले हर प्रयत्न करके उनकी सेवा करनी चाहिए वो भगवान से यही मनोकामना करती है कि गर वर्ष की तरह अगले कई वर्षों तक भी ये सौभाग्य उनको मिलता रहे ।
इस अवसर पर जलवाले गुरूजी,अनिल प्रमुख, सभासद रूपेन्द्र चौधरी, अमित तोमर, सतपाल शर्मा, सतेन्दर शर्मा,देवेन्द्र ढाका, बबलू शर्मा, खुशनूद, इसरार,अनिल, पुजारी जी,दुबे जी,कुसुमलता, निश्चल ढाका, जगत भैय्या, राजेश बंसल, सुशील भाटी ,पवन,सुभाष,टीनू दहिया, नितिन ढाका, कपिल, सहित सैकड़ों की संख्या मे महिलाएं व पुरुष उपस्थित रहे।


पीड़ितो को ₹50 हजार,आवास की घोषणा:योगी

सोनभद्र। सोनभद्र नरसंहार के बाद मची राजनीतिक गहमागहमी के बीच मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ रविवार को सोनभद्र के उम्भा गांव पहुंचे और पीड़ितों का हाल जाना। उन्‍होंने घटना में घायल हुए लोगों के परिजनों को 50-50 हजार रुपये के चेक दिए। इसके साथ ही, योगी ने प्रत्येक पीड़ित परिवार को 1-1 आवास देने की भी घोषणा की और 60 साल के बुजुर्ग को पेंशन देने की बात कही। उन्‍होंने आवासीय विद्यालय देने की भी घोषणा की। सीएम योगी ने कहा कि जिन लोगों ने प्रधान को राजनीतिक मदद की होगी उसकी भी जांच होगी।


योगी ने सोनभद्र में घटनास्‍थल का भी जायजा लिया। उनके साथ बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडे, डीजीपी ओपी सिंह, प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी भी सोनभद्र पहुंचे। मुख्‍यमंत्री सभी पीडि़त परिवारों से मिलने के बाद सोनभद्र से रवाना हो गए। उधर, सीएम योगी के सोनभद्र दौरे से पहले पुलिस ने सपा नेताओं को हिरासत में ले लिया।


पुलिस ने पूर्व विधायक अविनाश कुशवाहा, जिला सचिव प्रमोद यादव, लोहिया वाहिनी प्रदेश सचिव मन्नू पाण्डेय, मनीष तिवारी और जुनैद अंसारी को हिरासत में लिया है। पुलिस ने मामले में अब तक 29 लोगों को गिरफ्तार किया है। साथ ही प्रशासन ने जिले में शांति व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए 2 महीने के लिए धारा 144 लगा दी है।


फार्म हाउस में रंगरलिया मनाते सफेदपोस

सिरसा स्थित खाजाखेड़ा गांव में एक फार्म हाउस में एक महिला डांसर के साथ रंगरलियां मनाते हुए चार सफेदपोशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने एक महिला डांसर समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।


सिरसा ! शुक्रवार की रात को एक युवक ने पुलिस को खाजाखेड़ा स्थित फार्म में कुछ सफेदपोशों के महिला डांसर के साथ रंगरलिया मनाने की गुप्त सूचना दी थी जिसके बाद पुलिस ने वहां पर छापेमारी की तो एक महिला डांसर समेत पांच लोग मौजूद थे। जिसके बाद पुलिस ने चार सफेदपोशों समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया।पुलिस के मुताबिक फार्म हाउस से आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए आरोपी कुलभूषण उर्फ नीटू कसेरा, सुरेंद्र बांसल, अंजनी निवासी भादरा बाजार, गुरजंट निवासी खाजाखेड़ा और महिला डांसर कर्मजीत कौर निवासी भटिंडा रोड, डबवाली को मौके से गिरफ्तार किया गया।आरोपी कुलभूषण नगर पार्षद का चुनाव भी लड़ चुका है। सभी आरोपियों के खिलाफ कई आधाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।वहीं बताया जा रहा है कि जब पुलिस ने उक्त आरोपियों को पकड़ा तो मौके पर मौजूद एसआई शशि प्रकाश ने इसकी सूचना तुंरत एसएसपी को दी थी लेकिन एसएसपी को एसआई के शराब पीये होने का अंदेशा हुआ जिसके बाद एसएसपी ने तुरंत ही डीएसपी आर्यन चौधरी को मौके पर भेजा और एसआई का भी मेडिकल करवाने के आदेश दिये।


बताया जा रहा है कि जैसे ही अस्पताल में इस बात की भनक एसआई शशि प्रकाश को लगी तो वो मौके से फरार हो गया। हालांकि इस मामले में एसएसपी ने इस मामले में डीएसपी ने पूरी रिपोर्ट मांगी है और रिपोर्ट आने के बाद एक्शन लेने की बात कही है।


 


चेक बाउंस होने पर 2 साल की कैद

चेक बाउंस हुआ तो होगी 2 साल की जेल, संसद में पारित हुआ बिल


नई दिल्ली ! अब अगर आपके बैंक खाते में पैसा नहीं है और इसके बावजूद आप चेक जारी करते हैं तो सतर्क हो जाएं !क्योंकि गुरुवार को संसद से एक ऐसा विधेयक पारित हुआ है! जिसमें इस मामले में जुर्माने का प्रावधान है! इस बिल के तहत चेक बाउंस के आरोपी को इसकी राशि का 20 फीसदी हिस्सा अदालत में अंतरिम मुआवजे के तौर पर जमा कराना होगा!


विधेयक में चेक बाउंस मामलों के दोषियों को 2 साल तक की सजा का प्रावधान है! चेक बाउंस होने की स्थिति में चेक प्राप्तकर्ता को और अधिक राहत प्रदान करने वाला 'परक्राम्य लिखत (संशोधन) विधेयक, 2017 (नेगोशियेबिल इंस्ट्रूमेंट अमेंडमेंट बिल) को आज राज्यसभा में चर्चा के बाद ध्वनिमत से मंजूरी दी गई जबकि यह बिल लोकसभा से पहले ही पारित हो चुका है!


ट्रेन की चपेट में आकर ग्रामीण की मौत

फर्रुखाबाद में ट्रेन की चपेट में आकर  ग्रामीण की मौत, पत्नी से झगड़ा कर घर से निकला था


फर्रुखाबाद ! यूपी के फर्रुखाबाद जिले में ट्रेन की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। रविवार सुबह ग्रामीणों ने रेलवे ट्रैक के पास लहूलुहान शव पड़ा देखा तो पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन में जुट गई।


यह घटना कायमगंज कोतवाली क्षेत्र की है। यहां गांव सैथरा निवासी मोहम्मद शेर के 42 वर्षीय पुत्र जब्बार की मौत हुई है। ग्रामीणों को उनका शव भटासा स्टेशन के निकट रेलवे फाटक के पूर्व में ट्रैक के पास लहूलुहान हालत में मिला।बताया गया कि शनिवार शाम पत्नी से कहासुनी के बाद वह घर से निकल गया था और तब से लापता था। परिजन रात भर उसकी तलाश में भटकते रहे लेकिन कुछ पता नहीं लग सका था। रविवार सुबह उसकी मौत की खबर घर पहुंची।


मां:बेटी को किडनैप करने की कोशिश

मां ने की अपनी ही बेटी को किडनैप करने की कोशिश


सीतापुर ! एक महिला ने अपनी ही बेटी को किडनैप करने की कोशिश की। मामला उत्तर प्रदेश के सीतापुर का है। दरअसल उसकी बेटी ने कुछ समय पहले ही शादी की है और उसकी मां इस शादी के खिलाफ थी। शुरू से ही उस महिला ने अपनी बेटी की शादी का विरोध किया था।


इतना ही नहीं उसने अपने दामाद के खिलाफ छेड़खानी का मामला भी दर्ज कराया था। पुलिस के मुताबिक उसने कोर्ट परिसर से ही अपनी बेटी को किडनैप करने की कोशिश की थी।एएसपी मधुबन सिंह ने बताया कि महिला अपनी बेटी की शादी से नाखुश थी और उसने अपने दामाद के खिलाफ छेड़खानी का मामला भी दर्ज कराया था।उन्होंने बताया कि इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने आगे बताया कि आज ये कपल किसी अन्य मामले में कोर्ट आए हुए थे इसी दौरान उसकी मां उसे अपने साथ ले गई। पुलिस ने बताया कि उन्हें पुलिस थाने ले आया गया है, इस पूरे मामले की जांच की जा रही है।


शिक्षा,स्वास्थ्य,आवास रहेगी प्राथमिकता:चंद्रवंशी

संवाददाता-विवेक चौबे



गढ़वा ! जिले के कांडी प्रखण्ड कार्यालय पर शनिवार को सूबे के स्वास्थ्य मंत्री सह क्षेत्रीय विधायक-रामचंद्र चंद्रवंशी का आगमन हुआ।प्रखण्ड बिस सूत्री अध्यक्ष-रामलला दुबे मंच का संचालन कर रहे थे।।मंत्री ने उपस्थित सभी भाजपा नेताओं व गणमान्य लोगों को संबोधित करते हुए कहा की चिलचिलाती इतनी तेज धुप में आप सब बड़ी बेसब्री से शुबह से ही इंतजार कर रहे हैं।इसके लिए मैं हार्दिक अभिनंदन करता हूँ।मोदी जी के सपना को आपलोगों ने साकार किया।इसके लिए मैं आभार प्रकट करने आया हूँ।कोई सोंचा भी नहीं था की 95 प्रतिशत वोट भाजपा को मिलेगा,लेकिन आप लोगों ने दिया। 543 प्रधानमंत्री आवास योजना का वितरण उन्होंने किया।उन्होंने कहा की इसके अलावे मैं सबको एक एक करके दूंगा।बाकि जो बौखलाए हुए हैं की हमको नहीं मिला तो चिंता न करें मैं सबको दूंगा।मैं वादा करता हूँ।मैं कभी झूठ नहीं बोलता। 2022 तक मोदी जी ने वादा किया है की किसी का मिट्टी व खपडैल का घर नहीं रहेगा।सबको पक्का आवास दिया जाएगा।लोगों के द्वारा दिए गए आवेदन के बारे में उन्होंने कहा की बांध कर ले जा रहा हूँ,जो अधिक जरुरी समझूँगा,बिडिओ को बुलाकर कार्यवाही करने को कहूँगा।उन्होंने कहा की एक आवेदन बनाने में कितना मेहनत लगता है गरीब को मैं भली भांति जानता हूँ।कहा की हमने गरीबी बड़ी नजदीकी से देखा है। किसी कार्य को लेकर प्रक्रिया के तहत कोई पैरवी नहीं।आपको न मंत्री न बिडिओ किसी के पास आने की जरुरत नहीं है।आपके घर खुद जाएंगे।बिचौलियागिरि अब पूर्ण रूप से समाप्त हो गया है।बिडिओ को अच्छे कार्य करने के लिए धन्यवाद दिया।कहा की इस प्रखण्ड में जितना आवास का वितरण किया गया है उतना कहीं नहीं।प्राकृतिक आपदा से हानि हुए पीड़ितों को भी आवास देने की बात कही गयी। 1995 के पहले सड़कें नहीं थीं।ब्लॉक नहीं था।हर कुछ धीरे धीरे ही सम्भव है।एक रोड़ा भी रखा हुआ देख रहे है तो मैंने ही रखा है।हम आपके लिए हैं।आपके विकास का कार्य करने में लगे हैं।महिलाएं कुर खेत में शौच के लिए जाया करती थीं।जब महिलाएं भोर में जाती थीं,कोई गुजरते दीखता तो उन्हें खड़ा हो जाना पड़ता था।कितना विडम्बना था गरीबों के साथ।अगर नजदीकी से देखने का कार्य किया तो बीजेपी ने,मोदी जी ने।घर घर शौचालय देने का कार्य किया गया।शौचालय जिसे नहीं मिल सका है,उन्हें भी दिया जाएगा।गैस चूल्हे का वितरण किया गया।महिलाएं लकड़ी से खाना बनाती थीं,धुआं से उनकी आँखे ख़राब हो जाती थीं।असमय अँधा हो जाती थीं।गैस हमने दिया चूल्हे भी हमने दिया।एक और खुशखबरी दिया गया की भारत सरकार ने अब एक और अतिरिक्त चूल्हा भी दिया जाएगा।आप जब हमें जिताए हैं तो निश्चित रूप से आपका कार्य करना हमारा दायित्व है।हमने भी गरीबी बड़ी नजदीकी से देखि है।हमारे माता-पिता भी किसानी कार्य ही किया करते थे।जिसके पैर में फटे बिवाई वही पीड़ा का अहसास करता है।झारखण्ड की स्वास्थ्य व्यवस्था भारत में प्रथम स्थान पर है।लोगों को जलन है की प्रधानमंत्री झारखण्ड आकर योगा कराते हैं।पांच लाख का गोल्डन कार्ड वितरण करते हैं।जलन विरोधियों व विपक्षियों को इसलिए होता है की मजदुर का बेटा इतना बड़ा कैसे हो गया,इतना आगे कैसे बढ़ गया।छवि ख़राब करने के लिए विरोधी कैसे कैसे साजिश रच देते हैं।मंत्री ने नेत्री-रेखा को बेटी के समान कहा। कहा की गलत-सलत वीडियो वायरल किया जा रहा है।रोड का शिलान्यास करने गया था।गरीबों का वह गांव था।वहां सड़क नहीं थी।एक करोड़ का रोड दिया।वहां रजवार जाती के लोग थे,जिसे कोई पूछने वाला नहीं था।उनलोगों ने कहा की हमें चबूतरा बना दीजिए।तो हमने कहा की विधायक मद फिल्हाल नहीं है।बॉडीगार्ड के पास 16 हजार रु था। 15 हजार रु हमने दे दिया।कहा की 50 हजार जब जमा हो जाए तो हमें 15 हजार लौटा देना।इसी में किसी ने वीडियो बना कर गलत तरीके से अफवाह फैलाकर वीडियो वायरल किया गया की मंत्री घुस ले रहे हैं। ऐसे हैं हमारे कचड़े विरोधी लोग।हमारा विकास कार्य विरोधियों को देखा नहीं जा रहा है।कितने बड़े बड़े लोग आए और चले गए,किन्तु हम नहीं गए।मंत्री ने स्वयं अपने आपको स्वच्छ प्रतिनिधि व मेहनत करने वाला बताया।उन्होंने कहा की महिला का हमारे यहाँ कितना सशक्तिकरण है।मर्द के नाम से घर मकान लिखवाते थे,तो मर्द हमेशा दावा करता था,किन्तु अब महिलाओं के नाम से प्रॉपर्टी होने लगा,जिसका मालकिन महिला स्वयं होगी।झारखण्ड में सुकन्या योजना चल रहा है।बेटी बचाओ ,बेटी पढ़ाओ।अगर कोई बेटी पैदा होती है घर में तो उसकी मां के नाम से पांच हजार रु, विद्यालय में बेटी का नामांकन मात्र हो जाने पर पांच हजार,कक्षा पांच में जाने पर पांच हजार,कक्षा आठवां में पांच हजार,दसवां में जाएगी तो पांच हजार और बारहवां में जाएगी तो पांच हजार।इस प्रकार उसके खाते में कुल 30 हजार जमा हो जाएगा।जब वही बेटी 18 वर्ष की होगी तो हमारी सरकार उसे 10 हजार देगी।जब शादी की बात आएगी तो 30 हजार।इस प्रकार कुल 70 हजार कोई देने वाली सरकार नहीं है।अगर घर में एक लड़की पैदा होगी तो हम उसे फ्री पढ़ाएंगे।फ्री खाना दे रहे हैं,फ्री लैटरिंग दे रहे हैं,फ्री टैग दे रहे हैं,किताब दे रहे हैं,उसे नौकरी भी दे रहे हैं।मुख्यमंत्री-रघुबर दास एक एकड़ पर 5 हजार किसानों को दे रहे हैं।किसानों को साहूकार के पास अब कोई कर्ज नहीं लेना पड़ेगा।पांच लाख का गोल्डन कार्ड,108 नम्बर की एम्बुलेंस की व्यवस्था हमने की।साढ़े चार साल पूरा हो गया।अब बहुत सारे भदयीं मेढक टर टर करना शुरू करेंगे।कोई बाबा धाम भेजेगा तो कोई जबरदस्ती चार टोकरी मिट्टी डालेगा की हम समाजसेवी हैं।ऐसे लोगों से बिलकुल सावधान रहने की सलाह दी।कहा की वैसे लोग आपके लिए कुछ नहीं करेंगे।जो आपको गैस देगा,जो आपकी बच्ची को पढ़ाएगा व शादी के जिम्मे लेगा उसे ही आप वोट दीजिए।हर तरह से आपको सुविधा देने जा रहे हैं।यह सब मामूली बात नहीं है।आपको समझने की जरूरत है की सरकार क्या कर रही है।उन्होंने कहा की अजय सिंह गुस्से में बोल रहे हैं।हम एक सप्ताह पहले बालू के बारे में बैठक में डीएसपी को बुलाया था और कहा की आपका बॉडीगार्ड बालू वाले ट्रेक्टर को क्यों पकड़ लेता है।हमने बहुत तरह की बात व चर्चा की है।हमने डीडीसी को भी कहा है की जिसको आवास मिला है,उसका वर्क ऑर्डर रहेगा,बिडिओ उसपर लिखेंगे कितना ट्रेलर बालू चाहिए।अब कोई दिक्कत नहीं है।हाँ,मंत्री ने यह बताया की बिजनेस करने के लिए बालू नहीं है।प्रखण्ड में बिजली की समस्या कुछ हमारे कार्यकर्ताओं की गलती के कारण ही है,क्योंकि वे कभी मीटिंग किए नहीं,कभी बिजली ऑफिस गए नहीं। उन्होंने बताया की 15 दिन के अंदर हर घर में बिजली देने की हिदायत उन्होंने सम्बंधित विभाग व पदाधिकारियों को की है।श्रीनगर पंडुका में पुल का निर्माण मई में शुरू हो जाएगा।बायीं बाँकी से भी किसानों को मिलेगा लाभ।कहा की यही वह स्थान है जहाँ नक्शली दिन में घुमा करते थे,अब महिलाएं आजाद व निर्भीक हो कर घूम रही हैं।भदई मेढक से सावधान रहने की अपील की गयी।ईमानदार कभी किसी से नहीं डरता है,मैं भगवान से केवल डरता हूँ।कहा की कोई गलती करता है तो हम उसे माफ़ भी कर देते हैं।वहीँ प्रखण्ड के सभी स्वयं सेवक ने मांग पत्र भी सौंपा।


वहीँ नेत्री-रेखा चौबे ने संबोधित करते हुए कहा की लोगों को जो सपना था,मोदी जी ने साकार किया है।महिलाएं सपना देखा करती थी की हमे आवास कब मिलेगा,क्या हम आवास बना पाएंगे,लेकिन इस सपने को इस पार्टी ने हकीकत में बदल ही दिया।अभी बैशाख का महीना है,न जाने कितने गरीबों के घर में पानी चुता होगा।तेज बारिश में घर गिर जाता होगा।बिजली,आंधी पानी सहित कई भारी समस्याओं से लोग जूझते होंगे।यह सब मोदी ने सपना देखा और धरातल पर उनके लिए कई योजनाओं को उतारने का कार्य किया।मोदी ने महिलाओं के प्रति गैस चूल्हा से लेकर आवास तक,शौचालय से लेकर आपके घर में हर जरुरी सुविधाओं को प्रदान किया है,जो आप कभी पूरा नहीं कर पाते थे।कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा मंत्री को बदनाम करने की कोशिश भी की गयी,लेकिन उसपर ध्यान देने की जरूरत नहीं है।इतना अच्छा विकास देखा नहीं गया की विरोधी पीछे पड़ गए।ऐसे लोगों से हमें बचने की आवश्यकता है।यह भीड़ जो देखि जा रही है यह विकास की वह रेखा है,जिसे पार करके लोग आए हुए हैं।उन्होंने कहा की क्या आपको ऐसा लगता है की मंत्री जी का जो वीडियो वायरल किया गया,क्या मंत्री ऐसा कर सकते हैं,बिल्कुल नहीं।ऐसे लोग वही कर सकते हैं,जो मंत्री के अच्छे कार्यों व विकास से काफी दुखी हैं।इस क्षेत्र से पहले भी कई मंत्री हुए, स्वास्थ्य मंत्री भी बने,किन्तु करोड़ों का घोटाला करके कांजी हॉउस में उनका आना व जाना लगा है।लेकिन मंत्री जी पर आज तक कोई ऊँगली नहीं उठा सका।कहा की उपस्थित माताएं एवं बहनों आपलोगों को चिंता बिल्कुल नहीं करना है।आगे नहीं तो पीछे ही सही,किन्तु सबको आवास,गैस,चूल्हा मिलेगा।धैर्य रखें,जिसका नाम सूचि में आ गया है,उसे आगे मिलेगा,जिसका नाम सूचि में नहीं है उसे पीछे ही मिलेगा,लेकिन सबको अवश्य मिलेगा।जैसे जैसे नाम चढ़ता जाएगा वैसे वैसे 2022 आते तक गैस,आवास,शौचालय सहित कई जरुरी योजना भी मिलेगा।बिचौलियों से सावधान रहने को कहा जो पैसे लेकर कहते हैं की आवास,गैस आदि दिला देंगे।सबको सचेत रहने को कहा।रेखा चौबे ने कहा की बिडिओ-गुलाम समदानी एक बहुत अच्छे पदाधिकारी हैं। वे एक रुपए भी घुस नहीं लेते हैं।इसलिए आप सीधे बिडिओ के पास आइए और अपना काम निश्चित होकर कराइए।बिचौलियों के चक्कर में बिल्कुल मत पड़िए।मंत्री से मांग किया की जो गरीबों को छलता व ठगता हो वैसे बिचौलिए पर एफआईआर अवश्य होनी चाहिए।मंत्री के आगमन पर भारत गैस एजेंसी के द्वारा 22 गैस चूल्हे का वितरण भी लाभूकों के बिच किया गया।


मौके पर-प्रखण्ड विकास पदाधिकारी-गुलाम समदानी,मंत्री प्रतिनिधि-ललित बैठा,मंडल अध्यक्ष-श्रीकांत पाण्डेय उर्फ़ पप्पू पाण्डेय,विधायक प्रतिनिधि-अजय सिंह,लखन प्रसाद,गिरिनाथ दुबे,शशि रंजन दुबे,बैजनाथ पाण्डेय,मोती लाल यादव,रविन्द्र चंद्रवंशी,गुड्डू सिंह,रामप्यारे चौधरी,सुजीत दुबे,राजेंद्र पाण्डेय,अंजू देवी,नीरज सिंह सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।


क्षेत्र में अपराध,अवैध-व्यापार नहीं चलेगा

प्रतापगढ़। थानाध्यक्ष महेशगंज डीएन सिंह ने अपने अधीनस्थों को निर्देश दिए हैं कि थाना क्षेत्र में कहीं भी, कोई भी अवैध कार्य नहीं होना चाहिए। अवैध कारोबारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। अभियान चला कर ऐसे तत्वों को चिन्हित किया जाए और उनके खिलाफ सख्त कदम उठाया जाए। थाना क्षेत्र में अवैध गांजा, नकली शराब की बिक्री किसी भी दशा में नहीं होनी चाहिए। यदि ऐसी शिकायतें मिली तो संबंधित क्षेत्र (बीट) के पुलिसकर्मियों को भी नहीं बख्शा जाएगा। उन्होंने सभी पुलिसकर्मियों को ईमानदारी से कर्तव्यों का पालन करने का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि लोगों में पुलिस का इकबाल कायम रहना चाहिए। अपराधियों के मन में पुलिस का भय रहेगा तो अपराध अपने आप ही कम हो जाएंगे। थानाध्यक्ष महेशगंज डी एन सिंह की छवि एक ईमान, कर्मठ और तेजतर्रार पुलिस अफसर की रही है। वे जहाँ भी तैनात रहे वहां अवैध कारोबारी व अपराधी भूमिगत हो गए। उन्होंने अवैध कारोबार पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में सफलता पाई। महेशगंज थाना क्षेत्र के नागरिकों को भी आशा है कि नए थानाध्यक्ष क्षेत्र में अपनी विशिष्ट कार्यशैली से क्षेत्र को अपराधमुक्त करने में सफल होंगे। उन्हें क्षेत्रीय लोगों का भी सहयोग मिलेगा।
रुपेन्द्र शुक्ला 


एंटी रोमियो पर एसएसपी सक्‍त:गोरखपुर

गोरखपुर। एंटी रोमियो प्रभारियों के साथ पुलिस लाइन सभागार में एसएसपी ने बैठक कर कहा कि सभी एंटी रोमियो प्रभारी अपने-अपने क्षेत्रों में मुस्तैदी के साथ करें! कोई भी मंचला किसी भी लड़की या महिला को परेशान न करें ! यदि कहीं ऐसा हो रहा है ,उसके ऊपर तत्काल कार्रवाई करते हुए सलाखों के पीछे भेजने का कार्य करें ! एसएसपी ने बताया कि गोरखपुर का एंटी रोमियो दस्ता प्रदेश में बहुत ही अच्छा कार्य कर रहा है! हम कोशिश करेंगे कि इसको और थोड़ा बेहतर कार्य करने की जरूरत है! बैठक में पुलिस अधीक्षक क्राइम अशोक कुमार वर्मा एंटी रोमियो जिला प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप सिंह के साथ-साथ जनपद के सभी थानों के तैनात एंटी रोमियो प्रभारी रहे मौजूद!


शादी-शुदा,चार-बहन,किया लिंग परिवर्तन

शादी शुदा राजेश बन गया सोनिया, चार बहनों में अकेला भी था राजेश


गोरखपुर ! आज के आधुनिक युग में भी लिंग परिवर्तन की बात सुनकर लोग हैरत में आ जाते हैं। वह भी तब जब कोई चार बहनों में कोई इकलौता भाई हो। रेलवे में सर्विस करने वाले राजेश ने शादी के बाद तलाक लेकर लिंग परिवर्तन करा लिया। अब वह अपनी पहचान को लेकर रेलवे अधिकारियों के चक्कर लगा रहा है। रेलवे के इतिहास में लिंग परिवर्तन का यह पहला मामला है। यही वजह है कि अधिकारियों को भी इस मामले में निर्णय लेने में देरी हो रही है।


पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर के महाप्रबंधक कार्यालय में अनोखा मामला सामने आया है। चार बहनों के बीच इकलौता भाई लिंग परिवर्तन कराकर लड़की बन गया। इज्जत नगर मुख्य कारखाना प्रबंधक कार्यालय में तकनीकी ग्रेड वन पर तैनात कर्मचारी राजेश ने सरकारी अभिलेखों में अपना नाम और लिंग बदलवाने के लिए आवेदन कर दिया है। रेलवे के अफसर अब किताबों में लिंग परिवर्तन से संबंधित नियमों को खंगाल रहे हैं।


पूर्वोत्तर रेलवे के इज्जत नगर मंडल के मुख्य कारखाना प्रबंधक कार्यालय में तैनात राजेश पांडे तकनीकी ग्रेड 1 पर तैनात हैं। पिता और बड़े भाई की मौत के बाद अनुकंपा पर 19 मार्च 2003 को नौकरी मिली थी। परिवार में चार बहनें और मां हैं। साल 2017 में राजेश ने लिंग परिवर्तन कराकर अपना नाम सोनिया पांडे रख लिया। राजेश उर्फ सोनिया ने सबसे पहले मुख्य कारखाना कार्मिक प्रबंधक इज्जत नगर के समक्ष नाम और लिंग बदलने का आवेदन किया। रेलवे अधिकारियों के सामने जब मामला आया, तो वे चौंक गए। रेलवे के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी पुरुष ने लिंग परिवर्तन किया और महिला का नाम रखकर सर्विस रिकार्ड में नाम बदलने का आवेदन कर दिया है। यही वजह है कि अधिकारियों को निर्णय लेने में देरी हो रही है।


राजेश से सोनिया बने कर्मचारी ने बताया कि लिंग परिवर्तन का विचार जब परिवार के सदस्यों को बताया तो वह नाराज हो गए। मां और बहन ने रूठ गईं। कोई दूसरा रास्ता न दिखा तो उसने लिंग परिवर्तन करा लिया। धीरे धीरे सब कुछ ठीक हो गया। मां और बहनें भी मान गईं। उन्होंने बताया कि यात्रा के दौरान पुरुष पहचान पत्र और स्त्री का चेहरा होने के कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अन्य जगहों पर भी पहचान को लेकर वे परेशानी में पड़ जाते हैं। यही वजह है कि सर्विस रिकॉर्ड में नाम बदलने का आवेदन उन्होंने किया है।


राजेश उर्फ सोनिया ने बताया कि परिवार में बेटे के तौर पर जन्म लिया। किशोरावस्था के दौरान शरीर में कुछ अस्वाभाविक परिवर्तन हुए। तन पुरुष जैसा था और मन में महिलाओं जैसे ख्याल आने लगे। परिवार के लोगों ने उनकी शादी करा दी। उन्होंने अपने जीवन साथी को मन में आ रहे ख्याल के बारे में बताया। इसके बाद दोनों ने सहमति से तलाक ले लिया। तलाक के बाद किसी दोस्त ने सर्जरी कराकर लिंग बदलवाने की सलाह दी। साल 2017 में उन्होंने सर्जरी कराकर अपना लिंग परिवर्तन करा लिया और राजेश से सोनिया पांडेय बन गए।


राजेश उर्फ सोनिया ने इज्जत नगर के मुख्य कारखाना कार्मिक प्रबंधक कार्यालय के अधिकारियों के यहां लिंग परिवर्तन के लिए आवेदन किया था। लेकिन वहां के अधिकारियों ने इस मामले से पल्ला झाड़ लिया।


87 स्कूली वाहनों का रजिस्ट्रेशन किया निरस्‍त

आरटीओ ने 87 स्कूली वाहनों का रजिस्ट्रेशन किया निरस्त


अलीगढ़ ! परिवहन विभाग एवं पुलिस की संयुक्त टीम अवैध रूप से चल रहे स्कूली वाहनों के खिलाफ कार्यवाही करने को तैयार है।जल्द ही डीएम की अनुमति के बाद स्कूली वाहनों के खिलाफ कार्रवाई शुरू हो जाएगी। आरटीओ कृष्णदत्त गौर ने बताया कि उनके यहां 831 स्कूली वाहनों का रजिस्ट्रेशन है।जांच में पता चला कि 113 वाहनों की फिटनेस तक खत्म हो चुकी है। जून में स्कूल खोलने से पहले सभी वाहन स्वामियों को फिटनेस कराने के लिए नोटिस जारी किया गया।नोटिस जारी होने के बाद 26 ने अपने वाहनों की फिटनेस करा ली,लेकिन 87 वाहन मालिक ऐसे थे जिन्होंने फिटनेस नहीं कराई।इसी को आधार बनाते हुए सभी के रजिस्ट्रेशन निरस्त कर दिए हैं।इसके बाद भी यदि यह वाहन सड़क पर चलते हुए मिलते हैं तो उनके मालिकों के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही होगी।


वेस्टइंडीज के लिए,इंडिया मे 4 नए चेहरे

वेस्‍टइंडीज दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान, नवदीप, राहुल चार नए चेहरे


नई दिल्ली ! वनडे टीम- विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, के एल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, केदार जाधव, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद, नवदीप सैनी।


टेस्ट टीम- मयंक अग्रवाल, के एल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, हनुमा विहारी, रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, आर अश्विन, रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा, ऋद्धिमान साहा।


टी20 टीम- विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, के एल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, क्रुणाल पंड्या, रवींद्र जडेजा, वॉशिंगटन सुंदर, राहुल चाहर, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद, दीपक चाहर और नवदीप सैनी!


राजकीय विद्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार

 


विकासखंड रिसिया में स्थित राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय मे रुपए का बोलबाला


बहराइच ! राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय रिसिया मोड़ बभनी के प्रधानाचार्य अरुण कुमार मिश्रा अध्यापक रजनी पाठक ने छात्र का प्रवेश के लिए अभिभावक से मोटी रकम लेकर गोपनीय रखने की बहुत कोशिशें की मगर स्कूल प्रशासन के सभी अध्यापकों में चर्चा का विषय बन गया! वहीं दूसरे छात्र का एडमिशन होना था,मगर अरुण कुमार मिश्रा रजनी पाठक ने मोटी रकम लेकर दूसरे छात्र का एडमिशन कर लिया गया! जब इस मामले की भनक जिला समाज कल्याण अधिकारी को लगी !जिला समाज कल्याण अधिकारी ने विद्यालय पहुंचकर स्वयं जांच किया! यह पता चला कि प्रधानाचार्य और रजनी पाठक ने जो बच्चे का एडमिशन होना था! उसका ना करके दूसरे बच्चे के अभिभावक से मोटी रकम लेकर परवेश लिया गया है! जिला समाज कल्याण अधिकारी ने तुरंत संज्ञान में लेते हुए प्रधानाचार्य अरुण कुमार मिश्रा अध्यापक रजनी पाठक पर कार्रवाई करने की बात कही गई है! देखना यह है कि जिला समाज कल्याण अधिकारी क्या प्रधानाचार्य वा अध्यापक पर कार्रवाई करेंगे या नहीं!


रमेश कुमार गुप्ता


निगमबोध घाट पर होगा अंतिम-संस्कार

आज निगम बोध घाट पर होगा शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार


नई दिल्ली ! तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं और गांधी परिवार के वफादारों में शुमार शीला दीक्षित अब इस दुनिया में नहीं हैं। शनिवार को एस्कॉर्ट अस्पताल में उनका निधन हो गया। जैसे ही उनके निधन की खबर आई, दिल्ली में शोक की लहर दौड़ गई। दिल्ली वाले अपने-अपने तरीके से उन्हें याद कर रहे हैं।


सोशल मीडिया पर लोग उन्हें 'मॉडर्न दिल्ली की मां' कहकर श्रद्धांजलि दे रहे है। जिनका बचपन दिल्ली में बीता, वे राजधानी में हरियाली बढ़ाने का श्रेय शीला दीक्षित को दे रहे हैं। वह भले ही कांग्रेस पार्टी की नेता थीं पर उन्हें हर पार्टी के लोग सम्मान देते थे। शीला को यादकर बीजेपी के सांसद और दिल्ली के पार्टी अध्यक्ष मनोज तिवारी की आंखों में आंसू आ गए। उन्होंने कहा, 'वह हमेशा मां की तरह मेरा वेलकम करती थीं। दिल्ली हमेशा उन्हें मिस करेगी।'


शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार आज दिल्ली के निगम बोध घाट पर किया जाएगा। उनके पार्थिव शरीर को निजामुद्दीन स्थित आवास पर रविवार सुबह 12 बजे तक अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। शीला दीक्षित के निधन के बाद जहां एक ओर राजनीतिक खेमे में शोक की लहर दौड़ पड़ी है, वहीं कुछ लोगों की जुबान पर एक सवाल भी है। सवाल यह कि आखिर अब दिल्ली कांग्रेस का मुखिया कौन होगा।


बंधक बनाकर महिला वकील से दुष्कर्म

महिला वकील को बंधक बनाकर अप्राकृतिक दुष्कर्म


बंधक बनाकर महिला वकील को दी यातनाएं,नशीली गोलियां खिलाकर अप्राकृतिक दुष्कर्म की भी कोशिश,धूमनगंज पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी पति को भेजा जेल


प्रयागराज। धूमनगंज में रहने वाली महिला अधिवक्ता से उसके ही पति ने दरिंदगी की। बंधक बनाकर मानसिक व शारीरिक उत्पीड़न किया। नशे की गोलियां खिलाकर अप्राकृतिक दुष्कर्म भी करने की कोशिश की। पुलिस का कहना है कि पीड़िता की तहरीर पर विभिन्न आरोपों में रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया गया है।


नेहरू पार्क इलाके में रहने वाली 36 वर्षीय महिला अधिवक्ता ने पुलिस को तहरीर देकर बताया है कि इसी साल मार्च में मैरिज ब्यूरो के माध्यम से उनकी शादी डॉ. ओमप्रकाश से हुई। आरोप है कि शादी के बाद पति उसे अपने घर न ले जाकर अलग-अलग होटलों में रखता रहा। फिर कहने लगा कि वह उसके ही घर रहेगा। जिसके बाद मजबूरी मेें वह पति के साथ वापस अपने घर पर आकर रहने लगीं। आरोप है कि पति खाने में नशीली गोलियां मिलाकर उनके साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म की कोशिश करता। विरोध पर मारता-पीटता और बिजली के झटके देता। यही नहीं घर में बंधक बनाकर मोबाइल भी कब्जे में ले लिया। नगदी, जेवर भी गायब कर दिए। 18 जुलाई को किसी तरह मौका पाकर फोन से उसने अपनी सहेली के भाई को सूचना दी जिसके बाद पुलिस के सहयोग से उन्हें मुक्त कराया गया। आरोप यह भी है कि मकान व संपत्ति हड़पने की नीयत से ही आरोपी ने धोखा देकर उनके संग शादी की। इंस्पेक्टर विजय सिंह ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर मारपीट, अप्राकृतिक दुष्कर्म, चोरी समेत अन्य आरोपों में रिपोर्ट दर्ज की गई है। साथ ही आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।


शादी में खाना किया बर्बाद,लगेगा जुर्माना

शादी में बर्बाद किया खाना तो सरकार लगाएगी लाखों का जुर्माना!


नई दिल्ली ! अब शादी के बाद खाना किया बर्बाद तो अब आप पर लगेगा भारी जुर्माना। खाना बर्बाद करने वाले होटल, रेस्तरां और शादीघरों पर अब जल्द पांच लाख रुपये तक जुर्माना लगेगा। एफएसएसएआई ने इसका ड्राफ्ट तैयार कर लिया है। इस ड्राफ्ट को मंजूरी के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को भेजा जाएगा।


होटल, रेस्तरां से लेकर शादी-ब्याह में खाने की बर्बादी आम है। अधिकतर लोगों को इसका पता नहीं होता कि बचे हुए खाने को कहां और कैसे इस्तेमाल करना है। हैरानी वाली बात यह है कि खाने की इस बर्बादी को रोकने के लिए कोई पहल करना चाहता है। इसलिए अब भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) बचे हुए खाने के इस्तेमाल को लेकर एक रूल आने वाला है।


कई गैर सरकारी संगठन होटल-रेस्तरां और शादीघरों से बचा हुआ खाना लेकर गरीबों में बांटने का काम कर रहे हैं, लेकिन इस खाने की गुणवत्ता को लेकर कोई मानक नहीं है। नए ड्राफ्ट में इस मुद्दे पर विशेष ध्यान दिया गया है।


पूर्व दिल्‍ली बीजेपी अध्यक्ष मांगेराम का निधन

दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम का निधन


नई दिल्ली ! भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का आज निधन हो गया, उन्होंने अंतिम सांस अस्पताल में ली। मांगे राम गर्ग 2003 में विधानसभा में चुनकर पहुंचे थे, पेशे से वह हलवाई थे। पिछले काफी दिनों से मांगे राम गर्ग बीमार चल रहे थे, जिसके बाद उन्हे अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनका निधन हो गया।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा– श्री मांगे राम गर्ग जी का दिल्ली से गहरा नाता था, उन्होंने जीवन भर यहां के लोगों की निस्वार्थ सेवा की। उन्होंने दिल्ली में बीजेपी को मजबूत करने में अहम योगदान दिया. उनके निधन की खबर सुनकर दुखी हूं।


गौरतलब है कि दिल्ली के एक्शन बालाजी अस्पताल में मांगेराम का इलाज चल रहा था, जहां आज सुबह 7.30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन के लिए उनके निवास स्थान पर रखा जाएगा, जो कि अशोक विहार फेज 2 में स्थित है।


यहां पर 11.30 बजे तक उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। यहां तमाम भाजपा नेता और अन्य राजनीतिक दल के नेता पार्थिव शरीर को अंतिम श्रद्धांजलि देंगे। मांगे राम गर्ग ने अपने शरीर को दान देने का संकल्प लिया था, लिहाजा उनका शव 1 बजे अस्पताल को दान दे दिया जाएगा।


ब्लॉक प्रमुख,सांसद को मंत्री ने दिया आश्वासन

उन्नाव ! ब्लाक प्रमुख ने सांसद के साथ केंद्रीय परिवहन मंत्री से मिलकर क्षेत्र की समस्याओं का सौपा ज्ञापन! मंत्री ने दिया समस्या निराकरण का आश्वासन।


नवाबगंज ब्लाक प्रमुख अरुण सिंह ने सांसद साक्षी महाराज के साथ दिल्ली प्रवास के दौरान केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात कर अपने विकास खण्ड के राष्ट्रीय राजमार्ग 27 कानपुर-लखनऊ से जुड़ी समस्याओं को लेकर वार्ता कर ग्रामपंचायत मखदूम पुर (अमरेथा) की ग्राम समाज की भूमि पर विस्तारीकरण करके अधिग्रहित की गई भूमि पर संचालित हो रहे टोलप्लाज़ा सेअधिग्रहण के चलते हुई करोड़ो रूपये की क्षतिपूर्ति ग्राम पंचायत विकास निधि में दिलाए जाने एवं ग्रामपंचायत के निवासियों को मुफ्त एवं क्षेत्रवासियों के साथ साथ जनपदवासियों को उन्नाव रजिस्ट्रेशन की यूपी35 की गाड़ियों को टोल टैक्स रियायत रखने तथा ग्राम सोहरामऊ के पास राजमार्ग के किनारे अधूरे पड़े नाले से जलभराव के चलते क्षेत्र के लोगो को हो रही समस्या एवं प्रत्येक चौराहे पर एलईडी हाई मार्क्स या सोलर लाइट स्थापित कराए जाने की मांग की,टोल कंपनी द्वारा सीएसआर दायित्वों के तहत क्षेत्र में किसी भी प्रकार के विकास में सहयोग न करने की बात संज्ञान में लाकर किसी भी दायित्वों का निर्वहन न करने एवं सड़क किनारे के सभी गांवों में जलभराव हेतु नाला निर्माण को पूरा कराए सम्बन्धी मांगपत्र सौपा! सांसद साक्षी महाराज जी के साथ गोरखपुर सांसद रवि किशन जी एवं आगरा सांसद प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल जी ने ब्लाक प्रमुख अरुण सिंह के समस्याओं को बल देते हुए भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी एवं बोतल परिवहन राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह को अवगत कराया ,भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने सांसद साक्षी महाराज एवं ब्लाक प्रमुख अरुण सिंह को उनकी समस्याओं का अतिशीघ्र निराकरण का आश्वासन दिया!


कई राज्यों में भारी बारिश की संभावना:मौसम विभाग

नई दिल्‍ली ! भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने रविवार को उत्‍तर कर्नाटक, तमिलनाडु, पुड्डूचेरी, कराईकल तेलंगाना और मध्‍य प्रदेश के कुछ हिस्‍सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। यही नहीं मौसम विभाग के मुताबिक, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, दक्षिण कोंकण और गोवा में भी भारी बारिश हो सकती है।
विभाग की ओर से जारी वेदर बुलेटिन में कहा गया है कि दक्षिण गुजरात , मराठवाड़ा, पश्चिम बंगाल , सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय के अधिकांश हिस्‍सों में भारी बारिश संभव है। इसके अलावा बिहार, झारखंड , ओडिशा और सिक्किम में भी तेज हवाओं के साथ बारिश की संभवना जताई गई है।
मौसम विभाग ने कहा है कि बंगाल की खाड़ी और दक्षिण पश्चिम अरब सागर में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाओं के साथ ऊंची लहरें उठेंगी। महाराष्‍ट्र के तट पर भी खराब मौसम का असर दिखाई दे सकता है। विभाग ने मौसम के बिगड़े मिजाज को देखते हुए मछुआरों को अगले कुछ दिनों तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है।
बता दें कि असम में बाढ़ से हालात खराब होते जा रहे हैं। राज्य में बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर 62 हो गई है। हालांकि, कुछ इलाके ऐसे ही भी हैं जहां बाढ़ का पानी उतरने लगा है। लेकिन, मौसम विभाग के ताजा अलर्ट ने लोगों को एकबार फि‍र चिंता में डाल दिया है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के मुताबिक, कल मोरीगांव जिले में तीन, बारपेटा में तीन, दक्षिण सलमारा में दो और नलबाड़ी एवं धुबरी जिलों में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई।
कोसी-सीमांचल के बाद अब उत्तर बिहार के अधिसंख्य जिलों में बाढ़ की स्थिति सामान्य होने लगी है, लेकिन मधुबनी के बेनीपट्टी और दरभंगा के जाले और केवटी में बागमती और अधवारा समूह की नदियों का पानी दर्जनभर से अधिक गांवों में प्रवेश कर गया है। कोसी और सीमांचल की नदियों में आई बाढ़ का पानी अब घटने लगा है। कोसी और सीमांचल के जिलों में शनिवार को सात लोगों के डूबने की सूचना है। उधर, पूर्वी चंपारण के विभिन्न क्षेत्रों में पानी में डूबने से तीन लोगों की मौत हो गई।


रामपुर का इनामी बदमाश किया गिरफ्तार

 रामपुर का ईनामी बदमाश गोली मारकर किया गिरफ्तार


बरेली। शनिवार देर रात क्राइम ब्रांच की टीम ने फतेहगंज पश्चिमी थाना क्षेत्र में मापरुर जिले के 25 हजार के ईनामी एक बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। टीम ने मुठभेड़ में गिरफ्तारी दर्शायी। इसमें बदमाश के दायें पैर में गोली लगने के बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसका एक साथी फरार हो गया है।


एसएसपी पीआरओ के मुताबिक फतेहगंज क्षेत्र में क्राइम ब्रांच की टीम ने संदेह के आधार पर चेकिंग शुरू की। रात करीब एक बजे एक बाइक पर जाते दो लोगों को रोकने की कोशिश की तो वे बाइक को और तेज भगाने लगे। बाद में पुलिस टीम पर जान से मारने की नियत से फायर कर दिया। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश के गोली लग गई जबकि दूसरा फरार हो गया। घायल बदमाश को जिला अस्पताल लाया गया। उसकी पहचान 25 हजार रुपये के ईनामी निर्मल सिंह के रूप में हुई। वह रामपुर के थाना शहजादनगर के गांव अलाई नगर का निवासी है। मीरगंज थाने में भी वह गैंगस्टर में वांछित चल रहा था। उसके पास से 315 बोर का तमंचा और 1750 रुपये बरामद किए गए। फतेहगंज पश्चिमी थाने में आर्म्स एक्ट व जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। साथी के बारे में होश में आने पर पूछताछ की जाएगी।


डायन बता,लाठी-डंडों से पीटकर 4 हत्या

गुमला ! देश में भीड़-तंत्र की हिंसा के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं! ताजा मामला झारखंड के गुमला इलाके का है जहां डायन बताकर महिला समेत 4 लोगों की लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई! हालांकि, हत्या के कारणों की पुष्टि नहीं हो पाई है!


जानकारी के मुताबिक रविवार की सुबह लोगों की आंखें भी नहीं खुली थीं कि गुमला के शिकारी गांव में चार लोगों को लाठी-डंडे से पीट-पीटकर मार डाला गया! इस मामले में करीब 12 लोगों पर हत्या का आरोप है! हत्या की इस घटना को रविवार की सुबह 3 बजे अंजाम दिया गया!मामले में मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी है! गुमला के एसपी अंजनी कुमार ने कहा, 'प्रथम दृष्टया, ऐसा प्रतीत होता है कि पीड़ित जादू टोना में शामिल थे! अंधविश्वासों के कारण उनकी हत्या हुई है. जांच चल रही है!


बताया जा रहा है कि करीब 12 नकाबपोश लोगों ने गांव में मृतकों पर हमला किया! सभी को घर से उठाकर गांव से बाहर ले गए! इसके बाद हमलावरों ने लाठी और डंडों से उनकी पिटाई की! इस पिटाई नें चारों की मौत हो गई!मृतकों की पहचान फगनी देवी (65 वर्ष), चंपा भगत (65 वर्ष), सुना भगत (65 वर्ष) और पेटी भगत के रूप में हुई है! हत्या के बाद से गांव में दहशत का माहौल है!


1अरब 28 करोड़ 45 लाख बिजली का बिल

बिजली विभाग ने उपभोक्ता को भेजा एक अरब 28 करोड़ 45 लाख का बिल


हापुर ! उत्तर प्रदेश में बिजली विभाग की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है! मामला हापुड़ जिले के चमरी क्षेत्र का है. प्रदेश के बिजली विभाग ने चमरी निवासी एक उपभोक्‍ता को एक अरब 28 करोड़ 45 लाख 95 हजार 444 रुपए का बिल थमा दिया है! गरीब उपभोक्‍ता को जब यह पता चला कि उसका बिजली का बिल 1 अरब रुपए से अधिक का है तो पूरा परिवार सदमें मे है!


पीड़ित उपभोक्‍ता शमीम जब बिल को ठीक कराने के लिए बिजली अधिकारियों के पास पहुंचा तो बिजली विभाग के अधिकारियों ने उसे पूरा बिल जमा कराने की बात कही! इसके बाद उपभोक्‍ता अधिकारियों के चक्‍कर लगा-लगाकर परेशान हो गया है! लेकिन बिल को ठीक करने के लिए कोई तैयार नहीं है!


होटलों का किया गया औचक निरीक्षण

सहायक पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में स्टेशन के होटलों को किया गया औचक चेकिंग


 



गोरखपुर।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ सुनील गुप्ता के निर्देशानुसार क्षेत्राधिकारी कैंट सहायक पुलिस अधीक्षक रोहन प्रमोद बोत्रे के नेतृत्व में कैंट इस्पेक्टर रवि राय सहित स्टेशन चौकी इंचार्ज जटेपुर चौकी इंचार्ज विश्वविद्यालय चौकी इंचार्ज चौकी इंचार्ज बेतियाहाता सहित भारी संख्या में पुलिस बल के साथ संदिग्ध व्यक्तियों की तलाश हेतु मालकिन होटल में प्रॉपर्टी डीलर बिहार सिवान जसौली निवासी लगभग 2 महीने से रहकर गोरखपुर में जमीन का कार्य करता है सहित होटल में रहने वाले सभी व्यक्तियों के आईडी व होटल में रखे रजिस्टर को विधिवत चेक कर सभी को अगाह किये की अगर कोई सन्दिग्ध व्यक्ति होटल में रहता है तो उसकी सूचना तत्काल पुलिस को दे अगर किसी के भी होटल में किसी भी प्रकार की घटना या दुर्घटना होती है तो संबंधित होटल के मालिक के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी किसी भी होटल में किसी भी प्रकार का कोई संदिग्ध व्यक्ति नहीं पकड़ा गया।


छेड़छाड़ का आरोपी डीआईजी गिरफ्तार

रेलवे अधिकारी की पत्नी से ट्रेन में छेड़छाड़ का आरोपी डीआईजी गिरफ्तार, जमानत पर छोड़े गए


 छुट्टी पर भेजे गए, जबलपुर से दिल्ली हुआ तबादला।


जबलपुर ! चलती ट्रेन में रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी की पत्नी से छेड़छाड़ के आरोपी आरपीएफ के डीआईजी विजय कुमार खातकर को कल जबलपुर जीआरपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एसपी (रेलवे) प्रतिमा पटेल के अनुसार जमानती अपराध होने के चलते खातकर को थाने से ही जमानत दे दी गई परन्तु मामले की जांच जारी रहेगी।
घटनाक्रम के अनुसार 15 जुलाई को इंदौर-जबलपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस में रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी की पत्नी के साथ एसी-2 कोच में खातकर ने छेड़छाड़ की थी। रेलवे अधिकारी व उनकी पत्नियां खातकर की लगातार गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। रेलवे सुरक्षा बल के अधिकारियों ने डीआईजी खातकर से छुट्टी पर जाने को कहा जिस पर वे एक महीने की छुट्टी पर चले गए। इसी बीच उनका तबादला पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर से उत्तर दिल्ली रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) में कर दिया गया परन्तु वे जांच के लिए जबलपुर में ही बने रहे।
एसपी जीआरपी जबलपुर प्रतिमा पटेल के नेतृत्व में पुलिस ने कल डीआईजी (पुलिस उप महानिरीक्षक) विजय कुमार खातकर को गिरफ्तार कर लिया बाद में उन्हे थाने से जमानत दे दी गई।


मेडिकोलीगल,फॉरेंसिक मैडिसिन पर कार्यशाला

मेडिकोलीगल व फॉरेंसिक मेडिसिन के विषय पर एक एक दिवसी कार्यशाला का आयोजन किया गया


बिलासपुर ! पुलिस महानिरीक्षक प्रदीप गुप्ता एवं बिलासपुर पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल के तत्वाधान में आयोजित की गई।
मेडिको लीगल विशेषज्ञ डॉक्टर डीके सतपति एवं अन्य वक्ताओं में डॉक्टर प्रियंका सोनी सिम्स बिलासपुर गजेंद्र साहू डीपीओ बिलासपुर ने के द्वारा अपना विशेष अनुभव शेयर किये।
कार्यशाला में बिलासपुर रेंज के प्रधान और जो टीआई स्तर तक तथा विभिन्न जिलों से चिकित्सक कुल लगभग 220 से अधिक प्रतिभागी ने कार्यशाला में भाग लिया, डॉ सतपति ने बड़ी ही रोचक ढंग से विभिन्न प्रकार की चोटों घावों की जानकारी देते हुए उपस्थित अनुसंधानकर्ता एवं अधिकारी एवं चिकित्सकों को मेडिकल लीगल केस के संबंध में विस्तृत जानकारी तथा केस के दौरान आने वाली समस्याओं का निराकरण का रास्ता बताया तथा चिकित्सकों को उनकी कार्य क्षेत्र में आने वाली चिकित्सीय चिकित्सक की परेशानियों का निराकरण के संबंध में वैज्ञानिक सलाह दिए।
कार्यशाला में विवेचक तथा चिकित्सक के द्वारा पूछे गए विभिन्न सवालों का डॉक्टर सतपति द्वारा बहुत ही सटीक जवाब दिया गया जिससे विवेचना तथा चिकित्सकीय कार्य पहले से बहुत बेहतर होने की उम्मीद है। इस कार्यशाला का आयोजन इसी मकसद से पूरा करते हुए बिलासपुर पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल द्वारा धन्यवाद ज्ञापित कर वक्ताओं को स्मृति चिन्ह भेट किया गया।


लूट-हत्या के तीन आरोपी मुठभेड़ में घायल

कृष्णानगर के आरके ज्वैलर्स में लूट-हत्या करने
वाले तीन बदमाश मुठभेड़ में घायल


 केसरीखेड़ा में तड़के हुई मुठभेड़, एक सिपाही को भी गोली लगी।
लखनऊ । कृष्णानगर थाना क्षेत्र के केसरी खेड़ा में आज तड़के पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में तीन बदमाश घायल हो गए, एक सिपाही को भी गोली लगी है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी के अनुसार ये तीनों बदमाश किसी अपराधिक वारदात के लिए जा रहे थे तभी पुलिस ने सूचना मिलने पर इनकी घेराबंदी की तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी पुलिस की जवाबी फायरिंग में तीन बदमाश घायल हो गए जिनकी टिकूं नेपाली, मोहन जोशी व लईक अहमद के रूप में पहचान हुई है। बदमाशों व घायल सिपाही को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
एसएसपी के अनुसार कृष्णानगर के आरके ज्वैलर्स के यहां हुई लूट व हत्या की घटना में इन बदमाशों की तलाश थी। मुठभेड़ की सूचना मिलते ही एसएसपी कलानिधि नैथानी व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए। घायल बदमाशों से पूछताछ की जा रही है।


आज का दिन शुभ नहीं :कन्या

राशिफल 


मेष ----आज का दिन शुभ है। मन प्रसन्न रहेगा एवं आत्मविश्वास बना रहेगा। परिवार में सम्मान प्राप्त होगा। समाज में पद प्रतिष्ठा बढ़ेगी। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। माता का आशीर्वाद बना रहेगा। संतान का भाग्य प्रबल है। संतान पक्ष से संबंधित सभी कार्य संपन्न होंगे। शत्रुओं पर सफलता प्राप्त कर सकेंगे। प्रेम प्रसंग में सफलता प्राप्त होगी। ससुराल पक्ष में कोई महत्वपूर्ण कार्य हो सकता है।


वृष -----आज का दिन सामान्य है। धन संबंधी कार्यों का क्रियान्वयन करेंगे। परिवार में कोई नई वस्तु को खरीदने की व्यवस्था करेंगे। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा, परंतु ध्यान रखें किसी बात को लेकर विवाद भी हो सकता है। माता के स्वास्थ्य में थोड़ी परेशानी आ सकती है। संतान पक्ष से संबंधित कोई समस्या सामने आ सकती है। संतान के विचारों में कुछ मतभेद होने के कारण विवाद की स्थिति बनती है।


मिथुन ----आज का दिन शुभ है। मन प्रसन्न रहेगा, दिमाग सक्रिय रहेगा एवं शरीर में कार्य करने के लिए स्फूर्ति बनी रहेगी। वर्तमान में आप किसी परिस्थिति का अनुमान पहले से ही लगा पाएंगे। आज के दिन आपका भाग्य भरपूर साथ देगा। प्रेम प्रसंग में सफलता मिलेगी। वाणी पर नियंत्रण रखें नहीं तो किसी प्रकार का विवाद हो सकता है। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा।


कर्क---- आज का दिन शुभ नहीं है। मन में तनाव बना रहेगा एवं बात-बात पर क्रोध आने लगेगा। मन में किसी प्रकार का अंजाना सा भय बना रहेगा। परिवार में किसी बात को लेकर विवाद हो सकता है। भाइयों से मनमुटाव बना रहेगा। माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। संतान की सही सलाह को सुनने का प्रयास करें इससे लाभ होगा। गुप्त शत्रुओं द्वारा आपको नुकसान पहुंचाया जा सकता है।


सिंह ----आज का दिन शुभ है। मन प्रसन्न रहेगा तथा आत्मविश्वास बना रहेगा। किसी भी कार्य की योजना को अच्छी तरह से बना पाएंगे। धन संबंधी कार्य पूर्ण होंगे। किसी अच्छे कार्य में धन खर्च हो सकता है। भाइयों का भरपूर सहयोग प्राप्त होगा। माता का आशीर्वाद आप के ऊपर पूर्ण रूप से बना रहेगा। संतान संबंधी कार्य पूर्ण होंगे। जीवनसाथी से आनंदपूर्ण व्यवहार बना रहेगा। परिवार में सबका सहयोग मिलेगा।


कन्या ----आज का दिन शुभ नहीं है। दिन सामान्य रहेगा तथा मन में थोड़ा तनाव बना रहेगा। धन संबंधी चिंता सताएगी। भाइयों से किसी बात को लेकर मतभेद बने रहेंगे। माता के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित आएंगे। पिता के द्वारा आपको सही सलाह मिलने से आपका कार्य सफल होगा। संतान के भविष्य को लेकर किसी प्रकार की योजना बना सकते हैं। एंटी होम लोगों से संबंधित कोई परेशानी हो सकती है।


तुला -----आज का दिन शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी। दिमाग सक्रिय रहेगा एवं शरीर में स्फूर्ति बनी रहेगी। धन संबंधी कार्य पूर्ण होंगे एवं परिवार में आपको सम्मान प्राप्त होगा। समाज में किसी प्रकार का पद प्राप्त हो सकता है। पिता से भरपूर सहयोग प्राप्त होगा। माता के स्वास्थ्य में भी लाभ प्राप्त होगा। संतान की सफलता से मन प्रसन्न रहेगा। संतान के भविष्य के लिए आप महत्वपूर्ण कदम उठाएंगे।


वृश्चिक---- आज का दिन शुभ नहीं है। मन में अस्थिरता बनी रहेगी तथा किसी बात को लेकर तनाव व्याप्त रहेगा। कठिन परिस्थितियों में निर्णय लेने में कठिनाई महसूस करेंगे। संसार में मन कम लगेगा, ईश्वर आराधना में आस्था बढ़ेगी। परिवार में किसी की बात से आपका मन दुखी रहेगा। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। संतान की ओर से आपको पूरा सहयोग प्राप्त होगा। आपको रक्त संबंधी रोग हो सकते हैं।


धनु -----आज का दिन शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी। कार्य करने में ऊर्जा की अनुभूति होगी। दिमाग अधिक सक्रिय रहेगा। पहले से चली आ रही परेशानियों का उचित हल निकाल पाएंगे। परिवार में आपका कद बढ़ेगा। भाइयों का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। समाज में कोई विशेष पद प्राप्त हो सकता है। माता के आशीर्वाद से सफलता प्राप्त होगी। संतान की सफलता से मन प्रसन्न रहेगा।


मकर----- आज का दिन शुभ नहीं है। मन में तनाव बना रहेगा। भाइयों से पूर्ण सहयोग मिलेगा। समाज में प्रतिष्ठा में कुछ कमी आ सकती है। माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें, रक्त से संबंधित कुछ परेशानी आ सकती है। संतान का भाग्य अच्छा है। संतान पक्ष से जुड़े हुए कार्य होंगे। आपको अपनी आदतों पर संयम रखना होगा। नहीं तो आपका स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। गुप्त शत्रु आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं।


कुंभ ---आज का दिन शुभ है। मन में उत्साह बना रहेगा। तकनीकी माध्यमों में आपका दिमाग वर्तमान में अधिक सक्रिय रहेगा। परिवार में धार्मिक वातावरण रहेगा। धार्मिक अनुष्ठान घर पर होने के योग हैं। आप भाइयों की मदद कर सकते हैं। माता का आशीर्वाद आप पर बना रहेगा। संतान के ग्रह वर्तमान में अधिक प्रभावशाली है। संतान का दिमाग तकनीकी कार्यों में अधिक सक्रिय रहेगा।


मीन -----आज का दिन शुभ नहीं है। मन में तनाव बना रहेगा। भाइयों का कम सहयोग प्राप्त होगा। माता के ग्रह वर्तमान में अधिक प्रभावशाली हैं। माता से विवाद ना करें। पिता का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। संतान से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। अधिक तनाव के कारण सिर दर्द की परेशानी हो सकती है। जीवनसाथी की सलाह से आप किसी कठिन परिस्थिति से उबर सकते हैं।


जीवन संदेश (आत्ममंथन)

 जीवन संदेश 


वशिष्ठ चौबे लखनऊ


हम जिंदगी में कामयाब होना उतना ही जरूरी समझते हैं जितना जरूरी, जिंदा रहने के लिए साँस लेना है तो हम अवश्य कामयाब होंगे। हम सहस्त्र बार नीचे गिरकर फिर से सहस्त्र बार ऊँचे उठने का प्रयास करते हैं तो जरूर सफल हो जाएंगे। हमारे लक्ष्य में इतनी जान है कि उसे हासिल करने के लिए अपनी जान लगा दें तो हम जरूर इतिहास रच जाएंगे, यही सफलता प्राप्त करने का अव्यर्थ साधन है।


इतिहास में कई ऐसे लोग हुए है जिन्होंने लगन, निरंतर प्रयास और परिश्रम के बल पर फर्श से अर्श तक कामयाबी की उड़ान भरे हैं, क्योंकि उन्हें खुद पर विश्वास था। हम उनकी कहानियां पढ़कर खुश होते हैं लेकिन कभी यह नही सोचते कि हमें भी कुछ ऐसा कर गुजरना चाहिए कि हमारे नाम की सफल कहानी लिखी जाए, कभी नही सोचते और सोचते भी हैं तो केवल सोचकर ही रह जाते हैं, करते नही। अपनी आरामदायक स्थिति से बाहर निकलना ही नही चाहते। अपने आप से पूछिये, खुद से सवाल कीजिये कि क्या हम ऐसे ही दुनिया से चले जायेंगे? हम जाएंगे तो हमें याद करने वाला कोई नही होगा?


सच तो यह है कि जिस तरह हम जी रहे हैं। डर, भय और आलस्य में जी रहे हैं। ऐसे में तो हमें याद करने वाला कोई भी नही होगा। लोग हमें याद तभी रखेंगे जब जब इतिहास रचेंगे। कुछ ऐसा कर जाएं जो केवल हम ही कर पाएं और कोई वह सोच भी न सके तभी हम इतिहास रचेंगे। इसके लिए दृढ़-संकल्पित होना पड़ेगा, खुद में जिद पैदा करना पड़ेगा, पागलपन की हद तक जुनून पैदा करना होगा, अपने अंदर जज्बे की आग को जलाना होगा, ठानना पड़ेगा, डटना पड़ेगा क्योंकि इतिहास डरने से नही डटने से रचे जाते हैं।


कावड़-यात्रा के महत्व (आस्‍था)

हर साल श्रावण मास में लाखों की तादाद में कांवडिये सुदूर स्थानों से आकर गंगा जल से भरी कांवड़ लेकर पदयात्रा करके अपने गांव वापस लौटते हैं! इस यात्राको कांवड़ यात्रा बोला जाता है। श्रावण की चतुर्दशी के दिन उस गंगा जल से अपने निवास के आसपास अथवा संकल्प के अनुरूप शिव मंदिरों में शिव का जल-अभिषेक किया जाता है। कहने को तो ये धार्मिक आयोजन भर है, लेकिन इसके सामाजिक सरोकार भी हैं। कांवड के माध्यम से जल की यात्रा का यह पर्व सृष्टि रूपी शिव की आराधना के लिए हैं। पानी आम आदमी के साथ-साथ पेड-पौधों, पशु - पक्षियों, धरती में निवास करने वाले हजारो लाखों तरह के कीडे-मकोडों और समूचे पर्यावरण के लिए बेहद आवश्यक वस्तु है। उत्तर भारत की भौगोलिक स्थिति को देखें तो यहां के मैदानी इलाकों में मानव जीवन नदियों पर ही आश्रित है।


धार्मिक महत्व


कांवड उठाता कांवडिया (भोला)
धार्मिक संदर्भ में कहें तो इंसान ने अपनी स्वार्थपरक नियति से शिव को रूष्ट किया है। कांवड यात्रा का आयोजन अति सुन्दर बात है। लेकिन शिव को प्रसन्न करने के लिए इन आयोजन में भागीदारी करने वालों को इसकी महत्ता भी समझनी होगी। प्रतीकात्मक तौर पर कांवड यात्रा का संदेश इतना भर है कि आप जीवनदायिनी नदियों के लोटे भर जल से जिस भगवान शिव का अभिषेक कर रहे हें वे शिव वास्तव में सृष्टि का ही दूसरा रूप हैं। धार्मिक आस्थाओं के साथ सामाजिक सरोकारों से रची कांवड यात्रा वास्तव में जल संचय की अहमियत को उजागर करती है। कांवड यात्रा की सार्थकता तभी है जब आप जल बचाकर और नदियों के पानी का उपयोग कर अपने खेत खलिहानों की सिंचाई करें और अपने निवास स्थान पर पशु पक्षियों और पर्यावरण को पानी उपलब्ध कराएं तो प्रकृति की तरह उदार शिव सहज ही प्रसन्न होंगे।


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...