मंगलवार, 8 दिसंबर 2020

3 चींजें सर्च करने पर हो सकती है जेल

पालूराम


नई दिल्ली। आज कल लोगों का किसी भी चीज की जानकारी लेना बहुत आसान हो गया है। लोग गूगल के जरिए हर चीज की जानकारी को आसानी से ले सकते हैं। आज के समय लोगों को भरोसा है कि गूगल पर जो जानकारी दी जाती है वह 100 फीसदी सही ही होगी। लेकिन जाने अंजाने में कई बार हम कई ऐसी चीजे सर्च कर लेते हैं जिससे हम बड़ी मुसीबत फस सकते हैं। आपको बता दें कि गूगल पर क्या चीजे हम लोगों को नहीं सर्च करना चाहिए। तो जानते हैं इस बारे में क्या चीजे गूगल पर सर्च करना खतरा बन सकता है।


दवाइयां:-यदि कभी आपकी तबियत खराब हो तो और आप गूगल के जरिए अपने लक्षणों के आधार पर यह पता लगाना चाहते हैं कि कौन सी बीमारी है तो यह गलत है। गूगल पर कभी दवाइयां नहीं सर्च करें। यह आपको बड़े खतरे में डाल सकता है। गलत दवाइयों का सेवन करने से आप ज्यादा बीमार भी हो सकते हैं। अगर आप बीमार हो तो डॉक्टर के पास जाए। दवाइयों के लिए गूगल का सहारा नहीं ले।


कस्टमर केयर का नंबर:-गूगल पर कभी भी कस्टमर केयर का नंबर नहीं सर्च करना चाहिए। आपको बता दें कि इस समय हैकर्स काफी बढ़ गए है। आपको बता दें कि इस समय हैकर्स गूगल पर कस्टमर केयर का फेक नंबर Google Search में फ्लोट करते हैं। जिससे यह हैकर्स आसानी से साइबर क्राइम को अंजाम दे रहे हैं।


बम बनाने का प्रोसेस:- गूगल पर बम बनाने का प्रोसेस या इससे जुड़ी हुई किसी भी तरह की जानकारी लेना आपके लिए खतरा बन सकती है। आपको बता दें कि अगर आप गूगल पर बम या बनाने से जुड़ी किसी तरह की जानकारी को गूगल पर सर्च करते हैं तो आपके लेपटॉप या कंप्यूटर का आईपी एड्रेस सीधा सुरक्षा एजेंसियो तक आसानी से पहुंच जाएगा। इसके बाद संभव है कि सुरक्षा एजेंसियां आपके खिलाफ कार्रवाई कर सकती हैं।                           


14 दिसंबर को है साल का अंतिम 'सूर्यग्रहण'

नई दिल्ली। इस साल का अंतिम सूर्य ग्रहण 14 दिसंबर सोमवार के दिन लगने वाला है। 14 दिसंबर को लगने वाला यह ग्रहण 15 दिनों के अंदर लगने वाला दूसरा ग्रहण है। इससे पहले 30 नवंबर को पूर्णिमा तिथि पर चंद्रमा ग्रहण लगा था अब मार्गशीर्ष की अमावस्या तिथि पर सूर्य ग्रहण लगेगा. ये पूर्ण सूर्य ग्रहण होगा। भारतीय समयानुसार, ये ग्रहण शाम को 7 बजकर 3 मिनट से शुरू होगा और रात 12 बजकर 23 मिनट पर खत्म होगा। सूर्य ग्रहण की अवधि लगभग 5 घंटे की रहेगी। ये दक्षिणी अफ्रीका, अधिकांश दक्षिण अमेरिका, प्रशांत महासागर, अटलांटिक और हिंद महासागर और अंटार्कटिका में पूर्ण रूप से नजर आएगा। ये सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा।


                   


5जी पर साथ काम करने की जरूरतः पीएम

हरिओम उपाध्याय


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि सरकार के साथ-साथ दूरसंचार क्षेत्र के सभी हितधारकों को पांचवीं पीढ़ी 5जी प्रौद्योगिकी की समय पर लॉन्चिंग सुनिश्चित करने के लिए मिलकर काम करना होगा। इंडिया मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) को संबोधित करते हुए, मोदी ने भारत को दूरसंचार उपकरण, डिजाइन डेवलपमेंट और विनिर्माण के लिए वैश्विक हब बनाने के लिए एक साथ काम करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा, "आइए हम भारत को दूरसंचार उपकरण, डिजाइन, विकास और विनिर्माण के लिए एक वैश्विक केंद्र बनाने के लिए मिलकर काम करें।"
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह मोबाइल तकनीक की वजह से है, जिससे लाखों भारतीयों को अरबों डॉलर का लाभ हुआ। उन्होंने कहा कि मोबाइल तकनीक की वजह से सरकार महामारी के दौरान गरीबों और कमजोरों की जल्द मदद कर सकी। प्रधानमंत्री ने उद्योग के प्रतिभागियों से कहा, "यह मोबाइल प्रौद्योगिकी के कारण ही है कि हम अरबों कैशलेस लेनदेन देख रहे हैं जो औपचारिकता और पारदर्शिता को बढ़ावा देते हैं। यह मोबाइल प्रौद्योगिकी के कारण ही है कि हम टोल बूथों पर सहज संपर्क रहित इंटरफेस कर पाएंगे।"
महामारी और लॉकडाउन के बीच, दूरसंचार और प्रौद्योगिकी के दिग्गजों की तारीफ करते हुए मोदी ने कहा कि यह उद्योग और इसके नवाचारों के प्रयासों के कारण ही था कि दुनिया महामारी के दौरान भी काम कर रही थी, जिसमें कनेक्टिविटी, शिक्षा और व्यवसाय और अन्य संचालन शामिल थे।                               


ब्रिटेनः वायरस का टीकाकरण शुरू किया

लंदन। ब्रिटेन में कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए आज से टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है। इंग्लैंड के उत्तर पूर्व में रहने वाले भारतीय मूल के 87 वर्षीय हरि शुक्ला कोरोना की वैक्सीन लगवाने वाले दुनिया के पहले शख्स बनने जा रहे हैं। इन्हें मंगलवार को न्यूकैसल के एक अस्पताल में फाइजर/बायोएनटेक द्वारा तैयार वैक्सीन की पहली खुराक दी जाएगी। पीएम जॉनसन ने दिया वी-डे नाम
टाइन एंड वियर इलाके में रहने वाले हरि शुक्ला ने कहा कि उन्हें लगता है कि दो खुराक वाली वैक्सीन में से पहली खुराक प्राप्त करना उनका कर्तव्य है। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने टीकाकरण के इस अभियान को एक बड़ा कदम बताते हुए इसे वी-डे या वैक्सीन डे करार दिया। 
शुक्ला ने कहा, मुझे खुशी है कि हम उम्मीद कर रहे हैं कि इस महामारी का अब अंत होने जा रहा है। उन्होंने कहा, मुझे वैक्सीन लगवाकर अभियान की शुरुआत करने में खुशी हो रही है। मुझे लगता है कि ऐसा करना मेरा कर्तव्य है और मैं जो भी मदद कर सकता हूं, वह करूंगा।                  


कोहली बल्लेबाजों की लिस्ट में शामिल होगें

सिडनी। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के आखिरी टी20 इंटरनैशनल में एक खास लिस्ट में अपनी जगह बना सकते हैं। कोहली के टी20 क्रिकेट में 300 छक्के लगाने वाले भारतीय बल्लेबाजों के क्लब में शामिल हो सकते हैं। कोहली इस पड़ाव से सिर्फ एक कदम दूर हैं। उनके नाम टी20 क्रिकेट में 299 छक्के हैं और मंगलवार को सिडनी अगर वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले में एक छक्का और लगा देते हैं तो वह टी20 क्रिकेट में सिक्स लगाने का तिहरा शतक पूरा कर लेंगे। कोहली से पहले तीन भारतीय बल्लेबाज टी20 क्रिकेट में 300 छक्के लगा चुके हैं। कोहली अगर ऐसा कर लेंगे तो वह चौथे भारतीय बल्लेबाज होंगे जिनके नाम टी20 में 300 या उससे ज्यादा छक्के होंगे। विराट ने अंतरराष्ट्रीय टी20 में 78 छक्के लगाए हैं।
भारतीय बल्लेबाजों की बात करें रोहित शर्मा इस लिस्ट में सबसे आगे हैं। हिटमैन के नाम टी20 क्रिकेट में 380 छक्के हैं। रोहित ने 340 टी20 मैच खेले हैं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रोहित ने 108 मैचों में 127 छक्के लगाए हैं। रोहित फिलहाल हैमस्ट्रिंग इंजरी से रीहैब हो रहे हैं। वह ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सीमित ओवरों की सीरीज का हिस्सा नहीं हैं।
भारतीय बल्लेबाजों की बात करें तो सुरेश रैना के नाम 319 टी20 मैचों में 311 छक्के हैं। वह इस लिस्ट में दूसरे पायदान पर हैं। इस साल 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले रैना आईपीएल 2020 में भी नहीं खेले थे। पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इस सूची में तीसरे नंबर पर हैं। धोनी ने 331 टी20 मैचों में 302 छक्के लगाए हैं। वहीं 98 टी20 इंटरनैशनल मैचों में उनके नाम 52 छक्के हैं।
कुल मिलाकर बात करें तो टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रेकॉर्ड क्रिस गेल के नाम है। वेस्टइंडीज के इस धाकड़ बल्लेबाज ने अपने टी20 करियर में 1001 सिक्स लगाए हैं। गेल के बाद कायरन पोलार्ड का नंबर आता है जो 706 छक्के लगाकर दूसरे पायदान पर हैं। भारत और ऑस्ट्रेलिया की टी20 इंटरनैशनल सीरीज की बात करें तो टीम इंडिया पहले ही इस पर कब्जा कर चुकी है। टीम ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है। मंगलवार को टीम अगर ऑस्ट्रेलिया को हरा देती है तो लगातार दूसरी द्विपक्षीय टी20 सीरीज होगी जो भारतीय टीम वाइट वॉश के साथ जीतेगी। इससे पहले साल की शुरुआत में उसने न्यूजीलैंड को 5-0 से हराया था।             


फिरोजाबाद में नहीं दिखा 'भारत बंद' का असर

फिरोजाबाद। नगला करन सिंह से आगे कोटला रोड पर मंडी समिति स्थित सब्जी आढ़त पर आज रोजाना की तरह किसान सब्जियां व अन्य सामान लेने पहुंचे। इस तरह से भारत बंदी का यहां कोई असर नहीं दिखा। हालांकि रोजाना की अपेक्षा आज संख्या कुछ कम रही, लेकिन कस्बों व गांवों व आसपास से लोगो का सब्जी मंडी में आना लगा रहा।


इसके अलावा यहां एसएसपी अजय कुमार में निर्देशन में पुलिस की चाक चौबंद व्यवस्था रही। वहीं गेट के बाहर व अंदर पूरी मुस्तैदी के साथ पुलिस बल तैनात रहा। आढ़त अध्यक्ष नरेश पालीवाल ने बताया यहां भारत बंदी का कोई असर नहीं है पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच लोगो का खरीददारी को आना लगा हुआ है।


रिपोर्ट-फरमान बबलू                                     


राष्ट्रपति के नाम 3 सूत्रीय ज्ञापन दिया

भारतीय किसान मजदूर युनियन ने तीन सूत्रीय ज्ञापन दिया


कौशाम्‍बी। भारतीय किसान मजदूर संयुक्त युनियन के पदाधिकारियों ने सरकार द्वारा पारित बिल वापस लेने के लिए राष्ट्रपति के नाम सम्बोधित एक ज्ञापन तहसीलदार चायल स्याम कुमार को दिया। इस मौके पर क्षेत्राधिकारी श्यामकांत भी मौजूद रहे। युनियन के अध्य॔क्ष नरेन्द्र कुमार पाण्डेय ने अपने सहयोगियों के साथ मंगलवार को चायल तहसील मे धरना-प्रदर्शन कर सरकार के बिल का विरोध किया और इस बिल को किसान बिरोधी बताते हुए तीन सूत्रीय मांग का पत्र महामहिम राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन तहसीलदार चायल को सौंपा। किसान युनियन ने बिल को किसान बिरोधी बताया और इससे बेरोजगारी बढने का खतरा बताया। किसानो कर्ज माफी की मांग की साथ ही बिजली के बढे बिल को किसान पर न लागू करने की मांग की है। जिले की शांति व्यवस्था का जायजा लेने भ्रमण पर निकले जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक अभिनंदन सिंह भी किसान यूनियन के प्रदर्शन के समय चायल क्षेत्र मे थे |क्षेत्राधिकारी चायल श्यामकांत ने चायल क्षेत्र की शांति व्यवस्था पर पूरी तरह निगाह रखे थे। पूरे सर्किल मे पुलिस फोर्स भ्रमण व पैदल गश्त कर रही थी। किसान युनियन के यशवंत सिंह, तेजबहादुर ,रमेश कुमार ,विनय प्रकाश पाण्डेय पूजा देवी ,विद्या देवी ,रानी देवी आदि लोग ज्ञापन देने मे मौजूद रहे।


पुष्पेश त्रिपाठी


यूपीएससी की परीक्षा देकर बन गयेंं डीएसपी

राणा ओबराय


ईंट भट्टो पर मेहनत मजदूरी करने वाला यूपीएससी की परीक्षा पास कर बन गया पुलिस का डीएसपी


रांची। झारखंड के गांव बोकारो के किशोर कुमार रजक डीएसपी बनकर एक मिसाल बना। गरीब परिवार में जन्मे किशोर ने बचपन से ही बड़ा संघर्ष झेला। परिवार की अपनी ज्यादा कुछ जमीन थी नहीं न ही परिवार के पास इतना पैसा था कि दिल्ली या मुंबई जाकर रोजगार तलाशें। तो उनके पिता ने मजदूरी करते हुए धनबाद में एक कोयला खदान में मजदूरी करने की नौकरी पाई। नौकरी क्या थी गुजारे लायक कमाई हो रही थी बस। पढ़ाई लिखाई के लिए किशोर को गांव के ही सरकारी स्कूल में भेजा गया। जहां न बच्चे आते थे न ही मास्टर। किशोर को परिवार से लगातार पढ़ाई और सरकारी नौकरी के विषय में प्रेरणा मिलती रहती। पिता कहते बेटा कलेक्टर बनेगा। घर की हालत और परिवार की उम्मीदों को देखते हुए किशोर खुद से ही पढ़ने लगे। किशोर अपनी पढ़ाई करते और साथ में खेती-बाड़ी का काम भी संभालते थे। शाम को गाय बकरी भी चराते। लेकिन गांव के बच्चों के साथ मिलकर पढ़ाई कम मस्ती ज्यादा करते। जब वो सरकारी अफसर हैं तो अपनी प्रेरणा के विषय में बात करते बताते हैं कि एक बार जब वो स्कूल में थे तब पढ़ाई छोड़ रोज घूमने निकल जाते थे और छुट्टी के टाइम पर वापस स्कूल में आ जाते। एक दिन मास्टर ने इस हरकत के लिए पिटाई कर दी और बच्चों को समझाते हुए कहा कि तुम में से अगर किसी का भी पढ़ाई लिखाई कर जीवन सफल हो जाए तो मेरे लिए बड़ी बात होगी , मुझे बहुत खुशी होगी। इस बात को किशोर ने अपने दिल से लगा लिया और फिर से पढ़ाई शुरू कर दी।
किशोर ने 10 वीं 12 वीं पास कर इग्नू से इतिहास विषय में स्नातक किया। वो ग्रेजुएशन के दौरान थर्ड यर में फेल हो गए। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और यूपीएएसी की तैयारी का मन बनाया। रिश्तेदारों से पैसे मांग कर किराए के पैसे जुटाए और दिल्ली आकर तैयारी शुरू कर दी। यहां वो जिस मकान में किराय पर रहकर तैयारी कर रहे थे उसी मकान के मालिक के बच्चों को उन्होंने ट्यूशन पढ़ाना शुरू किया। जिसके बाद और भी बच्च आने लगे इससे उनको औसत से ज्यादा कमाई होने लगी। उन्होंने 2011 में यूपीएससी की परीक्षा लिखी और पहले ही प्रयास में असिस्टेंट कमांडेंट का पद मिल गया। इसके बाद उनका डीएसपी के लिए चयन हुआ।                               


प्रयागराजः महानिरीक्षक परिक्षेत्र का निरीक्षण

बृजेश केसरवानी
प्रयागराज। महानिरीक्षक प्रयागराज परिक्षेत्र, कवीन्द्र प्रताप सिंह द्वारा जनपद प्रयागराज के थाना झूंसी अंतर्गत अंदावा चौराहे पर सुरक्षा के दृष्टिगत भ्रमण/निरीक्षण किया गया। भ्रमण के दौरान बिना मास्क के घूम रहे लोगो से मास्क लगाने हेतु अपील की गयी एवं चौराहों की बैरिकेडिंग व्यवस्था को सही/दुरुस्त करने हेतु सम्बंधित को निर्देशित किया गया। ततपश्चात आईजी रेंज प्रयागराज द्वारा जनपद प्रयागराज के 'प्रयाग रेलवे स्टेशन' का सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत जीआरपी पुलिस चौकी प्रयाग का भ्रमण/निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान सुरक्षा/सतर्कता के साथ-साथ परिसर की साफ-सफाई के सम्बंध में सम्बंधित को दिशा-निर्देश दिए गए।


दमनकारी नीति से आंदोलन नहीं रुकेगाः सपा

बृजेश केसरवानी
प्रयागराज। मंगलवार को लगातार दूसरे दिन भी सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव के आह्वान पर सोराव विधान सभा के पूर्व विधायक सत्यवीर मुन्ना के नेतृत्व में निवर्तमान सोराव विधान सभा सपा अध्यक्ष सुभाष यादव, जिला उपाध्यक्ष मेराज आरिफ़, चेयरमैन मऊआइमा, शोएब अंसारी, नदीम इनतेखाब, नि० सपा जिला महासचिव खिन्नी पासी श्याम सिंह यादव, जवाहर यादव, उमैर जलाल, नूरूउद्दीन सैफी, आसिफ अब्बासी, संजीव आर्या, पूर्व प्रधान लालबाबू पटेल, अरविंद श्रीवास्तव, राशिद गुलाम, शानू रामचंद्र यादव, हरिश्चंद्र यादव, इंसानुद्दीन संगम, लाल पाल शमीमुद्दीन, बच्चा चंदा देवी, राम सिंह यादव, नंदलाल यादव, विनोद यादव, अनवार सिद्दीकी, मो. अशरफ अच्छे मनोज केसरवानी, शिव मंगल बिंद, सूबेदार विश्वकर्मा, दशरथ पटेल, रमेश विश्वकर्मा संगम लाल पाल सहित दर्जनों सपा कार्यकर्ताओं ने किसानों के विरुद्ध केन्द्र के भाजपा सरकार द्वारा तीनों काले कानूनों के रद्द करने और किसानों के आय दोगुनी करने के लिए जब मऊआइमा बाजार में शांतिपूर्ण बंद करा रहे थे। तभी देखा कि जब स्वेच्छा से वहाँ के दुकानदार किसान के समर्थन में अपनी दुकाने बंद कर रहे थे तो मऊआइमा थाने के पुलिस प्रशासन भाजपा सरकार के दबाव में आकर दुकानदारों से जबरदस्ती दबाव बना कर दुकानें खोलवा रहे थे। जिसका विरोध सोराव विधान सभा की पूर्व विधायक सत्यवीर मुन्ना ने अपने सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ जबरदस्त विरोध किया तो मऊआइमा थाना अध्यक्ष अपने थाना पुलिस और पीएसी सुरक्षा बल के सहयोग से पूर्व विधायक सहित मौजूद सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर मऊआइमा थाना में बिठा दिया। पूर्व विधायक सत्यवीर मुन्ना ने गिरफ्तारी के बाद बोला कि भविष्य में किसानों को बर्बाद करने वाले तीनों कानून जब तक भाजपा की केन्द्र सरकार वापस नहीं ले लेती। तब तक सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव के निर्देशानुसार सपा नेता और कार्यकर्ता उत्तर प्रदेश के हर जनपद में जगह जगह साईकिल यात्रा, पैदल यात्रा लगातार जारी रहेगा। नि. ज़िला उपाध्यक्ष मेराज आरिफ़ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी और मुख्यमंत्री योगी जी इस भ्रम में न रहे कि पुलिस प्रशासन के द्वारा हमारे बहादुर क्रांतिकारी सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी और दमनकारी कार्यवाही करके सपा के आंदोलन को रोक लेंगे। सुभाष यादव ने कहा कि यदि हमारे सपा नेता और कार्यकर्ताओं के शांति पूर्वक कर रहे आंदोलन कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी किया तो प्रशासन के पास गिरफ्तारी करके रखने का जगह भी कम पड़ जायेगा क्यों कि समाजवादियों का इतिहास रहा है कि वह अन्याय के खिलाफ सदैव किसान, मजदूर, छोटे व्यापारी और बेरोजगार छात्र, अन्य किसी दमनकारी कानूनों के खिलाफ सड़क से विधान सभा और लोकसभा तक  की लड़ाई लड़ कर न्याय दिलाते रहे हैं। चेयरमैन मऊआइमा शोएब अंसारी ने कहा की संवैधानिक अधिकार के तहत हम सभी को यह अधिकार मिला हुआ है कि जब भी कोई तानाशाह सरकार सत्ता मद में किसान विरोधी कानून पारित करता है, तो उसके खिलाफ हर भारतीय नागरिक का देश हित में शांतिपूर्ण आंदोलन कर के विरोध करने का हक है। लेकिन केन्द्र और राज्य सरकार की वर्तमान भाजपा सरकार सारे नैतिकता को त्याग कर बल पूर्वक जन आन्दोलन और किसान आंदोलन को कुचलने का काम कर रही है, और गैर कानूनी मुकदमा दर्ज कर आंदोलन कर रहे नेताओं और कार्यकर्ताओं को डरवाना और धमकाना चाहते है। लेकिन जब तक अन्नदाता किसानों का मांग मानते हुए भाजपा सरकार काले कानूनों को वापस नहीं ले लेती तब तक सपा का आंदोलन जारी रहेगा।                                           


हापुड़ः नाबालिग छात्रा का अपहरण हुआ

अतुल त्यागी


गाँव के ही दबंगो द्वारा दिन दहाड़े कक्षा दस की नाबालिग छात्रा का हथियारो के बल पर अपहरण, परिवार समेत ग्रामीणों में रोष


हापुड। जनपद के थाना बहादुरगढ़ क्षेत्र के गांव निवासी किसान की पुत्री का सुबह सवेरे उस समय कार सवारों ने अपहरण कर लिया। जब वह घर के दोबारी में झाडू लगा रही थी। छात्रा की चीख पर घर के अंदर से बाहर आयी मां को तमंचा दिखा भयभीत कर ले गये। लडकी को कार में डालकर अपहरणकर्ता, परिजनों ने थाना बहादुरगढ़ में घटना की तहरीर दी। हद तो तब हो गयी। जब शिकायत पत्र पर कोई भी तवज्जो बहादुरगढ़ पुलिस ने नहीं दी। जिसको लेकर परिवार और ग्रामीणों में रोश के चलते ट्रैक्टर ट्रालियों में भरकर ग्रामीणों ने थाना बहादुरगढ़ का घेराव कर थाने पर धरना देकर बैठ गयर और किशोरी जबतक किशोरी की बरामदगी नही होगी। घटना की जानकारी से आहत हैं और पुलिस का घटना की सूचना पर अमल ना करना और पीछे के विवाद में भी संज्ञान ना लेना निंदनीय है। वही परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने तहरीर में हत्यारो के बल पर अपहरण लिखा है जबकि पुलिस ने एफआईआर में कुछ और ही लिखा दिया गया है और पीड़ित परिवार को न्याय लड़की बरामद के साथ साथ आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करलिया गया है। लेकिन आरोपी पुलिस की पकड़ से बहार है।                                                   


सपाइयों ने ट्रेन रोकी, बाजार बंद कराये

भारत बन्द पर कहीं ट्रेनो को रोकने कहीं बाज़ार बन्द कराने निकले सपाईयों से पुलिस की झड़प-गिरफ्तारी के बाद ले जाए गए पुलिस लाइन


बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। केन्द्र सरकार के काले कृषि क़ानून के विरोध में किसानों द्वारा भारत बन्द के आहृवान पर 20 दलों के संयुक्त विपक्षी पार्टीयों का समर्थन रहा।तमाम व्यापारिक संगठनों अधिवक्ताओं व छोटे बड़े दलों ने भाजपा के कुशासन अन्नदाताओं को भिषड़ ठण्ड की परवाह न करते हुए कृषि कानून के द्वारा अडानी और अमबानी जैसे पूंजीपतियों को लाभ पहोँचाने की खातिर लाए गए कृषि बिल के विरोध में भारत बन्द का आहृवान किया था।समाजवादी पार्टी के महानगर अध्यक्ष सै०इफ्तेखार हुसैन के नेत्रित्व मे बड़ी संख्या मे सपाईयों ने सिविल लाइन में दूकान बन्द खरवाने निकले तो सुभाष चौराहे पर शान्तिपूर्वक दूकान बन्द करवाने के दौरान पुलिस ने रोकने का प्रयास किया।नेताओं के साथ धक्का मुक्की की गई।जिससे चौराहे पर अफरा तफरी के बीच पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर पुलिस लाईन ले गई।महानगर मीडिया प्रभारी सै०मो०अस्करी के अनुसार वरिष्ठ सपा व व्यापारी नेता विनोद चन्द्र द्वबे के आवास से सपाई दूकानो को बन्द कराते हुए सुभाष चौराहे पहोँचे जहाँ पहले से मौजूद पुलिस कर्मीयों ने सपाईयों को रोकने का प्रयास किया और जब सपाई आगे बढ़ते रहे तो पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए सै०इफ्तेखार हुसैन,पूर्व सांसद नागेन्द्र पटेल,पूर्व सांसद धर्मराज पटेल,विनोद चन्द्र द्वबे,कमल सिंह यादव,कृष्णमूर्ति सिंह यादव,महबूब उसमानी,के के श्रीवास्तव,चन्द्रशेखर तिवारी,राकेश यादव,निर्मला यादव,इन्दू यादव,निशा शुक्ला,मीना तिवारी,मशहद अली खाँ,मो०ज़ैद,संतलाल वर्मा,अंकित विश्वकर्मा आदि लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस लाइन भेज दिया गया।वहीं करछना के विधायक व पूर्वमंत्री कुंवर उज्जवल रमण सिंह को नैनी के फूलमंडी से हिरासत में लेकर पुलिस लाइन ले जाया गया।उनके साथ वरिष्ठ नेता शुएब खाँ,अल्पसंख्यक सभा के निर्वतमान ज़िलाध्यक्ष मो० इसराइल,किताब अली,वज़ीर खाँ,मोइन हबीबी,मो०अज़हर आदि नेताओं को भी गिरफ्तार किया गया।इलाहाबाद विश्वविधालय की पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष रिचा सिंह ने मुण्डेरा में किसानो को लेकर भारत बन्द पर विरोध स्वरुप सड़क पर उतर कर केन्द्र सरकार के खिलाफ आवाज़ बुलन्द की।भारत बन्द को लेकर समाजवादी पार्टी युवजन सभा के पूर्व ज़िलाध्यक्ष सन्दीप यादव,मुशीर अहमद,बलवन्त यादव,विकास यादव बालाजी,राजेश यादव,अरुण यादव,अमित यादव शीबू,सौरभ यादव रामा सहित अन्य सपा कार्यकर्ताओं ने प्रयाग स्टेशन पर बुंदेलखण्ड एक्सप्रेस को घन्टो रोके रखा और कृषि कानून को ले कर किसानो के प्रति समर्थन व्यक्त करते हुए मोदी और योगी सरकार पर जम कर हमला बोला।ट्रेन को रोकने की खबर लगते ही भारी पुलिस बल ने पहोँच कर सभी सपाईयों को गिरफ्तार कर लिया।फाफामऊ में समाजवादी पार्टी के पूर्व पार्षद व निर्वतमान महानगर उपाध्यक्ष महावीर यादव के साथ अन्य सपाईयो को दूकान बन्द करवाने निकलने पर गिरफ्तार कर थरवई थाना ले जा कर रखा गया। वही कीडगंज में मो०ग़ौस,रॉबिन लोहिया,राजेश यादव,श्यामू यादव,मंजू यादव आदि ने कीडगंज, कोठापार्चा,बहादुरगंज,हटिया आदि में सपाई झण्डे और और लाल टोपी पहन कर काला कानून वापिस लो का नारा बुलन्द करते हुए दूकानों को बन्द करवाया।कीडगंज पुलिस ने इन सभी को गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गई। करैली में पार्षद फज़ल खान,अकबरपुर,नूर उल्ला रोड में पार्षद अब्दुल समद,रौशन बाग़ में पार्षद रमीज़ अहसन ने सपाईयों के साथ घूम घूम कर दूकानदारों से दूकान बन्द रखने की अपील की। राममूरत यादव नाटे चौधरी,त्रिभूवन सिंह यादव,विक्रम पटेल,मो०आज़म,दिलीप यादव,रवि सिंह यादव,आशीष पाल,सुधीर निषाद,सुमित यादव आदि भी अन्य क्षेत्रों से गिरफ्तार किए गए।
नज़र बन्द रखने को रात भर पुलिस घर घर छानती रही सपाईयों को
अखिलेश यादव के आहृवान पर ७ दिसम्बर को किसान रैली में शहर सहित ग्रामीण इलाक़ों में जिस प्रकार सपाई गली कूचों से निकल कर विरोध जताते रहे इससे बौखलाई पुलिस ने रात भर सपाईयों को घरों में क़ैद रखने को गली गली की खाक छानी।सपा प्रवक्ता सै०मो०अस्करी के अनुसार खुफिया विभाग सहित तमाम क्षेत्रों की पुलिस ने सपाईयों को टटोलती रही के वह भारत बन्द के दौरान क्या करने वाले हैं। रात भर फोन घनघनाते रहे।सहालग के कारण ज़्यादातर लोग शादि विवाह मे गए हुए थे तो वहीं कुछ सपाईयों के घरों के बाहर पुलिस ने रात भर पहरा दिया।


1 लाइन और जोड़ देंं, प्रदर्शन बंदः भूपेश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीनों केन्द्रीय कृषि कानून को काला कानून बताया है। पूरे देश में अभूतपूर्व स्थिति पिछले दो सप्ताह से दिल्ली को घेरकर किसान बैठे हुए हैं। देश के सभी किसान संगठनों ने इस आंदोलन का समर्थन किया है।केंद्र ने बिना किसी से चर्चा कर कृषि कानून बनाया है। इसका खामियाजा आज किसानों को भुगतना पड़ रहा है।                   


5जी सेवाएं शुरू करने का विश्वास जताया

अंकित गोस्वामी


नई दिल्ली। अरबपति उद्योगपति मुकेश अंबानी ने अगले साल यानी 2021 की दूसरी छमाही में 5जी सेवाएं शुरू करने का संकेत दिया है। अंबानी ने मंगलवार को इंडिया मोबाइल कांग्रेस-2020 को संबोधित करते हुए कहा कि अत्यंत तेज गति की 5जी सेवाओं को तेजी से शुरू करने के लिए नीतिगत कदमों की जरूरत है। उन्होंने कहा कि नीतिगत कदमों से ही हम उचित दाम पर सभी को 5जी सेवाएं उपलब्ध करा पाएंगे। सम्मेलन का आयोजन मोबाइल सेवा प्रदाताओं के मंच (सीओएआई) ने दूरसंचार विभाग के साथ मिल कर किया है। अंबानी ने भारत को हार्डवेयर विनिर्माण केंद्र के रूप में भी विकसित करने की वकालत की। उन्होंने कहा कि इतने महत्वपूर्ण क्षेत्र में देश सिर्फ आयात पर निर्भर नहीं रह सकता। अंबानी का दूरसंचार उपक्रम जियो चार साल में पहले स्थान पर पहुंच गया है। जियो द्वारा वॉयस कॉलिंग मुफ्त दी जा रही हैं, साथ ही उसकी डेटा की दरें भी काफी कम है। 5जी पांचवीं पीढ़ी का मोबाइल नेटवर्क है, जो वर्चुअल तरीके से सभी को और सभी चीजों मसलन मशीनों, सामान और उपकरणों को जोड़ेगा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन ने कहा कि आज दुनिया में भारत सबसे बेहतर तरीके से ‘डिजिटल से जुड़ा’ देश है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा देश में 5जी नेटवर्क को तेजी से लगाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि उनकी कंपनी जियो देश में 5जी क्रांति की अगुवाई करेगी। उन्होंने कहा, ”मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि जियो 2021 की दूसरी छमाही में देश में 5जी क्रांति की अगुवाई करेगी।” उन्होंने कहा कि जियो का 5जी देश में विकसित नेटवर्क, हार्डवेयर और प्रौद्योगिकी उपकरणों पर टिका होगा। ”जियो की 5जी सेवाएं आपके प्रेरित करने वाले आत्मनिर्भर भारत के दृष्टकोण के अनुरूप होंगी।” अंबानी ने कहा कि देश में आज भी 30 करोड़ ग्राहक 2जी में ‘फंसे’ है और उन्हें स्मार्टफोन में लाने के लिए नीतिगत हस्तक्षेप की जरूरत है। स्मार्टफोन के जरिये ये ग्राहक भी डिजिटल लेनदेन में सक्षम हो सकेंगे। उन्होंने कहा, ”मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि 5जी से भारत न केवल चौथी औद्योगिक क्रांति का हिस्सा बनेगा, बल्कि वह इसकी अगुवाई भी करेगा।” अंबानी ने कहा कि भारत को सेबीकंडक्टर के विनिर्माण केंद्र के रूप में भी विकसित किया जा सकता है। अंबानी ने कहा, ”हम बड़े आयात पर निर्भर नहीं रह सकते।”उन्होंने कहा कि दुनिया की कई बड़ी कंपनियां भारत में विनिर्माण सुविधाएं लगा रही हैं। भारत ने चिप डिजाइन में विश्वस्तरीय क्षमता हासिल की है। उन्होंने कहा, ”मेरा मानना है कि भारत अत्याधुनिक सेमीकंडक्टर उद्योग का प्रमुख केंद्र बन सकता है। जब सभी अंशधारक मिलकर काम करेंगे तो भारत हार्डवेयर में भी सॉफ्टवेयर जैसी सफलता सुनिश्चित कर सकेगा।”           


दलित प्रेरणा स्थल पहुंचे किसान, ऐलान किया

ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेस-वे और नोएडा में दलित प्रेरणा स्थल पहुंचे किसान, दोपहर 2 बजे दिल्ली कूच का ऐलान 


विजय भाटी


गौतम बुध नगर। केंद्र सरकार के कानूनों के खिलाफ बुलाए गए भारत बंद (Bharat Band) को सफल बनाने के लिए किसान संगठन पूरी ताकत झोंक रहे हैं। दूसरी ओर गौतमबुद्ध नगर पुलिस हालात पर काबू बनाए रखने के लिए मुस्तैद है। ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेस-वे के जीरो पॉइंट पर भारतीय किसान यूनियन (Bhartiya Kisan Union) के कार्यकर्ता पहुंचे हैं। वहां पहले से बैरिकेड करके मौजूद पुलिस ने इन लोगों को रोक लिया। किसानों ने कहा कि वह दिल्ली जाना चाहते हैं। पुलिस ने बताया कि धारा 144 लगी है। वह लोग आगे नहीं बढ़ पाएंगे। इसके बाद किसान यूनियन के कार्यकर्ता सड़क पर ही धरना देकर बैठ गए हैं। पुलिस ने इन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। और सूरजपुर पुलिस लाइन ले जाया गया है। 


दूसरी ओर नोएडा में मंगलवार की सुबह किसान नेता सुखबीर पहलवान के नेतृत्व में किसान प्रदर्शन करने जा रहे थे। पुलिस ने इन लोगों को रोक लिया और गिरफ्तार करके पुलिस लाइन ले जाया गया है। दोपहर में भारतीय किसान यूनियन और दूसरे संगठनों के कार्यकर्ता दलित प्रेरणा स्थल के बाहर धरने पर बैठ गए। वहां पहले से ही भारी पुलिस फोर्स मौजूद है। इन लोगों ने घोषणा की है कि 2:00 बजे दिल्ली के लिए कूच करेंगे। चिल्ला रेगुलेटर के पास गौतमबुद्ध द्वार पर करीब 10 दिनों से धरना दे रहे भारतीय किसान यूनियन (भानू) ने भी ऐलान किया है कि 2:00 बजे दिल्ली के लिए कूच करेंगे। इन लोगों का कहना है कि दिल्ली जाकर राष्ट्रपति को ज्ञापन देंगे। दूसरी ओर पुलिस ने रास्तों पर बैरिकेडिंग कर रखी है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि किसानों को दिल्ली नहीं जाने दिया जाएगा। चिल्ला गेट और दलित प्रेरणा स्थल पर चल रहे धरने में बैठे किसानों को आगे नहीं बढ़ने दिया जाएगा।                                


पूर्व भारतीय क्रिकेटर का कोहली पर तंज

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग ने कप्तान विराट कोहली की टीम में लगातार बदलाव की आदत पर तंज कसा है। सहवाग ने कहा कि उन्हें लगता है कि सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में संजू सैमसन की जगह मनीष पांडे को मौका मिल सकता है। भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ञ्ज20ढ्ढ सीरीज पहले ही अपने नाम कर ली है। टीम ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त बना ली है। सीरीज का तीसरा और आखिरी मैच मंगलवार को खेला जाएगा। दूसरे टी20 इंटरनैशनल में भारत ने मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी और मयंक अग्रवाल जैसे खिलाडिय़ों को आराम दिया था। वहीं मनीष पांडे कोहली में तकलीफ के कारण नहीं खेल पाए थे। पांडे को वनडे सीरीज में मौका नहीं मिला था। इसके बाद पहले टी20 इंटरनैशनल में उन्होंने सिर्फ 2 रन बनाए। यह देखना दिलचस्प होगा कि आखिर उन्हें तीसरे टी20 इंटरनैशनल में मौका मिलेगा अथवा नहीं। वीरेंदर सहवाग को लगता है कि भारत को बिना किसी बदलाव के उतरना चाहिए।               


सपा, कांग्रेस व रालोद के नेता नजरबंद किए

गाजियाबाद में सपा, कांग्रेस और रालोद के सारे नेता हाउस अरेस्ट, शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस 


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। किसान आंदोलन के मद्देनजर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद सबसे संवेदनशील है। पिछले 2 सप्ताह से भारतीय किसान यूनियन (Bhartiya Kisan Union) के सैकड़ों कार्यकर्ता गाजियाबाद में दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर डेरा डालकर पड़े हुए हैं। दूसरी और मंगलवार को किसान संगठनों ने भारत बंद (Bharat Band) का आह्वान किया है। जिसके मद्देनजर पुलिस ने पहले से ही तैयारियां पूरी कर ली थीं। किसानों के इस बंद को समर्थन देने वाले समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और राष्ट्रीय लोक दल के तमाम नेताओं को सोमवार की रात ही हाउस अरेस्ट कर लिया था। गाजियाबाद शहर में चप्पे-चप्पे पर भारी फोर्स तैनात किया गया है। पुलिस और पीएसी के साथ रैपिड एक्शन फोर्स को भी लगाया गया है। जबरन बंद करवाने वालों और असामाजिक तत्वों से निपटने के लिए पुलिस ने कारगर उपाय किए हैं।


भारत बंद के मद्देनजर पुलिस-प्रशासन ने पूरी तैयारी कर रखी हैं। सोमवार की देर रात का गाजियाबाद पुलिस ने सबसे पहले समाजवादी पार्टी के नेताओं को हिरासत में लिया। सभी के घरों और दफ्तरों के बाहर फोर्स तैनात कर दिया गया है। सपा नेताओं को बताया गया है कि उन्हें कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए घरों में रेस्ट करके रखा जा रहा है। किसी को भी घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी जाएगी। जिले में धारा 144 लागू है। महामारी अधिनियम भी लागू है। लिहाजा, ऐसे में भीड़ एकत्र करना और आंदोलन करना गैरकानूनी है। सपा नेताओं के बाद देर रात पुलिस ने कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बिजेंद्र यादव को भी उनके घर में नजरबंद कर रखा है। उनके घर के बाहर देर रात से काफी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं। उन्हें भारत बंद के समर्थन में प्रदर्शन नहीं करने दिया गया। 


 कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बिजेंद्र यादव ने बताया कि रात करीब 12.30 बजे से पुलिस कर्मी घर के बाहर तैनात हैं। पुलिस अधिकारियों से फोन पर बात हुई। कोई कुछ साफ बताने को तैयार नहीं है। जिला कांग्रेस कमेटी ने पहले साहिबाबाद सब्जी मंडी पर कार्यकर्ताओं को एकत्रित होने के लिए कहा था। जब इस बारे में पुलिस को जानकारी मिली तो वहां भारी फ़ोर्स भेज दिया गया। इसके बाद कांग्रेस ने 10.30 बजे सभी को जिला कार्यालय पर एकत्रित होने को कहा। उन्होंने कहा कि पुलिस-प्रशासन कुछ भी कर ले, कांग्रेस इस काले कानून के विरोध में प्रदर्शन जरूर करेगी।


 रालोद नेताओं को पुलिस ने घर से बाहर नहीं निकलने दिया
 भारत बंद के लिए धरना-प्रदर्शन करने जा रहे राष्ट्रीय लोकदल के नेताओं को पुलिस ने घर से बाहर नहीं निकलने दिया। रालोद नेताओं के घर के बाहर पुलिस का पहरा है। रालोद के जिला अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी बॉबी के गोविंदपुरम आवास पर सुबह से ही पुलिसकर्मी तैनात हैं। सुबह बॉबी धरने में शामिल होने के लिए घर से निकले तो बाहर पुलिस ने उन्हें रोक दिया। पार्टी के महानगर अध्यक्ष रविंद्र चौहान को शास्त्री नगर स्थित उनके आवास पर रहने के लिए कहा गया है। उनके भी घर से बाहर निकलने पर पाबंदी लगाई है। उन्होंने पुलिस से सिर्फ शांतिपूर्वक धरना देने की बात कही, लेकिन पुलिसक अफसरों ने साफ इंकार कर दिया।


राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय प्रवक्ता इंदरजीत सिंह टीटू के घर के बाहर भी काफी संख्या में पुलिस तैनात है। रालोद नेताओं में पुलिस के खिलाफ नाराजगी है। जिला अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी का कहना है कि वह शांतिपूर्वक तरीके से कार्यकर्ताओं के साथ धरना-प्रदर्शन करने जा रहे थे। पुलिस ने जबरदस्ती करके घर के अंदर बंद कर दिया है। बाहर खुद बैठ गए हैं। यह पूरी तरह हमारे लोकतान्त्रिक अधिकारों का हनन है। केंद्र सरकार  करना चाहती है। उनकी आवाज नहीं सुनना चाहती है। जो विरोध कर रहे हैं, उन्हें कुचला जा रहा है।                                    


आंदोलन को खत्म करने के लिए कमर कसीं

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कृषि संशोधन कानून को लेकर पिछले 12 दिनों से हो रहे किसान आंदोलन को खत्म कराने के लिए अब अमित शाह ने कमर कसी है। गृहमंत्री अमित शाह ने 8 दिसंबर 2020 की शाम सात बजे किसान नेताओं के प्रतिनिधिमंडल को आमंत्रित किया है। किसान नेता राकेश टिकैत ने इसकी पुष्टि करते हुए जानकारी दी है कि वे शाम सात बजे किसानों के मुद्दों को लेकर अमित शाह से मुलाकात करेंगे। बता दें नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमा पर पिछले 12 दिनों से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया था। देश के अधिकतर राज्यों में बंद का मिला जुला असर देखने को मिला है।


केले की जड़ के फायदे जानकर होगी हैरानी

केले का सेवन करने से हमारे शरीर में बहुत सी बीमारी दूर हो जाती है यह मोटापे को बढ़ाता है और इसके साथ ही साथ ही बहुत सी बीमारी दूर कर देता है अभी तक तो आपने केले के फायदे के बारे में बहुत सी जगह पर सुना होगा, लेकिन आज अकेले की जड़ के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं तो आज आप बने रहिए हमारे साथ क्योंकि आज कुछ नया सीखने को मिलेगा। केले के जड़ में विटामिन ए, बी और सी, सेरोटोनिन, टैनिन, डोपामाइन आदि प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसलिए हम आपको बताने जा रहे हैं कि केले का जड़ कैसे हमारे और आपको स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हो सकता है और कौन-कौन सी बीमारियों से छुटकारा दिला सकता है।                    


21 जिलों में पंचायत समिति का चुनाव

जयपुर। राज्य निर्वाचन आयोग ने द्वारा प्रदेश के 21 जिलों में करवाए गए जिला परिषद तथा पंचायत समिति के चुनाव का मतदान पूरा हो चुका है। जिसके लिए आज मतगणना की जा रही है। जिसके बाद जिला प्रमुख व प्रधान का चुनाव 10 दिसंबर और उप जिला प्रमुख व उप प्रधान का चुनाव 11 दिसंबर को होगा। मतगणना में 21 जिलों में 636 जिला परिषद सदस्य और इन जिलों की 222 पंचायत समितियों के 4371 पंचायत समिति सदस्यों का फैसला होगा।               


महिला के साथ 2 युवकों ने किया दुष्कर्म

अल्मोड़ा। यहां नगर क्षेत्र में एक महिला के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। इस मामले में दो अभियुक्तों की गिरफ्तारी कर ली गई है। मिली जानकारी के अनुसार यहां धारानौला में एक किराए के आवास में रहने वाली 40 वर्षीय महिला के साथ घर में घुसकर दो युवकों ने तब दुष्कर्म किया जब वह घर पर अकेली थी। महिला का एक पुत्र 18 साल व एक 12 साल की पुत्री भी है। महिला का पति दिल्ली में नौकरी करता है। महिला ने दर्ज तहरीर में कहा है कि बीते 6 दिसंबर की रात करीब 8 बजे तीन युवक उसके घर में जबरन दाखिल हो गये और वापस चले गये। इसके बाद दो युवक फिर लौटे और रात करीब 11 बजे उन्होंने उसके साथ दुष्कर्म किया। सीओ वीर सिंह ने सीएनई को बताया कि इस मामले में दो युवकों की गिरफ्तारी कर ली गई है। महिला का मेडिकल कराया जा चुका है।             


अदा की नमाज प्रोटेक्शन में खड़े दिखे सिख

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं। एक के बाद एक विपक्षी दल किसानों के समर्थन में सामने आ रहे हैं। वहीं अब पंजाब और हरियाणा के किसानों के समर्थन में मुस्लिम पक्ष भी जुड़ गया है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। जिसमें किसान आंदोलन के समर्थन में उतरे मुस्लिम समुदाय के लोग सड़क पर नमाज पढ़ रहे हैं और सिख समुदाय के लोग उनके साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं।                 


एसिडिटी बीमारी से अब मिलेगा छुटकारा

एसिडिटी होना एक गंभीर समस्या है। जिसके चलते अपच और कई अन्य तकलीफे होने लगती है। कई बार ये गैस सिर में चढ़ जाती है। जिसके चलते दर्द की समस्या होने लगते है और कई बार छाती या शरीर के अन्य हिस्सों में पहुंच जाती है। जिसके चलते दर्द या अकड़न की समस्या होने लगाती है, इसलिए आज हम आपके साथ शेयर करने जा रहे है इससे निपटने के कुछ कारगार उपाय, तो देर किस बात की है आइये जानते है इन उपायों के बारे में


जीरा और अजवाइन है प्रभावी


अजवाइन की तासीर गर्म होती है लेकिन जीरा महादिल होता है। यानी शरीर और रोग की प्रकृति देखते हुए प्रतिक्रिया करनेवाला फूड। एसिडिटी या पेट में जलन होने पर एक-एक चम्मच जीरा और अजवाइन लेकर इन्हें तवे पर भून लें। जब ये दोनों ठंडे हो जाएं तो इनकी आधी मात्रा लेकर चीनी के साथ खा लें। आधे बचे हुए तैयार मिश्रण को अगले समय के भोजन के बाद ले लें।               


दो से अधिक संतान वालों को राहत मिली

जयपुर। कैबिनेट बैठक में राजस्थान सिविल सेवा (पुनरीक्षित वेतन) नियम 2017 में संशोधन कर राज्य सरकार के कार्मिकों की 1 जून, 2002 के बाद संतानों की संख्या दो अधिक होने पर 3 वर्ष के लिए एसीपी रोकी जाकर आगामी एसीपी में उसके पारिणामिक प्रभाव को समाप्त करने का निर्णय भी लिया गया। राजस्थान सिविल सेवा (पुनरीक्षित वेतन) नियमों में संशोधन कर वरिष्ठ उपाध्याय स्कूल, संस्कृत शिक्षा विभाग के प्रधानाचार्य को शिक्षा विभाग के सीनियर सैकंडरी स्कूल के प्रधानाचार्य के समकक्ष वेतनमान देने को मंजूरी दी है। अब प्रधानाचार्य, वरिष्ठ उपाध्याय स्कूल, संस्कृत शिक्षा विभाग को दिनांक 01.07.2013 से 31.12.2015 तक काल्पनिक आधार पर ग्रेड-पे 6000 से बढ़ाकर 6600 तथा 01.01.2016 से सातवें वेतन आयोग की पे-मैट्रिक्स में एल-15 से बढ़ाकर एल-16 के अनुसार दिया जाएगा।वास्तविक भुगतान अधिसूचना की दिनांक से देय होगा।               


बिहार: 'भारत बंद' के कारण परिक्षाएं रद्द

अविनाश श्रीवास्तव


पटना। भारत बंद के कारण बिहार में होने वाली कई परीक्षा को रद्द कर दिया गया है। इसको लेकर अब नई तारीख की घोषणा कर दी गई है। डीएलएड प्रथम सत्र की परीक्षा आज होने वाली थी, लेकिन भारत बंद की वजह से 15 दिसंबर को होगी। इसको लेकर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने सभी डीएम और डीईओ को पत्र जारी कर इसकी सूचना दी है।             


'भारत बंद' में सड़क पर नहीं उतरेंगे तेजस्वी

अविनाश श्रीवास्तव


पटना। कृषि कानून के खिलाफ बुलाई गई भारत बंद के समर्थन में बिहार में पूरा विपक्ष सड़क पर उतर गया है। राजद, कांग्रेस और वामपंथी दलों समेत विभिन्न संगठनों ने भारत बंद को समर्थन दिया है और इसे सफल बनाने को लेकर जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे हैं। बिहार के विभिन्न जिलों में बंद समर्थकों ने ट्रेनों को रोक दिया। बंद समर्थक सड़क पर टायर जलाते हुए सड़क जाम कर दिया। पटना ,मुजफ्फरपुर,हाजीपुर समेत अन्य जगहों पर बंद समर्थकों ने उग्र प्रदर्शन किया है।राजधानी पटना में भी डाकबंगला चौराहे पर तमाम विपक्षी दल के नेता मौजूद हैं। हालांकि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की गौरमौजूदगी से सारे विपक्षी नेता आश्चर्यचकित हैं।               


बिहार में कार्यकर्ताओं ने मचाया उत्पात

अविनाश श्रीवास्तव


पटना। किसान बिल के विरोध में किसानों द्वारा बुलाई गई भारत बंद को सफल बनाने के लिए पटना विश्वविद्यालय के छात्र इकाइयां भी सड़क पर उतर गई है। कांग्रेस की छात्र इकाई और पप्पू यादव की पार्टी जाप की छात्र इकाई सड़कों पर टायर जलाकर भारत बंद को सफल बनाने का प्रयास कर रहे हैं। इसी बीच अशोक राजपथ से गुजर रही एक प्रशासनिक महिला अधिकारी के गाड़ी के ऊपर भी छात्र ने उत्पात मचाते हुए विरोध प्रदर्शन किया।               


किसानों का साथ देने का आह्वानः कांग्रेस

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी और पार्टी के कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों द्वारा आहूत ‘भारत बंद’ के बीच मंगलवार को लोगों का आह्वान किया कि वे किसानों का साथ दें और उनके संघर्ष को सफल बनाएं।


सरकारः किसानों की कमर तोड़ने का काम

नई दिल्ली। पिछले 2 हफ्ते से दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के आह्वान पर मंगलवार को भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले सैकड़ों किसान उत्तराखंड उत्तर प्रदेश हाईवे पर भुराहेड़ी बॉर्डर पर जाम लगा कर अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं। इस मौके पर भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश महासचिव व पुरकाजी चेयरमैन जहीर फारुकी एडवोकेट ने कहा की इस समय सरकार ने तीन अध्यादेश लाकर कर किसानों की कमर तोड़ने का काम किया है। जिसको किसान बिरादरी कभी स्वीकार नहीं करेगी वही मण्डल मसचिव प्रधान नवीन राठी ने कहा कि इस सरकार किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था। लेकिन यह सरकार किसान विरोधी साबित हुई और हर मोर्चे पर विफल रही वही भाकियू ब्लॉक अध्यक्ष मांगेराम त्यागी ने कहा कि यह लड़ाई किसानों के मान सम्मान की लड़ाई है। जब तक किसानों का सम्मान वह तीनों बिल वापस नहीं होंगे तब तक किसान आंदोलन करता रहेगा इस मौके पर राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश उपाध्यक्ष धर्मेंद्र राठी ने कहा के राष्ट्रीय लोक दल हमेशा किसानों के साथ खड़ी रही है और आगे भी खड़ी रहेगी इस मौके पर बाबर प्रधान खोजा नगला मुरसलीन जिला उपाध्यक्ष बिट्टू राठी कपिल राठी  भारतीय किसान यूनियन के  नगर अध्यक्ष सुलेमान सभासद भारतीय ब्लॉक उपाध्यक्ष रियासत खलीफा ग्राम अध्यक्ष छपार मोहम्मद शहजाद ब्लॉक मीडिया प्रभारी मोहम्मद फरमान ब्लॉक महामंत्री मोनू पवार शाहनवाज खान जिला सचिव हरिओम त्यागी मनीष प्रधान अनवार प्रधान जान मोहम्मद सोनू कामिल तस्लीम आदि लोग मौजूद रहे।                 


संगठनों ने जाम करने की तैयारी शुरू की

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ मंगलवार को ‘भारत बंद’ का आह्वान करने वाले किसान संगठनों ने प्रमुख मार्ग और ‘टोल प्लाजा’ जाम करने की तैयारी शुरू कर दी है। अखिल भारतीय किसान सभा (एआईकेएस) के महासचिव हन्नान मोल्ला ने कहा कि ‘भारत बंद’ किसानों की ताकत दिखाने का एक जरिया है और उनकी जायज मांगों को देशभर के लोगों का समर्थन मिला है।             


दिल्ली सीएम को पुलिस ने नजरबंद किया

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने मंगलवार को आरोप लगाया कि सिंघू बॉर्डर पर केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों से मिलने के बाद से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दिल्ली पुलिस ने नजरबंद कर दिया है। हालांकि पुलिस ने पार्टी के दावों को खारिज किया है। केजरीवाल ने सिंघू बॉडर्र पर प्रदर्शन कर रहे किसानों से सोमवार को मुलाकात की थी। आप के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने एक संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि दिल्ली पुलिस ने केजरीवाल को नजरबंद कर दिया है।                         


मुठभेड़ के बाद 3 कुख्यात गिरफ्तार किए

एलबी कुर्मी


बरेली। यूपी के जनपद बरेली में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद बरेली और पुलिस अधीक्षक ग्रमीण व क्षेत्राधिकारी तहसील बहेड़ी में अधिकारियों के कुशल नेतृत्व में कुख्यात अपराधियों के विरुद्ध चलाये गये अभियान के तहत थाना शेरगड़ की पुलिस ने बैरमनगर गौटिया के पास बंद सुदा मुर्गीफार्म के पास मुठभेड़ के दौरान तीनों अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया ।


तीनों ने एक सुर में अपनी चोरी को कबूल किया है और चोरी द्वारा लूट में पास के गाँव रमपुरा के कोल्हू पर रात में दो लोगों की कनपटी पर तमंचा दिखाकर मोबाइल फोन छीने और इस वारदात को अंजाम देने के बाद पास के गाँव सलपुरा में एक खेत में मधुमक्खी पालन पर दो लोगों के मोबाइल फोन और छीने । इनके पास असलहा नाजायज और चोरी किये गये चार मोबाइल फोन पाये गये।


जो कि धर्मपुरा गाँव थाना-शीशगड़ के निवासी हैं, इनके पास असलहा में एक नाल की 12 बोर की बंदूक नाजायज अथवा दो 12 बोर के तमंचा नाजायज तथा एक 315 बोर का नाजायज तमंचा व 2 जिन्दा कारतूस 12 बोर और एक जिन्दा कारतूस 15 बोर बरामद किये गये हैं ।


जिसमें एक अपराधी कामिल पर एक दर्जन से अधिक मुकदमें दर्ज हैं ।जो कि थाना शीशगड़ में दर्ज हैं ।अप० जनपद बरेली का हिस्ट्रीशीटर है । थाना शेरगड़ की पुलिस ने थानाध्यक्ष श्री अशवनी कुमार के कुशल नेतृत्व में कानून-व्यवस्था के अन्तर्गतअपराधी (1).कामिल शेख पुत्र भूरा शेख निवासी धर्मपुरा
(2).अली रजा खाँ पुत्र नबी रजा खाँ निवासी धर्मपुरा
(3).बाबू खाँ पुत्र युसूफ़ खाँ निवासी धर्मपुरा


तीनों अपराधी शातिर किस्म के हैं ।जिनमें अपराधी कामिल पर थाना शीशगड़ में आई०पी०सी० की तमाम धारायें (धारा 363 , 366 , 376 , 380 , 307 ,, 457 ,, 480) दर्ज हैं ।
थाना शेरगड़ की पुलिस ने तीनों अपराधियों पर आपराधिक घटनाओं के तहत कड़ी कार्रवाई की जा रही है ।                                      


कानून हाथ में लेने पर होगी कार्रवाईः योगी

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज चेतावनी दी कि बंद के दौरान अगर कोई कानून व्यवस्था हाथ में लेता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी। किसानों के भारत बंद को देखते हुए योगी फील्ड में तैनात पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए निर्देश दे रहे थे।मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के साथ दुर्व्यवहार नहीं होना चाहिए लेकिन फिर भी कोई कानून का उल्लंघन करता है तो उसके साथ सख्ती से पेश आया जाए। शान्ति व्यवस्था बनाए रखना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। बंद के दौरान आम जन को किसी भी तरह की असुविधा न हो, इसके पुख्ता इंतजाम किए जायें। सड़क मार्ग, रेल मार्ग व अन्य यातायात पर कोई असर नहीं पड़ना चाहिए।                 


आधे रेट पर आ गई मुर्गियां, अंडे भी सस्ते

नई दिल्ली। “पोल्ट्री फार्म मालिक भी किसान हैं। हम अंडा उत्पादन करते हैं। लेकिन हमे कोई सुविधा नहीं दी जाती है। हमारे अंडे का तो एमएसपी (MSP) भी निर्धारित नहीं है। हमारे पोल्ट्री के लिए बिजली भी कॉमर्शियल रेट पर मिलती है। फिर भी हम इस किसान आंदोलन  में किसानों के साथ हैं। तो क्या हुआ जो हम कुछ दिन तक बाज़ार में अंडा नहीं बेचेंगे। साथ ही एक आम आदमी की हैसियत से भी हम इस बिल के खिलाफ हैं।” यह कहना है पोल्ट्री फार्म हाउस के मालिक और यूपी पोल्ट्री फार्म एसोसिएशन के अध्यक्ष नवाब अली का, आधे रेट पर बिक रही हैं मुर्गियां-अध्यक्ष नवाब अली ने बताया कि किसान आंदोलन के चलते पोल्ट्री फार्म वाले भी थोड़ा संभलकर माल यहां-वहां भेज रहे हैं। ग्राहक भी कम ही आ रहा है। ग्राहक को भी पता है कि पोल्ट्री वाले खुद भी किसान हैं और आंदोलन में किसानों का समर्थन कर रहे हैं। इसलिए माल की उतनी सप्लाई नहीं हो पा रही है जितनी पहले जा रही थी।यही वजह है कि जो मुर्गी आंदोलन से पहले तक 80 रुपये किलो जा रही थी, वही अब 40 रुपये किलो पर आ गई है।


लेकिन हमे इसकी परवाह नहीं है। हम अपनी आने वाली पीढ़ी की जिंदगी को देख रहे हैं। किसानों के भविष्य के बारे में सोच रहे हैं। सस्ती तो छोड़िए, अगर हमें मुर्गियां और अंडे घर में भी रखने पड़े तो भी हम आंदोलन से पीछे नहीं हटेंगे।
आंदोलन के चलते लगातार कम हो रहे हैं अंडों के दाम-किसान आंदोलन के चलते अंडों के दाम भी कम होना शुरु हो गए हैं। मान्या ट्रेडर्स के राजेश राजपूत बताते हैं कि आंदोलन के 6-7 दिन तक तो सब कुछ ठीक-ठाक चला।  2 दिसम्बर को थोक में 100 अंडों के दाम 463 रुपये थे। यह वो वक्त था जब हर रोज़ अंडे पर 5 से 8 रुपये तक कम-ज़्यादा हो रहे थे।लेकिन 2 तारीख के बाद से तो अंडे के दाम जो गिरना शुरु हुए तो अभी तक गिर ही रहे हैं। 7 दिसम्बर को बाज़ार में अंडा 420 रुपये प्रति सैकड़ा तक बिका। जबकि 6 दिसम्बर को यह रेट 423 रुपये थे।              


प्रभावः भारत बंद से यूपी-बिहार में सख्ती

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा संसद में पारित किए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज देशभर के किसानों ने भारत बंद का आह्वान किया है। किसानों ने सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे तक यानी चार घंटे का सांकेतिक बंद बुलाया था लेकिन इसका असर सुबह आठ बजे से ही दिखने लगा। तमाम राजनीतिक दलों ने सुबह आठ बजे से ही बंद के तहत विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। बंद को देश के सभी विपक्षी दलों ने अपना समर्थन दिया है। इसके अलावा किसान यूनियनें भी किसानों के साथ हैं। किसानों की मांग है कि सरकार इन कानूनों को वापस ले। वहीं बंद के अंतर्गत पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और ओडिशा में ट्रेनों को रोका गया। इसके कारण कई जगहों पर आवाजाही प्रभावित है।                 


संगठनों ने 'भारत बंद' रखने की अपील की

पुणे। केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे मंगलवार को एक दिन के अनशन पर बैठ गए। प्रदर्शन कर रहे किसान संगठनों ने मंगलवार को ‘भारत बंद’ रखने की अपील भी की है। हजारे ने कहा कि देश में आंदोलन होना चाहिए ताकि सरकार पर दबाव बने और वह किसानों के हित में कदम उठाए।             


देश में मामलों की संख्या-97 लाख पार हुई

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। भारत में 24 घंटे में करीब पांच महीने बाद मंगलवार को कोविड-19 के 27 हजार से कम नए मामले सामने आए। इसके साथ देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 97 लाख के पार चले गए, जिनमें से 91.78 लाख से अधिक लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, कोविड-19 के 26,567 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 97,03,770 हो गए। वहीं 385 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,40,958 हो गई।             


पीएम ने मोबाइल कांग्रेस का किया उद्घाटन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को तीन दिवसीय इंडिया मोबाइल कांग्रेस का उद्घाटन किया और निवेशकों को भारत में तेजी से बढ़ते दूरसंचार प्रौद्योगिकी एवं सेवा क्षेत्र में उभरती संभावनाओं की और आकर्षित किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि मोबाइल तकनीक के इस्तेमाल से विभिन्न कार्यों में पारदर्शिता को बढ़ावा मिला है। प्रधानमंत्री ने दूरसंचार क्षेत्र से जुड़े देश विदेश के उद्योगपतियों और निवेशकों को संबोधित करते हुये कहा कि भारत में आज एक अरब से अधिक मोबाइल फोन इस्तेमाल करने वाले लोग हैं और भारत इस क्षेत्र में दुनिया का बड़ा केन्द्र बनता जा रहा है। मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडिया मोबाइल कांग्रेस में कहा, भारत में मोबाइल दरें सबसे कम। हमारा देश सबसे तेजी से बढ़ता ऐप बाजार बन रहा है।                 


कानून-व्यवस्था बनाए रखने के इंतजाम किएंं

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। केन्द्र के नए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान संगठनों द्वारा मंगलवार को आहूत ‘भारत बंद’ के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने सभी सीमाओं पर सुरक्षा कड़ी कर दी और शहर में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के पूरे इंतजाम किए हैं। किसान नेताओं ने कहा था कि ‘भारत बंद’ के दौरान आपातकालीन सेवाओं को छूट दी जाएगी। प्रदर्शन कर रहे किसान पूर्वाह्र 11 बजे से अपराह्न तीन बजे के बीच टोल प्लाजाओं को बंद कर देंगे। पुलिस के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में, खासकर सीमावर्ती इलाकों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।                           


किसान आंदोलन ने खट्टर के हाथ-पांव फूलाए

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और उनकी माता नैना चौटाला को छोड़कर बाकि 7 विधायकों ने किसान आन्दोलन का समर्थन किया है। 

राणा ओबरॉय


करनाल। किसानों के भारत बंद आह्वाहन के बाद सरकार की विपक्षी पार्टियां भी उग्र तेवर में हैं। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने भारत बंद के ठिक एक दिन पहले खट्टर सरकार को विधान सभा में आने की ललकार लगाई है। उन्होंने राज्यपाल को ई-मेल के जरिए पत्र भेजकर विधानसभा का आपात कालीन सत्र बुलाने की मांग की है।


कृषि बिल 2020 के खिलाफ चल रहे ऐतिहासिक किसान आन्दोलन अंतर्राष्ट्रीय बन चुका है। 36 ब्रिटिश सांसदों और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टीन ट्रूडो ने भी किसान आन्दोलन का समर्थन किया है। सरकार ने कई बार किसानों के साथ बैठक की लेकिन बेनतीजा रहा। किसानों का मानना है कि कृषि बिल 2020 एक काला कानून है जैसा कि ईस्ट इंडिया कम्पनी का था। कुछ वरिष्ठ पत्रकारों का भी मानना है कि ऐसा कानून गरीब- मझोले किसानों बड़ी ही बेदर्दी से कूचल देगा। भारी जन दबाव को देखते हुए कांग्रेस और अन्य विपक्षी पार्टियों ने किसान आन्दोलन और भारत बंद का समर्थन किया है। 


भारी जनआक्रोश और किसानों के गुस्से को देखते हुए हरियाणा केपूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्यपाल को पत्र में लिखा है कि राजनीतिक अस्थिरता और सरकार के प्रति अविश्वास को देखते हुए विशेष सत्र जरूरी है। श्री हुड्डा ने कहा कि इन असाधारण परिस्थितियों में राज्यपाल अपनी संवैधानिक जिम्मेदारियों का निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार जनता और विधायकों का विश्वास खो चुकी है। इसलिए कांग्रेस पार्टी  हरियाणा सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाना चाहती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का अन्नदाता दिल्ली बॉर्डर पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहा है, लेकिन सरकार ने आंदोलन को दबाने के लिए अलोकतांत्रिक तरीके अपनाएं। हुड्डा ने कहा कि किसानों को एमएसपी की गारंटी और एमएसपी से कम पर खरीद करने वालों को सजा का प्रावधान जरूरी है।


कृषि बिल जब संसद में पेश किया गया तभी से हरियाणा और पंजाब में किसान आंदोलन कर रहे है। किसानों के इस आक्रोश को दबाने के लिए हरियाणा सरकार किसानों को देशद्रोही बनाने पर तुल गयी। सरकार के दमनकारी योजनाओं की भनक जब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुंची तो ,काफी केन्द्र सरकार और हरियाणा सरकार की काफी आलोचना हुयी। कनाडा ने साफ कहा है कि भारत के किसान आंदोलन का जल्द से जल्द समाधान नहीं निकला गया तो, विश्व को इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।


इसी कड़ी मे हरियाणा की राजनीति चरम पर आ गयी। सत्ता पक्ष के विधायकों ने भी कई बार सरकार को सचेत किया कि किसान के साथ बैठ कर मुद्दे को सुलझा लेना बेहतर होगा। लेकिन खट्टर सरकार पर इसका कोई असर नहीं हुआ। सूत्रों के अनुसार सरकार के भीतर विधायक नाराज चल रहे हैं। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और उनकी माता नैना चौटाला को छोड़कर बाकि 7 विधायकों ने किसान आन्दोलन का समर्थन किया है। जजपा के 10 विधायकों में से 5 विधायक पहले ही किसानों को अपना समर्थन दे चुके हैं। किसानों को समर्थन देने वाले नारनौंद से विधायक राम कुमार गौतम, बरवाला से जोगीराम सिहाग, जुलाना से अमरजीत ढांडा, गुहला-चीका से ईश्वर सिंह व पांचवे विधायक नरवाना से रामनिवास सुरजखेड़ा हैं।  रामनिवास सुरजखेड़ा ने कहा है कि वे किसानों की आवज बुलंद करने के लिए जल्द ही दिल्ली पहुंचेगे और विधायक के पद से इस्तीफा देंगें। विधायकों की नाराजगी से विपक्ष को मौका मिल गया और हुड्डा ने राज्यपाल से खट्टर सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के लिए विधान सभा सत्र बुलाने की मांग कर दी।                         


बारातियों से भरी पिकअप पलटी, 4 की मौत

महेंद्र कुमार साहू


अंबिकापुर। सरगुजा के धौलपुर थाना अंतर्गत बीती रात बारातियों से भरी एक पिकअप अनियंत्रित होकर दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई। वहीं कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें इलाज के लिएअम्बिकपुर मेडिकल अस्पताल मे उपचार जारी है।


मिली जानकारी के मुताबिक, बरडीह के ग्रामीण शादी समारोह में एक पिकअप में सवार होकर सेमरडीह गए थे। बारातियों से भरी पिकअप लौटते वक़्त बरडीह के पास बाइक सवार को बचाने के कारण अनियंत्रित होकर पलट गई। घटना के दौरान कुल 4 लोगों की मौत हो गई। जिसमें 2 पुरुष 1 बच्चा और 1 लड़की शामिल हैं। आपको बता दें पिकअप में कुल 11 लोग सवार थे। पिकअप गांव के ही रुद्रनारायण चला रहे थे। घायलों को अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रात करीब 2 बजे भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा हैं साथ ही जिन्हें मामूली चोट लगी है उन्हें दौरपुर अस्पताल में इलाज के लिए रेफेर कर दिया गया है।                        


अभिनेत्री कृति सेनन हुईं वायरस पॉजिटिव

कविता गर्ग


मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री कृति सेनन के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर है। बताया जा रहा है कि कृति सेनन राजकुमार राव के साथ अपनी आने वाली फिल्म की शूटिंग कर रही थी। इस दौरान उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। हाल ही में कृति सेनन ने फ्लाइट की एक तस्वीर शेयर की थी, जिसमें उन्होंने बताया था कि वो चंडीगढ़ में अपने शेड्यूल को पूरा करने के बाद घर लौट रही है।


इस खबर के आने के बाद से ही कृति के फैंस उनके जल्द ठीक होने के लिए दुआएं कर रहे हैं। इसके साथ ही आपको बता दें कि हाल ही में वरुण धवन, नीतू कपूर, मनीष पॉल और निर्देशक राज मेहता ने कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। ये सारे कलाकार वे चंडीगढ़ में ‘जुग जुग जेयो’ की शूटिंग कर रहे थे।


अनिल कपूर और कियारा आडवाणी भी फिल्म जुग जुग जियो का हिस्सा हैं। अनिल कपूर मुंबई लौट आए थे और बयान जारी कर कहा, “आराम करने के लिए किसी भी तरह की अफवाहें डालने के हित में, COVID-19 टेस्ट निगेटव रहा। आपकी चिंता और शुभकामनाओं के लिए आप सभी का धन्यवाद।”                                          


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

दिसंबर 09, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-114 (साल-02)
2. बुधवार, दिसंबर 09, 2020
3. शक-1983, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-दसवीं, विक्रमी संवत 2077।


4. प्रातः 07:03, सूर्यास्त 05:15।


5. न्‍यूनतम तापमान 09+ डी.सै., अधिकतम-20+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेंगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +91935030275                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)                                 


यौन शोषण के केस में 20 साल कैद की सजा सुनाईं

हैदराबाद। तेलांगना में बच्चे के यौन शोषण के मामले में एक महिला को 20 साल कैद की सजा सुनाई गई है। 27 साल की इस युवती को बच्‍चे का यौन शोषण कर...