मंगलवार, 6 जुलाई 2021

तेहरान में हमलें के लिए इजराइल को जिम्मेदार बताया

तेहरान। ईरान ने जून में तेहरान के निकट असैन्य परमाणु केन्द्र को नुकसान पहुंचाने के इरादे से किये गए हमले के लिये इजराइल को जिम्मेदार बताया है। आधिकारिक समाचार एजेंसी ‘इरना’ की खबर में यह जानकारी दी गई है। खबर के अनुसार, ईरान के मंत्रिमंडल के प्रवक्ता अली राबेई ने कहा कि यह कथित हमला ईरान के परमाणु करार को लेकर वैश्विक शक्तियों के साथ वियना में चल रही वार्ता को पटरी से उतारने के लिये किया गया था। इरना ने राबेई के हवाले से कहा, कि ऐसी कार्रवाई से ईरान केवल मजबूत होगा। राबेई ने कहा, ”यहूदी शासन यह दर्शाने के लिये ऐसी हरकतें कर रहा है कि वह ईरान को रोक सकता है और ईरान के साथ वार्ता की कोई जरूरत नहीं है। लेकिन, जब भी कभी नुकसान पहुंचाने के इरादे से कोई हमला किया गया, तब हमारी ताकत और बढ़ गई।”

इरना ने राबेई के हवाले से कहा कि ऐसी कार्रवाई से ईरान केवल मजबूत होगा। राबेई ने कहा, ”यहूदी शासन यह दर्शाने के लिये ऐसी हरकतें कर रहा है कि वह ईरान को रोक सकता है और ईरान के साथ वार्ता की कोई जरूरत नहीं है। लेकिन, जब भी कभी नुकसान पहुंचाने के इरादे से कोई हमला किया गया। तब हमारी ताकत और बढ़ गई।”


इम्युनिटी बूस्टर सभी के लिये पूर्णतय सुरक्षित-उत्तम

गोपीचंद            
बागपत। कल्याण भारती सेवा संस्थान बड़ौत के कार्यकर्ताओं ने तहसील के समस्त कर्मचारी स्टाफ (150) के उत्तम स्वास्थ्य की कामना करते हुये होम्योपैथीक इम्युनिटी बूस्टर सह्रदय भेट किये। इसके साथ ही सेवा कार्यक्रम की जानकारी देते हुये संस्थान के प्रबन्ध निदेशक गोपी चन्द सैनी ने कहा कि कोरोना काल के चलते संस्थान का यह कार्यक्रम आम जन की स्वस्थ रक्षा हेतु जन हित में एक छोटा-सा प्रयास हैं। जिसको कल्याण भारती सेवा संस्थान बड़ौत और क्योर फाउंडेशन मेरठ संयुक्त रूप से चला रहे हैं। 
यह होम्योपैथीक इम्युनिटी बूस्टर हर उम्र हर वर्ग के लिये पूर्णतय सुरक्षित व उत्तम परिणाम देने वाला हैं। कोई भी इच्छुक व्यक्ति संस्थान की इस सेवा का निःशुल्क लाभ ले सकता हैं। इसको एक माह में सिर्फ तीन दिन ही रेगुलर सेवन करना होता हैं। यह एक चूसने वाली टेबलेट हैं। इसको पानी से भी लेने की आवस्यकता नही हैं। इस अवसर पर संस्थान के सहयोगी सदस्य सुनील चौहान, राजीव कुमार, रणजीत फौजी और मनोज जैन उपस्थित रहें।

महामारी के खिलाफ लड़ाई, उपकरणों की आपूर्ति की

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को कहा कि ‘दुनिया की फार्मेसी’ के रूप में भारत ने अनेक देशों को कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में आवश्यक दवाओं एवं उपकरणों की आपूर्ति कर सहयोग दिया। राष्ट्रपति ने एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि ‘हमारा सामूहिक स्वास्थ्य एवं आर्थिक बेहतरी’ सुनिश्चित करने के लिये भारत कोविड महामारी के खिलाफ समन्वित एवं निर्णायक प्रयासों में आगे रहा है।राष्ट्रपति भवन के बयान के अनुसार इस अवसर पर डिजिटल माध्यम से आयोजित समारोह में राष्ट्रपति ने कोलंबिया, जमैका, उरूग्वे और आर्मेनिया के राजदूत/उच्चायुक्तों का परिचय पत्र स्वीकार किया। राष्ट्रपति कोविंद को परिचय पत्र पेश करने वालों में कोलंबिया मारियाना पोचेको मोंटेस, उरूग्वे के राजदूत अल्बेर्टो एंटोनियो गुयानी अमारिला, जमैका के उच्चायुक्त जेसन कीट्स मैथ्यू हाल तथा आर्मेनिया के राजदूत योउरी बाबाख्यान शामिल हैं। 

इसमें कहा गया है कि इस अवसर पर राष्ट्रपति कोविंद ने सभी राजदूत/उच्चायुक्त को शुभकामनाएं दी। राष्ट्रपति ने कहा कि भारत का इन सभी देशों के साथ मित्रवत संबंध हैं और ”हमारे रिश्ते शांति एवं समृद्धि की साझी सोच पर आधारित हैं।”

सीएम अमरिंदर ने अध्यक्ष सोनिया से मुलाकात की

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। कांग्रेस की पंजाब इकाई में कलह को दूर करने के लिए चल रहे प्रयासों के बीच मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। माना जा रहा है कि सोनिया गांधी और अमरिंदर की मुलाकात के दौरान पंजाब प्रदेश कांग्रेस में कलह को दूर करने के फार्मूले पर चर्चा हुई है।प्रदेश कांग्रेस में यह संकट आरंभ होने के बाद अमरिंदर सिंह की कांग्रेस अलाकमान के साथ यह पहली मुलाकात है। 

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि पार्टी आलाकमान मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू दोनों के लिए सम्मानजनक स्थिति वाले फार्मूले से पंजाब में पार्टी की कलह को दूर करने और कुछ महीने बाद होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी को एकजुट करने की कोशिश कर रहा है। पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने गत बुधवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी के साथ लंबी बैठक की थी।

सेंसेक्स में सत्रों से जारी तेजी पर विराम लगा: मुंबई

कविता गर्ग              

मुंबई। सेंसेक्स बाजार में पिछले दो कारोबारी सत्रों से जारी तेजी पर मंगलवार को विराम लगा और दोनों मानक सूचकांक बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी मामूली गिरावट के साथ बंद हुए। किसी सकारात्मक संकेत के अभाव में रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटी और वाहन शेयरों में मुनाफावसूली से बाजार में गिरावट आयी। कारोबारियों के अनुसार रुपये की विनिमय दर में गिरावट और कमजोर वैश्विक रुख से भी घरेलू बाजार पर प्रतिकूल असर पड़ा। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स में शुरूआत सकारात्मक रही और कारोबार बढ़ने के साथ बाजार में तेजी रही। लेकिन कारोबार समाप्त होने से पहले बिकवाली से सेंसेक्स 18.82 अंक यानी 0.04 प्रतिशत की गिरावट के साथ 52,861.18 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 16.10 अंक यानी 0.1 प्रतिशत टूटकर 15,818.25 अंक पर बंद हुआ। 

सेंसेक्स के शेयरों में 2.30 प्रतिशत की गिरावट के साथ सर्वाधिक नुकसान में टेक महिंद्रा का शेयर रहा। इसके अलावा टीसीएस, मारुति, रिलायंस इंडस्ट्रीज, सन फार्मा, इन्फोसिस और महिंद्रा एंड महिंद्रा में भी गिरावट दर्ज की गयी। दूसरी तरफ, अल्ट्राटेक सीमेंट, एचडीएफसी बैंक, बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, कोटक बैंक और इंडसइंड बैंक समेत अन्य शेयर लाभ में रहे। इनमें 3.22 प्रतिशत तक की तेजी आयी। सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 11 लाभ में जबकि 19 नुकसान में रहे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ”भारतीय बाजार में तेजी वित्तीय शेयरों की अगुवाई में हुई है।

हक अधिकार की लड़ाई, आजादी के लिए शपथ दिलाई

सत्येंद्र पंवार               
मेरठ। गौतम को बहुजन मुक्ति पार्टी के पिछोर विधानसभा अध्यक्ष के पद पर मनोनीत कर भारतीय संविधान बहुत जनों की हक अधिकार की लड़ाई लड़ने के लिए देश की आजादी के लिए शपथ दिलाई।
बहुजन मुक्ति पार्टी के द्वारा ग्राम रसोदी बहुजन समाज के स्कूल परिसर में विद्यार्थी दिवस भी मनाया। राष्ट्रपिता ज्योतिबा फूले एवं शेख उस्मान द्वारा 3 जुलाई को आज को तो पिछड़ों अति पिछड़ों के लिए स्कूल की नीव रखी थी।
विद्यार्थी दिवस पर बहुजन मुक्ति पार्टी द्वारा एक सभा का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता ठाकुर मार साहब नेकी एवं संचालन अशोक सम्राट ने किया। मुख्य अतिथि आर डी गादरे बहुजन मुक्ति पार्टी प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष विशिष्ट अतिथि जिलाध्यक्ष ओमवीर सिंह आवेश सैफी रहे।
मास्टर नेत्रपाल, आशीष कुमार दिवाकर, अब्दुल खालिक जीसोरा, मोहम्मद आदिल माजिद खान, सैफी चौधरी, इश्तियाक प्रदीप कुमार जाटव, पंकज कुमार गौतम, अंकुश मोंटी, बाल्मीकि जफरयाब काजी, एडवोकेट राहुल आवेश, अहमद सैफी, कुमारपाल कश्यप, अब्दुल खालिक, अतुल सैनी, सुनील सैनी, कारी इरफान, समर पाल राणा, बृजेश गुर्जर, शहजाद कुरेशी, चौधरी महबूब परबिन्दर, जॉनी वॉकर, मनोज कुमार, सोनू कुमार, कपिल कुमार, डॉक्टर शीशपाल, अरुण कुमार आदि ने अपने-अपने विचार रखे। 
देश की बिगड़ती हुई हालत पर अफसोस जताया। ओमवीर सिंह ने कहा के बीजेपी एससी ओबीसी को हिंदू हिंदू करके मुस्लिम को लड़ाना चाहती है और लड़ाई कराती आ रही है। लेकिन हिंदू के मायने गुलाम हैं और भारत देश में मूल निवासी गुलाम नहीं यहां के राजा हैं। तीन परसेंट ब्राह्मणों ने यहां 80 परसेंट कब्जा किया हुआ है। जो हमें एक आजादी की लड़ाई और लड़नी हैं आर डी गादरे ने अपने वक्तव्य में कहा कि हम लोगों को अपने वकार अपने आने वाली नस्लों का मुस्तकबिल भविष्य बनाने के लिए एससी एसटी ओबीसी एंड माइनॉरिटी 87 परसेंट को एकजुट होकर लड़ाई लड़नी है। 
क्योंकि कुछ तीन पर्सेंट विदेशियों ने 80 परसेंट भारत पर कब्जा कर देश को गुलामी की ओर ले जाने का काम कर रही है। बीजेपी के साथ देने वाले बसपा सपा कॉन्ग्रेस कम्युनिस्ट एक ही थैली के चट्टे बट्टे हैं। आज भारत देश में विपक्ष में बहुजन मुक्ति पार्टी काम कर रही है। लेकिन कुछ षड्यंत्रकारी मीडिया बहुजन मुक्ति पार्टी के कार्यकलापों को जनता के बीच नहीं पहुंचा रही है। आने वाले वक्त में विद्यार्थी हमारा बहुजन समाज हिना षड्यंत्र कार्यों को देशद्रोहियों को सबक सिखाने का काम करेगा। ठाकुर मास्टर नए समापन करते हुए कहा कि बहुजन मुक्ति पार्टी की विचारधारा बहुत ही सराहनीय और देशभक्ति वाली है। जो भारत को उबार सकती है। बहुजन विचारधारा ही बहु जनों के हितेषी ही वार सकते हैं अन्यथा आज विपक्ष खत्म हो गया है! ऐसा प्रतीत होता  है।

जेजेपी पार्टी के नेताओं को पता चल जाएंगा: चौटाला

राणा ओबराय              
चंडीगढ़। इंडियन लोकदल के सुप्रीमो और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने मीडिया से बात करते हुए कहा, कि जेजेपी पार्टी के नेताओं को भविष्य में पता चल जाएगा, कि काैन कहां है ?
चुनाव लड़ने के बारे में उन्‍होंने कहा कि उम्‍मीद है कि मेरे चुनाव लड़ने पर कोई पाबंदी नहीं होगी। इस बारे में चुनाव आयोग निर्णय करेगा। ओमप्रकाश चौटाला दिल्‍ली में देश के पूर्व उपप्रधानमंत्री और अपने पिता देवीलाल की समाधि पर पुष्‍पांजलि अर्पित कर आए थे। इसके बाद उन्‍होंने मौजूद मीडिया कर्मियों से बात की। ओमप्रकाश चौटाला ने जजपा को लेकर इशारों में बड़ी बात कही। किसान आंदोलन के संदर्भ में जननायक जनता पार्टी के स्टैंड पर ओम प्रकाश चौटाला ने कहा कि कौन कहां खड़ा है, यह तो वक्त बताएगा ? लेकिन, मौजूदा वक्त में सभी वर्ग इस सरकार के कुशासन से परेशान हैं और खिलाफ हैं।

बता दें कि डॉ. अजय चौटाला और दुष्‍यंत चौटाला ने विवादों के बाद इनेलो से अलग होकर जननायक जनता पार्टी का गठन किया था। जजपा ने अपने पहले ही विधानसभा चुनाव में अच्‍छा प्रदर्शन किया और आज राज्‍य की मनोहरलाल सरकार में साझीदार है। दुष्‍यंत चौटाला गठबंधन सरकार में उपमुख्‍यमंत्री हैं। चौटाला ने कहा, मैं राजनीति में निष्क्रिय नहीं हुआ था। मैं राजनीति में लगातार सक्रिय था। उन्‍होंने कहा कि वह हरियाणा की राजनी‍ति में लगातार सक्रिय रहे हैं और अब खुलकर मैदान आएंगे। पूर्व उपप्रधानमंत्री स्वर्गीय देवीलाल की नीतियों को आगे बढ़ाया जाए इसी के लिए वह सदैव तत्‍पर रहते हैं। 

हम लोगों के संपर्क में भी रह कर सदैव उनसे जुड़े रहते हैं। चौटाला ने कहा कि पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल की विरासत केवल परिवार तक सीमित नहीं है और यह पूरे भारत में है। जेल से रिहाई के बाद हरियाणा की राजनीति पर असर के बारे में ओम प्रकाश चौटाला ने कहा कि आपका क्या ख्याल है कि यह सिर्फ हरियाणा तक सीमित रहेगा ? समूचे देश के लोग मौजूदा कुशासन से दुखी हैं। आज हालत यह हैं कि आज किसान संघर्ष के माध्यम से 36 बिरादरी के लोग सरकार के खिलाफ हैं।

पार्टी विवाद को हल करने के लिए फार्मूला तैयार हुआ

राणा ओबराय           .
चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस में अंतर्कलह को लेकर जल्‍द ही आलाकमान का फैसला सामने आ सकता है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह मंगलवार को कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी मिलेंगे। इसके साथ ही चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है कि पार्टी के विवाद को हल करने के लिए बड़ा फार्मूला तैयार हो गया है और इस पर सोनिया गांधी मुलाकात के दौरान कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के साथ चर्चा कर सकती हैं। ऐसे में अब सबकी निगाहें इस मुलाकात पर लग गई हैं। बता दें कि चर्चाएं चलती रही हैं कि नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्‍टन अमरिंदर सिह के विवाद को समाप्‍त करने के लिए कांग्रेस का राष्‍ट्रीय नेतृत्‍व बड़ा कदम उठा सकता है और सिद्धू को पंजाब कांग्रेस में बड़ी जिम्‍मेदारी देने की तैयारी है।
मुख्यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने पिछले दिनाें सोनिया गांधी से मिलने का समय मांगा था। इसके बाद अब उनको यह समय दिया गया है। समझा जाता है कि पंजाब कांग्रेस को लेकर फार्मूला तैयार होने के बाद कैप्‍टन को सोनिया गांधी से मिलने का समय दिया है। पंजाब कांग्रेस में अंतर्कलह के बीच यह पहला मौका होगा जब सोनिया गांधी पंजाब के किसी नेता से मिलेंगी। राहुल गांधी पंजाब के नेताओं के साथ कई दौर की बैठकें कर चुके है।
माना जा रहा है कि इस बैठक के उपरांत कांग्रेस सरकार पर छाए संकट के बादल छंटने शुरू हो सकते है। वहीं, इस बैठक में सोनिया गांधी पार्टी की खींचतान को लेकर मुख्यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के समक्ष फार्मूला रख सकती हैं। पंजाब के राजनीतिक हालात को लेकर राहुल गांधी पहले ही सोनिया गांधी के साथ चर्चा कर चुके है। पार्टी अध्यक्ष से मिलने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह लगातार समय मांग रहे थे। अहम बात यह भी है कि सोनिया गांधी ने कैप्टन को समय दिया है।नवजोत सिंह सिद्धू की 30 जून को राहुल गांधी के साथ बातचीत के बाद दिया है। माना जा रहा था पहले प्रियंका गांधी और बाद में राहुल गांधी के साथ मुलाकात में पंजाब में सुलह का फार्मूला तैयार कर लिया गया था। इसके बाद ही सोनिया गांधी ने कैप्टन से मिलने को लेकर हामी भरी है। हालांकि, राहुल और सिद्धू की बैठक के उपरांत भी नवजोत सिंह सिद्धू के स्टैंड में कोई बदलाव नहीं आया है। 
सिद्धू अब भी लगातार कैप्टन और पंजाब सरकार पर हमले कर रहे हैं। बीते कल 300 यूनिट फ्री बिजली देने का मुद्दा उठा कर सिद्धू ने अपरोक्ष रूप से दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के प्रधान अरविंद केजरीवाल की घोषणा का समर्थन कर दिया। कांग्रेस हाईकमान ने कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को पंजाब में 200 यूनिट फ्री बिजली का फार्मूला तैयार करने के लिए से कहा था। इसके बाद चंडीगढ़ दौरे पर आए केजरीवाल ने घोषणा की थी कि पंजाब में आप की सरकार बनने पर 300 यूनिट फ्री बिजली दी जाएगी। ऐसे में सिद्धू द्वारा कैप्‍टन सरकार पर किए जा रहे हमलों का मुद्दा कल की होने वाली बैठक में उठना लगभग तय है। मिली जानकारी के अनुसार हरियाणा कांग्रेस के संकट का भी शीघ्र समाधान होगा।

यूपी: कार्यकारिणी की बैठक कर मुद्दों पर किया मंथन

कौशाम्बी। भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के पदाधिकारियों ने भाजपा पार्टी कार्यालय मंझनपुर में कार्यकारिणी की बैठक कर विभिन्न मुद्दों पर मंथन किया है। कार्यसमिति की बैठक में भाजपा नेताओं और पदाधिकारियों ने वृक्षारोपण किये जाने को लेकर गहन मंथन किया है। जिले में कहां-कहां पौधारोपण किए गए हैं और योगी सरकार का निर्देश किन-किन अधिकारियों ने माना है। इस पर बड़ी देर तक भाजपा नेताओं के बीच मंथन होता रहा भाजपा कार्यालय की बैठक में बैक्सीनेशन रजिस्ट्रेशन अभियान के बारे में वक्ताओं ने विस्तार से चर्चा की है। 
कार्यक्रम में प्रवासी अधिकारी पुष्पराज पटेल, क्षेत्र उपाध्यक्ष भाजपा जिला महामंत्री संजय जयसवाल, जिला अध्यक्ष भाजयुमो सुनील मिश्रा, कार्यक्रम संयोजक जिला महामंत्री भाजयुमो शिव प्रताप, जिला संयोजक सोशल मीडिया जितेन्द्र कुमार साहू, जिला कोषाध्यक्ष मनीष साहू, जिला उपाध्यक्ष प्रदीप जायसवाल, जिला मंत्री नीरज मोदनवाल, जिला मंत्री योगेंद्र त्रिपाठी, मंडल अध्यक्ष रोहित मिश्रा आदि पदाधिकारी गण भाजपा कार्यालय की बैठक में उपस्थित रहे और विभिन्न मुद्दों पर गहन मंथन किया है।
सुशील केसरवानी 

डीएम ने आवासीय विद्यालय का किया निरीक्षण: यूपी

अतुल त्यागी
हापुड़। आज मंगलवार को जिला अधिकारी अनुज सिंह ने उप जिलाधिकारी हापुड़ सत्यप्रकाश के साथ कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने विद्युत के जर्जर तारों को तुरंत बदलवाने हेतु संबंधित को निर्देश दिए। उन्होंने आवासीय विद्यालय में संचालित रसोईघर का निरीक्षण करते हुए वहां पर साफ सफाई एवं गुणवत्ता पूर्वक भोजन बनाने हेतु निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी को अव्यवस्था भी देखने को मिली। 
बालिकाओं के बेड की गुणवत्ता सही नहीं पाई गई। जिलाधिकारी ने बालिकाओं के सभी कमरों के बाहर अग्निशमन यंत्र लगाने हेतु भी संबंधित को निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने आवासीय विद्यालय की रंगाई - पुताई व सफाई कराने हेतु कड़े निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने विद्यालय में चल रहे मरम्मत कार्य में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने हेतु संबंधित को निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान एक्शन लोक निर्माण विभाग, निर्माणाधीन संस्था के प्रतिनिधि व आवासीय विद्यालय की शिक्षाएं उपस्थित रहे।

सीएम ने संशोधन विधेयक 2021 का विरोध किया

चेन्नई। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने मंगलवार को मसौदा सिनेमेटोग्राफ (संशोधन) विधेयक, 2021 का विरोध किया और कहा कि प्रस्तावित “संशोधन अपने आप में नागरिक संस्थाओं में सही सोच को बढ़ावा देने की भावना के खिलाफ है और इसे वापस लिये जाने की मांग की। केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद को भेजे गए एक पत्र में उन्होंने कहा कि फिल्म समुदाय की रचनात्मक सोच पर अंकुश लगाना और फिल्में कैसे बनाई जाएं उन पर यह शर्त थोपना “पूर्णत: अनुचित” है। तमिल फिल्म निर्माता परिषद समेत राज्य के फिल्म उद्योग के प्रतिनिधियों के एक प्रतिनिधिमंडल द्वारा मुलाकात कर केंद्र के समक्ष यह मामला उठाने का अनुरोध किये जाने के एक दिन बाद स्टालिन ने प्रसाद के समक्ष यह मामला उठाया। स्टालिन ने कहा, “मसौदा विधेयक ने न सिर्फ फिल्म समुदाय से जुड़े लोगों और फिल्म उद्योग के मन में बल्कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को मानने वाले समाज के वर्गों के मन में भी गहरी आशंकाओं को जन्म दिया है।” उन्होंने कहा कि एक जीवंत लोकतंत्र को रचनात्मक सोच और कलात्मक स्वतंत्रता के लिये पर्याप्त गुंजाइश रखनी चाहिए। 
प्रस्तावित संशोधन में फिल्म पाइरेसी के लिए जेल की सजा और जुर्माने का प्रावधान , उम्र आधारित प्रमाणपत्र जारी करने का नियम लागू करने और शिकायत प्राप्त होने की स्थिति में पहले से प्रमाणपत्र पा चुकी फिल्मों को दोबारा प्रमाणपत्र जारी करने का अधिकार केन्द्र सरकार को देने की बात प्रमुख है।

पौधशाला में वन विभाग की टीम ने नर्सरी स्थापित की

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। तराई पूर्वी वन प्रभाग के डौली रेंज के जंगलों में जीव-जन्तुओं के लिए घास की कमी को देखते हुए वन विभाग ने डौली रेंज कार्यालय की पौधशाला में ग्रास नर्सरी स्थापित की। इस नर्सरी में वन विभाग द्वारा 14 से अधिक विभिन्न प्रजाति की घास को तैयार किया गया है। यह घास डौली रेंज के वन क्षेत्रों में लगाई जायेगी।बताते चलें कि तराई पूर्वी वन प्रभाव के डौली रेंज कार्यालय कि पौधशाला में वन विभाग की टीम ने ग्रास नर्सरी स्थापित की है। इसमें 14 प्रकार की विभिन्न घास को तैयार किया गया है। यह घास तराई पूर्वी वन प्रभाग के वन सर्किल क्षेत्रों में लगाई जायेगी।इधर डौली रेंज के वन क्षेत्राधिकारी अनिल जोशी ने बताया कि जंगलो में चारे की कमी को देखते हुए प्रभागीय वनाधिकारी के दिशा-निर्देश पर पहली बार डोली रेंज में ग्रास नर्सरी स्थापित की गई।
उन्होंने कहा कि इस नर्सरी में वन क्षेत्रों में पाई जाने वाली विभिन्न प्रकार की 14 घासों को रोपण किया गया है। कहा कि नर्सरी में जंगली जानवरों के साथ हाथी को भी ध्यान में रखकर घास लगाई गई है। उन्होंने बताया कि यह घास लेलटाना की जगह रोपित की जायेंगी। और यह नर्सरी सर्किल की पहली नर्सरी है।

मंत्रालय की बैठक में शामिल होने का निर्देश दिया

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को केन्द्र को यह सुनिश्चित करने को कहा कि मानसिक स्वास्थ्य केन्द्रों में रह रहे लोगों की कोविड-19 संबंधी जांच की जाए और उनका पूर्ण टीकाकरण हो। न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति एमआर शाह की एक पीठ ने महाराष्ट्र सरकार द्वारा मानसिक स्वास्थ्य संस्थानों से लोगों को भिक्षुक गृह भेजे जाने के मामले का गंभीरता से संज्ञान लिया और तुरंत इसे रोकने का निर्देश दिया।
पीठ ने कहा कि यह नुकसानदेह है और मानसिक स्वास्थ्य अधिनियम के प्रावधानों के विरुद्ध है। शीर्ष अदालत ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से 12 जुलाई को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की बैठक में शामिल होने और पूर्ण सहयोग करने का निर्देश भी दिया।
पीठ ने राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से ऐसे केन्द्रों में जो लोग ठीक हो गए हैं, लेकिन अब भी मानसिक स्वास्थ्य संस्थानों में हैं या जिन्हें अब भी उपचार की आवश्यकता है, उन लोगों के बारे में प्रस्तुत आंकड़ों में विसंगतियों को दूर करने को भी कहा। पीठ ने कहा कि वह अब इस मामले पर नजर रखेगा और तीन सप्ताह बाद मामले पर सुनवाई करेगा, क्योंकि यह बेहद संवेदनशील मामला है।
शीर्ष अदालत वकील गौरव बंसल की ओर से दायर उस याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि करीब 10 हजार लोग, जो ठीक हो चुके हैं, उन्हें सामाजिक कलंक माने जाने के कारण अब भी देश के विभिन्न मानसिक अस्पतालों एवं संस्थाथनों रहने के लिए मजबूर किया जा रहा है।

हितधारकों से मुलाकात करेगा परिसीमन का दल

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के चार दिवसीय दौरे पर परिसीमन आयोग का दल मंगलवार को यहां पहुंचा। यह दल उपायुक्तों (डीसी), राजनीतिक दलों और अन्य हितधारकों से मुलाकात करेगा तथा उनसे केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा क्षेत्रों के पुनर्निधारण को लेकर उनकी राय जानेगा। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि परिसीमन आयोग मंगलवार को अपराह्न में यहां पहुंचा।
आयोग में न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) रंजना प्रकाश देसाई, मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सुशील चंद्रा और उप चुनाव आयुक्त चंद्र भूषण शामिल हैं। सूत्रों ने बताया कि आयोग राजनीतिक दलों, राज्य चुनाव आयोग (एसईसी) के अधिकारियों, उपायुक्तों, विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं, जिला विकास परिषद (डीडीसी) के सदस्यों और नागरिक समाज समूहों से मुलाकात करेगा और विधानसभा क्षेत्रों के पुनर्निर्धारण की प्रक्रिया पर उनकी राय जानेगा।
परिसीमन आयोग के साथ होने वाली बैठकों के लिए जम्मू-कश्मीर के मुख्य चुनाव अधिकारी ने नेशनल कॉन्फ्रेंस, अपनी पार्टी, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस, कांग्रेस, अवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस , मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय जनता पार्टी और नेशनल पैंथर्स पार्टी सहित विभिन्न राजनीतिक दलों को आमंत्रित किया है। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता मोहम्मद यूसुफ तारिगामी ने यूनीवार्ता को बताया कि पार्टी का पांच सदस्यीय दल परिसीमन आयोग से मुलाकात करेगा।

मंत्रीमंडल बदलाव, कुछ भी कहने से परहेज किया

मनोज सिंह ठाकुर                  
इंदौर। मध्य प्रदेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंत्रिपरिषद के शीघ्र विस्तार की अटकलों के बीच भाजपा के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को इस विषय में कुछ भी कहने से परहेज किया। बहरहाल उनके एक करीबी भाजपा नेता ने कहा कि वह मध्य प्रदेश के मालवा-निमाड़ अंचल का दौरा अधूरा छोड़कर मंगलवार दोपहर दिल्ली रवाना हो सकते हैं। सिंधिया उन प्रमुख दावेदारों में शामिल माने जा रहे हैं। जिन्हें मोदी मंत्रिपरिषद में जगह मिल सकती है।
इंदौर में मंगलवार सुबह सिंधिया से जब संवाददाताओं ने उनके केंद्रीय मंत्रिपरिषद में शामिल होने के बारे में पूछा तो उन्होंने इस सवाल का कोई भी जवाब नहीं दिया और कहा कि उन्हें अपने अगले कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रवाना होना है। सिंधिया ने भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामाप्रसाद मुखर्जी की 120 वीं जयंती पर इंदौर में उनकी प्रतिमा पर अन्य भाजपा नेताओं के साथ माल्यार्पण किया।
सिंधिया ने मध्य प्रदेश के मालवा-निमाड़ अंचल का तीन दिवसीय दौरा रविवार से शुरू किया था और मूल कार्यक्रम के मुताबिक उन्हें बुधवार सुबह 09:15 बजे इंदौर से दिल्ली रवाना होना था। सिंधिया के नजदीकी एक भाजपा नेता ने कहा कि वह इस दौरे को अधूरा छोड़कर मंगलवार दोपहर 03:30 बजे इंदौर से दिल्ली रवाना हो सकते हैं। सिंधिया के दौरा कार्यक्रम में संभावित परिवर्तन को मोदी मंत्रिपरिषद के विस्तार की अटकलों से जोड़कर देखा जा रहा है।
इस बीच केंद्रीय मंत्रिपरिषद में सिंधिया के शामिल होने की अटकलों के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने अपने चिर-परिचित अंदाज में कहा, “अगर उन्हें केंद्र सरकार में मंत्री बनाया जा रहा है, तो उन्हें बहुत बधाई।
गौरतलब है कि सिंधिया की सरपरस्ती में कांग्रेस के 22 बागी विधायकों के विधानसभा से त्यागपत्र देकर भाजपा में शामिल होने के कारण तत्कालीन कमलनाथ सरकार का मार्च 2020 में पतन हो गया था। इसके तत्काल बाद शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा सूबे की सत्ता में लौट आई थी।

तकनीकी दिक्कतों को लेकर केंद्र पर साधा निशाना

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने मंगलवार को आयकर के नए पोर्टल में तकनीकी दिक्कतों को लेकर मंगलवार को केंद्र पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि इसपर 4200 करोड़ रुपये खर्च करने के बावजूद सरकार इसे उपयोग के अनुकूल बनाने में विफल रही और अव्यवस्था पैदा कर दी। लोकसभा सदस्य थरूर ने कहा कि उनकी अगुवाई वाली कांग्रेस की इकाई ‘अखिल भारतीय प्रोफेशनल कांग्रेस’ से जुड़े चार्टर्ड अकाउंटेंट ने उन्हें सूचित किया कि आयकर पोर्टल में जो नई तब्दीली की गई हैं वे बहुत ही खराब हैं और इससे खामियां पैदा हुई हैं तथा लॉगिन का समय भी बढ़ गया है। 
उन्होंने कहा, ”यह स्पष्ट नहीं हैं कि सकार ने जून महीने में आयकर पोर्टल में बदलाव क्यों किया। यह बेहतर फैसला होता कि गत वित्त वर्ष के आखिर या नये वित्त वर्ष की शुरुआत में इसमें बदलाव किया जाता ताकि आयकर के रिफंड के हकदार करदाताओं को इस मुश्किल समय में मदद मिल जाती। थरूर ने आरोप लगाया कि आरोप लगाया कि इस पर 4200 करोड़ रुपये खर्च करने के बावजूद सरकार इसे उपयोग के अनुकूल बनाने में विफल रही और अव्यवस्था पैदा कर दी। गौरतलब है कि आयकर के नये पोर्टल की शुरुआत सात जून को की गई थी और इसके बाद उपयोकर्ताओं ने इसमें कुछ तकनीकी दिक्कतों की शिकायत की थी।

चारदीवारी से टकराया ट्रक, 12 वर्षीय लड़के की मौंत

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के वसंत कुंज इलाके में एक भूखंड की चारदीवारी से ट्रक के टकरा जाने के कारण 12 वर्षीय लड़के की मौत हो गई। जबकि चार बच्चे घायल हो गए। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। यह घटना सोमवार शाम उस वक्त हुई जब बच्चे या तो खेल रहे थे। ट्रक की टक्कर से दीवार ढह गई। स्थानीय लोगों की मदद से बच्चों को मलबे से बाहर निकाला गया और ‘इंडियन स्पाइनल इंजरी सेंटर’ ले जाया गया।
अस्पताल में 12 वर्षीय लड़के को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि चार से 10 वर्ष की आयु के अन्य बच्चों का इलाज किया गया। घायल बच्चे रंगपुरी के सपेरा बस्ती के रहने वाले हैं। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण पश्चिम) इंगित प्रताप सिंह ने बताया कि ट्रक चालक मुकेश मौके से फरार हो गया। जिसे बाद में अलवर से पकड़ा गया। वाहन के मालिक को भी पुलिस हिरासत में ले लिया गया है।
पुलिस उपायुक्त ने बताया कि भारतीय दंड संहिता की धारा 279 (सार्वजनिक रास्ते पर तेज गति से वाहन चलाना) और 304 ए (लापरवाही से मौत) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अलग-अलग तरह के मसाला नमक बनाने की विधि

अकांशु उपाध्याय          

नई दिल्ली। आज हम आपको अलग-अलग तरह के मसाला नमक बनाने की विधि बताएंगे। नमक के बिना भोजन बेस्वाद हो जाता है और नमक ज्यादा हो तो भी भोजन बेस्वाद हो जाता है। नमक इतना महत्वपूर्ण है कि यह हमारे शरीर को कम मात्रा में मिले तो भी नुकसानदायक है और अधिक मात्रा में मिले तो भी नुकसानदायक है।

नमक को अलग से खाना भी नुकसानदायक होता है। किंतु जब हम अलग-अलग मसालों के साथ मिलाकर नमक तैयार करते हैं। तब यह नमक फायदेमंद हो जाता है। पाचक हो जाता है। ऐसे ही पाचक नमक अर्थात मसाला नमक बनाने की विधि आज आप इस आर्टिकल में पाएंगे।


जानिए वन तुलसी के अद्भुत फायदे, औषधीय गुण

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। वन तुलसी के अद्भुत फायदे हैं। जिन्हें जानकर आप आश्चर्यचकित हो जाएंगे। इसके नाम से ही इसके औषधीय गुण समझ मे आने लगते हैं। तुलसी की चार मुख्य प्रजातियाँ हैं, रामा तुसली, श्यामा तुलसी, मरुआ तुलसी, वन तुलसी (बोमई )। मरुआ व बोमई दोनों ही वन तुलसी की ही प्रजाति है। इसके नाम से ही पता चलता है कि यह वन में पाई जाती है। किंतु इसके औषधीय गुणों को देखकर आजकल इसकी खेती की जाती है। जिससे आर्थिक लाभ भी प्राप्त होता है। आज इस चमत्कारी पौधे की अद्भुत फायदे इस आर्टिकल में बताएंगे।

यूपी में ब्लॉक प्रमुख चुनाव कार्यक्रमों का ऐलान किया

हरिओम उपाध्याय       

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में ब्लॉक प्रमुख चुनाव कार्यक्रमों का ऐलान कर दिया गया है। आठ जुलाई को नामांकन होंगे और 10 जुलाई को मतदान व मतगणना होगी। इसी के साथ प्रमुख चुनाव को लेकर गहमागहमी बढ़ गई है। चुनाव संबंधी पूरी कार्यवाही तीन दिन के भीतर पूरी कर ली जाएगी। निर्वाचन आयोग के अनुसार आठ जुलाई को सुबह 11 से दोपहर तीन बजे तक नामांकन किया जा सकेगा। उसी दिन तीन बजे के बाद नामांकन पत्रों की जांच होगी। अगले दिन 9 जुलाई शाम तीन बजे तक नाम वापस लिया जा सकेगा। अगले ही दिन 10 जुलाई को सुबह 11 बजे से शाम तीन बजे तक वोटिंग होगी। तीन बजे के बाद मतों की गणना शुरू कराई जाएगी और परिणाम घोषित होंगे।

उत्तर प्रदेश में दो मई, 2021 को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के परिणाम की घोषणा के बाद पंचायतों के गठन का काम पहले किया गया। उसके बाद जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हुई। तीन जुलाई को जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव की प्रक्रिया भी पूरी हो गई। अब ब्लाक प्रमुख पदों पर चुनाव कराने का कार्यक्रम जारी कर दिया है। प्रदेश में ब्लाक प्रमुख के 826 पद हैं। राज्य में क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी) सदस्य के 75,255 पद हैं। जो बीडीसी सदस्य चुना जाएगा वही ब्लाक प्रमुख के लिए प्रत्याशी हो सकता है। ब्लाक प्रमुख चुनने के लिए मतदान भी बीडीसी सदस्य ही करते हैं।

यूपी: 10 से 3 बजे तक बिजली आपूर्ति रहेंगी बाधित

बृजेश केसरवानी          

प्रयागराज। जनपद में कल्याणी देवी विद्युत खंड से जुड़े फीडर 11 केवी वाटर वर्क्स और 11 केवी ककरा घाट पर निर्माण कार्य के दौरान कल्याणी देवी खंड से विद्युत सप्लाई 7 जुलाई, 15 जुलाई सुबह 10:30 बजे से शाम 3 बजे तक बिजली आपूर्ति बाधित रहेगी।कल्याणी देवी विद्युत उपकेंद्र के संबंध में अधिशासी अभियंता भविष्य कुमार ने बताया कि कल्याणी देवी खंड से जुड़े फीडर 11 केवी वाटर वर्क्स और 11 केवी ककरा घाट को अधिभारिता को कम करने और निर्माण कार्य कराया जा रहा है। कल्याणी देवी खंड से निकलने वाले 11 केवी की विद्युत सप्लाई 7 जुलाई से 15 जुलाई, सुबह को 10:30 बजे से शाम 3 बजे तक शटडाउन कर लिया जाएगा। जिससे उपभोक्ताओं को बिजली कटौती का सामना करना पड़ेगा। इसलिए सभी उपभोक्ता समय रहते पानी आदि की व्यवस्था कर ले।

पूर्व गृहमंत्री अनिल के 2 सहायकों को हिरासत में भेजा

कविता गर्ग       

मुंबई। विशेष पीएमएलए अदालत ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के दो सहायकों को मंगलवार को 20 जून तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। देशमुख के खिलाफ 100 करोड़ रूपये की रिश्वत के आरोपों से जुड़े धनशोधन के मामले में यह कार्रवाई की गई है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 26 जून को देशमुख के निजी सचिव संजीव पलांडे और निजी सहायक कुंदन शिंदे को गिरफ्तार किया था। 

उनके खिलाफ धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है। पलांडे और शिंदे की ईडी की रिमांड मंगलवार को समाप्त होने के बाद उन्हें विशेष न्यायाधीश एसएम भोंसले के समक्ष पेश किया गया। अदालत ने उन्हें जांच एजेंसी के अनुरोध पर न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इससे पहले ईडी ने अदालत में कहा था कि दोनों आरोपियों की अपराध में ‘बहुत अहम’ भूमिका थी।

सरकार के कैबिनेट विस्तार से पहले बदलें राज्यपाल

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार से पहले कई राज्यों के राज्यपाल बदल दिए गए हैं। मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इसे अपनी मंजूरी दे दी। मंंजूरी के तहत चार राज्यों को जहां नए राज्यपाल मिले हैं, तो चार राज्यपालों काे दूसरे राज्यों की जिम्मेदारी दी गई है। केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल बनाया गया है। डॉ. हरि बाबू कंभमपति को मिजोरम का राज्यपाल बनाया गया है। मंगूभाई छगनभाई पटेल मध्य प्रदेश के राज्यपाल होंगे। राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर को हिमाचल प्रदेश का गवर्नर बनाया गया है। वहीं, मिजोरम के राज्यपाल रहे पीएस श्रीधरन पिल्लई को अब गोवा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। हरियाणा के राज्यपाल रहे सत्यदेव नारायण आर्य को त्रिपुरा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। वहीं, त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस को झारखंड का राज्यपाल और हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को हरियाणा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।

निवारण अधिकारी की नियुक्ति कब करेंगा 'ट्विटर'

अकांशु उपाध्याय          

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार को ट्विटर को आठ जुलाई तक यह बताने का निर्देश दिया कि नए आईटी नियमों के अनुपालन में वह स्थानीय शिकायत निवारण अधिकारी की नियुक्ति कब करेगा। ट्विटर ने उच्च न्यायालय को सूचित किया था कि उसके द्वारा स्थानीय शिकायत निवारण अधिकारी की नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है। हालांकि, न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने इस बात पर नाराजगी व्यक्त की कि अदालत को यह सूचित नहीं किया गया था कि स्थानीय शिकायत निवारण अधिकारी (आरजीओ) की। इससे पहले नियुक्ति केवल अंतरिम आधार पर थी। जिनकी ओर से पहले ही इस्तीफा दिया जा चुका है।

पीएम मोदी ने नेता दलाई को जन्मदिन की बधाई दी

अकांशु उपाध्याय                

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा को फोन कर उन्हें जन्मदिन की बधाई दी और उनके दीर्घायु जीवन की कामना की। मोदी ने ट्वीट कर कहा, ”86वें जन्मदिन पर मैंने दलाई लामा से फोन पर बात की और उन्हें शुभकामनाएं दीं। हम उनके लंबे व स्वस्थ जीवन की कामना करते हैं।” तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा ने मंगलवार को अपने 86वें जन्मदिन पर कहा कि उन्होंने भारत की स्वतंत्रता और धार्मिक सद्भाव का पूरा लाभ लिया और वह प्राचीन भारतीय ज्ञान को पुनर्जीवित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। 

धर्मशाला में अपने आवास से डिजिटल माध्यम से संबोधित करते हुए तिब्बती धार्मिक नेता ने उन्हें जन्मदिन पर दुनियाभर से बधाई देने वाले लोगों का शुक्रिया अदा किया और कहा कि वह मानवता की सेवा और जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई जारी रखेंगे। दलाई लामा का वास्तविक नाम तेनजिन ग्यात्सो है।

कुछ देशों ने अपने वाणिज्य दूतावासों को बंद किया

काबुल। अधिकारियों से मिली जानकारी और खबरों के मुताबिक, उत्तर अफगानिस्तान के इलाकों में तालिबान को मिलती जीत को देखते हुए कुछ देशों ने उस इलाके में स्थित अपने वाणिज्य दूतावासों को बंद कर दिया। जबकि ताजिकिस्तान में आरक्षित सैनिकों को दक्षिणी सीमा पर सुरक्षा और चाक-चौबंद करने के लिये बुलाया जा रहा है। ताजिकिस्तान से आ रही खबरों के मुताबिक करीब 1000 अफगान सैनिक तालिबानों बलों के आगे बढ़ने के मद्देनजर सीमा पार कर ताजिकिस्तान भाग गए हैं। ताजिकिस्तान सरकार द्वारा सोमवार को जारी एक बयान में कहा गया कि राष्ट्रपति इमोमाली रखमोन ने अफगानिस्तान से लगने वाली सीमा को और मजबूत करने के लिये 20 हजार आरक्षित सैनिकों को भेजने का आदेश दिया है। तालिबान के उत्तरपूर्वी बदखशां प्रांत के अधिकतर जिलों पर कब्जे के बाद अफगान सेना का यह पलायन सामने आया है। कई जिलों ने बिना किसी संघर्ष के हथियार डाल दिए। जबकि ताजिकिस्तान से लगने वाली प्रांत की उत्तरी सीमा पर अफगान नेशनल सिक्योरिटी एंड डिफेंस फोर्सेज के सैकड़ों सैनिकों ने सुरक्षा के मद्देनजर सीमा पार की। उत्तरी बल्ख प्रांत की राजधानी और अफगानिस्तान के चौथे सबसे बड़े शहर मजार-ए-शरीफ में तुर्की और रूस के वाणिज्य दूतावासों के बंद होने की खबर है। ईरान ने कहा कि उसने शहर में स्थित अपने वाणिज्य दूतावास में गतिविधियों को सीमित कर दिया है। बल्ख प्रांत में भी लड़ाई की खबर है लेकिन प्रांतीय राजधानी अपेक्षाकृत शांत है।
बल्ख प्रांत के प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता मुनीर फरहाद ने मंगलवार को कहा कि उज्बेकिस्तान, ताजिकिस्तान, भारत और पाकिस्तान के वाणिज्य दूतावासों ने अपनी सेवाएं कम कर दी हैं। उन्होंने कहा कि तुर्की और रूस ने अपने वाणिज्य दूतावास बंद कर दिए हैं और उनके कूटनीतिज्ञ शहर छोड़कर चले गए हैं। ताजिक सरकार ने कहा कि अफगान सैनिकों को मानवीय आधार पर सीमा पार करने की इजाजत दी गई। लेकिन ताजिक पक्ष की सीमा चौकियों पर देश के बलों का नियंत्रण है और ताजिक पक्ष की तरफ से तालिबान से कोई झड़प नहीं हो रही है। रूस ने भी सोमवार को घटनाक्रम पर चिंता जताई थी।
क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने कहा की वहां जारी लड़ाई को लेकर “चिंता बढ़ी है” लेकिन उनके देश का पूर्व गणराज्य की सहायता के लिये सैनिक भेजने की कोई योजना नहीं है। पेस्कोव ने कहा, “हम कई बार यह कह चुके हैं कि अफगानिस्तान से अमेरिकियों और उनके सहयोगियों की वापसी के बाद, इस देश में स्थितियों का घटनाक्रम बढ़ती चिंता का मामला है।

थावरचंद को कर्नाटक का नया राज्यपाल नियुक्त किया

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत को मंगलवार को कर्नाटक का नया राज्यपाल नियुक्त किया गया। राष्ट्रपति भवन से जारी एक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई है। राष्ट्रपति के प्रेस सचिव के हवाले से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, आठ राज्यों में राज्यपालों की नियुक्ति अथवा फेरबदल किया गया है। इसमें कहा गया है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुजरात भाजपा के नेता मंगुभाई छगनभाई पटेल को मध्यप्रदेश का राज्यपाल तथा गोवा के भाजपा नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया है।
केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। राष्ट्रपति ने आंध्र प्रदेश के भाजपा नेता डा. हरि बाबू कंभमपति को मिजोरम का राज्यपाल नियुक्त किया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि मिजोरम के राज्यपाल पी एस पिल्लै को स्थानांतरित कर, गोवा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।
चार दिवसीय दौरे पर श्रीनगर पहुंचा परिसीमन आयोग, राजनीतिक दलों और नागरिक समाज समूहों से करेगा मुलाकात।
वहीं हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को त्रिपुरा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है । त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस को स्थानांतरित कर झारखंड का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। राष्ट्रपति भवन की विज्ञप्ति के अनुसार, हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को हरियाणा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि उपरोक्त नियुक्तियां राज्यपालों के पद भार संभालने की तिथि से प्रभावी होंगी।

पदभार ग्रहण करने के बाद प्रमुख सचिवों की बैठक

पंकज कपूर                
देहरादून। उत्तराखंड के नए मुख्य सचिव एसएस संधू ने अपना पदभार ग्रहण करने के बाद प्रमुख सचिवों ओर सचिवों की बैठक ली। मीडिया से मुखातिब, हुए मुख्य सचिव ने कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता सरकार की योजनाओं को धरातल पर उतारने की है। जिससे राज्य में विकास की रफ्तार में तेजी आ सके। मुख्य सचिव ने कहा कि ये जरूरी है कि जो योजना बनी है। उसका कार्य धरातल पर दिखे। उन्होंने कहा कि यह जरूरी है कि जनप्रतिनिधि सरकार व नौकरशाहों का आपसी तालमेल बना रहना चाहिए। उन्होंने कहा की कोविड-19 की रफ्तार धीमी पड़ी है। लेकिन उस पर भी सरकार का ध्यान रहेगा।
 

कंगना के खिलाफ रिपोर्ट देने के लिए और समय दिया

कविता गर्ग           
मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा ने पत्रकार अर्णब गोस्वामी और अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ विशेषाधिकार समिति को अपनी रिपोर्ट देने के लिए और समय दिया है। समिति को अब अपनी रिपोर्ट देने के लिए विधानमंडल के अगले सत्र के अंतिम दिन तक का समय मिल गया है। 
शिवसेना विधायक प्रताप सरनाइक ने पिछले साल सात सितंबर को गोस्वामी और रनौत के खिलाफ विधानसभा अध्यक्ष के कार्यालय में विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया था। समय सीमा बढ़ाने का प्रस्ताव मंगलवार को विशेषाधिकार समिति के प्रमुख दीपक केसरकर (शिवसेना) द्वारा पेश किया गया और सदन ने ध्वनि मत से उसे मंजूरी दे दी।
सरनाईक ने पिछले साल गोस्वामी और रनौत पर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे और सत्तारूढ़ महा विकास आघाड़ी (एमवीए) के अन्य नेताओं के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का आरोप लगाया था। पहले रनौत ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) की थी जिसके बाद विधायक का अभिनेत्री के साथ विवाद हो गया था।

विधानसभा में परिषद का प्रस्ताव पेश करेंगी ममता

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज विधानसभा में राज्य विधान परिषद बनाने का प्रस्ताव पेश करेंगी। 18 मई को तीसरी बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद ममता बनर्जी ने राज्य विधानसभा के उच्च सदन विधान परिषद बनाने के कैबिनेट के फैसले को मंजूरी दी थी। बीते दिनों ममता बनर्जी ने घोषणा की थी कि जिन बुद्धिजीवि लोगों और दिग्गज नेताओं को विधानसभा चुनाव के लिए नामांकित नहीं किया गया था। उन्हें विधान परिषद का सदस्य बनाया जाएगा। 
सीएम ने 2011 के विधानसभा चुनावों के बाद नंदीग्राम और सिंगूर में उनके अभियान का हिस्सा रहने वालों को विधान परिषद में भेजने का वादा किया था।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मौजूदा वित्त मंत्री अमित मित्रा, पूर्णेंदु बोस जैसे पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं को विधानसभा में शामिल नहीं किया जा सकता है। इन्हें विधान परिषद में भेजने की तैयारी चल रही है। इसे देखते हुए एक विधान परिषद स्थापित करने का निर्णय लिया गया है। बता दें कि हालिया चुनाव में ममता बनर्जी अपने प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार सुवेंदु अधिकारी से हार गई थीं।

भाजपा ने फैसले के खिलाफ राज्य में प्रदर्शन किया

कविता गर्ग                    
मुंबई। शिवसेना के सांसद संजय राउत ने विधानसभा अध्यक्ष के कक्ष में पीठासीन अधिकारी भास्कर जाधव के साथ कथित तौर पर दुर्व्यवहार करने को लेकर महाराष्ट्र विधानसभा से एक वर्ष के लिए भाजपा के 12 विधायकों को निलंबित करने के फैसले को सही ठहराते हुए कहा कि अनुशासनहीनता बर्दाशत नहीं की जा सकती। वहीं, भाजपा ने फैसले के खिलाफ राज्य में प्रदर्शन किया। राउत ने पत्रकारों से कहा कि ” राज्य विधानसभा में ऐसी अनुशासनहीनता कभी नहीं देखी गई। गौरतलब है कि राज्य विधानसभा के दो दिवसीय मानसून सत्र के पहले दिन सोमवार को महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष के कक्ष में पीठासीन अधिकारी भास्कर जाधव के साथ ”दुर्व्यवहार” करने के आरोप में भाजपा के 12 विधायकों को विधानसभा से एक साल के लिए निलंबित कर दिया गया है।
नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने आरोपों को झूठा करार देते हुए कहा कि जाधव द्वारा दिया गया घटना का विवरण ”एकतरफा” है। राउत ने मंगलवार को कहा, ” अनुशासनहीनता बर्दाशत नहीं की जा सकती। अध्यक्ष का ‘माइक’ तोड़ना और पीठासीन अधिकारी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करना महाराष्ट्र की संस्कृति नहीं है।
इस बीच भाजपा ने विपक्षी दल के विधायकों के खिलाफ महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार की कार्रवाई की निंदा करते हुए राज्य के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा के कई विधायकों ने मुंबई में विधानभवन की सीढ़ियों पर धरना दिया और उद्धव ठाकरे नीत राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। जिन 12 विधायकों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। वे यहां नहीं दिखे क्योंकि निलंबन अवधि के दौरान उन्हें विधानमंडल भवन में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है।
ये विधायक संजय कुटे, आशीष शेलार, अभिमन्यु पवार, गिरीश महाजन, अतुल भटकलकर, पराग अलवानी, हरीश पिंपले, योगेश सागर, जय कुमार रावत, नारायण कुचे, राम सतपुते और बंटी भांगड़िया शामिल हैं। सोमवार को इन्होंने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की थी और ”लोकतंत्र को कुचलने” की एमवीए सरकार के खिलाफ शिकायत की थी। महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में शिवसेना, राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस शामिल हैं।

महिला की याचिका पर केंद्र से जवाब मांगा: हाईकोर्ट

कोच्चि। केरल उच्च न्यायालय ने एक महिला की याचिका पर केंद्र से मंगलवार को जवाब मांगा। जिसमें याचिकाकर्ता ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की जेल में अगस्त 2015 से बंद अपने बेटे को आवश्यक मदद मुहैया कराने का केंद्र को निर्देश देने का अनुरोध किया है। महिला के बेटे को कथित तौर पर भारत सरकार के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। न्यायमूर्ति पी बी सुरेश कुमार ने कहा, ”हम इसे देखेंगे। केंद्र सरकार के वकील (याचिका के बारे में) निर्देश लेकर आएं।
याचिका शाहुबनाथ बीवी ने दायर की है। इसमें दावा किया गया है कि उनके बेटे को ”बुरी तरह से यातनाएं दी गईं और उसका उत्पीड़न किया गया,” तथा उसे केंद्र सरकार या वहां स्थित भारतीय दूतावास से किसी तरह की मदद नहीं मिली। अधिवक्ता जोस अब्राहम के जरिए दायर याचिका के मुताबिक महिला का बेटा शिहानी मीरा साहिब जमाल मोहम्मद 25 अगस्त 2015 से यूएई के अबू धाबी के केंद्रीय कारागार में बंद है।
सुनवाई के वक्त याचिकाकर्ता ने कहा कि यूएई की अदालतों के इस मामले में दिए गए फैसलों के मुताबिक उनका बेटा ”यूएई में भारतीय दूतावास के अधिकारियों के लिए काम कर रहा था।” महिला ने आरोप लगाया कि उनके बेटे को उचित कानूनी सहायता तक नहीं दी गई जिससे कि वह यूएई की अदालतों में अपना बचाव कर पाता। महिला ने कहा कि इस बाबत उन्होंने अनेक बार अनुरोध भेजे और पिछला अनुरोध 11 जून को भेजा था। 
जिसमें मानवाधिकार उल्लंघनों और उनके बेटे को बुनियादी अधिकार देने से इनकार किए जाने का जिक्र करते हुए सरकार से सहायता मांगी गई है। याचिका में कहा गया कि इन अनुरोधों पर उन्हें अब तक जवाब प्राप्त नहीं हुआ है। महिला ने याचिका में उच्च न्यायालय से अनुरोध किया है कि वह उनके बेटे को ”आवश्यक कानूनी, राजनयिक एवं राजनीतिक समर्थन” मुहैया कराने का केंद्र सरकार को निर्देश दे तथा उनके हाल के अनुरोध पर समुचित समय पर विचार करे।

मुंबई: रॉकी और रानी की प्रेम कहानी बनाएंगें रणवीर

कविता गर्ग             
मुंबई। फिल्मकार करण जौहर, रणवीर सिंह और आलिया भट्ट को लेकर ‘रॉकी और रानी की प्रेम कहानी’ बनाने जा रहे हैं। रणवीर सिंह के जन्मदिन पर करण जौहर ने अपनी आने वाली फिल्म ‘रॉकी और रानी की प्रेम कहानी’ की घोषणा की है। फिल्म में रॉकी का किरदार रणवीर सिंह और रानी का किरदार आलिया भट्ट निभा रही हैं। करन जौहर अपने इस प्रोजेक्ट को लेकर काफी उत्साहित हैं। वह एक बार फिर निर्देशन करते हुए नजर आएंगे। करण जौहर ने सोशल मीडिया पर लिखा, ‘कैमरे के सामने अपने फेवरिट लोगों के साथ लेंस के पीछ जाने के लिए रोमांचित हूं। रॉकी और रानी की प्रेम कहानी प्रस्तुत है। जिसकी लीड स्टार कास्ट में कोई और नहीं, बल्कि रणवीर सिंह और आलिया भट्ट है। फ़िल्म इशिता मोइत्रा, शशांक खेतान और सुमीत रॉय ने लिखी है।
करण जौहर द्वारा निर्देशित, हीरू यश जोहर, करण जौहर और अपूर्व मेहता द्वारा निर्मित, इस फिल्म के स्टूडियो पार्टनर वायकॉम 18 है। कहानी और पटकथा इशिता मोइत्रा, शशांक खेतान और सुमित रॉय द्वारा लिखित, संवाद इशिता मोइत्रा ने दिए है। यह फिल्म 2022 में प्रदर्शित होगी। कहा जा रहा है इस फिल्म में शबाना आजमी, धर्मेंद्र और जया बच्चन की भी अहम भूमिका होगी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-325 (साल-02)
2. बुधवार, जुलाई 7, 2021
3. शक-1984,अषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि-त्रियोदशी विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:42, सूर्यास्त 07:16।
5. न्‍यूनतम तापमान -22 डी.सै., अधिकतम-39+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

संपर्क करने की अनिच्छा से परेशान हुआ पाकिस्तान

इस्‍लामाबाद/ वाशिंगटन डीसी।  अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की प्रधानमंत्री इमरान खान से टेलीफोन पर संपर्क करने की अनिच्छा से पाकिस्‍तान परेशा...