रविवार, 5 जून 2022

योगी के अवतरण दिवस पर पौधों का रोपण किया

योगी के अवतरण दिवस पर पौधों का रोपण किया

संदीप मिश्र  
बांदा। हिंदू युवा वाहिनी ने रविवार को जमुना दास के महावीरन स्थित हनुमान के मंदिर परिसर में विश्व पर्यावरण दिवस पर गौ रक्षक पीठाधीश्वर हिंदू युवा वाहिनी के मुख्य संरक्षक, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अवतरण दिवस पर फलदार एवं औषधि युक्त पौधों का रोपण किया। साथ ही मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ कर योगी के दीर्घायु होने की कामना की।
इस अवसर पर हिंदू युवा वाहिनी के जिला अध्यक्ष राजेश गिरी कहा कि जिला ब्लाक नगर के समस्त पदाधिकारी अपने अपने क्षेत्र में सैकड़ों की तादाद पर पर्यावरण की रक्षा सुरक्षा के लिए पौधारोपण करें।
जिसका सभी पदाधिकारियों ने 5100 पौधे लगाने व रख-रखाव करने का संकल्प लिया। साथ ही जिलाध्यक्ष ने अवगत कराया कि इस पूरे कार्यक्रम की समीक्षा पद्माकर चौराहा के पास जहाज बिल्डिंग में 17 जून को होगी। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सिटी मजिस्ट्रेट केदारनाथ गुप्ता भी मौजूद रहे। कार्यक्रम में वरिष्ठ उपाध्यक्ष महेश गुप्ता, जिला संयोजक नरेंद्र सोनी, संतोष सोनी, योगेश मिश्रा, भगत सिंह, महेश गुप्ता, नरेंद्र सिंह रामबाबू सोनी, प्रीतम सोनकर, परमानंद गोस्वामी, अनुराग पाठक, चुन्नी लाल गुप्ता, दीपक दीक्षित, हनी साहू, राकेश सिंह, जसवंत सिंह समेत भाजपा के बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

संजीदगी: पर्यावरण के सरंक्षण का संकल्प लिया

संजीदगी: पर्यावरण के सरंक्षण का संकल्प लिया 

संदीप मिश्र  
वाराणसी। विश्व पर्यावरण दिवस पर रविवार को लोगों में पर्यावरण को लेकर संजीदगी दिखीं। जगह-जगह पौधों को रोपित कर पर्यावरण के सरंक्षण का संकल्प भी लिया गया। दिवस पर बनारस रेल इंजन कारखाना (बरेका) में वृहद पौधरोपण अभियान चलाया गया। महाप्रबंधक अंजली गोयल ने प्रमुख मुख्य विभागाध्यक्षों के साथ बरेका पश्चिमी उपनगर, हेल्थ यूनिट के प्रांगण में चित्तवन सहित अनेक औषधीय गुण वाले पौधों को रोपित किया। बरेका के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने अपने-अपने घरों के प्रांगण में भी पौधों को रौंपा।
महाप्रबंधक ने बताया कि बनारस रेल इंजन कारखाना अपने स्वच्छ पर्यावरण से स्वस्थ जीवन की दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह कर रहा है। संपूर्ण परिसर को हरा-भरा रखने के लिए प्राय: पौधरोपण कार्यक्रम होता रहता है । इस वर्ष बरेका ने लगभग 10,000 पौधरोपण का लक्ष्य रखा है। इस अभियान की टैगलाइन है-बारिश को पकड़ो, जहां गिरे, जब गिरे। इस अभियान की टैगलाइन को समर्पित करते हुए महाप्रबंधक ने कंचनपुर कॉलोनी में एक जल संचयन तालाब का कार्य 1 दिसम्बर, 2021 से प्रारंभ किया था। इसी क्रम में परमानंदपुर स्थित नवग्रह वाटिका में पर्यावरण एवं उपभोक्ता संरक्षण समिति के तत्वावधान में 1000 तुलसी के पौधे लगाए गए और लगभग 500 पौधे बच्चों में वितरित किए गए।
समिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने कहा कि पर्यावरण दिवस पर सामान्यत: यह होता है कि संस्थाएं पौधे लगा कर फोटो खिंचवा कर पब्लिसिटी करने के बाद यह ध्यान नहीं देती, कि लगे हुए पौधे बचे हैं कि नहीं। इसलिए हम लोगों ने निर्णय लिया कि बच्चों को बुलाकर उन्हें पौधे दिखाकर उन्हें जागरूक किया जाएगा। विश्व पर्यावरण दिवस व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जन्मदिन पर पर्यावरणविद अनिल सिंह तथा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी कालिका सिंह के मार्गदर्शन में मुख्य अतिथि भाजपा जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा तथा विशिष्ट अतिथि पूर्व रोहनिया विधायक सुरेंद्र नारायण सिंह व गंगा टास्क फोर्स के मेजर एल एन जोशी ने चितईपुर चौराहे के पास पंचकोशी रोड स्थित अस्सी नदी के उद्गम स्थल कन्दवा पोखरा के किनारे संयुक्त रूप से पौधरोपण किया। क्षेत्रीय लोगों के साथ मिलकर 150 फलदार एवं छायादार पौधा वितरण भी किया गया। गंगा टास्क फोर्स 39 बटालियन सेना के जवानों ने तालाब के अंदर ऑटोमेटिक बोट से सफाई भी की। इसी क्रम में राजेश डोगरा रोलर स्केटिंग स्कूल एवं काशी अग्रवाल समाज वाराणसी के संयुक्त तत्वावधान में पर्यावरण जन जागरण स्केटिंग रैली का आयोजन लहुराबीर आजाद पार्क से किया गया। स्केटिंग रैली को प्रातः 7 बजे भारत पर्यटन वाराणसी के महानिदेशक अमित गुप्ता ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। स्केटिंग रैली में शामिल लगभग 100 बच्चों ने पर्यावरण संबंधित नारे लगाते टाउन हॉल स्थित श्री अग्रसेन कन्या इंटर कॉलेज पहुंच कर रैली का समापन किया।

तलाश: गंगा में बह गई, 5 वर्षीय बालिका

तलाश: गंगा में बह गई, 5 वर्षीय बालिका

पंकज कपूर
ऋषिकेश। मुनिकीरेती थाना क्षेत्र से दुखद खबर सामने आ रही है। यहां शीशमझाड़ी स्थित गंगा घाट पर एक पांच वर्षीय बालिका गंगा में बह गई। एसडीआरएफ की टीम बालिका की तलाश में जुटी हुई है।
पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, अशोक नगर दिल्ली निवासी एक परिवार शीशमझाड़ी स्थित वेदांत आश्रम में रुका था। रविवार की सुबह परिवार के सदस्य गंगा तट पर स्नान के लिए चले गए। उनके साथ उनकी पांच वर्षीय पुत्री भी थी।
गंगा में तेज बहाव होने के कारण नहाते समय अचानक पांच वर्षीय आशी पुत्री अमरनाथ अपने पिता के हाथों से छूट गई और तेज धारा में बह गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम ने सर्चिंग अभियान शुरू किया। फिलहाल बालिका का कुछ पता नहीं चल सका है‌।

कश्मीर घाटी की सुरक्षा को नजरअंदाज कर रहीं, भाजपा

कश्मीर घाटी की सुरक्षा को नजरअंदाज कर रहीं, भाजपा 

कविता गर्ग  

मुंबई। शिवसेना सांसद संजय राउत ने रविवार को केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा की आलोचना करते हुए दावा किया कि पार्टी जम्मू-कश्मीर में ‘कश्मीरी पंडितों और मुस्लिम सुरक्षाकर्मियों की लक्षित हत्याओं’ के बीच कुछ फिल्मों के प्रचार में व्यस्त है। मुंबई में संवाददाताओं से बातचीत में राउत ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कश्मीर घाटी की सुरक्षा को नजरअंदाज कर रहीं है। उन्होंने कहा, क्या सर्जिकल स्ट्राइक (नियंत्रण रेखा के पार भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा आतंकी ठिकानों पर किए गए हमले) से कश्मीरी पंडितों के खिलाफ अत्याचार बंद हो गया, ये और बढ़ गया।

शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता ने कहा, हिंदुओं और कश्मीरी पंडितों के साथ-साथ मुस्लिम सुरक्षाकर्मियों की भी लक्षित हत्याएं की गई हैं, क्योंकि वे देश की सेवा कर रहे हैं। वहीं, भाजपा ‘द कश्मीर फाइल्स’ और ‘सम्राट पृथ्वीराज’ जैसी फिल्मों के प्रचार में व्यस्त में है।उन्होंने कोई विवरण दिए बिना दावा किया कि कश्मीर में श्रीनगर से पुलवामा तक कम से कम 20 मुस्लिम सुरक्षाकर्मियों की हत्या की जा चुकी है। राउत ने कहा, भाजपा नेता इस बारे में कुछ नहीं बोल रहे हैं। वे ताजमहल (आगरा) और ज्ञानवापी मस्जिद (वाराणसी) में ‘शिवलिंग’ खोजने में व्यस्त हैं।

उन्होंने कश्मीर में हालात ‘अच्छे न होने’ के बीच केंद्र की सत्ता में आठ साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए भी भाजपा पर निशाना साधा। राउत ने कहा कि 1990 के दशक में जब घाटी से कश्मीरी पंडितों का पहली बार पलायन हुआ था, तब केंद्र में भाजपा की सरकार थी। उनका इशारा संभवत: वीपी सिंह के नेतृत्व वाली तत्कालीन केंद्र सरकार की तरफ था, जो भाजपा के समर्थन से सत्ता में थी। शिवसेना नेता ने आगे कहा कि अभी भी भाजपा ही सत्ता में है।

आईआईसीए में प्रोफेसर व अधिकारी की वैकेंसी

आईआईसीए में प्रोफेसर व अधिकारी की वैकेंसी

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के तहत आने वाले इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ कॉर्पोरेट अफेयर्स, मानेसर (आईआईसीए) में असिस्टेंट प्रोफेसर और प्रशासनिक अधिकारी की वैकेंसी है। वैकेंसी के बारे में अधिक जानकारी के लिए आईआईसीए की वेबसाइट https://iica.nic.in/ पर विजिट कर सकते हैं। इस भर्ती के लिए आवेदन डाक के जरिए करना है। आवेदन की अंतिम तिथि विज्ञापन जारी होने से 60 दिन तक है।
इसका भर्ती विज्ञापन 4 जून से 10 जून के रोजागर समाचार पत्र में प्रकाशित हुआ है। आवेदन फॉर्म भेजने का पता है- प्रशासनिक अधिकारी-III, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ कॉर्पोरेट अफेयर्स, प्लॉट नंबर- 6,7 और 8, सेक्टर 5, आईएमटी मानेसर, जिला गुरुग्राम, हरियाणा-122052।
आईआईसीए भर्ती 2022 वैकेंसी डिटेल
असिस्टेंट प्रोफेसर (प्रतियोगिता कानून और बाजार विनियमय का स्कूल)- 1 पद
सैलरी- लेवल- 11 (रु. 68900-205500)
शैक्षिक योग्यता- संबंधित क्षेत्र में पूर्ववर्ती डिग्री या समकक्ष में 55 फीसदी अंकों के साथ पीएचडी।साथ ही साथ ही तीन साल टीचिंग का अनुभव।
प्रशासनिक अधिकारी- 1 पद,
सैलरी- लेवल- 12 (रु. 78800-209200)
योग्यता- कॉर्पोरेट मामलों या शैक्षणिक संस्थानों/वित्तीय प्रबंधन/मानव संसाधन प्रबंधन के प्रबंधन में अनुभव होना चाहिए।

14वें दिन भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव नहीं

14वें दिन भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव नहीं

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। रविवार के लिए पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी कर दिए गए हैं। सरकारी तेल कंपनियों ने लगातार 14वें दिन भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया है। आखिरी बार 21 मई को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव हुआ था।
दिल्ली पेट्रोल 96.72 रुपये और डीजल 89.62 रुपये प्रति लीटर।
मुंबई पेट्रोल 111.35 रुपये और डीजल 97.28 रुपये प्रति लीटर।
चेन्नई पेट्रोल 102.63 रुपये और डीजल 94.24 रुपये प्रति लीटर।
कोलकाता पेट्रोल 106.03 रुपये और डीजल 92.76 रुपये प्रति लीटर।
नोएडा में पेट्रोल 96.57 रुपये और डीजल 89.96 रुपये प्रति लीटर।
लखनऊ में पेट्रोल 96.57 रुपये और डीजल 89.76 रुपये प्रति लीटर।
जयपुर में पेट्रोल 108.48 रुपये और डीजल 93.72 रुपये प्रति लीटर।
तिरुवनंतपुरम में पेट्रोल 107.71 रुपये और डीजल 96.52 रुपये प्रति लीटर।
पोर्टब्‍लेयर में पेट्रोल 84.10 रुपये और डीजल 79.74 रुपये प्रति लीटर।
पटना में पेट्रोल 107.24 रुपये और डीजल 94.04 रुपये प्रति लीटर।
गुरुग्राम में 97.18 रुपये और डीजल 90.05 रुपये प्रति लीटर।
बेंगलुरु में पेट्रोल 101.94 रुपये और डीजल 87.89 रुपये प्रति लीटर।
भुवनेश्वर में पेट्रोल 103.19 रुपये और डीजल 94.76 रुपये प्रति लीटर।
चंडीगढ़ में पेट्रोल 96.20 रुपये और डीजल 84.26 रुपये प्रति लीटर।
हैदराबाद में पेट्रोल 109.66 रुपये और डीजल 97.82 रुपये प्रति लीटर।
बढ़ती महंगाई के बीच केंद्र सरकार ने बीते 21 मई को लोगों को बड़ी राहत दी।
बता दें कि बढ़ती महंगाई के बीच केंद्र सरकार ने बीते 21 मई को लोगों को बड़ी राहत दी थी। सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइड ड्यूटी कम की थी। सरकार ने पेट्रोल पर 8 रुपये और डीजल पर 6 रुपये एक्साइज ड्यूटी में कटौती की।
इसके बाद देशभर में पेट्रोल 9.50 रुपये और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर सस्ता हो गया था। केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद कुछ राज्यों ने भी वैट कम किया। इसमें राजस्थान, केरल और महाराष्ट्र सरकार शामिल हैं।

पार्टियों को विरोध-प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं

पार्टियों को विरोध-प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने रविवार को आरोप लगाते हुए कहा कि कश्मीर में मुख्यधारा की पार्टियों को अल्पसंख्यकों की हत्याओं के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी गई है। उल्लेखनीय है कि हाल के दिनों में कश्मीर घाटी में लक्षित हत्याएं देखी गई और अधिकारियों के अनुसार इस वर्ष लक्षित हमलों की श्रृंखला में 12 नागरिकों, जिनमें से अधिकतर अल्पसंख्यक, गैर स्थानीय तथा पंचायती राज संस्थानों के सदस्यों की गोली मारकर हत्या कर दी गई।
इन हमलों में 12 से अधिक गैर स्थानीय कार्यकर्ता भी घायल हुए। हत्याओं के विरोध में बड़े पैमाने पर अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया और जम्मू और कश्मीर के लोगों तथा राजनीतिक नेताओं ने इसकी निंदा की। पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा, “विडंबना यह है कि हम कश्मीर में मुख्यधारा की पार्टियों को अल्पसंख्यकों की हत्याओं के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी गई।” रविवार को उन्होंने सवाल किया कि क्या जम्मू-कश्मीर में इसे सामान्य स्थिति को लेकर केन्द्र सरकार जिम्मेदार ठहराया सकता है ?
कश्मीर की मुख्यधारा की पार्टियो को अल्पसंख्यकों की हत्या का विरोध करने की इजाजत नहीं दी गई है। उन्होंने सवाल किया कि कहीं ऐसा जम्मू कश्मीर में हालात सामान्य होने के केंद्र सरकार के दावों की खोखलेपन से उपजी घबराहट के कारण तो नहीं किया गया है। यह दावा क्या इतना खोखला है कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन के दबाव को भी सह नही पायेगा।

महाराष्ट्र का सीएम, पंवार के नेतृत्व वाली पार्टी से होगा

महाराष्ट्र का सीएम, पंवार के नेतृत्व वाली पार्टी से होगा

कविता गर्ग
औरंगाबाद। राकांपा नेता धनंजय मुंडे ने कहा है कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री, शरद पंवार के नेतृत्व वाली पार्टी से होगा। शनिवार को परभणी शहर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुंडे ने कहा कि उनके प्रयासों के कारण शिवसेना के नेतृत्व वाली महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में सामाजिक न्याय विभाग को प्रतिष्ठा मिली है।
उन्होंने कहा, अगर कल यह सवाल उठता है कि सामाजिक न्याय विभाग किसे सौंपा जाए जो भी अगला मुख्यमंत्री होगा और मुख्यमंत्री केवल हमारा (राकांपा का) ही होगा। मुख्यमंत्री कहेंगे कि चलो सामाजिक न्याय विभाग अपने पास (राकांपा) रहने देते हैं। इस विभाग ने बहुत अधिक प्रतिष्ठा अर्जित की है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार में प्रमुख घटक है, जिसने पिछले महीने ही सत्ता में ढाई साल पूरे किए हैं।

खाली जमीन में दुर्घटनाग्रस्त हुआ, प्रशिक्षण विमान

खाली जमीन में दुर्घटनाग्रस्त हुआ, प्रशिक्षण विमान

सुनील श्रीवास्तव  
अम्मान। जॉर्डन की सेना ने कहा कि तकनीकी खराबी के कारण यह हादसा हुआ। सेना ने एक बयान में कहा कि प्रशिक्षण विमान सीरियाई सीमा के पास रामथा इलाके में खाली जमीन में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।
जॉर्डन में सेना का एक विमान क्रैश हो गया है। उत्तरी जॉर्डन में रविवार को सेना के प्रशिक्षण अभ्यास के दौरान एक विमान दुर्घटना का मामला सामने आया है। इसमें सवार दो पायलटों की मौत हो गई है। जॉर्डन की सेना ने कहा कि तकनीकी खराबी के कारण यह हादसा हुआ। सेना ने एक बयान में कहा कि प्रशिक्षण विमान सीरियाई सीमा के पास रामथा इलाके में खाली जमीन में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बाबतपुर पहुंचें, राष्ट्रपति

अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बाबतपुर पहुंचें, राष्ट्रपति 

अकांशु उपाध्याय/संदीप मिश्र    
नई दिल्ली/वाराणसी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने एक दिवसीय वाराणसी दौरे के दौरान रविवार को अपराह्न लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बाबतपुर पहुंचें। जहां पर उनका स्वागत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, मंत्री रविंद्र जायसवाल, सांसद बीपी सरोज, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों ने भव्य स्वागत किया। बाबतपुर एयरपोर्ट से हेलीकॉप्टर के जरिए राष्ट्रपति बरेका पहुंचे, यहां लंच के बाद विश्राम करेंगे। शाम करीब साढ़े पांच बजे काशी विश्वनाथ मंदिर में पत्नी के साथ दर्शन पूजन करेंगे।
बतादें कि राष्ट्रपति इससे पहले संतकबीरनगर में थे। जहां उन्होंने संतकबीर की परिनिर्वाण स्थली पर पहुंचकर नवनिर्मित संतकबीर एकेडमी का लोकार्पण भी किया। इस दौरान उन्होंने कहा माना जाता है कि संतों के आगमन से धरती पवित्र होती है। इसका जीवंत उदाहरण मगहर है। संत कबीर के यहां आने से पहले मगहर की धरती ऊसर, बंजर और अभिशप्त थी। उनके आगमन से धरती खिल उठी। संत कबीर मगहर में तीन वर्ष तक रहे।
इस दौरान गोरक्ष पीठ से सिद्ध संत भी उनके बुलावे पर मगहर आए और यहां के पानी की समस्या को दूर करते हुए गोरख तलैया से सूखी पड़ी आमी को जीवंत किया। राष्ट्रपति ने कहा कि संत कबीर का पूरा जीवन मानव श्रेष्ठता का उदाहरण है। उन्होंने संदेश दिया कि असहाय की सहायता किए बिना समाज में समरसता नहीं आ सकती। महामहिम ने कबीर का दोहा ‘ कबीर सोई पीर है, जो जाने पर पीर ‘ पढ़कर लोगों का दु:ख दर्द समझने वाला बताया। उन्होंने कहा कबीर गरीब, वंचित परिवार में पैदा हुए, लेकिन उसे अपनी कमजोरी नहीं ताकत बनाया।

6 जून को 'जन समर्थ' पोर्टल लॉन्च करेंगे, पीएम

6 जून को 'जन समर्थ' पोर्टल लॉन्च करेंगे, पीएम 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 6 जून को जन समर्थ पोर्टल लॉन्च करने वाले हैं। प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि जन समर्थ पोर्टल से सभी प्रकार की क्रेडिट आधारित सरकारी योजनाएं लिंक्ड रहेंगी। 
यह लाभार्थियों और क्रेडिटदाताओं को सीधे जोड़ने वाला भारत का पहला प्लेटफॉर्म होगा। यह पोर्टल विभिन्न सेक्टरों के समावेशी विकास और प्रगति को बढ़ावा देगा।
पीएम जारी करेंगे कई खास सिक्के...
ज्ञात रहे कि पोर्टल लॉन्च के अतिरिक्त प्रधानमंत्री एक डिजिटल प्रदर्शनी भी शुभारंभ करेंगे। प्रदर्शनी में दोनों मंत्रालयों के पिछले आठ साल की यात्रा के बारे में बताया जाएगा। इसके अलावा पीएम एक रुपये, दो रुपये, पांच रुपये, 10 रुपये और 20 रुपये की खास सिक्के भी जारी करेंगे। इन सिक्कों पर आजादी का अमृत महोत्सव का लोगो होगा।
प्लेटफॉर्म पर मिलेंगी ये सुविधाएं
उदाहरण के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना और क्रेडिट लिंक्ड कैपिटल सब्सिडी योजना (CLCSS) जैसी योजनाओं का संचालन विभिन्न मंत्रालयों द्वारा किया जा रहा है।

एलआईसी की पॉलिसी में निवेश, भविष्य को सुरक्षित करें

एलआईसी की पॉलिसी में निवेश, भविष्य को सुरक्षित करें

अखिलेश पांडेय    
नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम अपने ग्राहकों के लिए कई तरह की पॉलिसी चलाती है। एलआईसी की पॉलिसी में निवेश कर आप अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं। एलआईसी की ऐसी ही एक पॉलिसी है जीवन उमंग, जिसमें निवेश कर आप अपने परिवार के भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं। जीवन उमंग पॉलिसी एक एंडोमेंट प्लान है।
जीवन उमंग पॉलिसी को 90 दिन से लेकर 55 साल की उम्र के लोग ले सकते हैं। इस पॉलिसी के तहत 100 साल तक का लाइफ इंश्योरेंस कवर मिलता है। इस पॉलिसी के मैच्योर होने के बाद एक फिक्स्ड रकम आपके खाते में हर साल आती रहती है। अगर पॉलिसी होल्डर की मृत्यु हो जाती है, तो उसके नॉमिनी को एकमुश्त रकम मिलती है।

हर दिन देने होंगे 45 रुपये...
अगर आप 26 वर्ष की उम्र में भी इस बीमा पॉलिसी को लेते हैं और 4.5 लाख रुपये के बीमा कवर के लिए 30 साल तक प्रीमियम का भुगतान करते हैं, तो आपको हर महीने 1350 रुपये देने होंगे। ये रोजाना लगभग 45 रुपये की राशि है। इस तरह साल भर में आपका प्रीमियम 15882 रुपये होगा और 30 साल में आपका प्रीमियम भुगतान 476460 रुपये होगा।

36 लाख रुपये का मिलेगा रिटर्न...
इस तरह आपके निवेश पर LIC 31वें साल से 36 हजार रुपये हर साल रिटर्न के रूप में जमा करने लगेगी। इस तह अगर आप निवेश के 31वें साल से 100 साल की उम्र तक 36 हजार रुपये का रिटर्न हर साल लेते रहें तो आपको करीब 36 लाख रुपये की रकम मिल जाएगी। 

टैक्स पर मिलती है छूट...
इस पॉलिसी में आप 15, 20, 25 या 30 साल तक के लिए निवेश कर सकते हैं। आपकी पॉलिसी के मैच्योर होने के बाद एक निश्चित रकम आपके खाते में डाल दी जाएगी। अगर पॉलिसीधारक की मृत्यु किसी दुर्घटना से होती है या वह विकलांग हो जाता है तो उमंग पॉलिसी के तहत उसे टर्म राइडर का भी लाभ मिलता है। इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत इस पॉलिसी को लेने पर टैक्स की छूट भी मिलती है। अगर आप जीवन उमंग पॉलिसी लेना चाहते हैं, तो आपको कम से कम दो लाख रुपये का बीमा लेना होगा।

चालक सहित 3 बदमाशों को पुलिस ने दबोचा

चालक सहित 3 बदमाशों को पुलिस ने दबोचा

भानु प्रताप उपाध्याय  
मुज़फ्फरनगर। सहारनपुर के व्यापारी का बिहार से ट्रक में लोड कर लाया गया 10 टन स्क्रेब खपाने वाले चालक सहित 3 बदमाशों को शहर कोतवाली पुलिस ने दबोच लिया। पुलिस ने बदमाशों के पास से स्क्रेब सहित ट्रक भी बरामद कर लिया। शहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक आनंद देव मिश्रा के अनुसार 9 अप्रैल को सहारनपुर जनपद के देवबंद निवासी व्यापारी बशारत पुत्र शमशाद ने बिहार से 10 टन स्क्रेब खरीद कर ट्रक में लोड कराया था। इसके लिए उसने ट्रक चालक फुरकान निवासी दक्षिणी खालापार के खाते में करीब 20 हजार रुपये भाड़े के एडवांस के रूप में ट्रांसफर भी कर दिये थे। ट्रक माल लोड कर चला था, लेकिन रास्ते में अमानत में खयानत कर ली गई। जिसके चलते व्यापारी को उसकी डिलीवरी नहीं हुई।
व्यापारी बशारत ने माल की डिलीवरी न होने से परेशान होकर 4 जून को शहर कोतवाली में अमानत में खयानत का आरोप लगाते हुए फुरकान के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। प्रभारी निरीक्षक शहर कोतवाली आनंद देव मिश्रा ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए सूजड़ु कट से रविवार को आरोपित फुरकान पुत्र इकबाल, मुल्ला निवासी पुत्र इस्माईल निवासी सूजड़ु तथा नौशाद पुत्र यामीन निवासी कांधला को दबोच लिया।
उन्होंने बताया कि आरोपितों से 10 टन स्क्रेब सहित ट्रक भी बरामद कर लिया गया है। बताया कि आरोपित स्क्रेब लेकर बिहार से चले थे, लेकिन उन्होंने वहलना से कुछ दूरी पहले ट्रक लाकर खड़ा कर लिया था। पीड़ित व्यापारी उनको फोन कर रहा था, लेकिन कुछ दिन बाद आरोपित ने मोबाईल भी बंद कर लिया था। घटना का मुकदमा लिख पुलिस ने आरोपितों को दबोच लिया।

परीक्षा का पहला सत्र 20 जून से प्रारंभ होगा

परीक्षा का पहला सत्र 20 जून से प्रारंभ होगा 

अकांशु उपाध्याय/मनोज सिंह ठाकुर 
नई दिल्ली/इंदौर। ज्वाइंट एंट्रेंस एक्जामिनेशन मेन की परीक्षा का पहला सत्र 20 जून से शुरू होने जा रहा है। परीक्षा 29 जून तक जारी रहेगी। इसमें सफल होने वाले करीब 2.5 लाख विद्यार्थियों को जेईई एडवांस में शामिल होने का मौका मिलेगा। इसके बाद बेहतर पर्सेंटाइल प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को आइआइटी और एनआइटी जैसे संस्थानों में प्रवेश मिलेगा। कोरोना महामारी के कारण पिछले दो वर्ष के दौरान परीक्षा देने वालों को कई तरह की परेशानी हुई थी। संक्रमण के बीच विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र पहुंचकर परीक्षा देनी पड़ी थी। ऐसे में कई विद्यार्थी परीक्षा देने से भी वंचित रह गए थे। चूंकि, आसपास के क्षेत्रों के लिए इंदौर में परीक्षा केंद्र बनाए जाते हैं।
ऐसे में हर वर्ष कई विद्यार्थी केंद्र पर पहुंचने में लेट होते रहे हैं और कई बार केंद्र में प्रवेश से भी वंचित रह जाते हैं। इस बार ऐसा न हो इसके लिए विशेषज्ञों का कहना है कि विद्यार्थियों के प्रवेश पत्र आने के बाद जो भी केंद्र मिलता है, उस स्थान की सही जानकारी ले लें। इस बीच विद्यार्थी के माता-पिता या परिजन शहर में परीक्षा केंद्र वाले स्थान पर मौजूद हैं तो वहां जाकर इसकी जानकारी ले लें। चूंकि जेईई परीक्षा में केंद्र पर विद्यार्थियों से नेशनल टेस्टिंग एजेंसी हर बार निवेदन करती रही है कि विद्यार्थी परीक्षा शुरू होने के पहले पहुंचे, ताकि किसी तरह की परेशानी होने पर उसे दूर किया जा सके। कई विद्यार्थी जल्दबाजी में पहचान पत्र घर भूल जाते हैं। ऐसे में भी परेशानी का सामना करना पड़ता है।
डेढ़ घंटे पहले पहुंचे केंद्र पर, परीक्षा के विशेषज्ञ डा. जीएस ठकराल का कहना है कि परीक्षा शुरू होने के डेढ़ घंटे पहले केंद्र पहुंच जाना चाहिए। बाहर से आने वाले विद्यार्थियों को एक दिन पहले जिस शहर में परीक्षा होनी है, वहां पहुंच जाना चाहिए। चूंकि परीक्षा दो समय में होती है। ऐसे में खाने-पीने की व्यवस्था केंद्र पर स्वजन को कर लेनी चाहिए। परीक्षा से संबंधित कोई भी परेशानी होती है तो केंद्र पर मौजूद अधिकारियों को परीक्षा शुरू होने के पहले इसकी जानकारी देनी चाहिए।

वैकेशन होम के हवाई क्षेत्र में घुसा, निजी विमान

वैकेशन होम के हवाई क्षेत्र में घुसा, निजी विमान 

अखिलेश पांडेय  
वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में उस समय हलचल मच गई, जब एक छोटा निजी विमान शनिवार को गलती से राष्ट्रपति जो बाइडन के डेलावेयर स्थित वैकेशन होम के हवाई क्षेत्र में घुस गया। आनन-फानन में सीक्रेट सर्विस ने राष्ट्रपति और उनकी पत्नी को उनके आवास बाहर निकालकर सेफ हाउस पहुंचाया। व्हाइट हाउस ने कहा कि राष्ट्रपति बाइडन या उनके परिवार को कोई खतरा नहीं था और तत्काल एहतियाती उपाय किए गए। स्थिति का आकलन करने के बाद बाइडन और उनकी पत्नी जिल रेहोबोथ समुद्र तट स्थित अपने घर लौट आए। सेक्रेट सर्विस ने कहा कि हवाई क्षेत्र में घुसने के तुरंत बाद विमान को प्रतिबंधित इलाके से निकाल दिया गया।
एजेंसी ने कहा कि वह विमान चालक से मिलकर बात करेगी।शुरुआती जांच के अनुसार, विमान चालक का रेडियो सही चैनल पर नहीं था। वह निर्धारित उड्डयन दिशा-निर्देशों का पालन भी नहीं कर रहा था। राष्ट्रपति के वाशिंगटन से बाहर जाने पर संघीय उड्डयन प्रशासन उड़ान प्रतिबंधों की घोषणा करता है।
घटना के बारे में अधिक जानकारी देते हुए यूनाइटेड स्टेट्स सीक्रेट सर्विस के संचार प्रमुख एंथनी गुग्लिल्मी ने बताया कि दोपहर करीब एक बजे एक निजी विमान गलती से एक सुरक्षित क्षेत्र में प्रवेश कर रेहोबोथ डेलावेयर के प्रतिबंधित हवाई क्षेत्र में प्रवेश कर गया। जिसके तुरंत बाद विमान को प्रतिबंधित हवाई क्षेत्र से बाहर निकाल दिया गया। प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि पायलट उचित रेडियो चैनल पर नहीं था, साथ ही वो NOTAMS (नोटिस टू एयरमेन) का पालन नहीं कर रहा था और निर्धारित मार्ग का भी पालन नहीं कर रहा था। संयुक्त राज्य अमेरिका सीक्रेट सर्विस मामले को लेकर पायलट से पूछताछ करेगी।
गौरतलब है कि, इससे पहले अगस्त 2017 में एक रूसी वायु सेना के जेट ने कम ऊंचाई पर यूएस कैपिटल, पेंटागन, सीआईए मुख्यालय और ज्वाइंट बेस एंड्रयूज के ऊपर से उड़ान भरी थी। यह उड़ान उस संधि का हिस्सा थी, जो अमेरिका और रूस और अन्य देशों के सैन्य विमानों को 34 हस्ताक्षरकर्ता देशों की सैन्य साइटों का निरीक्षण करने के लिए हवाई अवलोकन उड़ानों को उड़ाने की अनुमति देती है।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 4,270 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 4,270 नए मामलें 

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। स्वास्थ्य मंत्रालय ने पिछले 24 घंटे के कोरोना के आकड़े जारी कर दिए है। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 4,270 नए मामलें समाने आए हैं। जबकि इस दौरान 15 लोगों की मौत हुई हैं। चिंता की बात ये है कि पिछले 1 दिन में कोरोना के 380 केस ज़्यादा सामने आए हैं। वही, बीते 1 दिन में कोरोना को मात देकर 2 हजार 619 लोग वापस अपने घर लौटे हैं। आज आए मामलों के बाद कोरोना के कुल एक्टिव केस की संख्या 24,052 हो गई हैं। देश में अब तक कोरोना से 4 करोड़ 26 लाख 28 हजार 073 लोग ठीक हो चुके हैं।
केरल में स्कूलों के नए सीज़न शुरुआत 1 जून से हुई, जनजीवन व्यावहारिक रूप से पुरानी सामान्य स्थिति में लौट रहा था, लेकिन शनिवार को कोविड के मामलों की संख्या 1,500 को पार कर 1,544 हो गई और चार मौतें हुईं। इस महीने की शुरुआत में मामले क्रमश: 1370, 1278 और 1465 थे। आज तक, 7,972 सक्रिय मामले हैं और चिंता का कारण शनिवार को संक्रमण दर का बढ़ना है जो 11.39 फीसदी हो गई, जबकि साप्ताहिक औसत दर 8.95 फीसदी था।
तमिलनाडु में शनिवार को 105 नए मामले सामने आए, जिसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 34 लाख 55 हजार 976 हो गई, जबकि इस दौरान किसी मरीज की मौत नहीं होने से मृतकों की तादाद 38025 पर ही स्थिर रही। बुलेटिन के मुताबिक बीते 24 घंटे के दौरान 62 मरीज संक्रमण से ठीक हुए, जिसके बाद राज्य में इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 34,17,152 हो गयी। तमिलनाडु में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 799 है।
कर्नाटक में शनिवार को 222 नए मामले दर्ज किए। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि 191 लोगों को छुट्टी दे दी गई, जिसके अब तक ठीक होने वालों की कुल संख्या 39 लाख 10 हजार 691 हो गई है। सक्रिय मामलों की संख्या 2260 थी।
तेलंगाना में शनिवार को 49 नए मामले दर्ज किए। हालांकि इस दौरान कोई मौत नहीं हुई। नए मामलों में से 25 हैदराबाद में दर्ज किए गए। इसके बाद रंगा रेड्डी से 16, करीमनगर, मलकाजगिरी और हनुमाकोंडा से 2-2 और नलगोंडा और संगारेड्डी से एक-एक मामले दर्ज किए गए।

कंटेनर ट्रक से टकराई कार, 3 बच्चों सहित 5 की मौत

कंटेनर ट्रक से टकराई कार, 3 बच्चों सहित 5 की मौत 

कविता गर्ग  
पुणे। महाराष्ट्र के सांगली जिले में पुणे-बेंगलुरु राजमार्ग पर एक कार के सड़क किनारे खड़े कंटेनर ट्रक से टकरा जाने से एक ही परिवार के तीन बच्चों सहित पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दुर्घटना शनिवार को सांगली के कासेगांव क्षेत्र अंतर्गत येवालेवाड़ी फाटा के पास उस समय हुई जब कार पुणे से कोल्हापुर के जयसिंहपुर जा रही थी।
कासेगांव पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि कार तेज गति से चल रही थी क्योंकि दुर्घटना के बाद कार गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गई। इसमें सवार सभी पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।’’ मृतकों की पहचान अरिंजय शिरोटे (35) , स्मिता शिरोटे (38), पूर्वा शिरोटे (14), सुनेशा शिरोटे (10) और वीरू शिरोटे (4) के रूप में हुई है। पुलिस ने कहा कि दुर्घटना उस समय हुई जब अरिंजय शिरोटे अपने रिश्तेदारों को जयसिंहपुर छोड़ने जा रहे थे।

2 गांवों में यातायात का मार्ग परिवर्तित किया

2 गांवों में यातायात का मार्ग परिवर्तित किया 

इकबाल अंसारी
श्रीनगर। सेना ने उत्तरी कमान से गुजरने वाली और जम्मू कश्मीर के उधमपुर जिले में 2 गांवों से जुड़ने वाली सड़क पर यातायात के मार्ग को बदले जाने के मुद्दे को सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझा लिया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। सेना ने सुरक्षा मुद्दे को ध्यान में रखते हुए ‘टाइगर हिल गेट-कोटली और मगियानी गांवों’ में यातायात का मार्ग परिवर्तित किया।
एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘सैन्य प्रतिष्ठान में गांव के सरपंच और नागरिक प्रशासन के प्रतिनिधियों के साथ टाइगर हिल गेट-कोटली और मंगियानी गांवों में सुरक्षा कारणों से यातायात का मार्ग परिवर्तित करने के मुद्दे पर एक बैठक हुई।’’ बैठक में आपसी सहमति बनी। उन्होंने कहा कि यह निर्णय लिया गया कि ग्राम प्रधानों और सेना के अधिकारियों के बीच मासिक बैठकें नियमित रूप से की जाएंगी। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘भारतीय सेना जम्मू कश्मीर के लोगों के साथ है और अपने नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है।’’

नकवी को उप राष्ट्रपति चुनाव का प्रत्याशी बना सकते हैं

नकवी को उप राष्ट्रपति चुनाव का प्रत्याशी बना सकते हैं

मनोज सिंह ठाकुर  
भोपाल। भाजपा ने लोकसभा उपचुनाव के लिए उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। ऐसे में अब यह सवाल उठ रहा है, केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी का सियासी भविष्य क्या होगा, या उन्हें मंत्री मंडल की जगह दूसरी जिम्मेदारी मिल सकती है, उम्मीदवार बना दिया है। अभी तक यह माना जा रहा था कि राज्यसभा में टिकट से वंचित रहे केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को भी रामपुर के मैदान में उतारा जा सकता है। हालांकि नकवी इस बात से इनकार कर रहे थे। नकवी मान रहे थे कि सिर्फ पौने दो साल बाद लोकसभा के चुनावों की घोषणा हो जाएगी, ऐसे में इतने कम समय के लिए वह मैदान में नहीं उतरना चाहते थे।
सियासत के जानकारों का मानना है कि यदि उपचुनाव में किसी वजह से वह हार जाते तो, उनके राजनीतिक भविष्य पर भी सवाल उठ खड़े होते।
 इसलिए भी वह कोई रिस्क नहीं लेना चाहते थे। अब राज्यसभा के लिए जब उनका कार्यकाल जुलाई में जल्द खत्म हो रहा है तो, उनका आगे की राजनीति का रास्ता क्या होगा। वह फिर किसी भी सदन के सदस्य नहीं होने पर मंत्रिमंडल में छह माह से ज्यादा नहीं रह सकेंगे।
पार्टी उन्हें उप राष्ट्रपति चुनाव का प्रत्याशी बना सकती है। इस तरह वह भाजपा के अल्पसंख्यक चेहरा के रूप में प्रमोट होंगे। मुख्तार अब्बास नकवी तीन बार राज्यसभा सदस्य रहे हैं। वह तीन बार 1998, 1999 और 2009 में लोकसभा  चुनाव भी लड़े परंतु इनमें से सिर्फ पहले चुनाव में ही उन्हें जीत हासिल हुई। उस समय केंद्र में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार थी। उन्हें जीत का इनाम देते हुए केंद्र में सूचना एवं प्रसारण मंत्री बनाया गया था। 
मुख्तार अब्बास नकवी को पहली बार जब रामपुर से टिकट दिया गया था तो उनसे यहां भाजपा के पदाधिकारी भी परिचित नहीं थे। परंतु जब वह चुनाव लड़े और जीते तो यहां से स्थाई रिश्ता कायम हो गया। उन्होंने रामपुर में विकास कार्यों को भी गति दी। साथ ही आजम के क्षेत्र में भाजपा के लिए जगह बनाई।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-240, (वर्ष-05)
2. सोमवार, जून 6, 2022
3. शक-1944, ज्येष्ठ, शुक्ल-पक्ष, तिथि-षष्ठी, विक्रमी सवंत-2079।
4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान- 31 डी.सै., अधिकतम-43+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

नगर निगम चुनाव में हर तरह के हथकंडे अपनाए

नगर निगम चुनाव में हर तरह के हथकंडे अपनाए अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। नगर निगम चुनाव की मतगणना के नतीजों पर अपनी खुशी जताते हुए...