महाराष्ट्र लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
महाराष्ट्र लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

मंगलवार, 26 जुलाई 2022

गिरावट: 55,268.49 अंक पर बंद हुआ 'सेंसेक्स'  

गिरावट: 55,268.49 अंक पर बंद हुआ 'सेंसेक्स'  

कविता गर्ग         

मुंबई। शेयर बाजार में लगातार दूसरे दिन गिरावट रही और दोनों मानक सूचकांक, बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी मंगलवार को करीब एक प्रतिशत के नुकसान में रहे। वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख के बीच विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली के बीच बाजार नीचे आया। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 497.73 अंक यानी 0.89 प्रतिशत की गिरावट के साथ 55,268.49 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 562.79 अंक तक नीचे चला गया था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 147.15 अंक यानी 0.88 प्रतिशत की गिरावट के साथ 16,483.85 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में इन्फोसिस, एक्सिस बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, डॉ. रेड्डीज लैब, विप्रो, कोटक महिंद्रा बैंक और लार्सन एंड टुब्रो प्रमुख रूप से नुकसान में रहे। दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में बजाज फिनसर्व, भारती एयरटेल, पावरग्रिड और बजाज फाइनेंस लाभ में रहने वाले शेयरों में शामिल हैं। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक आज (मंगलवार) से शुरू हुई है। इसमें नीतिगत दर में 0.75 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान है।

इसके अलावा खासकर पश्चिमी बाजारों में मंदी की आशंका से बाजार धारणा पर असर पड़ा।’’ नायर ने कहा, ‘‘हालांकि, घरेलू बाजार में मजबूती दिख रही है, लेकिन पश्चिमी बाजारों की आर्थिक हालात का असर पड़ना तय है।’’ एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की मामूली गिरावट के साथ बंद हुआ, जबकि चीन का शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और हांगकांग का हैंगसग लाभ में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख था।अमेरिकी बाजार में सोमवार को मिला-जुला रुख था। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.38 प्रतिशत उछलकर 106.6 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया। शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को 844.78 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

बुधवार, 20 जुलाई 2022

शुरुआती कारोबार में 55,523.52 अंक पर सेंसेक्स

शुरुआती कारोबार में 55,523.52 अंक पर सेंसेक्स

कविता गर्ग

मुंबई। सकारात्मक वैश्विक संकेतों और विदेशी निवेशकों की भागीदारी बढ़ने से उत्साहित घरेलू शेयर बाजार के दोनों प्रमुख सूचकांकों ने बुधवार को शुरुआती कारोबार में तगड़ी बढ़त दर्ज की। तीस कंपनियों की भागीदारी वाला सूचकांक बीएसई सेंसेक्स 755.9 अंकों की जोरदार छलांग लगाते हुए शुरुआती कारोबार में 55,523.52 अंक पर पहुंच गया। इसी तरह एनएसई का मानक सूचकांक निफ्टी भी 224.9 अंकों की मजबूत बढ़त के साथ 16,565.45 अंक पर कारोबार कर रहा था।

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में से रिलायंस इंडस्ट्रीज, टेक महिंद्रा, इंफोसिस, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, इंडसइंड बैंक और टाइटन में जमकर खरीदारी होने से इनके शेयर चढ़ गए। एशिया के अन्य बाजारों में टोक्यो, सोल, शंघाई और हांगकांग के सूचकांक भी खासी बढ़त के साथ कारोबार कर रहे थे। एक दिन पहले मंगलवार को अमेरिकी बाजार भी बढ़त के साथ बंद हुए थे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, “जून के निचले स्तर की तुलना में निफ्टी में आठ प्रतिशत का उछाल आ चुका है और कई अच्छी खबरें आने से यह सिलसिला जारी रहने की उम्मीद है।

मंगलवार, 19 जुलाई 2022

हादसा: मकान ढहने से 2 लोगों की मौंत, 3 घायल

हादसा: मकान ढहने से 2 लोगों की मौंत, 3 घायल 

कविता गर्ग 

नागपुर। महाराष्ट्र के अमरावती जिले में मंगलवार सुबह मकान ढहने से दो लोगों की मौंत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी। घटना नागपुर से करीब 150 किलोमीटर दूर जिले के चंदूर बाजार तालुका के फुबगांव गांव की है। अमरावती में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है।

एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने बताया कि ढांचा गिरने से मकान में रहने वालों में से दो लोगों की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि तीन अन्य लोगों को बचा लिया गया और घटना में आई चोट के इलाज के लिए अमरावती जिला अस्पताल में भेजा गया है। 

गुरुवार, 14 जुलाई 2022

मजबूती: सेंसेक्स में 239 अंक की तेजी, कारोबार शुरू

मजबूती: सेंसेक्स में 239 अंक की तेजी, कारोबार शुरू

कविता गर्ग
मुंबई। बेंचमार्क सूचकांकों ने गुरुवार को सेंसेक्स में 239 अंक की तेजी के साथ, मजबूती के साथ कारोबार शुरू किया, जो वैश्विक बाजार के सकारात्मक रुख को दर्शाता है।
30 शेयरों वाला बीएसई बेंचमार्क 239.3 अंक बढ़कर 53,753.45 पर कारोबार कर रहा था। व्यापक एनएसई निफ्टी 74.7 अंक चढ़कर 16,041.35 पर पहुंच गया। सेंसेक्स के घटकों में सन फार्मा, डॉ रेड्डीज लैब, एचडीएफसी, लार्सन एंड टुब्रो, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी और आईसीआईसीआई बैंक प्रमुख थे।
टाटा स्टील, एक्सिस बैंक, टेक महिंद्रा और भारतीय स्टेट बैंक पिछड़ गए।
एशिया में, शंघाई, हांगकांग, टोक्यो और सियोल के बाजार हरे निशान में थे। को अमेरिकी बाजार गिरावट के साथ बंद हुए थे।
जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, “भले ही जून के लिए अमेरिकी सीपीआई मुद्रास्फीति के आंकड़े 8.8 प्रतिशत की उम्मीद के मुकाबले 9.1 प्रतिशत पर आए, अमेरिकी बाजारों में मामूली गिरावट आई, 1 प्रतिशत से भी कम।बुधवार को बीएसई सेंसेक्स 372.46 अंक या 0.69 फीसदी की गिरावट के साथ 53,514.15 पर बंद हुआ। निफ्टी 91.65 अंक या 0.57 फीसदी गिरकर 15,966.65 पर बंद हुआ। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.69 प्रतिशत चढ़कर 100.23 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।
एक्सचेंज के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को 2,839.52 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री जारी रखी।
“एफआईआई ने जुलाई की रैली का इस्तेमाल जुलाई की शुरुआत में बिकवाली थकावट के रूप में दिखाई देने के बाद और बड़ी बिक्री पर जोर देने के लिए किया है। यह नवीनीकृत एफआईआई बिक्री भालू को मजबूत कर सकती है लेकिन डीआईआई और खुदरा निवेशक हर गिरावट पर मजबूत खरीदार बनने की संभावना रखते हैं क्योंकि भारत के आर्थिक बुनियादी सिद्धांत मजबूत हैं और इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि वैल्यूएशन आकर्षक है, खासकर उन सेगमेंट/स्टॉक्स में जहां एफआईआई बिक रहे हैं।”

बुधवार, 13 जुलाई 2022

लगातार तीसरे दिन गिरावट, 372 अंक टूटा सेंसेक्स

लगातार तीसरे दिन गिरावट, 372 अंक टूटा सेंसेक्स 

कविता गर्ग 

मुंबई। यूरोपीय बाजारों के कमजोर रुख के बीच स्थानीय शेयर बाजार में बुधवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट आई और सेंसेक्स 372 अंक टूट गया। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 372.46 अंक यानी 0.69 प्रतिशत गिरकर 53,514.15 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक का निफ्टी भी 91.65 अंक यानी 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 16,000 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 15,966.65 अंक पर आ गया।

सेंसेक्स कारोबार की शुरुआत में मजबूती पर खुला और दिन चढ़ने के साथ यह 54,211.22 अंक की ऊंचाई तक पहुंच गया। लेकिन यह अपनी बढ़त को कायम नहीं रखा पाया और यूरोपीय बाजारों के नरम पड़ने से 750 अंक तक लुढ़क गया। अंत में यह 53,514.15 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी, भारती एयरटेल, एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस, टाइटन और एचसीएल टेक्नोलॉजीज सर्वाधिक नुकसान में रहीं। वहीं हिंदुस्तान यूनिलीवर, एशियन पेंट्स, सन फार्मा, कोटक महिंद्रा बैंक, एनटीपीसी और नेस्ले फायदे के साथ बंद हुईं।

शुक्रवार, 8 जुलाई 2022

300 अंक से अधिक लाभ में रहा, बीएसई सेंसेक्स

300 अंक से अधिक लाभ में रहा, बीएसई सेंसेक्स 

कविता गर्ग
मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन तेजी रही और वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख के बीच बीएसई सेंसेक्स 300 अंक से अधिक लाभ में रहा। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 303.38 अंक यानी 0.56 प्रतिशत की बढ़त के साथ 54,481.84 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 448.68 अंक तक चढ़ा था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 87.70 अंक यानी 0.54 प्रतिशत बढ़कर 16,220.60 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स के शेयरों में लार्सन एंड टुब्रो, पावरग्रिड, एनटीपीसी, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक, डॉ. रेड्डीज लैब, नेस्ले, भारती एयरटेल, इन्फोसिस और हिंदुस्तान यूनिलीवर प्रमुख रूप से लाभ में रहे। 
दूसरी तरफ नुकसान में रहने वाले शेयरों में मारुति सुजुकी इंडिया, इंडसइंड बैंक, टीसीएस और एशियन पेंट्स शामिल हैं। एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की, हांगकांग का हैंगसेंग और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी लाभ में रहे जबकि चीन में शंघाई कंपोजिट सूचकांक मामूली नुकसान में रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा। अमेरिकी बाजार में बृहस्पतिवार को तेजी थी।
जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, ‘‘मौजूदा तेजी का एक प्रमुख कारण जिंसों के दाम गिरावट और मुद्रास्फीति में कमी की उम्मीद है। इससे केंद्रीय बैंक नीतिगत दर बढ़ाने की गति धीमी होगी। इसके अलावा सौदे को पूरा करने के लिये की गयी लिवाली से बाजार में तेजी रही।’’ इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.12 प्रतिशत की गिरावट के साथ 104.5 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक बृहस्पतिवार को शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने 925.22 करोड़ मूल्य के शेयर बेचे।

मंगलवार, 28 जून 2022

मुंबई: 53,177.45 अंक पर बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स

मुंबई: 53,177.45 अंक पर बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स 

कविता गर्ग     

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार मंगलवार को शुरुआती गिरावट से उबरते हुए मामूली बढ़त के साथ बंद हुए। वैश्विक बाजारों में तेजी आने के साथ कारोबार समाप्त होने से पहले ऊर्जा, सूचना प्रौद्योगिकी और वाहन शेयरों में लिवाली से बाजार लाभ में रहा। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 16.17 अंक यानी 0.03 प्रतिशत की बढ़त के साथ 53,177.45 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 389.75 अंक तक लुढ़क गया था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 18.15 अंक यानी 0.11 प्रतिशत के लाभ के साथ 15,850.20 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में महिंद्रा एंड महिंद्रा, रिलायंस इंडस्ट्रीज, डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज, टेक महिंद्रा, टाटा स्टील और लार्सन एंड टूब्रो प्रमुख रूप से लाभ में रहे। दूसरी तरफ, गिरावट वाले शेयरों में टाइटन, एशियन पेंट्स, बजाज फिनसर्व, कोटक महिंद्रा बैंक और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं। एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की, चीन का शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और हांगकांग का हैंगसेंग शुरुआती गिरावट से उबरते हुए लाभ में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर के कारोबार में तेजी का रुख रहा। इसी बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.58 प्रतिशत उछलकर 116.9 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने सोमवार को 1,278.42 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

शुक्रवार, 24 जून 2022

मिले-जुले संकेतों के बीच हरे निशान पर सेंसेक्स

मिले-जुले संकेतों के बीच हरे निशान पर सेंसेक्स

कविता गर्ग  
मुंबई। शुक्रवार को भारतीय बाजारों में सेंसेक्स और निफ्टी ग्लोबल बाजारों से मिले-जुले संकेतों के बीच हरे निशान में खुले हैं। सेंसेक्स पिछले दिन की तुलना में 526 अंक ऊपर चढ़कर 52855 पर कारोबार कर रहा है तो निफ्टी भी 15700 के ऊपर कारोबार कर रहा है। शुक्रवार को सुबह 9 बजकर 44 मिनट पर सेंसेक्स 52689 जबकि निफ्टी 15685 अंकों पर कारोबार कर रहा है।
SGX NIFTY में 100 प्वाइंट की तेजी से भारतीय बाजार के हरे निशान में रहने का अनुमान है। इस बीच, अमेरिकी बाजार में भी कल अच्छी रिकवरी देखने को मिली है। ज्यादातर एशियाई बाजार भी हरे निशान में बंद हुए हैं। गुरुवार को वायदा कारोबार के एक्सपायरी के दिन बाजार उतार-चढ़ाव के बाद हरे निशान में बंद हुआ था।

हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन शेयर बाजार में दमदार तेजी तेखने को मिल रही है। सेंसेक्स पिछले दिन की तुलना में 526.66 अंक बढ़कर मतलब 1.01 प्रतिशत की तेजी के साथ 52792.38 के स्तर पर खुला है जबकि निफ्टी 50 इंडेक्स भी 1.05 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 163.50 अंक ऊपर चढ़कर 15720.20 पर खुला।
शुक्रवार के शुरूआती बाजार में 1346 शेयरों में खरीदारी जबकि 272 शेयरों में बिकवाली देखने को मिल रही है। 60 शेयरों के भाव अब भी स्थिर बने हुए हैं। जिन शेयरों के भावों में बढ़त बनी हुई है उनमें इंडसइंड बैंक, ओएनजीसी, आईसीआईसीआई, टाटा कंज्यूमर, कोटक महिंद्रा बैंक प्रमुख हैं।
आज के बाजार में टू व्हीलर बनाने वाली कंपनी हीरो मोटरकॉर्प पर सबकी नजरें बनी हुई है। कंपनी ने अपनी ओर से बताया है कि वह अपने वाहनों की कीमत 3000 रुपये तक बढ़ाने जा रही है।

रविवार, 19 जून 2022

गाड़ी की बेवजह चेकिंग नहीं कर सकेगी, ट्रैफिक पुलिस

गाड़ी की बेवजह चेकिंग नहीं कर सकेगी, ट्रैफिक पुलिस

कविता गर्ग 

मुंबई। मुंबईवासियों के लिए बड़ी खबर है। अब ट्रैफिक पुलिस उनकी गाड़ी की बेवजह चेकिंग नहीं कर सकेगी। दरअसल, बीते दिनों तत्कालीन कमिश्नर ऑफ पुलिस ने एक सर्कुलर ट्रैफिक डिपार्टमेंट को जारी किया। जिसके अनुसार अब आपके वाहन बिना वजह नहीं रोकी जाएगी। नए नियम के अनुसार ट्रैफिक पुलिस वाले गाड़ियों की जांच नहीं करेंगे। जहां चेक नाका है, वहां ट्रैफिक मॉनिटरिंग की जाएगी। किसी वाहन चालक को तभी रोका जाएगा, तब उससे ट्रैफिक की स्पीड पर असर पड़ रहा हो।

दरअसल ट्रैफिक पुलिस सिर्फ शक के आधार पर गाड़ियों को रोककर उनकी जांच करने लगते हैं। जिससे सड़क पर यातायात प्रभावित होता है। सभी ट्रैफिक पुलिस को वाहनों की जांच करने से रोकने के लिए कहा गया है। इसके रोड पर ट्रैफिक बढ़ जाता है। उन्हें आवाजाही पर निगरानी रखने को प्राथमिकता देने के लिए कहा गया है। सर्कुलर के अनुसार यदि मोटर चालक नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। तब उन्हें पुलिस मोटर वाहन अधिनियम के प्रावधानों के तहत कार्रवाई कर सकती है।ट्रेफिक और स्थानीय पुलिसकर्मी संयुक्त नाकाबंदी के दौरान यातायात पुलिस सिर्फ उल्लंघन के खिलाफ कार्रवाई करेगी। गाड़ियों की जांच नहीं करेगी। यदि निर्देशों का पालन नहीं किया जाता है, तो संबंधित यातायात चौकी के सीनियर निरीक्षक जिम्मेदार होगा। ट्रैफिक पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार यातायात पुलिस को संदेह के आधार पर वाहनों की जांच नहीं करनी चाहिए और न रोकना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘हमारे जवान पहले की तरह ट्रैफिक अपराधों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखेंगे। वह उल्लंघन करने वालों को रोका जाएगा।

शुक्रवार, 17 जून 2022

गिरावट: 135 अंक टूटकर बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स

गिरावट: 135 अंक टूटकर बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स

कविता गर्ग  
मुंबई। घरेलू शेयर बाजारों में शुक्रवार को लगातार छठे दिन गिरावट रही और बीएसई सेंसेक्स उतार-चढ़ाव भरे कारोबार 135 अंक टूटकर बंद हुआ। वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख के बीच विदेशी संस्थागत निवेशकों की पूंजी निकासी जारी रहने और कच्चे तेल के दाम में तेजी से बाजार नीचे आया। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 135.37 अंक यानी 0.26 प्रतिशत की गिरावट के साथ 51,360.42 अंक पर बंद हुआ।
कारोबार के दौरान मानक सूचकांक 574.57 अंक तक लुढ़क गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 67.10 अंक यानी 0.44 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,293.50 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स शेयरों में टाइटन, विप्रो, डा. रेड्डीज, एशियन पेंट्स, सन फार्मा, पावरग्रिड, लार्सन एंड टूब्रो, अल्ट्राटेक सीमेंट, मारुति, टीसीएस और हिंदुस्तान यूनिलीवर प्रमुख स्प से नुकसान में रहे। दूसरी तरफ, लाभ में रहने वाले शेयरों में बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, रिलायंस इंडस्ट्रीज और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं।
एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में जबकि हांगकांग का हैंगसेंग और चीन में शंघाई कंपोजिट सूचकांक लाभ में रहे। यूरोपीय बाजारों में दोपहर कारोबार में तेजी का रुख था। जियोजीत फानेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, ‘‘शेयर बाजार को जो चीजें प्रभावित कर रही हैं, उनमें वैश्विक स्तर पर मौद्रिक नीति को कड़ा किया जाना और उसके कारण आर्थिक नरमी की आशंका है।
इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.96 प्रतिशत उछलकर 120.96 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने बृहस्पतिवार को 3,257.65 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

बुधवार, 15 जून 2022

सेंसेक्स-निफ्टी में लगातार चौथे दिन भी गिरावट

सेंसेक्स-निफ्टी में लगातार चौथे दिन भी गिरावट 

कविता गर्ग  
मुंबई। वैश्विक बाजार की तेजी के बावजूद स्थानीय स्तर पर ऊर्जा, यूटिलिटीज, तेल एवं गैस और पावर समेत दस समूहों में हुई बिकवाली से बुधवार को सेंसेक्स और निफ्टी में लगातार चौथे दिन भी गिरावट रहीं। बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 152.18 अंक टूटकर 52541.39 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 39.95 अंक फिसलकर 15692.15 अंक पर रहा। हालांकि दिग्गज कंपनियों के विपरीत बीएसई की छोटी और मझौली कंपनियों में हुई लिवाली से बाजार को समर्थन मिला। इस दौरान मिडकैप 0.52 प्रतिशत चढ़कर 21,955.28 अंक और स्मॉलकैप 0.49 प्रतिशत मजबूत होकर 25,065.95 अंक पर पहुंच गया।
इस दौरान बीएसई में कुल 3442 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1519 में गिरावट जबकि 1775 में तेजी रही वहीं 148 में कोई बदलाव नहीं हुआ। इसी तरह एनएसई में 25 कंपनियां लाल जबकि शेष 25 हरे निशान पर रही। बीएसई के दस समूह में तेजी वहीं शेष 10 में मंदी रही। इस दौरान ऊर्जा 0.82, एफएमसीजी 0.29, आईटी 0.59, दूरसंचार 0.17, यूटिलिटीज 0.79, धातु 0.74, तेल एवं गैस 0.81, पावर 0.91, रियल्टी 0.62 और टेक समूह के शेयर 0.67 प्रतिशत गिरे। वहीं, ऑटो समूह में सबसे अधिक 0.90 प्रतिशत की तेजी रही। अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में तेजी का रुख रहा।
इस दौरान ब्रिटेन का एफटीएसई 1.31, जर्मनी का डैक्स 1.08, हांगकांग का हैंगसेंग 1.14 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.50 प्रतिशत मजबूत रहा वहीं जापान का निक्केई 1.14 प्रतिशत गिर गया।

सोमवार, 13 जून 2022

मुंबई: शेयर बाजार में भारी गिरावट देखने को मिलीं

मुंबई: शेयर बाजार में भारी गिरावट देखने को मिलीं 

कविता गर्ग 
मुंबई। भारतीय शेयर बाजार में सोमवार को भारी गिरावट देखने को मिल रहीं है। फिलहाल, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों इंडेक्स करीब 3% की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा गिरावट बैंकिंग और IT स्टॉक्स में है। ये 3% से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। सेंसेक्स 1,119 पॉइंट की गिरावट के साथ 53,184 पर और निफ्टी 324 पॉइंट की गिरावट के साथ 15,877.55 पर खुला था। आज भारतीय रुपया 78.12 पर कारोबार कर रहा है। यह पिछले बार बंद से 0.48% कम है। आज रुपया डॉलर के मुकाबले 78.14 पर खुला।

बाजार में गिरावट का कारण...
इस गिरावट के पीछे कारण ये हैं कि शुक्रवार को अमेरिकी बाजार बुरी तरह से टूटे थे। डाओ जोंस 880 अंक लुढ़ककर 31,392 पर बंद हुआ है। S&P 500 भी 3% और नैस्डेक में 3.5% की गिरावट देखने को मिली। इसके अलावा यूरोप के बाजार 2-3% लुढ़के। बात करें एशियन मार्केट की तो SGX Nifty में 300 पॉइंट से ज्यादा अंकों की गिरावट है। जापान, हॉन्गकन्ग और ताइवान के मार्केट करीब 2.5% टूटे हैं।
अमेरिकी बाजार के टूटने के पीछे की बड़ी वजह महंगाई दर है। यहां महंगाई 40 साल की ऊंचाई पर पहुंच गई है। 1981 के बाद यूएस में महंगाई दर मई में 8.6% पर पहुंची है। इससे फेडरल रिजर्व पर ब्याज दरें बढ़ाने का दबाव है, जिसका असर पूरी दुनिया पर पड़ेगा। इसके अलावा क्रूड ऑयल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। ये अभी करीब 120 डॉलर प्रति बैरल के आसपास कारोबार कर रहा है।
रेलिगेयर ब्रोकिंग के वीपी – रिसर्चर अजीत मिश्रा ने कहा कि इस हफ्ते में बाजार में ज्यादा अस्थिरता रहेगी। अमेरिकी महंगाई दर के साथ साथ बाजार शुक्रवार को जारी किए फ्रैक्ट्री आउटपुट के डेटा पर रिएक्ट करेगा। इसके अलावा आज रिटेल महंगाई के आकंड़े आएंगे। वहीं यूएस फेड की बैठक का आउटकम 15 जून को आएगा। इन सभी चीजों को लेकर बाजार में अनिश्चितता का माहौल है।
जो स्टॉक्स आज न्यूज में हैं उनमें HDFC बैंक, कोल इंडिया, वेदांता, स्ट्राइड्स फार्मा, सीई इंफोसिस्टम्स, बर्जर पेंट, IIFL फाइनेंस, लेमन ट्री होटल्स, J&K बैंक, फ्यूचर रिटेल, अंसल हाउसिंग, डेक्कन हेल्थ केयर शामिल हैं। इन कंपनियों से जुड़ी कोई न कोई खबर होने की वजह से इन सभी स्टॉक्स पर आज बाजार की नजर है।
पिछले कारोबारी दिन सेंसेक्स में 1.84% की गिरावट रही
सेंसेक्स और निफ्टी हफ्ते 10 जून को भारी गिरावट के साथ बंद हुए थे। सेंसेक्स 1016.84 पॉइंट या 1.84% की गिरावट के साथ 54,303.44 पर और निफ्टी 276.30 पॉइंट या 1.68% की गिरावट के साथ 16,201.80 पर बंद हुआ था। सेंसेक्स में इंफोसिस, बजाज फाइनेंस, विप्रो, कोटक बैंक और HDFC में 2 से 4% की गिरावट रही।
10 जून को सबसे ज्यादा गिरने वाले शेयर
अप्रैल में इंडस्ट्रियल ग्रोथ 7.1% पर पहुंची।
इंडस्ट्रियल ग्रोथ यानी IIP के आंकड़े शुक्रवार को जारी किए गए थे। कैपिटल गुड्स और कंज्यूमर ड्यूरेबल सेक्टर में ग्रोथ के कारण अप्रैल 2022 में भारत की फैक्ट्री आउटपुट ग्रोथ 7.1% बढ़कर 135.1 पर पहुंच गई। ये 8 महीने का उच्चतम स्तर है। इलेक्ट्रिसिटी और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर से भी ग्रोथ को सपोर्ट मिला। एक महीने पहले मार्च में यह 2.2% रही थी। अप्रैल 2021 में IIP ग्रोथ 133.5% बढ़कर 126.6 रही थी। इतनी ज्यादा ग्रोथ का कारण लो बेस इफेक्ट था।
दरअसल, मार्च 2020 में कोरोना की वजह से लगाए गए लॉकडाउन की वजह से देश में आर्थिक गतिविधियां थम गई थीं। इसका असर यह हुआ कि IIP बेस नीचे चला गया। अप्रैल 2020 में IIP 57.31% गिरकर 54.0 पर पहुंच गई थी। जब बेस बहुत नीचे चला जाता है तो थोड़ा उछाल भी बड़े सुधार का भ्रम पैदा करता है।

शुक्रवार, 10 जून 2022

शेयर बाजार में भारी गिरावट, कारोबार की शुरुआत

शेयर बाजार में भारी गिरावट, कारोबार की शुरुआत 

कविता गर्ग  

मुंबई। शेयर बाजार में शुक्रवार को भारी गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत हुई। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का सेंसेक्स 560.03 अंक गिरकर 54,760.25 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 194.15 अंकों के दबाव 16,283.95 अंक पर खुला। लाल निशान के साथ खुले शेयर बाजार में मिडकैप और स्मॉलकैप में भी गिरावट दर्ज की गई। बीएसई का मिडकैप 106.70 अंकों की गिरावट के साथ 22,528.35 अंक पर और स्मॉलकैप 100.36 अंक उतरकर 25,938.91 अंकों पर खुला।

बता दें कि बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स गुरुवार को 427.79 अंक की छलांग लगाकर 55 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर के पार 55,320.28 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 121.85 अंक उछलकर 16,478.10 अंक पर पहुंच गया था।


रविवार, 5 जून 2022

कंटेनर ट्रक से टकराई कार, 3 बच्चों सहित 5 की मौत

कंटेनर ट्रक से टकराई कार, 3 बच्चों सहित 5 की मौत 

कविता गर्ग  
पुणे। महाराष्ट्र के सांगली जिले में पुणे-बेंगलुरु राजमार्ग पर एक कार के सड़क किनारे खड़े कंटेनर ट्रक से टकरा जाने से एक ही परिवार के तीन बच्चों सहित पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दुर्घटना शनिवार को सांगली के कासेगांव क्षेत्र अंतर्गत येवालेवाड़ी फाटा के पास उस समय हुई जब कार पुणे से कोल्हापुर के जयसिंहपुर जा रही थी।
कासेगांव पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि कार तेज गति से चल रही थी क्योंकि दुर्घटना के बाद कार गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गई। इसमें सवार सभी पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।’’ मृतकों की पहचान अरिंजय शिरोटे (35) , स्मिता शिरोटे (38), पूर्वा शिरोटे (14), सुनेशा शिरोटे (10) और वीरू शिरोटे (4) के रूप में हुई है। पुलिस ने कहा कि दुर्घटना उस समय हुई जब अरिंजय शिरोटे अपने रिश्तेदारों को जयसिंहपुर छोड़ने जा रहे थे।

शुक्रवार, 3 जून 2022

49 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स

49 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स

कविता गर्ग  
मुंबई। घरेलू शेयर बाजारों में शुक्रवार को उतार-चढ़ाव के बीच कारोबार समाप्त होने से ठीक पहले बिकवाली होने से मानक सूचकांक बीएसई सेंसेक्स 49 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स कारोबार के दौरान ज्यादातर समय लाभ में रहा। लेकिन कारोबार समाप्त होने से ठीक पहले बिकवाली का जोर होने से यह 48.88 अंक यानी 0.09 प्रतिशत की गिरावट के साथ 55,769.23 अंक पर बंद हुआ।
कारोबार के दौरान यह ऊंचे में 56,432.65 और नीचे में 55,719.36 अंक तक गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी अपनी बढ़त को बरकरार नहीं रख पाया और 43.70 अंक यानी 0.26 प्रतिशत गिरावट के साथ 16,584.30 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में अल्ट्राटेक सीमेंट, मारुति, एनटीपीसी, बजाज फिनसर्व, इंडसइंड बैंक, एक्सिस बैंक और महिंद्रा एंड महिंद्रा बैंक में प्रमुख रूप से नुकसान में रहे। इसके उलट लाभ में रहने वाले शेयरों में रिलायंस इंडस्ट्रीज, इन्फोसिस, लार्सन एंड टूब्रो, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, सन फार्मा, विप्रो, टीसीएस और हिंदुस्तान यूनिलीवर लि. शामिल हैं।

बुधवार, 1 जून 2022

मामूली बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत हुईं

मामूली बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत हुईं 

कविता गर्ग 
मुंबई। शेयर बाजार में बुधवार को मामूली बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत हुई। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का सेंसेक्स 21.86 अंक बढ़कर 55,588.27 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 9.85 अंकों की बढ़त के साथ 16,594.40 अंक पर खुला। हरे निशान के साथ खुले शेयर बाजार में मिडकैप और स्मॉलकैप में भी बढ़त देखी गई।
बीएसई का मिडकैप 31.55 अंक बढ़कर 23,175.37 अंक पर और स्मॉलकैप 132.48 अंकों की तेजी के साथ 26,503.29 अंकों पर खुला। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते दिन 359.33 अंक टूटकर 55566.41 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 76.85 अंक फिसलकर 16584.55 अंक पर रहा था।

शुक्रवार, 27 मई 2022

तालाब की खुदाई, दुर्लभ 'पंचमुखी शिवलिंग' मिला

तालाब की खुदाई, दुर्लभ 'पंचमुखी शिवलिंग' मिला 

कविता गर्ग           
चंद्रपुर। महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले के मूल तालुका के भेजगांव में एक तालाब की खुदाई के दौरान दुर्लभ 'पंचमुखी शिवलिंग' मिला है। पंचमुखी शिवलिंग मिलने का जिले में ये पहला मामला है। शिल्प तालाब के किनारे हेमाडपंती मंदिर में ये शिवलिंग रखा गया है। लोगों का कहना है कि एक सप्ताह पूर्व इस तालाब से यमदेव की एक मूर्ति भी मिली थी। पंचमुखी शिवलिंग मिलने से चंद्रपुर के इतिहास का महत्त्व और भी बढ़ गया है। चंद्रपुर जिले के भेजगांव में प्राचीन तालाब की खुदाई का कार्य चल रहा है।
इस तालाब के किनारे एक हेमाडपंथिया शिव मंदिर है। इस प्राचीन तालाब की खुदाई का काम पिछले कुछ दिनों से चल रहा है। खुदाई के दौरान अत्यंत दुर्लभ समझा जाने वाला पंचमुखी शिवलिंग मिला है। यह शिवलिंग टेराकोटा से बना है और इसमें लाल रंग की पॉलिश है। इस शिवलिंग की लंबाई पांच इंच है। लोगों का कहना है कि इस प्रकार की छोटी मूर्तियां घर के मंदिर में पूजा के लिए रखी जाती हैं।

गुरुवार, 26 मई 2022

शेयर बाजार ने तेजी के साथ कारोबार की शुरुआत की

शेयर बाजार ने तेजी के साथ कारोबार की शुरुआत की 

कविता गर्ग     

मुंबई। शेयर बाजार ने गुरुवार को तेजी के साथ कारोबार की शुरुआत की। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का सेंसेक्स 201.58 अंकों की बढ़त के साथ 53,950.84 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 79.2 अंकों की बढ़त के साथ 16,105.00 अंक पर खुला। हरे निशान के साथ खुले शेयर बाजार में मिडकैप और स्मॉलकैप में भी बढ़ोतरी देखी गयी।

बीएसई का मिडकैप 97.35 अंक बढ़कर 21,926.41 अंक पर और स्मॉलकैप 98.08 अंकों की तेजी के साथ 25,221.38 अंकों पर खुला। बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बुधवार को 303.35 अंक लुढ़ककर 54 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 53749.26 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 99.35 अंक टूटकर 16025.80 अंक पर रहा था।

बुधवार, 25 मई 2022

पुलिस के सामने 2 कट्टर नक्सलियों का आत्मसमर्पण

पुलिस के सामने 2 कट्टर नक्सलियों का आत्मसमर्पण  

कविता गर्ग        

नागपुर। महाराष्ट्र में हत्याओं, आगजनी और मुठभेड़ के विभिन्न मामलों में कथित रूप से शामिल 2 कट्टर नक्सलियों ने गढ़चिरौली पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि इन नक्सलियों पर 12 लाख रुपये का इनाम था। गढ़चिरौली के पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने एक विज्ञप्ति में कहा कि नक्सली हिंसा से तंग आ चुके थे। उन्होंने कहा कि कई नक्सली राज्य सरकार की आत्मसमर्पण नीति की ओर आकर्षित हो रहे हैं। विज्ञप्ति के मुताबिक, 2019 से अब तक 49 कट्टर नक्सलियों ने गोयल के सामने आत्मसमर्पण किया है, जिन्होंने आश्वासन दिया है कि हथियार डालने और समाज की मुख्यधारा में शामिल होने के इच्छुक लोगों को सरकार की ओर से सभी आवश्यक सहायता प्रदान की जाएगी। पुलिस ने बताया कि ताजा मामले में रामसिंह उर्फ ​​सीताराम बक्का अतराम (63) और माधुरी उर्फ ​​भूरी उर्फ ​​सुमन राजू मट्टमी (34) ने आत्मसमर्पण किया।

पुलिस ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले दोनों नक्सलियों पर 6-6 लाख रुपये का इनाम था। मट्टमी को 2002 में कसानसुर स्थानीय संगठन दस्ते (एलओएस) के सदस्य के रूप में भर्ती किया गया था और 2013 से अप्रैल 2022 तक उसने पर्मिली एलओएस में एक क्षेत्र समिति के सदस्य के रूप में काम किया। पुलिस ने कहा कि वह चार हत्याओं, 21 मुठभेड़ों और आगजनी की सात घटनाओं और पांच अन्य मामलों में शामिल थी और उसके खिलाफ 37 मामले दर्ज किए गए थे। पुलिस के अनुसार, मट्टमी ने आत्मसमर्पण किया क्योंकि नक्सली संगठनों में महिलाओं को वरिष्ठ माओवादियों द्वारा भेदभाव का सामना करना पड़ रहा था। विज्ञप्ति के मुताबिक, अतराम को 2005 में अहेरी एलओएस के सदस्य के रूप में भर्ती किया गया था। 2007 से 2012 तक उसने आंदोलन के उप-कमांडर के रूप में काम किया और एक हत्या और दो मुठभेड़ों में शामिल था। इसमें कहा गया है कि उसके खिलाफ तीन अपराध दर्ज किए गए थे। पुलिस ने कहा कि वह राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के प्रति आकर्षित था। बयान में कहा गया है कि अतराम और मट्टमी दोनों को अब सरकार से पुनर्वास के लिए साढ़े चार लाख रुपये मिलेंगे। 

मंगलवार, 17 मई 2022

8 प्रतिशत गिरावट के साथ सूचीबद्ध हुआ शेयर बाजार

8 प्रतिशत गिरावट के साथ सूचीबद्ध हुआ शेयर बाजार  

कविता गर्ग        

मुंबई। भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का शेयर बाजार, मंगलवार को करीब 8 प्रतिशत गिरावट के साथ सूचीबद्ध हुआ। बीएसई में एलआईसी का शेयर 867.20 रूपये और एनएसई में 872 रूपये पर खुला। इसका निर्गम मूल्य 949 रूपये था। एलआईसी ने कंपनी के पॉलिसीधारकों और रिटेल निवेशकों को 889 रूपये और 904 रूपये प्रति शेयर के भाव पर शेयर आवंटित किए थे।

उल्लेखनीय है कि भारत की दिग्गज बीमा कंपनी एलआईसी के प्रथम आईपीओ में प्रस्तुत किए गए शेयरों की तुलना में 2.95 प्रतिशत आवेदन प्राप्त हुए थे। यह निर्गम आम निवेशकों के लिए चार मई से खुला था और इसमें बोली लगाने के लिए नौ मई आखिरी दिन था। उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार इस निर्गम में कुल 47.83 करोड़ शेयरों के लिए आवेदन मिले थे जबकि बिक्री के लिए 16.2 करोड़ प्रस्तुत किए गए थे।

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया  जे.एस.वी. किड्स एकेडमी में सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ने मनाया अमृत महो...