रविवार, 30 जून 2019

मेरठ में नहीं हुआ हिंदू पलायन, योगी

मेरठ से नहीं हुआ हिंदुओं का पलायन: सीएम योगी


मेरठ ! प्रहलाद नगर से बहुसंख्यक समुदाय के कथित पलायन के मुद्दे पर लखनऊ से दिल्ली तक हड़कंप मच गया था। अब इस मामले में सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सफाई दी है। सीएम योगी ने दो टूक कहा कि कोई पलायन नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि वहां (मेरठ) लोगों के बीच आपसी विवाद के कुछ मामले हो सकते हैं लेकिन पलायन जैसा कुछ भी नहीं है।


'कोई पलायन नहीं कर रहा'
मेरठ में 100 हिन्दू परिवारों के पलायन की खबरों पर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- 'कोई भी पलायन नहीं कर रहा है, अब जब हम सत्ता में आए हैं, तो कौन पलायन करेगा? व्यक्तिगत विवादों के कुछ मामले हो सकते हैं लेकिन कोई पलायन नहीं है।'


संप्रदाय विशेष के लोगों का आतंक
दरअसल, पिछले दिनों सामाजिक कार्यकर्ता भवेश मेहता ने नमो ऐप पर शिकायत की थी कि प्रह्लाद नगर से बहुसंख्यक समुदाय के लोग बड़ी संख्या में पलायन कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि लोग डर की वजह से घर बेचकर दूसरी जगह जा रहे हैं। मेहना ने बताया कि कॉलोनी में एक संप्रदाय विशेष के लोगों का आतंक है। महिलाओं से सरेआम छेड़छाड़ की जाती है और विरोध करने पर मारपीट की जाती है। इस कारण से हिंदू घर बेचकर पलायन कर रहे हैं।


शामली से भी पलायन की खबर
उधर, मेरठ पलायन के बाद शामली से अल्पसंख्यकों के पलायन की खबर से एक बार फिर सूबे में हड़कंप मचा। बताया जा रहा है कि यहां कई मुस्लिम परिवारों को पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा है। मोहल्ला लाहोरी गेट और ठठेरान के आधा दर्जन से अधिक लोगों ने अपने मकानों पर 'यह मकान बिकाऊ है' लिख दिया है। लोग घर से अपना सारा सामान उठाकर पलायन कर कहीं चले गए हैं।


इरशाद अली


दिन में मजदूरी और रात में चोरी

दिन में मजदूरी और रात में करता था चोरी


जीआरपी के हत्थे चढ़ा जबलपुर का शातिर बदमाश शोहराव


सतना ।जीआरपी चौकी पुलिस ने एक ऐसे शातिर बदमाश को अपनी गिरफ्त में लिया है जो दिन में मजदूरी और रात में चोरी की वारदात को अंजाम देता था। पुलिस के हाथ लगा यह शातिर बदमाश दिन में लालता चौक में खड़ा होकर मजदूरी की तलाश में रहता था और काम से निपटने के बाद रेलवे स्टेशन परिसर में रात बिताता था। यहां रात बिताने उसका मकसद सिर्फ और सिर्फ मुसाफिरों का माल उड़ाना रहता था। सतना जिले के शहपुरा निवासी फरियादी संदीप वल्द रामायण बागरी के पर्स के साथ मोबाइल चोरी होने की शिकायत को जीआरपी चौकी प्रभारी संतोष तिवारी ने गंभीरता से लिया तो स्टेशन परिसर में चोरी की वारदात को अंजाम देने वाला जबलपुर का शातिर बदमाश शोहराव हुसैन वल्द वसीर अहमद अंसारी उनकी विवेचना टीम के हाथ लग गया। कड़ाई से पूछताछ किए जाने पर उसने अपना जुर्म कुबूल लिया। पुलिस ने जब उसके बैग की तलाशी ली तो बैग से चोरी के 70 हजार रुपये की कीमत के 7 नग मोबाइल व पर्स निकले। पर्स में 300 रुपये की नगदी भी मिली, जिसे जप्त कर लिया गया है। जप्त इन मोबाइलों में से एक मोबाइल उस फरियादी का भी रहा जिसे फरियादी ने अपना बताया। इस प्रशंसनीय कार्य के लिए जबलपुर रेल पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार जैन द्वारा पुलिस टीम को नगद पुरुष्कार दिए जाने की घोषणा की गई है।


कविता देवी, सहायक संपादक


जनता झेल रही है भीषण गर्मी की मार


मनीष गुप्ता
आम जनता भीषण गर्मी से त्रस्त हैरिसगंज केस्को अधिकारी हवा खाने में मस्त


कानपुर ! कैंट रेल बाजार हैरिसगंज केस्को का बुरा हाल आम जनता होती है !भीषण गर्मी से परेशान इस बार दिन पर दिन भीषण गर्मी का प्रकोप दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है !इस साल ज्यादा गर्म होने के कारण कई मवेशी पंछी तथा मनुष्य भी सड़ी गर्मी के कारण अपनी अपनी जाने गवां चुके हैं! वहीं एक तरफ हैरिसगंज केस्को में ना तो आम जनता के लिए ठंडे पानी का इंतजाम है ना ही इस भीषण गर्मी में आए !बिजली का बिल जमा करने के लोगों के लिय लोहे की टीन के नीचे खड़े होकर भीषण गर्मी में तपना पड़ता है! फिर उसके बाद बिल जमा करना पड़ रहा है! केस्को अधिकारी तो अपने अपने रूम में कूलर तथा पंखा लगाकर ठंडी ठंडी हवा खा रहे हैं! वहीं आम जनता का भीषण गर्मी से बुरा हाल है! गर्मी के चलते लोगों का जीना दुश्वार है !इस लोहे की टीन के ऊपर आम जनता के लिए एक पंखा लगाया गया है! पंखा तो सालों से बंद पड़ा है !तथा फोटो में गौर से देखने के बाद भी लगता है,पंखा पूरी तरह से बेकार हो चुका है! तथा चारों तरफ से जंग भी खा चुका है! मगर किसी हैरिसगंज केस्को के कर्मचारी तथा छोटे बड़े अधिकारी की नजर सालों से इस पंखे में नहीं पड़ी है! आम जनता अगर भीषण गर्मी से जलती है तो जलने दो हमें किया हमें तो मिल रही है !कूलर तथा पंखे की ठंडी हवा और हर महीने खरे-खरे नोट आम जनता त्रस्त !हैरिसगंज केस्को अधिकारी पंखे की ठंडी-ठंडी हवा खाने में मस्त !अब या देखना है कि हैरिसगंज केस्को समाचार में खबर प्रकाशित होने के बाद क्या पंखे तथा कूलर की ठंडी हवा से जाते हैं ! हैरिसगंज केस्को अधिकारी आम जनता जो भीषण गरम में लोहे की टीन में खड़े होकर बिल जमा करने वालों के लिए क्या पंखे की रिपेयरिंग करवाते हैं, या फिर आम जनता को हमेशा के लिए भीषण गर्मी में सड़ाते है!


आकाश विजयवर्गीय जेल से बाहर

इंदौर ! भारतीय जनता पार्टी के विधायक आकाश विजयवर्गीय जेल से रिहा होकर बाहर आ चुके हैं! इंदौर नगर निगम के अधिकारी को बल्ले से पीटने के आरोप में आकाश विजयवर्गीय को कोर्ट ने जेल भेज दिया था! शनिवार को जेल की कागजी प्रक्रिया पूरी नहीं होने की वजह से आकाश विजयवर्गीय जेल से बाहर नहीं आ सके थे!


निगम अधिकारी को बल्ले से पीटने पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और आकाश के पिता कैलाश विजयवर्गीय की प्रतिक्रिया आ गई है. कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि कोर्ट ने आकाश को जमानत दी है! मैं इस मामले में कुछ नहीं कह सकता! इस मामले में कोर्ट ने अपना काम किया और कोर्ट ने ही उन्हें जमानत दी है! मुझे इस पर कुछ नहीं कहना! मुझे उस समय की परिस्थिति के बारे में कोई जानकारी नहीं है और अभी मैं बंगाल में हूं!


इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी के सांसद बाबुल सुप्रीयो ने भी इस पर प्रतिक्रिया दी है! सुप्रीयो ने कहा कि निश्चित रूप से ऐसा आप नहीं देखना चाहते, लेकिन कहानियों का हमेशा अलग पक्ष भी होता है! कानून अपना काम कर रहा है! एक बड़े भाई के रूप में मैं उन्हें परेशानी में नहीं डालना चाहता!हमें इस मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए!


20 हजार कर्मी हड़ताल पर,चरमराई व्यवस्था

20 हजार कर्मी हड़ताल पर, चरमराई बिजली व्यवस्था


कई सूत्रीय मांगों को लेकर संविदा कर्मी ईको गार्डन में धरने पर बैठे हैं। अफसरों को संविदा कर्मी की बात सुनने का समय नहीं। 


लखनऊ ! जिनके कंधों पर प्रदेश की बिजली व्यवस्था है, उन्हीं की बात सुनने के लिए न तो ऊर्जा मंत्री के पास समय है और न ही बिजली महकमे के बड़े अधिकारियों के पास। यही नहीं उत्तर प्रदेश पॅावर कॉरपोरेशन निविदा संविदा कर्मचारी संघ के संरक्षक व मोहनलालगंज के सांसद कौशल किशोर की भी इनकी बात नहीं सुनी। ऐसे में यूपी के अलग-अलग जिलों से आए बीस हजार संविदा कर्मियों ने अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार पर चले गए हैं। इसका खामियाजा उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है।
रविवार की सुबह राजधानी सहित आसपास जिलों में तेज बारिश ने बिजली व्यवस्था चरमरा दी। राजाजीपुरम, कैम्पबेल रोड, उतरेठिया, अंबेडकर विवि उपकेंद्र व ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह छह बजे गई। बिजली दोपहर एक बजे तक नहीं आ सकी थी। कारण अभियंताओं के इशारे पर नाचने वाले संविदा कर्मी जो हड़ताल पर चले गए थे। ऐसे में सुबह से बिजली उपभोक्ताओं को बिजली व पानी के लिए परेशान होना पड़ा।
इस संबंध में जब मुख्य अभियंता ट्रांस गोमती प्रदीप कक्कड़ से बात की गई तो उन्होंने अपने क्षेत्र के संविदा कर्मियों के हड़ताल पर न जाने के बात कही। वहीं, सिस के मुख्य अभियंता मधुकर वर्मा ने स्वीकार किया कि संविदा कर्मियों के हड़ताल पर जाने से बिजली संकट को दुरुस्त करने में समय लग रहा है।


वहीं, कर्मचारी संघ के प्रदेश महामंत्री देवेंद्र कुमार पांडे ने बताया कि यह समय बिजली महकमे के बड़े अफसरों ने पैदा की है। संविदा कर्मियों का वेतन समय से नहीं मिलता, जो मिलता है उसमें से ई-पीएफ, ईएसआई में घोटाले हो रहे हैं। इसमें अभियंताओं की अनदेखी व मिलीभगत है!


शरद यादव


जीवन का ज्ञान (समीक्षा)

*जीवन का ज्ञान*


" टिकट कहाँ है ? " -- टी सी ने बर्थ के नीचे छिपी लगभग तेरह - चौदह साल की लडकी से पूछा ।"
नहीं है साहब।
"काँपती हुई हाथ जोड़े लडकी बोली।
"तो गाड़ी से उतरो।" टी सी ने कहा ।
इसका टिकट मैं दे रहीं हूँ।............पीछे से ऊषा भट्टाचार्य की आवाज आई जो पेशे से प्रोफेसर थी ।
"तुम्हें कहाँ जाना है ?" लड़की से पूछा" पता नहीं मैम ! "" तब मेरे साथ चल बैंगलोर तक ! ""
तुम्हारा नाम क्या है ? "" चित्रा
"बैंगलोर पहुँच कर ऊषाजी ने चित्रा को अपनी एक पहचान के स्वंयसेवी संस्थान को सौंप दिया । और अच्छे स्कूल में एडमीशन करवा दिया। जल्द ही ऊषा जी का ट्रांसफर दिल्ली होने की वजह से चित्रा से कभी-कभार फोन पर बात हो जाया करती थी ।करीब बीस साल बाद ऊषाजी को एक लेक्चर के लिए सेन फ्रांसिस्को (अमरीका) बुलाया गया । लेक्चर के बाद जब वह होटल का बिल देने रिसेप्सन पर गई तो पता चला पीछे खड़े एक खूबसूरत दंपत्ति ने बिल भर दिया था ।"तुमने मेरा बिल क्यों भरा ? ? ""
मैम, यह बम्बई से बैंगलोर तक के रेल टिकट के सामने कुछ नहीं है ।
""अरे चित्रा ! ! ? ? ? . . . .
चित्रा कोई और नहीं इंफोसिस फाउंडेशन की चेयरमैन सुधा मुर्ति थी, एवं इंफोसिस के संस्थापक श्री नारायण मूर्ति जी की पत्नी थी।
यह उन्ही की लिखी पुस्तक "द डे आई स्टाॅप्ड ड्रिंकिंग मिल्क" से लिया गया कुछ अंश
देखा आपने!............कभी आपके द्वारा भी की गई सहायता किसी की जिन्दगी बदल सकती है।
अगर कुछ कमाना है तो नेकियां कमाईये जनाब,


क्योंकि यही वो रास्ता है जो जन्नत तक जाता है....!!!!


हिंदू राव में डॉक्टरों से मारपीट:हड़ताल

 


अब दिल्ली में डॉक्टरों के साथ मारपीट, सोमवार को हिंदूराव में रेजीडेंट डॉक्टर हड़ताल पर



नई दिल्ली ! डॉक्टरों के अनुसार शनिवार देर रात को एक गंभीर मरीज को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती करवाया! मरीज की दोनों किडनियां फेल हो गई थीं! कुछ ही देर में उसकी मौत हो गई! मृतक के परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का अरोप लगाते हुए उनसे मारपीट की!


कोलकाता में डॉक्टरों के साथ हुई मारपीट के बाद हुआ बवाल अभी शांत हुआ ही था कि शनिवार को दिल्ली के हिंदूराव अस्पताल में डॉक्टरों के साथ मारपीट हो गई! जिसके बाद हिंदूराव के गुस्साए डॉक्टरों ने सोमवार को हड़ताल का ऐलान कर दिया! जानकारी के अनुसार शनिवार रात को एक गंभीर मरीज को इमरजेंसी लाया गया जहां पर उसकी मौत हो गई! जिसके बाद मृतक के परिजन ने लापरवाही का अरोप लगा कर चिकित्सकों के साथ मारपीट की. बाद में डॉक्टरों ने पुलिस में मरीज के परिजन के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है!


दो डॉक्टर हुए घायल



डॉक्टरों के अनुसार शनिवार देर रात को एक गंभीर मरीज को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती करवाया ! मरीज की दोनों किडनियां फेल हो गई थीं! कुछ ही देर में उसकी मौत हो गई. मृतक के परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का अरोप लगाते हुए उनसे मारपीट की! इस दौरान एक इंटर्न डॉक्टर और एक जुनियर डॉक्टर घायल हो गए!



न प्रबंधन न ही सिक्योरिटी गार्ड


डॉक्टर्स ने आरोप लगाया कि रात को न तो अस्पताल प्रबंधन मौजूद होता है और न ही कोई फोन को उठाता है! जब मारपीट हुई तो ढूंढने पर भी सुरक्षा गार्ड नहीं मिला! ऐसे में डॉक्टरों की सुरक्षा पर बड़ा सवाल उठता है! इसको लेकर रेजीडेंट डॉक्टरों ने जॉइंट सेक्रेटरी महेश कुमार से शिकायत भी की!


सोमवार को काम नहीं करेंगे रेजीडेंट डॉक्टर


इसके बाद डॉक्टर महेश ने ऐलान किया कि मारपीट के विरोध में सोमवार को रेजीडेंट डॉक्टर हिंदूराव अस्पताल में हड़ताल पर रहेंगे! उन्होंने कहा कि मारपीट करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए और उन्हें जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए! साथ ही डॉक्टर्स की सुरक्षा को लेकर कदम उठाए जाएं!


कल से लागू होंगे नए नियम

नई दिल्ली ;- सोमवार यानि की कल नया महीना शुरु हो जाएगा। नए महीने 1 जुलाई से भारत में कई बड़े बदलाव होने जा रहे हैं। इस बदलावों तथा नए नियमों से आप और आपकी जिंदगी पर सीधा असर पड़ेगा। इन नए नियमों से जहां एक ओर आपको राहत मिलेगी, वहीं अगर कुछ बातों का ध्यान नहीं रखा गया, तो आपको आर्थिक नुकसान भी हो सकता है। आपको बता दें कि कल से बैंक के कई नियम बदलने जा रहे है। इसका आपकी जेब और जिंदगी पर सीधा असर होगा। RBI ने ऑनलाइन पैसों के लेनदेन से जुड़े नियम बदल दिए हैं जो कि एक जुलाई से लागू होंगे। वहीं, रसोई गैस की कीमतें तय होंगी। साथ ही छोटी बचत योजनाओं की नई दरें लागू होंगी।माना जा रहा है कि ब्याज दरें घट सकती हैं। ऐसे में आपके जमा पर मुनाफा घट गया है। आइए जानें ऐसी कौन सी चीजें है जो 1 जून से बदलने जा रही हैं। रसोई गैस सिलेंडर के दाम में होगा बदलाव!


एक जुलाई से रसोई गैस सिलेंडर के दाम में बदलाव होगा। रसोई गैस सिलेंडर का दाम बढ़ भी सकता है और घट भी सकता है। इस बदलाव से आपकी जेब पर सीधा असर पड़ेगा। एक जून को सरकारी सेक्टर की तेल कंपनियों ने रसोई गैस के दामों में सब्सिडी और बिना-सब्सिडी के सिलेंडर की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि की थी। जून में बिना-सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमतों में 25 रुपये का इजाफा हुआ था, जिसके बाद दिल्ली में सिलेंडर की नई कीमत 737.50 रुपये, मुंबई में 709.50 रुपये, कोलकाता में 763.50 रुपये और चेन्नई में 753 रुपये हो गई थी। वहीं सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमतों में 1.23 रुपये की वृद्धि हुई थी, जिसके बाद दिल्ली में सिलेंडर की कीमत 497.37 रुपये, कोलकाता में 500.52 रुपये, मुंबई में 495.09 रुपये और चेन्नई में 485.25 रुपये हो गई थी। रेपो रेट से लिंक होगे होम लोन, देश के सबसे बड़े बैंक, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा रेपो रेट में कटौती करने के बाद अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है। बैंक ने कहा है कि अब होम लोन को रेपो रेट से लिंक किया जाएगा। इस संदर्भ में बैंक ने बयान जारी करते हुए कहा कि वो अब रेपो रेट के आधार पर अपने होम लोन की पेशकश करेंगे और यह सुविधा एक जुलाई से शुरू होगी। बैंक के इस कदम का असर 42 करोड़ ग्राहकों पर पड़ेगा, जिन्होंने होम लोन लिया हुआ है। अब जब भी आरबीआई अपने रेपो रेट में बदलाव करेगा, उसका असर तुरंत होम लोन पर भी पड़ेगा।अगर केंद्रीय बैंक ने रेपो रेट में बढ़ोतरी की, तो फिर एसबीआई भी ब्याज दरों में बढ़ोतरी करेगा। छह जून को हुई आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति (MPC) की समीक्षा बैठक में आरबीआई ने आम जनता को बड़ा तोहफा देते हुए रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (आरटीजीएस) और नेशनल इलेक्ट्रिक फंड ट्रांसफर (एनईएफटी) के जरिये होने वाला लेन-देन के निशुल्क कर दिया था। अब केंद्रीय बैंक ने घोषणा की यह नियम एक जुलाई से लागू होगा। अब यह हुई ब्याज दर, आरटीजीएस और एनईएफटी करने पर बैंक ग्राहकों से चार्ज वसूलते हैं। ऐसे में ग्राहकों के खाते से अतिरिक्त राशि कटती है। हालांकि अब एक जुलाई से बैंकों को आरबीआई के नियम का पालन करना पड़ेगा, जिसका फायदा ग्राहकों को मिलेगा। सरकार ने एनएससी (NSC) और पीपीएफ (PPF) सहित सभी छोटी बचत योजनाओं पर जुलाई से सितंबर की तिमाही में ब्याज दरों में 0.1 फीसदी की कटौती की है। इस फैसले का मकसद रिजर्व बैंक द्वारा रेपो रेट में कटौती के बाद ब्याज दरों को कम करके बैंकिंग सेक्टर के अनुरूप बनाना है। आरबीआई इस साल तीन बार पॉलिसी रेट में कमी कर चुका है। छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों को बैंकिंग सेक्टर के अनुरूप करने के लिए सरकार ने ब्याज दरें घटाई हैं। 2019-20 की दूसरी तिमाही के लिए जारी वित्त मंत्रालय की अधिसूचना के मुताबिक पीपीएफ और एनएससी में सालाना ब्याज आठ फीसदी की जगह 7.9 होगी। वहीं, 113 महीने में परिपक्व होने पर किसान विकास पत्र 7.6 फीसदी ब्याज मिलेगा। अभी 112 महीने में परिपक्व होने पर 7.7 फीसदी ब्याज मिलता है।


राजेश राणा


खुद, पेट्रोल छिड़ककर लगाई आग

अलवर,गोविंदगढ़ ! कस्बे के नजदीकी गांव अलघानी के एक युवक सुभाष सैन पुत्र तुलाराम सैन ने जंगल में जाकर अपने आप को पेट्रोल छिड़ककर आग लगा ली! युवक ने आग क्यो लगाई इस का पता नही चला पाया है!


सुभाष की माँ ने बताया कि वह सुबह घर से निकल गया था क्योंकि उसने शराब भी पी रखी थी और उस पर भूत प्रेत के साये का असर होना भी बताया जा रहा है!
आग लगने से उसके शरीर का 50% हिस्सा जल गया! 
सूचना मिलते ही गोविंदगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एंबुलेंस 108 चालक विशाल शर्मा गोविंदगढ़ emt, (स्टाफ नर्स ) विनोद कुमार शर्मा के साथ मौके पर पहुचे!


पीड़ित को प्राथमिक उपचार देकर गोविन्दगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुँचे।जहां गोविंदगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर ड्यूटी पर डॉ राकेश टुटेजा ने प्राथमिक उपचार देकर और लेप लगाकर , डॉक्टर राकेश टुटेजा ने उसकी हालत गंभीर देख कर अलवर के लिए रेफर कर दिया गया!


योगेंद्र द्विवेदी


मध्यप्रदेश में मजूमदार बने अध्यक्ष

वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप मजूमदार बने इंडियन रिपोर्टर्स एसोशियन के प्रदेश अध्यक्ष


सतना। प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप मजूमदार को इरा (इंडियन रिपोर्टर्स एसोशियन) का प्रदेश अध्यक्ष मनोनीत किया गया है। दक्षिण भारत के पत्रकारों के इस प्रसिद्ध राष्ट्रीय संगठन में उनके मप्र अध्यक्ष बनने पर मप्र के पत्रकारों की समस्याओं को राष्ट्रीय स्तर पर उठाया जा सकेगा।
पन्ना के रहने वाले वरिष्ठ पत्रकार मजूमदार वर्तमान में सी वोटर दिल्ली में पदस्थ हैं। परंतु देशभर में उनके भ्रमण चलते रहने के कारण पत्रकारों की समस्याओं को प्रमुखता से उठाया जा सकेगा। उनके प्रदेश अध्यक्ष बनने पर भोपाल से गणेश शंकर विद्यार्थी प्रेसक्लब प्रदेश अध्यक्ष माखन विजयवर्गीय, उज्जैन से मोहित राजे, बैतूल से सौरभ वर्मा, राजगढ़ से अरुण सक्सेना, श्याम निगम, मोहन नागर आदि ने बधाई प्रेषित की है। एवं उनकी लगातार तरक्की की कामना की है।
 मजूमदार ने बताया कि वो जल्द ही भोपाल आकर जनसम्पर्क मंत्री से मुलाकात करेंगे एवं पत्रकारों के साथ हो रही घटनाओं पर कड़ी कार्रवाई एवं प्रमुखता से निराकरण की मांग करेंगे। उन्होंने अपना नम्बर 7566557040 जारी करते हुए कहा कि पत्रकार उनसे इस नम्बर पर संपर्क कर सकते हैं।


यह है स्वच्छ भारत अभियान की सच्चाई

योगी जी के स्वच्छ भारत अभियान के नाम काे जिम्मेदार अधिकारी दिखा रहे ठेंगा


गंदगी जमा होने से संक्रामक बीमारियों का बना रहता है खतरा


अाखिर क्या कारण है कि जिम्मेदार अधिकारी इस ओर ध्यान नही देते


कई बार समाचार पत्र मे प्रमुखता से खबर प्रकाशित हाेने पर सिर्फ स्वच्छ भारत अभियान के नाम पर जनता की नजराे मे दिखावा


 


लखीमपुर(खीरी) ! जहां पर योगी सरकार सफाई व्यवस्था को लेकर लाख दावे कर ले लेकिन उत्तर प्रदेश की हालत सुधरने का नाम नहीं ले रही है ,मामला जनपद लखीमपुर खीरी हीरालाल धर्म शाला के पीछे निकली रोड का है। जहॉ पर याेगी जी के फरमानाे काे ताक पर रख कर जिम्मेदार अधिकारी लगा रहे पलीता, बता दे कि एेसा लगता है नगर पालिका इन दिनों सिर्फ कुम्भ करणीय नींद मे लीन है जहॉ पर साफ साफ इन तस्वीराे काे देखकर अन्दाजा लगा सकते है कि हीरालाल धर्म शाला के पीछे रोड पर कब साफ सफाई हाेती है यह वहां पर रहने वाले लाेग भी नहीं जानते, लेकिन लाेग स्वच्छ भारत अभियान के बारे मे बताए ताे किसकाे बताए वे खुद नही जानते आैर जानेगें भी कैसे, क्याेकि गन्दगी भरी नालियाे व आस पास के घराे के किनारे गन्दी नलियाे का भरा पानी तथा बिजबिजाते कीड़े मकाेडे, जिससे भयंकर सक्रांमक राेग तरह तरह बीमारियॉ फैलने की अशंका जताई जाती हैं आखिर नगर पालिका क्याे नही नालियाे की साफ सफाई करवाती क्या कारण है रोड के किनारे पूरे कूड़े का ढेर दुकानों व मकानों के सामने लगा देते हैं। बैठे जिम्मेदार अधिकारियों के आदेशाे काे साफ सफाई काे लेकर नियमाे का पालन नही करते , जहां पर सफाई व्यवस्था को लेकर धर्म शाले के पास रहनेवाले । व वहां पर दुकानदार बेहद रूप से परेशान हैं यहां कहीं न कहीं सफाई व्यवस्था को लेकर अगर देखा जाए तो नालियां मलबों से खचाखच भरी हुई है साथ ही बता दें, सड़काे की साफ सफाई जैसी ढेर सारी समस्याएं लेकर जब काेई जिम्मेदार अधिकारी व नगर पालिका के पास अगर जाये भी ताे उनकी समस्या सुनने व कुछ भी बताना मुनासिब नही समझते, फैली गन्दगी व गन्दे पानी भरे नाले व नाली चोक। जिसमे साफ सफाई काे लेकर समाचार पत्र मे प्रमुखता से खबर प्रकाशित की गई थी जिससे नाले की साफ सफाई व नाली की सफाई काे लेकर सिर्फ खानापूर्ति सहित के नाम पर जिम्मेदार बैठे अधिकारी अब धीरे - धीरे लोगो का अब जिम्मेदार अधिकारियाे पर से लोगो का विश्वास उठता जा रहा है इन सब तस्वीराे काेे देख कर जिम्मेदार अधिकारी खुद अन्दाजा लगा सकते जहॉ शहर मे इन सब समस्याओं से एेसा लगता की सफाई कर्मी यहां नहीं आता है, वहीं दूसरी जहॉ पर नलियाे की व्यवस्था पूरी तरह खराब है। वहॉ लोग अपने घर के सामने की नालियों को खुद साफ करने पर मजबूर हैं।


गुरु जी हलवाई बनने वाले हैं.....

फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ,
फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ।


1 जुलाई की सुबह मचेगा गदर,
भागेंगे सभी इधर से उधर ।


सुबह - सुबह 5 बजे उठना पड़ेगा ,
जल्दी मंजन , स्नान करना पड़ेगा ।


साईकिल , मोटरबाइक या हो कार ,
हवा , पेट्रोल भरवाकर हो लो तैयार ।


छुट्टी के दिन निकलने वाले हैं ,
फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ।


छुट्टी में सभी बन गए थे नवाब,
देर से उठकर आदत कर ली खराब ।


तुम जो इस आदत को न बदलोगे ,
तो अनुपस्थिति का दंश भोगोगे ।


ABRC को पूरे करने निरीक्षण पूरे।
BEO भी करेंगे जमकर निरीक्षण ।


लेट उठने के दिन लदने वाले हैं,
फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ।


40 दिन तुमने बड़ा आलस दिखाया ,
बेचारी सी खटिया को खूब सताया ।


नए-नए व्यंजन की करी खूब डिमांड ,
पलंग पर खा-खाकर हो गए हो मुसठन्डे ।


ये 40 दिन तुमने मौज में बिताए हैं ,
बस टीवी रिमोट के बटन दबाए हैं ।


इस हेकड़ी के दिन जाने वाले हैं ,
फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ।


फ्रिज का बड़ा चिल्ड पानी पिया है ,
AC , कूलर का भी आनन्द लिया है ।


पर अब तो पंखा भी नहीं मिलेगा ,
टपटप-टपटप खूब पसीना बहेगा ।


मास्टर जी की अब यही कहानी है ,
कड़ी धूप में बाइक चलानी है ।


रंग सबके काले पड़ने वाले हैं ,
फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ।


अबकि गुरुजी ने मनाई खूब छुट्टी ,
न ली BLO और रैपिड सर्वे की ड्यूटी ।


आपसे पहले अधिकारी आएँगे विद्यालय ,
चेक होगा ऑफिस से लेकर शौचालय ।


अधिकारी खूब सताने वाले हैं ,
फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ।


ग्रामीण , रसोइया और प्रधान ,
सब मिलकर लेंगे तुम्हारी जान।


कुछ रूपये मे बच्चों को कैसे खिलाओगे ,
क्या मिड डे मील के झूठे आंकड़े बनाओगे


गुरु जी हलवाई बनने वाले हैं ,
फिर से स्कूल खुलने वाले हैं ।


आओ चले अपने प्यारे स्कूल!..........


 संतोष कुमार शास्त्री


कौन बनेगा मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष?

कौन बनेगा मध्य प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष,आधा दर्जन के करीब नेता


शेख नसीम


भोपाल ! मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के अध्यक्ष पद से इस्तीफे के संकेत मिलने के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर करीब आधा दर्जन नेता सक्रिय हो गए हैं।


प्राप्त सूत्रों से पता चला हैं कि मध्य प्रदेश के सभी बड़े नेता अध्यक्ष पद पर दावेदारी कर रहे हैं या अपनी पसंद के नेता का नाम आगे कर रहे हैं। अध्यक्ष पद पर सबसे पहला नाम ज्योतिरादित्य सिंधिया का चल रहा हैं और सिंधिया समर्थक भी चाहते हैं की मध्य प्रदेश कांग्रेस की बागडोर ज्योतिरादित्य सिंधिया के हाथों में दे दी जाए।


अगर मध्य प्रदेश के अध्यक्ष पद पर मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की पसंद की बात करे तो इन दोनों बड़े नेताओं की पहली पसंद मध्य प्रदेश के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह हैं। लेकिन अजय सिंह को सिंधिया समर्थक अध्यक्ष बनने नही देंगे।


मध्य प्रदेश अध्यक्ष पद पर मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने समर्थक और मध्य प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन का भी नाम आगे कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में बाला बच्चन की राह में सबसे बड़ी मुश्किल खड़ी करेंगे वनमंत्री उमेश सिंघार जो युवा होने के नाते और एक विशेष तबके के होने की वजह से अपना नाम आगे करेंगे।


मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष के लिए उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी का नाम भी आगे चल रहा हैं। लेकिन अंतिम फैसला कांग्रेस के सर्वे सर्वा राहुल गाँधी को करना हैं बहरहाल ये सभी नेता मध्य प्रदेश कांग्रेस का नया अध्यक्ष बनने की जुगत में हैं अब देखना ये हैं की इस अहम पद पर राहुल गाँधी किसकी ताजपोशी करते हैं और किसके सर मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष पद का सेहरा बंधता हैं।


मजदूर का तोड़ा हाथ रोटी के भी लाले

हाथ टूटने के बाद मजदूरी करने से भी दूर,बाल-बच्चों को एक वक्त की नहीं मिल रही रोटी,तरस रहा पूरा परिवार


जमीन भी लूटने की की गयी कोशिश,हाथ भी तोड़ दिया गया


संवाददाता-विवेक चौबे


कांडी(गढ़वा) ! क्या जमाना आ गया है।हर जगह गरीबों को हीं दबाया जा रहा है।आखिर गरीब जाए तो कहाँ।जी हाँ,मामला है,कांडी थाना क्षेत्र अंतर्गत लमारी कला पंचायत के सननी गांव निवासी प्रमोद तातो पिता विश्वनाथ तातो की।उक्त व्यक्ति आर्थिक व शारीरिक रूप से भी कमजोर है।खाता संख्या 76 प्लॉट संख्या 338 रकवा साढ़े 45 डिसमिल उसके माता-पिता के पास जमीन है। सभी सही कागजात होने के बावजूद भी उसी गांव निवासी भोला यादव, पिता गजाधर यादव सहित पुरे परिवार ने जबरन उसकी जमीन पर घर बनाने हेतु बुनियाद खोदकर प्लिंथ दे दिया है।जब प्रमोद तातो के द्वारा विरोध किया गया की जमीन मेरी है तो भोला यादव ने उक्त गरीब को मार-पिट कर बाया हाथ भी तोड़ दिया।रड के सहारे अब उसका हाथ है।पंचायती कागज भी मौजूद है,जिसमें पंचायत के द्वारा कहा गया था की भोला यादव पीड़ित को स्वस्थ कराने में पूरा खर्च देगा।जब तक पीड़ित ठीक नहीं हो जाता तब तक प्रत्येक महीने 2500 रु भी देने का आदेश दिया गया था।पंचायत में यह भी बताया गया था की यदि भोला यादव पंचायती को नहीं मानता है तो पीड़ित आगे की कार्रवाई के लिए बाध्य होगा। हालात भी कुछ इस प्रकार की ही हुई की भोला ने सामाजिक पंचायती को भी ठुकरा दिया।


मजबूर होकर प्रमोद तातो द्वारा एक परिवाद पत्र भी दायर किया गया,जो कांडी कांड संख्या 4/16 दिनांक 13/1/2016 है। बता दें की परिवाद पत्र दायर करने के बावजूद भी अभी तक दोषी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।अब सवाल यह उठता है की आखिर प्रशाशन के द्वारा दोषी पर कार्रवाई क्यों नहीं की गयी।इसलिए की पीड़ित गरीब व अनपढ़ है।पीड़ित प्रमोद तातो हर जगह न्याय का गुहार लगाकर थक चुका है।प्रशासन भी प्रमोद का साथ नही है ।उक्त सभी मामलों की जानकारी झामुमो नेता अनवर हुसैन अंसारी ने दी।उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि इसे गंभीरतापूर्वक संज्ञान में लेते हुए जांच कराकर उक्त गरीब व कमजोर व्यक्ति की सहायता करने तथा दोषी पर कार्रवाई होने की मांग की है।साथ ही उन्होंने बताया की एक एक प्रतिलिपि मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी महोदय,गढ़वा,पुलिस अधीक्षक गढ़वा,अपर समाहर्ता गढ़वा,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी गढ़वा,अनुमंडल पदाधिकारी सदर गढ़वा,अंचलाधिकारी कांडी को भी भेजा गया है।देखते हैं खबर की अगली कड़ी में की दोषी पर कार्रवाई होती है या नहीं।प्रमोद को न्याय मिलता है या नहीं।आखिर पीड़ित कब तक डर से भागता रहेगा।जब की उसके पास सभी कागजात मौजूद हैं,जैसे-केवाला,रशिद, सरकारी अमिन द्वारा मापी का कागजात,पंचायती कागजात,हाथ टूटने का मेडिकल प्रमाण आदि सभी कागजात मौजूद हैं।प्रमोद तातो के हाथ टूटने व अस्वस्थ हो जाने के कारण इतनी गरीबी आ गयी अब उसके परिवार भूख से भी तड़पने लगे।पीड़ित के चार बाल-बच्चे सहित पत्नी है।बच्चों की पढाई-लिखाई तो दूर एक वक्त की रोटी के लिए भी परिवार तरसने लगा।तिन वर्ष बीत गए पीड़ित आखिर कब तक कोर्ट-कचहरी,थाना का चक्कर काटता फिरेगा।


मुख्यमंत्री ने मरीजों का हाल जाना

मुरादाबाद।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मुरादाबाद दौरे के पीछे कई मुख्य कारण भी रहे हैं! जनपद में मीट के व्यापार से जुड़े व्यापारी दयनीय स्थिति से गुजर रहे हैं! हालांकि अभी तक मुख्यमंत्री के दौरे में इसका कोई एजेंडा नहीं दिया गया है! मुख्यमंत्री के द्वारा सबसे पहले  ज़िला अस्पताल का निरीक्षण किया गया! निरीक्षण करने के बाद प्रधानमंत्री आवास योजना का के संबंध में हालिया जानकारी ली।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुबह ज़िला अस्पताल पहचे। यहाँ सीएमएस और सीएमओ ने उनका स्वागत किया। इसके बाद वह इमरजेंसी वार्ड में गए। यहाँ उन्होंने सास के मरीज़ सौखत टीवी की मरीज़ साक्षी शर्मा का हाल जाना। साक्षी ने बताया कि उसके पास आयुषमान कार्ड दिलाने  आश्वासन दिया। इसके बाद मानसिक रूप से बीमार जिसान को फूल भेंट किया। यहाँ उन्होंने डॉ शोर सिंह कंकड़ से हाल जाना। इसके बाद वह प्रधानमंत्री आवास योजना का हाल जानने के लिए रवाना हो गए।


मुजफ्फरनगर जेल का भी हुआ निरीक्षण

दोनो जिले के जिला जज,सीजीएम व डीएम एसएसपी ने किया जेल का निरीक्षण


जेल के निरीक्षण के दौरान सब कुछ मिला सामान्य


तस्लीम बेनकाब


मुजफ्फरनगर। जिला जज मुजफ्फरनगर एस के पांचोरी,जिला जज शामली अनुज कुमार गोयल, सीजीएम शामली राज मंगल सिंह व सीजीएम मुजफ्फरनगर राकेश कुमार गौतम जिलाधिकारी डॉक्टर अजय शंकर पांडये,जिलाधिकारी शामली अखिलेश सिंह एसएसपी सुधीर कुमार सिंह,पुलिस अधीक्षक शामली अजय कुमार पांडये,एडीएम ई अमित सिंह,एस पी नगर सतपाल आंतिल ने आज मुजफ्फरनगर जिला कारागार का निरीक्षण किया।आला अधिकारियों ने जेल अधीक्षक अरुण कुमार सक्सेना को जेल में शांति-व्यवस्था बनाए रखने तथा कैदियों को भोजन समेत जरूरी चीजों को नियमानुसार उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए।


दोनो जिले के आलाधिकारी ने जिला जेल मुजफ्फरनगर पहुंचे ओर जेल में निरीक्षण करते हुए कैदियों से जेल में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में पूछा। कैदियों ने सुरक्षा व्यवस्था पर संतोष जताया। अधिकारियों ने रसोईघर में साफ-सफाई का जायजा भी लिया वहा भी मिला सबकुछ सामान्य ! महिला कैदियों से भी मिले और उनकी समस्याओं को सुना तो वही कुछ बैरकों में जाकर वहां बंदियों से मुलाकात कर उनसे स्वास्थ्य के बारे मे जाना और जेल में बन रहे खाने की गुणवत्ता भी जानी तो ! वही इस दौरान आल अधिकारियों ने बंदियों की बैरकों और सुरक्षा व्यवस्था की जाच भी की। उन्होंने जेल प्रशासन को निर्देश दिए कि संदिग्ध बंदियों और उनसे मिलने वालों पर कड़ी नजर रखी जाए।


दोनो जिले के आला अधिकारीयो ने करीब 2 घंटे तक जिला कारागार में रहे तो वही इस निरीक्षण के दौरान आला अधिकारियों को सब कुछ सामान्य पाये जाने पर जेल अधीक्षक मुजफ्फरनगर अरुण कुमार सक्सेना व जेलर कमलेश सिंह की की तारीफ भी की!आला अधिकारियों ने बताया कि यह नियमित त्रैमासिक निरीक्षण था। जेल परिसर में सब कुछ सामान्य मिला।


अमरनाथ:पहलगांव से रवाना पहला जत्था

नई दिल्ली !अमरनाथ के लिए यात्रियों का पहला जत्था रविवार सुबह रवाना हो गया है! यात्रियों का ये जत्था बम भोले के नारों के साथ जम्मू के पहलगाम बेस कैंप से रवाना हुआ ! जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के सलाहकार केके शर्मा झंडा दिखाकर यात्रियों को रवाना किया !इस दौरान यात्रियों की सुरक्षा के लिए भी कड़े इंतजाम किए गए है! खबरों के मुताबिक इस पहले जत्थे में करीब 1183 श्रद्धालु अमरनाथ की यात्रा के लिए रवाना हुए हैं!


जानकाकारी के मुताबिक बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए निकेल यात्री शाम तक श्रीनगर पहुंचेंगे और सोमवार को बाबा बर्फानी के दर्शन करेंगे! यात्रियों की सुरक्षा के लिए चप्पे चप्पे पर नजर रखी जा रही है! इसके लिए 40 हजार जवानों को तैनात किया गया है!


आवास योजना के लाभार्थियों को चाबी सौंपी

धौराहरा सांसद ने काशीराम आवास योजना के लाभार्थियों को वितरित की चाबी



लखीमपुरखीरी, मोहम्मदी ! नगर पालिका परिषद मोहम्मदी में सांसद रेखा अरुण वर्मा का स्वागत नगर पालिका अध्यक्ष संदीप मेहरोत्रा कन्हैया के नेतृत्व में सभी सभासदों ने मिलकर नगर पालिका सभागार में किया गया। वही सुशीला वर्मा सभासद एवं पूर्व उपाध्यक्ष पूर्व सदस्य जिला योजना समिति ने चांदी का मुकुट पहनाकर सांसद का स्वागत किया।
इसके बाद सांसद ने काशीराम आवास योजना की पात्र गृहस्थीयो को आवास की चाबी ओं का वितरण किया।
इस मौके पर एसडीएम स्वाति शुक्ला, नगर पालिका अध्यक्ष संदीप मेहरोत्रा कन्हैया, नगर अध्यक्ष सौरभ गुप्ता प्रवीण वर्मा प्रदीप मेहरोत्रा आलोक मेहरोत्रा आलोक वर्मा स्पर्श वर्मा अर्पित वर्मा रितेश शुक्ला जेई सतीशचंद्र चंद्र मौर्य सहित आईटी सेल एवं नगर पालिका परिषद का समस्त स्टाफ मौजूद रहा।


आलोक कुमार वर्मा


पुलिस ने किया साप्ताहिक मीटिंग का आयोजन

साप्ताहिक मीटिंग का किया गया आयोजन



लखीमपुर खीरी,मोहम्मदी ! कोतवाली मोहम्मदी में साप्ताहिक मीटिंग का आयोजन कोतवाल संजय त्यागी के सानिध्य में किया गया। कोतवाली में सभी चौकी प्रभारियों और विभिन्न सैलों पर कार्य कर रहे पुलिस अधिकारी अथवा कर्मचारियों को कर्तव्यनिष्ठा के प्रति समर्पित रहने के लिए कहा गया ! अनुशासनहीनता और लापरवाही के विरुद्ध  विभागीय कार्रवाई करने के लिए भी कहा गया !कोतवाल संजय त्यागी ने समस्त स्टाफ को सत प्रतिशत  पुलिसिंग करने का निर्देश दिया! छुटपुट रूप से हो रही अपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने की हिदायत दी !अपने कर्तव्यों का पालन निष्ठा और ईमानदारी से करने का आदेश दिया और समस्त पुलिस स्टाफ की समस्याओं के बारे में जाना और उनका मौके पर निस्तारण किया।


आलोक कुमार वर्मा


दुराचार पीड़ित को नहीं मिलने दिया

सहारनपुर ! शेख उल हिंद मौलाना महमूद हसन मेडिकल कॉलेज मैं हुए एक महिला के साथ दुराचार का मामला मुख्यमंत्री  के संज्ञान मे आया ! मुख्यमंत्री ने पीड़िता कोमल देवी को सहारनपुर में 28 जून रात्रि 8 बजे मिलने का दिया समय! मुख्यमंत्री पी जी आई का करेंगे दौरा पीजीआई के प्रधानाचार्य छुट्टी लेकर चले गए !जिन द्वारा शासन के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रही है!
 सहारनपुर अंबाला रोड पर बना शेख उल हिंद मौलाना महमूद हसन मेडिकल कॉलेज मैं माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी का दौरा जिसको लेकर शासनादेश जारी हुआ खाकी कोई भी संबंधित अधिकारी छुट्टी पर नहीं जाएगा !और ना ही किसी का आवकाश स्वीकार किया जाएगा! आपका वहां उपस्थित रहना अनिवार्य होगा !
मगर वही दूसरी ओर शेख उल हिंद मौलाना महमूद हसन मेडिकल कॉलेज सहारनपुर के प्रधानाचार्य जी शासन के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए जोकि छुट्टी लेकर अपने घर चले गए हैं! इसलिए मेडिकल कॉलेज के अंदर जो खामियां हैं उनको छुपाने की वजह से ताकि उनसे कोई सवाल ना कर ले !
आपको बता दें कि बीते दिनों पहले एक महिला कोमल देवी निवासी अहमदपुर जिला सहारनपुर जोकि पीजीआई में अपना इलाज कराने के लिए आई थी! जिन द्वारा पीजीआई के डॉक्टरों व स्टाफ पर भ्रष्टाचार में लिप्त होना वह लापरवाही करने का शासन एवं प्रशासन को प्रार्थना पत्र लिख व पत्रकारों के सामने गंभीर आरोप लगाया था! महिला कोमल देवी ने बताया है !गोरखपुर से उनके पास एक कॉल आई स्नेह उनको कहा गया कि मुख्यमंत्री के सहारनपुर दौरे के दौरान आप मुलाकात करना परंतु पीड़िता कोमल देवी मान्य मुख्यमंत्री से मुलाकात करने पहुंची तो वहां पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने कोमल देवी को मिलने नहीं दिया!


 हाकिम अली


डॉ0 साजिद राणा


पहली बार:किन्नरों ने रैंप पर बिखेरा जलवा

कानपुर ! उत्तर भारत में पहली बार लाजपत भवन मे किंनरोत्सव के ट्रांस् एक्स फैक्टर फैशन शो और नाईट का आयोजन हुआ। इसमें दिल्ली, चंडीगढ़, लखनऊ, और कानपुर के 25 किंनरो ने केट वॉक किया। जिन्हे खूब उत्साह से दर्शको ने तालियाँ बजाई। मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व पार्षद काजल किरण ने किंनरौ की वाहवाही और हौसला अफजाई की। श्री शोमिल्य सेवा संस्थान के फ़ैशन इस आयोजन मे अपोलो ग्रुप, आरएसएफ, शुभंजलिक समिति, नंद रानी ग्रुप ने अपना सहयोग दिया। कार्यक्रम की शुरुआत शिव तांडव के साथ हुई। नाच गाने के बाद किन्नरो का फैशन शो शुरू हुआ। सभी भारतीय पोशाक मे अपना जलवा विखेरा। इसके बाद पश्चिमी पोशाक मे दर्शको का खूब मनोरंजन किया। इन्हें महुआ ने तैयार किया। कानपुर से ललिता और मौसम रैंप पर उतरे। इसका दूसरा कार्यक्रम भोपाल मे होगा। सभी प्रतिभागी और अतिथियों को प्रतीक चिह्न दे कर सम्मानित किया। कार्यक्रम मे अपोलो ग्रुप के अंशुमान, शोमिल् शर्मा, तुषार मिश्र, मनीष सेंगर, लोकतांत्रिक जनवादी पार्टी के जिला सचिव अजय कुमार द्विवेदी, कनिष्क त्रिवेदी सामिल हुए।


इटावा जेल का किया ओचक निरीक्षण

इटावा ! जहां पूरे उत्तर प्रदेश के जेलों की हालत पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं वही आज इटावा जिला कारागार औचक निरीक्षण करने पहुंचे डिस्ट्रिक्ट जज, जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वहीं डीएम ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि जेल के अंदर पत्रकारों से बात करते हुए छोटी छोटी समस्याओं का निर्धारण जल्द ही किया जाएगा


मुल्जिमो की मिलाई के लिए परिजनों की भी बैठने की जिलाधिकारी ने उचित व्यवस्था करने के आदेश जेल अधीक्षक को दिए ।


राजू प्रजापति


अधिकारियों ने समस्याएं सुनी,निस्तारण किया

बिजनौर ! तहसील नजीबाबाद के ग्राम मौजमपुर तुलसी में एक बैठक की गई ! जिसमें ग्रामीणों की विभिन्न समस्याओं को सुना गया! तथा नजीबाबाद तहसील में होने वाली मासिक मीटिंग में उनकी समस्याओं का निस्तारण संबंधित विभाग के सक्षम अधिकारी द्वारा समस्याओं का निस्तारण कराया जाएगा! ग्रामीणों ने राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के पदाधिकारियों का फूल मालाओं से स्वागत किया और ग्राम में 28 तारीख की रात्रि 100 नंबर पुलिस द्वारा एक जनरेटर पुलिस द्वारा जबरन की इन थाने खींच कर ले जाया गया था! जब समस्या राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के जिला मीडिया में युवा प्रभारी अचल शर्मा के सामने आई तो इस समस्या का समाधान नजीबाबाद के तेजतर्रार शिव महेश कुमार को अवगत कराया गया तथा उन्होंने मेरे द्वारा अवगत कराने पर कल रात्रि 8:00 बजे जनरेटर राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के जांबाज सिपाही इरफान भाई को जनरेटर मालिक को थाने में भेजा गया !


उन्हें पुलिस द्वारा जनरेटर सुपुर्द कर दिया गया इसी ग्राम में विभिन्न लोगों ने राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन की सदस्यता ग्रहण की तथा सभी से मेरे द्वारा 15 जुलाई को अधिक से अधिक संख्या में कलेक्ट्रेट पहुंचने का आह्वान किया गया l इस मीटिंग में मंडल प्रभारी महिपाल तोमर, मंडल डॉक्टर आदेश शर्मा ,युवा मंडल प्रभारी ललित चौहान, एडवोकेट देव प्रताप चौहान जिला मीडिया ,युवा प्रभारी अचल शर्मा के साथ साथ ग्रामीणों मे अबरार अहमद सलमानी ,मास्टर इरफान, इब्राहिम ,हनीफ हाजी इमरान ,हाजी शाहनवाज आदि लोगों ने सदस्यता ग्रहण कीl


 अचल शर्मा


जनहित याचिका पर हाई कोर्ट में सुनवाई

 


शामली ! आरटीआई एवं सामाजिक कार्यकर्ता की जनहित याचिका पर कल हाईकोर्ट कर रहा है सुनवाई! आ सकता है बड़ा फैसला ! आपको बताते चलें कि मामला जनपद शामली के थानाक्षेत्र बाबरी के अंतर्गत आने वाले ग्राम भंदौड़ा की ग्राम सभा की विवादित भूमि जिसकी खसरा संख्या 530 है!
इसी ग्राम पंचायत की उक्त विवादित भूमि पर बीजेपी के थानाभवन विधानसभा से विधायक श्री सुरेश राणा उर्फ सुरेश कुमार ने फरवरी - मार्च 2016 को अपनी विधायक निधि से उक्त भूमि पर बारात घर बनाने को लेकर तकरीबन 16 लाख रुपये से ऊपर की धनराशि को स्वीकृति प्रदान करते हुए उपरोक्त मद में ग्रांट उपरोक्त बारात घर व गांव के दलित मंदिर में भी बारात घर के निर्माण के लिये जारी की थी ! जिसका स्थानीय स्तर से लेकर शासन स्तर तक गांव के ही आरटीआई एवं सामाजिक कार्यकर्ता ने विरोध किया था! जब मामले में जिला प्रशासन शामली ने कोई संज्ञान नहीं लिया तब आरटीआई एवं सामाजिक कार्यकर्ता ने उपरोक्त प्रकरण को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में उक्त से सम्बंधित जनहित याचिका दाखिल कर दी! जिस पर हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए शामली उपजिलाधिकारी को 8 हफ्तों के अंतर्गत याचिकाकर्ता कुलदीप शर्मा के प्रत्यावेदनों पर कड़ी कार्यवाही शुरू कर सम्बंधित निर्माण करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध कानूनी नोटिस जारी करते हुए उनके विरुद्ध कार्यवाही करने के सम्बंध में दिनांक 30 जून 2016 को आदेश पारित कर दिये !


उपरोक्त आदेशों का अनुपालन न किये जाने को लेकर याचिकाकर्ता ने पुनः हाईकोर्ट के समक्ष अवमानना याचिका दाखिल कर दी जिस पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने जनपद शामली की सदर तहसील के तत्कालीन उपजिलाधिकारी श्री महेंद्रपाल सिंह को 23 सितम्बर 2016 को नोटिस जारी कर हाईकोर्ट के समक्ष व्यक्तिगत तौर पर पेश होकर जवाब देने के लिए तलब कर लिया उपरोक्त प्रकरण तभी से हाईकोर्ट में विचाराधीन एवं लम्बित चला आ रहा था !उपरोक्त विवादित भूमि पर फरवरी - मार्च 2019 को जिला एवं पुलिस प्रशासन के कुछ भृष्ट अधिकारियों की मदद से पुनः उपरोक्त विवादित भूमि पर निर्माण कार्य को शुरू कर दिया गया !जिसमें याचिकाकर्ता ने जनपद स्तर से लेकर शासन स्तर तक उपरोक्त विवादित भूमि पर किसी भी प्रकार के कार्य को न कराने को लेकर प्रत्यावेदनों को प्रेषित कर कार्यवाही करने की गुहार लगाई गई! जो विफल रही ततपश्चात याचिकाकर्ता ने पुनः मामले में हाईकोर्ट के समक्ष गुहार लगाते हुए मार्च 2019 के अंतिम सप्ताह में पुनः जनहित याचिका दाखिल कर दी! जिस पर हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए जनपद शामली की सदर तहसील के एसडीएम और शामली के पुलिस अधीक्षक व डीएम सहित प्रदेश के मुख्य सचिव को तलब करते हुए उनसे व्यक्तिगत तौर पर हाईकोर्ट के समक्ष पेश होकर उनको 2 सप्ताह के अंदर जवाब दाखिल करने के सम्बंध में दिनांक 9 अप्रैल 2019 को आदेश जारी कर दिये! जनहित याचिका पर पुनः सुनवाई करने के लिए जुलाई 2019 के पहले सप्ताह में तारीख तय करते हुए! याचिका की सुनवाई जुलाई माह के प्रथम सप्ताह तक के लिए स्थगित कर उपरोक्त आदेश जारी किए गए थे! जिसमें एक बार फिर हाईकोर्ट ने उपरोक्त प्रकरण की सुनवाई के लिये एक जुलाई की सुनवाई निश्चित की है!


भानु प्रताप उपाध्याय


उत्तर भारत में 3 तक आएगा मानसून

गर्मी से जुलाई में मिलेगी राहत : उत्तर भारत मे मानसून 1 से 3 जुलाई के बीच



गोरखपुर। मौसम विभाग के अनुसार एक से तीन जुलाई के बीच मानसून उत्तर भारत के ज्यादातर हिस्सों में छा जाएगा। इसके बाद बाकी बचे हिस्सों में भी मानसून जुलाई के पहले सप्ताह में पहुंच जाएगा। दिल्ली में छह या सात जुलाई तक मानसून के पहुंचने की उम्मीद मौसम विभाग व्यक्त कर रहा है।


मौसम विभाग के महानिदेशक डॉ. केजे रमेश ने कहा कि अगले चौबीस घंटों के भीतर बंगाल की खाड़ी में एक निम्न दबाव क्षेत्र बन रहा है। इसके विस्तारित होने की संभावना है जिसका असर मानसून की प्रगति पर पड़ेगा। इस सिस्टम से एक से तीन जुलाई के बीच मानसून मध्य भारत के करीब-करीब सभी इलाकों में छा जाएगा। साथ ही उत्तर-पश्चिमी राज्यों के भी ज्यादातर इलाकों को कवर कर लेगा। अभी मानसून भोपाल, जबलपुर, सुल्तानपुर से लेकर लखीमपुरी खीरी और मुक्तेश्वर तक पहुंच गया है। रमेश ने कहा कि पिछले तीन-चार दिनों के दौरान मध्य भारत और पूर्व के हिस्से में मानसून सक्रिय है। बारिश अच्छी हो रही है। अब नए सिस्टम से इसे और गति मिलने की संभावना है।


अगला पड़ाव दिल्ली
दिल्ली के बारे में डॉ. रमेश ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दस्तक देने के बाद मानसून का अगला पड़ाव दिल्ली होता है। यदि तीन जुलाई तक मानसून पश्चिम उप्र में सक्रिय हो जाता है तो फिर अगले तो-तीन दिनों के भीतर यह दिल्ली भी पहुंच जाएगा।



34 फीसदी कम बारिश
मानसून में विलंब के कारण देश में अभी बारिश बहुत कम हुई है। पिछले सप्ताह तक यह कमी 43 फीसदी की थी। लेकिन शनिवार को यह घटकर 34 फीसदी रह गई। मध्य भारत में 36, पूर्वोत्तर में 35, उत्तर पश्चिम में 34 तथा दक्षिणी हिस्से में 30 फीसदी कम बारिश हुई है। मानसून का एक महीना बीतने को है। लेकिन अभी तक सिर्फ 104 मिमी बारिश हुई है जबकि यह 159 मिमी होनी चाहिए थी।


85 फीसदी भाग सूखे की चपेट में 
अब तक के आंकड़ों को देखें तो देश के 85 फीसदी हिस्से में जरूरी मानसूनी बारिश नहीं हुई है। सिर्फ 15 फीसदी हिस्से में ही जरूरत भर की बारिश हुई है। मौसम विभाग ने देश को 36 संभागों में बांटा है। इनमें से 31 संभागों में कम बारिश हुई है। जबकि पांच संभागों में ही सामान्य बारिश हो पाई है। 31 में से तीन संभाग ऐसे हैं जहां बारिश की कमी 60 फीसदी से भी ज्यादा दर्ज की गई है। जबकि जिन पांच संभागों में ठीक बारिश हुई है, उनमें से सिर्फ एक ऐसा है जहां सामान्य से अधिक बारिश हुई है।


 


विकास कार्य नहीं होने से नराज पार्षदों का हंगामा


गोरखपुर नगर निगम में शनिवार को पार्षदों ने जमकर हंगामा किया। कभी मेयर सीताराम जायसवाल की गाड़ी के नीचे लेटकर तो कभी जमकर नारेबाजी कर पार्षदों ने नगर निगम प्रशासन पर विपक्षी दलों के पार्षदों के वार्डों की उपेक्षा का आरोप लगाया।


बाद में सपा के महानगर अध्‍यक्ष जियाउल इस्‍लाम और कुछ अन्‍य नेताओं की अगुवाई में पार्षदों ने नगर आयुक्‍त से विभिन्‍न मुद़दों पर बात भी की। नगर आयुक्‍त ने उनकी मांगों पर विचार करने का आश्‍वासन दिया लेकिन फिलहाल पार्षदों का गुस्‍सा शांत नहीं हुआ है। पिछले कई दिनों गोरखपुर के विभिन्‍न वार्डों में विकास न होने का आरोप लगाते हुए पार्षद आंदोलित हैं। शुक्रवार को ही कांग्रेसी पार्षद संजीव सिंह सोनू ने विकास कार्यों की अनदेखी पर आत्‍मदाह की चेतावनी दे दी थी। पार्षदों का दल अनशन पर भी बैठा है जिसका नेतृत्‍व सपा पार्षद विश्‍वजीत त्रिपाठी, कांग्रेस पार्षद संजीव सिंह सोनू और निर्दल पार्षद संजय यादव सहित कुछ गैर भाजपा पार्षद कर रहे हैं।


नाटक अंधेर नगरी का हुआ मंचन

कार्यशाला समापन के बाद नाटक अंधेर नगरी का होगा मंचन
गोरखपुर । प्रेमचंद साहित्य संस्थान व अलख कला समूह द्वारा आयोजित निशुल्क ग्रीष्मकालीन 17 दिवसीय प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का समापन हो रहा है! जिसमें भारतेंदु द्वारा लिखित व नाट्य प्रशिक्षक हर्षित मणि त्रिपाठी द्वारा निर्देशित नाटक 'अंधेर नगरी' का मंचन सांय 6:30 बजे से मुंशी प्रेमचंद पार्क में बने मुक्ताकाशी मंच पर होगा। विदित हो कि ए कार्यशाला विगत 17 दिन दिनांक -13 -06 -2019 से 29-06- 2019 तक स्थान- मुंशी प्रेमचंद साहित्य संस्थान ,मुंशी प्रेमचंद पार्क गोरखपुर में समय- सांय 4:30 बजे से 6:30 बजे तक लगातार चला।


जिसके प्रशिक्षक- हर्षित मणि त्रिपाठी (नाट्य प्रशिक्षणार्थी महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय वर्धा, महाराष्ट्र ) रहे जिसमें कुल 18 प्रतिभागी प्रतिभाग किए। इन्हें प्रतिभागियों को लेकर नाटक अंधेर नगरी तैयार हुआ जिसका मंचन रविवार को शाम 6:30 बजे से मुंशी प्रेमचंद पार्क में होगा। इस संपूर्ण कार्यक्रम में बेचन सिंह पटेल ,बैजनाथ मिश्र, विपिन कुमार सिंह ,सुजीत कुमार श्रीवास्तव का सहयोग सराहनीय रहा जनपद के सभी नाटक प्रेमी उक्त कार्यक्रम में सादर आमंत्रित हैं ।


कर्क :लेन-देन के कार्यों में सावधानी बरतें!

दैनिक राशिफल 



मेष -----व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। घर में मेहमानों का आगमन होगा। दूर से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। किसी मांगलिक कार्य में भाग लेने का अवसर प्राप्त हो सकता है। भागदौड़ रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। मनोरंजन का कार्यक्रम बन सकता है।


वृष ----भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। किसी लंबी यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। परिवार व मित्रों के साथ समय सुखमय व्यतीत होगा। चोट व रोग से बचें। मस्तिष्ट पीड़ा हो सकती है। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा।


मिथुन ----किसी से बड़े विवाद होने की आशंका है। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। व्ययवृद्धि से तनाव रहेगा। किसी के भी कार्य में हस्तक्षेप न करें। चिंता बनी रहेगी। नेत्रों की समस्या हो सकती है। आय में निश्चितता रहेगी।



कर्क---- किसी पुराने रोग के उभरने की आशंका है। लेन-देन के कार्यों में सावधानी रखें। हानि होने की आशंका है। डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है। कार्यक्षेत्र में उन्नति होगी। आय के नए स्रोत प्राप्त होंगे। जीवन सुखमय व्यतीत होगा।


सिंह---- स्वास्थ्‍य का पाया कमजोर रह सकता है। लापरवाही न करें। आर्थिक उन्नति के लिए किसी प्रभावशाली व्यक्ति का मार्गदर्शन व सहयोग प्राप्त हो सकता है। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। प्रसन्नता रहेगी।



कन्या ----किसी धार्मिक स्थान की यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। आत्मशांति रहेगी। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से संपर्क बन सकता है। विवाद में विजय प्राप्त होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। धनार्जन होगा। व्यापार अच्‍छा चलेगा।


तुला----- व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। आय बनी रहेगी। चोट व दुर्घटना से शारीरिक हानि की आशंका है। दूसरों से अपेक्षा न करें। विवाद होने की आशंका है। थकान व कमजोरी रह सकती है। कुसंगति से बचें। धनार्जन होगा।



वृश्चिक---- स्वास्थ्य का ध्यान रखें। किसी विवाद में अपना पक्ष मजबूती से रख पाएंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। आराम व मनोरंजन का अवसर प्राप्त होगा। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। प्रसन्नता रहेगी।


धनु -----किसी कारण से मन में खिन्नता रहेगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। स्थायी संपत्ति में वृद्धि हो सकती है। कोई बड़े लाभ की संभावना है। पार्टनरों तथा मित्रों के सहयोग से कार्य होंगे। जल्दबाजी न करें। जीवन सुखमय व्यतीत होगा।


मकर---- पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। स्व‍ादिष्ट व्यंजनों का लाभ प्राप्त होगा। रचनात्मक कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। जीवन आनंद से व्यतीत होगा। किसी प्रबु‍द्ध व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त हो सकता है।


कुंभ -----परिवार के छोटे सदस्यों के अध्ययन तथा स्वास्थ्य संबंधी चिंता रहेगी। कुसंगति से हानि होगी। व्यर्थ भागदौड़ होगी। शोक समाचार मिल सकता है। लाभ के अवसर टलेंगे। वाणी पर नियंत्रण रखें।


मीन---- किसी कार्य के लिए किए गए प्रयास सफल रहेंगे। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। नई योजना बनेगी। व्यापार-व्यवसाय में मनोनुकूल लाभ होगा। मित्रों तथा परिवार के सदस्यों के साथ प्रसन्न रहेंगे।


शंका-समाधान ( अध्यात्मिक मंथन)

(शंका- समाधान)


वेद अपौरुषेय है । धर्म और ब्रह्म में वेद ही एकमात्र प्रमाण है । वेद में प्रत्येक मन्त्र के ऋषि, देवताच्छन्द और विनियोग सुनिश्चित हैं । इन्द्र, आदित्य, वरुण, आदि देवता लोकाधिपति होते हैं । अश्विनीकुमार आदि देवता यजनीय होने पर भी लोकाधिपति नहीं हैं । किन्तु ये सब प्रकाशमान हैं कर्म फल के दाता हैं और द्युलोक स्थानीय हैं यही मुख्य देवत्व है । माता, पिता, राजा आदि में भी देव बुद्धि करने का उपदेश प्राप्त होता है । वे तो मर्त्य हैं । मनुष्य लोक के रहने वाले है । उनका देवत्व कैसे ? वस्तुतः गुणवृत्ति का प्रचलन लोक और वेद सर्वत्र है । विशेष प्रयोजन वश कहीं गुणवृत्तितः अदिव्य विषयों में भी शब्दित देवत्व वैदिक होता है । वहां देववृत्तिसे समादर ही अर्थतया प्राप्त है । अन्यथा अभिधेयार्थ-विप्लव हो जायेगा । और ऐसे प्रसंग में लक्षणया देवत्व भी अनुसंधेय नहीं है क्यों कि यागोपयोगी घटपटादि किसी भी पदार्थ की लक्षणा से देवत्व का संधान करते ही रहो ; जो अनावश्यक है । यह कोई वेदार्थ निर्णय की परिपाटी नहीं है ।
वैदिक कर्म या उपासना की संज्ञा , स्वरूप, द्रव्य, देवता, अधिकार और इतिकर्तव्यता षडंग-सहित वेद से ही सुनिश्चित है उस में सामान्य व्यतिक्रम असह्य है । लौकिक पूजापाठ में अधिकार, द्रव्य, देवता और मंत्र प्रभृति का स्वरूप अनिश्चित है और वह अनाप्त विषय भी है । सुतरां वह वैदिक उपासना के उपयोगार्थ अन्यथात्वेन सिद्ध है । कदाचित् शब्द साम्य के कारण वैदिक और लौकिक देवताओं में समता का भ्रम अविद्वानों को हो सकता है । परमाप्त वाङ्मय वेद में क्रम संशोधन के अभाव के कारण लौकिक उपासना का अन्तर्भाव कभी नहीं हुआ है । जनजातियों की क्रम विकशित विचारधारा कुछ वैदिकमन्य असंप्रदायवित् लोगों की मति को विवेकशून्य कर दे यह कोई बड़ा चमत्कार नहीं है । जो मनो भावना की प्रधानता से अनुस्ठित है और जिसके अभाव या विपरीत करण से कोई भी प्रत्यावाय संभावित नहीं होता है वह मनोरंजक ही तो है ।
आगम शास्त्रों में कोई भौतिक विषय को देवत्व प्रदान नहीं किया गया । वहां देवता ईश्वर के शक्ति रूप सूक्ष्म और दिव्य ही तो हैं । स्थूल लिङ्ग ,विग्रह ,यंत्र ,आदि देवता के स्मारक हो कर उपासना में उपयोगी हैं । प्रत्येक सम्प्रदाय के समयमार्गी उपासना में ये भी निरर्थक होते हैं ।
पुराण के विषय सर्वत्र वेदार्थ के अनुवादक नहीं होते हैं । कुछ लोग पुराण के अनेक विषयों को प्रक्षिप्त मानते हैं और कुछ लोग इसे विलुप्तार्थक या रहस्यार्थक मानते है । तब पौराणिक उपासना भी अगाम और निगम के प्रमाणाधीन हो कर निश्चय पदावगति को प्राप्त होती है ।
लैकिक उपासना को वैदिक उपासना का विकल्प या समकक्ष मान लेने पर कोई भी व्यवस्था नहीं बन पायेगी । लौकिक उपासना और कर्म में प्रामाण्य शंका का उन्मूलन कैसे होगा ? अनुष्ठान को प्रमाण मान भी लें तथापि कर्त्तव्य और प्रतिषिध्य का प्रमापक क्या होगा ? तो धर्माधर्म संदर्भ में असम्प्रदायवित् लोगों का आग्रह अस्वीकार्य है ।


सनातनी संदीप गुप्ता


वार्ड में भर्ती मरीज गर्मी से बिलबिला उठे

सीएचसी में विद्युत फाल्ट से फुंके पंखे, हलकान रहे मरीज


प्रतापगढ़ ! पट्टी सीएचसी में विद्युत फाल्ट के चलते शुक्रवार की रात वार्डों में लगे सीलिंग फैन फुंक गए। सोलह घंटे बाद कुछ पंखे बदलवाए गए। लेकिन वह भी चालू नहीं हो सके थे। तीमारदार घर से फर्राटा पंखा ले आए तो जनरेटर ही चालू नहीं हुआ। इससे अस्पताल में भर्ती मरीज गर्मी से बेहाल हो गए। वार्डो में मरीज हाथ से पंखा झलने को मजबूर थे। मरीज अस्पताल प्रशासन को कोसते नजर आए।
शुक्रवार की रात करीब बारह बजे विद्युत फाल्ट के चलते सीएचसी के सर्जिकल वार्ड सहित अन्य वार्डों के सीलिंग फैन फुंक गए। इससे अस्पताल में हाहाकार मच गया। वार्डों में भर्ती मरीज गर्मी से बिलबिला उठे। इस दौरान जो मरीज चलने की हालत में थे वह गर्मी से बचने के लिए अपने बिस्तर से उठकर तीमारदारों के साथ अस्पताल परिसर में बाहर पेड़ की छांव के नीचे जाकर लेट गए। जो बेड से उठ नहीं पाए उन्हें परिजनों ने हाथ के पंखों से हवा करके जैसे-तैसे संभाला।
कुछ इस तरह तीमारदारों ने सुनाया दुखड़ा
धूती निवासी ललित तिवारी ने बताया कि उनकी पत्नी नीलम की ऑपरेशन से डिलीवरी हुई है। वह चलने फिरने में असमर्थ है। इसलिए अस्पताल का पंखा फुंक जाने के कारण वह शनिवार सुबह घर से फर्राटा पंखा ले आए। लेकिन अस्पताल की विद्युत लाइन में फाल्ट तथा जनरेटर बंद होने के कारण वह भी काम न आ सका। इसी तरह शेखपुर अठगवां के अभिषेक तिवारी ने बताया कि उनकी पत्नी भैरवी की भी ऑपरेशन से डिलीवरी हुई है। वह भी घर से फर्राटा पंखा ले आए थे। लेकिन विद्युत फाल्ट व जनरेटर चालू न होने के कारण वह भी बेकार पड़ा रहा। अस्पताल में भर्ती हीरावती का कहना है कि मरीजों का दर्द कोई समझने वाला नहीं है। विद्युत फाल्ट से अस्पताल में मरीज बेहाल हैं लेकिन कोई भी जिम्मेदार उनका दर्द समझने वाला नहीं है। जबकि स्टाफ नर्स के कमरे में पंखा चल रहा है।
इनका कहना है
शुक्रवार की रात फाल्ट के चलते पंखे खराब हो गए थे। कुछ पंखे बदलवा दिए गए हैं। जनरेटर खराब है। इंजीनियर डायनमो खोल कर ले गए हैं। शीघ्र ही फाल्ट दूर करा कर व्यवस्था दुरुस्त कर ली जाएगी।


रोहित जायसवाल


सचिव पलांडे भ्रष्टाचार के मामले में निलंबित किया

कविता गर्ग     मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के पूर्व निजी सचिव संजीव पलांडे को भ्रष्टाचार के मामले में न...