बुधवार, 29 सितंबर 2021

संयुक्त राष्ट्र में चीन के राजदूत झांग ने जताईं उम्मीद

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। संयुक्त राष्ट्र में चीन के राजदूत झांग जुन ने मंगलवार को उम्मीद जताई कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन अपनी इस कथनी को करनी में बदलेंगे कि अमेरिका का चीन के साथ ‘‘नया शीत युद्ध’’ शुरू करने का कोई इरादा नहीं है। झांग ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में विश्व के नेताओं की सोमवार को समाप्त हुई वार्षिक बैठक के बाद एक डिजिटल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘’हम सभी उम्मीद करते हैं कि अमेरिका शीत युद्ध की मानसिकता को पूरी तरह त्यागकर अपनी कथनी को करनी में बदलेगा।

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि यदि दोनों पक्ष एक दूसरे की ओर बढ़ेंगे, तो वे चीन और अमेरिका के बीच एक स्वस्थ और स्थिर संबंध देख पाएंगे अन्यथा चिंताएं बनी रहेंगी।

कृषि कानून: किसान संगठनों ने भारत बंद किया

अविनाश श्रीवास्तव       

पटना। केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों ने सोमवार को भारत बंद किया। इस बंद को कांग्रेस, आरजेडी व अन्य कई दल ने समर्थन भी दिया। हालांकि लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटे तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव इस बंदी में कहीं नहीं दिखे। इसको लेकर जेडीयू नेता नीरज कुमार ने सवाल उठाया है। नीरज कुमार ने सोमवार को ट्विटर पर तंज कसते हुए लिखा, “कमाल! छोड़ा मैदान और हो गए फरार, हम करेंगे मस्ती, तुम करो ड्यूटी। जनता से हमें क्या लेना देना हम तो चलेंगे सिर्फ भ्रष्टाचार, परिवारवाद और वंशवाद की राजनीतिक चाल। हर कोई यही पूछ रहा है कि तेजस्वी आखिर फिर कहां गायब हो गए?” राजनीतिक बहरूपिया बताते हुए नीरज ने कहा कि तेजस्वी यादव ने एक बार फिर अपना रंग दिखाया है तथाकथित आंदोलन के दिन वो फरार हैं। जहां बीज उत्पादन होता था उसे बंद कर चरवाहा विद्यालय खोलने का ढोंग रचाया।

घड़ियाली आंसू बहाकर तथाकथित आंदोलन के लिए राजनीतिक पैरोल पर पार्टी के नेताओं को तथाकथित आंदोलन के लिए किया बहाल। नीरज कुमार ने कहा कि बंद के नाम पर हुड़दंग। कहीं टायर जला रहे, तो कहीं ट्रेन रोक रहे। मारपीट, लोगों को डराना-धमकाना। मतलब कभी नहीं सुधरेंगे जंगलराज के बचे-खुचे लठैत।

बता दें कि सोमवार को किसान आंदोलन के समर्थन में भारत बंद था। बिहार में कांग्रेस, आरजेडी समेत कई विपक्ष दल ने इसका समर्थन किया था। कृषि कानून को खत्म करने के लिए लगातार तीन महीने से आंदोलन हो रहा है। कई जगहों से तस्वीरें आईं कि कहीं ट्रेनें रोकी जा रहीं तो कहीं आग लगाकर प्रदर्शन किया जा रहा है।हालांकि आरजेडी की ओर से प्रदर्शन किया गया लेकिन लालू के दोनों बेटे नहीं आए। इसी को लेकर नीरज कुमार ने निशाना साधा है।


शान यदुवंशी ने बहुप्रतीक्षित कमेटी की घोषणा की

बृजेश केसरवानी        
प्रयागराज। समाजवादी पार्टी की यूथ विंग मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के महानगर अध्यक्ष शान यदुवंशी ने बहुप्रतीक्षित कमेटी की विधिवत घोषणा की। सिविल लाइंस के बैंक्विट हाल महानगर अध्यक्ष सै.इफ्तेखार हुसैन की अध्यक्षता व महानगर महासचिव रवीन्द्र यादव रवि के संचालन मे 33 सदस्यों की नगर कमेटी के साथ विधान अध्यक्षों को मनोनयन पत्र सौंपा। यूथ ब्रिगेड के महानगर अध्यक्ष शान यदुवंशी ने कार्तिक निषाद , कृष्णा केसरवानी , कपिल देव , विवेक कुमार यादव , संदीप यादव को यूथ ब्रिगेड का नगर उपाध्यक्ष तो यासर अराफात को कोषाध्यक्ष की ज़िम्मेदारी दी गई। अभय कनौजिया को शहर उत्तरी , शिव सागर यादव को शहर पश्चिमी , मो०समीर अहमद को शहर दक्षिणी विधान सभा का अध्यक्ष बनाया गया। मुकेश पाल को भगवतपुर ब्लाक का अध्यक्ष नामित किया गया।किशन साहु , अंकिता श्रीवास्तव , रफत उल्ला , महेन्द्र बाल्मिकी , नन्द लाल यादव , विनय यादव , नेहाल सिंह , प्रियम सिंह , शिवम यादव , अश्विनी सिंह , रजत प्राक्टर ,उज्जवल यादव , हर्षित यादव , कपिल तेजा , विरेन्द्र कुमार सरोज , शिव प्रकाश यादव , दुर्गेश यादव ,अमित पाण्डेय को नगर सचिव नामित किया गया।
विनय कृष्णा , उदय प्रताप सिंह , राघवेन्द्र भारतीय , अनुज सिंह , कमलेश मिश्रा , चन्दन मिश्रा , अनुपम द्विवेदी , मो.आरिफ सीबू नीरज प्रजापति ,  रवि मोदनवाल , महेन्द्र राधे को मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड का महानगर कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया। सभी नवनियुक्त पदाधिकारीयों को महानगर अध्यक्ष सै.इफ्तेखार हुसैन व नगर महासचिव रवीन्द्र यादव के हाँथों मनोनयन पत्र सौंपते हुए फूल माला पहना कर बधाई दी गई। कार्यक्रम में सै.इफ्तेखार हुसैन ,रवीन्द्र यादव ,पूर्व विधायक हाजी परवेज़ अहमद , इसरार अन्जुम ,दिनेश यादव , अनुप यादव , सबीहा मोहानी ,तारिक सईद अज्जू ,नन्द लाल निषाद , दूर्गा गुप्ता , बब्बन द्वबे , ननकऊ यादव , रमाकान्त पटेल , नेपाल सिंह पटेल , बच्चा पासी ,पिन्टू यादव , बब्लू रावत , जय सिंह यादव , सै.मो.हामिद , सै.मो.अस्करी आदि नेताओं ने नवनियुक्त पदाधिकारीयों को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

यूपी: व्यापार मण्डल समिति की बैठक सम्पन्न हुईं

बृजेश केसरवानी           
प्रयागराज। जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में बुधवार को जिला उद्योग बन्धु एवं व्यापार मण्डल समिति की बैठक सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी ने सभी सम्बंधित विभागों को निर्देशित किया है कि उद्योग बन्धुओं से सम्बंधित प्रकरणों को शीर्ष प्राथमिकता पर निस्तारित कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि उद्योग बंधुओं से जुड़े प्रकरणों पर किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता न बरती जाये। उन्होंने निवेश पोर्टल पर दर्ज आवेदन पत्रों को निर्धारित समय सीमा में अनिवार्य रूप से निस्तारित करने का निर्देश सभी सम्बंधित विभागों को दिया है। साथ ही साथ यह भी हिदायत दी, कि निर्धारित समय सीमा के अंदर आवेदन पत्रों का निस्तारण न करने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। 
उन्होंने उद्योग बन्धुओं से प्रकरणों के निस्तारण की स्थिति के बारे में जानकारी लेते हुए कहा कि जो भी प्रकरण लम्बित है। उसे सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को गुणवत्ता के साथ निस्तारित कराने के निर्देश दिये है। उद्योग बन्धुओं के द्वारा औद्योगिक क्षेत्र एन.एस.आई.सी, नैनी में विद्युत कटौती के सम्बंध में शिकायत पर जिलाधिकारी ने एक सप्ताह के अंदर आ रही समस्याओं को चेक कर समाधान कराना सुनिश्चित करें।
इसी क्रम में जिलाधिकारी ने व्यापार मण्डल की बैठक की। व्यापारियों की समस्याओं को गम्भीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने सम्बंधित सभी विभागों को निर्देशित किया कि व्यापारियों की समस्याओं को गम्भीरता से लेते हुए उसका निस्तारण अपने स्तर पर कराना सुनिश्चित करें। इसके उपरांत भी अगर समस्याओं का निस्तारण न हो पाये, तो उसे उनके समक्ष प्रस्तुत करें। जिलाधिकारी ने मण्डी परिषद में चबूतरों को आवंटन के संदर्भ में सचिव मण्डी परिषद से कहा कि इसके लिए पत्र के माध्यम से निदेशक मण्डी को अवगत कराते हुए निस्तारण सुनिश्चित करें। बिजली विभाग से सम्बंधित प्राप्त शिकायतों पर जिलाधिकारी ने आ रही शिकायतों को तत्काल दूर कराने के निर्देश बिजली विभाग के अधिकारी को दिये। 
गंगा प्रदूषण नियंत्रण ईकाई के प्रकरणों में यथाशीघ्र समस्याओं का निस्तारण सुनिश्चित कराया जाये। व्यापारियों द्वारा बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में नेट बैंकिंग की समस्यायें आ रही है तथा बहुत व्यापारी इसे करना भी नहीं जानते है। जिलाधिकारी ने खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन को निर्देशित किया है कि इसके लिए प्रशिक्षण का कैम्प लगाकर व्यापारियों को प्रशिक्षण दिया जाये, ताकि सभी लोग सुविधा जनक अपना भुगतान करना सुनिश्चित कर सके। इस अवसर पर एडीएम सिटी श्री मदन कुमार, एसपी सिटी, जीएमडीआईसी, डिप्टी डायरेक्टर वाणिज्यकर, श्री अनिल अग्रवाल, श्री मोहित नैय्यर, श्री अनिल श्रीवास्तव सहित सम्बंधित विभाग तथा उद्योग बंधु एवं व्यापार मण्डल के सदस्य उपस्थित रहे।

वारन्टीओ की गिरफ्तारी हेतु चलाया गया अभियान

बृजेश केसरवानी      
प्रयागराज। पुलिस उपमहारीक्षक /वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रयागराज सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी द्वारा अपराध एवं अपराधियो के विरुद्ध एवं वांछित/वारन्टीओ की गिरफ्तारी हेतु चलाये गये अभियान के अंतर्गत यसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित के निर्देश के क्रम में प्रभारी निरीक्षक थाना औद्योगिक क्षेत्र अनुपम शर्मा के कुशल नेतृत्व में गठीत टीम द्वारा वारन्टी अभियुक्त गिरजाशंकर दिवाकर पुत्र संतलाल दिवाकर निवासी तेंदुआवन थाना औद्योगिक क्षेत्र जनपद प्रयागराज उम्र लगभग 45 वर्ष को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कारवाही की गयी।

₹25 लाख का जुर्माना वसूला, निर्देश दिया: एससी

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने गैर-सरकारी संगठन सुराज इंडिया ट्रस्ट के अध्यक्ष राजीव दहिया को अदालत की अवमानना का दोषी ठहराते हुए भू-राजस्व विभाग को उसकी सम्पत्ति से 25 लाख रुपये का जुर्माना वसूलने का बुधवार को निर्देश दिया।
न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति एम एम सुंदरेश की खंडपीठ ने दहिया को अदालत को बदनाम करने एवं न्यायाधीशों और अदालतकर्मियों के खिलाफ बार-बार कीचड़ उछालने और याचिका दायर करके न्यायिक समय बर्बाद करने के लिए अदालत की अवमानना ​​​​का दोषी ठहराया।
न्यायालय ने कहा कि चूंकि दहिया ने फर्जी याचिका दायर करने के लिए लगाया गया 25 लाख रुपये का जुर्माना जमा नहीं किया है, इसलिए भू-राजस्व विभाग को बकाया वसूली के रूप में उनकी संपत्ति से उक्त राशि की वसूली का निर्देश दिया जाता है।
पीठ ने दहिया की ओर से दिये गए माफीनामे को नाकाफी करार देेते हुए कहा कि उसे मामले को इसके तार्किक निष्कर्ष पर ले जाना है। पीठ ने कहा कि संबंधित माफीनामा अदालत के कोप से बचने का एक मात्र प्रयास है। यह सब एक छलावा है। अवमाननाकर्ता को कोई पछतावा नहीं है।

दीक्षांत समारोह के लिए छात्रों ने पंजीकरण कराया

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के पांचवें दीक्षांत समारोह में 470 से अधिक छात्रों को पीएचडी की डिग्रियां प्रदान की जाएंगी। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि होंगे। यह समारोह कोविड-19 महामारी के कारण बृहस्पतिवार को वर्चुअल तरीके से आयोजित किया जाएगा। विश्वविद्यालय के रेक्टर-2 सतीश गरकोटी ने कहा कि दीक्षांत समारोह के लिए 479 छात्रों ने पंजीकरण कराया है। सभी पीएचडी के छात्र हैं।
ऑनलाइन समारोह के दौरान उनके नामों की घोषणा की जाएगी और वे बाद में डिग्री और प्रमाणपत्र ले सकेंगे। विश्वविद्यालय का पहला दीक्षांत समारोह 1972 में आयोजित किया गया था जब जी पार्थसारथी कुलपति थे। दीक्षांत समारोह करीब 46 वर्षों के बाद 2018 में फिर से शुरू किया गया।
जेएनयू के कुलाधिपति डॉ. वी के सारस्वत इसके मुख्य अतिथि थे। वहीं, 2019 में तीसरे दीक्षांत समारोह में उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू मुख्य अतिथि थे जिसमें छात्रों ने होस्टल की फीस वृद्धि को लेकर प्रदर्शन किए थे जिसके कारण तत्कालीन मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को छह घंटों तक आयोजन स्थल के भीतर रहना पड़ा था। पिछले साल कोविड-19 के कारण दीक्षांत समारोह ऑनलाइन आयोजित किया गया और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मुख्य अतिथि थे।

दो शातिर अपराधियों पर गैंगस्टर एक्ट की रिपोर्ट दर्ज

हरिओम उपाध्याय     
पीलीभीत। उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में कोतवाली पुलिस ने नशा देकर मारपीट और लूटपाट की घटना को अंजाम देने वाले दो शातिर अपराधियों पर गैंगस्टर एक्ट की रिपोर्ट दर्ज की है। जिसमें इस गिरोह का सरगना भी शामिल है। कोतवाल मदन मोहन चतुर्वेदी की ओर से दर्ज की गई गैंगस्टर एक्ट की रिपोर्ट में मोहल्ला पकड़िया निवासी फैजुल रहमान उर्फ फैज और जहांगीर उर्फ अमान को नामजद किया है। यह दोनों गिरोह बनाकर लूटपाट करते हैं। गिरोह का सरगना फैज है।
पुलिस के अनुसार ये गिरोह लोगों को कोल्ड ड्रिंक में नशा देकर बेहोश करता है। बंधक बनाकर मारपीट कर लूटपाट की जाती है। क्षेत्र में उसकी दहशत है। इस वजह से कोई गवाही देने के लिए आगे नहीं आता। इस गिरोह के सदस्यों का खुलेआम घूमना शांति एवं कानून व्यवस्था के लिए खतरा बताया है।
दोनों पर चल रहे पुराने मुकदमों का भी जिक्र किया गया है। कोतवाल ने बताया कि सरगना समेत दो अपराधियों पर गैंगस्टर एक्ट की रिपोर्ट दर्ज की गई है। ये दोनों ही शातिर अपराधी हैं। लूटपाट कर संपत्ति अर्जित करते हैं।

तृणमूल कांग्रेस के विधायक के तौर पर इस्तीफा

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की गोवा इकाई के प्रभारी दिनेश गुंडू राव ने बुधवार को दावा किया, कि ममता बनर्जी नीत तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) गोवा में वही चीज कर रही है। जो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पश्चिम बंगाल में किया था। गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री लुईजिन्हो फालेयरो के कांग्रेस के विधायक के तौर पर इस्तीफा देने के कुछ दिनों बाद राव का यह बयान आया है।
राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। फालेयरो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मौजूदगी में बुधवार को कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने वाले हैं। राव ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि तृणमूल कांग्रेस ”बिल्कुल वही चीज कर रही है, जो भाजपा ने पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के साथ किया था।
उल्लेखनीय है कि टीएमसी नेता डेरेक ओब्रायन ने हाल में कहा था कि उनकी पार्टी अगले साल फरवरी में होने वाला गोवा विधानसभा चुनाव लड़ेगी। राव ने कहा, ”तृणमूल का अर्थ है-जमीनी स्तर। ममता ने जमीनी स्तर पर काम किया है, लेकिन यहां (गोवा में) जमीनी स्तर पर काम कहां है? चार्टर्ड विमान में गोवा आना, लोगों से कहना कि यदि आप हमारी पार्टी में शामिल होंगे, तो हम आपके चुनाव के लिए धन मुहैया कराएंगे। यह भाजपा की रणनीति लगती है।”

उन्होंने कहा, ”यह वही चीज करने की कोशिश लगती है, जिस बारे में ममता दीदी ने पश्चिम बंगाल में भाजपा पर आरोप लगाए थे, जो चीज भाजपा (इस साल की शुरुआत में पश्चिम बंगाल चुनाव से पहले सरकार बनाने के लिए) कर रही थी। उन्होंने कहा कि भाजपा दूसरे दलों के मंत्रियों और विधायकों को भगवा पार्टी में शामिल कर रही थी और ममता भी ऐसा ही यहां कर रही हैं।”
उल्लेखनीय है कि 40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में कांग्रेस के विधायकों की संख्या घट कर केवल चार रह गई है। हालांकि, राव ने इस बात से इनकार किया है कि पार्टी ने तटीय राज्य में अन्य दलों के प्रवेश के लिए गुंजाइश बनाई। राव ने कहा, ”2017 के चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) गोवा आई थी। ममता इस समय जिस कदर सुर्खियों में हैं, ‘आप’ उस समय उनसे कहीं अधिक चर्चा में रही थी, लेकिन यह इतना आसान नहीं है।

फिल्म का न्यू सॉन्ग ‘घनी कूल छोरी’ रिलीज हुआ

कविता गर्ग     
मुबंई। अभिनेत्री तापसी पन्नू अपनी आगामी फिल्म रश्मि रॉकेट को लेकर सोशल मीडिया पर खूब सुर्खिया बटोर रही हैं। अब उनकी फिल्म का न्यू सॉन्ग ‘घनी कूल छोरी’ रिलीज हो गया है। एक्ट्रेस तापसी पन्नू की फिल्म ‘रश्मि रॉकेट’ का ‘घनी कूल छोरी’ गाने का टीजर कुछ दिन पहले रिलीज हुआ था। इस सॉन्ग के टीजर ने फैंस के बीच एक्साइटमेंट को और भी बढ़ा दिया था। आज इस गाने को रिलीज कर दिया गया है।
इस गाने को नवरात्रि स्पेशल गरबा थीम को ध्यान में रखकर बनाया गया है। वीडियो में अभिनेत्री पारंपरिक अवतार में बहुत खूबसूरत लग रही हैं साथ ही वो पारंपरिक गरबा डांस करती दिख रही हैं। इस वीडियो सॉन्ग को इंस्टाग्राम पर शेयर कर उन्होंने कैप्शन लिखा, ‘अपने गरबा जूतों को पहनने का वक्त आ गया है।’ साथ ही उन्होंने गाने के बोल को भी कैप्शन में लिखा है।

प्रत्येक व्यक्ति को सही इलाज उपलब्ध कराने में मदद

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने देशवासियों से आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन में पंजीकरण कराने का आह्वान करते हुए कहा है कि इससे प्रत्येक व्यक्ति को सही इलाज उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी। श्री नायडू ने बुधवार को यहां जारी एक संदेश में कहा कि यह स्वास्थ्य क्षेत्र में एक ऐतिहासिक सुधार है और प्रत्येक नागरिक को इसका लाभ उठाना चाहिए।
उन्होंने कहा, “मैं प्रत्येक व्यक्ति से आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन में पंजीकरण कराने और इसका लाभ लेने की अपील करता हूं।” उपराष्ट्रपति ने कहा कि आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन का राष्ट्रव्यापी लोकार्पण एक क्रांतिकारी कदम है। इससे सभी नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी।

यूके: चिकित्सा दावों के भुगतान का निस्तारण हुआ

पंकज कपूर      
देहरादून। प्रदेश में सभी कार्मिकों व पेंशनरों के लंबित चिकित्सा दावों के भुगतान का निस्तारण एक माह के भीतर होगा। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गोल्डन कार्ड की अनियमितताओं, शिथिलीकरण नियमावली व सचिवालय संघ की प्रमुख मांगों पर उचित निर्णय लेने का आश्वासन दिया है। मुख्यमंत्री ने जल्द ही मुख्य सचिव की उपस्थिति में सचिवालय संघ और उत्तराखंड अधिकारी-कार्मिक-शिक्षक महासंघ के साथ बैठक करने की बात भी कही। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय संघ की मांगों के संबंध में संघ के पदाधिकारी व शासन के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि सरकार कर्मचारियों की समस्याओं के निस्तारण को लेकर प्रतिबद्ध है। इससे पूर्व अपर मुख्य सचिव सचिवालय प्रशासन राधा रतूड़ी की अध्यक्षता में सचिवालय संघ व शासन के अधिकारियों की बैठक हुई। बैठक के दौरान सचिवालय संघ ने अपनी 14 सूत्रीय मांगों को संबंध में अपर मुख्य सचिव को अवगत कराया। 
संघ के अध्यक्ष दीपक जोशी ने बताया कि बैठक में बताया गया कि शिथिलीकरण नियमावली 2010 को फिर से लागू किया जाना है। यह किस तरह से लागू की जाएगी, इस पर जल्द ही निर्णय लिया जाएगा। एसीपी की व्यवस्था उत्तर प्रदेश की भांति 10 वर्ष, 16 वर्ष व 26 वर्ष करने का प्रस्ताव जल्द कैबिनेट के समक्ष लाया जाएगा। इस दौरान सरकारी सेवा में सेवारत पति व पत्नी दोनों को मकान भत्ता देने पर सैद्धांतिक सहमति प्रकट की गई। कहा गया कि संघ की अन्य मांगों का नियत समय के भीतर समाधान किया जायेगा।

बिग बैश लीग में रेनेगाडेस के लिये खेलेंगी जेमिमा

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। भारत की टी20 कप्तान हरमनप्रीत कौर और युवा बल्लेबाज जेमिमा रौद्रिगेज आगामी महिला बिग बैश लीग में मेलबर्न रेनेगाडेस के लिये खेलेंगी। आयोजकों ने बुधवार को यह घोषणा की। 32 वर्ष की हरमनप्रीत पहले सिडनी थंडर्स के लिये खेल चुकी हैं।लेकिन 21 वर्ष की जेमिमा का यह लीग में पहला सत्र होगा। शेफाली वर्मा और राधा यादव भी 14 अक्टूबर से शुरू हो रही लीग में सिडनी सिक्सर्स के लिये खेलेंगी।
हरमनप्रीत ने टीम की कहा ,मेलबर्न रेनेगाडेस के लिए ” महिला बिग बैश लीग में खेलने से मुझे काफी अनुभव मिला है और यह बेहतरीन मंच है। नयी टीम के साथ नया सत्र अच्छा रहने की उम्मीद है । मैं अपने प्रदर्शन की छाप छोड़ना चाहूंगी ।” जेमिमा ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से कहा ,” मेरा मुख्य लक्ष्य अच्छा क्रिकेट खेलना और उसका मजा लेना होगा।मुझे पता है कि ऐसा करने पर ही अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकूंगी ।” जेमिमा आस्ट्रेलिया से वनडे श्रृंखला हारने वाली भारतीय टीम में नहीं थी लेकिन हाल ही में ‘द हंड्रेड ‘ श्रृंखला में उन्होंने नार्दर्न सुपरचार्जर्स के लिये शानदार प्रदर्शन करके सात मैचों में 249 रन बनाये।
रेनेगाडेस के कोच साइमन हेलमोट ने कहा ,” जेमिमा काफी प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ी है जो 21 वर्ष की उम्र में दुनिया में अपनी पहचान बना चुकी है । ब्रिटेन में ‘द हंड्रेड’ श्रृंखला में उसने शानदार प्रदर्शन किया । वह हर मैदान पर तेजी से रन बना सकती है ।” उन्होंने कहा ,” हरमनप्रीत का अंतरराष्ट्रीय रिकॉर्ड अपने आप सब कहता है। वह मैच विनर है और पलक झपकते ही मैच का पासा पलट सकती है। उनका अनुभव और नेतृत्व क्षमता काफी काम आयेंगी।

राजस्थान में कार्यक्रम को संबोधित करेंगे पीएम

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार को राजस्थान में पेट्रोरसायन प्रौद्योगिकी संस्थान (सीपेट) का उद्घाटन करेंगे और चार नये मेडिकल कॉलेजों का शिलान्यास करेंगे। मोदी वीडियाे काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जयपुर में होने वाले इस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।
इस मौके पर केन्द्रीय स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया तथा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी मौजूद होंगे। केन्द्र सरकार के रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय और राजस्थान सरकार द्वारा संयुक्त रूप से जयपुर में सीपेट की स्थापना की गयी है जिसमें पेट्रोरसायन एवं अन्य संबंधित उद्योगों से जुड़ी तकनीकी शिक्षा एवं प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
राजस्थान के बांसवाड़ा, सिरोही, हनुमानगढ़ और दौसा के चार नये नये मेडिकल कॉलेजों का शिलान्यास किया जाना है। ये मेडिकल कॉलेज केन्द्र सरकार की योजना के तहत बनाये जाएंगे और इन्हें जिलों एवं अन्य रेफरल अस्पतालों से संबद्ध किया जाएगा। केन्द्र सरकार की पिछड़े एवं आकांक्षी जिलों में मेडिकल कॉलेज खोलने की तीन चरणों वाली इस योजना के तहत 157 नये मेडिकल कॉलेजों की स्थापना की जाएगी।

ओलंपिक: भारतीय स्टार पीवी सिंधु ने रचा इतिहास

टोक्यो। ओलंपिक-2020 में भारतीय स्टार शटलर पीवी सिंधु ने इतिहास रच दिया। वह न केवल बैडमिंटन इतिहास में भारत के लिए दो मेडल जीतने वाली पहली शटलर बनीं, बल्कि इंडिविजुअल गेम में ऐसा करने वाली पहली महिला एथलीट भी बन गई हैं। इससे पहले उन्होंने रियो ओलिंपिक में सिल्वर मेडल अपने नाम किया था। टोक्यो ओलंपिक में सेमीफाइनल में हार के बावजूद अपनी प्रतिभा की चमक को बनाए रखते हुए उन्होंने कांस्य पदक जीत लिया।
पीवी सिंधु विश्व चैंपियन शिप से लेकर ओलंपिक तक लगातार भारत को गर्व करने के अवसर प्रदान कर रही हैं। उन्होंने कामयाबी को अपनी आदत बना लिया है और अभी उनका सफर जारी है। सोचिये कि वह बैडमिंटन रैकेट कितना कीमती होगा जिससे पीवी सिंधु ने इतिहास बनाया। बिल्कुल सही सोचा आपने वाकई वह रैकेट बेशकीमती है लेकिन राष्ट्र के हित मे एक बड़े उद्देश्य के लिये अब पीवी सिंधु का वह ऐतिहासिक रैकेट को कोई भी अपना बना सकता है।
पीवी सिंधु ने ओलंपिक में विजय पताका फहराने के बाद  भारत लौट कर प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी को अपना रैकेट उपहार स्वरूप भएट कर दिया। अब जबकी प्रधानमंत्री को मिले उपहारों का ई-ऑक्शन शुरू हो चुका है। सिंधु का बैडमिंटन भी उन वस्तुओं की सूची में शामिल है जिनका ऑक्शन किया जा रहा है। यह ई-आक्शन  17 सितम्बर से 7 अक्टूबर तक चलेगा। सिंधु की उपलब्धि की निशानी को आप हासिल कर गौरवान्वित हो सकते हैं।  बस www.pmmementos.gov.in पर लॉग ऑन कर ई-ऑक्शन में हिस्सा लें। इस ऑक्शन में पीवी सिंधु के रैकेट का बेस प्राइज 80 लाख रखा गया है।
इससे पहले भी प्रधानमंत्री को मिलने वाले उपहारों की नीलामी होती रही है। आखिरी बार साल 2019 में ऐसा ऑक्शन हुआ था। पिछली बार नीलामी में सरकार ने 15 करोड़ 13 लाख रुपये हासिल किए थे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में वह पूरी राशि गंगा को स्वच्छ और निर्मल बनाने हेतु 'नमामि गंगे कोष' में जमा की गयी थी। इस बार भी ऑक्शन से मिलने वाली राशि 'नमामि गंगे कोष' को प्रदान की जाएगी।

यादगीर पुलिस ने दलितों का धर्म परिवर्तन किया

यादगीर। कर्नाटक की यादगीर पुलिस ने कुछ दलितों का धर्म परिवर्तन कर उन्हें ईसाई बनाने के प्रयास के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया है।
यादगीर पुलिस अधीक्षक (एसपी) वेदमूर्ति ने कहा कि पुलिस ने सोमवार शाम इनकी गिरफ्तारी की और फिर चारों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। आरोपियों की पहचान जेम्स, शांताराज, नीलम्मा और मलम्मा के रूप में की गई है।  नीलाहल्ली गांव में हुए इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिसमें जेम्स को कुछ युवाओं संग बहस करते हुए देखा गया है, जो दलितों को ईसाई धर्म में परिवर्तित कराए जाने का विरोध कर रहे हैं।
आरोपियों को वीडियो में यह तर्क देते हुए भी देखा गया कि उसके पास सामूहिक धर्म परिवर्तन के लिए सरकारी आदेश है। जेम्स को युवाओं के साथ यह भी बहस करते हुए देखा गया है कि वह गांव के दलितों का मतान्तर नहीं, बल्कि रुपांतर कर रहा है।
जेम्स से नाराज इन युवाओं ने यह सवाल किया कि जब गांव में कोई चर्च नहीं है, तो फिर वह दलितों के धर्म परिवर्तन का प्रयास क्यों कर रहा है। इसके जवाब में जेम्स ने कहा कि वह गांव के लोगों के धर्म परिवर्तन का प्रयास इसलिए कर रहा है ताकि उन पर ईश्वर की कृपा बनी रहे।
जब युवाओं ने जेम्स से उस सरकारी आदेश को भी दिखाने की मांग की, जिसमें सामूहिक धर्म परिवर्तन कराने की बात कही गई है, लेकिन वह सरकारी आदेश तो नहीं दिखा पाया बल्कि यह धमकाते हुए देखा गया कि इसके गंभीर परिणाम भुगतने सामने आयेंगे।
इसके बाद युवाओं ने रविवार को सैदपुर पुलिस स्टेशन में जाकर चार आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी, लेकिन जब इन्हें पता चला कि गिरफ्तार हुए आरोपी प्रतिवाद शिकायत दर्ज कराने की योजना बना रहे हैं, तो इन्होंने सोमवार को पुलिस थाने के सामने विरोध प्रदर्शन किया।
ईसाई समुदाय के लोग भी पुलिस थाने के बाहर जमा होकर धरना प्रदर्शन करने लगे और गिरफ्तार किए गए चारों लोगों की रिहाई की मांग करने लगे।
पुलिस के साथ हुई ईसाई समुदाय के लोगों की गहमागहमी में प्रदर्शनकारियों ने कहा कि उनके लोगों ने गांव में किसी का भी धर्म परिवर्तन नहीं कराया है।

समझौते ने अफगान में असफलता की राह बनाई

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के एक शीर्ष सांसद ने कहा कि उनका देश तालिबान के लिए पाकिस्तान का समर्थन रोकने में नाकाम रहा और यह अफगानिस्तान में ”अमेरिका की विफलता” की मुख्य वजहों में से एक है। सीनेटर जैक रीड ने अफगानिस्तान पर कांग्रेस की बहस के दौरान मंगलवार को कहा, ”अमेरिकी सेना की वापसी और उसके आसपास की घटनाएं बाहरी प्रभावों से अलग नहीं थीं।
इराक में जो कुछ हमारे साथ हुआ, तालिबान के लिए पाकिस्तान के समर्थन से निपटने में हमारी नाकामी और पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा किए गए त्रुटिपूर्ण दोहा समझौते ने अफगानिस्तान में हमारी असफलता की राह बनाई।” सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति के सदस्य सीनेटर जिम इनहोफ ने कहा कि अफगान सरकार का नेतृत्व अब आतंकवादी कर रहे हैं जिनका लंबे समय से अल-कायदा से संबंध रहा है।
उन्होंने कहा, ”और हम अफगानिस्तान हवाई क्षेत्र में प्रवेश के लिए पाकिस्तान सरकार की दया पर निर्भर है। अगर हम वहां प्रवेश भी कर लें तो हम अफगानिस्तान में अल-कायदा पर हमला नहीं कर सकते क्योंकि हमें चिंता है कि तालिबान वहां मौजूद अमेरिकियों के साथ क्या करेगा।” उन्होंने कहा, ”प्रशासन को ईमानदार होना चाहिए। राष्ट्रपति जो बाइडन के विनाशकारी फैसले के कारण अमेरिकी परिवारों पर आतंकवादी खतरा बढ़ रहा है और इन खतरों से निपटने की हमारी क्षमता खत्म हो गयी है।”
सुनवाई के दौरान सीनेटर रीड ने कहा कि युद्ध के दौरान अमेरिका, तालिबान को पाकिस्तान से मिल रहे समर्थन से निपटने मे नाकाम रहा, यहां तक कि अमेरिकी राजनयिकों ने पाकिस्तानी नेताओं के साथ मुलाकात की और उसकी सेना ने आतंकवाद रोधी अभियान में सहयोग दिया।
उन्होंने कहा, ”तालिबान ने फिर से संगठित होने के लिए पाकिस्तान में पनाह ली। हाल में बढ़ी तालिबान की उग्रता को दोहा समझौते से जोड़ा जा सकता है जिस पर 2020 में तत्कालीन राष्ट्रपति ट्रंप ने हस्ताक्षर किए थे।

हादसा: बैक हो रहे ट्रक से टकराईं रोडवेज बस

हरिओम उपाध्याय    
लखनऊ। राजधानी से चलकर श्री कृष्ण की नगरी मथुरा जा रही यात्रियों से भरी रोडवेज बस एक्सप्रेस-वे पर बैक हो रहे ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में बस के बुरी तरह से परखच्चे उड़ गए हैं। हादसे में 5 लोग घायल हुए हैं जिनमें बस का चालक भी शामिल है। मौके पर जमा हुए लोगों ने बस के भीतर फंसे लोगों को बाहर निकाला और घायल हुए यात्रियों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।
बुधवार को रोडवेज की बस राजधानी लखनऊ से यात्रियों को लेकर श्री कृष्ण की नगरी मथुरा जा रही थी। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे से होती हुई मथुरा जा रही रोडवेज की बस जब फतेहाबाद थाना क्षेत्र में पहुंची तो बस वहां पर बैक हो रहे ट्रक में पीछे से जा टकराई। बताया जा रहा है कि बस की रफ्तार इतनी तेज थी कि ट्रक से भिड़ंत होते ही कंडक्टर की साइड की बस का हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। हादसे के दौरान बस के भीतर 16 सवारियां बैठी हुई थी। दो वाहनों के टकराने की आवाज को सुनते ही आसपास के लोग अनहोनी की आशंका से घबरा उठे। भाग दौड़कर मौके पर पहुंचे लोगों ने पुलिस को हादसे की जानकारी दी। जानकारी मिलते ही पुलिस और एनएचएआई की टीम मौके पर पहुंची और बस में फंसे लोगों को राहत एवं बचाव कार्य शुरू करते हुए बाहर निकाला। घायल हुए यात्रियों को अस्पताल में ले जाकर उपचार के लिए भर्ती कराया। बताया जा रहा है कि हादसे में बस के चालक समेत आधा दर्जन यात्री घायल हुए हैं। एनएचएआई की टीम ने बस को किनारे करवा कर यातायात को सुचारू कराया।

दूसरे दल में शामिल होने की बात खारिज: कैप्टन

अमित शर्मा       
चडीगढ़। पंजाब सियासी घमासान जारी है। पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दावा करते हुए कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू चन्नी सरकार पर हावी होना चाहते थे, परंतु कोई भी सीएम यह सहन नहीं कर पा सकता। उन्होंने किसी और दल में जाने से इंकार किया है। बताया है कि मीडिया अपनी तरफ से खबरें दिखा रही है।
मिली जानकारी के अनुसार चन्नी सरकार के बनने के पश्चात कई लीडरों व मिनिस्टरों के इस्तीफे के बाद एक निजी चैनल से वार्ता करते हुए कहा कि सिद्धू चन्नी पर हावी होना चाहते थे। इसको कोई भी सीएम सहन नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि राजय चलाने के लिये हर किसी को पूरी छूट होनी चाहिए। अगर सिद्धू का लगता है कि वह चन्नी के माध्यम से सरकार चलायेंगे, तो प्रतिक्रिया इसी तरह की होगी। उन्होंने कहा कि मैंने इस्तीफे का पत्र देखा है मुझे पता चला है कि दूसरे दलों में भी लोगों से वार्ता कर रहे हैं। कैप्टन ने दूसरे दल में शामिल होने की बात को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि मीडिया स्वयं उनके अन्य पार्टी में शामिल होने की बात कर रही है लेकिन यह सही नहीं है।

चन्नी को सीएम बनाने पर सिद्धू ने इस्तीफा दिया

अमित शर्मा     
चंडीगढ। पंजाब में सियासी घमासान रूकने का नाम ही नहीं ले रहा है। कैप्टन के इस्तीफा के बाद चन्नी को सीएम बनाने को लेकर नाराज सिद्धू ने भी इस्तीफा दे दिया। इससे हाईकमान नाराज है और उनके विरूद्ध एक्शन भी ले सकती है। चन्नी सरकार में सिद्धू के इस्तीफा के पश्चात से इस्तीफे की लाइन लग गई है।
मिली जानकारी के अनुसार नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे से कांग्रेस हाईकमार नाराज है और उनके विरूद्ध कड़ा रूख अपनाया जा सकता है। बताया जा रहा है कि अभी तक दोनों पक्षों के बीच कोई वार्ता नहीं हुई है। इतना ही नहीं अभी तक सिद्धू का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया हे। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने आज कैबिनेट बैठक भी बुलाई हे। मिली जानकारी के अनुसार आज की कैबिनेट में जो मिनिस्टर नहीं आयेंगे, उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जायेगी। सिद्धू के इस्तीफा के पश्चात प्रदेश अध्यक्ष हेतु मंथन भी प्रारंभ हो गया है और इस दौड़ में रवनीत सिंह बिट्टू का नाम सबसे ऊपर चल रहा है।
गौरतलब है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के विरोध के बाद सिद्ध को इसी साल 23 जुलाई को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया था। नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के पश्चात चन्नी सरकार के मिनिस्टर समेत कई बड़े लीडरेां के इस्तीफों लाइन लग गई है।

महाराष्ट्र: 13 पैसे गिरकर 74.19 पर पहुंचा 'रुपया'

कविता गर्ग        
मुंबई। घरेलू शेयर बाजारों में नरमी के बीच बुधवार को शुरुआती कारोबार के दौरान भारतीय रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 13 पैसे गिरकर 74.19 पर पहुंच गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.18 पर खुला, और शुरुआती कारोबार में गिरकर 74.19 पर पहुंच गया, जो पिछले बंद भाव से 13 पैसे की गिरावट को दर्शाता है।
रुपया मंगलवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.06 पर बंद हुआ था। इसबीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.06 प्रतिशत गिरकर 93.71 पर पहुंच गया। घरेलू शेयर बाजार के मोर्चे पर, बीएसई सेंसेक्स 307.88 अंक या 0.52 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,359.72 पर कारोबार कर रहा था, जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 83.10 अंक या 0.47 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,665.50 पर पहुंच गया।
वहीं विदेशी संस्थागत निवेशक मंगलवार को पूंजी बाजार में शुद्ध विक्रेता थे और शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार उन्होंने 1957.70 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 1.32 प्रतिशत गिरकर 78.05 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

चैम्पियंस लीग ग्रुप में मैनचेस्टर को 2.0 से हराया

पेरिस। लियोनेल मेस्सी ने पेरिस सेंट जर्मेन के लिये पहला गोल दागा जिसकी बदौलत टीम ने चैम्पियंस लीग ग्रुप चरण में मैनचेस्टर सिटी को 2.0 से हराया। छह बार के फीफा के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मेस्सी ने 74वें मिनटमें गोल दागा जिसके लिये उन्हें फ्लिक काइलियान एमबाप्पे से मिली थी।
जीत के बाद मेस्सी ने कहा ,” मुझे खुशी है कि गोल कर सका । मैने हाल ही में ज्यादा नहीं खेला है और नयी टीम के साथ धीरे धीरे तालमेल बन रहा है। जितना ज्यादा साथ खेलेंगे, उतना ही बेहतर प्रदर्शन होगा ।” मेस्सी ने बार्सीलोना के लिये 672 गोल किये लेकिन पीएसजी के लिये तीन मैचों में उनका यह पहला गोल था।
सिटी की पीएसजी के खिलाफ पिछले पांच मैचों में यह पहली बार थी । पीएसजी ग्रुप ए में गोल औसत के आधार पर शीर्ष पर है । क्लब ब्रजे और पीएसजी के समान चार अंक है जबकि सिटी तीन अंक लेकर तीसरे स्थान पर है।

अकाउंट खुलवाने के नियमों में कुछ बदलाव किया

पंकज कपूर     
हल्द्वानी। यह महीना अब खत्म होने वाला है और अगले महीने की पहली तारीख यानी एक अक्टूबर से कई नियम बदल रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप 30 सितंबर तक अपने अधूरे का निपटा लें। यहां हम आपको बता रहे हैं कि कौन-कौन से बैंक संबंधी कार्य आपको 30 सिंतबर तक निपटाने जरूरी हैं। वरना आपको भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
डीमैट अकाउंट की केवाईसी जरूरी : सेबी ने डीमैट अकाउंट खुलवाने के नियमों में कुछ बदलाव किया है। जिसके तहत अगर आपके पास डीमैट अकाउंट है और अब तक केवाईसी नहीं कराया है तो 30 सितंबर तक जरूर करा लें, क्योंकि केवाईसी नहीं कराने की स्थिति में 30 सितंबर के बाद आपका डीमैट अकाउंट डिएक्टिवेट कर दिया जाएगा। इसके बाद आप स्टॉक मार्केट में ट्रेड नहीं कर पाएंगे।
बैंक अकाउंट में सही मोबाइल नंबर अपडेट कराएं : एक अक्तूबर से एक नया नियम यानी ऑटो डेबिट पेमेंट सिस्टम लागू होने वाला है। ऑटो डेबिट में होता ये है कि अगर आपने एलआईसी, बिजली बिल या किसी भी प्रकार के अन्य खर्च को ऑटो डेबिट मोड में डाला है तो एक निश्चित तारीख पर पैसा अपने आप आपके अकाउंट से कट जाएगा। लेकिन इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए आपका सही मोबाइल नंबर बैंक में अपडेट होना जरूरी है और 30 सितंबर तक ये काम करा लेंगे तो फायदे में रहेंगे।
अपडेट कर लें अपनी चेक बुक : ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया की मौजूदा चेक बुक 1 अक्तूबर से बंद हो जाएंगी। अगर इन बैंकों में आपका अकाउंट है और आपके पास इन बैंकों की पुरानी चेक बुक है, तो नई चेक बुक के लिए 30 सितंबर तक अप्लाई कर दें या बैंक जाकर नई चेक बुक ले लें, वरना आपको ट्रांजैक्शन में दिक्कत हो सकती है
पेंशन नियम में होगा बदलाव : 1 अक्टूबर से डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट से जुड़ा नियम बदल रहा है। अब देश के सभी बुजुग पेंशनर्स जिनकी उम्र 80 साल या उससे ज्यादा है वो देश के सभी हेड पोस्ट ऑफिस के जीवन प्रमाण सेंटर में डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट जमा कर सकेंगे। इसके लिए 30 नवंबर तक का समय दिया गया है। जीवन प्रमाण पत्र जमा करने का काम पोस्ट ऑफिस के जरिये शुरू होने जा रहा है। इसलिए भारतीय डाक विभाग ने यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि जीवन प्रमाण सेंटर की आईडी समय से एक्टिवेट कर लें, अगर वह पहले से बंद हो तो।
ऑटो डेबिट कार्ड के बदलेंगे नियम : 1 अक्टूबर से क्रेडिट/डेबिट कार्ड से होने वाले ऑटो डेबिट के लिए आरबीआई का नया नियम लागू हो रहा है। इसके तहत डेबिट और क्रेडिट कार्ड या मोबाइल वॉलेट से होने वाले कुछ ऑटो डेबिट तब तक नहीं होंगे, जब तक ग्राहक अपनी मंजूरी न दे दें। 1 अक्टूबर से लागू होने वाले नए नियम के मुताबिक बैंक को किसी भी ऑटो डेबिट पेमेंट के जरिये अकाउंट से पैसे डेबिट करने की अनुमति के लिए ग्राहक को 24 घंटे पहले एक नोटिफिकेशन भेजना होगा। कस्टमर के खाते से पैसा तभी डेबिट होगा, जब वह इसे कन्फर्म करेगा। यह नोटिफिकेशन आपको एसएमएस या ई-मेल से मिल सकता है।
निवेश संबंधित नियमों में होगा बदलाव : मार्केट रेगुलेटर सेबी अब म्यूचुअल फंड निवेशकों के हितों को ध्यान में रखते हुए एक नया नियम लेकर आया है। यह नियम एसेट अंडर मैनेजमेंट यानी म्यूचुअल फंड हाउस में काम करने वाले जूनियर कर्मचारियों पर लागू होगा। एसेट अंडर मैनेजमेंट कंपनियों के जूनियर कर्मचारियों को 1 अक्टूबर 2021 से अपनी ग्रॉस सैलरी का 10 फीसदी हिस्सा उस म्यूचुअल फंड के यूनिट्स में निवेश करना होगा, जबकि 1 अक्टूबर 2023 तक फेजवाइज यह सैलरी का 20 फीसदी हो जाएगा। इसे सेबी ने स्किन इन द गेम नियम बताया है। निवेश में लॉक इन पीरियड भी होगा।
एलपीजी सिलेंडरों की कीमतों में होगा बदलाव : 1 अक्टूबर से एलपीजी सिलिंडर की कीमतों में बदलाव आ जाएगा। हर महीने की पहली तारीख को घरेलू रसोई गैस और कमर्शियल सिलेंडर की नई कीमतें तय की जाती हैं।

खिलाड़ियों को एक-दूसरे की क्षमता पर भरोसा

आबुधाबी। लगातार तीन मैचों में हार के बाद जीत की राह पर लौटी मुंबई इंडियंस के स्टार खिलाड़ी कीरोन पोलार्ड ने कहा है कि खराब फॉर्म से जूझ रहे उनके खिलाड़ियों को एक दूसरे की क्षमता पर भरोसा है और वे कठिन हालात से टीम को निकालने का माद्दा रखते हैं। गत चैम्पियन टीम ने मंगलवार को पंजाब किंग्स को छह विकेट से हराकर प्लेआफ की उम्मीदें बरकरार रखी है।टी20 क्रिकेट में 10000 रन और 300 विकेट पूरे करने वाले मुंबई इंडियंस के स्टार खिलाड़ी पोलार्ड ने मैच के बाद कहा ,” हम रणनीति बनाकर इस तरह के हालात में नहीं पहुंचते। हमें एक दूसरे पर भरोसा है और यह भी यकीन है कि इन हालात से निकल जायेंगे।” मुंबई 11 मैचों में 10 अंक लेकर पांचवें स्थान पर है। पोलार्ड ने कहा ,” हमने खुद को इन हालात में डाला है। लेकिन खिलाड़ी और प्रबंधन एकजुट है।सभी खिलाड़ियों को आत्मविश्वास देने और सर्वश्रेष्ठ समाधान तलाशने की बात है । यही खिलाड़ी हमारे लिये पहले भी कमाल कर चुके हैं और आगे भी करेंगे ।” उन्होंने टीम की बाहर से हो रही आलोचना पर कहा ,” जब बहुत से लोग बाहर से टीका टिप्पणी करने लगते हैं तो कठिन हो जाता है । जो लोग बोलते हैं, उन्हें समझ में नहीं आता कि क्रिकेटरों पर क्या बीतती है । हमारा फोकस इन युवा और प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की हौसलाअफजाई पर है।”
आईपीएल के ठीक बाद होने वाले टी20 विश्व कप में पिचें कैसी होंगी, यह पूछने पर वेस्टइंडीज के इस आक्रामक खिलाड़ी ने कहा ,” ईमानदारी से कहूं तो अभी विश्व कप की बात करना अप्रासंगिक है। हम आईपीएल खेल रहे हैं और इसी पर फोकस होना चाहिये । हर कोई पिच की बात कर रहा है लेकिन आपको हर बार मनचाही पिच नहीं मिल सकती। पेशेवर खिलाड़ियों को हर परिस्थिति में ढलना आना चाहिये।

सेना के जवानों ने शहर में 1 परिवार से मारपीट की

श्रीनगर। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को दावा किया कि उन्हें फिर से नजरबंद कर दिया गया। क्योंकि उनकी जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में जाने की योजना थी। पूर्व मुख्यमंत्री ने मंगलवार को आरोप लगाया था कि सेना के जवानों ने पुलवामा के त्राल शहर में एक परिवार से मारपीट की और एक महिला सदस्य को जख्मी कर दिया।मुफ्ती ने कहा कि वह बुधवार को परिवार से मिलने जाने वाली थीं। मुफ्ती ने ट्वीट किया, ”त्राल गांव में जाने की कोशिश करने के लिए आज फिर से मुझे फिर से नजरबंद कर दिया गया। इस गांव में सेना ने मारपीट की। यह कश्मीर की असली तस्वीर है। 
गणमान्य व्यक्तियों को भारत सरकार द्वारा तोड़े मरोड़े और निर्देशित पिकनिक टूर के बजाय यह दिखाया जाना चाहिए।पीडीपी प्रमुख ने गुपकर रोड पर उनके आवास के मुख्य द्वार को कथित तौर पर अवरुद्ध कर रहे, सुरक्षाबलों के एक वाहन की तस्वीर भी पोस्ट की। मुफ्ती ने मंगलवार को ट्वीट किया था, ”त्राल में यगवानी शिविर की सेना ने गत रात घरों को लूटा और एक परिवार की बेरहमी से पिटाई की। गंभीर चोटों के कारण एक बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। यह पहली बार नहीं है जब इस इलाके में, गांव के नागरिकों के साथ सेना ने मारपीट की है।

गृहमंत्री नरोत्तम ने विपक्षी दल कांग्रेस पर तंज किया

मनोज सिंह ठाकुर         
भोपाल। मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आज मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पर तंज करते हुए कहा कि पंजाब के साथ साथ पूरी कांग्रेस में ‘राहुल कॉमेडी नाइट’ चल रही है। नरोत्तम मिश्रा ने यहां मीडिया से चर्चा में कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं से नहीं, गुटों से मिलकर बनी है।
उन्होंने कहा कि पंजाब के साथ-साथ पूरी कांग्रेस में ‘राहुल कॉमेडी नाइट’ चल रही है। प्रदेश में होने वाली उपचुनावों को लेकर गृह मंत्री ने कहा कि प्रदेश की जनता कांग्रेस को अच्छी तरह समझ चुकी है। उपचुनाव में कांग्रेस ‌हारने वाली है, यह साफ दिखाई दे रहा है।
उन्होंने कहा कि वैसे भी जब ‘सेनापति’ ही नहीं है तो ‘सेना’ की चर्चा ही क्यों की जाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास न तो नीति है,‌ न नीयत है और न नेता है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि आज जगह-जगह से कांग्रेस टूट रही है और टूटी हुई कांग्रेस को जोड़ने के लिए टुकड़े-टुकड़े गैंग वालों को लाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के हश्र को देखकर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के दर्द को अच्छी तरह से समझा जा सकता है।


एम्स में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करेंगे पीएम

पंकज कपूर          
देहरादून। उत्तराखंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर तैयारियां शुरू हो गई है आपको बता दें कि 7 अक्टूबर को पीएम मोदी उत्तराखंड आएंगे इस दौरान पीएम जौली ग्रांट एयरपोर्ट टर्मिनल के अलावा एम्स में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करेंगे।
सूत्रों के मुताबिक पीएम अपने उत्तराखंड दौरे के दौरान बाबा केदारनाथ के दर्शन के लिए भी पहुंचेंगे। वहीं प्रधानमंत्री के उत्तराखंड दौरे को लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ ही प्रशासन की ओर से भी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।
वहीं आने वाले विधानसभा चुनाव 2022 से पहले पीएम के उत्तराखंड दौरे को लेकर सभी राजनीतिक दलों की ओर से कई तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। हेलो की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह दौरा उत्तराखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान क्या असर करता है यह तो आने वाले वक्त में ही पता चल पाएगा लेकिन फिलहाल पीएम के उत्तराखंड दौरे की चर्चाएं जोरों पर हैं।

यूनिटेक में अनियमितताओं पर रिपोर्ट तैयार की

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (एसएफआईओ) ने बुधवार को उच्चतम न्यायालय को बताया कि उसने यूनिटेक लिमिटेड में अनियमितताओं पर एक रिपोर्ट तैयार की है और उसकी कुछ संपत्तियों का पता लगाया है। एसएफआईओ ने सीलबंद लिफाफे में अपनी रिपोर्ट दाखिल करने की अनुमति मांगते हुए कहा कि उन्हें कुछ मुद्दे न्यायालय के संज्ञान में लाने हैं।
न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड, न्यायमूर्ति विक्रम नाथ और न्यायमूर्ति बी वी नागरत्ना ने एसएफआईओ की ओर से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल माधवी दीवान को इसकी अनुमति देते हुए कहा कि हालांकि उसका इस मामले की बृहस्पतिवार को सुनवाई करने का कार्यक्रम था लेकिन कुछ समस्या के कारण विशेष पीठ अगले बुधवार को सुनवाई करेगी। पीठ ने कहा, ”आप सीलबंद लिफाफे में अपनी रिपोर्ट दाखिल कर सकते हैं लेकिन मामले पर सुनवाई अगले बुधवार को होगी।”
सुनवाई की शुरुआत में दीवान ने मामले का जिक्र करते हुए कहा, ”एसएफआईओ ने यूनिटेक लिमिटेड की अपनी जांच पर रिपोर्ट तैयार की हैं। उन्हें समूह की कुछ संपत्तियों का पता चला है और कुछ स्पष्टीकरण चाहिए। उन्हें मिली कुछ संपत्तियां प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा पायी गयी संपत्तियों से अधिक हैं।” दीवान ने कहा, ”हमें यह स्पष्टीकरण चाहिए कि क्या एसएफआईओ रिपोर्ट सीलबंद लिफाफे में दाखिल की जानी चाहिए या सामान्य रूप से। हमें कुछ मुद्दे भी अदालत के संज्ञान में लाने की आवश्यकता है।”
पीठ ने सीलबंद लिफाफे में रिपोर्ट दाखिल करने की अनुमति देते हुए मामले पर अगली सुनवाई के लिए छह अक्टूबर की तारीख तय की। न्यायालय ने 26 अगस्त को निर्देश दिया था कि यूनिटेक के प्रोमोटर संजय चंद्रा और अजय चंद्रा को यहां तिहाड़ जेल से मुंबई की आर्थर रोड जेल और महाराष्ट्र में तलोजा जेल स्थानांतरित किया जाए।
शीर्ष अदालत ने यह आदेश ईडी द्वारा यह सूचित किए जाने के बाद दिया था कि ये लोग जेल कर्मियों की मिलीभगत से जेल परिसर के भीतर से ही कारोबार चला रहे हैं। शीर्ष अदालत ने ईडी द्वारा प्रस्तुत की गईं दो स्थिति रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद चंद्रा बंधुओं से मिलीभगत को लेकर कहा था कि तिहाड़ जेल अधीक्षक और अन्य जेल कर्मी ”पूरी तरह बेशर्म” हैं।
इसने कहा कि रिपोर्ट में न्यायालय के आदेशों का उल्लंघन और इसके अधिकारक्षेत्र को कमतर करने जैसे ”गंभीर और व्यथित करने वाले मुद्दे” उठाए गए हैं। न्यायालय ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त से कहा था कि वह चंद्रा बंधुओं से मिलीभगत के मामले में तिहाड़ जेल के अधिकारियों के आचरण की व्यक्तिगत रूप से तत्काल जांच शुरू करें और चार सप्ताह के भीतर रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

वास्तविक मुद्दों को नजरअंदाज कर रही सरकार

कविता गर्ग      
मुंबई। गोवा में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना ने राज्य की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए बुधवार को कहा कि वह राज्य के वास्तविक मुद्दों को नजरअंदाज कर रही है। जहां कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण पर्यटन प्रभावित हुआ है और अर्थव्यवस्था का बुरा हाल है।
शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के सम्पादकीय में आरोप लगाया कि गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने ”सरकार आपके द्वार पर” पहल शुरू की है जिसके तहत वह ” झूठ और गलत जानकारी फैला रहे हैं।” सम्पादकीय में कहा गया कि राज्य बेरोजगारी, मादक पदार्थ की समस्या का सामना कर रहा है और कोविड-19 के कारण पर्यटन प्रभावित है तथा अर्थव्यवस्था चरमरा रही है।
वहीं, उत्तरी गोवा जिले में कलंगुट बीच पर पिछले महीने संदिग्ध परिस्थितियों में एक महिला की मौत का मामला भी अभी तक सुलझा नहीं था। मराठी समाचार पत्र में कहा गया कि भाजपा के नेता दिवंगत मनोहर पर्रिकर ने कैसीनो व्यवसाय का विरोध करके गोवा में पार्टी को बढ़ने में मदद की अब, अपतटीय कैसीनो राज्य सरकार को भारी रकम देते हैं और अगर गोवा इस पैसे पर चलेगा तो यह ” हिंदुत्व का अपमान ” होगा।
सम्पादकीय में कहा गया, ” क्या गोवा के राजनेता राज्य के समक्ष पेश वास्तविक चुनौतियों से अवगत हैं?” अगर गोवा के लोग सोचते हैं कि भाजपा हिंदुओं की रक्षक है, तो यह गलत है। मराठी समाचार पत्र में कहा गया कि गोवा में भाजपा के विधायकों की सूची देखें तो, कोई भी कह सकता है कि हिंदूत्व उनके लिए केवल एक ”मुखौटा” है। गो हत्या को प्रतिबंधित करने के लिए देश में कानून है लेकिन गोवा में कोई ”जितना भी चाहे उतना गो मांस ले सकता है।
अगर यह यह दोगलापन नहीं तो और क्या है?” सम्पादकीय में कहा गया कि गोवा 450 वर्षों तक पुर्तगाली शासन के अधीन था और वर्तमान शासक उनके उत्तराधिकारियों की तरह व्यवहार कर रहे हैं। राज्य में जो हो रहा है क्या उसे कोई खत्म नहीं करना चाहता।
शिवसेना ने कहा कि 2017 गोवा विधानसभा चुनाव में कांग्रेस 17 सीटें (40 सदस्यीय सदन में) जीत कर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी, लेकिन, उसने सरकार बनाने का दावा करने में देरी की और भाजपा ने बहुमत हासिल कर लिया। अब, कांग्रेस चार विधायकों तक सिमट गई है, और ”यह नैतिक राजनीति नहीं है।” मराठी दैनिक समाचारपत्र में कहा गया कि अगर भाजपा ने अपने दम पर 20 से 25 सीटें जीती होतीं तो यह काबिले तारीफ होता। लोगों में राज्य सरकार के खिलाफ काफी गुस्सा है।

भीषण वर्षा कराने के बाद 'गुलाब' कमजोर पड़ा

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। पूर्व तट और मध्य भारत में भीषण वर्षा कराने के बाद चक्रवात गुलाब मंगलवार को कमजोर पड़ गया, मगर पश्चिमी तट पर पहुंचने के बाद उसके फिर मजबूत होने के आसार हैं। उधर बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र के प्रभाव की वजह से दक्षिणी पश्चिम बंगाल में भारी बारिश का अनुमान है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। मौसम विभाग की मानें तो अगले तीन से चार घंटे में कोलकाता, उत्तर और दक्षिण 24 परगना समेत बंगाल के कई इलाको में भारी बारिश होगी।
आईएमडी के चक्रवात चेतावनी संभाग ने बताया कि दक्षिण पश्चिम विदर्भ और आसपास के क्षेत्र से यह दबाव पश्चिम-उत्तर पश्चिम दिशा की ओर बढ़ा एवं मंगलवार को बहुत ही कमजोर हो गया। अगले 24 घंटे में क्रमिक रूप से उसके और उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने एवं कमजोर होने की संभावना है। संभाग ने कहा,‘यह प्रणाली 30 सितंबर को उत्तरपूर्व अरब सागर एवं निकटवर्ती गुजरात के समीप उभरने की संभावना है और ऐसा अनुमान है कि उत्तरपूर्व अरब सागर पर 24 घंटे के दौरान यह मजबूत हो सकता है।’
आईएमडी ने अगले दो दिनों के दौरान गुजरात, उत्तरी कोंकण, उत्तर-मध्य महाराष्ट्र एवं मराठवाड़ा में भारी वर्षा का अनुमान लगाया है। उसका यह भी कहना है कि पश्चिम बंगाल में गंगा के मैदान, ओडिशा और झारखंड में भी अगले दो दिनों के दौरान वर्षा हो सकती है। महाराष्ट्र में येलो अलर्ट जारी किया गया है और बारिश की संभावना है।
कोलकाता के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जी के दास ने कहा, ‘पूर्वी और पश्चिम मेदिनीपुर और दक्षिण 24 परगना जिलों में एक या दो स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश का अनुमान है, और उत्तर 24 परगना, हावड़ा और हुगली जिलों के कुछ क्षेत्रों में बारिश का अनुमान है।  मछुआरों को गुरुवार तक समुद्र में न जाने की सलाह दी।

मेक्सिको व भारत के बीच आर्थिक सहयोग बढ़ाया

मेक्सिको सिटी। भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने मेक्सिको और भारत के बीच आर्थिक सहयोग बढ़ाने का आग्रह करते हुए मेक्सिको के कारोबारियों को भारत में निवेश करने के लिए कहा है।
जयशंकर ने मंगलवार को मेक्सिको सिटी में दोनों देशों के कारोबारियों के साथ एक बैठक के बाद ट्वीट कर कहा कि मेक्सिको के व्यापार प्रतिनिधियों और मेक्सिको में काम कर रही भारतीय कंपनियों के साथ सार्थक बातचीत की। उन्होंने दोनों देशों के बीच आर्थिक सहयोग बढ़ाने का आग्रह करते हुए कहा कि इससे दोनों देशों के बीच विशेषाधिकार प्राप्त साझीदारी भी आगे बढ़ेगी।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के तीन वर्ष के उच्चतम स्तर 80 डॉलर प्रति बैरल के पार पहुंचने के बीच बुधवार को घरेलू स्तर पर डीजल और पेट्रोल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया। मंगलवार को डीजल लगातार तीसरे दिन 25 पैसे प्रति लीटर और पेट्रोल 22 दिनों के बाद 20 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया था। डीजल की कीमत पिछले पांच दिनों में से चार दिन में 95 पैसे प्रति लीटर चढ़ गया है।
यूरोप में ऊर्जा संकट के कारण कल कच्चे तेल में लगातार सातवें दिन तेजी दर्ज की गयी। इससे पहले अमेरिका के तेल भंडार में कमी आने की वजह से कच्चे तेल में तेजी आयी थी। कल अमेरिकी बाजार में कारोबार बंद होने पर ब्रेट क्रूड 80 डॉलर प्रति बैरल के पार 80.69 डॉलर प्रति पर पहुंच गया। इस दौरान अमेरिकी क्रूड भी 1.49 डॉलर की बढ़त के साथ 75 डॉलर के पार 75243 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।
विश्लेषकों का कहना है कि इस वर्ष के अंत तक कच्चा तेल 90 डॉल प्रति बैरल के पार जा सकता हेै। कोरोना वायरस के संक्रमण के वैश्विक स्तर पर लगभग काबू में आने के बाद तेल की मांग आने लगी है जिससे कच्चे तेल की कीमतों में बढोतरी हो रही है। तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल 101.39 रुपये प्रति लीटर और डीजल 89.57 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा।
डीजल की कीमत में शुक्रवार को 20 पैसे प्रति लीटर , रविवार को 25 पैसे, सोमवार को 25 पैसे और फिर मंगलवार को भी 25 पैसे प्रति लीटर की बढोतरी की गयी है। इस तरह से पांच दिन में से चार दिन में 95 पैसे की बढोतरी हो चुकी है।गत पांच सितंबर को पेट्रोल की कीमतों में 15 पैसे प्रति लीटर की कमी की गयी थी और उसके बाद यह 101.19 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर था लेकिन कल इसमें भी 20 पैसे प्रति लीटर की बढोतरी की गयी है।

29 सितंबर को मनाया जाता है विश्व हृदय दिवस

हरिओम उपाध्याय          
मुज़फ्फरनगर। दिल के मरीजों के लिए राहत की खबर है। अब दिल के मरीजों को मेरठ या दिल्ली जाने के बजाय शहर के नई मंडी में राजवंशी अस्पताल में डॉ. सत्यम राजवंशी (डी. एम्. कार्डियोलॉजी) की देखरेख में बेहतर इलाज की व्यवस्था हो रही है।
भारत में हर दिल की बीमारियां एक विकराल रूप धारण कर रही हैं। दिल की बीमारी के कारण हर 15 सेकंड में एक जान चली जाती है। 29 सितंबर को विश्व हृदय से हृदय दिवस मनाता है ताकि हृदय संबंधित जागरूकता फैलाई जा सके।
भारत में दुर्भाग्यवश 30 की उम्र में भी जानलेवा दिल की बीमारियों की वृद्धि हो रही है। पश्चिमी देशो के मुक़ाबले भारतियों को 10 से 15 वर्ष कम उम्र में गंभीर दिल की बीमारी घेर रही है। आधुनिक जीवनशैली, धूम्रपान व तम्बाकू शराब आदि का नशा, बढ़ता प्रदूषण, दैनिक व्यायाम का अभाव, बढ़ता मोटापा, बढ़ते शुगर / ब्लड प्रेशर / कोलेस्ट्रॉल का कॉम्बिनेशन, दिमागी तनाव, खाने में अत्यधिक वसा, नमक, मीठा तथा ताज़े फल और सब्ज़ियों का अभाव इस प्रकोप को बढ़ावा देने वाले मुख्य कारण हैं। इसके अलावा भारतियों में मोटापे का पेट के आस पास केंद्रित होना और "लाईपोप्रोटीन-ऐ" कोलेस्ट्रॉल का बढे होना भी हार्ट अटैक का मुख्य कारण है। अत्यधिक व्यायाम, जिम और बॉडी बिल्डिंग की होड़, और सप्लीमेंट आदि का सेवन भी हार्ट की बीमारियों को बढ़ावा दे रहा है।

इन लक्षणों को न करें नज़रअंदाज़, हो सकता है हार्ट अटैक।
छाती में दर्द, भारीपन, जलन, या खिंचाव दिल के दौरे का सबसे प्रमुख लक्षण है। इसके अलावा अत्यधिक सांस फूलना, थकान रहना, ठन्डे पसीने आना, धुकधुकी या धड़कन का कम या ज़्यादा होना, एकाएक बेहोशी आना, अचानक हाथ या पैर का सुन्न पड़ना या कमज़ोरी आना, अचानक मुँह और होठों का तिरछा होना और ज़बान न उठना, हाथों पैरों पर सूजन आना भी दिल और नसों में खून के प्रवाह कम होने के लक्षण हो सकते हैं। ऐसे में बिना देर करे अपने चिकित्सक या ह्रदय रोग विशेषज्ञ से अवश्य मिलें।
हार्ट अटैक का पहला घंटा है गोल्डन आवर।
हार्ट अटैक से होने वाली मौत में आधी से ज़्यादा पहले 2 घंटो में ही हो जाती हैं। इसी लिए हार्ट अटैक के इलाज में हर मिनट कीमती है और लक्षण आते ही पहले घंटे के अंदर हृदय रोग विशेषज्ञ के पास इलाज से हार्ट फेल और हार्ट अरेस्ट जैसी जटिलताओं से बचा जा सकता है। हार्ट अटैक के लक्षण आते ही डिस्प्रिन की 2 गोलियां चबाने या पानी में घोलकर पीने से 25 प्रतिशत रोगियों की जान बचाई जा सकती है।
अस्पताल में हार्ट की धमनी खोलने के लिए एंजियोग्राफी और स्टेंट/एंजियोप्लास्टी करना हार्ट अटैक का सर्वोत्तम उपचार है। अगर अस्पताल में स्टेंट डालने की सुविधा ना हो तो खून पतला करने की थ्रोंबोलिटिक दवाई जीवन रक्षक है।
प्रतिदिन 45 मिनट का व्यायाम और योग साधना - हर रोज़ कम से कम 30 मिनट व्यायाम करें और 15 मिनट प्राणायाम और सूर्य नमश्कार की क्रिया करें. अपने वज़न को हर हफ्ते एक बार नोट करें और उससे बढ़ने न दें।
संतुलित आहार - अत्यधिक नमक, मीठा, वासा युक्त भोजन, डब्बा बंद भोजन, फ़ास्ट फ़ूड, मांसाहारी भोजन की आदत को छोड़ें। इसके विकल्प में ज़्यादा से ज़्यादा ताज़े फल, सब्ज़ी, और बादाम व अखरोट का सेवन करें. गेंहू में चने का आटा मिला कर मिस्सी रोटी खाएं। खाना पकाने के लिए न्यूनतम मात्रा में सरसों के तेल का प्रयोग करें।
धूम्रपान, तम्बाकू, शराब, और नशा हो बंद - धूम्रपान और अन्य सभी तंबाकू युक्त चीज़ों का सेवन कम उम्र में पड़ने वाले 70 प्रतिशत हार्ट अटैक के लिए ज़िम्मेदार है। शराब पीने से और अन्य नशीले पदार्थों से दिल की बीमारियां और हार्ट अटैक बढ़ते हैं. इनका प्रयोग बंद करें।
दिमागी तनाव से छुटकारा - जीवन में अत्यधिक भाग दौड़ और प्रतिस्पर्धा से बचें। अपनी ज़रूरतों को कम करके संतोष रखें तथा अपने जीवन साथी, परिवारजन, और मित्रों के साथ समय बिताएं।
स्वास्थ की नियमित जांच - 30 साल की उम्र के बाद चिकित्सकी सलाह के अनुसार नियमित रूप से स्वास्थ की जांच कराएं। अपने ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर, कोलेस्ट्रॉल, और वज़न को बढ़ने न दें।
इन 5 मन्त्रों को अपने जीवन में धारण करने से हम एक निरोगी जीवन का आनंद ले सकते हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-410 (साल-02)
2. ब्रहस्पतिवार, सितंबर 30, 2021
3. शक-1984,सावन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-दसमीं, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:11, सूर्यास्त 06:13।
5. न्‍यूनतम तापमान -26 डी.सै., अधिकतम-34+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया आदर्श श्रीवास्तव लखीमपुर खीरी। अपनी बदहाली सेे लडता किसान गणतंत्र की गहरी खाई में जा पहुंचा हैं। मध-म...