गुरुवार, 31 मार्च 2022

मुझे वास्तव में यह खेल रोमांचक लगा: श्रेयस

मुझे वास्तव में यह खेल रोमांचक लगा: श्रेयस      

मोमीन मलिक              
नई दिल्ली। कोलकाता नाइट राइडर्स डीवाई पाटिल स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के आगे खराब बल्लेबाजी के कारण हार गई। हार के बाद कोलकाता के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा कि मुझे वास्तव में यह खेल रोमांचक लगा। दूसरी पारी में अंदर जाने से पहले मैं लड़कों से बात कर गया था कि खेल मैदान पर हमें चरित्र और रवैये को परिभाषित करना है। जिस तरह से हमने यह खेल खेला और उसे आखिरी ओवर तक ले गए, उस पर वास्तव में मुझे गर्व है। उस समय यह वास्तव में कठिन था क्योंकि मैं अपने सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों को वहां पहुंचाना चाहता था और कुछ विकेट जल्दी हासिल करना चाहता था लेकिन यह वास्तव में अच्छा नहीं रहा। 
श्रेयस ने इस दौरान अपने बल्लेबाजों की तारीफ की। उन्होंनेे कहा कि बीच में वास्तव में वह अच्छा खेले। उन्होंने टीम को कठिन दौर से जल्द बाहर निकाल लिया। विकेट दो गति वाला, परिवर्तनशील था और इस पर उछाल भी था। हम वास्तव में अच्छी शुरुआत करना चाहते थे और हमने यही योजना बनाई। अगली बार जब हम आएंगे, तो हमें त्रुटियों को सुधारना होगा और यह देखना होगा कि हमें जितनी जल्दी हो सके गति मिल सके। 
श्रेयस ने इस दौरान वानिंदु हसरंगा की तारीफ की। उन्होंने कहा कि हसरंगा ने वास्तव में अच्छी गेंदबाजी की। मेरा विकेट लेने के बाद वह और अच्छा हो गए। मैं शुरू से ही स्पिन को अच्छी तरह पढ़ पाता था। हमने तय किया था कि आज हम उसे एक ऑफ स्पिनर के रूप में खेलेंगे लेकिन दुर्भाग्य से उसने वास्तव में अच्छी लाइन और लेंथ से गेंदबाजी की। वह काफी अनुभवी भी हैं और उसे इस विकेट पर कुछ मदद मिल रही थी, उसे बधाई।

डीएम व मुख्य विकास अधिकारी ने समीक्षा बैठक की

डीएम व मुख्य विकास अधिकारी ने समीक्षा बैठक की   

अतुल त्यागी              
हापुड़। जनपद में 30 मार्च, 2022 को जिलाधिकारी अनुज सिंह व मुख्य विकास अधिकारी प्रेरणा सिंह ने जल-जीवन मिशन योजना की कलेक्ट्रेट के सभागार में समीक्षा बैठक में उपरोक्त निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि शासन की यह बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है, इसलिए इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता स्वीकार नही की जायेगी। समीक्षा में पाया गया कि ग्रामों में कार्य की प्रगति धीमी है। एक्शन जल जीवन मिशन ने बैठक में अवगत कराया कि जनपद हापुड़ की 145 परियोजनाएं शासन की स्वीकृति हेतु भेजी गई थी। जिनमें से 110 परियोजना स्वीकृत की गई है। 
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के ग्रामों के सभी मोहल्लों में पाइप लाइन होनी चाहिए प्रत्येक घर में नल होना चाहिए। ओवरहेड टैंक गांव से दूर नहीं बनाएं। मुख्य विकास अधिकारी ने निर्देशित किया कि समस्त खंड विकास अधिकारियों को जल जीवन मिशन योजना के अंतर्गत कराए जा रहे कार्यो की जानकारी दी जाए। जिलाधिकारी ने थर्ड पार्टी की जांच के लिए संबंधित को निर्देशित करते हुए कहा कि ठीक प्रकार से टीपीआई करें और रिपोर्ट मुझे भी प्रेषित करें, संबंधित कार्यदाई संस्थाएं बैनर लगाकर जल जीवन का कार्य आरंभ करें और ग्रामीणों से समन्वय बनाते हुए जल जीवन मिशन योजना को सफल बनाएं ताकि ग्रामीणों में जागरूकता रहे।
बैठक में एक्शन जल निगम, सहायक अभियंता जल निगम, सहायक जिला पंचायत राज अधिकारी, समस्त खंड विकास अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

डीएम ने डबल लॉक के अभिलेखों का सत्यापन किया

डीएम ने डबल लॉक के अभिलेखों का सत्यापन किया   

गोपीचंद             
बागपत। जिलाधिकारी राजकमल यादव ने बृहस्पतिवार को वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंतिम दिन जिला कोषागार बागपत के डबल लॉकर में वित्तीय वर्ष के समाप्ति के अंतिम दिन डबल लॉक के अभिलेखों का सत्यापन किया और उन्होंने बहुमूल्य स्टांप का मिलान किया।
जिलाधिकारी ने कोषागार के अधिकारी कर्मचारियों को निर्देश दिए कि वित्तीय वर्ष की समाप्ति तक सभी विभागों के बजट के साथ ही भुगतान हो जाना चाहिए कोषागार स्तर पर कोई भी बिल लंबित ना रहे‌।
इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर पूजा ,वरिष्ठ कोषाधिकारी अरुण कुमार सिन्हा ,वरिष्ठ लेखाकार कोषागार रामनाथ सहित आदि उपस्थित रहे।

यूपी: विभागीय समन्वय समिति की बैठक आयोजित

यूपी: विभागीय समन्वय समिति की बैठक आयोजित     

फैज़ अहमद                   
कौशाम्बी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी सभागार में 31 मार्च को विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान की द्वितीय अंतर विभागीय समन्वय समिति की बैठक आयोजित हुई। बैठक की अध्यक्षता मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. केसी राय ने की व बैठक में राज्य कार्यक्रम अधिकारी वेक्टर बोर्न के संयुक्त निदेशक डॉ. विकास सिंघल भी मौजूद रहे। बैठक में उप मुख्य चिकित्साधिकारी, डीपीएम, डीएमसी, यूनिसेफ, डबल्यूएचओ के प्रतिनिधि के साथ-साथ विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित रहें। 
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. केसी राय ने बताया कि जनपद में संचारी रोग एवं दिमागी बुखार पर नियंत्रण प्राप्त करने हेतु जनपद के 11 विभिन्न विभाग आपसी समन्वय एवं सहयोग से अपने-अपने दायित्व का निर्वहन करेंगे। संचारी रोग एवं दिमागी बुखार पर नियंत्रण प्राप्त करने हेतु चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग विभिन्न विभागों के बीच समन्वय हेतु नोडल विभाग के तौर पर कार्य करेगा। अभियान का वृहद् स्तर पर सभी ब्लॉक में प्रचार-प्रसार किया जायेगा।
उन्होने बताया कि अभियान के अंतर्गत आशा, आंगनवाड़ी व संगिनी कार्यकर्ता घर-घर जा जाएंगी और भ्रमण के दौरान बुखार, क्षय रोग के लक्षण, खांसी तथा सांस लेने में दिक्कत वाले रोगियों और कुपोषित बच्चों की लाइन लिस्टिंग कर सूची बनाएंगी और ए.एन.एम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय को भेजेंगी। जांच एवं उपचार की व्यवस्था के साथ लक्षण युक्त मरीज हेतु नि:शुल्क परिवहन के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था सहित अन्य गतिविधियों पर कार्य करेंगे। 
साथ ही बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग कुपोषित तथा अति कुपोषित बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से पोषण पुनर्वास केंद्रों पर उपचार एवं पोषण हेतु भेजें। 
शिक्षा विभाग का कार्य अभिभावकों शिक्षकों एवं छात्रों का व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर दिमागी बुखार एवं संचारी रोगों से बचाव हेतु संवेदीकरण करेगा। साथ ही क्लोरिनेशन डेमो पेयजल उबालना साबुन से हाथ धोना शौचालय का प्रयोग करना, इत्यादि पोस्टर व निबंध लेखन के माध्यम से छात्रों में जागरूकता फैलाई जाएगी।

गाजियाबाद के एसएसपी पवन को सस्पेंड किया

गाजियाबाद के एसएसपी पवन को सस्पेंड किया          

अश्वनी उपाध्याय                

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार एक्शन मोड में आ गई है। सोनभद्र के जिलाधिकारी टीके शिबू के निलंबन के कुछ देर बाद गाजियाबाद के एसएसपी पवन कुमार को भी सस्पेंड कर दिया गया है। 2009 बैच के आइपीएस अधिकारी पवन कुमार पर ड्यूटी में लापरवाही और अपराध को नियंत्रित करने में विफलता के लिए निलंबित किया गया है। गाजियाबाद के एसएसपी पवन कुमार के खिलाफ जनता से जुड़े मुद्दों पर लापरवाही बरतने की लगातार शिकायतें मिल रही थी। 

जिसकी जांच में पवन कुमार को प्रथम दृष्टया दोषी पाया गया था। इसके बाद उन्हें निलंबित किया गया है। वह गाजियाबाद से पहले मुरादाबाद में एसएसपी थे। पवन कुमार की पहली पोस्टिंग ट्रेनिंग के दौरान एसपी सिटी आगरा के पद पर तैनात रहे थे। इसके बाद वह शामली, चित्रकूट, जौनपुर, उन्नाव, सीतापुर, सुल्तानपुर एसपी के पद पर तैनात रह चुके हैं।

प्रयागराज: कांग्रेसियों ने भीख मांग कर प्रदर्शन किया

प्रयागराज: कांग्रेसियों ने भीख मांग कर प्रदर्शन किया    

बृजेश केसरवानी            
प्रयागराज। पूरे देश में पेट्रोल-डीजल और गैस की महंगाई के विरोध में राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदर्शन किया गया। बृहस्पतिवार को उसी क्रम में प्रयागराज के पूर्व शहर अध्यक्ष नफीस अनवर एंव कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के शहर अध्यक्ष अरशद अली के नेतृत्व में महंगाई मुक्त भारत अभियान के तहत गैस-सिलेंडर और पेट्रोल वाहन को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कांग्रेसियों ने दुकानदारों और आते-जाते लोगो से भीख मांग कर प्रदर्शन किया गया।
इस मौके पर नफीस अनवर ने कहा कि सिलेंडर के दामों का लगातार बढ़ना केंद्र सरकार की जनता के साथ लूट और मोदी सरकार की विफलताओं का नतीज़ा है। अरशद अली ने कहा कि आखिर मोदी सरकार जनता को किस लिए लूट रही है। क्या देश में अब काम धंधे कम और महंगाई ज्यादा की मार से जनता का भला हो सकता है ? हर घर परिवार की चिंता मोदी सरकार को क्यों नहीं है ? गरीब मध्यम लोगो का भविष्य तो अब आगे बढ़ ही नहीं रहा है।
आप सिर्फ महंगाई से जनता को राहत दो और अपने वादों पर खरे उतरते की कृपा करो इस मोके पर नफीस अनवर, अरशद अली, महफूज अहमद कमाल अली, जाहिद नेता, अरमान कुरेशी, बेलाल खान, बब्लू, अब्दुल हमीद, आदि शामिल थे।

कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं: गहलोत

कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं: गहलोत    

नरेश राघानी            

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को राज्य पुलिस के आला अधिकारियों से कहा कि कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं है। पुलिस इसी भावना को ध्यान में रखकर हर मामले में निष्पक्षता के साथ कार्रवाई सुनिश्चित करे। गहलोत ने कहा कि पीड़ित को न्याय दिलाना पुलिस का प्राथमिक कर्तव्य है और इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त योग्य नहीं है।उन्होंने कहा कि थाने से लेकर पुलिस मुख्यालय स्तर तक फरियादियों की संवेदनशीलता के साथ सुनवाई कर उनकी पीड़ा को दूर किया जाए तथा दुर्दांत अपराधियों एवं संगठित अपराधों पर कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

गहलोत पुलिस महानिरीक्षकों व जिला पुलिस अधीक्षकों की दो दिवसीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक को डिजिटल माध्यम से संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पुलिस महकमे का प्रतिबद्धता के साथ सुदृढ़ीकरण और आधुनिकीकरण कर रही है, संसाधनों को लेकर किसी तरह की कमी नहीं रखी जा रही है।

उन्होंने कहा कि अब पुलिस की जिम्मेदारी बनती है कि राज्य में अपराधों पर अंकुश लगाने और पीड़ितों को त्वरित न्याय दिलाने के दायित्व का पूरे समर्पण के साथ निर्वहन करे। आधिकारिक बयान के अनुसार मुख्यमंत्री ने पुलिस हिरासत में मौतों पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसी घटनाओं को सख्ती से रोका जाए, पुलिस अधीक्षक यह सुनिश्चित करें कि पुलिस हिरासत में मौतें न हों। उन्होंने निर्देश दिए कि यदि किसी भी पुलिसकर्मी की अपराधियों के साथ मिलीभगत पाई जाए तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए।

गहलोत ने बदमाशों द्वारा पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए कहा कि ऐसी घटनाओं से पुलिस का इकबाल कमजोर होता है। उन्होंने निर्देश दिए कि जिला पुलिस अधीक्षक ऐसी घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाए‍्ं। उन्होंने ने शेखावाटी सहित राज्य के अन्य क्षेत्रों में गैंगवार की घटनाओं को रोकने, महिला उत्पीड़न, छुआछूत व दलित समाज के व्यक्तियों के साथ अत्याचार के मामलों को गंभीरता से लेने तथा फरियादियों की उचित माहौल में सुनवाई करने के भी निर्देश दिए।गृह राज्य मंत्री राजेन्द्र यादव ने पड़ोसी राज्यों से अवैध हथियारों की कथित तस्करी तथा मादक पदार्थों के अवैध व्यापार पर अंकुश लगाने के लिए योजनाबद्ध रूप से काम करने के निर्देश दिए। बैठक में मुख्य सचिव ऊषा शर्मा, पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर भी मौजूद थे। जयपुर एवं जोधपुर पुलिस कमिश्नर, विभिन्न रेंज के पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस मुख्यालय के अधिकारी व जिला पुलिस अधीक्षक वीडियो कॉन्फ्रेंस से जुडे़।

महिलाओं को अधिक गौठान गतिविधियों से जोड़े

महिलाओं को अधिक गौठान गतिविधियों से जोड़े   

दुष्यंत टीकम         
महासमुंद। कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर ने बृहस्पतिवार को जनपद पंचायत बागबाहरा के सभाकक्ष में गौठान समिति के अध्यक्ष और सचिवों की संयुक्त बैठक लेकर कहा कि स्व-सहायता समूह की महिलाओं को अधिक से अधिक गौठान गतिविधियों से जोड़े। जिससे कि उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हो सके। गौठान में विभिन्न प्रकार के आजीविका मूलक कार्य कराएं जा रहें हैं। जिससे उन्हें गांवों में ही रोजगार एवं स्व-रोजगार प्राप्त होगा।
उन्होंने बताया कि गोधन न्याय योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा पशुपालकों, स्व-सहायता समूहों एवं गौठान समितियों को अब तक प्रदेश में 226.18 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। कलेक्टर ने गौठान में वर्मी कम्पोस्ट का अधिक से अधिक बिक्री करवाने तथा गौठान समिति के अध्यक्ष एवं सचिवों को बेहतर कार्य करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एस. आलोक, एसडीएम बागबाहरा स्निग्धा तिवारी, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी पूजा बंसल सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

रूस-यूक्रेन जंग के बीच सुरक्षा की गारंटी नही: यूएसए

रूस-यूक्रेन जंग के बीच सुरक्षा की गारंटी नही: यूएसए  

अखिलेश पांडेय           
कीव/मास्को/वाशिंगटन डीसी। रूस-यूक्रेन के बीच आज 36वें दिन भी जंग जारी है। दोनों देशों में से कोई भी एक दूसरे के सामने झुकने के लिए तैयार नहीं है। इस बीच यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने गुरुवार को कहा कि उनकी सेना देश के पूर्व में रूसी सैनिकों को मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी कर रही है। ताजा जानकारी के अनुसार रूस-यूक्रेन के बीच एक बार फिर से शांति वार्ता की जाएगी। रूस-यूक्रेन जंग के बीच अमेरिका ने साफ कह दिया है कि वह सुरक्षा की गारंटी नहीं ले सकते हैं। हालांकि अमेरिकी सरकार ने आर्थिक तौर पर मदद करने  का भरोसा दिया है। वहीं, रूस ने यूक्रेन में कई लैंड माइन तबाह कर दिए हैं। इससे भारी तबाही की आशंका है। रूसी प्रशासन ने यूक्रेन के मैरियूपोल में युद्धविराम की घोषणा कर दी है। इसके अलावा चेर्नोबिल से भी रूसी सैनिकों की वापसी हो रही है।

चीन ने तालिबान सरकार का खुलकर समर्थन किया

चीन ने तालिबान सरकार का खुलकर समर्थन किया   

सुनील श्रीवास्तव            
काबुल/बीजिंग। पूरी दुनिया में अलग-थलग पड़ी अफगानिस्तान की तालिबान सरकार का चीन ने खुलकर समर्थन किया है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने गुरुवार को बयान जारी कर कहा कि अफगानिस्तान अब अस्थिरता से स्थिरता की ओर बढ़ रहा है। अपने बयान में चीन ने एक बार भी अफगानिस्तान में रहे मानवाधिकार उल्लंघन और महिलाओं पर बढ़ रहे जुल्म का जिक्र नहीं किया। शी जिनपिंग ने कहा- चीन हमेशा से अफगानिस्तान की संप्रभुता, स्वतंत्रता और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करता रहा है। चीन अफगानिस्तान में शांति, स्थिरता और विकास को बढ़ावा देने में सहयोग करता रहेगा। शी जिनपिंग ने अपने बयान में ये भी कहा कि अफगानिस्तान में पिछले दिनों जो कुछ भी हुआ उसके बाद वहां तुरंत कई क्षेत्रों में विकास करने की जरूरत है। 
चीन के अनहुई इलाके में हुई क्षेत्रीय देशों की बैठक में शी जिनपिंग ने ये बात कही।  इस बैठक में अफगानिस्तान, चीन, रूस, पाकिस्तान, ईरान, तजाकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उज्बेकिस्तान के प्रतिनिधि शामिल हुए थे। इस दौरान चीन के विदेश मंत्री वांग ने कहा कि चीन, अफगानिस्तान और पाकिस्तान को मिलकर राजनीति, विकास और सुरक्षा के मुद्दे पर त्रिपक्षीय सहयोग तंत्र स्थापित करना चाहिए। इसके अलावा वांग ने ये भी कहा कि चीन, अफगानिस्तान और पाकिस्तान की सरकार को आपस में मिलकर आपसी सहयोग से चीन-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर को अफगानिस्तान तक ले जाना चाहिए। 
लड़कियों की शिक्षा पर अफगान सरकार का सफेद झूठ
अफगानिस्तान सरकार में तत्कालीन विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी ने बैठक में कहा कि अफगानिस्तान महिलाओं और बच्चों को लेकर अंतराष्ट्रीय समुदाय की चिंता को समझता है। खास तौर पर लड़कियों की शिक्षा को लेकर अंतराष्ट्रीय समुदाय की चिंता को ध्यान में रखते हुए अफगानिस्तान इस दिशा में एक के बाद एक कदम आगे बढ़ा रहा है। मुत्ताकी ने ये भी कहा कि अफगानिस्तान की अंतरिम सरकार ने लड़कियों को कभी स्कूल जाने से नहीं रोका। उन्होंने ये भी कहा कि देश में अबतक 60 फीसदी से ज्यादा स्कूल खोले जा चुके हैं।

'देशव्यापी महंगाई मुक्त' अभियान की शुरुआत की

'देशव्यापी महंगाई मुक्त' अभियान की शुरुआत की

मनोज सिंह ठाकुर       
भोपाल। कांग्रेस के 'देशव्यापी महंगाई मुक्त' अभियान की गुरुवार को प्रदेश में कमलनाथ ने सिलेंडर को माला पहना कर शुरुआत की। कांग्रेस कार्यकर्ता ढोल मंजीरा लेकर श्यामला हिल्स रोड पहुंचे थे। कमलनाथ ने कहा कि जनता की जेब काटी जा रही है। भाजपा लूटने का काम कर रही है। 
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि जब तक उत्तर प्रदेश के चुनाव नहीं हुए थे तब तक डीजल पेट्रोल और गैस के दाम स्थिर रहे। चुनाव के तुरंत बाद कीमतें बढ़ा दी गईं। उन्होंने कहा कि भाजपा निर्मित महंगाई से जनता की जेब काटी जा रही है। भाजपा लूटने का काम कर रही है।
भाजपा निर्मित महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का संघर्ष जारी रहेगा। लुटेरी भाजपा सरकार को पेट्रोल-डीजल के बढ़े दाम वापस लेने ही पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल सिर्फ वाहनों को प्रभावित नहीं करता है। यह सब्जी, दवाई, दुध से लेकर परिवहन की सभी चीजों को प्रभावित करता है। मोदी जी 2013-14 में और शिवराज जी साइकिल पर जाया करते थे। आज महंगाई पर चुप हैं। आज सिर्फ घोषणाओं की फैक्ट्री और आश्वासन के कारखाने खोले हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणााओं की फैक्ट्री खोल ली है। बीज और खाद के महंगाई से किसान परेशान हैं। आर्थिक गतिविधि चौपट हो गई हैं। हमने इसका ही अभियान शुरू किया है। 

यूके: पुख्ता व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दियें

यूके: पुख्ता व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दियें   

पंकज कपूर                   
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि चार धाम यात्रा के माध्यम से देश-विदेश में अतिथि देवो भव: का संदेश जाना चाहिए। इस बार बहुत अधिक संख्या में श्रद्धालुओं के आने की सम्भावना है। चार धाम यात्रा की तैयारियां उसी के अनुरूप सुनिश्चित की जाएं। मुख्यमंत्री सचिवालय में चारधाम यात्रा 2022 की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने यात्रा को श्रद्धालुओं की लिए अधिक से अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए पुख्ता व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।
मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग को यात्रा मार्गों का स्थलीय निरीक्षण कर, सभी आवश्यक सुधार कार्य यात्रा प्रारम्भ होने से पूर्व सुनिश्चित करने को कहा। साथ ही संबंधित जिलाधिकारियों को भी यात्रा मार्गों पर कार्यों की प्रगति की लगातार मॉनिटरिंग करने के   निर्देश दिये। मार्ग अवरूद्ध होने की स्थिति में तत्काल खोलने के लिए जरूरी मशीनों की व्यवस्था व तैनाती कर ली जाए। जेसीबी मशीनों की ट्रेकिंग के लिए उन्हें जीपीएस से जोड़ा जाए। यात्रा मार्ग से संबंधित सड़कों पर कहीं भी मलबा या कचरा न रहे। कचरा निस्तारण पर विशेष ध्यान दिया जाए। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि चारधाम यात्रा प्रबंधन में टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाए। ट्रेफिक प्रबंधन व संचालन के लिए ड्रोन का भी प्रयोग किया जाए। चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए टोल फ्री नम्बर जारी किया जाए। जिस पर यात्रा से संबंधित हर प्रकार की जानकारी हो। इस नम्बर को व्यापक प्रचारित भी किया जाए। इस वर्ष बहुत बड़ी संख्या में यात्रियों के आने की सम्भावना है। किसी प्रकार की अव्यवस्था न हो, इसके लिए यात्रियों के रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था हो। यात्रा मार्गों पर जगह-जगह पर्याप्त संख्या में पार्किंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाए। डायवर्जन और वैकल्पक मार्गों की व्यवस्था भी कर ली जाए। जगह-जगह पर साईन बोर्ड भी लगाए जाएं।

'ऑल इंडिया कोटा मॉप-अप' चरण की काउंसिलिंग रद्द

'ऑल इंडिया कोटा मॉप-अप' चरण की काउंसिलिंग रद्द  

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। सर्वोच्च न्यायालय ने 146 से अधिक नयी सीट पर विसंगतियों को दूर करने के लिए नीट-पीजी 2021-22 दाखिलों के लिए ऑल इंडिया कोटा मॉप-अप चरण की काउंसिलिंग को बृहस्पतिवार को रद्द कर दी। ये 146 सीट उम्मीदवारों के लिए पिछले दौर की काउंसलिंग में उपलब्ध नहीं थीं और उनके पास इन सीटों में भाग लेने का कोई अवसर नहीं था।
न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति बेला एम. त्रिवेदी की पीठ ने 146 नयी सीट पर काउंसिलिंग के लिए विशेष चरण आयोजित करने और दूसरे चरण में अखिल भारतीय कोटा या राज्य कोटा में शामिल होने वाले छात्रों को इसमें भाग लेने की अनुमति दी। पीठ ने स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक को 24 घंटे के भीतर छात्रों से विकल्प आमंत्रित करने और विकल्प मिलने के बाद 72 घंटे के भीतर प्रक्रिया पूरी करने का निर्देश दिया।
पीठ ने स्पष्ट किया कि संविधान के अनुच्छेद 142 के तहत उसके न्यायाधिकार क्षेत्र का इस्तेमाल करते हुए सभी निर्देश दिए गए हैं। उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को केंद्र को नीट-पीजी 2021-22 काउंसलिंग के ‘मॉप-अप राउंड’ में गुरुवार तक यथास्थिति बनाए रखने का निर्देश दिया था और स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक से उन मुद्दों पर पुनर्विचार करने को कहा था, जिनमें 146 नयी सीट जोड़ने का फैसला भी शामिल है।
हमारी नजर में आम आदमी की आवाज जब होती है बेअसर तभी बनती है बड़ी खबर। पूरब हो या पश्चिम, उत्तर हो या दक्षिण सियासत का गलियारा हो या गांव गलियों का चौबारा हो सारी दिशाओं की हर बड़ी खबर, खबर के पीछे की खबर और एक्सक्लूसवि विश्लेषण का ठिकाना है TheRuralPress सटीक सूचना के साथ उसके सभी आयामों से अवगत कराना ही हमारा लक्ष्य है। ग्लैमर दुनिया, जुर्म की गली हो या खेल गांव, टेकनोलॉजी हो या किसी मुद्दे पर बेबाक राय सब कुछ इसी प्लेटफॉर्म पर। हम बताएंगे इतिहास के कुछ ऐसे किस्से जिनसे आप हिल जाएंगे। TRP के इरादे हैं आपको खबर के हर उस पहलू से रू-ब-रू कराने के, जो आपके लिए जरूरी हैं।

कोई भी समुदाय अल्पसंख्यक है या नहीं, आकलन

कोई भी समुदाय अल्पसंख्यक है या नहीं, आकलन   

दिसपुर। असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिसवा सरमा ने कहा है कि कोई भी समुदाय अल्पसंख्यक है या नहीं, इसका आकलन राज्य या जिले की कुल आबादी के आधार पर होना चाहिए। असम विधानसभा के भीतर बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोई भी समुदाय अल्पसंख्यक है अथवा नहीं यह उसके धर्म, संस्कृति या शैक्षिक अधिकारों के लिए खतरों पर निर्भर करता है। अगर ऐसा कोई खतरा है, तो उस समुदाय को अल्पसंख्यक नहीं माना जा सकता है।
भाजपा विधायक मृणाल सैकिया द्वारा असम में समुदाय को अल्पसंख्यक माने जाने वाले सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले और संविधान के अनुच्छेद 25 से 30 में दी गई परिभाषाओं के अनुसार कोई भी सीधे तौर पर यह नहीं कह सकता है कि मुसलमान बौद्ध या इसाई अल्पसंख्यक है। क्योंकि वह एक विशेष राज्य में अल्पसंख्यक है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोई समुदाय अल्पसंख्यक है या नहीं। इसकी परिभाषा उस विशेष राज्य जिले में मौजूद वास्तविकता पर आधारित होनी चाहिए।
यह चिंता का विषय है और वर्तमान में सुप्रीम कोर्ट भी इसे लेकर सुनवाई कर रहा है।

रिकवरी रूम की चिमनी में लगीं आग, हताहत नहीं

रिकवरी रूम की चिमनी में लगीं आग, हताहत नहीं    

संदीप मिश्र                  
लखनऊ। राजधानी स्थित ज्ञान डेयरी के प्लांट में किन्ही कारणों के चलते आग लग गई। चिमनी के भीतर से काला धुआं और आग की लपटें निकलती देखकर आसपास के लोगों में अफरा-तफरी फैल गई। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची दमकल की 4 गाड़ियां फैक्ट्री में लगी आग पर पानी बरसाते हुए उसे काबू करने के प्रयास में जुट गई। आग लगने की इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है।
बृहस्पतिवार को महानगर के कुर्सी रोड स्थित ज्ञान डेयरी के प्लांट में कामकाज चल रहा था तो रिकवरी रूम की चिमनी में आग लग गई। चिमनी से काला धुआं और आग की लपटें निकलती हुई देखकर आसपास के लोगों में बुरी तरह से अफरा-तफरी मच गई। सूचना पर पहुंची दमकल की गाड़ियों ने हाइड्रोलिक प्लेटफार्म समेत आग बुझाने की 4 गाड़ियों के माध्यम से काफी देर तक आग पर पानी बरसाया और उसके ऊपर काबू पाया।
एफएसओं इंदिरानगर शेर अली खान ने बताया है कि कुर्सी रोड स्थित ज्ञान डेयरी की ड्रायर मशीन जो गर्म हवा को बाहर निकालती है उसी से जुड़ी चिमनी में आग लगने की सूचना मिली। जिस समय टीम मौके पर पहंुची तो उस वक्त टीन चिमनी टीन शेड से ढकी हुई थी। आग लगने के कारण की जांच की जा रही है। उधर प्लांट के अधिकारियों ने फैक्ट्री में लगी आग की बाबत कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है।

अरहर व उड़द दाल के आयात को मुक्त श्रेणी में रखें

अरहर व उड़द दाल के आयात को मुक्त श्रेणी में रखें     

अकांशु उपाध्याय                    

नई दिल्ली। घरेलू आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों को नियंत्रण में रखने के लिए केंद्र सरकार ने मार्च 2023 तक अरहर दाल और उड़द दाल के आयात को मुक्त श्रेणी में रखने का फैसला किया है। मुक्त श्रेणी में डाले जाने का मतलब है कि इन दालों के आयात पर कोई पाबंदी नहीं होगी। सरकार ने बयान जारी कर कहा है, घरेलू उपलब्धता बढ़ाने और आवश्यक खाद्य वस्तुओं की कीमतों को नियंत्रण में रखने के सक्रिय कदम के तहत केंद्र ने 31 मार्च, 2023 तक अरहर और उड़द के आयात को मुक्त श्रेणी के तहत रखने के निर्णय को अधिसूचित किया।सरकार के अनुसार, इस नीतिगत उपाय को संबधित विभागों और संगठनों द्वारा सुविधाजनक उपायों और इसके कार्यान्वयन की बारीकी से निगरानी के साथ सहयोग दिया गया है।

इस फैसले ने अगले वित्त वर्ष में तुअर और उड़द के लिए आयात नीति व्यवस्था से जुड़ी अटकलों पर विराम लगा दिया है। यह नीति एक स्थिर व्यवस्था का भी संकेत देती है। इस नीति से सभी अंशधारकों को फायदा पहुंचने की उम्मीद है। सरकार का कहना है कि इस उपाय से देश में दालों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए इनका निर्बाध आयात सुनिश्चित किया जा सकेगा। गौरतलब कि इन दालों की उपलब्धता में बढ़ोतरी से इनके दाम घटेंगे और इसका सीधा फायदा उपभोक्ताओं को पहुंचेगा।

दरअसल, केंद्र सरकार ने 15 मई, 2021 से तहत अरहर, उड़द और मूंग के आयात को ‘मुक्त श्रेणी’ में डाल दिया था जो 31 अक्टूबर, 2021 तक वैध था। बाद में मूंग दाल को इस श्रेणी से निकाल दिया गया और अरहर व उड़द के आयात के संबंध में मुक्त व्यवस्था को 31 मार्च, 2022 तक बढ़ा दिया गया।

भारत: टीकाकरण के 184.06 करोड़ डोज लगाए

भारत: टीकाकरण के 184.06 करोड़ डोज लगाए   

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। भारत में अब तक कोरोना के टीकाकरण के 184.06 करोड़ (1,84,06,55,005) डोज़ लगाए जा चुके हैं। इनमें पहली खुराक, दूसरी खुराक और प्रिकॉशन डोज़ भी शामिल है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने अथक परिश्रम किया है।
12 से 14 वर्ष की आयु वर्ग के लिए कोविड-19 का टीकाकरण 16 मार्च 2022 को प्रारंभ हुआ था। टीकाकरण प्रारंभ होने से अब तक इस आयु वर्ग के 1.06 करोड़ (1,60,81,696) से अधिक किशोरों को कोविड-19 के टीके की पहली खुराक लगाई जा चुकी है।
इसके साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने बताया भारत में लगातार कोरोना के मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है। वर्तमान में भारत में कुल सक्रिय मामले 14,307 हैं। जो सक्रिय मामलों के 0.03% है। परिणाम स्वरूप भारत में स्वस्थ होने की दर बढ़कर 98.76% हो गई है, वहीं पिछले 24 घंटे में देशभर में 1,225 नए मामले सामने आए हैं।

'एनईपीए' ने विभिन्न पदों पर निकाली भर्ती, आवेदन

'एनईपीए' ने विभिन्न पदों पर निकाली भर्ती, आवेदन    

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। नॉर्थ ईस्टर्न पुलिस अकादमी (एनईपीए) ने एमटीएस, पंप ऑपरेटर, इलेक्ट्रिशियन सहित विभिन्न पदों पर भर्ती निकाली है। नॉर्थ ईस्टर्न पुलिस अकादमी में कुल 28 वैकेंसी है। इन पदों पर भर्ती होने के बाद उम्मीदवारों को सातवें वेतन आयोग के अनुसार सैलरी मिलेगी। इस भर्ती के लिए आवेदन ऑफलाइन मोड में करना है। आवेदन की आखिरी तारीख 28 अप्रैल 2022 है। अधिक जानकारी के लिए नॉर्थ ईस्टर्न पुलिस अकादमी की वेबसाइट http://nepa.gov.in/ पर विजिट कर सकते हैं।
नॉर्थ ईस्टर्न पुलिस अकादमी में वैकेंसी का डिटेल
एमटीएस (कुक)- 2 पद
एमटीएस (मसालची)-1 पद
एमटीएस (वाटर कैरियर)-2 पद
एमटीएस (कैंटीन)- 1 पद
एमटीएस स्वीपर- 1 पद
पंप ऑपरेटर- 1 पद
प्लंबर- 1 पद
इलेक्ट्रिशियन- 1 पद
लाइफ गार्ड- 2 पद
एमटीएस सईस- 1 पद
कांस्टेबल एमटी- 2 पद
कांस्टेबल मोटर मैकेनिक- 4 पद
कांस्टेबल बैंड- 2 पद
कांस्टेबल जीडी- 8 पद
एमटीएस- लेवल-1 (18000-56900)
पंप ऑपरेटर, प्लंबर, इलेक्ट्रिशियन, लाइफ गार्ड- लेवल-2 (19900-63200)
कांस्टेबल- लेवल-1 (18000-56900)
एमटीएस – एमटीएस कैटेगरी के पदों के लिए 10वीं पास होना चाहिए।‌ साथ ही संबंधित ट्रेड की जानकारी होनी चाहिए।
पंप ऑपरेटर- 10वीं पास होना चाहिए।‌ साथ ही मैकेनिकल या इलेक्ट्रिकल ट्रेड में आईटीआई सर्टिफिकेट होनी चाहिए।
प्लंबर- 10वीं पास होने के साथ प्लंबर ट्रेड में आईटीआई सर्टिफिकेट होनी चाहिए। साथ ही दो साल का प्रैक्टिकल अनुभव होना चाहिए‌।
लाइफ गार्ड- 10वीं पास होने के साथ तैराकी का सर्टिफिकेट। लाइफ गार्ड या तैराक के रूप में कार्य का दो साल का अनुभव।
कांस्टेबल एमटी- 10वी पास होने के साथ लाइट व्हीकल का ड्राइविंग होना चाहिए। साथ ही तीन साल ड्राइविंग का अनुभव और मोटर मैकनिज्म की अच्छी नॉलेज होनी चाहिए।
कांस्टेबल मोटर मैकेनिक- 10वीं पास होने के साथ मोटर मैकनिज्म में डिप्लोमा होना चाहिए‌।‌ साथ ही लाइट या मीडियम या हैवी व्हीकल का ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए। साथ ही वाहन रिपयर का दो साल का अनुभव जरूरी है।
कांस्टेबल बैंड- 10वीं पास होने के साथ बिगुल या साइड ड्रम जैसे म्युजिकल स्ट्रूमेंट बजाने का अनुभव होना चाहिए।
कांस्टेबल जीडी- 10वीं पास होना चाहिए।

टाटा को 'भारत रत्न' की याचिका पर विचार से इनकार

टाटा को 'भारत रत्न' की याचिका पर विचार से इनकार   

अकांशु उपाध्याय               

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने उद्योगपति रतन टाटा को भारत रत्न देने के लिए केंद्र सरकार को निर्देश देने की मांग करने वाली एक जनहित याचिका पर विचार करने से गुरुवार को इनकार कर दिया। याचिकाकर्ता की मांग पर नाराज़गी जताते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश विपिन सांघी और न्यायमूर्ति विपिन चावला की खंडपीठ ने सवाल किया , “क्या अदालत का यह काम है कि वह सरकार को किसी व्यक्ति को भारत रत्न पुरस्कार देने का निर्देश दे? यह किस तरह की याचिका है?”

खंडपीठ ने याचिकाकर्ता को चेतावनी दी कि अगर वह याचिका वापस नहीं लेता है तो अदालत उससे लागत वसूल करेगा। यह सुनने के बाद याचिकाकर्ता के वकील ने अदालत से याचिका वापस लेने का अनुरोध किया।याचिका में अदालत के समक्ष तर्क दिया गया था कि रतन टाटा का जीवन बेदाग है और वह भारत रत्न से सम्मानित होने के योग्य हैं। क्योंकि वह राष्ट्र की सेवा कर रहे हैं। वकील ने कहा कि  रतन टाटा ने एक अनुकरणीय जीवन व्यतीत किया है, दुनिया भर में लाखों लोगों को प्रेरित किया है और एक उत्कृष्ट नेता साबित हुए हैं। उन्होंने याचिका में कहा कि केंद्र सरकार को उद्योगपति रतन टाटा को भारत रत्न देने का निर्देश दिया जाना चाहिए।

तकरीबन 15 दिनों की छुट्टी, बैंकों पर लटकेंगे ताले

तकरीबन 15 दिनों की छुट्टी, बैंकों पर लटकेंगे ताले    

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। देशवासियों के सामने नए साल के आगमन के साथ ही शुरू हुआ परेशानियों का सिलसिला, कहीं से भी थमता हुआ नहीं लग रहा है। 2 दिन पहले ही चार दिनों की बैंक बंदी झेलने वाले देशवासियों को अब अगले महीने भी बैंकों की बंदी का दंश झेलने को मजबूर होना पड़ेगा। क्योंकि, अप्रैल के महीने में तकरीबन 15 दिनों की छुट्टी की वजह से बैंकों पर ताले लटके रहेंगे।
आगामी शनिवार से 1 अप्रैल के साथ नए वित्तीय वर्ष की शुरुआत देश के सभी हिस्सों में हो जाएगी। अप्रैल में गुड़ी पड़वा, अंबेडकर जयंती और बैशाखी जैसे प्रमुख त्योहार हैं। अप्रैल में 15 दिन बैंकों में अवकाश रहेगा। इन छुट्टियों में महीने के दूसरे और चौथे शनिवार के साथ साप्ताहिक अवकाश और अलग-अलग राज्यों में पड़ने वाले त्योहार भी शामिल हैं।
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने बैंकों की अप्रैल की छुट्टियों से संबंधित सूची जारी की है। ऐसे में बैंक से जुड़ा हुआ यदि कोई जरूरी काम है तो इसकी योजना आप पहले से बना लें, ताकि आपको कोई असुविधा न हो। 1 अप्रैल को बैंक खातों की सालाना क्लोजिंग की वजह से सामान्य कामकाज नहीं होगा। लेकिन आइजोल, चंडीगढ़, शिलांग, शिमला में खुले रहेंगे बैंक। 2 अप्रैल को गुड़ी पड़वा/उगाडी फेस्टिवल/पहला नवरात्र/तुलुगु न्यू ईयर का दिन/साजीबू नॉन्गमापनबा (बेलापुर, बेंग्लुरु, चेन्नई, हैदराबाद, इंफाल, जम्मू, मुंबई, नागपुर, पणजी, श्रीनगर में बैंक बंद रहेंगे। 3 अप्रैल को रविवार को साप्ताहिक अवकाश की वजह से बैंक बंद रहेंगे। 4 अप्रैल को सरहुल के अवसर पर रांची में बैंक बंद रहेंगे। 5 अप्रैल को बाबू जगजीवन राम जयंती है। हैदराबाद में बैंक बंद रहेंगे। 9 अप्रैल को महीने का दूसरा शनिवार होने की वजह से बैंक बंद रहेंगे। 10 अप्रैल को रविवार को साप्ताहिक अवकाश की वजह से बैंक बंद रहेंगे। 14 अप्रैल को डॉ. बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर जयंती/महावीर जयंती/बैसाखी/तमिल न्यू ईयर डे/चेराओबा/बीजू फेस्टिवल/बोहाग बिहू के अवसर पर शिलांग और शिमला को छोड़कर बाकी जगह बैंक बंद रहेंगे। 15 अप्रैल को गुड फ्राइडे/बंगाली न्यू ईयर डे (नबाबर्षा)/हिमाचल डे/विशू/बोहाग बिहू के मौके पर जयपुर, जम्मू- श्रीनगर को छोड़कर बाकी जगह बैंक बंद रहेंगे। 16 अप्रैल को बोहाग बिहू के अवसर पर गुवाहाटी में बैंक बंद रहेंगे। 
17 अप्रैल को रविवार को साप्ताहिक अवकाश की वजह से बैंक बंद रहेंगे। 21 अप्रैल को गारिया पूजा के अवसर पर अगरतला में बैंक बंद रहेंगे 23 अप्रैल को महीने का चौथा शनिवार होने की वजह से बैंक बंद रहेंगे। 24 अप्रैल रू- रविवार को साप्ताहिक अवकाश की वजह से बैंक बंद रहेंगे। 29 अप्रैल को शब-ए-कादर/जमात-उल-विदा के अवसर पर जम्मू-श्रीनगर में बैंक बंद रहेंगे।

ड्रेसकोड का पालन न करने वाले विद्यार्थी देश छोड़ दें

ड्रेसकोड का पालन न करने वाले विद्यार्थी देश छोड़ दें    

इकबाल अंसारी           

बेंगलुरु। कर्नाटक के भीतर चल रहे हिजाब विवाद को लेकर चल रहे जुबानी तीर थमते हुए नहीं लग रहे हैं। हिजाब विवाद में अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ नेता ने कूदते हुए यूनिवर्सिटी के भीतर आयोजित किए गए कार्यक्रम में कहा है कि शिक्षा संस्थाओं में ड्रेसकोड का पालन नहीं करने वाले विद्यार्थी तुरंत देश छोड़ दें। उनकी इस टिप्पणी को लेकर छात्र संघों ने अपना विरोध जाहिर किया है। दरअसल मंगलौर विश्वविद्यालय के मंगल गंगोत्री परिसर में स्नातकोत्तर छात्र परिषद की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसके उद्घाटन के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ नेता कल्लाडका भट को आमंत्रित किया गया था। परिषद का उद्घाटन करने के बाद हुई सभा को संबोधित करते हुए आरएसएस नेता कल्लाडका भट ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे धर्मनिरपेक्ष देश है। यह शांति और सद्भाव की भूमि है। शिक्षा संस्थानों द्वारा निर्धारित की गई ड्रेस को पहनने से इंकार करने वाले विद्यार्थियों की आलोचना करते हुए आरएसएस नेता ने कहा कि अगर वह यहां के नियमों का पालन नहीं कर सकते हैं तो उन्हें देश छोड़कर चले जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत का समृद्ध इतिहास है और मुगल राजा उस इतिहास का हिस्सा नहीं है। उन्होंने मुगल राजा अकबर को लेकर भी कुछ विवादित बातें कही हैं।

उधर आरएसएस नेता कल्लाडका भट की बातों का केंपस फ्रंट ऑफ इंडिया एवं स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से विरोध किया गया है। इन संगठनों ने आरएसएस नेता को छात्र परिषद के कार्यक्रम के उद्घाटन के लिए बुलाने हेतु विश्वविद्यालय प्रशासन की आलोचना की है।

प्राचार्य की अध्यक्षता में शिविर का आयोजन किया

प्राचार्य की अध्यक्षता में शिविर का आयोजन किया   

संदीप मिश्र            

मुजफ्फरनगर। चौधरी छोटू राम महाविद्यालय मुजफ्फरनगर में प्राचार्य डॉ. नरेश कुमार मलिक की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सेवा योजना की चतुर्थ एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें प्राचार्यजी ने अपने उद्बोधन में स्वयंसेवक एवं सेविकाओं से राष्ट्रीय सेवा योजना का सामाजिक जागरूकता में क्या योगदान हो सकता है तथा युवा ऊर्जा को किस तरह से सही दिशा में लगाया जाए के विषय पर भी अपने विचार रखे।

कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रथम यूनिट के कार्यक्रम अधिकारी  अभिषेक सिंह ने किया जिन्होंने ने अपने उद्बोधन में सात दिवसीय शिविर मे हुए सामाजिक जागरूकता, साफ सफाई आदि कार्य जो आवंटित बस्तियों में किए गए का फीडबैक स्वयंसेवक एवं सेविकाओं से लिया। द्वितीय यूनिट के कार्यक्रम अधिकारी डॉ आई.डी. शर्मा एनएसएस के माध्यम से किस तरह से हम राष्ट्र का विकास कर सकते हैं पर अपने विचार रखे I वही तृतीय यूनिट के कार्यक्रम अधिकारी डॉ जॉनी कुमार ने राष्ट्रीय सेवा योजना के इतिहास तथा उद्देश्यों पर प्रकाश डाला । कार्यक्रम के दूसरे सत्र में स्वयंसेवक एवं सेविकाओं ने आंशिक श्रमदान किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में शिक्षणेत्तर कर्मचारी ओमपाल कृष्णपाल तथा सभी स्वयंसेवक एवं सेविकाओं का विशेष योगदान रहा। 

अधिनियम, अशांत क्षेत्रों को कम करने का फैसला

अधिनियम, अशांत क्षेत्रों को कम करने का फैसला 

अकांशु उपाध्याय                   

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने दशकों बाद नागालैंड, असम और मणिपुर राज्यों में सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम के तहत अशांत क्षेत्रों को कम करने का फैसला किया है। यह जानकारी केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर दी है। उन्होंने कहा एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्णायक नेतृत्व में भारत सरकार ने दशकों बाद नागालैंड, असम और मणिपुर राज्यों में सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम के तहत अशांत क्षेत्रों को कम करने का फैसला लिया है।एएफएसपीए के तहत क्षेत्रों में कमी सुरक्षा की स्थिति में सुधार और प्रधानमंत्री द्वारा उत्तर पूर्व में स्थायी शांति लाने और उग्रवाद को समाप्त करने के लिए लगातार प्रयासों और कई समझौतों के कारण तेजी से विकास का परिणाम है। साथ ही अमित शाह ने कहा इसको लेकर पीएम मोदी को धन्यवाद। 

पीएम मोदी की अटूट प्रतिबद्धता, हमारा पूर्वोत्तर क्षेत्र, जो दशकों से उपेक्षित था, अब शांति, समृद्धि और अभूतपूर्व विकास के एक नए युग का गवाह बन रहा है। मैं इस महत्वपूर्ण अवसर पर पूर्वोत्तर के लोगों को बधाई देता हूं।

बोर्ड ने बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी किया

बोर्ड ने बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी किया

अविनाश श्रीवास्तव           
पटना। बिहार बोर्ड की परीक्षा दे चुके, वो परीक्षार्थी जो अपने रिजल्ट का इंतजार कर रहे थे‌। गुरुवार को उनका इंतजार खत्म हो गया है। दरअसल बिहार स्कूल एजुकेशन बोर्ड ने गुरुवार को बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है। आप बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं। बता दें बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी होते ही 16 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स का इंतजार भी खत्म हो गया। वहीं बिहार रिजल्ट जारी होने के बाद बोर्ड के चेयरमैन आनंद किशोर ने कहा कि 12, 86,971 स्टूडेंट्स पास हुए हैं। 79.88 फीसदी पास पर्सेंटेज रहा है।

पिता को बंगले से बेदखल करने का मामला, इनकार

पिता को बंगले से बेदखल करने का मामला, इनकार  

अकांशु उपाध्याय                   
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने लोकसभा सांसद चिराग पासवान को उनके दिवंगत पिता रामविलास पासवान को आवंटित बंगले से बेदखल करने के मामलें में हस्तक्षेप करने से बृहस्पतिवार को इनकार कर दिया। न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा ने चिराग की मां रीना पासवान की याचिका खारिज करते हुए कहा कि वह इस स्तर पर उस प्रक्रिया को नहीं रोकेंगे, जो पहले ही शुरू हो चुकी है और संबंधित परिसर पासवान की ‘पार्टी का मुख्यालय नहीं’ है।
याचिकाकर्ता के वकील ने ‘व्यावहारिक कठिनाइयों’ का हवाला देते हुए अदालत से राष्ट्रीय राजधानी के बीचों-बीच जनपथ स्थित बंगले को खाली करने के लिए चार महीने का समय मांगा। उन्होंने अदालत को बताया कि मौजूदा समय में वहां सैकड़ों लोग रह रहे हैं और उनके पास राष्ट्रीय राजधानी में कोई और ठिकाना नहीं है।
याचिकाकर्ता के वकील ने यह भी दलील दी कि बंगले में दिवंगत राम विलास पासवान की याद में एक संग्रहालय बनाया गया है और वहां कई कलाकृतियां भी मौजूद हैं। इस पर न्यायमूर्ति वर्मा ने कहा, “यह आपका पार्टी मुख्यालय नहीं है।” उन्होंने कहा कि यह प्रक्रिया 2020 में शुरू हुई थी और संबंधित पक्षों को नोटिस भी जारी किए गए थे। निकलिए सर। प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। अन्य लोग भी इंतजार कर रहे हैं। अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल चेतन शर्मा ने अदालत को बताया कि बंगला खाली कराने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और वहां रह रहे लोगों को इसका नोटिस 2020 में ही दे दिया गया था। उन्होंने कहा कि प्रक्रिया शुरू हो गई है। बहुत कम घरेलू सामान बचा है। पांच ट्रक निकल चुके हैं।
शर्मा ने कहा कि अक्टूबर 2020 में रामविलास पासवान के निधन के साथ ही बंगले के आवंटन की अवधि समाप्त हो गई थी। केंद्र सरकार ने बुधवार को लोकसभा सांसद से जनपथ स्थित बंगला खाली करवाने के लिए एक टीम भेजी थी, जिसे केंद्रीय मंत्रियों को आवंटित किया जाना है। पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन के बाद यह बंगला लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) का आधिकारिक पता बन गया है, जो चिराग पासवान और उनके चाचा पशुपति कुमार पारस के बीच मतभेद के चलते दो गुटों में बंट गई है।

सोनिया ने 'मनरेगा स्कीम' को लेकर बोला हमला

सोनिया ने 'मनरेगा स्कीम' को लेकर बोला हमला     

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने गुरुवार को लोकसभा में मनरेगा स्कीम को लेकर सरकार पर हमला बोला। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी पर उनका नाम लिए बिना ही तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोग इस स्कीम की आलोचना करते थे। कुछ साल पहले इस स्कीम का मजाक बनाया गया था, लेकिन कोरोना काल में इसके चलते करोड़ों गरीबों को समय पर मदद मिल पाई। उन्होंने कहा, ‘मनरेगा स्कीम का कई लोगों ने कुछ साल पहले मजाक उड़ाया था। लेकिन इसके कोरोना काल में जब लॉकडाउन लगा तो करोड़ों गरीबों को समय पर मदद पहुंचाने का काम किया। इसने सरकार को बचाने में सकारात्मक भूमिका अदा की।
इसके साथ ही सोनिया गांधी ने मनरेगा स्कीम के बजट आवंटन में कटौती पर भी सवाल खड़ा किया। उन्होंने कहा, ‘मैं केंद्र सरकार से मांग करती हूं कि मनरेगा स्कीम के लिए बजट का आवंटन किया जाए। काम के 15 दिनों के भीतर मजदूरों के खातों में इसकी पेमेंट पहुंच जानी चाहिए। यदि किसी भी तरह की देरी होती है तो फिर उन्हें इसकी क्षतिपूर्ति करननी चाहिए।’ सोनिया गांधी ने मनरेगा स्कीम में भ्रष्टाचार की ओर भी ध्यान दिलाया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों से कहा जाना चाहिए कि उनके सालाना प्लान तब तक अप्रूव नहीं होंगे, जब तक कि वे सोशल ऑडिट नहीं कराते हैं।
सोनिया गांधी ने कहा कि मनरेगा स्कीम के कामों के ऑडिट के लिए लोकपाल की नियुक्ति करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस स्कीम का सोशल ऑडिट होना चाहिए, लेकिन पेमेंट रोककर गरीब मजदूरों को सजा नहीं दी जानी चाहिए। यूपीए सरकार की इस स्कीम की पीएम नरेंद्र मोदी ने शुरुआती दौर में आलोचना की थी। हालांकि इसके बाद यह स्कीम लगातार जारी रही और कोरोना काल में लोगों को इससे तत्काल रोजगार गांवों में मिल सका था। खासतौर पर यूपी और बिहार में इस स्कीम ने कोरोना काल में गरीबों की मदद करने का काम किया था।
पीएम मोदी ने कहा था- यूपीए की विफलता का स्मारक है मनरेगा।
मनरेगा आपकी विफलताओं का जीता-जागता स्मारक है। आजादी के 60 साल के बाद भी यह स्थिति है तो इससे पता चलता है कि कांग्रेस ने गरीबी को खत्म करने के लिए किस तरह से काम किया था। आप लोगों से गड्ढे खुदवाते हैं और फिर उसके बदले में उन्हें पैसे देते हैं। मैं इस स्कीम को बंद नहीं करने वाला हूं, गाजे-बाजे के साथ इसे जारी रखूंगा।

4 अप्रैल से प्रारंभ होगा वार्षिक ‘चिथिराई उत्सव’

4 अप्रैल से प्रारंभ होगा वार्षिक ‘चिथिराई उत्सव’  

इकबाल अंसारी          
मदुरै। तेरह दिवसीय वार्षिक ‘चिथिराई उत्सव’ चार अप्रैल से शुरू होगा। इसे प्रसिद्ध श्री मीनाक्षी-सुंदरेश्वर मंदिर का ‘चिथिराई ब्रह्मोत्सवम’ के नाम भी जाना जाता है। आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को यहां बताया कि महोत्व की शुरुआत पांच अप्रैल को भगवान सुंदरेश्वर के 56 फीट ऊंचे “द्वाजस्तंभ” (ध्वजस्तंभ) पर पारंपरिक तरीके से पवित्र ध्वज के फहराने के साथ होगी। पट्टाभिषेकम’ (देवी मीनाक्षी के लिए राज्याभिषेक) 12 अप्रैल को किया जाएगा और प्रसिद्ध ‘थिरुक्कल्याणम’ (आकाशीय विवाह कार्यक्रम) 14 अप्रैल को आयोजित किया जाएगा। इसके अलावा मंदिर का रथ उत्सव 15 अप्रैल को आयोजित किया जाएगा।
इसके बाद 16 अप्रैल को ‘भगवान कल्लाझगर का वैगई नदी में प्रवेश’ कार्यक्रम का शानदार आयोजन होगा। हिंदू धार्मिक एवं बंदोबस्ती विभाग के अधिकारियों ने इसके लिए व्यापक व्यवस्था की है। देश और विदेश के लाखों भक्तों के चिथिराई उत्सव में भाग लेने की उम्मीद है। सरकार की ओर से 2020 में कोरोना के मद्देनजर लगाई गए ज्यादातर पाबंदियां हटा दी गई हैं।

'भ्रष्टाचार' की वजह से जनता बुरी तरह त्रस्त: यादव

'भ्रष्टाचार' की वजह से जनता बुरी तरह त्रस्त: यादव   

संदीप मिश्र             
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा राज में सरकारी व्यवस्था में व्यापक स्तर पर फैले भ्रष्टाचार की वजह से जनता बुरी तरह त्रस्त है। महंगाई ने लोगों की कमर तोड़ दी है। उत्तर प्रदेश में नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। जानबूझकर परीक्षाओं के पेपर लीक कराए जाते हैं ताकि उनके परिणाम नहीं आएं और युवाओं को नौकरियों से वंचित रखा जा सके। समाजवादी पार्टी अन्याय और गैर-बराबरी के खिलाफ डॉ. लोहिया और डॉ. अम्बेडकर की विचारधारा से प्रेरणा लेकर संघर्षरत है। अखिलेश यादव आज सैकड़ों कार्यकर्ताओं से पार्टी मुख्यालय लखनऊ में मिले और सरकारी उत्पीड़न सम्बंधी उनकी शिकायतों को सुना। उपस्थित जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार में निर्दोश लोगों को फंसाया जा रहा है। पुलिस और प्रशासन की मिली भगत से समाजवादी नेताओं और कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया जा रहा है। जिला पंचायत के चुनावों की तरह स्थानीय प्राधिकरण क्षेत्र से विधान परिषद के प्रत्याशी समाजवादियों को तथा उनके समर्थकों को हर तरह से डराया धमकाया जा रहा हैं। 
उन्हें अपना नामांकन पत्र भी नहीं जमा करने दिया गया। यादव ने कहा कि भाजपा पूंजीपतियों के हितों की संरक्षक पार्टी है। जब राज्य में विधानसभा चुनाव होने थे तब डीजल-पेट्रोल, रसोईगैस के दामों पर नियंत्रण रहा, चुनाव खत्म होते ही इन सबके दाम बढ़ गए है। इससे जनता बुरी तरह त्रस्त है। घरेलू अर्थव्यवस्था अस्तव्यस्त हो गई है। अखिलेश यादव ने कहा भाजपा राज में सरकार ने पेट्रोल से लोगों को लूटा अब अपराधीतत्व पेट्रोल पम्प वालों को लूटने में प्रशिक्षित हो गए है। भाजपा सरकार का अभिनंदन करते हुए अपराध की नई घटनाएं रोज ही सुर्खियां बना रही है। महिलाओं की इज्जत सुरक्षित नहीं। सम्मान का आडम्बर करने वाली भाजपा सरकार के समय सफाई कर्मियों की कार्य सुरक्षा के लिए कुछ नही किया गया। उनकी जानें सस्ती हैं। 
यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश के अधीन 34लाख से अधिक अभ्यर्थियों को अधूरी भर्ती पूरी होने का इंतजार है। प्रदेश के विभिन्न विभागों में एक लाख पद खाली पड़े है। अस्पतालों में डाक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ तक नहीं है। अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी संघर्ष से कभी मुंह नहीं मोड़ते हैं। विधानसभा चुनावों में भाजपा ने सरकारी मशीनरी का खूब दुरूपयोग किया और धांधली की। लेकिन हमें निराश होने की जरूरत नहीं है। कार्यकर्ता अभी ईमानदारी से समाजवादी पार्टी की मजबूती के लिए जुट जाएंगे तो कल हमारा होगा। भविष्य में भाजपा का सूपड़ा साफ होना तय है।

अप्रैल से प्रारंभ कर सकते हैं 'जोसेफ' की शूटिंग: सनी

अप्रैल से प्रारंभ कर सकते हैं 'जोसेफ' की शूटिंग: सनी  

कविता गर्ग             
मुंबई। बॉलीवुड के माचो हीरो सनी देओल अप्रैल में मलयालम सुपरहिट फिल्म जोसेफ के हिंदी रीमेक की शूटिंग शुरू कर सकते हैं।
सनी देओल इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म गदर 2 की शूटिंग में व्यस्त हैं। बताया जा रहा है कि सनी देओल मलयालम की सुपरहिट क्राइम थ्रिलर फिल्म जोसेफ के हिंदी रीमेक में मुख्य भूमिका निभाते हुए दिखाई देंगे।सनी देओल, फिल्म जोसेफ की शूटिंग को अप्रैल से शुरू कर सकते हैं और गर्मियों के अंत तक शूटिंग के खत्म होने की भी उम्मीदें लगाई जा रही हैं। 
फिल्म की कहानी को हिंदी दर्शकों को ध्यान में रखते हुए बदलाव किया गया है। फिल्म की कहानी अब जयपुर में सेट की जाएगी।
इस फिल्म में सनी को मूल फिल्म का निर्देशन करने वाले निर्देशक एम पद्मकुमार ही करेंगे। इस क्राइम थ्रिलर फिल्म में सनी एक रिटायर्ड पुलिस अधिकारी की भूमिका निभाते हुए दिखाई देंगी, जो इंवेस्टिगेशन काफी माहिर होता है। वर्ष 2018 में रिलीज हुई इस फिल्म का कहानी एक रिटायर्ड पुलिस अधिकारी के इर्द-गिर्द घूमती है, जो अपनी पूर्व पत्नी की मौत के बाद अप्रत्याशित रूप में आपराधिक मामले में फंस जाता है।

जनहित में कीमतें, तत्काल नियंत्रित करनी चाहिए

जनहित में कीमतें, तत्काल नियंत्रित करनी चाहिए     

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही वृद्धि की सीधी चोट गरीबों पर पड़ रही है और सरकार को जनहित में कीमतें तत्काल नियंत्रित करनी चाहिए।
गांधी ने गुरुवार को संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी इस मुद्दे को संसद में भी उठा रही है। लेकिन सरकार विपक्ष की इस मांग को नजरअंदाज कर रही है। उनका कहना था कि सरकार को पेट्रोल और डीजल की कीमतें तत्काल नियंत्रित करनी चाहिए।
कांग्रेस नेता ने कहा कि हमारे कांग्रेस पार्टी के सांसद संसद में और अन्य नेता तथा कार्यकर्ता पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ देशभर में प्रदर्शन कर रहे हैं। पिछले 10 दिनों में नौ बार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाए गए और इसकी सीधी चोट गरीब लोगों पर पड़ रही है, इसलिए हमारी मांग है की बढ़ती कीमतों को सरकार नियंत्रित करें और पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाना बंद करें।
उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ पूरे देश में लगातार प्रदर्शन करेगी। सरकार इस बढ़ोतरी से हज़ारों करोड़ रुपए कमा रही है। सरकार का सीधा फार्मूला है कि गरीबों की जेब से पैसे निकालो और अपना भंडार भरो।

सोशल मीडिया के जरिए सलमान पर आरोप लगाए

सोशल मीडिया के जरिए सलमान पर आरोप लगाए    

कविता गर्ग              
मुंबई। बॉलीवुड एक्टर सलमान खान की एक्स गर्लफ्रेंड सोमी अली ने हाल ही में सोशल मीडिया के जरिए सलमान पर इनडायरेक्टली, कुछ आरोप लगाए हैं। उन्होंने अपने पोस्ट के जरिए किसी का नाम लिए बिना बॉलीवुड के हार्वे वेनस्टेन को धमकी दी है। साथ ही उन्होंने एश्वर्या राय बच्चन के नाम का भी उपयोग किया है। बता दें हार्वी वीन्सटीन हॉलीवुड के मशहूर प्रड्यूसर और फिल्ममेकर हैं। हार्वी पर एक, दो नहीं बल्कि कई सारी महिलाओं और एक्ट्रेसेस ने रेप करने, मारपीट करने और धमकाने के आरोप लगाए थे।
सलमान ने अपने पोस्ट के कैप्शन में लिखा, ‘बॉलीवुड के हार्वी वीन्सटीन, एक दिन तुम्हारा भी पर्दाफाश होगा। जिन महिलाओं को तुमने अब्यूज किया है, एक दिन वो सामने आएंगी और अपना सच बताएंगी। जैसे ऐश्वर्या राय बच्चन ने किया था।
सोमी ने एक पुराने इंटरव्यू में सलमान के साथ अपनी रिलेशनशिप के बारे में बात करते हुए कहा था, ‘सलमान मेरे पहले ब्वॉयफ्रेंड थे। लेकिन ऐश्वर्या राय बीच में आईं और मेरा रिश्ता टूट गया। सलमान पर मेरा क्रश उस वक्त हो गया था, जब मैं टीनएजर थी। यही क्रश मुझे फ्लोरिडा से इंडिया ले आया। मैंने फिल्मों में सिर्फ इसलिए काम करना शुरू किया था ताकि मैं सलमान से शादी कर सकूं।’ 1997 में सलमान की नजदीकियां ‘हम दिल दे चुके सनम’ के सेट पर ऐश्वर्या राय से बढीं और सोमी के साथ उनका ब्रेकअप हो गया था।
करीब 8 साल तक रिलेशनशिप में रहे थे। सलमान-सोमी
1991 से 1997 के बीच सोमी ने फिल्म ‘अंत’, ‘किशन’, ‘अवतार’, ‘तीसरा कौन’, ‘आंदोलन’ और ‘अग्निचक्र’ जैसी करीब 10 फिल्मों और कुछ विज्ञापनों में काम किया था। सोमी की मुलाकात सलमान से एक स्टूडियो में हुई थी। करीब 8 साल तक सोमी सलमान के साथ रिलेशनशिप में रहीं। दोनों ने फिल्म ‘बुलंद’ में साथ काम किया है, जो आज तक रिलीज नहीं हो सकी। यह फिल्म 80 प्रतिशत शूट हो चुकी थी।

राज्यसभा में जाने की तमन्ना, राजनीति में हलचल

राज्यसभा में जाने की तमन्ना, राजनीति में हलचल    

अविनाश श्रीवास्तव          
नई दिल्ली/पटना। पटना के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जब से राज्यसभा में जाने की तमन्ना जताई है। उसके बाद से बिहार की राजनीति में जबरदस्त हलचल मच गई है। उधर, बिहार सरकार में जेडीयू की सहयोगी बीजेपी भी नीतीश कुमार को राज्यसभा भेजने का समर्थन कर रही है।
बिहार बीजेपी के फायर ब्रांड नेता और विधायक हरि भूषण ठाकुर ने यहां तक कह दिया कि अगर नीतीश कुमार राज्य सभा में जाना चाहते हैं तो बीजेपी उनकी इच्छा को पूरा करेगी और ऐसा होने की स्थिति में फिर बिहार में बीजेपी का मुख्यमंत्री बनेगा।
सूत्रों के मुताबिक, बिहार में कानून व्यवस्था और शराबबंदी के मुद्दे को लेकर जिस तरीके से लगातार नीतीश कुमार का ग्राफ गिरता जा रहा है, उसके बाद से बीजेपी इस मौके का फायदा उठाकर नीतीश कुमार को राष्ट्रीय राजनीति में भेजकर बिहार में अपना सीएम बनाने की जुगत में लग गई है।
जानकारी के मुताबिक, अगर नीतीश कुमार बिहार की राजनीति को छोड़कर दिल्ली आते हैं तो ऐसे हालात में बिहार में बीजेपी अपना मुख्यमंत्री बनाएगी, क्योंकि 2020 विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी 74 विधायकों के साथ सबसे बड़ी एनडीए में घटक दल थी और पिछले दिनों वीआईपी पार्टी के 3 विधायकों के बीजेपी में शामिल हो जाने के बाद अब पार्टी की विधानसभा में संख्या 77 हो गई है।
बीजेपी, यानी कि, 2020 विधानसभा चुनाव के बाद और ज्यादा मजबूत हो गई है और लगातार बीजेपी नेताओं के तरफ से भी इस तरीके के बयान आते रहते हैं कि अब बिहार में बीजेपी का मुख्यमंत्री होना चाहिए।
सूत्र बताते हैं कि अगर नीतीश कुमार राज्यसभा में जाते हैं तो इस स्थिति में बीजेपी बिहार में अपना मुख्यमंत्री देगी जबकि जदयू के दो डिप्टी सीएम बनाए जा सकते हैं। बिहार में अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए बीजेपी कोई दलित या ओबीसी चेहरे को भी तलाश कर रही है और इस बात की भी पूरी संभावना है कि इन्हीं दोनों जातियों में से बीजेपी का कोई मुख्यमंत्री हो सकता है।
केंद्र सरकार में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय भी ओबीसी चेहरा हैं और बिहार के मुख्यमंत्री के तौर पर उनके नाम की भी चर्चा है।‌ जहां तक जनता दल यूनाइटेड के दो को डिप्टी सीएम बनाए जाने का सवाल है तो मौजूदा जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मुंगेर सांसद ललन सिंह, बिहार सरकार में शिक्षा मंत्री विजय चौधरी और मंत्री श्रवण कुमार में से किसी दो को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-174, (वर्ष-05)
2. शुक्रवार, अप्रैल 1, 2022
3. शक-1984, चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अमावस्या, विक्रमी सवंत-2078।  
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 23 डी.सै., अधिकतम-38+ डी सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...