रविवार, 10 अक्तूबर 2021

अमेरिकी विदेश मंत्री ने पाक का दौरा पूरा किया

इस्लामाबाद/ वाशिंगटन डीसी। अमेरिकी उप विदेश मंत्री वेंडी शरमन ने दो दिवसीय भारत दौरे के बाद पाकिस्तान का दौरा पूरा कर लिया है। पाकिस्तान में वेंडी शरमन का एक बयान काफी चर्चाओं में है। वेंडी शरमन ने पाकिस्तान को शर्मसार करने वाला बयान दिया है। उनके इस बयान को लेकर पाकिस्तान में काफी नाराजगी है। वेंडी शरमन ने भारत दौरे के दूसरे दिन मुंबई में कहा था कि 'हम अमेरिका और पाकिस्तान के बीच किसी तरह का व्यापक संबंध नहीं देखते हैं। भारत और पाकिस्तान को जोड़कर देखने के पुराने दिनों में लौटने का हमारा कोई इरादा नहीं है। हम उस तरफ नहीं जा रहे हैं।'

पाकिस्तान के अंतरराष्ट्रीय मामलों के विशेषज्ञों ने चर्चाओं में कहा कि अमेरिका ने पाकिस्तान को भारत में जाकर बेइज्जत किया। अमेरिका अफगानिस्तान से अपने सैनिकों की शर्मनाक वापसी के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार मानता है। यह कारण है कि पाकिस्तान को आने वाले दिनों में और बुरे दिन देखने को मिल सकते हैं। उस पर कई प्रकार के आर्थिक प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं। पाकिस्तान आने से पहले ही वेंडी शरमन की संबंधों को सीमित करने वाली बात को पाकिस्तान में गैर राजनयिक बताया गया और इसे लेकर काफी नाराजगी है।

दलों और सामाजिक संगठनों ने जन समर्थन किया

सत्येंद्र पंवार      
मेरठ। बहुजन मुक्ति पार्टी के समर्थन में बहुजन क्रांति मोर्चा एवं भारत मुक्ति मोर्चा की रैली में जनसैलाब मानो 10 से 15 लाख की संख्या में उमड़ पड़ा।
कार्यक्रम का संचालन बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्यकारी प्रवेंद्र प्रताप सिंह ने किया और अध्यक्षता माननीय वामन मेश्राम साहब ने की। प्रवेंद्र प्रताप सिंह ने सभी राजनीतिक दलों और सामाजिक संगठनों का तहे दिल से शुक्र अदा किया कि वह बहुजन मुक्ति पार्टी को पूर्णतया से सो प्रतिशत सहयोग करेंगे।  इसी कड़ी के दौरान उत्तर प्रदेश अध्यक्ष कार्यकारी एडवोकेट दानिश अली ने कहा कि मुस्लिम समाज को आज तक कहीं से हिस्सेदारी नहीं मिली और चारों ओर लालच देकर वोट बटोरने का काम किया। सभी राजनीतिक पार्टियों ने आज तक मुस्लिमों को हनन कर रहे अब ऐसा कतई हरगिज़ नहीं होने दिया जाएगा। बहुजन मुक्ति पार्टी के समर्थन में बहुजन नायक माननीय काशीराम साहब के 15 वे स्मृति दिवस के अवसर पर माता रमाबाई अंबेडकर मैदान में बहुजन क्रांति मोर्चा एवं भारत मुक्ति मोर्चा के कार्यक्रम में राजनीतिक दलों और सामाजिक संगठनों ने भरपूर जन समर्थन किया।महागठबंधन बनाकर उत्तर प्रदेश की व्यवस्था में परिवर्तन लाने का निर्णय लिया गया। उत्तर प्रदेश में जो न्याय व्यवस्था शासन प्रशासन की कू व्यवस्था को कोसते हुए सामाजिक संगठनों एवं राजनीतिक दलों के लोगों ने एकमत होकर कहा कि अब उत्तर प्रदेश में बहुतजनों की सरकार आने से कोई नहीं रोक पाएगा। उत्तर प्रदेश के 75 जिलों एवं 403 विधानसभा से लोगों का जमावड़ा देखने को मिला। और केरल के सांसद ने तो यहां तक कह दिया की बहूजनों के लिए आज वामन मेश्राम बहुजन नायक जैसा इंडिया में कोई नहीं है जिसमें मुस्लिम सिख ईसाई बौद्ध लिंगायत अन्य बहुजन मूल निवासियों की पीड़ा समझ कर पूरे भारत में जन जागृति का काम कर रहे हैं। 
राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के चौधरी विकास पटेल ने मनु वादियों द्वारा उत्तर प्रदेश ही नहीं तमाम भारत में पिछड़ों अति पिछड़ों अनुसूचित अनुसूचित जनजातियों अल्पसंख्यकों के हक अधिकार को दफन करने वालों के खिलाफ बीड़ा उठाते हुए कहा कि अब सहन नहीं किया जाएगा। पिछड़ों के हक अधिकार के लिए राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के साथ भारत मुक्ति मोर्चा बहुजन क्रांति मोर्चा की बात उठाने के लिए बहुजन मुक्ति पार्टी को पूर्णतया समर्थन दे रहे हैं। क्योंकि इसके अलावा कोई अन्य राजनीतिक दल बहुजनों की बात नहीं उठा रहे हैं। राष्ट्रीय किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय राम सुरेश वर्मा ने कहा कि किसानों की समस्या हो या गरीबों की या मजदूरों की बहुजन मुक्ति पार्टी एक सो रुपए के स्टांप पेपर पर लिखने वाली एकमात्र पार्टी है। जिसमें किसानों मजदूरों का पूर्णतया से हित दिखाई दे रहा है। राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा और उनके सामाजिक संगठन तमाम बहुजन मुक्ति पार्टी को तन मन धन से सहयोग करते रहेंगे आने वाले वक्त में सभी उत्तर प्रदेश के बहुजनों से अपील की कि आने वाले वक्त में बहुजन मुक्ति पार्टी को तन मन धन से सहयोग करें। राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना मोहम्मद अब्दुल हमीद आज हरी ने कहा कि मुस्लिम समाज के साथ कहीं मॉब लिंचिंग हो या धर्मांतरण या अन्य आतंकवादी हमले करते ब्राह्मण हैं। ऑर्थो पर जाते मुस्लिमों पर हैं और मुस्लिम समाज अत्याचार खेलता आ रहा है जबकि मुस्लिमों ने भारत देश को आजाद कराने में अपनी जान कुर्बान कर दी और अंग्रेजों की गुलामी करने वाले लोग आज मुस्लिमों से देश राष्ट्रप्रेम का सबूत मांगते हैं मूलनिवासी मुस्लिम समाज को बहुजन मुक्ति पार्टी का पूर्ण समर्थन है। राष्ट्रीय महासचिव मनोज कुमार पासी ने कहा किशआने वाले वक्त में केवल मूलनिवासी की बात होगी और जो विदेशी देश में हाहाकार मचा रहे हैं उनकी खैर नहीं। उत्तर प्रदेश अध्यक्ष प्रोफेसर रामधारी दिनकर बहुजन मुक्ति पार्टी ने कहा कि हमारी सरकार बहुजनों की 85% मूलनिवासी लोगों की सरकार बनेगी और सबको समानुपात में हक अधिकार दिए जाएंगे। सिख समाज हो या मुस्लिम समाज ईसाई समाज हो या बौद्ध समाज या लिंगायत आदिवासी सभी ने अपने अपने स्तर से जन समर्थन करते हुए 2022 में मनुवादियों की बात करने वाले पार्टियों को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया। और बहुत जनों को उनके हक अधिकार दिलाने के लिए महागठबंधन बनाए जाने की बात करते हुए माननीय वामन मेश्राम साहब ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि भारत में अब तक करीब 100 संगठन बहुजन क्रांति मोर्चा भारत मुक्ति मोर्चा के तत्वावधान में काम कर रहे हैं और अब हमें एक्टिव होने की जरूरत है और अब हम एक्टिव होकर उत्तर प्रदेश की कुव्यवस्था को कुशासन कुप्रशासन को उखाड़ने का काम करेंगे बहुतजनों को उनके हक अधिकार दिला कर ही दम लिया जाएगा। केरल से आए सांसद मुस्लिम लीग ने कहा कि हमें और किसी पर भरोसा नहीं भारत में जो सभी समाजों के लिए शासन प्रशासन बहुत गलत नीति अपना रहा है उसको केवल वामन मेश्राम साहब के निर्देशन में ही सुधारा जा सकता है।
उत्तर प्रदेश मीडिया प्रभारी आर डी गादरे ने आए लोगों में अंदर तक जानकारी करते हुए पाया कि लोग हिंदू मुस्लिम के झगड़े नहीं चाहते लोगों ने अपना पैसा तन-मन-धन लगाकर इस रैली में दिखा दिया कि वह अब किसी के बहकावे में पैसा लेकर के भी आने वाले नहीं जन जागरण हो चुका है। एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी 85% डीएनए के भाई हैं लेकिन कुछ षड्यंत्रकारी देश का माहौल बिगाड़ने पर जो तुले हुए हैं उस को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए जनता तैयार हो चुकी है। 
कार्यक्रम में इंजीनियर डीपी सिंह, सरोज, सत्येंद्र, एडवोकेट मुकेश कुमार डॉ एस पी सिंह डॉक्टर सूरज पाल सिंह राहुल कुमार ओमवीर सिंह डॉक्टर फारुख राम सुरेश वर्मा, कारी मोहम्मद इरफान एडवोकेट मनका रवि कुमार दिवाकर बहुत सारे विद्यार्थी विंग महिला विंग की राष्ट्रीय अध्यक्ष किरण चौधरी ने कहा की महिलाओं को सुरक्षा केवल बहुजन मुक्ति पार्टी में ही मिल सकती है नहीं तो हमारी बहन बेटियों को आज तक सताने का काम किया गया। महिला विंग की राष्ट्रीय अध्यक्ष मूलनिवासी संघ आयु निशा मेश्राम ने कहा की उत्तर प्रदेश मे जो महिलाओं के सम्मान से खिलवाड़ हो रहा है आने वाले कल में उनको अब डरने की जरूरत नहीं बहुजन समाज जाग चुका है और हम लोग भी अब एक्टिव मोड पर आ चुके हैं। के पी सोनकर एडवोकेट राम अवतार छेदीलाल खोटे ने कहा कि युवा वर्ग को जो गलत दिशा में कुछ षड्यंत्रकारी ले जा रहे हैं बहुजन मुक्ति पार्टी उनके हक अधिकार के लिए प्रयासरत है लेकिन षड्यंत्रकारी हमारे युवाओं को बहकाने का लगातार काम कर रहे हैं। कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों ने बहुजन नायक माननीय कांशीराम साहब को 2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की। माननीय काशीराम साहब के द्वारा चलाई गई मिशन को माननीय वामन मेश्राम द्वारा दोबारा समता समानता बंधुता और न्याय पर आधारित समाज और राष्ट्र का निर्माण करना है।

मनोज को कला अकादमी द्वारा सम्मानित किया

बृजेश केसरवानी     
प्रयागराज। इलाहाबाद विश्वविद्यालय दृश्य कला विभाग मास्टर ऑफ फाइन आर्ट के छात्र अजय कुमार गुप्ता और मनोज कुमार को राज्य ललित कला अकादमी  द्वारा सम्मानित किया गया। जिसमें स्थानीय संयोजक) डॉ नगीना राम ,(राज्य ललित कला अकादमी) उत्तर प्रदेश के सचिव डॉ यशवंत सिंह राठौड़ ( अध्यक्ष ) श्री सीता राम कश्यप (उपाध्यक्ष) श्री गिरीश चंद्र, आशुतोष गुप्ता और वरूणा गोस्वामी उपस्थित रहे। प्रयागराज में राज्य ललित कला अकादमी उत्तर प्रदेश द्वारा कला रंग कार्यक्रम के अंतर्गत आयोजित पांच दिवसीय रेत मूर्तिकला कार्यशाला "अविरल गंगा निर्मल गंगा" में दिनांक 12 से 16 फरवरी 2021 तक सफलतापूर्वक  प्रतिभाग किया।

आंंखों के संरक्षकों ने राज्यमंत्री को पौधा भेंट किया

भानु प्रताप उपाध्याय       
मुजफ्फरनगर। आंंखों के पर्यावरण संरक्षकों ने केन्द्रीय राज्यमंत्री को पौधा भेंट कर दिया। पर्यावरण के प्रति जागरूक रहने का संदेश उपस्थित व्यक्ति को दिलाया पवित्र अवसर पर पौधा रोपण का संकल्प।
नगर स्थित अपने आवास पहुँचे। भारत सरकार के राज्यमंत्री डॉक्टर संजीव बालियान को आँखें के पर्यावरण संरक्षक समाजसेवी आर.आर.डी. उपाध्याय एवं एम.पी. उपाध्याय ने पर्यावरण के प्रति जागरूकता का संदेश देते हुये, पौधा भेंट कर उपस्थित व्यक्ति को पवित्र अवसर पर पौधा रोपण का संकल्प दिलाया।
डॉक्टर संजीव बालियान ने कहा, कि पौधा रोपण सम्पूर्ण सृष्टि के लिए पवित्र कार्य है और आँखें के पर्यावरण संरक्षक इस पवित्र कार्य को पवित्र मन करते हुए पर्यावरण के प्रति सभी को जागरूक कर रहे है। समाजसेवी आरआर. डी. उपाध्याय ने कहा पेड़-पौधों का रोपण हमारी औपचारिकता नहीं हमारा नैतिक कर्तव्य भी है। पेड़ पौधों के जीवन की कल्पना भी सम्भव नहीं है।
इस अवसर पर समाजसेवी एम.पी.उपाध्याय, नकुल उपाध्याय, के.पी. सिह, डॉक्टर कन्हैयालाल, लाला सुरजन सिंह, एडवोकेट नवीन कुमार, ठेकेदार प्रधान कुमार, नीटू  उपाध्याय, समाजसेवी आर.आर.डी. उपाध्याय आदि उपस्थित रहे।

अखिलेश के नेतृत्व में जनता को समर्पित सरकार

भानु प्रताप उपाध्याय        
जलालाबाद। समाजवादी पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ द्वारा समाजवादी संविधान बचाओ संकल्प यात्रा के लिये स्व,चौ,यशपाल सिंह (पूर्व मन्त्री) के 100 वे जन्मदिवस पर मा,अखिलेश यादव (राष्ट्रीय अध्यक्ष सपा) की तीतरो रैली पर थानाभवन विधानसभा के भावी प्रत्याशी अब्दुल गफ्फार मलक ने हजारो कार्यकर्ताओं के अखिलेश प्रेम को देखते हुए कहा कि भाजपा जैसे भययुक्त माहौल मे भी कार्यकर्ताओं का उत्साह ही सपा की जीत होगी और 2022 मे अखिलेश यादव के नेतृत्व में भयमुक्त सरकार जनता को समर्पित होगी।
सपा कार्यकर्ताओ के काफिले को सपा पिछड़ा वर्ग के प्रदेश सचिव रविन्द्र प्रधान जोगी ने झंडी दिखाकर तीतरो रैली के लिये रवाना किया। रैली मे ढोल नगाडो के साथ रहे अनुज सैनी,इसरार मलिक,कन्नू मेम्बर,रविन्द्र आर्य,अकरम राणा,शकील मलिक,बिल्ला कोरी,सलीम मलिक,हारूण मलक,सोनू सैनी,आलम अल्वी, मकबूल मलक,अकित गोतम,दीपक सैनी,अजीम मलक,शमशाद मलक,इरशाद तेली,एहसान पहलवान,शादान शाह,'वाजिद जाट,शाहरुख़ मलिक,बाबू तेली,राजकुमार जोगी आदि सपा कार्यकर्ता मौजूद रहे। 

मीट-मांस की बिक्री पर रोक लगाने के आदेश दिएं

अतुल त्यागी      
हापुड़। नवरात्रि पर्व के मद्देनजर श्रद्धालुओं की आस्था को ध्यान में रखते हुए उप जिला अधिकारी अरविंद द्विवेदी के द्वारा अंडा मांस-मीट की दुकानों पर पूर्ण रूप से बिक्री पर रोक लगाने के आदेश दिए हुए हैं। वहीं एन एच 9 वैट मौड के पास बरकत होटल पर खुलेआम मीट बेचा जा रहा है। शिकायत पर निरीक्षण करने पहुंचे बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के साथ होटल कर्मचारियों के द्वारा अभद्रता शुरू कर दी गई। साथ ही होटल वालों के द्वारा भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं को मौके पर बुला लिया गया। जिसके चलते बजरंग दल भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं के बीच प्रशासन के आदेशों के रोक लगाने के बावजूद भी मीत बेचे जाने का विरोध करने को लेकर तीखी नोकझोंक घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने होटल को तत्काल प्रभाव से बंद करवाया और दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया। इस मामले में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का कहना है कि नवरात्रि पर्व के चलते श्रद्धालुओं की आस्था को किसी भी हाल में आहत नहीं होने दिया जाएगा। प्रशासन के आदेशों के अनुसार सम्मान करते हुए आहत करने वालों के विरुद्ध अभियान चलाकर कार्यवाही कराई जाएगी।

बिहार: 1 दिन में 4,69,730 व्यक्तियों को टीका दिया

अविनाश श्रीवास्तव        

पटना। अभियान के तहत एक दिन में 4,69,730 व्यक्तियों को कोरोना टीका दिया गया। इसे मिलाकर राज्य में अब तक कुल 6,02,30,322 व्यक्तियों को कोरोना टीका दिया जा चुका है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि शनिवार को राज्य में कोविड-19 टीकाकरण का आंकड़ा छह करोड़ के पार हो गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के प्रयास और माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दिशा-निर्देश में इस कार्य को पूरा किया गया। जो राज्य के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है।

इस कार्य को पूरा करने के लिए 15 हजार टीका केंद्र कार्यशील रहा एवं पचास हजार से अधिक स्वास्थ्य और टीका कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई। बता दें कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने यह लक्ष्य निर्धारित किया था।मंगल पांडेय ने कहा कि यह कार्य पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा पूरे देश में कोरोना का टीका मुफ्त उपलब्ध कराने से संभव हो पाया है। इसके लिए राज्यवासियों की ओर से माननीय प्रधानमंत्री का आभार जताते हुए उन्होंने कहा कि अगर जनता का सहयोग बना रहा, तो दिसंबर तक राज्य आठ करोड़ से अधिक कोरोना का डोज लगाने में भी हम सफल होगा। इसके लिए लोगों के पूर्ण सहयोग की आवश्यकता पड़ेगी।

विधानसभा सीट उपचुनाव के लिए नामांकन किया

अविनाश श्रीवास्तव       

पटना। तेज प्रताप यादव का आशीर्वाद प्राप्त करके संजय कुमार ने तारापुर विधानसभा सीट उपचुनाव के लिए अपना नामांकन कर दिया। मगर दो दिन के अंदर ही तेजस्वी ने बड़ा खेल कर दिया। तेजस्वी ने शनिवार शाम संजय कुमार को अपने आवास पर बुलाया और उनसे मुलाकात की। जिसके बाद उन्होंने अपना नामांकन वापस लेने का ऐलान कर दिया और आरजेडी में भी शामिल हो गए।

तारापुर सीट से अपना नामांकन वापस लेने के संजय कुमार के फैसले पर तेज प्रताप यादव ने ट्वीट कर कर अपनी प्रतिक्रिया दी और कहा कि संजय कुमार के तारापुर से नामांकन करने या अब अपना नामांकन वापस लेने के इस पूरे मामले में उनका कोई लेना देना नहीं है। इस पूरे मामले में अपना नाम घसीटे जाने को लेकर तेज प्रताप ने तेजस्वी यादव के राजनीतिक सलाहकार संजय यादव पर हमला बोला।

लखीमपुर की घटना ने पूरे देश को हिलाकर रखा

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। कांग्रेस ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से पत्र लिखकर मुलाकात का समय मांगते हुए कहा है कि पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में उनसे मिलना चाहता है। जो लखीमपुर की घटना को लेकर उनसे बात कर उन्हें विस्तृत ज्ञापन सौंपेगा। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने रामनाथ कोविंद को लिखे पत्र में कहा है कि लखीमपुर की घटना के प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जिस गाड़ी ने किसानों को रौंदा है। उसे गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा का पुत्र चला रहा था। लेकिन सरकार इस मामले में कोई कर्रवाई नहीं कर रही है।
उन्होंने राष्ट्रपति से आग्रह किया कि कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल इस मुद्दे पर गांधी के नेतृत्व में उनसे मुलाकात कर उन्हें सारी स्थिति से अवगत कराना चाहता है। पत्र में कहा गया है कि इस प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी की अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री एके एंटनी, राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी , वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और के सी वेणुगोपाल शामिल होंगे।
पत्र में वेणुगोपाल ने कहा है कि लखीमपुर की घटना ने पूरे देश को हिला कर के रख दिया है और गृह राज्य मंत्री पर इसको लेकर आरोप लगाए जा रहे हैं लेकिन भारतीय जनता पार्टी की सरकार उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

घटना को हिन्दू बनाम सिख बनाने की कोशिश की

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद वरुण गांधी ने रविवार को आरोप लगाया कि लखीमपुर खीरी में पिछले दिनों हुई हिंसा की घटना को हिन्दू बनाम सिख बनाए जाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि यह कोशिश ना सिर्फ ‘अनैतिक व गलत धारणा’ पैदा करने वाली है बल्कि ‘खतरनाक’ भी है। वरुण गांधी किसानों के मुद्दे पर लगातार अपनी राय रख रहे हैं। लखीमपुर खीरी में पिछले दिनों हुई हिंसा को लेकर भी उन्होंने वीडियो साझा किए थे और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।
इसके बाद भाजपा की नवगठित राष्ट्रीय कार्यसमिति से वरूण को बाहर कर दिया गया था। उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि लखीमपुर खीरी की घटना को हिन्दू बनाम सिख की लड़ाई बनाने की एक कोशिश हो रही है। यह ना सिर्फ अनैतिक व गलत विमर्श पैदा करने वाली है बल्कि ऐसी कोई रेखा खींचना और उनके घावों को हरा करने का प्रयास, जिसे भरने में पीढ़ियां खप गईं, खतरनाक है। हमें राजनीतिक फायदे के लिए राष्ट्रीय एकता को ताक पर नहीं रखना चाहिए।
गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में गत रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध करने के दौरान हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उत्तर प्रदेश पुलिस के एक विशेष जांच दल (एसआईटी) ने हिंसा के सिलसिले में आशीष मिश्रा को शनिवार को करीब 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया।

वरुण गांधी ने कहा कि लखीमपुर खीरी में न्याय के लिए संघर्ष गरीब किसानों की निर्दयी हत्या को लेकर है और इसका किसी धर्म विशेष से कोई लेनादेना नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारी किसानों को खालिस्तानी बताया जाना ना सिर्फ हमारी सीमाओं की सुरक्षा के लिए लड़ने और खून बहाने वालों देश के महान सपूतों का अपमान है बल्कि राष्ट्रीय एकता के लिए खतरनाक भी है, यदि इससे गलत प्रकार की प्रतिक्रया हो जाए तो।

आईपीएल के पांच मुक़ाबले में प्रतिनिधित्व किया

आबुधाबी। आलराउंडर हार्दिक पांड्या ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) चरण में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 के पांच मुक़ाबले में प्रतिनिधित्व किया। लेकिन किसी में भी उन्होंने गेंदबाज़ी नहीं की जो आगामी टी20 विश्वकप में भारत के लिए चिंता का सबब बन सकता है। हालांकि मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा काफ़ी आश्वस्त हैं और उन्होंने कहा है कि पांड्या दिन ब दिन बेहतर होते जा रहे हैं।
आईपीएल प्लेऑफ से बाहर हो चुके पांच बार के चैंपियन मुंबई के कप्तान रोहित ने कहा, “फ़िज़ियो, ट्रेनर और पूरी मेडिकल टीम उनपर ध्यान दे रही है, फ़िलहाल तो उन्होंने इस लेग में एक भी गेंद नहीं डाली है। लेकिन वह दिन ब दिन बेहतर होते जा रहे हैं, मुझे लगता है कि अगले हफ़्ते से वह गेंदबाज़ी करने के लिए भी फ़िट हो जाएंगे। इसके ऊपर सिर्फ़ फ़िज़ियो या मेडिकल टीम ही कुछ बता सकती है।”
इससे पहले मुंबई इंडियंस के कोच माहेला जयवर्धने भी कह चुके हैं कि अगर उनपर गेंदबाज़ी के लिए दबाव डाला गया तो इसका असर उनकी बल्लेबाज़ी पर भी पड़ सकता है। हार्दिक के लिए आईपीएल का ये सीज़न बेहद निराशाजनक रहा, उन्होंने 14.11 के औसत से महज़ 117 रन बनाए और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट भी 113.39 ही रहा।
रोहित शर्मा ने उनकी बल्लेबाज़ी को लेकर कहा, “जहां तक उनके बल्लेबाज़ी का सवाल है तो हम सभी उनकी प्रतिभा से वाक़िफ़ हैं। इससे पहले भी वह इन हालातों से वापसी कर चुके हैं और मुझे व्यक्तिगत तौर पर भी विश्वास है कि वह दोबारा शानदार रंग में दिखेंगे।”
हार्दिक के अलावा भारतीय टी-20 विश्वकप में चार और मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी शामिल हैं – जसप्रीत बुमराह, इशान किशन, सूर्यकुमार यादव और राहुल चाहर। बुमराह के अलावा और सभी खिलाड़ियों का प्रदर्शन उनके नाम के अनुरूप नहीं रहा है। हालांकि इशान और सूर्यकुमार ने लीग चरण के अंतिम मुक़ाबलों में फ़ॉर्म में वापसी ज़रूर की है। जबकि चाहर यूएई लेग में खेले चार मैचों में सिर्फ़ दो विकेट ही ले पाए।

कार्रवाई करते हुए मंत्री के बेटे की गिरफ्तारी की

संदीप मिश्र       
बरेली। वित्तमंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने लखीमपुर हिंसा प्रकरण में कहा कि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के इस्तीफा देने का कोई आधार नहीं है। प्रकरण में वैधानिक कार्रवाई करते हुए मंत्री के बेटे की गिरफ्तारी की गई है। सरकार गोरखपुर कांड हो या लखीमपुर खीरी। दोनों प्रकरणों में सरकार जांच करा रही है। सर्किट हाउस में पत्रकार वार्ता करते हुए सुरेश खन्ना ने बताया कि हुलासनगरा रेलवे क्रॉसिंग जाम के मामले के निस्तारण को लेकर रास्ता निकाल रहे हैं। कई अन्य मुद्दों पर भी बात की।

2021 के लिए अपने पुरस्कारों की घोषणा की

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। वर्ष 1950 से निरंतर प्रकाशित हो रही चर्चित साहित्यिक पत्रिका ‘नई धारा’ ने 2021 के लिए अपने पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। नई धारा’ के प्रधान संपादक डॉ. प्रमथराज सिंह ने पुरस्कारों की घोषणा करते हुए बताया कि वर्ष 2021 का पन्द्रहवां ‘उदयराज सिंह स्मृति सम्मान’ प्रसिद्ध लेखिका सूर्यबाला को दिया जाएगा, जिसके तहत उन्हें 1 लाख रुपए समेत सम्मान पत्र, प्रतीक चिह्न आदि भेंट किए जाएंगे।
इसके साथ ही लेखक विनोद कुमार सिन्हा (सीतामढ़ी), चर्चित लेखिका और भारतीय विदेश सेवा की वरिष्ठ अधिकारी अंजू रंजन (जोहान्सबर्ग) तथा चर्चित तेलुगु कवि डॉ. याकूब (हैदराबाद) वर्ष-2021 के ‘नई धारा रचना सम्मान’ से नवाजे जाएंगेI इन तीनों को 25-25 हजार रुपए समेत सम्मान-पत्र, प्रतीक चिह्न आदि भेंट किए जाएंगे।
डॉ. प्रमथराज सिंह ने बताया कि सम्मानों के चयन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर साहित्य अकादमी के सचिव डॉ. के. श्रीनिवास राव की अध्यक्षता में एक समिति बनाई गई थी, जिसके अन्य सदस्य थे, दिल्ली विश्वविद्यालय के हिन्दी विभागाध्यक्ष प्रो. श्योराज सिंह ‘बेचैन’ तथा सुप्रतिष्ठ लेखक डॉ. हरिसुमन बिष्ट (दिल्ली)। समिति को ‘नई धारा’ में अप्रैल, 2020 से मार्च, 2021 तक के अंकों में प्रकाशित रचनाओं में से ही रचनाकारों का चयन करना था।
‘नई धारा’ के संपादक डॉ. शिवनारायण ने बताया कि वर्ष 2021 के सम्मान समारोह का आयोजन एक दिसम्बर, 2021 को पटना में किया जाएगा, जिसमें सभी रचनाकारों को सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बीते 72 वर्षों से निरंतर प्रकाशित हो रही ‘नई धारा’ में सम्मानों का आरंभ 2007 से हुआ।

विधिक सहायता सोसाइटी का गठन किया: एचसी

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय के याचिकाकर्ताओं को मामूली शुल्क पर कानूनी सहायता प्रदान करने के लिए एक विधिक सहायता सोसाइटी का गठन किया गया है। सोसाइटी के शासी निकाय के सदस्य अधिवक्ता अनुराग अहलुवालिया ने कहा कि इसका उद्देश्य 60,000 रुपये प्रति माह या 7.5 लाख रुपये प्रति वर्ष आय वर्ग के याचिकाकर्ताओं को दिल्ली उच्च न्यायालय में मामूली शुल्क भुगतान पर कानूनी सहायता प्रदान करना है।
मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल ने पिछले महीने दिल्ली उच्च न्यायालय (मध्यम आय समूह) विधिक सहायता सोसाइटी के कार्यालय का उद्घाटन किया। सोसायटी के शासी निकाय में मुख्य संरक्षक न्यायमूर्ति पटेल और अध्यक्ष, न्यायमूर्ति विपिन सांघी समेत 12 सदस्य शामिल हैं।
सोसायटी के एक बयान में कहा गया है कि इसका उद्देश्य उन याचिकाकर्ताओं को कानूनी सहायता प्रदान करना है जो विधिक सेवा प्राधिकरण कानून, 1987 के तहत कानूनी सहायता के पात्र नहीं हैं, लेकिन उन्हें अपने मामूली साधनों के कारण कानूनी सहायता की आवश्यकता है। सेवाओं में अदालत में पेशी, याचिका तैयार करने, परामर्श लेने की सुविधाएं शामिल हैं।

सोसाइटी की सेवाओं का लाभ उठाने के लिए याचिकाकर्ता को एक निश्चित शुल्क का भुगतान करना होगा जो पूरे मामले के लिए 10,000 रुपये से 15,000 रुपये तक होगा। देश भर में प्रत्येक उच्च न्यायालय में सोसाइटी के गठन के लिए उच्चतम न्यायालय के निर्देश के अनुसार इसका गठन किया गया है।

एसएसपी ने 10 उप निरीक्षकों के तबादले किएं

पंकज कपूर      
देहरादून। एसएसपी देहरादून ने 10 उप निरीक्षकों के तबादले कर दिए है। साथ ही एसएसपी आदेश जारी करते हुए सभी को नवीन तैनाती भी दे दी है।
उप निरीक्षक रजनीश सैनी को चौकी प्रभारी कुल्हाल, कोतवाली विकास नगर भेजा गया है।
उप निरीक्षक विकेन्द्र कुमार को चौकी प्रभारी लाल तप्पड़ कोतवाली डोईवाला भेजा गया है।
उप निरीक्षक जगमोहन सिंह को चौकी प्रभारी विधोली थाना प्रेमनगर भेजा गया है।
उप निरीक्षक प्रवेश रावत को चौकी प्रभारी सभावाला थाना सहसपुर भेजा गया है।
उप निरीक्षक संजय रावत को कोतवाली डालनवाला भेजा गया है।

पांच मुख्य न्यायाधीशों के तबादले को मंजूरी दी

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुख्य न्यायाधीश एन वी रमन की सलाह पर आठ उच्च न्यायालयों में मुख्य न्यायाधीशों की नियुक्ति तथा पांच मुख्य न्यायाधीशों के तबादले को मंजूरी दी है।
विधि एवं न्याय मंत्रालय के न्याय विभाग की ओर से शनिवार को जारी अधिसूचना के अनुसार, कलकत्ता उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राजेश बिंदल को इलाहाबाद उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। कर्नाटक उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश सतीश चंद्र शर्मा को तेलंगाना उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश बनाया गया है। मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश प्रकाश श्रीवास्तव को कलकत्ता उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है।

सेलवेसिओन में भूकंप के झटके महसूस कियें गए

लीमा। पेरू के सेलवेसिओन में रविवार को मध्यम श्रेणी के भूकंप के झटके महसूस किये गये।
अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण के मुताबिक स्थानीय समयानुसार 00.20 बजे सेलवेसिओन से उत्तर-पश्चिमोत्तर में 127 किलोमीटर की दूरी पर आये भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.7 मापी गयी। भूकंप का केंद्र 11.7378 अक्षांश और 71.7073 पश्चिमी देशांतर पर रहा।
भूकंप से किसी प्रकार के जान माल के नुकसान की रिपोर्टें नहीं है।

नदी में नाव के पलटने से पांच लोगों की मौंत हुईं

ढाका। बंगलादेश की राजधानी ढाका के बाहरी इलाके सावर में शनिवार को तुराग नदी में एक नाव के पलटने से कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है।
अग्निशमन सेवा और नागरिक सुरक्षा मुख्यालय की एक ड्यूटी अधिकारी खालिदा यास्मीन ने बताया, "अब तक तीन लड़कों, एक महिला और एक लड़की के शव बरामद हुआ हैं।"
अधिकारी के अनुसार, शनिवार तड़के नदी में रेत से लदे एक जहाज से टक्कराने के बाद करीब 18 लोगों को ले जा रही नाव पलट गई।
उन्होंने बताया कि घटना के बाद अधिकतर यात्री तैर कर बाहर आ गए थे।


अंगोला: सोना खनन के दौरान 11 लोगों की मौंत

हुआंबो। अंगोला के हुआंबो प्रांत में पिछले तीन माह के भीतर अवैध खनन विशेषकर सोना खनन के दौरान कम से कम 11 लोगों की मौत हो गयी।
राष्ट्रीय पुलिस के हुआंबो प्रांतीय कमांडर, कमिश्नर फ्रांसिस्को रिबास ने प्रेस को बताया कि ये मौतें बेलुंडो, उकुमा, चिनजेनजे, लोंगोन्जो, काला, चिकाला-चोलोहंगा और हुआम्बो की नगर पालिका क्षेत्रों में हुईं।
उन्होंने बताया कि देश का यह हिस्सा कलात्मक सोने के खनन के कम से कम सात क्षेत्रों के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा कि केवल तीन स्थानों पर अवैध खनिकों की संख्या 2,000 लोगों से अधिक है।
कमिश्नर फ्रांसिस्को रिबास ने कहा कि हुआंबो प्रांत में राष्ट्रीय पुलिस विभाग अवैध खनन को हतोत्साहित करने और मौतों से बचाने का काम जारी रखेगा।

संक्रमण: देश में मामलें घटकर 2.30 लाख रहें

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों में कमी और इस बीमारी को मात देने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी के बीच सक्रिय मामले घटकर 2.30 लाख रह गये हैं।
इस बीच देश में शनिवार को 66 लाख 85 हजार 415 लोगों को कोरोना के टीके लगाये गये और अब तक कुल 94 करोड़ 70 लाख 10 हजार 175 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से रविवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना के 18,166 नये मामलों की पुष्टि की गयी, जिससे संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर तीन करोड़ 39 लाख 53 हजार 475 हो गया है। इसी दौरान 23,624 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद कोरोनामुक्त होने वालों की तादाद बढ़कर तीन करोड़ 32 लाख 71 हजार 915 हो गयी है। सक्रिय मामले 5672 घटकर दो लाख 30 हजार 971 रह गये हैं। वहीं 214 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 4,50,589 हो गया है।
सक्रिय मामलों में केरल अभी देश में पहले स्थान पर हैं और पिछले 24 घंटों में यहां सर्वाधिक 3512 सक्रिय मामले घटने से इनकी संख्या अब 1,13,725 रह गयी है। वहीं सबसे अधिक 12,881 मरीजों के स्वस्थ होने से कोरोनामुक्त होने वालों की तादाद बढ़कर 46,44,211 हो गयी है। इसी अवधि में सबसे ज्यादा 101 मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 26,173 हो गयी है।  मामले घटकर 36,600 रह गये हैं जबकि 44 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 1,39,514 हो गयी है। वहीं कोरोनामुक्त होने वालों की संख्या 2446 बढ़कर 63,99,464 रह गयी है।
तमिलनाडु में सक्रिय मामले घटकर 16,252 रह गये हैं तथा 14 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 35,768 गयी है। राज्य में अभी तक 26,24,916 मरीज संक्रमणमुक्त हुए हैं।
पूर्वाेत्तर राज्य मिजोरम में सक्रिय मामले घटकर 15,635 रह गये है और कोरोनामुक्त होने वालों की संख्या 89,847 हो गयी है जबकि तीन और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 347 हो गयी है।
कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामले 1013 घटने से इनकी कुल संख्या 10,424 हो गयी है। राज्य में नौ और मरीजों की मौत से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 37,875 हो गया है। राज्य में अब तक 29,32,322 मरीज ठीक हो चुके हैं।
आंध्र प्रदेश में 176 सक्रिय मामले घटने से इनकी कुल संख्या 8134 रह गयी है। राज्य में कोरोना को मात देने वालों की तादाद 20,34,244 हो गयी है, जबकि इस महामारी से आठ और लोगों की मौत होने से मृतकों का कुल आंकड़ा बढ़कर 14,250 हो गया है।
पश्चिम बंगाल में कोरोना के सक्रिय मामले नौ बढ़कर 7634 हो गये हैं। राज्य में इस महामारी के संक्रमण से 12 और लोगों की मौत से मृतकों की संख्या 18,894 हो गयी है तथा अब तक 15,49,049 मरीज स्वस्थ हुए हैं। तेलंगाना में सक्रिय मामले घटकर 4288 रह गये हैं जबकि यहां दो और मरीज की मौत के बाद मृतकों का आंकड़ा 3929 हो गया है। वहीं 6,59,508 लोग इस महामारी से ठीक हुए हैं।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी जारी

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी लगातार जारी है। सरकारी तेल कंपनियों ने आज रविवार 10 अक्टूबर को फिर पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ा दिए। आज दिल्ली में पेट्रोल के दाम में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की है। वहीं, डीजल के दाम 35 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं। आईओसीएल वेबसाइट के मुताबिक, देश की राजधानी दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल का भाव 104.14 रुपये और डीजल 92.82 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। वहीं, मुंबई में आज डीजल 100 रुपये के पार पहुंच गया। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 110.12 रुपये व डीजल की कीमत 100.66 रुपये प्रति लीटर है।

लड़कियों के डांस का विवाद थमता नजर नहीं आया

हरिओम उपाध्याय       
उज्जैन। प्रदेश में लड़कियों के डांस का विवाद थमता नजर नहीं आ रहा। इंदौर और छतरपुर के बाद अब उज्जैन में बवाल मच गया है। यहां एक महिला ने महाकाल के मंदिर में बॉलीवुड गाने रग-रग में इस तरह तू समाने लगा पर डांस किया मंदिर में बना ये वीडियो अपलोड होते ही वायरल हो गया। इस पर महाकाल मंदिर के पंडे-पुजारियों का विरोध शुरू हो गया है। उनकी मांग है कि वीडियो बनाने वाली महिला को अब कभी मंदिर परिसर में घुसने न दिया जाए।
यह वीडियो ज्योतिर्लिंग के ठीक ऊपर बन ओंकारेश्वर मंदिर के पास बनाया गया है। महिला ने मंदिर के पिलर पर ये वीडियो बनाया है। वो इन्हीं पिलर से बीच में डांस कर रही है। महाकाल मंदिर के पुजारी महेश पुजारी ने कहा कि हमें ये वीडियो घोर आपत्तिजनक लगा। ये देव स्थान है। यहां इस तरह फिल्मी गीतों पर डांस करना ठीक नहीं। ये जगह महाकाल की है। महाकाल में करोड़ों लोगों की आस्था है। उन्होंने कहा कि इस तरह के सभी लोगों का प्रवेश मंदिर में वर्जित कर देना चाहिए। बजरंग दल ने भी कहा है कि इस तरह के वीडियो बनाने वाली महिलाओं के खिलाफ शिकायत की जाएगी। मनीषा रोशन इंदौर की रहने वाली है। उसने अपने इंस्टाग्राम पर महाकाल मंदिर के दो वीडियो अपलोड किए, हालांकि विवाद बढऩे के बाद ये दोनों वीडियो डिलीट कर दिए गए। दोनों वीडियो में एक 7 सेकंड और दूसरा 14 सेकंड का था। इंस्टाग्राम पर उसके डेढ़ लाख से ज्यादा फॉलोवर्स हैं। मनीषा ने वीडियो जारी कर माफी मांगते हुए कहा कि मैंने उज्जैन में महाकाल मंदिर में वीडियो बनाया था। किसी को भी वीडियो से किसी संगठन या व्यक्ति को ठेस पहुंची हो तो माफी मांगती हूं। मेरी भावना किसी को आहत करने की नहीं थी। आगे से मैं ध्यान रखूंगी कि किसी की भावना आहत न हो।

फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों को चलाने का ऐलान किया

अविनाश श्रीवास्तव        
पटना। बिहार में छठ और दिवाली त्योहार का बड़ा महत्व है। इन त्योहारों के दौरान यात्रियों की भारी भीड़ को देखते हुए भारतीय रेलवे ने नई दिल्ली और आनंद विहार स्टेशन से बिहार के मुजफ्फरपुर,दरभंगा, बरौनी, सहरसा और जयनगर स्टेशनों के लिए फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों को चलाने का ऐलान किया है। इन स्पेशल ट्रेनों में सभी कोच आरक्षित श्रेणी के होंगे और इनमें यात्रा करने वाले यात्रियों को कोविड-19 के नियमों का पालन करना होगा,इन ट्रेनों का परिचालन 11 अक्टूबर से 20 नवंबर तक किया जाएगा।इन सभी ट्रेनों में 09 स्लीपर कोच, जनरल के 09 कोच और एसएलआर के 02 कोच सहित कुल 20 कोच होंगे।
दिल्ली से वैष्णो देवी दर्शन के लिए भी स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही है।

विमान दुर्घटनाग्रस्त होने से 6 लोगों की मौंत हुईं

लापाज। बोलीविया में अगुआ डयूल्स के अमेज़ॅन क्षेत्र में वायुसेना का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से स्वास्थ्य मंत्रालय के चार अधिकारियों समेत छह लोगों की मौत हो गयी।
बोलिवियाई पुलिस के डिप्टी कमांडर कर्नल लुइस क्यूवास ने संवाददाताओं को बताया कि रिबेरल्टा नगर से उड़ान भरने के महज सात मिनट बाद विमान एक पेड़ से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में चालक दल के सदस्यों समेत स्वास्थ्य मंत्रालय के राष्ट्रीय डेंगू-चिकनगुनिया कार्यक्रम के चार अधिकारी सवार थे। घटना में सभी की मौत हो गयी।
स्वास्थ्य मंत्रालय में प्रचार, महामारी विज्ञान निगरानी और पारंपरिक चिकित्सा उप मंत्री मारिया रेनी कास्त्रो ने ट्विटर पर लिखा , " हमें यह घोषणा करते हुए खेद है कि स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम को रिबेरल्टा से कोबीजा ले जा रहा विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हमारे सहयोगी देश के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण मिशन राष्ट्रीय डेंगू-चिकनगुनिया कार्यक्रम को पूरा करने में लगे थे।

'खुफिया' के लिए एक साथ काम कर रहें विशाल

कविता गर्ग     
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री तब्बू का कहना है कि उनकी आने वाली फिल्म खुफिया उनके दिल के बेहद करीब है।
तब्बू और विशाल भारद्वाज फिल्म 'खुफिया' के लिए फिर एक साथ काम कर रहे हैं। इस फिल्म में अली फजल भी लीड रोल में होंगे। तब्बू की यह विशाल के साथ तीसरी फिल्म होगी। उन्होंने इससे पहले विशाल के साथ 'मकबूल' और 'हैदर' में साथ काम किया था। यह फिल्म रियल इंसीडेंट और अमर भूषण के फेमस जासूसी नॉवेल 'एस्केप टू नोव्हेयर' पर आधारित है।
तब्बू ने कहा, "खुफिया एक ऐसा प्रोजेक्ट है, जो मेरे दिल के बेहद करीब है और मैं इस इंटरटेनर जासूसी थ्रिलर का हिस्सा बनने के लिए बहुत एक्साइटेड हूं। हमेशा की तरह, वीबी (विशाल भारद्वाज) के साथ फिर से काम करना एक खुशी की बात है, और घर वापसी जैसा महसूस होता है।


 

फिल्म 'सरदार उधम सिंह' को लेकर चर्चा में विक्की

कविता गर्ग      
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल ने अपनी आने वाली फिल्म सरदार उधम सिंह से अपना लुक शेयर किया है।
विक्की कौशल इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म 'सरदार उधम सिंह' को लेकर चर्चा में हैं। इस फिल्म में विक्की कौशल स्‍वतंत्रता सेनानी उधम सिंह के रोल में हैं, जिन्‍होंने जलियांवाला बाग हत्‍याकांड के कसूरवार जनरल डायर को मौत के घाट उतारा था।
इस फ़िल्म में कहानी के अनुसार विक्की कई लुक्स और लोकेशंस पर नज़र आएंगे। इन लुक्स को विक्की अपने सोशल मीडिया एकाउंट के ज़रिए साझा कर रहे हैं। ऐसा ही एक लुक उन्होंने शेयर किया, जो पूर्वी यूरोप का है, जहां -15 डिग्री तापमान में शूट किया गया।
विक्की कौशल ने बताया कि सरदार ऊधम सिंह का यह लुक 1933 का है और पूर्वी यूरोप के जंगलों का है। सरदार ऊधम का निर्देशन शूजित सरकार ने किया है। फ़िल्म की कहानी जलियांबाला बाग नरसंहार के बदले पर आधारित है, जिसके लिए सरदार ऊधम सिंह ने 21 सालों तक इंतज़ार किया था और लंदन जाकर अंग्रेज़ अफ़सर को मारकर इसका बदला लिया। फ़िल्म ऊधम सिंह के इस पूरे सफ़र को पेश करती है।
गौरतलब है कि 'सरदार उधम' में विकी कौशल के अलावा बनिता संधू और अमोल पाराशर भी हैं। फिल्म 'सरदार उधम ' ओटीटी प्लेटफार्म पर 16 अक्टूबर को रिलीज होगी।

कॉलेज की 4 स्टूडेंट्स में पॉजिटिव के लक्षण मिलें

पंकज कपूर      
नैनीताल। जिले के राजकीय इंटर कॉलेज गरमपानी की चार स्टूडेंट्स में कोविड पॉजिटिव के लक्षण मिले हैं। वहीं बीते दिनों गोपेश्वर में भी एक छात्र कोरोना पॉजिटिव मिला है। साथ ही आईआईटी रुड़की में भी युगांडा से लौटे एक छात्र में लक्षण मिले हैं।
आपको बता दें कि कुछ दिन पहले गरमपानी मुख्य बाजार में पांच कोरोना संक्रमित पाए गए थे, जिसके बाद अब कोरोना से जीआईसी रातीघाट के चार स्टूडेंट्स भी संक्रमित हो गए है।
अब छात्रों के कोविड पॉजिटिव मिलने के बाद उनके परिजनों के सैंपल लिए जा रहे हैं इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने विशेष टीमें बना दी गई हैं जो इसका परीक्षण कर रही हैं।
आपको बता दें कि बीते दिनों स्कूल तो खुल चुके हैं लेकिन स्कूलों व आम जनमानस द्वारा कोरोना नियमों का धड़ल्ले से उल्लंघन हो रहा है। बाजारों में हो शॉपिंग मॉल में ऑफिसों में या स्कूलों में मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ही नहीं किया जा रहा है ऐसे में लापरवाही अब भारी पड़ती नजर आ रही है वहीं त्यौहार भी नजदीक हैं प्रशासन ने स्कूलों में गाइडलाइन के पालन का दावा किया है, लेकिन सच्चाई ये है कि नियमो का पालन न के बराबर ही हो पा रहा है ऐसे में एक बार फिर से कोरोना का संक्रमण बढ़ने की संभावना साफ नजर आ रही है।

तेज रफ्तार ट्रक ने खड़े डंपर पर मारीं जोरदार टक्कर

पंकज कपूर       
काशीपुर। यहां आईटीआई थाना क्षेत्र के ग्राम परमानंदपुर के पास एक तेज रफ्तार एक ट्रक ने हाईवे पर खड़े डंपर पर पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। हादसा इतना दर्दनाक था कि ट्रक के परखच्चे उड़ गए वही हादसे में चालक सहित एक मजदूर की मौत हो गई। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया तथा हादसे में घायल मजदूरों को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया गया। इधर मजदूरों की मौत के बाद मजदूरों के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

यूके: शिक्षा को नई तकनीक से जोड़ने का होगा काम

पंकज कपूर        
रूद्रपुर। किच्छा रोड स्थित कान्फ्लूएंस स्कूल शिक्षा के स्तर को और बेहतर बनाने के लिए अब विश्व स्तर की शिक्षण सुविधाएं मुहैया कराने वाले क्रिमसन एजुकेशन के साथ जुड़ गया है। दोनों मिलकर अब शिक्षा के क्षेत्र में आई नई चुनौतियों का सामना करने के साथ-साथ शिक्षा को नई तकनीक से जोड़ने का भी काम करेंगे। क्रिमसन और कान्फ्लूएंस स्कूल अब न सिर्फ बच्चों को सर्वांगीण विकास की ओर ले जाएंगे। बल्कि शिक्षकों को भी नई शिक्षा प्रणाली के अनुरूप प्रशिक्षित करेंगे। बता दें कान्फ्लुएंस वल्र्ड स्कूल की स्थापना किच्छा रोड रूद्रपुर में वर्ष 2012 में पुनीत छाबड़ा और साक्षी छाबड़ा ने की थी। शुरूआत से ही इस स्कूल को भविष्य की जरूरतों के हिसाब से स्थापित किया गया था इसी के चलते यह विद्यालय आज शिक्षा के क्षेत्र में एक अलग पहचान बना चुका है। कान्फ्लूएंस स्कूल शुरुआत से ही एक प्रगतिशील स्कूल रहा है जो न केवल छात्रों के सर्वांगीण विकास पर फोकस करता है बल्कि यह छात्रों के सर्वांगीण विकास पर विशेष रूप से ध्यान देता है। शिक्षा के साथ साथ खेल एवं सांस्कृतिक गतिविधियों और प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए भी बच्चों को इस स्कूल में विशेष रूप से तैयार किया जाता है। वर्तमान में कोविड महामारी के बदले हालातों को देखते हुए कान्फ्लूएंस स्कूल ने परिस्थितियों के अनुरूप शिक्षा व्यवस्था में परिवर्तन लाने के लिए नई शुरूआत की है। दरअसल कान्फ्लूएंस स्कूल शिक्षा के क्षेत्र में आई चुनौतियों का सामना करने और नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020-21 के तहत स्कूल को नया रूप देने की कवायद में जुट गया है। इसी को लेकर कान्फ्लूएंस स्कूल ने विश्व स्तरीय शिक्षण सुविधाएं मुहैया कराने वाले क्रिमसन एजुकेशन के साथ अनुबंध किया है। एक होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में कान्फ्लुएंस के निदेशक पुनीत छाबड़ा और साक्षी छाबड़ा ने बताया कि कान्फ्लुएंस ने मुंबई स्थित क्रिमसन एजुकेशन के साथ अनुबंध किया है, जिसका नेतृत्व प्रसिद्ध शिक्षाविद कर रहे है। इन शिक्षाविदों ने विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा बोर्डों के साथ काम किया है। क्रिमसन अब देश के सात राज्यों में 25 स्कूलों के साथ भारत के सबसे तेजी से बढ़ते स्कूलों से एक है और क्रिमसन से जुड़ने वाला कान्फ्लुएंस वल्र्ड स्कूल उत्तराखंड का पहला स्कूल है। उन्होंने बताया कि क्रिमसन भारत के मुख्य शहर जैसे मुंबई, पुणे, बेंगलुरु, हैदराबाद, फरीदाबाद में सीबीएसई, आईबी और आईसीएसई बोर्डों से संबद्ध स्कूलों के साथ सक्रिय रूप से काम कर रहा है। क्रिमसन की टीम को न केवल भारत बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्कूलों के प्रबंधन का समग्र अनुभव है। कान्फ्लुएंस रुद्रपुर का पहला और एक मात्र स्कूल है जिसके पास देश के सर्वश्रेष्ठ सीबीएसई स्कूलों में से एक होने के उद्देश्य से इन प्रसिद्ध विशेषज्ञों के इतने समृद्ध ज्ञान और अनुभव तक पहुंच होगी। क्रिमसन से जुड़ने के बाद कान्फ्लुएंस देश का राष्ट्रीय ब्रांड बनेगा। पुनीत छाबड़ा ने कहा कि अब समय आ रहा है कि आॅनलाईन और आॅफलाईन दोनों को साथ लेकर चलना होगा। कोविड ने न सिर्फ लोगों की जिंदगी को बदला है बल्कि शिक्षा के क्षेत्र को भी बुरी तरह प्रभावित किया है। वर्तमान में हाईब्रिड माॅडल आॅफ एजुकेशन की जरूरत है जिसे क्रिमसन के साथ मिलकर पूरा किया जा रहा है। क्रिमसन के साथ मिलकर कान्फ्लूएंस स्कूल को शिक्षा के क्षेत्र में उंचाईयों तक ले जाया जायेगा। क्रिमसन के साथ जुड़ने के बाद अब कान्फ्लूएंस में शिक्षा ग्रहण कर रहे देश और विदेश के बच्चों के साथ आॅनलाइन जुड़कर अनुभवों का आदान प्रदान करेंगे। छाबड़ा ने कहा कि क्रिमसन के साथ काॅनफ्लूएंस का अनुबंध शहर के लिए एक तोहफा है। शिक्षा के क्षेत्र में दस वर्ष सफलता पूर्वक पूरे करने के बाद अब कान्फ्लूएंस स्कूल नया बदलाव लेकर सामने आया है। पत्रकार वार्ता में क्रिमसन एजुकेशन के एमडी फ्रांसिस जोसेफ ने कहा कि वे रुद्रपुर में एक विश्व स्तरीय स्कूल बनाने के लिए कान्फ्लुएंस की टीम के साथ जुड़कर बेहद खुश हैं। अपने अनुभव साझा करते हुए उन्होंने बताया कि विभिन्न शिक्षा बोर्डों के साथ अपने काम के दौरान हमने देखा है कि अधिकांश स्कूल वही करते हैं जो बोर्ड निर्धारित करता है। वे उत्तम दर्जे का बुनियादी ढांचे का निर्माण करते हैं, लेकिन स्कूल का मूल उद्देश्य इससे बहुत आगे है। ऐसे वातानुकूलित स्कूल भवन का क्या फायदा, यदि छात्र प्रतिष्ठित उच्च शिक्षा संस्थानों में प्रवेश ही न ले सके। कहा कि स्कूल में छात्र का समग्र विकास होना चाहिए। उन्होंने कहा कि छात्रों को उनकी उच्च शिक्षा और कॅरियर के लक्ष्यों के लिए तैयार करना चाहते हैं और इसी दिशा में काम कर रहे है। उन्होंने बताया कि उनकी टीम में सीबीएसई शासी परिषद के सदस्य डाॅक्टर अशोक पांडेय जिन्हें राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार समेत कई पुरस्कार मिले हैं शामिल हैं। जोसेफ ने बताया कि वह खुद 125 स्कूलों को स्थापित और प्रबंधित कर चुके हैं। वे कैम्ब्रिज दक्षिण एशिया के प्रतिष्ठित सलाहकार बोर्ड के सदस्य हैं। इसके अलावा सरकारों और शिक्षा बोर्डों के लिए नीतियों के क्रियान्वयन में शामिल रहे हैं। उन्होनंे बताया कि क्रिमसन से जुड़ी फरजाना दोहदवाला 18 वर्षों के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर के पूर्व दक्षिण एशिया प्रतिनिधि रही हैं। वह अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय शिक्षण और सीखने की रणनीतियों में पाठड्ढक्रम विशेषज्ञ और अर्ली चाइल्ड हुड एसोसिएशन की उपाध्यक्ष हैं। जीवीके प्रसाद स्कूल गुणवत्ता प्रत्यायन, प्रशिक्षण और विकास में विशेषज्ञ हैं। उन्हे दुबई स्कूल इंस्पेक्शन ब्यूरो, यूएई, टाटा ट्रस्ट्स, टेक महिन्द्रा और शिक्षा के क्षेत्र में कई अन्य कंपनियों के साथ काम करने का अनुभव है। इसके अतिरिक्त हुसैन दोहदवाला राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पाठड्ढक्रम विशेषज्ञ है। वे एशिया प्रशांत क्षेत्र के लिए आईबी एजुकेटर नेटवर्क का हिस्सा हैं। वे स्कूल निरीक्षण यात्राओं और शिक्षक प्रशिक्षण में विशेषज्ञ हैं। इस दौरान क्रिमसन एजुकेशन टीम के हुसैन दोहदवाला ने कहा कि क्रिमसन की शुरूआत दो साल पहले हुई थी। क्रिमसन ने न सिर्फ स्कूल को बल्कि बोर्ड को भी चलाया है। क्रिमसन नई शिक्षा पाॅलिसी के तहत काम कर रहा हैं। मुम्बई पुणे और दक्षिण भारत में क्रिमसन की बड़ी स्कूल चेन है। यहां पर क्रिमसन ने बेहतर परिणाम दिये हैं। क्रिमसन के डा. अशोक पाण्डे ने कहा कि आज बदलते हुए माहौल में स्कूलों को अपग्रेड करने की आवश्यकता है। जो स्कूल खुद को अपग्रेड नहीं करेंगे वो शिक्षा के क्षेत्र में पीछे रह जायेंगे। उन्होनंे कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा प्रणाली के अनुसार अब स्कूलों को परिवर्तन करने होंगे। इसकी तैयारी क्रिमसन बहुत पहले कर चुका है। उन्होंने कहा क्रिमसन बच्चों के सर्वांगीण विकास और एकेडमिक स्किल्स पर विशेष ध्यान देता है। अब समय आ गया है कि बच्चे का क्लास रूम का अनुभव बदलना चाहिए। हर बच्चे की आवश्यकता अलग है उसके अनुरूप ही उसे शिक्षा दी जानी चाहिए। पाण्डे ने कहा हमारा प्रयास है कि बच्चा माता पिता की आकांक्षाओं को पूरा करे। आज यह भी महत्वपूर्ण हो गया है कि 12वीं के बाद बच्चा क्या करेगा उसे इसके लिए जरूरी गाईडेंस और कैरियर काउसंसलिग जरूरी है क्रिमसन इसके लिए बच्चों को विशेष रूप से मार्गदर्शन देगा। पाण्डे ने कहा कि बच्चे देश ही नहीं बल्कि विश्व की धरोहर है। उन्हें सही दिशा देने के लिए सबसे पहले शिक्षकों को तैयार करना होगा। श्री पाण्डे ने कहा कि क्रिमसन और कान्फ्लूएंस के बीच किया गया अनुबंध सबके विश्वास पर खरा उतरेगा। इस दौरान फरजाना दोहदवाला ने कहा कि क्रिमसन और कान्फ्लूएस के बीच अनुबंध के बेहतर परिणाम साने आयेंगे। उन्होंने कहा कि आज बच्चों को तैयार करने से पहले शिक्षा को नई शिक्षा प्रणाली के लिए तैयार करना जरूरी है। क्रिमसन इसके लिए अभिभाकों के साथ साथ बच्चों की भी वर्कशाॅप आयोजित करेगा। इस अवसर पर कान्फ्लूएंस की प्रिंसीपल मीनाक्षी खेत्रपाल भी मौजूद थी।

केंद्र सरकार ने हज यात्रा के लिए तैयारी शुरू की

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। साल से हज यात्रा की राह देख रहे लोगों के लिए खुशखबरी है। केंद्र सरकार ने इस साल हज यात्रा के लिए तैयारी शुरू कर दी है। केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मुंबई स्थित हज हाउस में ऑनलाइन बुकिंग केंद्र के उद्घाटन के दौरान कहा कि भारत में 2022 की हज यात्रा की पूरी प्रक्रिया 100 प्रतिशत डिजिटल होगी।
हालांकि, इसकी घोषणा 21 अक्तूबर को होने वाली समीक्षा बैठक के बाद की जाएगी। नकवी ने बताया कि इस बैठक में अल्पसंख्यक मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं नागर विमानन मंत्रालय के अधिकारी, सऊदी अरब में भारत के राजदूत, जेद्दा में भारत के महावाणिज्यदूत और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहेंगे।
केंद्रीय मंत्री ने बताया कि 2020 व 2021 में कोरोना के चलते हज यात्रा नहीं हो पाई थी। 2020 में 700 से अधिक महिलाओं ने ‘मेहरम’ (पुरुष साथी) के बिना आवेदन किया था। वहीं 2021 में 2100 से अधिक महिलाओं के आवेदन आए थे। इन महिलाओं को 2022 में हज यात्रा का दोबारा मौका दिया जाएगा, अगर वे यात्रा पर जाना चाहेंगी।

भारतीय अंतरिक्ष संघ का उद्घाटन करेंगे शीर्ष संगठन

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। सैटेलाइट कंपनियों के शीर्ष संगठन भारतीय अंतरिक्ष संघ का डिजिटली उद्घाटन करेंगे। इस संघ में कई भारतीय और वैश्विक कंपनियां शामिल हैं, जिनके पास अंतरिक्ष और सैटेलाइट टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में नवीनतम क्षमताएं मौजूद हैं। इस संघ के संस्थापकों में भारती एयरटेल, लार्सन एंड टुब्रो, नेल्को (टाटा ग्रुप), वनवेब, मैपमायइंडिया, वालचंदनगर इंडस्ट्री और अनंत टेक्नोलॉजी लिमिटेड शामिल हैं। इस संघ के अन्य महत्वपूर्ण सदस्यों में गोदरेज, ह्यूजेस इंडिया, एजिस्टा-बीएसटी , एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेल, बीईएल, सेंट्रम इलेक्ट्रॉनिक्स और मैक्सर इंडिया शामिल हैं।
प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने के लिए यह संघ भारतीय अंतरिक्ष उद्योग की सामूहिक आवाज बनना चाहता है। भारत को आत्मनिर्भर, तकनीकी रूप से उन्नत और अंतरिक्ष क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए यह संघ सरकार और उसकी एजेंसियों सहित भारतीय अंतरिक्ष क्षेत्र के सभी हितधारकों के लिए नीतिगत वकालत करेगा और उनके साथ समन्वय बनाए रखेगा।
एन एंड टी एवं एनएक्सटी के वरिष्ठ कार्यकारी उपाध्यक्ष (डिफेंस) जयंत पटेल इस संघ के पहले अध्यक्ष होंगे और भारती एयरटेल के चीफ रेगुलेटरी ऑफिसर राहुल वत्स इसके उपाध्यक्ष बनाये गये हैं। रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल ए. के. भट्ट को इस संघ का महानिदेशक बनाया गया है।

पीएचडी में प्रवेश पर तैयारी कर रहा विश्वविद्यालय

संदीप मिश्र            
बरेली। महात्मा ज्योतिबा फुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय पीएचडी में प्रवेश को लेकर जल्द ही नई तैयारी कर रहा है। इसके तहत सीधे प्रवेश के तहत एनआरआई भी प्रवेश ले सकेंगे। इस संबंध में दिशा-निर्देश तैयार किए जा रहे हैं। उसके बाद प्रवेश शुरू हो जाएंगे। दूसरी तरफ सीधे प्रवेश के तहत लगातार आवेदन आ रहे हैं और नए रिसर्च सुपरवाइजर (शोध पर्यवेक्षक) बनने के लिए आवेदन आ रहे हैं।
विश्वविद्यालय में पीएचडी में फेलोशिप प्राप्त करने वाले छात्रों के सीधे प्रवेश हो रहे हैं। इसकी प्रवेश प्रक्रिया सितंबर से शुरू हो गई थी। अभी ऑनलाइन आवेदन लिए जा रहे हैं। शोध निदेशक डा. सुधीर कुमार ने बताया कि अभी तक 77 आवेदन सीधे प्रवेश के लिए आ चुके हैं। प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने बताया कि नए शोध पर्यवेक्षक बनने के लिए अब तक तीन आवेदन आ चुके हैं। शोध सुपरवाइजर के लिए 15 अक्टूबर तक आवेदन कर सकते हैं।
कुलपति प्रो. केपी सिंह ने बताया कि पीएचडी में सीधे प्रवेश हो रहे हैं। काफी संख्या में आवेदन आ चुके हैं। भविष्य में जल्द ही एनआरआई के सीधे पीएचडी में प्रवेश की भी तैयारी की जा रही है। इसको लेकर जल्द ही दिशा-निर्देश जारी कर दिए जाएंगे। प्रवेश परीक्षा के जरिए भी प्रवेश की तैयारी की जा रही है।

निष्पक्ष संपन्न कराने के लिए सुरक्षा के इंतजाम किए

संदीप मिश्र        
बरेली। आईएएस प्रारंभिक परीक्षा शांतिपूर्वक और निष्पक्ष संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। 40 केंद्रों पर 16672 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। प्रत्येक केंद्र पर पुलिस-पीएसी बल तैनात किया है। साथ में मंडलभर के एसडीएम और तहसीलदारों की ड्यूटी लगायी गयी है। इसके अलावा केंद्रों के सौ मीटर के दायरे में कोई भी इलेक्ट्रानिक डिवाइस काम न कर सके, इसके लिए जैमर लगाए हैं। ताकि नेटवर्क जाम किया जा सके। धारा 144 पहले से ही लागू की गयी है।
केंद्र के आसपास आवागमन भी प्रतिबंधित रहेगा। परीक्षा पहली पाली में सुबह 9:30 बजे से पूर्वाह्न 11:30 बजे और दूसरी पाली में दोपहर 2:30 बजे से 4:30 बजे तक होगी। अधिकारियों ने बताया कि बरेली इंटर कॉलेज, इस्लामियां इंटर कॉलेज, इस्लामियां गर्ल्स इंटर कॉलेज, राजकीय इंटर कॉलेज, गुलाबराय इंटर कॉलेज, बीबीएल आदि स्कूलों को केंद्र बनाया गया है।
शनिवार को नोडल अधिकारी अपर जिलाधिकारी नगर महेंद्र कुमार सिंह ने सभी अधिकारियों को केंद्रों की जिम्मेदारी सौंपते हुए उनसे यह भी रिपोर्ट मांगी कि केंद्रों में किसी प्रकार की कोई दिक्कत तो नहीं है। दिन में निरीक्षण कर अधिकारियों ने शाम को रिपोर्ट सौंप दी। कोई भी अभ्यर्थी बिना मास्क के केंद्र में प्रवेश नहीं कर सकेगा।
कोविड नियमों का पालन कराते हुए परीक्षा संपन्न कराने के भी इंजजाम किए गए हैं। कोषागार से परीक्षा शुरू होने से आधे घंटे पहले ही पेपर केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा में पहुंचाया जाएगा। बरेली बदायूं, पीलीभीत और शाहजहांपुर के अधिकारी परीक्षा संपन्न कराएंगे।

महामारी ने तमाम लोगों के मन को व्यथित किया

संदीप मिश्र           
बरेली। कोरोना की महामारी ने तमाम लोगों के मन को व्यथित किया। बड़ी संख्या में लोग वायरल बीमारियों के चलते मानसिक अवसाद और एंजायटी जैसी मानसिक समस्याओं से पीड़ित हो गए। जो मरीज समय से अपनी समस्याओं को गंभीर महसूस करके डॉक्टर के पास पहुंच गए उन्हें न सिर्फ दवा के जरिए आराम मिला बल्कि काउंसलिंग के माध्यम से उनको इस तरह की समस्या दूर रहने का मार्गदर्शन भी मिल गया उनका उत्साह भी बढ़ गया।
जिला अस्पताल स्थित मनकक्ष में ऐसे कई मरीज पहुंचे थे जो कोरोना की वजह से आई समस्याओं के चलते काफी व्यथित हो गए थे। ऐसे मरीजों की काउंसलिंग हुई और उन्हें एंजायटी, मानसिक अवसाद से उबरने की दवा मिली। जिला अस्पताल के मनकक्ष प्रभारी डा. आशीष कुमार ने बताया कि इस तरह के कई मरीज अब लगभग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं जबकि कई मरीजों की दवा अभी चल रही है। संभावना है कि जल्दी ही वह पूरी तरीके से स्वस्थ हो जाएंगे। कोरोना की विभीषिका का असर अब उनकी सेहत से घटकर न के बराबर हो गया है। काउंसलिंग और दवा मानसिक समस्या का बहुत ही अच्छा इलाज है जिसका लाभ मरीजों को उठाना चाहिए।जिला अस्पताल प्रशासन के अनुसार मनकक्ष में पिछले साल 6,438 मामले मनोरोगियों के पहुंचे थे। वहीं इस साल अक्टूबर तक ही 7,141 मनोरोगियों को मनकक्ष की ओर से निशुल्क उपचार उपलब्ध कराया जा रहा है। मनकक्ष प्रभारी डा. आशीष ने बताया कि मनकक्ष में जिले के मरीजों के साथ ही पड़ोस के जिलों से भी मरीज आते हैं। जिनकी बीमारी को समझकर उनको उपचार व काउसलिंग के माध्यम से एंजाइटी व मानसिक अवसाद से उबारा जाता है।

पूर्णरूप से जिले के अधिकारियों का वर्चस्व हुआ

संदीप मिश्र           
बरेली। भले ही अंग्रेजी हुकूमत में स्थापित हुए एलन यूनियन क्लब के नाम का बोर्ड नहीं बदला गया लेकिन इस नाम के क्लब का अस्तित्व कागजों में मिटाया जा चुका है। इस क्लब का नाम ‘बरेली ऑफीसर्स क्लब’ रखे महीनों हो गए। क्लब पर पूर्णरूप से जिले के अधिकारियों का वर्चस्व हो गया। पूंजीपतियों, जनप्रतिनिधियों और व्यापारियों का अधिकार खत्म हो गया। जो पदाधिकारी और सदस्य दशकों से क्लब से जुड़े थे, उनको भी दरकिनार रखा गया है।
क्लब का संचालन अब प्रशासन करेगा। कागजों में तेजी से इस क्लब के कार्य हो रहे हैं। लेकिन धरातल पर क्लब का कोई कार्य सार्वजनिक नहीं किया है। इसलिए हर आदमी की जुबां पर अभी इस क्लब का नाम ‘एलन क्लब’ चढ़ा है। नए क्लब की टीम तैयार होने के बाद इसकी सदस्यता शुल्क का निर्धारण भी कर दिया गया लेकिन सदस्यता शुल्क आमजन की पहुंच से ज्यादा रखा है। बरेली क्लब की राह चलकर ही बरेली ऑफीसर्स क्लब का संचालन कराने के लिए प्रशासन ने पूरी पटकथा लिखी है।
बरेली क्लब की सदस्यता शुल्क 8.50 लाख रुपये है। इसलिए इस क्लब का सिर्फ सेना के अफसर और पूंजीपति ही सदस्य बन पाते हैं। यह सबसे महंगा क्लब है। बताते हैं कि पूर्व में एलन क्लब की सदस्यता पांच हजार से अधिक नहीं थी लेकिन नए क्लब की सदस्यता लेने के लिए 50 हजार रुपये खर्च करने होंगे। एलन क्लब में 2015 से पहले से जो सदस्य जुड़े थे, उनको नए क्लब की सदस्यता शुल्क में 30 प्रतिशत की छूट मिलेगी। इस संबंध में नगर मजिस्ट्रेट राजीव पांडेय की ओर से नोटिस भी क्लब भवन गेट पर चस्पा कर दिया गया है।
कोई भी सदस्य बन सकता है लेकिन शर्तें गोपनीय
नए क्लब की सदस्यता को लेकर कई बातें गोपनीय रखी गयी हैं। जिनका सार्वजनिक होना जरूरी है। इस क्लब में कोई भी सदस्यता ले सकता है, लेकिन शर्तों के साथ। शर्तें क्या हैं, इस बारे में अधिकारियों ने स्पष्ट नहीं किया है। कब से कब तक सदस्यता ली जा सकती है, इसका भी खुलासा नहीं किया गया है।
एलन क्लब का खाता रामपुर गार्डन स्थित यश बैंक में था लेकिन नए क्लब का गठन होने के बाद इसका खाता बैंक ऑफ बड़ौदा में खुलवाया गया है। खाते का संचालन जिलाधिकारी/क्लब के उपाध्यक्ष करेंगे। उनके निर्देशों के बिना खाते का संचालन नहीं होगा। बरेली ऑफीसर्स क्लब के नाम से सोसायटी का गठन किया गया है। जिसका पंजीकरण संख्या बीएआर/08528/2020-2021, 12 फरवरी, 2021 को सहायक रजिस्ट्रार फर्म्स सोसाइटी तथा चिट्स, सिविल लांइस में किया गया है।
नए क्लब में इन अधिकारियों को सौंपी गयी जिम्मेदारी
बरेली ऑफीसर्स क्लब की नई कमेटी के अध्यक्ष मंडलायुक्त बनाए गए हैं। उपाध्यक्ष जिलाधिकारी हैं। नगर आयुक्त सचिव बने हैं। कोष का जिम्मा मुख्य कोषाधिकारी, अपर जिलाधिकारी नगर संयुक्त सचिव बने हैं। जबकि क्लब की कार्यकारिणी सदस्यों में बीडीए उपाध्यक्ष, मुख्य विकास अधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व, अपर नगर आयुक्त, नगर मजिस्ट्रेट को शामिल किया गया है। 13 सदस्यीय कमेटी में प्रमुख अधिकारियों को ही जगह मिली है।
क्लब में ‘बार’ खोलने को लेकर भी अंदरखाने अधिकारी मंथन कर रहे हैं। सितंबर माह के अंतिम सप्ताह में हुई बैठक में सदस्यता शुल्क का निर्धारण तो कर दिया लेकिन बार खोलने के संबंध में चर्चा नहीं हुई। क्लब में पहले बार भी संचालित था। राजस्व बढ़ाने के लिए बार खोलने की अनुमति दी जा सकती है। इसके साथ आय के स्रोत को लेकर अधिकारी विचार विमर्श कर रहे हैं। क्लब को शादी समारोह, जन्मदिन पार्टी और खेलों से जुड़े कार्यक्रमों के आयोजन कराने के लिए किराए पर देने के लिए जल्द शुल्क निर्धारित किया जाएगा।
प्रशासन ने क्लब की संपत्ति अपने कब्जे में लेकर भले ही पूर्व कमेटी के पदाधिकारियों को दरकिनार कर दिया लेकिन उनसे पीछा छुड़ाना इतना आसान नहीं रह गया है। जिन सदस्यों ने आजीवन सदस्य बने रहने के लिए क्लब की सदस्यता ली थी, वे चुप बैठने वाले नहीं हैं। क्लब गेट पर नोटिस चस्पा होने के बाद इसका विरोध शुरू हो गया है। अभी तक नए क्लब को लेकर किसी को कुछ पता नहीं था लेकिन अब प्रशासन की मंशा उजागर हो गयी। दूसरी बात, क्लब में करोड़ों रुपये का सामान बताया जा रहा है, जो प्रशासन के कब्जे में है। इसका निस्तारण होना बाकी है।

कई संस्थानों को अचीवर्स अवार्ड से किया सम्मानित

संदीप मिश्र         
बरेली। रूहेलखंड मैनेजमेंट एसोसिएशन की ओर से एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय और आईआईएम काशीपुर के साथ मिलकर शनिवार को स्टेशन रोड स्थित एक निजी होटल में विभिन्न क्षेत्रों में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले व्यक्तियों और संस्थानों को आरएमए अचीवर्स अवार्ड से सम्मानित किया गया। समारोह का आरंभ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केपी सिंह, बीएल एग्रो के चेयरमैन घनश्याम खंडेलवाल, इंटरटेनमेंट के साउथ एशिया हेड राहुल जौहरी और आरएमए के अध्यक्ष डा. मनीष शर्मा, उपाध्यक्ष डा. विनय खंडेलवाल, राजेश गुप्ता, सचिव कदीर अहमद और प्रोग्राम निदेशक डा. नीरज सक्सेना ने संयुक्त रूप से किया।
पुरस्कार समारोह में आरएमए के सदस्य शिरीष मेहरोत्रा को यूपी बार एसोसिएशन का अध्यक्ष बनने, बीएल एग्रो के एमडी आशीष खंडेलवाल को बिजनेज लीडरशिप, रामा श्यामा पेपर्स मिल के सीएमडी दिनेश गोयल को इंडस्ट्रीज डेवलमेंट व एसआरएमएस ट्रस्ट के आदित्य मूर्ति को चिकित्सा शिक्षा क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति करने के लिए अचीवर्स अवार्ड से सम्मानित किया। कार्यक्रम में प्रो. केपी सिंह ने कहा कि युवाओं को प्रबंधन के गुणों के साथ उद्यमिता की ओर अग्रसर होना चाहिए।
उद्योग जगत और विश्वविद्यालय के साथ मिलकर काम करने की आवश्यकता पर बल दिया। उद्यमी घनश्याम खंडेलवाल ने कहा कि उद्योगों के विकास के लिए आज अनेकों नई योजनाएं उपलब्ध हैं। नए स्टार्टअप प्रारंभ होने से निश्चित रूप से रोजगार बढ़ेंगे। इस दौरान आरएमए के अध्यक्ष डा मनीष शर्मा ने बताया कि आरएमए के प्रयासों से ही आईआईएम काशीपुर के साथ नए उद्यमों के विकास के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। इस दौरान रुहेलखंड यूनिवर्सिटी के कुलपति केपी सिंह की ओर से बरेली में नए स्टार्टअप शुरु करने के लिए एमओयू पर सहमति बनी। समारोह के दौरान आरएमए की बेवसाइट आरएमबीएलवाई डाट काम का भी विमोचन किया गया।
इस दौरान डा. एनएल शर्मा, केबी अग्रवाल, केबी जौहरी, उमेश धीरवानी, मोहन गुप्ता, संदीप तिवारी, निखिल अग्रवाल, दिनेश जौहरी, प्रो विनय रिषीवाल, दिनेश सिंह उपस्थित रहे। संचालन डा. नीरज सक्सेना, डा. स्वतंत्र कुमार ने किया।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-421 (साल-02)
2. सोमवार, अक्टूबर 11, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:11, सूर्यास्त 06:13।
5. न्‍यूनतम तापमान -23 डी.सै., अधिकतम-36+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया आदर्श श्रीवास्तव लखीमपुर खीरी। अपनी बदहाली सेे लडता किसान गणतंत्र की गहरी खाई में जा पहुंचा हैं। मध-म...