गुरुवार, 1 सितंबर 2022

देवरिया: डीएम की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन 

देवरिया: डीएम की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन 

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में विकास भवन स्थित गांधी सभागार में बृहस्पतिवार को व्यापार बंधु की बैठक का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी ने बैठक में मौजूद सभी अधिकारियों को व्यापारियों की समस्याओं का त्वरित निस्तारण करने का निर्देश दिया।व्यापारी नेताओं ने शहर के प्रमुख मार्गों पर बिजली के तार लटकने का मुद्दा उठाया।

सांसद प्रतिनिधि एवं व्यापारी नेता रविंद्र प्रताप मल्ल ने आगामी अक्टूबर माह में दशहरा, दिवाली सहित कई प्रमुख त्योहारों के दृष्टिगत अभियान चलाकर बिजली के लटकते तारों को ठीक करने की मांग की, जिसपर डीएम अधिशासी अभियंता को कार्ययोजना बनाकर कार्य करने का निर्देश दिया। कसया ढाला रेलवे क्रॉसिंग पर जाम का मुद्दा व्यापारियों ने प्रमुखता के साथ उठाया। उन्होंने कहा कि अंडरपास का निर्माण कर अथवा रेलवे के माल गोदाम को स्थानांतरित कर जाम की समस्या से निजात पाई जा सकती है। सलेमपुर के व्यापारी प्रतिनिधियों ने बाजार के मुख्य मार्ग की मरम्मत की मांग की। कुछ व्यापारियों ने शिकायत की कि कई बैंक 2 बजे के पश्चात नकद जमा नहीं करते हैं, जिस पर जिलाधिकारी ने एलडीएम को आवश्यक कार्यवाही करने का निर्देश दिया।

मालवीय रोड की मरम्मत, परमार्थी पोखरे के निकट सार्वजनिक शौचालय का निर्माण, ठेले रेहड़ी पटरी व्यापारियों को व्यापार के लिए स्थायी जगह उपलब्ध कराने का मुद्दा भी उठा। जिलाधिकारी ने समस्त बिंदुओं को ध्यान पूर्वक सुना एवं उचित कार्रवाई हेतु आश्वस्त किया। बैठक में पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा, सीडीओ रवींद्र कुमार, एडीएम प्रशासन गौरव श्रीवास्तव, उपायुक्त वाणिज्य कर पंकज लाल, इओ रोहित सिंह, अधिशासी अभियंता विद्युत रामसेवक राम, व्यापारी नेता शक्ति गुप्ता सहित विभिन्न व्यापारी नेता मौजूद थे।

किसानों ने निर्माण कंपनी के प्लांट पर कब्जा किया 

किसानों ने निर्माण कंपनी के प्लांट पर कब्जा किया 

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। दिल्ली-देहरादून इकोनामिक कारिडोर के तहत अधिग्रहण का भूमि का उचित मुआवजा और अन्य मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों ने गुरुवार को बुटराडा के पास निर्माण कंपनी के प्लांट पर कब्जा कर लिया। मशीनें बंद कराकर कार्य रोक दिया गया। किसानों ने कहा कि प्रशासन किसानों की मांगों की अनदेखी कर रहा है, जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मामलें में किसान संघर्ष समिति द्वारा गुरुवार को 36 वें दिन भी बुटराडा जंक्शन के पास धरना प्रदर्शन किया गया। इस दौरान भाकियू के जिलाध्यक्ष कपिल खाटियान सहित अन्य पदाधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में किसान एकत्र हुए। इसके बाद सभी किसान पास में ही कंपनी के बैचिंग प्लांट पर पहुंच गए। बैंचिंग प्लांट पर कंकरीट, सीमेंट और कोरसेंट मिलाकर निर्माण सामग्री तैयार कराई जाती है। किसानों की भीड़ प्लांट पर ही धरना देकर बैठ गई।

भाकियू जिलाध्यक्ष कपिल खाटियान और संघर्ष समिति के अध्यक्ष ठाकुर वीर सिंह व सचिव विदेश मलिक ने कहा कि किसान संघर्ष समिति शांतिपूर्वक धरना प्रदर्शन कर रही है। इकोनामिक कारिडोर के तहत किसान एक प्रोजेक्ट एक मुआवजे की मांग कर रहे हैं। साथ ही कारिडोर में अधिग्रहण की गई भूमि की पैमाइश कराने के बाद ही कब्जा लेने की बात कही जा रही है, लेकिन निर्माण कंपनी के अधिकारी हठधर्मिता पर उतर आए हैं। गांवों में पहुंचकर बगैर पैमाइश के ही भूमि पर कब्जा लेने का प्रयास किया जा रहा है। इसी वजह से किसानों को मजबूरीवश कंपनी के प्लांट पर मशीनें बंद कराकर कार्य रोकना पड़ा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन भी किसानों की अनदेखी कर रहा है। दो दौर की वार्ता होने के बावजूद किसानों की मांगे पूरी नहीं की जा रही हैं।

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड, 2 को हिरासत में लिया 

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड, 2 को हिरासत में लिया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया कि सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में एक संदिग्ध को अजरबैजान में और एक अन्य को केन्या में हिरासत में लिया गया है तथा भारत इन दोनों देशों के अधिकारियों के सम्पर्क में है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने साप्ताहिक प्रेस वार्ता में संवाददाताओं को यह जनकारी दी। उन्होंने इस विषय पर सवालों के जवाब में कहा कि अभी उनके पास केवल इतनी जानकारी है।

भविष्य में और जानकारी प्राप्त होने पर उसे मीडिया के साथ साझा किया जाएगा। ज्ञात हो कि मूसेवाला की 29 मई को पंजाब के मनसा जिले में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 25 अगस्त को ही पुलिस ने मूसेवाला हत्याकांड में 1850 पन्नों का आरोपपत्र दायर किया था। इस आरोप-पत्र में कुल 36 आरोपियों में से 24 के नाम दिए गए हैं।

100 रुपये तक सस्ता हुआ 'एलपीजी' सिलेंडर 

100 रुपये तक सस्ता हुआ 'एलपीजी' सिलेंडर 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। एलपीजी सिलेंडर बृहस्पतिवार से 100 रुपये तक सस्ता हो गया है। इस महीने कॉमर्शियल एलपीजी सिलेंडर सस्ते हुए थे। इंडियन ऑयल द्वारा आज यानी 1 सितंबर को एलपीजी के नए रेट जारी किए गए हैं। जिसके मुताबिक इंडेन का सिलेंडर दिल्ली में 91.50 रुपये, कोलकाता में 100 रुपये, मुंबई में 92.50 रुपये और चेन्नई में 96 रुपये सस्ता मिलेगा। यह कटौती दिल्ली से पटना, जयपुर से दिसपुर, लद्दाख से कन्याकुमारी तक हुई है।

बता दें यह बदलाव केवल कामर्शियल सिलेंडर पर हुआ है। जबकि 14.2 किलो वाला घरेलू एलपीजी सिलेंडर 6 जुलाई के रेट पर ही मिल रहा है। बता दें 6 जुलाई को घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में 50 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी।

कर्नाटक: सीएम योगी ने स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन किया

कर्नाटक: सीएम योगी ने स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन किया

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को शहर के बाहरी इलाके नेलामंगला में धर्मस्थल मंजुनाथेश्वर प्राकृतिक चिकित्सा एवं यौगिक विज्ञान संस्थान (एसडीएमआईएनवाईएस) में एक स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन किया। आदित्यनाथ ने संस्थान के प्रमुख ‘धर्माधिकारी’ वीरेंद्र हेगड़े से भी बातचीत की, जो राज्यसभा के सदस्य भी हैं। इस मौके पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई भी मौजूद थे।

भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए एकजुट होने का आरोप 

भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए एकजुट होने का आरोप 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/तिरुवनंतपुरम। पीएम मोदी दो दिन की केरल यात्रा पर हैं। यहां बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। वहीं, इसके बाद पीएम मोदी ने कोच्चि की जनता को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने विपक्षी दलों पर भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए एकजुट होने का आरोप लगाया। पीएम मोदी ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा तेज विकास और युवाओं की आकांक्षाओं की राह में सबसे बड़ा रोड़ा भ्रष्टाचार का है।

मैंने 15 अगस्त को कहा था कि भ्रष्टाचार के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का समय आ गया है, लेकिन हम यह भी देख रहे हैं कि जैसे-जैसे भ्रष्टाचारियों पर एक्शन हो रहा है तो देश की राजनीति में नया पोलराइजेशन भी शुरू हो गया है। भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए कुछ राजनीतिक दल खुलकर सामने आ गए हैं। संगठित होने का प्रयास कर रहे हैं। देश और केरल के लोगों को इनसे लगातार सतर्क रहना है।

3 दिवसीय भारत यात्रा पर आएंगी 'पीएम' हसीना 

3 दिवसीय भारत यात्रा पर आएंगी 'पीएम' हसीना 

अकांशु उपाध्याय/अखिलेश पांडेय 

नई दिल्ली/ढाका। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना पांच सितंबर से 3 दिवसीय भारत यात्रा पर आएंगी और इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय संबंधों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करेंगी। विदेश मंत्रालय ने यह जानकारी दी । विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने साप्ताहिक प्रेस वार्ता में बताया कि बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना 5-8 सितंबर तक भारत की आधिकारिक यात्रा पर आयेंगी। उन्होंने बताया कि अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री हसीना, भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से भी भेंट करेंगी।

बागची ने कहा कि शेख हसीना अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय चर्चा करेंगी। उन्होंने कहा कि भारत यात्रा के दौरान उनके अजमेर की यात्रा पर जाने की संभावना है। उन्होंने कहा कि हाल के वर्षो में दोनों देशों के बीच उच्च स्तरीय सम्पर्क बढ़ा है। दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक संबंध हैं जो आपसी सम्मान की भावना के साथ आगे बढ़ रहे हैं । वर्ष 2019 के बाद यह हसीना की पहली भारत यात्रा होगी।

हाल ही में बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच वार्ता के दौरान लंबित और नियमित द्विपक्षीय मुद्दों के अलावा दक्षिण एशिया में रक्षा सहयोग और स्थिरता के मुद्दे पर सबसे अधिक जोर रहेगा। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री की भारत यात्रा ऐसे समय में होने जा रही है जब वैश्विक आर्थिक संकट के कारण अपनी अर्थव्यवस्था पर मंडराते खतरे के मद्देनजर ढाका ने अपने विदेशी मुद्रा भंडार को स्थिर करने के लिहाज से कर्ज के लिए अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का दरवाजा खटखटाया है। इसके पहले अधिकारियों ने कहा था कि बांग्लादेश चाहता है कि भारत-बांग्लादेश व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौते (सीईपीए) के लिए बातचीत की पहल शुरू हो। कुछ दिन पहले ही भारत और बांग्लादेश के बीच नदियों के जल बंटवारे को लेकर संयुक्त नदी आयोग की 38वीं मंत्रालय स्तरीय बैठक हुई थी । इसमें तीस्ता, गंगा आदि नदियों के जल वितरण जैसे मुद्दों पर भी चर्चा की गई थी। दोनों पक्षों ने कुशियारा नदी के जल बंटवारे के समझौता ज्ञापन (एमओयू) को भी अंतिम रूप दिया था।

कई शहरों में संपूर्ण 'लॉकडाउन' लगाने का ऐलान 

कई शहरों में संपूर्ण 'लॉकडाउन' लगाने का ऐलान 

अखिलेश पांडेय 

बीजिंग। कोविड-19 के खौफ से बेहाल हुए चीन में सरकार की ओर से एक बड़े शहर के साथ कई शहरों में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया गया है। लगभग 2 करोड से अधिक आबादी वाले इस शहर में बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए लगाए गए लॉकडाउन के अंतर्गत शहर में रह रही आबादी को घर की चारदीवारी के भीतर कैद रहने का फरमान जारी किया गया है। बृहस्पतिवार को चीन में सरकार की ओर से तकरीबन 2 करोड़ से अधिक आबादी वाले 1 बड़े शहर चेंगदू में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार की ओर से यह बड़ा कदम उठाया गया है। सरकार की ओर से जारी किए गए आदेशों में कहा गया है कि 4 दिन तक लगातार शहर में लॉकडाउन लगाकर लोगों का न्यूक्लेईक एसिड टेस्ट किया जाएगा।

इससे तकरीबन 1 महीने पहले शंघाई में भी सरकार की ओर से इसी तरह संपूर्ण लॉकडाउन लगाया गया था। सिचुआन प्रांत की राजधानी चेंगदू में बुधवार को कोरोना संक्रमण के 106 नए मामले सामने आए थे। जिनमें से 51 मरीजों को कोरोना के लक्षण दिखाई भी नहीं दे रहे थे। प्रशासन द्वारा शहर में 381 हाई रिस्क एरिया की पहचान की गई है। मिल रही जानकारी के मुताबिक सरकार की ओर से लगाए गए संपूर्ण लॉकडाउन के दौरान परिवार का कोई एक सदस्य ही दिन में केवल एक बार अपने घर से बाहर जा सकता है। इसमें भी शर्त यह लगाई गई है कि घर से बाहर जाने वाले सदस्य के पास नेगेटिव रिपोर्ट होना जरूरी है।

भाजपा के मीडिया ट्रायल से परेशान, इस्तीफा दिया 

भाजपा के मीडिया ट्रायल से परेशान, इस्तीफा दिया 

अविनाश श्रीवास्तव 

पटना। बिहार में विवादों में घिरे पूर्व मंत्री कार्तिक कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मीडिया ट्रायल से परेशान होकर उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दिया। कुमार से गुरुवार को पत्रकारों ने जब यह जानना चाहा कि क्या विधि विभाग से हटाकर गन्ना विभाग की उन्हें जिम्मेदारी दिए जाने के कारण वह नाराज होकर इस्तीफा दिए हैं या इस्तीफे के लिए सरकार की ओर से उनपर कोई दबाव था, इस पर उन्होंने कहा कि वह भाजपा के मीडिया ट्रायल से परेशान हो गए थे और इस कारण ही उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दिया है।

पूर्व मंत्री ने कहा कि वह नहीं चाहते हैं कि उनके कारण मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव का नाम खराब हो। उनकी वजह से लोग उन्हें भला-बुरा कहें, वह इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि विभाग बदले जाने से वह नाराज नहीं है।

राहुल के साथ 117 नेता कश्मीर तक पदयात्रा करेंगे

राहुल के साथ 117 नेता कश्मीर तक पदयात्रा करेंगे 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस की सात सितंबर से आरंभ होने वाली ‘भारत जोड़ो’ यात्रा में राहुल गांधी के साथ कुल 117 नेता कन्याकुमारी से कश्मीर तक पदयात्रा करेंगे। इनमें पार्टी के मीडिया एवं प्रचार प्रमुख पवन खेड़ा और युवा नेता कन्हैया कुमार शामिल हैं। कन्याकुमारी से कश्मीर तक की इस यात्रा में चलने वाले इन 117 नेताओं को ‘भारत यात्री’ नाम दिया गया है और इनमें लगभग सभी वर्गों और प्रदेशों का प्रतिनिधित्व है।

कांग्रेस की ओर से जारी सूची के अनुसार, खेड़ा और कन्हैया कुमार के अलावा पार्टी के संचार विभाग के सचिव वैभव वालिया, पंजाब सरकार के पूर्व मंत्री विजय इंदर सिंघला, भारतीय युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष केशव चंद यादव, पूर्व महासचिव सीताराम लांबा और उत्तराखंड महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ज्योति रौतेला भी बतौर ‘भारत यात्री’ राहुल गांधी के साथ पूरी यात्रा में होंगे। इसके साथ ही, युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख राहुल राव, महासचिव संतोष कोलकुंडा और उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नेता शाहनवाज आलम को ‘भारत यात्री’ की सूची में जगह दी गई है। इस सूची में उत्तर प्रदेश से 10, मध्य प्रदेश से 10, महाराष्ट्र से नौ, राजस्थान से नौ, तमिलनाडु से तीन भारत यात्री होंगे। अन्य कई राज्यों को भी इसमें प्रतिनिधित्व दिया गया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने गत 23 अगस्त को संवाददाताओं को बताया था कि 100 पदयात्री होंगे, जो शुरू से आखिर तक चलेंगे। वो ‘भारत यात्री’ होंगे। जिन प्रदेशों से यह यात्रा नहीं गुजर रही है, उसके 100-100 लोग इसमें शामिल होंगे, ये लोग अतिथि यात्री होंगे। जिन प्रदेशों से यात्रा गुजरेगी उनसे 100-100 यात्री शामिल होंगे। ये प्रदेश यात्री होंगे। एक समय इसमें 300 पदयात्री शामिल रहेंगे। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा था, ‘राहुल गांधी देश के बड़े नेता हैं और यात्रा में ‘भारत यात्री’ होंगे।’ कांग्रेस की इस ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान करीब पांच महीने में दक्षिण में कन्याकुमारी से लेकर उत्तर में कश्मीर तक 3,570 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। यह 12 राज्यों और दो केंद्रशासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी। इसके साथ ही विभिन्न राज्यों में छोटे स्तर पर ‘भारत जोड़ो यात्राएं’ निकाली जाएंगी।

किसानों को खाद्य सुरक्षा का 'आधारस्तंभ' बताया 

किसानों को खाद्य सुरक्षा का 'आधारस्तंभ' बताया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने बृहस्पतिवार को फसलों की कटाई से जुड़े उत्सव नुआखाई की बधाई दी और किसानों को भारत की खाद्य सुरक्षा का 'आधारस्तंभ' बताया। फसलों की नयी पैदावार का यह उत्सव नुआखाई विशेष रूप से ओडिशा में और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में मनाया जाता है। उप राष्ट्रपति सचिवालय ने धनखड़ के हवाले से ट्वीट किया, ‘‘नुआखाई जुहार।

प्रकृति के उपहारों की खुशी मनाने का यह उत्सव धरती मां के साथ हमारे गहरे संबंधों का प्रतीक है। हमारे मेहनती किसानों को मेरा आभार जो भारत की खाद्य सुरक्षा के आधारस्तंभ हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह पर्व सभी के लिए समृद्धि और खुशहाली लाए।’’

भारत: शाओमी ने एक साथ 2 नए लैपटॉप लॉन्च किए 

भारत: शाओमी ने एक साथ 2 नए लैपटॉप लॉन्च किए 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। अगर आप लैपटॉप खरीदने की सोच रहे हैं तो ये खबर आपके लिए काम की हो सकती है। दरअसल, शाओमी ने भारत में एक साथ अपने दो नए लैपटॉप को लॉन्च किए है, जिसमें Xiaomi Notebook Pro 120G और Xiaomi Notebook Pro 120 शामिल है। बता दें इन लैपटॉप में 120Hz रिफ्रेश रेट वाली 14 इंच की स्क्रीन और एल्युमिनियम एलॉय बॉडी फिनिश डिजाइन दिया गया है। लैपटॉप में 12th जेन Intel Core i5 H-series प्रोसेसर दिया गया है। साथ ही लैपटॉप में 56Whr बैटरी और 100W फास्ट चार्जिंग का सपोर्ट भी मिलता है। चलिए इनके फीचर्स और कीमत के बारे में डिटेल्स में जानते हैं।

Xiaomi Notebook Pro 120G की स्पेसिफिकेशन...
Xiaomi Notebook Pro 120G लैपटॉप में 14 इंच की एमआई-ट्रूलाइफ डिस्प्ले दी गई है, जो 2.5K रिजॉल्यूशन और 16:10 ऑस्पेक्ट रेशयो के साथ आती है। डिस्प्ले के साथ इसमें 120Hz का रिफ्रेश रेट और लो ब्लू लाइट सर्टिफिकेशन का सपोर्ट भी मिलता है। वहीं लैपटॉप में विंडोज 11 के साथ 12th जेन Intel Core i5 H-series प्रोसेसर और Nvidia GeForce MX550 का ग्राफिक्स कार्ड दिया गया है। साथ ही 16 जीबी की LPDDR5 रैम + 512 जीबी की PCIe Gen 4 स्टोरेज दी गई है। कनेक्टिविटी के लिए इस लैपटॉप में डुअल बैंड वाई-फाई 6, ब्लूटूथ v5.2, एक Thunderbolt 4 पोर्ट, HDMI 2.0, USB टाइप-सी पोर्ट, USB टाइप-ए पोर्ट, और 3.5mm कॉम्बो हेडफोन जैक का सपोर्ट मिलता है। साथ ही इसमें 2W के स्टीरियो स्पीकर भी दिए गए हैं।

Xiaomi Notebook Pro 120 की स्पेसिफिकेशन...
Xiaomi Notebook Pro 120 लैपटॉप को Xiaomi Notebook Pro 120G का लाइट वर्जन कहा जा सकता है। Xiaomi Notebook Pro 120 में भी 2.5K रिजॉल्यूशन के साथ 14 इंच की एमआई-ट्रूलाइफ डिस्प्ले दी गई है। इसमें भी 12th जेन Intel Core i5 H-series प्रोसेसर दिया गया है, हालांकि इस लैपटॉप में Intel UHD ग्राफिक्स कार्ड मिलता है। इस लैपटॉप में भी Notebook Pro 120G वाले सभी पोर्ट्स दिए गए हैं।

Xiaomi Notebook Pro 120G और Notebook Pro 120 की कीमत...

बता दें Xiaomi Notebook Pro 120G और Notebook Pro 120 को सिंगल सिल्वर कलर में लॉन्च किया गया है। Xiaomi Notebook Pro 120G की कीमत 74,999 रुपये और Notebook Pro 120 की कीमत 69,999 रुपये रखी गई है। इन लैपटॉप को कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट और अमेजन इंडिया से आसानी से खरीदा जा सकता है।

अभिनेत्री सारा ने वर्कआउट वीडियो शेयर किया

अभिनेत्री सारा ने वर्कआउट वीडियो शेयर किया 

कविता गर्ग 

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री सारा अली खान ने सोशल मीडिया पर वर्कआउट वीडियो शेयर किया है। सारा अली खान अपनी फिटनेस को लेकर चर्चा में बनी रहती हैं। सारा अपनी फिटनेस का काफी ख्याल रखती है। सारा अक्सर सोशल मीडिया पर अपने वर्कआउट के दौरान की वीडियो साझा करती रहती हैं। सारा ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है।

इस वीडियो में सारा वर्कआउट करती हुई नजर आईं। वीडियो के बैकग्राउंड में आमिर खान की सुपरहिट फिल्म 'दंगल' का गाना भी सुनाई दे रहा है। फैंस उनके इस वीडियो को काफी पसंद कर रहे हैं।

16 वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों का तबादला किया 

16 वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों का तबादला किया 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर-प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रशासनिक फेरबदल करते हुए 16 वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है। सबसे महत्वपूर्ण तबादला नवनीत सहगल का है, जिन्हें सूचना, खादी और एमएसएमई विभागों से हटा दिया गया है और अब उन्हें अतिरिक्त मुख्य सचिव खेल के रूप में तैनात किया गया है। सहगल का स्थानांतरण अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के कार्यालय से सेवानिवृत्त होने के एक दिन बाद हुआ है। सभी महत्वपूर्ण सूचना विभाग संजय प्रसाद को दिया गया है, जिनके पास गृह विभाग का प्रभार भी है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद को उसी क्षमता में उद्योग विभाग में स्थानांतरित कर दिया गया है, जबकि पार्थसारथी सेन शर्मा, जो केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे हैं, प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य और चिकित्सा के रूप में पदभार ग्रहण करेंगे। अब तक राज्यपाल के अतिरिक्त मुख्य सचिव के पद पर राजभवन में पदस्थापित महेश गुप्ता को उसी पद पर विद्युत विभाग में स्थानांतरित किया गया है।कल्पना अवस्थी राज्यपाल की नई प्रमुख सचिव हैं। माध्यमिक शिक्षा विभाग में अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला को आयुष विभाग में स्थानांतरित किया गया है।

अमेरिका: पीएम, सीएम व अडानी के खिलाफ केस दर्ज 

अमेरिका: पीएम, सीएम व अडानी के खिलाफ केस दर्ज 

अकांशु उपाध्याय/सुनील श्रीवास्तव 

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। एक भारतीय मूल के डॉक्टर ने अमेरिका में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आंध्र प्रदेश के सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी और उद्योगपति गौतम अडानी के खिलाफ केस दर्ज कराया है। ये केस भ्रष्टाचार और पेगासस जासूसी समेत कई मुद्दों को लेकर दर्ज कराया गया है। कोलंबिया की डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने तीनों नेताओं समेत कई अन्य लोगों को भी इस मामले में समन जारी किया है‌। पीएम मोदी, रेड्डी और अडानी के खिलाफ ये मामला रिचमंड के गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट लोकेश वुय्युरु ने दर्ज कराया है। खास बात ये है कि बिना किसी दस्तावेजी सबूत के आंध्र प्रदेश से आने वाले भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर ने यह केस किया है। वहीं, न्यूयॉर्क के अटॉर्नी रवि बत्रा ने इसे 'व्यर्थ का केस' बताया. इस केस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के चेयरमैन प्रोफेसर क्लॉस एम श्वाब का भी नाम है। डॉक्टर ने आरोप लगाया है कि पीएम मोदी, रेड्डी और अडानी अन्य लोगों के साथ, अमेरिका में बड़े पैमाने पर नकद ट्रांसफर कर रहे हैं और राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ पेगासस स्पाइवेयर के इस्तेमाल समेत भ्रष्टाचार में शामिल हैं। यह केस 24 मई को दर्ज कराया गया था। इस मामले में कोर्ट द्वारा 22 जुलाई को समन जारी किया गया था‌‌। भारत में यह समन 4 अगस्त को भेजा गया। वहीं, क्लॉस एम श्वाब के पास यह 2 अगस्त को पहुंचा। समाचार एजेंसी के मुताबिक, रवि बत्रा ने इस बारे में कहा कि लोकेश वुय्युरु के पास फिजूल का समय है‌। वे 53 पेज की शिकायत के माध्यम से हमारी संघीय अदालतों का अनुचित इस्तेमाल कर रहे हैं‌। उन्होंने विदेशी संप्रभु प्रतिरक्षा अधिनियम के खिलाफ अमेरिकी सहयोगी भारत को बदनाम और अपमानित करने के लिए ये केस किया है। उन्होंने कहा, यह व्यर्थ का केस है, इसलिए इस पर कोई भी वकील उनका पक्ष लेने के लिए तैयार नहीं हुआ।

राजस्थान में ई-व्हीकल नीति लागू, 40 करोड़ मंजूर किए

राजस्थान में ई-व्हीकल नीति लागू, 40 करोड़ मंजूर किए

नरेश राघानी 

जयपुर। राजस्थान में ई-व्हीकल नीति गुरुवार से लागू हो गई। राज्‍य सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद को प्रोत्साहित करने के लिए राजस्थान बिजली चालित वाहन नीति (आरईवीपी) लेकर आई है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस नीति के तहत सरकार ने ऐसे वाहनों की खरीद पर प्रस्तावित एकमुश्त अंशदान आद‍ि मद के लिए 40 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं। अधिकारी ने बताया कि परिवहन व सड़क सुरक्षा विभाग की ओर से बुधवार को इस बारे में अधिसूचना जारी की गई। इसके अनुसार राज्‍य में इलेक्ट्रिक वाहनों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए राज्‍य सरकार आरईवीपी 2022 अधिसूचित कर रही है। यह नीति एक सितंबर 2022 से पांच साल की अवधि के लिए लागू होगी।

मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने इस साल 24 मई को इस नीति को मंजूरी दी थी। इसके तहत सरकार ने ऐसे वाहनों की खरीद पर प्रस्तावित एकमुश्त अंशदान और राज्य माल व सेवा कर (एसजीएसटी) पुनर्भरण के लिए 40 करोड़ रूपए के अतिरिक्त बजट प्रावधान को स्वीकृति दी है। एक सरकारी प्रवक्ता ने उम्मीद जताई कि इस नीति के लागू होने से राज्य में डीजल-पेट्रोल से चलने वाले वाहनों से होने वाले प्रदूषण में कमी आएगी। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने वर्ष 2019-20 के बजट में इलेक्ट्रिक व्हीकल नीति लाने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार सभी प्रकार के ई-वाहनों के संचालन को प्रोत्साहन देने के लिये प्रतिबद्ध है। घोषणा के अनुसार इन वाहनों के क्रेताओं को एसजीएसटी का पुनर्भरण किए जाने के साथ ही, ऐसे वाहनों की खरीद को प्रोत्साहन देने के लिए एकमुश्त अनुदान के रूप में बैटरी क्षमता अनुसार दुपहिया वाहनों को 5 से 10 हजार रुपए प्रति वाहन एवं तिपहिया वाहनों को 10 से 20 हजार रुपए प्रति वाहन दिया जाएगा।

राज्य में ई-वाहनों को मोटर वाहन कर के दायरे से बाहर रखा गया है। वहीं एक अन्‍य अधिकारी ने हाल ही में कहा था कि राज्‍य में इलेक्ट्रिक वाहन खरीद चुके लोगों का इन वाहनों की खरीद पर मिलने वाले अनुदान का इंतजार जल्द ही खत्म हो जाएगा क्योंकि परिवहन विभाग को इस मद में 40 करोड़ रुपये मिल चुके हैं।परिवहन विभाग के आयुक्त के एल स्वामी ने बताया कि अब, हमें राज्य सरकार से 40 करोड़ रुपये का कोष मिला है। इलेक्ट्रिक वाहन खरीद अनुदान से संबंधित सभी लंबित बकाया राशि को जल्द ही मंजूरी दे दी जाएगी। परिवहन विभाग के एक अधिकारी के अनुसार, राज्य के 12 क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) क्षेत्रों में पिछले वित्त वर्ष में ई-वाहन खरीदने वाले लोगों को अनुदान के रूप में 18 करोड़ रुपये दिए गए थे। उन्होंने कहा कि आरटीओ क्षेत्रों के 3,000 वाहन मालिकों को 5 करोड़ रुपये की अनुदान राशि का वितरण किया जाना है, जो जल्द ही किया जाएगा।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-328, (वर्ष-05)

2. शुक्रवार, सितंबर 2, 2022

3. शक-1944, भाद्रपद, शुक्ल-पक्ष, तिथि-षष्ठी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:56। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 28 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक कासहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...