रविवार, 14 मार्च 2021

मदरसों को बंद करेगा श्रीलंका, बुर्के पर प्रतिबंध

सुनील श्रीवास्तव   

कोलंबो। श्रीलंका राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर बुर्के पर प्रतिबंध लगाने जा रहा है। एक हजार से ज्यादा मदरसों व इस्लामिक स्कूलों (मदरसों) को भी बंद किया जाएगा। श्रीलंका के जनसुरक्षा मंत्री शरथ वीरासेकरा ने बढ़ते कट्टरपंथ की निशानी बताते हुए इस फैसले की जरूरत बताई है। मंत्री वीरासेकरा ने बताया, कैबिनेट की सहमति के लिए उन्होंने विधेयक पर दस्तखत किए हैं। विधेयक में राष्ट्रीय सुरक्षा को आधार बनाते हुए मुस्लिम महिलाओं के पूरे चेहरे को ढंकने पर रोक लगाने की मंजूरी मांगी गई है। कैबिनेट की मुहर के बाद संसद कानून बना सकती है। वीरासेकरा ने कहा, शुरुआती दौर में देश में मुस्लिम लड़कियों व महिलाओं ने कभी बुर्का नहीं पहना। बीते सालों में इसका चलन तेजी से बढ़ा है। इसकी बड़ी वजह बढ़ता धार्मिक कट्टरपंथ है। लिहाजा, इस पर रोक लाजिमी है। गौरतलब है कि कई देश बीते दिनों बुर्के पर प्रतिबंध लगा चुके हैं। हाल ही में, स्विट्जरलैंड ने भी जनमत संग्रह कर बुर्का पहनने पर रोक लगाई थी। मंत्री वीरासेकरा के मुताबिक, जिन एक हजार मदरसों व इस्लामिक स्कूलों पर रोक का प्रस्ताव है। वे राष्ट्रीय शिक्षा नीति का मखौल उड़ा रहे हैं। किसी को कुछ भी पढ़ाने की इजाजत नहीं दी जा सकती।बौद्ध बहुल श्रीलंका में 2019 में चर्च व होटलों पर हमले के बाद भी बुर्का पहनने पर अस्थायी पाबंदी लगी थी। बीते साल कोरोना में जान गंवाने वाले मुस्लिमों को सरकार ने दफनाने के बजाय जलाने का आदेश दिया था। हालांकि, बाद में पाबंदी हटा ली थी।

वनवासी समुदाय का उत्थान बेहद जरूरी: राष्ट्रपति

अकांशु उपाध्याय    

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को कहा, कि आदिवासी वनवासी समुदाय के विकास के बिना देश और समाज का विकास नहीं हो सकता। पूर्वांचल के तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन कोविंद ज़िले में बाभनी ब्लाक के कारिडाड़, चपकी स्थित सेवा समर्पण संस्थान द्वारा संचालित सेवा कुंज आश्रम में नवनिर्मित स्कूल, छात्रावास आदि का लोकार्पण करने पहुँचे थे। उन्होने कहा कि जब भगवान राम ने रावण से युद्ध में विजय पायी थी। उसमें वनवासियों का बहुत बड़ा सहयोग था। उसी प्रकार यदि देश और समाज आगे बढाना है तो पहले वनवासी समाज को आगे ले जाना होगा। राष्ट्रपति ने कहा कि सोनभद्र चार प्रदेशों की सीमाओं से घिरा हुआ है। ऐसे स्थान पर स्कूल और हास्टल संचालित होने से उत्तर प्रदेश सहित अन्य प्रदेशों के सीमावर्ती इलाक़ों के वनवासी छात्रों को भी लाभ होगा।

बिक्री को लेकर राहुल ने सरकार की आलोचना की

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ईंधन एवं गैस की बढ़ती कीमत और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों की कथित बिक्री को लेकर रविवार को केंद्र सरकार की आलोचना की। राहुल गांधी ने ट्वीट किया। ‘‘केंद्र सरकार की दोनों हाथों से दिनदहाड़े लूट। नंबर एक, गैस-डीजल-पेट्रोल पर भारी कर की वसूली। नंबर दो, मित्रों को पीएसयू-पीएसबी बेचकर जनता से उसकी हिस्सेदारी, रोजगार और सुविधाएं छीनना। प्रधानमंत्री का एक ही कायदा, देश फूंककर मित्रों का फायदा।’’ राहुल गांधी और उनकी पार्टी ईंधन की बढ़ती कीमतों पर सरकार की लगातार आलोचना कर रही है। कांग्रेस ने दावा किया है, कि सरकार ने 2014 में सत्ता में आने के बाद से पेट्रोलियम उत्पादों पर कर लगाकर 21 लाख करोड़ रुपए से अधिक की राशि एकत्र की है। कांग्रेस ने पेट्रोलियम उत्पादों की बढ़ती कीमतों को लेकर संसद की कार्यवाही बाधित की और इस मामले पर चर्चा की मांग की।

असम में आतंकवाद-उग्रवाद कम हुआ: राजनाथ

दिसपुर। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि असम में आतंकवाद एवं उग्रवाद कम हुआ है। जिससे सरकार की विकास गतिविधियों को गति मिली है। यहां एक चुनाव रैली को संबोधित कर रहे राजनाथ सिंह ने कहा कि असम में शांति लौटी है और राज्य में गत पांच साल के भाजपा शासन के दौरान दर्जनों उग्रवादी संगठनों ने हथियार डाले हैं। उन्होंने कहा, कि जब मुझसे विश्वनाथ आने को कहा गया तो वर्ष 2014 में हुई आदिवासियों के नरसंहार की घटना मेरे दिमाग में आई लेकिन अब हालात सुधर गए हैं। इलाके में शांति बहाल होने से बेहतर और कोई खबर नहीं हो सकती। आदिवासियों की हत्या की घटना के समय गृह मंत्री रहे राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2014 में जब कार्यभार संभाला तो केंद्र ने आतंकवाद और उग्रवाद को खत्म करने का बीड़ा उठाया। उन्होंने कहा कि असम के हालात में बहुत सुधार आया है। राज्य प्रगति के पथ पर है।

बंगाल के चुनावी रण में भाजपा ने बिछाई बिसात

कोलकाता। भाजपा ने पश्चिम बंगाल में तीसरे और चौथे चरण के तहत 75 सीटों पर होने वाले मतदान के मद्देनजर रविवार को 63 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी। पार्टी ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो सहित चार सांसदों को मैदान में उतारा है। उम्मीदवारों की सूची जारी करते हुए भाजपा महासचिव अरूण सिंह ने बताया, कि बाबुल सुप्रियो टॉलीगंज से विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। जबकि, बंगाली अभिनेत्री व हुगली से सांसद लॉकेट चटर्जी को पार्टी ने उनके ही संसदीय क्षेत्र की चुंचुड़ा विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है। पश्चिम बंगाल के ही कूचबिहार से पार्टी के सांसद निसिथ प्रामाणिक को दिनहाटा विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया गया है। दिनहाटा विधानसभा क्षेत्र उनके संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है। राज्यसभा सदस्य स्वपन दासगुप्ता को भी पार्टी ने चुनाव मैदान में उतारा है। वह तारकेश्वर से चुनावी मैदान में ताल ठोकेंगे। जाने माने अर्थशास्त्री अशोक लाहिड़ी को अलीपुरद्वार से जबकि तृणमूल कांग्रेस छोड़कर पिछले दिनों भाजपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री राजीव बनर्जी को डोम्जुर से उम्मीदवार बनाया गया है।

शिक्षा व भोजन की निशुल्क व्यवस्था करेगी सरकार

हरिओम उपाध्याय   

सोनभद्र। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने रविवार को सोनभद्र के सभी आदिवासी बच्‍चों के उच्च शिक्षा की व्यवस्था की जिम्मेदारी जिलाधिकारी को सौंपते हुए निर्देश दिया कि पूरे जिले में जो भी वनवासी-आदिवासी समाज के बच्चे हैं। उनका पता लगाकर उनके शिक्षा की व्यवस्था करें। उन्होंने घोषणा की कि ऐसे बच्चों के रहने, खाने एवं शिक्षा की व्यवस्था राज्य सरकार द्वारा नि:शुल्क की जाएगी। सोनभद्र जिले के कारीडाड़ स्थित सेवा समर्पण संस्थान द्वारा संचालित सेवा कुंज आश्रम में रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्कूल और छात्रावास का रविवार को लोकार्पण करने के बाद उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल और मुख्‍यमंत्री से आदिवासी-वनवासी समाज के विकास की अपेक्षा की।


दिसंबर तक चल सकता है 'किसान' आंदोलन: टिकैत

बृजेश केसरवानी   

प्रयागराज। केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में भारतीय किसान यूनियन की अगुवाई में चल रहे किसान आंदोलन के इस साल दिसंबर तक चलने की संभावना है। यह बात भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने रविवार को यहां कही। पश्चिम बंगाल का दौरा करने के बाद रविवार को प्रयागराज पहुंचे टिकैत ने झलवा में संवाददाताओं से कहा, “नवंबर-दिसंबर तक इस आंदोलन के चलने की उम्मीद है।” पश्चिम बंगाल में आगामी विधानसभा चुनाव के पूर्व अपने बंगाल दौरे के बारे में टिकैत ने बताया, “दिल्ली से सरकार के लोग पश्चिम बंगाल में किसानों से एक मुट्ठी अनाज मांग रहे हैं। हमने किसानों से कहा कि जब वे चावल दें तो अनाज मांगने वालों से कहें, कि वे इस पर एमएसपी भी तय करवा दें और 1850 रुपये का भाव दिला दें।”

कांग्रेस कर रही देश बांटने वालों के साथ गठबंधन

दिसपुर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कांग्रेस और उसके नेता राहुल गांधी पर उन राजनीतिक दलों के साथ गठजोड़ करने के लिए तीखे हमले किए। जो ”देश को बांटना चाहते हैं।” शाह ने कहा कि भाजपा वोट बैंक की राजनीति नहीं करती है। शाह ने आरोप लगाया, कि कांग्रेस पार्टी ने 15 साल तक राज्य में शासन करने और राज्य का प्रतिनिधित्व करने वाला एक प्रधानमंत्री होने के बावजूद पड़ोसी देशों से अवैध घुसपैठ के मुद्दे को हल करने के लिए कुछ नहीं किया। शाह परोक्ष तौर पर मनमोहन सिंह की ओर इशारा कर रहे थे। जिन्होंने राज्यसभा में असम का प्रतिनिधित्व किया। शाह ने यहां एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, ”कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। उसने असम में बदरुद्दीन अजमल की एआईयूडीएफ, केरल में मुस्लिम लीग और पश्चिम बंगाल में इंडियन सेक्युलर फ्रंट के साथ गठबंधन किया है। असम अजमल के हाथों में सुरक्षित नहीं रह सकता है।” उन्होंने कहा, ”असम के लोग तय कर सकते हैं कि उनके कल्याण के बारे में कौन ज्यादा चिंतित है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी या बदरुद्दीन अजमल।”

जन जागरूकता-सहायता केम्प का हुआ आयोजन

गोपीचंद सैनी
बागपत। रविवार को कल्याण भारती सेवा संस्थान के तत्वावधान में संस्थान के आजाद नगर कार्यालय बड़ौत, निकट गली नं. 05 पर एक जन जागरूकता व सहायता केम्प का आयोजन किया गया। संस्थान के प्रबंध निदेशक गोपी चंद सैनी ने जानकारी देते हुए कहा, कि संस्थान के द्वारा जन जागरूकता व सहायता केम्प का आयोजन। सप्ताह के प्रत्येक रविवार को सुबह 11 बजे से शाम 04:30 तक किया जा रहा है। जिसमें आम जन मानस को जनहितकारी सरकारी योजनाओं की जानकारी देकर वह अन्य समस्याओं के निवारण हेतु आम  जनमानस की सहायता करने का एक प्रयास है। जिसमें जल्द ही संस्थान कुछ धर्मार्थ सेवाओं को भी जोड़ने जा रहा है। कल्याण भारती सभी आम जन को संस्थान द्वारा चलाई जा रही सेवा का लाभ लेने के लिए संस्थान सभी आम जन मानस का स्वागत करता है।
आज के कार्यक्रम में अमित कुमार, दीपक कुमार, रमाकांत शर्मा, नीतू जैन,  मितलेस उपस्थित रही।

वाहन चेकिंग अभियान में 7 वाहनों का किया चालान

कौशाम्बी। कोखराज थाना के अन्तर्गत शहजादपुर चौकी प्रभारी राकेश चंद्र शर्मा ने अपने पुलिस स्टाफ के साथ टेंगाई चौराहा पर सघन वाहन चेकिंग किए। वाहन चेकिंग के दौरान सात मोटर सायकिल का पुलिस टीम ने ई- चालान किया और बिना हेलमेट पहने लोगो को पुलिस टीम ने सख्त हिदायत दे कर छोड़ दिया। वाहन चेकिंग के दौरान चौकी इंचार्ज ने वाहन चालको से कहा, कि यदि भविस्य में बिना हेलमेट के वाहन चलाते पकड़े गए तो सख्त कार्यवाही की जाएगी। 
नथन पटेल 

एसएसपी का आदेश, चोरों को पकड़ा, लिया रिमांड

राणा ओबराय   
चंडीगढ़। शहर में बस स्टैंड के अंदर सक्रिय होकर पल भर में लोगों को सामान ताड़ देने वाले दो शातिर चोरों को थाना-36 पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दोनों को रविवार को जिला अदालत में पेश कर रिमांड हासिल कर ली है। जिला अदालत ने दोनों को 1 दिन की रिमांड पर भेज दिया है। बता दें, कि दोनों की पहचान हरियाणा के जिला रोहतक के रहने वाले 26 साल के बलराम और 61 साल के ओमप्रकाश के रूप में हुई है। थाना 36 पुलिस ने जहां इन्हें पकड़कर बड़ी सफलता हासिल की है। वहीं इनके पास से चोरी का सामान भी बरामद किया है। दोनों के पास 9 लैपटॉप, एक आईपैड और 1 चार्जर बरामद किया गया है। जानकारी के मुताबिक सेक्टर 43 आईएसबीटी में कुछ समय से बसों के अंदर से सामान चोरी हो रहा था और इसे लेकर शिकायतें मिल रही थीं। जिसके चलते थाना 36 के प्रभारी इंस्पेक्टर मनिंदर सिंह की सुपर विजन में एक टीम गठित की गई। टीम में आईएसबीटी सेक्टर 43 चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार और अन्य पुलिसकर्मियों को शनिवार देर शाम सूचना मिली की बसों के अंदर से बैग चोरी करने वाले ये दो शातिर आरोपी आईएसबीटी के पास सक्रिय है। पुलिस ने मामले की सूचना पाते ही दोनों आरोपियों को धर दबोचा और मामले में अपनी अगली कार्रवाई शुरू कर दी। बताते हैं कि ये शातिर बस स्टैंड के अंदर बड़ी चालाकी से घूमते थे। ये फिराक में रहते थे कि कौन सी बस में बैग पड़ा हैं। या फिर अगर कोई बस से उतर कर कुछ लेने जाता था तो उसका सामान ये गायब कर देते थे। बतादें, कि शहर के एसएसपी कुलदीप सिंह चहल के दिशानिर्देशों के पर शहर की पुलिस टीम पूरी तरह से एक्टिव है और नानाप्रकार के मामलों में धड़ाधड़ कार्रवाई जारी है।

कटाक्ष: चौटाला ने इनेलों नेता अभय पर बोला हमला

राणा ओबराय   
चंडीगढ़। जननायक जनता पार्टी के नेता दिग्विजय सिंह चौटाला ने इनेलो नेता अभय चौटाला के एक बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी हैं। उन्होंने कहा कि अभय चौटाला की जननायक स्व. चौधरी देवीलाल की राजनीतिक वारिस बनने की चाह ने ही उनका और उनकी पार्टी इनेलो का बेड़ा गर्क कर लिया है। दिग्विजय ने कहा कि जननायक चौ. देवीलाल एक शख्स ही नहीं थे। बल्कि अपने आप में एक संस्था थे। उन्होंने कहा कि उनकी उंगली पकड़ कर न जाने कितने लोग विभिन्न प्रदेशों में राजनीति के पटल पर आए और देश की राजनीति में अपना बड़ा नाम किया। जेजेपी नेता ने कहा कि लोकतांत्रिक प्रणाली में कोई नेता चौधरी देवीलाल जैसी शख्सियत का वारिस नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने भी कहा था कि उनकी वारिस तो इस देश की आम जनता है।
उन्होंने कहा कि जनता आज भी देवीलाल द्वारा किए गए जन-कल्याणकारी कार्यों को याद करती है और अपने जनप्रतिनिधियों से चौधरी देवीलाल की नीतियों पर काम करने की अपेक्षा रखती है। लेकिन अभय चौटाला को हमेशा से ही चौधरी देवीलाल का राजनीतिक वारिस बनने की भूख रही है। दिग्विजय ने कहा कि आज हमें भूख है। चौधरी देवीलाल के दिखाए रास्ते पर चलकर उनके सपने पूरे करने की जबकि उन्हें भूख है। वारिस बनने की। उन्होंने कहा कि फर्क साफ है और जनता सब देख रही है इसलिए अभय सिंह चौटाला को ये गलतफहमी निकाल देनी चाहिए। दिग्विजय सिंह चौटाला ने यह भी कहा कि रही बात गांवों में घुसने ना देने की तो इन्हीं धमकियों और गुंडागर्दी की वजह से इन्होंने इनेलो पार्टी का बंटाधार किया है। उन्होंने कहा कि प्रजातंत्र में चुनाव कोई भी लड़े, जनता के बीच जाने का सबको हक है। लेकिन अभय सिंह ने एक बार फिर स्पष्ट कर दिया कि उनकी हमेशा राजनीति दबाने, मारने और पीटने की रही है और रहेगी। दिग्विजय ने कहा कि अभय सिंह तो ये बहाना ढूंढ रहे हैं, कि चुनाव किस मुंह से लड़ें लेकिन ये शायद भूल रहे हैं, कि जेजेपी-बीजेपी सरकार में अभय सिंह चौटाला की गुंडागर्दी नहीं चलेगी। क्योंकि यहां प्रजातंत्र और कानून व्यवस्था का राज है।

व्यापार मंडल का चुनाव संपन्न, सभी पदाधिकारी चुनें

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। रानी देवी धर्मशाला मुट्ठीगंज में गोल घर व्यापार मंडल का चुनाव आयोजित किया गया। जिसमें सभी पदाधिकारी निर्विरोध चुने गए। जिसमें अध्यक्ष  सुनील केसरवानी महामंत्री संतोष अग्रहरी, उपाध्यक्ष राजेश केसरवानी, रवि केसरवानी, रतन जायसवाल , यासिर बादशाह, सुरेश चंद्र केसरवानी ,कोषाध्यक्ष के रूप में बाबूलाल केसरवानी, संगठन मंत्री के रूप में गंगेश शर्मा, शिव कुमार केसरवानी उप मंत्री के रूप में मोतीलाल केसरवानी राजकुमार केसरवानी निर्वाचित किए गए। इस अवसर पर पंचायती उदासीन अखाड़ा के महंत जगतार मुनि ने सभी चुने हुए पदाधिकारियों को आशीर्वाद दिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अग्रहरि समाज के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रामजी अग्रहरि एवं विशिष्ट अतिथि सुशील चंद्र गुप्ता, पार्षद सादिक उर्फ लड्डू ने सभी निर्विरोध हुए पदाधिकारियों को बधाई देते हुए संगठन को गतिशील बनाने के लिए सभी व्यापारी बंधुओं को मार्गदर्शन दिया। चुनाव के संदर्भ में चुनाव के मुख्य अधिकारी इलाहाबाद गल्ला तिलहन व्यापार मंडल के अध्यक्ष सतीश चंद्र केसरवानी, चुनाव अधिकारी विनोद केसरवानी और सहचुनाव अधिकारी कोठापारचा व्यापार मंडल के अध्यक्ष शिव शंकर केसरवानी रहे। चुनाव का संचालन करते हुए संतोष अग्रहरी ने यह और धन्यवाद समापन करते हुए राजेश केसरवानी ने चुनाव में हिस्सा लेने आए सभी व्यापारियों के प्रति हृदय से आभार प्रकट किया। चुनाव में सैकड़ों व्यापारी बंधुओं ने हिस्सा लिया।

अखिलेश पर फर्जी मुकदमा, सरकार का विरोध किया

बृजेश केसरवानी
प्रयागराज। समाजवादी पार्टी महानगर कार्यालय चौक मे महानगर अध्यक्ष इफ्तेखार हुसैन की अध्यक्षता मे बैठक हुई। जिसमे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर योगी सरकार के इशारे पर फर्जी मुक़दमा लिखाने पर कड़ी निन्दा करते हुए रोष प्रकट किया गया। इफ्तेखार हुसैन ने कहा, कि भाजपा के लोग समाजवादी पार्टी के बढ़ते क़दम से बौखला गए हैं। योगी से प्रदेश सम्भल नहीं पा रहा। युवा रोज़गार के लिए तो किसान अपने हक़ के लिए सड़कों पर हैं।बहन बेटियों की असमत तार तार हो रही है। आवाज़ उठाने वालों का गला घोंटा जा रहा। योगी सरकार लोकतंत्र का मखौल उड़ा रही है। लेकिन सत्ता के नशे मे चूर सरकार विपक्षीयों की आवाज़ को उठाने वालों पर फर्ज़ी मुक़दमा क़ायम कर हताश करने की अपनी नाकाम कोशिश कर लोगों के सामने एक तानाशाह के रुप मे पेश कर रही।उपाध्यक्ष महेन्द्र निषाद ने कहा, कि समाजवादी न तो मुक़दमे से डरते हैं और न ही इस तानाशाह से। 2022 मे तानाशाह का तख्ता पलट जनता करेगी। महासचिव रवीन्द्र यादव ने संचालन करते हुए कार्यकर्ताओं को कहा की हर एक कार्यकर्ता अखिलेश यादव बन जाए देखते है। योगी सरकार कितने अखिलेश यादव पर मुक़दमा क़ायम करती है। अल्पसंख्यक सभा के नगर अध्यक्ष शाहिद प्रधान ने योगी सरकार को हर मोर्चे पर फेल बताते हुए कहा की योगी बाबा की सरकार की मात्र एक उफलब्धि है। बलात्कार मे प्रदेश नम्बर वन पर है।बलात्कारी योगी सरकार के मंत्रीयों के संरक्षण में खुलेआम घूम रहे हैं। जब्कि, बलात्कार की शिकार का परिवार कहीं ट्रकों की पहियों के नीचे तो कहीं गोली और बम से दम तोड़ रहा है। बैठक में इफ्तेखार हुसैन,रवीन्द्र यादव,महेन्द्र निषाद,मोइन हबीबी,वज़ीर खान,ओ.पी यादव,अभिमन्यु पटेल,गिरजा शंकर यादव,एस पी श्रीवास्तव, शाहिद अब्बास रिज़वी,राकेश वर्मा,रीता मौर्या, अस्करी,अशोक मौर्या, वक़ार अहमद,सारिका सिंह यादव,रेनू गौतम बालमीकी,अब्दुल्ला तेहामी,अरुण सोनकर,सुनील कुशवाहा, राजेश कुमार उर्फ पप्पू पासी,आशीष पाल,पंकज साहु, आसिफ हुसैन,आसिफ अन्सारी, नेपाल सिंह पटेल,ताहिर उमर,जयभारत यादव,सैफ उद्दीन राईन,आंकित सोनकर,अमित सोनकर,मुन्नीलाल दिवाकर,आशीष यादव,सुरेश कुमार श्रीवास्तव,जापान सिंह पटेल, दयाशंकर यादव,अंजली सोनकर, शमीम अहमद, अमित कुमार प्रजापति, हाशिम, चन्द्रभान सिंह पटेल,राहुल रामदीन आदि उपस्थित रहे।

नवनिर्वाचित कार्यकर्ताओं का सम्मान समारोह हुआ

बृजेश केसरवानी  
प्रयागराज। जमुना पार स्वयंबर गेस्ट हाउस मे समाजवादी पार्टी जमुनापार शहर दक्षिणी 263 विधानसभा के नवनिर्वाचित कार्यकर्ताओं का सम्मान समारोह हुआ। जिसकी अध्यक्षता महानगर अध्यक्ष सैयद इफ्तेखार हुसैन साहब और मुख्य वक्ता जिला अध्यक्ष योगेश यादव और संचालक 7 बार शहर दक्षिणी विधानसभा के अध्यक्ष रहे। मोहम्मद गौस ने की
कार्यकर्ता सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि पूर्व सांसद श्यामाचरण जी एवं पूर्व सांसद नागेंद्र पटेल, विशिष्ट अतिथि पूर्व विधायक हाजी परवेज अहमद साहब और मंचासीन वरिष्ठ  नेता राम मिलन यादव मिलन यादव,  नेता पप्पू लाल निषाद, हरिओम साहू राम मूरत यादव ,महेंद्र निषाद, मोहम्मद शारिक, संदीप पटेल, बृजेश केसरवानी थे। मुख्य अतिथि पूर्व सांसद श्यामाचरण गुप्ता 2022 के चुनाव में अखिलेश यादव को साइकिल पर मोहर लगाकर विजई बनाने की अपील करते हुए कहा कार्यकर्ता ही रीड की हड्डी है। कार्यकर्ता एकजुट हो जाए जिससे विधानसभा के चुनाव में सबसे ज्यादा जीत हासिल कर वर्तमान भाजपा सरकार को मुंह तोड़ जवाब दिया जा सके। इसी क्रम में पप्पू लाल निषाद ने कहां की भाजपा की गलत नीतियों की सरकार है या सरकार गरीबों और किसानों पर अत्याचार कर रही है। इसे जल्दी उखाड़ फेंकना है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से महेश निषाद रामभवन निषाद राजेश यादव अंकित विश्वकर्मा श्यामू यादव विकास यादव बालाजी और जमुना पार समस्त कार्यकर्ता उपस्थित थे।

नैनी रिपोटर्स वेलफेयर एसोसिएशन का हुआ पुनर्गठन

बृजेश केसरवानी   
प्रयागराज। नैनी रिपोर्टर्स वेलफेयर एसोसिएशन का पुनर्गठन रविवार को किया गया। अवंतिका आवास योजना में एसोसिएशन के निवर्तमान उपाध्यक्ष गजेन्द्र प्रताप सिंह के मार्गदर्शन में हुई बैठक में पदाधिकारियों का चयन सर्वसम्मति से हुआ। बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार राजेश सरकार एवं संचालन अभिषेक पाठक ने किया। अध्यक्ष एवं महामंत्री पद के लिए क्रमशः मिथलेश त्रिपाठी व अभिषेक पाठक नियुक्त हुए। वहीं उपाध्यक्ष पद पर घनश्याम शुक्ल और कोषाध्यक्ष के रूप में सत्यम जायसवाल सबकी सहमति से चयनित हुए। अन्य पदो पर सहमति के आधार पर पदाधिकारियों का चयन शीघ्र किए जाने का निर्णय लिया गया। बैठक में मिथलेश त्रिपाठी, अभिषेक पाठक, सत्यम जायसवाल, घनश्याम शुक्ल और राजेश सरकार उपस्थित रहे।

मुस्लिम समुदाय के लोगों ने राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

अली अकबर 

काशीपुर। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने उप जिला अधिकारी कार्यालय में एकत्रित होकर पूर्व शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिज़वी के द्वारा कुरान की 26 आयतों के हटाने के सम्बंध में सुप्रीम कोर्ट में डाली गई याचिका के विरोध में आज रविवार को काशीपुर के मुस्लिम समाज की तरफ से एक ज्ञापन उप जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को भेजा गया हैं। जिसमें कहा गया, कि इस प्रकार का ग़लत बयान सोशल मीडिया पर देते हुए साफ तौर पर देखा जा रहा है। उक्त व्यक्ति ने मुस्लिम समाज की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। तथा भारत के संविधान पर सीधे हमला करने का काम किया है। इस व्यक्ति की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की गई तथा कठोर कार्रवाई करते हुए इस पर मुकदमा दर्ज करके जेल भेजे जाने की गुहार लगाई है।ताकि, भविष्य में इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति न हो इसी बीच समाज सेवी मंसूर अली मंसूरी ने कहा कि वसीम रिज़वी पर यूऐपीऐ के अंतर्गत मुकदमा दर्ज होना चाहिए इस प्रकार का बयान देकर इसने धार्मिक उन्माद फैलाने का काम किया है। जो देश विरोधी है सभी धर्मों सभी समुदायों उनकी आस्था का सम्मान करने की जो विश्व भर में भारत की पहचान है। उस छवि को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख़राब करने का षड़यंत्र किया है। सरकार इस मामले को संज्ञान में लेते हुए तुंरत इस व्यक्ति पर कानूनी कार्रवाई करते हुए जेल की सलाखों के पीछे भेजने का काम करे ताकि, पूरे देश में अमन शांति का स्वच्छ माहौल बना रहे। और वसीम रिज़वी जैसे धार्मिक उन्माद फैलाने वालों पर नकेल कसी जाए। तो वहीं इस मामले में मंसूर अली मंसूरी ने कहा कि वह अपने अधिवक्ता से मिलकर उपरोक्त वसीम रिजवी के खिलाफ कोतवाली में धार्मिक उन्माद फैलाए जाने को लेकर अभियोग पंजीकृत कर आएंगे। ज्ञापन देने वालों में शहर इमरान, मुफ्ती मुनाज़िर हुसैन, पूर्व चेयरमैन शमशुद्दीन शफीक अहमद अंसारी, डाक्टर एम ए राहुल हसीन ख़ान, मुशर्रफ हुसैन, अशरफ एडवोकेट, पार्षद नौशाद हुसैन, पार्षद नज़मी अंसारी, पार्षद शाह आलम, पार्षद पति व पूर्व पार्षद अब्दुल कादिर, पार्षद पति मोहम्मद आरिफ़ मुमताज मंसूरी आदि सैकड़ों मुस्लिम समाज के लोग उपस्थित रहे।

अवैध अतिक्रमण में हटाया गया सदियों पुराना स्थल

हरिओम उपाध्याय   
बाराबंकी। प्रदेश की योगी सरकार के निर्देश पर सड़क के आसपास सभी धार्मिक स्थलों को हटाने के आदेश का पालन शुरू हो गया है। जिसमें तहसील फतेहपुर स्थित मुंशीगंज बाजार के पास सड़क के बीचो बीच बने एक धार्मिक स्थल को आधी रात में हटा दिया गया। इसे हटाने से पहले स्थानीय प्रशासन द्वारा स्थानीय नागरिकों के बीच बैठक कर चर्चा की गई। जिसके बाद लोगों की रजामंदी लेते हुए पुलिस प्रशासन ने अवैध अतिक्रमण की कार्रवाई शुरू की गई। अवैध अतिक्रमण के दिशा-निर्देशन में क्षेत्राधिकारी सहित भारी पुलिस बल मौजूद रहा। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सड़क के बीच और किनारे बने धार्मिक स्थलों को हटाने का आदेश दिया था।
स्थानीय लोगों की माने तो यह धार्मिक स्थल करीब 100 साल पुराना था। इसे हटाने को लेकर कुछ लोगों ने विरोध भी किया लेकिन स्थानीय प्रशासन ने लोगों की भावनाओ का ध्यान रखते हुए ढांचे को दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया है। इस सदियों पुरानी मजार व अवैध स्थल को हटाने में एसडीएम पंकज सिंह, क्षेत्राधिकारी योगेश कुमार, थाना प्रभारी संजय मौर्य, इंचार्ज प्रफुल्ल यादव सहित कई थानों की पुलिस मौजूद रही।

बंगाल विरोधी ताकतों से लड़ने का फैसला: ममता

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में 2007 में पुलिस की गोलीबारी में मारे गए आंदोलनकारियों को रविवार को श्रद्धांजलि दी और कहा कि उन्होंने ‘शहीदों’ के सम्मान में इस निर्वाचन क्षेत्र में ‘बंगाल विरोधी’ ताकतों से लड़ने का फैसला किया है।नंदीग्राम सीट पर अपने पूर्व सहयोगी और भाजपा प्रत्याशी शुभेंदु अधिकारी के खिलाफ चुनाव लड़ रही बनर्जी ने कहा कि किसान पश्चिम बंगाल का गौरव हैं और प्रदेश सरकार उनके विकास के लिए अथक काम कर रही है। बनर्जी ने ट्वीट किया, “2007 में आज के ही दिन बेगुनाह ग्रामीणों को नंदीग्राम में गोलीबारी कर मार दिया गया था। कई लोगों के शव मिल भी नहीं सके। यह राज्य के इतिहास का काला अध्याय था। जान गंवाने वालों को दिल से श्रद्धांजलि।” तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) 14 मार्च को ‘नंदीग्राम दिवस’ के तौर पर मनाती है। पार्टी 2007 में जमीन अधिग्रहण विरोधी आंदोलन के दौरान इस दिन पुलिस की गोलीबारी में मारे गए लोगों के सम्मान में यह दिवस मनाती है। इस घटना से देशभर में रोष व्याप्त हो गया था और कलकत्ता उच्च न्यायालय ने मामले का स्वत: संज्ञान लेकर सीबीआई जांच के आदेश दिए थे।

मुख्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट किया, “ नंदीग्राम में अपनी जान गंवाने वालों की याद में हम 14 मार्च को कृषक दिवस के तौर पर मनाते हैं और कृषक पुरस्कार देते हैं। किसान हमारा गौरव हैं और हमारी सरकार उनके सर्वांगीण विकास के लिए काम कर रही है।” बनर्जी ने कहा कि नंदीग्राम में ‘शहीदों’ के परिवारों के साथ काम करना उनके लिए सम्मान की बात है।

उन्होंने कहा, “ मैं नंदीग्राम के अपने भाइयों और बहनों के प्रोत्साहन से इस ऐतिहासिक स्थल से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार के तौर पर बंगाल चुनाव 2021 लड़ रही हूं। यहां होना और बंगाल विरोधी ताकतों के खिलाफ शहीद परिवारों के सदस्यों के साथ काम करना मेरे लिए बड़े सम्मान की बात है।”

बनर्जी 2007 में विपक्षी टीएमसी की नेता थी और उन्होंने नंदीग्राम तथा सिंगूर में औद्योगिकीकरण के लिए कृषियोग्य भूमि अधिग्रहण करने को लेकर वाम मोर्चा सरकार के खिलाफ आंदोलन की अगुवाई की थी। उनकी पार्टी को इसका फायदा भी मिला था और 2008 में 50 प्रतिशत पंचायत सीटों पर उनकी पार्टी के उम्मीदवार जीते थे तथा 2009 के लोकसभा चुनाव में टीएमसी को 19 सीटों पर जीत हासिल हुई थी।

इसके बाद 2011 के विधानसभा चुनाव में भी टीएमसी जीती थी और इस प्रकार राज्य में वाम मोर्चे के 34 साल लंबे शासन का अंत हो गया था। राज्य की 294 सदस्यीय विधानसभा के लिए आठ चरणों में चुनाव होगा जो 27 मार्च से 29 अप्रैल तक चलेगा। नतीजों का ऐलान दो मई को होगा।

एपी: सड़क हादसे में 6 मजदूरों की मौत, 8 घायल

अमरावती। आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में नुजिविदु के नजदीक रविवार सुबह एक सड़क हादसे में छह कृषि मजदूरों की मौत हो गई। जबकि, आठ अन्य घायल हो गए हैं। पुलिस ने बताया कि ये लोग विजयवाड़ा से 55 किलोमीटर दूर नुजिविदु के नजदीक लियोन टांडा नामक आदिवासी बस्ती के रहने वाले थे और ऑटोरिक्शे से नजदीकी गांव जा रहे थे। तभी अज्ञात वाहन ने उनके ऑटो में टक्कर मार दी। पुलिस ने बताया कि छह मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि, आठ लोग घायल हो गए। जिन्हें नुजिविदु और विजयवाडा के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। नुजिविदु के उप-खंड पुलिस अधिकारी श्रीनिवासुलु ने बताया, कि मामला दर्ज कर टक्कर मारने वाले वाहन की तलाश की जा रही है। आंध्र प्रदेश के राज्यपाल बिश्वभूषण हरिचंदन, उप मुख्यमंत्री (स्वास्थ्य) एकेके श्रीनिवास, गृहमंत्री एम सुचित्रा, तेलुगुदेशम पार्टी अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू और जन सेना के अध्यक्ष के पवन कल्याण ने इस हादसे पर शोक व्यक्त किया है। श्रीनिवास ने कृष्णा जिले के चिकित्सा अधिकारी को घायलों का बेहतर इलाज सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मृतकों के परिवार को सरकारी सहायता उपलब्ध कराने का भी आश्वासन दिया है।

सैकड़ों की तादाद में ग्रामीण आप पार्टी में शामिल

 पंकज कपूर 

जसपुर। आम आदमी पार्टी दिन प्रतिदिन क्षेत्र में उत्तराखंड में भी केजरीवाल अभियान के तहत नुक्कड़ सभाएं कर लोगों को आम आदमी पार्टी से जोड़ने का कार्य कर रही है। यह साफ तौर पर देखने को मिल रहा है।कि लोगों का रुझान दिन प्रतिदिन आम आदमी पार्टी की तरफ आकर्षित हो रहा है। जिससे आम आदमी पार्टी मजबूत होती नजर आ रही है। नुक्कड़ सभाओं में भीड़ का जमावड़ा देखकर विपक्षी दलों में भी हलचल मची हुई है। बता दें कि उत्तराखंड में भी केजरीवाल अभियान के तहत ग्राम बैल जोड़ी में नुक्कड़ सभा का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी तादाद में ग्रामीण लोग एकत्रित हुए जिन्होंने आम आदमी पार्टी की नीतियों से प्रसन्न होकर सैकड़ों लोगों ने आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान एलईडी के माध्यम ग्रामीणों को दिल्ली मॉडल दिखाया गया एलईडी में दिखाया जा रहा है। कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने किस प्रकार से दिल्ली का कायाकल्प किया है। उसे देख कर लोग आश्चर्यचकित रह गए। दौरान अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर यूनुस चौधरी ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने अपने 4 वर्षों के कार्यकाल में कोई भी कार्य नहीं किया है उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपनी गलती मानते हुए 4 वर्षों का कीमती समय बेकार करने के बाद अब दूसरा चेहरा मुख्यमंत्री के रूप में उत्तराखंड की जनता के ऊपर पर थोप दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के वादे सब हवा-हवाई हैं। जमीनी स्तर पर कोई भी विकास कार्य होने वाला नहीं है। उन्होंने दिल्ली मॉडल का उदाहरण देते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में भी दिल्ली की तरह सरकारी स्कूलों को इंग्लिश मीडियम स्कूलों में बदलने का कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधा भी दिल्ली मैं जिस प्रकार से मोहल्ला क्लीनिक खोली गई है। उसी प्रकार से उत्तराखंड में भी हर विधानसभा के हर मोहल्ले के अंदर मोहल्ला क्लीनिक खोले जाएंगे जिसमें लोगों की बीमारियों का फ्री इलाज किया जाएगा। उन्होंने दिल्ली में बिजली हर महा 200 यूनिट फ्री दी जा रही है। इसके अलावा बसों में महिलाओं को फ्री बस सेवा दी जा रही है। उसी प्रकार से उत्तराखंड में भी आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद उत्तराखंड में भी सभी सुविधाएं लोगों को फ्री दी जाएंगी। इस दौरान आम आदमी पार्टी की नीतियों से प्रसन्न होकर मोहम्मद असलम अशरफ मदारी, अब्दुल अजीज, इकबाल अहमद, देवेंद्र कुमार, बाबूराम, मोहम्मद यामीन अहमद अली नजमुल हसन फिरासत अली मौसम अली जाकिर अली मोहम्मद नईम मोहम्मद इकराम गफ्फार, अली अबरार अहमद, रईस अहमद, मुनीर अली, अख्तर अली, जुनेद अली, फिरासत हुसैन, शमशाद अली, सफीक अहमद कलवा, मोहम्मद यूसुफ हमीद अहमद, मिस्त्री शरीफ अहमद, अब्दुल सलाम, पूर्व ग्राम प्रधान मेहंदी हसन, निजामुद्दीन अख्तर अली अहमद, अली चक्की वाले गरीब शाह रियाजुल हसन अफजाल अहमद आदि लोगों ने आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस मौके पर वरिष्ठ आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता सूबा सिंह अमिताभ सक्सेना, अवतार सिंह, शाहरुख चौधरी शानिव चौधरी विक्रम सिंह के अलावा तमाम लोग मौजूद रहे।

मुंबई: कोरोना का कहर बढ़ा, पाबंदियों का दौर जारी

आईपीएल: 2022 में 10 टीमें भाग लेंगी, फैसला

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में 2022 से 10 टीमें भाग लेंगी। इसके लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने आईपीएल 2021) के अंतिम चरण के दौरान मई के महीने में नीलामी करने का फैसला किया है। अध्यक्ष सौरव गांगुली, सचिव जय शाह सहित बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारियों ने शनिवार को साल की शुरुआत में आईपीएल संचालन समिति द्वारा अनुमोदित विभिन्न नीतिगत निर्णयों पर विचार के लिए शनिवार को एक बैठक की। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘‘अगले साल से आईपीएल में 10 टीमें होंगी और इस वर्ष मई के महीने तक नयी फ्रेंचाइजी की बोली प्रक्रिया और इस से जुड़ी विभिन्न चीजों को अंतिम रूप दे दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि एक बार टीमें तय हो जाएंगी तो वे अपना परिचालन कार्य शुरू कर सकती हैं। जिसमें काफी समय लगता है। आईपीएल की 2 नई टीमों के मालिक कौन होंगे ये सवाल सभी के लिए काफी दिलचस्प है। खबरों के मुताबिक, आईपीएल टीम खरीदने की रेस में अडानी ग्रुप और संजीव गोयनका आगे रहेंगे। आईपीएल में एक टीम अहमदाबाद की हो सकती है। जिसे खरीदने की मंशा अडानी ग्रुप पहले ही जाहिर कर चुका है। अब तो अहमदाबाद में दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम भी बन चुका है। बता दें, साल 2022 में जब 10 टीमें आईपीएल में खेलती दिखेंगी तो उसके फॉर्मेट में भी बदलाव हो सकता है। फिलहाल आईपीएल राउंड रॉबिन अंदाज में खेला जाता है जिसमें हर टीम एक-दूसरे से 2-2 बार भिड़ती है और ज्यादा अंक पाने वाली 4 टीमें क्वालिफायर खेलती हैं. लेकिन 10 टीमों के साथ फॉर्मेट कुछ अलग होने की संभावना है। जिसमें टीमों को दो ग्रुप में बांटने की बात कही जा रही है। हालांकि, इस बात की कोई पुष्टि नहीं हुई है।

एक्‍ट्रेस मासिरो ने स्टेज पर ही उतार दिए अपने कपड़े

पेरिस। दुनिया भर में अपना विरोध जताने के लिए लोग तरह-तरह के रास्‍ते अपनाते हैं। लेकिन फ्रांस की एक एक्‍ट्रेस ने विरोध का जो रास्‍ता अपनाया उससे सभी हैरान रह गए। फ्रांस की 57 साल की एक्‍ट्रेस कोरेन मासिरो ने सरकार के एक फैसले का विरोध करने के लिए अवॉर्ड फंक्‍शन में स्‍टेज पर ही अपने कपड़े उतार दिए। इस अवॉर्ड फंक्‍शन का नाम सीजर अवॉर्ड है। इसे फ्रांस में ऑस्‍कर के बराबर समझा जाता है। दरअसल, फ्रांस में कोविड 19 महामारी के कारण सिनेमाघर और थिएटर को सरकार ने पिछले 3 महीने से बंद कर रखा है। ऐसे में कई आर्टिस्‍ट परेशान हैं। इस बीच फ्रांस में सोशल डिस्‍टेंसिंग के जरिये सीजर अवॉर्ड फंक्‍शन आयोजित किया गया। इसमें मासिरो को बेस्‍ट कॉस्‍ट्यूम का अवॉर्ड देने के लिए आमंत्रित किया गया था. इसके लिए मासिरो फंक्‍शन में पहुंचीं। वह गधे के कॉस्‍ट्यूम की पोशाक पहनकर स्‍टेज पर गईं। इसके नीचे उन्‍होंने खून से सनी एक ड्रेस पहनी थी। अवॉर्ड फक्‍शन के दौरान ही उन्‍होंने स्‍टेज पर पहुंचने के बाद अपने सारे कपड़े उतार दिए। उनकी इस हरकत से वहां मौजूद सभी लोग चौंक गए। मासिरो ने अपने शरीर पर सरकार के लिए एक संदेश भी लिखा हुआ था।उन्‍होंने लिखा था, ‘कल्‍चर नहीं तो फ्यूचर नहीं।’ उनकी पीठ पर एक संदेश फ्रांस के प्रधानमंत्री जिएन कास्‍टेक्‍स के लिए भी लिखा था। मासिरो की पीठ पर लिखा था, ‘हमे हमारी कला लौटा दो, जिएन। इसी फंक्‍शन में पहुंचे कुछ अन्‍य कलाकारों ने भी सरकार से ऐसी ही अपील की थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार फ्रांस में कोविड 19 महामारी के कारण पिछले साल दिसंबर से ही सिनेमाहॉल बंद हैं। दिसंबर में भी फ्रांस के सैकड़ों कलाकारों, फिल्‍म डायरेक्‍टर्स, म्‍यूजिशियन समेत इंडस्‍ट्री से जुड़े अन्‍य लोगों ने पेरिस में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था। इन सभी की मांग थी, कि जिस तरह से दूसरी जगहों पर से प्रतिबंध हटाए गए हैं। वैसे ही कला केंद्रों पर से भी प्रतिबंध हटाए जाए जाने चाहिए।

उत्तराखंड: नीट की परीक्षा की डेट जारी, आवेदन

पंकज कपूर  
देहरादून। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा नीट, यानी नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट 2021 की परीक्षा पूरे देश में 1 अगस्त को ऑनलाइन कराई जाएगी। इस परीक्षा के लिए लाखों छात्र पूरे साल भर से तैयारी करते हैं। भारत सरकार के परिवार कल्याण मंत्रालय, मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया और डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया के निर्देश में कराई जाने वाली इस परीक्षा के नोटिफिकेशन जारी कर दिए गए हैं।

मेडिकल कॉलेज का काम 4 साल बाद भी अधूरा

हरिओम उपाध्याय   

बदायूं। उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर हमलावर रहने वाले समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को कहा, कि बदायूं में उनकी सरकार के शासनकाल में शुरू हुये मेडिकल कालेज का निर्माण कार्य आज रविवार को भी पूरा नहीं हो सका है। अखिलेश यादव ने ट्वीट किया। “बदायूँ में सपा के समय बनना शुरू हुए मेडिकल कॉलेज का काम भाजपा सरकार के चार साल के कार्यकाल में पूरा नहीं हो पाया।” उन्होंने कहा कि भाजपा को जन स्वास्थ्य एवं चिकित्सा व्यवस्था से कोई सरोकार नहीं है और उसका मकसद सिर्फ चुनाव जीतने का होता है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा “भाजपा के लिए सिर्फ़ चुनाव जीतना मुद्दा रहता है, जन स्वास्थ्य या चिकित्सा नहीं।”

सावधान: रफ्तार पकड़ रहा कोरोना, लापरवाही

नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी। अमेरिका, ब्राजील और ब्रिटेन आदि देशों की तरह भारत में भी कोरोना संक्रमण एक बार फिर जोर पकड़ने लगा है। गत वर्ष दिसंबर में जब कोरोना संक्रमण के दैनिक मामले 10 हजार के आसपास थे, तब पूरी दुनिया को लगने लगा था कि भारत ने महामारी की जंग में बढ़त बना ली है। ऐसा इसलिए हो रहा था, क्योंकि लोग एहतियाती उपायों का पूरी तत्परता से पालन कर रहे थे। विशेषज्ञों का भी मानना है कि लापरवाही के कारण ही देश में कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं। शारीरिक दूरी और मास्क लगाने जैसे एहतियाती उपायों का अनुपालन नहीं किया जा रहा है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, रविवार को कोरोना संक्रमण के 25 हजार से ज्यादा नये मामले सामने आये। शनिवार को 24 हजार से ज्यादा मामले आए थे। 20 दिसंबर, 2020 के बाद यह दैनिक कोरोना संक्रमितों का सबसे बड़ा आंकड़ा रहा। 20 दिसंबर को 26 हजार से ज्यादा मामले आये थे।

7 सरकारी बैंकों में खाता, 'आइएफएससी' अमान्य

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। एक अप्रैल से देश के सात सरकारी बैंकों की पुरानी चेक बुक, पासबुक और इंडियन फाइनेंशियल सर्विस कोड (आइएफएससी) अमान्य हो जाएंगे। यानी आप अपनी पुरानी चेकबुक के जरिए किसी भी तरह ट्रांजेक्शन नहीं कर पाएंगे। इसलिए अगर आपका खाता भी इन बैंकों में है तो इसी महीने चेकबुक के साथ ही पासबुक भी बदलवा लें। इन सात बैंकों का दूसरे बैंकों में विलय हो चुका है। इसलिए इनका आइएफएससी व एमआइसीआर कोड भी बदल गया है। जिस कारण बैंकिंग सिस्टम पुराने चेक को अमान्य कर देगा।
ये हैं ये सात बैंक...
देना बैंक और विजया बैंक: इनका बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय किया गया है।
ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया। इनका विलय पंजाब नेशनल बैंक में हुआ है।
इंडियन बैंक: इसका विलय इलाहाबाद बैंक में किया गया है।
आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक। इनका विलय यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में किया गया है।
केनरा बैंक दे रहा जून तक का मौका...
ऊपर के सात बैंकों की तरह सिंडिकेट बैंक का विलय भी केनरा बैंक में किया जा चुका है। मगर यहां सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों को चेकबुक बदलने के लिए 30 जून तक की मोहलत मिली है। केनरा बैंक ने कहा है कि जून के बाद ग्राहकों को नई चेकबुक लेनी ही होगी।

देश में संक्रमण के 25,320 नए मामले सामने आएं

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के रविवार को 25,320 नए मामले सामने आए। जो पिछले 84 दिन में संक्रमितों की सर्वाधिक संख्या है। इसके साथ ही देश में अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1,13,59,048 हो गई है। इससे पहले 20 दिसंबर को संक्रमण के 26,624 नए मामले सामने आए थे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में कोविड-19 के कारण रविवार को 161 लोगों की मौत हो गई, जो पिछले 44 दिन में सर्वाधिक मृतक संख्या है। देश में संक्रमण के कारण अब तक कुल 1,58,607 लोगों की मौत हो चुकी है। मंत्रालय ने बताया, कि देश में 2,10,544 लोग उपचाराधीन हैं। जो कुल संक्रमितों का 1.85 प्रतिशत है।

पीएम से चर्चा करना चाहते हैं बच्चें, आखिरी मौका

अकांशु उपाध्याय  
 नई दिल्ली। अगर आप परीक्षा पर टिप्स चाहते हैं और इसके लिए सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा करना चाहते हैं, तो इसके लिए सिर्फ आज का दिन यानी 14 मार्च ही आपके लिए आखिरी मौका है। आप रजिस्ट्रेशन कराएं ताकि प्रधानमंत्री से सीधी चर्चा कर सकें।
प्रधानमंत्री मोदी एक बार फिर परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं। बोर्ड परीक्षा आने वाली हैं जबकि अधिकांश बच्चों के टेस्ट शुरू हो गए हैं। बच्चे परीक्षाओं को लेकर गंभीर रहते हैं और अधिकांश तनाव भी लेने लगते हैं। तनाव रहित होकर बच्चे परीक्षा दे। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई पहल ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम के नाम से शुरू की है। चूंकि बोर्ड परीक्षाएं आने वाली हैं और टेस्ट व प्रयोगात्मक परीक्षाएं लगभग शुरू होने की तैयारी में हैं, ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी बच्चों से बात करेंगे और उन्हें यह टिप्स देंगे की किस तरह तनाव रहित होकर परीक्षा दी जा सकती है। इसके लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया चल रही है। जिसकी अंतिम तिथि आज है। अभी तक करीब 13 लाख पंजीकरण हो चके हैं, जिसमें शिक्षक छात्र और अभिभावक शामिल हैं।
कक्षा 9 से 12 तक के बच्चों के लिए आयोजित हो रहे इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आपको innovateindia.mygov.in पर पंजीकरण कराना होगा।

शोपियां में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़, 1 आतंकी ढेर

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षा बलों ने रविवार को घेराबंदी और तलाशी अभियान (कासो) के दौरान हुई मुठभेड़ में एक अज्ञात आतंकवादी को मार गिराया गया है। पुलिस प्रवक्ता ने आज रविवार को यहां बताया, कि आतंकवादी के छिपे होने की खुफिया सूचना के आधार पर सेना, जम्मू-कश्मीर के विशेष अभियान समूह, सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने शोपियां जिले के रावलपोरा गांव में शनिवार की रात को घेराबंदी एवं तलाश अभियान शुरू किया। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बल जब क्षेत्र को सील कर रहे थे तो वहां छिपे आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी शुरु कर दी। सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई पर मुठभेड़ हुई। उन्होंने कहा कि बाद में नागरिक के हताहत होने की आशंका को देखते हुए अंधेरे में अभियान को रोक दिया गया।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   

1. अंक-210 (साल-02)
2. सोमवार, मार्च 15, 2021
3. शक-1983, फाल्गुन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-दूज, विक्रमी सवंत

4. सूर्योदय प्रातः 06:35, सूर्यास्त 06:35।

5. न्‍यूनतम तापमान -11 डी.सै., अधिकतम-30+ डी.सै.। 

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)

जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...