गुरुवार, 11 जून 2020

मुसीबत की दवाई मजबूती हैः पीएम

नई दिल्ली। आइसीसी ने 1925 में अपने गठन के बाद से आज़ादी की लड़ाई को देखा है, भीषण अकाल और अन्न संकटों को देखा है और भारत का भी आप हिस्सा रहे हैं। अब इस बार की ये एजीएम एक ऐसे समय में हो रही है, जब हमारा देश मल्टीपलाई चैलेंज को चैलेंज कर रहा है।
उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से पूरी दुनिया लड़ रही है, भारत भी लड़ रहा है लेकिन अन्य तरह के संकट भी निरंतर खड़े हो रहे हैं। कहीं Flood की चुनौती, कहीं लॉकस्ट, ‘पोंगोपाल’ का कहर, कहीं ओलावृष्टि, कहीं Assam Oil-Field में आग, कहीं छोटे-छोटे Earthquake।कभी-कभी समय भी हमें परखता है, हमारी परीक्षा लेता है। कई बार अनेक कठिनाइयां, अनेक कसौटियां एक साथ आती हैं। लेकिन हमने ये भी अनुभव किया है कि इस तरह की कसौटी में हमारा कृतित्व, उज्ज्वल भविष्य की गारंटी भी लेकर आता है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे यहां कहा जाता है- मन के हारे हार, मन के जीते जीत, यानि हमारी संकल्पशक्ति, हमारी इच्छाशक्ति ही हमारा आगे का मार्ग तय करती है। जो पहले ही हार मान लेता है उसके सामने नए अवसर कम ही आते हैं। ये हमारी एकजुटता, ये एक साथ मिलकर बड़ी से बड़ी आपदा का सामना करना, ये हमारी संकल्पशक्ति, ये हमारी इच्छाशक्ति, हमारी बहुत बड़ी Strength है, एक राष्ट्र के रूप में हमारी बहुत बड़ी ताकत है। मुसीबत की दवाई मजबूती है। 


भारतीय डाक विभाग में बंपर भर्ती

नई दिल्ली। भारतीय डाक विभाग के मध्य प्रदेश पोस्टल सर्किल में ग्रामीण डाक सेवकों की भर्ती के लिए आवेदन मांगे गए हैं। डाक विभाग में इस भर्ती प्रक्रिया के तहत 2834 पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी। इन पदों पर 10वीं पास उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। ग्रामीण डाक सेवक की इस भर्ती के तहत ब्रांच पोस्टमास्टर, असिस्टेंट ब्रांच पोस्टमास्टर, डाक सेवक के पद भरे जाएंगे। इच्छुक एवं योग्य उम्मीदवार 7 जुलाई 2020 तक आवेदन कर सकते हैं।


पदों की संख्या,शैक्षणिक योग्यता


इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को मान्यता प्राप्त स्कूल शिक्षा बोर्ड से दसवीं पास होना जरूरी है. इसके साथ ही 60 दिनों का बेसिक कंप्यूटर ट्रेनिंग सर्टिफिकेट होना चाहिए. वहीं, जिन अभ्यर्थियों ने 10वीं या 12वीं में कंप्यूटर एक विषय के रूप में पढ़ा है, उनके लिए कंप्यूटर की बेसिक जानकारी के सर्टिफिकेट की आवश्यकता नहीं है.


आयु सीमा


मध्य प्रदेश पोस्टल सर्किल में ग्रामीण डाक सेवकों के पदों पर आवेदन के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 18 साल और अधिकतम उम्र 40 साल होनी चाहिए। वहीं, आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा में नियमानुसार छूट दी जाएगी।


कैसे होगा चयन?


इस भर्ती प्रक्रिया के तहत उम्मीदवारों को कोई परीक्षा नहीं देनी होगी बल्कि ऑनलाइन आवेदन के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी। उम्मीदवारों का चयन 10वीं में प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाएगा।


तेज रफ्तार का कहर फिर, दर्दनाक मौत

हापुड़ में आज फिर दिखा तेज रफ्तार का कहर सड़क हादसे में 3 लोगों की दर्दनाक मौत

तेज रफ्तार कैंटर पलटी दबकर तीन लोगों की दर्दनाक मौत 

(हापुड़) जनपद के बाबूगढ़ थाना क्षेत्र के नैशनल हाईवे 9 पर गांव सिमरोली के निकट एक कैंटर गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गयी। जिसके नीचे दबकर तीन लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। काली नदी पुल के पास बाबूगढ़ थाना बॉर्डर के पास का मामला । क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार सहित बाबूगढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक उत्तम सिंह राठौड़ पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। कैंटर के नीचे दबने से दो महिला सहित तीन लोगों की हुई मौत। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

अतुल त्यागी जिला प्रभारी

थाने के पास अधेड़ का शव मिला, सनसनी

अतुल त्यागी (मेरठ मंडल प्रभारी)

प्रवीण कुमार (पिलखुआ रिपोर्टर)

धौलाना थाने से चंद कदमों की दूरी पर अधेड़ व्यक्ति का शव मिलने से क्षेत्र में फैली सनसनी

मामला  हापुड़ जनपद के थाना धौलाना क्षेत्र की ईदगाह  के पास मिला एक अधेड़ व्यक्ति का शव पड़ा देख क्षेत्र में सनसनी

हापुड़। आपको बता दें कि हापुड़ जनपद के धौलाना थाना प्रभारी निरीक्षक राजपाल सिंह तोमर को सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने अंधेड़ व्यक्ति के शव को कब्जे  में लेकर में पीएम के लिए भेजा वही आसपास के लोग का अनुमान हत्या कर शव फेंके जाने की आशंका बता रहे है।फिलहाल पुलिस व्यक्ति की पहचान में जुटी।

24 घंटे मे हत्या का खुलासा, अरेस्ट

अतुल त्यागी (मेरठ मंडल प्रभारी)

प्रवीण कुमार (पिलखुआ रिपोर्टर)

हापुड़। उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड के थाना देहात क्षेत्र के गांव गोंदी में दिन दहाड़े फावड़ा मारकर हुई मुशाहिद नामक युवक की हत्या का पुलिस ने आज मात्र 24 घन्टे में खुलासा कर दिया है। पत्नी से फोन पर बात करने के शक में आरोपी ने की थी हत्या । आरोपी पप्पू उर्फ फुरकान को पुलिस ने फावड़ा सहित किया गिरफ्तार । थाना देहात के गोंदी   गांव में कल मुशाहिद अपनी बहन और भतीजी के दहेज के लिए सामान खरीद कर वापस आ रहा था तभी गोंदी में उसकी बाइक को पप्पू उर्फ फुरकान ने रोक लिया और दोनों में आपस में कहासुनी हुई उसके बाद फुरकान ने मुशाहिद के सर में फावड़ा मारकर हत्या कर दी । आज पुलिस ने इस मामले में खुलासा किया है पुलिस का कहना है कि अभियुक्त ने बताया की आरोपी ने बताया उसको शक था की मृतक मुशाहिद उसकी पत्नी के फोन पर बात किया करता था जिस के शक में उसने फुरकान के सर में फावड़ा मारकर मौत के घाट उतार दिया

बाईट - सर्वेश कुमार मिश्र ( एएसपी )

आरक्षण किसी का मौलिक अधिकार नहीं

सुप्रीमकोर्ट ने कहा रिजर्वेशन किसी का मौलिक अधिकार नहीं, रिजर्वेशन मामले में कोर्ट द्वारा सुप्रीम टिप्पणी, राइट टू रिजर्वेशन नही है मौलिक अधिकार



राणा ओबराय


नई दिल्ली। सुप्रीमकोर्ट ने कहा रिजर्वेशन किसी का मौलिक अधिकार नहीं, रिजर्वेशन मामले में कोर्ट द्वारा सुप्रीम टिप्पणी, राइट टू रिजर्वेशन नही है मौलिक अधिकार
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को एक मामले की सुनवाई करते हुए तमिलनाडु के मेडिकल कॉलेजों में ओबीसी उम्मीदवारों के लिए कोटा पर सुनवाई करते हुए आरक्षण को लेकर बड़ी टिप्पणी की। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आरक्षण का अधिकार मौलिक अधिकार नहीं है। इसी के साथ अदालत ने तमिलनाडु के कई राजनीतिक दलों द्वारा दाखिल की गई एक याचिका को स्वीकार करने से इनकार कर दिया।
जस्टिस एल नागेश्वर राव की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने अपने आदेश में स्पष्ट कहा कि कोई भी आरक्षण के अधिकार को मौलिक अधिकार नहीं कह सकता है और इसलिए रिजर्वेशन का लाभ नहीं देना किसी भी संवैधानिक अधिकार का उल्लंघन नहीं माना जा सकता है। दरअसल, डीएमके-सीपीआई-अन्नाद्रमुक समेत अन्य तमिलनाडु की कई पार्टियों ने सुप्रीम कोर्ट में एनईईटी के तहत मेडिकल कॉलेज में सीटों को लेकर तमिलनाडु में 50 फीसदी ओबीसी आरक्षण के मामले पर याचिका दायर की थी।
सुप्रीम कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई के दौरान सवाल किया कि अनुच्छेद 32 के तहत याचिका कैसे स्वीकार की जा सकती है, क्योंकि आरक्षण मौलिक अधिकार ही नहीं है। पीठ ने कहा, ‘किसके मौलिक अधिकारों का उल्लंघन किया जा रहा है? अनुच्छेद 32 केवल मौलिक अधिकारों के उल्लंघन के लिए है। हम मानते हैं कि आप सभी तमिलनाडु के नागरिकों के मौलिक अधिकारों में रुचि रखते हैं। लेकिन आरक्षण का अधिकार मौलिक अधिकार नहीं है।



बिना मास्क 548 के खिलाफ की कार्रवाई

अयोध्या। कोरोना वायरस महामारी से बचने के लिए बिना मास्क के घरों के बाहर निकलना प्रतिबंधित है। अयोध्या पुलिस गमछा से चेहरा ढकने को लॉकअप नियमों का उल्लंघन मानती है इसलिए वह ऐसे लोगों को कड़ी फटकार लगाते हुए जुर्माना भी लगा रही है। बुधवार को चेकिंग के दौरान बिना मास्क के बाहर घूमते हुए पकड़े जाने पर 548 व्यक्तियों के विरूद्व कार्यवाही की गयी, जिसमें कोतवाली नगर में 101,रूदौली 91,कोतवालली अयोध्या 64,पूराकलन्दर 60,मवई 45,कुमारगंज 43,रामजन्मभूमि 38,कैन्ट 33,पटरंगा व खण्डासा 25,हैदरगंज में 23,रौनाही 17,महराजगंज व बीकापुर 06,गोसाईगंज व तारून 05,इनायतनगर में 04 व्यक्तियों के विरूद्व महामारी अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई व नियमों के उल्लघन पर 257 वाहनों का चालान किया गया व 14 वाहन सीज किये गये, 37,500 रूपये जुर्माना वसूला गया। एसएसपी आशीष तिवारी ने बताया कि कोरोना वायरस की लड़ाई में बचाव ही सबसे बड़ा हथियार है। अगर हम सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मास्क लगाकर जरूरत में ही घरों से निकले तो इस वायरस से बचा जा सकता है।


सड़क हादसे में तीन की मौत, दो गंभीर

रायपुर। तिल्दा से एक बड़ी खबर सामने आयी है। यहां पर भीषण सड़क हादसे में कार सवार तीन लोगों की मौत हो गयी है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस की टीम पहुंची हुई है।
घटना तिल्दा साकरा स्थित देवरानी जेठानी नाला के पास की है। हादसा अब से कुछ देर पहले का है। बताया जा रहा हैं कि तेज रफ्तार स्काॅर्पियों खडे़ ट्रक से जा टकरायी। हादसा इतना जबरदस्त था कि कार के परखच्चे उड़ गये और कार सवार सभी पांच कार के अंदर ही फस गये। घटना में तीन की मौके पर ही मौत हो गयी। वहीं गंभीर रूप से घायल दो लोगों को तिल्दा से मेकाहारा अस्पताल लाया गया है। यहां पर इनका इलाज किया जा रहा है। फिलहाल खबर लिखे जाने तक हादसे का शिकार हुए लोगों के बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है।


सीएम ने लिया संज्ञान, रासुका के आदेश

जौनपुर। उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में दलितों के घर फूंकने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद सख्त हो गए हैं। सीएम ने इस पूरे मामले का संज्ञान लिया है। उन्होंने अधिकारियों को दलितों का घर फूंकने के मुख्य आरोपी नूर आलम और जावेद सिद्दीकी समेत सभी आरोपपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुऱक्षा कानून के तहत कार्ऱवाई करने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा सीएम ने थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्ऱवाई को निर्देशित किया है। उन्होंने आलाधिकारियों को पीड़ित दलितों को तत्काल आवास समेत अन्य सरकारी मदद देने का आदेश भी दिया है।


बता दें कि जौनपुर सरायख्वाजा क्षेत्र के भदेठी गांव मंगलवार शाम मवेशी चराने के विवाद में दो पक्षों के बीच झगड़ा हो गया। प्रधानपति आफताब उर्फ हिटलर ने उस वक्त झगड़े को शांत करा दिया। पीड़ितों का आरोप है कि रात आठ बजे प्रधानपति, उसके लड़के व सलीम ने 400 के साथ दलित बस्ती पर धावा बोल दिया। उपद्रवियों ने नंदलाल, नींबूलाल, फिरतू, राजाराम, जीतेन्द्र, सेवालाल सहित 12-13 लोगों के मड़हों में आग लगाकर तोड़फोड़ की। इस दौरान कई वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया गया, आग की चपेट में आने से तीन बकरियों व एक भैंस की मौत हो गई। डीएम व एसपी मंगलवार रात ही घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंच गए थे। अफसरों ने पीड़ितों को 5000 रुपये और राशन उपलब्ध कराया।


बुधवार सुबह घटनास्थल पर पहुंचे मंडलायुक्त ने डीएम को नुकसान का आंकलन कर शासन को अवगत कराने और पीड़ितों को मुआवजा दिलाने का निर्देश दिया। आईजी ने एसपी को दोषियों की गिरफ्तारी करने का निर्देश दिया। एसपी ने बताया कि भदेठी कांड में 35 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. डीएम ने कहा कि यह बहुत बड़ी घटना है। जिन लोगों के मकान जलाए गए हैं उनकी सुरक्षा, रहने व खाने-पीने की व्यवस्था प्रशासन करेगा। पुलिस ने ताबड़तोड़ छापेमारी कर 35 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने 57 नामजद और 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। मामले में सपा नेता मोहम्मद जावेद सिद्दीकी और प्रधानपति आफताब उर्फ हिटलर को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई है। आरोपियों की तलाश में पुलिस रातभर दबिश देती रही। तनाव को देखते हुए गांव में दो प्लाटून पीएसी तैनात की गई है।


वहीं इस मामले पर आईजी ने बताया कि विवाद दिन में भी हुआ था। दोनों गुटों ने समझौता कर लिया गया था, बाद में कुछ लोगों के बहकाने पर एक पक्ष ने रात में दूसरे पक्ष की बस्ती में घुसकर तोड़फोड़ और आगजनी की। सभी को चिह्नित किया जा रहा है।अब तक 35 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. बाकी लोगो की तलाश की जा रही है।


वहीं इस मामले को लेकर अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग की सदस्य अनिता सिद्धार्थ मामले को संज्ञान लिया है। वे बुधवार को भदेठी कांड के पीड़ितों से मिलीं। उन्होंने उनकी हरसंभव मदद का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि गांव में अनुसूचित जाति के लोगों पर हुए जुल्म व ज्यादती की रिपोर्ट अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के अध्यक्ष को प्रेषित कर दी गई है।


भारत में चालक आयोग बनाने की मांग

लुधियाना। पूरे भारत में ड्राइवर आयोग बनाने के लिए जोर शोर से और विभिन्न विभिन्न सामाजिक मुद्दों पर और समाज के गरीब तबकों के परिवारों के लिए सभी ड्राइवर कल्याण संघ लुधियाना पंजाब के अध्यक्ष सुरिन्दर प्रसाद ने समाजिक संगठन रामवती सामंता जनहित वेलफेयर सोसाइटी से मिल कर उठाई आवाज। तथा अपनी मांगों के साथ  ड्राइवर अभियान को किया तेज। 

आज समाजिक संगठन रामवती सामंता जनहित वेलफेयर सोसाइटी को सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता फैज ईमाम जी वा दिल्ली ड्राइवर यूनियन से अरुण कुमार जी का वा सभी ड्राइवर कल्याण संघ के अध्यक्ष सुरेन्दर प्रसाद जी का साथ मिला है आप तीनो हस्ती अपने आप मे खुद एक संस्था हो एक संगठन हो आप जैसे महानभावो का साथ मिलना हमारे लिये गर्व की बात है आप सभी लोगो से उम्मीद है की आप सब लोग संस्था की विचार धारा को जनता तक पहुंचाने के लिये तन .मन.धन .से सहयोग करेंगे जिससे आने वाले दिनो मे भारत से गरीबी भुखमरी बेरोजगारी जैसी समस्या को खत्म किया जा सके और हर गरीब मजदूर किसान ड्राइवर वा दबे कुचले लोगो की आवाज बनकर उनको वा उनके परिवार को सुरझित किया जा सके सभी साथियों का बहुत बहुत धन्यवाद।

सुरिन्दर प्रसाद 

सभी ड्राइवर कल्याण संघ लुधियाना पंजाब भारत 

बुजुर्ग-बच्चों के आवागमन पर प्रतिबंध

 हरदोई। सुरक्षित रहने के लिए सर्तकता, जागरूकता एवं बचाव अति आवश्यक:- जिलाधिकारी

बीमार बुजुर्ग, 60 साल से ऊपर के वृद्व, गर्भवती महिला एवं 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों को घर से बाहर निकलने न दें:- पुलकित खरे

प्रवासी श्रमिकों को 21 दिन के लिए होम क्वाइंटाइन किया जाये:- डी0एम0

हरदोई। खण्ड विकास अधिकारी शाहाबाद के सभागार में आयोजित नगर पालिका परिषद कोरोना निगरानी समिति प्रशिक्षण कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे ने उपस्थित आंगनबाडी कार्यकर्तियों एवं सभासदों से कहा कि अपने वार्ड के मोहल्लों में चोरी-छिपे आने वाले प्रवासी श्रमिकों पर कड़ी निगरानी रखें और जिस प्रवासी की चोरी-छिपे आने की सूचना प्राप्त हो तत्काल अधिशासी अधिकारी एवं उप जिलाधिकारी को सूचित करें। उन्होने कहा कि आंगनबाड़ी ऐसे लोगों के घरों पर तुरन्त जाकर उक्त प्रवासी के बारे में जानकारी हासिल करें और अगर वह अपनी जांच कराकर आया है तो उसे 21 दिन के लिए होम क्वाइंटाइन करें और उसके घर के बाहर निर्धारित पोस्टर लगाये और उक्त प्रवासी का नाम, कहां से आया, क्या करता था, आधार एवं खाता संख्या आदि दर्ज करें और हर दूसरे दिन उस व्यक्ति के घर जाकर बाहर से ही उसके व उसके परिवार के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त करें तथा 21 दिन पूर्ण होने पर उक्त व्यक्ति के नाम के सामने क्रास लगा दें तथा आंगनबाड़ी, आशा एवं सभासद आपस में तालमेल मिलाकर कोरोना निगरानी समिति को सक्रिय बनायें।

जिलाधिकारी ने कहा कि आंगनबाड़ी एवं सभासद वार्ड के भ्रमण के दौरान लोगों को जागरूक करें कि घर से बाहर निकलने पर मास्क अवश्य लगाये तथा बाजार एवं सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें और अगर उनके घर के आस-पास कोई प्रवासी श्रमिक बिना जानकारी दिये आया है तो उसकी सूचना तत्काल उपलब्ध करायें ताकि उक्त व्यक्ति की शीघ्र जांच कराई जा सके और उसे 21 दिन के लिए होम क्वाइंटाइन किया जाये ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। उन्होने कहा कि जो गम्भीर रूप से बीमार बुजुर्ग, 60 साल से ऊपर के वृद्व, गर्भवती महिला एवं 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों को घर से बाहर निकलने न दें तथा लोगों को जागरूकता रैली आदि के माध्यम से जागरूक करें।

प्रशिक्षण में जिलाधिकारी ने आंगनबाड़ी एवं सभासदों से कहा कि कोरोना का कोई ईलाज नही है तथा इससे सुरक्षित रहने के लिए सर्तकता, जागरूकता एवं बचाव अति आवश्यक है, इसलिए अपने को सुरक्षित रखते हुए प्रत्येक दिन प्रयोग किये मास्क एवं कपड़ों को गरम पानी से धोये और दूसरे दिन डियुटी पर आने पर धुला मास्क एवं कपड़े पहन कर निकलें तथा समय-समय पर साबुन से कम से कम 20 सेकेंड तक हाथ अवश्य धोते रहे। जिलाधिकारी के प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान उप जिलाधिकारी शाहाबाद, अपर जिला सूचना अधिकारी दिव्या निगम, खण्ड विकास अधिकारी, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद एवं समस्त सभासद एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ती उपस्थित रहीं।

कलयुगी रावण, शोषण के लगे आरोप

खुलासाः महिलाओं के आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाकर उनका चीरहरण कर अपमानित करने वाले जफर खान पर सरकार कब करेगी कार्रवाई?

कानपुर। तैनात डीपीओ जफर खान कलयुगी रावण पर कई महिलाओं के चीरहरण करने का लग चुका है आरोप।

18 मई 2020 को कानपुर में एक महिला अधिकारी ने सैक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाकर लगाई थी न्याय की गुहार, लेकिन अधिकारियों की सरपरस्ती में इस कलयुगी रावण का बाल तक नहीं हुआ बांका।

सन 2015 में अलीगढ़ में तैनाती के दौरान  जफर खान पर आंगनबाड़ी कार्यकत्री ने लगाए थे गंभीर आरोप, जमकर हुआ था सड़कों पर विरोध। एक महिला अधिकारी जफर के अत्याचार से पीड़ित होकर छोड़ चुकी है नौकरी, उसी ने डीएम को पत्र लिखकर कहा कि इससे कोई भी महिला अपने आप को नहीं समझती है सुरक्षित।

 कमलेश फाईटर

होम क्वॉरेंटाइन, निगरानी की समीक्षा बैठक

 गौतम बुद्ध नगर स्काउट गाइड होमकरोटाईन निगरानी की समीक्षा बैठक


गौतमबुध नगर। कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए  जनपद वासियों को कोरोनावायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने के लिए कोविड-19 के नोडल अधिकारी नरेंद्र भूषण, पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह एवं जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. के नेतृत्व में  जनपद के अधिकारियों द्वारा विभिन्न स्तर पर कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है ताकि सभी जनपद वासियों को कोरोनावायरस के संक्रमण से सुरक्षित बनाया जा सके। इस श्रंखला में आज दिनांक 11-06-2020 को मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह के निर्देशन में विकास भवन के सभागार में समीक्षा बैठक का आयोजन हुआ, जिसमे उत्तर प्रदेश भारत स्काउट और गाइड गौतमबुद्ध नगर के स्व सेवक स्काउट मास्टर गाइड कैप्टन को होम क्वार्टीन पर रह रहे कोविंद 19 के मरीजों की रोजाना फोन द्वारा हाल चल लेने की  जिम्मेदारी  दी गई।  मरीजो के बारे मे गहनता से विस्तार पूर्वक जानकारी ली गयी। प्रत्येक  मरीज पर विशेष  ध्यान  रखना है अगर किसी भी  मरीज की तबीयत  अस्वस्थ  होने पर दिन हो या रात मे  समय कितना  भी हो आप सीधे फोन द्वारा  तत्काल  सुचित करे सभी  को सूची  उपलब्ध  करायी गयी  आनंद श्रीनेत एस. डी. एम  व  हेमन्त  डी. एस. टी. ओ  गौतमबुद्ध नगर द्वारा   निर्देशित किया गया।   इस  अवसर  पर नीरज सिंह  सांख्यिकी अधिकारी  जिला प्रशिक्षण आयुक्त राज कुमार शर्मा  , संजीव कुमार,   स्काउट मास्टर कृष्ण कुमार शर्मा, गाइड कैप्टन भारती श्रीवास्तव, ज्योतिर्मय पांडेय, सावित्री  गुप्ता हेमलता सिसोदिया,  बृजेश कुमार, अनुज त्रिपाठी,  विकास कुमार उपस्थित रहे। टीम प्रभारी कृष्ण कुमार शर्मा, सजीव कुमार, भारती श्रीवास्तव, ज्योतिर्मयपाडे प्रशासन  को प्रतिदिन  सूचना  प्रेषित  करेगे। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।


सभी को समय से भोजन उपलब्ध कराऐंं

सिदार्थ गुप्ता

 कन्नौज। सभी घायलों को अच्छा इलाज मुहैया कराया जाए, साफ सफाई व्यवस्था में और व्यापक सुधार किया जाए, मरीजों को भोजन आदि समय से उपलब्ध कराया जाए। उक्त निर्देश जिलाधिकारी श्री राकेश कुमार मिश्रा एवं पुलिस अधीक्षक श्री अमित प्रसाद सिंह ने संयुक्त रूप से जिला अस्पताल में भर्ती घायलों को देखने के पश्चात मुख्य चिकित्सा अधीक्षक जिला अस्पताल को दिए।


उन्होंने बताया कि कल रात करीब 1.30 बजे खुर्जा से गोंडा जा रही टूरिस्ट बस ट्रक से टकरा कर जीटी रोड पर पलट गई जिसमें एक ही परिवार के 10 लोग सवार थे एवं चालक व परिचालक को सम्मिलित करते हुए कुल 12 व्यक्ति गाड़ी पर सवार थे, जिसमें से 10 एक ही परिवार के सदस्य थे, जिनके नाम रामप्रताप पुत्र बल्दू, परशुराम पुत्र बल्दू, तीरथ पत्नी परशुराम, संगीता पुत्री परशुराम, बीना पुत्री परशुराम, शशांक पुत्र परशुराम, शिवलता पत्नी रामप्रताप, खुशी पुत्री रामप्रताप, प्रशांत पुत्र रामप्रताप, मंगेश पुत्र रामसहाय, बस के चालक हरपाल सिंह व परिचालक सुनील घायल हुए।


उन्होंने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मोबाइल वैन द्वारा मौके पर पहुंचकर घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां हालत गम्भीर होने पर डॉक्टरों ने सुनील पुत्र राजवीर, मंगेश पुत्र रामसहाय, रामप्रताप पुत्र बल्दू और हरपाल सिंह पुत्र दीवान सिंह को हैलट अस्पताल कानपुर के लिए रेफर किया गया। उन्होंने अस्पताल के आकस्मिक वार्ड में भर्ती मरीजों से वार्ता की एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को सभी घायलों को अच्छी से अच्छी चिकित्सा मुहैया कराते हुए घायलों के अतिरिक्त भी सभी मरीजों को समय से गुणवत्ता पूर्ण भोजन मुहैया कराए जाने के निर्देश दिए।


उन्होंने अस्पताल में साफ सफाई व्यवस्था को भी और अच्छी किए जाने के संबंध में भी आवश्यक निर्देश देते हुए बायोमेडिकल कचरे कि नियमित उठान एवं बायोमेडिकल कचरे से अन्य व्यक्तियों की सुरक्षा के संबंध में भी निर्देश दिए। मौके पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक श्री यूसी चतुर्वेदी सहित अन्य संबंधित चिकित्सक व अधिकारी उपस्थित थे।



शराब: डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेंगा आस्ट्रेलिया

सिडनी/ बीजिंग। ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि वो उनके यहाँ बनी शराब पर चीन के शुल्क बढ़ाने के खिलाफ डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेगा। चीन ने पिछले...