कर्नाटक लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
कर्नाटक लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 4 जून 2021

जुलाई के तीसरे सप्ताह में होंगी 10वीं की परिक्षाएं

बेंगलुरू। कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार को घोषणा की कि एसएसएलसी या 10वीं की परीक्षाएं जुलाई के तीसरे सप्ताह में होंगी। जबकि कोविड-19 के मद्देनजर ‘प्री-यूनिवर्सिटी एग्जाम’ (पीयूएस) की द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं रद्द कर दी गईं। ‘प्री-यूनिवर्सिटी’ के दूसरे वर्ष के कॉलेज छात्रों को अगले स्तर पर प्रोन्नत कर दिया जाएगा। पहली ‘प्री-यूनिवर्सिटी परीक्षा’ में उनके प्रदर्शन के आधार पर दिए जाएंगे। कर्नाटक के प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ” ‘सेकंडरी स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट’ (एसएसएलसी) के गणित, विज्ञान और सामाजिक विज्ञान के लिए एक बहुविकल्पीय प्रश्न पत्र और भाषाओं के लिए एक और प्रश्न पत्र होगा।” उन्होंने बताया कि बहुविकल्पीय प्रश्न पत्र 40 अंक के होंगे, इनके सवाल सीधे एवं स्पष्ट होंगे और कोई भी घुमावदार सवाल नहीं होगा।

एस सुरेश कुमार ने कहा कि कोविड-19 से प्रभावित छात्रों के लिए पूरक परीक्षाएं होंगी। इनके परिणाम अगस्त में आएंगे। मंत्री ने बताया कि 6000 केन्द्रों पर परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी, जो पिछले साल से दोगुना है। हरेक कमरे में 10 से 12 छात्र ही होंगे। छात्रों के बीच छह फुट की दूरी होगी। एसएसएलसी परीक्षा आयोजित करने का निर्णय इसलिए लिया गया क्योंकि छात्रों के लिए विज्ञान, वाणिज्य और आर्ट्स जैसे अपनी पसंद के विषयों का चयन करना आवश्यक है। 

पीयूसी के संबंध में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा, ”हम इस साल पीयूएस की परीक्षाएं आयोजित नहीं कर रहे। अंक जिला स्तर पर पहली ‘प्री-यूनिवर्सिटी परीक्षा’ में उनके प्रदर्शन के आधार पर दिए जाएंगे।” उन्होंने बताया कि जो छात्र अंकों से खुश ना हों वे परीक्षाएं दे सकते हैं, उनकी तारीख की जानकारी जल्द दी जाएगी। मंत्री ने स्पष्ट किया कि मौजूदा हालात को देखते हुए छात्रों के हित में जो भी फैसला लिया गया है, वह उससे संतुष्ट हैं। कर्नाटक में पिछले साल कोविड-19 के डर के बीच एसएसएलसी और पीएसयू की परीक्षाओं का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया था।

गुरुवार, 3 जून 2021

सीएम ने 'लॉकडाउन' को 14 जून तक लागू किया

बैंगलुरू। दूसरी लहर के रूप में आई कोरोना संक्रमण की वैश्विक महामारी लोगों का पीछा छोड़ने के लिए तैयार नहीं दिखाई दे रही है। कोरोना संक्रमण के मामलों में आशातीत कमी न आने की वजह से कर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा ने लॉकडाउन की अवधि में बढ़ोतरी करते हुए अब 14 जून तक लागू किया है। इस दौरान राज्य में कड़ी पाबंदियां रहेगी। देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर लगातार अपने पांव जमाए हुए हैं। लागू किये गये लाॅकडाउन और कोरोना कफ्र्यू जैसे प्रतिबंधों से कुछ राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले कम हुए हैं तो तमाम पाबंदियों के बावजूद देश के कई राज्य अभी तक कोरोना वायरस के संक्रमण के रोजाना मिल रहे मामलों से बुरी तरह जूझ रहे हैं। 

कर्नाटक में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में आशा के अनुरूप कमी ना आने से मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा ने बृहस्पतिवार को राज्य में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन की अवधि में बढ़ोतरी करते हुए अब इसे आगामी 14 जून तक के लिए बढ़ा दिया है। मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा ने कहा है कि लाॅकडाउन को सख्ती के साथ लागू करते हुए राज्य में कड़ी पाबंदियां रहेंगी।

एजेंसी


रविवार, 30 मई 2021

किशोर को ₹1.6 लाख बतौर मुआवजा देने का आदेश

सोमवार, 3 मई 2021

ऑक्सीजन की कमी के कारण 24 संक्रमितों की मौंत

चामराजनगर। कर्नाटक के चामराजनगर जिले में पिछले 24 घंटों के दौरान ऑक्सीजन की कमी के कारण विभिन्न अस्पतालों में 24 कोरोना मरीजों की मौत हो गयी। चामराजनगर के उपायुक्त रवि ने कहा कि इनमें से 23 मरीजों की मौत सरकारी अस्पतालों में हुई। जबकि एक अन्य मरीज ने निजी अस्पताल में दम तोड़ा। उन्होंने बताया कि मरीजों की मौत रविवार को आठ बजे से सोमवार के आठ बजे के बीच हुई।
इसके अलावा 11 अन्य मरीजों की मौत विभिन्न प्रकार की गंभीर बीमारियों के कारण होने की रिपोर्टें सामने आई हैं। डा. रवि ने कहा कि जिन मरीजों की मौत हुई वे सभी वेंटिलेटर पर थे। उन्होंने कहा कि इन मरीजों की मौत ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई हों यह जरूरी नहीं हैं। चामराजनगर में कोरोना रोगियों की मौत के कारण यहां पास के क्षेत्रों के लोगों में ऑक्सीजन की कमी को लेकर दहशत फैल गई है। उन्होंने कहा कि रविवार से सोमवार की सुबह तक 24 कोरोना रोगियों की मौत हुई है।

सोमवार, 26 अप्रैल 2021

कर्नाटक में 14 दिन का लॉकडाउन लगाने की घोषणा

बेंगलुरू। कोविड-19 के बढ़ते मामलों को नियंत्रित करने के प्रयास के तहत कर्नाटक सरकार ने मंगलवार की रात से राज्य भर में 14 दिनों के लिए लॉकडाउन लगाने की घोषणा की। राज्य मंत्रिमंडल ने 18 से 45 साल आयु वर्ग के लोगों को सरकारी अस्पतालों में कोविड-19 का टीका नि:शुल्क उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा ने कहा, ”कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे। कल रात से अगले 14 दिनों के लिए पूरे राज्य में लॉकडाउन रहेगा।” मंत्रिमंडल की तीन घंटे चली बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुएं बेचने वाली दुकानों को सुबह छह से दस (6 से10) बजे तक खोलने की अनुमति होगी। उन्होंने कहा, ”कृषि क्षेत्र और कपड़ों के अलावा अन्य उत्पादन क्षेत्र, विनिर्माण क्षेत्र, मेडिकल, आवश्यक वस्तुओं के उत्पादन से जुड़े क्षेत्र काम करना जारी रखेंगे।”

शुक्रवार, 16 अप्रैल 2021

कर्नाटक के सीएम दूसरी बार हुए कोरोना संक्रमित

बेंगलुरू। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा आठ महीने में दूसरी बार कोविड-19 संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। शुक्रवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद उन्हें इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। येदियुरप्पा (78) को इससे पहले दो अगस्त, 2020 को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘हल्के बुखार के बाद आज मेरी कोविड-19 की रिपोर्ट में संक्रमण का पता चला है। मैं ठीक हूं, लेकिन डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहा हूं।’’ मुख्यमंत्री ने हाल में अपने संपर्क में आए सभी लोगों से ध्यान रखने और पृथक-वास में जाने को कहा है।

शनिवार, 3 अप्रैल 2021

घर में आग लगने से 4 बच्चों समेत 6 लोगों की मौत

कोडागु। कर्नाटक के कोडागु जिले में विरापेट तालुका के मुगुतकेरी गांव में शनिवार को एक दर्दनाक घटना में छह लोगों की जलकर मौत हो गयी। पुलिस ने बताया कि येराव बोजा नाम के बदमाश ने पेट्रोल डालकर घर में आग लगा दी। जिसके कारण चार बच्चों सहित छह लोगों की मौत हो गयी। इस वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया। मृतकों की पहचान सीते (45), बेबी (40) प्राथना (6), विश्वास (6), प्रकाश (7) तथा विश्व (7) के तौर पर हुई है। पुलिस के मुताबिक तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी। जबकि, इस घटना में बुरी तरह से जल तीन लोगों ने मैसूरू के अस्पताल में दम तोड़ा।

बुधवार, 17 मार्च 2021

बेंगलुरू-जयपुर के बीच उड़ान, बच्ची को दिया जन्म

बेंगलुरू। इंडिगो की बेंगलुरू-जयपुर उड़ान के दौरान विमान में बुधवार को एक महिला ने बच्ची को जन्म दिया। एअरलाइन ने एक बयान जारी करके यह जानकारी दी। बयान में कहा गया,”बेंगुलुरु से जयपुर जा रही उड़ान संख्या 6ई 469 में एक बच्ची ने जन्म लिया। इसी विमान में सवार डॉ. सुबहाना नजीर और इंडिगो चालक दल ने प्रसव में मां की मदद की और बच्ची का जन्म हुआ।”इस बयान में कहा गया कि जयपुर हवाईअड्डे को चिकित्सक और एंबुलेंस तैयार रखने की सूचना दे दी गई। मां और बच्ची दोनों की हालत स्थिर है। विमान ने बुधवार सुबह 5:45 बजे बेंगलुरु से उड़ान भरी थी और आठ बजे के आसपास यह जयपुर पहुंचा था।

सोमवार, 15 मार्च 2021

सीएम ने दी कर्नाटक में 'लॉकडाउन' की चेतावनी

बैंगलुरू। महाराष्ट्र में स्थिति लगातार गंभीर होती जा रही है। बीते 24 घंटों के दौरान अकेले महाराष्ट्र में ही 15,602 नए मामले पाए गए। इसके अलावा केरल में 2,035 और पंजाब में 1,515 नए केस मिले हैं। पंजाब में इस साल एक दिन में पाए गए नए मामलों की यह सबसे बड़ी संख्या है। इनके अलावा दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश में भी संक्रमण बढ़ रहा है। कर्नाटक में भी संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। राज्य के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने लोगों को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वो सहयोग नहीं करेंगे तो दोबारा लॉकडाउन जैसे उपाय करने पड़ेंगे। अधिकारियों के साथ कोरोना के हालात की समीक्षा करने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी राज्य की जनता से हाथ जोड़कर निवेदन है कि कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करें। सार्वजनिक स्थलों पर मास्क पहने और पर्याप्त शारीरिक दूरी बनाकर रखें।येदियुरप्पा ने भरोसा बताया, कि यदि लोगों का सहयोग मिला तो बिना लॉकडाउन के भी कोरोना के प्रसार को नियंत्रित किया जा सकता है। वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक 25,320 नए मामले सामने आए और 161 लोगों की मौत हो गई, जिनमें महाराष्ट्र में 88, पंजाब में 22 और केरल में 12 मौतें शामिल हैं। वहीं मध्‍य प्रदेश सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों और तीन विधायकों के संक्रमित होने के बाद विधानसभा के बजट सत्र में किसी को बिना जांच के परिसर में प्रवेश नहीं देने का फैसला किया है। प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक सभी मंत्री, विधायक समेत अन्य व्यक्तियों की प्रवेश द्वार पर पहले जांच होगी। सदन में भी सिर्फ जरूरी स्टाफ ही मौजूद रहेगा। यही नहीं सभी दीर्घाओं में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया है। पंजाब में कोरोना की नई स्‍ट्रेन ‘एन440के’ के दो केस सामने आए हैं। सेहत विभाग के मुख्‍य सचिव हुसन लाल ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि अभी दिल्ली स्थित इंस्टीट्यूट फार जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलाजी से अधिकारिक रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है। सभी मरीजों और उनके संपर्क में आए लोगों की पहचान कर ली गई है। पंजाब में 24 घंटे में 1616 नए मामले सामने आए हैं। इससे पहले पिछले साल 20 दिसंबर को इससे ज्यादा 26,624 नए केस मिले थे और इस साल 28 जनवरी को 162 लोगों की मौत हुई थी। मंत्रालय ने बताया कि देश में अब तक सामने आए कुल संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर एक करोड़ 13 लाख 59 हजार को पार कर गया है। इनमें से एक करोड़ नौ लाख 89 हजार से अधिक मरीज पूरी तरह से संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और 1,58,607 लोगों की महामारी की वजह से जान भी जा चुकी है। मरीजों के उबरने की दर में लगातार गिरावट आ रही है और वर्तमान में यह 96.75 फीसद पर आ गई है। जबकि मृत्युदर 1.40 फीसद पर बनी हुई है। नए मामलों में वृद्धि के चलते सक्रिय मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं। इस समय सक्रिय मामलों की संख्या 2,10,544 हो गई है।जो कुल संक्रमितों का 1.85 फीसद है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के मुताबिक कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए देशभर में शनिवार को 8,64,368 नमूनों की जांच की गई। इनको मिलाकर अब तक कुल 22 करोड़ 67 लाख तीन हजार से ज्यादा नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है।

शनिवार, 27 फ़रवरी 2021

अमेजोनिया-1 मिशन के लिए उल्टी गिनती शुरू

पीएसएलवी-सी51/अमेजोनिया-1 मिशन के लिए उल्टी गिनती शुरू

बेंगलुरु। पीएसएलवी- सी51/अमेजोनिया-1 मिशन को आंध्र प्रदेश में श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपित करने के लिए उल्टी गिनती शनिवार को शुरू हो गई। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने बताया कि पीएसएलवी-सी51 पीएसएलवी का 53वां मिशन है। इस रॉकेट के जरिए ब्राजील के अमेजोनिया-1 उपग्रह के साथ 18 अन्य उपग्रह भी अंतरिक्ष में भेजे जाएंगे। इस रॉकेट को चेन्नई से करीब 100 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित किया जाएगा।
इस रॉकेट को प्रक्षेपित करने का समय 28 फरवरी सुबह 10 बजकर 24 मिनट है। जो मौसम की स्थिति पर निर्भर करता है। उल्टी गिनती सुबह आठ बजकर 54 मिनट पर शुरू हो गई। पीएसएलवी (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) सी51/अमेजोनिया-1 इसरो की वाणिज्य इकाई न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है। अमेजोनिया-1 के बारे में बयान में बताया गया है। कि यह उपग्रह अमेज़न क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के क्षेत्र में विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी आंकड़े मुहैया कराएगा तथा मौजूदा ढांचे को और मजबूत बनाएगा।

मंगलवार, 23 फ़रवरी 2021

कर्नाटक में विस्फोट से 6 लोगों की मौत, जताया दुख

चिकबल्लापुर। कर्नाटक के चिकबल्लापुर जिले में पत्थर की एक खदान में रखी जिलेटिन की छड़ों में सोमवार देर रात विस्फोट के कारण छह लोगों की मौत हो गयी। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि कुछ लोग जिलेटिन की छड़ों को नष्ट करने का प्रयास कर रहे थे, तभी उनमें विस्फोट हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि वह विस्फोट के कारण लोगों की मौत से दुखी हैं और शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के. सुधाकर ने घटनास्थल का दौरा किया और कहा कि मृतकों के शव बुरी तरह क्षत-विक्षत होकर चारों तरफ बिखरे हुए थे। पुलिस के अनुसार, घटना पेरेसांद्रा के पास हिरेनागावल्ली में हुई। गौरतलब है कि इसी तरह का एक धमाका 22 जनवरी को हुआ था जब शिवमोगा के हानासोडु गांव में जिलेटिन लदे एक ट्रक में विस्फोट हो गया था। इस विस्फोट में भी छह लोगों की मौत हुई थी।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा, “चिकबल्लापुर के हिरेनागावल्ली गांव के पास जिलेटिन विस्फोट के कारण छह लोगों की मौत स्तब्ध कर देने वाली है।” उन्होंने जिला प्रभारी मंत्री और वरिष्ठ अधिकारियों को पूरी जांच करने और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

मंगलवार, 16 फ़रवरी 2021

अभियान: पूर्व सीएम, नाज़ियों ने जर्मनी में किया

कर्नाटक: राम मंदिर चंदा अभियान पर पूर्व सीएम कुमारस्वामी बोले-जो नाज़ियों ने जर्मनी में किया, वही आरएसएस यहाँ कर रही

बेंगलुरु। कर्नाटक के पूर्व सीएम और जेडीएस नेता एच.डी. कुमार स्वामी ने अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए इकठ्ठा किए जा रहे चंदे पर सवाल खड़े किए हैं।कुमारस्वामी ने सोमवार को आरएसएस पर आरोप लगाया कि वह अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की लिए चंदा देने वाले लोगों के घर पर निशान लगा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि यह वैसा ही है। जैसा नाजियों ने जर्मनी में किया था। वहीँ आरएसएस ने आरोपों से इंकार करते हुए कहा कि इनका जवाब देना भी उचित नहीं है। सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए जेडी (एस) के नेता ने दावा किया कि जिस समय जर्मनी में नाजी पार्टी की स्थापना हुई थी। उसी समय भारत में आर एस एस का जन्म हुआ था। कुमारस्वामी ने ट्वीट किया लगता है। कि राम मंदिर का निर्माण करने के लिए चंदा जुटाने वाले लोग धन देने वाले और नहीं देने वाले लोगों के घरों पर अलग-अलग निशान लगा रहे है। उन्होंने कहा यह उसी तरह है। जैसा जर्मनी में नाजियों ने हिटलर के समय में किया था। जब लाखों लोगों को अपनी जिंदगी गंवानी पड़ी थी। उन्होंने पूछा कि ऐसी बातों से देश कहां जाएगा। कुमारस्वामी ने आरोप लगाते हुए कहा कि नाजियों ने जो जर्मनी में किया था। वैसा ही आरएसएस यहां पर कर रहा है। आपको बता दें कि अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए ट्रस्ट की तरफ से पूरे देश में समर्पण राशी इकठ्ठा की जा रही है। कई बार इसको लेकर विवाद हो चुका है। पूर्व में भी कई कांग्रेस और अन्य पार्टियों के नेताओं ने चंदा एकत्रित करने की प्रक्रिया पर सवाल खड़े किए हैं। 
कर्नाटक में होने वाले उपचुनावों को लेकर एच.डी. कुमारस्वामी ने कहा कि हमारी पार्टी ने उपचुनाव ना लड़ने का निर्णय लिया है। वो ठीक नहीं है। लेकिन उनका प्रयास है, कि पार्टी के प्रत्याशी मैदान में जरूर उतरें. कुमारस्वामी ने बताया कि प्रत्याशियों के पास पैसों की कमी थी। जिसके बाद एच.डी. देवगौड़ा ने उन्हें चुनाव ना लड़ने के लिए कहा, हालांकि उनकी कोशिश है, कि पार्टी अवश्य चुनाव लड़े।

रविवार, 14 फ़रवरी 2021

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में दिशा की गिरफ्तारी

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में पहली गिरफ्तारी, बेंगलुरु से पर्यवारण एक्टिविस्ट दिशा रवि अरेस्ट

बेंगलुरु। जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट केस में पहली गिरफ्तारी हुई है। दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने बेंगलुरु से 21 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को गिरफ्तार किया है। दिशा रवि फ्राइडे फॉर फ्यूचर कैंपन की फॉउंडर मेंबर में से एक हैं। 4 फरवरी को दिल्ली पुलिस ने टूलकिट को लेकर केस दर्ज किया था। अधिकारियों के मुताबिक दिशा रवि केस की एक कड़ी है। शुरुआती पूछताछ में दिशा ने बताया है। कि इसने टूलकिट में कुछ चीजें एडिट की और फिर उसमें कुछ चीजें जोड़ी थी और आगे बढ़ाया था। फिलहाल पूछताछ जारी है। 
एफआईआर में किसी व्यक्ति का नाम नहीं
किसान आंदोलन के समर्थन में विदेशी हस्तियों के ट्वीट पर हुए विवाद के बीच दिल्ली पुलिस ने 4 फरवरी को ‘टूलकिट’ को लेकर केस दर्ज किया था। इसमें आईपीसी की धारा 124 ए (राजद्रोह), 153ए (धार्मिक आधार पर विभिन्न समूहों में द्वेष पैदा करने आदि), 153 और 120 बी लगाई थी। दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी क्राइम प्रवीर रंजन ने बताया था। कि एफआईआर में किसी व्यक्ति का नाम नहीं है। जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग का नाम भी नहीं है। ट्वीट और टूलकिट पर जांच की जा रही है।
प्रारंभिक जांच से खुलासा हुआ है। कि टूलकिट खालिस्तान समर्थक संगठन द्वारा तैयार की गई है। किसानों के प्रदर्शन के संबंध में सामाजिक ताने-बाने को नुकसान पहुंचाने वाली टूलिकट के क्रिएटर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। 
क्या है पूरा मामला
गणतंत्र दिवस के मौके पर 26 जनवरी को किसानों ने कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर रैली निकाली थी। इस दौरान दिल्ली में कई जगहों पर हिंसा की घटना हुई थी। इसकी चौतरफा आलोचना हुई है। इसके बाद पहले पॉप स्टार रिहाना और फिर ग्रेटा थनबर्ग ने किसानों के समर्थन में ट्वीट किया था। उन्होंने कहा था। हम भारत में किसानों के आंदोलन के प्रति एकजुट हैं। इसके साथ ही उन्होंने टूलकिट (दस्तावेज) ट्विटर पर शेयर किया। हालांकि इसपर हुए विवाद के बाद उन्होंने टूलकिट वाले ट्वीट को डिलीट कर दिया।

गुरुवार, 4 फ़रवरी 2021

महासागर क्षेत्र में उच्चस्तर पर सहयोग की जरूरत

 बेंगलुरू। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार कहा कि हिन्द महासागर क्षेत्र की मौजूदा चुनौतियों को देखते हुए इससे लगते देशों द्वारा सुरक्षा, शांति तथा समदिघ का माहौल सुनिश्चित करने के लिए अर्थव्यवस्था, व्यापार, नौसेना तथा समुद्री क्षेत्र में उच्च स्तर पर सहयोग किये जाने की जरूरत है। राजनाथ सिंह ने गुरूवार को एयरो इंडिया के दौरान आयोजित हिंद महासागर देशों के रक्षा मंत्रियों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हिन्द महासागर सब देशों की साझा संपत्ति है और लेकिन मौजूदा समय में इसमें समुद्री डकैती, नशीले पदार्थो तथा लोगों की तस्करी, मानवीय आपदा बड़ी चुनौती हैं।उन्होंने कहा कि एकजुट होकर तथा समुद्री क्षेत्र में सहयोग बढ़ाकर हम इन चुनौतियों का सामना कर सकते हैं क्योंकि आज किसी एक देश का खतरा कल दूसरे देश के लिए भी खतरा बन कर सामने आ सकता है। दक्षिण चीन सागर में चीन के प्रभुत्व बढ़ाने की कोशिशों का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि हमने दुनिया के कुछ समुद्री क्षे़त्रों में परस्पर टकराव वाले विभिन्न दावों का नकरात्मक असर देखा है। इसलिए हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हिन्द महासागर क्षेत्र में शांति बनी रही और सभी देश इस साझा संपत्ति का फायदा उठाये। भारत के इन देशों के साथ ऐतिहासिक और सांस्कतिक संबंध रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत हिन्द महासागर के देशों को मिसाइल प्रणाली, हल्के लड़ाकू विमान तथा हेलिकाॅप्टर, युद्धपोत, गश्ती नौका, तोप प्रणाली, टैंक, राडार, सैन्य वाहन, इलेक्ट्रानिक वारफेयर प्रणाली और अन्य हथियार प्रणाली देने को तैयार है जिससे कि तमाम तरह की चुनौतियों से निपट सकें। राजनाथ सिंह ने कहा कि हिन्द महासागर सबकी साझा संपत्ति तथा अंतरराष्ट्रीय व्यापार के लिए जीवन रेखा की तरह है क्योंकि दुनिया का एक तिहायी कार्गो इस क्षेत्र से गुजरता है। सभी देशों को मौजूदा तथा भविष्य की समुद्री चुनौतियों तथा खतरों को देखते हुए उच्च स्तर पर सहयोग तथा तालमेल करने की जरूरत है क्योंकि यही समय की मांग भी है।

बुधवार, 27 जनवरी 2021

भ्रष्टाचार के मामले में 4 साल जेल में बंद थीं सीएम

जेल से रिहा हुईं शशिकला, भ्रष्टाचार मामले में चार साल से थीं बंद

बेंगलुरु। एआईएडीएमके से निष्कासित नेता वीके शशिकला को बुधवार को अधिकारियों ने औपचारिकताएं पूरी करने के बाद जेल से रिहा कर दिया। शशिकला कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती हैं। और उनकी रिहाई की प्रक्रिया अस्पताल से पूरी की गई। एक सप्ताह पहले उनमें संक्रमण की पुष्टि हुई थी।
तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता की करीबी मित्र शशिकला आय से अधिक 66 करोड़ रुपए की संपत्ति मामले में फरवरी 2017 से यहां पारापन्ना अग्रहारा के केन्द्रीय कारागार में बंद थीं। अस्पताल के बाहर शशिकला के समर्थकों की भीड़ थी। और वह अपनी नेता के पक्ष में नारे लगा रहे थे। समर्थकों ने इस दौरान मिठाइयां भी बांटी।

सोमवार, 25 जनवरी 2021

मशहूर अभिनेत्री की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

बेंगलुरु। कन्नड़ सिनेमा की अभिनेत्री और बिग बॉस कन्नड़ की पूर्व कंटेस्टेंट जयश्री रमैया की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। बेंगलुरु स्थित उनके आवास पर उनका शव फांसी पर लटका हुआ मिला। हालांकि उन्होंने आत्महत्या की है इसकी पुष्टि अभी नहीं हो पाई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जयश्री पिछले कुछ समय से डिप्रेशन से जूझ रही थी। बताया जा रहा है कि बेंगलुरु के संध्या किरण आश्रम में उनका इलाज चल रहा था। उन्होंने पिछले साल सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर इस दुनिया को छोड़ने की बात कही थी। उन्होंने वीडियो में कहा था कि वह डिप्रेशन से उभर नहीं पा रही हैं इसलिए मरना चाहती हैं। हालांकि कुछ देर बाद ही जयश्री रमैया ने अपने इस पोस्ट को डिलीट कर दिया था।इतना ही उन्होंने यह तक कह दिया कि वो डिप्रेशन से फाइट नहीं कर सकती और उन्हें इच्छा-मृत्यु चाहिए। आपको बता दें कि जयश्री रमैया एक मशहूर मॉडल और डांसर थीं। वह साल 2015 में कन्नड़ के रियलिटी शो बिग बॉस कन्नड का हिस्सा रह चुकी हैं। वहीं इस शो के होस्ट सुपरस्टार किच्चा सुदीप थे। जयश्री की पहली फिल्म Uppu Huli Khara थी।जयश्री की दोस्त ने उनके बारे में बात करते हुए बताया था, जयश्री अपने किसी पारिवारिक कारण की वजह से मानसिक रूप से परेशान हैं, वो अक्सर कहती हैं कि वो अच्छा महसूस नहीं कर रही और लो फील कर रही हैं, मैंने उनसे कई बार कहा कि आप परेशान ना हों, सब ठीक होगा लेकिन उनके साथ दिक्कत ये है कि वो बार-बार अपना फोन नंबर बदल देती हैं, जिससे उनसे संपर्क करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

शुक्रवार, 22 जनवरी 2021

कर्नाटक: हादसे में 15 लोगों की मौत, जताया दुख

बेंगलुरु। कर्नाटक का शिवमोगा जिला में गुरुवार रात हुए भीषण धमाके की गूंज से दहल उठा। ट्रक में भरकर ले जाए जा रहे विस्फोटक में धमाके में अब तक 15 लोगों के मारे जाने की खबर है। आशंका है कि मृतकों की संख्या अभी और बढ़ सकती है। धमाका इतना भीषण था कि आसपास के घरों के शीशे टूट गए। इतना ही नहीं 50 किलोमीटर के दायरे में तेज झटके महसूस किए गए। लोगों को पहले तो लगा कि यह तेज भूकंप के झटके हैं। वहीँ हादसे में लोगों के मारे जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘शिवमोगा में जानमाल के नुकसान से आहत। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना। प्रार्थना है कि घायल जल्द ठीक हो जाएं। राज्य सरकार प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान कर रही है। हादसे में लोगों के मारे जाने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दुख जताया है।

शुक्रवार, 15 जनवरी 2021

कर्नाटक: 2 वाहनों की टक्कर में 11 लोगों की मौत

कर्नाटक में बड़ा सड़क हादसा, दो वाहनों की टक्कर में 11 लोगों की मौत

बैंगलुरू। कर्नाटक में धारवाड जिले के इटागट्टी के पास शुक्रवार तड़के टैम्पो और टिप्पर में टक्कर होने से कम से कम 11 लोगों की मौके पर मौत हो गयी, जिनमें अधिकतर महिलाएं हैं, जबकि कई अन्य घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि दुर्घटना के समय पीड़ित दावणगेरे से गोवा की ओर जा रहे थे।
क्षतिग्रस्त हो गए हैं और शवों की पहचान के लिए उनके रिश्तेदारों को दावणगेरे से बुलाया गया है। वहीं घायलो को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती किया गया है। इस सिलिसेल में धारवाड ग्रामीण पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और जांच की जा रही है। विस्तृत विवरण की प्रतिक्षा की जा रही है।

मंगलवार, 5 जनवरी 2021

नूतन वर्ष के स्वागत में हवन का आयोजन किया

मुकेश कुमार चंद्रवंशी 

बीजपुर। स्वामी दयानन्द सरस्वती के दिखाये मार्ग पर चलने वाली संस्था डी ए वी में हवन का विशेष महत्व रहा है। इसी कड़ी में सोमवार को नूतन वर्ष के स्वागत में हवन का आयोजन किया गया। हवन कार्यक्रम के मुख्य यजमान की भूमिका ए के पपनेजा, महाप्रबंधक टी एस ने निभाया। विद्यालय के प्राचार्य राजकुमार ने पुष्प गुच्छ द्वारा और शिक्षकों एवं छात्रों ने करतल ध्वनि से मुख्य अतिथि का स्वागत किया। अपने स्वागत संबोधन में प्राचार्य ने बताया कि पूरे विश्व में नौ सौ से भी अधिक डीएवी स्कूल संचालित हैं। हमारी संस्था संस्कार युक्त शिक्षा देने के लिए जानी जाती हैं। स्वागत संबोधन के बाद वैदिक मंत्रों की ध्वनी से जहां पूरा वातावरण गुंजायमान हुआ वहीं हवन सामग्री और घी की आहुति से वायुमंडल की शुद्धता बढ़ी।

मंगलवार, 29 दिसंबर 2020

विधान परिषद के उपाध्यक्ष का ट्रैक पर शव मिला

कर्नाटक विधान परिषद के उपाध्यक्ष का रेलवे ट्रैक पर मिला शव, आत्महत्या की आशंका
बेंगलुरू। कर्नाटक विधान परिषद के उपाध्यक्ष एस. एल. धर्मे गौड़ा मंगलवार तड़के कर्नाटक के चिकमंगलूर जिले में एक रेल की पटरी पर मृत मिले। पुलिस सूत्रों को उनके आत्महत्या करने का संदेह है। जनता दल (सेक्युलर) के नेता धर्मे गोड़ा (64) के परिवार में पत्नी, एक बेटा और एक बेटी है। उनके भाई एस. एल. भोजे गौड़ा भी एमएलसी हैं।
सूत्रों के अनुसार गौड़ा अपनी निजी कार में सखारयापत्तना स्थित फार्महाउस से कल शाम को घर के लिए निकले थे। लेकिन पहुंचे नहीं और इसके बाद उनके परिवार तथा स्टाफ ने उनकी तलाश शुरू की। सूत्रों ने बताया कि उन्होंने अपने चालक से कहा था। कि वह किसी से बात करने जा रहे हैं। और वह थोड़ी दूर ही रुक जाए। एक ‘सुसाइड नोट’ भी बरामद हुआ है।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि शव को शिमोगा के मेकगैन अस्पताल ले जाया गया है। मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा ने घटना पर स्तब्धता जाहिर करते हुए, इसे दुर्भाग्यपूर्ण’’ करार दिया। उन्होंने विधान परिषद के उपाध्यक्ष के रूप में कुशलतापूर्वक संचालन के लिए एमएलसी की सराहना की।
जद (एस) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व प्रधानमंत्री एच. डी. देवगौड़ा ने भी ट्वीट कर धर्मे गौड़ा के निधन पर स्तब्धता जाहिर की और उन्हें एक सभ्य राजनेता के तौर पर याद किया। देवगौड़ा ने कहा कि धर्मे गौड़ा के निधन से राज्य को क्षति पहुंची है। पूर्व मुख्यमंत्री एच डी. कुमारस्वामी ने भी धर्मे गौड़ा के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए, उन्हें अपने भाई की तरह बताया। कुमारस्वामी ने ट्वीट किया कि उनके निधन से मुझे सदमा पहुंचा है। वह एक ईमानदार राजनेता थे।

जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...