कर्नाटक लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
कर्नाटक लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

मंगलवार, 26 दिसंबर 2023

'बीएमटीसी' में 1,400 नई बसें शामिल होगी

'बीएमटीसी' में 1,400 नई बसें शामिल होगी 

अकांशु उपाध्याय 
बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने मंगलवार को कहा कि अगले साल अप्रैल तक बेंगलुरु मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (बीएमटीसी) में 1,400 नई इलेक्ट्रिक बसें शामिल की जाएंगी। उन्होंने पहले चरण में यहां विधान सौध में बीएमटीसी की 100 गैर-वातानुकूलित इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई।
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘शक्ति योजना शुरू होने के बाद से अब तक कर्नाटक की महिलाएं राज्य परिवहन की बसों में 120 करोड़ यात्रा मुफ्त कर चुकी हैं। कुल मिलाकर 40 लाख लोग हर दिन बीएमटीसी की बसों से यात्रा करते हैं। इसमें सभी जाति, सभी धर्म और सभी वर्ग की महिलाएं शामिल हैं।’’ उन्होंने कहा कि सार्वजनिक परिवहन सेवाओं को बढ़ावा देने और शहर में बढ़ते वाहन प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए नई इलेक्ट्रिक बसें शामिल की गई हैं।
सिद्धरमैया ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर महिलाओं के लिए मुफ्त बस यात्रा सेवा की आलोचना करने का आरोप लगाते हुए पूछा कि जब वह सत्ता में थी तो उसने इस कल्याणकारी योजना को लागू क्यों नहीं किया। उन्होंने इस योजना के प्रभावी परिणाम भी बताए। उन्होंने कहा, “हमारी गारंटी के कारण, लोगों की क्रय शक्ति और राज्य की आर्थिक गतिविधि भी बढ़ रही है।
ये योजनाएं मजदूरों, किसानों और महिलाओं के लिए पैसा बचाने में बहुत मददगार होती हैं। वे उस पैसे का उपयोग अपने परिवार की अन्य जरूरतों के लिए करते हैं। इस प्रकार, लाखों परिवारों की आर्थिक शक्ति भी बढ़ रही है।” उन्होंने कहा, ‘‘राज्य के लगभग 4.30 करोड़ लोग सरकारी गारंटी योजनाओं से सीधे लाभान्वित हो रहे हैं। इससे गरीबों और मजदूर वर्गों को आर्थिक प्रगति की मुख्यधारा में लाया जा रहा है।’’
बीएमटीसी ने एक बयान में कहा कि यात्रियों के लिए एक सुरक्षित परिवहन प्रणाली और चालकों को अधिक जागरूक बनाने के लिए 10 बसों में 'एडवांस ड्राइवर असिस्टेंस सिस्टम' (एडीएएस) लागू किया जा रहा है।
इसमें कहा गया है, ‘‘यातायात उल्लंघन और दुर्घटना को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने के लिए, सुरक्षित ड्राइविंग और यातायात नियमों के कड़ाई से पालन के वास्ते पुलिस विभाग के सहयोग से दिसंबर से 3,000 चालकों को ट्रैफिक कमांड और कंट्रोल सेंटर में प्रशिक्षित किया जा रहा है।’’

मंगलवार, 14 नवंबर 2023

हिजाब को प्रतिबंधित कर, मंगलसूत्र को इजाजत दी

हिजाब को प्रतिबंधित कर, मंगलसूत्र को इजाजत दी

इकबाल अंसारी 
बेंगलुरु। सरकार की ओर से उठाए गए बड़े कदम के अंतर्गत भर्ती परीक्षाओं में हिजाब को पूरी तरह से प्रतिबंधित करते हुए मंगलसूत्र को इजाजत दी गई है। परीक्षा हाल में मंगलसूत्र एवं बिछुए पहनकर जाने की इजाजत होगी। 
मंगलवार को कर्नाटक एग्जामिनेशन अथॉरिटी की ओर से उठाएं गये एक बड़े कदम के अंतर्गत राज्य के भीतर होने वाली भर्ती परीक्षा में सभी प्रकार के हेड कवर को प्रतिबंधित कर दिया गया है। सरकार की ओर से यह फैसला ऐसे समय पर लिया गया है जब कर्नाटक में पिछले काफी लंबे समय से हिजाब को लेकर विवाद चला आ रहा है। व्यापक इंतजाम अथॉरिटी ने भर्ती परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए ब्लूटूथ इयरफोन, मोबाइल फोन तथा अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। हालांकि इस आदेश में मंगलसूत्र और बिछुओं पर बैन को लेकर कुछ भी नहीं कहा गया है। जानकारी मिल रही है कि परीक्षा हाल में मंगलसूत्र और बिछुएं पहनकर जाने की महिलाओं को इजाजत होगी। 
एग्जामिनेशन अथॉरिटी की तरफ से जारी किए गए आदेशों में कहीं भी हिजाब का नाम अलग से उल्लेखित नहीं किया गया है। हालांकि हेड कवर बैन में हिजाब खुद में खुद शामिल हो जाता है।उल्लेखनीय है कि आगामी 18 एवं 19 नवंबर को राज्य में कई भर्ती परीक्षाओं का आयोजन होना है। ऐसे हालातो में मंगलवार को सरकार की ओर से लिया गया हिजाब बैन का यह फैसला बड़े मायने रखता है।

शनिवार, 19 अगस्त 2023

उद्यान एक्सप्रेस ट्रेन की दो बोगी में लगी आग

उद्यान एक्सप्रेस ट्रेन की दो बोगी में लगी आग   

इकबाल अंसारी   
बेंगलुरु। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में उद्यान एक्सप्रेस में भयानक आग लने से पूरा स्टेशन धुंए की चपेट में आ गया। ट्रेन संगोल्ली रायन्ना रेलवे स्टेशन पर घटना के 2 घंटे पहले पहुंची थी जिसकी दो बोगी में आग लगने से पूरा स्टेशन धुआं-धुआं हो गया। अधिकारियों ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस - KSR बेंगलुरु उद्यान डेली एक्सप्रेस (ट्रेन नंबर 11301) शनिवार सुबह कर्नाटक के बेंगलुरु में संगोल्ली रायन्ना रेलवे स्टेशन पर पहुंचने के बाद आग लग गई। अधिकारियों ने कहा कि किसी के हताहत होने या घायल होने की सूचना नहीं है।
यह घटना सुबह लगभग 07.00 बजे हुई। स्टेशन अधिकारियों ने ट्रेन के लोकोमोटिव से धुआं निकलते देखा और अलार्म बजाया। सूचना के बाद दमकल गाड़ियों की एक टीम मौके पर पहुंची और स्थिति को नियंत्रित किया। दक्षिण-पश्चिम रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि ट्रेन के आने के दो घंटे बाद धुआं देखा गया। उन्होंने दावा किया कि यात्रियों के ट्रेन से उतरने के दो घंटे बाद यह घटना हुई। आग लगने का सटीक कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। अधिकारियों ने कहा कि आग लगने के तुरंत बाद उसे बुझा दिया गया और विशेषज्ञों की एक टीम इसके पीछे के सटीक कारण का पता लगाने के लिए स्थिति का आंकलन कर रही है।

गुरुवार, 13 जुलाई 2023

भाजपा के खिलाफ 24 दल एक मंच पर आएंगे

भाजपा के खिलाफ 24 दल एक मंच पर आएंगे

तारिक़ खान

बेंगलुरु। केंद्र में सत्ताधारी भाजपा के खिलाफ विपक्ष एकजुट होने की कोशिश में लगा है। एक मीटिंग बिहार में हो चुकी है। अब कर्नाटक में दूसरी होने वाली है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक विपक्ष की दूसरी बैठक 17-18 जुलाई को बेंगलुरु में होगी। इस बार बैठक में 24 दलों के नेता शामिल होंगे। कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी भी इस बैठक में शामिल होंगी।

सोनिया गांधी संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) की अध्यक्ष हैं। विपक्षी दलों की इस बैठक में उनकी उपस्थिति संभवतः ये सुनिश्चित करेगी कि बैठक अच्छे माहौल में हो। अगर किसी मुद्दे को लेकर मुश्किल होती है तो सोनिया गांधी उसे आसानी से सुलझवा दें। विपक्षी नेताओं के बीच इस बैठक में दो दिन बातचीत होनी है। इसमें पहले दिन यानी 17 जुलाई को सभी नेता एक अनौपचारिक बैठक करेंगे। इसके अगले दिन 18 जुलाई को इन नेताओं के बीच एक औपचारिक बातचीत होगी। पहले दिन की बैठक खत्म होने के बाद सभी नेताओं को कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया एक डिनर पार्टी देंगे।

बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार साल 2022 में बीजेपी से नाता तोड़कर महागठबंधन में शामिल हो गए थे। वो इसके बाद से ही विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश में लगे हैं। उन्होंने पिछले कुछ महीनों में अलग-अलग राज्यों में जाकर विपक्षी नेताओं से मुलाकात भी की। इसके बाद उन्होंने 23 जून को बिहार की राजधानी पटना में विपक्षी दलों की बड़ी बैठक बुलाई थी। इस महाबैठक में 15 दलों के 27 नेता शामिल हुए थे।

इन नेताओं के नाम नीतीश कुमार (जेडीयू), ममता बनर्जी (एआईटीसी), एमके स्टालिन (डीएमके), मल्लिकार्जुन खरगे (कांग्रेस), राहुल गांधी (कांग्रेस), अरविंद केजरीवाल (आप), हेमंत सोरेन (झामुमो), उद्धव ठाकरे (एसएस-यूबीटी), शरद पवार (एनसीपी), लालू प्रसाद यादव (राजद), भगवंत मान (आप), अखिलेश यादव (सपा), केसी वेणुगोपाल (कांग्रेस), सुप्रिया सुले (एनसीपी), मनोज झा (राजद), फिरहाद हकीम (एआईटीसी), प्रफुल्ल पटेल (एनसीपी), राघव चड्ढा (आप), संजय सिंह (आप), शामिल हुवे थे।

इसके अलावा संजय राऊत (एसएस-यूबीटी), ललन सिंह (जेडीयू),संजय झा (जेडीयू), सीताराम येचुरी (सीपीआईएम), उमर अब्दुल्ला (नेकां), टीआर बालू (डीएमके), महबूबा मुफ्ती (पीडीपी), दीपंकर भट्टाचार्य (सीपीआईएमएल)तेजस्वी यादव (राजद), अभिषेक बनर्जी (एआईटीसी), डेरेक ओ’ब्रायन (एआईटीसी), आदित्य ठाकरे (एसएस-यूबीटी) और डी राजा (सीपीआई) हैं।

सोमवार, 10 जुलाई 2023

जैन आचार्य की हत्या से जैन समाज में रोष

जैन आचार्य की हत्या से जैन समाज में रोष 

नीरज जैन 

बेंगलुरु।कर्नाटक में दिगम्बर जैन आचार्य श्री 108 काम कुमार नन्दी जी महामुनिराज की क्रूरता एवं बर्बरता पूर्वक जघन्य हत्या कर दी गयी। जिससे भारतवर्ष की समस्त जैन समाज (सभी सम्प्रदाय सम्मिलत) में भारी रोष व्याप्त हो गया।

कर्नाटक के 'वरूर' स्थित "नवग्रह तीर्थ" पर विराजमान

दिगम्बर जैनाचार्य श्री 108 गुणधर नंदी जी महामुनिराज ने कर्नाटक में सभी जैन साधुओं को हमेशा के लिए सुरक्षा दिए जाने की लिखित गारंटी देने तक आमरण अनशन शुरू कर दिया है। उन्होंने अन्न-जल का पूर्ण त्याग कर दिया है।

भारत गणराज्य के कर्नाटक प्रान्त के बेलगाम जिलान्तर्गत बसदी हिरेकोडी गांव स्थित "नंदीपर्वत जैन आश्रम में दिगम्बर जैनाचार्य श्री 108 कामकुमार नन्दी जी महामुनिराज 15 वर्षो  से परोपकार एवं आत्मकल्याण हेतु साधनारत थे।

प्राप्त समाचार के अनुसार एक मुस्लिम व्यक्ति उनसे आर्थिक सहायता मांगने आया। आचार्य श्री ने परोपकार करते हुए उसे 6 लाख ₹ की आर्थिक सहायता आश्रम से उपलब्ध करा दी। कई वर्ष बीतने के बाद आश्रम के संचालको एवं आचार्य श्री ने उसे आश्रम का पैसा लौटाने के लिए कहा। उस मुस्लिम व्यक्ति ने आश्रम में रात्रि के समय सन्नाटा रहने का फायदा उठाकर 5 जुलाई 2023 की रात को वहाँ के माली को साथ मिलाकर आचार्य श्री को बिजली के करेंट से घोर यातनाएं देकर वीभत्स हत्या कर दी। उन पिशाचों को इससे सन्तुष्टि नही हुई और वीभत्स्य कृत करके शरीर के 9 टुकड़ों में काट डाला तथा एक बोरी में भरकर पास के काफी गहरे बोरवेल में डाल दिया।

6 जुलाई 2023 को जब जैन श्रद्धालु आश्रम स्थित जैन मंदिर में वंदना के लिए पहुँचे। वहाँ जैन मुनिराज को न पाने से हड़कम्प मच गया। यह खबर आग की तरह चारों ओर फैल गयी।जैन श्रद्धालुओं ने चिक्कोड़ी पुलिस थाने में जैन मुनि के लापता होने सूचना दी।जब यह खबर कर्नाटक के वरूर स्थित दिगम्बर जैनआचार्य गुणधरनन्दी के पास पहुँची। उन्होंने ततपरता से केंद्र व प्रान्त के मंत्रियों एवं पुलिस अधिकारियों से वार्ता की।

पलिस ने हरकत में आने के बाद सन्देहास्पद माली सहित दो व्यक्तियो से कड़ी पूछताछ के बाद जैन महामुनिराज कामकुमार नंदी की हत्या का  पर्दाफाश कर दिया। इतना ही नही काफी गहरे बोरवेल से शरीर के सभी नौ टुकड़े बरामद कर लिए। कर्नाटक में समस्त जैन साधुओं को हमेशा के लिए प्रवास एवं पैदल विहार के दौरान पूर्ण सुरक्षा किये जाने की लिखित गारेंटी दिए जाने तक कर्नाटक के वरूर स्थित "नवग्रह तीर्थ" पर विराजमान दिगम्बर जैन आचार्य गुणधर नन्दी महामुनिराज ने अन्न-जल का त्याग कर आमरण अनशन शुरू कर दिया है।

शुक्रवार, 30 जून 2023

ट्विटर द्वारा दायर याचिका को खारिज किया

ट्विटर द्वारा दायर याचिका को खारिज किया

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने ट्विटर इंक द्वारा दायर उस याचिका को शुक्रवार को खारिज कर दिया, जिसमें कंपनी ने सामग्री हटाने और ब्लॉक करने संबंधी इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के आदेश को चुनौती दी थी। 

इसके साथ ही अदालत ने कहा कि कंपनी की याचिका का कोई आधार नहीं है।

न्यायमूर्ति कृष्ण एस दीक्षित की एकल पीठ ने ट्विटर कंपनी पर 50 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया और इसे 45 दिनों के भीतर कर्नाटक राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण में जमा कराने का आदेश दिया। अदालत ने फैसले के मुख्य हिस्से को पढ़ते हुए कहा, "उपरोक्त परिस्थितियों में यह याचिका आधार रहित होने के कारण अनुकरणीय जुर्माने के साथ खारिज की जा सकती है और तदनुसार ऐसा किया जाता है।

याचिकाकर्ता पर 50 लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाता है जो 45 दिनों के अंदर कर्नाटक राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बेंगलुरु को देय है। यदि इसमें देरी की जाती है, तो इस पर प्रति दिन 5,000 रुपये का अतिरिक्त शुल्क लगेगा।’’ न्यायाधीश ने ट्विटर की याचिका खारिज करते हुए कहा, ''मैं केंद्र की इस दलील से सहमत हूं कि उनके पास ट्वीट को ब्लॉक करने और एकाउंट पर रोक लगाने की शक्ति है।’’

सोमवार, 26 जून 2023

कर्नाटक को संप्रदायिक दंगल नहीं बनने देंगे  

कर्नाटक को संप्रदायिक दंगल नहीं बनने देंगे   

इकबाल अंसारी 

मैसूर। अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिका अर्जुन खरगे के पुत्र और कर्नाटक के कैबिनेट मंत्री प्रियंक खड़गे ने पुलिस को खुली चुनौती देते हुए कहा कि जो लोग भी ईद अल-अजहा में जानवरों के नाम पर गड़बड़ी करेगा। उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि कर्नाटक को सांप्रदायिक दंगल नहीं बनने दिया जाएगा। सभी को शांति पूर्वक एक दूसरे के साथ जीवन बिताना चाहिए। उन्होंने बजरंग दल पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जानवरों के नाम पर जो लोग हिंसा पैदा कर रहे हैं और लोगों को कत्ल कर रहे हैं। उनको किसी कीमत पर बक्सा नहीं जाएगा कर्नाटक में अमन चयन रहना बहुत जरूरी है। 

उन्होंने कहा कि कर्नाटक ने बहुत दुख झेले हैं इसलिए कर्नाटक को एक शांतिपूर्ण कर्नाटक राज्य बनाना है। जो लोग सांप्रदायिकता उन्माद करते हैं, लोगों को भी सड़क पर सामूहिक भीड़ में कत्ल करते हैं उनको तो बख्शा नहीं जाएगा। चाहे वह बजरंग दल क्यों ना हो सांप्रदायिकता फैलाने वालों की कर्नाटक में अब कोई जगह नहीं है।

शुक्रवार, 23 जून 2023

झुग्गी में केवल दो एलइडी बल्ब, 1,03,315 का बिल 

झुग्गी में केवल दो एलइडी बल्ब, 1,03,315 का बिल 

इकबाल अंसारी 

कोप्पल। कोप्पल क्षेत्र में 90 वर्षीय महिला उस समय स्तब्ध रह गई, जब उसे अपनी झुग्गी के लिए एक लाख रुपये का बिजली बिल मिला, जिसमें केवल दो एलईडी बल्ब लगे हुए हैं। एक छोटी सी झुग्गी में अपने बेटे के साथ रहने वाली गिरिजम्मा का बिजली का बिल आमतौर पर करीब 70 या 80 रुपये प्रतिमाह आता था। मई महीने के लिए 1,03,315 रुपये का बिल पाकर वह हैरान रह गईं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोप्पल जिले के भाग्यनगर में रहने वाली गिरिजम्मा को गुलबर्गा इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी लिमिटेड (GESCOM) से मई महीने का बिजली बिल मिला। उसने बिल की राशि रुपये देखी। 1.03 लाख और इतनी बड़ी रकम के साथ बिल का भुगतान करने के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं थी। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मेरा बेटा दिहाड़ी मजदूर है और हममें से केवल दो लोग छोटे से घर में रहते हैं।

मुझे नहीं पता कि बिल का भुगतान कैसे करूं और आप लोगों (मीडियाकर्मियों) को मुझे इससे बाहर निकालने में मदद करनी चाहिए। बुजुर्ग महिला को भाग्य ज्योति योजना के तहत बिजली कनेक्शन मिला था, जिसका उद्देश्य मलिन बस्तियों में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों को न्यूनतम कीमत पर बिजली प्रदान करना है। खबर फैलने के तुरंत बाद, बिजली विभाग के अधिकारी उनके घर पहुंचे और पाया कि मीटर में गड़बड़ी थी और जो व्यक्ति मीटर रीडिंग लेने आया था, उसने भी गलती की थी। बाद में अधिकारियों ने उनसे बिल का भुगतान न करने को कहा और आश्वासन दिया कि इसे संशोधित किया जाएगा। बता दें कि कर्नाटक सरकार ने पहले ही कर्नाटक के सभी आवासीय परिवारों को 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली प्रदान करने वाली 'गृह ज्योति' योजना लागू कर दी है।

इस बीच, कर्नाटक विद्युत नियामक आयोग ने 12 मई को अपने टैरिफ आदेश में फिक्स्ड और प्रति यूनिट शुल्क में 70 पैसे प्रति यूनिट की बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी थी।

सोमवार, 10 अप्रैल 2023

संगठन के सदस्यों ने 'अमूल' के खिलाफ प्रदर्शन किया

संगठन के सदस्यों ने 'अमूल' के खिलाफ प्रदर्शन किया

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरू। कर्नाटक में अमूल बनाम नंदिनी ब्रांड को लेकर राजनीतिक विवाद के बीच एक कन्नड़ समर्थक संगठन के सदस्यों ने सोमवार को गुजरात स्थित डेयरी सहकारिता संस्था 'अमूल' के खिलाफ प्रदर्शन किया। जिसके बाद पुलिस ने 'कर्नाटक रक्षण वैदिके' संगठन के सदस्यों को एहतियातन हिरासत में लिया। गौरतलब है कि कर्नाटक में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और विपक्षी कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर) के बीच राज्य में अमूल के दूध और दही बेचने की अपनी योजना की घोषणा के बाद वाकयुद्ध जारी है। ‘गुजरात कोॉपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन’ की घोषणा के अनुसार, उसकी बेंगलुरू में अमूल का दूध और दही बेचने की योजना है।

कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर) के नेताओं ने इस कदम की आलोचना करते हुए कहा कि इससे कर्नाटक मिल्क फेडरेशन (केएमएफ) के हितों को नुकसान होगा, जो नंदिनी ब्रांड का मालिक है। वहीं, कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने रविवार को कहा, "यह गुजरात का बड़ौदा बैंक था जिसने हमारे विजया बैंक को अपने में मिला लिया। बंदरगाह और हवाईअड्डे गुजरात के अडानी को सौंप दिए गए।

अब, गुजरात का अमूल हमारे केएमएफ (नंदिनी) को खत्म करने की योजना बना रहा है। मिस्टर नरेंद्र मोदी, क्या हम गुजरातियों के दुश्मन हैं?" भाजपा के आईटी प्रकोष्ठ के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट किया, "केएमएफ देश की दूसरी सबसे बड़ी दुग्ध सहकारी संस्था है। महाराष्ट्र, गोवा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और तमिलनाडु में इसके डिपो हैं।इसकी कुल बिक्री का 15 प्रतिशत कर्नाटक के बाहर है। नंदिनी का निर्यात सिंगापुर, यूएई और कई अन्य देशों में किया जाता है। अमूल और केएमएफ विलय नहीं कर रहे हैं।" उन्होंने कर्नाटक में सरकार के खिलाफ "झूठ फैलाने" के लिए कांग्रेस की आलोचना की। इस बीच, बेंगलुरु मिल्क यूनियन लिमिटेड (बामूल) ने कहा कि गर्मियों की शुरुआत के कारण राज्य में दूध उत्पादन में कमी आई है।

हालांकि, कर्नाटक स्टेट होटल्स एसोसिएशन (केएसएचए) ने आरोप लगाया कि कर्नाटक में अमूल के पक्ष में नंदिनी उत्पादों की "कृत्रिम कमी" पैदा की गई है। बामूल के निदेशक पी नागराजू ने पीटीआई-भाषा को बताया, "राज्य में दूध उत्पादन लगभग 90 लाख लीटर प्रतिदिन से घटकर लगभग 75 लाख लीटर प्रतिदिन हो गया है, जिसके कारण कुछ लोगों को कमी का सामना करना पड़ सकता है। इसमें कुछ भी असामान्य नहीं है।" केएसएचए के अध्यक्ष चंद्रशेखर हेब्बर ने आरोप लगाया, "अमूल के पक्ष में नंदिनी की कमी पैदा करने का प्रयास किया जा रहा है। हमें यह पता चल गया है। नंदिनी घी, जो बेहतर गुणवत्ता का है, इन दिनों उपलब्ध नहीं है।"

बुधवार, 29 मार्च 2023

राज्य को 36.3 करोड़ अमेरीकी डॉलर का ऋण मंजूर 

राज्य को 36.3 करोड़ अमेरीकी डॉलर का ऋण मंजूर 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक के 20 लाख ग्रामीण परिवारों को उनके घरों में नलों से स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति के लिए विश्व बैंक के कार्यकारी निदेशक मंडल ने राज्य को 36.3 करोड़ अमेरीकी डॉलर का ऋण मंजूर किया है। विश्व बैंक के एक बयान में बुधवार को कहा गया कि कर्नाटक का लगभग 77 प्रतिशत क्षेत्र शुष्क या अर्ध-शुष्क है और जलवायु-परिवर्तन की वजह से वर्षा की प्रवृत्ति में बदलाव के कारण सूखे और बाढ़ की चपेट में रहता है।

इस क्षेत्र में भूजल की कमी है और पानी की गुणवत्ता भी लगातार खराब हो रही है। बयान में कहा गया है, ‘‘राज्य में हर ग्रामीण आवास को ‘कर्नाटक टिकाऊ ग्रामीण जल आपूर्ति कार्यक्रम’ नल के पानी का कनेक्शन प्रदान करने की कर्नाटक सरकार की महत्वाकांक्षा में सहयोग करेगा।’’ बयान के अनुसार, ‘‘इसमें पेयजल वितरण नेटवर्क का निर्माण और ग्रामीण घरों में पानी के मीटर लगाना शामिल होगा और इससे राज्य के सभी 31 जिलों में लगभग एक करोड़ लोगों को लाभ होगा।’’ भारत के लिए विश्व बैंक के कंट्री डायरेक्टर ऑगस्टे तानो कौमे ने कहा, ‘‘भारत के सभी ग्रामीण घरों में पाइप से पानी पहुंचाने के हमारे सहयोग के केंद्र में लैंगिक समानता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘महत्वपूर्ण बात यह है कि इस कार्यक्रम से ग्रामीण स्थानीय प्रशासन की जल आपूर्ति सेवाओं के प्रभावी प्रबंधन की क्षमता बढ़ेगी। इससे विशेषकर महिलाओं को लाभ होगा क्योंकि पानी लाने की जिम्मेदारी उनके ही ऊपर होती है। इससे उनका स्वास्थ्य बेहतर होगा और उन्हें शिक्षा प्राप्त करने का अवसर एवं नौकरी के लिए अधिक समय मिलेगा।’’ 

शनिवार, 11 मार्च 2023

बुजुर्गों व दिव्यांगों के लिए 'वोट-फ्रॉम-होम' की सुविधा 

बुजुर्गों व दिव्यांगों के लिए 'वोट-फ्रॉम-होम' की सुविधा 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। निर्वाचन आयोग ने शनिवार को कहा कि उसने कर्नाटक में आगामी विधानसभा चुनावों में 80 वर्ष से अधिक आयु के लोगों और दिव्यांगों के लिए घर से मतदान (वोट-फ्रॉम-होम) की सुविधा शुरू की है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने यहां संवाददाताओं से कहा कि पहली बार निर्वाचन आयोग 80 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को यह सुविधा देने जा रहा है। उन्होंने कहा, हमारी टीम फॉर्म-12डी के साथ ऐसे मतदाताओं के पास जाएंगी। उन्होंने कहा, हालांकि हम 80 साल से अधिक उम्र के लोगों और इस सुविधा का लाभ नहीं लेने वाले लोगों को मतदान केंद्र पर आने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। कुमार ने कहा कि इस संबंध में गोपनीयता बरती जाएगी और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी की जाएगी।

उन्होंने कहा कि दिव्यांगों के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन सक्षम शुरू किया गया है, जिसमें वे लाग इन कर सकते हैं और मतदान करने की सुविधा का चयन कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि एक अन्य मोबाइल एप्लिकेशन, सुविधा विकसित की गई है, जो उम्मीदवारों के लिए नामांकन और शपथ पत्र दाखिल करने के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल है।कुमार ने कहा, उम्मीदवार बैठकों और रैलियों की अनुमति लेने के लिए सुविधा पोर्टल का भी उपयोग कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग ने मतदाताओं के लाभ के लिए अपने उम्मीदवार को जानें (केवाईसी) नामक एक अभियान भी शुरू किया है।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बारे में बात करते हुए, उन्होंने कहा कि 224 निर्वाचन क्षेत्रों वाले राज्य में अनुसूचित जाति के लिए 36 सीट और अनुसूचित जनजाति के लिए 15 सीट आरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि यहां 5.21 करोड़ मतदाता हैं जिनमें 2.59 महिला मतदाता हैं। चुनाव की संभावित तिथि के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि यह 24 मई से पहले कराया जाना है, जब मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल समाप्त हो रहा है।

शुक्रवार, 27 जनवरी 2023

एचसी ने कंपनी के खिलाफ जारी संचार रद्द किया 

एचसी ने कंपनी के खिलाफ जारी संचार रद्द किया 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने नवंबर 2022 में बेंगलुरु में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट (जीआईएम) के प्रचार वीडियो से जुड़ा ठेका रद्द करने वाली कंपनी के खिलाफ जारी संचार रद्द कर दिया है। मुंबई स्थित बीबीपी स्टूडियो वर्चुअल भारत प्राइवेट लिमिटेड को बीते साल 11 अगस्त को जीआईएम के लिए एक 3-डी प्रचार वीडियो तैयार करने का ठेका दिया गया था। 25 अक्टूबर को कंपनी को एक ईमेल भेजा गया था, जिसमें कहा गया था कि ऑर्डर रद्द कर दिया गया है।

ईमेल में ऑर्डर रद्द किए जाने की वजह नहीं बताई गई थी। कर्नाटक के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री मुरुगेश आर निरानी ने तब राज्य सरकार के उपक्रम मार्केटिंग कम्युनिकेशन एंड एडवरटाइजिंग लिमिटेड (एमसीएएल) को पत्र लिखकर कहा था कि तीन मिनट के वीडियो के लिए 4.5 करोड़ रुपये की सहमत राशि बहुत अधिक थी। इसके बाद, एमसीएएल ने ठेका रद्द कर दिया था। बीबीपी स्टूडियो ने इस फैसले के खिलाफ उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। 25 जनवरी को न्यायमूर्ति एम नागप्रसन्ना ने एक आदेश पारित कर कहा कि ठेके को रद्द करना एक मनमाना कदम था। उन्होंने संचार को रद्द करते हुए कहा, “याचिकाकर्ता के पक्ष में ठेका दिया गया था, जिसने काम को उसके तार्किक निष्कर्ष तक पहुंचाया।

अनुबंध को अंतिम उत्पाद की आपूर्ति से ठीक पहले रद्द कर दिया गया, फिल्म की योग्यता/गुणवत्ता के आधार पर नहीं, बल्कि राजनीतिक हस्तक्षेप के कारण। यह पूरी तरह से एक मनमाना कदम है।” बीबीपी स्टूडियो को डेढ़ करोड़ रुपये का अग्रिम भुगतान किया गया था। उच्च न्यायालय ने निर्देश दिया कि कंपनी को बाकी सहमत राशि का भुगतान किया जाना चाहिए। कंपनी द्वारा तैयार किए गए 3डी प्रचार वीडियो का इस्तेमाल जीआईएम में नहीं किया गया था। 

बुधवार, 11 जनवरी 2023

‘अनावश्यक चैंटिंग’ में व्यस्त छात्रों को फटकार लगाई 

‘अनावश्यक चैंटिंग’ में व्यस्त छात्रों को फटकार लगाई 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश पीबी वराले ने मंगलवार को सुनवाई के दौरान ‘अनावश्यक चैंटिंग’ में व्यस्त मेडिकल स्नातक छात्रों को कड़ी फटकार लगाई। सुनवाई के दौरान न्यायालय को बताया गया कि राजीव गांधी स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय (आरजीयूएचएस) के मेडिकल स्नातक छात्र जो उच्च न्यायालय की कार्यवाही ऑनलाइन देख रहे थे, वे ‘अनावश्यक चैटिंग’ में लगे हुए थे।

यह घटना मंगलवार को उस वक्त हुई जब न्यायमूर्ति वराले ने कहा,“छात्रों को पूछताछ के दौरान शालीनता बनाए रखनी चाहिए।” मुख्य न्यायाधीश वराले की अध्यक्षता वाली खंडपीठ वर्ष 2022 में आयोजित एमबीबीएस डिग्री परीक्षा के मूल्यांकन के संबंध में आरजीयूएचएस द्वारा दायर अपील पर सुनवाई कर रही थी। कार्यवाही का वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से प्रसारण किया गया। इसी बीच कुछ छात्र जूम एप के माध्यम से कार्यवाही देख रहे थे और बिना ऑडियो म्यूट किए बातचीत में लगे हुए थे। कोर्ट अधिकारी ने उन्हें ऑडियो म्यूट करने की चेतावनी दी, लेकिन छात्र ‘चैटिंग’ कर उन्हें परेशान करते रहे। कोर्ट के अधिकारी ने मामले की सुनवाई के दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंस में छात्रों द्वारा साझा किए गए संदेशों को मुख्य न्यायाधीश के संज्ञान में लाया।

उन्होंने इसे गंभीरता से लेते हुए छात्रों की ओर से मौजूद वकीलों पर नाराजगी जताई। न्यायमूर्ति वराले ने कहा,“कार्यवाही देखते समय विनम्र रहें। छात्रों को अदालत के शिष्टाचार और व्यवहार करने के तरीके के बारे में सूचित किया जाना चाहिए। आपको कोर्ट में वैसा व्यवहार नहीं करना चाहिए जैसा आपने कॉलेज में किया।” उन्होंने मौखिक रूप से छात्रों को सावधान रहने का भी सुझाव दिया।

शुक्रवार, 18 नवंबर 2022

कर्नाटक: मतदाताओं के नाम सूची से हटाने का आरोप

कर्नाटक: मतदाताओं के नाम सूची से हटाने का आरोप

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक के बृहत बेंगलुरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) की मतदाता सूची पुनरीक्षण में चिलूम संस्थान पर छ: लाख से ज्यादा मतदाताओं के नाम सूची से हटाने का आरोप के बाद यह संस्थान संदेह के दायरे आ गया है। बीबीएमपी के विशेष आयुक्त रंगप्पा ने चिलूम संस्थान के बारे में बताते हुए आज कहा कि पहचान पत्र कार्ड का दुरुपयोग केवल बीबीएमपी महादेवपुर निर्वाचन क्षेत्र में होता है। किसी अन्य क्षेत्र में कोई दुरुपयोग नहीं पाया गया। चिलूम संस्था द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के आधार पर ऑडिशन और विलोपन प्रक्रिया नहीं की गई है। मतदाता सूची को लेकर कोई गड़बड़ी नहीं पाई गई है। यह सच है कि लिखित सूचना कल चुनाव अधिकारी से प्राप्त हुई थी। उन्होंने कहा कि बीबीएमपी के मुख्य आयुक्त द्वारा चुनाव आयोग को एक रिपोर्ट दी जाएगी।

बीबीएमपी ने 243 वार्डों के चुनाव के लिए मतदाता सूची में संशोधन किया था। चिलूम संस्था के कर्मचारी पहले ही ब्लॉक स्तर के अधिकारी (बीएलओ) के रूप में पहचान पत्र बना चुके हैं और घर-घर जाकर जानकारी एकत्र कर रहे हैं। बीबीएमपी ने बीएलओ द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के आधार पर मतदाता सूची में संशोधन किया है। जिसमें कुल 6,69,652 मतदाताओं के नाम सूची से हटा दिए गए हैं। ऐसा माना जा रहा है कि जिन लोगों के नाम हटाया गया है, उनमें जीवित लोगों के नाम भी शामिल हैं। ऐसा संदेह जताया गया है कि मतदाता सूची पुनरीक्षण के पीछे चिलूम संगठन का हाथ है। हर विधानसभा क्षेत्र से हजारों नाम काटे जा चुके हैं।

यलहंका विधानसभा क्षेत्र के 21,968 मतदाताओं के नाम, केआरपुरम निर्वाचन क्षेत्र के 39,763 मतदाताओं, बत्रायनपुरा निर्वाचन क्षेत्र के 30,757 मतदाताओं के नाम हटाये गये हैं | इसके अलावा यशवंतपुर 35,829, आर.आर.नगर 33,009, दासराहल्ली 35,086, महालक्ष्मी लेआउट 20,404, मल्लेश्वरम 11,788, हेबब्बाल 20,039, पुलकेशी नगर 22,196, सर्वज्ञा नगर 28,699, सी वी रामन नगर 21,457, शांतिनगर 14,679, गांधीनगर 16,386 , चिक्कपेटे 16,231, बसवनगुडी 18,388, पद्मनाभ नगर 17,435, बीटीएम लेआउट 16,141, जयनगर 13,061, महादेवपुर 33,376, बोम्मनहल्ली 31,157, बेंगलुरु दक्षिण 45,927, अनेकल 24,279 मतदाताओं के नाम हटाए गए।

कुछ लोगों ने अपना नाम मतदाता सूची से हटाये जाने की बात कही है। एक मतदाता ने कहा कि मेरा नाम छह महीने पहले मतदाता सूची में था। अब नाम हटा दिया गया है और हमारे परिवार के चार सदस्यों के नाम भी इस सूची से छूट गए हैं।

रविवार, 16 अक्तूबर 2022

3 वाहनों की टक्कर में 4 बच्चों समेत 9 की मौंत

3 वाहनों की टक्कर में 4 बच्चों समेत 9 की मौंत

इकबाल अंसारी 

हासन। कर्नाटक के हासन में तीन वाहनों की टक्कर में चार बच्चों समेत नौ लोगों की मौंत हो गई और 10 अन्य लोग घायल हो गए। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दूध के एक टैंकर, कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीसी) की बस और एक टेम्पो के बीच शनिवार को यहां अर्सिकेरे तालुक में रात लगभग 11 बजे टक्कर हो गई। सूत्रों ने बताया कि हादसे में मारे गए सभी लोग टेम्पो में सवार थे।

सूत्रों ने बताया कि छह लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी जबकि तीन लोगों ने अस्पताल जाने के दौरान रास्ते में ही दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि घायलों का यहां एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने घटना पर शोक जताते हुए कहा कि मृतकों के परिवारों को पर्याप्त मुआवजा दिया जाएगा और घायलों के उचित इलाज की व्यवस्था की जाएगी।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यह बहुत दुखद है कि कल हासन जिले के अर्सिकेरे में एक भीषण सड़क दुर्घटना में नौ लोगों की मौत हो गयी। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति प्रदान करें।’’ हासन जिले से ताल्लुक रखने वाले पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा ने कहा कि सभी मृतक एक ही परिवार के थे और वे कुछ पवित्र स्थलों के दर्शन करने के बाद अपने पैतृक गांव लौट रहे थे। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मैं सरकार से पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा देने की तत्काल घोषणा करने का अनुरोध करता हूं।’’

गुरुवार, 11 अगस्त 2022

कर्नाटक: सांप्रदायिक झड़प में 2 की मौंत, 6 घायल 

कर्नाटक: सांप्रदायिक झड़प में 2 की मौंत, 6 घायल 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरू/कोप्पल कर्नाटक में कोप्पल जिले के एक गांव में गुरूवार को सांप्रदायिक झड़प में दो लोगों की मौंत हो गई और छ: अन्य घायल हो गए। पुलिस के अनुसार यह झड़प एक हिंदू लड़के और एक मुस्लिम लड़की के कथित प्रेम-प्रसंग के कारण हुई।

मुहर्रम के दौरान हिंदू लड़का उस लड़की से मिलने गया था। इसके कारण दोनों समुदायों के बीच विवाद उत्पन्न हो गया और हिंसा भड़क उठी, जिसमें वली पाशा (22) और येनकप्पा तलवाड़ (60) की मौत हो गई। घटना के बाद प्रशासन ने जिले में तुरंत धारा 144 लागू कर एक स्थल पर पांच या उससे ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी लगा दी।

बीमा कंपनियों से मुआवजा पाने की हकदार हैं, बेटियां 

बीमा कंपनियों से मुआवजा पाने की हकदार हैं, बेटियां 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने कहा है कि दुर्घटना में अपने माता-पिता के मारे जाने पर विवाहित बेटियां भी बीमा कंपनियों से मुआवजा पाने की हकदार हैं। अदालत ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने माना है कि विवाहित बेटे भी ऐसे मामलों में मुआवजे के हकदार हैं। उच्च न्यायालय ने कहा, यह न्यायालय भी विवाहित बेटों और बेटियों में कोई भेदभाव नहीं कर सकता। लिहाजा इस तर्क को स्वीकार नहीं किया जा सकता कि मृतक की विवाहित बेटियां मुआवजे की हकदार नहीं हैं।

न्यायमूर्ति एच. पी. संदेश की एकल पीठ ने एक बीमा कंपनी द्वारा दाखिल एक याचिका पर सुनवाई की। याचिका में 12 अप्रैल, 2012 को उत्तर कर्नाटक में यमनूर, हुबली के पास हुई दुर्घटना में जान गंवाने वाली रेणुका (57) की विवाहित बेटियों को मुआवजा देने के आदेश को चुनौती दी गई थी। रेणुका के पति, तीन बेटियों और एक बेटे ने मुआवजे की मांग की थी। मोटर दुर्घटना दावा न्यायाधिकरण ने परिवार के सदस्यों को छह प्रतिशत की वार्षिक ब्याज दर के साथ 5,91,600 रुपये का मुआवजा देने का आदेश दिया था।

बीमा कंपनी ने इस आदेश को उच्च न्यायालय में चुनौती देते हुए एक याचिका दाखिल की, जिसमें कहा गया कि विवाहित बेटियां मुआवजे का दावा नहीं कर सकतीं। याचिका में यह भी कहा गया कि वे आश्रित नहीं हैं। इसलिए ‘निर्भरता नहीं होने पर’ मुआवजा देना गलत है। हालांकि अदालत ने बीमा कंपनी की इन दलीलों को खारिज कर दिया।

शनिवार, 9 जुलाई 2022

विजयपुरा: 4.4 तीव्रता का भूकंप, झटके महसूस किए

विजयपुरा: 4.4 तीव्रता का भूकंप, झटके महसूस किए 

इकबाल अंसारी 
बेंगलुरु। कर्नाटक के विजयपुरा जिले में शनिवार सुबह 4.4 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र (केएसएनडीएमसी) ने एक बयान में बताया कि भूकंप सुबह छह बजकर 22 मिनट पर आया और उसका केंद्र ‘‘विजयपुरा जिले में विजयपुर तालुक, कन्नूर जीपी से 2.3 किलोमीटर उत्तरपश्चिम में स्थित था।
’’ केएसएनडीएमसी निदेशक मनोज राजन ने बताया कि भूकंप की तीव्रता मध्यम रही और हो सकता है कि भूकंप के केंद्र से 30-40 किलोमीटर की दूरी तक भी झटके महसूस किए गए हो। उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह के भूकंप से स्थानीय समुदाय को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा क्योंकि यह मध्यम तीव्रता का है, हालांकि, स्थानीय झटके महसूस किए गए होंगे। भूकंप का केंद्र भूकंपीय क्षेत्र तृतीय के तहत आता है और टेक्टोनिक मानचित्र के अनुसार यह क्षेत्र किसी भी संरचनात्मक असंतुलन से रहित है।’

मंगलवार, 28 जून 2022

कन्नड़ के हिस्सों में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए

कन्नड़ के हिस्सों में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए

इकबाल अंसारी

बेंगलुरु। कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले के कई हिस्सों में मंगलवार को सुबह भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार की सुबह करीब पौने आठ बजे आए इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.5 मापी गई है। 25 जून को भी भूकंप के ऐसे ही झटके महसूस किए गए थे। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार, भूकंप का केंद्र पांच किलोमीटर की गहराई पर था।

जिले के सुलिया तालुक के संपाजे, अरनथोडु, पेरजे, जल्सूर, उबराद्का, थोदिकाना और मित्तुर में करीब चार सेकंड तक भूकंप के झटके महसूस किए गए। यहां 25 जून को सुबह नौ बजकर नौ मिनट पर 2.3 तीव्रता का भूकंप आया था। भूकंप के झटके उसके केंद्र से करीब 4.7 किलोमीटर की दूरी तक महसूस किए गए थे।

सोमवार, 27 जून 2022

सर्दी और बुखार से पीड़ित 14 बच्चों की हालत बिगड़ी

सर्दी और बुखार से पीड़ित 14 बच्चों की हालत बिगड़ी
इकबाल अंसारी 
शिवमोग्गा। कर्नाटक के शिवमोग्गा जिले के सागर शहर में एंटीबायोटिक इंजेक्शन लगाने के बाद सर्दी और बुखार से पीड़ित 14 बच्चों की हालत बिगड़ गई। अस्पताल में भर्ती बच्चों में चार की हालत गंभीर हो गई और उन्हें सोमवार को शिवमोग्गा के जिला अस्पताल में शिफ्ट कराया गया।
स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, बच्चों को सर्दी और बुखार के संक्रमण के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। नर्सो ने रविवार रात उन्हें एंटीबायोटिक इंजेक्शन दिए। इंजेक्शन लगाने के तुरंत बाद बच्चों को तेज बुखार आया और वे कांपने लगे। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय भाजपा विधायक हरातालु हलप्पा मौके पर पहुंचे और स्वास्थ्य अधिकारियों को बच्चों का उचित इलाज कराने का निर्देश दिया।
हरातालु हलप्पा ने कहा, “घटना के बारे में पता चलने के बाद मैं तुरंत अस्पताल पहुंचा। स्वास्थ्य अधिकारियों को बच्चों की सही देखभाल करने का निर्देश जारी किया गया है। इसे अभी तक एलर्जी माना जाता है। जहां तक दवा का सवाल है, हम सत्यापित करेंगे कि किसने और कहां से इसकी आपूर्ति की।”

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...