गुरुवार, 22 दिसंबर 2022

'कलम के सिपाही' मिश्र की आठवीं पुण्यतिथि मनाई 

'कलम के सिपाही' मिश्र की आठवीं पुण्यतिथि मनाई 


नम आंखों से याद किए गए कलम के सिपाही अमरेश मिश्र, दी गई श्रद्धांजलि

कौशाम्बी। 8 वर्ष पूर्व मार्ग हादसे का शिकार हुए कलम के सिपाही अमरेश मिश्र की बृहस्पतिवार को आठवीं पुण्यतिथि मनाई गई। इस मौके पर परिवारजनों के साथ साथ क्षेत्र के तमाम लोगों ने अमरेश मिश्र के छायाचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। दारानगर कस्बा के रहने वाले पत्रकार अमरेश मिश्र प्रतापगढ़ में 22 दिसंबर 2014 को एक मार्ग हादसे का शिकार हो गए थे। बृहस्पतिवार को अमरेश मिश्र की पुण्यतिथि उनके पैतृक आवास में मनाई गई।

इस मौके पर उनके भाई बृजेश मिश्र भारत समाचार और शैलेश मिश्र ने अपने अन्य परिवार जनों के साथ अमरेश मिश्रा के छायाचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। वहीं, कौशाम्बी जिले के पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार श्रीवास्तव भी पहुंचे और अमरेश मिश्र के छायाचित्र पर श्रद्धांजलि अर्पित किया है।

गणेश साहू 

ग्राम प्रधानों के साथ बैठक कर समस्याओं को सुना

ग्राम प्रधानों के साथ बैठक कर समस्याओं को सुना

ग्राम प्रधान के साथ कोतवाल ने की बैठक

कौशाम्बी। मोहब्बत पुर पैंसा कोतवाल विनोद कुमार सिंह ने क्षेत्र के ग्राम प्रधानों के साथ गुरुवार को बैठक कर उनकी समस्याओं को सुना। बैठक के दौरान कोतवाल ने कहा कि राजस्व के विकास के कार्यों में आने वाले अवरोध को वह थाना आकर जरूर बताएं। जिससे उनकी समस्याओं का समाधान किया जा सके। इस दौरान उन्होंने ग्राम प्रधानों से कहा कि अपराध और अपराधियों पर भी वह कड़ी नजर रखें। यदि कोई अपराधी छिपकर अपराध कर रहा है तो उसकी सूचना पुलिस को जरूर दें। बैठक के दौरान कोतवाल ने कहा कि आम जनमानस के सहयोग से अपराध पर पूर्ण रुप से अंकुश लगाया जा सकता है।

गणेश साहू

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लार का निरीक्षण: डीएम 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लार का निरीक्षण: डीएम 

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने आज अपराह्न सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लार का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में उन्हें कई गंभीर खामियां मिली जिस पर उन्होंने गहरी नाराजगी व्यक्त की और फार्मासिस्ट का वेतन रोकने तथा एमओआईसी से स्पष्टीकरण तलब किया है।

जिलाधिकारी आज अपराहन 12:30 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लार पहुंचे उन्होंने सर्वप्रथम पंजीकरण काउंटर का निरीक्षण किया जिसमें उन्होंने मरीजों एवं उनके तीमारदारों से बातचीत की। लोगों ने स्वास्थ्य केंद्र पर एक्स-रे नहीं होने की शिकायत की। एक महिला ने डीएम को बताया कि उसने 300 रुपये में बाहर से एक्स-रे कराया है। डीएम ने एमओआईसी से सीएचसी पर एक्स-रे नहीं होने के संबन्ध में पूछा तो उन्होंने बताया कि 20 दिसंबर से एक्स-रे फ़िल्म खत्म हो गई है। डीएम ने तत्काल सीएमओ से बात कर एक्स-रे फ़िल्म भेजने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने दवा वितरण केंद्र का भी निरीक्षण किया। वहां नरौली निवासी रोहित यादव प्रिस्क्रिप्शन लिए दवा प्राप्त कर रहे थे, जिन्हें डॉक्टर ने चार दवा लिखी थी। किन्तु, उन्हें दवा वितरण केंद्र से सिर्फ एक ही दवा मिली। तीन दवा की अनुपलब्धता बतायी गई। एक अन्य रोगी रामनगर निवासी 37 वर्षीय मानवेन्द्र को भी चार दवा लिखी गई थी उन्हें भी सिर्फ एक मिला। इस पर डीएम ने गहरी नाराजगी व्यक्त की और फार्मासिस्ट शैलेंद्र यादव का वेतन रोकने का निर्देश दिया और उनसे स्पष्टीकरण तलब किया। उन्होंने कहा कि जनपद में समस्त आवश्यक दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता है। यदि स्वास्थ्य केंद्र पर दवा की अनुपलब्धता है तो इसे समय रहते मंगा लेना चाहिए।

इसके पश्चात जिलाधिकारी ने पैथोलॉजी किट के संबन्ध में जानकारी ली, जिसमें कई बेसिक टेस्टिंग किट नदारद मिली। टेलीमेडिसिन सेवा कक्ष भी बंद मिला, जिस पर डीएम ने सेवा प्रदाता कंपनी को नोटिस देने एवं उसके दिसंबर माह के समस्त देयकों के भुगतान पर रोक लगाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य केंद्र में साफ सफाई की व्यवस्था का भी जायजा लिया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मिली कमियों के संदर्भ में जिलाधिकारी ने एमओआईसी से स्पष्टीकरण तलब किया है।

जिलाधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार लोगों को निःशुल्क गुणवत्ता युक्त चिकित्सकीय सेवा देने के लिए प्रतिबद्ध है। निरीक्षण के दौरान जो भी कमियां मिली हैं उन्हें शीघ्र ही दूर कर लिया जाएगा। स्वास्थ्य सेवाओं में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की जवाबदेही भी तय की जाएगी। इस दौरान एमओआईसी डॉ बीवी सिंह डॉ शालिनी कुमारी सहित कई अधिकारी उपस्थित थे।

फाउंडेशन ने सेनेटरी पैड वितरण कर जागृत किया

फाउंडेशन ने सेनेटरी पैड वितरण कर जागृत किया

सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ने किया छात्राओं को जागरूक

गोपीचंद 

बागपत। बृहस्पतिवार को सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ने उत्तर प्रदेश सरकार की योजना के अंतर्गत श्री जैन कन्या जूनियर हाई स्कूल बड़ौत में सेनेटरी पैड वितरण कर छात्राओं को जागृत किया। उनको साफ-सफाई के बारे में बताया। संगीता और रेणु गुप्ता ने छात्राओं को बताया कि वह किस तरह से सेनेटरी पैड का सही तरह से इस्तेमाल करें और इसके इस्तेमाल करने से क्या-क्या फायदे होते हैं ? अभी तक कुछ छात्रों को इस विषय पर पूरी जानकारी नहीं है। जिससे वह मानसिक व शारीरिक रूप से मजबूत हो पाए।

उनकी बहुत सारी परेशानियों को देखते हुए लगभग हमारी संस्था अब तक 16000 सेनेटरी पर निशुल्क वितरण कर चुकी है। और आगे भी करती रहेगी। जिससे सभी छात्राएं वह महिलाएं शसक्त हो और अपनी जिंदगी को खुलकर जिये। स्कूल की प्रिंसिपल गरिमा गुप्ता का भी पूरा योगदान रहा। इस मौके पर अध्यक्ष वन्दना गुप्ता, उपाध्यक्ष शालू गुप्ता, रेनू गुप्ता, संगीता गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

'भारत जोड़ो यात्रा' को रोकने के लिए कोरोना का बहाना

'भारत जोड़ो यात्रा' को रोकने के लिए कोरोना का बहाना

अकांशु उपाध्याय/राणा ओबरॉय 

नई दिल्ली/नूंह। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भारत जोड़ो यात्रा' को रोकने के लिए कोरोना का बहाना बनाया जा रहा है। दरअसल केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने एक चिट्ठी लिखकर राहुल गांधी से भारत जोड़ो यात्रा को स्थगित करने की अपील की थी। राहुल गांधी ने हरियाणा के नूंह में कहा कि उनकी यात्रा को रोकने की साजिश की जा रही है। राहुल ने कहा कि बीजेपी के लोग इस यात्रा से डर गए हैं। इससे पहले कांग्रेस के कई नेताओं ने कहा था कि भारत जोड़ो यात्रा को रोकने के लिए कोरोना का डर दिखाया जा रहा है। राहुल गांधी ने नूंह में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए कहा, इन्होंने नया आइडिया निकाला है।

मुझे चिट्ठी लिखी कि कोविड आ रहा है, यात्रा बंद करो। कोविड आ रहा है यात्रा बंद करो। अब भैया मतलब आप देखिए अब यात्रा को रोकने के लिए बहाने बन रहे हैं। मास्क पहनो यात्रा बंद करो कोविड फैल रहा है। सब बहाने हैं। हिंदुस्तान की शक्ति हिंदुस्तान की सच्चाई से से ये लोग डर रहे हैं। राहुल गांधी ने आगे कहा, आप देखिए मैं आपको मजेदार बात बताता हूं। यात्रा में अब हम 100 दिन से ज्यादा चले हैं। इसमें हिंदू, मुसलमान, सिख और ईसाई हर जाति-धर्म के लोग हैं। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ने 21 दिसंबर को मेवात के नूंह के रास्ते हरियाणा में एंट्री की थी। हरियाणा में यात्रा दो चरणों में है। 23 दिसंबर को फरीदाबाद होते हुए यात्रा दिल्ली की ओर पहुंचेगी। दिल्ली में यात्रा 24 दिसंबर को प्रवेश करेगी। वहीं हरियाणा में भारत जोड़ो यात्रा का दूसरा चरण 6 जनवरी को शुरू होगा।

कोविड संक्रमण पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने राहुल गांधी को खत लिखकर यात्रा रोकने की अपील की थी। यात्रा की प्रांतीय समन्वय समिति के अध्यक्ष सलमान खुर्शीद ने कहा है कि यात्रा नहीं रोकी जाएगी। खुर्शीद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, कांग्रेस अपनी यात्रा में कोविड से बचाव संबंधी तमाम सावधानियों का पालन सबसे पहले हर हाल में करेगी, लेकिन यात्रा नहीं रुकेगी, नहीं रुकेगी, नहीं रुकेगी। कांग्रेस नेता से पूछा गया था कि मांडविया ने राहुल को पत्र लिखकर यात्रा रोकने को कहा है, तो क्या यात्रा कार्यक्रम पर इसका असर पड़ेगा। इस पर खुर्शीद ने कहा, 'लोकतांत्रिक व्यवस्था में हर पार्टी और व्यक्ति को अपनी बात कहने का अधिकार है। कांग्रेस की इस यात्रा से सरकार डर गई है इसीलिए तरह-तरह की आदेश और पत्र जारी किए जा रहे हैं। जिन्हें कोविड से डर नहीं लगा वे यात्रा से डर गए। हम किसी पत्र को गम्भीरता से नहीं लेंगे।'

खुर्शीद ने एक अन्य सवाल पर कहा कि पार्टी यात्रा निकालने के लिए संबंधित प्रशासन से जरूरी अनुमति लेती है। अगर बीजेपी सरकार ने प्रशासन के जरिए 'भारत जोड़ो यात्रा' को रोकने की कोशिश की तो उसे लोकतांत्रिक संस्थाओं को जवाब देना पड़ेगा। संसद में मास्क को अनिवार्य किए जाने और प्रधानमंत्री के मास्क पहनकर सदन पहुंचने के बारे में पूछे गये एक सवाल पर खुर्शीद ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी बहुत अच्छे थियेटर आर्टिस्ट हैं।

उत्तर प्रदेश में यात्रा के कार्यक्रम के बारे में उन्होंने बताया कि भारत जोड़ो यात्रा आगामी तीन जनवरी को गाजियाबाद के लोनी क्षेत्र से उत्तर प्रदेश में दाखिल होगी। उसके बाद वह बागपत और शामली होते हुए हरियाणा में दाखिल हो जाएगी। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने उत्तर प्रदेश में 'भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों का जिक्र करते हुए कहा, यात्रा में पार्टी के कम से कम 11 हजार कार्यकर्ता हिस्सा लेंगे और वे पूरे समय यात्रा में शामिल रहेंगे। किसान संगठनों, छात्र संघों और बुनकर संगठनों को भी यात्रा में शिरकत का निमंत्रण दिया जाएगा। इसके अलावा सामाजिक कार्यकर्ताओं, लेखकों, कवियों और आध्यात्मिक हस्तियों को भी यात्रा में शामिल होने का न्यौता दिया जा रहा है।'

मुंबई: लगातार तीसरे दिन भी सहमा रहा शेयर बाजार 

मुंबई: लगातार तीसरे दिन भी सहमा रहा शेयर बाजार 

कविता गर्ग 

मुंबई। वैश्विक बाजार की तेजी के बावजूद देश में कोरोना की आहट से सहमे निवेशकों की चौतरफा बिकवाली के दबाव में शेयर बाजार आज लगातार तीसरे दिन भी सहमा रहा। देश में ओमीक्रॉन के वेरिएंट बीएफ7 के मामले मिलने से निवेशकों की निवेश धाराणा पर असर पड़ा है। इससे बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 241.02 अंक यानी 0.39 प्रतिशत लुढ़ककर डेढ़ माह के निचले स्तर 61 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 60826.22 अंक पर रहा। इससे पूर्व यह 10 नवंबर को 60613.70 अंक पर रहा था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 71.75 अंक अर्थात 0.39 प्रतिशत गिरकर 18127.35 अंक पर आ गया।

दिग्गज कंपनियों की तरह बीएसई का मिडकैप 0.77 प्रतिशत उतरकर 25,285.23 अंक और स्मॉलकैप 1.83 प्रतिशत टूटकर 28,421.52 अंक पर रहा। इस दौरान बीएसई में कुल 3652 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 2790 में बिकवाली जबकि 767 में लिवाली हुई वहीं 95 में कोई बदलाव नहीं हुआ। इसी तरह एनएसई में 41 कंपनियों में गिरावट जबकि शेष नौ में तेजी रही। बीएसई के 18 समूह बिकवाली के दबाव में रहे। 

इस दौरान कमोडिटीज 0.90, सीडी 1.10, ऊर्जा 0.76, एफएमसीजी 0.70, वित्तीय सेवाएं 0.59, इंडस्ट्रियल्स 1.78, दूरसंचार 0.98, यूटिलिटीज 1.60, ऑटो 1.05, कैपिटल गुड्स 1.57, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स 0.78, धातु 1.15, तेल एवं गैस 0.86, पावर 1.49 और रियल्टी समूह के शेयर 1.33 प्रतिशत गिर गए। चीन के शंघाई कंपोजिट की 0.46 प्रतिशत की गिरावट को छोड़कर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर तेजी का रुख रहा। इस दौरान ब्रिटेन का एफटीएसई 0.46, जर्मनी का डैक्स 0.05, जापान का निक्केई 0.46 और हांगकांग का हैंगसेंग 2.71 प्रतिशत की उछाल पर रहा। 

रुपया आठ पैसे की बढ़त के साथ 82.76 प्रति डॉलर पर 

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया बृहस्पतिवार को आठ पैसे की तेजी के साथ 82.76 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर बंद हुआ। इस तेजी का कारण विदेशी बाजारों में डॉलर का कमजोर होना था। बाजार सूत्रों ने कहा कि घरेलू शेयर बाजार में गिरावट से रुपये का लाभ सीमित रहा। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 82.78 के स्तर पर मजबूत खुला और कारोबार के अंत में यह आठ पैसे की तेजी दर्शाता 82.76 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। 

कारोबार के दौरान रुपये ने 82.64 के उच्चस्तर और 82.79 के निचले स्तर को छुआ। इससे पिछले कारोबारी सत्र में रुपया 14 पैसे की गिरावट के साथ 82.84 प्रति डॉलर के भाव पर बंद हुआ था। इस बीच, दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर की मजबूती को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.32 प्रतिशत घटकर 103.89 रह गया। वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 1.58 प्रतिशत बढ़कर 83.50 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 241.02 अंक घटकर 60,826.22 अंक पर बंद हुआ। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे और उन्होंने बुधवार को 1,119 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

उच्च स्तरीय बैठक बुलाए जाने पर कांग्रेस का कटाक्ष

उच्च स्तरीय बैठक बुलाए जाने पर कांग्रेस का कटाक्ष

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कोविड-19 की ताजा स्थिति पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बृहस्पतिवार को एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाए जाने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि ‘आप क्रोनोलॉजी समझिए’ कि ओमिक्रॉन के सब-वैरिएंट बीएफ.7 के मामले कुछ महीने पहले सामने आ गए थे, लेकिन यह बैठक उस वक्त हो रही है, जब ‘भारत जोड़ो यात्रा’ दिल्ली में प्रवेश करने वाली है।

पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया, ‘‘ जुलाई, सितंबर और नवंबर में गुजरात एवं ओडिशा में ओमिक्रॉन सब-वैरिएंट बीएफ.7 के 4 मामले सामने आए। स्वास्थ्य मंत्री ने कल राहुल को एक पत्र लिखा। प्रधानमंत्री आज स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं। ‘भारत जोड़ो यात्रा’ एक दिन बाद दिल्ली में प्रवेश करेगी। अब आप क्रोनोलॉजी समझिए…।’’

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी देश में कोविड-19 की ताजा स्थिति की बृहस्पतिवार को एक उच्च स्तरीय बैठक में समीक्षा करेंगे। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बुधवार को ही विश्वभर में तेजी से बढ़ते कोविड-19 के ताजा मामलों को देखते हुए एक समीक्षा बैठक की थी।

कृपाण रखने की अनुमति के विरुद्ध याचिका खारिज 

कृपाण रखने की अनुमति के विरुद्ध याचिका खारिज 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने सिखों को भारत में यात्री उड़ानों में सफर के दौरान कृपाण साथ रखने की अनुमति के खिलाफ दायर जनहित याचिका गुरुवार को खारिज कर दी। मुख्य न्यायाधीश सतीश चंद्र शर्मा और न्यायमूर्ति सुब्रमण्यम प्रसाद की पीठ ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा, याचिका खारिज की जाती है। अदालत ने हर्ष विभोर सिंघल की याचिका पर यह फैसला सुनाया, जिन्होंने दावा किया था कि उड़ान में कृपाण ले जाने की अनुमति देने के मुद्दे पर विचार-विमर्श के लिए हितधारकों की एक समिति गठित की जानी चाहिए। 

सिंघल ने केंद्र सरकार द्वारा चार मार्च 2022 को जारी अधिसूचना को चुनौती दी थी, जिसमें कहा गया था कि सिख यात्रियों को भारत में सभी घरेलू मार्गों पर संचालित होने वाली यात्री उड़ानों में अपने साथ कृपाण ले जाने की विशिष्ट नियामक मंजूरी होगी। इसमें कहा गया था कि यात्रियों द्वारा ले जाई जा रही कृपाण के ब्लेड की लंबाई छह इंच और कृपाण की कुल लंबाई नौ इंच से अधिक नहीं होनी चाहिए। 

पीठ ने इससे पहले मौखिक रूप से कहा था कि यह भारत सरकार की नीति है और अदालत इसमें तब तक हस्तक्षेप नहीं कर सकती, जब तक कि यह मनमाना न हो। इस पर याचिकाकर्ता ने दलील दी थी कि वह संविधान के अनुच्छेद 25 के तहत किसी धर्म को मानने और उसका पालन करने के अधिकार पर सवाल नहीं उठा रहा है, बल्कि वह केवल इस मुद्दे पर गौर फरमाने के लिए हितधारकों की एक समिति का गठन चाहता है।

संस्थानों के छोटे नाम का विरोध, रोक लगानी चाहिए

संस्थानों के छोटे नाम का विरोध, रोक लगानी चाहिए

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की कविता पाटीदार ने गुरुवार को राज्यसभा में प्रसिद्ध व्यक्तियों के नाम पर रखे गए संस्थानों के छोटे नाम (शॉर्ट नेम) का विरोध किया और कहा कि इस पर सख्ती से रोक लगाई जानी चाहिए। पाटीदार ने सदन में प्रश्नकाल के दौरान यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि देवी अहिल्याबाई को डीएबी, तात्यां टोपे को टीटी और राम मनोहर लोहिया को आरएमएल कहा जा रहा है। व्यक्तियों के नाम पर शहरों, नगरों और विश्व विद्यालय के नाम शॉर्ट नेम में परिवर्तित हो गए हैं। 

स्थिति इतनी खराब है कि टैक्सी, रिक्शा और आटोरिक्शा चालक इन्हें इनके मूल नाम से नहीं बल्कि शॉर्ट नेम से जानते हैं। भाजपा नेता ने कहा कि शॉर्ट नेम रखने से प्रसिद्ध व्यक्तियों के नाम पर शहरों, नगरों और अन्य स्थानों का नाम रखने का उद्देश्य ही समाप्त हो जाता है।‌ इसलिए नाम छोटे करने या शॉर्ट नेम रखने की परंपरा पर सख्ती से रोक लगाई जानी चाहिए।

24 से सांस्कृतिक विविधता के नजारे देखने को मिलेंगे

24 से सांस्कृतिक विविधता के नजारे देखने को मिलेंगे

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। अपने मसालों के लिए मशहूर नॉर्थ मालाबार के रूप में प्रसिद्ध केरल का उत्तरी तट 24 दिसंबर से अंतरराष्ट्रीय तटीय महोत्सव 'बेकल इंटरनेशनल बीच फेस्टिवल' में सांस्कृतिक विविधता के नजारे देखने को मिलेंगे। मुख्यमंत्री पिनराई विजयन 10 दिवसीय इस महोत्सव का उद्घाटन करेंगे, जिसमें भव्य बेकल बीच पार्क में जिले की संस्कृति और अनूठी कला की महक के साथ देश की समृद्ध सांस्कृतिक विविधता एवं रंगों की झलक दिखेगी

आयोजकों ने कहा कि दुनिया भर से करीब पांच लाख से अधिक लोगों के महोत्सव में शामिल होने की संभावना है जिसका आयोजन चंद्रगिरि, तेजस्विनी और पायस्विनी में किया जाएगा। इस महोत्सव का उद्देश्य अपनी क्षमता का प्रदर्शन कर जिले के विकास को नई गति देना भी है। इस दौरान गीत-संगीत, सांस्कृतिक रंगा रंग कार्यक्रमों का आयोजन होगा, साथ ही लजीज व्यंजनों का खाद्य महोत्सव भी होगा जिसमें कासरगोड के व्यंजन होंगे। इसके अलावा प्रदर्शनी तथा पर्यटन कार्यक्रम होंगे। 

महोत्सव में विदेशों में तट पर खेले जाने वाले खेल मुख्य आकर्षण होंगे। अन्य दिनों में आयोजित होने वाले अन्य कार्यक्रमों में हेलीकॉप्टर की सवारी, रोबोटिक शो, पतंग उत्सव, फूल शो, रेत कला, जल खेल, ब्राइडल फैशन प्रतियोगिता, ब्यूटी क्यूटी-किड्स फैशन शो, नेशनल बिजनेस ट्रेड एक्सपो, बी2सी फ्ली मार्केट, एजुकेशन एक्सपो, ऑटोमोबाइल एक्सपो और एक एक्वा शो शामिल हैं। 

कोहरा छाने से सड़क व रेल यातायात प्रभावित हुआ

कोहरा छाने से सड़क व रेल यातायात प्रभावित हुआ

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली सहित गंगा के मैदानी इलाकों में बृहस्पतिवार सुबह घना कोहरा छाने से सड़क व रेल यातायात प्रभावित हुआ। रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि 20 ट्रेन डेढ़ से साढे़ चार घंटे की देरी से चल रही हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दृश्यता शून्य मीटर से 50 मीटर के बीच रहने पर बेहद घना कोहरा, 51 मीटर से 200 मीटर के बीच घना कोहरा, 201 मीटर से 500 मीटर के बीच मध्यम कोहरा और 501 से 1,000 मीटर के बीच हल्का कोहरा माना जाता है। 

मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, पालम और सफदरजंग हवाई अड्डे पर सुबह साढ़े पांच बजे दृश्यता 200 मीटर दर्ज की गई। मंगलवार को इन दोनों स्थानों पर दृश्यता का स्तर 50 मीटर तक चला गया था। कम तापमान, उच्च नमी और स्थिर हवाओं के कारण पंजाब, हरियाणा, उत्तर-पश्चिम राजस्थान, पश्चिम व पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार में घने से बहुत घने कोहरे की परत बनी हुई है। आईएमडी के एक अधिकारी ने कहा, उपग्रह से ली गई तस्वीरों में पंजाब और उत्तर-पश्चिम राजस्थान से बिहार तक घने कोहरे की परत नजर आ रही है। सुबह साढ़े पांच बजे बठिंडा में दृश्यता का स्तर शून्य मीटर रहा, गंगानगर, चंडीगढ़, गोरखपुर तथा बरेली में 25 मीटर और अमृतसर, चूरू, बहराइच तथा अंबाला में 50 मीटर रहा। 

एनसीआर की बात करें तो नोएडा में आज न्यूनतम तापमान आज 6 डिग्री और अधिकतम तापमान 21 डिग्री, गाजियाबाद में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री और अधिकतम तापमान 22 डिग्री और गुरुग्राम में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री और अधिकतम तापमान 23 डिग्री रहने के आसार हैं। कश्मीर और हिमाचल में कड़ाके की ठंड जारी है। कश्मीर और लद्दाख क्षेत्र में आज भी बर्फबारी की आशंका है तो वहीं बिहार, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पंजाब , हरियाणा और राजस्थान में शीतलहर और कोहरे के लिए अलर्ट जारी है तो वहीं दक्षिण और पूर्वोत्तर में मौसम साफ है, जबकि पंजाब, हरियाणा में इस वक्त घना कोहरा छाया हुआ है और दृश्यता काफी कम हो गई है।

2 घंटे की देरी से चल रही राजधानी एक्सप्रेस 

यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश , राजस्थान, गुजरात सहित कई राज्‍यों को जाने वाली ट्रेनें 4 से 5 घंटे की देरी से चल रही है। भारतीय रेलवे की ओर से 22 दिसंबर को देरी से चलने वाली ट्रेनों कि लिस्ट जारी की गई है। इस लिस्ट के मुताबिक 22 दिसंबर को राजधानी एक्सप्रेस समेत 20 ट्रेनें अपने निर्धारित समय से कई घंटे की देरी से चल रही है। ट्रेन संख्या 12426 जम्मू-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय से 2 घंटे की देरी से चल रही है। इसके अलावा ट्रेन संख्या 20808 अमृतसर विशाखापत्तन एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय से डेढ घंटे की देरी से चल रही है।

स्टेशन पहुंचने से पहले चेक कर लें ये लिस्ट

रेलवे की ओर से आज देर से चलने वाली ट्रेनों की लिस्ट जारी की गई है। इस लिस्ट के मुताबिक कटरा-हप्पास्वराज एक्सप्रेस (12477) अपने निर्धारित समय से ढाई घंटे की देरी से चल रही है। वहीं भुवनेश्वर-नई दिल्ली दुरंतो एक्सप्रेस डेढ़ घंटे की देरी से चल रही है। इसके अलावा सहरसा नई दिल्ली वैशाली एक्सप्रेस (12553) 2 घंटे की देरी से चल रही है। वहीं राजगीर-नई दिल्ली श्रमजीवी एक्सप्रेस साढे 3 घंटे की देरी से चल रही है। दानापुर-आनंदविहार एक्सप्रेस अपन तय समय से साढ़े 4 घंटे की देरी से तचल रही है। आज देर से चलने वाली ट्रेनों की पूरी लिस्ट नीचे दी गई है। आप अपने ट्रेन का नाम और नबंर चेक कर सकते हैं।

कथित लापरवाही के लिए गोयल को निलंबित किया 

कथित लापरवाही के लिए गोयल को निलंबित किया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के वरिष्ठ अधिकारी एवं तिहाड़ जेल के पूर्व महानिदेशक संदीप गोयल को कर्तव्यों के निर्वहन में कथित लापरवाही के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने निलंबित कर दिया। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। 1989 के बैच के आईपीएस अधिकारी गोयल को पिछले महीने तिहाड़ जेल के महानिदेशक पद से हटाकर दिल्ली पुलिस मुख्यालय से संबद्ध कर दिया गया था। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गोयल को तिहाड़ जेल के महानिदेशक के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान कर्तव्यों के निर्वहन में लापरवाही के लिए निलंबित किया गया है।

हालांकि, निलंबन आदेश में फैसले के पीछे कोई स्पष्ट वजह नहीं बताई गई है। गोयल को उस समय तिहाड़ जेल के महानिदेशक पद से हटा दिया गया था, जब कथित ठग सुकेश चंद्रशेखर ने मंडोली जेल में अपनी सुरक्षा के लिए अधिकारी को 12.5 करोड़ रुपये का भुगतान करने का सनसनीखेज दावा किया था। चंद्रशेखर 200 करोड़ रुपये के धन शोधन मामले के सिलसिले में मंडोली जेल में बंद है। दिल्ली के उपराज्यपाल वी के सक्सेना को सात अक्टूबर को लिखे पत्र में चंद्रशेखर ने यह भी दावा किया था कि उसने आम आदमी पार्टी (आप) में एक ‘अहम पद’ के लिए पार्टी को 50 करोड़ रुपये और जेल में अपनी सुरक्षा के लिए मंत्री सत्येंद्र जैन को 10 करोड़ रुपये का भुगतान किया था। चंद्रशेखर ने ये आरोप प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा एक अदालत में जैन के तिहाड़ जेल में एक गवाह से मिलने और सबूतों के साथ छेड़छाड़ की कोशिश करने का दावा किए जाने के तुरंत बाद लगाए थे। 

वर्ष 2019 में चंद्रशेखर ने आरोप लगाया था कि जैन ने अपने सचिव और करीबी मित्र सुशील के साथ उससे जेल में मुलाकात की थी और जेल में सुरक्षित रहने तथा मूलभूत सुविधाएं हासिल करने के लिए हर महीने दो करोड़ रुपये का भुगतान करने को कहा था। चंद्रशेखर ने गोयल को सत्येंद्र जैन का भरोसेमंद सहयोगी भी बताया था। उसने दावा किया था कि जैन ने गोयल को डेढ़ करोड़ रुपये का भुगतान करने के लिए कहा था। चंद्रशेखर ने आरोप लगाया था कि जैन ने उस पर दो-तीन महीने में दस करोड़ रुपये का भुगतान करने का दबाव बनाया था। कथित ठग ने दावा किया था कि उसने दिल्ली उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर कर गोयल द्वारा वसूली गिरोह चलाने का खुलासा किया था। उसने केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को जैन और गोयल को अदा की गई धनराशि के बारे में बताने का भी दावा किया था।

'नातू नातू' को 95वें पुरस्कारों के लिए शॉर्टलिस्ट किया

'नातू नातू' को 95वें पुरस्कारों के लिए शॉर्टलिस्ट किया

अकांशु उपाध्याय/कविता गर्ग 

नई दिल्ली/मुंबई। आगामी ऑस्कर पुरस्कारों के लिए नामित भारतीय फिल्म छेल्लो शो, चर्चित फीचर डॉक्यूमेंट्री ऑल दैट ब्रीथ्स, लघु डॉक्यूमेंट्री द एलिफेंट व्हिस्परर्स और ब्लॉकबस्टर फिल्म आरआरआर के गीत 'नातू नातू' को 95वें अकादमी पुरस्कारों के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया है। आयोजकों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

10 श्रेणियों में शॉर्टलिस्ट की घोषणा
एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज ने 10 श्रेणियों में शॉर्टलिस्ट फिल्म, डॉक्यूमेंट्री आदि की घोषणा की है। जिनमें डॉक्यूमेंट्री फीचर फिल्म, लघु डॉक्युमेंट्री फिल्म, अंतरराष्ट्रीय फीचर फिल्म, मेकअप और हेयरस्टाइलिंग, म्यूजिक (ओरिजिनल स्कोर), म्यूजिक (ओरिजिनल सांग), एनिमेटेड लघु फिल्म, लाइव एक्शन लघु फिल्म, ध्वनि और दृश्य प्रभाव शामिल हैं। पान नलिन द्वारा निर्देशित गुजराती फिल्म छेल्लो शो (अंग्रेजी शीर्षक लास्ट फिल्म शो) सिनेमा के प्रेम में डूबे सौराष्ट्र के एक गांव के युवा लड़के की कहानी है।

14 अन्य फिल्मों और गीत से होगा मुकाबला
अकादमी पुरस्कारों की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, छेल्लो शो का मुकाबला 14 अन्य फिल्मों से होगा, जिनमें अर्जेंटीना, 1985 (अर्जेंटीना), डिसीजन टू लीव (दक्षिण कोरिया), ऑल क्वाइट ऑन द वेस्टर्न फ्रंट (जर्मनी), क्लोज (बेल्जियम) और द ब्लू काफ्तान (मोरक्को) शामिल हैं।

RRR का 'नातु नातु' गाना शॉर्टलिस्ट
आरआरआर के 'नातु नातु' गाने को सर्वश्रेष्ठ संगीत (ओरिजिनल सांग) श्रेणी में शॉर्टलिस्ट किया गया है। इस गीत का मुकाबला भी 14 अन्य गानों से होगा, जिनमें अवतार : द वे ऑफ वॉटर का नथिंग इज लॉस्ट (यू गिव मी स्ट्रेंथ), ब्लैक पैंथर : वकंडा फॉरएवर का लिफ्ट मी अप, गुइलेर्मो डेल टोरोज पिनोचियो का सियाओ पाप और टॉप गन : मेवरिक का होल्ड माई हैंड और व्हेयर द क्रैडैड्स सिंग का कैरोलाइना शामिल है।

'गाजर का हलवा' बनाने की आसान रेसिपी, जानिए 

'गाजर का हलवा' बनाने की आसान रेसिपी, जानिए 

सरस्वती उपाध्याय

बढ़ती सर्दियों ने लोगों का हाल बेहाल कर रखा है। लेकिन, खाने का असली मज़ा इस मौसम में ही आता है। अगर ठंड में कुछ मीठा खाने का मन कर रहा है, तो सबसे बेहतर होता है गाजर का हलवा। गर्मा-गर्म गाजर के हलवे की मिठास अलग ही सुकून देती है। गाजर का हलवा एक ऐसी डिश है जिसे बच्चे, बुजुर्ग हर कोई पसंद करते हैं और इसे बड़े चाव से खाते हैं, तो आइए जानते हैं, आप आसान तरीके से गाजर का हलवा कैसे बना सकते हैं ?

गाजर का हलवा बनाने के लिए सामग्री

  • गाजर – 1 किलो
  • मावा  1 कप
  • दूध- 2 कप
  • बादाम – 8-10
  • काजू – 8-10
  • पिस्ता – 8-10
  • किशमिश – 1 टेबलस्पून
  • इलायची पाउडर – 1 टी स्पून
  • देसी घी – 1/2 कप 
  • चीनी – स्वादानुसार

गाजर का हलवा बनाने की विधि
सबसे पहले गाजर को पानी से धोकर एक साफ़ कपड़े से पोछ लें। अब गाजर के छिलके उतारकर उसे कद्दूकस कर लें। कद्दूकस किये हुए गार्ज को घी में हल्का भून लें। अब एक कड़ाही में दूध डालकर उसे गर्म कर लें। दूध जब गर्म हो जाए तब एक मिनट बाद दूध में कद्दूकस किया हुआ गाजर डाल दें। दूध में गाजर को अच्छी तरह पकने दें। बीच-बीच में करछी की मदद से इसे चलाते रहें। इस मिश्रण को तब अटक पकाएं जब तक दूध गाढ़ा न हो जाए। इसके बाद मिश्रण में चीनी डालकर अच्छे से मिलाएं। अब इस दौरान गैस की मीडियम फ्लेम पर ही रहने दें।

अब इसके बाद गाजर के हलवे में मावा डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर दें। मावा डालने से पहले उसे अच्छी तरह से मसल लें। इसके बाद अब सभी ड्राईफ्रुइट्स के बारीक टुकड़े कर लें और उन्हें हलवे में मिक्स कर दें। आखिर में इलायची पाउडर डालकर हलवे को पकाएं। गाजर के हलवा को अच्छी तरह से पकने में 30-35 मिनट का समय लगता है। इसलिए जल्दबाजी में उसे गैस पर से न उतारें। जब हलवा अच्छी तरह पक जाए तब गैस बंद करें। अब आपका स्वादिष्ट गाजर का हलवा बनकर तैयार हो चुका है। इसे सर्व करने से पहले ड्राई फ्रूट्स से हल्का गार्निश करें।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-72, (वर्ष-06)

2. शुक्रवार, दिसंबर 23, 2022

3. शक-1944, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-पूर्णिमा, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:44, सूर्यास्त: 05:24। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 11 डी.सै., अधिकतम- 18+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

गणतंत्र दिवस    'संपादकीय'

गणतंत्र दिवस    'संपादकीय' 'भारत' देश है हमारा, संविधान पर विवाद नहीं। 'सभ्यता' सबसे पहले आई, ...