मंगलवार, 19 अक्तूबर 2021

केरल: बांध खोलने से नदियों का जल स्तर बढ़ा

केरल: बांध खोलने से नदियों का जल स्तर बढ़ा 

कोच्चि। अभी भी उत्तर से दक्षिण तक मौसम का कहर जारी है। मौसम विभाग द्वारा उत्तराखंड में आज लगतार तीसरे दिन भारी बारिश का अलर्ट की घोषणा की है। केरल में आज बांध खोले जाने से नदियों का जल स्तर बढ़ सकता है। केरल में जलस्तर में वृद्धि तथा आने वाले दिनों में और बारिश के अनुमान के मद्देनजर इदामलयार और पम्पा बांधों के द्वार मंगलवार को तड़के खोल दिए गए।
राज्य सरकार के कक्की और शोलेयार बांध के द्वार खोलने के एक दिन बाद यह कदम उठाया गया है। एर्नाकुलम जिला प्रशासन ने इदामलयार बांध के दो और तीन नंबर के द्वार को 50 सेंटीमीटर तक खोलने की पुष्टि की है। अभी तक केरल में बाढ़ और बारिश से मरने वालों की संख्या 41 हो गई है।
वहीं, पतनमतिट्टा जिला प्रशासन ने पम्पा बांध के तीन और चार नंबर के द्वार को 45 सेंटीमीटर तक खोलने की पुष्टि की। राज्य सरकार ने सोमवार को घोषणा की थी कि पेरियार नदी के इर्द-गिर्द बने इडुक्की बांध, एर्नाकुलम में इदामलयार बांध और पतनमतिट्टा में पम्पा बांध के द्वारों को मंगलवार को खोला जाएगा।

केरल में पिछले सप्ताह भारी बारिश के बाद अब कई हिस्सों में हालांकि वर्षा धीमी हुई है, लेकिन इन बांधों में पानी का स्तर खतरे के निशान से ऊपर होने तथा बुधवार से और बारिश के अनुमान के मद्देनजर बांधों के द्वार खोलने का निर्णय किया गया है। मौजूदा स्थिति तथा मौसम के और खराब होने के अनुमान के कारण सोमवार को सबरीमला में भगवान अयप्पा मंदिर में थुला मासम पूजा के लिए तीर्थयात्रा को भी रोक दिया गया था।
लश्कर-ए-तैयबा के 6 आतंकियों को ढेर किया

श्रीनगर। सेना ने मंगलवार को राजौरी के जंगलों में पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के 6 आतंकियों को मुठभेड़ में ढेर किया। कश्मीर में कई दिनों से नागरिकों और सैनिकों की हत्याएं कर रहे आतंकियों को सेना जवाब देने को तैयार है और जवाब दे रही है। सेना और आतंकियों के बीच अब भी एनकाउंटर जारी है।
मुठभेड़ में सेना के 16 कॉर्प्स के जवान फिलहाल 3 से 4 आंतंकियों से मोर्चा ले रहे हैं। राजौरी-पुंछ में आतंकियों से मुठभेड़ में 9 सैनिकों की शहादत के बाद 16 अक्टूबर को सीडीएस जनरल बिपिन रावत इलाके का दौरा करने पहुंचे थे। जानकारी के अनुसार जनरल बिपिन रावत ने आर्मी कमांडर्स से कहा था कि वे खुद आतंकियों का पीछा करने की बजाय उनका इंतजार करें और मौका पाने पर ढेर करें।
प्रदेश में बारिश से हुए नुकसान की जानकारी ली

पंकज कपूर      
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को सचिवालय स्थित राज्य आपदा कंट्रोल रूम जाकर प्रदेश में बारिश से हुए नुकसान की जानकारी ली। मुख्यमंत्री कल से सभी जिलाधिकारियों से हर पल की अपडेट ले रहे हैं। मुख्यमंत्री अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों के हवाई निरीक्षण के लिए जा चुके हैं, प्रभावित क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण भी करेंगे।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि अतिवृष्टि से जानमाल का जो नुकसान हुआ है। प्रभावितों को मानकों के अनुसार जल्द अनुमन्य सहायता राशि उपलब्ध कराया जाय। मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि अतिवृष्टि से किसानों का जो नुकसान हुआ है, उसका आकलन कर जल्द रिपोर्ट भेजी जाय।

वाल्मीकि प्रकट उत्सव बडे धूमधाम से मनाया

भानु प्रताप उपाध्याय        
शामली। मंगलवार को प्रातः 11:00 बजे शामली नगर पालिका परिषद के ऊपरी हॉलमें भगवान वाल्मीकि प्रकट उत्सव राष्ट्रीय वाल्मीकि समाज प्रतिनिधि मंच के तत्वधान में बड़े हर्ष उल्लास के साथ मनाया गया। एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि माननीय अरविंद संगल पूर्व चेयरमैन नगर पालिका परिषद शामली एवं माननीय चौधरी राजवीर सिंह मुंडेट कला राष्ट्रीय अध्यक्ष भारतीय किसान मजदूर संयुक्त यूनियन एवं माननीय दीपक सैनी जिलाध्यक्ष अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी एवं नंदू प्रसाद वाल्मीकि संस्थापक संयोजक राष्ट्रीय वाल्मीकि समाज प्रतिनिधि मंच रहे सभा की अध्यक्षता रामस्वरूप बाल्मीकि पूर्व सभासद थानाभवन ने की संचालन डॉक्टर ओमपाल शाहपुर ने किया। 
मुख्य अतिथि पूर्व चेयरमैन अरविंद संगल ने अपने संबोधन में कहा कि भगवान वाल्मीकि आदिकाल के प्रथम कवि हैं और वाल्मीकि ने विश्व के कल्याण के लिए श्री राम के जन्म से पूर्व महाकाव्य महारामायण हजारों वर्ष पूर्व लिख दी थी रामायण ऐसा पवित्र ग्रंथ है। जिसे जितनी बार पढ़ते है, उतना ही ज्ञान मिलता है। जैसे दूध को म थने से मक्खन निकल आता है। उसी प्रकार से रामायण को बार-बार पढ़ने से अत्यधिक ज्ञान प्राप्त होता है। भगवान वाल्मीकि जी ने संसार को अक्षर ज्ञान दिया है और अध्यात्मिक ज्ञान दिया है। हम सभी लोगों को वाल्मीकि के बताए मार्ग पर चलें और अपना जीवन सफल करें और भगवान वाल्मीकि सभी के लिए पूजनीय हैं। चौधरी राजबीर सिंह ने कहा कि भगवान वाल्मीकि ने रामायण लिख कर संसार संसार का कल्याण किया है और संसार का मार्गदर्शन किया है। सत मार्ग दिखाया है और दीपक सैनी ने अपने संबोधन में कहा कि महर्षि वाल्मीकि आदिकाल में कवियों में श्रेष्ठ कवि हुए हैं और उन्होंने यह महारामायण सुंदर कविता एवं पवित्र ग्रंथ रामायण संसार के कल्याण के लिए रचा है। भगवान वाल्मीकि के बताएंं मार्ग पर चलने के लिए कहा राष्ट्रीय वाल्मीकि समाज प्रतिनिधि मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष अरविंद झंझोट ने अपने संबोधन में कहा कि भगवान वाल्मीकि ने महा रामायण पवित्र ग्रंथ संसार के कल्याण के लिए लिखा है और भगवान वाल्मीकि प्रकट उत्सव ऐसा पर्व है। जो पूरे भारतवर्ष में पूरे अक्टूबर माह में मनाया जाता है। इस पर्व को सभी सामाजिक संगठन एवं राजनीतिक संगठन मिलजुल कर मनाते हैं। भगवान वाल्मीकि ने शिक्षा का महत्व और आध्यात्मिक महत्व जो संसार को बताया है। उनके बताए मार्ग पर चलकर अपना जीवन सफल करें मुख्य अतिथि अरविंद संगल चौधरी, राजबीर सिंह, दीपक सैनी एवं अरविंद झंझोट, नंदू प्रसाद आदि ने संगठन के लोगों के साथ संयुक्त रुप से भगवान वाल्मीकि को माल्यार्पण की और पुष्प अर्पित किए और दीप प्रज्वलित किया और भगवान वाल्मीकि का गुणगान किया और भगवान वाल्मीकि के जयकारे लगाए कार्यक्रम में अनुज गौतम, सोनू चावला, पूर्व सभासद डॉक्टर राजीव कुमार, वशिष्ठ विनोद सेन, लोकेश कटारिया, डॉक्टर श्रीपाल राजीव कुमार, बिंड ला प्रमोद कश्यप, अरुण झंझोट, विशाल कुमार, देवानंद वाल्मीकि, पं रविंदर कुमार, टिंकू गोस्वामी, मुकेश झंझोट, गोविंद चंद्र साहिल चंद्रा शामिल रहे और डॉक्टर ओमपाल शाहपुर ने कार्यक्रम एवं विचार गोष्ठी का का संचालन किया। कार्यक्रम पश्चात सभी को भगवान वाल्मीकि प्रकट उत्सव के अवसर पर मिष्ठान प्रसाद वितरण किया गया।
निजी डिफेंस एकेडमी का रीबन काटकर उद्घाटन 

कौशाम्बी। समर्थ किसान पार्टी के नेता एवं जिला पंचायत सदस्य अजय सोनी ने मंगलवार को उदहिन बुजुर्ग चौराहे पर युवाओं के रक्षा क्षेत्र में नौकरी के लिए प्रशिक्षण देने वाले एक निजी संस्थान नवनीत डिफेंस एकेडमी का फीता काटकर उद्घाटन किया। इस मौके पर मां सरस्वती के प्रतिमा के सामने धूप दीप एवं पुष्प चढ़ाकर उनकी पूजा की और मौजूद रहे लोगों का मुंह मीठा कराया गया।
इस अवसर पर उद्घाटन कार्यक्रम में उपस्थित रहे लोगों से वार्ता करते हुए अजय सोनी ने कहा कि इस पिछड़े इलाके में ऐसे प्रशिक्षण संस्थान खुलने से बेरोजगार युवाओं को निश्चित रूप से फायदा होगा और युवाओं को रक्षा क्षेत्र में नौकरी करने का अवसर प्राप्त होगा। उन्होंने आगे कहा कि समुचित प्रशिक्षण के अभाव में आजकल युवाओं को रोजगार मिलने में काफी दिक्कत हो रही है। ऐसे में नवनीत डिफेंस एकेडमी खुलने से स्थानीय युवाओं को प्रशिक्षण प्राप्त करने में मदद मिलेगी और प्रशिक्षण के बाद उन्हें आसानी से रोजगार मिल सकेगा। 
संस्थान के निदेशक एडवोकेट नवनीत यादव ने कहा कि कम शुल्क में ग्रामीण इलाकों के बेरोजगार युवाओं के लिए यह संस्थान खोला गया है। इस संस्थान के खुलने से युवाओं को अब प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए दूर नगरों या शहरों की ओर नहीं भागना पड़ेगा। इसी के साथ नवनीत यादव ने आए हुए अतिथियों का स्वागत एवं अभिनंदन किया और उनके संस्थान के उद्घाटन समारोह में शामिल होने पर आभार जताया। संस्थान के प्रभारी राम बदन यादव ने आए हुए अतिथियों को माल्यार्पण कर उनका उनको संस्थान के तमाम कार्यों एवं प्रशिक्षण के बारे में अवगत कराया। इस अवसर पर भानू प्रताप यादव, सुरजीत वर्मा, रामा शंकर यादव, सुशील सोनी, राम मनोहर सरोज सहित तमाम लोग मौजूद रहे।
फ़ैज़ अहमद

मौंत के आकड़ों को 95 फीसदी तक नियंत्रित किया

हरिओम उपाध्याय       
बस्ती। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार ने तीन साल में दिमागी बुखार (जापानी इंसेफ्लाइटिस) को करीब 75 फीसदी और मौत के आंकड़ों को 95 फीसदी तक नियंत्रित करने में सफलता प्राप्त की है। बस्ती में संचारी रोग पखवाड़े का शुभारंभ करते हुये उन्होने कहा कि दिमागी बुखार पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए अभिशाप बन चुका था, वह आज पूरी तरह से उन्मूलन के अंतिम दौर में है। उन्होंने अपील की कि संचारी रोग नियंत्रण सभी प्रकार के विषाणु जनित बीमारियों से हर नागरिक के जीवन को बचाने के साथ कोरोना जैसी महामारी से बचाव के लिए भी एक बेहतर प्लेटफॉर्म बनना चाहिए। इसे व्यापक जागरूकता के साथ हम जोड़ सकते हैं। योगी ने वैश्विक महामारी कोरोना और इंसेफ्लाइटिस की तुलना करते हुए कहा कि कोरोना से प्रदेश में मृत्यु दर 1.3 फीसदी रही है। जबकि इंसेफ्लाइटिस में यह मृत्यु दर 20-25 फीसदी थी, यानि एक हजार लोगों को दुर्भाग्य से अगर कोरोना हुआ होगा, तो उस समय करीब 13 लोगों की मौत हुई है, लेकिन याद करिए कि अगर एक हजार लोग इंसेफ्लाइटिस की चपेट में आते, तो उससे मरने वालों की संख्या करीब 260 होती थी, यह तब था जब पूर्वी उत्तर प्रदेश में इंसेफ्लाइटिस का कहर देखने को मिलता था। 13 और 260 में बहुत अंतर है और उस इंसेफ्लाइटिस को पूरी तरह से नियंत्रित करने में हमें सफलता मिली है, लेकिन हमें सावधानी बरतनी पड़ेगी। इस दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा मंत्री जय प्रताप सिंह, उद्यान राज्य मंत्री श्रीराम चौहान, जिला पंचायत अध्यक्ष संजय चौधरी, विधायक दयाराम चौधरी, संजय प्रसाद जायसवाल, चंद्र प्रकाश शुक्ला, अजय सिंह, रवि सोनकर, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद रूपम मिश्रा, भाजपा जिलाध्यक्ष महेश शुक्ल आदि मौजूद थे।

अजमल की मस्जिद में तबर्रुक़ात की जि़यारत की 

बृजेश केसरवानी          
प्रयागराज। खानकाहे अजमली की रिवायात के मुताबिक़ बारह रबीउलअव्वल को ख़ानका़हे अजमली दायरा शाह अजमल की मस्जिद में तबर्रुक़ात की जि़यारत कराई गई। ख़ानक़ाह के मौजूदा सज्जादानशीन सैयद ज़र्रार फ़ाख़री ने तमाम तबर्रुक़ात की तफ़सील बताई और अक़ीदतमंदो ने दरूद् और सलाम पढ़ कर अपनी आस्था का मुज़ाहिरा किया और दुआएँ माँगी। तबर्रुक़ात में ख़ास तौर से पैग़मबर हज़रत मुहम्मदे मुस्तफा का मूए मुबारक (पलक का बाल) जिसकी ज़ियारत करने के लिये अक़ीदतमंद रात भर के जागने की थकावट को दरकिनार करके हाज़िर रहे, सच्चे आशिक़ होने का सबूत दिया।
इसके अलावा एक शर्मा जो बाबे जिबरील पे जला करती थी। हज़रत बहाउद्दीन नक़शबंदी के हाथों तिनके से लिखी हुई किताब जिसमें मुजर्रब दुवाएँ और नक़श हैं।एक तसबीह और उस अमामे के हिस्से, जिसको जंगें ख़ैबर की फ़तह के मौक़े पर हज़रत अली के सर पे हुज़ूर ने ख़ुद पहनाया। इसके अलावा दो तलवारें भी इसमें शामिल हैं जिनमें से एक माना जाता है कि ख़िज़्र अलैहिस्सलाम की दी हुई है। इन सब की ज़ियारत कराई गई। कोरोना गाइडलाइन के मद्देनज़र इस बार मस्जिद में प्रोग्राम मुक़तसर रखा गया। बाद में खा़नकाह के अन्दर अक़ीदतमंद महिलाओं को भी ज़ियारत कराई गई।
इस प्रोग्राम में नायब सज्जादानशीन सैयद अरशद ज़की फ़ाख़री, अनस निज़ामी, अदीब फ़ाख़री, नूर सफ़ी फ़ाख़री, मतलूब निज़ामी , मनसूब निज़ामी, ज़फ़र , मज़हर निज़ामी, अख़्तर अज़ीज़, डॉ मक़सूद, नूरुल ऐन तथा मस्जिद के पेश इमाम मौलाना शमशेर आज़म व मौलाना नौशाद आलम भी शामिल हुए।
ओलमाओं द्वारा मुल्क में अमनो अमान व ख़ैरोबरकत की दुआएं माँगी गई ! माहे रबी उल अव्वल की बारह तारीख़ को ज़ियारत का ये प्रोग्राम ख़ानका़हे अजमली दायरा शाह अजमल में पिछले सौ सालों से ज़्यादा से लगातार क़ायम है। ग़ुन्चा ए क़ासिमया के प्रवक्ता सै.मो.अस्करी के मुताबिक़ बाराह रबीउल अव्वल को दिन भर खानकाहों ,इबादतगाहों व घरों मे मीठे व्यन्जन पर नज़्रो नियाज़ व फातेहाख्वानी भी कराई गई। आज की बा बरकत दिन मे बड़ी संख्या मे लोगों ने रोज़ा भी रखा। जिसकी फज़ीलत नमाज़-ए-फजिर मे ओलमाओं ने बयान की। मग़रिब की अज़ान सुनते ही लोगों ने रोज़ा खोला और देश से जल्द से जल्द कोरोना महामारी के खात्मे के साथ आईन्दा साल ईद मिलादुन्नबी की सभी रुसूमात को अपनी पुरानी परम्परा के मुताबिक़ हो। इस के लिए खास दूआ भी की गई।

विकी ने स्वतंत्रता सेनानी सरदार का रोल निभाया

विकी ने स्वतंत्रता सेनानी सरदार का रोल निभाया 

कविता गर्ग       
मुबंई। विकी कौशल की फिल्म सरदार उधम सुर्खियों में है। लोगों को उनकी ऐक्टिंग काफी पसंद आ रही है। अब उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर शेयर करके अपनी पीठ के जख्म दिखाए हैं। ये घाव असली नहीं बल्कि प्रोस्थेटिक मेकअप से बनाए हैं। ये सरदार उधम में उनके एक सीन का हिस्सा है। उनके फैंस इस फोटो पर तरह-तरह के रिऐक्शंस दे रहे हैं।
विकी कौशल की फिल्म सरदार उधम सिंह रिलीज हो चुकी है। इसमें उन्होंने स्वतंत्रता सेनानी सरदार उधम सिंह का रोल निभाया है। विकी कौशल ने फिल्म से जुड़ी एक तस्वीर अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की है। इसके साथ लिखा है, कट्स जिनसे कट्स नहीं लगे। इसके साथ उन्होंने अपने प्रोस्थेटिक मेकअप आर्टिस्ट को भी टैग किया है। इस तस्वीर पर विकी के फैंस के तरह-तरह के रिऐक्शंस हैं। ज्यादार विकी के कैप्शन को नहीं समझ पाए और विकी से पूछा है कि क्या ये असली हैं? वहीं एक ने कॉमेंट किया है कि कटरीना कैफ को दुख होगा।
बता दें कि विकी कौशल और कटरीना कैफ के रिलेशनशिप के चर्चे लंबे वक्त से हैं। दोनों को कई बार साथ आउटिंग पर देखा गया है। वहीं वकेशन की तस्वीरों में भी विकी दिखाई दिए हैं। रीसेंटली दोनों की सगाई की खबर भी वायरल हुई थी। हालांकि विकी इस खबर को गलत बता चुके हैं। रोका हो जाने की खबरों पर विकी ने रेडियो होस्ट सिद्धार्थ कानन से कहा था, सच कहूं तो मेरे पास वो मेंटर स्पेस ही नहीं था क्योंकि मैं शूट के बीच में था। हालांकि कयास लगाए जा रहे हैं कि जल्द ही विकी शादी की खुशखबरी दे सकते हैं।

मेट्टी ओली: 40 वर्षीय एक्ट्रेस उमा का निधन हुआ

कविता गर्ग     
मुबंई। अब एक और दिल दुखाने वाली खबर सामने आई है। 40 वर्षीय एक्ट्रेस का रविवार को अचानक निधन हो गया है। वह काफी असहज महसूस कर रही थीं और निधन से कुछ ही देर पहले अचानक निढाल होकर जमीन पर गिर पड़ी थीं।
तमिल टीवी शो ‘मेट्टी ओली’ में उमा की मां का किरदार निभाने वाली शांति विलियम्स ने उमा के निधन पर कहा, ‘उमा माहेश्वरी मेरे लिए एक बेटी की तरह हैं, उनकी मौत के बारे में सुनकर मैं शॉक्ड रह गई। मुझे नहीं पता कि भगवान इतनी कम उम्र में जीने वाले लोगों को क्यों ले जाते हैं। जब हम ऐसी चीजें होते हुए देखते हैं तो कई बार ईश्वर के अस्तित्व पर शक हो जाता है। एक्ट्रेस चित्रा वीजे कुछ महीने पहले ही हमें छोड़कर चली गईं और हम अभी इस घटना को नहीं भुला पाए थे और इसी बीच अब अचानक उमा भी चली गई हैं।’
उन्होंने कहा, ‘हमें यह भी बताया गया कि उमा माहेश्वरी पिछले कुछ महीनों से पीलिया से पीड़ित थीं और उनका इलाज चल रहा था, लेकिन हाल ही में वे इससे पूरी तरह ठीक हो गई थीं। मुझे अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है कि वह नहीं रहीं।’ उमा के परिवार में उनके पति मुरुगन हैं, जो एक पशु चिकित्सक हैं, कई सेलेब्रिटीज ने सोशल मीडिया पर उमा के परिवार के प्रति संवेदना जाहिर की है।
अमिताभ ने एक्ट्रेस कृति के साथ फोटो शेयर की

कविता गर्ग     
मुबंई। बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन 70 के दशक से दर्शकों का मनोरंजन कर रहे हैं और अभी भी वो दर्शकों के पसंदीदा बने हुए हैं। इन दिनों वह सोनी टीवी के क्विज शो 'कौन बनेगे करोड़पति-13' को होस्ट कर रहे हैं। इसी बीच महानायक ने एक्ट्रेस कृति सेनन के साथ एक फोटो शेयर किया है। जिसमें वह एक्ट्रेस संग डांस करते हुए दिख रहे हैं। इस फोटो को शेयर करते हुए उन्होंने अपने कॉलेज के दिनों को याद किया है। सोशल मीडिया पर बिग बी और कृति के ये तस्वीर वायरल हो चुकी है।
अमिताभ बच्चन द्वारा शेयर की गईं इस तस्वीर में आप देख सकते है कि अमिताभ बच्चन ब्लू सूट में दिख रहे हैं और कृति एक खूबसूरत लाल ड्रेस में पोनी टेल डाले हुए हंसीन लग रही हैं। तस्वीर में कृति, अमिताभ के हाथों में हाथ डाले दिख रही हैं। फोटो में दोनों ही एक दूसरे को देखकर मु्स्कुरा रहे हैं। इनके पोजिंग स्टाइल को देखकर लग रहा है कि ये केबीसी के सेट पर कपल डांस कर रहे हैं। फोटो में दोनों कलाकार शानदार दिख रहे हैं। अमिताभ कृति के संग फोटो शेयर करते हुए इंस्टाग्राम कैप्शन में लिखा है- बॉलरूम , लाल रंग की खूबसूरत लेडी के साथ डांस करते हुए। आह वो कॉलेज और कलकत्ता के दिन वापस आज आ गये। अमिताभ द्वारा पोस्ट की इस फोटो के बैकगाउंड को देखकर लग रहा है कि ये केबीसी के मंच क्लिक की गई फोटो है। अगर ऐसा है तो हो सकता है कि कृति जल्द ही इस शो के अपकमिंग एपिसोड में अपनी अपकमिंग मूवी 'हम दो हमारे दो' को प्रमोट करती देखी जा सकती हैं। हालांकि इस बारें में अभी तक कोई ऑफिशियल अनाउसमेंट नहीं किया गया है।



25 वर्षीय महिला से गैंगरेप का मामला सामने आया

25 वर्षीय महिला से 5 ने 1 सप्ताह गैंगरेप किया

अविनाश श्रीवास्तव       
पटना। पटना में 25 साल की शादीशुदा महिला से गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार इस महिला का पति से झगड़ा हुआ था और झगड़ा के बाद वह घर से भागकर ट्रेन पकड़ने पटना जंक्शन पहुंच गई थी। पटना जंक्शन पर महिला की मुलाकात एक स्थानीय होटल के मालिक से हुई। इस होटल मालिक ने दोस्तों के साथ महिला को बहला फुसला लिया और झांसे में रखकर एक ऑटो चालक के कमरे पर उसके रहने की व्यवस्था कर दी।
महिला ने आरोप लगाया है कि वहां 5 लोगों ने उसके साथ एक सप्ताह तक गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। जक्कनपुर थाने की पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की छानबीन अभी चल रही है, दरअसल पटना निवासी इस महिला की शादी खुसरूपुर के रहने वाले एक युवक से हुई थी। मौजूदा समय में यह महिला अपने पति के साथ जक्कनपुर थाना क्षेत्र के ही बंगाली टोला इलाके में रह रही थी। पति निजी कंपनी में नौकरी करता है और दंपत्ति के दो बच्चे भी हैं।

शादी के बाद से ही महिला की छोटी-छोटी बातों पर पति से तकरार हो जाया करती थी। पिछले 10 अक्टूबर को भी पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ। जिसके बाद महिला घर छोड़कर चली गई थी। पति की शिकायत पर थाने में गुमशुदगी का केस दर्ज किया गया था। महिला घर से भागकर बख्तियारपुर में अपने चाचा के पास जाना चाह रही थी लेकिन पटना जंक्शन के पास करबिगहिया साइड में जब वह बैठी हुई थी, उसी दौरान होटल मालिक ने उसके साथ हमदर्दी जता कर उसका दिल जीत लिया।
पीड़िता ने पुलिस को जो जानकारी दी है। उसके अनुसार गोपाल होटल का मालिक गोपाल अपने साथी कृष्णा के साथ आया और फिर महिला को समझा-बुझाकर अपने झांसे में ले लिया. बाद में दोनों महिला को अपने ऑटो चालक मित्र के घर पर ले गए और वहां चालक अजय खत्री के कमरे पर महिला के रहने की व्यवस्था की गई।महिला का आरोप है कि वहां बंधक बनाकर गोपाल कृष्ण, अजय खत्री और उसके साथी गोलू और अरुण ने उसके साथ एक सप्ताह तक गैंगरेप किया।
पटना पुलिस की मानें तो इस बात की जानकारी महिला ने फोन से अपने एक रिश्तेदार को दी थी। महिला ने बताया कि कुछ लोगों ने पश्चिम बंगाल में बंधक बनाकर रखा हुआ है। वो नशा देकर उसके साथ गलत काम कर रहे हैं। महिला के परिजन ने पटना की जक्कनपुर थाना की पुलिस को घटना बताई, उसके बाद पुलिस एक्टिव हुई और महिला के मोबाइल लोकेशन के आधार पर उसका ठिकाना ढूंढ निकाला।
पुलिस ने जब ऑटो चालक के घर पर छापा मारा तब वहां से महिला को मुक्त कराया गया। महिला के बयान के आधार पर पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। महिला की मेडिकल जांच कराई गई है और उसका 164 का बयान भी दर्ज कराया गया है।पुलिस मेडिकल जांच रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई में लग गई है।

खाने में जहर मिलाया, परिवार के 4 लोगों को मौंत

बैंगलुरू। कर्नाटक के दावनगरे की रहने वाली एक नाबालिग लड़की ने खाने में जहर मिलाकर अपने परिवार के चार लोगों को मौत की नींद सुला दी। एक लड़की का आरोप है कि उनके परिवार वाले उनसे भेदभाव करते थे। बहरहाल पुलिस ने नाबालिग लड़की पर हत्या का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार लड़की ने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि उनके परिवार वाले उनसे भेदभाव करते थे। उनके अन्य भाई बहनों के अपेक्षा माता-पिता उनसे कम प्यार करते थे। इसके साथ ही छोटी-छोटी गलतियों पर उनसे मारपीट की जाती थी। उन्होनें बताया कि पिता ने उसे 8वीं क्लास में एडमिशन करवाया लेकिन वह ढंग से पढ़ नहीं पाई। इसके बाद पिता ने उसे काम करने के लिए खेतों में ले जाना शुरू कर दिया। इन सब बातों को लेकर वह हमेशा परेशान रहती थी, लिहाजा उन्होने पूरे परिवार को मौत की नींद सुलाने का फैसला कर लिया।

पुलिस के मुताबिक लड़की ने 12 जुलाई की रात को खाना बनाकर घरवालों को खिलाया। उसे खाने के बाद 80 साल की दादी, 45 साल के पिता, 40 साल की मां, 16 साल की बहन की मौत हो गई। इस मामले की फॉरेंसिक रिपोर्ट सामने आने के बाद जहर से मौत का खुलासा हुआ। इसके बाद जब पुलिस ने दोबारा से लड़की से पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।


अतिक्रमण कर रहे 19 ग्रामीणों के खिलाफ कार्रवाई 

दुष्यंत टीकम     

धमतरी। वन विभाग की टीम ने समझाइश के बावजूद बार-बार अतिक्रमण कर रहे 19 ग्रामीणों के खिलाफ कार्रवाई की है। इन सभी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है। यह मामला धमतरी जिले के सेमरा पंचायत के ग्राम भाटखार का है, जहां अवैध अतिक्रमण को लेकर वन विभाग ने कार्रवाई की है। दरसअल बिरगुड़ी वन परिक्षेत्र के आरक्षित कक्ष क्रमांक 468 में भाटखार के लोग कृषि प्रयोजन से मेड़ बंदी का कार्य कर रहे थे। बता दें कि पूर्व में भी इनके द्वारा अतिक्रमण किया गया था, जिस पर कार्यवाही करते हुए उन्हे बेदखल किया गया था। पिछले कुछ दिनों से एक बार फिर इनके द्वारा अतिक्रमण किया जा रहा था। इस बार भी वन विभाग के कर्मचारी द्वारा इन्हे समझाइश दी गयी मगर ग्रामीण नहीं माने, जिसके चलते इन सभी को भारतीय वन अधिनियम की धारा 26(1) ज, तथा लोक संपत्ति क्षति निवारन अधिनियम 1984 की धारा 3(1) एवं (2) के तहत कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर न्यायलय में पेश किया गया। न्यायलय ने अपराध की गंभीरता को देखते हुए इन सभी 19 ग्रामीणों को 14 दिन के न्यायिक रिमांड पर जेल भेजने का आदेश जारी कर दिया।

उधर इस मामले में गिरफ्तार ग्रामीणों ने कार्रवाई का विरोध करते हुए कहा है कि उनके पास संबंधित जमीनों के दस्तावेज हैं जिसे वन विभाग पर्याप्त नहीं मान रहा है।


प्रिंस ने चाकू से प्राणघातक हमला किया, चोट
 
दुष्यंत टीकम         
रायपुर। अक्टूबर को प्रार्थी दीपक साहू अपने दोस्त हरीश साहू और हरिशंकर साहू निवासी लवन के साथ खाना-खाने के लिए रात्रि करीब 11:30 बजे रौनक ढाबा डोगरीडीह गए थे। जहां दाल चावल ठंडा होने से कम पैसा देने की बात ढाबा मालिक के साथ इनका चर्चा हो रही थी। उसी बीच वहां उपस्थित एक आरोपी द्वारा क्यों पैसा कम दोगे ढाबा मैं चलाता हूं कह कर आरोपी प्रिंस वर्मा द्वारा गाली गलौच करने लगा। जिसे प्रार्थी व उसके साथी द्वारा मना करने पर चारों आरोपीगण एक साथ मिलकर मां बहन की गंदी-गंदी गाली देकर बीयर की बोतल से और प्रिंस वर्मा द्वारा चाकू से प्राणघातक हमला कर व मारपीट कर चोट पहुंचाईं गई। घटना की रिपोर्ट पर धारा 294, 324, 307, 34 भादवी दर्ज कर विवेचना में लिया गया। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए थे। इसके बाद वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन और मार्गदर्शन पर फरार आरोपियों का सरगर्मी से पता तलाश की जा रही थी कि, पता तलाश कर हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर जुर्म स्वीकार किए और प्रकरण में आरोपियों से घटना में प्रयुक्त बियर की फूटा हुआ बोतल और एक नग चाकू बरामद कर जब्त की गई। प्रकरण में धारा 25, 27 आम्र्स एक्ट जोड़ी गई और अपराध सबूत पाए जाने से आरोपियों को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर न्यायालय पेश कर जेल दाखिल किया गया।

20 साल पूरे होने पर भाजपा 'मिशन' की शुरुआत

20 साल पूरे होने पर बीजेपी 'मिशन' की शुरुआत 

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज मोदी वैन को हरी झंडी दिखाकर इसकी शुरुआत करने जा रहे हैं। पीएम मोदी के सरकार में 20 साल पूरे होने के मौके पर बीजेपी इस मिशन की शुरुआत कर रही है। मोदी वैन का शुभारंभ सेवा की संगठन कार्यक्रम के तहत किया जा रहा है। पीएम मोदी 7 अक्टूबर 2001 को पहली बार मुख्यमत्री नियुक्त किए गए थे। बता दें कि इस विशेष वैन को कौशांबी विकास परिषद से संचालित किया जाएगा। इसे भाजपा के राष्ट्रीय सचिव विनोद सोनकर और उत्तर प्रदेश के कौशाम्बी से लोकसभा सांसद विनोद सोनकर चला रहे हैं।
सोनकर ने बताया, "ऐसी पांच वैन कौशांबी जिले के पांच विधानसभा क्षेत्रों में संचालित की जाएंगी। प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र के लिए एक वैन होगी। इन्हें एक कंट्रोल रूम से संचालित किया जाएगा।" सोनकर ने कहा कि प्रत्येक वाहन में पीएम मोदी के मासिक 'मन की बात' रेडियो पते के साथ-साथ उनकी सार्वजनिक रैलियों और भाषणों को प्रसारित करने के लिए 32 इंच की टेलीविजन और हाई-स्पीड इंटरनेट सेवाएं उपलब्ध होंगी।
मोदी वैन दूरदराज के गांवों में कोरोना वायरस बीमारी के खिलाफ टीकाकरण को बढ़ावा देने में भी मदद करेगी। भाजपा नेता ने यह जानकारी दी। इसकी विशेषताओं के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि वैन में एक टेलीमेडिसिन है, साथ ही एक मशीन है जो एक बार में 39 रक्त के नमूनों का परीक्षण कर सकती है।
7 अक्टूबर 2001 को पीएम मोदी पहली बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने, और उसके बाद दो बार फिर से सीएम चुने गए। सितंबर 2013 में, उन्हें लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा के पीएम उम्मीदवार के रूप में नियुक्त किया गया था।
उनके नेतृत्व में, बीजेपी ने 282 सीटें जीतीं, 1984 के बाद यह पहली बार था जब किसी पार्टी ने अपने दम पर संसदीय बहुमत हासिल किया। 2019 में, बीजेपी की संख्या बढ़कर 303 हो गई। पीएम मोदी को देश की जनता ने एक बार प्रधानमंत्री चुना था।
सरकार गिराने की साजिश करने का आरोप लगाया

रांची। झारखंड सरकार को गिराने की साजिश चल रही है। ये कहना है जेएमएम (झारखंड मुक्ति मोर्चा) विधायक रामदास सोरेन का।
सोरेन ने झारखंड सरकार गिराने की साजिश करने का ये आरोपी किसी और पर नहीं बल्कि पार्टी के पूर्व कोषाध्यक्ष रवि केजरीवाल और अशोक अग्रवाल पर लगाया है। इस खबर के बाद से झारखंड में हड़कंप मच गया है। घाटशिला से जेएमएम के विधायक रामदास सोरेन ने इस पूरे मामले में 12 अक्टूबर को धुर्वा थाने में एफआईआर भी दर्ज कराई है। दोनों नेताओं पर पुलिस ने भादवि की धारा 124 ए, 171 ई, 120 डी, 34, भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की धारा 8 और 9 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।पूर्व में झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन सरकार को गिराने की साजिश रचने के मामले में 22 जुलाई को कोतवाली थाने में बेरमो विधायक जयमंगल सिंह उर्फ अनूप सिंह ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इसके बाद रांची पुलिस ने इस मामले में छापेमारी की थी। रांची पुलिस ने तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार किया था।विधायक रामदास सोरेन का आरोप है कि रवि केजरीवाल ने उन्हें यह भी प्रलोभन दिया कि उन्हें पैसे के साथ मंत्रीपद भी दिया जाएगा। यह भी कहा कि हेमंत सोरेन की सरकार गिराने के लिए वे कितना पैसा लेंगे उन्हें बताएं।

पार्टी प्रमुख ओवैसी ने पीएम पर कसा तंज

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। भारत की सीमा पर चीन सैनिकों की घुसपैठ और जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमलों को लेकर एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी चीन पर बोलने से हमेशा डरते हैं। यहां तक कि चाय में चीनी तक भी नहीं डालते कि कहीं चीन न निकल आए।
असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी पर पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर भी निशाना साधा। ओवैसी ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री दो चीजों को लेकर कभी जुबान नहीं खोलते। एक तो पेट्रोल और डीजल की महंगाई और दूसरा चीन की घुसपैठ। चीन हमारे मुल्क में घुसकर बैठ गया है। जब पाकिस्तान ने पुलवामा पर हमला किया तो मोदी ने कहा कि हम घर में घुसकर मारेंगे तो हमने कहा कि मारो। लेकिन अब जब चीन डोकलाम, डेपसांग में बैठा है और भारत के प्रधानमंत्री हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। हमारे बिहार के लोगों पर हमला हुआ लेकिन पीएम मोदी चुप रहे। ओवैसी ने कहा कि हम भारत के प्रधानमंत्री से पूछना चाहते हैं कि हमारे 9 जवान मारे गए हैं। 24 तारीख को भारत, पाकिस्तान के साथ टी-20 मैच खेलने की तैयारी कर रहा है। क्या आपने नहीं कहा था कि भारत के सैनिक मर रहे हैं और मनमोहन सिंह की सरकार पाकिस्तान को बिरयानी खिला रही है। आज पाकिस्तान कश्मीर में भारत के गरीबों की जिंदगी से टी-20 खेल रहा है, लेकिन आप क्या कर रहे हैं। कश्मीर में आईबी, अमित शाह क्या कर रहे हैं।
कांग्रेस का बड़ा ऐलान, यूपी विधानसभा चुनाव में 40 प्रतिशत महिलाओं को मिलेगा टिकट 
आपने पाकिस्तान से सीजफायर किया है, लेकिन आतंकी ड्रोन से हथियार भेज रहे हैं। आपके पास आतंकवाद से निपटने के लिए कोई नीति ही नहीं है। कश्मीर में जिस तरह से हत्याएं हो रही हैं, उससे निपटने के लिए भी आपके पास कोई नीति नहीं है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को आतंकवादियों ने दो बिहारी मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वहीं अब तक बीते 15 दिनों के अंदर आतंकियों ने 13 आम नागरिकों को निशाना बनाया है। गैर-स्थानीय मजदूरों और कामगारों ने कश्मीर से पलायन शुरू कर दिया है।
कश्मीर को लेकर मोदी सरकार की स्पष्ट नीति नहीं

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में हिंसा की बढ़ रही घटनाओं से साफ है कि कश्मीर को लेकर मोदी सरकार की स्पष्ट नीति नहीं है और वहाँ हिंसा कम होने की बजाय लगातार बढ़ रही है जिससे साबित होता है कि जम्मू- कश्मीर में सुरक्षा देने में सरकार पूरी तरह से नाकाम रही है।
राहुल गांधी ने कहा, "कश्मीर में हिंसा पर काबू पाने और सुरक्षा देने में मोदी सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है, लगातार हो रही हत्या की घटनाएँ दुखद हैं। हमारे बिहार-यूपी के भी कुछ भाइयों को इस हिंसा का शिकार बनाया गया है। दुख की इस घड़ी में पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना है।
कांग्रेस ने भी अपने आधिकारिक पेज पर ट्वीट कर सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, "जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद खत्म करने और धारा 370 को लेकर मोदी सरकार ने क्या-क्या बड़े दावे किए थे। लेकिन आज कश्मीर में क्या हो रहा है, इससे हर कोई वाकिफ है और डरा हुआ है। कश्मीर की हालत खराब होती जा रही है, लेकिन सरकार इस पूरी स्थिति से बेखबर दिख रही है।
उन्होंने कहा, "जम्मू-कश्मीर में हर गुजरते हुए दिन के साथ स्थिति और खराब होती जा रही है, कश्मीर और कश्मीरियत दोनों खतरे में हैं। बरसों से कश्मीर का नाम लेकर राजनीति करने वाली भाजपा आजकल कहां 
गायब है, किसी को कुछ नहीं पता।
किसानों के साथ अन्याय करने का आरोप लगाया

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। कांग्रेस की उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रदेश सरकार पर धान उत्पादक किसानों के साथ अन्याय करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी फसल नहीं खरीदी जा रही है और उन्हें भारी नुकसान के साथ धान बेचने को मजबूर होना पड़ रहा है।
उन्होंने कहा कि किसानों के साथ न्याय करने की बजाय सरकार उन्हें डरा रही है और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की धमकी दे रही है। उनका कहना था कि न्यूनतम समर्थन मूल्य किसानों का हक है और यह उन्हें मिलना चाहिए
प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा "भाजपा सरकार किसानों पर एनएसए लगाएगी, किसानों को धमकाएगी लेकिन, किसानों को एमएसपी नहीं देगी।
उन्होंने कहा "उत्तर प्रदेश के कई जिलों में किसान 900-1000 रुपए कुंतल का नुकसान उठाकर धान बेचने को मजबूर हैं, जोकि सरासर अन्याय है। एमएसपी किसानों का हक है। कांग्रेस पूरी मजबूती से इस हक के लिए लड़ेगी।


एफटीए पर बातचीत शुरू करने का फैसला किया

एफटीए पर बातचीत शुरू करने का फैसला किया

येरूशलम। इजरायल ने भारत के साथ अपने रिश्तों को आगे बढ़ाते हुए अंतरराष्ट्रीय सौर गठजोड़ (आईएसए) में शामिल होने तथा भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर बातचीत पुन: शुरू करने का फैसला किया है।
विदेश मंत्री एस जयशंकर और इजरायल के वैकल्पिक प्रधानमंत्री एवं विदेश मंत्री याइर लैपिड के साथ आज द्विपक्षीय बैठक में ये निर्णय लिये गये। इस बैठक में दोनों देशों के बीच लोगों के आवागमन को बहाल करने के लिए एक-दूसरे के वैक्सीन प्रमाणपत्र को मान्यता देने का भी फैसला लिया गया।
डॉ. जयशंकर ने बैठक के बाद अपने वक्तव्य में इजरायल के आईएसए में शामिल होने के फैसले पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि कोप-26 बैठक के करीब आने के मद्देनज़र हरित प्रगति हरित अर्थव्यवस्था के हमारे एजेंडा में प्रगति बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि इजरायल के कारोबारी प्रतिनिधियों के साथ उनकी बैठक काफी सफल रही है और इसमें दोनों देशों के बीच नवान्वेषण, डिजीटल, हरित प्रगति एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने की संभावनाओं पर चर्चा हुई।
विदेश मंत्री ने भारत इजरायल राजनयिक संबंधों के 30वें वर्ष में प्रवेश को याद करते हुए कहा कि हमारे अधिकारी भारत इजरायल एफटीए पर बातचीत शुरू करने पर सहमत हो गये हैं। नवंबर में पहली बैठक होगी और जून 2022 तक बातचीत पूरी होने की संभावना है।
डॉ. जयशंकर ने कहा कि कोविड काल में यात्रा की सुविधा बहाल करने के लिए हम दोनों देश काम कर रहे थे। इस बारे में सैद्धांतिक रूप से हमने एक दूसरे के वैक्सीन प्रमाणन की प्रक्रिया को परस्पर मान्यता देने पर सहमति जतायी है। अभी अंतरिम व्यवस्था में इजरायल कोविशील्ड वैक्सीन लगवाने वालों को इजरायल आने की अनुमति देगा।
विदेश मंत्री इजरायल की पांच दिन की यात्रा पर रविवार को यहां पहुंचे हैं। आज उन्होंने याद वाशेम मेमोरियल में हॉलोकास्ट के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की और 1960 में भूदान आंदोलन में शरीक हुए सर्वोदय कार्यकर्ताओं की याद में एक शिलापट्ट का विमोचन किया।

विशेष दूत खलीलजाद ने पद से 'इस्तीफा' दिया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन ने बताया कि अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष दूत जलमय खलीलजाद ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है और अब उनकी जगह राजनयिक थॉमस वेस्ट लेंगे। अमेरिका और तालिबान के बीच शांति वार्ता में खलीलजाद की अहम भूमिका रही है। ब्लिंकन ने कहा कि जलमय खलीलजाद ने अफगानिस्तान के लिए विशेष दूत के पद से इस्तीफा दे दिया है। मैं दशकों तक अमेरिकी लोगों की सेवा करने के लिए उनका आभार व्यक्त करता हूं। उन्होंने बताया कि थॉमस वेस्ट अब अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष दूत होंगे। वेस्ट पहले, उप राष्ट्रपति की राष्ट्रीय सुरक्षा टीम और राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद का हिस्सा रह चुके हैं। अब वह, राजनयिक प्रयासों का नेतृत्व करेंगे, दक्षिण एवं मध्य एशियाई मामलों के ब्यूरो के सचिव तथा सहायक सचिव को सलाह देंगे औरअमेरिका के साथ निकटता से समन्वय करेंगे।
‘पोलिटिको’ के अनुसार, खलीलजाद ने अपने इस्तीफे में लिखा कि अफगानिस्तान सरकार और तालिबान के बीच राजनीतिक व्यवस्था उस प्रकार से नहीं बनी जैसे कि सोचा गया था। इसके कारण बहुत जटिल हैं और मैं आने वाले दिनों या हफ्तों में इस पर अपने विचार साझा करूंगा। उन्होंने कहा कि इससे आगे अब मैं न सिर्फ इसपर चर्चा करूंगा की क्या हुआ बल्कि आगे क्या किया जाना चाहिए।

कई सेलेब्स की शाहरुख को मुश्किल में सपोर्ट 

इस्लामाबाद। बॉलीवुुुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को अब तक जमानत नहीं मिल पाई है। चार अक्टूबर से आर्यन खान नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की हिरासत में हैं। आर्यन खान की बेल का एनसीबी ने पुरजोर विरोध किया था। एनसीबी ने अपनी तरफ से मजबूत दलीलें पेश कीं। ड्रग्स चैट, इंटरनेशनल ड्रग पेडलर संग कनेक्शन और ड्रग ट्रैफिकिंग जैसे कई गंभीर आरोप आर्यन खान पर लगाए गए। वहीं, आर्यन के वकील ने अदालत में दलील दी कि उनके पास से कोई ड्रग्स नहीं मिला है और आर्यन इस मामले में अपनी तरफ से सहयोग करते रहेंगे। ऐसे में उनसे जमानत का अधिकार नहीं छीना जा सकता है। अब इस मामले में 20 अक्टूबर को सुनवाई होगी। इस बीच पाकिस्तानी मीडिया में भी आर्यन खान के केस को लेकर काफी चर्चा है।
पाकिस्तान के प्रमुख अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने एक लेख छापा है जिसका शीर्षक है। आर्यन खान की गिरफ्तारी भारत के सबसे बड़े मुस्लिम हीरो को निशाना बनाने की कोशिश है। इस आर्टिकल में लिखा है, शाहरुख खान ना केवल एक सफल बॉलीवुड स्टार हैं।बल्कि अपने चार्म, एटीट्यूड और हेल्पिंग नेचर के चलते इंडस्ट्री के सबसे मददगार लोगों में भी शुमार किया जाता है। यही कारण है कि ऋतिक रोशन, सुनील शेट्टी, अली फजल, सलमान खान, पूजा भट्ट, फराह अली, संजय गुप्ता, स्वरा भास्कर, जोया अख्तर, रवीना टंडन, सोमी अली जैसे कई सेलेब्स ने शाहरुख को इस मुश्किल घड़ी में सपोर्ट किया।
इस आर्टिकल में आर्यन खान के सपोर्ट में खड़े तमाम बॉलीवुड स्टार के बयान का जिक्र किया गया है। ट्रिब्यून ने लिखा, यहां तक कि स्वरा भास्कर ने लिखा कि आर्यन भले ही एक स्टार का बेटा है, पर इसका मतलब ये नहीं कि उसकी लाइफ में तांक-झांक करने का सबको हक है। उसे ना तो जनता ने चुना है और ना ही उस पर पब्लिक का रोलमॉडल बनने की जिम्मेदारी है। अगर उसने ड्रग्स किया भी है तो इससे उसकी हेल्थ, उसके पिता का पैसा और रेपोटेशन दांव पर है और एनसीबी के अलावा किसी को भी इस मसले को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है। आप उसकी फिल्में बॉयकॉट करना चाहो तो कर सकते हो लेकिन प्लीज आर्यन ड्रग्स केस को नेशनल मुद्दा बताकर जरूरी मुद्दों से भटकाने की जरूरत नहीं है।
इस आर्टिकल में ये भी कहा गया कि एक लोकप्रिय मुस्लिम एक्टर के बेटे होने के चलते भी आर्यन के केस को ज्यादा तूल दिया जा रहा है। पूर्व एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा कहते हैं कि इसमें कोई दो राय नहीं कि शाहरुख का बेटा होने के चलते आर्यन को टारगेट किया जा रहा है। इस केस में अरबाज और मुनमुन नाम के लोगों को भी पकड़ा गया है लेकिन हर तरफ सिर्फ आर्यन का ही नाम है। शाहरुख के बेटे के बहाने बीजेपी अपना पुराना स्कोर सेटल करना चाहती है।
आर्टिकल के मुताबिक, 'आर्यन का केस एक बार फिर साफ करता है कि भारत में मुस्लिमों के साथ भेदभाव में काफी वृद्धि देखने को मिली है। कई पार्टियों के कई नेताओं मसलन उदित राज, महबूबा मुफ्ती और नवाब मलिक के बयानों ने भी साफ किया कि चूंकि आर्यन एक मुस्लिम सुपरस्टार का बेटा है, इसलिए उसकी हरकत को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया जा रहा है वहीं लखीमपुर खीरी केस में बीजेपी के नेता के बेटे द्वारा कथित रूप से किसानों पर गाड़ियां चढ़ा देने वाले मामले को सरकार खास तवज्जो नहीं दे रही है।
इस एडिटोरियल में लिखा है, "बॉलीवुड के खान भले ही भारत की एंटरटेन्मेन्ट इंडस्ट्री के सबसे बड़ सुपरस्टार्स हों लेकिन इस शोहरत के साथ ही उन्हें कई प्रकार की मुसीबतों को भी झेलना पड़ा है। पिछले साल सैफ अली खान की वेबसीरीज तांडव को काफी विवाद झेलना पड़ा था। सैफ की इस वेबसीरीज पर आरोप था कि इससे हिंदू लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। सोशल मीडिया पर 'कैंसल कल्चर' का प्रभाव इतना ज्यादा बढ़ चुका है कि तांडव को भी बॉयकॉट करने की मांग उठी थी। इसके अलावा पिछले साल जब आमिर खान अपनी फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में तुर्की गए थे और तुर्की के राष्ट्रपति की पत्नी से मिले थे, तब भी भारत में सोशल मीडिया पर राइट विंग ग्रुप्स ने आमिर की जमकर आलोचना की थी। आर्यन का केस इस मामले में उदाहरण है कि भारत में अगर मुस्लिम हस्तियां सत्तारुढ़ बीजेपी पार्टी के साथ सहयोग नहीं करती हैं तो उन्हें बड़ी परेशानी झेलनी पड़ सकती है।



पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव नहीं किया

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव नहीं किया
अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में आज शुरूआती कारोबार में कुछ नरमी दिखने के बीच मंगलवार को घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार दूसरे दिन कोई बदलाव नहीं किया गया। रविवार को देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार चौथे दिन 35-35 पैसे प्रति लीटर की बढोतरी की गयी थी। राजधानी दिल्ली मेंं पेट्रोल आज 105.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 94.57 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा।
मुंबई में पेट्रोल 111.77 रुपये और डीजल 102.52 रुपये प्रति लीटर पर है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पेट्रोल सबसे महंगा 114.45 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 103.78 रुपये प्रति लीटर पर है। अभी देश के अधिकांश प्रमुख बड़े शहरों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक हो गयी है और देश के अधिकांश बड़े शहरों में डीजल भी शतक लगाने की ओर बढ़ रहा है। कुछ शहरों में डीजल 100 रुपये के पार पहुंच चुका है। इस महीने में अब तक 19 दिनों में से 14 दिनों में इन दोनों की कीमतों में बढोतरी हुयी है। इस महीने में अब तक पेट्रोल 4.20 रुपये प्रति लीटर और डीजल 4.70 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल अभी भी ऊंचे स्तर पर बना हुआ। मंगलवार को सिंगापुर में शुरूआती कारोबार में कच्चे तेल में नरमी देखी गयी। ब्रेंट क्रूड 0.08 प्रतिशत उतरकर 84.26 डॉलर प्रति बैरल पर और अमेरिकी क्रूड 0.01 प्रतिशत नरम होकर 82 .43 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा है। पिछले सप्ताह भी इन दोनों में करीब तीन फीसदी की तेजी देखी गयी थी।
तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल 105.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 94.57 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया।पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की रोजाना समीक्षा होती है और उसके आधार पर हर दिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।
12वीं के चरण की परीक्षा की तारीखें जारी की

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के 10वीं और 12वीं की एक परीक्षा की तारीखें जारी कर दी गयी है। सीबीएसई कक्षा 10 के छात्रों की परीक्षा 30 नवंबर से 11 दिसंबर तक चलेंगीं, वहीं, कक्षा 12 के छात्रों की मुख्य विषयों की परीक्षाएं एक दिसंबर से 22 दिसंबर तक चलेंगी। 12वीं कक्षा में 19 मुख्य विषयों की ही परीक्षा होगी जबकि कक्षा 10 में सात मुख्य विषयों की परीक्षा होगी। सीबीएसई चरण एक की परीक्षा में कोई भी छात्र फेल नहीं होगा। छात्रों को परीक्षा में कम अंक आने के बाद न तो 'कंपार्टमेंट' देना होगा और ना ही परीक्षा दोबारा देनी पड़ेगी। बोर्ड द्वारा परीक्षा के बाद छात्रों को उनके अंक बताए जाएंगे। इसकी जानकारी सीबीएसई ने सभी स्कूलों को दे दी है।
छात्र आधिकारिक वेबसाइट से सीबीएसई 'डेट शीट' डाउनलोड कर सकते हैं। सीबीएसई के अनुसार, चरण एक की परीक्षा 90 मिनट की होगी।
सीबीएसई परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने कहा, ''चरण- एक परीक्षाएं लेने के बाद अंकों के रूप में परिणामों की घोषणा की जाएगी। प्रथम चरण के बाद किसी भी छात्र को उत्तीर्ण, कंपार्टमेंट और आवश्यक रिपीट श्रेणियों में नहीं रखा जाएगा। अंतिम परिणामों की घोषणा चरण एक और चरण दो की परीक्षा के बाद की जाएगी। उन्होंने कहा, ''प्रैक्टिकल परीक्षाएं या आंतरिक मूल्यांकन, चरण एक परीक्षाओं के संपन्न होने से पहले विद्यालयों में पूरा किया जाएगा। चरण दो कि परीक्षा मार्च-अप्रैल 2022 में आयोजित की जाएगी और क्या यह वस्तुनिष्ठ या लंबे उत्तरों वाली होगी, वह देश में कोरोना की स्थिति पर निर्भर करेगी।
चार्टर्ड बैंक पर 1.95 करोड़ रुपये का जुर्माना ठोका 

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण देश के सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंक भारतीय स्टेट बैंक पर एक करोड़ रुपये का और ग्राहक संरक्षण के दिशा निर्देशों का पालन नहीं करने पर विदेशी बैंक स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक पर 1.95 करोड़ रुपये का जुर्माना ठोका है। रिजर्व बैंक ने कल देर शाम इन बैंकों पर जुर्माना करने की जानकारी दी। बैंक नियामक के निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण स्टेट बैंक पर यह जुर्माना किया गया है। उस पर आरबीआई निर्देश 2016 का पालन नहीं करने पर यह कार्रवाई की गयी है। केन्द्रीय बैंक ने स्पष्ट किया है कि इस जुर्माने का प्रभाव बैंक के किसी भी ग्राहक पर नहीं पड़ेगा और न:न ही ग्राहक सेवा में किसी तरह की कमी की जा सकेगी।
 के खाते की जाँच की जिसमें उसके निर्देशों का पालन नहीं किये जाने का पता चला था। साथ ही यह भी पता चला कि धोखाधड़ी की सूचना उसके देर से दी गयी। इसके बाद स्टेट बैंक को नोटिस जारी किया गया था और उसके स्पष्टीकरण के बाद केन्द्रीय बैंक ने एक करोड़ रुपये का जुर्माना किया है।
विदेशी बैंक स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक पर रिज़र्व बैंक द्वारा 'ग्राहक संरक्षण - अनधिकृत इलेक्ट्रॉनिक बैंकिंग लेनदेन में ग्राहकों की सीमित देयता', 'बैंकों में साइबर सुरक्षा ढांचा', 'बैंकों द्वारा वित्तीय सेवाओं की आउटसोर्सिंग में जोखिम प्रबंधन और आचार संहिता पर दिशानिर्देश' के साथ 'बैंकों के क्रेडिट कार्ड संचालन' और बड़े ऋण पर सूचना का केंद्रीय भंडार (सीआरआईएलसी) - रिपोर्टिंग में संशोधन' के साथ 'बड़े सामान्य एक्सपोजर के केंद्रीय भंडार का निर्माण - बैंकों में' पर जारी निदेशों के अननुपालन नहीं करने के लिए 1.95 करोड़ रुपये का जुर्माना किया गया है। यह बैंककारी विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 46 (4)(आई) के साथ पठित धारा 47 ए(1) (सी) के प्रावधानों के तहत रिज़र्व बैंक में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए लगाया गया है। केन्द्रीय बैंक ने कहा है कि यह कार्रवाई विनियामक अनुपालन में कमियों पर आधारित है और इसका उद्देश्य उक्‍त बैंक द्वारा अपने ग्राहकों के साथ किए गए किसी भी लेनदेन या समझौते की वैधता पर सवाल करना नहीं है। 
भारत: 8 महीनों बाद सबसे कम नए मामलें दर्ज 

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। कोरोना मामलों में गिरावट जारी है। लगातार पांचवे दिन कोरोना केस की संख्या घटी है और आठ महीनों बाद सबसे कम नए कोरोना मामले दर्ज हुए हैं। मंगलवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से ताजा आंकड़ा जारी किया गया। मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 13,058 नए कोरोना केस आए और 164 कोरोना संक्रमितों की जान चली गई। 19,470 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं यानी कि 6152 एक्टिव केस कम हो गए। देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति
कोरोना महामारी की शुरुआत से लेकर अबतक कुल तीन करोड़ 40 लाख 94 हजार लोग संक्रमित हुए हैं। इनमें से 4 लाख 52 हजार 454 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी बात ये है कि अबतक 3 करोड़ 34 लाख 58 हजार लोग ठीक भी हुए हैं। देश में कोरोना एक्टिव केस की संख्या दो लाख से कम हो गई। कुल 1 लाख 89 हजार 694 लोग अभी भी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, जिनका इलाज चल रहा है।
कोरोना के कुल मामले- तीन करोड़ 40 लाख 94 हजार 373।
98 करोड़ वैक्सीन की डोज दी गई।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, 18 अक्टूबर तक देशभर में 98 करोड़ 67 लाख 69 हजार कोरोना वैक्सीन के डोज दिए जा चुके हैं। बीते दिन 12.05 लाख टीके लगाए गए। वहीं भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, अबतक करीब 59.19 करोड़ कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं। बीते दिन 9.89 लाख कोरोना सैंपल टेस्ट किए गए, जिसका पॉजिटिविटी रेट 2 फीसदी से कम है।
देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.33 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 98.12 फीसदी है। एक्टिव केस 0.56 फीसदी हैं। कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत अब 10वें स्थान पर है। कुल संक्रमितों की संख्या के मामले में भारत दूसरे स्थान पर है। जबकि अमेरिका, ब्राजील के बाद सबसे ज्यादा मौत भारत में हुई है। 
दिल्ली हिंसा के मामले में सुनवाई करेगा एससी

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। तीन अक्टूबर को हुई लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले में बुधवार को उच्चतम न्यायालय सुनवाई करेगा। हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी। प्रधान न्यायाधीश एनवी रमण, न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की एक पीठ मामले पर सुनवाई करेगी। इसी पीठ ने आठ लोगों की ‘बर्बर’ हत्या के मामले में उत्तर प्रदेश सरकार की कार्रवाई पर आठ अक्टूबर को असंतोष व्यक्त किया था।
मामले में अभी तक केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा सहित 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। सीजेआई को एक पत्र लिखकर दो वकीलों ने घटना की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच की मांग की थी, जिसमें सीबीआई को भी शामिल किया जाए। इसके बाद ही शीर्ष अदालत ने मामले पर सुनवाई शुरू की। गौरतलब है कि किसानों का एक समूह उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की यात्रा के खिलाफ तीन अक्टूबर को प्रदर्शन कर रहा था, तभी लखीमपुर खीरी में एक एसयूवी (कार) ने चार किसानों को कुचल दिया।
इससे गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने भाजपा के दो कार्यकर्ताओं और एक चालक की कथित तौर पर पीट कर हत्या कर दी, जबकि हिंसा में एक स्थानीय पत्रकार की भी मौत हो गई। किसानों के अनेक संगठन ‘कृषक (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा करार कानून, 2020’, ‘कृषक उत्पाद व्यापार एवं वाणिज्य (संवर्धन एवं सरलीकरण) कानून, 2020’ और ‘आवश्यक वस्तु (संशोधन) कानून’ को वापस लेने की मांग को लेकर पिछले साल नवंबर से आंदोलन कर रहे हैं।
पंजाब से शुरू हुआ यह आंदोलन धीरे-धीरे दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में भी फैल गया। शीर्ष अदालत ने जनवरी में कानूनों को अमल में लाने पर रोक लगा दी थी। शीर्ष अदालत ने आठ अक्टूबर को लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले में सुनवाई के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार के आरोपियों को गिरफ्तार ना करने के कदम पर सवाल उठाए थे और साक्ष्यों को संरक्षित रखने का निर्देश दिया था।





बुजुर्ग-युवाओं में ब्लड शुगर का खतरा तेजी से बढ़ा

बुजुर्ग-युवाओं में ब्लड शुगर का खतरा तेजी से बढ़ा

खराब खानपान और जीवनशैली का ही नतीजा है कि बुजुर्गों के साथ युवाओं में भी ब्लड शुगर का खतरा तेजी से बढ़ता जा रहा है। अगर आप ब्लड शुगर जैसी बीमारी से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आपने अपनी जीवनशैली में कई तरह के बदलाव करने होंगे। क्योंकि इस बीमारी का इलाज किसी भी दवाई से नहीं किया जा सकता है। रोज़ाना दवाई खाने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल हो सकता है, लेकिन ये बीमारी जड़ खत्म नहीं हो सकती है।

कई बार ब्लड शुगर के मरीजों के मन में फ्रूट्स को लेकर संशय होता है। एक स्टडी में सामने आया है कि फ्रूट जूस से बहुत तेजी से ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है। अगर आप अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए फ्रूट जूस पीना चाहते हैं तो आप ऐसे फ्रूट्स खा सकते हैं, जिनमें कम मिठास होती है।

तनाव, चिंता आदि को दूर करने में मददगार 'संतरा'

विटामिन-सी से भरपूर होता है। संतरे का छिलका।आपको बताते चलें कि इसके छिलके में भी विटामिन-सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसमें विटामिन सी के साथ-साथ विटामिन बी 6 भी प्रचुर मात्रा में मौजूद हैं। जो शरीर से डिप्रेशन,तनाव,चिंता आदि को दूर करने में मददगार साबित होता है। वहीँ इसके साथ-साथ संतरे के छिलके में विटामिन बी भी पाया जाता है। जो कि नर्वस सिस्टम को मजबूत बना के रखता है।

खनिज से भरपूर होता है संतरे का छिलका।
आपको बताते चलें कि संतरे कि तरह इसके छिलके में भी विटामिन और खनिज पाया जाता है। ये शरीर की इम्यून सिस्टम को मजबूत बना के रखने में कारगर साबित होता है। जिसकी जैसी वजह से ढेरों बीमारियां शरीर से दूर रहती हैं। वहीं ये स्किन में ग्लो लेकर आने में भी सक्षम होता है। इसका सेवन त्वचा से पिम्पल्स के दाग हटाने में आपकी काफी हद तक मदद कर सकता है। वहीं यदि बालों के झड़ने या टूटने से परेशान हैं। तो ये फायदेमंद साबित हो सकता है। कैल्शियम से होता है भरपूर। संतरे के छिलके में कैल्शियम उचित मात्रा में मौजूद होता है। कैल्शियम के सेवन से दांत और हड्डियों को मजबूती मिलती है। यदि आपकी हड्डियां कमजोर हैं तो संतरे के साथ इसका छिलका भी आपके लिए फायदेमंद होगा।कब्ज की समस्या को करता है दूर। आपको बताते चलें कि इसके छिलके में पेक्टिन नामक एक तत्त्व पाया जाता है। जिसमें फाइबर की भरपूर मात्रा होती है। ये पेट को साफ़ रखने में तो मदद करता ही है वहीं पेट से अनेकों बीमारियों को भी दूर कर देता है। पेट से जुड़ी बीमारियों के लिए संतरे का छिलका लाभदायक होता है। वेट कंट्रोल करने में होता है मददगार। संतरे के छिलके में अनेकों तत्त्व पाए जाते हैं। जो वेट को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। वहीं ये नेचुरल तरीकों से वजन को कम करता है। जिससे सेहत को कोई भी नुकसान नहीं होता है। दिल की सेहत के लिए होता है लाभदायक। संतरे के छिलके की बात करें तो इसमें कई सारे ऐसे तत्त्व पाए जाते हैं जो बीमारियों को शरीर से दूर करते हैं। इसमें कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बेहद कम होती है जो दिल की बीमारी के खतरे को कम करने में दो गुना सक्षम होती है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-363 (साल-04)
2. मंगलवार, अक्टूबर 19, 2021
3. शक-1984,अश्विन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- चतुर्दशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:02, सूर्यास्त 05:40।
5. न्‍यूनतम तापमान -16 डी.सै., अधिकतम-29+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...