गुरुवार, 30 नवंबर 2023

एसपी द्वारा थाने का आकस्मिक निरीक्षण किया

एसपी द्वारा थाने का आकस्मिक निरीक्षण किया 

संदीप मिश्र 
मिर्जापुर। गुरुवार को पुलिस अधीक्षक अभिनन्दन द्वारा थाना मड़िहान का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में पुलिस अधीक्षक द्वारा थाना कार्यालय एवं कार्यालाय में रखे विभिन्न अभिलेखो व रजिस्टरों का गहनता से चेक किया गया। थाना परिसर भ्रमण के दौरान थाना परिसर में रखे माल मुकदमाती वाहनों के रख-रखाव व परिसर की साफ-सफाई तथा परिसर में अवस्थित महिला पुलिस चौकी का निरीक्षण कर सम्बन्धित को अभिलेखों के रख-रखाव सहित अन्य आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया, इसी दौरान निर्माणाधीन महिला रिपोर्टिंग पुलिस चौकी का भ्रमण कर सम्बन्धित को निर्धारित समयावधि में निर्माण कार्य को पूर्ण करने का निर्देश दिया गया।
निरीक्षण के क्रम में साइबर हेल्प डेस्क, महिला हेल्प डेस्क, जनशिकायत डेस्क आदि का निरीक्षण कर कार्यालयी अभिलेखों के समुचित रख-रखाव तथा सीसीटीएनएस कक्ष, मालखाना, हवालात, भोजनालय व बैरक आदि का भ्रमण/निरीक्षण कर सम्बन्धित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। इस दौरान थाना परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों की क्रियाशीलता एवं मॉनिटरिंग कक्ष का निरीक्षण किया गया। थानाध्यक्ष मड़िहान को थाने पर आने वाले फरियादियों के साथ विनम्रता पूर्ण व्यवहार करते हुए उनकी समस्या सुनकर समय से गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने का निर्देश दिया गया। थाना क्षेत्रांतर्गत बाजार, मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों, कस्बों आदि जगहों पर नियमित रुप से गश्त व चेकिंग आदि के सम्बन्ध में सम्बन्धित को निर्देशित किया गया। उक्त निरीक्षण के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन, क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन व थानाध्यक्ष मड़िहान सहित पुलिस के अन्य अधिकारी/कर्मचारी मौजूद रहे।

नायडू की याचिका पर सुनवाई 12 तक स्थगित

नायडू की याचिका पर सुनवाई 12 तक स्थगित 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने फाइबरनेट मामले में अग्रिम जमानत का अनुरोध करने वाले तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू की याचिका पर सुनवाई बृहस्पतिवार को 12 दिसंबर तक के लिए स्थगित कर दी।
न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस और न्यायमूर्ति बेला एम त्रिवेदी की पीठ ने मामले को यह कहते हुए स्थगित कर दिया कि 371 करोड़ रुपये के कौशल विकास घोटाला मामले में प्राथमिकी को रद्द करने के संबंध में नायडू द्वारा दायर एक अन्य याचिका पर फैसला जल्द ही आने की संभावना है।
संक्षिप्त सुनवाई के दौरान आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नायडू की ओर से पेश वरिष्ठ वकील सिद्धार्थ लूथरा ने कहा कि राज्य पुलिस द्वारा उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ पहले की व्यवस्था जारी रहनी चाहिए। आंध्र प्रदेश सरकार का प्रतिनिधित्व कर रहे वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी ने अदालत को आश्वासन दिया कि यह व्यवस्था जारी रहेगी।
शीर्ष अदालत ने पूर्व में आंध्र प्रदेश पुलिस से कहा था कि वह फाइबरनेट मामले में नायडू को तब तक गिरफ्तार न करे जब तक कि वह कौशल विकास घोटाला मामले में तेदेपा सुप्रीमो की याचिका पर अपना फैसला नहीं सुना देती। राज्य पुलिस ने 13 अक्टूबर को शीर्ष अदालत को बताया था कि वह नायडू को हिरासत में नहीं लेगी।
फाइबरनेट मामला आंध्र प्रदेश फाइबरनेट परियोजना के चरण-एक के तहत एक पसंदीदा कंपनी को 330 करोड़ रुपये का कार्य आदेश आवंटित करने के लिए निविदा में हेरफेर से संबंधित है। आंध्र प्रदेश पुलिस के आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) ने आरोप लगाया है कि निविदा देने से लेकर काम पूरा होने तक परियोजना में अनियमितताएं की गईं, जिससे राज्य के खजाने को भारी नुकसान हुआ।
नायडू (73) को 2015 में मुख्यमंत्री रहते हुए कौशल विकास निगम से धन का कथित दुरुपयोग करने के आरोप में नौ सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। बताया जाता है कि इस मामले में राज्य के खजाने को 371 करोड़ रुपये का कथित नुकसान हुआ।

'विज्ञान मॉडल' प्रदर्शनी का आयोजन किया

'विज्ञान मॉडल' प्रदर्शनी का आयोजन किया 

सुनील पुरी 
फतेहपुर। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद के अंतर्गत जिला विज्ञान क्लब की ओर से जनपदीय विज्ञान मॉडल प्रदर्शनी का आयोजन राजकीय इंटर कॉलेज के प्रांगण में किया गया। जनपदीय प्रदर्शनी का उद्घाटन मुख्य अतिथि जिलाधिकारी सी. इंदुमती ने फीता काटकर किया।  जिलाधिकारी ने जनपदीय विज्ञान मॉडल प्रदर्शनी में जनपद के माध्यमिक विद्यालयों के छात्र-छात्रों द्वारा लगाए गए स्टालों में नवाचार व रचनात्मकता का बहुत ही जिज्ञासा के साथ अवलोकन कर हर्षित मन से उत्साहवर्धन किया। 
विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य ने प्रदर्शनी में आए हुए समस्त मॉडल का सघनतापूर्वक अवलोकन करते हुए प्रदर्शनी की सराहना की। जिला विद्यालय निरीक्षक के संरक्षण/संयोजकत्व में जनपदीय प्रदर्शनी में पधारे सभी प्रतिभागियों का मनोबल बढ़ाते हुए उनके माडल बनाने में सृजनशीलता की तारीफ की गई। प्रदर्शनी में जनपद के सभी विद्यालयों के छात्र-छात्राओं, शिक्षकों एवं उनके प्रधानाचार्यों के प्रति राजकीय इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य ने आभार व धन्यवाद ज्ञापित किया।

त्रिपाठी की अध्यक्षता में मासिक बैठक आयोजित

त्रिपाठी की अध्यक्षता में मासिक बैठक आयोजित 

सुनील पुरी
फतेहपुर। अभियोजन कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक गुरूवार को कलक्ट्रेट स्थित महात्मा गांधी सभागार में अपर जिलाधिकारी (वित्त/राजस्व) अविनाश त्रिपाठी की अध्यक्षता में आयोजित हुई। उन्होंने कहा कि अभियोजन के लंबित वादों में 376, 302, 304 पॉक्सो, गैंगस्टर आदि मुकदमों पर जल्दी-जल्दी तरीख लगवाकर गंभीरता के साथ पैरवी करके अपराधियों को सजा दिलायी जाये। जिससे पीड़ितों को त्वरित न्याय मिल जाये। इसके अलावा परिवारिक न्यायालय, विद्युत, सामाजिक वानिकी, खाद्य विभाग, गुंडा एक्ट, प्रोबेशन विभाग, फौजदारी, बाट-माप, खाद्य सुरक्षा, श्रम विभाग आदि के लंबित वादों की समीक्षा किया। उन्होंने कहा कि गंभीर प्राकृति के वादों में प्रभावी पैरवी कर अधिक से अधिक दोषियों को सजा दिलायी जाये। जिससे अपराधी किस्म के लोगों को यह मैसेज जाये कि छोटा से छोटा अपराध करने पर भी वे सज़ा से बच नहीं सकते हैं। न्यायालयों में विचाराधीन मामलों में सफल अभियोजन पैरवी कर सजा का प्रतिशत बढ़ाया जाना चाहिए। ताकि न्यायालयों में लंबित पुराने मामलों का निस्तारण शीघ्र हो सके। इस अवसर पर जेल अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक, जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला सूचना अधिकारी, शासकीय अधिवक्ता सहित अन्य जनपद स्तरीय अधीकारी उपस्थित रहे।

सरकार ने विभिन्न दलों के नेताओं की बैठक बुलाई

सरकार ने विभिन्न दलों के नेताओं की बैठक बुलाई 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। सरकार ने संसद के शीतकालीन सत्र से पहले शनिवार को लोकसभा और राज्यसभा में विभिन्न दलों के नेताओं की बैठक बुलाई है। संसद का शीतकालीन सत्र चार दिसंबर से शुरू होगा और इसका 22 दिसंबर तक चलना प्रस्तावित है।
इस दौरान 15 बैठकें होंगी जिनमें कुछ महत्वपूर्ण विधेयकों पर चर्चा की जा सकती है। इनमें ब्रिटिश कालीन तीन अपराध कानूनों - भारतीय दंड संहिता, दंड प्रक्रिया संहिता और साक्ष्य अधिनियम को बदलने के लिए लाए गए विधेयक भी शामिल हैं। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी शनिवार को बैठक बुलाएंगे जिसमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल समेत वरिष्ठ नेता भाग ले सकते हैं।
इस समय संसद में 37 विधेयक लंबित हैं जिनमें से 12 चर्चा और पारित करने के लिए सूचीबद्ध हैं और सात विधेयक पेश किये जाने, चर्चा और पारित करने के लिए सूचीबद्ध हैं। सरकार ने वर्ष 2023-24 के लिए अनुदान की अनुपूरक मांगों के पहले बैच को भी पेश करने की योजना बनाई है। इसी सत्र में तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ ‘पैसे लेकर सवाल पूछने’ के आरोपों पर आचार समिति की रिपोर्ट लोकसभा में पेश की जाएगी।
समिति की उन्हें निष्कासित करने की सिफारिश तभी प्रभाव में आ सकती है, जब सदन रिपोर्ट को स्वीकार करेगा। मुख्य निर्वाचन आयुक्त और निर्वाचन आयुक्तों की नियुक्ति से संबंधित एक अन्य महत्वपूर्ण विधेयक भी संसद में लंबित है। इसे मॉनसून सत्र में पेश किया गया था, लेकिन सरकार ने विपक्षी सदस्यों और पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्तों के विरोध के बीच संसद के विशेष सत्र में इसे पारित करने पर जोर नहीं दिया था।
विधेयक में मुख्य निर्वाचन आयुक्त और निर्वाचन आयुक्तों का दर्जा कैबिनेट सचिव के समान करने का प्रावधान प्रस्तावित है। इस समय वे उच्चतम न्यायालय के एक न्यायाधीश का दर्जा रखते हैं।

छात्रा ने फांसी लगाकर जान दी, पोस्टमार्टम

छात्रा ने फांसी लगाकर जान दी, पोस्टमार्टम 

संदीप मिश्र 
कोटा। सुसाइड सिटी के रूप में परिवर्तित हो चुके कोटा की शिक्षा ने एक और स्टूडेंट की जान ले ली है। कोचिंग हब कहे जाने वाले कोटा शहर के जवाहर नगर इलाके में शिक्षा ग्रहण करने के लिए आई छात्रा ने गले में फांसी का फंदा डालकर मौत को गले लगा लिया है। बृहस्पतिवार को कोचिंग हब शहर के रूप में विख्यात हो चुके कोटा के जवाहर नगर इलाके में कोचिंग करने के लिए रह रही उत्तर प्रदेश की छात्रा ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी है। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने फांसी के फंदे पर झूल रहे छात्रा के शव को नीचे उतरकर अपने कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 
उल्लेखनीय है कि कोटा शहर में देश भर के अनेक स्थानों से छात्र-छात्राएं प्रतियोगी परीक्षाओं एवं आईआईटी आदि परीक्षाओं की तैयारी के सिलसिले में आते हैं। मिल रही जानकारी के मुताबिक पिछले 1 साल के भीतर अभी तक 28 छात्र सुसाइड कर अपनी जान दे चुके हैं। हालांकि प्रशासन द्वारा कुछ उपाय किए भी गए हैं लेकिन इसके बावजूद स्टूडेंट सुसाइड के मामलों पर रोक नहीं लग पा रही है। राज्य विधानसभा के भीतर सभी पार्टियों द्वारा सुसाइड कंट्रोल को लेकर सियासी मुद्दा भी बनाया गया है। इसके बावजूद कोटा शहर में सुसाइड की घटनाएं चिंताओं को बढ़ाने वाली है।

इसी मोहब्बत से अपना देश बना है: प्रियंका

इसी मोहब्बत से अपना देश बना है: प्रियंका 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने उत्तराखंड के उत्तरकाशी की सिलक्यारा सुरंग में फंसे मजदूरों को निकालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले कुछ ‘रैट माइनर्स’ का हवाला देते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि इसी मोहब्बत से अपना देश बना है। उत्तराखंड में निर्माणाधीन सुरंग में फंस गए 41 मजदूरों को बचाने का अभियान मंगलवार रात सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। 
सुरंग का एक हिस्सा 12 नवंबर को ढह गया था और मजदूर अंदर फंस गए थे। प्रियंका गांधी ने कुछ रैट माइनर्स की तस्वीरें साझा करते हुए ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘‘उत्तरकाशी की सिलक्यारा सुरंग में फंसे मजदूर भाइयों को बाहर निकालने की कोशिश में जब-जब बड़ी-बड़ी ऑगर मशीनें निष्फल हो गयीं तो हाथों-हाथ खुदाई की एक देसी तकनीक को अमल में लाना पड़ा, जिसे ‘रैट होल माइनिंग’ कहा जाता है।
कुल जमा 12 रैट होल माइनर्स साथियों ने जान पर खेलकर महज 24 घंटे की मेहनत में रेस्क्यू ऑपेरशन को पूरा कर दिया।’’ उनका कहना था, ‘‘उनमें से एक साथी मोहम्मद इरशाद ने सबके लिये दुआ की है कि देश में प्यार बचा रहे और इंसान को इंसान की तरह प्रेम किया जाएं।
दूसरे रैट होल माइनर नासिर हुसैन ने जब ध्वस्त सुरंग को चीरकर उस पार फंसे मजदूरों में से पहले को देखा तो उसके पास पहुंच कर फौरन उसे गले लगा लिया।’’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘यही प्यार है। इसी मोहब्बत से बना है अपना देश। जय हिंद।’’

दिल्ली में 12.6 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज

दिल्ली में 12.6 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस मौसम में औसत से दो डिग्री अधिक है। मौसम विभाग ने यह जानकारी दी। भारत मौसम विज्ञान विभाग के बुलेटिन के अनुसार, दिन के दौरान सामान्यत: बादल छाए रहने और बहुत हल्की बारिश या गरज के साथ वर्षा की संभावना है। सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 96 प्रतिशत थी। 
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी आंकड़े के अनुसार, सुबह नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 366 दर्ज किया गया। शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच एक्यूआई को ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 के बीच ‘खराब‘, 301 और 400 के बीच ‘बेहद खराब’ तथा 401 और 500 के बीच ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है। 37 निगरानी केंद्रों में से छह (पंजाबी बाग, बवाना, मुंडका, नेहरू नगर और जहांगीरपुरी) में एक्यूआई ‘‘गंभीर’’ श्रेणी में जबकि 30 केंद्रों पर ‘‘बेहद खराब’’ श्रेणी में दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार, अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस के आस पास रहने का अनुमान है।

2.23 लाख करोड़ के रक्षा सौदों को मंजूरी दी

2.23 लाख करोड़ के रक्षा सौदों को मंजूरी दी 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। सरकार ने रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता हासिल करने और सशस्त्र सेनाओं के आधुनिकीकरण की दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए 2.23 लाख करोड़ रूपये के रक्षा सौदों को मंजूरी दे दी है। इनमें वायु सेना के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड से हल्के लड़ाकू विमान, हल्के लड़ाकू हेलिकॉप्टर के अलावा नौसेना के लिए युद्धपाेत रोधी मिसाइलों तथा तोपों की खरीद के प्रस्ताव शामिल हैं। 
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में गुरूवार को हुई रक्षा खरीद परिषद की बैठक में इस आशय से संबंधित खरीद प्रस्तावों को मंजूरी दी गयी। रक्षा मंत्रालय के अनुसार इन प्रस्तावों को जरूरत के आधार पर खरीद की मंजूरी दी गयी है और इनमें से 2.20 लाख करोड़ रूपये की खरीद घरेेलू उद्योगों से की जाएगी।
इससे रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता करने के लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी। इनमें हल्के लड़ाकू विमान, हल्के लड़ाकू हेलिकॉप्टर , युद्धपाेत रोधी मिसाइलों तथा तोपों की खरीद के प्रस्ताव शामिल हैं।

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी: सीएम

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी: सीएम 

नरेश राघानी 
जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को कहा कि चुनाव बाद सर्वेक्षणों (एग्जिट पोल) में कुछ भी आंकड़े दिखाए जाएं, लेकिन मुझे लगता है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होंने कांग्रेस मुख्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में यह दावा भी किया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में हारने वाली है। 
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने केंद्र सरकार पर लोकतंत्र और संवैधानिक संस्थाओं को नष्ट करने का आरोप लगाया तथा कहा कि आने वाले समय में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के भीतर ‘समझदार लोग’ विद्रोह करेंगे। राजस्थान में विधानसभा की 199 सीटों के लिए गत 25 नवंबर को मतदान संपन्न हुआ। तीन दिसंबर को मतगणना होगी।
चुनाव नतीजों की संभावना से जुड़े सवाल पर गहलोत ने कहा, ‘‘एग्जिट पोल कुछ भी आए, सटोरिये कुछ भी कह दें, मीडिया सर्वेक्षण में कुछ भी कहा जाए, मुझे लगता है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी।’’ उन्होंने यह दावा भी किया कि पांच राज्यों में भाजपा कहीं भी नहीं जीत रही है। उनका कहना था, ‘‘इस बार राजस्थान में जनता कांग्रेस की सरकार फिर से बनाएगी। यह पहली सरकार है जिसके खिलाफ सत्ता विरोधी माहौल नहीं है।
मुख्यमंत्री के बारे में सबकी एक राय है, यहां तक कि भाजपा का वोटर भी कहेगा कि (मुख्यमंत्री ने) काम करने में कोई कमी नहीं रखी है। ’’ गहलोत ने आरोप लगाया, ‘‘प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और केंद्र के मंत्रियों, सभी ने डराने वाली, तनाव पैदा करने वाली भाषा बोली...ये लोग राजस्थान में सरकार गिराने में विफल रहे, यह दर्द उनके दिल में छिपा हुआ है।
इसलिए उन्होंने यह योजना बनाई कि किसी भी तरह से राजस्थान में कांग्रेस की सरकार फिर नहीं बनने देना है।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा का यह प्रयास सफल नहीं हुआ, इसलिए कांग्रेस की सरकार बनेगी। विधायकों एवं सांसदों से संबंधित उत्तर प्रदेश की एक अदालत द्वारा राहुल गांधी को तलब किए जाने पर गहलोत ने कहा, ‘‘राहुल जी पर जो लोग हमला बोल रहे हैं उनको 2024 में महंगा पड़ेगा।
मोदी जी का प्रभाव अब वो नहीं रहा जो पहले होता था।’’ उन्होंने प्रधामंत्री नरेन्द्र मोदी के एक कथित बयान का हवाला देते हुए कटाक्ष किया, ‘‘मोदी जी ने गुजरात में (2017 के चुनाव में) कहा था कि एक मारवाड़ी मुझे हराने के लिए आया है, मैं कहां जाऊंगा, मुझे जिताओ। अब दो गुजराती राजस्थान में आ गए, अब मैं कहता हूं कि भाइयों और बहनों मैं कहां जाऊंगा, मुझे जिताओ।’’ गहलोत ने कहा, ‘‘ मैं व्यक्तिगत रूप से किसी के खिलाफ नहीं हूं।
मेरा मानना है कि लोकतंत्र में कार्यक्रम, नीतियों और सिद्धांतों के आधार पर चुनाव होना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश में जो हो रहा है, उसको लेकर राष्ट्रीय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को केंद्र सरकार के खिलाफ खुलकर सामने आना चाहिए। गहलोत ने दावा किया, ‘‘आज नहीं तो कल, भाजपा के समझदार लोग बगावत करेंगे। उन्हें बगावत करनी चाहिए। अगर बगावत नहीं करेंगे तो वो भी दोष के भागीदार होंगे।’’
राजस्थान के मुख्यमंत्री ने मीडिया के हिस्से पर सवाल खड़े किए और कहा कि आज यह मिशन नहीं रहा, बल्कि ‘धंधा’ हो गया है। उन्होंने कहा, ‘‘कुछ लोग को छोड़ दो तो पत्रकारिता एक पैसा कमाने का धंधा हो गया है। मिशन कुछ नहीं रहा। (कुछ लोगों ने) खुद को गुलाम बना रखा है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।’’

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-41, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. शुक्रवार, दिसंबर 01, 2023

3. शक-1945, माघ, कृष्ण-पक्ष, तिथि-चतुर्थी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:36, सूर्यास्त: 05:18।

5. न्‍यूनतम तापमान- 17 डी.सै., अधिकतम- 29+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू  पंकज कपूर  देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गय...