रविवार, 4 अक्तूबर 2020

दुबईः आईपीएल पर फिक्सिंग का संकट

दुबई। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में जैव सुरक्षा वातावरण में खेले जा रहे आईपीएल के 13वें संस्करण पर भी फिक्सिंग के बादल मंडराने लगे हैं जिसकी पुष्टि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी की है। बताय जा रहा है कि एक बाहरी एजेंट ने आईपीएल में खेल रहे खिलाड़ी से फिक्सिंग को लेकर संपर्क साधा है। इस खिलाड़ी और उसकी टीम के नाम को ऐसे मामलों में गोपनीय प्रक्रिया के चलते गुप्त रखा गया है। इस मामले की पुष्टि बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई (एसीयू) ने की है। एसीयू के प्रमुख अजित सिंह ने कहा है कि आईपीएल में एक खिलाड़ी से किसी अनजान आदमी ने फिक्सिंग को लेकर संपर्क करने की कोशिश की थी। उस एजेंट का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि आईपीएल के दौरान एसीयू खेल को अधिक पारदर्शी बनाने के लिए खिलाड़ियों को ऑनलाइन काउंसलिंग सेशन दे रही है। आईपीएल खेल रहे खिलाड़ियों को भी सभी प्रोटोकॉल की जानकारी दी गई है।               


75829 नए संक्रमित, 940 लोगों की मौत

भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 65 लाख के पार, 24 घंटे में 75,829 नए मामले और 940 मौतें।


नई दिल्ली। भारत में तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस संक्रमण 65 लाख के आंकड़े के पार पहुंच चुका है। दुनिया में सबसे तेजी से संक्रमण भारत में ही फैल रहा है। पिछले 24 घंटों में 75 हजार से ज्यादा कोरोना के मामले दर्ज किए गए। जबकि बीते 24 घंटे के दौरान 82,260 संक्रमित इलाज के बाद ठीक हुए हैं। वहीं इस दौरान 940 संक्रमितों की मौत भी हुई है। इसके साथ ही देश में अबतक कोरोना वायरस संक्रमण से 1,01,782 संक्रमितों ने अपनी जान गंवा दी है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में अब कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 65,49,373 हो गई है। इनमें से अब तक 1,01,782 कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई है।एक्टिव केस की संख्या घटकर 9,37,625 हो गई है। बीते शनिवार को देश में कुल एक्टिव केस की सख्या 9 लाख 44 हजार के पार थी। देश में सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं। महाराष्ट्र लगातार कोरोना की सबसे बुरी मार झेलने वाला राज्य बना हुआ है। यहां अब तक 14 लाख मामले दर्ज हो चुके हैं। वर्तमान में महाराष्ट्र में 2,61,313 एक्टिव मामले हैं। इसके बाद आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश हैं। इन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं। बता दें कि एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का दूसरा स्थान है। कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है। मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है।                


कोरोना की चपेट में आए नेपाली प्रधानमंत्री

कोरोना की चपेट में आए प्रधानमंत्री, मिले संक्रमित, आवास हुआ सैनेटाइज।


काठमांडू। कोरोना संक्रमण का प्रकोप नेपाल के प्रधानमंत्री आवास में देखने को मिला है। यहां प्रधानमंत्री केपी ओली के साथ ही उनके निजी सलाहकार और डॉक्टर भी कोरोना संक्रमण का शिकार हुए हैं। इतना ही नहीं नेपाली प्रधानमंत्री की सुरक्षा में तैनात 76 जवान भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। नेपाल सरकार की समाचार एजेंसी ने जानकारी दी है कि देश का प्रधानमंत्री आवास बुरी तरह से कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गया है। इसी के साथ ही प्रधानमंत्री आवास को पूरी तरह से खाली करने के बाद सैनेटाइज किया जा रहा है। एजेंसी ने बताया कि हाल ही में पीएम ओली के निजी चिकित्सक डॉ दिव्या शाह को कोरोना से संक्रमित पाया गया था। इसके बाद कॉटैक्ट ट्रेसिंग का पता लगाने पर उनके संपर्क में आए सभी लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया है।
खबर मिल रही है कि पीएम ओली की सुरक्षा में लगे नेपाली सेना के 28 कमांडो, नेपाल पुलिस के 19 अधिकारी, सशस्त्र प्रहरी बल के 27 और खुफिया विभाग के 2 अधिकारी भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आए हैं। जिसके बाद ही पीएम की सुरक्षा में तैनात सभी सुरक्षाकर्मियों के पूरे दस्ते को बदल दिया गया है। बता दें कि हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप को कोरोना संक्रमित पाया गया है। उनके साथ ही उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप को भी कोरोना संक्रमित पाया गया है। वहीं दुनियाभर में कोरोना वायरस के संक्रमण का आंकड़ा 3 करोड़ 51 लाख के पार पहुंच गया है।             


अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए आज का दिन अहम

अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए अगले 24 घंटे बेहद अहम


वाशिंगटन डीसी। कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का शनिवार को हेल्थ बुलेटिन जारी किया गया। इस बुलेटिन के अनुसार ट्रंप के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम हैं। उन्हें बुखार नहीं है। हालांकि व्हाइट हाउस से जारी बुलेटिन में राष्ट्रपति की सेहत को लेकर कुछ खास नहीं कहा गया है। न्यूयॉर्क टाइम्स ने ट्रंप के चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मिडोज के हवाले से कहा है कि राष्ट्रपति की हालत बहुत ही ज्यादा चिंताजनक है। 24 घंटे के दौरान ट्रंप के स्वास्थ्य में सुधार आया है। ट्रंप के इलाज में जुटी मेडिकल टीम ने कहा कि उन्हें सांस लेने में कोई समस्या नहीं हो रही है। उन्हें ऑक्सीजन भी देने की जरूरत नहीं पड़ रही है। टीम ने कहा कि ट्रंप अच्छा कर रहे हैं पर अगला 48 घटना उनके लिए बेहद अहम है। इस टीम के डॉक्टर सीन कॉल्ने ने कहा कि ट्रंप अपने बिस्तर से उतरे और उन्होंने वॉक भी किया। उन्हें 24 घंटों के दौरान बुखार, कफ, बंद नाक और थकान की भी शिकायत नहीं हुई है।
व्हाइट हाउस में क्वारंटीन हैं मेलानिया।
डोनाल्ड ट्रंप के साथ उनकी पत्नी मेलानिया भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई हैं। ट्रंप का इलाज वाल्टर रीड आर्मी हॉस्पिटल में चल रहा है। वहीं, मेलानिया व्हाइट हाउस में ही सेल्फ आइसोलेशन में हैं। ट्रंप के शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव होने के बारे में पता चला था। डोनाल्‍ड ट्रंप ने एक वीडियो ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने अपने और अपनी पत्नी के कोरोना पॉजिटिव होने के बारे में सूचित किया था। उन्होंने लिखा था कि उनका और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है। व्हाइट हाउस ने सूचना देते हुए कहा कि ट्रंप थकान महसूस कर रहे थे, लेकिन वो आशावान बने हुए हैं।
व्हाइट हाउस की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति को रेमडेसिवीर दवा दी जा रही है। कोरोना संक्रमण का कोई इलाज नहीं है, लेकिन इस वायरस को कमजोर करने में जिन दवाओं की सबसे ज्यादा चर्चा रही है, उनमें से एक रेमडेसिवीर है। अमरीका ने इस साल मई में रेमडेसिविर को गंभीर तौर पर बीमार कोरोना रोगियों के इलाज के लिए इस्तेमाल की मंजूरी दी थी। रेमडेसिविर अमेरिकी फार्मा कंपनी गिलियड की एक एंटीवायरल दवा है। इस दवा की बड़ी खेफ अमेरिका ने भारत से मंगवाई थी।                         


दावाः नोटों से भी फैल सकता है संक्रमण

नई दिल्ली। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (सीएआईटी) ने रविवार को कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने माना है कि है कि करंसी नोट कोरोना के संभावित वाहक हो सकते हैं। संस्था ने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए सरकारी प्रोत्साहन दिए जाने की मांग की है। इससे पहले 9 मार्च को सीएआईटी ने केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर पूछा था कि क्या करंसी नोट बैक्टीरिया और वायरस के वाहक हैं या नही। कन्फेडरेशन ने एक बयान में कहा है कि मंत्रालय से यह पत्र आरबीआई को भेज दिया गया था। उसने सीएआईटी को संकेत देते हुए जवाब दिया था कि नोट बैक्टीरिया और वायरस के वाहक हो सकते हैं, जिसमें कोरोना वायरस भी शामिल है। लिहाजा, इससे बचने के लिए डिजिटल भुगतान का अधिक से अधिक उपयोग किया जाना चाहिए। पत्र में आरबीआई ने आगे कहा, “कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए जनता विभिन्न ऑनलाइन डिजिटल चैनलों जैसे मोबाइल और इंटरनेट बैंकिंग, क्रेडिट और डेबिट कार्ड आदि के माध्यम से घर बैठे भुगतान कर सकती है। इससे वह नकदी का उपयोग करने और निकालने से बचेगी।”           


कश्मीर में हथियारों का जखीरा बरामद किया

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पूंछ जिले में सेना और पुलिस की संयुक्त टीम ने हथियारों का जखीरा बरामद किया। पुलिस और सेना की संयुक्त टीम ने जिले के सूरन को में जांच अभियान चलाया, जिसमें हथियारों का जखीरा उनके हाथ लगा। बरामद किए गए हथियारों में बड़ी मात्रा में गोला-बारूद समेत एके 47 राइफल, तीन मैक्जीन और एक पिस्टल शामिल हैं। सुरक्षा बलों को आतंकी ठिकाने के बारे में एक विशेष सूचना मिली, जिसके आधार पर इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया।


युवक की हत्या के 3 आरोपी किए गिरफ्तार





नरेश राघानी


रेवाड़ी। बहुचर्चित भीम हत्याकांड मामले में पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इसमें दो नाबालिग हैं। ये वारदात रेवाड़ी के मुंडनवास गांव में हुई थी। तभी से बदमाशों का सुराग लगाने के लिए पुलिस की कई टीमें जगह-जगह दबिश दे रहीं थी।


दरअसल कसोला थाना क्षेत्र के गांव मुंडनवास निवासी 22 वर्षीय युवक भीम सिंह की तीन दिन पहले गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। भीम सिंह अपने घर से खेतों की तरफ घूमने के लिए चला गया था। जब वो रात 9 बजे वापस आ रहा था, तो श्मशान घाट के निकट बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ गोलियों की बौछार कर दी। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना के बाद पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल व पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। रेवाड़ी के डीएसपी अमित भाटिया ने बताया कि मृतक के परिजनों ने पांच लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया था। तभी से पुलिस इन बदमाशों की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही थी। बीती रात पुलिस ने तीन बमदाशों को गिरफ्तार कर लिया। जिसमें एक की पहचान गांव के ही योगेश उर्फ गोलू के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने वारदात में प्रयोग की गई बाइक और एक पिस्तौल बरामद कर लिया है। उन्होंने बताया कि नाबालिग आरोपियों को अदालत में पेश कर बाल सुधार गृह में भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि आरोपियों के परिवार के सदस्य की 27 साल पहले गांव में हुए मर्डर का बदला लेते हुए इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया।






यूके में 1419 नए कोरोना संक्रमित आए सामने

देहरादून। उत्तराखंड में एक दिन राहत के बाद फिर संक्रमितों की संख्या में वृद्धि हो गई है। दरअसल उत्तराखंड में आज कोरोना वायरस के 1419 नए मामले सामने आए। प्रदेश में अब संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 51481 हो गई है। जबकि 41487 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 9089 के एक्टिव हैं, जबकि 652 की मौत हो चुकी है। स्वस्थ होने वालों की संख्या में हो रही बढ़ोत्तरी से रिकवरी रेट बढ़कर 80.19% प्रतिशत हो गया है।
आज जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार मरीजों की संख्या अल्मोड़ा 0, बागेश्वर  26, चमोली 48, चंपावत 30, देहरादून 472, हरिद्वार 164, नैनीताल  89, पौड़ी 58, पिथौरागढ़ 29,  रुद्रप्रयाग  30, टिहरी  196, ऊधमसिंह नगर में संक्रमित मिले हैं।                 


हाथरसः सफाई कर्मचारियों की 1 दिन हड़ताल

संदीप मिश्र


बरेली। हाथरस की घटना को लेकर सोमवार को सफाई कर्मचारी एक दिवसीय हड़ताल पर रहेंगे। इसके कारण तीन दिनों का कूड़ा मंगलवार को उठेगा। ऐसी परिस्थिति में शहरवासियों को भी सजग रहना होगा। कोई भी ऐसा कार्य न करें जिससे घर के पास, सड़क, नाली में गंदगी अधिक हो। विभाग का मानना है कि अब इन दिनों का कूड़ा करीब एक हजार मीट्रिक टन से अधिक होगा जिसे एक दिन में उठाना संभव नहीं होगा।


शहर के 80 वार्डों में करीब 10 लाख की आबादी रहती है। वहीं, 1.42 लाख भवन आवासीय व कामर्शियल हैं। जहां से प्रतिदिन करीब 450 से 500 मीट्रिक टन कूड़ा प्रति दिन निकलता है। शहर की सफाई व्यवस्था की कमान 2487 सफाई कर्मचारियों के हाथ में है। नगर निगम की 210 कूड़ा गाड़ियां कूड़ा डंपिंग ग्रााउंड तक पहुंचाती हैं जबकि सफाई कर्मचारी कूड़ा उठाने, नाले की सफाई और सड़कों को साफ करते हैं। साथ ही सामुदायिक शौचालयों को भी साफ-सुथरा रखने का दायित्व भी इनके कंधे पर है।             


मायावती ने हाथरस मामले पर उठाएं सवाल

मायावती ने हाथरस मामले पर उठाए सवाल कहा- डीएम के रहते निष्पक्ष जांच कैसे संभव।


लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने हाथरस मामले में मौजूदा जिलाधिकारी के रहते सीबीआई जांच प्रभावित होने की आशंका व्यक्त की है। मायावती ने रविवार को कहा कि हाथरस के जिलाधिकारी प्रवीण कुमार पर पीड़िता के परिजनों काे डराने धमकाने का आरोप है। इसके बावजूद सरकार ने उनके खिलाफे कोई कार्रवाई नहीं की है। ऐसे में लोगों के मन में आशंका है। कि डीएम के रहते सीबीआई जांच निष्पक्ष तरीके से नहीं की जा सकती।
उन्होने ट्वीट किया। हाथरस गैंगरेप काण्ड के पीड़ित परिवार ने जिले के डीएम पर धमकाने आदि के कई गंभीर आरोप लगाए हैं। फिर भी यूपी सरकार की रहस्मय चुप्पी दुःखद व अति-चिन्ताजनक। हालांकि सरकार सीबीआई जांच के लिये राजी हुई है। किन्तु उस डीएम के वहां रहते इस मामले की निष्पक्ष जांच कैसे होे सकती है। लोग आशंकित है।
गौरतलब है। कि हाथरस में हैवानियत की शिकार पीड़िता की मौत के बाद मचे सियासी बवाल के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को मामले में जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी। हालांकि पीड़िता का परिवार सरकार के ऐलान से संतुष्ट नहीं है। उसका कहना है कि मामले की जांच उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश से होता तो अच्छा रहता। पीड़िता का परिवार डीएम प्रवीण कुमार पर धमकी और बदसलूकी के आरोप लगा चुका है। उन्‍होंने डीएम प्रवीण कुमार को पद से हटाने की मांग भी की है।               


सपा का 28वांं स्थापना दिवस मनाया गया

भानु प्रताप उपाध्याय


जलालाबाद (शामली )। समाजवादी पार्टी कार्यलय पर समाजवादी पार्टी के 28 वर्ष पूर्ण होने पर पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ की टीम द्वारा स्थापना दिवस बड़ी धूमधाम से जिलाध्यक्ष अब्दुल गफ्फार मलीक, रविन्द्र प्रधान जोगी (सदस्य पिछड़ा वर्ग उ प्र )ने सभी कार्यकर्त्ताओ के साथ मिठाई खिलाकर मनाया। अब्दुल गफ्फार मलक ने कहा की लोहपुरुष और समाजवाद की स्थापना आज के दिन 04 अक्टूबर 1992 को मा. मुलायम सिंह यादव द्वारा राजनितिक इतिहास मे समाजवादी पार्टी के नाम से मील का पत्थर है।


हाथरस कांड, विरोध में निकाला कैंडल मार्च

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। क्षेत्र के गांव मालैंडी में हाथरस में बेटी के साथ हुए अमानवीय कृत्य के विरोध में कैंडल मार्च निकाला तथा आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। हाथरस में हुई घटना से लोगों का गुस्सा उबाल पर है दिन भर सामाजिक व राजनीतिक संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया। शाम को ग्राम वासियों ने कैंडल मार्च निकालकर विरोध प्रदर्शन किया जिसमें ग्राम वासियों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। कैंडल मार्च मैन रोड से शुरू होकर ग्राम बीच से होता हुआ वाल्मीकि मौहल्ले में समाप्त हुआ।


25,000 का इनामी साथियों सहित गिरफ्तार

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


25000 का इनामी अपने दो साथियों सहित गिरफ्तार।


हापुड़। जनपद के थाना बाबूगढ़, बहादुरगढ़, एसओजी 2 कि संयुक्त पुलिस टीम द्वारा 25000 का इनामी बदमाश सहित उसके दो सहयोगी साथियों को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्त के पास से पुलिस ने तीन तमंचे मैं कारतूस तथा दो मोबाइल फोन बरामद किए। पुलिस जनपद पुलिस द्वारा चलाए जा रहे वंचित इनामी अपराधी पकड़ अभियान मैं आज अललीपुर नहर पटरी के नजदीक पुलिस की मुठभेड़ इन शातिर बदमाशों से हुई जिसमें पुलिस ने तीन शातिर अपराधी को गिरफ्तार  किया। जिसमें 25000 का इनामी फारुख पुत्र झब्बू निवासी सरवरखेड़ा थाना कूण्डा जनपद उधम सिंह नगर उत्तराखंड तथा आजम पुत्र शकील अहमद निवासी काशीपुर थाना कोतवाली नगर जनपद काशीपुर उत्तराखंड नबिया पुत्र सईया निवासी परतापुर थाना बीबीनगर जनपद बुलंदशहर को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में सोमवीर सिंह प्रभारी निरीक्षक थाना बाबूगढ़, उपनिरीक्षक नीरज कुमार,उपनिरीक्षक रवि रतन सिंह, उपनिरीक्षक नीरज कुमार, आशीष कुमार, कॉन्स्टेबल राजकुमार, कांस्टेबल सत्येंद्र सिंह, कांस्टेबल सचिन कुमार, कांस्टेबल नवीन कुमार रहे।             


सरकार की साजिश के खिलाफ एफआईआर

योगी सरकार के खिलाफ खतरनाक साजिश के सुराग( एफ आई आर) दर्ज।


अतुल त्यागी


लखनऊ। हाथरस के बहाने योगी सरकार को बदनाम करने के लिए रची गई थी। बड़ी साजिश सरकार की सतर्कता से नाकाम हुई है। हाथरस के बहाने उत्तर प्रदेश में थी। जातीय और सांप्रदायिक उन्माद पैदा करने की कोशिश की जा रही थी। दंगे भड़काने के लिए गया अफवाहों और फर्जी सूचनाओं का सहारा सोशल मीडिया का दुरूपयोग हुआ। प्रमाण मिलने पर लखनऊ में मुकदमा दर्ज हुआ है। साजिश में पीएफआई, एसडीपाई और सरकार के निशाने पर रहे। माफियाओं की मिलीभगत के ठोस सुराग मिले। प्रदेश में अराजकता पैदा करने के लिए बड़े पैमाने पर फंडिंग साजिश में सीएए के उपद्रव में शामिल रहे।  
संगठनों की भूमिका के भी सबूत मिले। उपद्रवियों के पोस्टर लगाए जाने उपद्रवियों से वसूली कराए जाने और घरों की कुर्की कराने जाने की सीएम योगी की तग़डी कार्रवाइयों से परेशान तत्वों ने रची।  यूपी में बड़ी साजिश।पीड़ित लड़की की जीभ काटे जाने अंग भंग करने और गैंगरेप से जुड़ी तमाम अफवाहें उड़ा कर हुई नफरत की आग भड़काने की कोशिस की गई । अफवाह फैलाने के लिए ढेरों वैरिफाइड सोशल मीडिया एकाउंट का भी किया गया।  इस्तेमाल।जांच एजेसियां वैरिफाइड एकाउंट का ब्यौरा तैयार करने में जुटीं। अफवाहें फैलाने और नफरत पैदा करने के लिए चंडीगढ की घटना की मृतका की तस्वीरें हाथरस की बेटी की बता कर की गई। 
 वायरल-एक बड़े चैनल के स्क्रीन शॉट में छेड़छाड़ करके तैयार किए गए नफरत भरे पोस्टर, मुकदमा दर्जदंगे भड़काने की साजिश के लिए तमाम आपत्तिजनक और फोटोशाप्ड तस्वीरों का भी जमकर हुआ इस्तेमाल।दूसरे प्रांत की शवों की फोटोशाप्ड तस्वीरों को हाथरस की पीड़िता की तस्वीरें बताकर की गई। नफरत पैदा करने की कोशिश।यूपी साइबर सेल ने दर्ज किए करीब एक मामले धरपकड़ के लिए टीमें लगीं हाथरस के पीड़ित परिवार को सरकार के खिलाफ भड़काने की साजिश का भी हुआ पर्दाफाश सबूत के तौर पर मिले।
 कई आडियो टेप-जांच एजेंसियों ने लिया आडियो टेप का संज्ञान, जांच शुरू आडियो टेप में कुछ राजनीतिक दलों के साथ ही कुछ पत्रकारों की भी आवाज-इन आडियो टेप से खुला राज पीड़ित परिवारों को सरकार के खिलाफ भड़काने के लिए दिया गया।पचास लाख से लेकर एक करोड़ तक का लालच-पीड़ित परिवार को भड़काने के लिए हुई बड़ी फंडिंग-आडियो टेप से खुलासा एक महिला पत्रकार ने सीएम से पीड़ित परिवार की बातचीत के तुरंत बाद परिवार को भड़काया कहा अगर सीएम की बात मान ली तो पुलिस उल्टे तुम्हें ही साबित कर देगी अपराधी, इस बातचीत के बाद परिवार आया दहशत मेंआडियो टेप की फोरेंसिक जांच रिपोर्ट आते ही भड़काने वालों का पालीग्राफ और नार्को टेस्ट की तैयारी में जांच एजेंसियां है।               


प्रशिक्षण में विमान हादसा, आधिकारियों की मौत

कोच्चि। केरल के कोच्चि में रविवार को नियमित प्रशिक्षण उड़ान के दौरान भारतीय नौसेना का एक ग्लाइडर विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें नौसेना के दो अधिकारियों की मौत हो गयी। पुलिस सूत्रों ने बताया कि यह दुर्घटना कोच्चि के थोपमपड्डी पुल के नजदीक हुई। इस हादसे में नौसेना के लेफ्टिनेंट राजीव झा (32) और सुनील कुमार (29) नामक एक अन्य अधिकारी की मौत हो गयी।


नौसेना का यह ग्लाइडर विमान प्रशिक्षण के लिए उपयोग में लाया जाता है और इसमें केवल दो लोग ही बैठ सकते हैं। इस विमान ने नौसैनिक अड्डे आईएनएस गरुड़ से उड़ान भरी थी। विमान के मलबे को दुर्घटनास्थल से हटा दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है। नौसेना की दक्षिणी कमान की ओर से दुर्घटना की जांच के लिए एक जांच बोर्ड का गठन किया गया है।             


प्रियंका के साथ व्यवहार, पुलिस ने जताया खेद

विजय भाटी


गौतम बुध नगर (नोएडा)। नोएडा पुलिस ने रविवार को डीएनडी फ्लाईवे पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ की गई बदसलूकी पर खेद जताया है। प्रियंका गांधी हाथरस सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता के परिवार से मिलने हाथरस जा रही थीं जब पुलिस ने उन्हें रोका था। इस दौरान वहां जमकर हंगामा हुआ था। नोएडा पुलिस ने एक ट्वीट में कहा, “नोएडा पुलिस को डीएनडी पर एक अनियंत्रित भीड़ को संभालने के दौरान प्रियंका गांधी के साथ हुई घटना पर गहरा अफसोस है। मुख्यालय ने इसका स्वत: संज्ञान लिया और एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी द्वारा जांच का आदेश दिया। हम नोएडा पुलिस सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। महिलाओं की गरिमा, हमारे लिए सर्वोपरि है।” कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा को शनिवार को दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट (डीएनडी) फ्लाईवे पर उस समय धक्का दिया गया था जब वो अपने एक पार्टी कार्यकर्ता का नोएडा पुलिस से लाठीचार्ज के दौरान बचाव कर रही थीं। प्रियंका गांधी, राहुल गांधी और कई कांग्रेस कार्यकर्ता पीड़ित परिवार से मिलने के लिए हाथरस जाने की कोशिश कर रहे थे। हंगामे के दौरान कैद किए गए वीडियो में प्रियंका एक कांग्रेस कार्यकर्ता को बचाने के लिए बैरिकेड से कूदते हुए दिख रही हैं। हालांकि बाद में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी दोनों हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने गए।             


इंसान की नियत को हम नहीं बदल पाते है

सुल्तानपुर। सुल्तानपुर की सांसद एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की वरिष्ठ नेता मेनका गांधी ने कहा कि महिला सुरक्षा के लिए संसद में सख्त कानून बनाएं गए हैं, इंसान की नीयत हम लोग बदल नहीं पाते और हाथरस में हुई घटना बेहद अफसोस जनक है। सुल्तानपुर भ्रमण के तीसरे और अंतिम दिन गांधी ने लंभुआ बाजार में डाकघर भवन लोकार्पण समारोह के दौरान कहा कि महिलाओं के साथ हो रहीं घटनाओं से देश की हर महिला की आंख में आंसू है। उन्होंने कहा कि संसद में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सख्त कानून बनाएं गए हैं, लेकिन हम इंसान की फितरत नहीं पाते और हाथरस में जो घटना हुई वह बेहद अफसोस जनक है।


             

लोजपा ने अलग चुनाव लड़ने का किया ऐलान

नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से अलग होकर अपने दम पर बिहार विधानसभा चुनाव में उतरने का फैसला लिया है। लोजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में रविवार को यह फैसला लिया गया। हालांकि पार्टी का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से उसकी कोई कटुता नहीं है, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का नेतृत्व उसे मंजूर नहीं है। लोजपा ने यह भी ऐलान कर दिया है कि बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे आने पर जीत हासिल करने वाले लोजपा विधायक भाजपा के ही साथ मिलकर प्रदेश में सरकार बनाएंगे। लोजपा की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि विधानसभा चुनाव में राज्य स्तर पर गठबंधन में शामिल जनता दल-युनाइटेड (जदयू) से वैचारिक मतभेद के कारण पार्टी ने गठबंधन से अलग चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। हालांकि लोजपा ने इस बयान में यह नहीं बताया है कि पार्टी कितनी सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। लेकिन इससे पहले पार्टी की ओर से कई बार कहा गया है कि प्रदेश की 143 विधानसभा सीटों पर तैयारी मुक्कमल है, जहां लोजपा अपने उम्मीदवार उतार सकती है।             


प्रबंधन के बीच दूसरी वार्ता भी हुई विफल

लखनऊ। निजीकरण पर ऊर्जा निगम प्रबंधन और विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष के बीच रविवार को दूसरी वार्ता फिर विफल हो गई। जानकारी के मुताबिक दोनों पक्ष अपनी-अपनी बातों पर अड़े रहे, जिसकी वजह से कोई सहमति नहीं बन सकी। बताया जा रहा है कि दौरान संघर्ष समिति बिजली व्यवस्था में सुधार और राजस्व वसूली में वृद्धि किए जाने के लिए कई रचनात्मक सुझाव दिए लेकिन प्रबंधन निजीकरण की जिद पर अड़ा रहा। वार्ता समाप्त होने के बाद संघर्ष समिति प्रदेशव्यापी कार्यबहिष्कार को सफल करने की तैयारियों में जुट गई। प्रदेश के सभी कर्मचारियों को आंदोलन को सफल करने के लिए संदेश जारी करते हुए एकजुट की बात समिति की ओर से कही गई है। बता दें कि संघर्ष समिति के बैनर तले बिजली विभाग के करीब एक दर्जन से ज्यादा संगठन कार्यबहिष्कार कर रहे हैं।             


घोटालाः हरिद्वार से 1 संचालक किया गिरफ्तार

देहरादून। छात्रवृृत्ति घोटाले की जांच कर रही एसआईटी ने हरिद्वार जिले के दो इंस्टीट्यूटस से संबद्ध एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जिसके नाम से दोनों संस्थानों का बैंक में खाते चल रहे थे। दोनों ही संस्थान अपनी संबद्धता के मामले में फर्जी दावे कर रहा था जबकि उनकी असली यूनिवर्सिटीज ने उनके दावे को नकार दिया है। पूछताछ में आरोपी ने तत्कालीन सहायक समाज कल्याण अधिकारी को इस पूरे घोटाले में 12 प्रतिशत दिए जाने का दावा भी किया है।


कोई भी नहीं बचेगा, मिलेगा न्यायः अवस्थी

बलरामपुर। यूपी में गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा कि बलरामपुर घटना में शामिल कोई भी अपराधी बच नहीं पाएगा और पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा। अवस्थी और अपर पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) प्रशांत कुमार बलरामपुर जिले के गैसडी क्षेत्र में छात्रा के साथ हुए सामूहिक बलात्कार और हत्या के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर रविवार को पीड़ित परिवार से मिलने उनके घर गए। अधिकारियों ने परिजनों से मुलाकात कर उन्हें न्याय का भरोसा दिया। पीड़ित परिजनों से मिलने के बाद अवस्थी ने कहा कि ऐसे अपराधों के प्रति सरकार गंभीर है और उनका अनुश्रण शासन स्तर पर किया जाता है। इसी कारण से हम लोग यहां आए है। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाएगा कि ऐसे दुर्दान्त अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। उन्होंने बताया कि पीड़ित परिवार वालों से मुलाकात की गई है और परिवार ने अपने जो बिंदु बताए है। सरकार उन्हें गंभीरता से लेगी।               


महिला के साथ पुल के नीचे किया गैंगरेप

देहरादून। यहां के सहसपुर क्षेत्र में शनिवार की देर सायं तीन युवकों ने पुल के नीचे से गुजर रही एक महिला के साथ सामुहिक दुष्कर्म कर दिया। बलात्कारियों के चुगंल से छूटने के बाद महिला सहसपुर पुलिस थाने पहुंची और अपने साथ हुई घटना की जानकारी पुलिस को दी। घटना की जानकारी मिलते ही डीआईजी अरुझा मोहन जोशी ​अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे और महिला से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली।                 


प्रॉपर्टी डीलर के ऑफिस में युवती से गैंगरेप

गुरुग्राम। गुरुग्राम के डीएलएफ फेज-3 में एक प्रॉपर्टी डीलर के ऑफिस में 25 साल की एक युवती के साथ जबरन मारपीट की गई और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। यह मामला शनिवार देर रात की है, जहां आरोपी ने युवती के सिर पर वार कर दिया। युवती पश्चिम बंगाल की निवासी है। पुलिस ने रविवार को कहा, “एक सुरक्षाकर्मी ने पुलिस को सूचित किया, जहां घटनास्थल से मात्र 100 मीटर पर पुलिस वाहन गस्त दे रहा था, जिसके बाद पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची। युवती को समय से अस्पताल पहुंचाया गया। युवती की स्थिति अब खतरे के बाहर है। चारों आरोपियों को गुरुग्राम के विभिन्न हिस्सों से गिरफ्तार कर लिया गया है।” गिरफ्तार आरोपियों की पहचान रंजन (23), पवन (24), पंकज (26) और गोविंद (20) के रूप में हुई, सभी चक्करपुर गांव के निवासी हैं। रंजन प्रॉपर्टी डीलर के ऑफिस में ऑफिस ब्यॉय का काम करता है, जबकि अन्य स्विगी, जोमैटो में काम करते हैं।             


गुमराह कर रही है योगी सरकारः कांग्रेस

लखनऊ। हाथरस मामले पर राजनीति गरमाई हुई है। सरकार की ओर से लगातार मामले को निपटाने का प्रयास जारी है। लेकिन राजनीति अभी उबाल पर है। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में रविवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा ‘मोना’ ने प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लिया है। कांग्रेस ने मुख्यमंत्री योगी द्वारा गठित एसआईटी की जांच पर भरोसा न होने और सीबीआई की जांच सिर्फ देश और प्रदेश की जनता को गुमराह करने का आरोप प्रदेश सरकार पर लगाया है। अजय कुमार लल्लू और आराधना मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के हाथरस के पीड़ित परिजनों से मुलाकात के दौरान उनकी जो मांग है कि घटना की न्यायिक जांच कराई जाए। कांग्रेस पूरी घटना की सुप्रीम कोर्ट के सिटिंग जज की निगरानी में सीबीआई जांच कराने की मांग करती है। आराधना मिश्रा ने कहा कि हाथरस की बेटी के साथ हुई दुःखद घटना और बेटी को न्याय दिलाने के लिए मीडिया की सकारात्मक भूमिका रही है। उन्होंने बेटी के साथ अत्याचार होने पर स्थानीय प्रशासन की भूमिका पर सवाल उठाए। जब उस बेटी के परिजन शव मांगने के लिए दिल्ली में सर गंगाराम अस्पताल में प्रशासन से गुहार लगा रहे थे और पुलिस ने शव को रात्रि में 2.30 बजे जला दिया तथा पीड़िता के गांव में अघोषित कर्फ्यू लगा दिया। यहां तक कि मीडिया को भी नहीं जाने दिया गया।               


अक्टूबर में ही पता चलेगा कब मिलेगी वैक्सीन

इस माह के अंत तक तय होगा कि पहले किसे मिलेगी कोरोना वैक्सीनः हर्षवर्धन


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने रविवार को कहा कि मंत्रालय एक प्रारूप तैयार कर रहा है। जिसमें सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश उन लक्षित आबादी समूहों की सूची पेश करेंगे जिन्हें पहले कोरोना वैक्सीन दी जानी चाहिए। इस माह के अंत तक इस सूची के पूरी होने की संभावना है।
 दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने रविवार को कहा कि मंत्रालय एक प्रारूप तैयार कर रहा है। जिसमें सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश उन लक्षित आबादी समूहों की सूची पेश करेंगे, जिन्हें पहले कोरोना वैक्सीन दी जानी चाहिए। इस माह के अंत तक इस सूची के पूरी होने की संभावना है।
डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि सरकार युद्धस्तर पर इस दिशा में काम कर रही है। कि जब कोरोना वैक्सीन तैयार हो। तो लोगों के बीच इसका समान वितरण सुनिश्चित हो पाए। दुनिया के अन्य देशों की तरह केंद्र सरकार भी इसी बात पर ध्यान दे रही है। कि किस तरह हर व्यक्ति को कोरोना वैक्सीन मुहैया कराई जाए। इसके लिए उच्च स्तरीय विशेषज्ञ समूह का गठन किया गया है। जो कोरोना वैक्सीन के सभी पहलुओं पर ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा स्वास्थ्य मंत्रालय राज्यों के साथ मिलकर एक खाका तैयार कर रहा है। कि कोरोना वैक्सीन पहले किनको दी जाए। मंत्रालय फिलहाल एक फॉर्मेट तैयार कर रहा है। जहां राज्य सरकारें उन आबादी समूहों की सूची पेश करेंगी जिन्हें कोरोना वैक्सीन पहले दी जानी है। इसमें अग्रिम मोर्चे पर डटे कोरोना स्वास्थ्यकर्मी तथा कोरोना के टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट की रणनीति को लागू करने में शामिल कर्मचारी शामिल होंगे। उम्मीद है। कि यह सूची अक्टूबर के अंत तक तैयार हो जाएगी। ऐसा अनुमान है। कि जुलाई 2021 तक करीब 20 से 25 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जायेगी। यह भी अनुमान जताया गया है। कि तब तक कोरोना वैक्सीन के 40 से 50 करोड़ डोज खरीदे जायेंगे और उनका वितरण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि सरकार इन योजनाओं को अंतिम रूप देने के समय कोरोना से संबंधित रोगप्रतिरोधक आंकड़ों पर नजर बनाये हुए है।             


प्रतापगढ़ः राजा के ट्वीट ने मचाई खलबली

हाथरस कांड पर राजा भैया के ट्वीट ने मचाई खलबली


प्रतापगढ़। हाथरस कांड को लेकर जहां एक ओर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केंद्र सरकार से हाथरस मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी है। वही दूसरी ओर  निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने ट्वीट कर कुछ और ही इशारा किया है।
उन्होने ट्वीट कर कहा हम सभी सहमत कि मामले में स्थानीय प्रशासन ने असंवेदनशीलता बरती पर आश्चर्य है। कि सीबीआई जांच के निर्णय से कई लोगों के पेट में दर्द शुरू हो गया है। समय के साथ सच्चाई सामने आएगी सत्यमेव जयते।             


सत्ता में आते ही खत्म कर देगें तीनों कृषि कानून

कांग्रेस के सत्ता में आते ही कूड़े की टोकरी में जाएंगे तीनों कृषि कानून। राहुल


नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार एक कठपुतली सरकार है। जिसकी डोर अडानियों और अंबानियों के हाथ में है। कृषि कानूनों के खिलाफ तीन दिवसीय कृषि बचाओ यात्रा के दौरान यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि जिस दिन कांग्रेस केंद्र में आई  इन तीन काले कानूनों‘ को रद किया जाएगा और टोकरी में फेंक दिया जाएगा।
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस सांसद की इस यात्रा में शामिल हुए। यहां मोगा और लुधियाना जिलों से गुजरने वाली ट्रैक्टर रैली शुरू करने से पहले एक आम सभा को संबोधित करते हुए गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले छह साल से लोगों से झूठ बोल रहे हैं। और अपने दो-तीन अरबपति दोस्तों के हित साधने के लिए देश को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने नोटबंदी वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) और कोविड के बीच बड़े उद्योगपतियों को कर्ज व करों से छूट देने के उदाहरण दिये और आरोप लगाया कि गरीबों व किसानों की एक रुपये की मदद नहीं की गई।               


अर्ध शतक लगाने वाले बने पहले बल्लेबाज

आईपीएल 2020ः देवदत्त पडिक्कल ने रचा इतिहास, तीन अर्द्धशतक लगाने वाले दुनिया के बने पहले बल्लेबाज। विराट और रोहित पीछे


आबुधाबी। रॉयल चैलेंजर्स बंगलोर (आरसीबी) के युवा बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल ने धमाकेदार प्रदर्शन का सिलसिला जारी रखते हुए इंडियन प्रीमियर लीग में इतिहास रच दिया। देवदत्त पडिक्कल ने अबू धाबी में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शानदार अर्द्धशतकीय पारी खेली। देवदत्त पडिक्कल ने इसी के साथ आईपीएल में ऐसा करिश्मा कर दिखाया जो उनसे पहले कोई बल्लेबाज नहीं कर पाया था। विराट कोहली और रोहित शर्मा के नाम पर भी यह उपलब्धि दर्ज नहीं है। 20 साल के देवदत्त पडिक्कल ने जयदेव उनादकट की गेंद पर चौका लगाते हुए अर्द्धशतक पूरा किया। वे 34 गेंदों में 5 चौकों और 1 छक्के की मदद से इस मंजिल तक पहुंचे। यह उनका आईपीएल में पहले चार मैचों में तीसरा अर्द्धशतक है। वे यह करिश्मा करने वाले आईपीएल इतिहास के पहले बल्लेबाज बने। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 155 रनों का पीछा कर रहे (आरसीबी) ने एरोन फिंच का विकेट सस्ते में गंवा दिया था। इसके बाद देवदत्त पडिक्कल  का साथ देने कप्तान विराट कोहली क्रीज पर आए और दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी की। देवदत्त पडिक्कल 45 गेंदों में 6 चौकों और 1 छक्के की मदद से 63 रन बनाकर जोफ्रा आर्चर के शिकार बने। उन्होंने इस पारी के दौरान आर्चर जैसे विश्वस्तरीय गेंदबाज का शानदार तरीके से सामना कर अपनी काबिलियत को दर्शाया। पडिक्कल का आईपीएल 2020 में प्रदर्शन। देवदत्त पडिक्कल ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ आईपीएल डेब्यू किया था। उस मैच में उन्होंने 45 गेंदों में 56 रन बनाए थे। वे आईपीएल में डेब्यू मैच में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बने थे। वे इसके बाद किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ असफल रहे और मात्र 1 रन बनाकर आउट हुए थे। देवदत्त ने इसके बाद मुंबई इंडियंस के खिलाप 40 गेंदों में 54 रनों की पारी खेली। उन्होंने इसके बाद राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ फिफ्टी लगाते हुए खास रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। पिछले साल नहीं मिला था। मौका देवदत्त पडिक्कल पिछले सीजन में भी(आरसीबी)टीम में शामिल थे, लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिल पाया। उन्हें इस सत्र में मौका मिला और उन्होंने धमाकेदार प्रदर्शन से टीम में अपनी खास जगह बना ली हैं।             


मेडिकल स्टोर से चोरों ने उड़ाई हजारों की नगदी

मेडिकल स्टोर से चोरों ने उड़ाई हजारों की नगदी।


बरेली। थाना बारादरी क्षेत्र नवादा शेखान निवासी ओम प्रकाश मेडिकल स्टोर चलते हैं। शनिवार को रोज की तरह रात 10 बजे मेडिकल बन्द करके घर चले गए थे। शनिवार की रात चोरों ने किसी समय शटर काट कर हजारों की नगदी पर हाथ साफ कर दिया। रविवार कि सुबह करीब 4 बजे रोड से गुजर रहे मंदिर के पुजारी ने देखा तो मेडिकल मालिक को फोन सूचना दी। मेडिकल मालिक ने आकर देखा तो सन्न रहे गए और बताया की गल्ले से 35 हजार की नकदी और सामान गायब है। चोरी की सूचना 112 पुलिस को दी मौके पर पुलिस ने चोरों की छानबीन शुरू कर दी।               


तैनात पुलिस बल पर भड़के एसएसपीः हाथरस

हाथरसः बुलगड़ी गांव में तैनात पुलिस बल पर भड़के एएसपी, कहा- फोर्स है, तो दिखनी चाहिए।


बुलगड़ी। हाथरस के बुलगड़ी गांव में 19 साल की लड़की के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के बाद देश भर में आक्रोश है। जिसकी वजह से पीड़िता परिवार के घर के बाहर और गांव के चारों ओर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। लेकिन एएसपी प्रकाश कुमार जब गांव पहुंचे तो उन्हें पुलिस बल इधर उधर नजर आया जिसके बाद एसएसपी ने सभी को बुलाकर जमकर फटकार लगाई।
दरअसल सुबह से पीड़ित परिवार के घर एसआईटी टीम पहुंची हुई है। वहीं एसपी विनीत जायसवाल भी मौके पर मौजूद हैं। लेकिन जब एसएसपी प्रकाश कुमार पहुंचे तो गांव के बाहर लगी हुई फोर्स उन्हें नजर नहीं आई जिसके बाद वो गाड़ी से उतरे और वहां मौजूद पुलिस कर्मियों को जमकर फटकार लगाई। साथ ही पास ही खड़े दरोगाओं से कहा। जब फोर्स है तो दिखनी चाहिए।
एएसपी ने कहा छाएं में बैठकर ड्यूटी दे रहे हैं। क्या सभी लोग? फिर एएसपी ने जितने भी पुलिसकर्मी छाएं में खड़े हुये थे। उन्हें बुलाया और कहा आप सभी आइए बात करते हैं। आपसे। पूछा क्या तमाशा है। कौन सी ड्यूटी कर रहे हो बताओ वहीं फटकार लगाने के बाद सभी पुलिस बल से पूछा सबके पास सुरक्षा उपकरण हैं। या नहीं  हालांकि करीब आधे घंटे की फटकार लगाने के बाद सभी को सतर्क रहने के लिए कहा।               


केंद्रीय मंत्री पासवान के दिल की सर्जरी हुई

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के दिल की सर्जरी हुई।


नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के दिल की सर्जरी हुई है। यह जानकारी उनके पुत्र और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने रविवार को एक ट्वीट के जरिए दी। राम विलास पासवान की सर्जरी को लेकर ही शनिवार की शाम लोजपा संसदीय बोर्ड की बैठक टल गई थी। लोजपा संरक्षक राम विलास पासवान के अस्पताल में भर्ती होने और बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में टिकट बंटवारे को लेकर पेंच फंसने से लोजपा पर दोहरा संकट बना हुआ है।
केंद्रीय उपभोक्ता मामले खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान एक महीने से ज्यादा समय से अस्पताल में भर्ती हैं। रविवार की रात उनके दिल की सर्जरी की गई जिसकी जानकारी चिराग पासवान ने दी है। चिराग ने ट्वीट में लिखा।पिछले कई दिनो से पापा का अस्पताल में इलाज चल रहा है। कल शाम अचानक उत्पन हुई परिस्थितियों की वजह से देर रात उनके दिल का ऑपरेशन करना पड़ा। जरूरत पड़ने पर सम्भवत । कुछ हफ्तों बाद एक और ऑपरेशन करना पड़े।
केंद्रीय मंत्री पासवान की बाईपास सर्जरी पहले ही हो चुकी है। सूत्र बताते हैं कि उनको देखने के लिए शनिवार को चेन्नई से भी एक डॉक्टर आए थे।             


पेट्रोल-डीजल के दाम में नहीं आया बदलाव

पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर आई यह खबर।


नई दिल्ली। सरकारी तेल कंपनियों ने लगातार दूसरे दिन भी डीजल और पेट्रोल के दाम में कोई बदलाव नहीं किया है। आज यानी रविवार को भी दिल्ली में पेट्रोल 81.06 और डीजल 70.46 रुपये प्रति लीटर पर टिका रहा। आज कोलकाता में डीजल 73.99 और पेट्रोल 82.59 रुपये, मुंबई में डीजल 76.86 व पेट्रोल 87.74, चेन्नई में डीजल 76.01 व पेट्रोल 84.14 रुपये प्रति लीटर रहा।                


राजनेता का दिल्ली के अस्पताल में ऑपरेशन

इस राजनेता का दिल्ली के अस्पताल में हुआ ऑपरेशन।


नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का दिल्ली के एक अस्पताल में दिल का ऑपरेशन किया गया। उनके बेटे और लोक जनशक्ति पार्टी एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। चिराग ने यह भी कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो उनके पिता को आने वाले हफ्तों में एक और सर्जरी से गुजरना पड़ सकता है।
अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के माध्यम से चिराग पासवान ने कहा, “पिछले कई दिनो से पापा का अस्पताल में इलाज चल रहा है। कल शाम अचानक उत्पन्न हुई परिस्थितियों की वजह से देर रात उनके दिल का ऑपरेशन करना पड़ा। ज़रूरत पड़ने पर सम्भवतः कुछ हफ़्तों बाद एक और ऑपरेशन करना पड़े। संकट की इस घड़ी में मेरे और मेरे परिवार के साथ खड़े होने के लिए आप सभी का धन्यवाद।                


सलमान की शादी को लेकर की भविष्यवाणी

सलमान खान कि शादी को लेकर भविष्यवाणी।


मुंबई। बिग बॉस 14 में इस बार एक ज्योतिषी ने भी भाग लिया और उनकी एंट्री ने इस सीजन के ग्रैंड प्रीमियर को काफी इं​ट्रेस्टिंग बना दिया। शो में ज्योतिष के रूप में पंडित जनार्दन ने गेस्ट के तौर पर वीडियो चैट के जरिए हिस्सा लिया। इस समय शो के दो कंटेस्टेंट एजाज खान और निकी तंबोली सेट पर मौजूद थे। सलमान खान ने पंडित जनार्दन से इन दोनों के भविष्य के बारे में पूछा तो पंडित जी ने जवाब दिया कि निकी देखने में भले ही गाय की तरह सीधी दिखती हैं लेकिन, वह बहुत चतुर हैं और अपने करियर में बहुत आगे जाएंगी। पंडित जी ने निकी के बाद एजाज का भविष्य बताते हुए कहा कि आपको हमेशा अपने दिल की सुननी चाहिए और किसी के कहने या बहकावे में आकर कोई भी कदम नहीं उठाना चाहिए।
दोनों का भविष्यफल जानने के बाद सलमान खान ने मजाकिया अंदाज में पंडित जी से पूछा कि आपने तो छह साल पहले कहा था कि अगले साल मेरी शादी हो जाएगी लेकिन, ऐसा तो कुछ भी नहीं हुआ। इस सवाल पर शो में मौजूद ऑडियंस के ठहाके छूट पड़े। हालाांकि सलमान यहीं नहीं रुके। उन्होंने पंडित जी से कहा कि क्या कोई ऐसा उपाय है जिससे कभी शादी न हो।
इस सवाल पर पंडित जी ने कहा कि आपकी शादी का ग्रह बना था लेकिन वह किसी कारण से टल गया। सलमान ने इस पर पूछा कि क्या अब मेरी शादी के योग बन रहे हैं तो पंडित जनार्दन ने कहा कि आपकी शादी के योग टल गए हैं। आपको बता दें कि बिग बॉस सीजन 14 की शनिवार से औपचारिक शुरुआत हो गई है। इस सीजन में बिग बॉस के 3 एक्स विनर को मॉनिटर के तौर पर बुलाया गया है। मॉनिटर के तौर पर बुलाए गए सिद्धार्थ शुक्ला, हिना खान और गौहर खान का काम सीजन 14 में शामिल कंटेंस्टेंट को मॉनिटर कर ये बताना है कि किसे बिग बॉस के घर में बने रहना चाहिए और किसे बाहर का रास्ता दिखा दिया जाए।             


मुस्लिम महिला से सामूहिक दुष्कर्म, 3 अरेस्ट

पंकज कपूर


देहरादून। जिला मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर दूर सहसपुर इलाके में मुस्लिम महिला से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। घटना का पता चलने के बाद से पुलिस महकमे में हड़कंप है। इस सिलसिले में तीन अज्ञात आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पीड़ित महिला के बताए हुलिये के आधार पर कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। देर रात डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने सहसपुर थाने पहुंचकर पीड़ित महिला से घटनाक्रम की जानकारी ली। फिलहाल आरोपितों की धर पकड़ के लिए पुलिस टीम में सक्रिय हैं। रविवार को थानाध्यक्ष नरेंद्र सिंह ने बताया कि पीड़िता का मेडिकल करायाजा रहा है। साथ ही कोर्ट में बयान दर्ज कराए जाएंगे। वहीं डीआइजी अरुण मोहन जोशी और एसपी देहात परमेंद्र डोभाल थानाध्यक्ष मामले में प्रगति की पल-पल की जानकारी ले रहे हैं।               


सरकार घोषित करें जीरो ईयरः विद्यार्थी

 बच्चों को स्कूल भेजें या नहीं, अधिकतर का कहना है सरकार घोषित करे ज़ीरो इयर


अश्वनी उपाध्याय


गाज़ियाबाद। जिले के अधिकतर अभिभावक इस साल अपने बच्चों को स्कूल भेजने के पक्ष में नहीं है। अभिभावकों का कहना है कि इस सत्र को ज़ीरो सत्र घोषित कर दिया जाना चाहिए और बच्चों को अगली क्लास में प्रमोट कर दिया जाए। वहीं प्रदेश सरकार की ओर से 15 अक्टूबर के बाद स्कूल खोले जाने की बात कही गई है। हालांकि इसके लिए अभिभावकों की सहमति आवश्यक है। जबकि अभिभावकों का कहना है कि रोजाना सामने आ रहे कोरोना के मामले चिंता बढ़ा देने वाले हैं इसलिए उन्हें स्कूल भेजने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता। अभिभावकों का कहना है कि भले ही पेरेंट्स की लिखित अनुमति जरूरी हो लेकिन स्कूलों की तरफ से फीस मांगने का दबाव स्कूल खुलते ही बढ़ जाएगा। जबकि बहुत सारे पेरेंट्स ऐसे हैं। जो अभी पिछला बकाया देने में असमर्थ हैं। क्योंकि कोरोना ने आर्थिक तंगी बढ़ा दी है। पेरेंट्स ने कहा कि स्कूल में बच्चे डिस्टेंसिंग मेंटेन नहीं कर पाएंगे।  ज्यादातर बच्चे अपना लंच दूसरे बच्चों से शेयर कर लेते हैं जो खतरनाक साबित हो सकता है। हालांकि, इस पर सरकार ने साफ तौर पर कहा है कि लंच शेयर करने और कॉपी किताब आदि शेयर करने पर पूरी तरह से रोक होगी जिस पर स्कूल का स्टाफ निगरानी भी रखेगा। बता दें कि सभी पेरेंट्स किसी न किसी आरडब्ल्यूए का हिस्सा है इसलिए आरडब्ल्यूए में भी इस मुद्दे को उठा रहे हैं।
नौवीं से बारहवीं तक के स्कूलों पर विचार। सरकार द्वारा दी गई गाइडलाइन के मुताबिक नौवीं से बारहवीं तक के बच्चों को अल्टरनेट क्लास प्रणाली पर स्कूल भेजने पर विचार हो रहा है। किसी अभिभावक पर कोई दबाव नहीं होगा कि वह बच्चों को स्कूल भेजें। बता दें कि ऑनलाइन क्लास की व्यवस्था पहले की तरह जारी रहेगी।                 


कांग्रेस के दिग्गज नेता का कोरोना से निधन

कांग्रेस के दिग्गज नेता नसीब पठान का कोरोना से निधन


लखनऊ। उत्तर प्रदेश से कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व एमएलसी नसीब पठान का रविवार को मेदांता अस्पताल में कोरोना से निधन हो गया है। पार्टी के नेताओं ने इस दुखद समाचार पर शोक व्यक्त किया है। उत्तर प्रदेश के बिजनौर से ताल्लुक रखने वाले नसीब ने पार्टी के नेता संजय गांधी के साथ अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत की थी और राज्य में दो बार एमएलसी भी चुने जा चुके हैं।                 


ड्रग्स की समस्या है पर सब ड्रग्स नहीं लेते

अभिनेता अक्षय कुमार के बारे में आई ऐसी खबर…हाथ जोड़कर विनती की।


उमय सिंह साहू


नई दिल्ली। सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी सुलझाते हुए बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन भी निकलकर आया था। ड्रग्स के मामले में पिछले कई दिनों से खबरें आ रही हैं। रिया चक्रवर्ती से लेकर दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर जैसे सितारों से एनसीबी ने पूछताछ भी कर ली है। अब एक्टर अक्षय कुमार ने इस ड्रग्स के मामले पर रिएक्ट किया है। अक्षय कुमार ने लिखा- बहुत दिनों से मन में कुछ बात थी, लेकिन समझ नहीं आ रहा था कि क्या कहूं, किससे कहूं। आज सोचा आप लोगों से शेयर कर लूं। अक्षय ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें वह कह रहे हैं कि ऐसा नहीं है कि बॉलीवुड में ड्रग्स की प्रॉब्लम नहीं है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि सभी लोग ड्रग्स लेते हैं। उन्होंने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि हमारा कानून और कोर्ट इस मामले में जांच कर सही फैसला लेंगे। अक्षय ने हाथ जोड़कर विनती की कि इंडस्ट्री को बदनाम दुनिया जैसी नजरों के साथ ना देखा जाए। उनके इस वीडियो के सामने आने के बाद बॉलीवुड के कई सेलेब्स ने उन्हें सपोर्ट किया तो वहीं कई फैन्स ने भी कमेंट्स में अपना सपोर्ट दिखाया।               


स्कूली वाहनों की फिटनेस में ये हैं जरूरी

स्कूल वाहनों की फिटनेस में यह सब जरूरी,भेजेंगे नोटिस।


लखनऊ। 31 दिसंबर तक वाहनों के फिटनेस प्रपत्र मान्य है। बावजूद स्कूल वैन और बस से बच्चों को स्कूल पहुंचाने और लाने का काम किया गया तो फिटनेस कराना जरूरी होगा। इसके लिए परिवहन विभाग के आरआई स्कूल संचालकों के साथ जल्द बैठक करेंगे। जिसमें स्कूली वाहनों के फिटनेस में क्या-क्या बिंदु जरूरी है। उन बिंदुओं को दुरूस्त कराते हुए 15 अक्तूबर तक फिटनेस कराने की नोटिस भेजा जाएगा। आरटीओ में पंजीकृत 1800 वैन और 1200 बसों में स्कूली बच्चों का सफर सुरक्षित रहे। इसी मकसद से परिवहन विभाग के आरआई जय सिंह बताते है कि एक फरवरी के पहले के अनफिट स्कूल वाहनों का फिटनेस कराना जरूरी है। इसके बाद फिटनेस खत्म होने की स्थिति में कागजात 31 दिसंबर तक मान्य होंगे। पर, इसके पहले स्कूल वाहनों का संचालन शुरू होता है तो बच्चों की सुरक्षा के लिहाज से फिटनेस कराना जरूरी होगा। इन बिंदुओं का रखना होगा ख्याल हर बस और वैन में सीसीटीवी कैमरा लगा हो, व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम हो, इमरजेंसी हार्न हो, स्पीड गवर्नर लगा हो, सीट बेल्ट हो, सीएनजी लीकेज प्रमाण पत्र हो, ड्राइवर का नाम, नंबर और डीएल की वैधता होना जरूरी है।               


सेहत के लिए आंवला बहुत गुणकारी

आंवला की व्यापारिक खेती पैदावार तथा भंडारण।


आंवला एक महत्वपूर्ण व्यापारिक तथा बहुवर्षीय फल वृक्ष है। यह औषधीय गुण व पोषक तत्वों से भरपूर प्रकृति की एक अभूतपूर्व देन है। आंवला के फलो में विटामिन सी, कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेश्यिम व शर्करा प्रचुर मात्रा में पायी जाती है।
इसके फलों का खाद्य तथा अन्य व्यापारिक कार्यों में उपयोग किया जाता है। इसका खाद्य पदार्थ जैसे मुरब्बा, स्कवैश, अचार, कैण्डी, जूस, जैम आदी बनाने में किया जाता है।
औषधीय उत्पाद में आयुर्वेदिक दवाईयां जैसे त्रिफला चूर्ण, च्यवनप्राश, अवलेह आदि। सौन्दर्य सामग्री जैसे आंवला केश तेल, चूर्ण, शेम्पू इत्यादि बनाने में किया जाता है।
आंवला के पेड़ों पर दो प्रकार के शाखाएं होती है। सीमित तथा असीमित, सीमित शाखाओं पर ही पुष्पन व फलन होता है। पुराने सीमित प्ररोह प्रतिवर्ष मार्च से अप्रेल में गिर जाते हैं व इसके बाद नये सीमित प्ररोह निकलते हैं जिन पर उसी समय फूल लगते हैं।
आंवला के पेड़ों पर दो प्रकार के शाखाएं होती है। सीमित तथा असीमित, सीमित शाखाओं पर ही पुष्पन व फलन होता है। पुराने सीमित प्ररोह प्रतिवर्ष मार्च से अप्रेल में गिर जाते हैं व इसके बाद नये सीमित प्ररोह निकलते हैं जिन पर उसी समय फूल लगते हैं।
आंवला
उपयुक्त जलवायु:- आंवला एक शुष्क उपोष्ण क्षेत्र अर्थात जहाँ सर्दी तथा गर्मी दोनो पड़ते हों में उगाया जाने वाला पौधा है। विकसित किस्मों की मदद से इसकी खेती उष्ण जलवायु में भी सफलतापूर्वक की जा सकती है।
भारत में इसकी खेती समुद्र तल से 1800 मीटर ऊँचाई वाले क्षेत्रों में सफलतापूर्वक की जा सकती है। पाले का आंवले पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। एक पूर्ण विकसित आंवले का वृक्ष 0 से 46 डिग्री सेंटीग्रेड तक तापमान सह सकता है।
गर्म वातावरण, पुष्प कलिकाओं के निकलने के लिए सहायक, जुलाई से अगस्त माह में अधिक आर्द्रता का वातावरण सुसुप्त छोटे फलों की वृद्धि में सहायक होता है।
भूमि का चयन:- आंवला एक सहिष्णु फल है यह हर प्रकार में सफलतापूर्वक उगाया जा सकता है। उर्वरा बलुई दोमट मिट्टी इसके लिए सर्वोत्तम पायी गई है। बंजर, कम अम्लीय तथा उसर में भी इसकी खेती सम्भव है।
खेत की तैयारी:- आंवला की खेती के लिए भूमि में 7.5 से 9.5 मीटर की दूरी पर 1.25 से 1.50 मीटर आकर के गड्ढे खोद लेना चाहिए। नमी न होने पर बरसात के मौसम में इन गड्ढो में पानी भर देना चाहिए।
प्रत्येक गड्ढे में 55 से 65 किलोग्राम गोबर की खाद 20 से 25 किलोग्राम बालू 7 से 10 किलोग्राम जिप्सम मिलाकर 70 से 125 ग्राम क्लोरोपाईरीफास धूल से भरनी चाहिए। गड्ढे भरने के 15 से 20 दिन बाद पौधे का रोपण करें।
सामान्य भूमि खाद की मात्रा अलग होती है। 40 से 50 किलोग्राम गली सड़ी गोबर की खाद के साथ 100 ग्राम नत्रजन, फास्फोरस, पोटाश का मिश्रण मिलाना चाहिए।
300 से 500 ग्राम नीम की खली साथ में 100 से 150 ग्राम क्लोरोपाईरिफास पाउडर मिलाकर जमीन की सतह से 10 से 15 सेंटीमीटर ऊँचाई तक भरें। इसके 15 से 20 दिन बाद ही पौधे का रोपण करें।
कृपया इस पोस्ट को भी पढ़ें।
आंवला की उन्नत किस्में एवं पौध रोपण।
उन्नत किस्में
पूर्व में आंवला की तीन प्रमुख पारंपरिक किस्में बनारसी, फ्रान्सिस एवं चकैइया हुआ करती थीं। इन किस्मों की अपनी खूबियाँ एवं कमियाँ रही हैं।
पारम्परिक किस्मों की समस्याओं के निदान हेतु कृषि संस्थाओं ने कुछ नयी किस्मों का विकास किया है। जैसे- कृष्णा (एन ए- 5), नरेन्द्र- 9 (एन ए- 9), कंचन (एन ए- 4), नरेन्द्र- 7 (एन ए- 7) और नरेन्द्र- 10 (एन ए- 10) आदि प्रमुख है।
बीज निकालना:- उत्तर भारत में बीज निकालने के लिए देशी किस्मों का चयन किया जाता है। जनवरी -फरवरी माह में फलों को एकत्र करके धूप में सूखा लिया जाता है। पूरी तरह से सूखने के बाद फल अपने आप फट जाते है तथा उनके अन्दर से बीज बाहर आ जाता है।
बीज का जमना:- बोने से 12 घंटे पहले बीज को पानी में भिगो देना चाहिए। जो बीज पानी में पूरी तरह डूब जाए उसी को जमाना चाहिए।
मार्च-अप्रैल के महीने में बीजों को जमीन की सतह से थोड़ी उठी हुई क्यारियों में बोये। पाली हाउस में बीजों को जल्दी भी बो सकते है। बुआई के बाद 35 से 40 दिनों में 10 सेंटीमीटर ऊँचे पौधे तैयार हो जाते हैं।
इस पौध को खोद कर तीन दिनों तक छाया में रखें। इसके बाद पुनः लगाने से अधिकांश पौधे स्थापित हो जाते है। कलिकायन की सफलता एवं क्षमता को देखते हुए आंवला प्रवर्धन हेतु कलिकायन विधि सर्वोत्तम पायी गयी है।
फलन वाले वृक्षों में काट-छांट की आवश्यकता नहीं होती है। फिर भी उचित विकास के लिए कमजोर, सूखी, रोग ग्रस्त, टूटी हुई, आपस में मिली हुई शाखाओं एवं मुलवृत्त से निकली हुई कलिकाओं को समय-समय पर निकालते रहें।
आंवला की खेती
पौध रोपण:- कलम बंधन या कलिकायन विधि के द्वारा तैयार पौधों को जुलाई से अगस्त अथवा फरवरी के महीने में 8-10 मीटर की दूरी पर रोपाई करते हैं।
बागवानी के खाली पड़े क्षेत्र का भी सही उपयोग बेर, अमरूद, नींबू, करौंदा एवं सहजन को पूरक पौधों के रूप में लगाकर कर सकते है।
छंटाई:- आंवला के पौधों को मध्यम ऊँचाई तक विकसित करने हेतु प्रोत्साहित करते रहना चाहिए। नये पौधों को जमीन की सतह से लगभग 75 सेंटीमीटर से एक मीटर तक अकेले बढ़ने दे।
इसके बाद शाखाओं को निकालते रहें ताकि पौधों के ढाँचे का विकास भले प्रकार से हो सके। पौधों को रूपान्तरित प्ररोह प्रणाली के अनुसार साधना चाहिए।
शुरू में अधिक कोण वाली दो से चार शाखाएं विपरीत दिशाओं में निकलने देना चाहिए, अनावश्यक शाखाओं को शुरू में निरन्तर हटाते रहना चाहिए।
फलन वाले वृक्षों में काट-छांट की आवश्यकता नहीं होती है। फिर भी उचित विकास के लिए कमजोर, सूखी, रोग ग्रस्त, टूटी हुई, आपस में मिली हुई शाखाओं एवं मुलवृत्त से निकली हुई कलिकाओं को समय-समय पर निकालते रहें।
खाद एवं उर्वरक:- आंवला के पोषण को ध्यान में रखते हुए खाद की मात्रा मुख्य रूप से मृदा उर्वरकता, पौधों की आयु एवं उत्पादन पर निर्भर करती है।
अनुभव के आधार पर खाद एवं उर्वरक जैसे- नाइट्रोजन, फास्फोरस, पोटाश तथा गोबर की खाद पौधे की आयु के अनुरूप देना चाहिए।
एक वर्ष के पौधे के लिए क्रमसः 100 ग्राम 50 ग्राम 100 ग्राम तथा 5 किग्रा दें। पौधा 2 वर्ष का हो तो प्रत्येक मात्रा को 2 से गुना करें और 3 वर्ष के होने पर क्रमसः 3 से 10 वर्षो तक ये मात्रा देते रहें।
कृपया इस पोस्ट को भी पढ़ें।
सिंचाई प्रबंधन एवं किट रोकथाम।
सिंचाई प्रबंधन:- आंवला के पौधे को सिंचाई की कम आवश्यकता पड़ती है। एक पूर्ण विकसित आंवले के बाग में सिंचाई की कोई आवश्यकता नहीं होती है। वर्षा आधारित जल से ही सिंचाई की आवश्यकता पूरी हो जाती है।
पलावर (मल्चिंग):- आंवला के बाग में जैविक पदार्थों द्वारा अवरोध परत करने से अच्छे परिणाम मिलते हैं। इसके लिए विभिन्न प्रकार के पदार्थ जैसे पुवाल, केले के पत्ते, ईख की पत्ती एवं गोबर की खाद आदि का उपयोग किया जाता है। जैविक पदार्थ मल्चिंग करने से खरपतवार भी नियंत्रित रहते हैं।
अन्तर्वती फसलें:- आँवले में 4 महीनें पत्ते नहीं होते तथा पत्ते होते भी हैं तो छरहरे जिससे पर्याप्त सूर्य की रौशनी आ सके फलस्वरूप सहफसली खेती की अनेक सम्भावनायें हैं।
फलों में अमरूद, करौंदा, सहजन एवं बेर, सब्जियों में लौकी, भिण्डी, फूलगोभी, धनिया, फूलों में ग्लैडियोलस तथा गेंदा एवं अन्य औषधिय और सुगंधित पौधे आंवला के साथ सहफसली खेती के रूप में काफी उपयुक्त पाये गये हैं।
इसके अलावा तुलसी, कालमेघ, सतावर, सर्पगन्धा एवं अश्वगंधा की सह फसली खेती के भी अच्छे नतीजे प्राप्त हुए हैं। रोग रोकथाम:- आवंला की खेती या बागों में उतक क्षय रोग और रस्ट बीमारी की संभावना होती है। इनके नियंत्रण के लिए 0.4 से 0.5 प्रतिशत बोरेक्स का छिडकाव पहला अप्रैल में दूसरा जुलाई में और तीसरा सितम्बर में 15 दिन के अन्तराल पर करना चाहिए।
किट रोकथाम:- आंवला के बाग में छाल खाने वाले, पत्ती खाने वाले, गांठ बनाने वाला, माहू और शूटगाल मेकर कीट प्रमुख है। रोकथान हेतु छाल वाले कीट के लिए मेटासिसटाक्स और 10 भाग मिटटी का तेल मिलकर रुई भीगोकर तना के छिद्रों में डालकर चिकनी मिटटी से बन्द कर दे। पत्ती कीट के लिए 0.5 मिली लीटर फ़स्फ़ोमिडान प्रति लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करे।
परिपक्वता, तुड़ाई, पैकिंग और भण्डारण।
तुड़ाई के समय हीं फल की परिपक्वता, उसकी गुणवत्ता और भण्डारण क्षमता का निर्धारण करती है। फलों को हाथ के द्वारा तोड़ा जाता है तोड़ते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए की चोटिल या खरोंच न लगे। चोटिल फलों में भूरे या काले रंग के धब्बे बन जाते हैं।
परिपक्वता:- आंवला के फलों की परिपक्वता अनेक कारकों पर निर्भर करती है। सामान्यतः बनारसी एवं कृष्णा किस्मों में परिपक्वता फल लगने के 17 से 18 सप्ताह बाद आती है, जबकि कंचन तथा फ्रांसिस में 20 सप्ताह का समय लगता है।
तुड़ाई:- आंवला के फलों की तुड़ाई हाथ से करते हैं फलों को तोड़ते समय जमीन में नहीं गिरने दे। चोटिल फल पैकिंग एवं भण्डारण के समय सड़ कर अन्य फलों को भी नुकसान पहुँचाते हैं।
पैदावार:- आंवले की फलन को कई कारक प्रभावित करते है एक पूर्ण विकसित आंवले का वृक्ष एक से तीन क्विंटल फल देता है, इस प्रकार से 15 से 20 टन प्रति हेक्टेयर है।               


सामुदायिक सर्वे अभियान, घर-घर होगी जांच

कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान में घर-घर जाकर की जाएगी कोविड-19 के लक्षणात्मक मरीजों की पहचान।


रायपुर। छत्तीसगढ़ में 2 अक्टूबर से शुरू कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर कोविड-19 के लक्षणात्मक मरीजों की पहचान करेगी। अभियान के लिए ग्रामीण और शहरी इलाकों में मितानिनों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं, बहुउद्देश्यीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारियों, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग तथा नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के मैदानी अमले की ड्यूटी लगाई गई है। स्वास्थ्य विभाग ने सभी सर्वे दलों को अभियान के दौरान कोरोना संक्रमण से बचने के सभी उपायों और प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश भर में यह सघन अभियान 12 अक्टूबर तक संचालित किया जाएगा। अभियान के दौरान घर-घर जाकर सघन सामुदायिक सर्वे कर कोविड-19 के सभी मरीजों की जल्द से जल्द पहचान कर त्वरित उपचार सुनिश्चित किया जाएगा। साथ ही आइसोलेशन के जरिए संक्रमण की श्रृंखला भी तोड़ी जाएगी। अभियान के लिए गठित सर्वे दल क्षेत्रवार घरों में भ्रमण कर कोरोना संक्रमण के लक्षण वाले लोगों की जानकारी जुटाएगी। जानकारी के आधार पर खंड चिकित्सा अधिकारी द्वारा इनकी जांच की व्यवस्था की जाएगी। बुखार, सर्दी, खांसी, सांस लेने में तकलीफ, बदन दर्द, दस्त तथा उल्टी, सूंघने या स्वाद की क्षमता घटने जैसे लक्षणों वाले व्यक्तियों को संदिग्ध मरीजों की श्रेणी में रखा जाएगा। कोरोना के संदिग्ध मरीजों की संख्या ज्यादा होने पर प्राथमिकता के आधार पर उच्च जोखिम समूहों की पहले जांच की जाएगी। 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों, गर्भवती महिलाओं, पांच वर्ष से कम आयु के बच्चों, मधुमेह, उच्च रक्तचाप, किडनी रोग, कैंसर, टी.बी., सिकलसेल एवं एड्स के पीड़ितों को उच्च जोखिम वर्ग में शामिल किया गया है। उच्च जोखिम समूह के लक्षणात्मक व्यक्तियों की रैपिड एंटीजन जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर ऐसे सभी व्यक्तियों के सैंपल की आरटीपीसीआर जांच करवाई जाएगी।               


गांधी के साथ दुर्व्यवहार, पूरे देश में आक्रोश

प्रियंका गांधी के साथ दुर्व्यवहार से देशभर में आक्रोश, सांसद छाया वर्मा और फूलोदेवी नेताम ने राष्ट्रीय महिला आयोग को लिखा पत्र।


रायपुर। राज्यसभा सदस्य छाया वर्मा और फूलो देवी नेताम ने राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा को पत्र लिखकर हाथरस जाते समय प्रियंका गांधी के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा किए गए दुर्व्यवहार पर मामला दर्ज कर कठोर कार्यवाही की मांग की है। पत्र में कहा कि आपको यह शिकायत भेजते हुए मन बहुत व्यथित है और सिर शर्म से झुका जा रहा है। ऐसा लग रहा है मानों उत्तर प्रदेश में पुलिस महिलाओं के साथ अपमान और दुर्व्यवहार करने पर उतारू है।
3 अक्टूबर को दिल्ली से उत्तर प्रदेश के हाथरस जाते हुए कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद राहुल गांधी तथा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को उत्तर प्रदेश पुलिस ने रास्ते में रोका। वे उत्तर प्रदेश के हाथरस में दलित बच्ची के साथ हुए बलात्कार, हिंसा तथा पुलिस की लीपापोती के बाद पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे थे। इस दौरान जो कुछ घटा उसने मुझे यह शिकायत करने को बाध्य किया है।
भारत के संविधान में महिलाओं के लिए विशेष कानून हैं, उसमें यह प्रावधान किया गया है कि किसी महिला को रोकने और पकड़ने का कार्य केवल महिला पुलिसकर्मी ही कर सकती है, कोई पुरूष पुलिसकर्मी नहीं. लेकिन उत्तर प्रदेश पुलिस ने सभी हदें पार कर दी हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस के एक पुरुष अधिकारी ने न केवल प्रियंका गांधी को रोका बल्कि बेहद अशोभनीय ढंग से उनके कपड़े भी पकड़कर खींचे. यह तस्वीर टीवी चैनलों, अख़बारों और सोशल मीडिया पर भी प्रमुखता से प्रकाशित-प्रसारित हुई है।
उत्तर प्रदेश पुलिस के इस दुर्व्यवहार से पूरे देश में महिलाओं में जबरदस्त आक्रोश है। हर राज्य में, जिले में, कस्बे में, गांव में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान को लेकर देश का हर पिता,  माता,भाई चिंतित है।
आपसे अनुरोध है कि प्रकरण को संज्ञान में लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस के इस अधिकारी और उनके सभी आला अधिकारियों के ख़िलाफ़ महिला आयोग मामला दर्ज कर कठोर कार्रवाई की जाए जिससे भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो सके।               


सोने के दाम में चमक, चांदी का भाव गिरा

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। सोने की कीमतों में उतार-चढ़ाव लगातार जारी है। वैश्विक बाजार में सोना 37 की बढ़त के साथ अब लगभग 51,389 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुँच गया है। वही चांदी का भाव पिछली बार 62,338 पर प्रति किलोग्राम था लेकिन अब चांदी का भाव 61,423 प्रति किलोग्राम तक ही बचा। अमेरिकी डॉलर कमजोर हो जाने की वजह से रुपया लगभग 63 पैसे की तेजी के से अब 73.13 रुपए प्रति डॉलर पर पहुँच गया हैं।                   


धंधा चौपटः संडे व्यापारियों का छलका दर्द

अनलॉक होते ही संडे व्यापारियों का छलका दर्द, कहा- धंधा हो गया चौपट, कर्ज लेकर चला रहे घर।


सुप्रिया पांडेय


रायपुर। राजधानी रायपुर अनलॉक होने पर संडे व्यापरियों को बड़ी राहत मिली है। क्योंकि आज काफी दिनों बाद इन लोगों ने शहर में संडे बाजार लगाया। इस दौरान उनके चेहरे पर थोड़ी मायूसी थी, लेकिन बाजार खुलने से उनका दर्द कम हो गया था। वहीं लॉकडाउन में व्यापार के बारे में पूछा तो उनका दर्द छलक गया। बताया कि बीते 7 महीने से कोई आमदनी नहीं हुई है। हमारे कमाई का जरिया सिर्फ यहीं है। घर चलाने में कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। बता दें कि कोरोना संक्रमण के कारण रविवार को शहर में पूर्ण लॉकडाउन रहता था। इस वजह  से कपड़े नहीं बेच पाते थे।
व्यापारी रूपा ने बताया कि 8 महीने से खाली बैठे हैं, हम कर्जा लेकर घर चला रहे हैं। हमारी कमाई का एकमात्र जरिया यही है हमें कही पर भी दुकान लगाने नहीं दिया जाता है। दुकान के सामने बैठते हैं तो दुकानदार भगा देते हैं हमारे घर पर छोटे बच्चे है, उन्हें बड़ी मुश्किल से हम घर पर छोड़ कर यहां व्यापार करने आते हैं।
व्यापारी बुधिया साहू का कहना है कि हम काफी दिन से परेशान थे। हमारी कमाई सिर्फ संडे को होती है और एक ही दिन की कमाई से ही हम पूरे एक हफ्ते गुजारा करते हैं, लेकिन काफी दिनों से हमें दुकानें लगाने नहीं दी जा रही हैं।हम पुराने कपड़े बेचते है, जिससे गरीब वर्ग के लोग भारी संख्या में खरीदने आते हैं लेकिन हमें दुकान लगाने नहीं दिया जा रहा, जहां हम दुकान लगाते थे, जिससे ग्राहकों में कमी भी देखी जा रही है। वहीं व्यापारी सोयल शेख बताते हैं कि आज संडे के दिन हमे मार्केट खोलने दिया गया, उसके लिए बहुत धन्यवाद। हम काफी समय से बेरोजगार थे और संडे मार्केट बंद रहने से हमारा धंधा चौपट था, अब उम्मीद की एक किरण नजर आई है अब देखना होगा कि आगे क्या होता है।             


बेटी बचाओ मंच, ने की फांसी की मांग

बे​टी बचाओ मंच ने हाथरस सामूहिक दुष्कर्म मामले में दुष्कर्मियों को फांसी देने की मांग की।


मनोज सिंह ठाकुर


रायपुर। टिकरापारा क्षेत्र बेटी बचाओ मंच ने हाथरस सामूहिक दुष्कर्म व हत्या के आरोपियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट के माध्यम से 3 माह के अंदर फांसी की सजा मुकर्रर करने की मांग की है। बेटी बचाओ मंच ने प्रदेश अध्यक्ष ललित मिश्रा के नेतृत्व में राज्यपाल के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया है। ललित मिश्रा ने बताया कि पीड़िता के परिजन रोते बिलखते रहे पर उनकी परवाह न करते हुए पीड़िता को रात 2:30 बजे पुलिस वालों ने अंतिम संस्कार कर दिया। यह कृत्य धार्मिक मान्यता के विरुद्ध तथा गैर कानूनी है। सबूत नष्ट करने तथा आरोपियों को संरक्षण देने के आरोप में ऐसे पुलिस वालों पर भी सख्त कार्यवाही की जाए। ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से ललित मिश्रा, अंजलि यदु ,रूपा यादव, नीतीश शुक्ला ,नीतू साहू, खुशबू साहू सहित पदाधिकारी शामिल थे।                 


आईपीएल सीजन-13, दो-दो घमासान

आईपीएल सीजन-13 : आज होंगे दो घमासान, क्या टूट पाएगा चेन्नई सुपरकिंग्स के हार का सिलसिला।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। क्रिकेट प्रेमियों के लिए सुपर संडे होने जा रहा है क्योंकि आज आईपीएल में एक नहीं बल्कि दो-दो मुकाबले खेले जाएंगे। पहला मैच मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच होगा तो वही किंग दूसरा मैच किंग्स इलेवन पंजाब और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा। दोनों मुकाबले उन टीमों के बीच हैं जिनके लिए जीत जरूरी है। आज का पहला मैच। आईपीएल में आज का पहला मुकाबला मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेला जाएगा मैच शारजांह में खेला जाएगा भारतीय समयानुसार दिन में 3:30 बजे से शुरू होगा। इस मुक़ाबले पर सबकी नजर रहने वाली है क्योंकि शारजांह में अब तक जितने भी मुकाबले हुए हैं उसमें 200 के पार स्कोर को बने हैं और सबसे बड़ी बात यह है कि वहां ताबड़तोड़ बल्लेबाजी होती है 200 के पार के स्कोर के बाद भी कोई टीम जीत हासिल कर पाएगी या नहीं कोई पहले से कहन नहीं सकता है। पॉइंट टेबल में मुंबई इंडियंस की टीम तीसरे नंबर पर है चार मैच में दो मैच में जीत मिली है 2 में हार मिली है हालांकि नेट रन रेट में प्लस 1.094 है। पॉइंट टेबल चौथे नंबर पर सनराइजर्स हैदराबाद की टीम है चार मैच में दो में जीते हैं, दो में हार मिली है, हलांकि नेट रनरेट में मुंबई से पीछे हैं जिसक वजह से प्वाइंट टेबल में चौथे पोजिशन पर हैं।
मतलब साफ है आज के मुकाबले में जो भी टीम जीतेगी वह पॉइंट टेबल में ऊपरी क्रम पर पहुंच जाएगी ऐसे में दोनों ही टीम हर हाल में जीत हासिल करना चाहेंगे अब देखना दिलचस्प होगा कि यह मुकाबला कितना हाईवोल्टेज होता है।
आज का दूसरा मैच। आज का दूसरा मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा मैच दुबई में भारतीय समयानुसार शाम 7:30 बजे से शुरू होगा इस मुकाबले पर भी सबकी नजर रहने वाली है वजह है यह दोनों ऐसी टीम है जिसमें धुरंधर खिलाड़ियों की भरमार है लेकिन दोनों ही टीम पॉइंट टेबल में सबसे आखिरी क्रम पर हैं किंग्स इलेवन पंजाब जहां सातवें नंबर पर है तो चेन्नई सुपर किंग्स तो आठवें नंबर पर है किंग्स इलेवन पंजाब ने अब तक चार मैच में एक मैच में जीत हासिल की है तीन मैच में हार मिली है तो वहीं चेन्नई सुपर किंग की टीम चार मैच में एक मैच में जीत हासिल की है तीन मैच में हार मिली है, हार जीत का फैसला तो दोनों टीम का बराबर है लेकिन नेट रन रेट के आधार पर पंजाब की टीम चेन्नई से प्वाइंट टेबल में आगे है। चेन्नई सुपर किंग्स की टीम पिछले तीन मैच से लगातार हार रही है एम एस धोनी की कप्तानी वाली टीम है चेन्नई सुपर किंग्स की टीम का आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन रहता है,  लेकिन मौजूदा साल ये टीम अपने नाम के मुताबिक खेल नहीं दिखा सकी है।  वहीं दूसरी ओर चेन्नई की ओर से कप्तान लोकेश राहुल ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर रहे हैं मयंक अग्रवाल भी उनका साथ दे रहे हैं वह भी अच्छे फॉर्म में चल रहे हैं लेकिन इस टीम ने एक मैच में जीत हासिल की और तीन मैच में टीम को हार भी मिली तो सवाल खड़े होते हैं यह टीम भी अब अपने लय को हासिल करना चाहेगी।             


खेल से प्यार व नफरत दोनों हैः विराट

जानिए आखिर विराट कोहली ने ऐसा क्यों कहा, ‘मुझे इस खेल से प्यार और नफरत दोनों है।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। आखिरकार विराट कोहली ने अपने आलोचकों कोई करारा जवाब दे ही दिया है बीते शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरु और राजस्थान रॉयल्स के बीच मुकाबला खेला गया इस मैच में रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरु की टीम ने 8 विकेट से शानदार जीत दर्ज की इस मैच में युज़वेंद्र चहल भले ही मैन ऑफ द मैच बने लेकिन विराट कोहली ने 53 गेंद में नाबाद 72 रन की पारी खेली। अपनी इस पारी में 7 चौके और 2 सिक्सर लगाए। विराट कोहली कमाल की बल्लेबाजी कर रहे थे और आईपीएल सीजन 13 में यह उनका पहला अर्धशतक है। वह लगातार फ्लॉप हो रहे थे, जिसके चलते आलोचकों के निशाने पर भी लगातार थे, निश्चित तौर पर इस पारी के बाद उन्हें भी काफी राहत मिली होगी। मैच के बाद विराट कोहली ने कहा यह मजेदार और रोमांचक था मैं जोश से कह रहा था कि मुझे इस खेल से प्यार और नफरत दोनों है। खराब फॉर्म होने पर भी अगर टीम अच्छा खेल रही है तो आपको अपनी लय हासिल करने के लिए और समय मिल जाता है। कोहली आगे कहते हैं ये दो अहम अंक हैं, पिछले मैच के बाद उनकी हौसला अफजाई जरूरी थी, दुबई में गर्मी है, लिहाजा वहां से यहां आकर हवा के कारण बेहतर लगा। उन्होंने आगे कहा हमने शुरुआत अच्छी की है और इस लय को बरकरार रखने की कोशिश करेंगे। युवा पडिक्कल की जमकर तारीफ।
कप्तान विराट कोहली ने युवा पडिक्कल की जमकर तारीफ की है, चार मैच में तीसरा अर्धशतक जमाने वाले देवदत्त पडिक्कल की तारीफ करते हुए विराट कोहली ने कहा वह वाकई में काफी प्रतिभाशाली हैं उसके शॉट क्लीन होते हैं और उसे खेल की बखूबी समझ है। वहीं युवा पडिक्कल ने विराट कोहली को लेकर कहा है कि कोहली के साथ बल्लेबाजी करना सपना पूरा होने जैसा था। उन्होंने कहा वह मेरी हौसला अफजाई करते रहे मैं थक रहा था लेकिन वह बार-बार हौसला दे रहे थे वह भी जीत के लिए खेलते हैं और मुझे भी वही बता रहे थे। विराट कोहली फॉर्म में आने के बाद राहत महसूस कर रहे होंगे, उनकी टीम भी राहत महसूस कर रही होगी क्योंकि उनकी टीम के लिए विराट कोहली का फॉर्म में रहना बहुत जरूरी था विराट कोहली किस तरह से खिलाड़ी हैं यह उनके आंकड़े बताते हैं कोहली ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हैं और किसी भी गेंदबाजी अटैक की धज्जियां उड़ा सकते हैं, विराट कोहली के फॉर्म में आ जाने से, टीम को और मजबूती मिलेगी।             


प्वाइंट टेबल, कौन सी टीम किस स्थान पर

जानिए प्वाइंट टेबल में कौन सी टीम किस पोजिशन पर है, दिल्ली कैपिटल्स फिर बनी नंबर वन।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। आईपीएल सीजन-13 में हर दिन एक से बढ़कर एक रोमांचक और हाईवोल्टेज घमासान देखने को मिल रहा है, आईपीएल के मौजूदा सीजन में सभी टीमों 4-4 मैच खेल लिए हैं और जैसे जैसे मैच होते जा रहे हैं, प्वाइंट टेबल का घमासान भी दिलचस्प होता जा रहा है।
पॉइंट टेबल की बात करें तो दिल्ली कैपिटल्स की युवाओं की टीम इस बार आईपीएल सीजन-13 में कमाल का खेल दिखा रही है चार मैच में तीन जीत एक हार के साथ दिल्ली कैपिटल्स की टीम टॉप पर बनी हुई है।
तो वहीं दूसरे नंबर पर विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु है, इस टीम ने भी चार मैच में तीन जीत दर्ज की है 1 में हार मिली है लेकिन नेट रन रेट में यह दिल्ली से कम है जिसके चलते दूसरे पोजिशन पर है।
मुंबई इंडियंस की बात करें तो चार मैच में इस टीम ने दो मैच जीते हैं दो हारे हैं, इसके साथ ही  मुंबई इंडियंस की टीम पॉइंट टेबल में तीसरे पोजीशन पर है।
वहीं सनराइजर्स हैदराबाद की टीम पॉइंट टेबल में चौथे नंबर पर है इस टीम ने भी चार मैच में दो मैच में जीत दर्ज किए हैं लेकिन नेट रन रेट में यह मुंबई से कम है जिसके चलते ये प्वाइंट टेबल में चौथे पोजिशन पर है।
बात कोलकाता नाइट राइडर्स की करें तो इस टीम को अपने पिछले मुकाबले में जो दिल्ली कैपिटल्स के साथ खेला गया गया है, उसमें मिली हार से इसे काफी नुकसान हुआ है. कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम पॉइंट टेबल में पांचवें नंबर पर हैं और इस टीम ने चार मैच में दो मैच में जीत हासिल की है दो मैच में टीम को हार मिली है और इसका नेट रन रेट सनराइजर्स हैदराबाद से कम है जिसकी वजह से इसे पांचवे नंबर पर आना पड़ा है।
बीते शनिवार को राजस्थान रॉयल्स की टीम को भी हार मिली है इसलिए यह पॉइंट टेबल में छठे नंबर पर आ गई है चार मैच में इस टीम ने दो मैच में जीत हासिल की है दो मैच में टीम को हार मिली है राजस्थान रॉयल्स को शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बंगलुरु की टीम ने हराया तो वहीं सातवें पोजीशन पर किंग्स इलेवन पंजाब की टीम है। इस टीम को चार मैच में एक जीत मिली है तीन हार है तो वहीं आठवें नंबर पर सबसे आखरी पोजीशन पर चेन्नई सुपर किंग्स की टीम है। इस टीम को चार मैच में 1 जीत मिली है जबकि तीन हार का सामना करना पड़ा है. और नेट रनरेट में किंग्स इलेवन पंजाब की टीम से कम है जिसके चलते ये टीम प्वाइंट टेबल में आखिरी पोजिशन पर है।
बहरहाल ये प्वाइंट  टेबल का खेल अभी और रोमांचक और दिलचस्प होने वाला है, क्योंकि जैसे जैसे आईपीएल सीजन-13 में मुकाबले होते जाएंगे सभी टीमों के बीच प्वाइंट टेबल में टॉप में जगह बनाने के लिए जबरदस्त संघर्ष देखने को मिलेगा।             


दिल्ली के स्कूल 31 अक्टूबर तक रहेंगे बंद

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण को देखते हुए फिलहाल दिल्ली के सभी स्कूल 31 अक्टूबर तक बंद रहेंगे। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को यह घोषणा की। केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए नए दिशा निर्देशों के मुताबिक राज्य सरकारें 15 अक्टूबर से स्कूलों को खोलने का निर्णय ले सकती हैं। हालांकि इस विषय में अंतिम निर्णय लेने का अधिकार राज्य सरकारों को दिया गया है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को कहा, दिल्ली में सभी स्कूल कोरोना के कारण अभी 31 अक्टूबर तक बंद रहेंगे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि एक अभिभावक होने के नाते वे परिस्थिति की गम्भीरता को समझते हैं। इस समय बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर कोई जोखिम लिया जाना उचित नहीं होगा। शिक्षा विभाग ने मुख्यमंत्री के निर्देश के अनुसार, अपनी एक अहम बैठक में यह निर्णय लिया है कि दिल्ली में सभी पाबंदियां 31 अक्टूबर तक यथावत रहेंगी। इस कारण यहां राजधानी दिल्ली में फिलहाल स्कूल नहीं खुलेंगे। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि प्रत्येक जोन में प्रतिदिन दो साप्ताहिक बाजार लगाने की अनुमति होगी।


इससे पहले दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने 18 सितंबर को एक आदेश जारी किया था। इस आदेश में 5 अक्टूबर तक स्कूल बंद रखने को कहा गया था। दिल्ली सरकार ने स्कूलों के लिए जारी यह आदेश अब 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है। केंद्र ने स्कूल खोलने की छूट दी है, हालांकि इसके साथ ही कोविड से जुड़े सभी नियमों एवं सावधानियों का पालन करना होगा। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर जारी किया है। विभिन्न राज्य सरकारें इसके आधार पर अपने नियम जारी करेंगी, जिनका पालन स्कूलों को करना होगा।                   


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...