शनिवार, 22 अगस्त 2020

14 महीनों में 8 बच्चों को दिया जन्म

पटना। बिहार का रिश्ता घोटालों के साथ पुराना रहा है। यहां फिर एक सरकारी योजना में घोटाले का खुलासा हुआ है। हैरानी की बात तो ये है कि घोटाले के चक्कर में लोग प्रकृति का नियम तक भूल गए। एक 65 वर्षीय महिला ने पिछले 14 महीनों में 8 बच्चों को जन्म दिया है। चिकित्सा विज्ञान में ये अंसभव है, लेकिन नेशनल हेल्थ मिशन ने इसे संभव कर दिया है। वह भी कागजों पर ताकि बच्चियों के पैदा होने पर मिलने वाली प्रोत्साहन राशि हड़पी जा सके।


नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के अनुसार ये मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के मुशहरी प्रखंड का है। नेशनल हेल्थ मिशन यानी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से मिलने वाली प्रोत्साहन राशि को हड़पने के लिए बिचौलियों ने ये घोटाला किया है। नेशनल हेल्थ मिशन के तहत बच्चियों को जन्म देने वाली माताओं को प्रोत्साहन राशि मिलती है।


इस घोटाले में बिचौलियों ने कागज पर बच्चियों का फर्जी जन्म दिखाकर प्रोत्साहन राशि हड़पी है। इसमें कई ऐसी महिलाएं हैं जो प्राकृतिक तौर पर मां नहीं बन सकतीं लेकिन उनके द्वारा बच्चों का जन्म दिखाकर पैसे के गबन का खेल खेला गया है। 65 वर्षीय महिला ने सिर्फ 14 महीने में 8 बच्चियों को जन्म दिया है। मिशन के अधिकारी और बैंक के सीएसपी इस आधारहीन दस्तावेज पर एक बुजुर्ग महिला को प्रोत्साहन राशि भी भेजते रहे। इस मामले में मसुहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी उपेंद्र चौधरी ने पुलिस में FIR दर्ज कराई है। 65 वर्षीय लीला देवी ने 14 महीनों में 8 बच्चियों को जन्म दिया। हर जन्म के लिए लीला देवी के 1400 रुपए उनके बताए गए खाते में भेजे जा चुके हैं। यही नहीं, खाते से पैसे निकाले भी जा चुके हैं। इसी तरह, नेशनल रूरल हेल्थ मिशन में शांति देवी ने 9 महीने में 5 बच्चियों को जन्म दिया है। सोनिया देवी ने पांच महिनों में 4 बच्चियों को जन्म दिया है। जब इस बारे में उक्त महिलाओं से बात की गई तो वो घबरा गई। उन्होंने कहा कि ये सब गलत बात है, हमें बच्चा पैदा किए हुए तो कई साल हो चुके हैं।

डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट के आदेश पर इस मामले की हाई लेवल जांच शुरू हो चुकी है। एडीएम राजेश कुमार के नेतृत्व वाली जांच समिति ने पाया कि पहली नजर में घोटाले के आरोप सही है। विस्तृत जांच चल रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ विभागीय कार्यवाही होगी और सजा भी मिलेगी।               


रोटी के लिए दूसरे प्रदेशों का रुख किया

रोजी-रोटी के लिए फिर अपना घर-बार छोड़ दूसरे प्रदेशों का कर रहे रुख..!


नई दिल्ली। पूर्णबंदी के कारण काम बंद होने और आर्थिक संकट झेलने के बाद बड़ी संख्या में मजदूर वापस अपने घर चले गए थे। संकट में दूसरे राज्यों से वापस आए मजदूरों की हुई खातिरदारी के बाद भी रोजगार के लिए शासन-प्रशासन द्वारा दिए गए अवसर उन्हें लुभा नहीं सके। राज्य सरकारों ने उन्हें रोजगार देने की बड़ी-बड़ी बातें कीं, लेकिन हकीकत अब सामने आ रही है कि प्रवासियों को उनके गांव में ही काम नहीं मिल रहा है। इससे उनके सामने अब फिर रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। इससे परेशान होकर वे फिर अपना घर-बार छोड़ कर दूसरे प्रदेशों की ओर रुख करने लगे हैं। लेकिन अब शहरों में उद्योग-धंधों के बंद होने की वजह से वहां भी उन्हें रोजगार नहीं मिल पा रहा है।इंसान एक जगह से दूसरी जगह अपना घर छोड़ कर क्यों जाता है? महामारी का संकट अभी टला नहीं हैं। इसके बावजूद उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, उत्तराखंड से प्रवासी मजदूर काम करने के लिए दिल्ली, मुंबई, लुधियाना, सूरत की ओर निकल रहे हैं। पूर्णबंदी के दौरान बड़े पैमाने पर ये मजदूर बहुत तकलीफें उठा कर अपने गृहराज्य लौट गए थे। तब सरकार ने अपने ही प्रदेश में काम देने और उचित मजदूरी देने का बात की थी। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। कोई काम नहीं मिला और इसी वजह से अब मजदूरों ने वापस दिल्ली, मुंबई जाना शुरू कर दिया है।                


वेक्सीनः वेनेजुएला का रूस को समर्थन

कोविड वैक्सीनः वेनेजुएला का रूस को सहयोग देने का प्रस्ताव


कराकास। वेनेजुएला ने रूस , चीन तथा क्यूबा को कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने तथा रूस के वैक्सीन के परीक्षण में सहयोग करने का प्रस्ताव दिया है । वेनेजुएला के अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।कोरोना वायरस को लेकर गठित प्रेसिडेंशियल कमीशन के उपाध्यक्ष डेल्सी रोड्रिगुए ने कहा , “ हमने इस बारे में बातचीत की है।और वैक्सीन बनाने के लिए अपना सहयोग देने के बारे में बता दिया है ।             


हरियाणाः हादसे में पूरा परिवार हुआ खत्म

हरियाणा में बड़ा हादसा, पूरा परिवार ही खत्म हो गया


राणा ऑबरॉय


चंडीगढ़। सही ही कहते हैं कि हादसे सबकुछ खत्म कर देते हैं।हरियाणा में एक ऐसा हादसा हुआ जिसमे पूरा का पूरा एक परिवार खत्म हो गया।यहां के जिला सोनीपत में पड़ने वाले नाहरा गाँव में यमुना से अटैच एक नहर(पश्चिमी यमुना लिंक नहर) में यह परिवार डूबकर इस दुनिया से चला बसा।
आखिर कैसे डूबा परिवार।
यह परिवार दिल्ली के महरौली में रहता था और अपनी चार पहिया गाड़ी से अपने पैतृक गांव बिंदरौली आ रहा था।इसी दौरान रास्ते में नाहरा गाँव में गाड़ी अनियंत्रित हो गई और सीधा जाकर यहां स्थित यमुना से अटैच एक गहरी नहर में जा गिरी।जिससे गाड़ी में बैठा पूरा परिवार गहरी नहर में डूबकर मर गया।
ऐसे अनियंत्रित हुई गाड़ी।
बीती रात करीब 9 बजे इनकी गाड़ी बेकाबू हुई और बेकाबू ऐसे हुई कि चलाने वाले की आंखें सामने से आ रहे वाहनों की लाइट लगने से चौंध गईं और उसका गाड़ी पर नियंत्रण नहीं रहा।इसी दौरान गाड़ी एक ट्रक से टकराने जा रही थी जिससे बचने के चलते उसने आननफानन में जब गाड़ी को टकराने से बचाया तो वह पास में बह रही नहर में जा गिरी।
गाड़ी चलाने वाला बच गया।
बताते हैं कि, गाड़ी सुमित नाम का एक युवक चला रहा था जो कि हादसे में बाल बाल बच गया है।सुमित इस मरने वाले परिवार का नजदीकी रिशेतदार है।
जो परिवार मरा उसमे कौन कौन था।पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार परिवार में
साधुराम (56) जो कि दिल्ली में रहकर ट्रांसपोर्ट का काम करते थे।साधुराम की पत्नी सीमा (46) जो कि एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाती थीं और इनके दो बेटे  एक बेटा मोंटी (17वर्ष)12वीं की और दूसरा बेटा ध्रुव (15वर्ष)10वीं में था।                 


मंदिर पर किया कब्जा, अपील बेअसर

फतेहपुर के मोहार गाँव में मंदिर मे कब्जा को लेकर विवाद, प्रशासन से कार्यवाही की अपील


सुनील पुरी


फतेहपुर। जनपद के थानाक्षेत्र कल्याणपुर मौहर ग्राम पंचायत अंतर्गत ग्राम कांकराबाद में श्री बजरंग बली जी सैकड़ों वर्ष पुराना मंदिर है। और इस मंदिर से लोगो की अनंत श्रद्धा जुड़ी है, और यहां पर प्रबुद्ध ग्रामीण जनो का कहना है कि पुराना कुआ भी था जिसे रामप्रकाश बाजपेयी ने अपने स्वार्थ के लिए कब्ज़ा करने की बदनियती से पंद्रह वर्ष पहले सार्वजनिक संपत्ति को नष्ट करके पूर दिया और धार्मिक स्थल में अपना नापाक पेशाब घर आदि का निर्माण करा लिया इस बात की जानकारी प्रशासन को लिखित रूप से श्रवण कुमार जी द्वारा सन 2003 से देना प्रारंभ किया किन्तु प्रशासन की हीला हवाली के कारण इस विषय में कोई उचित कार्यवाही नहीं हुई और राम प्रकाश के हौसले बुलंद होते गए धीरे धीरे रामप्रकाश ने मंदिर को गिराना भी प्रारम्भ किया जिसका विरोध हुआ और सन 2 मई 2018 को ग्रामीण लोगो ने चंदा इकट्ठा किया जिसमें राम प्रकाश ने लोगो से धन लेकर मंदिर बनाने के नाम पर अपना स्वार्थ सिद्ध किया और मंदिर के सामने फर्श का निर्माण करा लिया जिससे लोगो की श्रद्धा पर आघात हुआ और रामप्रकाश अपनी इस नापाक करनी को अंजाम देने और सार्वजनिक धार्मिक स्थल में कब्जा करने के उद्देश्य से मंदिर के सामने ही स्वच्छता अभियान के तहत प्रधानमंत्री शौचालय को बनाने की जबरन कोशिश किया किन्तु इस 112 पुलिस प्रशासन को समय से सूचना मिलने पर यह कार्य स्थगित हुआ और श्रवण कुमार व राम प्रकाश के ऊपर निरोधात्मक कार्यवाही भी हुआ और रामप्रकाश को हिदायत दी गई कि वह इस नापाक इरादे को अंजाम न दे सन 2018 में कमल नयन द्वारा लगातार उपजिलाधिकरी जी को बारम्बार सूचना भी दी जाती रही कि राम प्रकाश कब्ज़ा करने के उद्देश्य से शौचालय का निर्माण कराना चाहता है। किन्तु मौजूदा लेखपाल महोदय जी द्वारा गलत आख्या के आधार पर शौचालय निर्माण का आदेश पारित हुआ जिसमें लोगो की सहमति नहीं थी फिर भी लेखपाल जी ने दर्शाया कि शौचालय निर्माण लोगो को कोई आपत्ति नहीं है,और शौचालय निर्माण के समय है मौक़े पर उपजिलाधिकारी महोदय जी को मौखिक रूप से गुमराह करके शौचालय का निर्माण करा लिया, रामप्रकाश दबंग व जन बल व धनबल से मजबूत होने के कारण कोई प्रत्यक्ष रूप से नहीं बोलता है, किन्तु यदि प्रशासन द्वारा गुप्त रूप से ग्रामीण लोगो से जानकारी प्राप्त करेगी तो निश्चित रूप से दबी हुई। आवाज में रामप्रकाश के कारनामे का बखूबी वर्णन करेंगे, रामप्रकाश कब्ज़ा करने के उद्देश्य से मंदिर में निर्माण कर्ता के रूप में अपने नाम का पत्थर जब बजरंग बली जी के मंदिर में लगाने लगा तो लोगो ने विरोध किया और 16 अगस्त 2020 को 112 पुलिस प्रशासन को सूचित भी किया। जिसमें 112 पुलिस द्वारा पत्थर को हटाने को कहा गया जिसने रामप्रकाश पुलिस को गुमराह करते हुए कहा कि ठीक है मै सायं तक हटा लूंगा और रात्रि में पेंटर को बुलाकर छोटे छोटे अक्षरों में पेंट से ( व समस्त ग्रामवासी ) लिखाकर अपनी झूठी करनी को छुपाने व लोगो की उठती हुई। आवाज को दबाने के प्रयास में यह कार्य किया गया और सैकड़ों वर्ष पुराने इस मंदिर में ग्रामीण लोगो की आस्था जुड़ी हुई है। जिससे गांव के श्रद्धालु भक्त व अन्य लोग मिलकर मंदिर का मरम्मत का कार्य करना चाहते है। किन्तु रामप्रकाश अवरोध उत्पन्न कर रहा है और वाद विवाद लड़ाई झगडे में आमादा है। मंदिर से कब्जा पत्थर आदि को हटाने व मंदिर की मरम्मत के संबंध में सामूहिक रूप से ग्रामीण लोगो द्वारा जिलाधिकारी सहित समस्त अधिकारियों को लिखित रूप से प्रार्थना पत्र दिया दिया भी जा चुका है साथ ही प्रधानमंत्री द्वारा प्रदत्त शौचालय निर्माण के समय राम प्रकाश ने स्वयं सभी ग्रामीण लोगो के सामने व लेखपाल के समक्ष स्वीकार किया था कि मंदिर के सामने से नापाक पेशाब घर हटा लेगा किन्तु राम प्रकाश की करनी और कथनी में इतना अंतर होता है कि प्रशासन भी गुमराह हो जाती है और अनाचारी रामप्रकाश बेफिक्र होकर अवैध कब्ज़ा व अपराध करता रहता है और प्रशासन की हीला हावाली के कारण ही अवैध कब्जा है। जिससे ग्रामीण लोगो के आक्रोश का माहौल बना हुआ है, न्याय गुहार लगा रहा है किन्तु प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा और परिस्थितियां कभी झूठ नहीं बोलती है और सच्चाई कभी छुपाने से नहीं छुपती।           


रसूकदार नदी को कर रहे हैं 'खाली'

शासन-प्रशासन सत्ता के रसूखदार नदी की कोख कर रहे खाली, हो रहा अबैध खनन


सुनील पुरी


फतेहपुर। जनपद के जहानाबाद विधानसभा के
औंग थाना क्षेत्र के शिवराजपुर, मानिकपुर, बड़ाहार ,दुर्गागंज से हाईवे के रास्ते सफेद बालू का खनन रात में धड़ल्ले से हो रहा है। आबादी के बीच से ओवरलोड बालू लदे डंपर निकलने से ग्रामीणों की नींद हराम हो गई है। लिंक मार्गो में भारी भरकम डंपर निकलने से रास्ता भी क्षतिग्रस्त हो गया है। औग-थाना क्षेत्र के शिवराजपुर गांव में देर रात 2 दिन से अवैध सफेद बालू के ओवरलोड डंपर आबादी से निकलने से ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। आबादी होने के कारण कभी कोई घटना घट सकती है। ग्रामीणों ने कल स्थानीय प्रशासन को सूचना दी है। बताते चलें कि यह खनन उन्नाव जनपद के बारा सगवर के लालखेडा गांव में तीन दिन से रात में चल रहा है ।औग थानाध्यक्ष केशव वर्मा ने बताया कल ग्रामीणों की सूचना आई थी।खनन की सूचना उन्नाव जनपद में है ।सफेद बालू से ओवरलोड गाड़ियां हमारे क्षेत्र से निकल रही हैं। कल प्रयास किया गया था लेकिन खनन माफिया डम्फर लेकर भाग गए थे। कल रात में ही जिला खनन अधिकारी को सूचना देने का प्रयास किया गया तो उनका फोन नहीं उठा।              


एमपीः 33 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के 33 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट: नादियों में बाढ़, सड़कें हुई जलमग्न


भोपाल। मध्यप्रदेश में बारिश का दौर जारी है। कई जिलों में जोरदार बारिश हो रही है। वहीं, मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के 33 जिलों में भारी बारिश की संभावना है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित राज्य के कई हिस्सों में गुरुवार से जारी बारिश का दौरा शुक्रवार को भी रहा। शनिवार की सुबह भी जोरदार बारिश से हुई।
जोरदार बारिश के कारण लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल पाए
मौसम विभाग ने 33 जिलों में भारी से अत्यधिक भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। बारिश के चलते कई नदी-नाले भी उफान पर हैं। राजधानी में शुक्रवार की रात से कभी रुककर तो कभी तेज बारिश का दौर जारी रहा। कई स्थानों की सड़कों पर पानी जमा होने से आवागमन बाधित हो रहा है जबकि निचली बस्तियों में भी पानी भरने लगा है।
राज्य में जारी भारी बारिश के कारण प्रदेश की कई नादियां उफान पर आ गई हैं। नर्मदा, बेतवा, जामनी, सिंध, धसान जैसी नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। इसके साथ ही कई जलाशयों के जलस्तर में भी बढ़ोतरी हो रही है। भारी बारिश के कारण लोगों को नदी के पुलों के ऊपर से पानी बह रहा है।
इन जिलों में हो सकती है भारी बारिश
मौसम विभाग के अनुसार, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, जबलपुर, नरसिंहपुर और सिवनी में अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है। वहीं विदिशा, रायसेन, सीहोर, उज्जैन, देवास, कटनी, छिंदवाड़ा, मंडला, बालाघाट, पन्ना, सागर, दमोह में अति भारी बारिश होने के आसार हैं। इसके अलावा सतना, अनूपपुर, उमरिया, डिंडोरी, छतरपुर, टीकमगढ़, भोपाल, राजगढ़, खंडवा, रतलाम, मंदसौर, नीमच, गुना, अशोकनगर और शिवपुरी में भारी बारिश हो सकती है।
इसलिए भारी बारिश
मौसम विभाग के अनुसार वे ऑफ बंगाल में बना सिस्टम छत्तीसगढ़ को पार कर एमपी की ओर बढ़ रहा है। यह भोपाल के ऊपर से आगे बढ़ेगा। इसके कारण अब देर शाम से लेकर अगले चौबीस घंटों में तेज बारिश होगी।                 


छत्तीसगढ़ः 283 संक्रमित, 8 लोगों की मौत

छत्तीसगढ़ में 819 पर रुका शुक्रवार का कोरोना ग्राफ,राजधानी में सार्वाधिक 283 मरीज, 8 की मौत


रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना अपनी पूरी रफ्तार पर है दिन-ब-दिन बढ़ते आंकड़ों में शुक्रवार को 819 नए मरीज पाए गए हैं वही 8 लोगों की मौत हुई है, साथ ही 283 मरीज ठीक होने के बाद डिस्चार्ज भी किए गए हैं , शुक्रवार को देर शाम तक 768 मरीजों की पहचान की गई थी, जो देर रात तक बढ़कर 819 हो गई, राजधानी रायपुर हर बार की तरह इस बार भी कोरोना मरीजों की संख्या में सबसे ऊपर है, हॉट-स्पॉट बनी हुई राजधानी में शुक्रवार को 283 नए मरीजों की पहचान हुई है।
स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक आज कुल 819 मरीज मिले हैं, जिसके बाद प्रदेश में कुल मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 19 हजार 510 पहुंच गया है, वहीं अस्पताल में अभी एक्टिव केस अब बढ़कर 7 हजार 308 हो गये हैं, जबकि 12005 मरीज स्वस्थ्य होकर घर लौट चुके हैं, वहीँ 283 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिली है, साथ ही 8 मौत के आंकड़ों के साथ प्रदेश में मौत का आंकड़ा 180 पहुंच गया है।
छत्तीसगढ़ के जिलों में मिले नए मरीजों की बात करें तो रायपुर में 283 नये केस सामने आये हैं, जबकि दुर्ग में 88 नये मरीज मिले हैं, वहीं राजनांदगांव में 67, सुकमा में 53, कांकेर में 49, जांजगीर चांपा में 44, रायगढ़ में 47, बस्तर में 26, कोरिया में 25, बिलासपुर में 23, धमतरी में 20, गरियाबंद में 14, कोंडागांव में 11, बलौदाबाजार में 9, महासमुंद में 8, कोरबा में 8, बालोद में 7, दंतेवाड़ा में 7, जशपुर में 6, बीजापुर में 6, कबीरधाम में 5, नारायणपुर में 4, बेमेतरा में 3, सरगुजा में 2, सूरजपुर में 2, बलरामपुर में 3 मरीज मिले हैं, जबकि मुंगेली में 1 मरीज मिला हैं।
वहीँ मौत के आंकड़ों की बात करें तो कोरिया के 64 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत रायपुर में हुई हैं, वो 14 अगस्त को रायपुर लाया गया था, कोटा के रहने वाले 77 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई है, वहीं फूल चौका जोरापारा रायपुर के 63 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हुई है, जबकि खमतराई के 55 वर्षीय व्यक्ति और रायपुर के एक अन्य 51 वर्षीय व्यक्ति और बांसटाल के 64 वर्षीय पुरुष ने भी कोरोना की वजह से दम तोड़ा है, वहीं अन्य जिलों में कोरबा के कटघोरा और अंबिकापुर के मालीपुर रोड के एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।               


वर्क फ्रॉम होम, रोजगार का बदला बाजार

वर्क फ्रॉम होम ने बदला रोजगार का बाजार, इन सेक्टर्स में मिलने लगीं नई नौकरियां, बदलते परिवेश में सीखें हुनर


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कोरोना संकट को देखते हुए घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) को ही ज्यादातर कंपनियां अब सामान्य मानने लगी हैं। इसी के अनुसार वह नई नियुक्तियों। कोरोना संकट को देखते हुए घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) को ही ज्यादातर कंपनियां अब सामान्य मानने लगी हैं। इसी के अनुसार वह नई नियुक्तियों के लिए रणनीति में भी बदलाव कर रही हैं। लॉकडाउन में ढील के बाद बैंक, मीडिया, ई-कॉमर्स, आईटी, टेक समेत दूसरी क्षेत्र में काम करने वाल कंपिनयों ने नई नियुक्तियां शुरू की हैं लेकिन उसमें से ज्यादातर वर्क फ्रॉम होम के लिए हैं। मानव संसाधन विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना ने रोजगार बाजार में बड़ा बदलाव ला दिया है। इस बदलाव के मुताबिक, नौकरीपेशा वर्ग को अपने कौशल में बदलाव करना होगा।
एक्सिस बैंक ने 1000 नई नौकरियां निकाली
एक्सिस बैंक ने अगले एक साल में 1000 लोगों को रोजगार देने के लिए ‘गिग-अ-ऑपरच्यूनिटीज’ पहल की शुरुआत की है। इस मॉडल के तहत कोई भी प्रतिभावान उम्मीदवार देश के किसी भी हिस्से से बैंक के साथ काम कर सकता है। बैंक इस वर्क फ्रॉम होम के लिए देश भर के युवाओं, अनुभवी मध्यम स्तर के पेशेवरों और महिलाओं सहित अच्छी प्रतिभाओं की तलाश करेगा। इससे पहले भारतीय स्टेट बैंक भी कहीं से काम करने की शुरुआत कर चुका है। अमेजन, फेसबुक, गूगल समेत कई कंपनियां पहले ही अगले साल तक वर्क फ्रॉम होम बढ़ा चुकी है। मीडिया, ई-कॉमर्स, आईटी और टेक कंपिनयों में भी नई नियुक्तियां ऑफिस के लिए न होकर घर के लिए हो रही हैं।
कंपनियां दे रहीं हैं कई तरह की रियायातें
वर्क फ्रॉम होम कल्चर के फायदे को देखते हुए कंपनियों ने इसे आगे भी जारी रखने का मन बना लिया है। इसके लिए कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को जरूरी फर्नीचर, इंटरनेट और अन्य जरूरी उत्पादों के लिए एक मुश्त रकम मुहैया करा रही हैं। एप भुगतान कंपनी रेजर पे कर्मचारियों को एसी के लिए भी हर माह अलग से भत्ता दे रही है। हाइक इस साल के अंत तक अपने कर्मचारियों को ‘घर से काम करने की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रति कर्मचारी 40 हजार रुपये खर्च करेगी। गूगल और फेसबुक ने इसकी शुरुआत करते हुए कर्मचारियों को 75 हजार रुपये (एक हजार डॉलर) फर्नीचर के लिए दिया था।
बदलते परिवेश में नया हुनर सीखें
मानव संसाधन विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना ने बड़ा बदलाव ला दिया है। आने वाले समय में बड़े व्यापक स्तर पर इसका असर रोजगार बाजार पर देखने को मिलेगा। ऐसे में कर्मचारियों को अपने काम को असरदायक बनाने पर काम करना होगा। इसके साथ ही नया हुनर सीख कर बड़ी जिम्मेदारियां के लिए तैयार करना होगा। वर्क फ्रॉम होम के दौरान मिले समय का नई योग्यता हासिल करने में भी इस्तेमाल करना चाहिए। वहीं, पहली दफा रोजगार बाजार में नौकरी ढूढ़ने वाले को कोरोना से हुए बदलाव को ध्यान में रखकर अपने कौशल को बाजार की मांग के अनुरूप ढालना होगा।
काम के बीच संतुलन बना रहीं कंपनियां
कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम में काम करते हुए चार महीने से ज्यादा समय हो चुका है। इस दौरान कर्मचारियों में तनाव, अनिद्रा, बेचैनी की समस्या बढ़ी है। इसको दूर करने के लिए कंपनियां अब आगे आ रही हैं। कंपनियां अब अपने कर्मचारियों के लिएसभी सुविधाएं जुटाने, लंच का समय तय करने, छुटि्टया देने और बहुत जल्दी मीटिंग नहीं करने जैसे पहल पर विचार कर रही हैं।                 


कोलोनी तोड़ने पर हाईकोर्ट नें लगाई रोक

फरीदाबाद: संत नगर कॉलोनी के तोड़े जाने पर हाई कोर्ट की रोक


राणा ऑबरॉय


चंडीगढ़। पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने संत नगर कॉलोनी, फरीदाबाद, के 2500 से अधिक निवासियों को राहत देते हुए उनके घरों तोड़ने पर रोक लगा दी। गत्त 14 अगस्त, 2020 को, रेलवे प्रशासन ने संत नगर कॉलोनी में घरों और विशिष्ट स्थानों पर अवांछित नोटिस चिपकाए हुए हैं। यह नोटिस नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल, नई दिल्ली द्वारा दिनांक 01.10.2018 को पारित किए गए आदेश के बाद आया, जिसमें भारतीय रेलवे को रेलवे की जमीन से कब्जे को हटाने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) बनाने का निर्देश दिया गया था। नोटिस को चुनौती देते हुए, संत नगर कॉलोनी के 196 निवासियों ने पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय, चंडीगढ़ में अधिवक्ता वैभव जैन और अधिवक्ता अंकित ग्रेवाल के माध्यम से अपील की। मुकदमा संख्या 2020 का सीडब्ल्यूपी 12621, चंदन सिंह एंड अदर्स बनाम भारत संघ, नमक इस मुकदमें में कोर्ट ने याचिकाकर्ताओं के वकील की सुनवाई के बाद यूनियन ऑफ इंडिया, भारतीय रेलवे, हरियाणा राज्य, नगर निगम फरीदाबाद और फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने याचिकाकर्ता की पिटीशन के दौरान याचिकाकर्ता और मकानों को ढहाए जाने पर रोक लगा दी।
अधिवक्ता वैभव जैन और अंकित ग्रेवाल ने बताया कि संत नगर कॉलोनी, 1960 के दशक से एक पहचानी गई बस्ती और अस्तित्व में है। 2016 में, इस क्षेत्र को स्मार्ट स्लम एरिया के रेट्रोफिटमेंट के तहत “स्मार्ट स्लम” के रूप में विकसित करने के लिए चुना गया था और क्षेत्र के विकास के लिए फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा 12 करोड़ आवंटित किए गए थे। जल आपूर्ति, सीवेज, जल निकासी, सड़क सुधार, सामुदायिक शौचालय, भूनिर्माण, और स्मार्ट सौर एलईडी स्ट्रीट लाइट विकास कार्य 2018 में शुरू किया गया था जो वर्तमान में चल रहा है। याचिकाकर्ताओं के वकील वकील वैभव जैन ने कहा, “नोटिस अवैध है और कानून का उल्लंघन है। गुप्त सूचना को इलाके में चिपका दिया गया है, जिस पर कोई तारीख़ तारीख या जारी करने का वाले अधीकारी का नाम नहीं है। इसके अलावा, याचिकाकर्ताओं को व्यक्तिगत सुनवाई की अनुमति नहीं दी गई, जो कि प्राकृतिक न्याय के सिद्धांत का पूरी तरह से उल्लंघन है। माननीय उच्च न्यायालय ने, उठाई गई सामग्री की सराहना करते हुए याचिकाकर्ताओं के घरों के विध्वंस पर रोक लगा दी है ”। इस मामले की अगली सुनवाई 7 सितंबर, 2020 को होगी।               


हरियाणाः नए 1203 कोरोना संक्रमित मिले

चंडीगढ़। हरियाणा में एक दिन में अब तक के सबसे ज्यादा 1203 कोरोना मरीज मिले- देखिये स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 21 अगस्त को जारी बुलेटिन के मुताबिक हरियाणा में कोरोना संक्रमण के 1203 नए मामले सामने आये, कुल मरीजों की संख्या 52129 पर पहुंची। आज ठीक होने वाले 620 मरीजों को मिला कर कुल 43413 मरीज ठीक हो चुके हैं। आज कोरोना संक्रमित 7 मरीजों की मौत हो गई जिससे मरने वालों की संख्या 585 हो गई जबकि 8131 मरीज अभी भी प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में ईलाज के लिए दाखिल हैं।                  


हापुड़ः जनपद में नए 14 संक्रमित मिले

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


जिलें में मिलें 14 कोरोना मरीज


हापुड़। जनपद के राजीव विहार सहित जिलें में 14 कोरोना मरीज मिलें हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शाम को आई रिपोर्ट में हापुड़ के बुलन्दशहर रोड़ स्थित न्यू राजीव विहार में एक, छज्जूपुरा में एक, फ्री ग़ज रोड़ के सराय चांद खां में एक, भगवानपुरी में तीन, आदर्श नगर कालोनी में एक, पिलुखवा में स्वास्थकर्मी व सिखैड़ा में एक कोरोना मरीज आए हैं। शनिवार सुबह हापुड़ के मेरठ रोड़ आवास विकास में एक, शिवलोक कालोनी व ततारपुर में एक -एक, पिलुखवा के गांधीबिहार कालोनी में एक व गढ़ के सैना गांव में एक कोरोना मरीज मिलनें से हड़कंप मच गया।                   


यूपीः भाजपा की नई टीम की घोषणा

उप्र: भाजपा की नई टीम घोषित, कई नए चेहरों को मिली जगह


लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को अपनी बहुप्रतीक्षित नई टीम की घोषणा कर दी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की सहमति के बाद प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव ने पदाधिकारियों का ऐलान किया है। इस बार 16 प्रदेश उपाध्यक्ष, 7 महामंत्री और 16 मंत्री बनाए हैं। इसके अलावा दो कोषाध्यक्ष बनाए गए हैं। इनमें कुछ नए चेहरों को जगह मिली है तो कुछ पुराने चेहरों को पदोन्नति मिली है।                     


उल्लंघन के विरूद्ध पुलिस-प्रशासन सख्त

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


उल्लंघन करने पर पुलिस व प्रशासन ने दुकानों व बाईकों के चालान काटकर नियमों का पालन करनें का निर्देश दिया


हापुड़। लाकडाऊन में पुलिस प्रशासन ने काटे चालान शनिवार के सम्पूर्ण लाकडाऊन के बावजूद उल्लंघन करने पर पुलिस व प्रशासन ने दुकानों व बाईकों के चालान काटकर नियमों का पालन करनें का निर्देश दिया। शनिवार सुबह से ही कुछ दुकानदार लाकडाऊन का उल्लंघन कर दुकानें खोलकर बैठे थे। पुलिस प्रशासन द्वारा शनिवार को अभियान चलाकर जिलें की तीनों तहसील गढ़, हापुड़ व धौलाना में चालान काटें।
ट्रैफिककर्मियों ने भी वाहन चालकों के मास्क ना पहनने और नियमों का पालन ना करनें पर चालान काटते हुए वाहन चालकों को चेतावनी देकर छोड़ दिया।                 


खिलाड़ियों के लिए सरकार की पहल

खिलाड़ियों के लिए हरियाणा सरकार की अनोखी पहल,ओलंपिक में जो खिलाड़ी करेगा क्वालीफाई पायेगा पांच लाख की एडवांस प्रोत्साहन राशि :- मंत्री संदीप सिंह।


चंडीगढ:हरियाणा सरकार ने ओलंपिक व पैरालंपिक्स खेलों में क्वालीफाई होने वाले खिलाडिय़ों को पूर्व तैयारी के लिए पांच लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि एडवांस देने की योजना को मंजूरी दी है। खेल एवं युवा मामले राज्यमंत्री श्री संदीप सिंह की मांग पर मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा योजना को मंजूरी दिए जाने के बाद 2021 में होने वाले ओलंपिक की तैयारी कर रहे खिलाडिय़ों में खासा उत्साह है। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल का आभार व्यक्त करते हुए,खेल एवं युवा मामले राज्यमंत्री श्री संदीप सिंह ने बताया कि इससे पहले ओलंपिक व पैरालंपिक्स खेलने के बाद खिलाडिय़ों को 15 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि सरकार द्वारा दी जाती थी। जबकि ओलंपिक व पैरालंपिक्स की तैयारी कर रहे खिलाडिय़ों को प्रोत्साहन राशि की तैयारी के समय बेहद जरूरत होती है। ऐसे समय में खिलाड़ी को डाइट व अन्य कई तरह के सामान की जरूरत होती है। जिस पर काफी खर्च आता है। उन्होंने कहा कि खिलाडिय़ों की इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खेल विभाग की मांग पर ओलंपिक व पैरालंपिक्स में क्वालीफाई करने वाले खिलाडिय़ों को पांच लाख रुपये एडवांस प्रोत्साहन राशि के रूप में देने की योजना को स्वीकृति दी है। जबकि बकाया राशि उन्हें ओलंपिक खेलने के बाद उपलब्ध करवाई दी जाएगी।
खेल मंत्री ने बताया कि अगले वर्ष होने वाले खेलों से पहले सरकार खिलाडिय़ों के लिए कई अन्य नई योजनाएं लाने जा रही है। जिनसे हजारों खिलाडिय़ों को अपना भविष्य संवारने में मदद मिलेगी।                   


चेयरमैन राम मंगला को पद से हटाया

श्रवण गर्ग बने हरियाणा गौ सेवा आयोग के चेयरमैन, भानी राम मंगला को पद से हटाया


चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से गौ सेवा आयोग के चेयरमैन भानी राम मंगला को पद से हटाकर सफीदों निवासी श्रवण कुमार गर्ग को हरियाणा गौ सेवा आयोग का चेयरमैन नियुक्त किया है।                   


मोदी को 2 लाख ईमेल भेजेंगी 'माकपा'

हवाईअड्डा निजीकरण: मोदी को दो लाख ईमेल भेजेगी माकपा


तिरूवनंतपुरम। केरल मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव कोडियेरी बालाकृष्णन ने कहा है।कि त्रिवेंद्रम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का निजीकरण करने के केंद्र सरकार के फैसले के विरोध में पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दो लाख ईमेल भेजेगी। कोडियेरी ने शनिवार को यहां मीडिया से कहा कि भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई ने वर्ष 2018 में इस हवाई अड्डे के निजीकरण का विरोध किया था लेकिन अब इस मामले में यू टर्न ले लिया है और अडानी समूह का समर्थन कर रही है।             


रिपोर्ट से सरकार पर फिर भड़के राहुल

राफेल सौदे पर कैग की रिपोर्ट से सरकार पर फिर भड़के राहुल


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए शनिवार को कहा कि सच को लाख कोशिश करने के बाद भी छिपाया नहीं जा सकता। राहुल गांधी ने सरकार के राफेल से जुड़ी सूचना कैग को नहीं देने संबंधी एक अखबार में छपी खबर का हवाला देते हुए कहा कि सरकार राफेल घोटाले पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है और तथ्य छिपा रही है।             


हमने मर्जी से शादी की है, सुरक्षा दिलवाए

हमने मर्जी से शादी की है ,दिलवाए सुरक्षा


मुरादाबाद। नागफनी थाना क्षेत्र में रहने वाली एक प्रेमी युगल ने आईजी में एसएसपी को पत्र भेजकर सुरक्षा की गुहार लगाई है मामला नागफनी थाना क्षेत्र के नवाबपुरा कहां है मोहल्ला निवासी एक युवती का फोटो चाहिए बक्शे काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था दोनों की जाती अलग होने के कारण परिजन शादी के लिए तैयार नहीं थे प्रेमी युगल ने परिजनों को समझाने का प्रयास किया तो उल्टा परिजन विरोध में आ गए इसके बाद उन्होंने कोर्ट मैरिज कर ली जानकारी मिलने पर दोनों के परिजन उनकी तलाश में जुट गये इस बीच प्रेमिका ने आला अफसरों को पत्र भेजकर जान माल का खतरा बताया है। उसका कहना है कि दोनों बालिग हैं,और अपनी मर्जी से शादी की है खफा परिजनों से उन्हें खतरा है अतः सुरक्षा दिलाई जाए।             


लखनऊ में पूरा प्रशासन कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ केजीएमयू के वीसी बिपिन पुरी समेत पूरा प्रशासन कोरोना पॉजिटिव


लखनऊ। अमृत विचार,कोरोना वायरस ने लखनऊ के केजीएमयू को भी अपने चपेट में ले लिया है। केजीएमयू का पूरा प्रशासन कोरोना पॉजिटिव पाया गया। वीसी बिपिन पुरी, रजिस्ट्रार, सीएमएस शंखवार, एमएस ओझा और माइक्रोबॉयोलॉजी हेड अमिता जैन समेत पूरा स्टॉफ कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया।               


बारामुला में मुठभेड़, एक आतंकी ढेर

बारामूला में मुठभेड़, एक आतंकवादी ढेर।


बारामूला। उत्तरी कश्मीर के बारामूला में शनिवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि राष्ट्रीय राइफल्स, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह ने आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के आधार पर क्रीरि में चेकी सलूसा गांव में घेराबंदी और तलाश अभियान शुरू किया था।              


कमीशन खोरी के चलते, सड़के खराब

बढ़ते कमीशन खोरी के चलते जिला पंचायत की हो रही समय से पहले सड़के खराब


सेवथा से गीठुरा फरीद पुर होते हुए लोधवर के गोहर अली का पूरा तक का मार्ग पूरी तरह से क्षतिग्रस्त


कौशाम्बी। जिला पंचायत में तीन ठेकेदारों के हाथ पूरी जिला पंचायत की योजना समर्पित कर दी गई है। बीते दो दशक से तीन ठेकेदारों की गुलामी जिला पंचायत के अधिकारी और सहायक अभियंता कर रहे हैं। यह तीनों ठेकेदार इस कदर भ्रष्टाचार में लिप्त है कि जिला पंचायत द्वारा बनाई जाने वाली सड़कें समय के पूर्व खराब हो रही है। जिससे लोगों को आवागमन में दिक्कत होती है लेकिन जिला पंचायत में बढ़ते भ्रष्टाचार और ठेकेदारों के एकाधिकार के मामले में आला अधिकारियों ने भी चुप्पी साध रखी है जिससे जिला पंचायत के कार्यों में पूरी तरह से कब्जा जमाने वाले ठेकेदारों का पूरी तरह से हनक कायम है और ठेकेदार घटिया निर्माण करा रहे हैं।


जिला पंचायत के ठेकेदारों के कारनामे के चलते आम जनता त्रस्त है। इसी तरह का एक मामला नेवादा विकासखंड का सामने आया है। यहां बीते वर्ष सड़क की मरम्मत जिला पंचायत के ठेकेदार द्वारा कराई गई थी लेकिन इस सड़क पर वाहन चलना तो दूर पैदल चलना भी मुश्किल हो चुका है। ग्रामीणों ने बताया कि नेवादा ब्लॉक के सेवथा से गीठुरा फरीद पुर होते हुए लोधवर के गोहर अली का पूरा तक का यह मार्ग पूरी तरह से क्षतिग्रस्त होने के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इस सड़क की मरम्मत एक वर्ष पूर्व जिला पंचायत द्वारा कराई गई थी। रोड की यह हालत  ओवर लोड बालू की गाड़ियों के गुजरने से होती है या फिर घटिया निर्माण के चलते हुई है यह जांच का बिषय है।


अनुराग कुशवाहा


मंझनपुरः कच्चा घर गिरने से दबी बालिका

कच्चा घर गिरने से दबी बालिका


कौशाम्बी। मंझनपुर तहसील क्षेत्र के ग्राम गोबर सहाई मे कच्चा घर गिर जाने से एक बालिका दब गयी जिससे वह गम्भीर घायल हो गयी।


घटनाक्रम के मुताबिक मंझनपुर तहसील क्षेत्र के गोबर सहाई गांव में बारिश के चलते एक गरीब का कच्चा घर गिर गया है जिससे गरीब की बेटी कोमल अग्रहरी उम्र 16 वर्ष पुत्री हरीश चंद्र अग्रहरी मकान की दीवाल के नीचे दब गई है। जिससे उसे गंभीर चोटें आई हैं गंभीर हालत में बालिका को इलाज के लिए परिजनों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।


बलिया में एसडीएम के खिलाफ मुकदमा

बलिया में लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटने वाले एसडीएम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज


लखनऊ। बलिया जिले के बेल्थरा रोड में उपजिलाधिकारी अशोक चौधरी और पुरुषों होमगार्डों द्वारा दो युवकों की लाठी से की गई पिटाई के मामले पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है। गुरुवार को बीते दिवस उप जिला अधिकारी अशोक चौधरी ने होमगार्डों के साथ लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर लाठियों से पीटा था। इस दौरान एक युवा व्यापारी लहूलुहान हो गया पीड़ित युवकों का कहना है कि उन्होंने मास की जगह रुमाल बांध रखा था इसी बात पर एसडीएम और उनके साथ मौजूद होम गार्डों उन पर जमकर लाठियां बरसाईं यही नहीं उपजिलाधिकारी चौधरी ने कचहरी में भी इसकी जानकारी जब मुख्यमंत्री को हुई तो उन्होंने उप जिलाधिकारी को निलंबित कर दिया गया था। शुक्रवार को शासन के निर्देश पर उपजिलाधिकारी अशोक चौधरी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई,अपर पुलिस अधीक्षक संजय यादव के मुताबिकपीड़ित युवकों की तहरीर पर उपजिलाधिकारी और होमगार्डों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। वहीं बलिया जिला अधिकारी श्री हरी प्रताप शाही ने एसडीएम द्वारा की गई पिटाई के कारणों का राज फास्ट किया उन्होंने बताया कि माँ सोशल डिस्टेंसिंग का दोनों युवकों द्वारा मजाक उड़ाया जा रहा था। जिसके बाद एसडीएम ने उन लोगों की पिटाई की।1 विकास दुबे के फाइनेंस के घर में रह रहे तीन पुलिसकर्मी निलंबित
कानपुर, शातिर अपराधी विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद भी इस केस में रोज नए मामले सामने आ रहे हैं। पुलिस को जांच में पता चला है, कि विकास दुबे के फाइनेंसर का काम संभालने वाले जय बाजपेई के एक मकान में तीन पुलिसकर्मी लेते थे।आईजी रेंज के आदेश पर तीनों को निलंबित किया गया है इसके अलावा तीनों की विभागीय जांच भी शुरू कर दी गई है।             


सीटों पर उपचुनाव में प्रत्याशी खड़े करेंगे

उत्तर प्रदेश में विधानसभा की 7सीटों पर होने वाले उपचुनाव में प्रत्याशी खड़े किए जाएंगे
लखनऊ। निजी संवादाता आज साहब सिंह घनगर भैया जी ने कहा 73 वर्ष की आजादी मैं देश में विद्यमान 90%  शोषित आपेक्षित एवं वंचित समाज को उनकी जनसंख्या के अनुपात में शिक्षा नौकरी व्यापार राजनीति आदि सभी क्षेत्रों में हिस्सेदारी नहीं मिली है। जिसकी वजह से देश में अमीरी गरीबी की खाई नियंत्रण बढ़ती ही जा रही है। तथा अशिक्षा कुपोषण भुखमरी बेरोजगारी की समस्याएं बढ़ती जा रही है,इन समस्याओं के निराकरण के लिए 15 राजनीतिक दलों के राष्ट्रीय अध्यक्षों ने काफी विचार-विमर्श करने के बाद भारतीय जनतंत्र गठबंधन राजग इंडियन डोमोक्रेटिक एलाइंस एनडीए का गठन किया है गठबंधन को सुचारू रूप से चलाने के लिए नियमावली तैयार की गई है साथ ही तैयार किया गया है सभी वर्गों को उनकी जनसंख्या के अनुपात में क्षेत्र में एक शिक्षा नीति लागू करना और और हिस्सेदारी दिलाना एक शिक्षा नीति लागू कराना कृषि को उद्योग का दर्जा दिलाना सार्वजनिक क्षेत्र के निजी उद्योगों प्रतिष्ठानों में सभी को संख्या के अनुपात में नौकरी में हिस्सेदारी दिलाना भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाना शराब पर पूर्ण पाबंदी लगाना आदि के निर्णय के अनुसार।घनश्याम कोरी राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वतंत्र जनता राज पार्टी, डॉक्टर इंजीनियर सुशील कुशवाहा राष्ट्रीय अध्यक्ष।प्रगतिशील प्रगतिशील पार्टी हीरालाल सैनी हीरालाल सैनी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखण्ड समाज पार्टी सतेंद्र यादव 
उत्तर प्रदेश में विधानसभा की 5 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में प्रत्याशी खड़े किए जाएंगे जिसमें बांगरमऊ उन्नाव से इंजीनियर रामप्रकाश सिंह पाल टूंडला सुरक्षित फिरोजाबाद से श्री विजय सिंह धनगर स्वार रामपुर से शिव प्रसाद सैनी मल्हनी जौनपुर से श्री संतोष कुमार वर्मा नौगांवा सादात अमरोहा से डॉ विजेंद्र सिंह पाल को गठबंधन का प्रत्याशी घोषित किया गया घाटमपुर सुरक्षित कानपुर नगर से अखंड समाज पार्टी के बुलंदशहर सदस्य के प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी गठबंधन के संयोजक हरसिंगार भैया जी के साथ लेटर पर अंकित सभी घटक दलों के समान राष्ट्रीय शामिल रहे बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर श्री प्रकाश राव अंबेडकर को गठबंधन का संरक्षक बनाया गया है।            


पटना में हीरोइन के साथ तस्कर गिरफ्तार

डीआरआई की कार्रवाई: पटना में 15 करोड़ की हेरोइन के साथ तस्कर गिरफ्तार


पटना। नशीले पदार्थों की तस्करी के खिलाफ डायरेक्टरेट ऑफ रेवन्यू इंटेलिजेंस (डीआरआई) को बड़ी कामयाबी मिली है। शुक्रवार की शाम डीआरआई की टीम ने पटना जंक्शन के पास से एक तस्कर को करीब 3 किलोग्राम हेरोइन के साथ गिरफ्तार कर लिया। पकड़ा गया शख्स मध्यप्रदेश का रहनेवाला है और हेरोइन की डिलिवरी देने पटना पहुंचा था। बरामद हेरोइन की कीमत 15 करोड़ रुपए आंकी गई है।मध्यप्रदेश से मार्बल की गाड़ी से पहुंचा पटना।डीआरआई को सूचना मिली थी कि एक शख्स हेरोइन लेकर पटना आनेवाला है। टीम ने जंक्शन के पास डेरा डाल दिया। शुक्रवार की शाम एक संदिग्ध को रोककर तलाशी ली गई तो उसके पास से 2992 ग्राम हेरोइन बरामद हुई। पांच पैकेट में भरकर हेरोइन को बैग में छुपाया गया था। डीआईआर ने उस शख्स को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान उसने अपना नाम किशन लाल बताया। वह मध्यप्रदेश के मंदसौर स्थित लसुडिया का रहनेवाला है। मार्बल लदी एक गाड़ी से वह पटना तक पहुंचा था।रक्सौल के मास्टर ने बुलाया था।पूछताछ में किशन लाल ने डीआरआई को बताया कि रक्सौल के मास्टर नाम के व्यक्ति ने हेरोइन की खेप मंगाई थी। उसी के कहने पर वह पटना में इसी डिलेवरी देने आया था। हालांकि मास्टर को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। उसके संबंध में डीआरआई छानबीन कर रही है।
अफीम की करता है खेती
गिरफ्तार किशन लाल ने कई चौंकानेवाले खुलासे किए। डीआरआई के मुताबिक मध्यप्रदेश-राजस्थान की सीमा के पास उसकी अपनी जमीन है। उसपर वह अफीम की खेती करता है। खुद ही केमिकल की मदद से वह हेरोइन तैयार करता है।मास्टर से चेन्नई के जेल में हुई थी मुलाकात
रक्सौल के कथित मास्टर जिसके कहने पर वह हेरोइन लेकर पटना पहुंचा था उससे उसकी मुलाकात चेन्नई के जेल में हुई थी। वर्ष 2002 में किशन लाल को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने चेन्नई में मादक पदार्थ की तस्करी करते पकड़ा था। वहां की जेल में वह 10 साल तक कैद रहा। इसी दौरान उसकी जान पहचान रक्सौल के रहनेवाले मास्टर से हुई थी।           


प्रदेश की एक ऐसी अनूठी योजनाः बानो

इन्दिरा रसोई योजना प्रदेश की एक ऐसी अनूठी योजना:- शमीम बानो


ब्यावर शहर में इंदिरा रसोई की शुरुआत


हेमन्त साहू


ब्यावर। राजस्थान सरकार ने 8 रुपए में भोजन की थाली उपलब्ध कराने की अपनी महत्वाकांक्षी इंदिरा रसोई योजना की बीते दिन गुरुवार से शुरुआत की गई। ब्यावर शहर के रेल्वे स्टेशन बाहर स्थित नगर परिषद द्वारा संचालित बिदामी देवी धर्मशाला में इंदिरा रसोई की शुरुआत राजस्व अधिकारी शमीम बानो, नगर परिषद अधीक्षक मोहिन्दर फुलवारी ने नगर परिषद स्टॉफ की मौजुदगी में की। इंदिरा रसोई के शुभारम्भ के बाद राजस्व अधिकारी शमीम बानो ने कहा कि इन्दिरा रसोई योजना प्रदेश की एक ऐसी अनूठी योजना है जिसमें शहरी गरीब परिवारों को पौष्टिक भोजन रियायती दर पर मिलेगा। उन्होने कहा कि योजना का मुख्य ध्येय यह है कि प्रदेश में कोई भी व्यक्ति भूखा न सोए व योजना का लाभ प्रदेश के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे तथा उसे सस्ती दरों पर भोजन उपलब्ध हो सके।               


नया सेंटर बनेगी पुरानी विश्रामस्थली

पर्यटन का नया सेन्टर बनेगी पुरानी विश्रामस्थली


6.36 करोड की लागत से हो रहा है लेक फ्रंट डवलपमेंट और बर्ड पार्क का काम


परिवार के साथ पिकनिकवॉकसाइकलिंग और पक्षी प्रेमियों को मिलेगा नया ठिकाना


अजमेर। आनासागर झील के पश्चिमी किनारे पर स्थित पुरानी विश्राम स्थली जल्द ही शहर में पर्यटन का नया केन्द्र बनेगी। स्मार्ट सिटी योजना के तहत झील के किनारे पर लेक फ्रंट डवलपमेंट और बर्ड पार्क का निर्माण करवाया जा रहा है। परिवार के साथ घूमने के शौकीन लोगों और पक्षी प्रेमियो के लिए यहां मनोरंजन का नया ठिकाना होगा। जिला कलक्टर एवं अजमेर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के सीईओ  प्रकाश राजपुरोहित ने बताया कि समार्ट सिटी योजना के तहत पुष्कर रोड स्थित पुरानी विश्राम स्थली पर 6.36 करोड़ रूपए की लागत से आनासागर लेक फ्रंट डवलपमेंट और बर्ड पार्क का निर्माण करवाया जा रहा है। झील के चारों तरफ चौपाटी निर्माण से शहर में पर्यटन का विकास हुआ है। पुरानी विश्रामस्थली पर हाने वाले कामों से पर्याप्त विकास में और वृद्धि होगी। झील के दूसरे किनारे पर यह कार्य विकास में मील का पत्थर साबित होंगे।


एक्टीविटी पार्कसाइकिल ट्रैक और भी बहुत कुछ


नगर निगम के आयुक्त एवं स्मार्ट सिटी लिमिटेड के एसीईओ डॉ. खुशाल यादव ने बताया कि यहां पर एक्टीविटी पार्क, साइकिल ट्रेक, पाथ वे, बॉटनिकल गार्डन आदि कार्य करवाए जा रहे हैं। लेक फ्रंट डवलमेंट पर 5.46 करोड़ रूपए खर्च होंगे।


पक्षी प्रेमियों के लिए बर्ड पार्क


ऎतिहासिक आनासगर झील पिछले कई सालों से प्रवासी पक्षियों की पसंदीदा जगह बनती जा रही है। डॉ. यादव ने बताया कि झील में कई प्रजातियों के पक्षी आते हैं। हर साल बर्ड वाच और अध्ययन करने वालो की बड़ी संख्या यहां आती है। बर्ड हेबीटेशन जोन को पक्षियों की ज्यादा से ज्यादा आवक देखते हुए तैयार किया जाएगा। यहां भरतपुर के केवलादेव घना पक्षी अभ्यारण्य की तर्ज पर पक्षियों की चित्र और नाम लिखे संकेतक भी लगेंगे ताकि आमजन भी प्रवासी पक्षियों को आसानी से पहचान सकें। इस कार्य पर 90 लाख रूपए खर्च होंगे।


यह है क्षेत्र का इतिहास


पुष्कर रोड स्थित पुरानी विश्राम स्थली पूर्व में जायरीन को ठहराने और अन्य बड़े आयजनों में काम आती थी। झील का जलस्तर बढ़ने और प्रवासी पक्षियों की आवक के बाद अब इसे नए रूप में विकसित किया जा रहा है।


373 व्यक्तियों पर हुई कार्यवाही, वसूला 53 हजार 500 का जुर्मानाः कोरोना महामारी से बचाव के लिए जारी नियमों के उल्लंघन पर जिला प्रशासन ने मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, क्वारेंटाइन उल्लंघन आदि मामलों में प्रशासन द्वारा लगातार जुर्माना किया जा रहा है। जिला प्रशासन और पुलिस ने आमजन से नियमों का पालन करने और महामारी से बचाव के लिए सचेत रहने की अपील की है। जिला मजिस्ट्रेट  प्रकाश राजपुरोहित ने बताया कि कोरोना महामारी के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने पर आज 373 व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए 53 हजार 500 से अधिक की राशि वसूली गई।


जिला मजिस्ट्रेट ने बताया कि सार्वजनिक स्थलों पर मास्क अथवा फेस कवर नहीं पहनने वाले 132 व्यक्तियों के चालान बना कर 25 हजार 800 का जुर्माना वसूला गया। इसमें पुलिस द्वारा 22 हजार 200, मजिस्ट्रेट द्वारा एक हजार 400 एवं कार्यस्थल इंचार्ज द्वारा 2 हजार 200 की वसुली की गई। दुकानदार द्वारा फेस मास्क नहीं पहने व्यक्तियों को सामान बेचने पर 9 दुकानदारों के विरूद्ध कार्यवाही करके 4 हजार 500 के चालान काटे गये। इसी प्रकार 6 फीट की सामाजिक दूरी नहीं बनाने वाले 232 व्यक्तियों पर कार्यवाही कर 23 हजार 200 की राशि वसूली गई।           


खुद व फोन की सेहत खराब कर रहें लोग

सैनिटाइजर के अत्यधिक उपयोग से अपनी और मोबाइल फोन की सेहत खराब कर रहे लोग
नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए लोग हर दिन या कहिए कि दिन में कई-कई बार अपने हाथों के साथ ही अपने मोबाइल फोन को भी सैनिटाइज कर रहे हैं। लेकिन सैनिटाइजेशन का सही तरीका ना पता होने के चलते जहां बड़ी संख्या में फोन खराब होने की शिकायत मिल रही है, वहीं, बहुत अधिक मात्रा में सैनिटाइजर के उपयोग से लोगों में कैमिकल इफेक्ट के चलते मितली आना, मूड खराब होना और चिढ़चिढ़ापन बढऩे जैसी समस्याएं भी देखने को मिल रही हैं…
सैनिटाइजर से क्यों डेड हो रहे मोबाइल?
मार्केट में मोबाइल फोन रिपेयरिंग सेंटर्स पर इस तरह की शिकायतें लेकर हर दिन लोग पहुंच रहे हैं कि उनका फोन स्विच ऑन नहीं हो रहा है। आवाज कम आ रही है, डिस्प्ले खराब हो गया है या टच स्क्रीन काम नहीं कर रही है।
ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि अपने मोबाइल को सैनिटाइज करते समय ज्यादातर लोग स्प्रे बॉटल या स्प्रे जेल का उपयोग करते हैं और फोन को पकड़कर उसके चारों तरफ स्प्रे कर देते हैं।
इस प्रॉसेस के दौरान, फोन के अंदर नमी यानी मॉइश्चर चला जाता है। इससे फोन के अंदर का सिस्टम गड़बड़ाने लगता है। जब यह प्रक्रिया दिन में 3 से 4 या इससे भी अधिक बार दोहराई जाती है तो फोन का मदर बोर्ड नमी के कारण काम करना बंद कर देता है।
फोन को डेड होने से कैसे बचाएं?
सैनिटाइजर से मोबाइल फोन साफ करने से मोबाइल डेड हो रहे हैं, इसके लिए सैनिटाइजर या मोबाइल नहीं बल्कि उन्हें साफ किए जाने का तरीका जिम्मेदार है। आप अपने फोन को क्लीन करने के लिए मार्केट से एल्कोहॉल बेस्ड वाइप्स ले सकते हैं।
ये वाइप्स ना केवल आपके फोन में नमी जाने से रोकेंगे बल्कि सांस के जरिए बॉडी के लिए हार्मफुल कैमिकल्स को भी अंदर जाने से रोकेंगे। साथ ही आपका फोन भी जल्दी ड्राई हो जाएगा। इससे चेहरे पर जलन की समस्या नहीं होगी।
हमारी आदतें और फोन का उपयोग
एक्सपर्ट्स के अनुसार, एक व्यक्ति दिन में कम से कम 2 हजार 6 सौ बार अपना मोबाइल फोन छूता है। इसलिए हेल्थ एक्सपर्ट्स मोबाइल फोन को संक्रमण का बड़ा जरिया मानते हैं।
ना केवल अन्य वायरस, बैक्टीरिया बल्कि कोरोना संक्रमण के लिए भी मोबाइल एक बड़ा वाहक (कैरियर) साबित हो सकता है। इसलिए इसे नियमित रूप से सैनिटाइज करना बेहद जरूरी है।
मितली और इरिटेशन से बचने का तरीकाः मोबाइल को वाइप्स, कॉटन या सूती कपड़े पर एल्कोहॉल बेस्ड सैनिटाइजर लगाकर साफ करने से एक तो आपका मोबाइल खराब नहीं होगा। साथ ही जल्दी सूखेगा।
-कुछ लोगों को सैनिटाइजर बनाने में उपयोग किए जानेवाले केमिकल्स से एलर्जी होती है। इससे उन्हें मन खराब होना, मितली आना (जी मिचलाना) या गुस्सा आने जैसी परेशानियां हो सकती हैं। ऐसा किसी खास स्मेल को लेकर बहुत अधिक संवेदनशील होने के कारण होता है।
गाल और नाक में जलन या खुजली होना
गाल पर इचिंग या जलन होने की समस्या भी कुछ लोगों को हो सकती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आप सीधे मोबाइल पर स्प्रे करने के बाद तुरंत फोन का उपयोग करने लगते हैं। इससे फोन की स्क्रीन पर लगा सैनिटाइजर आपकी स्किन पर लग जाता है और आपको यह दिक्कत हो सकती है।
वहीं जो लोग स्मेल के प्रति बहुत अधिक संवेदनशील होते हैं, बहुत अधिक मात्रा में सैनिटाइजर का उपयोग उनकी नाक में खुजली या असहजता की वजह बन सकता है।
समस्या से बचने के लिए क्या करें?
आपकी सांसों और आपकी त्वचा पर सैनिटाइजर के कैमिकल्स का गलत प्रभाव ना पड़े इससे बचने के लिए आप फोन को वाइप के माध्यम से सैनिटाइज करने के बाद, उसे 5 मिनट के लिए उपयोग ना करें। इस दौरान फोन को सही तरीके से सूखने दें।
हालांकि सैनिटाइजर पूरी तरह सुरक्षित होते हैं और उन्हें इस बात का पूरा ध्यान रखते हुए बनाया जाता है कि त्वचा पर किसी तरह की समस्या ना हो। लेकिन कुछ लोगों की स्किन कुछ खास केमिकल्स या रसायनों को लेकर अतिसंवेदनशील होती है, इस कारण ऐसी समस्या देखने को मिलती है।                                 


कोई और नहीं वह 'आजम खान' था

रामपुर। इडियन यूनियन मुस्लिम लीग के जिला सदर फारूक़ मियां ने अपने बयान में कहा कि रियासतें रामपुर में नवाबो का दौर रहा है और आज भी है। अवाम ने इन घरानों को अपना सर का ताज बनाया मगर इन घरानों ने ऐशो-आराम की चादर से बाहर निकल कर कभी इन मजलूमों का पुरसाने हाल नहीं पूछा। अवाम कोठी ख़ास बाग़ व नूर महल की मोहताज रही है। उसके बाद एक दौर ऐसा भी आया कि इसी अवाम ने एक नौजवान को सियासी रेहनुमाई के लिए अपना रहनुमा बनाकर लाई वो नौजवान और कोई नहीं था वो आज़म खान था। रामपुर की अवाम ने आज़म खान पर बहुत भरोसा किया मगर उस भरोसे को चकना चूर कर दिया गया अवाम ने आज़म खान को ज़मीन से उठाकर आसमां पर बैठा दिया। अवाम ने सोचा था कि यह हमारे आने वाले भविष्य में हमारे बच्चों के लिए कुछ करेगा और हमारे बच्चों का भविष्य सुधर जायेगा ताकि नवाब घरानों से हमें निजात मिल जाएगी। मगर ऐसा नहीं हुआ चालीस सालों में इसने नवाब घराने के साथ मिलकर अवाम को सड़कों पर लाकर खड़ा कर दिया। बेकारी व भुखमरी अवाम का मुकददर बन गयी। आज हालात यह है कि एक वक़त की रोटी के लिए बड़ी जददो जहद करनी पड़ती है। फारूक़ मियां ने कहा कि रियासतें रामपुर सियासी एतबार से यतीम व यसीर हो चुका है। उनहोंने कहा कि इसकी जिम्मेदार खुद अवाम है कयोकि अवाम नवाब घरानों और आज़म खान के अलावा कुछ देखा ही नहीं अगर देखती तो शायद रामपुर का यह हाल नहीं होता अवाम को अब सोचना होगा कयोकि यह खुदगर्ज कभी भी अवाम के साथ नहीं थे। अब अवाम को आने वाले भविष्य की तैय्यारी करनी चाहिए ताकि इस बैकारी व भुखमरी की दल दल से बाहर निकला जा सके। फारूक़ मियां ने अवाम से अपील करते हुए कहा कि अपनी कयादत को मजबूत करे और अपनी पार्टी मुस्लिम लीग को मजबूत करे।                  


पटना में विधवा को अगवा कर किया गैंगरेप

पटना में विधवा को अगवा कर गैंगरेप, वीडियो बना किया वायरल, जबरन शराब पिलाने की भी कोशिश।


पटना। राजधानी पटना के गौरीचक थाना क्षेत्र में एक 45 वर्षीय विधवा को अगवा कर गैंगरेप किया गया। इस दौरान आरोपितों ने दरिंदगी की घिनौनी घटना का वीडियो भी बना लिया। शुक्रवार की देर शाम दरिंदों ने गैंगरेप का वीडियो भी वायरल कर दिया।वीडियो वायरल होने के दो घंटे बाद हरकत में आयी पुलिस मामले की जांच में जुट गई। पीड़िता को चिह्नित कर उसका बयान दर्ज कर आरोपितों की गिरफ्तारी में पुलिस छापेमारी कर रही है। देर रात मामले की जांच के सिलसिले में एसएसपी उपेंद्र शर्मा भी गौरीचक थाने पहुंचे। हालांकि जांच पूरी होने व अधिकारिक तौर पर पुष्टि किये जाने तक हिन्दुस्तान वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।लिफ्ट देकर महिला को बाइक पर बैठाया
बताया गया है कि पीड़िता पटना में दाई का काम करती है। काम करके वह पटना से अपने गांव जा रही थी। गांव पहुंचने से पहले गौरीचक क्षेत्र के रास्ते में उसे बाइक पर सवार दो युवक मिले। युवकों ने पूछा कहां जाना है। महिला ने अपने गांव का पता बताया। इस पर दोनों युवकों ने उसे गांव तक छोड़ देने की बात कही और महिला को बाइक पर बैठा लिया। बाद में दोनों युवक उसे पुनपुन बांध की ओर सुनसान जगह स्थित एक झोपड़ी में ले गये। यहीं पर छह युवक और आ गये। इसके बाद महिला के सभी कपड़े उतारकर आठों आरोपितों ने बारी-बारी से गैंगरेप किया। महिला आरोपितों के सामने गिड़गिड़ाती रही लेकिन दरिंदों को उसपर तरस नहीं आया। वायरल वीडियो में आरोपितों द्वारा महिला को शराब पिलाने की भी कोशिश की गई। यह बात वीडियो में सुनाई भी दे रही है।22 से 24 वर्ष के हैं सभी आरोपित 
वायरल वीडियो व मामले की छानबीन में पुलिस को पता चला है कि सभी आरोपित महज 22 से 24 साल के हैं। सूत्रों की मानें तो पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि दरिंदगी करने वाले सभी आरोपित शराब के नशे में थे। विरोध करने पर वे जान से मारने की धमकी भी दे रहे थे। धमकी के डर से वह बदहवाश हाल में किसी तरह अपने घर चली गई। गौरीचक के प्रभारी आरके मंडल ने बताया कि वायरल वीडियो की जांच की जा रही है। आरोपितों की तलाश में फहीमपुर गांव में छापेमारी की जा रही है। मामले की जांच के बाद जल्द ही आरोपित पकड़े जाएंगे।
विधवा से गैंगरेप का वायरल वीडियो सामने आया है। वायरल वीडियो की जांच कर हकीकत का पता लगाया जा रहा है। एसएसपी समेत क्षेत्र के आला पुलिस अधिकारी मामले की जांच में जुटे हैं। जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।           


बिहारः बाढ़ पीड़ितों को दिए 6-6 हजार

बिहार में अब तक साढ़े नौ लाख बाढ़ पीड़ित परिवारों को मिले छह-छह हजार


पटना। बिहार के नौ लाख 56 हजार 341 बाढ़ प्रभावित परिवारों के खाते में छह-छह हजार की सहायता राशि भेज दी गई है। इस तरह अब-तक 573 करोड़ 80 लाख का भुगतान उन्हें किया जा चुका है। शेष प्रभावित परिवारों के खाते में भी शीघ्र ही राशि भेज दी जाएगी।सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार ने कहा कि बाढ़ और कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को लेकर सरकार सजग है। पूरी तत्परता से सभी आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। वहीं रोजगार सृजन पर भी सरकार का पूरा ध्यान है। लॉकडाउन से लेकर अभी तक 13 करोड़ 72 लाख मानव दिवस का सृजन किया गया है। आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्रडु ने कहा कि राज्य के 16 जिलों के 130 प्रखंडों की 1322 पंचायतें अब तक बाढ़ प्रभावित हुई है। इन क्षेत्रों में लगातार युद्ध स्तर पर राहत एवं बचाव कार्य चलाए जा रहे हैं।              


2005 में कहां थे कहां पहुंच गएः सीएम

सीएम नीतीश बोले-दिखाई नहीं पड़ता है 2005 में कहां थे कहां पहुंच गए
पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज बिजली विभाग की 4800करोड़ से अधिक लागत वाली विभिन्न योजनाओं का उदघाटन और शिलान्यास किया। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में सीएम नीतीश ने कहा कि 2005 में कहां थे कहां पहुंच गए.उन्होंने कहा कि बिजली के क्षेत्र में अब यही सपना है कि हर घर प्रीपेड मीटर लग जाये और हर खेत तक पानी पहुंच जाए।नेक संवाद में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि फ्री में बिजली दे दीजिए,हम तो बिजली पर सब्सिडी काफी दे रहे हैं। अब किसानों को बहुत कम बिजली का बिल देना पड़ता है। अब तो किसानों से 65 पैसे की दर से बिल लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमलोगों की तीन इच्छा है। पहली सबको बिजली का कनेक्शन, जर्जर तार को बदलना ,हर खेत तक बिजली और प्रीपे़ मीटर लगाना।
सीएम नीतीश ने कहा कि सरकार बिजली पर कितना सब्सिडी दे रही थी यह लोगों को पता ही नहीं चलता था।इसलिए हमने बिजली बिल पर ही सब्सिडी लिखवा दिया ।अब लोगों को मालूम चलता है।कि बिजली बिल कितना और उस पर सब्सिडी कितना है।बिल में ही सब्सिडी का जिक्र होता है.नीतीश कुमार ने कहा कि प्रीपेड मीटर होने से बिजली दुरूपयोग नहीं होगा और बिजली कंपनियों को नुकसान नहीं होगा.हम जो काम कर रहे हैं।उसे केंद्र सरकार भी मान रही है़.और प्रीपेड मीटर लगाने की बात कह रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आगे काम करने का मौका मिला तो हर खेत तक सिंचाई के लिए पानी पहुंचा देंगे।जिस तरह से हर घर नल का जल पहुंचा दिया तो अब हर खेत में सिंचाई के लिए पानी पहुंचायेंगे। सीएम नीतीश ने कहा कि हमने बिहार से लालटेन युग को खत्म कर दिया। 2005 से पहले शाम होने पर ही गांवों में घुप्प अंधेरा रहता था लेकिन आज क्या स्थिति है यह किसी से छुपी हुई नहीं है।             


राज्य कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक

बिहार विधानसभा चुनाव की रणनीति पर चर्चा के लिए भाजपा राज्य कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक आज से।


पटना। बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति पर चर्चा के लिए भाजपा राज्य कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक आज से शुरू हो रही है। जिसमें अक्टूबर-नवंबर महीने में आसन्न विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति तैयार करने सहित कई मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जाएगा।
बैठक में शामिल होने के लिए बिहार भाजपा प्रभारी सांसद भूपेंद्र यादव बिहार आ रहे हैं। इस बैठक में ही बिहार भाजपा चुनाव प्रभारी के तौर पर देवेन्द्र फड़णवीस को पेश करने की रणनीति है।ताकि 25 अगस्त को वे जब  बिहार आएं तो पार्टी नेताओं में कोई भ्रम की स्थिति ना रहे।बैठक को लेकर बिहार भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बताया कि इस डिजिटल बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) बीएल संतोष, राष्ट्रीय महासचिव और बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी के बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फड़णवीस अन्य वरिष्ठ नेता भाग लेंगे।उन्होंने बताया कि यह बैठक दोपहर दो बजे फड़नवीस के संबोधन के साथ शुरू होगी जबकि रविवार 23 अगस्त को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के संबोधन के बाद समाप्त होगी।  पश्चिम चंपारण लोकसभा क्षेत्र से सांसद जायसवाल ने कहा कि बैठक के दौरान 22 अगस्त को एक राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया जाएगा।उन्होंने इस बैठक को बिहार विधानसभा चुनाव से ठीक पहले महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि पार्टी इसके जरिए राज्य के 76 लाख कार्यकर्ताओं को संदेश देगी।  सूत्रों ने कहा कि बैठक में पार्टी के संगठन का विस्तार करने और अपने सहयोगियों (जदयू और लोजपा) के साथ बेहतर समन्वय सुनिश्चित करने के अलावा विधानसभा चुनावों की रणनीतियों पर चर्चा होगी। जायसवाल ने कहा कि पार्टी राज्य कार्यकारिणी का गठन 20 मार्च को किया गया था लेकिन राज्य में 22 मार्च को लाँकडाउन हो जाने के कारण इसकी अब तक एक भी बैठक नहीं हो सकी।भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 30 अगस्त को पटना आएंगे।उधर पार्टी को पूरी तरह चुनावी मोड में लाने के लिए भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 30 अगस्त को पटना आ रहे हैं। उस दिन वे पटना के किसी बूथ पर प्रधानमंत्री के मन की बात को सुनेंगे। इससे पहले 25 अगस्त को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बिहार भाजपा के चुनाव प्रभारी का जिम्मा संभालने जा रहे देवेन्द्र फड़णवीस भी बिहार आ रहे हैं। पार्टी नेताओं से मिली जानकारी के अनुसार भाजपा अध्यक्ष को पहले 25 अगस्त को ही आना था लेकिन किसी कारण से वे अब 30 अगस्त को आएंगे। उस दिन पीएम के मन की बात निर्धारित है। इस कारण वे किसी बूथ पर बैठकर कार्यकर्ताओं के साथ प्रधानमंत्री के मन की बात को सुनेंगे। पीएम के मन की बात को सुनने के बहाने वे कार्यकर्ताओं को ना केवल चुनाव के लिए प्रोत्साहित करेंगे बल्कि पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक रणनीति भी तय करेंगे। पटना आगमन के दौरान भाजपा अध्यक्ष जदयू अध्यक्ष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मुलाकात करेंगे।           


एनसीईआरटी की फर्जी प्रिंटिंग का भंडाफोड़

 मेरठ: एनसीईआरटी के फर्जी प्रिंटिंग प्रेस का भंडाफोड़, 35 करोड़ रुपये की किताबें बरामद
मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ में देर रात एसटीएफ और पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) की किताबें छापने वाले एक अवैध प्रिंटिंग प्रेस का भंडाफोड़ किया। छापे के दौरान करीब 35 करोड़ रुपए कीमत की किताबें बरामद की गईं। इस मामले में एक दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मामले को लेकर सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सरकार पर निशाना साधा है।
मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अजय कुमार साहनी ने बताया, “मेरठ जनपद के परतापुर थाना क्षेत्र में अवैध तरीके से राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) की किताबों की छपाई कर आसपास के राज्यों में इनकी आपूर्ति की जाती थी।”
एसएसपी ने बताया, “एक सूचना के आधार पर एसटीएफ और पुलिस टीम ने संयुक्त रूप से छापा मारा। इस दौरान एनसीईआरटी की करीब 35 करोड़ रुपये कीमत की किताबें बरामद की गई। इसके साथ ही छह प्रिंटिंग प्रेस भी बरामद की गई। पूछताछ में जानकारी मिली कि ये दिल्ली समेत उत्तराखंड और आसपास के कई राज्यों में किताबें सप्लाई करते थे।
मौके से एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया गया है। इसके अलावा गोदाम और प्रिंटिंग प्रेस मशीन जहां चलती थी, उस स्थान को सील कर दिया गया है। सचिन गुप्ता के नाम से सारे चीजें थीं। गुप्ता की तलाश के लिए टीमें लगाई गई हैं। अग्रिम विधिक कार्रवाई की जा रही है।”
उधर इस मामले को सपा मुखिया अखिलेश यादव ने ट्वीट कर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा, “शिक्षा-नीति में बदलाव करने वाली भाजपा पहले अपने उन नेताओं को नैतिक-शिक्षा के पाठ पढ़ाए जो करोड़ों रुपए के ‘नकली किताबों’ के गोरखधंधे में संलिप्त हैं। नकली ईमानदारी का चोगा ओढ़े लोगों का सच अब सामने आ गया है।”                 


प्रधानों ने भाजपा छोडने की दी चेतावनी

प्रधानों ने भाजपा की सदस्यता छोड़ने की दी चेतावनी


जसपुर। ग्राम प्रधानों ने अपनी मांगों को लेकर तीसरे दिन ब्लॉक कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन किया। मांग पूरी न होने पर भाजपा की सदस्यता छोड़ने की चेतावनी दी। प्रधानों ने कहा कि उनकी मांगें नहीं मानीं तो वह भाजपा छोड़कर भाजपा प्रत्याशी के सामने चुनाव में अपना प्रत्याशी खड़ा कर उसे हराएंगे।
ग्राम प्रधानों ने कहा कि हर घर नल, हर घर जल मिशन के अंतर्गत ग्राम पंचायतों में ठेकेदारों से कार्य कराये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पंचायतों में ठेकेदारी प्रथा को समाप्त कर ग्राम पंचायतों को कार्यदाई संस्था बनाया जाए। इससे गांव के युवाओं को रोजगार मिल सकेगा। प्रधानों ने कहा कि यदि भाजपा प्रदेश सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानी तो वह भाजपा की सदस्यता छोड़ कर चुनाव में अपना प्रत्याशी खड़ा कर भाजपा प्रत्याशी को हराएंगे। धरना देने वालों में नईम अहमद, ब्रह्मानंद लाहौरी, फखरुद्दीन, मदन सिंह, शाहनवाज, रेशमा खातून, पंकज, चंचल देवी, कमरूददीन, गुलशन जहां, आसिफ, मो. रफी, सुखदेव, सरफराज, सुषमा सैनी, इरशाद, निशा, ममता, राजीव कुमार, चंचल देवी, नरेंद्र दीप सिंह, रूही नाज, निशा, रूबी जहां, नजाकत अली आदि शामिल रहे।               


गंगोत्री हाईवे पर गिरा मलबा और पेड़

उत्तरकाशी में गंगोत्री हाईवे मलबा और पेड़ गिरने से अवरुद्ध


देहरादून। उत्तरकाशी में गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग भटवाड़ी के पास मलबा एवं पेड़ गिरने के कारण अवरुद्ध हुआ है। उक्त मार्ग को तत्काल सुचारु करने के लिए बीआरओ की टीम मौके पर पहुंच गई है। यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात सुचारु है। वहीं, चमोली में बदरीनाथ हाईवे लामबगड़, पिनोला और गोविन्द घाट में बंद है। कर्णप्रयाग ग्वालदम हाईवे हरमनी के पास भू-स्खलन से बाधित है।
उत्तराखंड में शुक्रवार को बारिश से कुछ राहत मिली। इस बीच सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) और लोक निर्माण विभाग की टीम सड़कों से मलबा हटाने में जुटीं रहीं। यमुनोत्री हाईवे पर यातायात बहाल कर दिया गया है। धाम के पास गुरुवार को सड़क का 25 मीटर हिस्सा ध्वस्त हो गया था। हालांकि चमोली में बदरीनाथ और रुद्रप्रयाग में केदारनाथ हाईवे अब भी बंद है। इस कारण लगातार तीसरे दिन यात्री केदारनाथ के लिए रवाना नहीं हो पाए। मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल प्रदेश में बारिश से राहत रहेगी।
प्रदेश में भारी बारिश और भूस्खलन के चलते गुरुवार को 176 सड़कें बंद हो र्गईं थीं। शुक्रवार को इनमें से 36 सड़कों पर मलबा हटाकर आवाजाही शुरू कर दी गई, हालांकि देर रात हुई बारिश के बीच भूस्खलन से कुछ और सड़कें बंद हो गईं। अब भी 167 सड़कें अवरुद्ध हैं। इनमें से सर्वाधिक 125 गढ़वाल मंडल में हैं। रुद्रप्रयाग जिले में गौरीकुंड के पास हो रहे भूस्खलन के कारण प्रशासन ने तीसरे दिन भी यात्रियों को सोनप्रयाग में रोके रखा। यहां 100 यात्री मार्ग खुलने का इंतजार कर रहे हैं।
 यात्रा मजिस्ट्रेट एमएल अंजवाल ने बताया कि पैदल मार्ग पर भी कुछ स्थानों पर पहाड़ों से पत्थर गिरने का खतरा बना हुआ है। स्थिति सामान्य होने पर ही श्रद्धालुओं को रवाना किया जाएगा। उन्होंने बताया कि हाईवे दुरुस्त होने में एक या दो दिन लग सकते हैं। इसके अलावा टिहरी जिले की नैलचामी पट्टी में बरसाती नदी पार करने के प्रयास में एक अधेड़ की मौत हो गई। दूसरी ओर हरिद्वार जिले के लक्सर में एक मकान क्षतिग्रस्त होने से तीन बच्चे घायल हो गए।
 कुमाऊं के पिथौरागढ़ में चीन सीमा को जोड़ने वाले मार्ग अब तक नहीं खुल पाए हैं। पहाड़ों से दरकने से हाईवे खोलने में मुश्किलें आ रही हैं। जिले में 23 संपर्क मार्ग बंद हैं। बागेश्वर जिले में दस और नैनीताल जिले में बारिश से आधा दर्जन ग्रामीण मार्गों पर यातायात बाधित है।                ग 


निजी अस्पताल करेंगे कोरोना का इलाज

प्राइवेट हॉस्पिटल भी कर सकेंगे कोरोना का इलाज, सरकार ने जारी की गाइडलाइन
पंकज कपूर


देहरादून। राज्य में स्थित निजी चिकित्सालयों में कोरोना के मरीजों के उपचार के संबंध में उत्तराखंड सरकार की ओर से दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इसमें कहा गया है कि चिकित्सालय का क्लीनिकल एस्टेब्लिशमेंट एक्ट 2010 के प्रावधानों के अंतर्गत पंजीकरण होना चाहिए। चिकित्सालय में कोविड-19 रोगियों को रखने के लिए एक अलग बोर्ड या ब्लॉक हो जिसमें प्रवेश एवं निकासी द्वार अलग हो। अस्पताल में आपातकालीन सेवाएं चौबीसों घंटे उपलब्ध होनी चाहिए। साथ ही भर्ती रोगियों को कोविड-19 जांच की पुनः आवश्यकता पड़ने पर आईसीएमआर द्वारा कोविड-19 के लिए अधिकृत निजी पैथोलॉजी लैब को सरकार द्वारा निर्धारित दरों पर जांच कराई जा सकती है। साथ ही कोविड का उपचार भारत सरकार एवं राज्य सरकार के दिशा निर्देशानुसार किया जाएगा एवं समस्त मरीजों की सूचना रियल टाइप में जिलों के सीएमओ को उपलब्ध करानी होगी।वहीं अब उत्तराखंड में प्राइवेट हॉस्पिटलो में भी कोरोना मरीजों का इलाज होगा, अब वास्तविक और न्यूनतम लागत लेकर कोरोना मरीजों का इलाज कर सकेंगे, राज्यपाल ने मंजूरी दी, अभी तक प्राइवेट हॉस्पिटल नहीं कर रहे थे इलाज।
हल्द्वानी- जिले में कोरोना का आंकड़ा 2 हजार पार, हालात चिंताजनक।                   


5 पाक घुसपैठियों को मार गिराया

पंजाब बॉर्डर पर BSF की बड़ी कार्रवाई, 5 पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार गिराया
चंडीगढ़। पंजाब से लगती पाकिस्तान सीमा पर सुरक्षाबलों ने पांच घुसपैठियों को ढेर कर दिया है। तरन तारन के खेमकरन में सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार यह कार्रवाई शनिवार को तड़के हुई। पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है।
बीएसएफ की 103 बटालियन के जवानों ने भारत-पाकिस्तान सीमा के करीब डल सीमा चौकी पर संदिग्ध गतिविधियां देखीं, जिसके बाद उन्होंने तड़के करीब 4:45 बजे गोलियां चलाईं। घुसपैठियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। तलाशी अभियान जारी है।             


घट तो नहीं रही है शारीरिक क्षमता

दो सीढिय़ां चढ़कर हांफने लगते हैं तो जरूर करें यह काम
हम सभी के साथ ऐसा कभी ना कभी जरूर होता है, जब दूसरे फ्लोर तक सीढिय़ों से जाने के बाद ही हमारे दिल की धड़कनें बढ़ जाती हैं और हमारी सांस फूलने लगती है। इस तरह की समस्या से आमतौर पर महिला और पुरुष दोनों ही गुजरते हैं लेकिन महिलाओं में यह समस्या अपेक्षाकृत अधिक देखी जाती है।


सीढिय़ां चढऩे पर क्यों हांफने लगते हैं?


सीढिय़ां चढ़ते समय थकान होना बहुत सामान्य घटना है अगर आपको तीसरे या चौथे फ्लोर पर जाने के बाद इस तरह की समस्या का अनुभव हो। लेकिन यह भी बहुत ही सीमित मात्रा में होना चाहिए। क्योंकि चौथे फ्लोर तक जाना या पांचवे फ्लोर तक जाना और बहुत अधिक थकान का अनुभव ना करना, एक स्वस्थ शरीर की निशानी है।
फिटनेस की बात करें तब भी सीढिय़ां चढऩे और उतरने से हमारे शरीर की कैलरी खर्च होती हैं और फैट पिघलता है। इस कारण हमें अधिक ऊर्जा लगानी होती है और हमें थकान का अनुभव होता है। लेकिन अगर दो फ्लोर चढ़कर ही आपको थकान होने लगती है तो यह अच्छे संकेत नहीं हैं। यह आपके शरीर में छिपी कमजोरी को दिखाती है।
सांस लेने में दिक्कत होना


कोई बहुत मेहनत का काम करने के बाद सांस फूलना एक सामान्य घटना है लेकिन अगर दो फ्लोर चढ़कर ही आपको सांस लेने में दिक्कत होने लगती है तो इसका अर्थ है कि आपका हृदय पूरी तरह स्वस्थ नहीं है। इसलिए अपने कमजोर होते हृदय को बीमार होने से बचाने के लिए अपनी सेहत का ध्यान रखें।
क्योंकि यह स्थिति शरीर में चुपके से पनप रही बीमारियों का प्रारंभिक संकेत हो सकती है। कई बार यह समस्या इसीलिए भी होती है कि हम बहुत अधिक आलस्य युक्त जीवन (लेजी लाइफस्टाइल) जी रहे हैं। इस कारण भी दो सीढिय़ां चढ़ते ही सांस फूलने की दिक्कत होती है।
आपको जो करना है।


कुछ लोगों को सीढिय़ां चढऩे के बाद सिर भारी होना, सिर घूमना या आंखों के आगे धुंध आना जैसी समस्याएं होती हैं। अगर आपके साथ भी इस तरह की समस्या हो रही है तो आपको डॉक्टर से तुरंत सलाह लेनी चाहिए। क्योंकि यह स्थिति शरीर में किसी गंभीर बीमारी का संकेत है।
साथ ही अपनी डायट का पूरा ध्यान रखें। इस बात का पता लगाएं कि क्या आपके भोजन से आपको पूरा पोषण मिल रहा है? क्योंकि जब शरीर को पूरा पोषण नहीं मिलता है तब शरीर में कमजोरी रहती है और कई रोग पनपने लगते हैं, जिनके कारण सांस फूलना और थकान जैसी समस्या होती है।
आपको इस बात को सुनिश्चित करना होगा कि लॉकडाउन या कोरोना के कारण आपकी शारीरिक गतिविधियां कम ना हों। आप घर की इन सीढिय़ों पर हर दिन चक्कर लगाकर भी खुद को ऐक्टिव रख सकते हैं। योग कर सकते हैं, घर के आंगन या छत पर वॉक कर सकते हैं।           


5 डॉक्टर सहित 16 स्टाफ पॉजिटिव

5 डॉक्टर सहित 16 स्टाफ कोरोना पॉजिटिव
दुर्ग। प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। शुक्रवार को चंदूलाल चंद्राकर अस्पताल के 5 डॉक्टर सहित 16 स्टाफ की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इस बात की जानकारी जिला जनसंपर्क अधिकारी सौरव शर्मा ने दी। उन्होंने बताया कि चंदूलाल चंद्राकर मेमोरियल हॉस्पिटल नेहरू नगर के 5 डॉक्टर सहित 16 स्टाफ पॉजिटिव पाए गए हैं। चंदूलाल चंद्राकर कोविड-19 के प्रभारी डॉ.अनिल शुक्ला ने बताया कि प्राप्त रिपोर्ट में 16 मरीज चंदूलाल चंद्राकर मेमोरियल हॉस्पिटल नेहरू नगर से हैं। इसमें 5 डॉक्टर भी शामिल है।                       


सिंह राशि वालों को मिलेगी कामयाबी

सिंह राशि वालों को मिलेगी कामयाबी… इन 3 राशि के लोगों को होगा तनाव…
1- मेष राशि
संतान के प्रति आपका झुकाव बढ़ेगा। पूजा-पाठ और आध्यात्म से संबंधित चीजों में आपका मन लगेगा। विद्या के प्रति रुचि बढ़ेगी।
2- वृष राशि
धन से जुड़ी समस्याओं का समाधान होगा। आप घर से जुड़े हुए जो भी काम करेंगे वो सफल होंगे। कार्यों को सही ढंग से करने की प्लानिंग करेंगे।
3- मिथुन राशि
आपके कार्यों को सराहा जाएगा। आप धन लाभ प्राप्त करेंगे। आज के दिन आपके ख़र्चे भी पहले से कम रहेंगे।
4- कर्क राशि
आर्थिक मामले में आज का दिन बेहद खास रहेगा। हो सकता है आपके किसी कार्य, ईमेल या लिखित मामले में धन लाभ प्राप्त हो।
5- सिंह राशि
नई विचारधारा या भाई बंधुओं द्वारा आपको धन लाभ प्राप्त होगा। मन में खुशी रहेगी। कार्यक्षेत्र में आपको सफलता मिलेगी।
6- कन्या राशि
स्वास्थ्य सेवाओं में आपका धन खर्च हो सकता है। गलत निर्णय से पैसे फंस सकते हैं। आपका समय बहुत ख़ास नहीं है।


7-तुला राशि
आज का दिन धन का नुकसान हो सकता है। वाहन और मशीनरी के प्रयोग में सावधानी बरतें। आपका दिन सामान्य रहेगा।


8- वृश्चिक राशि
पुराने निवेश से आज के दिन धन लाभ के योग हैं। अधूरे कार्य पूरे होंगो। आज के दिन आप मानसिक संतुष्टि महसूस करेंगे।
9- धनु राशि
कार्यक्षेत्र को लेकर आप थोड़ा सा विचलित हो सकते हैं। किसी महिला के कारण आपको परेशानी उठानी पड़ सकती है।
10- मकर राशि
जीवनसाथी या किसी एक द्वारा आपको कार्यक्षेत्र में पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। लेकिन कहीं न कहीं तकरार भी हो सकती है.
11- कुम्भ राशि
आज के दिन आप कोई अहम फ़ैसला लेने से बचें। छोटी-छोटी बातों को नजरअंदाज करें। पारिवारिक खुशी महसूस होगी।
12-मीन राशि
सहयोगियों द्वारा आपको आर्थिक लाभ प्राप्त होगा। हालांकि, आपके खर्च बढ़ सकते हैं। घर-परिवार द्वारा सुख प्राप्त होगा।                 


जीमेल के बग से हैक हो सकता है 'अकाउंट'


  • रिसर्च का दावा: जीमेल के इस बग से, हैक हो सकता है आपका अकाउंट
    नई दिल्ली। गूगल की मशहूर ई-मेल सर्विस जीमेल में एक ऐसा बग आ गया है। जिससे जीमेल की सिक्योरिटी को खतरा हो सकता है। चार महीने पहले एक बड़े रिसर्चर ने इस जानकारी का पता लगाया था। अगर आप नियमित रूप में जीमेल का इस्तमाल करते हैं तो आप जानते होंगे कि गुरुवार को जीमेल की सुविधाएं लंबे समय तक बाधित रही थीं। पिछले दो महीने में ऐसा दूसरी बार हुआ था। बताया जा रहा है ये उसी बग का नतीजा है जिसका जिक्र बड़े रिसर्चर एलीसन हुसैन ने किया था।
    कितना खतरनाक है ये बग?
    ये बग सेवाएं बाधित करने के अलावा उन साइबर क्रिमिनल्स का काम आसान कर देते हैं जो लोगों के जीमेल हैक करने के इंतजार में बैठे रहते हैं। रिसर्चर एलीसल हुसैन के अुनसार इस तरह के बग आपके मेल को हैक करके फेक ई-मेल कर सकते हैं। आपके अकाउंट को हैक करके किसी दूसरे को ई-मेल भेजकर कोई भी निजी जानकारी निकाल सकते हैं। इसके अलावा आपके मेल से दूसरे व्यक्ति को मेल करके पैसे भी मागे जा सकते हैं। कुल मिलाकर बात ये हैं कि इसका इस्तेमाल कई तरह के गलत कामों में किया जा सकता है। इसलिए हम आपको यही सलाह देंगे कि अगर आपके पास इस तरह का कोई मेल आए तो आप उससे बचें।
    हुसैन का कहना है कि यह बग धोखाधड़ी और हैकर्स से बचने वाले एडवांस सिक्यॉरिटी प्रोटोकॉल्स को बायपास दे देता है जिसे गूगल ने सुरक्षा के लिए निर्धारित किया है। ये बग उन सभी स्टेप्स को स्किप कर देता है जिनका ध्यान मेल भेजते समय किया जाता है। जीमेल सेंडर पॉलिसी फ्रेमवर्क और डोमेन-आधारित मेसेज ऑथेंटिकेशन जैसे स्टेप्स। हुसैन कई महीनों पहले इस बग की सूचना गूगल को दी थी लेकिन गूगल ने इस पर अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी जिसके बाद हुसैन ने लोगों को इस बग की जानकारी देदी। हुसैन ने एक ब्लॉग पोस्ट लिखकर इसकी जानकारी दी उन्होंने ये भी लिखा कि कंपनी सिंतबर में इसे ठीक करने के लिए कुछ लेकर आएगी ।                 


साजिश नाकाम, आतंकी किया गिरफ्तार

साजिश नाकाम,दिल्ली पुलिस ने एनकाउंटर के बाद आईएसआई एसआई के आतंकी को किया गिरफ्तार


नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के धौलाकुआँ इलाके में बीती रात हुई मुठभेड़  में एक संदिग्ध आतंकी पकड़ा लिया गया है। पुलिस के मुताबिक, इस संदिग्ध का नाम अबू युसूफ है और इसका संबंध आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएसआई) से है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की स्पेशन सेल ने बीती रात धौलाकुआँ से करोल बाग को जोड़ने वाली रिज रोड के पास एनकाउंटर के बाद इस आतंकी को गिरफ्तार किया। इसके पास से दो आई ई डी और एक पिस्तौल बरामद हुआ है। आतंकी किसी बड़े सख्श को टारगेट करने की तैयारी में था। दिल्ली के धौलाकुआँ रिंगरोड के पास पुलिस ने एक आईएसआईएसआई आतंकी को एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार किया है। पुलिस का ऑपरेशन अभी भी जारी है। बता दें कि आतंकी को गिरफ्तार करने में दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम शामिल है। दिल्ली पुलिस ने आतकंवादी को गिरफ्तार करने के बाद इलाके को पूरी तरह सील कर दिया गया। आतंकी के पास से दो आईईडी बरामद किया गया है।
पुलिस को शक है कि इसका  नेटवर्क बड़ा होगा और ये बड़े घटना का अंजाम देने की तैयारी मेंं हो सकते हैंं। गिरफ्तार आंतकी की पहचान अब्दुल यूसुफ खान के रूप में हुई है। वह उत्तर प्रदेश का रहने वाला है। दिल्ली पुलिस को सूचना मिली थी कि आतंकी धौला कुआँ और करोल बाग के बीच रिज इलाके में मौजूद है। इसके बाद पुलिस ने तलाशी अभियान चलाया। 
मौके पर एनएसजी कमांडो तैनात कर दिए गए हैं। स्निफर डॉग्स की मदद से तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। बम डिस्पोजल स्क्वॉयड भी मौके पर पहुँच चुका है। आईईडी को डिफ्यूज करने की तैयारी चल रही है।
आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया (आईएसआईएसआई) भारत में अपने नापाक मंसूबों को लंबे समय से अंजाम देने की फिराक में है।                   


139 लोगों पर लगाया बलत्कार का आरोप

तेलंगाना। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, जहां एक महिला ने 139 लोगों पर अपने साथ यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। पीड़िता के अनुसार जीवन में अलग-अलग घटनाओं में कुल 139 लोगों ने अनगिनत बार दुष्कर्म किया। इस मामले में पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर 42 पेज की FIR दर्ज कर ली है।




हैदराबाद में पुंजागुट्टा पुलिस ने 42 पेज की एफआईआर दर्ज की है, जिसमें से 42 पेजों में उन 139 लोगों की डीटेल है, जिनके खिलाफ महिला ने आरोप लगाए हैं। पुलिस सभी आरोपियों से पूछताछ करेगी, जिनमें कुछ महिलाएं भी शामिल हैं। वहीं पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया गया है।             



दुनिया भर में कोरना का कहर जारी

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का कहर अब भी दुनियाभर में जारी है। वैज्ञानिक और मेडिकल एक्सपर्ट्स दिन रात काम कर कोरोना वायरस से लोगों को बचाने के लिए असरदार वैक्सीन विकसित करना चाहते हैं। दुनिया भर में परीक्षणों के विभिन्न चरणों में 160 से अधिक वैक्सीन उम्मीदवार हैं और 30 से अधिक संभावित वैक्सीन मानव परीक्षणों के महत्वपूर्ण चरण में प्रवेश कर चुके हैं। टीका बनाने की दौड़ में आगे चल रहीं कंपनियां दिसंबर के अंत तक 70 से 75 करोड़ खुराक तैयार कर सकती हैं। यह दुनिया की करीब दस फीसदी आबादी के टीकाकरण के लिए पर्याप्त होगा। 



हाल ही की रिपोर्ट्स देखें, तो ‘द वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ बायोलॉजिकल प्रोडक्ट्स’ द्वारा विकसित निष्क्रिय वैक्सीन इस साल दिसंबर के अंत तक व्यावसायिक रूप से उपलब्ध हो सकती है। इस वक्त ये चीनी वैक्सीन मानव परीक्षण के तीसरे चरण में है, जो कि वैक्सीन उम्मीदवार को विनियामक अनुमोदन दिए जाने से पहले महत्वपूर्ण, अंतिम चरण परीक्षण है।                   


गधे के सिर का सींग 'संपादकीय'

गधे के सिर का सींग 'संपादकीय'


देश के हालात और बदतर हाल को सत्ता पक्ष के लोग अंत समय तक स्वीकार नहीं करेंगे। क्योंकि विपरीत परिस्थितियों का दंश झेलने वाली जनता भारतीय नागरिक है। भारतीयों की अनुवांशिकता के ढेर उदाहरण इतिहास हमें बताता रहता है। हमारे पूर्वज मुगलों और गौरो की सदियों तक दास्तां सहते रहे। परंतु आज स्वराज प्रतिस्थापित हो जाने के बाद भी हम स्वतंत्रता के आनंद से काफी दूर है। जनता के शासन में जनता का शोषण निरंतर जारी है। जनता के धन पर सफेद लिबास पहनकर नेताओं का डांका डाला जाता है। पूरे देश की स्थिति ऐसी बनी हुई है। जिसके विरोध में जनता अभी तक मुखर नहीं हुई है। बल्कि गृह जनपद गाजियाबाद को विशेष परिभाषा से संज्ञातीत किया जा सकता है। यहां अधिकारी और जनप्रतिनिधि 'चोर चोर मौसेरे भाई' चरितार्थ है। जनता का स्पष्ट शोषण किया जा रहा है। मूलभूत सुविधाओं के नाम पर जनता की खाल खींची जा रही है। हालांकि भाजपा की विचारधारा से जुड़े लोगों को घरों में भरे बरसात के पानी को निकालने में ज्यादा सुख प्राप्त हुआ होगा। सही बता रहा हूं कोई इतना सुखी हो जाता है तो मेरा मन कुड़ने लगता है। ईर्ष्या  के करण बरसात भी शांत हो गई। आहत घटाएं बरसना भूल गई। राजमार्ग, मुख्य मार्गो के नजारे देख कर दसको साल पहले पिछड़े हुए देहात की याद ताजा हो गई। मोदी के डिजिटल युग से वह समय अच्छा रहा है। झूठ और आडंबर से मुक्त, सच का आवरण था।
ऐसे जनप्रतिनिधियों को जनता के द्वारा पुरस्कृत करने पर विचार करना चाहिए। जो जनता की सुख-सुविधाओं का इतना ध्यान रखते हैं कि छतो पर बैठ कर लोग समय काटने को मजबूर हो गये। मेरी बात थोड़ी कड़वी जरूर है, परंतु इस पर विचार करना। स्थानीय सांसद एवं विधायक को ऐसे गायब कर दो, जैसे गधे के सिर से सींग गायब हो जाते हैं और दोबारा आते ही नहीं हैं।


राधेश्याम 'निर्भयपुत्र'                          


खाद के लिए दर-दर भटक रहे किसान

बछरावां पुलिस के छूटे पसीने, नहीं बन पाई एक मीटर दूरी वाली लाइने


बछरावां/ रायबरेली। एक तरफ आवारा जानवर की मार और तो और समय पर सरकार द्वारा यूरिया खाद का उपलब्ध ना होना, किसानों की आय दो गुनी पर बड़े सवाल खड़ी करती है।जिले के कृषि विभाग के अधिकारी और प्रशासन दोनों पूरी तरह से किसान का सहयोग कर पाने में असफल साबित हो रहे हैं। किसानों को मार्केट से कालाबाजारी में यूरिया खाद 350 रूपए में खरीदने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। इसिया ग्रामसभा के पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य राजकुमार चौधरी ने बताया कि वर्तमान सरकार की उदासीनता के कारण ही हम लोग इस महामारी काल में भी यूरिया खाद के लिए दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं।


दो महीने से अधिक समय व्यतीत हो चुका है क्षेत्र की किसी भी सहकारी समिति पर आज तक यूरिया खाद नहीं मिल पाई है। बछरावां के इफको किसान केंद्र पर बछरावां के ही नहीं वरन अगल-बगल के क्षेत्रों के लोग सुबह तीन बजे से ही लाइन लगाकर खाद लेने के लिए आ जाते हैं। सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ती हुई धज्जियां देखी जा सकती हैं। सुबह से शाम तक इस आशा में लाइन लगाकर हैं कि खाद मिल जाएगी लेकिन अक्सर उनको बिना खाद के भी घर वापस लौटना पड़ता है।


एक किसान ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि इफको सेंटर पर तैनात सुरक्षाकर्मी खुद ही खाद की कालाबाजारी में संलिप्त होकर अवैध धन उगाही में लगे हुए हैं। मौके मौके पर 270 रूपए की यूरिया खाद 300 रुपए में बेच कर आय का एक जरिया बनाए हुए हैं।                         


सपना चौधरी के डांस ने मचाया धमाल

मुंबई। सपना चौधरी का एक शानदार डांस वीडियो यूट्यूब पर छाया हुआ है। वीडियो में सपना लाल सूट में हरियाणवी गाने ‘जुल्फ हवा में लेहरावे‘ पर डांस करती नजर आ रही हैं। हरियाणवी सिंगर और डांसर सपना चौधरी स्टेज पर अपने धांसू डांस परफॉर्मेंस से सभी को दीवाना बना देती हैं। देसी क्वीन सपना चौधरी के चाहने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। उनके सभी डांस वीडियो को यूट्यूब पर खूब देखा जाता है।  सपना डांस के साथ-साथ अपने लुक की वजह से भी सुर्खियों में रहती हैं। सपना अक्सर अपनी तस्वीरें और वीडियोज फैन्स के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करती रहती हैं। इन दिनों यूट्यूब पर सपना चौधरी का एक डांस वीडियो खूब चर्चा में है. वीडियो में डांसिंग क्वीन सपना चौधरी हरियाणवी गाने ‘जुल्फ हवा में लेहरावे’ पर जबरदस्त डांस मूव्स करती नजर आ रही हैं।


सपना का लाइव स्टेज डांस परफॉर्मेंस देख रहे लोग उनके डांस का वीडियो अपने मोबाइल फोन में शूट करते दिख रहे हैं। सपना वीडियो में लाल सूट पहने बेहद खूबसूरत लग रही हैं। कमेंट कर फैन्स डांस के साथ उनके लुक की भी खूब प्रशंसा कर रहे हैं। सपना अपने देसी डांस स्टाइल के कारण करोड़ों दिलों पर राज करती हैं। सपना के इस डांस वीडियो को त्रिमूर्ति कैसेट के ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया है। ‘जुल्फ हवा में लेहरावे‘ गाने को फेमस हरियाणवी सिंगर विश्वजीत चौधरी ने गाया है। इसके बोल राकेश धीराना ने लिखे हैं।               


नहर में गिरी कार, चार बच्चों की मौत

सोनीपत। सोनीपत के नाहरा गांव के पास शुक्रवार रात करीब 9 बजे बेकाबू आई-10 कार पश्चिमी यमुना लिंक नहर में गिरने से गढ़ी बिंदरोली गांव बड़े काश्तकार साधुराम, उनकी पत्नी व दो बच्चों की डूबने से मौत हो गई। कार चला रहे भांजे सुनील निवासी जाबब्राहण को अखाड़ा में कसरत कर रहे युवकों ने बचा लिया। हादसे में साधुराम का पूरा परिवार खत्म हो गया।वह परिवार समेत आहुलाना में शादीशुदा बहन से मिल दिल्ली जा रहे थे। 6 भाई बहनों में अकेले भाई 50 वर्षीय साधु राम गांव में 12 एकड़ के काश्तकार थे। वह काफी समय से दिल्ली के महरोली में 3 रहते थे। माता- पिता की पहले ही मौत हो चुकी है। 45 वर्षीय पत्नी सीमा प्राइवेट स्कूल में पढ़ाती थीं।


पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गांव बिंदरौली निवासी साधुराम (56) दिल्ली में ट्रांसपोर्ट का काम करते थे। वह अपने परिवार के साथ दिल्ली के ही महरौली में रहते थे। शुक्रवार रात को वह अपनी कार में सवार होकर दिल्ली से अपने पैतृक गांव बिंदरौली, सोनीपत आ रहे थे। कार में उनके साथ पत्नी सीमा (46), बेटा मोंटी (17) और ध्रुव (15) तथा भांजा सुमित थे।


दो बेटे 18 वर्षीय मोंटी 12वीं व 16 वर्षीय ध्रुव 10वीं में पढ़ते थे। साधुराम आहुलाना में बहन से मिलने शुक्रवार सुबह परिवार के साथ आए थे। कार को उनके साढू की बहन का लड़का सुनील चला रहा था। सूचना पर डीएसपी डीएसपी राव वीरेंद्र, एसएचओ रवि कुमार, बारोटा चौंकी संदीप सिंह पहुंचे और कार को बाहर निकलवाया। सुनील को गंभीर हालत में सिविल अस्पताल में भर्ती कराया है। माना जा रहा कि सामने से लाइट लगने से गाड़ी नहर में गिर गई है।              


जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...