रविवार, 24 नवंबर 2019

कांग्रेस ने 10 नेताओं को किया निष्कासित

कांग्रेस ने 10 वरिष्ठ नेताओं को पार्टी से किया निष्काषित
 लखनऊ! उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने बगावती तेवर अपनाने वाले 10 वरिष्ठ नेताओं को पार्टी से 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया है| बागी नेताओं में पूर्व सांसद सन्तोष सिंह, पूर्व एमएलसी सिराज मेंहदी, पूर्व मंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, राजेन्द्र सिंह सोलंकी, पूर्व विधायक भूधर नारायण मिश्रा, पूर्व विधायक हाफिज मोहम्मद उमर, पूर्व विधायक विनोद चौधरी, पूर्व विधायक नेक चन्द्र पाण्डेय, स्वयं प्रकाश गोस्वामी और संजीव सिंह शामिल हैं|


बताया जा रहा है कि इन सभी नेताओं को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के चलते कांग्रेस से बाहर का रास्ता दिखाया गया है| उत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी में प्रियंका गांधी वाड्रा ने आमूल-चूल परिवर्तन किए थे| इन संगठनात्मक बदलावों के चलते प्रदेश के कई बड़े पदों से वरिष्ठ कांग्रेसियों को साइडलाइन कर दिया गया था| प्रदेश कांग्रेस में युवाओं और नए चेहरों को जिम्मेदारी मिलने के बाद से ही वरिष्ठ कांग्रेसी पार्टी के खिलाफ लामबंद हो गए थे| इन सभी नेताओं को अनुशासनहीनता के मामले में नोटिस भी जारी हुआ था|


बृजेश केसरवानी


भाजपा ने 3 पद अधिकारी को किया निष्कासित

राणा ओबराय

भाजपा पदेश उपाध्यक्ष, प्रदेश सचिव सहित तीन नेताओ को पार्टी पद से किया निष्कासित

चण्डीगढ़! हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी ने बड़ा फैसला लेते हुए तीन पदाधिकारियों को हटा दिया है। शनिवार को गुरुग्राम में हुई प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में यह फैसला लिया गया है जिसके बाद जानकारी देते हुए बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने बताया कि पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष अरविंद यादव, धर्मपाल शर्मा और प्रदेश सचिव जवाहर सैनी को पदमुक्त कर दिया गया है। शुक्रवार और शनिवार को बीजेपी ने गुरुग्राम में हार के कारणों पर मंथन किया था इस दौरान यह बड़ा फैसला भी लिया गया । बताया जा रहा है कि राव इंद्रजीत सिंह के दबाव में इन तीन नेताओं को पार्टी के पदों से मुक्त किया गया है। बताते हैं कि अरविंद यादव रेवाड़ी सीट से टिकट के प्रमुख दावेदार भी थे, लेकिन यहां पर राव इंद्रजीत सिंह ने अपने खास सुनील यादव को टिकट दिलवा दिया था। इसके बाद अरविंद यादव ने सार्वजनिक तौर पर नाराजगी भी जाहिर की थी। 10 अक्टूबर को राव इंद्रजीत सिंह बावल रोड स्थित अरविंद यादव के कार्यालय कमलम पर पहुंचे थे। यहां समर्थकों व अरविंवद ने राव पर तीखा हमला बोला था, जिसके चलते राव को बैठक बीच में ही छोड़कर जाना पड़ा था। इस विवाद की शिकायत केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष से की थी।अरविंद के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए राव लगातार शीर्ष नेतृत्व के संपर्क में थे।


'झांसी की रानी' के महल में छाया 'अंधकार'

झांसी का नाम दुनिया में रोशन करने वाली लक्ष्मीबाई के महल में ही नही हो रहा है उजाला


राणा ओबराय
झांसी का नाम दुनिया में रोशन करने वाली लक्ष्मीबाई के महल में ही नही हो रहा है उजाला

झांसी! अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंकने वाली महारानी लक्ष्मीबाई की वीरता के किस्से आज भी देश दुनिया में बड़े अदब के साथ सुनाये जाते हैं। झांसी को दुनिया के ऐतिहासिक पर्यटन मानचित्र में अहम स्थान दिलाने वाली वीरंगना का महल और किला सरकारी उदासीनता के कारण खंडहर की शक्ल में तब्दील होता जा रहा है।देश को दासता की जंजीर से मुक्त कराने में अहम योगदान देने वाली लक्ष्मीबाई की 184वीं जयंती पर उनकी कर्मस्थली झांसी को रोशनी से सराबोर किया गया और विभिन्न संगठनों ने कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया गया लेकिन रानी के जीवन से जुड़ी दो बेहद महत्वपूर्ण ऐतिहासिक धरोहरें अंधेरे की आगोश में लिपटी रहीं। झांसी का महल खंडहर में तब्दीलझांसी का किला और रानी महल यह वह दो महत्वपूर्ण इमारतें हैं जो न केवल महारानी लक्ष्मीबाई से सीधे तौर पर जुड़ी हैं बल्कि झांसी शहर की पहचान भी हैं ।पिछले मंगलवार को शहर भर में लोगों ने दीपांजलि की ,विभिन्न चौराहों को रोशनी से सजाया गया और रंगालियां बनाकर बच्चों ने रानी झांसी के जीवन से जुडेंं ऐतिहासिक पलों को रंगों की मदद से उकेरा। इस बीच रानी झांसी का किला और रानी महल दोनों ही इमारतें उस जगमगाहट की बांट जोहती नजर आयीं जिससे लगभग पूरा शहर सराबोर था।उत्तर प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय पटवारी ने कहा अपनी रानी की वीरता और शौर्य की कहानी को याद करते हुए लोगों ने व्यक्तिगत रूप से उनकी जयंती पर खुशी का इजहार करने के लिए सभी कार्यक्रमों का आयोजन किया । प्रशासनिक स्तर पर हालांकि ऐसा कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया और न ही ऐसा किया जाता है। इतना ही नहीं उनके संगठन के काफी प्रयास के बाद भी रानी की जयंती के अवसर पर भी किले और महल पर रोशनी की इजाजत प्रशासन की ओर से नहीं दी गयी। झांसी का महल खंडहर में तब्दीलपटवारी ने बताया कि पूरी दुनिया में भारतीय नारी की शक्ति की मिसाल कायम करने वाली रानी झांसी की जयंती के उपलक्ष्य में कोई कार्यक्रम प्रशासन की ओर से नहीं किया जाता । प्रशासन इन दोनों ऐतिहासिक धरोहरों के भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के तहत आने का रोना रोकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ लेता है।अधिकारियों के अनुसार रानी झांसी से जुड़ी इन दोनों ऐतिहासिक धरोहरों पर सजावट की इजाजत केवल एएसआई दे सकता है और कार्यक्रम के आयोजक अगर प्रशासन को इस मामले में कोई पत्र देते हैं तो वह केेवल उसे एएसआई को प्रेषित करने के अलावा और कुछ नहीं कर सकता। इन इमारतों पर सजावट की इजाजत देना या नहीं देना एएसआई के हाथ में है।व्यापार मंडल के अध्यक्ष का कहना है कि 15 अगस्त और 26 जनवरी पर यदि दोनों इमारतों पर सजावट और ध्वजारोहण हो सकता है जो झांसी विकास प्राधिकरण द्वारा कराया जाता है तो जिस रानी की यह दोनों ही इमारतें हैं उनके जन्मोत्सव पर इन इमारतों को क्यों नहीं सजाया जा सकता झांसी का महल खंडहर में तब्दील,पटवारी ने कहा, हम तो इस बात में भी तैयार हैं कि अगर प्रशासन या एएसआई इस महत्वपूर्ण दिन किले और महल की सजावट नहीं कर सकता तो न करें केवल हम लोगों को इजाजत दे दे तो हम सभी लोग मिलकर अपनी रानी की यादों से जुड़ी इन इमारतों को सजाने का काम कर सकते हैं।पटवारी ने बताया कि उन्होंने महारानी लक्ष्मीबाई के जन्मोत्सव को अयोध्या की दीपावली और मथुरा के कृष्ण जन्मोत्सव की तर्ज पर ही भव्यता प्रदान किये जाने के संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने बताया है कि रानी झांसी की जयंती उनकी कर्मस्थली झांसी के साथ साथ पूरे बुंदेलखंड में धूमधाम से मनायी जाती है। मुख्यमंत्री से इस अवसर पर किले, रानी महल और सभी सरकारी कार्यालयों और भवनों को भी सजा कर सुंदरता प्रदान करने की इजाजत देने की मांग की है। झांसी का महल खंडहर में तब्दीलजहां तक रानी की जयंती को भव्यता से मनाने की बात है तो यह तो काम बुंदेलखंड से शुरू हो गया है लेकिन प्रशासन और एएसआई के पक्षों के बीच फंसकर रानी झांसी का महल और किला आज भी उनके जन्मोत्सव पर रोशनी की बांट जोह रहा है। उम्मीद ही की जा सकती है कि जल्द ही विभिन्न संगठनों और लोगों के प्रयासों से महारानी से जुडें इन दोनों ऐतिहासिक स्थलों को भी उनके जन्मोत्सव पर रोशन किया जा सकेगा।


757 केंद्रों पर सामान्य ज्ञान परीक्षा आयोजित

पंकज राघव 


सम्भल। सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता समिति उत्तर प्रदेश द्वारा रविवार को मंडल स्तरीय सामान्य ज्ञान परीक्षा 757 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की गई। परीक्षा में 256 841 परिक्षार्थियों ने भाग लिया। परीक्षा में शक्ति के कारण कोई भी परीक्षार्थी नकल करते नहीं पकड़ा गया।
समिति के प्रदेशाध्यक्ष हरद्वारी लाल गौतम व महासचिव कु. कुसुम ने बताया कि 24 नवंबर रविवार को सुबह 11 बजे से सर इकबाल ग्लोबल पब्लिक स्कूल सरायतरीन,मिशन इण्टरनेशनल एकाडमी चौधरी सराय,गुडविल चिल्ड्रन एकाडमी कोटपूर्वी,एस एन एम जूनियर हाईस्कूल दीपा सराय,शहजाद हुसैन डिग्री कालेज धुरेटा,एम बी को एजूकेशन नाहरठेर व जीशान फात्मामार्डन पब्लिक स्कूल टाडा कोठी समेत प्रदेश के 757 परीक्षा केन्द्रों पर मंडल स्तरीय आयोजित की गयीं। कक्षा तीन से स्नातकोत्तर कक्षाओं के  256841छात्र एवं छात्राओं ने प्राइमरी, जूनियर, सीनियर व सुपर सीनियर वर्ग में शामिल होकर परीक्षा दी। परीक्षा एक घंटे बाद दोपहर 12 बजे समाप्त हुई।
परीक्षा सचिव कु.रूबी व परीक्षा प्रभारी रजनी कान्ता चौहान ने बताया कि आज 24 नवम्बर को प्रदेश के 1296 परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा होनी थी लेकिन विद्या ज्ञान परीक्षा के कारण 539 परीक्षा केंद्रों की परीक्षा स्थागित कर दी गई थी जहां इन केन्द्रों की परिक्षाएं अब एक दिसंबर को निर्धारित समय पर सुबह 11 बजे से होगी। 
इसके अलावा एंग्लो बैदीक सीनियर सेकेंडरी स्कूल बहजोई तथा एस आर कान्वेंट स्कूल इस्लाम नगर (बदायूं)परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा 25 नवंबर को जबकि इण्डो मार्डन पब्लिक स्कूल नबाब पुरा भोलेश्वर परीक्षा केंद्र पर  26 नवंबर को सुबह 11 बजे से होगी। परीक्षा को निष्पक्ष कराने मे सहयोग करने पर नाहिद रजा,मन्जूसक्सेना,शिवानी, शिल्पा कश्यप,रागिनी शर्मा,अमित कुमार गुप्ता,मौहम्मद फैजान ताबिश, सैय्यद गुलजार अहमद हाशमी,रिजवान अंसारी,मुशीर खाँ तरीन,शाने रब,हुसैन अहमद तथा सभी केन्र्दव्यस्थापक, पर्यवेक्षक तथा सचल दल को बधाई दी।


मोदी-शाह है, सब कुछ मुमकिन है!

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सरकार बनने के बाद हो रहे तमाम सियासी उथल-पुथल के बावजूद भारतीय जनता पार्टी के नेता पूरे आत्मविश्वास से लबरेज दिख रहे हैं। समस्तीपुर में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कार्यकर्ताओं को विक्ट्री का निशान दिखाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी विधानसभा के फ्लोर पर आराम से बहुमत साबित करेगी। हुसैन ने कहा कि अगर  शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस वाले अपने आप को राजनीतिक पंडित समझते होंगे तो उन्हें समझना चाहिए कि यहां भी नरेंद्र मोदी और अमित शाह हैं और मोदी-अमित शाह हैं तो सब मुमकिन है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी से सवाल करते हुए पूछा कि कांग्रेस पार्टी यह बताए कि अब शिवसेना के साथ जाने पर वो जय भवानी, जय शिवाजी बोलेगी कि नहीं ? कांग्रेस पार्टी यह बताए कि वो वीर सावरकर पर गर्व करेगी कि नहीं? कांग्रेस पार्टी यह बताए कि बाला साहब ठाकरे का जो विचार कांग्रेस के प्रति था उन विचारों से सहमत होगी कि नहीं ?  उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी भ्रष्टाचार के साथ कभी भी समझौता नहीं करेगी और बिहार में पूरी चट्टानी एकता के साथ नीतीश कुमार के साथ खड़ी है और आगामी विधानसभा चुनाव में फिर से नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाएंगे, यह वचन है। एनआरसी के मुद्दे पर हुसैन ने कहा कि एनआरसी पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और आजसू के बीच जो निर्णय समझौता हुए उसके आधार पर है। उन्होंने साफ  किया कि वे बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ  है किसी समाज के खिलाफ  नहीं है।


मुर्गे के मर्डर में 7 लोगों पर एफआईआर दर्ज

कैमूर! वैसे अखबारों में आये दिन हत्या की खबरें अखबारों की सुर्खियां होती हैं और पुलिस हत्यारे को जब पकड़ती है तो उस किस्से को भी सस्पेंस स्टोरी की तरह अखबारें आपको परोस देती है। पुलिस हालांकि कई मामलों के जांच के दिनों तक जब करती है तब जाकर उसके हाथ कुछ लगते हैं। लेकिन यहां मामला मर्डर का तो जरूर है लेकिन मर्डर किसी व्यक्ति का न होकर एक मुर्गे का हुआ है। हां! वही मुर्गा जिसे आप आराम से तल और भूनकर आप बड़े स्वाद से खा जाते हैं। इस मामले ने पुलिस ने 7 लोगों पर एफआईआर भी दर्ज किया है।


बिहार के कैमूर जिला के दुर्गावती थान्तर्गत फिरोजपुर गांव का मामला है जहां पोल्ट्री फार्म चलाने वाली कमला देवी ने मुर्गे की हत्या करने के आरोप में इन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। बताया जा रहा है कि कमला देवी के पोल्ट्री फार्म से आरोपी ने मुर्गा निकालकर मार डाला इसके बाद विवाद बढ़ गया। आरोपियों ने कमला देवी और उसके बेटे के साथ मारपीट भी की। गुस्साए कमल देवी ने मुर्गे की हत्या की रिपोर्ट इनपर लिखवा दी। इसके बाद मुर्गे की पोस्टमॉर्टेम भी करवाई गई।


मुठभेड़ के दौरान सिपाही को लगी गोली

गंगोह। पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ के दौरान आमने-सामने चली गोलियां एक बदमाश गिरफ्तार मुठभेड़ के दौरान सिपाही को भी लगी गोली! सरकारी अस्पताल में कराया भर्ती! दरअसल आपको बता दें कि सहारनपुर एसएसपी दिनेश कुमार के निर्देश पर जनपद में चलाए जा रहे, बदमाशों के खिलाफ धरपकड़ अभियान मैं गंगोह पुलिस को मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी भगवत सिंह ने चेकिंग अभियान के दौरान बाढ़ीमाजरा के निकट बाइक रोकने की कोशिश की! लेकिन बाइक पर सवार बदमाश भागने लगे जिसके बाद पुलिस और बदमाशों से आमने सामने की मुठभेड़ में गोलियां चली! जिसमें एक बदमाश पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और दूसरा साथी मौके से भागने में फरार हो गया है!


मुठभेड़ के दौरान एक सिपाही भी घायल हो गया है! जानकारी के अनुसार पकड़ा गया! बदमाश कालू पुत्र फैंसी निवासी मोहल्ला गुज्जर वाड़ा बताया गया है! इस पर 15 हजार का एनाम भी था और गंगोह थाने में बदमाश के खिलाफ पहले भी कई मुकदमें दर्ज है!


उखीमठ: तीन दिवसीय मेले का आयोजन

रुद्रप्रयाग। भगवान मद्महेश्वर के कपाट शीतकाल के लिए बंद होने और भगवान की चल विग्रह उत्सव डोली के शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ आगमन पर ऊखीमठ में 23से 25 नवंबर तक तीन दिवसीय मेला आयोजित किया गया है। मेला तैयारियों को लेकर समिति और उप समितियों का गठन कर जिम्मेदारी सौंपी गई थी।जिसके बाद आज जीआईसी ऊखीमठ में त्रिदिवसीय मदमहेश्वर मेले का उद्धघाटन किया गया। बता दे कि, आज श्री 1008 जोतिर्लिंग भीमा शंकर महाराज द्वारा किया गया। साथ ही मेले के शुभारंभ के साथ ही बॉलीबॉल और बेटबिनटन खेल का भी शुभारम्भ किया गया। साथ ही मेला समिति द्वारा अपने अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अथितियों को भी सम्मानित किया गया।


जिसमें मुख्यमंत्री से सम्मानित 2017 शिल्पकार रत्न दिनेश चंद्र, बसंती रावत, संदीप पुष्पवान और कई लोग शामिल थे। भगवान मद्महेश्वर भगवान की डोली 24 नवंबर को शीतकालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में विराजमान होगी। इससे पूर्व विधि-विधान के साथ मद्महेश्वर धाम के कपाट 21 नवंबर को शीतकाल के लिए बंद हुए। इसी दिन डोली रात्रि प्रवास के लिए गौंडार गांव पहुंचेगी। 22 नवंबर को डोली गौंडार से प्रस्थान कर रांसी, 23 को रांसी से प्रस्थान कर रात्रि प्रवास के लिए गिरिया गांव पहुंचेगी।


आबकारी विभाग-पुलिस ने पकड़ी, अवैध शराब

अविनाश श्रीवास्तव


डीएम अजय शंकर पांडेय के निर्देश पर अवैध शराब को लेकर आबकारी विभाग एवं पुलिस विभाग के अधिकारीगण एक्शन में


गाजियाबाद ! 32 लाख रुपए की अवैध शराब बरामद, मुकदमा किया गया दर्ज, मुलजिम को किया गया गिरफ्तार! जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय व एस एस पी सुधीर कुमार सिंह के आदेश के अनुपालन में अवैध/तस्करी की शराब के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत आबकारी निरीक्षक सेक्टर-5 हेमलता रंगनानी व उनकी टीम ने साहिबाबाद थाना पुलिस के साथ, साहिबाबाद थाना क्षेत्र में भोपुरा सिकंदरपुर एयरपोर्ट के मोड से, एक ट्रक संख्या-PB 13 BB-9398, जिसमें इंपिरियल ब्लू, ऑफिसर्स च्वाईस एवं कसीनो प्राइड ब्रांड के 655 पेटी (5839.56 लीटर) अवैध अंग्रेजी शराब फॉर सेल इन हरियाणा रखे थे! चालक अभियुक्त सुखदेव सिंह पुत्र करनैल सिंह ग्राम चूरचक जिला गुरदासपुर को गिरफ्तार कर, उत्तर प्रदेश आबकारी अधिनियम की धारा 63 /72 तथा IPC की धारा 420 के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया, अन्य विधिक कार्यवाही की जा रही है। बरामद शराब का अनुमानित बाज़ारु मूल्य 32,00,000/- है। यह जानकारी जिला आबकारी अधिकारी मुबारक अली के द्वारा दी गई है। उन्होंने बताया कि अवैध शराब को लेकर जिलाधिकारी के निर्देशन में निरंतर रूप से जनपद में अभियान संचालित किया जा रहा है, जिसके तहत यह बड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की गई है। उन्होंने अवैध शराब का धंधा करने व्यक्तियों का आह्वान किया है कि यदि कहीं पर भी अवैध शराब का धंधा पकड़ा जाएगा! तो इसी प्रकार से कठोरतम कार्यवाही संबंधित के विरूद्घ की जाएगी।


मेरा नाम 'आजम खान',इसलिए 144 मुकदमे

बिजनौर! उत्तर प्रदेश के रामपुर में समाजवादी पार्टी सांसद आजम खान ने शनिवार शाम अपने ऊपर दर्ज मुकदमों पर बड़ा बयान दिया! बिजनौर के वीरा चैरिटेबल सोसाइटी के कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे सपा सांसद आजम खान ने कहा, 'मेरा नाम आजम खान है, इसलिए मेरे ऊपर 144 मुकदमे दर्ज है!' वहीं, महाराष्ट्र में सियासी उलटफेर पर तंज कसते हुए आजम ने कहा कि बीजेपी ने महाराष्ट्र में ज्यादा खिचड़ी पकाई है! बता दें कि सपा सांसद आजम खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं! एक दिन पहले बेटे अब्दुल्ला के जन्म प्रमाणपत्र मामले में आजम उनकी पत्नी और बेटे के खिलाफ रामपुर कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी हुआ था!


'क्योंकि मैं मुजरिम हूं'


इससे पहले सपा सांसद ने कहा, 'मैं जिंदा हूं...अभी तक जिंदा हूं...इसलिए कि मैं मुजरिम और अपराधी हूं! चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आपका वकील हूं और आपकी खुशियां चाहता हूं! सपा सांसद ने दावा करते हुए कहा कि इस लड़ाई से पीछे नहीं हट सकता और मैदान छोड़कर नहीं जा सकता!
80 से ज्यादा मुकदमों में बनाए गए हैं आरोपी


आपको बता दें कि रामपुर से सांसद आज़म खान पर 84 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हो चुके हैं! इसमें जौहर यूनिवर्सिटी की जमीन से संबंधित 30 मुकदमे हैं! पुलिस के मुताबिक, आज़म खान के घर पर किसी के द्वारा नोटिस रिसीव नहीं किए जाने के बाद नोटिस भी चस्पा किया गया था!


जिसका गवर्नर, उसी की सरकार: सपा

बृजेश केसरवानी


लखनऊ! उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने महाराष्ट्र में सियासी उलटफेर के बाद बनी बीजेपी-एनसीपी सरकार पर निशाना साधा है! अखिलेश ने तंज कसते हुए कहा कि अब तो यही लगता है कि जिसका गवर्नर, उसकी होगी सरकार! बता दें कि महाराष्ट्र की राजनीति में तेजी से बदले घटनाक्रम के बाद देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) फिर से सीएम बन गए हैं! शनिवार सुबह उन्हें राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने सीएम पद की शपथ दिलाई, वहीं एनसीपी के अजित पवार (Ajit Pawar) के समर्थन से सरकार बनी! उन्हें डिप्टी सीएम बनाया गया है!


इससे पहले शनिवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने ट्वीट करके देवेंद्र फडणवीस और डिप्टी सीएम अजित पवार (Ajit Pawar) को बधाई दी! सीएम योगी ने कहा, 'मुझे विश्वास है कि यह सरकार जनकल्याण के प्रति समर्पित होकर प्रतिबद्धता के साथ कार्य करेगी तथा उन्नति और समृद्धि के नए आयाम स्थापित करेगी! इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) ने ट्वीट करके महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) को बधाई दी!
केशव प्रसाद मौर्य ने महाराष्ट्र में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनाए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस समेत पार्टी कार्यकर्ताओं और समस्त महाराष्ट्र वासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं!


बसपा ने पूर्व मंत्री,4 विधायकों को निकाला

लखनऊ! बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में पूर्व मंत्री रामप्रसाद चौधरी समेत चार पूर्व विधायकों को पार्टी से निकाल दिया है! बता दें कि बीएसपी नेता रामप्रसाद चौधरी कप्तानगंज से पांच बार विधायक और पूर्व मंत्री रह चुके हैं! बीएसपी सुप्रीमो ने पूर्व मंत्री रामप्रसाद चौधरी, पूर्व विधायक राजेन्द्र चौधरी, पूर्व विधायक जितेंद्र उर्फ नंदू चौधरी और पूर्व विधायक दूधराम को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया है!


बीएसपी के चारों पूर्व विधायकों को पार्टी से निष्काषित करने की पुष्टि करते हुए बीएसपी जिलाध्यक्ष संजय धुसिया ने बताया कि पार्टी सुप्रीमो की तरफ से पहले भी इन नेताओं को चेतावनी दी गई थी, लेकिन इनकी कार्यशैली में कोई सुधार नहीं नजर आया! धुसिया के मुताबिक, रामप्रसाद चौधरी समेत अन्य नेता लगातार पार्टी विरोधी गतिविधि में शामिल रहे हैं! आगामी चुनाव में पार्टी और मूवमेंट हित को ध्यान में रखते हुए मायावती ने इन्हें निकाल दिया है!
 पूर्व मंत्री रामप्रसाद चौधरी पूर्वांचल में बीएसपी के बड़े नेताओं में शुमार थे! कुर्मी बिरादरी में मजबूत पकड़ होने के कारण लोग इन्हें 'शेरे पूर्वांचल' के नाम से पुकारते थे! पिछले लोकसभा और विधानसभा चुनावों में मिली हार को पार्टी से निष्‍कासन का कारण माना जा रहा है!
 मायावती ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में इस बात का भी काफी प्रचार किया कि मुसलमानों को ज्यादा टिकट मिलने से बीजेपी को लाभ मिलेगा! लेकिन, बीएसपी अपने सिद्धांतों पर अडिग रही! इसी का परिणाम है कि पार्टी के सभी 10 सांसद सर्वसमाज का प्रतिनिधित्व करते हैं! इनमें ब्राह्मण, मुस्लिम, यादव और दलित वर्ग के लोग शामिल हैं!


भाग रहे विधायक को पकड़ लाए 'शिवसैनिक'

राणा ओबरॉय
भागने की कोशिश करने वाले विधायक को शिवसैनिक पकड़ कर लाये वापिस
मुंबई! महाराष्ट्र की सियासत में शनिवार सुबह अचानक हुए बड़े उलटफेर ने राजनीतिक पार्टियों को चौंका दिया है। वहीं महाराष्ट्र में नाटकीय ढंग से शुक्रवार सुबह देवेंद्र फडणवीस और एनसापी नेता अजित पवार के शपथ लेने के बाद से शिवसेना कार्यकर्ताओं में गुस्सा है।इसको बाद से शिवसेना के कार्यकर्ता सक्रिय हो गये हैं। वहीं विपक्षी दलों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करते हुए फडणवीस सरकार का 24 घंटे में फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की है।इस बीच खबर है कि एनसीपी विधायक संग्राम जगताप शनिवार देर रात यह कहकर होटल से बाहर निकले कि वो टहलने जा रहे हैं लेकिन इस दौरान उनकी गाड़ी भी वहां पहुंच गई। इसे देखते हुए शिवसेना नेता उन्हें वापस होटल के अंदर ले गए। बता दें कि एनसीपी ने अपने विधायकों को पवई के होटल रेनेसां में ठहराया है। शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी का कहना है कि विधायकों की खरीद-फरोख्त का मौका ना दिया जाए। साथ ही एनसीपी ने अपने साथ 144 से ज्यादा विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए कहा कि अजित पवार के साथ सिर्फ 2-3 विधायक हैं। अचानक सरकार गठन का यह मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है जहां रविवार 11.30 बजे सुनवाई होनी है।दूसरी तरफ महाराष्ट्र में राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदलने के बाद शनिवार शाम शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भी मुंबई के एक होटल में अपने पार्टी विधायकों के साथ बैठक की। गौरतलब है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शनिवार सुबह आठ बजे बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलवाई। एनसीपी प्रमुख शरद पवार के बागी भतीजे अजित पवार ने भी उनके साथ उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली।एनसीपी ने इसके बाद प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि बीजेपी और अजित पवार ने महाराष्ट्र में सरकार भले बना ली है लेकिन वे बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे।


एनआरसी के डर से भाग रहे 'घुसपैठिए'

नई दिल्ली!  गृह मंत्री अमित शाह ने हाल ही में अवैध प्रवासियों की पहचान के लिए पूरे देश में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन लिस्ट बनाने की बात कही है। इसके बाद से ही बांग्लादेश में घुसपैठ की घटनाएं बढ़ गई हैं। बांग्लादेश बॉर्डर पुलिस के मुताबिक, पिछले तीन हफ्तों में 300 से ज्यादा लोगों को सीमा पर घुसपैठ करते पकड़ा गया है। यह सभी लोग पूछताछ में खुद को बांग्लादेशी नागरिक बता रहे हैं। हालांकि, उनके पास नागरिकता साबित करने लायक कोई दस्तावेज नहीं है।


बांग्लादेश के अखबार द डेली स्टार ने बॉर्डर पुलिस के हवाले से कहा कि सीमा पर 1-10 नवंबर के बीच कुल 204 लोग पकड़े गए। इनमें 67 बच्चे, 78 महिलाएं और 69 पुरुष शामिल हैं। गिरफ्तार किए गए घुसपैठियों का कहना है कि वे 4-5 साल पहले बांग्लादेश छोड़कर भारत चले गए। इस दौरान वे कर्नाटक के बेंगलुरू और असम में रहे। हालांकि, असम के बाद देशभर में एनआरसी लिस्ट तैयार कराने के ऐलान के बाद गिरफ्तारी के डर से सभी लोग लौट रहे हैं।


बॉर्डर पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए ज्यादातर लोग बांग्ला बोलने वाले मुस्लिम हैं। वे अपने स्थानीय होने का दावा कर रहे हैं। हालांकि, उनके पास बांग्लादेश में अपने किसी रिश्तेदार का फोन नंबर तक नहीं है। स्थानीय लोगों का कहना है कि बॉर्डर पुलिस ने अब तक जितनों को गिरफ्तार किया है, उनसे कई ज्यादा लोग बांग्लादेश में घुसपैठ कर चुके हैं।


बांग्लादेश को हराकर 'इंडिया' ने रचा इतिहास

बांग्लादेश को हरा टीम इंडिया ने रचा इतिहास, लगातार चौथी बार एक पारी से जीता टेस्ट मैच


कोलकाता! भारत ने बांग्लादेश को कोलकाता में खेले गए ऐतिहासिक डे-नाईट टेस्ट में एक पारी और 46 रनों के बड़े अंतर से हराया और दो मैचों की सीरीज पर 2-0 से कब्ज़ा कर लिया। चौथे दिन बांग्लादेश की दूसरी पारी 195 रनों पर सिमट गई और भारत ने एकतरफा जीत हासिल की। इसी जीत के साथ भारतीय टीम दुनिया की पहली ऐसी टीम बन गई है, जिसने लगातार चार टेस्ट मैच पारी और रन के अंतर से जीता है।


बांग्लादेश ने पहले पारी में सिर्फ 106 रन बनाये थे, जिसके जवाब में भारत ने 347/9 का स्कोर बनाया और 241 रनों की बढ़त हासिल की थी। इशांत शर्मा को मैच में 9 विकेट लेने के लिए मैन ऑफ़ द मैच चुना गया। साथ ही उन्हें सीरीज में 12 विकेट के लिए मैन ऑफ़ द सीरीज भी चुना गया।


तीसरे दिन के स्कोर 152/6 से आगे खेलते हुए बांग्लादेश की दूसरी पारी 41.1 ओवर में 195 रनों पर सिमट गई। मुशफिकुर रहीम ने 74 रनों की पारी खेली, लेकिन उनके अलावा कोई भी बल्लेबाज बड़ा स्कोर नहीं बना सके। अल अमीन होसैन ने 21 रन बनाये और इबादत होसैन खाता खोले बिना आउट हुए। अबू जायेद 2 रन बनाकर नाबाद रहे। चोटिल होने के कारण महमुदुल्लाह दोबारा बल्लेबाजी करने नहीं आये। भारत की तरफ से दूसरी पारी में उमेश यादव ने सबसे ज्यादा पांच विकेट लिए, वहीं इशांत शर्मा ने चार विकेट लिए। गौरतलब है कि यह पारी के अंतर से भारत की लगातार चौथी जीत है। पहले टेस्ट में भारत ने बांग्लादेश को एक पारी और 130 रन से हराया था।


भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका को पुणे टेस्ट में पारी और 137 रन से मात दी थी। इसके बाद रांची टेस्ट में भी अफ्रीकी टीम को एक पारी और 202 रन से हराया था। तीसरे मैच हराया बांग्लादेश को इंदौर में पारी और 130 रन से और चौथी बार कोलकाता टेस्ट में एक पारी और 46 रन से बांग्लादेशी टीम को हराकर इतिहास रचा!


यूपी पुलिस में बने, 299 सब इंस्पेक्टर

मुरादाबाद। 299 सब इंस्पेक्टर रविवार को पासिंग आउट परेड के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस का हिस्सा बन जाएंगे। डा. बीआर अंबेडकर पुलिस अकादमी का मैदान दीक्षांत समारोह के लिए सजाया लिया गया है। परेड की सलामी सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ लेंगे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के आने से सुरक्षा के बड़े बंदोबस्त किए गए हैं।
शनिवार सुबह से ही अकादमी के अधिकारियों के अलावा पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी परेड मैदान पर तैयारियों जुटे रहे। मैदान में एक तरफ परेड का रिहर्सल चल रहा था तो दूसरी तरफ मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर सुरक्षा चाक चौबंद की जा रही थी। पुलिस अकादमी में प्रशिक्षण लेने 302 प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टरों ने भाग लिया था। आउट डोर और इंडोर की परीक्षाओं में 299 में प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टर उत्तीर्ण हुए। इनमें तीन प्रशिक्षु अनुत्तीर्ण हो गए हैं। जिन्हें अतिरिक्त समय दिया गया है। बारह- बारह इंडोर और आउट डोर के मेडल व प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। इसके अलावा एक एक – इंडोर व आउटर के बेस्ट कैडेट और एक मेडल आउट डोर इंडोर में शानदार प्रदर्शन करने वाले सर्वांग सर्वोत्तम कैडर को मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ द्वारा प्रदान किया जाएगा। कार्यक्रम में अकादमी के एडीजी राजीव कृष्ण, आईजी, डीएम, एसएसपी समेत अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।


एक घंटा अकादमी में रहेंगे मुख्यमंत्री
सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ विशेष विमान से सुबह साढ़े नौ बजे भदासना हवाई पट्टी पर पहुंचेंगे। यहां से कार द्वारा सीधे पुलिस अकादमी में आएंगे। कार्यक्रम में दस बजे से ग्यारह बजे तक वह प्रशिक्षुओं के बीच मौजूद रहेंगे। साढ़े ग्यारह बजे वापस लखनऊ विशेष विमान चले जाएंगे।


कार्यक्रम में पहुंचने वालों के लिए तीन गेट, दो पार्किंग
एसपी सिटी अमित कुमार आनंद ने बताया कि कार्यक्रम में शामिल होने आने वाले वीआईपी, जनप्रतिनिधि और उपनिरीक्षक के अभिभावकों के लिए तीन गेट बनाए गए हैं। कांठ रोड वाले गेट से वीआईपी एंट्री रहेगी। आफीसर्स मैस गेट से उप निरीक्षकों के अभिभावक व पत्रकारों को प्रवेश दिया जाएगा, जबकि प्रशासनिक भवन वाले गेट से जनप्रतिनिधियों के लिए एंट्री रखी गई है।


'कुमार अंज' ने बढ़ाया पत्रकारिता का गौरव

गया! पत्रकारिता के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाले पत्रकार अशोक कुमार अंज का नाम हाई रेंज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकाॅर्ड्स में दर्ज किया गया है! पत्रकार अंज गया जिले के वजीरगंज का निवासी हैं, जिन्होंने पर्वत पुरुष दशरथ मांझी और हथौड़ा पुरुष शिवू मिस्त्री के जीवन पर विशेष रूप से लेखन कार्य किया है! उन्होंने माउंटेन मैन दशरथ मांझी के जीवन पर अपनी लेखनी के माध्यम से लोगों को प्रेरित किया! उनके लेखकीय सहयोग से कई राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय फिल्में भी बनी! इनकी उपलब्धि से बिहार हीं नहीं, देश का गौरव बढ़ा है, जिससे गया जिले का मान बढ़ा है!


उनकी लगन और कठोर मेहनत का परिणाम है विश्व रिकाॅर्ड्स, जिससे गया जिले का सीना ऊंचा हुआ है! पत्रकार अंज की ऐतिहासिक उपलब्धि से गया का मान बढ़ा, बिहार का शान बढ़ा और देश की गौरव-गरिमा! कर्मवीर पत्रकार अंज की उपलब्धि प्रेरणाप्रद है ही, आदर्श भी!


वजीरगंज के लाल का नाम विश्व रिकाॅर्ड्स में जुड़ने से लोगों में हर्ष है! वे धुन के पक्के और कठिन परिश्रम के धनी व्यक्ति हैं! वे निरंतर पत्रकारिता में रमे-जमे रहते हैं! उन्होंने अपने कठोर परिश्रम की बदौलत यह मुकाम हासिल किया है. पत्रकार अशोक कुमार अंज ने कहा कि हाई रेंज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में अपना स्थान पा कर बेहद हर्षित हूं! बड़े-बुजुर्गों और सबके आशीर्वाद का परिणाम है यह सफलता! अभावों में जी कर जिंदगी को बुलंद करना उत्साह से भरता रहा!


दलित-पिछड़ा मतदाता चिंतित ?

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़! जारी आंकड़ों पर अध्यन से सामने आया है कि इस बार हरियाणा में कुल एक करोड़ 18 लाख 86 हज़ार 217 मतदाताओं ने मतदान में हिस्सा लिया l इनमें से बीजेपी को सर्वाधिक 45 लाख 69 हज़ार 16 मत मिले l जो कुल मतदान का 37 .8 % है l उसके बाद इंडियन नेशनल कांग्रेस को 35 लाख 15 हज़ार 498 मत मिले जो कुल मतदान का 28 .53 % बनता है l तीसरे स्थान पर रही जेजेपी को कुल 18 लाख 58 हज़ार 33 मत मिले जो मतदान के 15 .8 % होते हैं l यहाँ ये भी बता दें कि इस बार निर्दलीय जीत क़र आये 7 उम्मीदवारों को भी 11 लाख 29 हज़ार 942 मत मिले हैं l इनेलो को कुल 305,486 मत पड़े जो कुल मतों का 2 .48 % व हलोपा को 81,641 और शिरोमणि अकाली दल को 47,336 मत मिले l इन तीनों ही दलों का एक एक विधायक भी विधान सभा पहुंचा l इस लिए इन सब मतों की उपयोगिता विधान सभा में किसी न किसी रूप में जरूर दिखाई देगी l
लेकिन लोकतंत्र का एक पहलू ये भी है कि तकरीबन 15 प्रतिशत मतदाताओं का कोई प्रतिनिधि या दल विधान सभा की दहलीज नहीं देख पाया l ऐसे में इन मतदाताओं की पैरवी भी विधान सभा में होती नहीं दिख रही l क्यूंकि दलितों कि रक्षक कहे जाने वाली बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को प्रदेश में मतदाताओं ने 5 लाख 18 हज़ार 812 मत दिए, जो कुल मतों का 4 .21 % बनता है l दुर्भाग्य से दलितों की इस पार्टी का कोई भी उम्मीदवार चुनावी इम्तिहान पास न क़र पाया l अपने आपको पिछड़ों का मसीहा स्थापित करने के फ़िराक में समाज के तने बने को तोड़ने के आरोपों से घिरे राजकुमार सैनी की पार्टी लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी भी
विधान सभा की दहलीज नहीं देख पाई l खुद सुप्रीमो भी गोहाना से चुनाव हर गए l लोसुपा को कुल एक लाख 54 हज़ार 555 मत मिले जो कुल मतों के 1.25 % हैं l इसी तरह AAP को 59 हज़ार 839 मत मिले l एनसीपी को मात्र 2564 मत मिले, सीपीआई को 3944 व सीपीएम को 8744 मत मिले l यह एक बात और बतादें कि किसी भी उम्मीदवार या पार्टी को पसंद न करने वाले मतदाताओं की संख्या 65 हज़ार 270 है l जो कुल मतदताओं की 0.53% के बराबर है
इस तरह बसपा, लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी, AAP, सीपीआई, सीपीएम व नोटा के निशान पर बटन दबाने वाले मतदाता की संख्या को जोड़ करदें तो यह संख्या कुल 8 लाख 13 हज़ार 728 बनती है l इन सब के वोट को मिला कर कुल मतों का 14.6 % है जो सत्ता में भागीदार बन उप मुख़्यमंत्रीके पद पर विराजे दुष्यंत चौटाला के दल जेजेपी से मात्र 1.2 % कम है l गौरतलब हो कि जेजेपी को कुल मतों का 15 .8 % मत ही मिला है l ऐसे में ये मतदाता खासकर दलित और पिछड़े वर्ग से जुड़े मतदाता चिंतित जरूर हैं पर शिकायत करें भी तो किस से !


पीएफ घोटाले में फंसे पैसे लौटाने का वादा

लखनऊ! उत्तर प्रदेश में भविष्य निधि घोटाला मामले में उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (UPPCL) कर्मचारियों के फंसे पैसों को लौटाने का सरकार ने लिखित वादा किया है! प्रमुख उर्जा सचिव अरविंद कुमार ने भरोसा दिलाया है कि अगर कानूनी प्रक्रिया के तहत डीएचएफएल से पैसा वापस नहीं मिलता है तो सरकार का पॉवर कॉर्पोरेशन कर्मचारियों के पीएफ के पैसों का भुगतान करेगी! साथ में यह भी कहा कि अगर पॉवर कॉर्पोरेशन के पास पैसे की कमी होगी तो सरकार की तरफ से ट्रस्ट को लोन दिया जाएगा, जिससे कर्माचारियों का पैसा वापस किया जा सके!


बता दें इससे पहले भविष्य निधि घोटाले की जांच कर रही आर्थिक अपराध शाखा ने उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (UPPCL) के 3 अधिकारियों को सरकारी गवाह बनाने का फैसला किया था! अकाउंट विभाग के इन तीन अधिकारियों का बयान इस मामले के आरोपी और तत्कालीन एमडी एपी मिश्रा के खिलाफ अहम साबित हो सकता है!


आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने इस मामले में अकाउंट विभाग में तैनात महेश चंद्र, कमल कुमार श्रीवास्तव और बलविंदर सिंह को गवाह बनाया है! EOW ने इन तीनों कर्मचारियों के बयान मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराए जा चुके हैं! सूत्रों के मुताबिक एपी मिश्रा ने भविष्य निधि के पैसे को नियम के विपरीत निवेश करने के लिए इन अधिकारियों से गलत नोटिंग करवाई थी! इस मामले की जांच कर रही एजेंसियों ने घोटाले में शामिल शेयर ब्रोकर कंपनियों के अधिकारियों से भी पूछताछ की थी!


बाढ़ और भूस्खलन से 'केन्या' में 34 की मौत

केन्या! पश्चिमी केन्या में लगातार हो रही भारी बारिश के बाद आई बाढ़ और भूस्खलन की वजह से 34 लोगों की मौत की हो गई! केन्या के गृह मंत्री फ्रेड मातिआंगी के मुताबिक पोकोट सेंट्रल जिले के करीब तकमाल इलाके में हुए भूस्खलन की वजह से 17 लोगों की मौत हो गई! वहीं दक्षिणी पोकोट में परूआ और तपाच गांवों में भूस्खलन की वजह से 12 लोग मारे गए! पश्चिमी पोकोट काउंटी के कमिश्नर ओकेलो के मुताबिक दो नदियों में बाढ़ गई थी जिसके बाद हालात बेकाबू हो गए! कीटाले और लोडवार के बीच एक कार भी बाढ़ की चपेट में आ गई, जिसके बाद 5 अन्य लोगों की भी मौत हो गई! पूर्वी अफ्रीका में सामान्य दिनों से अधिक बारिश होने की वजह से बाढ़ के हालात हैं! इस बाढ़ से पूर्वी अफ्रीका के 10 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं! करोड़ों की संपत्तियों को नुकसान पहुंचा है! बारिश की वजह से होने वाली घटनाओं में बीते एक महीने के भीतर अब तक 72 लोगों की मौत हो गई है!


मौमस वैज्ञानिकों का अनुमान है कि सोमालिया, दक्षिणी सूडान और केन्या के कई हिस्सों में 4 से 6 सप्ताह लगातार बारिश होने की आशंका जताई जा रही है! नवंबर में होने वाली यह बारिश लोगों के लिए परेशानी का सबब बनकर आई है! सामान्य दिनों में इस महीने में बारिश इतनी भीषण नहीं होती है! इंटरनेशनल रेसक्यू कमेटी का कहना है कि इन क्षेत्रों में पहले सूखा पड़ा था, जिससे लोग प्रभावित हुए थे! अब सोमालिया, सूडान और केन्या में सामान्य से कहीं ज्यादा बारिश हो रही है! इस साल हो रही बारिश इन जगहों के लिए अप्रत्याशित है! विशेषज्ञों का दावा है कि जलवायु परिवर्तन का बदलता स्वरूप प्रभावित कर रहा है. केन्या की 100 फीसदी कृषि बारिश पर निर्भर है!


फ्लैट दिलाने के नाम पर ठगे 22 लाख

शिमला! राजधानी में फ्लैट दिलाने के नाम पर महिला से लाखों रुपये की ठगी हुई है। पुलिस को दी शिकायत में महिला ने बताया कि शहर में उसने एक फ्लैट खरीदा था। इसके बदले उसने फ्लैट मालिक को 22 लाख रुपये का भुगतान किया। लेकिन अब आरोपी फ्लैट को उसके नाम रजिस्ट्रर नहीं करवा रहा। पीड़ित महिला की शिकायत पर छोटा शिमला पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।
पुलिस के मुताबिक आरोपी जितेंद्र सिंह ने फ्लैट दिलाने के नाम पर महिला से करीब 22 लाख रुपये हड़प लिए हैं। पीड़ित महिला मौजूदा समय में छोटा शिमला क्षेत्र में रहती है और गृहिणी हैं। पुलिस को दी शिकायत में मोनिका ने बताया कि इसी साल महिला की एक व्यक्ति के साथ फ्लैट दिलाने की डील हुई। इसके बाद महिला ने अलग-अलग तिथियों में आरोपी को करीब 22 लाख दिए थे।


लेकिन आरोपी मालिक फ्लैट का पंजीकरण उसके नाम से नहीं कर रहा है और लाखों रुपये  हड़प लिए हैं। इस बीच महिला फ्लैट का पंजीकरण करने के लिए आरोपी से बार-बार बात करती रही, लेकिन आरोपी हर बार बात को टालता रहा। इसी बीच महिला ने इसकी शिकायत छोटा शिमला पुलिस को दी। इधर, डीएसपी सिटी दिनेश शर्मा ने कहा कि महिला से धोखाधड़ी का मामला पेश आया है। मामले की तफ्तीश जारी है।


मानहानि केस में राहुल की अपील खारिज

मुंबई! अदालत ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी की उस अपील को खारिज दी है जिसमें राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ(आरएसएस) के एक कार्यकर्ता की ओर से उनके खिलाफ दाखिल मानहानि से संबंधित एक केस को खारिज करने की कोर्ट से अपील की गई थी!


दरअसल सीताराम येचुरी और राहुल गांधी पर आरोप है कि उन्होंने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या को कथित तौर पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जोड़ दिया था! इस बयान के खिलाफ संघ कार्यकर्ता और वकील ध्रुतिमान जोशी ने एक शिकायत दायर की थी, जिसमें सीताराम येचुरी और राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा चलाने की अपील की गई थी! इस मामले में अगली सुनवाई अब 6 जनवरी को होगी! कोर्ट ने सीताराम येचुरी और राहुल गांधी की अलग-अलग याचिकाओं को संयुक्त कर दिया है, जसमें राहुल गांधी ने कहा था कि उनके और सीताराम येचुरी के खिलाफ मामलों को जोड़ना गलत है!


गौरतलब है कि सीताराम येचुरी और राहुल गांधी अलग-अलग राजनीतिक पार्टियों के व्यक्ति हैं! दोनों की विचारधराएं अलग-अलग हैं! सीताराम येचुरी ने इसी का जिक्र करते हुए मानहानि संबंधित याचिका को अदालत से खारिज करने का आरोप लगाया था! मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट पीआई मोकाशी ने राहुल गांधी और सीताराम येचुरी की अर्जी खारिज कर दी!


गौरतलब है कि जुलाई में सीताराम येचुरी और राहुल गांधी ने मानहानि आरोप को लेकर खुद को निर्दोष बताया था जिसके बाद उन्हें जमानत मिल गई थी! पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या सितंबर 2017 में हुई थी! उन्हें  गोली मारी गई थी!ध्रुतिमान जोशी का दावा है कि गौरी लंकेश की मौत के 24 घंटे के भीतर ही राहुल गांधी ने कहा था कि जो कोई भी भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) की विचारधारा, आरएसएस की विचारधारा के खिलाफ बोलता है, उस पर दबाव बनाया जाता है, पीटा जाता है, हमला किया जाता है और उसकी हत्या तक कर दी जाती है! शिकायत में यह भी कहा गया है कि सीताराम येचुरी ने भी कहा था कि वह आरएसएस की विचारधारा और आरएसएस के लोग थे, जिन्होंने लंकेश की हत्या की जिन्हें दक्षिणपंथी राजनीति की कटु आलोचक के तौर पर जाना जाता था!


फूड-सप्लाई इंस्पेक्टर रंगेहाथ किया गिरफ्तार

राणा ओबरॉय


अंबाला! सीबीआई ने हरियाणा के फूड एंड सप्लाई इंस्पेक्टर राजेश बंसल को डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। सूत्रों के अनुसार, राजेश बंसल ने अंबाला के अनाज गोदाम को रेवाड़ी से कुरुक्षेत्र में शिफ्ट करवाने के एवज में ढाई लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी। वीरवार को जब वह चंडीगढ़ के सेक्टर-7 मार्केट में पहली किस्त के रूप में डेढ़ लाख रुपये लेने पहुंचा तो सीबीआई ने उसे रंगेहाथ दबोच लिया।


सूत्रों के अनुसार, सीबीआई को शिकायत मिली थी कि हरियाणा के फूड एंड सप्लाई इंस्पेक्टर राजेश बंसल अंबाला के अनाज गोदाम को रेवाड़ी से कुरुक्षेत्र में शिफ्ट कराने के एवज में ढाई लाख रुपये रिश्वत की मांग रहे हैं। शिकायत पर सीबीआई ने चंडीगढ़ के सेक्टर-7 मार्केट में ट्रैप लगाया और जब राजेश बंसल रिश्वत के डेढ़ लाख रुपये लेने लगा तो सीबीआई की टीम ने उसे रंगेहाथ दबोच लिया।



 
अंबाला का अनाज गोदाम काफी समय पहले रेवाड़ी में अलॉट हुआ था, जो अंबाला से काफी दूरी पर स्थित है। सूत्रों के अनुसार, गोदाम से माल ढुलाई का ठेका लेने वाले ट्रांसपोर्ट संचालक ने इस गोदाम को कुरुक्षेत्र में शिफ्ट कराने की एवज में हरियाणा के फूड एंड सप्लाई इंस्पेक्टर राजेश बंसल से ढाई लाख रुपये में सौदा तय किया। पहली किस्त के रूप में डेढ़ लाख रुपये देने की बात तय हुई जबकि एक लाख उसे बाद में देने थे।


और भी सामने आ सकते हैं नाम
हरियाणा के फूड एंड सप्लाई इंस्पेक्टर राजेश बंसल का दफ्तर सेक्टर-17 में है और वह पंचकूला के सेक्टर-15 में रहता है। सीबीआई टीम देर रात तक राजेश से पूछताछ करती रही और उसके कागजातों को खंगालती रही ताकि मामले में और भी सुराग मिल सके। साथ ही सीबीआई ने इस दौरान राजेश से कई सवाल जवाब भी किए गए। सूत्रों का मानना है कि इस मामले में और भी अफसरों के नाम सामने आ सकते हैं।


एक परिवार के 4 लोगों ने की खुदकुशी

त्रिपुरा। त्रिपुरा में पश्चिमी त्रिपुरा जिले के साधु बैरागी इलाके में एक बेहद दर्दनाक वारदात सामने आई है, जहां एक ही परिवार के चार लोगों ने कथित तौर पर खुदकुशी कर ली। मृतकों में दपंति और बच्चे भी शामिल हैं। दंपति का शव घर के बाहर मौजूद पेड़ पर लटका हुआ मिला। मामले की शुरुआती जांच में खुदकुशी का कारण आर्थिक परेशानी बताई जा रही है।


पहले बच्चे को दिया जहर फिर की खुदकुशी


एएसपी अमिताभ पाउल के अनुसार मृतकों में 32 साल के परेश तांती, उनकी पत्नी संध्या तांती, बेटा विशाल तांती और बेटी रुपाली तांती है। उन्होंने बताया कि पहले दंपति ने अपने बच्चों को जहर देकर मार दिया। इसके बाद दंपति ने अपने छप्पर के बाहर लगे एक पेड़ पर लटककर जान दे दी। पुलिस के अनुसार अभी तक खुदकुशी का कारण साफ नहीं हो सका है। लेकिन स्थानीय लोगों का दावा है कि इस सामूहिक खुदकुशी के पीछे गरीबी जिम्मेदार है।



लाठी-डंडों से पीट-पीटकर साधु की हत्या

चूरू! मामूली विवाद में गढाणी जोहड़ी के एक मंदिर पुजारी को तीन युवकों ने लाठी- डंडों से पीट पीटकर मार डाला। पुलिस ने दो नामजद सहित तीन युवकों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार गांव गढाणी जोहड़ी के बालाजी मंदिर में साधू हंसपुरी रहते थे। वो मंदिर में पूजा पाठ करते थे। गुरुवार को दिन में उनका दो लड़कों से किसी बात पर झगड़ा हो गया। हालांकि थोड़ी कहासुनी के बाद मामला शांत हो गया और दोनों लड़के वहां से चले गए। 
पुलिस के अनुसार रात में 10 बजे के करीब लड़के फिर वहां पहुंचे। इसके बाद इन दोनों लड़कों के साथ एक अपरिचित लड़का भी था। तीनों की बाबा से कहासुनी होने लगी। इसी बीच इन तीनों ने हाथ में पकड़े लाठी व डंडों से साधू को पीटना शुरू कर दिया। तीनों साधू को तब तक पीटते रहे, जब तक वो अचेत होकर जमीन पर नहीं गिर पड़ा। 


इसी बीच साधू की चीख पुकार सुनकर आसपास रहने वाले लोग मंदिर में पहुंचे। जहां उन लोगों ने साधू को लहूलुहान पाया। उन लोगों ने साधू को पीएचसी पहुंचाया। जहां से साधू को एक निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों से घटना की जानकारी जुटाई और साधु के शव का पोस्टमार्टम कराया।  वहीं, हिसार के डेरा खरड़ मठ के महंत जगतपुरी के बयान पर बहल के दो नामजद एवं अन्य युवकों के खिलाफ हत्या सहित अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। जगतपुरी ने पुलिस को बताया कि हंस पुरी उनका गुरूभाई था और बहल के बालाजी मंदिर में रहता था। उनकी शिकायत पर पुलिस ने बहल के बबलू, सुनील तथा एक अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया। जांच अधिकारी राजबीर ने बताया कि पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।


डेढ साल पहले आया था हंसपुरी आश्रम में 
राजस्थान की सीमा से सटे बहल कस्बे में एक कच्चा रास्ता राजस्थान के चुरू जिले के भोजाण गांव को जाता है। इसी रास्ते पर बालाजी का मंदिर बना हुआ है और इसी के पास दो कमरे बने हुए है। जिसमें हंसपुरी रहता था। वह पिछले करीब डेढ़ साल से यहां रह रहा था। जिसके पास लोगों का आना जाना था। लोगों ने बताया कि इससे पहले साधू के साथ किसी के विवाद की बात नहीं सुनी और अचानक हुई इस वारदात से लोग सन्न है।
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि साधू की आंख, छाती व कंधों पर चोट के निशान है। जिससे यह लगता है कि आरोपियों ने साधू को बेरहमी से पीटा है। घटना की जानकारी पर पहुंचे ढाणा जोगी आश्रम के महंत बाबा केशवनाथ तथा बहल अलख आश्रम के विकास गिरी ने घटना को निंदनीय बताया।


विजेता प्रतिभागियों को किया सम्मानित

अविनाश श्रीवास्तव 


गाजियाबाद! अंतर्राष्ट्रीय हिंदू महा सेना के तत्वाधान में निवाड़ी में प्रतियोगिता पुरस्कार समारोह का कार्यक्रम आयोजित किया गया! कार्यक्रम में 83 छात्रा-छात्रों ने भाग लिया! जिसमें कई स्कूल के छात्र-छात्राओं ने परीक्षा में हिस्सा लिया! परीक्षा परिणाम में प्रथम पुरस्कार निवाड़ी पब्लिक स्कूल की माहि त्यागी ने प्राप्त किया! द्रतिया पुरस्कार एसपीजी कॉलेज मचरा की प्रियंका बख्शी ने प्राप्त किया! तृतीय पुरस्कार भव्य पांडे ने प्राप्त किया! पुरस्कार वितरण समारोह में जिन छात्रों ने अंक प्राप्त किए हैं, उन्हें सम्मानित किया गया! कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि वरिष्ठ भाजपा नेता नितिन त्यागी उपस्थित रहे तथा अध्यक्षता सतेंद्र त्यागी ने की, संचालन नगर अध्यक्ष अकाश ने किया! कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सुंदरलाल फौजी, मदनलाल फौजी, निवाड़ी पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य अजय त्यागी, ओम सन पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य सोनम त्यागी, हिंदू नारी शक्ति की अध्यक्ष अनू वर्मा आदि उपस्थित रहे।


दो नाबालिग बहनो के साथ सामूहिक दुष्कर्म

बरेली! बहेड़ी थाना क्षेत्र में दो नाबालिग बहनों के साथ कथित रूप से गैंगरेप का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस संबंध में छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि दो अन्य आरोपी फरार हैं। पुलिस ने इस मामले में पांच नामजद लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू की थी, हालांकि बाद में तीन नाम और सामने आए। बरेली के पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) संसार सिंह ने शनिवार को बताया, “विवेचना में तीन अन्य लोगों के नाम भी सामने आए, जिसके बाद आरोपियों की संख्या आठ हो गई!


छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है!” पीड़िता के परिवार वालों ने यह आरोप भी लगाया है कि आरोपियों ने कथित रूप से गैंगरेप करने के दौरान पीड़िता का वीडियो बनाया और उसे वायरल कर दिया! पुलिस ने बताया कि वारदात में इस्तेमाल किया गया तमंचा और मोबाइल बरामद कर लिया गया है! इस मामले में दो आरोपी फरार है, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है!


उत्तर-प्रदेश पुलिस ने मनाया झंडा दिवस

कुशीनगर! पुलिस झंडा दिवस के अवसर पर रिजर्व पुलिस लाइन कुशीनगर में पुलिस अधीक्षक कुशीनगर विनोद कुमार मिश्र के द्वारा पुलिस झंडा ध्वाजारोहण कर पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश के संदेश को पढ़कर सुनाया गया तथा संदेश के अनुकरण हेतु सभी पुलिसकर्मियों को प्रेरित किया गया। इसी तरह जनपद के प्रत्येक थाने/चौकी/कार्यालय पर भी झंडा दिवस मनाया गया।


एनसीपी ने राजभवन में सौंपी, एमएलए की लिस्ट

मुंबई! रविवार को सियासी गहमागहमी और बढ़ गई है। एनसीपी ने जहां एक ओर पार्टी के 51 विधायकों के समर्थन का दावा किया है, वहीं दूसरी ओर खबर है कि शरद पवार की तरफ से भतीजे अजित को मनाने की कोशिश हो रही है। एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने अजित पवार से मुलाकात की है।


जयंत पाटील ने बताया कि विधायकों की लिस्ट में अजित पवार का नाम भी शामिल है, हालांकि उस पर अजित पवार का हस्ताक्षर नहीं है! जयंत पाटील ने कहा कि वे अजित पवार से मुलाकात कर उनको मनाने की कोशिश करेंगे!


एनसीपी की तरफ से अजित पवार को मनाने की कोशिशें तेज हो गई हैं! सूत्रों के मुताबिक खुद एनसीपी चीफ शरद पवार और उनकी बेटी सुप्रिया सुले ने भी अजित को मनाने की कोशिश की है! दोनों ने अजित के भाई श्रीनिवास पवार से इस मुद्दे पर बात की है! राजभवन से निकलने के बाद पाटिल अजित पवार को मनाने उनके घर पहुंचे हैं! उन्होंने कहा, 'सारे विधायक शरद पवार के पास वापस लौट आए हैं और अकेले अजित पवार बाहर रहें हम यह नहीं चाहते!'
बता दें, शनिवार शाम को हुई बैठक में अजित पवार पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए पार्टी ने उन्हें विधायक दल के नेता पद से हटा दिया! एनसीपी ने उनकी जगह पर प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटील को विधायक दल का नया नेता चुना! पार्टी की आयोजित बैठक में एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और वरिष्ठ नेताओं के साथ विधायक शामिल हुए! उन्हें विधायकों को व्हिप जारी करने के साथ ही अन्य अधिकार दिए गए थे, जो तत्काल प्रभाव से वापस ले लिए गए!


'भागमती' का रीमेक बनाएंगे 'अक्षय'

बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार सुपरहिट तेलुगू फिल्म 'भागमती का रीमेक बनाने जा रहे हैं।
मुंबई! बॉलीवुड में चर्चा है कि अक्षय कुमार सुपरहिट तेलुगू फिल्म भागमती का हिंदी रीमेक बनाने जा रहे हैं। अक्षय, विक्रम मल्होत्रा के साथ मिलकर फि़ल्म का सह-निर्माण करेंगे। कहा जा रहा है कि फि़ल्म में लीड रोल्स के लिए भूमि पेडनेकर और आर माधवन को फाइनल कर लिया गया है। फि़ल्म का निर्देशन जी अशोक ही करेंगे, जिन्होंने मूल फि़ल्म को निर्देशित किया था। अक्षय के फि़ल्म में कैमियो करने की भी चर्चा है।
गौरतलब है कि वर्ष 2018 में प्रदर्शित भागमती हॉरर सस्पेंस थ्रिलर फि़ल्म है, जिसमें अनुष्का शेट्टी ने फीमेल लीड रोल निभाया था। यह फि़ल्म बॉक्स ऑफि़स पर हिट रही थी। फि़ल्म में अनुष्का शेट्टी का किरदार चंचला नाम की आईएएस अधिकारी का था, जो एक आत्मा के शिकंजे में फंस जाती है। कहानी में ऐसे ट्विस्ट आते हैं, जिन्हें जानकर दर्शक हैरान रह जाएंगे।


टाइगर में 'बागी 3' की शूटिंग शुरू की

मुंबई! फिल्म वॉर की सफलता के बाद टाइगर श्रॉफ ने अब अपनी अगली फिल्म बागी 3 की शूटिंग शुरू कर दी है! उन्होंने आज अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर दो तस्वीरें शेयर की! तस्वीर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, बागी 3 एक्शन डे 2.
टाइगर श्रॉफ ने जो तस्वीरें शेयर की हैं, उसमें वो दमदार अंदाज़ में नजऱ आ रहे हैं! स्लीवलेस शर्ट और काले रंग की पैंट के साथ उन्होंने आंखों पर चश्मा भी लगाया हुआ है! तस्वीर देखकर फैंस के बीच फिल्म को लेकर उत्सुकता और भी बढ़ गई होगी! इस फिल्म के एक्शन सीन्स की शूटिंग सर्बिया में चल रही है!
आपको बता दें कि हाल ही में आई फिल्म वॉर में टाइगर श्रॉफ, ऋतिक रोशन के साथ ज़बरदस्त एक्शन सीन्स करते नजऱ आए थे! अब एक बार फिर वो बागी 3 में अपने एक्शन से फैंस को हैरान करने के लिए तैयार हैं!
गौरतलब है कि बागी 3 बागी सीरीज़ की तीसरी फिल्म है! इससे पहले साल 2016 में बागी और साल 2018 में बागी 2 रिलीज़ हो चुकी है! दोनों ही फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर बेहद शानदार कारोबार किया है!
बागी 3 में एक बार फिर टाइगर के साथ श्रद्धा कपूर नजऱ आएंगीी! इसके पहले पार्ट में भी श्रद्धा और टाइगर की जोड़ी ही नजऱ आई थी! हालांकि बागी 2 में दिशा पाटनी ने काम किया था! बागी 3 का निर्देशन अहमद खान कर रहे हैं! फिल्म में रितेश देशमुख भी नजऱ आएंगे! ये फिल्म अगले साल मार्च में रिलीज़ होगी!


सिद्धार्थ को डेट कर चुकी है 'शेफाली'

मुंबई! शेफाली जरीवाला इन दिनों बिग बॉस 13 में अपना जलवा दिखा रही हैं। वह गेम को अपनी पूरी स्ट्रैटजी के साथ खेल रही हैं और इस समय सबसे चर्चित कंटेस्टेंट्स में से एक हैं। इंस्टाग्राम पर वह काफी पॉपुलर हैं। शेफाली ने बिग बॉस 13 में वाइल्ड कार्ड के रूप में एंट्री ली थी और काफी कम समय में अपनी अलग जगह बना ली है। शेफाली साल 2002 में म्यूजिक विडियो कांटा लगा में नजर आई थीं। उस समय इस विडियो ने काफी सनसनी मचा दी थी। इस गाने के बाद शेफाली को घर-घर में पहचाना जाने लगा। शेफाली ने साल 2005 में म्यूजिक कंपोजर से शादी की थी लेकिन उनकी शादी 2009 में टूट गई।


इसके बाद शेफाली ने टीवी ऐक्टर सिद्धार्थ शुक्ला को डेट किया। सिद्धार्थ भी बिग बॉस 13 के चर्चित चेहरे हैं। हालांकि, बाद में दोनों का रिश्ता खत्म हो गया। इसके बाद शेफाली ने टीवी ऐक्टर पराग त्यागी तो डेट किया और 2014 में उनसे शादी कर ली। लंबे समय बाद शेफाली फिर से सक्रिय रूप से पर्दे पर नजर आ रही हैं। इतने दिनों बाद उन्हें देखकर फैन्स काफी खुश हैं। शेफाली जरीवाला इंस्टाग्राम पर काफी ऐक्टिव हैं। वह अपनी खूबसूरत तस्वीरें शेयर करती रहती हैं। बिग बॉस में आने के बाद शेफाली की लोकप्रियता एक बार फिर से काफी बढ़ गई है।


बिहार चुनाव-प्रचार में की नेता की पिटाई

जमशेदपुर! चुनाव प्रचार अभियान के दौरान पूर्वी जमशेदपुर के निर्दलीय प्रत्याशी सरयू राय को शनिवार को बर्मामाइंस स्थित रघुवर नगर में विरोध का सामना करना पड़ा! गाड़ी से उतर कर सरयू राय जब प्रचार करने जा रहे थे, तो वहां मौजूद लोगों ने उन्हें रोका! इसके बाद रघुवर दास और रामबाबू तिवारी के समर्थन में नारेबाजी शुरू कर दी!
सरयू राय वहां से आगे बढ़े और लोगों से मिले! इसके बाद भीड़ उनके पीछे-पीछे भक्तिनगर तक पहुंच गयी! इस बीच किसी ने सरयू राय के साथ चल रहे समर्थकों की ओर पत्थर फेंक दियाा! इससे पिंटू नामक युवक को चोट लग गयी! इसके बाद वहां भगदड़ मच गयी! थोड़ी देर में सरयू राय वहां से निकल गये, इसके बाद वहां काफी संख्या में साकची की ओर से युवक पहुंचे और उन्होंने सरयू राय का विरोध करनेवालों की पिटाई शुरू कर दीी!
घटना की जानकारी मिलने पर बर्मामाइंस की पुलिस पहुंची! बाद में पुलिस लाइन में मौजूद अतिरिक्त पुलिस बल को रघुवर नगर व भक्तिनगर भेजा गयाा! बर्मामाइंस थाना प्रभारी विनोदानंद ने बताया कि इस संबंध में किसी ने भी थाने में लिखित शिकायत नहीं की! वहीं, सोशल मीडिया पर रामबाबू समर्थकों द्वारा जारी पोस्ट के अनुसार, सरयू राय के साथ आये लोगों ने मारपीट की! पत्थरों से मारा! हेलमेट से मारा! दूसरी तरफ सरयू राय समर्थकों ने कहा कि वे लोग वहां वोट मांगने गये थे, मारपीट करना उनलागों के स्वभाव में नहीं है!


नक्सलियों ने भाजपा नेता सहित 2 की हत्या की

डाल्टनगंज। बिहार के सीमावर्ती और नक्सल प्रभावित पलामू जिले के पिपरा थाना क्षेत्र के पिपरा बाजार में नक्सलियों ने आज शाम अत्याधुनिक एके47 राइफल से फायरिंग कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रखंड अध्यक्ष सह प्रमुख पति मोहन गुप्ता सहित दो लोगों की हत्या कर दी तथा गोली लगने से दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए।


पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि आज देर शाम पिपरा बाजार में मोहन गुप्ता एक फल की दुकान पर खड़े थे। इसी दौरान बाइक सवार नक्सलियों ने उन्हें एके47 से फायरिंग की। बाद में दहशत फैलाने के उद्देश्य से भी फायरिंग की, जिससे आस-पास खड़े लोगों को भी गोली लगी। इस गोलीबारी में फल व्यवासी सूरज सोनी, नीरज सोनी और गोलु कुमार को भी गोली लगी।सूत्रों ने बताया कि गोली लगने से मौके पर ही मोहन गुप्ता की मौत हो गयी जबकि फल व्यवसायी सूरज सोनी की इलाज के लिए लाने के दौरान मौत हो गयी। इस घटना में गंभीर गोलू कुमार और राज कुमार सोनी की स्थिति चिंताजनक बतायी गयी है. उन्हें इलाज के लिए मेदिनीनगर स्थित पलामू मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) में भर्ती कराया गया है।


'वन्यजीव' सुरक्षा का विश्लेषण

जब-तब वन्य जीवों के रिहायशी क्षेत्रों में दस्तक देने की खबरें आ रही हैं। कभी हाथी आ रहे हैं तो कभी बाघ जैसे खूंखार वन्यजीव भी इन क्षेत्रों में आमद दे रहे हैं। शिकार की घटनाओं की जानकारी भी मिल रही है। समाचार माध्यमों के अलावा सिवनी में घटित होने वाली शिकार की घटनाओं को मोबाईल में भी कैद किया जा रहा है और उसको वायरल भी किया जा रहा है लेकिन संबंधित विभाग की आँखों पर मानो पट्टी ही बंधी हुई है।


समाचार माध्यमों में यदा-कदा शिकारियों की धड़-पकड़ की तस्वीरें भी दिख जाया करती हैं लेकिन अनुपातिक दृष्टि से देखा जाये तो वन विभाग की अपेक्षा शिकारी ज्यादा सक्रिय हैं और वे रात के अंधेरे में ही नहीं बल्कि दिन के उजाले में भी वन्य जीवों के शिकार करने से नहीं चूकते हैं। वन विभाग सिर्फ कागजी कार्यवाही में ही शायद उलझा हुआ है जो उसे मैदानी घटनाक्रम की जानकारी नहीं है। वन्य क्षेत्रों में शिकारी किस तरह से अपनी कारगुजारियां कर रहे हैं यदि इसकी जानकारी ही वन विभाग को नहीं होगी तो वे इससे निपटने के लिये रणनीति कैसे बनायेंगे।


वन विभाग की गश्ती पर भी सवालिया निशान उठना लाजिमी हैं क्योंकि वन विभाग के गश्ती दल को कभी भी शिकारियों की टोह तो नहीं मिलती है बल्कि उन्हें शिकार करने के लिये बिछाये गये करंटयुक्त तार भी नहीं दिखायी देते हैं जिसकी जद में आकर वन्य जीव की मौत हो जाती है। आखिर इस तरह की गश्ती के क्या मायने रह जाते हैं जब न तो शिकार की घटनाओं पर अंकुश लग पा रहा हो और न ही लकड़ी की अवैध तस्करी पर ही लगाम लगायी जा सक रही हो।


सिवनी के जंगलों में पाये जाने वाले हिरण जैसे वन्य जीव क्या वन विभाग की संपत्ति नहीं हैं? वन विभाग आखिर इस बात पर चिंतन क्यों नहीं करता है कि वन्य जीव जंगल से बाहर की ओर रूख करने पर क्यों मजबूर हो रहे हैं जो वे आसानी से शिकार बन जाते हैं। वन विभाग से अपेक्षा ही की जा सकती है कि वह अपनी कार्यप्रणाली पर ईमानदारी के साथ विचार करे ताकि वन्य जीव उनके खुद के ही क्षेत्र में विचरण करें और उससे बाहर निकलने के लिये वे बाध्य न हों, इसके साथ ही शिकार जैसी घटनाओं पर भी अंकुश लगाये जाने के लिये गंभीरता के साथ मंथन किया जाना चाहिये।


डायट पिल्स को बंद कर देना चाहिए

गर्ल्स और यंग फीमेल्स के बीच डायट पिल्स और लैक्सेटिव्स पिल्स (जुलाब की टैबलेट्स) काफी लोकप्रिय हैं। इसका कारण है कि वे अपने खाए हुए खाने को बॉडी में स्टोर नहीं होने देना चाहतीं ताकि उनका वेट कंट्रोल में रहे और वे स्लिम बनी रहें। लेकिन हालह ही हुई एक नई स्टडी में यह बात सामने आई है कि जो गर्ल्स इस तरह की डायट पिल्स का इस्तेमाल करती हैं, उनमें इटिंग डिसऑर्डर होने के चांस बहुत अधिक होते हैं। 


इस स्टडी के लिए पूरे 15 साल रिसर्च कार्य जारी रहा और इसमें 10 हजार गर्ल्स और फीमेल्स को शामिल किया गया। शोध में शामिल फीमेल्स की उम्र 14 से 36 साल के बीच रही। इन सभी महिलाओं में से किसी को भी ये पिल्स लेने से पहले इटिंग डिसऑर्डर की समस्या नहीं थी। इन महिलाओं में से डायटिंग पिल इस्तेमाल करनेवाली 1.8 प्रतिशत महिलाओं का कहना है कि डायट पिल्स लेना शुरू करने के 1 से 3 साल के भीतर उन्हें पहली बार इटिंग डिसऑर्डर की दिक्कत हुई। वहीं, लैक्सेटिव्स यूज करनेवाली 4.2 प्रतिशत महिलाओं को पहली बार इटिंग डिसऑर्डर की समस्या हुई।
यह स्टडी 21 नवंबर को अमेरिकन जर्नल ऑफ पब्लिक हेल्थ में ऑनलाइन पब्लिश की गई। रिसर्चर्स का कहना है कि वेट कंट्रोल के लिए फीमेल्स को इन दोनों ही तरह की पिल्स लेने से बचना चाहिए। क्योंकि लगातार इनके उपयोग और साइड इफेक्ट के कारण हाई ब्लड प्रेशर, लीवर डैमेज और किडनी फेल्यॉर जैसी घातक बीमारियां हो सकती हैं। वेट लूज करने के लिए हेल्दी टिप्स अपनाना ही ठीक है। क्योंकि हेल्दी बॉडी को पोषण की जरूरत होती है। फिजिकली ऐक्टिव रहकर बॉडी वेट को कंट्रोल करना सबसे सुरक्षित तरीका है।


बेहद स्वास्थ्यवर्धक है 'अनार'

दिन की शुरुआत करने का सबसे अच्छा तरीका क्या है? कुछ लोगों के लिए वर्काउट, कुछ के लिए मेडिटेशन और ऐसा ही बहुत कुछ। लेकिन हेल्दी ब्रेकफस्ट और ग्लास भर जूस दिन की बेहतरीन शुरुआत दे सकता है।
ओवरऑल हेल्थ सुधरने के साथ बढ़ती है लिबिडो
क्या आपको पता है कि एक ग्लास अनार का जूस आपकी सेक्शुअल ड्राइव बढ़ा सकता है! जी हां यह सच है और कुछ स्टडीज की मानें तो अनार का जूस पीने वालों की ओवरऑल हेल्थ और लिबिडो में सुधार देखा गया।
पहले भी होता था इस्तेमाल
पुराने समय में इसको नैचर ऐफ्रोडिसिऐक (प्राकृतिक रूप से सेक्स ड्राइव बढ़ाने वाला) के रूप में इस्तेमाल किया जाता था। एक ग्लास अनार का जूस न सिर्फ आपकी सेक्स करने की इच्छा बढ़ाता है बल्कि आपकी याद्दाश्त और मूड भी अच्छा करता है।
सुपरफूड
अनार में ऐंटीऑक्सिडेंट्स, पॉलिफिनॉल्स, विटमिन सी होते हैं साथ ही इसमें ऐंटी-इनफ्लेमेटरी और ऐंटी बैक्टीरियल गुण भी होते हैं। इन सारे हेल्थ बेनिफिट्स के अलावा इसे सुपरफूड भी माना जाता है।
क्या कहती है रिसर्च
एडिनबर्ग की क्वीन मार्गरेट यूनिवर्सिटी की रिसर्च के मुताबिक, जिन लोगों ने इस जूस को डेली पिया उनमें टेस्टोस्टेरॉन का लेवल बढ़ा पाया गया। यह स्टडी 58 लोगों पर किया गया इसमें दोनों जेंडर के लोग थे, इनकी उम्र 21 से 64 साल थी।
अच्छी होती है आवाज
इन सबके अलावा यह भी देखा गया कि अगर इसे रोजाना पिया जाए तो पुरुषों की आवाज अच्छी होती है साथ ही फेशल हेयर की ग्रोथ भी बढ़ती है। वहीं महिलाओं में सेक्स ड्राइव बढऩे के अलावा इससे हड्डियां और मसल्स मजबूत होती हैं। हालांकि अगर आप ब्लड प्रेशर के मरीज हों तो डॉक्टर से पूछकर ही अनार का जूस पिएं।


मोदी को किसान-व्यापारियों के 13,44,743 पत्र

रायपुर। रायगढ़ जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष अरूण मालाकार के नेतृत्व में रायगढ़ जिले के कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन, प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी, प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री महेन्द्र छाबड़ा, प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला की उपस्थिति में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को किसानों के द्वारा लिखे गये 1 लाख 5 हजार पत्र प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में सौपें। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस सचिव शिवसिंह ठाकुर, किरण सिन्हा, चंद्रवती साहू, रायगढ़ जिला महामंत्री विकास शर्मा, सारंगढ़ युवा कांग्रेस विधासभा अध्यक्ष महेन्द्र गुप्ता, सारंगढ़ ब्लाक महामंत्री पीतांबर पटेल, तरूण सोनी, सर्वजीत सिंह ठाकुर उपस्थित थे। 
प्रधानमंत्री के नाम पत्र अभियान की अद्यतन स्थिति की जानकारी देते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने बताया कि कांग्रेसजनों द्वारा घर-घर जाकर किसानों को 2500 रू. दिये जाने की मांग को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखे जा रहे है। प्रधानमंत्री के नाम पत्र अभियान पूरे प्रदेश में जोरो पर चल रहा है। यह अभियान घर-घर जाकर चलाया जा रहा है। आज इस बयान के जारी करने के समय तक 13,44,743 पत्र प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन में प्राप्त किये जा चुके है। जिनका जिलावार विवरण संलग्न है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने बताया कि कांग्रेस कंट्रोल रूम में जिलों और ब्लाक से प्राप्त जानकारी के अनुसार इनके अतिरिक्त तीन लाख से भी अधिक पत्र लिखे जा चुके है जो सोमवार तक प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन को प्राप्त हो जायेंगे।


सभी पक्षों को नोटिस जारी, फैसला कल

महाराष्ट्र मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों को जारी किया नोटिस, फैसला कल


नई दिल्ली! सुप्रीम कोर्ट शिवसेना-कांग्रेस-राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) की उस याचिका पर रविवार को सुनवाई की। सोमवार को 10.30 बजे फिर सुनवाई होगी। सुप्रीम कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट कराने की शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस की याचिका पर महाराष्ट्र सरकार और केंद्र सरकार को नोटिस जारी किए।


सीएम देवेंद्र फडणवीस और डिप्टी सीएम अजित पवार को भी नोटिस जारी किए। आदेश पारित करने के लिए सॉलिसिटर जनरल से सोमवार सुबह 10.30 बजे गवर्नर की चिट्ठी पेश करने को कहा। याचिका में महाराष्ट्र में देवेंद्र फड़णवीस के नेतृत्व में बनी सरकार को 24 घंटे के भीतर फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की गई गई थी।याचिकाकर्ताओं ने शनिवार शाम को सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था, जिसके बाद कोर्ट सुनवाई के लिए राजी हो गया। याचिका पर सुनवाई के लिए गठित सुप्रीम कोर्ट की बैंच में जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना शामिल हैं।


याचिका में कहा गया है कि महाराष्ट्र के राज्यपाल बी.एस. कोशियारी द्वारा शनिवार सुबह बीजेपी के देवेंद्र फड़नवीस को सरकार गठन के लिए आमंत्रित करना असंवैधानिक, मनमाना, गैरकानूनी और भारत के संविधान के अनुच्छेद 14 का उल्लंघन है।राज्यपाल कोश्यारी ने शनिवार सुबह फड़नवीस को महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री और एनसीपी नेता अजीत पवार को उप-मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलाई। याचिकाकर्ता ने हॉर्स ट्रेडिंग को रोकने के लिए 24 घंटे के भीतर तत्काल फ्लोर टेस्ट कराने के लिए अर्जी दी है।


सुप्रीम कोर्ट से फ्लोर टेस्ट के लिए प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति की भी मांग की गई है। शिवसेना, कांग्रेस, एनसीपी ने उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में सरकार बनाने के लिए उन्हें आमंत्रित करने का राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को निर्देश देने की भी मांग की। यह भी कहा गया है कि उनके पास 144 से ज्यादा विधायकों का समर्थन है।


'फिट इंडिया सप्ताह' को सेलिब्रेट करें

स्कूलों से पीएम मोदी की अपील, 'फिट इंडिया सप्ताह' को करें सेलिब्रेट


नई दिल्ली! पीएम मोदी के रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' का यह 59वां संस्करण है। प्रधानमंत्री ने देश भक्ति और सेवा के रंग में रंगे युवाओं में जोश भरते हुए नौजवान पीढ़ी को एनसीसी दिवस की शुभकामनाओं से अपनी मन की बात कार्यक्रम की शुरुआत की। प्रधानमंत्री ने कहा, 'मैं भी आप ही की तरह कैडेट रहा हूं और मन से आज भी अपने आपको कैडेट मानता हूं। एनसीसी यानी नेशनल कैडेट कॉर्प्स। दुनिया के सबसे बड़े वर्दी वाले युवा संगठन में एनसीसी एक है। यह एक त्रि-सेवा संगठन है जिसमें सेना, नौ-सेना, वायुसेना तीनों ही शामिल हैं। दुनिया की बड़ी एकरूप युवा संगठनों में से एक भारत की एनसीसी है जिसमें सेना के तीनों अंग- सेना, नौसेना और वायु सेना शामिल हैं।


'एक भारत श्रेष्ठ भारत' कैंप के लिए उत्तर पूर्वी क्षेत्र और विभिन्न राज्यों से दिल्ली आए एनसीसी के नौजवानों ने प्रधानमंत्री मोदी से अपने बेहतरीन अनुभव साझा किए। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में सात दिसंबर को आर्म्ड फोर्सिज फ्लैग डे के अवसर पर देशवासियों को वीर सैनिकों के अदम्य साहस, शौर्य और समर्पण भाव के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए उनके सम्मान और सहभागिता के लिए आगे आने का आह्वान किया।


पीएम ने कहा कि फिट इंडिया सप्ताह के दौरान विद्यार्थियों के लिए क्विज, निबंध, लेख, चित्रकारी, पारंपरिक और स्थानीय खेल, योगासन, डांस एवं खेलकूद आदि प्रतियोगिताएं आयोजित की जा सकती हैं। फिट इंडिया का मतलब दिमागी कसरत के साथ कड़ा शारीरिक श्रम, खानपान की आदत और जीवन शैली में बदलाव लाना है। पधानमंत्री ने मन की बात कार्यक्रम के जरिए सभी स्कूलों से दिसंबर माह में फिट इंडिया सप्ताह मनाने की अपील करते हुए कहा कि इससे हम सबमें फिटनेस की आदत दिनचर्या में शामिल होगी।


गुफा में रहने को विवश,बहिष्कृत परिवार

बैकुंठपुर! कोरिया जिले के खडग़वां विकासखंड से एक ऐसा मामला सामने आया है जो राज्य और केंद्र सरकार को आइना दिखा रहा है। समाज ने एक परिवार का बहिष्कार कर दिया तो वह जंगल में रहने को विवश हो गया। पति अपनी पत्नी व मासूम बेटे के साथ पिछले 4 साल से गुफा में रह रहा है। बेटा पढऩे भी नहीं जा पाता। जैसे-तैसे जुगाड़ से रोटी चल रही है। डिजिटल युग में ऐसी जिंदगी जीने की विवशता सरकार को आइना दिखाने के लिए काफी है। (Shameful)कोरिया जिले के खडग़वां ब्लॉक स्थित ग्राम दुग्गी में ग्रामीण देवनाराण पठारी करीब 7 साल पहले झोपड़ीनुमा घर बनाकर अपने परिवार के साथ जीवन व्यतीत कर रहा था। जमीन विवादित होने के कारण गांव के पंच परमेश्वर ने ग्रामीण के विरोध में एकतरफा फैसला सुनाया और उसको गांव से निकाल दिया था।


इस दौरान ग्रामीण ने कई जगह मदद की गुहार लगाई, लेकिन उसकी कहीं भी सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद उसने परिवार के साथ सीधे जंगल की ओर रुख किया और बीच जंगल में झोपड़ी बनाई। करीब 3 साल तक जैसे-तैसे जिंदगी गुजरी।बारिश के मौसम में परेशानी होने के कारण पहाड़ के नीचे गुफा को अपना ठिकाना बना लिया और पिछले चार साल से उसी में अपनी पत्नी-बेटे के साथ जिंदगी गुजार रहा हैं। ग्रामीण देवनारायण पठारी अपनी पत्नी राजकुमारी, बेटा राजू के साथ जंगल के गुफा में रहने को मजबूर है।


केंद्र व राज्य सरकार की एक भी जनकल्याणकारी योजनाओं (Government plans) का लाभ उसे नहीं मिलता है। हालांकि कुछ महीने पहले ही एक समाज सेवक की मदद से राशनकार्ड बनवाया गया है। मामले में सामाजिक कार्यकर्ता नागेश्वर सिंह का कहना है कि पहली बार वर्ष 2015 में बीच जंगल के बीच गुफा में निवास करते एक परिवार देखा गया था।इस दौरान उस परिवार के सामने गांव में चलने की बात रखी, लेकिन परिवार ने उसकी बात नहीं मानी। कुछ महीने पहले उस परिवार के नाम पर राशन कार्ड बनवाया गया है। वहीं दूसरी ओर 2 किलोमीटर अंदर जंगल रहने के कारण उनका एकलौता बेटा पढऩे नहीं जाता है। डिजिटल युग में एक परिवार आज भी गुफा में रहता है। मेरे लिए बहुत आश्चर्य की बात है।


3 साल में गिर गई जंगल में बनी झोपड़ी, फिर खोज ली गुफा


ग्रामीण देवनारायण ने पत्रिका टीम से चर्चा कर कहा कि पहले ग्राम दुग्गी में रहते थे और उसकी थोड़ी जमीन थी, जिसमें उसने घर बनाया था। जमीन विवादित होने के कारण पंचायत ने एकतरफा फैसला सुनाया औरउसे उसकी जमीन से बेदखल कर दिया था। वहीं गांव वालों ने उसका बहिष्कार कर दिया। इस कारण उसे गांव को छोडऩा पड़ा और वह गांव से दूर जंगल में झोपड़ी बनाकर रहने लगा। करीब 3 साल बाद बारिश के मौसम में उसकी झोपड़ी गिर गई। इसके बाद गढ़पहाड़ के पास छातापखना गुफा में 4 साल से जिंदगी गुजारने को मजबूर हैं।



पत्नी बोली- पति जहां रखेंगे, वहीं जिंदगी कट जाएगी
पत्नी राजकुमारी का कहना है कि उनके पति जहां उसे रखेंगे, वहीं रहना होगा और ऐसे ही जिंदगी कट जाएगी। उनके परिवार कोसरकारी योजना के नाम पर सिर्फ राशन कार्ड मिला है। इसके अलावा किसी सरकारी योजना का लाभ नहीं मिला है। वहीं कई साल तक जंगल में कंदमूल खोजकर खाते हैं और मजदूरी से थोड़ी बहुत राशन का जुगाड़ होता है। गुफा के पास ही थोड़ी बहुत सब्जी उगा रखी है। परिवार को अपने बेटे की चिंता सताने लगी है। उसका कहना है कि हमारी जिंदगी ऐसी ही कट जाएगी, लेकिन बच्चे का भविष्य क्या होगा। उसके पास घर भी नहीं है और न ही कमाने के लिए खेती की जमीन है। बच्चे की पढ़ाई के लिए स्कूल भी दूर है। वहीं दूसरी ओर रात के अंधेरे में जंगली जानवर से भयभीत रहते हैं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


नवंबर 25, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-111 (साल-01)
2. सोमवार, नवंबर 25, 2019
3. शक-1941, मार्गशीर्ष-कृष्ण पक्ष, तिथि- चतुर्दशी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:43,सूर्यास्त 05:41
5. न्‍यूनतम तापमान -13 डी.सै.,अधिकतम-24+ डी.सै.।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित


 


दुनिया में सबसे अधिक परेशान देश है 'अमेरिका'

वाशिंगटन डीसी। कोरोना महामारी की शुरुआत के साथ ही दुनिया भर में सबसे अधिक परेशान देश अमेरिका है। वैश्विक मामलों का आंकड़े की लिस्ट में पहले ...