रविवार, 16 अक्तूबर 2022

शामली: ट्रैफिक पुलिस द्वारा चेकिंग अभियान चलाया 

शामली: ट्रैफिक पुलिस द्वारा चेकिंग अभियान चलाया 

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में ट्रैफिक पुलिस द्वारा चेकिंग अभियान चलाया गया। इसके अन्तर्गत यातायात पुलिस द्वारा जनपद में संदिग्ध वाहन आदि की चेकिंग अभियान चलाकर यातायात नियमों से अवगत कराया गया। साथ ही जिन वाहन स्वामियों ने यातायात नियमों का पालन नहीं किया गया, उनका चालान भी किया गया।

पुलिस ने बिना हेलमेट के दुपहिया वाहन चला रहे 46 वाहन चालकों , तीन सवारी चलने वाले छह , बिना सीट बैल्ट कार चलाने पर आठ, नो पार्किंग के 39, बिना डीएल के वाहन चलाने पर दो, रॉन्ग साइड में के मामले में पांच , वाहन चलाते समय मोबाइल फोन पर बात करने पर एक एवं नो एंटी पर एक सहित 108 वाहनों चालकों के चालान किए गए।

वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक: सीएम 

वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक: सीएम 

संदीप मिश्र/भानु प्रताप उपाध्याय 

लखनऊ/मुजफ्फरनगर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में दीपावली एवं छठ पूजा पर्व पर कानून एवं शांति व्यवस्था के सम्बन्ध मे वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक आयोजित की गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में दीपावली एवं छठ पूजा पर्व पर कानून एवं शांति व्यवस्था के सम्बन्ध मे वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल एवं मुख्य विकास अधिकारी सन्दीप भागिया सहित संबंधित अधिकारी जनपद के एन०आई०सी० में वीडियों कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक में शामिल हुए। बैठक में माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सभी जिलों के अफसरों को दीपावली एवं छठ पूजा पर्व को लेकर जरूरी दिशा निर्देश दिए। बाजारों की सुरक्षा बढ़ाए जाने के साथ ही अधिकारियों के फुट पेट्रोलिंग करने व छोटी सी छोटी घटना को भी पूरी प्रमुखता से लिए जाने की बात कही गई।

रात में प्रभावी चेकिंग कराए जाने का निर्देश भी दिया गया। संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात करने के साथ ही शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखे जाने के निर्देश दिए। बैठक में मौजूद जिलों के जिलाधिकारियों को मुख्य सचिव ने त्योहारों के दृष्टिगत समस्त ग्रामीण एवं निकायों क्षेत्रों में साफ सफाई की व्यवस्था, बिजली की व्यवस्था चुस्त दुरुस्त रखने के निर्देश दिए।

आज मनाया जाएगा 'अहोई अष्टमी' का पर्व 

आज मनाया जाएगा 'अहोई अष्टमी' का पर्व 

सरस्वती उपाध्याय 

अहोई अष्टमी का व्रत कार्तिक मास में कृष्ण-पक्ष की अष्टमी तिथि को रखा जाता है। अहोई अष्टमी का व्रत अहोई माता को समर्पित है। इस दिन माताएं अपने पुत्रों की दीर्घायु और सुख-सपन्नता के लिए निर्जला उपवास रखती हैं। फिर रात को तारों को अर्घ्य देने के बाद व्रत का पारण किया जाता है। इस साल अहोई अष्टमी व्रत की तारीख को लेकर लोग बहुत कन्फ्यूज हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार, अहोई अष्टमी का व्रत 17 अक्टूबर को रखें।

अहोई अष्टमी की तिथि...
हिंदू पंचांग के अनुसार, कार्तिक कृष्ण अष्टमी को अहोई का व्रत रखा जाएगा और यह तिथि 17 अक्‍टूबर को सुबह 9 बजकर 29 मिनट से शुरू होगी और 18 अक्‍टूबर को सुबह 11 बजकर 57 मिनट पर इसका समापन होगा। अहोई अष्टमी पर पूजा का शुभ मुहूर्त 17 अक्टूबर को शाम 06 बजकर 14 मिनट से लेकर शाम 07 बजकर 28 मिनट तक रहेगा। पूजा की अवधि 01 घंटा 14 मिनट होगी।

अहोई अष्टमी पर शुभ योग मुहूर्त...
अभिजीत मुहूर्त- सुबह 11 बजकर 43 मिनट से लेकर सुबह 12 बजकर 29 मिनट तक
विजय मुहूर्त- शाम 5 बजकर 50 मिनट से लेकर 07 बजकर 05 मिनट तक।

अहोई अष्टमी की पूजन विधि...
अहोई अष्टमी के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और पुत्र की लंबी आयु की कामना करते हुए व्रत का संकल्प लें। अहोई पूजा के लिए गेरू से दीवार पर उनके चित्र के साथ ही साही और उसके सात पुत्रों की तस्वीर बनाएं। देवी को चावल, मूली, सिंघाड़ा अर्पित करें और अष्टोई अष्टमी व्रत की कथा सुनें। पूजा के समय एक लोटे में पानी भरें और उसके ऊपर करवे में पानी भरकर रखें। इसमें इस्तेमाल होने वाला करवा वही होना चाहिए, जिसे करवा चौथ में इस्तेमाल किया गया है। शाम को तारे निकलने के बाद लोटे के जल से अर्घ्य दें।

अहोई अष्टमी व्रत की कथा...
पौराणिक कथा के अनुसार, एक गांव में एक साहूकार रहता था। उसके सात बेटे थे. दीपावली से पहले साहूकार की पत्नी घर की पुताई करने के लिए मिट्टी लेने खदान गई। वहां वह कुदाल से मिट्टी खोदने लगी। खुदाई वाले स्थान पर सेई की एक मांद थी, जहां वो अपने बच्चों के साथ रहती थी। अचानक साहूकार की पत्नी के हाथों से कुदाल सेई के बच्चे को लग गई और उसकी मृत्यु हो गई। साहूकारनी को इसका बड़ा पछतावा हुआ। आखिर में साहूकारनी घर लौट आई।

कुछ समय बाद साहूकारनी के एक बेटे की मृत्यु हो गई। फिर एक के बाद एक उसके सात बेटों की मौत हो गई। वो बहुत दुखी रहने लगी। एक दिन उसने अपने पड़ोसी को सेई के बच्चे की मौत की घटना सुनाई और कहा कि उससे अनजाने में यह पापा हुआ था। परिणाम स्वरूप उसके सातों बेटों की मौत हो गई। यह बात जब सबको पता चली तो गांव की वृद्ध औरतों ने साहूकार की पत्नी को दिलासा दिया।

वृद्ध औरतों ने साहूकार की पत्नी को चुप करवाया और कहने लगी आज जो बात तुमने सबको बताई है। इससे तुम्हारा आधा पाप नष्ट हो गया है। उन्होंने साहूकारनी को अष्टमी के दिन अहोई माता, सेई और उसके बच्चों का चित्र बनाकर उनकी पूजा करने को कहा। ताकि उसकी सारे पाप धुल जाएं।

साहूकार की पत्नी ने सबकी बात मानते हुए कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को व्रत रखा और विधिवत पूजा कर क्षमा मांगी‌। उसने प्रतिवर्ष नियमित रूप से इस व्रत का पालन किया। आखिरकार उसे सात पुत्र रत्नों की प्राप्ति हुई। कहते हैं कि तभी से अहोई अष्टमी का व्रत रखने की परंपरा चली आ रही है।

आज कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनावी मुकाबला होगा

आज कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनावी मुकाबला होगा

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर के बीच सोमवार को कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष पद का चुनावी मुकाबला होगा। मुकाबले के नतीजे के साथ ही कांग्रेस में 24 साल बाद नेहरू-गांधी परिवार के बाहर से कोई अध्यक्ष बनेगा। प्रदेश कांग्रेस समितियों (पीसीसी) के 9,000 से अधिक प्रतिनिधि गुप्त मतदान के जरिये पार्टी के नए अध्यक्ष का चुनाव करेंगे। यहां पार्टी मुख्यालय में और देशभर में 65 से अधिक केंद्रों पर मतदान होगा।

कांग्रेस के 137 साल के इतिहास में छठी बार अध्यक्ष पद के लिए चुनाव हो रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा यहां एआईसीसी मुख्यालय में मतदान कर सकती हैं, वहीं राहुल गांधी कर्नाटक में बेल्लारी के संगनाकल्लू में भारत जोड़ो यात्रा के शिविर स्थल पर मतदान में भाग लेंगे। उनके साथ पीसीसी के करीब 40 प्रतिनिधि भी मतदान करेंगे जो यात्रा में शामिल हैं। गांधी परिवार के करीबी होने और कई वरिष्ठ नेताओं के समर्थन के कारण खड़गे को पार्टी अध्यक्ष पद का प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

हालांकि, थरूर भी खुद को पार्टी में बदलाव के लिए मजबूत प्रत्याशी के रूप में पेश कर रहे हैं। थरूर ने चुनाव प्रचार के दौरान असमान अवसरों के मुद्दे उठाये, लेकिन खड़गे और पार्टी के साथ उन्होंने यह भी माना है कि गांधी परिवार के सदस्य तटस्थ हैं और कोई ‘आधिकारिक उम्मीदवार’ नहीं है। चुनाव की अहमियत के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि वह हमेशा से ऐसे पदों के लिए आम-सहमति बनाने के कांग्रेस के मॉडल पर भरोसा करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि जवाहर लाल नेहरू के बाद के कालखंड में इस मॉडल पर सबसे ज्यादा भरोसा के. कामराज करते थे।

रमेश ने कहा, ”कल चुनाव है और यह विश्वास और भी मजबूत हुआ है। मैं इस बात से बिल्कुल सहमत नहीं हूं कि सांगठनिक चुनाव वास्तव में किसी भी प्रकार से संगठन को मजबूती प्रदान करते हैं। वे निजी हित साध सकते हैं लेकिन सामूहिक भावना के निर्माण में उनका महत्व संदेहास्पद है।” उन्होंने यह भी कहा कि इसके बावजूद यह बात भी इतनी ही दीगर है कि चुनाव होना भी महत्वपूर्ण है। रमेश ने कहा, ”लेकिन मैं उन्हें ऐतिहासिक भारत जोड़ो यात्रा की तुलना में कम संस्थागत महत्व का मानता हूं। यह यात्रा कांग्रेस के लिए और भारतीय राजनीति के लिए भी क्रांतिकारी पहल है।”

अध्यक्ष पद के चुनाव अभियान में अंतर साफ दिखाई दिया है। खड़गे के प्रचार में जहां पार्टी के कई वरिष्ठ नेता, प्रदेश कांग्रेस इकाइयों के अध्यक्ष और शीर्ष नेता राज्य मुख्यालयों में उनकी अगवानी करते देखे गये हैं, वहीं थरूर के स्वागत में अधिकतर प्रदेश कांग्रेस समितियों के युवा प्रतिनिधियों को ही देखा गया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षों की इस दौरान गैर-मौजूदगी ही रही। थरूर अपने अभियान के दौरान इस बात को रेखांकित करते रहे हैं कि वह बदलाव के प्रत्याशी हैं, जबकि खड़गे परंपरावादी उम्मीदवार हैं।

उन्होंने यह भी दावा किया कि पार्टी में युवा और निचले स्तर के नेता उनका समर्थन कर रहे हैं, वहीं वरिष्ठ नेता उनके प्रतिद्वंद्वी खड़गे के साथ नजर आ रहे हैं। खड़गे ने भी अपने अभियान में अपने अनुभव साझा किये हैं जो पिछले कुछ दशकों में संगठन का काम करते हुए उनके सामने आये। दोनों ही नेताओं ने इस बात पर जोर दिया है कि गांधी परिवार के सदस्यों का पार्टी में विशेष स्थान है। खड़गे ने कहा कि वह उनका मार्गदर्शन और सुझाव लेंगे, वहीं थरूर ने कहा कि कांग्रेस का कोई अध्यक्ष गांधी परिवार से दूरी बनाकर काम नहीं कर सकता क्योंकि पार्टी के खून में उनका डीएनए है। कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए पिछली बार चुनाव 2000 में हुआ था जब जितेंद्र प्रसाद को सोनिया गांधी के हाथों जबरदस्त हार का सामना करना पड़ा था।

सोनिया, राहुल और प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस बार अध्यक्ष पद की दौड़ से बाहर रहने का फैसला किया है जिससे 24 साल के अंतराल के बाद गांधी परिवार के बाहर का सदस्य इस जिम्मेदारी को संभालेगा। कांग्रेस के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव गुप्त मतदान के जरिए होगा और किसी को पता नहीं चलेगा कि किसने किसे वोट डाला। उन्होंने कहा कि दोनों उम्मीदवारों के लिए समान अवसर मुहैया कराए गए हैं।

3 वाहनों की टक्कर में 4 बच्चों समेत 9 की मौंत

3 वाहनों की टक्कर में 4 बच्चों समेत 9 की मौंत

इकबाल अंसारी 

हासन। कर्नाटक के हासन में तीन वाहनों की टक्कर में चार बच्चों समेत नौ लोगों की मौंत हो गई और 10 अन्य लोग घायल हो गए। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दूध के एक टैंकर, कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीसी) की बस और एक टेम्पो के बीच शनिवार को यहां अर्सिकेरे तालुक में रात लगभग 11 बजे टक्कर हो गई। सूत्रों ने बताया कि हादसे में मारे गए सभी लोग टेम्पो में सवार थे।

सूत्रों ने बताया कि छह लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी जबकि तीन लोगों ने अस्पताल जाने के दौरान रास्ते में ही दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि घायलों का यहां एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने घटना पर शोक जताते हुए कहा कि मृतकों के परिवारों को पर्याप्त मुआवजा दिया जाएगा और घायलों के उचित इलाज की व्यवस्था की जाएगी।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यह बहुत दुखद है कि कल हासन जिले के अर्सिकेरे में एक भीषण सड़क दुर्घटना में नौ लोगों की मौत हो गयी। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति प्रदान करें।’’ हासन जिले से ताल्लुक रखने वाले पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा ने कहा कि सभी मृतक एक ही परिवार के थे और वे कुछ पवित्र स्थलों के दर्शन करने के बाद अपने पैतृक गांव लौट रहे थे। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मैं सरकार से पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा देने की तत्काल घोषणा करने का अनुरोध करता हूं।’’

विधानसभा चुनाव जीतने पर ₹3 हजार पेंशन का वादा 

विधानसभा चुनाव जीतने पर ₹3 हजार पेंशन का वादा 

विमलेश यादव 

हैदराबाद। तेलंगाना के वित्त मंत्री टी हरीश राव ने रविवार को कहा कि तेलंगाना देश का एकमात्र ऐसा राज्य है, जो दिव्यांगों को प्रति माह 3,016 रुपये और 57 वर्ष से अधिक आयु के पात्र लाभार्थियों को 2,016 रुपये पेंशन प्रदान करता है। राव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए दावा कि वह मुनुगोडे विधानसभा चुनाव जीतने पर तीन हजार रुपये पेंशन का वादा कर रही है।

पत्रकारों से बात करते हुए, उन्होंने भाजपा नेताओं को चुनौती दी कि वे अपनी पार्टी के शासन वाले राज्यों में प्रति माह तीन हजार रुपये पेंशन देकर दिखाएं। राव ने दावा किया, “हमारा पड़ोसी भाजपा शासित महाराष्ट्र 1,000 रुपये दे रहा है। कर्नाटक में, वे 600 रुपये दे रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में यह केवल 750 रुपये है। लेकिन मुनुगोडे में जीतने पर आप 3,000 रुपये का वादा करते हैं।”

उन्होंने दावा किया कि भाजपा ने दुब्बक और हुजुराबाद उपचुनाव में इसी तरह के वादे किए और अपने वादे को कभी पूरा नहीं किया। उन्होंने आरोप लगाया कि नीति आयोग द्वारा मिशन भगीरथ पेयजल योजना के लिए 24,000 करोड़ रुपये की सिफारिश के बावजूद केंद्र ने 24 पैसे भी जारी नहीं किए।

‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल 4 कार्यकर्ताओं को करंट 

‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल 4 कार्यकर्ताओं को करंट 

इकबाल अंसारी 

बेल्लारी। राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ कर्नाटक के बेल्लारी में हादसे का शिकार हो गई है। कांग्रेस की इस यात्रा में शामिल 4 कार्यकर्ता करंट का शिकार हो गए हैं। सभी को प्राथमिक इलाज के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के मुताबिक रविवार सुबह कर्नाटक के बेल्लारी से यात्रा की शुरुआत हुई। यहां से यात्रा मौका नामक स्थान पर पहुंची। यात्रा में शामिल कुछ कार्यकर्ता पार्टी का झंडा और लोहे की छड़ पकड़े हुए थे। इनमें से ही 4 लोग करंट की चपेट में आ गए।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि मौके पर मौजूद एंबुलेंस के डॉक्टर्स ने शुरुआती इलाज किया और घायलों को अस्पताल रेफर कर दिया। कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा 7 सितंबर को कन्यकुमारी से शुरू हुई थी। 3750 किमी का सफर पूरा करने के बाद यह यात्रा जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में खत्म होगी। यात्रा में शामिल सभी सदस्य इस दौरान 12 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से गुजरेंगे।

सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि आज यात्रा के दौरान एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई। बेल्लारी में मोका टाउन के पास 4 लोग करंट की चपेट में आ गए। इस दौरान राहुल गांधी ने मुझे और विधायक नागेंद्र को सिविल हॉस्पिटल विजिट करने के लिए कहा। सभी लोग अब सुरक्षित हैं और खतरे से बाहर हैं। कांग्रेस चारों पीड़ितों को एक लाख रुपए मुआवजा देगी।

प्रथम वर्ष के 3 विषयों की हिंदी पुस्तकों का विमोचन 

प्रथम वर्ष के 3 विषयों की हिंदी पुस्तकों का विमोचन 

मनोज सिंह ठाकुर

भोपाल। रविवार से देश में चिकित्सा शिक्षा का नया अध्याय शुरू हो गया है। पहली बार चिकित्सा की पढ़ाई हिंदी में भी शुरू हो गई है। इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भोपाल में एमबीबीएस प्रथम वर्ष के तीन विषयों की हिंदी पुस्तकों का विमोचन किया। यहां लाल परेड मैदान में आयोजित कार्यक्रम ‘हिंदी में ज्ञान का प्रकाश’ में करीब 30 हजार विद्यार्थियों के अलावा चिकित्सा और हिंदी क्षेत्र के जानकार शामिल हुए।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है जहां चिकित्सा की पढ़ाई हिंदी में भी होगी। अब तक पूरे देश में MMBS की पढ़ाई अंग्रेजी में होती थी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशानुरूप प्रदेश में चिकित्सा पाठ्यक्रम को हिंदी में तैयार कराने का निर्णय लिया गया। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग के नेतृत्व में उच्च स्तरीय टास्क फोर्स गठित की गई। साथ ही विषय निर्धारण एवं सत्यापन कार्य के लिए समितियों का गठन किया गया।

ग्वालियर में एयर टर्मिनल की रखेंगे नींव
केंद्रीय मंत्री अमित शाह रविवार को ग्वालियर जाएंगे। वे यहां नए एयर टर्मिनल का शिलान्यास करेंगे। 446 करोड़ की लागत से यह नया एयर टर्मिनल तैयार किया जा रहा है, जो मप्र का सबसे बड़ा टर्मिनल होगा। इसके साथ ही नल जल योजना व पीएम आवास- ग्रामीण व शहरी का लोकार्पण भी शाह के हाथों कराया जाएगा।

97 विशेषज्ञों के दल ने चार महीने में तैयार कर दीं हिंदी में पुस्तकें

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि 97 चिकित्सकों के दल ने चार महीने में एमबीबीएस प्रथम वर्ष की पुस्तकें तैयार की हैं। इनमें एनाटामी, फिजियोलाजी और बायोकेमेस्ट्री शामिल हैं। रात में भी शिक्षकों ने काम किया। हिंदी को बढ़ाने के लिए यह हुआ 2015 में विश्व हिंदी सम्मेलन भोपाल में आयोजित किया गया। इसमें दुनियाभर के हिंदी के जानकार शामिल हुए थे। चिकित्सा की हिंदी किताबें आने के बाद सम्मेलन में सुझाए गए अन्य सुझाव पर अमल करने की मांग हिंदी के विद्वानों ने मुख्यमंत्री से की है।

मुख्यमंत्री ने कहा- प्रधानमंत्री का संकल्प पूरा कर रहा मध्य प्रदेश

चिकित्सा की हिंदी पुस्तकों के विमोचन की पूर्व संध्या पर ‘एक दीपक हिंदी के नाम’ कार्यक्रम यहां रोशनपुरा चौराहे पर आयोजित किया गया। कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हिंदी में चिकित्सा की पढ़ाई शुरू कर मध्य प्रदेश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संकल्प पूरा कर रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा था कि शिक्षा का माध्यम मातृभाषा होनी चाहिए।

जान गंवाने वालों के परिजनों को 4 लाख का मुआवजा 

जान गंवाने वालों के परिजनों को 4 लाख का मुआवजा 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने सांड और नीलगाय के हमले से मारे गए लोगों के परिजनों के लिए बड़ा ऐलान किया है। सरकार जान गंवाने वालों के परिजनों को चार लाख का मुआवजा देगी। उत्तर प्रदेश सरकार ने सांड और नीलगाय द्वारा किए गए हमले से हुई घटना को आपदा की सूची में रखते हुए यह फैसला लिया है।

बता दें, इस सप्ताह के अंत में जारी अधिसूचना में सांड और नीलगाय के हमले के कारण हुई मौतों को राज्य आपदा घोषित किया गया है। अब तक बेमौसमी अत्यधिक बारिश, आकाशीय बिजली गिरने, तूफान, लू, नौका दुर्घटना, सर्पदंश, सीवर की सफाई के दौरान मौत, गैस के उत्सर्जन, बोरवेल में गिरने, मानव-पशु संघर्ष और कुएं में डूबने से हुई मौतों को इस सूची में शामिल किया गया था। नदी, झील, तालाब, नहर, खाई और झरने को पहले ही राज्य आपदा (राज्य आपदा) के रूप में वर्गीकृत किया जा चुका है।

उपाध्यक्ष व विधायक मंडावी का हार्ट अटैक से निधन 

उपाध्यक्ष व विधायक मंडावी का हार्ट अटैक से निधन 

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष व कांग्रेस विधायक मनोज सिंह मंडावी का रविवार सुबह 57 वर्ष की आयु में हार्ट अटैक से निधन हो गया। पूर्व में प्रदेश के गृह मंत्री रहे मंडावी भानुप्रतापपुर से विधायक थे। उनके निधन पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, मंडावी के आकस्मिक निधन का समाचार हम सभी के लिए दुखद है।

कांग्रेस की संचार इकाई के प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने बताया कि मंडावी (58) को दिल का दौरा पड़ने के बाद पड़ोसी धमतरी शहर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां सुबह उनका निधन हो गया। कांकेर जिले में भानुप्रतापपुर निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले मंडावी शनिवार रात को जिले के चरामा इलाके में अपने पैतृक गांव नथिया नवागांव में थे। 

शुक्ला ने बताया कि उन्होंने बेचैनी होने की शिकायत की थी जिसके बाद उन्हें चरामा में एक अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उनकी जांच की। उन्होंने बताया कि इसके बाद मंडावी को धमतरी शहर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनका निधन हो गया। तीन बार विधायक रहे और बस्तर क्षेत्र में पार्टी का अहम आदिवासी चेहरा रहे मंडावी 2000 से 2003 के बीच राज्य में अजीत जोगी की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार के दौरान गृह एवं कारागार मंत्री थे।

75 डिजिटल बैंकिंग इकाइयां राष्ट्र को समर्पित: पीएम 

75 डिजिटल बैंकिंग इकाइयां राष्ट्र को समर्पित: पीएम 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 75 जिलों में 75 डिजिटल बैंकिंग इकाइयां राष्ट्र को समर्पित की। पीएम मोदी ने कहा कि भारत के सामान मानव के जीवन को आसान बनाने के लिए जो अभियान चल रहा है, डिजिटल बैंकिंग इकाइयां उस दिशा में एक और बड़ा कदम है। ये एक ऐसी विशेष बैंकिंग व्यवस्था है जो कम से कम इंफ्रास्ट्रक्चर में अधिक से अधिक सेवा देने का काम करेगा। पीएम मोदी ने कहा कि 75 डिजिटल बैंकिग यूनिट्स के शुभारंभ के इस अवसर पर सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। आज देश डिजिटल इंडिया के सामर्थ्य का फिर एक बार साक्षी बन रहा है। आज 75 डिजिटल बैंकिग यूनिट्स देश के 75 जिलों में धरातल पर उतर रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि यूपीआई अपने तरह की दुनिया की पहली टेक्नोलॉजी है। भारत में आप इसे शहर से लेकर गांव तक शोरूम हो या सब्जी का ठेला हर जगह यूपीआई देख सकते हैं। जब हमने जन-धन अकाउंट की मुहिम शुरू की तब आवाजें उठीं कि गरीब बैंक खाते का क्या करेगा। यहां तक की इस फील्ड के कई एक्सपर्ट भी नहीं समझ पा रहे थे, इस अभियान का महत्व क्या है। लेकिन बैंक खाते की ताकत क्या होती है,ये आज पूरा देश देख रहा है। हमारा संकल्प है – व्यवस्थाओं में सुधार का, पारदिर्शता लाने का, आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक पहुंचने का। आज देश में हर एक लाख वयस्क आबादी पर जितनी बैंक शाखाएं मौजूद हैं, वो जर्मनी, चीन और दक्षिण अफ्रीका जैसे देशों से भी ज्यादा है।

पीएम मोदी ने कहा कि हम सामान्य मानवी के जीवन स्तर को बदलने का संकल्प लेकर दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। हमने बैंकिग सेवाओं को दूर-सुदूर में, घर-घर तक पहुंचाने को सर्वोच्च प्राथमिकता दी। आज भारत के 99% से ज्यादा गांवों में पांच किमी के अंदर कोई न कोई बैंक ब्रांच, बैकिंग आउटलेट या बैंकिंग मित्र मौजूद है।

पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा सरकार ने दो चीजों पर एक साथ काम किया है। पहला, बैंकिग व्यवस्था को सुधारना, मजबूत करना, पारदर्शिता लाना। दूसरा, वित्तीय समावेशन किया।,भारत के सामान्य मानवी को सशक्त करना है, उसे मजबूत बनाना है इसलिए हमने समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को ध्यान में रखकर नीतियां बनाई और पूरी सरकार उसकी सुविधा और प्रगति के रास्ते पर चली है। भारत के सामान्य मानवी के जीवन को आसान बनाने का जो अभियान देश में चल रहा है, डिजिटल बैंकिंग यूनिट्स उस दिशा में एक और बड़ा कदम है।ये ऐसी विशेष बैंकिंग व्यवस्था है, जो मिनिमम डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर से मैक्सिमम सेवाएं देने का काम करेगी।

शेयर बाजारों से करीब 7,500 करोड़ रुपए निकालें

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने अक्टूबर के पहले दो हफ्तों में भारतीय शेयर बाजारों से करीब 7,500 करोड़ रुपए निकालें हैं। अमेरिकी का केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व तथा विश्वभर के अन्य केंद्रीय बैंकों द्वारा मौद्रिक नीति सख्ती की चिंताएं धारणा को प्रभावित कर रही हैं। डिपॉजिटरी के आंकड़े बताते हैं कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने 2022 में अब तक 1.76 लाख करोड़ रुपए निकाले हैं।

कोटक सिक्योरिटीज के इक्विटी शोध प्रमुख (खुदरा) श्रीकांत चौहान ने कहा कि आने वाले महीनों में भू-राजनीतिक जोखिमों और बढ़ती मुद्रास्फीति आदि के कारण एफपीआई प्रवाह अस्थिर रह सकता है।आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने तीन से 14 अक्टूबर के दौरान शेयर बाजार से 7,458 करोड़ रुपये निकाले। सितंबर में उन्होंने शेयर बाजार से 7,600 करोड़ रुपये से अधिक निकाले थे। इससे पहले एफपीआई ने अगस्त में 51,200 करोड़ रुपये का और जुलाई में करीब 5,000 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था।

अवैध हथियार बनाने की दो फैक्ट्रियों पर छापा 

अवैध हथियार बनाने की दो फैक्ट्रियों पर छापा 

नरेश राघानी 

भरतपुर। राजस्थान के भरतपुर में कामां थाना क्षेत्र के दौलाबास गांव के पहाड़ों में अवैध हथियार बनाने की दो फैक्ट्रियों पर रविवार को पुलिस ने छापा मार कर भारी संख्या में अवैध हथियार और हथियार बनाने की मशीनें जब्त की। पुलिस की इस कार्यवाही की भनक लगते ही दोनो फैक्ट्रियों से आरोपी फरार हो गए। फिलहाल दोनों थानों की पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि दौलाबास गांव के पहाड़ों में अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री चल रही है जहां भारी मात्रा में अवैध हथियार बनाए जा रहे हैं। दौलाबास के पहाड़ों के ऊपर एक टैंट लगाकर बनाई गई हथियार बनाने की फैक्ट्री पर दबिश देने के बाद पुलिस को दूसरी फैक्ट्री के बारे में पता लगा जिसके बाद पुलिस ने दूसरी फैक्ट्री पर दबिश दी।

दूसरी फैक्ट्री पेड़ों की ओट लेकर बनाई गई थी जहां हथियार बन रहे थे। फिलहाल पुलिस को तीसरी फैक्ट्री की भी सूचना मिली है जिसकी पहाड़ों में तलाश की जा रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि कार्रवाई खत्म होने के बाद ही जब्त हथियारों के बारे में पता लग पाएगा।

सूर्य ग्रहण: 26 को मनाया जाएगा 'गोवर्धन' पर्व

सूर्य ग्रहण: 26 को मनाया जाएगा 'गोवर्धन' पर्व

सरस्वती उपाध्याय 

हर साल दीपावली के अगले दिन गोवर्धन पूजा त्यौहार धूम-धाम से मनाया जाता है। लेकिन इस वर्ष ऐसा नहीं होगा। बता दें कि गोवर्धन पूजा इस वर्ष 26 अक्टूबर 2022 को मनाया जाएगा। इस साल दीपावली पर्व 24 अक्टूबर को है लेकिन अगले दिन यानी 25 अक्टूबर 2022 को सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है। जिसके कारण गोवर्धन पर्व पर्व 26 अक्टूबर को मनाया जाएगा। किवदंतियों के अनुसार गोवर्धन पूजा के दिन ही भगवान श्री कृष्ण ने इंद्र देव के अहंकार को परास्त किया था और ब्रज वासियों को भगवान श्री कृष्ण ने देवराज इंद्र के प्रकोप से बचाया था। इसी उपलक्ष में आज भी गोवर्धन पूजा का आयोजन किया जाता है। आइए जानते हैं, इस साल गोवर्धन पूजा शुभ मुहूर्त और पूजा के नियम।

गोवर्धन पूजा शुभ मुहूर्त

गोवर्धन पूजा तिथि- 26 अक्टूबर 2022, बुधवार

गोवर्धन पूजा प्रातः काल मुहूर्त – 26 अक्टूबर सुबह 06:29 से सुबह 08:43 तक

पूजा अवधि- 02 घण्टे 14 मिनट

प्रतिपदा तिथि प्रारम्भ- 25 अक्टूबर शाम 04:18 बजे से

प्रतिपदा तिथि समाप्त- 26 अक्टूबर 2022 को दोपहर 02:42 बजे तक

गोवर्धन पूजा के दिन गोबर का इस्तेमाल कर गोवर्धन देवता को बनाया जाता है और उन्हें फूलों से सजाया जाता है। पूजा के दौरान गोवर्धन देवता को नैवेद्य, दीप, फूल, फल और दीप अर्पित किए जाते हैं। बता दें कि गोवर्धन देवता को शयन मुद्रा में बनाया जाता है और उनकी नाभि की जगह मिट्टी का दिया रखा जाता है। इस दीपक में दूध, दही, गंगाजल, शहद और बताशे अर्पित किया जाते हैं और प्रसाद के रूप में इन्हें बांटा जाता है। पूजा के बाद इनकी सात बार परिक्रमा की जाती है। परिक्रमा के वक्त लोटे से जल गिराते हुए और जौ बोते हुए परिक्रमा करने का विधान है। इस दिन भगवान विश्वकर्मा की भी पूजा की जाती है।

शास्त्रों में बताया गया है कि गोवर्धन पूजा के दिन अन्नकूट का आयोजन अनिवार्य है। अन्नकूट का अर्थ होता है, अन्न का मिश्रण। इस मिश्रण को भगवान श्री कृष्ण को भोग के रूप में अर्पित किया जाता है और पूजा के बाद इन सभी चीजों को प्रसाद के रूप में बांटा जाता है।

भारत पर बुरी नजर डालने का प्रयास, मुंहतोड़ जवाब

भारत पर बुरी नजर डालने का प्रयास, मुंहतोड़ जवाब 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ सीमा विवाद के बीच रविवार को कहा कि भारत ने कभी किसी देश को नुकसान पहुंचाने की कोशिश नहीं की है, लेकिन अगर कोई उस पर बुरी नजर डालने का प्रयास करता है, तो मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। रक्षा मंत्री ने एक डिजिटल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सीमाओं पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है और देश सभी चुनौतियों से निपटने को तैयार है।

उन्होंने कहा, भारत एक शांति-प्रेमी राष्ट्र है, जिसने कभी किसी देश को नुकसान पहुंचाने की कोशिश नहीं की, लेकिन यदि देश का अमन चैन बिगाड़ने का कोई प्रयास हुआ तो मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। रक्षा मंत्री ने कहा कि सशस्त्र बलों को स्वदेशी अत्याधुनिक हथियारों से सुसज्जित करके सुरक्षा तंत्र को मजबूत करना सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है।

उन्होंने देशवासियों से सांप्रदायिक बंधनों से पार जाकर प्रत्येक भारतीय सैनिक तथा स्वतंत्रता सेनानी में पाए जाने वाले राष्ट्रीय गौरव एवं देशभक्ति के गुणों को आत्मसात करके राष्ट्र निर्माण में योगदान देने का आग्रह भी किया वह गैर सरकारी संगठन ‘मारुति वीर जवान ट्रस्ट’ द्वारा आयोजित ‘शहीदों को सलाम’ कार्यक्रम को डिजिटल माध्यम से संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सशस्त्र बलों के जवान क्षेत्र, धर्म, जाति और भाषा के बंधनों से ऊपर उठकर नि:स्वार्थ भाव से मातृभूमि की सेवा करते हैं और लोगों को विभिन्न खतरों से सुरक्षित रखते हैं।

सिंह ने कहा कि उसी तरह से हमारे क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानियों ने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति दी थी। रक्षा मंत्री ने कहा,  हमारे स्वाधीनता सेनानियों और बहादुर सैनिकों के आदर्शों एवं संकल्पों को आगे बढ़ाना प्रत्येक भारतीय नागरिक का कर्तव्य है। देश की एकता, अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है। राष्ट्र की सेवा में सर्वोच्च बलिदान देने वाले वीर स्वतंत्रता सेनानियों और सशस्त्र बलों के जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए सिंह ने कहा, हमें एक मजबूत, समृद्ध और आत्मनिर्भर ‘नये भारत’ के निर्माण में अपनी भूमिका निभानी है।

रक्षा मंत्री ने शहीदों के परिवार के सदस्यों की सहायता करने को राष्ट्रीय जिम्मेदारी करार दिया। उन्होंने कहा कि सरकार सेवारत और सेवानिवृत्त कर्मियों के परिजनों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने परिवार को किसी सैनिक की सबसे बड़ी ताकत और आधार स्तंभ बताया और कहा कि सरकार इसे मजबूत करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। सिंह ने बताया कि गृह मंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान, ‘भारत के वीर’ नाम का कोष शुरू किया गया था, जो केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के जवानों और कर्मियों के परिवारों की सहायता करने के उद्देश्य से लिए गए उनके प्रमुख निर्णयों में से एक था।

रक्षा मंत्री ने बताया, हाल ही में, रक्षा मंत्रालय ने ‘मां भारती के सपूत’ वेबसाइट शुरू की है, ताकि लोग ‘सशस्त्र बल युद्ध हताहत कोष’ में अधिक योगदान कर सकें। सिंह ने कहा कि सशस्त्र बलों को स्वदेशी अत्याधुनिक हथियारों/उपकरणों से लैस करके देश के सुरक्षा तंत्र को मजबूत करना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि रक्षा क्षेत्र में जल्द ही पूर्ण ‘आत्मनिर्भरता’ हासिल करने के लिए ‘मेड इन इंडिया’ युद्धपोत और अन्य उपकरणों को शामिल करना इस संकल्प को दर्शाता है।

एक्ट्रेस वैशाली ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

एक्ट्रेस वैशाली ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

कविता गर्ग/मनोज सिंह ठाकुर 

मुंबई/इंदौर। टीवी इंडस्ट्री से एक शॉकिंग खबर सामने आ रही है। मशहूर टीवी एक्ट्रेस वैशाली ठक्कर ने इंदौर में अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। एक्ट्रेस की आत्महत्या की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर वहां पहुंचीं और एक्ट्रेस के शव को बरामद किया। पुलिस को घटनास्थल से सुसाइड नोट भी मिला है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शुरुआती तौर पर बॉयफ्रेंड के धोखे को एक्ट्रेस के सुसाइड की वजह माना जा रहा है। लेकिन, जांच होने के बाद ही पुलिस इसकी पुष्टि करेगी।

‘जिसका बंदा न हो वो पंखा घुमाए’
एक्ट्रेस वैशाली ठक्कर ने छह दिन पहले ही अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर सीलिंग फैन को दिखाते हुए एक रील शेयर की थी। एक्ट्रेस ने रील शेयर करते हुए मजाकिया अंदाज में लिखा था, ”जिसका बंदा/बंदी न हो, वो पंखा घुमाए। वहीं, एक्ट्रेस के फॉलोअर्स भी उनकी इस पोस्ट को मस्ती-मजाक समझते हुए फनी कमेंट्स कर रहे थे। एक यूजर ने लिखा भी कि ‘इतना हाई लेवल वाला टाइम पास…।’

‘मैं तो तेरे लिए जान भी दे दूं’
वैशाली ठक्कर ने मौत से पांच दिन पहले भी एक रील वीडियो पोस्ट किया था। इस वीडियो में वो कहती है, बेबी तुम्हारे लिए एक गाना गाऊं’…जिसके बाद वैशाली गाती हैं, दिल, ‘दिल-जिगर नजर क्या है, मैं तो तेरे लिए जान भी दे दूं’।

एक्ट्रेस की मौत से फैंस हुए दुखी
वैशाली ठक्कर की मौत की खबर को सुन उनका परिवार और परिजन सदमे में हैं। टीवी इंडस्ट्री के कलाकार भी इस घटना पर दुख जता रहे हैं। सभी इस घटना के पीछे की सच्चाई जानना चाहते हैं कि आखिर क्या वजह रही थी कि वैशाली ने इस तरह का कदम उठाया।

वैशाली ठक्कर के सीरियल और किरदार
वैशाली टीवी इंडस्ट्री की जानी-मानी एक्ट्रेस थीं।वैशाली ठक्कर को ‘सुसराल सिमर का’ और ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ जैसे लोकप्रिय सीरियल में काम कर चुकी हैं। उन्होंने ‘ससुराल सिमर का’ सीरियल में ‘अंजली भारद्वाज’ और ‘ये रिश्ता क्या कहालाता है’ सीरियल में ‘संजना’ किरदार को निभाया था। वह साल 2015 से 2016 तक इस सीरियल में नजर आई थीं। वैशाली ने ‘सुपर सिस्टर्स’, ‘विश या अमृत’, ‘मनमहोनी 2’ और ‘ये है आशिकी’ जैसे कई सीरियल में काम किया है।

दूसरे देशों में लोगों को भूख नहीं लग रही है: राहुल 

दूसरे देशों में लोगों को भूख नहीं लग रही है: राहुल 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के डॉलर के मजबूत होने वाले बयान पर कहा है कि अब प्रधानमंत्री और उनके मंत्री कहेंगे कि भारत में भुखमरी नहीं बढ़ रही, बल्कि दूसरे देशों में लोगों को भूख ही नहीं लग रही है। उन्होंने कहा, आरएसएस-बीजेपी कब तक जनता को गुमराह कर…भारत को कमजोर करने का काम करेगी? ग्लोबल हंगर इंडेक्स-2022 में भारत (India) की गंभीर स्थिति को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने पीएम मोदी (PM Modi) पर तीखा हमला बोला है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि, भूख और कुपोषण में भारत 121 देशों में 107वें स्थान पर। अब प्रधानमंत्री और उनके मंत्री कहेंगे कि भारत में भुखमरी नहीं बढ़ रही है बल्कि दूसरे देशों में लोगों को भूख ही नहीं लग रही है।

राहुल गांधी ने आगे लिखा कि, आरएसएस-बीजेपी कब तक असलियत से जनता को गुमराह कर, भारत को कमजोर करने का काम करेगी? राहुल गांधी के साथ-साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, पी. चिदंबरम समेत अन्य कांग्रेस नेताओं ने भी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव के उम्मीदवार मल्लिकार्जुन खड़गे ने सवाल किया कि मोदी जी, क्या कोई और बहाना बच गया है? उन्होंने कहा कि भूख सूचकांक में भारत फिर नीचे की ओर फिसल गया। जिन तथ्यों के कारण ये स्थिति पैदा हुई है। बीजेपी उन्हें छिपाने का प्रयास कर रही है।

बता दें कि, आयरलैंड और जर्मनी के गैर-सरकारी संगठनों, कंसर्न वर्ल्डवाइड और वेल्ट हंगर हिल्फ ने शनिवार (15 अक्टबूर) को 121 देशों की ग्लोबल हंगर रिपोर्ट जारी की है। इस लिस्ट में भारत 107वें पर है. भारत के मुकाबले पड़ोसी देश श्रीलंका (64), पाकिस्तान (99), बांग्लादेश (84) और नेपाल (81) कहीं बेहतर स्थिति में हैं। एशिया में भारत से पीछे केवल अफगानिस्तान ही है और वह 109वें नंबर पर है।

केंद्र सरकार ने रिपोर्ट को नकारा
हालांकि भारत सरकार ने इस रिपोर्ट को खारिज कर दिया है. शनिवार को केंद्र सरकार ने कहा कि ये रिपोर्ट न केवल जमीनी हकीकत से अलग है, बल्कि कोरोना महामारी के दौरान सरकार के किए गए कामों को जानबूझकर नजरअंदाज करती है। केंद्र ने कहा कि इसके जरिए भारत की छवि खराब करने का प्रयास किया गया है। साथ ही सरकार की ओर से कहा गया कि हर साल गलत सूचना जारी करना ग्लोबल हंगर इंडेक्स (Global Hunger Index) की पहचान लगती है।

निर्मला सीतारमण के इसी बयान पर तंज
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भारतीय रुपए के प्रदर्शन को लेकर अमेरिका में कहा है कि वह इसे रुपए में गिरावट के तौर पर नहीं बल्कि अमेरिकी डॉलर के लगातार मज़बूत होने के हिसाब से देखती हैं। उन्होंने कहा, रुपए ने (डॉलर के मुकाबले) कई अन्य विकासशील बाज़ारों की मुद्राओं की तुलना में काफी बेहतर प्रदर्शन किया है।

सीबीआई ने उपमुख्यमंत्री सिसोदिया को समन भेजा 

सीबीआई ने उपमुख्यमंत्री सिसोदिया को समन भेजा 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। सीबीआई ने दिल्ली आबकारी घोटाला मामले के संबंध में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को समन भेजा है। कल (सोमवार) को मनीष सिसोदिया से सुबह 11 बजे पूछताछ होगी। सिसोदिया ने कहा कि मेरे घर पर 14 घंटे CBI रेड कराई, कुछ नहीं निकला. मेरा बैंक लॉकर तलाशा, उसमें कुछ नहीं निकला। मेरे गांव में इन्हें कुछ नहीं मिला। अब इन्होंने कल 11 बजे मुझे CBI मुख्यालय बुलाया है, मैं जाऊँगा और पूरा सहयोग करूंगा, सत्यमेव जयते।

वहीं, सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जेल की सलाख़ें और फाँसी का फंदा भगत सिंह के बुलंद इरादों को डिगा नहीं पाये। ये आज़ादी की दूसरी लड़ाई है।मनीष और सत्येंद्र आज के भगत सिंह है। 75 साल बाद देश को एक शिक्षा मंत्री मिला जिसने ग़रीबों को अच्छी शिक्षा देकर सुनहरे भविष्य की उम्मीद दी। बता दें कि दिल्ली के शराब नीति मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने हाल ही में पहली गिरफ्तारी की थी। ईडी ने मनीष सिसोदिया के करीबी समीर महेंद्रू को गिरफ्तार किया था। 

दिल्ली एक्साइज पॉलिसी केस को लेकर सीबीआई द्वारा दर्ज की गई FIR में मनीष सिसोदिया का नाम सबसे ऊपर है। बाकी आरोपियों के नाम नीचे आ रहे हैं। ऐसे में तय है कि जांच के केंद्र में मनीष सिसोदिया ही रहने वाले हैं। इस मामले में जांच एजेंसी ने सिसोदिया के अलावा 14 और लोगों को आरोपी बनाया है।

दो-तीन दिनों में उम्मीदवारों की घोषणा करेगी 'आप'

दो-तीन दिनों में उम्मीदवारों की घोषणा करेगी 'आप'

श्रीराम मौर्य 

शिमला। आम आदमी पार्टी (आप) हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए अगले दो-तीन दिनों में अपने सभी उम्मीदवारों की घोषणा करेगी। पार्टी के प्रदेश प्रभारी हरजोत सिंह बैंस ने रविवार को यह जानकारी दी।

राज्य विधानसभा की 68 सीट पर मतदान 12 नवंबर को होने का कार्यक्रम है, जबकि मतगणना आठ दिसंबर को होगी। पंजाब में मंत्री बैंस ने संवाददाताओं से कहा कि आप ने चार सीट पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा पहले ही कर दी है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-372, (वर्ष-05)

2. सोमवार, अक्टूबर 17, 2022

3. शक-1944, कार्तिक, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अष्टमी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 06:18, सूर्यास्त: 06:15। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 21 डी.सै., अधिकतम-33+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...