मंगलवार, 21 मार्च 2023

परंपरा: 'माह-ए-रमजान' का महीना प्रारंभ, रोजे

परंपरा: 'माह-ए-रमजान' का महीना प्रारंभ, रोजे

सरस्वती उपाध्याय 

इस्लामिक कैलेंडर का 9वां महीना रमजान का पाक महीना होता है। रमजान मुसलमानों के सबसे प्रमुख त्योहारों में शामिल है। इस पूरे महीने के दौरान दुनियाभर के सभी मुसलमान अल्लाह की इबादत करते हैं और रोजे रखते हैं। यह त्योहार 30 दिनों का होता है, जो हर साल चांद के दीदार के साथ शुरू होता है। इस दौरान सभी मुस्लिम समुदाय के लोग सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करते हैं। फिर नमाज पढ़कर सहरी खाते हैं। सहरी के बाद वे सीधे शाम को सूर्यास्त के बाद भोजन करके अपना रोजा खोलते हैं, जिसे इफ्तार कहा जाता है।

इस बार रमजान 23 मार्च से शुरू हो रहा है। इस त्योहार की खुशी के मौके पर कई लोग अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को बधाई से जुड़े संदेश भेजते हैं।

नवरात्रि का पहला दिन मां 'शैलपुत्री' को समर्पित

नवरात्रि का पहला दिन मां 'शैलपुत्री' को समर्पित

सरस्वती उपाध्याय 

नवदुर्गा सनातन धर्म में भगवती माता दुर्गा जिन्हे आदिशक्ति जगत जननी जगदम्बा भी कहा जाता है, भगवती के नौ मुख्य रूप है, जिनकी विशेष पूजा व साधना नवरात्रि के दौरान और वैसे भी विशेष रूप से करी जाती है। इन नवों/नौ दुर्गा देवियों को पापों की विनाशिनी कहा जाता है, हर देवी के अलग अलग वाहन हैं, अस्त्र शस्त्र हैं परन्तु यह सब एक हैं और सभी परम भगवती दुर्गा जी से ही प्रकट होती है।

दुर्गा सप्तशती ग्रन्थ के अन्तर्गत देवी कवच स्तोत्र में निम्नाङ्कित श्लोक में नवदुर्गा के नाम क्रमश: दिये गए हैं–

प्रथमं शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्मचारिणी।

तृतीयं चन्द्रघण्टेति कूष्माण्डेति चतुर्थकम् ।।

पंचमं स्कन्दमातेति षष्ठं कात्यायनीति च।

सप्तमं कालरात्रीति महागौरीति चाष्टमम् ।।

नवमं सिद्धिदात्री च नवदुर्गा: प्रकीर्तिता:।

उक्तान्येतानि नामानि ब्रह्मणैव महात्मना ।। 


नौ रूप...

देवी दुर्गा के नौ रूप होते हैं, जिन्हें नवदुर्गा कहा जाता है।


शैलपुत्री...

दुर्गाजी पहले स्वरूप में 'शैलपुत्री' के नाम से जानी जाती हैं। ये ही नवदुर्गाओं में प्रथम दुर्गा हैं। पर्वतराज हिमालय के घर पुत्री रूप में उत्पन्न होने के कारण इनका नाम 'शैलपुत्री' पड़ा। नवरात्र पूजन में प्रथम दिवस इन्हीं की पूजा और उपासना की जाती है। इनका वाहन वृषभ है, इसलिए यह देवी वृषारूढ़ा के नाम से भी जानी जाती हैं। इस देवी ने दाएँ हाथ में त्रिशूल धारण कर रखा है और बाएँ हाथ में कमल सुशोभित है। यही सती के नाम से भी जानी जाती हैं।


मंत्र...

वन्दे वाञ्छितलाभाय चन्द्रार्धकृतशेखराम्‌।

वृषारूढां शूलधरां शैलपुत्रीं यशस्विनीम्‌ ॥


कहानी...

एक बार जब सती के पिता प्रजापति दक्ष ने यज्ञ किया तो इसमें सारे देवताओं को निमन्त्रित किया, पर अपने दामाद भगवान शंकर को नहीं। सती अपने पिता के यज्ञ में जाने के लिए विकल हो उठीं। शंकरजी ने कहा कि सारे देवताओं को निमन्त्रित किया गया है, उन्हें नहीं। ऐसे में वहाँ जाना उचित नहीं है। परन्तु सती सन्तुष्ट नहीं हुईं।

सती का प्रबल आग्रह देखकर शंकरजी ने उन्हें यज्ञ में जाने की अनुमति दे दी। सती जब घर पहुँचीं तो सिर्फ माँ ने ही उन्हें स्नेह दिया। बहनों की बातों में व्यंग्य और उपहास के भाव थे। भगवान शंकर के प्रति भी तिरस्कार का भाव था। दक्ष ने भी उनके प्रति अपमानजनक वचन कहे। इससे सती को क्लेश पहुँचा। वे अपने पति का यह अपमान न सह सकीं और योगाग्नि द्वारा अपने-आप को जलाकर भस्म कर लिया।

इस दारुण दुख से व्यथित होकर शंकर भगवान ने ताण्डव करते हुये उस यज्ञ का विध्वंस करा दिया। यही सती अगले जन्म में शैलराज हिमालय की पुत्री के रूप में जन्मी और शैलपुत्री कहलाईं। शैलपुत्री का विवाह भी फिर से भगवान शंकर से हुआ। शैलपुत्री शिव की अर्द्धांगिनी बनीं। इनका महत्व और शक्ति अनन्त है।

छात्रों के लिए 'मेन्यू' में रागी दलिया शामिल, घोषणा 

छात्रों के लिए 'मेन्यू' में रागी दलिया शामिल, घोषणा 

इकबाल अंसारी 

अमरावती। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने मंगलवार को सरकारी स्कूल के छात्रों के लिए 'मेन्यू' में एक अतिरिक्त पोषक तत्व रागी दलिया (रागी माल्ट) को शामिल करने की घोषणा की। इस योजना की लागत करीब 86 करोड़ रुपये आएगी। मौजूदा जगन्ना गोरु मुड्डा योजना के 'मेन्यू' में रागी दलिया को शामिल करने से 44,392 सरकारी और सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले करीब 37.6 लाख से अधिक छात्रों को स्कूल के भोजन के माध्यम से 'आयरन' और 'कैल्शियम' के पोषण लाभ मिलेंगे।

वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने इस योजना की शुरुआत करते हुए कहा, ‘‘ रागी दलिया को शामिल करना गोरू मुड्डा को और भी बेहतर बनाने के लिए है। यह पेय उपयोगी माने जाने वाले तत्व 'आयरन' और 'कैल्शियम' प्रदान करता है जो बच्चों के विकास में मददगार हैं। ’’ मुख्यमंत्री के अनुसार रागी दलिया को शामिल करने पर मध्याह्न भोजन योजना पर राज्य सरकार का प्रतिवर्ष खर्च 1,824 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,910 करोड़ रुपये हो जाएगा।

कार्यक्रमों में भाग, 25 को कर्नाटक पहुंचेंगे 'पीएम'

कार्यक्रमों में भाग, 25 को कर्नाटक पहुंचेंगे 'पीएम'

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/बेंगलुरु। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चिकबल्लापुर, बेंगलुरु और दावणगेरे में आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए 25 मार्च को कर्नाटक पहुंचेंगे। एक सरकारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि प्रधानमंत्री 25 मार्च की सुबह शहर में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) हवाई अड्डे पर उतरेंगे और मधुसूदन साई इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड रिसर्च का उद्घाटन करने के लिए हेलीकॉप्टर से चिकबल्लापुर के लिए उड़ान भरेंगे। मोदी व्हाइटफील्ड मेट्रो लाइन का उद्घाटन करने के लिए दोपहर में बेंगलुरु पहुंचेंगे और मेट्रो ट्रेन में सवारी भी करेंगे। एक आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, इसके बाद वह दावणगेरे जाएंगे और एक जनसभा को संबोधित करेंगे और फिर शिवमोग्गा जाएंगे और फिर दिल्ली के लिए उड़ान भरेंगे। मोदी का इस साल कर्नाटक का यह सातवां दौरा होगा।

प्रधानमंत्री 12 मार्च को मांड्या में बेंगलुरु-मैसूरू एक्सप्रेस-वे और धारवाड़ में आईआईटी परिसर का उद्घाटन करने के लिए कर्नाटक में थे। हालांकि, आधिकारिक विज्ञप्ति में जनसभा के बारे में विवरण साझा नहीं किया गया है, लेकिन कर्नाटक में अपनी चुनावी तैयारियों के तहत सत्तारूढ़ भाजपा की यह एक बड़ी रैली बताई जा रही है। भाजपा की कर्नाटक इकाई और मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई सहित उसके नेताओं ने कहा है कि मोदी 25 मार्च को दावणगेरे के जिला मुख्यालय में एक बड़ी रैली में भाग लेंगे, जो 8,000 किलोमीटर लंबी ‘‘विजय संकल्प यात्रा’’ के समापन के अवसर पर होगी। विशेष रूप से डिजाइन किए गए वाहनों या 'रथों' में राज्य के चार अलग-अलग हिस्सों से शुरू हुए 20 दिवसीय राज्यव्यापी यात्रा की शुरुआत एक मार्च को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने चामराजनगर जिले के माले महादेश्वर हिल्स में की थी।

भाजपा के कई वरिष्ठ नेता, अन्य भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्रियों ने इन कार्यक्रम में भाग लिया है। कर्नाटक में चुनावी तैयारियां शुरू होने के बाद से यह पार्टी की पहला बड़ा कार्यक्रम है, जिसमें प्रधानमंत्री शामिल होंगे। पार्टी पदाधिकारियों के अनुसार, इस कार्यक्रम का उद्देश्य विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा कार्यकर्ताओं में जोश भरना है। इस बार पूर्ण बहुमत के साथ राज्य में सत्ता में वापसी करने का लक्ष्य रखने वाली भाजपा ने विधानसभा की कुल 224 सीट में से कम से कम 150 सीट जीतने का लक्ष्य रखा है।

प्रदर्शन: 'पीएम' के नाम का ज्ञापन डीएम को सौंपा

प्रदर्शन: 'पीएम' के नाम का ज्ञापन डीएम को सौंपा

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली‌। शामली में मंगलवार को कलेक्ट्रेट में रेलवे कर्मियों ने प्रदर्शन किया। उन्होंने प्रधानमंत्री के नाम का ज्ञापन डीएम को सौंपा। कर्मियों ने एनपीएस को रद्द करने और ओपीएस को लागू कराने की मांग की। वहीं, जल्द ही पुरानी पेंशन बहाली के मामले को लेकर प्रदेश स्तर पर आंदोलन की चेतावनी दी। नॉर्थन रेलवे यूनियन के कर्मचारी के साथ राज्य कर्मचारी भी शामिल रहे। उन्होंने बताया कि हम लोग मामले में पहले जिला लेवल पर और फिर आने वाले समय में इस मामले को प्रदेश लेवल पर लेकर जाएंगे।

क्योंकि, सरकारी कर्मचारियों में एक जनवरी 2004 से लागू एनपीएस को लेकर आक्रोश है, जो दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। कहा, कि केंद्र और राज्य के कर्मचारियों के लिए बुढ़ापे की लाठी सेवानिवृत्त पेंशन को एनपीएस माध्यम से खत्म कर दिया गया है। वहीं, आदेश को लागू करने के लिए विधान पालिकाओं के सदस्य खुद पेंशन का लाभ ले रहे हैं। वही एक दूसरे कर्मचारी जो अपनी आधी उम्र सरकारी सेवा में गुजार देते हैं, उनको पेंशन से वंचित रख दिया गया है। यह सरकार की नाइंसाफी है, इसलिए प्रधानमंत्री से मामले में जल्द कार्रवाई करने की गुहार लगाई है।

देश के खिलाफ काम करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा

देश के खिलाफ काम करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि पिछले कुछ दिनों की पंजाब सरकार की कार्रवाई ने दिखा दिया कि आप कट्टर देशभक्त पार्टी है और देश के खिलाफ काम करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। केजरीवाल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पंजाब में कानून व्यवस्था मजबूत रखने और शांति व्यवस्था को कायम रखने के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी की पंजाब सरकार ने पिछले कुछ दिनों में कई कठोर कदम उठाए हैं।  

मान ने बहुत ही परिपक्वता और संयम के साथ कार्रवाई की है। उन्होंने कहा, जब पंजाब में हमारी सरकार बनी थी, उस वक्त कुछ लोग कहते थे कि आपको शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली और पानी आदि के काम करने तो आते हैं, लेकिन क्या पंजाब में कानून व्यवस्था को काबू में कर पाएंगे? पिछले एक साल के अंदर आम आदमी पार्टी की सरकार ने यह साबित कर दिया है कि अगर नीयत साफ हो, सरकार ईमानदार हों और उसके इरादे नेक हों तो कानून व्यवस्था को भी बहुत बखूबी कायम किया जा सकता है।

उन्होंने कहा, पंजाब में पहले गैंगस्टर और अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण दिया जाता था। अलग-अलग अपराधियों की अलग-अलग नेताओं के साथ सेटिंग थी। हमारी किसी के साथ साठगाँठ नहीं है। हमारी पार्टी ईमानदार पार्टी है। पंजाब में सत्ता संभालने के बाद हमारी पार्टी की सरकार ने एक के बाद एक गैंगस्टर्स और अपराधियों की धर-पकड़ शुरू हुई।

पिछले एक साल के अंदर कई नशा माफिया, गैंगस्टर्स और आपराधिक माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की गई है। आप  के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा पिछले कुछ दिनों की कार्रवाई ने यह दिखा दिया है कि आम आदमी पार्टी की सरकार कड़े से कड़ा कदम उठाने के लिए भी तैयार है। हम देशभक्त लोग हैं और अपनी भारत माता से प्यार करते हैं। अगर कोई भारत मां के खिलाफ किसी भी तरह की कोई कार्रवाई करेगा तो उसको छोड़ा नहीं जाएगा। अगर कोई भी शांति व्यवस्था को भंग करने की कोशिश करेगा, तो उसको बख्शा नहीं जाएगा। देश के हित में जो भी करना पड़ेगा, करेंगे। 

घोटाले की जांच में 'सीबीआई' का सहयोग: सिसोदिया

घोटाले की जांच में 'सीबीआई' का सहयोग: सिसोदिया

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी की एक अदालत से कहा कि उन्होंने कथित आबकारी नीति घोटाले की जांच में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) का सहयोग किया है, तथा किसी भी तलाशी के दौरान उनके खिलाफ कोई आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद नहीं हुआ है। सिसोदिया की जमानत याचिका पर दलील पेश करते हुए उनके वकील ने कहा कि आप नेता को हिरासत में लेकर पूछताछ की अब आवश्यकता नहीं है और उनके विदेश भागने का भी कोई खतरा नहीं है।

उनके वकील ने दलील दी, मैं जनसेवक हूं, लेकिन उन दो अन्य जनसेवकों को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है, जिनके खिलाफ ज्यादा गंभीर आरोप हैं। सिसोदिया के वकील ने कहा कि उनके मुवक्किल के खिलाफ घूस लेने का कोई दस्तावेजी साक्ष्य नहीं है और आबकारी नीति में परिवर्तन सामान्य प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि आबकारी नीति में बदलाव से संबंधित फैसले को दिल्ली के उपराज्यपाल एवं वित्त सचिव तथा अन्य के पास भेजा गया था। 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-159, (वर्ष-06)

2. बुधवार, मार्च 22, 2023

3. शक-1944, चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2079‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:40, सूर्यास्त: 06:23। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 15 डी.सै., अधिकतम- 24+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। इस समय देश में सभी देशवासियों का गर्मी से हाल बेहाल है और अभी...