गुरुवार, 1 जुलाई 2021

राजनीति: रूस के बीच जारी तनाव में कूदा अमेरिका

वाशिंगटन डीसी/ मास्को। भूमध्य सागर में ब्रिटेन और रूस के बीच जारी तनाव में अब अमेरिका भी कूद गया है। ब्रिटिश एयरक्राफ्ट कैरियर एचएमएस क्वीन एलिजाबेथ के बिलकुल पास मिसाइल युद्धाभ्यास कर रही रूसी सेना को ओहियो क्लास की यूएसएस अलास्का बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बी ने चुनौती दी है। कुछ दिनों पहले ही रूस ने आरोप लगाया था कि ब्रिटेन और अमेरिका के लड़ाकू विमानों ने उसके युद्धपोतों के ऊपर से उड़ान भरी है। 
यह अमेरिकी पनडुब्बी 21 साल में पहली बार भूमध्य सागर स्थित ब्रिटिश ओवरसीज क्षेत्र में स्थित यूके रॉयल नेवी से बेस का दौरा किया है। 
अमेरिकी नौसेना ने अपने बयान में बताया है कि उसकी ओहियो श्रेणी की यूएसएस अलास्का बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बी ने भूमध्य सागर में ब्रिटिश नौसैनिक अड्डे पर अत्यंत दुर्लभ स्टॉपओवर लिया है। यह ठहराव रसद आपूर्ति के लिए लिया गया है जो पहले से ही निर्धारित थी। लेकिन, विशेषज्ञ इसे रूस से जोड़कर देख रहे हैं। कुछ दिन पहले ही रूस ने ब्रिटिश नौसेना के एचएमएस डिफेंडर को काला सागर से खदेड़ दिया था।

राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश का 48 वांं जन्मदिन मनाया

भानु प्रताप उपाध्याय             
शामली। थानाभवन समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओ द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का आज गुरुवार को 48 वांं जन्मदिन मनाया। जाबिर राव (जिलाध्यक्ष नोजवान सभा सपा शामली) के निवास स्थान पर सैकडो कार्यकर्ताओ ने गरीबो मे घर-घर जाकर फल वितरण कर मिशन 2022 की विजय के नाम केक काटा। जाबिर राव ने कहा, कि अखिलेश यादव के जन्मदिन के साथ सपा नोजवानसभा के रा. अध्यक्ष माधव पडितं के 42 वें जन्मदिन को भी समाजवादी नोजवान सपा शामली के नेताओ द्वारा केक काटकर मनाया गया। जन्मदिन मे मुख्यअतिथी पिछडा वर्ग के प्रदेश सचिव रविन्द्र प्रधान जोगी़ एवं गीता जोगी (प्रदेश सचिव नोजवान सभा उ.प्र.) रही। कार्यकर्म की अध्यक्षता सपा नेता ममरेज राणा ने की। 
गीता जोगी ने कहा कि अखिलेश यादव की सरकार मे ही महिलाये सुरक्षित है। जाबिर राव ने रविन्द्र प्रधान जोगी को मिशन 2022 के अन्तर्गत समाजवादी चिह्न साईकिल देकर सम्मानित किया। 
साथ रहे नबाब मीऱ' मरगूब राव:हाजी मो.यासीन मीर मोर जहीर मीर। आकिल अली राजकुमार जोगी मेहताब आलम़ सजीव कश्यप, सोनू कश्यप, राकेश कश्यप रिजवान राव नावेद राणा' मुज्जमिल राव, मोशिन राव डॉ. अनुज सैनी, बहन यासमिन, जोगी मुन्नी नफीसा, फोमिना जैतुन, रविराज वाजिद मंसूरी, सागीर मेम्बर आदि मोजूद रहे।

परिवार को आश्वासन दिया, मुकदमा दर्ज कराया

भानु प्रताप उपाध्याय                                          
शामली। हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली ने झिंझाना क्षेत्र के चोंदाहेडी गांव में मुस्लिम समुदाय के व्यक्ति द्वारा गांव की हिंदू लड़की हो लेकर फरार हो जाने की सूचना पर  संगठन के पदाधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवार को आश्वासन देते हुए आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।
गांव चोंदाहेड़ी में एक हिंदू की लड़की को गांव का ही विशेष समुदाय का भगा कर ले गया। जिससे गांव में तनाव फैल गया। जैसे उक्त घटना की सूचना हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के पदाधिकारियों को लगी और उक्त घटना को गंभीरता से लेते हुए बिट्टू कुमार जिला प्रभारी, चौधरी रविंदर सिंह कालखंडे जिला संयोजक, घनश्याम पारचा, भाजपा जिला उपाध्यक्ष, भाजपा नेता बादल गौतम पारस, भारद्वाज आदि कार्यकर्ताओं के साथ गांव चोंदाहेड़ी में मौके पर पहुंचे और उक्त घटना को संज्ञान लिया और झिंझाना थाना कोतवाली प्रभारी से मिलकर मुकदमा काम कराया और कहा, कि ऐसे लव जेहाद वाले मामले को गंभीरता से लिया जायें। लव जेहाद व धर्मांतरण वाले मामले को हिंदु युवा वाहिनी शामली परिवार बिलकुल बर्दाश्त नहीं किया जायेगा और आरोपी को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग पर अड़ गए। झिंझाना थाना कोतवाली प्रभारी ने आरोपी को शीघ्र  गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। 
वहीं दूसरी ओर अरविंद कौशिक जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष, सुधीर राणा, अनुज गोयल ,अमित गोयल, प्रदीप नीरवाल, वरुण वशिष्ठ, अनुराग गोयल, विक्की कुमार, आशीष निरवाल, लोकेश योगी, उपेंद्र  द्विवेदी ,मनोज रूहेला, राजेश गुप्ता, अमरीश शर्मा ,भानु प्रताप उपाध्याय, शिवदत्त शर्मा, आदि ने भी आरोपी व लड़की को शीघ्र ही बरामद करने की मांग पुलिस प्रशासन से की।

यूपी: मेडिकल कॉलेज का डीएम ने किया निरीक्षण

उज्जवल केसरवानी           
कौशाम्बी। कादीपुर में बन रहे मेडिकल कॉलेज का डीएम ने निरीक्षण किया। निरीक्षण में उन्होंने भवन के निर्माण कार्य में तेजी लाते हुए गुणवत्तापूर्ण एंव समयबद्धता के साथ पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने संबंधित ठेकेदार को सख्त हिदायत देते हुए निर्देशित किया है कि मटेरियल की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही ने बरतें। 
इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सिराथू प्रखर उत्तम, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. पीएन चतुर्वेदी, डॉ. हिन्द प्रकाश मणि सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

विनोद मेहता के साथ दुर्भावनापूर्ण भेदभाव का मामला

राणा ओबराय
चंडीगढ़। हरियाणा मुख्यमंत्री के प्रधान मीडिया सलाहकार विनोद मेहता के साथ दुर्भावनापूर्ण भेदभाव का मामला देखने को मिला है। सीएम के प्रधान मीडिया सलाहकार का पद एक और सुधार के प्रोजेक्ट डायरेक्टर, सार्वजनिक ब्यूरो के उपाध्यक्ष और राजनीतिक सचिव से बड़ा है। फिर नेम प्लेट में भेदभाव क्यों। क्योंकि पूर्व प्रोजेक्ट डायरेक्टर रोकी मित्तल सार्वजनिक ब्यूरो के उपाध्यक्ष की भी मंत्रियों वाली बड़ी प्लेट थी परन्तु प्रधान मिडिया सलाहकार की नेम प्लेट निजी सचिव जैसी लगा रखी है। क्या दुर्भावनापूर्ण किया गया कार्य है ? 
अगर नही है तो तुरंत मीडिया सलाहकार की बड़ी नेम प्लेट बननी चाहिए। अथवा सचिवालय में सीएम के साथ नियुक्त सभी की नेम प्लेट एक जैसी बनाई जाए।

भाजपा अध्यक्ष धनखड़ पर दबाव बनाने का प्रयास

राणा ओबराय
चंडीगढ़। हरियाणा के पूर्व मंत्री संपत सिंह ने हाल ही में भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पद त्याग कर किसानों का हितैषी बनने और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ पर दबाव बनाने का प्रयास दिखता है। कभी देवीलाल के राज में संपतसिंह की तूती बोलती थी। जैसे ही सम्पत सिंह ने देवीलाल और चौटाला की पार्टी को छोड़ा और कांग्रेस में अपनी किस्मत आजमाने के लिए गए, तो मानो उनका राजनीति भविष्य धूमल होता चला गया। 
सम्पत सिंह ने फिर कांग्रेस छोड़ भाजपा पार्टी की सदस्यता ग्रहण करी। तब से लेकर अब तक भाजपा में भी वह शून्य के समान दिखाई देते हैं। अब जब भाजपा पार्टी के प्रदेशअध्यक्ष ओपी धनखड़ ने उनको प्रदेश कार्यकारणी जैसे महत्वपूर्ण पद पर नियुक्ति करके उनको मान सम्मान सौंपा तो उन्होंने किसान हितेषी होने का लाभ लेने के लिए और जनता में दिखावा करने के लिए प्रदेश कार्यकारिणी के पद को ठुकराकर ओपी धनखड़ और मुख्यमंत्री खट्टर पर दबाव बनाने का प्रयास किया। इस आधुनिक युग में ग्रामीण क्षेत्र अब न समझ औऱ भोला भाला नही रहा। सब समझते हैं कौन किसका हितेषी है।

पुलिस पर एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया

अतुल त्यागी               
हापुड़। बाबूगढ़ क्षेत्र में लगातार घटनाएं सामने आ रही हैं। पुलिस का नहीं है, लोगों को डर। दो पक्षों में जरा-सी कहासुनी को लेकर हुए विवाद में एक पक्ष के लोगों को चोटें आईं। पुलिस पर एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया। एसपी नीरज कुमार जादौन को शिकायत-पत्र दिया।
मामला जनपद हापुड़ के थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव अयादनगर का है। जहां दो पक्षों में नाली बनाने को लेकर विवाद हो गया और विवाद इतना बढ़ गया। बीडीसी मेंबर ने अपने पद के गुरूर में चूर होकर लोगों पर बरपाया कहर। अपने लोगों के साथ मिलकर लाठी-डंडों और धारदार हथियारों से घर में घुसकर ताबड़तोड़ वार किएं। कई लोग घायल हुए हैं, मामला हुआ 2 दिन पुराना।
बीच बचाव में आई महिलाओं के साथ भी दबंगों ने अभद्रता की। वहीं पीड़ितों ने बीडीसी मेंबर की तरफ से एक तरफा कार्यवाही होने का आरोप लगाते हुए हापुड़ एसपी से न्याय की गुहार लगाई है। बड़ा सवाल यह है, कि जिनको चोट लगीं, उनके ही खिलाफ कर दिया मुकदमा दर्ज और भेज दिया सलाखों के पीछे। बीडीसी मेंबर के पक्ष में उतरी पुलिस एकतरफा कार्रवाई से पीड़ित परिवार के लोगों में रोष एसपी से न्याय की गुहार लगाईं।

भारत: कोरोना के मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की

अकांशु उपाध्याय                     
नई दिल्ली। देश में कोरोना के केस में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। बुधवार को 48,415 नए मरीजों की पहचान हुई। 61,494 ठीक हो गए और 988 ने जान गंवाई। इस तरह एक्टिव केस, यानी इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 14,083 की कमी आई है। हालांकि, केरल के आंकड़े कुछ डरा रहे हैं। यहां बीते दो दिनों से नए केस 13,500 से ज्यादा आ रहे हैं। इससे पहले 21 जून को यह संख्या घटकर 7,449 तक पहुंच गई थी।
यहां बुधवार को 13,658 नए मामले सामने आए। 11,808 लोग ठीक हुए और 142 लोगों की मौत हो गई। अब तक राज्य में 29.24 लाख लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 28.09 लाख लोग ठीक हो चुके हैं। जबकि 13,236 लोगों की मौत हो गई। 1,00,877 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है।

ढ़ाई अरब टन कार्बन उत्‍सर्जन, वन लगाने का लक्ष्‍य

अकांंशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। पर्यावरण और वन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि भारत ने 2030 तक अतिरिक्‍त ढाई अरब टन कार्बन उत्‍सर्जन के बराबर वन लगाने का लक्ष्‍य रखा है। उन्‍होंने कहा कि पिछले सात वर्षों में वनों के भीतर और बाहर वृक्ष क्षेत्र 15 हजार वर्ग किलोमीटर बढ़ा है।
श्री जावड़ेकर ने अपने निवास पर परिजात वृक्ष रोपित कर पौधारोपण अभियान की शुरूआत की। उन्‍होंने लोगों से वृक्ष लगाने और उनकी देखभाल करने की अपील की।
वन महोत्‍सव देश की स्‍वतंत्रता के कुछ वर्षों बाद शुरू हुआ था। तत्‍कालीन पर्यावरण मंत्री रफी अहमद किदवई ने 1950 में सबसे पहला वन महोत्‍सव मनाया था। इसका उद्देश्‍य पेड़ों की कटाई के कारण वन्‍य जीवों और वनवासियों पर पड़ने वाले असर के बारे में जागरूकता लाना है।

लंबी कतारों की वजह केवल कोविड प्रतिबंध नहीं

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसा नहीं है कि सिर्फ कोविड संबंधी प्रतिबंधों के कारण सार्वजनिक परिवहन सेवा के लिए लंबी कतारें लग रही हैं। बल्कि इसकी असली वजह पेट्रोलियम उत्पादों के ऊंचे दाम हैं।
उन्होंने ट्वीट किया, सार्वजनिक परिवहन सेवा के लिए लंबी-असुविधाजनक कतारों की वजह सिर्फ़ कोविड प्रतिबंध नहीं हैं। 
असली वजह जानने के लिए अपने शहर में पेट्रोल-डीज़ल के दाम देखें। कांग्रेस पिछले कुछ महीनों से सरकार पर लगातार आरोप लगा रही है कि वह पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क बढ़ाकर हर साल लाखों रुपये कमा रही है। लेकिन कोविड संकट के समय आम लोगों को आर्थिक मदद देने के लिए कदम नहीं उठा रही है। उल्लेखनीय है कि देश के कई शहरों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक और डीजल की कीमत 90 रुपये प्रति लीटर से ज्यादा है।

दर्ज शिकायत के आधार पर केस की छानबीन शुरू की

दुष्यंत टीकम               
रायपुर। राजधानी रायपुर के मौदहापारा थाना में साल 2016 में पीएसीएल कंपनी और उसके डायरेक्टर सुखदेव सिंह के खिलाफ जालसाजी और धोखाधड़ी के मामले में शिकायत दर्ज कराई गई थी। आरोप था कि चिटफंड कंपनी के डायरेक्टर सुखदेव सिंह ने उनके साथ आर्थिक धोखाधड़ी की है और उनके करोड़ों रुपए लेकर वह फरार हो गया है।
दर्ज शिकायत के आधार पर मौदहापारा पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की। शिकायत की पुष्टि होने पर डायरेक्टर सुखदेव सिंह के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर उसकी तलाश शुरू की गई। लेकिन बीते पांच सालों तक उसकी कोई खबर पुलिस को नहीं मिल पाई।
ताजा जानकारी के मुताबिक रायपुर पुलिस को इस बात की जानकारी मिली कि आरोपी सुखदेव को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है और उसे पंजाब के रूपनगर जेल दाखिल किया गया है। इसके बाद रायपुर पुलिस ने इस मामले में सक्रियता दिखाई और उसे प्रोटक्शन वारंट पर रायपुर लाया गया।

12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को लगेगा टीका

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। कोरोना से जंग में कोरोना की वैक्सीन ही एक मात्र हथियार है। इस बीच एक अच्छी खबर सामने आई है। अगर सबकुछ सही रहा तो भारत में जल्द ही 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को भी टीका लगना शुरू हो जाएगा। वैक्सीन के तीनों चरणों का ट्रायल पूरे हो चुके हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, जायडस कैडिला ने भारत के टॉप दवा नियामक ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के समक्ष आवेदन दिया है।जिसमें उसने अपनी डीएनए वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग की मंजूरी की मांग की है। जायडस कैडिला की वैक्सीन के तीसरे चरण के क्लिनिकल परीक्षण डेटा से पता चलता है कि डीएनए वैक्सीन टीका 12 से 18 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों के लिए सुरक्षित है। कंपनी ने सालाना कोरोना टीकों की 100-120 मिलियन खुराक बनाने की योजना बनाई है।
बेंगलुरु बेस्ड फार्मास्युटिकल कंपनी जायडस कैडिला ने ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया यानी डीसीजीआई से 12 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए अपनी डीएनए वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांगी है। अगर डीसीजीआई से इस वैक्सीन को मंजूरी मिल जाती है तो फिर देश में जारी टीकाकरण अभियान में जल्द ही यह वैक्सीन शामिल हो सकती है।
बेंगलुरु बेस्ड फार्मास्युटिकल कंपनी जायडस कैडिला ने ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया यानी डीसीजीआई से 12 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए अपनी डीएनए वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांगी है। अगर डीसीजीआई से इस वैक्सीन को मंजूरी मिल जाती है तो फिर देश में जारी टीकाकरण अभियान में जल्द ही यह वैक्सीन शामिल हो सकती है।
जायडस कैडिला की यह वैक्सीन 12 वर्ष की आयु और उससे ऊपर के लोगों के लिए है। कंपनी ने वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल का डेटा प्रस्तुत किया है। जिसमें 28,000 से अधिक वॉलंटियरों ने भाग लिया था। रॉयटर्स की मानें तो अंतरिम डेटा में वैक्सीन सुरक्षा और प्रभावकारिता के मानकों पर खड़ी उतरी है।

प्रवासी श्रमिकों को राशन किटों का वितरण किया

हरिओम उपाध्याय          
बांदा। साथी हाथ बढ़ाना,एक अकेला थक जायेगा मिलकर बोझ उठाना “की तर्ज पर बच्चों के हितों के लिये समर्पित संस्था चाइल्ड ट्रस्ट द्बारा कोरोना काल के प्रवासी श्रमिकों को कोरोना किट तथा राशन किटों का वितरण कर गरीब श्रमिकों एवं उनके बच्चों का आशिर्वाद बटोरा जा रहा है। सबने “देव दूत” की संज्ञा देकर कोआर्डिनेटर महेंद्र सिंह गौतम को नवाजा।कार्यक्रम का आयोजन संस्था के स्टेट कोआर्डिनेटर महेंद्र सिंह गौतम द्वारा शहर के क्षेत्रीय कार्यालय मोहल्ला कालूकुआं में किया गया।संस्था के कोआर्डिनेटर महेंद्र सिंह नें कहा की कोरोना के कहर की तीसरी लहर में बच्चों के ज्यादा संक्रमित होनें की बात कही जा रही है।इसलिए संस्था के माध्यम से बच्चों के संक्रमित होनें से बचाव के लिये प्राथमिकता के आधार पर उन्हें तथा उनके परिजनों को जागरूक किया जा रहा है। बताया जा रहा है की सफाई व्यवस्था और स्वछता पर ध्यान दें।वैक्सीनेशन कराये और और दूसरों को भी इसके लिये प्रेरित करें।
संस्था से जुड़े रामू प्रसाद नें संस्था की कार्य प्रणाली पर प्रकाश डाला एवं बताया की यहां ग्राम जमालपुर में भी कैंप लगाकर सुरक्षा किट एवं राशन सामग्री का वितरण किया जायेगा।युवा व्यापारी नेता प्रदीप जडिया नें कहा की कोरोना से बचाव के लिये जागरूक एवं जरूरतमंदो कीराशनिंग मदद करना पुनीत कर्तव्य है।चाइल्ड ट्रस्ट इसमें सराहनीय भूमिका का निर्वहन कर रहा है।इस कार्यशाला और किट वितरण समारोह में विनोद कुमार,अधिवक्ता शिव कुमार मिश्रा,अनुराग सिंह,कामता,राकेश आदि की काफी संख्या में भागीदारी रही।गोष्ठी के बाद गरीब श्रमिकों को सुरक्षा किट एवं राशन सामग्रियों का बोरियों में वितरण किया गया।

चिट्ठी में बीमारियों से बचाव सहित कई सुझाव दिएं

हरिओम उपाध्याय                       
बांदा। जिले के सभी प्रधानों को डीएम ने चिट्ठी लिखी है। कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर के पूर्व शंकाओं का समाधान कर अनिवार्य रूप से टीकाकरण कराना है। ग्राम पंचायतों में जमीन की उपलब्धता के आधार पर खेल मैदान विकसित कराएं। साथ ही पर्यावरण की शुद्धता के लिए पीपल, बरगद व नीम के पौधों का रोपण हो। जिलाधिकारी ने आठ बिदुओं पर आधारित चिट्ठी में बीमारियों से बचाव सहित कई सुझाव दिए हैं। लिखा है कि ग्रामीणों को प्रेरित कर उनकी शंकाओं को दूर करते हुए अनिवार्य रूप से टीकाकरण कराएं। 
निगरानी समितियों के माध्यम से कोरोना महामारी के लक्षण बुखार, जुकाम, खांसी व सांस फूलना आदि से ग्रसित लक्षणों की पहचान कराकर कोरोना मेडिसिन किट का वितरण कराएं।ग्राम पंचायत की सभी गलियों, नालियों, मोहल्लों की साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन, फागिग कराकर ग्रामीणों को मास्क लगाकर सैनिटाइज को प्रेरित करें। खुले में शौचमुक्त बनाए रखने के लिए शौचालय विहीन परिवारों को गांव के सामुदायिक शौचालय का प्रयोग करें। जन्म, मृत्यु प्रमाणपत्र सहित अन्य योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए ग्राम पंचायत सचिवालय विकसित कर अपने जनसेवा केंद्र विकसित करें। गांव में दिशा सूचक बोर्ड लगाए जाएं। ग्राम पंचायतों में भूमि उपलब्धता के आधार पर खेल मैदान बनाए। नीम, बरगद, पीपल आदि के पौध रोपित करें।

पूर्व सांसद शरद का गुरुग्राम के हॉस्पिटल में निधन हुआ

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। संतकबीरनगर के पूर्व सांसद शरद त्रिपाठी का बुधवार की रात गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल में निधन हो गया। वह करीब 50 वर्ष के थे। बताया जा रहा है कि लम्‍बे समय से बीमार चल रहे थे। उनके निधन की सूचना से राजनीतिक गलियारों और उनके समर्थकों में शोक की लहर है। कई भाजपा नेताओं ने उनके निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है।
उनके निधन की सूचना मिलते ही गोरखपुर से भाजपा के कई नेता और पूर्व सांसद के रिश्तेदार गुरुग्राम के लिए रवाना हो गए हैं। देवरिया के सांसद और भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रमापति राम त्रिपाठी के पुत्र शरद त्रिपाठी वर्ष 2014 में भाजपा के टिकट पर संतकबीरनगर से सांसद बने थे। भाजपा के जिला उपाध्यक्ष हरिकेश राम त्रिपाठी के मुताबिक, शरद त्रिपाठी को लि‍वर सिरोसिस बीमारी के कारण कुछ दिन पहले मेदांता में भर्ती कराया गया था।

गुरुवार को आषाढ़ के 'कृष्ण-पक्ष' की सप्तमी तिथि

दुष्यंत टीकम            
रायपुर। गुरुवार को आषाढ़ मास के कृष्ण-पक्ष की सप्तमी तिथि है। इस दिन उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र दिन भर रहेगा। गुरुवार को उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र होने से छत्र नाम का शुभ योग इस दिन बन रहा है। बुधवार की रात से चंद्रमा राशि बदलकर कुंभ से मीन में आ चुका है। गुरुवार को सभी राशियों पर इसका प्रभाव देखने को मिलेगा। जानिए कैसा बीतेगा आपका दिन मेष राशिफल-कार्यक्षेत्र में भी आपके पक्ष में कुछ परिवर्तन हो सकते हैं। इससे व्यथित होकर साथियों का मूड कुछ खराब हो सकता है। 
क्योंकि आपको दूसरों की मदद करने से सुकून मिलता है। इसलिए आज का दिन परोपकार में व्यतीत होगा। किंतु आप अपने अच्छे व्यवहार से माहौल को सामान्य बनाने में कामयाब रहेंगे। रात्रि में पत्नी का स्वास्थ्य खराब होने के कारण कुछ परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। वृष राशिफल- आज का दिन परिजनों के साथ सुखद बीतेगा। भाग्यवश दोपहर तक हर्षवर्धक शुभ समाचार भी मिलेगा। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है। 
सांयकाल के समय चिर प्रतीक्षित अतिथि के आगमन का हर्ष होगा। रात्रि में किसी मांगलिक कार्य में सम्मिलित होने से आपका सम्मान बढ़ेगा।
मिथुन राशिफल-पिता के आशीर्वाद तथा उच्चाधिकारियों की कृपा से किसी बहुमूल्य वस्तु अथवा संपत्ति की प्राप्ति की अभिलाषा आज पूरी होगी। व्यस्तता अधिक रहेगी, व्यर्थ व्यय से बचें। सांयकाल से लेकर रात्रिपर्यन्त शीघ्रगामी वाहनों के प्रयोग से सावधानी बरतें। प्रिय एवं महान पुरुषों के दर्शन से मनोबल बढ़ेगा। पत्नी पक्ष से भी वांछित सिद्धि हो सकती है।

वाल्मीकि समाज उखाड़ फेंकेगा टिकैत का मंच: रार

अश्वनी उपाध्याय
गाजियाबाद। प्रशासन द्वारा नजरबंदी और आश्वासन पर प्रदीप गहलोत ने गाजीपुर कूच किया स्थगित, कहा प्रदेश मंत्री के काफिले पर हमला करने वालों को चिन्हित कर 1 सफ्ताह में भेजें डासना, कार्यवाही नहीं होने पर दिल्ली एनसीआर का वाल्मीकि समाज उखाड़ फेकेगा टिकैत का मंच।
गुरुवार को वाल्मीकि समाज द्वारा भाजपा प्रदेश मंत्री अमित वाल्मीकि के काफिले पर गाजीपुर में हुए हमले के बाद गाजीपुर जाने के आह्वान के बाद प्रशासन एहतियातन तौर पर दिनभर चौकन्ना रहा। लोनी के पंचलोक निवासी एवं वाल्मीकि समाज से आने वाले प्रदीप गहलोत द्वारा 500 से अधिक समाज के लोगों द्वारा गाजीपुर पहुंचकर मंच उखाड़ने के आह्वान पर ट्रोनिका सिटी एसएचओ, पुश्ता चौकी आदि से पुलिस बल ने प्रदीप गहलोत को सुबह ही नजरबंद कर दिया। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में लोग प्रदीप गहलोत के घर पर उपस्थित रहें। एडीएम सिटी, एसपी सिटी, एसपी देहात और भाजपा संगठन के पदाधिकारियों द्वारा फ़ोन पर वार्ता कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाहीं का आश्वासन दिया गया। प्रशासन के आश्वासन के बाद प्रदीप गहलोत ने समाज के लोगों से चर्चा के बाद एक सफ्ताह का समय देकर कहा इसके बाद दिल्ली-एनसीआर का वाल्मीकि समाज ऐसे गुंडों की असली में बक्कल उतारना जानता है। गाजीपुर से काफी लोगों का काफिला निकला है लेकिन जानबूझकर फ़र्ज़ी किसान नेता राकेश टिकैत के गुंडों द्वारा वाल्मीकि समाज के नेता पर हमला करके समाज का मनोबल गिराने का दुस्साहस किया है जिसे वाल्मीकि समाज बर्दाश्त नहीं करेगा। इस दौरान प्रशासन को प्रदीप गहलोत ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भी सौंपा है।
प्रदेश मंत्री अमित वाल्मीकि ने भी प्रदीप गहलोत से फ़ोन पर वार्ता कर शांति बनाए रखने को कहा। साथ ही प्रदेश मंत्री अमित वाल्मीकि ने कहा कि प्रशासन मामलें में कार्यवाही करेगा।

4 जुलाई को पहला पौधा रोपेंगे सीएम योगी: यूपी

हरिओम उपाध्याय           
चित्रकूट। कलयुग में त्रेता युग की अनुभूति” होना आश्चर्य में डालेगी। चित्रकूटधाम मंडल बांदा  के चित्रकूट जिले में यही नजारा होगा। यहां देवांगना हवाई पट्टी के पास रामायण काल के पौधों से ‘राम वन’ योगी सरकार तैयार करने जा रही है। इसमें पहला पौधा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चार जुलाई को रोपेंगे। हालांकि, अभी उनका प्रोटोकाल नहीं आया है, लेकिन संभावित कार्यक्रम की तैयारी वन विभाग ने शुरू कर दी है। मुख्य वन संरक्षक बुंदेलखंड जोन झांसी पीपी सिंह ने बुधवार को तैयारियां देखीं।
चित्रकूट में भगवान राम ने साढ़े 11 वर्ष बिताए थे। यहां के पेड़-पौधों से उन्हें बेहद लगाव था। माता सीता के लिए वह फूलों से आभूषण तैयार करते थे। उनसे जुड़े स्थलों को देखने के लिए देश-दुनिया से लाखों सैलानी प्रतिवर्ष यहां आते हैं। अब उनको त्रेतायुग की अनुभूति कराने के लिए प्रदेश की योगी सरकार रामायण काल का “राम वन” तैयार करा रही है। यह देवांगना हवाई पट्टी के नजदीक 35 एकड़ भूमि में बनेगा। इसके अलावा कामदगिरि, लक्ष्मण पहाड़ी और रामशैया के पास भी पौधे रोपे जाएंगा।                                           देवांगना हवाई पट्टी के पास तैयार होने वाले राम वन में चंदन, अशोक, बरगद, आम, पलाश, चमेली, धामन, कुंद, रीठा समेत 88 प्रजाति के पौधे लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री योगी के संभावित कार्यक्रम को लेकर मंगलवार को मुख्य वन संरक्षक बुंदेलखंड जोन झांसी पीपी सिंह ने देवांगना घाटी में राम वन के लिए चिह्नित भूमि का जायजा लिया। कहा कि चार जुलाई को प्रदेश में पौधारोपण का महा अभियान चलाने की तैयारी है। इसकी शुरुआत मुख्यमंत्री चित्रकूट के रामवन से करेंगे।

फ़िल्म इंड्रस्टीज पर बने कानून, पीएम के नाम ज्ञापन


ट्विटर की तर्ज पर फ़िल्म इंड्रस्टीज पर भी बने कठोर कानून 
सत्यनारायण कथा फ़िल्म का  विरोध - हिन्दू शक्ति सेवा संगठन
दुर्ग। हिन्दू शक्ति सेवा संगठन के द्वरा फ़िल्म इंड्रस्टीस पर नकेल कसने प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें अश्लीलता, फूहड़ता, इतिहास से छेड़छाड़ कर हिन्दू संस्कृति को बदनाम करने वाले प्रत्येक फ़िल्म निर्माताओं पर कड़ी कार्यवाही व फिल्मों पर प्रतिबंध लगाने के साथ-साथ साजिद नाडियाडवाला की आने वाली फिल्म सत्यनारायण कथा जो एक संगीतमय रोमांस पर बनने वाली फिल्म है। उसके ऊपर कड़ा विरोध करते हुवे ठोस कार्यवाही की मांग की गई है।
संगठन के संस्थापक तामेश तिवारी ने मीडिया से बात करते हुवे बताया कि अभी हाल ही में मुंबई के फ़िल्म निर्माता साजिद नाडियाडवाला के द्वरा संगीतमय रोमांटिक फिल्म बनाने जा रही है। जिसका नाम हिन्दू सभ्यता व संस्कृति का खुले आम मजाक उड़ाते हुवे उस फिल्म का नाम सत्यनारायण कथा रखा गया है।
जो शब्द हम हिन्दुओ के लिये पवित्र व मोक्षदायिनी है उन शब्दों का इस्तेमाल इनके जैसे अनेको फ़िल्म निर्माता साजिस के तहत हिन्दुओ को टारगेट कर हम हिन्दुओ के धर्म का मजाक उड़ाया जाता है।
यह सब साजिस के तहत ही किया जाता है अनेको फ़िल्म निर्माताओं के द्वरा देश विरोधी , इतिहास को तोड़मरोड़ कर देश के गद्दार को भी एक हीरो की तरह दिखाते है। आज फिल्मों के नाम पर नगण्यता परोसी जा रही है जिससे युवा ही नही देश के बच्चों का भविष्य खराब हो रहा है ।
आज वर्तमान परिस्थितियों में देश को माहौल खराब करने में फ़िल्म इंड्रस्टीस का बहुत बड़ा हाथ है।
फ़िल्म इंड्रस्टीस की ज्यादातर फिल्में से अपराध व देश की संप्रभुता व अखंडता को तार तार करने वाली फिल्में बनती है। फ़िल्म जगत में दाऊद जैसे अंडरवर्ल्ड के लोगों के साथ साथ दूसरे देशों के लोग भी भारतीय सिनेमा में ब्लैक मनी को व्हाइट करते है। तिवारी ने कहा कि अश्लीलता के नाम पर जब ट्विटर पर कार्यवाही हो सकती है तो फ़िल्म जगत में अश्लीलता परोसने पर क्यों नही। कला का जन्म ही भारतीय संस्कृति की देन है और कला के नाम पर फुहड़ता करने वाले कभी कलाकार नही हो सकता ।
सरकार को चाहिए कि वो साजिद नाडियाडवाला जैसे फ़िल्म निर्माताओ को चिन्हित कर उन पर कड़ी कार्यवाही करे और भारतीय फ़िल्म जगत के लिए कड़ा से कड़ा कानून लाये। जिससे हिन्दू विरोधी फ़िल्म , फुहड़ता व नगण्यता परोसने वाली फिल्मों पर बैन लगे व साथ ही यूटुब व अश्लील इंटरनेट पर तुरन्त रोक लगे।

सीएम को ज्ञापन भेजने के साथ पुतला दहन किया

गदरपुर। कश्मीर में धर्मांतरण के खिलाफ सख्त से सख्त कानून बनाए जाने को लेकर माननीय मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजने के साथ कश्मीर सरकार का पुतला दहन किया। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुभाष गुंबर के आह्वान पर भाजपा मंडल अध्यक्ष चंकित हुड़िया के निर्देशन में कश्मीर सरकार का पुतला दहन किया।गूलरभोज रोड पर पुतला दहन किए जाने के दौरान चंकित हुड़िया ने कहा कि लव जिहाद के नाम पर युवतियों का धर्मांतरण करके अराजक तत्वों द्वारा देश के माहौल को बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने माननीय मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजते हुए लव जिहाद के विरुद्ध सख्त से सख्त कानून बनाकर कड़ी कार्रवाई किए जाने के लिए मांग की। 
इस मौके परअशोक छाबड़ा,सुरजीत सिंह घुम्मन,सुरजीत सिंह, गुरनवीत हैप्पी विर्क,गुरजीत संधू ग्राम प्रधान रविंद्र सिंह,डॉ इंद्रजीत सैनी,प्रवीण पाल,सोनू प्रधान,गुरमेल सिंह,जसवीर सिंह , मोहनखेड़ा,रोहित अरोरा,भाई लक्खाभाई,गुरतेज सिंह आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

हरियाणा: तिहाड़ जेल से रिहा हो जाएंगे प्रमुख चौटाला

राणा ओबराय                      
चंडीगढ़। जेबीटी भर्ती घोटाले में दस साल की सजा काट रहे हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला कल (शुक्रवार) तिहाड़ जेल से रिहा हो जाएंगे। चौटाला इस समय पैरोल पर बाहर हैं। रिहाई के लिए तिहाड़ जेल जाएंगे और औपचारिकताएं पूरी कर जेल से रिहा होंगे।इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी ने यहां जारी एक बयान के दौरान कहा कि इनेलो सुप्रीमो जेल में पहुंच कागजी कार्रवाई पूरी कर रिहाई के फार्म पर हस्ताक्षर करने के बाद सुबह करीब दस बजे बजे तिहाड़ जेल से रिहा हो जाएंगे। राठी के अनुसार इस दौरान पौत्र करण चौटाला उनके साथ रहेंगे।
तिहाड़ जेल से रिहाई के बाद इनेलो सुप्रीमो गुरुग्राम स्थित अपने आवास के लिए रवाना होंगे। राठी के अनुसार पार्टी कार्यकर्ता दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर उनका स्वागत करेंगे। इनेलो के प्रदेश महासचिव अभय सिंह चौटाला पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि ऐलनाबाद उपचुनाव (सीट कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के समर्थन में उनके इस्तीफे से रिक्त है) में पूर्व मुख्यमंत्री लड़ सकते हैं।

यूपी बोर्ड, आइसीएसई व सीबीएसई से जवाब मांगा

बृजेश केशवानी  
प्रयागराज। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कोविड 19 की वजह से स्कूलों के बंद होने और केवल ऑनलाइन शिक्षण होने के बावजूद तमाम स्कूलों द्वारा बढ़ी हुई फीस वसूले जाने के विरूद्ध दायर जनहित याचिका पर माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश (यूपी बोर्ड), आइसीएसई और सीबीएसई बोर्ड से जवाब मांगा है। साथ ही इसी मामले में पहले से दाखिल कई याचिकाओं के साथ इस याचिका को भी संबद्ध करने का निर्देश दिया है।
यह आदेश कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश मुनीश्वर नाथ भंडारी और न्यायमूत राजेंद्र कुमार की खंडपीठ ने बुधवार को मुरादाबाद पैरेंट्स ऑफ ऑल स्कूल एसोसिएशन (अनुज गुप्ता व नौ) अन्य की जनहित याचिका पर दिया है। 

मां ने 2 साल की बच्ची को जमीन में जिंदा दफनाया

हरिओम उपाध्याय          
हरदोई। जिले में एक दिल को झकझोर देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक मां अपनी दो बच्चियों के साथ कई दिनों से भोजन न मिलने के कारण इधर-उधर भटकती रही तथा भूख के कारण कुपोषण का शिकार हुई। अपनी 2 साल की बच्ची को जमीन में जिंदा दफना दिया। इसी बीच गांव वालों ने मौके पर पहुंचकर बच्ची को बचा लिया व चाइल्डलाइन को सूचना दी, मौके पर पहुंची चाइल्डलाइन की टीम में मां व उसकी दो छोटी बच्चियों को अपने साथ ले गई तथा उचित देखभाल का आश्वासन दिया है। एक तरफ जहां सरकार गरीबों के लिए मुफ्त राशन व अन्य तमाम योजनाएं चला रही है, परंतु आज भी कुछ ऐसे गरीब परिवार हैं, जिनको दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं हो रही है। ऐसा ही एक मामला हरदोई के लोनार थाना क्षेत्र के सकरौली गांव का आया है। 
यहां के भगवान दीन की विगत 2 वर्ष पहले मौत के बाद उसकी पत्नी अपने तीन छोटे छोटे बच्चों के साथ दर-दर भटकने को मजबूर हो गई।बताया गया कि घर में रोटी की किल्लत देख बड़े पुत्र को उसकी बुआ अपने साथ लेकर चली गई, जबकि बेबस मां अपनी दो छोटी बच्चियों के साथ इधर उधर भीख मांगकर पेट पालने लगी। इधर काफी दिनों से उसे व बच्चियों को दोनों वक्त का खाना नहीं मिल रहा था, जिससे उसकी 2 वर्ष की पुत्री कुपोषित हो गई।गरीबी से हारकर बेबस मां ने आज मजबूर होकर गांव के नजदीक ही एक तालाब के पास गड्ढा खोदकर अपनी कुपोषित बच्ची को जिंदा दफना दिया। 
इसी बीच किसी तरह गांव वाले मौके पर पहुंच गये व उन्होंने बच्ची को जिंदा बाहर निकाल लिया, व चाइल्डलाइन को सूचना दी। सूचना पर चाइल्ड लाइन की टीम मौके पर पहुंचकर मां व उसकी दोनों बच्चियों को अपने संरक्षण में लिया और संबंधित लोनार थाने पर आवश्यक कार्यवाही कर अपने साथ ले गई। चाइल्डलाइन हरदोई के केंद्र समन्वयक अनूप तिवारी ने बताया की मां व बच्चियों को बाल संरक्षण समिति के समक्ष पेश किया जाएगा व उनकी देखभाल के लिए पूरी व्यवस्था की जाएगी।

आजीवन कारावास की सजा देने के फैसले की पुष्टि

कविता गर्ग                
मुंबई। उच्च न्यायानय ने बृहस्पतिवार को 1997 में संगीतकार गुलशन कुमार हत्याकांड में फिल्म निर्माता एवं ‘टिप्स इंडस्ट्रीज’ के सह-संस्थापक रमेश तौरानी को बरी करने का निचली अदालत का फैसला बरकरार रखा। साथ ही न्यायालय ने इस हत्याकांड में अब्दुल रऊफ मर्चेंट को दोषी ठहराने और उसे आजीवन कारावास की सजा देने के अदालत के फैसले की भी पुष्टि की। 
न्यायमूर्ति एसएस जाधव और न्यायमूर्ति एनआर बोरकर की एक खंडपीठ ने मामले में अन्य आरोपी रऊफ के भाई अब्दुल रशीद मर्चेंट को बरी किए जाने का निचली अदालत का फैसला निरस्त कर दिया। पीठ ने इस मामले में अब्दुल रशीद मर्चेंट को भी दोषी ठहराते हुए उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई। ‘कैसेट किंग’ के नाम से मशहूर गुलशान कुमार की अगस्त 1997 में उपनगर अंधेरी में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।अभियोजन पक्ष के अनुसार, उसके प्रतिद्वंद्वियों ने उन्हें रास्ते से हटाने के लिए बदमाश अबू सलेम को पैसे दिए थे। सत्र अदालत ने 29 अप्रैल 2022 को 19 में से 18 आरोपियों को बरी कर दिया था। निचली अदातल ने अब्दुल रऊफ मर्चेंट को भादंस की धारा 302, 307, 120(बी), 392 तथा 397 और भारतीय शस्त्र अधिनियम की धारा 27 के तहत के दोषी ठहराया था। रऊफ ने दोषी ठहराए जाने के फैसले के खिलाफ याचिका दायर की थी।
जबकि राज्य सरकार ने तौरानी को बरी किए जाने के खिलाफ अपील दायर की थी। उच्च न्यायालय ने बृहस्पतिवार को राज्य सरकार की याचिका खारिज कर दी और तौरानी को बरी करने का फैसला बरकरार रखा। पीठ ने, हालांकि, रऊफ की दोषसिद्धि और उस पर लगाई गई आजीवन कारावास की सजा को बरकरार रखा, लेकिन धारा 392 और 397 के तहत उसकी सजा को रद्द कर दिया। पीठ ने आदेश में कहा, ” अब्दुल राशीद मर्चेंट को बरी किए जाने के फैसले को रद किया जाता है।
राशीद को भादंस की धारा 302 और भारतीय शस्त्र अधिनियम की धारा 27 के तहत दोषी ठहराया जाता है और उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई जाती है। उसे डीएन नगर थाने में आत्मसमर्पण करने का निर्देश दिया गया है।” पीठ ने यह भी कहा कि अब्दुल रऊफ मर्चेंट मुकदमे के दौरान अपने आचरण को देखते हुए किसी छूट के हकदार नहीं हैं। उसने कहा, ” अपीलकर्ता रऊफ उसके आपराधिक रिकॉर्ड को देखते हुए छूट का हकदार नहीं होगा और बड़े पैमाने पर न्याय तथा जनता के हित में, वह किसी भी उदारता का हकदार नहीं है।” 
अदालत ने कहा कि हत्या के बाद रऊफ फरार हो गया था और उसे 2001 में गिरफ्तार किया गया था। पीठ ने कहा, ” 2009 में रऊफ को ‘फर्लो’ दिया गया, लेकिन उसके बाद उसने आत्मसमर्पण नहीं किया और 2016 में उसे फिर गिरफ्तार किया गया।” अदालत ने कहा कि रशीद ने अगर आत्मसमर्पण नहीं किया, तो सत्र अदालत उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करेगा।

स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर्स को युवाओं ने सम्मानित किया

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। नेशनल डॉक्टर्स डे पर युवाओं ने किया डॉक्टर्स को सम्मानित नेशनल डॉक्टर्स डे के उपलक्ष्य में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोटाबाग के डॉक्टर्स को क्षेत्रीय युवाओं ने सम्मानित किया। विकासखंड कोटाबाग के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ देवेश चौहान ने कोरोना महामारी की दूसरी लहर में, बेहद योजनाबद्ध तरीके से प्रबंधन कर, कोटाबाग विकासखंड के सुदूरवर्ती गांवों में संक्रमण को बढ़ने से रोका। डॉक्टर देवेश चौहान के बेहतरीन प्रबंधन के चलते कोटाबाग विकासखंड कोरोना महामारी के संक्रमण को बढ़ने से रोकने के मामले में पूरे नैनीताल जिले में अव्वल रहा। कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बीच डॉ देवेश चौहान दो बार कोरोना पॉजिटिव भी हो गए परंतु हर बार आइसोलेशन पीरियड पूरा करने के बाद वे तुरंत अपने सेवा कार्य में लग गए। 
इस पूरे संकट काल के दौरान, डॉ देवेश चौहान ने कई गरीब मरीजों की आर्थिक मदद भी की। डॉ देवेश चौहान हमेशा सोशल मीडिया एवं कैमरे से दूर रहकर जमीनी स्तर पर कार्य करने की सोच रखते हैं। नेशनल डॉक्टर्स डे पर जब उन्हें युवाओं द्वारा सम्मानित किया गया तो उन्होंने कहा कि यह केवल उनका सम्मान नहीं अपितु विकासखंड में कार्यरत प्रत्येक डॉक्टर नर्स एवं स्वास्थ विभाग के प्रत्येक कर्मचारी का सम्मान है। साथ ही उन्होंने कोरोना संक्रमण के दौरान प्रत्येक कार्य में हर पल सहयोग करने के लिए युवाओं एवं क्षेत्रीय जनता का भी आभार व्यक्त किया। इस दौरान डॉ. गौरव अरोरा, डॉ. ऐश्वर्या कांडपाल, डॉ. सलीम अंसारी, डॉ. रिचा जोशी, भूपेंद्र बिष्ट, शुभम बधानी, चंद्रप्रकाश सनवाल, शिवम पांडे, हेमंत सिंह, भास्कर भट्ट समेत दर्जनों युवा भी मौजूद रहे।

बेरोजगारों का जीवनयापन करना अत्यन्त चिंताजनक

हरिओम उपाध्याय                       
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने गुरूवार को कहा कि उत्तर प्रदेश समेत देश में दिनों दिन विकराल हो रही बेरोजगारी की समस्या का समाधान यदि जल्द नहीं किया गया तो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दुर्दशा भी कांग्रेस की तरह होगी।  मायावती ने ट्वीट कर कहा कि शिक्षित बेरोजगारों का सड़क किनारे पकौड़े तल कर अथवा मजदूरी कर जीवनयापन करना अत्यन्त दुर्भाग्यपूर्ण और चिंताजनक है।
इसके लिए कांग्रेस के अलावा मौजूदा भाजपा सरकार भी बराबर की जिम्मेदार है। यदि इस समस्या का त्वरित समाधान नहीं किया गया तो कांग्रेस की तरह भाजपा की भी दुर्दशा होगी। उन्होने कहा “ यूपी व पूरे देश भर में करोड़ों युवा व शिक्षित बेरोजगार लोग सड़क किनारे पकौड़े बेचने व अपने जीवनयापन के लिए मजदूरी आदि करने को भी मजबूर हैं तथा उनके मां-बाप व परिवार जो यह सब देख रहे हैं उनकी व्यथा को समझा जा सकता है, जो यह दुःखद, दुर्भाग्यपूर्ण व अति-चिन्ताजनक।

”बसपा प्रमुख ने कहा “ बीएसपी देश में नौजवानों के लिए ऐसी भयावह स्थिति पैदा करने के लिए केन्द्र में बीजेपी के साथ-साथ कांग्रेस को भी बराबर की जिम्मेदार मानती है जिसने लम्बे अरसे तक यहां एकछत्र राज किया व अपने कार्यकलापों की भुक्तभोगी बनकर कांग्रेस केन्द यूपी व काफी राज्यों की भी सत्ता से बाहर हो गई।
उन्होने कहा “ यदि बीजेपी भी, कांग्रेस पार्टी के नक्शेकदम पर ही चलती रही तो फिर इस पार्टी की भी वही दुर्दशा होगी जो कांग्रेस की हो चुकी है, जिसपर बीजेपी को गम्भीरता से जरूर सोचना चाहिये क्योंकि इनकी ऐसी नीति व कार्यकलापों से न तो जनकल्याण और न ही देश की आत्मनिर्भरता संभव हो पा रही है। 

सीएम तीरथ के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे कर्नल कोठियाल

पंकज कपूर              
देहरादून। आम आदमी पार्टी (आप) में शामिल हुए कर्नल अजय कोठियाल (सेवानिवृत्त) उत्तराखंड उपचुनाव में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे।
आज की आज देहरादून में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान यह घोषणा की गई है। वह गंगोत्री सीट से मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने सीएम तीरथ सिंह रावत को चुनौती दी और कहा कि वह गंगोत्री सीट से उपचुनाव लड़ेंगे। आप प्रवक्ता नवीन पिरसाली ने यह जानकारी साझा की है।
कोठियाल ने कहा कि इन 5 सालों में भाजपा ने उत्तराखंड को बर्बाद कर दिया है। 
वह खुद को सौभाग्यशाली मानते हैं कि आप पार्टी ने उन्हें मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के समक्ष गंगोत्री उपचुनाव लड़ने का मौका दिया है।इधर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने उन्हें शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि ”आपने फ़ौज में अपनी जान की बाज़ी लगाकर देश की रक्षा की। अब उत्तराखंड आपकी ओर देख रहा है। यहाँ की भ्रष्ट राजनीति भी साफ़ करनी है।

धोखाधड़ी से निपटने के लिए अधिकारियों की तारीफ

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को कहा कि हाल के महीनों में राजस्व संग्रह में वृद्धि अब स्थाई रूप से होनी चाहिए। उन्होंने साथ ही जीएसटी धोखाधड़ी से निपटने के लिए कर अधिकारियों की तारीफ की। जीएसटी की चौथी वर्षगांठ पर कर अधिकारियों को भेजे संदेश में सीतारमण ने कहा कि पिछले चार वर्षों में करदाताओं का आधार 66.25 लाख से लगभग दोगुना होकर 1.28 करोड़ हो गया है।उन्होंने कहा कि लगातार आठ महीनों से जीएसटी राजस्व एक लाख करोड़ रुपये से अधिक है और अप्रैल 2021 में 1.41 लाख करोड़ रुपये का रिकॉर्ड जीएसटी राजस्व संग्रह देखा गया। 
सीतारमण ने कहा, ”पिछले साल सुविधा और प्रवर्तन दोनों क्षेत्र में सराहनीय काम किया गया है, जिसमें धोखाधड़ी करने वाले डीलरों और आईटीसी के कई मामले दर्ज किए गए। हाल के महीनों में बढ़ा हुआ राजस्व संग्रह अब स्थाई रूप से होना चाहिए।वित्त मंत्री ने कोविड-19 महामारी की चुनौतियों के बीच जीएसटी कार्यान्वयन पर संतोष व्यक्त किया और करदाताओं को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने जीएसटी लागू करने के लिए केंद्र और राज्य, दोनों के कर अधिकारियों की सराहना की। उन्होंने कहा कि भारत जैसे बड़े और विविधता वाले देश में बड़े पैमाने पर किया जाने वाला कोई भी सुधार बेहद चुनौतीपूर्ण हो सकता है। वित्त मंत्रालय 54,000 से अधिक जीएसटी करदाताओं को सही समय पर रिटर्न दाखिल करने और कर का नकद भुगतान करने पर प्रशंसा प्रमाणपत्र जारी कर उन्हें सम्मानित करेगा।पहचान किये गये इन करदाताओं में 88 प्रतिशत से अधिक सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमी है। 
इसमें सूक्ष्म (36 प्रतिशत), लघु (41 प्रतिशत) और मध्यम श्रेणी के उद्यमी (11 प्रतिशत) शामिल हैं। ये उद्यमी विभिन्न राज्यों और संघ शासित प्रदेशों से हैं जहां यह माल की आपूर्ति और सेवा प्रदाता कार्य करते हैं।
केन्द्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) इन करदाताओं को प्रशंसा प्रमाणपत्र जारी करेगा। मंत्रालय ने कहा है कि जीएसटी व्यवस्था लागू होने के बाद से अब तक 66 करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल की गई हैं। जीएसटी के तहत दरें कम होने से कर अनुपालन बढ़ा है।
इस दौरान जीएसटी राजस्व में धीरे धीरे वृद्धि होती रही और पिछले आठ महीने से यह लगातार एक लाख करोड़ रुपये से ऊपर बना हुआ है। देश में एक जुलाई 2017 को जीएसटी व्यवस्था लागू की गई। अप्रत्यक्ष करों के क्षेत्र में एक बड़े बदलाव के तौर पर इस व्यवस्था को शुरू किया गया। जीएसटी में केन्द्र और राज्यों के स्तर पर लगाने वाले उत्पाद शुल्क, सेवा कर, वैट और 13- उपकर जैसे कुल 17 तरह के करों को समाहित किया गया है।

तीसरी लहर: जिला प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किया

हरिओम उपाध्याय                  
जौनपुर। कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिये उत्तर प्रदेश के जौनपुर में 12 ऑक्सीजन प्लांट लगाये जा रहे हैं। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने आज कहा कि कोरोना की सम्भावित तीसरी लहर को देखते हुए जिला प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम कर लिया है। जिले के 12 अस्पतालो में आक्सीजन प्लांट लगाया जा रहा है। सभी प्लांट जुलाई माह में काम करना शुरू कर देगें। इन प्लांटो के माध्यम से 12 सौ लेकर डेढ़ हजार बेडो पर आक्सीजन सप्लाई होना शुरू हो जायेगी।
जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर ने भारी तबाही मचायी है। 
आक्सीजन की कमी के चलते पचासों मरीजों को जान गंवानी पड़ी थी। दूसरी लहर के बाद जिला प्रशासन ने सभी प्रमुख अस्पतालों में आक्सीजन प्लांट लगाना शुरू कर दिया है।जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने बताया कि तीसरी लहर को देखते हुए जिले 12 अस्पतालों में आक्सीजन प्लांट लगाया जा रहा है। जुलाई माह में एक प्लांट को छोड़कर सभी आक्सीजन प्लांट काम करना शुरू कर देगें। इनसे ढ़ाई हजार एलपीएम आक्सीजन मिलेगा। जिससे 12 सौ से लेकर 15 सौ तक बेडो पर आक्सीजन सप्लाई होगा।

सीएम योगी ने अखिलेश को फोन कर बधाई दी: यूपी

हरिओम उपाध्याय                    
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का आज जन्मदिन है। इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें फोन कर बधाई दी। 
योगी ने उन्हें ट्वीट कर भी बधाई दी और कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को जन्मदिवस की हार्दिक बधाई। उन्होंने कहा कि प्रभु श्री राम से आपके उत्तम स्वास्थ्य एवं सुदीर्घ जीवन की कामना करता हूं।

9 देशों ने भारत मे निर्मित कोविशील्ड का लोहा माना

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। यूरोपीय संघ के नौ देशों ने भारत मे निर्मित कोविशील्ड वैक्सीन को मान्यता दे दी है तथा एस्टोनिया ने कोवैक्सीन सहित सभी भारतीय टीकों को मान्यता देने का ऐलान किया है। इन यूरोपीय देशों ने यह कदम भारत द्वारा इस आशय के आग्रह के बाद उठाया है। भारत ने कल यूरोपीय संघ के सदस्य देशों से कोविड के भारतीय टीकों एवं कोविन प्रमाणपत्र को मान्यता देने का आग्रह करते हुए कहा था कि ऐसा होने पर ही भारत में यूरोपीय संघ (ईयू) के डिजिटल कोविड प्रमाणपत्र को कोविड प्रोटोकॉल से छूट दी जायेगी।
सूत्रों ने बताया कि अभी तक ऑस्ट्रिया, स्लोवेनिया, आइसलैंड, आयरलैंड और स्पेन ने ईयू डिजीटल कोविड प्रमाणपत्र में कोविशील्ड को शामिल कर लिया है। स्विट्ज़रलैंड ने भी शेनजेन समूह का देश होने के नाते कोविशील्ड को मान्यता दे दी है। इसबीच एस्टोनिया ने पुष्टि की है कि वह भारत सरकार द्वारा अधिकृत सभी टीकों को मान्यता देगा और टीका लगा कर आने वाले भारतीय नागरिकों को यात्रा की अनुमति प्रदान करेगा
बुधवार की देर शाम भारत ने एक जुलाई से प्रभावी ईयू डिजिटल कोविड प्रमाणपत्र फ्रेमवर्क में भारतीय टीकों को शामिल नहीं किये जाने पर नाराज़गी व्यक्त की थी। यूरोपीय संघ ने इस फ्रेमवर्क के तहत यूरोपीय मेडिकल एजेंसी (ईएमए) द्वारा अधिकृत टीके लगवाने वाले लोगों को यूरोपीय संघ के दायरे में यात्रा प्रतिबंधों से छूट देने और मुक्त आवाजाही सुलभ करने का ऐलान किया था।सूत्रों के अनुसार भारत ने यूरोपीय संघ के सदस्य देशों से आग्रह किया था कि वे अपने राष्ट्रीय स्तर पर भारत में कोविड टीका लगवाने वाले लोगों को भी इसी तरह की छूट प्रदान करें और कोविन पोर्टल पर जारी प्रमाणपत्र को मान्यता दें। 
भारत ने यूरोपीय संघ के देशों से कहा था कि भारत में यूरोपीय संघ डिजिटल कोविड प्रमाणपत्र को मान्यता देने की नीति पारस्परिकता पर आधारित होगी। भारतीय टीके कोविशील्ड और कोवैक्सीन को ईयू डिजिटल कोविड प्रमाणपत्र में अधिसूचित करने और कोविन टीकाकरण प्रमाणपत्र को मान्यता दिए जाने पर भारतीय स्वास्थ्य विभाग पारस्परिकता के आधार पर उक्त ईयू सदस्य देश या देशों के ईयू डिजिटल कोविड प्रमाणपत्र धारक लोगों को अनिवार्य क्वारंटीन से छूट प्रदान करेगा।

बाधाओं ने अमेरिका की कूटनीति की गति धीमी की

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन दुनियाभर में जून के अंत तक कोरोना वायरस रोधी आठ करोड़ टीके देने के अपने लक्ष्य से बहुत पीछे चल रहे हैं और कई साजोसामान और नियामक संबंधी बाधाओं ने अमेरिकी की टीका कूटनीति की गति धीमी कर दी है। बाइडन प्रशासन ने घोषणा की थी कि करीब 50 देशों को कोविड-19 रोधी टीके दिए जाएंगे लेकिन ‘एसोसिएटेड प्रेस’की गणना के अनुसार, अमेरिका ने 10 देशों को 2.4 करोड़ से भी कम टीके भेजे हैं।व्हाइट हाउस ने कहा कि आगामी दिनों में और टीके भेजे जाएंगे और उसने कहा कि बाइडन ने अपने वादे को पूरा करने के लिए हरसंभव कदम उठाया है। व्हाइट हाउस ने बताया कि टीकों की कमी नहीं है। सभी अमेरिकी टीके भेजे जाने के लिए तैयार हैं।
लेकिन कानूनी औपचारिकताओं, स्वास्थ्य संहिता, सीमा शुल्क मंजूरी, कोल्ड स्टोरेज श्रृंखलाएं, भाषायी बाधाएं और वितरण कार्यक्रम की जटिलता के चलते अधिक वक्त लग रहा है।उसने कहा कि किसी देश को टीके दान देने के लिए अपने मंत्रिमंडल की मंजूरी की आवश्यकता होती है, किसी को अमेरिकी टीकों के लिए सुरक्षा जांच के लिए निरीक्षकों की आवश्यकता होती है और कुछ देशों ने अभी टीका वितरण की योजनाएं ही नहीं बनायी है जिससे यह सुनिश्चित हो कि टीके बर्बाद होने से पहले सही हाथों में पहुंचे। व्हाइट हाउस ने यह स्पष्ट करने से इनकार कर दिया कि किस देश के सामने कौन-सी बाधाएं हैं। 
उसने कहा कि वह वितरण की बाधाओं को खत्म करने के लिए देशों से बातचीत कर रहा है। बाइडन ने 17 मई को यह कहते हुए आठ करोड़ टीके देने की घोषणा की थी। यह किसी भी देश द्वारा दिए गए टीकों के मुकाबले अधिक टीके होंगे जो किसी भी देश से पांच गुना अधिक होंगे, रूस और चीन से भी अधिक होंगे।” अपने लक्ष्य को हासिल न करने के बावजूद बाइडन ने अमेरिका को दुनियाभर में टीकों का सबसे बड़ा दानदाता बना दिया है। उसने रूस या चीन से भी अधिक टीके वितरित किए हैं।

जवानों से भरा ट्रक खाई में गिरने से 3 की मौंत, हादसा

पंकज कपूर                   
देहरादून। सिक्किम से बेहद दुखद ख़बर आयी है। सिक्किम में कुमाऊं रेजिमेंट के जवानों से भरा ट्रक खाई में जा गिरा। जिसमें 3 जवानों की मौत हो गई है। जिसमें से एक जवान का नाम बृजेश रौतेला है।
मिली जानकारी के अनुसार पूर्वी सिक्किम में सेना के जवानों को ले जा रहा एक ट्रक बुधवार को खाई में जा गिरा जिससे तीन जवानों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि यह दुर्घटना न्यू जवाहलाल नेहरू रोड पर हुई। यह मार्ग गंगटोक को सोमगो झील और भारत-चीन सीमा के निकट नाथुला से जोड़ता है।
अधिकारी के मुताबिक ट्रक में कुमाऊं रेजिमेंट के छह जवान सवार थे जो गंगटोक की तरफ जा रहे थे। यह हादसा चालक के वाहन से नियंत्रण खोने के चलते हुआ। वाहन 600 फुट गहरी खाई में जा गिरा। चालक एवं दो अन्य जवानों की मौत मौके पर ही हो गई। सेना, बीआरओ, पुलिस और स्थानीय लोगों ने इस दुर्गम क्षेत्र में खराब मौसम के बीच बचाव अभियान चलाया। तीन घायल जवानों को गंगटोक के सेना अस्पताल में भर्ती कराया। बाद में घायल जवानों को गंगटोक के सेना अस्पताल से बंगाल के सिलीगुड़ी में इलाज के लिए भेजा गया।

1 जुलाई से सिलेंडर के दामों में 25 रूपये की बढ़ोत्तरी

अकांंशु उपाध्याय                    
नई दिल्ली। एक बार फिर घरेलू गैस सिलेंडर के दाम बढ़ा दिये गये हैं। आज 1 जुलाई बृहस्पतिवार से दामों में 25 रूपये की बढ़ोत्तरी कर दी गई है। हालांकि मई—जून में सिलेंडर के दाम सामान्य रहे और अप्रैल में एलपीजी सिलेंडर में दस रूपये की कटौती हुई। लेकिन अब पेट्रोल—डीजल के बाद सिलेंडर के दाम भी बढ़ने से उपभोक्ताओं की जेब पर सीधा असर पड़ने लगा है।अब घरेलू गैस सिलेंडर अलग—अलग शहरों में 834 से लेकर 850 तक में मिलेंगे। जून में इनकी कीमत 809 से 825 के बीच थी। 
मई व अप्रैल में यही दाम स्थिर थे। जबकि मार्च माह में 819 से 835 तक रहे। फरवरी में 719 से 810 तक रहे, जो कि माह में तीन बार बदले थे। जनवरी में 694 से 710 तक इसकी कीमत रही। ज्ञात रहे कि तेल कंपनियों द्वारा समय—समय पर कीमत में किए जाने वाले बदलावा का असर सीधे उपभोक्ताओं पर पड़ता है। सरकारी तेल कंपनियां प्रति माह पहली तारीख को गैस सिलेंडर के दामों में बदलाव करती हैं। 

भूस्खलनों से पर्वतीय सड़क व मार्गो पर खतरा बना

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। पहाड़ो में बारिश के चलते लगातार भूस्खलन की खबरें आ रहीं हैं। लगातार हो रहें भूस्खलनों से पर्वतीय सड़क मार्गो पर खतरा बना हुआ है।
वही दूसरी तरफ इन दिनों पहाड़ो की सड़कों में चौड़ीकरण का कार्य प्रगति पर है। जिसमें हरे-भरे पेड़ो को जेसीबी मशीनों द्वारा उखाड़ा जा रहा है। जेसीबी मशीन द्वारा हरे पेड़ को उखाड़ने का एक वीडियो इन दिनों वायरल हो रहा है।
जिसमे बताया जा रहा है कि वह गरमपानी से अल्मोड़ा के बीच सुयालबाड़ी का है। आप भी इस वीडियो को देखिए किस तरीके से हरे पेड़ो का दोहन किया जा रहा है। पहाड़ो में चल रहे मोटर मार्गो का कार्य मशीनों द्वारा किया जाता है। जो कि चट्टानों की उम्र कम करतें हैं। लगातार हो रहे भूस्खलन भी उसी की वजह है।ब्रिटिशकाल में बनी पहाड़ो की अधिकतर सड़के अभी भी सुरक्षित हैं। क्योंकि उस समय मैनुअली या मजदूरों द्वारा कार्य किया जाता था। जबकि अब मशीनों और ब्लास्टिंग का सहारा लेकर काम किया जा रहा है, जो चट्टानों को कमज़ोर करने का काम कर रहें हैं।

उत्तराखंड में भारी बारिश की चेतावनी जारी, अलर्ट

पंकज कपूर               
देहरादून। उत्तराखंड में अगले 48 घंटे में मौसम विभाग द्वारा कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक देहरादून पौड़ी गढ़वाल और नैनीताल जिले में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना के आसार जताए गए हैं। जबकि डिग्री चंपावत और पिथौरागढ़ ने की भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग में 48 घंटे के लिए पूर्वानुमान जारी करते हुए कल रेड अलर्ट भी रखा है।उत्तराखंड में मौसम विभाग ने अगले 5 दिनों के लिए जिला स्तरीयमौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक एक बार फिर से 17 और 18 अगस्तउत्तराखंड में मौसम विभाग के उत्तराखंड में अगले 5 दिनों के लिए मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून द्वारा पूर्वानुमान जारी के मुताबिक इस मानसून सीजन का तीसरा रेड।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-320 (साल-02)
2. शुक्रवार, जुलाई 2, 2021
3. शक-1984,अषाढ़, शुक्ल-पक्ष, तिथि-अष्टमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:42, सूर्यास्त 07:16।
5. न्‍यूनतम तापमान -22 डी.सै., अधिकतम-40+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

मौजूदा समझौते के प्रावधानों का विस्तार किया

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। भारत और अमेरिका ने शुक्रवार को एक मौजूदा समझौते के प्रावधानों का विस्तार किया। जिसके तहत सहयोगी देशों को कनेक्टिवि...