रविवार, 6 जून 2021

गुप्त रूप से पत्रकारों का रिकॉर्ड उपयोग, खत्म

वाशिंगटन डीसी। अमेरिकी न्याय विभाग ने पत्रकारों के रिकॉर्ड गुप्त तरीक़े से प्राप्त करने की लंबे समय से चलीं आ रहीं 'परंपरा' को समाप्त करने का फैंसला किया हैं। गोपनीय जानकारी लीक होने से जुड़ी एक जांच के दौरान अमेरिकी न्याय विभाग ने कहा है कि वह किसी पत्रकारों के रिकॉर्ड, गुप्त तरीक़े से हासिल करने की सालों पुरानी परंपरा को समाप्त करने जा रहा है। रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक पार्टियों के नेतृत्व वाले प्रशासन के तहत पत्रकारों के रिकॉर्ड गोपनीय तरीके से हासिल किए गए हैं।

लेकिन पत्रकारों के रिकॉर्ड हासिल करने के लिए कोर्ट के समन और आदेशों का होने को लेकर जांच इसी साल चर्चा में आई हुई थी। अमेरिका के मौजूदा डेमोक्रेटिक राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इसके एक 'परंपरा बन जाने को' ग़लत बताया है। बीते हफ़्तों में इस बात का पता चला कि अमेरिकी न्याय विभाग के अधिकारियों ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल के दौरान कई समाचार संगठनों के पत्रकारों के फ़ोन और ई-मेल रिकॉर्ड गुप्त तरीक़े से हासिल किये थे। इनमें वॉशिंगटन पोस्ट और सीएनएन के पत्रकारों के रिकॉर्ड भी शामिल हैं। जिन्हें गोपनीय तौर पर हासिल किया गया था।

गाज़ियाबाद में कोरोना कर्फ्यू हटाया, मिलीं राहत

अश्वनी उपाध्याय                

गाजियाबाद। यूपी के गाज़ियाबाद जिले में भी कोरोना कर्फ्यू हटा लिया गया है। जिलें में 7 जून से सभी दुकानें, बाजार कोरोना नियमों का पालन करते हुए खुल सकेंगे। सरकारी कार्यालयों में भी 50 फीसदी स्टाफ उपस्थित रह सकेंगे। हर कार्यालय में कोविड हेल्प डेस्क बनाना अनिवार्य होगा। इस संबंध में प्रशासन का कहना है कि वीकेंड कर्फ्यू की वजह से मरीजों की संख्या 600 से कम होने के बावजूद लॉकडाउन में ढील सोमवार यानी 7 जून से दी जाएगी। जिले में 5 दिन सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक जिला प्रशासन की ओर से जारी नई गाइडलाइन के मुताबिक छूट मिलेगी। 

हालांकि नाइट कर्फ्यू और वीकेंड लॉकडाउन जारी रहेगा। कंटेनमेंट जोन में किसी तरह की छूट नहीं दी जाएगी। फिलहाल कोचिंग सेंटर, जिम, स्पॉ सेंटर और मॉल्स को खोलने की इजाजत नहीं दी गई है। जिला प्रशासन की ओर से अगला आदेश जारी किए जाने तक हर हफ्ते शनिवार और रविवार को वीकेंड लॉकडाउन जारी रहेगा। जिला प्रशासन की ओर से जारी गाइडलाइन के मुताबिक रेस्टोरेंट और होटल से खाना ले जाने की अनुमति होगी। धार्मिक स्थलों पर एक बार में केवल पांच लोगों को ही दर्शन की अनुमति होगी।

गाजियाबाद में 162 संक्रमितों को डिस्चार्ज किया

अश्वनी उपाध्याय              

गाज़ियाबाद। जिलें में आज केवल 30 नए संक्रमितों की पहचान हुई और 162 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। जिले में 3 मरीजों की मौत भी दर्ज की गई। अब यहाँ 496 सक्रिय संक्रमित हैं।

गौतम बुद्ध नगर में 91 नए संक्रमितों की पहचान हुई और 116 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। जिले में 2 मरीजों की मौत भी दर्ज की गई। अब यहाँ 583 सक्रिय संक्रमित हैं। 

मेरठ जिले में आज केवल 55 नए संक्रमितों की पहचान हुई और 100 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। जिले में 4 मरीजों की मौत भी दर्ज की गई। अब यहाँ 1179 सक्रिय संक्रमित हैं। 

हिंदी साहित्य में नए छंद का आविष्कार किया: कवि

श्रीराम मौर्य                 
शिमला। हिमाचल के शिक्षक व कवि परमजीत सिंह ने हिंदी साहित्य में एक नए छंद का आविष्कार किया है। गौरतलब है कि परमजीत सिंह वर्तमान में राजकीय प्राथमिक पाठशाला भटेड़ में शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं। वे लगातार लेखन का कार्य भी करते हैं। वे राष्ट्रीय साहित्यकार मंच कलम की सुगंध के साथ जुड़े हैं। हाल ही में उन्होंने एक नए छंद का आविष्कार किया है। जिसे राष्ट्रीय पटल कलम की सुगंध मंच द्वारा विशेषज्ञों की उपस्थिति में मान्यता भी प्रदान कर दी गई है। परमजीत सिंह हिमाचल प्रदेश के नैना देवी क्षेत्र से जुड़े एक छोटे से गांव डडोह के निवासी हैं। उनके द्वारा दिए गए छंद का विधान निम्न प्रकार से है।
कोविद सवैया छंद विधान:- 211 222 211 22= 11वर्ण,18 मात्राएं। 211 222 112 22= 11वर्ण,18 मात्राएं। उपरोक्त विधान पर मंच के लगभग 25 कवियों ने अपनी कविताएं लिखी और मंच ने उन्हें सम्मानित भी किया। परमजीत सिंह अब तक लगभग 10 सांझा संग्रह लिख चुके हैं। इनका एक एकल संग्रह कोविद गीतांजलि के नाम से प्रकाशन की प्रक्रिया में है। ये अब तक 200 नवगीत,100 सोरठा,100 विज्ञात बेरी छंद,200 उल्लाला और 150 आल्हा आधारित छंद लिख चुके हैं। परमजीत सिंह "कोविद" ने साहित्य क्षेत्र की उपलब्धियों के लिए अपने साहित्यिक गुरु संजय कौशिक विज्ञात, मंच संचालिका अनीता मंदिलवार सपना, गोपाल पंडा, अनीता भारद्वाज अर्णव, बाबूलाल बोरा विज्ञ, अर्चना पाठक निरंतर, कुसुम कोठारी, चमेली कुर्रे सुवासिता और आदरणीय नीतू ठाकुर विदुषी का विशेष आभार व्यक्त किया है। जिन्होंने पग पग पर इस क्षेत्र में अपना सहयोग दिया है।

बागपत: टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक किया

गोपीचंद               
बागपत। जिलाधिकारी राज कमल यादव के निर्देशन में जनपद ब्रहद स्तर पर कोविड टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है और को भी टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक किया जा रहा है। जिससे कि जनपद के 18 वर्ष से अधिक उम्र के प्रत्येक व्यक्ति के कोविड-19 जीत का टीका लग सके और जनपद का व्यक्ति स्वस्थ व सुरक्षित बन सके। आज जिलाधिकारी राजकमल यादव के निर्देशन में जनपद में 90 स्थलों पर 45 प्लस के लिये कोविड-19 टीकाकरण किया गया व 18 प्लस के लिए 10 स्थलों पर कोविड-19 टीका करण किया गया। जिसमें बड़ौत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मीडिया टीकाकरण कैंप लगाया गया। 
जिसमें 50 मीडिया बंधुओं का टीकाकरण किया गया।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ दीपा ने बताया 7 जून से जनपद में 2 महिला स्पेशल कोविड-19 टीका करण बूथ लगाये जायेगे जिसमें एक जिला अस्पताल बागपत व जैन डिग्री कॉलेज बड़ौत में स्थापित किए जाएंगे जिसमें टीकाकरण से पूर्व महिलाओं को अपना क़बीन पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा। 
जनपद में सम्राट पृथ्वीराज चौहान डिग्री कॉलेज बागपत व जैन डिग्री कॉलेज बड़ौत में दो अभिभावक स्पेशल कोविड टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। अभिभावक स्पेशल टीकाकरण केंद्र पर व अभिभावक टीका करा सकते हैं। जिनके बच्चों की उम्र 12 वर्ष से कम है, कॉविड टीकाकरण जीत का टीका है। इसलिए अपना समय आने पर कोविड टीका अवश्य कराये।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया जनपद में आज 4950 टीका लगाये गए। अब तक कुल जनपद में 1 लाख 92 हजार कोविड टीकाकरण लगाए जा चुके हैं।

कई दर्जन आईएएस अधिकारियों के तबादले किए

राणा ओबराय              
चंडीगढ़। गत दिवस हरियाणा सरकार ने कई दर्जन आईएएस अधिकारियों के नियुक्ति एवं तबादले किए। यह सरकार का विशेष अधिकार है। किस-किस अधिकारी को कहाँ नियुक्त करना है। परंतु एक बात कहना अतिअवश्यक है कि जब किसी आईएएस या अन्य अधिकारी को जिले की कमान सौंपी जाती है।उसको डीसी जैसे महत्वपूर्ण पद पर नियुक्त किया जाता है। उस समय शायद अधिकारी की कार्यप्रणाली, ईमानदारी व कर्तव्य परायणता के बारे जरूर जांच पड़ताल की जाती होगी। 
परन्तु ऐसा क्या होता है कि कुछ ही महीनों की बात आईएएस अधिकारी को बदल दिया जाता है? क्या नियुक्ति से पहले जो अधिकारी की रिपोर्ट ली जाती है वह सत्य नही होती? क्या डीसी जैसे अहम पद पर आईएएस अधिकारी कुछ ही समय मे भ्रष्ट हो जाता है, तो यह गलती उस रिपोर्ट बनाने वाले की है ? यदि अधिकारी कर्तव्यपरायणता, ईमानदारी व लग्न से काम नही करता तो उसे सिर्फ बदलना ही नही चाहिए बल्कि उसकी विभागीय जांच करवानी चाहिए। यदि सरकार रूटीन कार्य समझ कर तबादला करती है तो वह अशोभनीय है। 
क्योंकि जब तक अधिकारी को जिले की भगोलिक स्तिथि समझ आती है या वह जिले में विकास को बढ़ावा देने के लिए तैयार होता हैं तो उसको बदल दिया जाता है। इसके कारण जिले में विपरित असर पड़ता है विकास रुक जाता है। आने वाला नया अधिकारी क्या पहले वाले अधिकारी द्वारा तैयार स्कीमो को लागू करेगा। यदि नही करता तो यह जिले का हर तरह से नुकसान होगा। इसलिए हमारा मानना है की अधिकारी किसी भी स्तर का हो उसको कम से कम एक वर्ष तक एक ही पोस्ट पर लगाये रखना चाहिये। उसके बाद यदि अधिकारी में कोई कमी पाई जाती है तो सरकार को उस अधिकारी के खिलाफ कठोर निर्णय भी लेना चाहिए।

वैवाहिक कार्यक्रम की फोटो संकलन का उपहार भेंट

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। विधान परिषद सदस्य माननीय पूर्व एमएलसी सूर्यभान करवरिया की बेटी की शादी सकुशल संपन्न होने के उपरांत औचारिकता पूर्ण मुलाकात होटल वशिष्ठ में अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल प्रयागराज के प्रमुख पदाधिकारियों के साथ हुई। 
नगर महामंत्री अनूप वर्मा की ओर से वैवाहिक कार्यक्रम की फोटो संकलन का उपहार भेंट किया गया। जिसमें मुख्य रूप से प्रांतीय संगठन मंत्री व्यापारी रमेश केसरवानी,संरक्षक "अध्यक्ष" अनुशासन समीति राजीव कृष्ण श्रीवास्तव,(बंटी भईया), निखिल पांडेय,धीरेन्द्र श्रीवास्तव के साथ प्रमुख्य पदाधिकारी गण थे।

धरना-प्रदर्शन कर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा

कौशाम्बी। बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष प्रदेश प्रवक्ता दानिश अली एडवोकेट की 5 जून को प्रयागराज के एक होटल से सादे ड्रेस के सिपाहियों ने गिरफ्तार कर लिया था। दानिश अली की गिरफ्तारी की जानकारी मिलते ही बहुजन मुक्ति पार्टी के कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों में उबाल आ गया और उन्होंने दानिश अली की रिहाई को लेकर मंझनपुर मुख्यालय के डायट मैदान में धरना-प्रदर्शन कर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा है। 
धरना-प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे पार्टी के जिला अध्यक्ष रमेश चंद्र ने कहा कि दानिश अली की गिरफ्तारी के बाद उन्हें पुलिस कहां ले गई है, किस हालत में रखी हुई है। इसकी कोई जानकारी न मिलने से प्रदेश के सभी कार्यकर्ताओं और समर्थकों में आक्रोश है। धरना-प्रदर्शन के दौरान श्रीपाल गौतम प्रदेश महासचिव भैयालाल विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप पासी मनका प्रसाद सहित तमाम पार्टी जन मौजूद रहे।
मंजीत सिंह 

शराब एवं मॉडल शॉप का औचक निरीक्षण किया

अतुल त्यागी                  
हापुड़। शासन द्वारा अवैध शराब की बिक्री को लेकर दिए गए निर्देशों के अनुपालन में आज जिलाधिकारी अनुज सिंह, जिला आबकारी अधिकारी महेंद्र नाथ सिंह के साथ जनपद में संचालित शराब एवं मॉडल शॉप का औचक निरीक्षण किया गया। जिला अधिकारी के द्वारा 5 शराब की दुकानों (अतरपुरा, तहसील चौराहा, मेरठ रोड, तिरुपति गार्डन के पास एवं बाबूगढ़) की मॉडल शॉप का निरीक्षण किया गया। जिलाधिकारी ने क्यूआर कोड के द्वारा मदिरा की जांच की। इसके साथ-साथ उन्होंने स्टॉक रजिस्टर से मिलान भी किया। 
शराब की दुकानों पर कैमरे संचालित नहीं हैं तथा अनियमितता मिलने पर जिला अधिकारी द्वारा जिला आबकारी अधिकारी को निर्देश दिए गए कि संबंधित अनुज्ञापी को कारण बताओ नोटिस जारी करें। जिलाधिकारी ने जिला आबकारी अधिकारी को निर्देश दिए कि किसी भी दुकानदार द्वारा अगर ओवर रेटिंग की जाती हैं तो संबंधित दुकानदार के विरुद्ध कठोर कार्रवाई अमल में लाई जाए। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी जयनाथ यादव, जिला आबकारी अधिकारी महेंद्र नाथ सिंह उपस्थित रहे।

बीजेपी पर निशाना साधने का काम कर रहें राहुल

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार बीजेपी पर निशाना साधने का काम कर रहे हैं। उन्होंने ब्लू टिक को लेकर चल रहे विवाद के बीच कहा कि सरकार ब्लू टिक के लिए लड़ लेगी, जिसे टीका चाहिए तो आत्मनिर्भर बनो। इसके साथ ही उन्होंने हैशटैग प्रायोरिटी का भी इस्तेमाल किया। देश में कोरोना के मामले भले ही कम हो गए हों। लेकिन, अभी भी सरकार को इसके लिए लगातार काम करना होगा। 
ट्विटर ने हाल ही में अपनी ब्लू टिक वेरीफिकेशन प्रोसेस को दोबारा शुरू किया है और इसके साथ ही उसने पुराने हैंडल्स को क्रॉस-चेक करते हुए ब्लू टिक को हटाना शुरू किया है। इसे प्राप्त करने के लिए, आपका खाता ऑथेंटिक, नोटेबल और सक्रिय होना चाहिए। ब्लू टिक का उद्देश्य वेरीफाइड करने के लिए ट्विटर के साथ एक अकाउंट की पहचान की पुष्टि करके प्लेटफॉर्म पर यूजर्स के बीच विश्वास को प्रोत्साहित करना और बनाए रखना है।

कुछ हिस्सों तक मानसून सक्रीय होने की संभावना

दुष्यंत टीकम             
रायपुर। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून आगे बढ़कर मध्य अरब सागर, संपूर्ण तटीय कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों, उत्तर आंतरिक कर्नाटक, तेलंगाना के कुछ हिस्सों और आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के अधिक भागों पहुंच गया है। अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर पूर्व के कुछ हिस्से, बंगाल की खाड़ी और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्से तक मानसून सक्रीय होने की सम्भावना है। प्रदेश में मानसून की अनुकुल स्थिति रही तो एक दो दिनों में प्री मानसून बारिश होने की संभावना है। 
केरल में तीन दिन मानसून के विलंब से पहुंचने के कारण ज्यादा असर नहीं पड़ेगा। मौसम विज्ञानियों के अनुसार प्रदेश में उमस भरी गर्मी के साथ ही वातावरण में आ रही नमी जल्द अच्छी बारिश होने का शुभ संकेत है। प्रदेश में वातावरण के निम्न स्तर पर नमी आ रही है इसलिए प्रदेश के कुछ स्थानों पर आज एक दो स्थानों पर हल्की वर्षा होने या गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों में गरज चमक के साथ अंधड़ चलने और वज्रपात की संभावना है। प्रदेश में अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।

3000 लोगों की भीड़ के खिलाफ मामला दर्ज किया

कविता गर्ग               
मुंबई। मराठा समुदाय के लिए आरक्षण की मांग को लेकर कोविड-19 नियमों का उल्लंघन करते हुए रैली निकालने पर महाराष्ट्र विधान परिषद के सदस्य विनायक मेटे के नेतृत्व में एकत्र 3000 लोगों की भीड़ के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि पुलिस या प्रशासन की अनुमति के बिना रैली आयेाजित की गयी थी। इसके चलते रैली में हिस्सा लेने वालों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188, 269, 270 और महामारी कानून के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है।

चेन्नई: 12वीं की परीक्षा रद्द, समिति का गठन किया

चेन्नई। तमिलनाडु सरकार ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के मद्देनजर राज्य बोर्ड की 12वीं की परीक्षा रद्द कर दी है तथा छात्रों को अंक देने के तौर-तरीकों पर विचार करने के लिए एक समिति का गठन करने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने यह कदम केंद्र सरकार द्वारा कोविड-19 के कारण केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं की परीक्षा रद्द करने के बाद उठाया है। मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने एक आधिकारिक बयान में शनिवार को देर शाम कहा कि स्कूल शिक्षा मंत्री बिल महेश पोय्यामोझी द्वारा सर्वदलीय बैठक तथा शिक्षाविद, राजनेता, शिक्षक संघ, चिकित्सा पेशेवर,मनोचिकित्सक, छात्र और माता-पिता की राय के आधार पर रिपोर्ट पेश करने के बाद परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया। 

उन्होंने कहा कि यह फैसला छात्रों के हित में लिया गया है। सरकार राज्य बोर्ड पाठ्यक्रम के आधार पर बिना किसी परेशानी के छात्रों को उच्च शिक्षण संस्थानों में दाखिला दिलाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बोर्ड की परीक्षाएं रद्द हो जाने के बाद राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) जैसी राष्ट्रीय स्तर की परीक्षाएं आयोजित करना उचित नहीं होगा। अभी तक हालांकि इस संबंध (नीट परीक्षा) में घोषणा नहीं हुई है। एम. के. स्टालिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को को पत्र लिख कर उच्च शिक्षा पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा को रद्द करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि केंद्र पहले ही सीबीएसी 12वीं बोर्ड की परीक्षा को रद्द कर चुका है तथा कईं अन्य राज्यों ने भी बोर्ड की परीक्षाएं रद्द कर दी है।

चोरी का आरोप, भाजपा विधायक शुभेंदु पर मुकदमा

मीनाक्षी लोधी   

कोलकाता/नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में भाजपा और ममता के बीच चल रहा शह और मात का खेल लगातार गरम होते हुए आगे बढ़ता जा रहा है। जिसके चलते भाजपा नेता और नंदीग्राम से एमएलए शुभेंदु अधिकारी की मुश्किलें कम होने के बजाय बढ़ती ही जा रही हैं। राहत सामग्री में चोरी के आरोप में शुभेंदु पर मुकदमा दर्ज किए जाने के बाद एक अन्य घोटाले में उनके सहयोगी को अरेस्ट कर लिया गया है। तेजी के साथ घटे इन घटनाक्रम से राज्य की राजनीति में एक बार फिर से उबाल आ गया है।

दरअसल पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पुलिस ने सिंचाई विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों को ठगने के आरोप में भाजपा नेता व एमएलए शुभेंदु अधिकारी के दाएं हाथ माने जाने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। मानिकटोला थाना पुलिस ने ठगी के मामले में आरोपी बनाए गए राखल बैरा को गिरफ्तार करते हुए उसे जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किए गए राखल बेरा ने कई अन्य लोगों के साथ मिलकर राज्य के सिंचाई विभाग में नौकरी लगवाने का झांसा देते हुए एक व्यक्ति के साथ 200000 रूपये की कथित रूप से ठगी की है। पुलिस का कहना है कि कल्याणगढ़ के अशोक नगर निवासी सुजीत डे की शिकायत के तहत मानिकटोला थाने में आईपीसी की धारा 120 बी के तहत 27 फरवरी 2021 को एक मामला दर्ज किया गया था। पुलिस का मानना है कि राज्य के पूर्व सिंचाई मंत्री और अब पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी के करीबी माने जाने वाले राखल बेरा से पूछताछ करके ठगी के इस मामले में और अधिक जानकारी हासिल की जा सकती है।

डीएम के निर्देशन में गाइडलाइन का सख्ती से पालन

अमित प्रजापति   
मुज़फ्फरनगर। जनपद मुज़फ्फरनगर कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पिछले एक माह से बंद किया हुआ था, हालांकि पूरी तरह बंद नही किया गया था कुछ शर्तों के साथ लॉक डाउन में थोड़ी ढिलाई बरती गई थी। लेकिन उस ढिलाई में कुछ जनपद वासियो एवं ग्रामीणों का कार्य पूरी तरह बंद सा हो गया था, मानो भुखमरी की कगार पर आ गए हो। लेकिन सरकारी गाइडलाइन के अनुसार कोरोना वायरस के 600 से कम मामले होने के बाद ढिलाई बरतने जाने बाजार को खोलने की अनुमति दी जाने के निर्देशों का पालन किया जा रहा था। 
जनपद मुज़फ्फरनगर में सात हजार के करीब कोरोना संक्रमण के मामलों के चलते नगर व ग्रामीण क्षेत्रो में पूरी सख्ती के साथ आंशिक लॉक डाउन का पालन कराया जा रहा था। इसके अलावा जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा जनपद भर में एक कोरोना योद्धा के रूप में दिन रात काम कर कोरोना संक्रमण पर जीत दर्ज कर जनपद को कोरोना मुक्त कर दिया गया हैं। जनपद में केवल 608 कोरोना संक्रमण के मामले ही कोविड हॉस्पिटल में उपचारित हैं। जिला प्रशासन के द्वारा अलग अलग तरीको एवं कड़ी महेनत कर लोगो को कोरोना के प्रति जागरूक करते हुए इससे बचाव के टिप्स भी लोगो को बताए गए। 
वही, ग्रामीण वासियो एवं शहर वासियों के भी जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम को पूरा सहयोग मिला, लोगो के द्वारा सोशल डिस्टनसिंग मास्क हैंड सैनेटाइज आदि का कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए व अनावश्यक रूप से घर के बाहर न निकलना बहुत ज्यादा जरूरी होने पर ही घर के बाहर समान लेने को निकले। कोरोना से लड़ाई में पूरे जनपद मुज़फ्फरनगर के निवासियों के द्वारा खुद ही अपने प्रतिष्ठान बंद कर जिला प्रशासन के द्वारा कोरोना से लड़ी जा रही लड़ाई में एक सहयोग के रूप में प्रदान किया। जनपद भर में अब कोरोना संक्रमण के शेष मरीजो का आंकड़ा नाम मात्र के ही रह गए हैं, जिन्हें कोरोना गाइडलाइन के पालनार्थ जल्द ही कोरोना संक्रमितों को स्वस्थ होने के बाद कोविड हॉस्पिटल से छुट्टी देकर घर भेज दिया जाएगा, जो जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग एवं जनपद वासियो के लिए कोरोना संक्रमण पर एक बड़ी जीत दर्ज होगी।

पिज़्ज़ा पहुंचाया जा सकता है घर-घर, राशन नहीं

सत्येंद्र ठाकुर   

नई दिल्ली। केंद्र सरकार की ओर से एक बार फिर घर-घर राशन योजना पर रोक लगाए जाने से बुरी तरह से खिन्न हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि जब होम डिलीवरी के तहत घर-घर जाकर पिज्जा पहुंचाया जा सकता है तो राशन की होम डिलीवरी क्यों नहीं की जा सकती है?

रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि राजधानी दिल्ली में इस सप्ताह से सरकार द्वारा घर-घर राशन पहुंचाने की योजना आरंभ की जाने वाली थी। इस योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए समूची तैयारियां हो चुकी थी। लेकिन केंद्र सरकार ने 2 दिन पहले ही इस योजना को शुरू होने से रोक दिया है। केंद्र सरकार का दावा है कि हमने उससे इस योजना को शुरू करने की मंजूरी नही ली है। जबकि हम एक बार नहीं बल्कि 5 बार घर-घर राशन पहुंचाने की योजना की मंजूरी ले चुके हैं। उन्होंने कहा कि कानून के लिहाज से हमें केंद्र सरकार से इस योजना को शुरू करने के लिए मंजूरी की जरूरत नहीं है। फिर भी हमने शिष्टाचार के नाते 5 बार केंद्र से मंजूरी ली। उन्होंने कहा कि जब पिज्जा की घर घर जाकर होम डिलीवरी की जा सकती है तो लोगों को पेट भरने के लिए उनके घर राशन क्यों नहीं पहुंचाया जा सकता है? उन्होंने केंद्र सरकार से पूछा है कि आखिर राशन की होम डिलीवरी क्यों नहीं होनी चाहिए? राशन माफिया के साथ जब आप खड़े होंगे तो गरीबों के साथ कौन खड़ा होगा। 

उन्होंने कहा कि उन 7000000 गरीबों का क्या होगा जिनका राशन यह माफिया चोरी कर लेते हैं? मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार कोरोना महामारी की मुसीबत के समय भी सभी के साथ लड़ाई भिड़ाई करने पर उतारू है। पश्चिम बंगाल में वह ममता दीदी के साथ लड़ रही है तो झारखंड में वहां की सरकार के साथ केंद्र दो-दो हाथ करने को तैयार है। महाराष्ट्र में भी उद्धव सरकार के साथ केंद्र की लड़ाई चल रही है। जबकि केंद्र सरकार को यह सोचना चाहिए कि यह समय लड़ने का नहीं बल्कि संयुक्त रूप से काम करने का है। जिससे कोरोना को देश से भगाते हुए लोगों को संक्रमण और लाॅकडाउन जैसी पाबंदियों से बाहर निकाला जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं इस सारी योजना का समूचा श्रेय केंद्र सरकार को देने के लिए तैयार हूं। मगर योजना को शुरू होने से रोका नहीं जाना चाहिए।

चीन में 3 साल से ऊपर के बच्चों का वैक्सीनेशन

बीजिंग। चीन ने तीन साल से 17 साल के बच्चों के लिए चीनी कंपनी सिनोवैक द्वारा निर्मित कोविड-19 रोधी टीके कोरोनावैक के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। सिनोवैक के अध्यक्ष यीन वेईदोंग ने इस बारे में बताया। सरकारी अखबार ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने रविवार को बेईदोंग के हवाले से बताया, ”टीका का आपात इस्तेमाल शुरू होने पर फैसला किया जाएगा कि किस उम्र समूह से इसकी शुरुआत की जाए।” सिनोवैक ने क्लीनिकल अध्ययन के पहले और दूसरे चरण को पूरा कर लिया और इस उम्र के सैकड़ों लोगों पर टीके का इस्तेमाल किया। प्रयोग से साबित हुआ कि टीका वयस्कों के लिए सुरक्षित और प्रभावी है। 
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने एक जून को चीन के दूसरे कोविड-19 रोधी टीके सिनोवैक को मंजूरी दे दी। इससे पहले डब्ल्यूएचओ ने चीन के सिनोफार्म को भी मंजूरी दी थी। चीन अपने देश में टीकाकरण के साथ टीका नीति के तहत कई देशों को टीके का निर्यात कर रहा है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा है कि रविवार तक चीन में 76.3 करोड़ खुराकें दी गयी हैं। चीन अपने यहां आपात इस्तेमाल के लिए पांच टीकों को मंजूरी दे चुका है। चीन ने डब्ल्यूएचओ के सहयोग से चलायी जा रही ‘कोवैक्स’ पहल के लिए भी एक करोड़ खुराकें देने का प्रस्ताव दिया है। एजेंसी

ऑपरेशन की 37वीं बरसी, खालिस्तान के नारे लगे

अमित शर्मा   

अमृतसर। ऑपरेशन ब्लू स्टार की 37वीं बरसी को देखते हुए आज पूरे पंजाब में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इस अवसर पर सिख संगठनों ने अमृतसर के श्री हरमंदिर साहिब परिसर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के दौरान खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे और अलगाववादी जरनैल सिंह भिंडरावाले के पोस्टर भी दिखाई दिए। इस दौरान श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने कौम के नाम संदेश पढ़ा और इससे पहले अरदास में जरनैल सिंह भिंडरा वाले, बाबा टारा सिंह और जरनैल सुबेग सिंह को कौम का शहीद करार दिया गया। लाल किले पर झंडा फहराने वाले दीप सिद्दू भी इस समागम में दिखाई दिए। प्रशासन ने पूरे अमृतसर की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है।

ऑपरेशन ब्लू स्टार (Operation Blue Star)की बरसी को लेकर पंजाब सरकार ने पूरे प्रदेश में सुरक्षा कड़ी कर दी है। श्री अकाल तक्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने कौम के नाम संदेश में कहा की 37 वर्ष पहले भारत की सेना ने पाकिस्तान और चीन की तरह श्री हरमंदिर साहिब पर चैंकों और तोपों से हमला किया और विजेता सेना की तरह सिखों के साथ व्यवहार किया गया था।

क्या है ऑपरेशन ब्लू स्टार

ऑपरेशन ब्लूस्टार तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा अमृतसर में हरमंदिर साहिब कॉम्प्लेक्स (स्वर्ण मंदिर) में छिपे सिख आतंकवादियों को बाहर निकालने के लिए एक सैन्य कार्रवाई थी। पहली जून से 8 जून 1984 के बीच किए गए ऑपरेशन में कई लोगों की जान चली गई और मंदिर क्षतिग्रस्त हो गया। वहीं इस ऑपरेशन के बाद ही प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की उनके सिख अंगरक्षकों द्वारा हत्या कर दी गई थी, जिससे प्रतिशोध की एक और लहर शुरू हो गई थी जिसमें लगभग 3,000 सिख मारे गए थे।

हैरत: 23 साल की महिला 21 बच्चों की मां बनी

हरिओम उपाध्याय   

मास्को। रूस में एक महिला ने एक साल में 20 बच्चों को जन्म दिया है और अब वो 21 बच्चों की मां है। महिला ने इन बच्चों की देखभाल के लिए 16 नैनी रखीं हुई हैं। महिला का कहना है कि वो अपने परिवार को और भी बड़ा करना चाहती है। 

दंपती ने बड़े परिवार का सपना देखा था:- रूस के बेहद ही रईस परिवार से तालुक रहने वाली 23 साल की क्रिस्टीन ओजटर्क ने बताया कि वह अपने 57 वर्षीय पति गैलीप से जब मिलीं, तो उन्होंने एक बड़े परिवार का सपना देखा था। पहले साल दोनों का एक बच्चा हुआ। इसके बाद दंपती ने सरोगेसी का सहारा लिया। इसके बाद उनके 20 और बच्चे हुए। सरोगेट्स के लिए उन्होंने करीब 1 करोड़ 42 लाख रूपये खर्च किए।

अब इन बच्चों की देखभाल के लिए उनके पास 16 लिव-इन नैनियां हैं और वे हर साल उन पर करीब 70 लाख का खर्च करते हैं। क्रिस्टीना ने बताया कि वह हर समय अपने बच्चों के साथ रहती हैं और वह सब कुछ करती है जो एक मां आमतौर पर अपने बच्चों के लिए करती हैं। गैलीप और क्रिस्टीना के पास इस समय चार महीने से लेकर 14 महीने तक के बच्चे हैं। इन बच्चों पर प्रति सप्ताह लगभग तीन से चार लाख रूपया खर्च होता है। क्रिस्टीना का कहना है कि वह भविष्य में और बच्चे पैदा करना चाहती हैं। क्योंकि उन्होंने शुरूआत में ही एक बड़े परिवार का फैसला किया था। मालूम हो कि क्रिस्टीना के पति गैलीप पर्यटन, परिवहन क्षेत्र में काम करते हैं। वे मूल रूप से तुर्की के हैं, लेकिन साल 2013 से वो जॉर्जिया में रह रहे हैं। गैलीप तुर्की की कंपनी मेट्रो होल्डिंग के संस्थापक हैं और जॉर्जिया में उनका 500 मिलियन डॉलर का निवेश है।


नाबालिक को लेकर भागी, पोक्सो एक्ट में कार्रवाई

दुष्यंत सिंह टीकम   

कोरबा। मानिकपुर चैकी क्षेत्र में बलात्कार से जुड़ी एक ऐसी घटना सामने आई है जिसे सुनकर आप भी हैरत में पड़ जाएंगे। दो बच्चों की मां को नाबालिग से इस कदर मुहब्बत हुई कि वह उसे लेकर फरार हो गई। परिजनों की सूचना पर पुलिस ने दोनों को जांजगीर से बरामद कर लिया। इस मामले में पुलिस महिला के खिलाफ पाॅक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई कर रही है।

बलात्कार से जुड़े अधिकतर मामलों में आपने युवक या फिर किसी पुरुष के खिलाफ ही कार्रवाई की बात सुनी होगी लेकिन मानिकपुर चैकी में एक महिला के खिलाफ पुलिस ने पाॅक्सो एक्ट का अपराध कायम किया है। शासकीय नौकरी में पदस्थ व्यक्ति की पत्नी और दो बच्चों की मां को एक 14 वर्षीय किषोर से इस कदर मुहब्बत हो जाती है,कि बिना कुछ सोचे समझे नाबालिग को लेकर घर से भाग जाती है। परिजनों के माध्यम से पुलिस को जब यह बात पता चली तब दोनों की खोजबीन शुरु की गई। इस दौरान दोनों की मौजूदगी जांजगीर जिला स्थित नवागढ़ में नाबालिग के मामा के घर में होने का पता चला पुलिस की टीम तत्काल मौके के लिए रवाना हुई और दोनों को बरामद कर लिया।

गाइडलाइन, जनपद में क्या खुलेगा क्या रहेगा बंद

यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना के करीब 1100 नए केस सामने आए हैं। राज्य में तेजी से सुधर रहे हालात को देखते हुए मेरठ, सहारनपुर, लखनऊ और गोरखपुर को छोड़कर अन्य सभी जिलों से कोरोना कर्फ्यू हटा लिया गया है। इन चार जिलों में एक्टिव मामले 600 से अधिक हैं। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने रविवार को यह जानकारी दी है। 

अश्वनी उपाध्याय   
गाजियाबाद। जनपद में भी अब कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 600 से नीचे आने के बाद यहां पर भी कोरोना कर्फ्यू हटाने का निर्णय लिया गया है। कर्फ्यू हटने के बाद सोमवार से यहां दुकानें और बाजार एक बार फिर खुल सकेंगे। हालांकि, कंटेनमेंट जोन में यह नियम लागू नहीं होगा।
जिले में पांच दिन सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक दुकानें खुलने लगेंगी। कंटेनमेंट जोन में यह नियम लागू नहीं होगा। शनिवार और रविवार को वीकली लॉकडाउन रहेगा। अनलॉक होने की स्थिति में सभी दुकानों पर दुकानदार और स्टाफ के साथ ग्राहकों को भी मास्क पहनना, सैनिटाइजर रखना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। नियमों का उल्लंघन होने पर आरोपियों के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वीकली लॉकडाउन के दौरान शहरी और ग्राणीण क्षेत्रों में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग अभियान चलाया जाएगा।

जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपी अरेस्ट किया

सुनील श्रीवास्तव   

अलीगढ़। यूपी के अलीगढ़ के शराब कांड का मुख्य आरोपी ऋषि शर्मा आखिरकार पुलिस की गिरफ्त में आ ही गया। पिछले कई दिनों से पुलिस ऋषि की तलाश कर रही थी। जब कई दिनों तक ऋषि का कुछ पता नहीं चला तो पुलिस ने उस पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित कर दिया था। पुलिस के मुताबिक, इस कांड के मुख्य आरोपी ऋषि शर्मा को बुलंदशहर की बॉर्डर के पास से गिरफ्तार किया गया है। अलीगढ़ एसएसपी कलानिधि नैथानी ने ऋषि शर्मा की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। पुलिस ने बताया कि ऋषि शर्मा अलीगढ़ में अवैध शराब का सिंडिकेट चलाने वाले अनिल चौधरी के साथ काम करता था। इस मामले में अनिल चौधरी और उसके साले नीरज चौधरी को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुकी है। 

अलीगढ़ में बीते दिनों जहरीली शराब पीने से मौत का मामला सामने आया था। इस मामले में अब तक 103 शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। इनमें से 38 की रिपोर्ट आ चुकी है और सभी की मौत का कारण जहरीली शराब ही है। बाकियों की रिपोर्ट आनी बाकी है। पुलिस के मुताबिक, इस मामले में अब तक 17 मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं, जिनमें 62 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है।


10 जून को लगेगा सूर्य ग्रहण, भारत में नहीं दिखेगा

सूर्य ग्रहण 10 जून गुरुवार को लग रहा है। यह साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण है। जब सूर्य और पृथ्वी के बीच चंद्रमा आ जाए तो उसे सूर्य ग्रहण की संज्ञा दी जाती है। वैज्ञानिक और आध्यात्मिक दोनों ही दृष्टि से इसे महत्वपूर्ण घटना माना जाता है। जिसका असर पृथ्वी पर मौजूद हर वस्तु पर पड़ता है, खासतौर से मनुष्यों पर इसका असर देखने को मिलता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्य ग्रहण वृष राशि और मृगशिरा नक्षत्र में लगेगा। सूर्य ग्रहण भारत में आंशिक रूप से ही देखा जा सकेगा। आंशिक सूर्य ग्रहण को खंडग्रास, कंकणाकृति भी कहा जाता है। 
इस स्थिति में सूर्य एक चांदी के चमकते कंकण या फिर वलय के आकर में दिखाई देता है। इसे ‘रिंग ऑफ फायर’ या वलयाकार ग्रहण भी कहते हैं। वहीं इस साल कुल 4 ग्रहण लगेंगेसूर्य ग्रहण 10 जून यानी कि गुरुवार को दोपहर 1 बजकर 42 मिनट से ग्रहण लगना प्रारंभ होगा। और पूरे 5 घंटे बाद शाम 6 बजकर 41 मिनट पर पूरा होगा। सूर्य ग्रहण से 12 घंटे पहले सूतक शुरू हो जाता है। लेकिन खास बात ये है कि ये ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा इसलिए न तो यहां सूतक काल मान्य होगा और नहीं धार्मिक आयोजनों में किसी तरह की रुकावट आएगी। ये ग्रहण अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और अटलांटिक में नजर आएगा।

इन बातों का रखें ध्यान

भले ही ये सूर्य ग्रहण उपच्छाया ग्रहण होगा और भारत में नजर नहीं आएगा। बावजूद इसके ज्योतिष गर्भवती महिलाओं को कुछ खास बातों का ध्यान रखने और उन्हें नजरअंदाज न करने की सलाह देते हैं। ग्रहण शुरू हो उससे पहले ही स्नान कर लेना चाहिए। ग्रहण के दौरान जितना संभव हो उतना प्रभु को याद करें। ग्रहण काल के समय क्रोध, किसी की निंदा व बुरे कार्यों को करने से बचें। धारदार चीज़ें जैसे कैंची, चाकू इत्यादि का इस्तेमाल न करें। हाथ, पांव को सीधा रखें उन्हें मोड़े नहीं। सूर्य मंत्रों का जाप करें।

सिक्किमः 14 जून तक संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा

गंगटोक। सिक्किम में जारी संपूर्ण लॉकडाउन को 14 जून तक के लिए बढ़ा दिया गया है। राज्य के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग की अध्यक्षता में आज राजधानी गंगटोक के सम्मान भवन में हुई उच्च स्तरीय बैठक में राज्य में चौथी बार लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया गया। 
लॉकडाउन का तीसरा चरण एक से सात जून तक घोषित किया गया था। अब लॉकडाउन के चौथे चरण में राशन और सब्जियों के दुकानों को सुबह सात बजे से दोपहर दो बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है। इस बार हार्डवेयर की दुकानों को भी खोलने की अनुमति मिली है। लॉकडाउन के तीसरे चरण में मदिरा की दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई थी।
चौथे चरण के लॉकडाउन में विभागीय प्रमुखों को सभी सरकारी कार्यालयों को 30 प्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ खोलने के लिए तंत्र तैयार करने को कहा गया है। बैठक में राज्य सरकार ने जून में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के 65 हजार लोगों का टीकाकरण का लक्ष्य रखा है। राज्य में सभी स्वास्थ्य सुविधा केंद्रों में जल्द ही टीकाकरण शुरू किया जाएगा। ब्लैक फंगस के उपचार के लिए एक कोर टीम गठित करने का भी निर्णय लिया गया है। बैठक में राज्य स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के महानिदेशक एवं सचिव डॉ. पेम्पा टी. भूटिया ने बताया कि प्रदेश में कोरोना पॉजिटिविटी रेट में काफी कमी आई है। इसी तरह रिकवरी रेट में भी सुधार हुआ है। एजेंसी

दो दिन साप्ताहिक बंदी, आंशिक कर्फ्यू खत्म: यूपी

संदीप मिश्र   

लखनऊ। अब चार जिलों को छोड़कर पूरा प्रदेश कोरोना कर्फ्यू मुक्त हो गया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे यूपी के गौतमबुद्ध नगर जिले में भी कोरोना कर्फ्यू हटा लिया गया है। नोएडा में 7 जून से सभी दुकानें, बाजार कोरोना नियमों का पालन करते हुए खुल सकेंगे। सरकारी कार्यालयों में भी 50 फीसदी स्टाफ उपस्थित रह सकेंगे। हर कार्यालय में कोविड हेल्प डेस्क बनाना अनिवार्य होगा। इस संबंध में जिला प्रशासन का कहना है कि वीकेंड कर्फ्यू की वजह से मरीजों की संख्या 600 से कम होने के बावजूद लॉकडाउन में ढील सोमवार यानी 7 जून से दी जाएगी। जिले में 5 दिन सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक जिला प्रशासन की ओर से जारी नई गाइडलाइन के मुताबिक छूट मिलेगी। हालांकि नाइट कर्फ्यू और वीकेंड लॉकडाउन जारी रहेगा। कंटेनमेंट जोन में किसी तरह की छूट नहीं दी जाएगी।

इसके साथ ही प्रदेश के 71 जिले कोरोना कर्फ्यू मुक्त हो गए हैं। यह निर्णय शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ टीम-9 की बैठक में लिया गया। हालांकि, शनिवार व रविवार को सभी जिलों में पहले के आदेशों के अनुसार साप्ताहिक बंदी लागू रहेगी। वहीं, बीते 24 घंटों में प्रदेश में 1100 नए मामले आए हैं जबकि 2446 मरीज डिस्चार्ज होकर घर वापस गए हैं। प्रदेश में इस समय सक्रिय मामलों की संख्या 17944 है।बता दें कि यूपी सरकार कोरोना को नियंत्रित करने के 'ट्रिपल टी' अर्थात टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट की नीति पर काम कर रही है। प्रदेश में हर रोज तीन लाख से ज्यादा टेस्ट किए जा रहे हैं।

फिलहाल कोचिंग सेंटर, जिम, स्पॉ सेंटर और मॉल्स को खोलने की इजाजत नहीं दी गई है। जिला प्रशासन की ओर से अगला आदेश जारी किए जाने तक हर हफ्ते शनिवार और रविवार को वीकेंड लॉकडाउन जारी रहेगा। जिला प्रशासन की ओर से जारी गाइडलाइन के मुताबिक रेस्टोरेंट और होटल से खाना ले जाने की अनुमति होगी। धार्मिक स्थलों पर एक बार में केवल पांच लोगों को ही दर्शन की अनुमति होगी।

अनलॉक के तीसरे चरण में कम किया बंदी का दायरा

कविता गर्ग   

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार की ‘अनलॉक’ योजना के तीसरे चरण में मुंबई में सोमवार से रेस्तरां, गैर जरूरी सामान वाली दुकानें और सार्वजनिक स्थल खोल दिए जाएंगे लेकिन मॉल, सिनेमाघर और मल्टिप्लेक्स बंद रहेंगे। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) द्वारा शनिवार को जारी नए दिशा-निर्देशों के मुताबिक लोकल ट्रेनों में खास श्रेणी के लोग ही यात्रा कर पाएंगे।

महाराष्ट्र सरकार ने शुक्रवार रात एक अधिसूचना जारी कर कहा था कि लोकल ट्रेनें चिकित्सा, कुछ जरूरी सेवाओं और महिलाओं के लिए उपलब्ध रहेगी लेकिन निगम प्रशासन को जरूरत के हिसाब से अतिरिक्त पाबंदी लगाने का अधिकार दिया गया है। बीएमसी ने अपने हालिया आदेश में ‘महिला’ श्रेणी को हटा दिया है जिसमें कहा गया है कि उपनगरीय ट्रेनों में केवल चिकित्सका और कुछ जरूरी सेवा के लोग ही यात्रा कर सकेंगे।

महाराष्ट्र सरकार की अधिसूचना के मुताबिक राज्य में संक्रमण दर पांच प्रतिशत से 10 प्रतिशत के बीच रहने और 60 प्रतिशत ऑक्सीजन बेड खाली रहने वाले नगर निगम और जिले को तीसरे चरण में रखा गया है। बीएमसी के आदेश के मुताबिक जरूरी सामान बेचने वाली दुकानें सात जून से सभी दिन शाम चार बजे तक खुली रह सकती हैं जबकि गैर जरूरी उत्पाद बेचने वाली दुकानें सप्ताहांत पर शाम चार बजे तक खुली रहेंगी।

मॉल, सिनेमाघर और मल्टिप्लेक्स बंद रहेंगे। मुंबई में रेस्तरां सप्ताह के कामकाजी दिनों में शाम चार बजे तक 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुल सकते हैं। पार्सल, होम डेलिवरी और खाना ले जाने की सुविधाएं जारी रहेंगी। मुंबई में सार्वजनिक स्थल और मैदान हर दिन सुबह पांच बजे से पूर्वाह्न नौ बजे तक खोले जा सकते हैं।

निजी कार्यालयों में कामकाजी दिनों में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ शाम चार बजे तक कार्य कर सकते हैं। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस के प्रसार की रोकथाम के लिए लगाए गए लगायी गयी पाबंदी में ढील को लेकर पांच चरण की योजना की घोषणा की थी। इसके लिए कोविड-19 की संक्रमण दर और ऑक्सीजन बेड की उपलब्धता को पैमाना बनाया गया है।

अभिनेता की तबीयत बिगड़ी, सांस लेने में दिक्कत

कविता गर्ग   
मुंबई। दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार को सांस लेने में दिक्कत के चलते रविवार सुबह यहां एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी पत्नी एवं मशहूर अभिनेत्री सायरा बानो ने बताया कि कुमार (98) को सुबह करीब साढ़े आठ बजे उपनगर खार स्थित हिंदुजा अस्पताल में भर्ती कराया गया। सायरा बानो ने से कहा कि आज सुबह उनकी (कुमार) तबीयत खराब हो गयी और उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने लगी। वह अभी खार स्थित गैर कोविड हिंदुजा अस्पताल में भर्ती हैं और उनकी जांच चल रही है। 
दिलीप कुमार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर दी गई ताजा जानकारी के अनुसार, अभिनेता को नियमित जांच के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।ट्वीट में कहा गया कि दिलीप साहब को नियमित जांच के लिए खार स्थित गैर कोविड पीडी हिंदुजा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने सांस लेने में दिक्कत होने की शिकायत की थी। डॉ. नितिन गोखले की अगुवाई में स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों का एक दल उनका इलाज कर रहा है। कृपया साहब के लिए दुआएं कीजिए और सुरक्षित रहिए।

अभिनेता को नियमित स्वास्थ्य जांच के लिए पिछले महीने भी इसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दिलीप कुमार ने 1944 में ‘‘ज्वार भाटा’’ फिल्म से अपने करियर की शुरुआत की थी और वह पांच दशकों के अपने करियर में ‘‘कोहिनूर’’, ‘‘मुगल-ए-आजम’’, ‘‘देवदास’’, ‘‘नया दौर’’, ‘‘राम और श्याम’’ समेत कई हिट फिल्मों में नजर आए। फिल्मी पर्दे पर उन्हें पिछली बार 1998 में ‘‘किला’’ फिल्म में देखा गया था।

सीएम ने वृक्षारोपण योजना का शुभारंभ किया

दुष्यंत टीकम                    

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में प्रदेश में मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वर्चुअल कार्यक्रम में दुर्ग वनमंडल के अंतर्गत दुर्ग जिले के ग्राम फुंडा (पाटन) में जैव विविधता पार्क का भूमिपूजन किया। उन्होंने जनप्रतिनिधियों सहित विभिन्न वनमंडलों के वन प्रबंधन समिति के सदस्यों तथा किसानों से वर्चुअल संवाद किया। वर्चुअल संवाद में बस्तर, बिलासपुर, बलरामपुर, कांकेर, महासमुंद तथा कवर्धा वनमंडल के अंतर्गत जनप्रतिनिधि तथा वन प्रबंधन समिति के सदस्य और कृषक शामिल हुए। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस दौरान ''बटरफ्लाई ट्रेजर ऑफ छत्तीसगढ़'' नामक पुस्तक का विमोचन भी किया।

कार्यक्रम में वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर, मुख्यमंत्री के सलाहकार राजेश तिवारी, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, वन विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार पिंगुआ, प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख राकेश चतुर्वेदी सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत जिन किसानों ने खरीफ वर्ष 2020 में धान की फसल ली हैे, यदि वे धान फसल के बदले अपने खेतों में वृक्षारोपण करते हैं, तो उन्हें आगामी 3 वर्षों तक प्रतिवर्ष 10 हजार रूपए प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। 

इसी तरह ग्राम पंचायतों के पास उपलब्ध राशि से यदि वाणिज्यिक वृक्षारोपण किया जाएगा, तो एक वर्ष बाद सफल वृक्षारोपण की दशा में संबंधित ग्राम पंचायतों को शासन की ओर से 10 हजार रूपए प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इससे भविष्य में पंचायतों की आय में वृद्धि हो सकेगी। इसके अलावा संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के पास उपलब्ध राशि से यदि वाणिज्यिक आधार पर राजस्व भूमि पर वृक्षारोपण किया जाता है, तो पंचायत की तरह ही संबंधित समिति को एक वर्ष बाद 10 हजार रूपए प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। वृक्षों को काटने व विक्रय का अधिकार संबंधित समिति का होगा।

राज्यों को जाने वाली अंतरराज्यीय बसों पर रोक

हरिओम उपाध्याय              
लखनऊ। उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (रोडवेज) ने कोरोना संक्रमण रोकने के लिए दूसरे राज्यों को जाने वाली अंतरराज्यीय बसों पर 15 जून तक रोक लगा दी है। इसलिए 15 जून तक रोडवेज बसें राज्य की सीमा के अंदर ही चलेंगी। पहले अंतरराज्यीय बसों के संचालन पर रोक 5 जून तक लगी थी।
परिवहन निगम के प्रधान प्रबंधक डीबी सिंह ने बताया कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए लखनऊ सहित प्रदेश के कई जिलों से दूसरे राज्यों के लिए चलने वाली अंतरराज्यीय रोडवेज बसें अब 15 जून तक नहीं चलेंगी। कोरोना कर्फ्यू के कारण परिवहन निगम ने प्रदेश सरकार के निर्देश पर अंतरराज्यीय बसों के संचालन पर पहले 05 जून तक रोक लगाई थी। अब यह बढ़ाकर 15 जून कर दी गई है।
 उन्होंने बताया कि कोरोना कर्फ्यू के पहले उत्तर प्रदेश से दिल्ली, उत्तराखंड, राजस्थान, बिहार, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, चंडीगढ़ के बीच करीब 700 बसों का संचालन होता था। इनमें एसी जनरथ, एसी स्लीपर, एसी शताब्दी और वाल्वो सहित साधारण बसें शामिल हैं। इन बसों से प्रतिदिन 15 हजार से अधिक यात्री एक राज्य से दूसरे राज्य के बीच सफर करते थे। अंतरराज्यीय बसों का संचालन बंद होने से परिवहन निगम को भारी राजस्व का नुकसान हो रहा है। फिलहाल प्रदेश सरकार के अगले आदेश तक रोडवेज बसों का संचालन राज्य की सीमा के अंदर ही किया जाएगा। 

पेट्रोल-डीजल की कीमत में फिर इजाफा हुआ

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। कोरोना की दूसरी लहर और महंगाई से जूझ रहे उपभोक्ताओं को तेल कंपनियों ने जीना और अधिक दूभर कर दिया है। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल की कीमत में फिर इजाफा किया है। इस बढ़ोतरी से पेट्रोल 27 पैसे प्रति लीटर और डीजल 29 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है। दिल्‍ली में रविवार को पेट्रोल की कीमत उछलकर 95 रुपये प्रति लीटर के पार चला गया। 
इंडियन ऑयल की वेबासइट के मुताबिक देश के चारों महानगरों दिल्ली, मुंबई, चेन्न्ई और कोलकाता में पेट्रोल की कीमत बढ़कर क्रमश: 95.03 रुपये, 101.25 रुपये, 96.47 रुपये और 95.02 रुपये प्रति लीटर हो गयी है। वहीं, इन महानगरों में डीजल के दाम भी उछलकर क्रमश: 85.95 रुपये, 93.10 रुपये, 90.66 रुपये और 88.80 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर पहुंच गया है। 
उल्लेखनीय है कि बीते एक महीने के अंदर तेल विपणन कंपनियों ने 20 दिन पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाए हैं। इस बढ़ोतरी से पेट्रोल 4.71 रुपये प्रति लीटर और डीजल 5.17 रुपये प्रति लीटर तक महंगा हो चुका है। 
हालांकि, अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में भी इजाफा हुआ है। इस हफ्ते के अंत तक ब्रेंट क्रूड 71.89 डॉलर प्रति बैरल और डब्ल्यूटीआई क्रूड 69.62 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया था।

विद्रोहियों के मिसाइल हमले में 12 लोगों की मौंत

काहिरा। यमन में मारिब प्रांत सेना मुख्यालय पर हाउती विद्रोहियों के बैलेस्टिक मिसाइल हमले में 12 लोगों की मौत हो गयी। जबकि सात अन्य घायल हो गये। प्रांतीय सरकार के सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि हाउती विद्रोहियों ने बैलिस्टिक मिसाइल से यमनी सशस्त्र बलों के प्रशासनिक मुख्यालय के ईंधन स्टेशन पर हमला किया। हमले में 12 लोगों की मौत हो गई और सात अन्य घायल हुए हैं। यमन में सरकारी बलों और हाउती विद्रोहियों के बीच छह साल से अधिक समय से संघर्ष जारी है। मिस्र की राजधानी काहिरा का मामला हैं।

नाइजीरिया ने ट्विटर की सेवाओं पर रोक लगाईं

अबूजा। नाइजीरिया सरकार ने देशभर में ट्विटर की सेवाएं अनिश्चितकाल के लिए रोक दी हैं। जिसके चलते लाखों लोग शनिवार को ट्विटर का इस्तेमाल नहीं कर सके। नाइजीरिया के संचार सेवा संगठन ‘द असोसिएशन ऑफ लाइसेंस्ड टेलिकम्युनिकेशन ऑपरेटर्स’ ने एक बयान में कहा कि उसके सदस्यों ने सरकारी निर्देश के अनुसार ट्विटर की सेवाएं बंद कर दी हैं। दरअसल, शुक्रवार को नाइजीरिया सरकार ने कहा था कि वह ‘माइक्रोब्लॉगिंग साइट’ की सेवाओं पर रोक लगा रही है। क्योंकि ट्विटर ने अलगाववादी आंदोलन पर किया गया राष्ट्रपति मोहम्मदु बुहारी का ट्वीट हटा दिया है। देश के सूचना एवं संस्कृति मंत्री लाई मोहम्मद ने शुक्रवार को कहा कि सरकारी अधिकारियों ने ट्विटर की सेवाओं पर रोक लगाने का निर्णय लिया है। क्योंकि इस मंच का इस्तेमाल ”ऐसी गतिविधियों के लिए हो रहा है। जो नाइजीरिया के कॉरपोरेट अस्तित्व को कमजोर करने की क्षमता रखती हैं।”

उन्होंने राष्ट्रपति का पोस्ट हटाने पर ट्विटर की आलोचना की और कहा, ”नाइजीरिया में ट्विटर का मिशन संदिग्ध है” और ट्विटर ने पूर्व में देश की सरकार के खिलाफ भड़काऊ ट्वीट को अनदेखा किया था। गौरतलब है कि हाल के महीनों में बिआफरा अलगाववादी संगठन पर पुलिस थानों और सरकारी इमारतों पर हमला करने के आरोप लगे थे। राष्ट्रपति का ट्वीट इसी से संबंधित था। ट्वीट में बुहारी ने कहा था कि अलगाववादियों के साथ ”उसी तरह का बर्ताव किया जाएगा, जो भाषा उन्हें समझ आती है।” ट्विटर ने बुहारी के इस पोस्ट को आपत्तिजनक बताते हुए बुधवार को इसे हटा दिया था। ट्विटर की सेवाएं बंद करने के सरकार के निर्णय की काफी आलोचना हो रही है। अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन ‘एमनेस्टी इंटरनेशनल’ ने कहा कि वह उस सोशल मीडिया पर रोक लगाने के नाइजीरिया सरकार के निर्णय की निंदा करता है।

जिसका इस्तेमाल देश की जनता अपने अन्य अधिकारों सहित अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और सूचना तक पहुंच के लिए करती है। एमनेस्टी ने एक बयान में कहा, ”हम नाइजीरियाई अधिकारियों से गैर कानूनी रोक को तत्काल हटाने, मीडिया को नियंत्रित करने की योजनाओं को त्यागने और देश के लोगों के मानवाधिकारों का हनन बंद की मांग करते हैं।” नाइजीरिया में अमेरिकी मिशन ने कहा कि देश का संविधान अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार देता है। इन सब के बीच ट्विटर ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि वह सरकार की कार्रवाई से बेहद चिंतित है। साथ ही कहा कि आधुनिक युग में स्वतंत्र एवं खुला इंटरनेट एक जरूरी मानवाधिकार है। अनुमान के मुताबिक देश में चार करोड़ लोग ट्विटर का इस्तेमाल करते हैं।

विश्व: संक्रमित संख्या-17.28 करोड़ से अधिक हुईं

वाशिंगटन डीसी। विश्वभर में कोरोना वायरस (कोविड-19) का प्रकोप जारी है और अब तक इससे 17.28 करोड़ से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। जबकि 37.18 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 17 करोड़ 28 लाख 65 हजार 872 हो गयी है। जबकि 37 लाख 18 हजार 720 लोगों की इस संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। विश्व में महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में कोरोना वायरस की रफ्तार थोड़ी धीमी पड़ी है। हालांकि यहां संक्रमितों की संख्या तीन करोड़ 33 लाख 57 हजार 080 हो गयी है और 5.97 लाख से अधिक लोगों की इस संक्रमण से मौत हो गयी है। दुनिया में कोरोना संक्रमितों के मामले में भारत दूसरे स्थान पर और मृतकों के मामले में तीसरे स्थान पर है। पिछले 24 घंटों में 1,14,460 नये मामले आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर दो करोड़ 88 लाख 09 हजार 339 हो गया।

इस दौरान एक लाख 89 हजार 232 मरीज स्वस्थ हुए हैं। जिसे मिलाकर देश में अब तक दो करोड़ 69 लाख 84 हजार 781 लोग इस महामारी को मात दे चुके हैं। सक्रिय मामले 77 हजार 449 कम होकर 14 लाख 77 हजार 799 रह गये हैं। इस दौरान 2677 मरीज अपनी जान गंवा बैठे और इस बीमारी से मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर तीन लाख 46 हजार 759 हो गयी है। ब्राजील संक्रमितों के मामले में अब तीसरे स्थान पर है।इस देश में कोरोना संक्रमण के मामले फिर से बढ़ रहे हैं और अभी तक इससे 1.69 करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं जबकि 4.72 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ब्राजील कोरोना से मौतों के मामले में विश्व में दूसरे स्थान पर है। संक्रमण के मामले में फ्रांस चौथे स्थान पर है जहां कोरोना वायरस से अब तक 57.69 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं जबकि करीब 1.10 लाख मरीजों की मौत हो चुकी है।

कोरोना प्रभावितों के मामले में तुर्की रूस से आगे निकल गया है और यहां कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 52.82 लाख से ज्यादा हो गयी है और 48,068 मरीजों की मौत हो चुकी है। रूस में कोरोना संक्रमितों की संख्या 50.58 लाख से अधिक हो गई है और इसके संक्रमण से 1.21 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस प्रभावितों की कुल संख्या 45.27 लाख से अधिक हो गयी है और 1.28 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। मृतकों के मामले में ब्रिटेन पांचवें स्थान पर है। इटली में कोरोना प्रभावितों की संख्या 42.30 लाख से अधिक हो गयी है और 1.26 लाख से अधिक लाेगों की जान जा चुकी है। कोरोना से प्रभावित होने के मामले में अर्जेंटीना ने जर्मनी को पीछे छोड़ दिया है। अर्जेंटीना में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 39.39 लाख से अधिक हो गयी है तथा मृतकों की संख्या 80,867 है। जर्मनी में वायरस की चपेट में आने वालों की संख्या 37.06 लाख से अधिक हो गई है और 89,228 लोगों की मौत हो चुकी है।

स्पेन में इस महामारी से 36.97 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं और 80,196 लोगों की मौत हो चुकी है। कोलंबिया में कोरोना वायरस से 35.47 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं और 91,422 लोगों ने जान गंवाई है। इस बीच ईरान ने पोलैंड को पीछे छोड़ते हुए आगे निकल गया है। ईरान में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 29.60 लाख से ज्यादा हो गयी है तथा मृतकों का आंकड़ा 80,941 पहुंच गया है। पोलैंड में कोरोना से 28.74 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं और इस महामारी से 74,139 लोग जान गंवा चुके हैं। मैक्सिको में कोरोना से 24.31 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और यह देश मृतकों के मामले विश्व में चौथे स्थान पर है जहां अभी तक इस वायरस के संक्रमण से 2.28 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। यूक्रेन में संक्रमितों की संख्या 22.72 लाख से अधिक है और 53,211 लोग अपनी जान गंवा बैठे हैं। पेरू में संक्रमितों की संख्या 19.76 लाख के पार पहुंच गयी है, जबकि 1.85 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।

इंडोनेशिया में भी कोरोना संक्रमण के मामले 18.50 लाख के पार पहुंच गये हैं जबकि 51,449 लोगों की मौत हो चुकी है। दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस से 16.91 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुये हैं और 56,929 लोगों की मौत हो चुकी है। नीदरलैंड में कोरोना से अब तक 16.88 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और यहां इस महामारी से 17,950 लोगों की मौत हो चुकी है। चेक गणराज्य में कोरोना से अब तक 16.63 लाख से अधिक लोग प्रभावित हो चुके हैं और यहां इस महामारी से 30,157 लोग जान गंवा चुके हैं। पड़ोसी देश पाकिस्तान में अब तक कोरोना से 9.30 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और 21,189 मरीजों की मौत हो चुकी है। अन्य पड़ोसी देश बंगलादेश में भी कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है जहां 8.09 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और 12,801 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा दुनिया के अन्य देशों में भी कोरोना वायरस के संक्रमण से स्थिति खराब है।

प्रदेश प्रभारी ने राज्यपाल आनंदीबेन से मुलाकात की

हरिओम उपाध्याय                

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार और नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच भाजपा उपाध्यक्ष और पार्टी के प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह ने रविवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात की। राधा मोहन सिंह ने राज्यपाल से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से बातचीत में नेतृत्व परिवर्तन की संभावना संबंधी सवाल पर कहा “ऐसा कुछ नहीं है। उत्तर प्रदेश सरकार और संगठन बहुत मजबूती के साथ चल रहे हैं। देश के अंदर सबसे मजबूत संगठन और सबसे लोकप्रिय सरकार उत्तर प्रदेश में ही काम कर रही है।”

राज्यपाल से मुलाकात की वजह के बारे में भाजपा उपाध्यक्ष ने बताया कि पार्टी का उत्तर प्रदेश प्रभारी बनने के बाद अभी तक राज्यपाल से मुलाकात नहीं हो पाई थी इसीलिए वह मिलने चले आए। इस सवाल पर कि यह मुलाकात कहीं प्रदेश मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर तो नहीं हुई, सिंह ने कहा, ‘‘यह एक औपचारिक और व्यक्तिगत भेंट थी।’’ गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन और मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलों के बीच भाजपा उपाध्यक्ष राधा मोहन सिंह और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव संगठन बीएल संतोष ने पिछले हफ्ते राजधानी लखनऊ पहुंचकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉक्टर दिनेश शर्मा तथा प्रदेश के तमाम मंत्रियों और वरिष्ठ पदाधिकारियों से अलग-अलग बैठक की थी।

केंद्र ने सरकार की ‘राशन’ योजना को क्यों रोका ?

अकांशु उपाध्याय              

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताना चाहिए कि केंद्र ने सरकार की ‘घर-घर राशन’ योजना को क्यों रोका ? उन्होंने कहा कि इस योजना को राष्ट्रहित में मंजूरी दी जानी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में ‘घर-घर राशन’ योजना सिर्फ दिल्ली में ही नहीं, बल्कि पूरे देश में लागू होनी चाहिए, क्योंकि राशन की दुकानें ‘‘सुपरस्प्रेडर’’ हैं। केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर विपक्षी दलों की सरकारों से लड़ने का आरोप लगाते हुए कहा, “इतने मुसीबत के समय केंद्र सरकार सबसे झगड़ रही है। आप (केंद्र) ममता दीदी से, झारखंड सरकार से, लक्षद्वीप के लोगों से, महाराष्ट्र सरकार से, दिल्ली के लोगों से और किसानों से लड़ रहे हैं।’’

उन्होंने कहा कि अगर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ने के बजाय आपस में ही लड़ेंगे तो महामारी कैसे निपटेंगे। केजरीवाल ने एक डिजिटल पत्रकार वार्ता में प्रधानमंत्री को संबोधित करते हुए कहा, “आज मैं बेहद व्यथित हूं और मैं सीधे आपसे बात करना चाहता हूं… दिल्ली में अगले हफ्ते से घर-घर राशन पहुंचाने का काम शुरू हो जाना था।” मुख्यमंत्री ने कहा, “ सरकारी तैयारियां हो चुकी थीं और यह क्रांतिकारी कदम होने वाला था, लेकिन अचानक दो दिन पहले आपने (प्रधानमंत्री) इसे रोक दिया। क्यों सर आपने ऐसा क्यों किया?” मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया, “ पिछले 75 साल से गरीब जनता राशन माफिया का शिकार होती आई है और हर महीने फाइलों में उसके लिए राशन जारी होता है, लेकिन उसे मिलता नहीं है। अधिकांश राशन चोरी हो जाता है।”

यूपी के 71 जिलों को आंशिक कर्फ्यू से मिलेंगीं राहत

हरिओम उपाध्याय                

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के लगातार कम होते प्रभाव के बीच सोमवार को 600 से कम एक्टिव केस वाले 71 जिलों को आंशिक कोरोना कर्फ्यू से राहत मिल जायेगी। अब सिर्फ मेरठ, लखनऊ, सहारनपुर और गोरखपुर जिलों को कोरोना कर्फ्यू प्रभावी रहेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कोविड-19 प्रबंधन के लिये गठित टीम-09 की बैठक में कहा कि कोरोना महामारी के मद्देनजर प्रदेश की स्थिति हर दिन के साथ बेहतर होती जा रही है।

पिछले 24 घंटे में 36 जिलों में सिंगल डिजिट में केस आये हैं। कुल एक्टिव केस घटकर 17,900 रह गए हैं। 10,141 लोग होम आइसोलेशन में उपचाराधीन हैं। हालांकि लोगों को समझना होगा कि वायरस कमजोर पड़ा है, समाप्त नहीं हुआ। थोड़ी सी लापरवाही बहुत भारी पड़ सकती है। कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना सभी की जिम्मेदारी है। उन्होने कहा कि बीते 24 घंटे में एक ओर जहां 03 लाख 10 हजार सैम्पल टेस्ट हुए वहीं मात्र 1,165 नए पॉजिटिव केस आये।

भारत: 24 घंटे में 1,14,460 नए मामलें सामने आएं

नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 1,14,460 नए मामले सामने आए। जो 60 दिन की अवधि में सबसे कम संख्या है। इसके साथ ही दैनिक संक्रमण दर घटकर अब 5.62 प्रतिशत रह गई है। वहीं, महामारी से 2,677 और लोगों की मौत हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को अपने अद्यतन आकड़ों में यह जानकारी दी और कहा कि संक्रमण के नए मामलों के साथ देश में महामारी के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 2,88,09,339 हो गई है। वहीं संक्रमण से 2,677 और लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या 3,46,759 हो गई है। करीब 42 दिन में मृतकों की यह सबसे कम संख्या है। उपचाराधीन मामलों की संख्या भी घटकर 15 लाख से कम रह गई है। छह अप्रैल को 24 घंटे में संक्रमण के 96,982 नए मामले सामने आए थे। मंत्रालय ने बताया कि शनिवार को 20,36,311 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई, जिन्हें मिलाकर जांच संख्या बढ़कर 36,47,46,522, हो गई है।

दैनिक संक्रमण दर घटकर अब 5.62 प्रतिशत रह गई है और लगातार 13 दिन से यह दस प्रतिशत से कम बनी हुई है। वहीं, साप्ताहिक संक्रमण दर घटकर 6.54 प्रतिशत रह गई है। इसने कहा कि देश में अब 14,77,799 मामले उपचाराधीन हैं, जो कुल मामलों का 5.13 प्रतिशत है। वहीं, कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर सुधरकर 93.67 प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटे में 77,449 मामले कम हुए हैं। यह लगातार 24वां दिन है। जब स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या संक्रमितों की संख्या से अधिक है। 

अब तक 2,69,84,781 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। वहीं, संक्रमण से मृत्यु दर 1.20 प्रतिशत है। गौरतलब है कि देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवम्बर को 90 लाख के पार हो गए। देश में 19 दिसम्बर को ये मामले एक करोड़ के पार और चार मई को दो करोड़ के पार चले गए।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-295 (साल-02)
2. सोमवार, जून 07, 2021
3. शक-1984, ज्येठ, कृष्ण-पक्ष, तिथि-त्रयोदशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:46, सूर्यास्त 07:11।
5. न्‍यूनतम तापमान -16 डी.सै., अधिकतम-38+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...