बुधवार, 28 अप्रैल 2021

महामारी का संकट 'संपादकीय'

आज पूरी दुनिया कोविड-19 के संक्रमण से संकट में है। ना जाने कहां से कोरोना जैसी महामारी दुनिया में आ गई हैं। हमारे देश की चिकित्सा व्यवस्था से जुड़े हुए सेवक-स्वास्थ्य कर्मी जैसे डॉक्टर्स, नर्स और पुलिसकर्मी भी इस महामारी से लोगों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। 
हमारे देश के वैज्ञानिकों ने टीका भी बनाया। लेकिन उससे भी लोगों की जान नहीं बच पा रहीं हैं।
ऐसा क्यों ? यें हमारे देश के राजनेताओं की राजनीति है। हमारे देश में नपुसंक अधिक मात्रा में हो गए हैं। आज हम ऐसी महामारी से गुजर रहें है। जिसका कोई तोड़ नहीं है। इसिलिए, हम सबको खुद अपनी सुरक्षा करनी पड़ेगी। आज हमारे देश में नपुसंको का राज है। ऐसी सरकार होने का क्या फायदा है ? जिस सरकार में श्मशान घाट और कब्रिस्तान में भी जगह ना बचीं हो। जिसें देश के प्रति प्रेम ही ना हों। ऐसी सरकार को जिंदा जला देना चाहिए। आज हम महामारी से लड़़ रहे हैं। रोज महामारी से मृतक संख्याएं बढ़ रही है। वर्तमान सरकार देश की प्रजा का उचित ढंग से संरक्षण नहीं कर रही है। ऐसी सरकार का बहिष्कार कर देना चाहिए।
आजाब, का मंझर देखकर 'गालिब',
शब्दों का पता भूल गई,
क्या लिखूं, क्या बताऊं,
मेरे वतन के लोगों।

'सरस'

इलाहाबाद एचसी के जज जस्टिस वीरेंद्र का निधन हुआ

बृजेश केसरवानी         
प्रयागराज। कोरोना संक्रमण के कारण इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज जस्टिस वीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव का पीजीआई लखनऊ में निधन हो गया है। 
कुछ दिनों पूर्व न्यायमूर्ति श्रीवास्तव कोर्ट में थे जब उनकी तबियत अचानक ख़राब होने लगी। उन्हें पीजीआई लखनऊ स्थानांतरित कर दिया गया था। जहां आज उनका निधन हो गया। जस्टिस वीके श्रीवास्तव जनवरी 1, 1962 को जन्मे थे। उनको 2005 में उच्च न्यायिक सेवा में नियुक्त किया गया था और 2016 में जिला एवं सत्र न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया। न्यायमूर्ति श्रीवास्तव को 2018 को अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था। उन्होंने 20 नवंबर, 2020 को स्थायी न्यायाधीश के रूप में शपथ ली थी।

चंद्र दुबे की अध्यक्षता में वर्चुअल शोक सभा आयोजित

बृजेश केसरवानी          
प्रयागराज। रामलीला कमेटी महासंघ के तत्वावधान में महासंघ के अध्यक्ष फूल चन्द्र दुबे की अध्यक्षता में वर्चुअल शोक सभा आयोजित हुई। जिसका संचालन महामंत्री राजेन्द्र पालीवाल ने किया। शोक सभा महासंघ से सम्बद्ध मण्डल की विभिन्न रामलीला कमेटियों ने श्री पांडेय के व्यक्तित्व एवम कृतित्व पर चर्चा करते हुये उनके निधन को अपूरणीय छति बताया। 
अपने सम्बोधन में फूल चन्द्र दुबे ने कहा कि लगभग 6 दशक से सामाजिक राजनैतिक ,एवम अंतिम दशक की धार्मिक गतिविधियों में पांडेय बाबू मंगला प्रसाद ,शीतलादीन द्विवेदी, डॉ राजेन्द्र कुमारी बाजपेयी, विश्वनाथ प्रताप सिंह, हेमवती नन्दन बहुगुणा, रेवती रमन सिंह, अशोक बाजपेयी, डॉ रीता बहुगुणा जोशी, केशरी देवी पटेल, अनुग्रह नारायण सिंह, हर्ष वर्धन बाजपेयी आदि के बहुत करीबी रहे। अपने इसी कार्यकाल में 2 दशक तक पांडेय जिला कांग्रेस एवम शहर कॉंग्रेस  के महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया। अल्लापुर रामलीला कमेटी का 4 दशक पूर्ण गठन एवम पंजीकरण कराकर धार्मिक तथा सामाजिक गतिविधियों को जीवन पर्यन्त अंजाम देते रहे। दुबे ने बताया कि पांडेय जी इतने क्रिया शील थे कि 85 वर्षों के जीवनकाल में हर गतिविधि को प्रभावित किया। उन्हीकी प्रेरणा से वर्ष 2020 में रामलीला महासंघ का भी गठन हुआ। जिसके आजीवन संरक्षक बने रहे। उनका दीर्घकालिक नेतृत्व अनेक संघठन तथा नेता व सामाजिक कार्यकर्ताओं को जन्म दिया है। 
शोक सभा मे श्री विनोद चन्द्र दुबे, मधु चकहा, कुल्लू यादव, बी बी दुबे, जितेंद्र गौड़, डॉ रत्नेश मिश्र, विजय कुमार गुप्ता, नयन कुशवाहा, प्रवीण द्विवेदी, आर एल डी द्विवेदी, राकेश जायसवाल, शिवेंद्र मिश्र, उमेश द्विवेदी,तीर्थराज पांडेय, रंजन सिंह, रवि वर्मा, आशीष बाजपेयी आदि सम्मिलित हुये। 
शोक व्यक्त करने वालों में सन्त समाज से ज गु रा स्वामी श्रीधराचार्य जी, स्वामी घनस्यामा चार्य जी, स्वामी आनन्द गिरी जी, स्वामी राम दास जी, स्वामी ओमानन्द सरस्वती, स्वामी राधा माधव दास, ज गु रा स्वामी मारुति किंकर वाराणसी, स्वामी विश्वेश्वरानन्द सरस्वती, जितेंद्र शाण्डिल्य, जय प्रकाश मिश्र मानस चंचरीक, स्वामी प्रकाश छोटे महाराज आदि ऑनलाइन भाग लिया। 
इसी क्रम में कलाकार संघ प्रयागराज के अध्यक्ष मनोज गुप्ता,उपाध्यक्ष गणेश श्रीवास्तव, महामंत्री रत्नेश दुबे संरक्षक प्रेम प्रकाश दुबे, राजेन्द तिवारी दुकानजी, डॉ रंजना त्रिपाठी आदि ने गहरा शोक व्यक्त किया। 
भारतीय किसान यूनियन भानु से डॉ बी के सिंह, राजीव चन्देल, के के मिश्र, स्याम सूरत पांडेय के साथ किसान नेता कुँवर धनञ्जय सिंह ने श्रद्दांजलि अर्पित किया। 
पुर्वांचल जन कल्याण समिति सैनिक कालोनी से अरविंद कुमार तिवारी अध्यक्ष तथा सूरज कांत सिंह महामंत्री ने अपनी श्रद्दांजलि दी है। भारद्वाज पुरम धर्म एवम मानस प्रचार संस्थान की तरफ से श्री केशव देव त्रिपाठी, रामाश्रय दुबे, डॉ अमर जीत गुलेरी ने भी श्रधांजलि दी। सनातन एकता मिशन के अध्यक्ष अशोक पाठक देवराज पाठक, सीता शरण शास्त्री, दिलीप दुबे, राजेन्द्र पांडेय ने 2 मिनट मौन रख कर चिर शांति हेतु प्रार्थना किया। 
भारतीय सांस्कृतिक परिषद से डॉ शम्भू नाथ त्रिपाठी अंशुल, दुर्गेश दुबे, रामजी शुक्ला, देव ब्रत साहा, अमित तिवारी, राकेश मिश्र, राम बाबू तिवारी गुड्डू शास्त्री आदि ने गहरा दुख व्यक्त किया।

उन्नाव: खाईं में बस गिरने से 1 की मौंत, कई घायल

सौरभ शर्मा                  
उन्नाव। जिलें में ट्रक की टक्कर लगने से एक मिनी बस खाई में गिर गई। हादसे में एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जिले के बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के बिल्हौर मार्ग नौबतगंज के पास एक ट्रक ने प्राइवेट मिनी बस को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बस खाई में जा गिरी। हादसे में मिनी बस सवार एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं कई लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

संक्रमितों को 10 प्रतिशत बेड्स देने के आदेश दिएं

 अश्वनी उपाध्याय                 

गाजियाबाद। कार्यकारी मुख्य चिकित्सा ने आज जिला स्थित शांति मुकंद हॉस्पिटल के खिलाफ कार्यवाही करते हुए उसे 10 प्रतिशत बेड्स जिला कोविड कंट्रोल रूम द्वारा बताए गए मरीजों को देने के आदेश दिए। आपको बता दें कि जिलाधिकारी ने जिले के सभी कोविड अस्पतालों को अपने यहाँ 10 प्रतिशत बेड्स उन मरीजों के लिए आरक्षित करने को कहा था जो कलेक्ट्रेट स्थित कोविड कंट्रोल रूम में अपना रजिस्ट्रेशन करते हैं। इनमें से ज़्यादातर वे गरीब मरीज होते हैं। जो महंगे अस्पतालों में बिस्तर हासिल करने में असमर्थ हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी मिथलेश कुमार ने आज अस्पताल के औचक निरीक्षण में पाया कि शांति गोपाल हॉस्पिटल जिलाधिकारी के आदेशों का उल्लंघन कर रहा था।  इतना ही नहीं हॉस्पिटल में बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण में भी बहुत सी कमी पाई गईं।  सीएमओ द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है कि यदि अस्पताल ने भविष्य में नियमों का पालन नहीं किया तो उसका लाइसेन्स निरस्त कर दिया जाएगा।  


परिवार के सदस्यों की जांच की, माता-पिता संक्रमित

संदीप मिश्र        
बलिया। राघवेंद्र ने शिकायती पत्र में लिखा है कि बृजेंद्र के संक्रमित होने के बाद 20 अप्रैल को ही स्वास्थ्य विभाग की एक टीम उनके घर आई और परिवार के सभी सदस्यों की जांच की गई। बहरहाल, जांच रिपोर्ट में उनके माता-पिता में संक्रमण की पुष्टि हुई। राघवेंद्र ने पत्र में कहा कि जब स्वास्थ्य विभाग की टीम उनके घर पहुंची तब उनके चाचा ऋषि कांत और मामा ब्रज नंदन घर पर नहीं थे, और नमूने न देने के बावजूद उनकी भी जांच रिपोर्ट दे दी गई। जिसमें बताया गया कि वे दोनों संक्रमित नहीं हैं। राघवेंद्र ने शिकायती पत्र में लिखा है कि बृजेंद्र के संक्रमित होने के बाद 20 अप्रैल को ही स्वास्थ्य विभाग की एक टीम उनके घर आई और परिवार के सभी सदस्यों की जांच की गई। बहरहाल, जांच रिपोर्ट में उनके माता-पिता में संक्रमण की पुष्टि हुई। राघवेंद्र ने पत्र में कहा कि जब स्वास्थ्य विभाग की टीम उनके घर पहुंची तब उनके चाचा ऋषि कांत और मामा ब्रज नंदन घर पर नहीं थे, और नमूने न देने के बावजूद उनकी भी जांच रिपोर्ट दे दी गई, जिसमें बताया गया कि वे दोनों संक्रमित नहीं हैं।

चौथें चरण में सुबह 7 से 6 बजे तक मतदान होगा

कौशाम्बी। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के चौथे चरण में गुरुवार को दस लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के चौथे चरण में गुरुवार को सुबह सात बजे से शाम छः बजे तक मतदान होगा। जिसमे 10 लाख 42 हजार 178 मतदाता लोग अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। मतदान को सकुशल संपन्न कराने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि 1733 बूथों पर 1519 पोलिंग पार्टियां चुनाव कराएगी। इसमें 26 जिला पंचायत 654 क्षेत्र पंचायत 451 प्रधान 5871 सदस्यों का चुनाव होगा। चुनाव को सकुशल संपन्न कराने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। 451मतदान केंद्रों में 230 अति संवेदनशील 161 संवेदनशील 170 सामान केंद्रों पर तीन कंपनी पीएसी 296 दरोगा 491 हेड कांस्टेबल 2142 सिपाही 2890 होमगार्ड 700 चौकीदार 3 अपर पुलिस अधीक्षक और 15 सीओ 10 उपजिलाधिकारीयों को लगाया गया है। सेक्टर मजिस्ट्रेट व जोनल मजिस्ट्रेट समय-समय पर पोलिंग बूथों की जांच करते रहेंगे मतदान केंद्रों पर किसी प्रकार की गड़बड़ी होने पर तत्काल कार्यवाही की जाएगी। उसके लिए पुलिस विभाग द्वारा सीयूजी नंबर जारी किया गया है यदि किसी प्रकार की गलत सूचना  मतदान केंद्रों से दी गई तो सूचना देने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। कंट्रोल रूम में  सूचना मिलने पर तत्काल पुलिस बल और जोनल मजिस्ट्रेट पहुंच कर मामले की छानबीन कर सकुशल मतदान संपन्न कराएंगे।
उज्ज्वल केशरवानी 

हरियाणा में ऑक्सीजन की कोईं नहीं कमी हैं: सीएम

राणा ओबराय 
चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा प्रदेश में ऑक्सीजन की कोईं कमी नहीं है। केंद्र सरकार ने प्रदेश में ऑक्सीजन के कोटे को 70 मीट्रिक टन बढ़ा दिया है। प्रदेश को पहले ऑक्सीजन का 162 कोटा था।लेकिन अब बढ़कर 232 मीट्रिक टन हो गया है। उन्होंने कहा कि ओडिशा से भी ऑक्सीजन हरियाणा में पहुंचेगी। इसके लिए विमान से ओडिशा टैंकर भेजे गए हैं। इसके साथ ट्रैन से भी टैंकर ओडिशा भेजे गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि धीरे-धीरे व्यवस्था सही होगी। इस दौरान उन्होंने रोहतक में दिए गए अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा कि मेरे मुंह से एक वाक्य निकला कि हमारे शोर मचाने से कोई वापस नहीं आएगा, लेकिन इस साधारण सी बात को लेकर बवंडर किया गया। उन्होंने कहा कि मेरी ऐसी कोई मंशा नहीं थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे प्रयत्न में कोई कमी नहीं है। परिवार में एक व्यक्ति की जान जाती है तो हमें दुख उतना ही होता है। उन्होंने कहा कि हमें सबका का सहयोग चाहिए। आज विषय वाद विवाद का नहीं है।

एसआईआई ने कोरोना वैक्सीन की कीमत में कटौती की

 अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। एक मई से शुरू होने वाले वैक्सीनेशन अभियान के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने वैक्सीन की कीमत में कटौती की है। एसआईआई की कोविशील्ड के दाम राज्य सरकारों के लिए 100 रुपये कम कर दिए गए हैं। केंद्र और राज्य सरकारों के लिए अलग-अलग कीमत होने की वजह से विपक्ष लगातार निशाना साध रहा था। सीरम ने हाल ही में राज्य सरकारों को 400 रुपये में कोविशील्ड की प्रति डोज उपलब्ध कराने की जानकारी दी थी। जिसे अब घटाकर 300 रुपये प्रति डोज कर दिया गया है। दाम में कमी किए जाने की जानकारी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मालिक और सीईओ अदार पूनावाला ने ट्वीट कर दी। उन्होंने कहा, ”सीरम की तरफ से एक परोपकारी कदम उठाते हुए, मैं तुरंत ही राज्यों के लिए वैक्सीन की कीमत को 400 रुपये से घटाकर 300 रुपये करता हूं। इससे राज्य सरकारों के फंड से करोड़ों रुपये बचेंगे। इससे और अधिक वैक्सीनेशन किया जा सकेगा और लोगों की जान बचाई जा सकेगी।”

यात्रियों के लिए रिपोर्ट निगेटिव होना अनिवार्य किया

रायपुर। छत्तीसगढ़ में हवाई यात्रा से आने वाले सभी यात्रियों के लिए आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट निगेटिव होना अनिवार्य किया गया है। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव ने 23 अप्रैल के आदेश में आंशिक संशोधन किया है। संशोधित निर्देश के तहत अब हवाई यात्रा के माध्यम से छत्तीसगढ़ राज्य में आने वाले सभी यात्रियों की 72 घंटे के भीतर आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट निगेटिव होना अनिवार्य होगा। रिपोर्ट निगेटिव होने पर ही राज्य में प्रवेश की अनुमति प्रदान की जा सकती है। अन्य राज्यों से संचालित फलाइट में बोर्डिंग के पूर्व संबंधित एयरलाइन की ओर से आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट होने पर ही यात्रियों को बोर्डिंग पास जारी किया जाना अनिवार्य होगा। यदि त्रुटिवश कोई यात्री बिना आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट के राज्य में आगमन करते हैं, तो उनको एयरपोर्ट से बाहर आने की अनुमति नहीं होगी। ये निर्देश 4 मई 2021 से लागू होंगे।

सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं नारियल का तेल

नारियल हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद साबित होते है। त्वचा के लिए बहुत उपयोगी है। लेकिन हम उसके गुणों को नजरअंदाज कर देते हैं। चलिए आज हम आपको बताते हैं इसके इसके फायदे। आप जब भी बाहर जाने के लिए तैयार हों तब आप फाउंडेशन लगाने से पहले नारियल तेल को प्राइमर के तौर पर लगाए।  इसकी सिर्फ कुछ बूंदें अपने चेहरे पर थपका कर पूरे चेहरे पर फैला लें।
यह फाउंडेसन के लिए बेस का काम करेगा इसके साथ ही चेहरे को मॉइश्चाराइजर भी प्रदान करेगा। आप इसे चिक बोन पर थोड़ा ज्यादा लगा सकती हैं। जिससे यह हाईलाइट हो जाए। वहीं अगर बालों पर नियमित रूप से नारियल तेल का प्रयोग बालों की खूबसूरती को बढ़ाता है।
उन्हें अल्ट्रावॉयलेट किरणों से बचाता है और उन्हें नरम और सिल्की बनाता है। इसके अलावा प्रदूषित वातावरण से बचाता है। आपके बालों को प्रोटीन देता है और उन्हें मजहबूत, चमकदार और स्वस्थ बनाता है। ये बालों से दो मुंहे बालों वाली समस्या को पूरी तरह समाप्त करने का अद्भुत काम कर सकता है।
यदि आप अपनी त्वता से प्यार करते हैं तो नारियल तेल आपके लिए कुंजी है। यह आपकी त्वता को हाइड्रेटेड रखकता है और प्रदूषण से बचाता है। बदलते मौसम में त्वचा की भी रक्षा करता रहता है। यह एक प्राकृतिक मॉइस्चराइजर है।
इससे त्वचा को डिटॉक्सीफाय करता है, इसलिए नहाने के बाद नियमिल रूप से त्वचा पर नारियल तेल लगाएं.नारियल तेल में शक्कर मिलाएं और पूरे शरीर पर धीरे-धीरे रगड़ें और धो लें। आप पाएंगे अपनी त्वचा पर जादुई चमक।

निर्वाचन आयोग को निर्देश देने का किया अनुरोध

अकांशु उपाध्याय                     
नई दिल्ली। देश भर में कोरोना की दूसरी लहर कहर बरपा रही है। वहीं इस दौरान कई राज्यों में नेताओं ने चुनावों में भारी भीड़ प्रचार करते रहे। दिल्ली उच्च न्यायालय में मंगलवार को एक अर्जी दायर कर निर्वाचन आयोग को निर्देश देने का अनुरोध किया गया है कि बंगाल, तमिलनाडु समेत अन्य राज्यों के विधानसभा चुनाव में कोरोना प्रोटोकाल का उल्लंघन करने वाले पार्टी नेताओं के खिलाफ एफआइआर दर्ज की जाए। याचिका कर्ता ने उन सभी लोगों का घर पर अनिवार्य पृथकवास सुनिश्चित कराने का निर्देश देने की मांग की है जिन्होंने पिछले एक हफ्ते में पश्चिम बंगाल में प्रचार किया हो। उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी और थिंक टैंक सेंटर फार एकाउंटेबिलिटी एंड सिस्टमिक चेंज (सीएएससी) के अध्यक्ष विक्रम सिंह ने इस संबंध में दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की है। याचिकाकर्ता ने कहा कि केंद्र सरकार और निर्वाचन आयोग को निर्देश दिया जाए कि पिछले एक सप्ताह के दौरान जिसने भी बंगाल में प्रचार किया है तो उसे घर में ही क्वारंटाइन किया जाए।

वायु सेना द्वारा चलाएं जा रहे अभियान की समीक्षा की

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कोविड-19 से जारी देश की लड़ाई में भारतीय वायु सेना द्वारा चलाए जा रहे अभियान की समीक्षा की और इस दौरान ऑक्सजन टैंकरों तथा अन्य आवश्यक उपकरणों के परिवहन में सुरक्षा का ध्यान रखते हुए तेजी लाने पर बल दिया। वायु सेना प्रमुख आर के एस भदौरिया ने आज प्रधानमंत्री से मुलाकात की और देश में कोविड-19 की ताजा स्थिति में सुधार के लिए वायु सेना द्वारा किए जा रहे प्रयासों से उन्हें अवगत कराया। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से जारी किए गए बयान के मुताबिक भदौरिया ने प्रधानमंत्री को बताया कि भारतीय वायु सेना देश की कोविड-19 संबंधी जरूरतों को पूरी करने के लिए 24 घंटे प्रयासरत है। बयान में कहा गया, ”प्रधानमंत्री ने ऑक्सीजन टैंकरों और अन्य आवश्यक वस्तुओं के परिवहन ऑपरेशन की गति तेज करने, उसका स्तर बढ़ाने और उसकी सुरक्षा पर ध्यान देने की आवश्यकता पर बल दिया।प्रधानमंत्री ने इस दौरान इस अभियान की सुरक्षा के साथ-साथ इसमें जुटे वायु सेना के कर्मियों की संक्रमण से सुरक्षा सुनिश्चित करने पर जोर दिया। बयान के मुताबिक भदौरिया ने प्रधानमंत्री को बताया कि इस अभियान में बड़े और छोटे हवाई जहाजों का उपयोग किया जा रहा है ताकि देश के हर क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जा सके।
प्रधानमंत्री ने इस दौरान वायु सेनाकर्मियों और उनके परिजनों के स्वास्थ्य के बारे में पता किया। भदौरिया ने उन्हें बताया कि वायु सेना के अधिकांश कर्मियों का टीकाकरण हो चुका है। भदौरिया ने प्रधानमंत्री को यह भी बताया कि वायु सेना ने अपने अस्पतालों में कोविड-19 से संबंधित सुविधाओं में इजाफा किया है और जहां संभव हो रहा है। वहां सामान्य नागरिकों की भी देखभाल की जा रही है।

कोरोना: विश्व में 31.35 लाख से अधिक लोगाें की मौंत

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। विश्व में कोरोना संक्रमण का तांडव थमने का नाम नहीं ले रहा है और इस वायरस के संक्रमण से जहां अभी तक 14.87 करोड़ से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। वहीं, 31.35 लाख से अधिक लोगाें की मौत हो चुकी है। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14 करोड़ 87 लाख 35 हजार 278 हो गयी है। जबकि 31 लाख 35 हजार 531 लोगों की मौत हो चुकी है। वैश्विक महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में कोरोना वायरस का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है तथा यहां संक्रमितों की संख्या 3.21 करोड़ से अधिक हो गयी है। जबकि 5,73,381 मरीजों की इस महामारी से मौत हो चुकी है। दुनिया में कोरोना संक्रमितों के मामले में भारत दूसरे स्थान पर और मृतकों के मामले में चौथे स्थान पर है। यहां संक्रमितों की कुल संख्या एक करोड़ 79 लाख 97 हजार 267 हो गयी है। अब तक 2, 01,187 लोगों की मौत हो चुकी है। ब्राजील संक्रमितों के मामले में अब तीसरे स्थान पर है। देश में कोरोना संक्रमण के मामले फिर से बढ़ रहे हैं और अभी तक इससे एक करोड 44 लाख 41 हजार से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। जबकि इसके संक्रमण से 3,95,022 लोगों की मौत हो चुकी है।
ब्राजील कोरोना से मौतों के मामले में विश्व में दूसरे स्थान पर है। संक्रमण के मामले में फ्रांस चौथे स्थान पर है जहां कोरोना वायरस से अब तक 55.95 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। जबकि 1,03,762 मरीजों की मौत हो चुकी है। रूस में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 47.25 लाख के पार पहुंच गयी है और 1,07,167 लोगों की मौत हो चुकी है। तुर्की एक बार फिर से कोरोना वायरस संक्रमितों के मामले में ब्रिटेन से आगे निकल गया है और यहां अब तक 47.10 लाख अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और 39,057 लाेगों की जान जा चुकी है।

सैनेटाइजेशन व सफाई अभियान युद्ध स्तर पर जारी

अकांशु उपाध्याय                     
नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण की एक ऐसी महामारी जिससे आज हर इंसान मौत की जंग लड़ रहा है। इस जंग में कोरोना संक्रमण से शहर को मुक्ति दिलाने के लिए शहर के सफाई योद्धा भी दिन-रात कार्य में जुटे हुए है। नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तवर और मेयर आशा शर्मा के अथक प्रयासों से हर वार्ड में लगातार सैनेटाइजेशन, फॉगिंग व सफाई अभियान युद्ध स्तर पर जारी है।
इस कार्य में पार्षद भी बढ़-चढ़ कर सहयोग कर रहे है। नगर निगम द्वारा शहर के सभी 100 वार्डों में नियमित रूप से सैनेटाइजेशन और फॉगिंग कार्य कराया जा रहा है। कोरोना संक्रमण से निपटने को यह कवायद चल रही है। निगम के ज़ोनल अधिकारी भी अपने-अपने वार्डों में लगातार कार्यरत कर्मचारियों के साथ मिलकर कोरोना महामारी से बचाव के लिए सैनेटाइजर, फॉगिंग एवं साफ-सफाई का विशेष ध्यान रख रहे हैं और उसी के साथ शहर की जनता भी साथ दे रही है।
महापौर आशा शर्मा ने बताया कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। अभी आने वाले समय में और भी बढ़ोतरी होगी, जिससे शहर वासियों को बचना है और अपने घर में सुरक्षित रहना है। समय-समय पर हाथ साफ कर दो गज की दूरी बना कर रखें और मास्क अति महत्वपूर्ण है लगाना। इस मुश्किल घड़ी में सभी को सचेत रहने की जरूरत है। आवश्यक कार्य से ही घर से बाहर निकलें। यही सब कार्य कर के और साथ मिलकर कार्य करेंगे तो बहुत जल्द कोरोना जैसी महामारी को मात देंगे और आपके और हमारे प्रयास से ही कोरोना हारेगा।

संगठनों से अपील, लोगों की सार्वजनिक निंदा की जाएं

हरिओम उपाध्याय                      
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कुछ अस्पतालों में नियत दर से अधिक मनमाने ढंग से शुल्क वसूला जा रहा है। इसकी भर्त्सना होनी चाहिए। डॉक्टर को भगवान का दर्जा है। पीड़ित और उसके परिजनों की बद दुआएं नहीं लेनी चाहिए। निजी अस्पतालों में मनमानी वसूली को हर हाल में रोका जाए। सभी चिकित्सा संगठनों से अपील है, ऐसे लोगों की सार्वजनिक निंदा की जाए। ऐसे अस्पतालों पर कड़ी कार्रवाई होगी।
आईएमए से की मुख्यमंत्री ने बात...
मुख्यमंत्री मंगलवार शाम को वर्चुअल माध्यम से विशेषज्ञ चिकित्सकों, इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) और नर्सिंग होम एसोसिएशन के साथ बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आईएमए के चिकित्सकों और नर्सिंग होम एसोसिएशन के विशेषज्ञों द्वारा मण्डलायुक्तों, अपर निदेशक स्वास्थ्य तथा स्थानीय प्रशासन के साथ समन्वय करते हुए प्रत्येक जिले में कोविड व नॉन कोविड रोगियों के लिए टेलीकंसल्टेशन की व्यवस्था की जाए। ऑक्सीजन का दुरुपयोग हर हाल में रोका जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले में कोविड संक्रमित व्यक्तियों के लिए डायलिसिस की सुविधा उपलब्ध रहे।
मुख्यमंत्री ने कहा है कि आरटीपीसीआर टेस्ट की क्षमता 10 मई 2021 तक दोगुनी की जाएगी। कुछ जिलों में विशेषज्ञ चिकित्सकों के द्वारा कोविड अस्पताल में राउंड न लेने की बात जानकारी में आई है। यह उचित नहीं है। अगर डॉक्टर ही डर जाएगा तो मरीज का क्या होगा। हमें इस बारे में सोचना होगा। उन्होंने कहा, इस बार तीस से 50 गुना तेज संक्रमण है। हमें हर स्थिति के लिए तैयार रहना होगा। कोविड-19 से लड़ाई, टीम वर्क और सामूहिक भावना के साथ समाज के प्रत्येक स्तर पर सभी के सहयोग व समन्वय से लड़नी होगी। उन्होंने कहा कि विगत 4-5 दिनों में कोरोना केसेज में गिरावट और रिकवरी की दर में वृद्धि एक सुखद संकेत है।

कई राज्यों ने प्रभावित क्षेत्रों में लगाया पूर्ण लॉकडाउन

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। महाराष्ट्र, गुजरात और पंजाब समेत देश के कई राज्यों ने अपने सबसे अधिक संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में पूर्ण या आंशिक लॉकडाउन लगाया हुआ है। लॉकडाउन का असर अब दिखाई देने लगा है और कोरोना संक्रमण फैलने की रफ्तार में कमी आने के साथ-साथ संक्रमण से मरने वालों की संख्या भी घटी है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटों की अवधि में 261,162 कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर अस्पतालों से डिस्चार्ज किए गए हैं। इस अवधि में 3293 मरीजों की मौत हुई है और 3,60,960 नए संक्रमित जुड़े हैं। देश में अब कुल संक्रमितों की संख्या 1,79,97,267 हो गई है। इनमें से 1,48,17,371 ठीक हो चुके हैं और 2,01,187 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। फिलहाल देश में 29,78,709 सक्रिय संक्रमित हैं। देश में अब तक 14,78,27,367 लोगों को टीका भी लग चुका है।
राष्ट्रीय मृत्यु दर में गिरावट देश में जितने लोग अब तक संक्रमित पाए गए हैं। उनमें से 16.43 प्रतिशत का इलाज चल रहा है। 82.54 प्रतिशत ठीक हो चुके हैं। मंत्रालय ने कहा कि डेली केस की दर फिलहाल 20.02 प्रतिशत है। कुल राष्ट्रीय मृत्युदर (सीएफआर) में गिरावट आ रही है और फिलहाल यह 1.12 प्रतिशत है। मंत्रालय के कहा कि 10 राज्यों से मौत के 77.3 प्रतिशत नए मामले सामने आए हैं। इनमें महाराष्ट्र में सबसे अधिक 524 और दिल्ली में 380 रोगियों की मौत हुई है।

आरोग्य सेतु ऐप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन शुरू किया

अकांशु उपाध्याय                   
नई दिल्ली। कोरोना के खिलाफ जारी जंग के बीच भारत में 1 मई से टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत हो रही है। इस चरण में 18 साल से 45 साल के बीच के लोगों को भी टीका लगेगा। इस चरण में टीका लगवाने के लिए आज यानी 28 अप्रैल से कोविन पोर्टल या फिर आरोग्य सेतु ऐप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है।
निजी अस्पतालों में भी होगा वेक्सीनेशन
1 मई से शुरू होने वाले टीकाकरण में सरकारी स्वास्थ्य केंद्र के साथ-साथ निजी अस्पतालों को भी शामिल किया गया है। वर्तमान में 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। 18 से 44 साल की आयु के सभी लोगों के टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन आज यानी 28 अप्रैल से कोविन पोर्टल और आरोग्य सेतु एप पर शुरू होगा। टीकाकरण के लिए दस्तावेज प्रक्रिया पहले की तरह ही रहेगी। पंजीकरण कराते ही रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर कन्फर्मेशन आएगा, जिसे चेक करना होगा। अप्वाइंटमेंट मिलने के बाद वैक्सीन लगवाने के दौरान अपनी स्लिप और फोटो आईडी साथ लेकर जाना होगा।
कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए युवाओं को कोविन ऐप, अरोग्य सेतु ऐप या फिर कोविन की वेबसाइट पर जाना होंगा। वहां पर उन्हें अपने मोबाइल नम्बर को दर्ज करना होगा। उसके बाद एक ओटीपी के जरिए अपना एकाउंट बनाना होंगा। वहीं उसमें दिए गए फॉर्म में नाम, उम्र, लैंगिक जानकारी के साथ कोई आधार-कार्ड अपलोड करना होगा, जिसके बाद टीकाकरण केंद्र का चयन कर अप्वाइंटमेंट लेकर वैक्सीन लगवाई जा सकेगी।  इतना ही नहीं वरिष्ठ लोगों का रजिस्ट्रेशन 1507 पर डायल करके भी कराया जा सकता है।

भारत को 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर देने का ऐलान

अकांशु उपाध्याय                          
नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी/ सिडनी। एयर इंडिया अमेरिका से फिलिप्स द्वारा निर्मित 10,636 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भारत ला रहा है। वहीं आस्ट्रेलिया सरकार ने कोविड महामारी की दूसरी लहर से निपटने के लिए भारत को एक सौ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और संबंधित टैंक देने का ऐलान किया है।
केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर कहा कि जैसे भगवान हनुमान जी ने संजीवनी की तलाश में द्रोणागिरी को उठा लिया। वैसे ही एयर इंडिया फिलिप्स द्वारा निर्मित 10,636 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ला रहा है। अमेरिका से 636 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पहले ही उड़ान के माध्यम से निकल चुके हैं। हर दिन विमान के माध्यम से एक सप्ताह में काम पूरा हो जाएगा।
ऑस्ट्रेलिया ने भारत सरकार से बातचीत के बाद आपात चिकित्सा आपूर्ति देने का फैसला किया है। इसके तहत 500 नॉन इन्वेसिव वेंटिलेटर प्रणाली उपलब्ध कराई जाएगी। इससे 3 हजार वेंटिलेटर को संचालित किया जा सकेगा।
ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने एक बयान में कहा कि वह 10 लाख सर्जिकल मास्क,  5 लाख एन-95 मास्क, एक लाख सर्जिकल गाउन, एक लाख चश्मे, एक लाख जोड़ी दस्ताने, 20 हजार फेस शिल्ड देगी। बयान में कहा गया है कि आस्ट्रेलिया का विदेश और व्यापार विभाग चिकित्सा उपकरणों और चिकित्सा परिधानों की आपूर्ति की देखरेख करेगा। अन्य देशों ने भी भारत को इस तरह की चिकित्सा सामग्री देने की घोषणा की है।

कोरोना की लड़ाईं सहयोग व समन्वय से लड़नी होगीं

हरिओम उपाध्याय             
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 से लड़ाई टीम वर्क और सामूहिक भावना के साथ समाज के प्रत्येक स्तर पर सभी के सहयोग व समन्वय से लड़नी होगी। उन्होंने कहा कि विगत 4-5 दिनों में कोरोना केसेज में गिरावट और रिकवरी की दर में वृद्धि एक सुखद संकेत है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि कोरोना से संघर्ष में हम सभी का पिछले 01 वर्ष का व्यापक अनुभव रहा है। इस अनुभव का लाभ उठाते हुए पूरे मनोयोग और मनोबल से एक बार फिर कोरोना को परास्त कर हम इस लड़ाई में सफल होंगे।
 मुख्यमंत्री योगी मंगलवार को यहां वर्चुअल माध्यम से विशेषज्ञ चिकित्सकों, इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) और नर्सिंग होम एसोसिएशन के साथ कोविड-19 की स्थिति के सम्बन्ध में संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आईएमए और नर्सिंग होम एसोसिएशन के चिकित्सकों द्वारा मण्डलायुक्तों, अपर निदेशक स्वास्थ्य तथा स्थानीय प्रशासन के साथ समन्वय करते हुए प्रत्येक जनपद में कोविड व नाॅन कोविड रोगियों के लिए टेलीकंसल्टेशन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना के विरुद्ध संघर्ष में सफलता मिलने में सभी का सक्रिय सहयोग और योगदान रहा है। एक बार फिर इस आपदा के समय में हम सभी को धैर्यपूर्वक संक्रमण की चुनौती का सामना करना है। 
योगी ने कहा कि सभी कोविड संक्रमित गम्भीर मरीजों की देखभाल के लिए बेड्स उपलब्ध कराए जाएं। यदि सरकारी अस्पताल में बेड्स की व्यवस्था न हो पाए, तो निजी अस्पतालों में बेड्स की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। यदि मरीज भुगतान करने में असमर्थ है, तो इसकी व्यवस्था राज्य सरकार करेगी। कोविड संक्रमित कोई भी मरीज इलाज से वंचित न हो। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमित मरीज की दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु की स्थिति में उसके अन्तिम संस्कार की व्यवस्था प्रशासन की देखरेख में पूरे सम्मानजनक रूप से की जाए। इस सम्बन्ध में नगर विकास व पंचायतीराज विभाग को निर्देश दिए गए हैं।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन की उपलब्धता व आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। ऑक्सीजन एक्सप्रेस के माध्यम से ऑक्सीजन टैंकर्स लाए जा रहे हैं। हवाई सेवा के माध्यम से भी ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है। 07 संस्थाओं के माध्यम से प्रत्येक अस्पताल में ऑक्सीजन ऑडिट की व्यवस्था की गई है। ऑक्सीजन का दुरुपयोग हर हाल में रोका जाना चाहिए। विगत 04 वर्षों में प्रदेश में 03 दर्जन ऑक्सीजन प्लाण्ट्स की स्थापना विभिन्न चिकित्सा संस्थानों में की जा चुकी है। 39 चिकित्सा संस्थानों में ऑक्सीजन प्लाण्ट्स की स्थापना के सम्बन्ध में कार्यवाही चल रही है। भारत सरकार द्वारा ऑक्सीजन प्लाण्ट की स्थापना में सक्रिय योगदान दिया जा रहा है।

टेस्टिंग की क्षमता दोगुनी, सीएम योगी की रणनीति

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संकम्रण पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार की नीतियां कारगर साबित हो रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट वाले मंत्र को लेकर योगी सरकार प्रदेश में कोविड नियंत्रण के नए रिकॉर्ड बना रही है। सर्विलांस टीम द्वारा घर-घर जाकर सर्वेक्षण करना, वैक्सीनेशन को तेजी से बढ़ाना और प्रदेश में टेस्टिंग की क्षमता को दोगुना करना, यह मुख्यमंत्री योगी की रणनीति है। 
 राज्य सरकार का दावा है कि योगी की रणनीति के चलते प्रदेश की 24 करोड़ आबादी में से 21 करोड़ लोगों तक सरकार अपनी पहुंच बना चुकी है। यही कारण है कि देश में आबादी के लिहाज से सबसे बड़ा प्रदेश होने के बाद भी उत्तर प्रदेश में कई राज्यों की तुलना में पॉजिटिव केसों की संख्या कम है।
 राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश में बढ़ते मामलों को लेकर टेस्टिंग पर विशेष ध्यान दिया गया है। देश में चार करोड़ से ज्यादा टेस्टिंग करने वाला पहला राज्य उत्तर प्रदेश बन चुका है। पिछले 24 घंटों में प्रदेश में एक लाख 84 हजार टेस्ट किए गए हैं। जिनमें 94 हजार से अधिक टेस्ट आरटीपीसीआर के माध्यम से किए गए हैं। यही नहीं, सरकार ने अग्रेसिव टेस्टिंग को बढ़ाने के लिए 40 नई आरटीपीसीआर मशीनों का ऑर्डर प्लेस कर दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा है कि प्रदेश में आरटीपीसीआर के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग की जाए।
 प्रवक्ता ने बताया कि पिछली बार जब प्रदेश में कोरोना ने दस्तक दी थी, तभी से प्रदेश में सर्विलांस टीम का गठन कर दिया गया था। यह टीम घर-घर जाकर लोगों का सर्वेक्षण कर रही है। सोमवार तक प्रदेश में 16 करोड़ 19 लाख से ज्यादा लोगों तक स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची चुकी है। इस दौरान जो लोग भी संक्रमण युक्त पाए गए हैं, उनका टेस्ट कराकर इलाज शुरु कराया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने अब तक प्रदेश के दो लाख 35 हजार 227 इलाकों में 5 लाख 73 हजार 620 टीम दिवसों के माध्यम से तीन करोड़ 35 लाख 50 हजार 687 घरों का सर्विलांस किया है।
 

मुक्केबाजी चैंपियनशिप दुबई में आयोजित होगीं

अकांशु उपाध्याय                   
नई दिल्ली/ आबुधाबी। भारत में कोविड-19 संकट को देखते हुए एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप अगले महीने ​दिल्ली के बजाय दुबई में आयोजित की जाएगी। लेकिन राष्ट्रीय महासंघ अब भी यूएई के साथ इसका संयुक्त मेजबान होगा। इस टूर्नामेंट का आयोजन 21 से 31 मई के बीच राष्ट्रीय राजधानी के इंदिरा गांधी स्टेडियम में किया जाना था लेकिन दिल्ली में अभी कोविड-19 के प्रतिदिन 20,000 से अधिक मामले सामने आ रहे हैं।भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बीएफआई) ने बयान में कहा कि भारत में अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रतिबंधों के कारण भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने एशियाई मुक्केबाजी परिसंघ (एएसबीसी) के साथ सलाह मशविरा करके एएसबीसी एशियाई एलीट पुरुष एवं महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप का आयोजन दुबई में कराने का फैसला किया।इसमें कहा गया है कि इस प्रतियोगिता का आयोजन अब बीएफआई यूएई मुक्केबाजी महासंघ के साथ मिलकर करेगा। भारत में कोविड-19 के प्रतिदिन तीन लाख से अधिक मामले आ रहे हैं। जिसके बाद कई देशों ने भारत में उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है। बीएफआई ने कहा कि महामारी के कारण कई देशों ने अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रतिबंध लगाये हैं जिसे देखते हुए बीएफआई और एएसबीसी ने टूर्नामेंट का आयोजन दूसरे स्थान पर करने का संयुक्त फैसला किया।
राष्ट्रीय महासंघ के अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा कि यह फैसला करना काफी मुश्किल था। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमें देश से बाहर इसका आयोजन करना पड़ रहा है। हम चैंपियनशिप का आयोजन दिल्ली में करने के इच्छुक थे लेकिन हमारे पास कोई विकल्प नहीं बचा था। मुक्केबाजों की सुरक्षा अधिक महत्वपूर्ण है और इसलिए हमने यह फैसला किया। हम स्थिति पर करीबी निगरानी रखे हुए थे तथा एएसबीसी और भारत सरकार के साथ विचार विमर्श करने के बाद हमे टूर्नामेंट का आयोजन दुबई में करने का निर्णय किया।

कोरोना संक्रमितों की मदद के लिए आगें आईं ट्विकंल

कविता गर्ग                   
मुंबई। बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार अक्षय कुमार और उनकी पत्नी अभिनेत्री ट्विंकल खन्ना कोरोना मरीजों की मदद के लिए आगे आयी है। देश में कोरोना की दूसरी लहर ने कोहराम मचा रखा है। इस बीच कई बॉलीवुड सेलेब्रिटीज लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं। कोरोना के खिलाफ जंग में अपना योगदान देने के लिए अक्षय कुमार और उनकी पत्नी ट्विंकल खन्ना आगे आयी हैं।ट्विंकल खन्ना ने पोस्ट शेयर कर लिखा, “एक बहुत अच्छी खबर है कि लंदन एलीट हेल्थ कि डॉ. द्रश्निका पटेल और डॉ. गोविंद बंकानी देविक फाउंडेशन के माध्यम से 120 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स दान कर रहे हैं। वहीं अक्षय कुमार और मैंने 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की व्यवस्था की है। अब हमारे पास टोटल 220 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स हो गए हैं। लीड्स के लिए शुक्रिया। चलो सब अपना योगदान देते हैं।ट्विंकल खन्ना ने इससे पहले एक पोस्ट शेयर कर लिखा, “प्लीज, मुझे वेरिफाइड, भरोसेमंद और रजिस्टर्ड एनजीओ के बारे में जानकारी दीजिए, जो 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स (प्रति मिनट 4 लीटर ऑक्सीजन की आपूर्ति करने वाले) बांटने में मदद कर सकें। ये कंसंट्रेटर्स सीधे यूके से उन तक पहुंचाए जाएंगे।

‘अंधे सिस्टम’ को सच दिखाया जाना चाहिए: राहुल

अकांशु उपाध्याय                    
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश में कोरोना वायरस महामारी के संकट के बीच बुधवार को लोगों से एक दूसरे की मदद करने की अपील की और कहा कि इस ‘अंधे सिस्टम’ को सच दिखाया जाना चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया। एक दूसरे की सहायता करते आम जन दिखाते हैं कि किसी का दिल छूने के लिए हाथ छूने की ज़रूरत नहीं। मदद का हाथ बढ़ाते चलो, इस अंधे ‘सिस्टम’ को सच दिखाते चलो। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने दिल्ली में श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार के लिए 20 घंटे तक का इंतजार करने संबंधी खबर का हवाला देते हुए दावा किया कि ये तस्वीरें मोदी सरकार का जीवन भर पीछा नहीं छोड़ेंगी। उन्होंने ट्वीट किया, ये मानवता के खिलाफ है। ये अपराध भी है। अंतिम संस्कारों का ये अन्तहीन सिलसिला अहंकारी शासकों के पत्थर दिल का सबूत है। अपने ही लोगों की लाशों की बुनियाद पर सरकार मजबूत नहीं हो सकती। ये तस्वीरें और घटनाएं मोदी सरकार का जीवन भर पीछा करेंगी।

बिहार: आग लगने से 4 बच्चों की मौंत हुईं

अविनाश श्रीवास्तव              
पटना। बिहार में पटना जिले के पुनपुन थाना क्षेत्र में बुधवार की सुबह आग से झुलसकर एक ही परिवार के चार बच्चों की मौत हो गयी। पुलिस सूत्रों ने बताया कि अलादीन चक गांव निवासी छोटू पासवान के घर में खाना बनाने के दौरान रसोई गैस सिलेंडर के पाइप से रिसाव होने से आग लग गयी। इस दुर्घटना में चार बच्चों की झुलसकर मौत हो गयी। मृतकों की पहचान छोटू पासवान की पुत्री डॉली (12) ,राखी (06) ,आरती (05) और पुत्र अंकित (04) के रूप में की गयी है। सूत्रों ने बताया कि घटना की जानकारी के बाद दमकल की टीम ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। मामले की छानबीन की जा रही है।

सरकार: 2021 को संशोधन अधिनियम लागू किया

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने (संशोधन) अधिनियम, 2021 को लागू कर दिया गया है, जिसमें शहर की चुनी हुई। सरकार के ऊपर उपराज्यपाल को प्रधानता दी गई है। गृह मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक अधिनयम के प्रावधान 27 अप्रैल से लागू हो गए हैं। नए कानून के मुताबिक, दिल्ली सरकार का मतलब ‘उपराज्यपाल’ होगा और दिल्ली की सरकार को अब कोई भी कार्यकारी फैसला लेने से पहले उपराज्यपाल की अनुमति लेनी होगी। गृह मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव गोविंद मोहन के हस्ताक्षर के साथ जारी अधिसूचना में कहा गया, ‘‘दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन (संशोधन) अधिनियम, 2021 (2021 का 15) की धारा एक की उपधारा -2 में निहित शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए केंद्र सरकार 27 अप्रैल 2021 से अधिनियम के प्रावधानों को लागू करती है।’’
उल्लेखनीय है कि संसद ने इस कानून को पिछले महीने पारित किया था। लोकसभा ने 22 मार्च को और राज्य सभा ने 24 मार्च- को इसको मंजूरी दी थी। जब इस विधेयक को संसद ने पारित किया था तब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसे ‘‘भारतीय लोकतंत्र के लिए दुखद दिन’ करार दिया था।

महाराष्ट्र: अस्पताल में आग, 4 संक्रमितों की मौंत

कविता गर्ग                   
ठाणे। महाराष्ट्र में ठाणे के समीप एक निजी अस्पताल में बुधवार तड़के आग लगने के बाद चार संक्रमितों की मौत हो गई। नगर निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि मरीजों की मौत आग लगने के बाद दूसरे अस्पतालों में ले जाते वक्त हुई न कि जलने के कारण। हो सकता है कि आग लगने के बाद उनके शरीर में धुआं घुस गया हो।इससे पांच दिन पहले पालघर जिले के विरार में एक निजी अस्पताल के आईसीयू में आग लगने से कोविड-19 के 15 मरीजों की मौत हो गई थी। अधिकारी ने बताया कि ठाणे के समीप मुंब्रा इलाके में कौसा में स्थित प्राइम क्रिटिकेयर हॉस्पिटल में तड़के तीन बजकर 40 मिनट पर आग लगी। अस्पताल में कोरोना वायरस का कोई मरीज नहीं था।उन्होंने बताया कि घटनास्थल पर दमकल की तीन गाड़ियां और पांच एम्बुलेंस भेजी गई। आग पर काबू पा लिया गया है। उन्होंने बताया कि आईसीयू में भर्ती छह मरीजों समेत 20 मरीजों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। महाराष्ट्र के मंत्री और स्थानीय विधायक जितेंद्र अव्हाड ने घटनास्थल पर पत्रकारों को बताया कि आग से अस्पताल की पहली मंजिल जलकर खाक हो गई।
उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को हादसे की जानकारी दी गई है। प्रत्येक मृतक के परिवार को पांच-पांच लाख रुपये का मुआवजा और घायलों को एक-एक लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। अव्हाद ने बताया कि आग लगने की वजह का पता लगाने के लिए एक उच्च स्तरीय जांच समिति गठित की गई है। समिति में ठाणे नगर निगम के अधिकारी और पुलिस तथा मेडिकल के अधिकारी भी शामिल होंगे।

हम कोरोना की काली आंधी में फंस गए हैं: प्रियंका

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि हम कोरोना की काली आंधी में फंस गए हैं और व्यवस्था लाचार हो चुकी है। इसलिए देशवासियों को परस्पर सहयोग से इस विपत्ति को मात देकर घने अंधेरे से उजाले की तरफ आना है। प्रियंका गांधी ने बुधवार को कहा कि कोरोना महामारी के कारण चारों तरफ जो मायूसी ही मायूसी फैली है। उसके बीच सबको ढाढस बंधाते हुए दूसरों की मदद के लिए जो बन पड़े बिना थके वह करना है और थकान को नजर अंदाज कर काली आंधी का डटकर मुकाबला करना है। उन्होंने कहा “ये जो अंधेरा हमारे चारों ओर फैला हुआ है। उसको चीरते हुए उजाला एक बार फिर उभरेगा। यह हम सबकी जिंदगी का एक अहम मोड़ है। जहां हम अपनी सीमाओं के परे जाकर एक बार फिर अपनी असीमित जिजीविशा से साक्षात्कार कर पा रहे हैं। बेबसी और भय को परे कर हम पर साहसी बने रहने की चुनौती है, इसलिए जाति, धर्म, वर्ग या किसी भी भेद को खारिज करते हुए, इस लड़ाई में हम सब एक हैं। ये वायरस भेदों को नहीं पहचानता। 
प्रियंका ने अत्यंत भावुक शब्दों में कहा “ये लाइनें लिखते वक्त मेरा दिल भरा हुआ है। मुझे पता है कि पिछले कुछ हफ़्तों में आपमें से कई लोगों ने अपने प्रियजनों को खोया है, कइयों के परिजन जिंदगी के साथ जद्दोजहद कर रहे हैं और कई लोग अपने घरों पर इस बीमारी से लड़ते हुए सोच रहे हैं, आगे क्या होगा। हममें से कोई भी इस आफत से अछूता नहीं है। पूरे देश में सांसों के लिए जंग चल रही है, अस्पताल में भर्ती होने और दवाओं की एक खुराक पाने के लिए पूरे देश में लोगों के अंतहीन संघर्ष जारी हैं।

सीटी मार का वीडियो मीडिया पर शेयर किया

कविता गर्ग               
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री दिशा पाटनी ने अपनी आने वाली फिल्म ‘राधे योर मोस्ट वांटेड भाई’ का गाना सीटी मार का बीटीएस वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है। प्रभुदेवा के निर्देशन में बनीं फिल्म ‘राधे योर मोस्ट वांटेड भाई’ का पहला गाना सीटी मार रिलीज़ कर दिया गया है। ‘सीटी मार’ एक डांस नबर है, जिसमें सलमान खान और दिशा पाटनी डांस करते हुए दिखी। दिशा पाटनी ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर एक बीटीएस वीडियो शेयर किया है। जिसमें वह डांस स्टेप करती नजर आ रही हैं। इस वीडियो को इंस्टा स्टोरी पर शेयर कर उन्होंने लिखा, ‘कुछ बीटीएस वीडियो सॉन्ग सीटी मार। रहे हैं।इस बीटीएस वीडियो में दिशा ऑल ब्लैक आउट फिट में नजर आ रही हैं और सॉन्ग की बीट्स पर डांस स्टेप करती दिख रही हैं। इस गाने में सलमान खान और दिशा पाटनी की केमिस्ट्री को उनके फैंस काफी पसंद कर रहे हैं। ‘सीटी मार’ गाना वर्ष 2017 में प्रदर्शित साउथ के सुपरस्टार अल्लू अर्जुन की तेलुगु फिल्म का सुपर हिट गाने सीटी मार का वर्जन है। सॉन्ग ‘सीटी मार’ के टैग म्यूजिक को देवी श्री प्रसाद के कंपोज किया है और शब्बीर अहमद ने लिखा है। इस गाने को कमाल खान और यूलिया वंतूर ने गाया है।
गौरतलब है कि ‘राधे: योर मोस्ट वांटेड भाई में सलमान खान और दिशा पटानी के साथ रणदीप हुड्डा और जैकी श्रॉफ भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं। फिल्म को सलमान खान फिल्म्स ने ज़ी स्टूडियो के साथ मिलकर प्रस्तुत किया है। फिल्म इस साल ईद के मौके पर 13 मई को रिलीज होगी।

भारत: 24 घंटें में संक्रमण के 3,60,960 नए मामलें

अकांशु उपाध्याय                            
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 24 घंटें में रिकॉर्ड 3,60,960 नये मामले सामने आए हैं। जिसके बाद संक्रमण के कुल मामले 1,79,9,267 हो गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बुधवार सुबह तक के आंकड़ों के मुताबिक 3,293 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या दो लाख को पार कर गई है। आंकड़ों के मुताबिक 1,48,17,371 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं जबकि बीमारी से मृत्यु दर 1.12 प्रतिशत है। मंत्रालय ने बताया कि 29,78,709 लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं। जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.55 प्रतिशत है। जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर और घटकर 82.33 प्रतिशत हो गई है। आंकड़ों के मुताबिक मृतक संख्या 2,01,187 है। देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या पिछले साल सात अगस्त को 20 लाख को पार कर गई थी। वहीं 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी।इसके बाद 28 सितंबर को कोविड-19 के मामले 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख, 19 दिसंबर को एक करोड़ और 19 अप्रैल को कोविड-19 के मामले 1.5 करोड़ से अधिक हो गए थे। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक, 27 अप्रैल तक 28,27,03,789 नमूनों की जांच की गई है। जिनमें से 17,23,912 नमूनों की मंगलवार को जांच की गई है।

बंगाल में महसूस किएं गए भूकंप के झटके, नुकसान

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में बुधवार सुबह 6.4 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। जिससे पूर्वोत्तर राज्य में बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ। अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के झटके पड़ोसी राज्य मेघालय और पश्चिम बंगाल के उत्तरी हिस्सों समेत पूरे क्षेत्र में महसूस किए गए। उन्होंने बताया कि भूकंप सुबह सात बजकर 51 मिनट पर सोनितपुर जिले में आया। इसके बाद सात बजकर 58 मिनट और आठ बजकर एक मिनट पर भूकंप के दो और झटके महसूस किए गए। ये भूकंप के झटके क्रमश: 4.3 और 4.4 तीव्रता के दर्ज किए गए।क्षेत्र के ज्यादातर हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए और लोग घबराहट में अपने घरों तथा अन्य स्थानों से बाहर निकल आए। सोनितपुर के जिला मुख्यालय तेजपुर, गुवाहाटी और कई अन्य स्थानों में कई इमारतों में दरारें आ गई। हताहतों के संबंध में विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है।
प्रधानमंत्री ने असम के मुख्यमंत्री से की बात...
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात की भूंकप से हुए जान और माल के नुकसान का जायजा लिया तथा पूर्वोत्तर के इस राज्य को हरसंभव केंद्रीय मदद का आश्वासन भी दिया।
मोदी ने ट्वीट कर कहा कि असम के विभिन्न हिस्सों में आए भूकंप के सिलसिले में मुख्यमत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात की। हरसंभव केंद्रीय मदद का उन्हें आश्वासन दिया। असम के लोगों के कुशल-क्षेम की कामना करता हूं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण    
1. अंक-256 (साल-02)
2. ब्रहस्पतिवार, अप्रैल 29, 2021
3. शक-1984,चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि- प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2078। सोलहवां रोजा, सहरी 04:16, इफ्तार 06:58। 16 रमजान, हिजरी 1442।
4. सूर्योदय प्रातः 06:20, सूर्यास्त 06:50।
5. न्‍यूनतम तापमान -16 डी.सै., अधिकतम-40+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...