बुधवार, 5 अगस्त 2020

पूजनः मोदी-योगी ने किया दंडवत प्रणाम

अकांशु उपाध्याय


अयोध्या। पीएम मोदी ने अयोध्या पहुंच सबसे पहले हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा की, इसके बाद रामलला के दर्शन कर भूमि पूजन के कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान पीएम ने साष्टांग दंडवत प्रणाम किया और परिसर में पारिजात का पौधा लगाया। पूजा करने वाले संत ने बताया कि देश और दुनिया के अलग-अलग हिस्सों से शिलाएं लाई गई हैं, जिनपर श्रीराम का नाम लिखा है। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई मेहमान भूमि पूजन में मौजूद रहे। अयोध्या को आज फिर से सजाया गया है, दीवाली जैसा माहौल है और सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम हैं।


राष्ट्रपति ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी

नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए आधारशिला रखे जाने पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर सभी देशवासियों को बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'राम-मंदिर निर्माण के शुभारंभ पर सभी को बधाई! मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु राम के मंदिर का निर्माण न्यायप्रक्रिया के अनुरूप तथा जनसाधारण के उत्साह व सामाजिक सौहार्द के संबल से हो रहा है। मुझे विश्वास है कि मंदिर परिसर, रामराज्य के आदर्शों पर आधारित आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा। 


भाजपा के घोषणापत्र में शामिल था मंदिर का निर्माण
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार यानि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया और मंदिर की आधारशिला रखी। राम मंदिर का निर्माण भाजपा के घोषणापत्र में शामिल रहा है और पिछले तीन दशकों से यह मुद्दा उसकी राजनीति के केंद्र में था।
समारोह में पीएम के साथ ये लोग भी रहे मौजूद

उच्चतम न्यायालय ने पिछले साल दशकों पुराने मुद्दे का समाधान करते हुए अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त कर दिया था। भूमि पूजन समारोह में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी मौजूद थे। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने अपने संबोधन के दौरान भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी के मंदिर निर्माण को लेकर किए गए अथक प्रयासों और योगदान को याद किया।


आज उत्सव का समय है- मोहन भागवत
संघ प्रमुख मोहन भागवत ने इस दौरान कहा कि आज वो समय आ गया जिसका वर्षों से इंतजार था, उन्होंने कहा आज उत्सव का समय है। आज कई लोग इस कार्यक्रम में शामिल होना चाहते थे, लेकिन कोरोना महामारी के चलते वे नहीं आ सके। इस दौरान उन्होंने लालकृष्ण आडवाणी जी के यागदान को भी याद किया उन्होंने कहा, आडवाणी जी घर पर बैठकर इसे देख रहे होंगे। कई लोग आ नहीं सके। कई आ सकते थे पर बुलाए नहीं जा सकते थे क्योंकि परिस्थिति ऐसी है।


सीएम योगी ने कही ये बात 
वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हए कहा कि पांच सदी के बाद आज 135 करोड़ देशवासियों का संकल्प पूरा हो रहा है। देश में लोकतांत्रिक तरीकों के साथ ही मंदिर के निर्माण का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने पीएम मोदी का जिक्र करते हुए कहा, पीएम मोदी की सूझबूझ और प्रयासों के कारण आज संकल्प पूरा हो रहा है, हमने तीन साल पहले अयोध्या में दीपोत्सव का कार्यक्रम शुरू किया था, आज उसकी सिद्धि हो रही है।          


मोदी को वायरस से खतरा नहींः सुरक्षा

अखिलेश जायसवाल


नई दिल्ली। राम की नगरी अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इसके लिए मोदी अयोध्या पहुंच चुके है। लेकिन क्या आपको पता है कि इस बार उनकी सुरक्षा में किन पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है, क्योंकि पीएम मोदी की सुरक्षा कई मायने खास है। कोरोना संकट के बीच राम मंदिर भूमि पूजन का शिलान्यास होना है। ऐसे में कोरोना का खतरा सबसे ज्यादा है। इसलिए प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा की कमान उन पुलिस जवानों को सौंपी गई है, जो पहले से ही कोरोना पॉजिटिव होने के बाद ठीक हो चुके हैं और अब उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है।


अयोध्या में भूमि पूजन के समय कोरोना को मात दे चुके 150 सुरक्षाकर्मी पीएम मोदी की सुरक्षा में तैनात रहेंगे। परिसर के बाहर रहने वाले पुलिसकर्मी पिछले दो हफ़्ते से क्वारंटीन में रह चुके हैं और कोरोना टेस्ट निगेटिव पाए गए हैं। ऐसे में मोदी को कोरोना से कोई खतरा नहीं होगा। यह सब इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि कोरोना का संक्रमण भारत में तेजी से फैल रहा है। हाल ही में देश के केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं।


दुर्लभः आत्मविश्वास से भरा निर्णायक योद्धा

हरिओम उपाध्याय


नई दिल्ली। पीएम मोदी राम मंदिर भूमि पूजन के लिए अयोध्या के लिए आज सुबह 9 बजकर 35 मिनट पर रवाना हुए। एयर इंडिया के विमान के जरिए वह लखनऊ पहुंचेंगे और फिर वहां से हेलिकॉप्टर की मदद से अयोध्या पहुंचेंगे। आज के कार्यक्रम के लिए पीएम मोदी खास धोती कुर्ता पहने नजर आए। उन्होंने भगवा रंग का कुर्ता और धोती पहनी है और इसकी तस्वीर PMO द्वारा शेयर की गई।


तीन घंटे अयोध्या में रहेंगे पीएम मोदी


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस कार्यक्रम के लिए कुल 3 घंटे अयोध्या में रहेंगे। मंदिर के भूमि पूजन और शिलान्यास से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हनुमानगढ़ी पर पूजा करेंगे। दरअसल, माना जाता है कि भगवान हनुमान के आशीर्वाद के बिना भगवान राम का कोई काम शुरू नहीं किया जाता है। इस वजह से पीएम मोदी पहले हनुमान भगवान की पूजा करेंगे और उसके बाद भूमि पूजन के लिए जाएंगे।


भूमि पूजन का शुभ मुहूर्त


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को दोपहर 12 बजे राम जन्मभूमि परिसर पहुंचेंगे। इसके बाद वह 10 मिनट में रामलला विराजमान का दर्शन-पूजन करेंगे। इसके बाद वह दोपहर को 12 बजकर 44 मिनट और 15 सेकंड पर मंदिर की आधारशिला की स्थापना करेंगे।


योगी ने संत, महापुरुषों का स्वागत किया

रामकुमार भट्ट


लखनऊ। आखिर वह घड़ी निकट ही आ गई है, जब अयोध्या में राम जन्मभूमि में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर के निर्माण के लिए शिलान्यास करेंगे। इस अवसर के लिए आमंत्रित देश के कोने-कोने से विभिन्न साधु-संतों को आमंत्रित किया गया है। अयोध्या पहुंचे इन साधु-संतों का स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आयोजन स्थल पर स्वागत किया।


सालों की तपस्था और साधना के बाद मूर्त रूप लेने जा रहे राम मंदिर के कार्य में किसी प्रकार की बाधा न आए इसके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं कमान संभाले हुए हैं। पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों की टीम के साथ वे आयोजन के एक-एक पहलू पर ध्यान रखे हुए हैं। कोरोना संक्रमण के बीच हो रहे आयोजन में स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी एडवायजरी का पूरी तरह से पालन करते हुए कार्यों को अंजाम देते हुए अतिथियों का स्वागत सत्कार किया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी के पहुंचने पर उनका स्वागत शंखनाद से किया जाएगा, लेकिन न उन्हें तिलक लगाया जाएगा और न ही साफा पहनाया जाएगा। यहां पूजा के कार्यक्रम में संशोधन करते हुए मोदी केवल थाली लेकर रामलला की पूजा करेंगे।


हर्षः सजावट ने अयोध्या की छटा बिखेरी

रोनक डे


अयोध्या। राम मंदिर भूमि पूजन से पहले सजावट ऐसी की गई है कि देखते ही बनती है। सरयू घाट के किनारे बेहद खूबसूरत साज सज्जा की गई है और बस अब सबको इंतजार है तो भूमि पूजन की शुभ घड़ी का। अयोध्या में आज भूमि पूजन कार्यक्रम के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन भी होगा। आज इस कार्यक्रम के लिए 36 परंपराओं के 135 संत हिस्सा ले रहे हैं और आज अयोध्या में भूमि पूजन के बाद दीपोत्सव मनाया जाएगा और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी से दिए जलाने की अपील की है।


आज जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आयोध्या में श्री राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। यह पल तो इतिहास में दर्ज होगा ही। यह मिड-डे अख़बार जनता से रिश्ता के लिए भी ऐतिहासिक होगा। क्योंकि मिड-डे अख़बार होने के चलते पाठकों तक पहुंचाने वाला यह पहला अख़बार होगा। चूँकि यह कार्यक्रम दोपहर में सम्पन्न होगा। और 12 बजकर 40 मिनट में ये कार्यक्रम सबसे पहले जनता से रिश्ता मिड-डे अख़बार में दिखेगा। दैनिक अखबारों में तमाम घटनाक्रम दूसरे दिन गुरुवार को प्रकाशित होगा। लेकिन जनता से रिश्ता ने इसकी झांकी कार्यक्रम के तुरंत बाद ही पाठको तक पहुंच जाएगी।            


साधारण याचिका को पीठ को सौंप दिया

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के सवर्ण गरीबों को आर्थिक आधार पर नौकरियों और स्कूल व कॉलेज में प्रवेश के लिए दस फीसद आरक्षण देने के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका को पांच जजों की संविधान पीठ को सौंप दिया है। मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने बुधवार को यह मामला एक बड़ी बेंच को सौंपते हुए कहा कि केंद्र सरकार के इस फैसले को चुनौती देने वाली 35 याचिकाओं पर सुनवाई अब संविधान पीठ ही करेगी। 'जनहित अभियान' और 'यूथ फॉर इक्वालिटी' समेत गैर सरकारी संगठनों ने केंद्र सरकार के जनरल कैटेगरी के आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों को दस फीसद आरक्षण देने के फैसले को चुनौती दी है। इससे पहले सर्वोच्च अदालत ने केंद्र सरकार के इस फैसले पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया था।


केंद्र सरकार ने इससे पहले अपने फैसले का बचाव करते हुए कहा था कि संविधान (103वें संशोधन) अधिनियम, 2019 के तहत दस फीसद आरक्षण का प्रावधान उन 20 करोड़ लोगों के लिए किया गया है जो जनरल कैटेगरी के हैं और आर्थिक रूप से पिछड़े हुए हैं। यह फैसला उनको गरीबी की रेखा से ऊपर लाने के लिए किया गया है। जबकि इस फैसले का विरोध करने वाली याचिकाओं में दलील दी गई है कि भारत के संविधान में आरक्षण का प्रावधान आर्थिक आधार पर नहीं किया गया है और इस आधार पर इसे केवल जनरल कैटेगरी तक सीमित नहीं किया जा सकता है।             


भारत के पीएम अब फस गए हैंः इमरान

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि भारत का पिछले साल उठाया गया कदम एक बड़ी भूल थी और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब फंस गए हैं।      


एक साल पहले आज ही के दिन भारत ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाकर उसे केंद्र-शासित प्रदेश घोषित कर दिया था। इसके साथ ही उसे दिए गए विशेष अधिकार भी वापस ले लिए गए थे। उसके बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। यहां तक कि एक दिन पहले ही पाकिस्तान ने अपना नया नक्शा जारी करते हुए कश्मीर के विवादित क्षेत्रों को अपना बता डाला है।                       


राम भक्तों के बलिदान का परिणाम मिला

राम भक्तों के सदियों के निरंतर त्याग का परिणामः शाह


अत्यंत भावुक और आह्लादित करने वाला पलः राजनाथ


नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि आज का दिन भारत के लिए एक ऐतिहासिक व गौरवपूर्ण दिन है। प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन व शिलान्यास किया गया, जिसने महान भारतीय संस्कृति व सभ्यता के इतिहास का एक स्वर्णिम अध्याय लिखा है और एक नए युग की शुरुआत की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर भूमि पूजन कर दिया। लंबे संघर्ष और इंतजार के बाद आए इस शुभ अवसर को देश के कई अन्य शीर्ष नेताओं ने भी ऐतिहासिक बताया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज का दिन भारत के लिए एक ऐतिहासिक व गौरवपूर्ण दिन है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन और शिलान्यास किया गया। एक नए युग की शुरुआत है।             


सरयू नदी में डूबने से 5 लोगों की मौत

देवरिया। उत्तर प्रदेश में देवरिया जिले के मईल क्षेत्र में बुधवार शाम सरयू नदी में नाव पलटने से तीन बच्चों और दो महिलाओं समेत पांच लोगों की डूबने से मौत हो गई जबकि नौ को सुरक्षित बच गये हैं। एसडीएम बरहज सुनील सिंह ने बताया कि आज शाम मऊ जिले के मधुबन क्षेत्र से एक नाव देवरिया जिले के तेलिया कला गांव की ओर आ रही थी। उन्होंने बताया कि सरयू नदी में नाव पलटी गई। इस हादसे में पांच लोगों की डूबने से मौत हो गई,जिसमें दो महिलाएं और तीन बच्चें हैं। उन्होंने बताया कि पांचों के शव नदी से बरामद कर लिये गये है। उन्होंने बताया कि नाव पर कुल 15 लोग सवार थे, जिसमें से नौ लोग सुरक्षित बच गये हैं। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पांच लोगों की मृत्यु पर दुख व्यक्त करते हुए उनके परिजनों को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने के अधिकारियों को निर्देश दिए है। सीएम योगी ने दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव एवं राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिये।           


सोने के दाम ने 1 बार फिर आसमान छुआ

नई दिल्ली। घरेलू बाजार में सोने का दाम एक बार शिखर को छू गए हैं। बुधवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में 99.9 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने का भाव अब तक के नए उच्चतम स्तर पर 56,181 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। इससे पूर्व मंगलवार को यह 54,816 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। इस दौरान सोने में 1365 रुपए प्रति 10 ग्राम की सबसे बड़ी तेजी दर्ज हुई है। मुंबई में सोने के दाम बढ़कर 55201 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गए। जनवरी से जुलाई के बीच घरेलू बाजार सोने के दामों में 30 प्रतिशत तक बढ़ोतरी हो चुकी है। दिल्ली में एक किलोग्राम चांदी के दाम पहली बार 72,726 के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए है।

लगातार क्यों हो रही है बढ़ोतरी : कोरोना काल में सोने में निवेश को सुरक्षित माना जाता है। प्राकृतिक आपदा, महामारी और राजनीतिक तनाव के समय सोने में निवेश सुरक्षित माना जाता है।

बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि कमजोर डॉलर, केंद्रीय बैंकों के ओर से प्रोत्साहन उपायों और बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों से सोने जैसे सुरक्षित निवेश में बढ़ोतरी हुई है। कोरोनाकाल में सोने का ठप पड़ा आयात भी दामों में बढ़ोतरी का एक कारण है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में बढ़े दाम : अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का हाजिर भाव आज 2020 डॉलर प्रति औंस के पार निकल गया। अमेरिकी सोना वायदा 0.9% की बढ़त के साथ 2.039 डॉलर पर बंद हुआ। इस साल वैश्विक बाजारों में सोने की कीमतों में 33 प्रतिशत की तेजी आई है। चांदी में भी बंपर उछाल : बुधवार को दिल्ली में 1 किलोग्राम चांदी के दाम 66,754 रुपए से बढ़कर 72,726 रुपए हो गए हैं। इस दौरान कीमतों में 5972 रुपए की जोरदार तेजी आई है। मुंबई में चांदी के दाम बढ़कर 69225 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गए हैं।                       

तस्करी का अड्डा बना भगवानपुर क्षेत्र

तस्करी का अड्डा बना सीमा क्षेत्र भगवानपुर


तस्करी पर अंकुश लगाने में सभी विभाग हुए फेल


सुनील शर्मा 


महराजगंज। सोनौली कोतवाली क्षेत्र के भगवानपुर में तस्करों की दबंगई से तमाम विभाग बैक फुट पर नजर आ रहे हैं। पिछले एक वर्ष पूर्व शराब तस्करी के मामले में सिपाही और तस्कर के बीच हाथापाई के बाद ऐसा लगा कि यहां तस्करी पर नकेल लगाने के लिए प्रशासन द्वारा कड़े कदम उठाये जायेंगे। मगर कुछ ऐसा होता प्रतीत नहीं हो रहा है। पुलिस पांच आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर चुप बैठ गई। मगर भगवानपुर क्षेत्र में तस्करी का आलम ज्यौं का त्यौं है। खाद, खाद्यान्न, कपड़े का गठिया, कनाडियन मटर, पाकिस्तानी छुहारा, काली मिर्च व जंगल के लकड़ी बेखौफ सीमा पार आर-पार किया जा रहा है। जिससे राजस्व को लाखों का चूना लग रहा है।


राजस्व एकत्र करने का मुख्य विभाग कस्टम, यदाकदा ही इस क्षेत्र का रुख करता है और पुलिस भी विवाद के बजाय अब कुछ ले-देकर ही चुप्पी साधने को अच्छा समझ रही है। तस्करी के इस खेल में सेटिंग-गेटिंग की चर्चा अब सरेआम हो गई है। जहां भगवानपुर, रेहरा सीमावर्ती क्षेत्र तस्करी का यह खुलेआम खेल देख आसपास के गांवों के बेरोजगार युवक भी तेजी से इस खेल में शामिल हो रहे हैं। भगवानपुर के पास के अहिरौली, रेहरा, रघुनाथपुर, मैनिहवा व श्याममकाट में भी अब तस्करी परवान पर है। सूत्रों का बताना है कि तस्कर लाइन लेने के लिए पुलिस व कस्टम विभाग को हफ्ता देते हैं। जिससे वह राजस्व नुकसान के इस खेल में आंख बंद कर लेते हैं।             


एक बार फिर रुपए ने पकड़ी मजबूती

नई दिल्ली। बुधवार के कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया मजबूती के साथ एक बार फिर 75 के स्तर से नीचे आ गया। घरेलू करंसी में ये बढ़त डॉलर में कमजोरी की वजह से देखने को मिली। अमेरिकी मुद्रा के कमजोर पड़ने और घरेलू शेयर बाजारों से शुरुआती कारोबार के दौरान सकारात्मक संकेत मिलने से बुधवार को अंतर बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 10 पैसे बढ़कर 74.94 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ। आज के कारोबार में रुपये की शुरुआत मजबूती के साथ हुई। अंतर बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में घरेलू मुद्रा 11 पैसे की मजबूती के साथ 74.93 रुपये प्रति डॉलर के भाव पर खुली थी।
कारोबार के दौरान रुपया 12 पैसे के सीमित दायरे में ही बना रहा। दिन के दौरान रुपये ने 74.83 प्रति डॉलर का उच्चतम स्तर और 74.95 रुपये प्रति डॉलर का निचला स्तर छुआ। कारोबार की समाप्ति पर पिछले दिन के बंद भाव के मुकाबले रुपया 10 पैसे की मजबूती के साथ 74.94 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। मंगलवार को रुपया 75.04 रुपये प्रति डॉलर के भाव पर बंद हुआ था। विदेशी मुद्रा कारोबारियों का कहना है कि शेयर बाजारों में सकारात्मक रुख रहा है।


उधर, अमेरिकी मुद्रा दुनिया के अन्य मुद्राओं के समक्ष कमजोर पड़ी है। वहीं शेयर बाजारों में विदेशी फंड का प्रवाह बना हुआ है। इस बीच दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के समक्ष डॉलर की मजबूती दिखाने वाला डॉलर सूचकांक 0.19 प्रतिशत गिरकर 93.20 अंक पर रहा।           


हिंदुत्व की कामयाबी का दिनः ओवैसी

तिलमिलाए ओवैसी बोले, आज हिंदुत्व की कामयाबी का दिन


नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन का कार्यक्रम प्रधानमंत्री मोदी के हाथों संपन्न हो गया है। अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम के बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी के इस कार्यक्रम में शामिल होने पर सवाल खड़ा किया है। ओवैसी ने कहा, ’मैं शुरू से ही यह कहता रहा हूं कि पीएम को भूमि पूजन में शामिल नहीं होना चाहिए था। क्योंकि- वह किसी समुदाय के पीएम नहीं है, भारत का एक ही धर्म है। उन्होंने कहा कि ये लोकतंत्र की हार है।
ओवैसी ने आगे कहा, पीएम का इस कार्यक्रम में शामिल होना देश की धर्मनिरपेक्ष नीतियों का उल्लंघन है। आज हिंदुत्व और धर्मनिरपेक्षता के लिए एक सफल दिन है क्योंकि मोदी (एक पीएम के रूप में) इस कार्यक्रम में शामिल हुए। पीएम ने कहा कि आज का कार्यक्रम भारत का प्रतीक है। लेकिन, वह एक देश के पीएम हैं और उन्हें समझने की जरूरत है कि देश का प्रतीक मंदिर या मस्जिद नहीं हो सकता। उन्होंने कहा, पीएम ने अपने भाषण में कहा, राष्ट्र बहुत भावुक है। मैं कहना चाहता हूं कि ओवैसी बहुत ही भावुक है, क्योंकि मैं समानता और नागरिकता में विश्वास करता हूं, क्योंकि वहां पर 400 से अधिक वर्षों से एक मस्जिद थी और मैं भी भावुक हूं क्योंकि आपकी पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट, में झूठ बोला है। बीजेपी और संघ परिवार ने मिलकर बाबरी मस्जिद को ध्वस्त कर दिया था।               


चप्पे चप्पे पर रहेगी पुलिस की नजर

अतुल त्यागी


बहादुरगढ पुलिस का फुल ऐक्सन प्लान , क्षेत्र में चप्पे चप्पे पर रखेगी थाना प्रभारी नीरज कुमार की टीम नजर


गढमुक्तेश्वर/ हापुड़। आपको बता दें कल यानि 5 अगस्त को अयोध्या में श्री राम मंदिर का शिलान्यास 12.40 पर मा. प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जी के कर कमलों द्वारा वैदिक विधि विधान से होना है जिसको लेकर प्रदेश के मुखिया मा. आदित्यनाथ योगी जी ने प्रदेश भर की पुलिस को फुल तैयारी और हर परिस्थितियों से निपटने के आदेश जारी किये हैं।जिसको लेकर हापुड एस.पी. संजीव सुमन के निर्दैशानुसार और सी ओ गढमुक्तेश्वर पवन कुमार के निर्देशन में 
बहादुरगढ थाना प्रभारी नीरज कुमार कहा नेतृत्व में  संवेदनशील क्षेत्र  कस्बा बहादुरगढ और शेरपुर में चौकी प्रभारी अमित कुमार मय टीम , पलवाडा और पसवाडा में एस एस आई लाला राम शर्मा सदरपुर स्याना रोड पर एस आई सुरेन्द्र सिंह की टीम जबकि वैट रोड पर एस आई अजहर हसन की टीम को तैनात करते हुये। थाना प्रभारी खुद थाना मौबाइल से पैट्रोलिंग प्रातः 8 बजे से ही अलर्ट हैं। थाना प्रभारी नीरज कुमार का कहना है कि श्री राम मंदिर शिलान्यास होने के चलते सभी संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस तैनात है और अन्य स्थानों पर भी अगर कहीं किसी असामाजिक तत्वों ने शांति और अमन में  दखल दिया तो कडी कार्यवाही की जायेगी।         


यारों संग मिलकर बनाया याराना 'गैंग'

अतुल त्यागी


हापुड़ के पवन ने ‘यारों’ संग मिलकर बनाया ‘याराना गैंग’, हुए गिरफ्तार
हापुड़। जनपद की तहसील धौलाना के निवासी पवन को गाजियाबाद पुलिस ने चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया है। पवन पर अपने दोस्तों के साथ मिलकर स्कूटी और बाइक चोरी कर 500 रुपए में बेचने का आरोप है। गाजियाबाद नगर कोतवाली पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि वह जीटी रोड पर चैकिंग कर रही थी तभी स्कूटी पर सवार दो संदिग्ध आते दिखाई दिए जिसके बाद जब उन्हें रोका गया तो वह भागने लगे। स्कूटी फिसलने पर दोनों संदिग्ध पुलिस के हत्थे चढ़े जिनकी निशानदेही पर अंतरराज्यीय वाहन चोर गैंग का खुलासा हुआ। पुलिस के अनुसार पकड़े गए सभी आरोपी दोस्त हैं इसलिए इनके गैंग का नाम याराना गैंग है। इस गैंग के सरगना शिवम समेत पुलिस ने 6 आरोपियों की गिरफ्तार कर लिया है जिनसे सात वाहन और चाकू बरामद हुए हैं।             


मुस्लिम महिलाओं ने दरबार सजाया, आरती की

अश्वनी उपाध्याय


मेरठ। श्रीराम जन्मभूमि पूजन के अवसर पर मेरठ में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच महिला प्रकोष्ठ की ओर से मुस्लिम महिलाओं ने भगवान श्रीराम दरबार सजाया और आरती की। दीये जलाए और भगवा ध्वज लहराया।


मुस्लिम राष्ट्रीय मंच महिला प्रकोष्ठ की राष्ट्रीय संयोजिका शाहीन परवेज ने श्रीराम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर भगवान श्रीराम की आरती उतारी। खुशियां मनाई। घर में दीप प्रज्वलित कर खुशियों को बांटा। शाहीन परवेज ने कहा कि हमारी सब की पहचान श्रीराम से है।  श्रीराम हिंदू-मुसलमान सबके हैं और श्रीराम इमाम-ए-हिन्द है । हिन्दुस्तान की पहचान है। भारतीय संस्कृति की पहचान है। हिन्दुस्तानी मुसलमानों की पहचान श्रीराम इमाम-ए-हिंद से है। हमारे देश का भाईचारा, सांप्रदायिक सौहार्द हमेशा कायम है और रहेगा। हमें कोई नहीं बांट सकता।


वाराणसी में भी मुस्लिम महिलाओं ने की आरती


वाराणसी के लमही के इन्द्रेश नगर के सुभाष भवन में विशाल भारत संस्थान एवं मुस्लिम महिला फाउण्डेशन के संयुक्त तत्वावधान में ‘श्रीराम जन्मभूमि पूजनोत्सव’ का आयोजन सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुये किया गया। अयोध्या से लायी गयी श्रीराम जन्मभूमि की पवित्र मिट्टी दर्शन के लिये रखी गई। इस अवसर पर सुभाष भवन को झंडियों और हनुमान ध्वजा से सजाया गया। चित्रकार रूचि सिंह द्वारा बनाये गये भगवान श्रीराम, माता जानकी, हनुमान जी के चित्रों की प्रदर्शनी लगायी गई। मुस्लिम महिलाओं द्वारा तैयार किये गये सजावटी दीपों को जलाया गया। हिन्दू-मुस्लिम महिलाओं ने मिलकर श्रीराम के भजन गाये।


बालाजी मंदिर में हवन एवं प्रसाद वितरण

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। अयोध्या में लगभग पांच सौ साल बाद राम लला के मन्दिर  के शिलान्यास की शुरुआत के साथ ही गुलमोहर एन्क्लेव के लोगों में विशेष उत्साह देखने को मिला। पीएम मोदी द्वारा राम मंदिर शिलान्यास का पूजन शुरू किए जाने के साथ ही एन्क्लेव स्थित श्री शिव बालाजी धाम मन्दिर के प्रांगण में हवन की शुरुआत की गई। हवन की समाप्ति पर प्रसाद वितरण भी किया गया। बुधवार का दिन सभी रामभक्तों के लिए उत्साह से भरा हुआ रहा। अयोध्या में बहुप्रतीक्षित राम मंदिर के शिलान्यास के साथ ही पूरे देश भर में लोगों ने मिठाई बांटकर खुशी का इज़हार किया। वहीं महानगर के राकेश मार्ग स्थित गुलोमहर एन्कलेव में श्री शिव बालाजी न्यास ट्रस्ट द्वारा भी हवन व प्रसाद वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर श्री शिव बालाजी धाम मन्दिर में लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग के साथ हवन में आहुति दी। हवन की समाप्ति पर खीर-पूरी का प्रसाद भी वितरित किया।


इस अवसर पर ट्रस्ट के संस्थापक मनवीर चौधरी ने कहा कि आज का दिन प्रत्येक राम भक्त के लिए ऐतिहासिक है। राम मंदिर का शिलान्यास आने वाली पीढ़ियों के लिए हिंदुत्व की मजबूत नींव के रूप में स्थापित किया जा रहा है। अयोध्या में रामलला का मंदिर धर्म के प्रति आस्था का जीता जागता प्रमाण है। वहीं आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष सुरेंद्र राजपूत ने कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि लगभग पांच सौ साल से जिस राम मंदिर के लिए संघर्ष किया जा रहा था उसका निर्माण हमारे सामने ही हो रहा है। मीडिया प्रभारी गौरव बंसल ने कहा कि राम मंदिर के लिए बलिदान देने वाले लाखों रामभक्तों की आत्मा को राम मन्दिर के शिलान्यास के साथ ही शांति अवश्य मिली होगी। राम मन्दिर बनते देखना प्रत्येक हिन्दू के लिये गौरव की बात है।              


लेबनान में बड़ा धमाका, सैकड़ों की मौत

लेबनान। पश्चिमी एशिया में भूमध्य सागर के पूर्वी तट पर स्थित लेबनान पहले से ही कई मुश्किलों को झेल रहा है लेकिन मंगलवार को तबाही का ऐसा मंजर आया कि सब कुछ मानों मलबे में तब्दील हो गया। लेबनान की राजधानी बेरुत में एक बड़ा धमाका हुआ। लेबनान के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि अभी कम से कम 78 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है और करीब 4000 लोग जख़्मी हुए हैं। प्रधानमंत्री हसन दिआब ने बुधवार को राष्ट्रीय शोक दिवस की घोषणा की है।
घायलजॉर्डन की सिस्मोलॉजी ऑब्जरवेटरी के एक्सपर्ट इस धमाके की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.5 तीव्रता के भूकम्प से ज्यादा बता रहे हैं। धमाके ने 10 किलोमीटर से ज्यादा इलाका तबाह कर दिया है। ये धमाका हादसा है या आतंकी साजिश इस बारे में अभी पुख्ता जानकारी नहीं है। इस धमाके में करीब आधा शहर वीरान हो गया है। यहां की सड़कों पर लाशों के चीथड़े बिखरे हैं.पोर्ट के पास के इलाके के घर और बड़ी इमारतें मलबे का ढेर बन चुकी हैं।
घायलों को संभालने वाला कोई नहीं है क्योंकि अस्पतालों को भी बहुत नुकसान पहुंचा है और वहां जगह नहीं बची है। जिस विस्फोटक नाइट्रेट के स्टोर की बात कही जा रही है वो 2014 से ही यहां रखा था। समाचार एजेंसी एएफ़पी से एक चश्मदीद ने कहा कि आसपास की सभी इमारतें ध्वस्त हो गई हैं। चारों तरफ़ शीशे और मलबे बिखरे पड़े हैं। धमाके की आवाज़ पूर्वी भूमध्यसागर में 240 किलोमीटर दूर साइप्रस तक सुनाई पड़ी।


मुश्किलों में लेबनान
धमाके के बाद जो तस्वीरें और वीडियो सामने आए हैं उनमें न केवल धुएं के गुब्बार हैं बल्कि कई किलोमीटर तक तबाही के मंज़र भी हैं। इस धमाके ने पहले से ही आर्थिक संकट से परेशान लेबनान को सदमे में डाल दिया है। लेबनान की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है और सड़कों पर सरकार के ख़िलाफ़ लोग विरोध कर रहे हैं। धमाके के ठीक पहले सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच ऊर्जा मंत्रालय के बाहर हाथापाई हुई थी। लोग नेताओं की जवाबदेही तय करने की मांग कर रहे हैं। लेबनान का इसराइल के साथ भी सरहद पर तनाव चल रहा है। इसराइल ने पिछले हफ़्ते कहा था कि उसने अपने इलाक़े में हिजबुल्लाह की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया।           


बिहारः 38215 सैंपल की जांच हुई

पटना। बिहार राज्य में पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 38 हजार 215 सैंपल की जांच हुई, जिसमें 2464 नए संक्रमितों की पहचान की गई। सोमवार की तुलना में मंगलवार को राज्य की रिकवरी रेट भी 64 % से बढ़कर 65.71% हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों के प्रिंसिपल और सुपरिटेंडेंट के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। उन्होंने सभी कोविड-अस्पतालों में रोजाना हेल्थ बुलेटिन जारी करने का आदेश दिया।           


राजस्थानः जिम-योग सेंटर के लिए गाइडलाइन

जयपुर। राजस्थान राज्य सरकार ने जिम और योग सेंंटर खोलने का दिया हैं। राज्य गृह विभाग ने इसकी गाइडलाइन जारी कर दी है। इसके मुताबिक, जिम में रोजाना वर्कआउट करने वालों की संख्या 40 से घटाकर 15 कर दी है। वर्कआउट से पहले अपॉइंटमेंट लेना आवश्यक होगा। 6 फीट की सोशल डिस्टेंसिंग रखनी होगी। कंटेनमेंट जोन में जिम और योग केंद्र नहीं खोले जा सकेंगे।


              


अन्य की तुलना से भारत में जांच दर कम

हैदराबाद। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की मुख्य विज्ञानी सौम्या स्वामीनाथन ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस का प्रकोप रोकने के लिए लॉकडाउन एक तात्कालिक उपाय था। उन्होंने कहा कि भारत में जांच दर उन देशों की तुलना में कम है, जो इसे रोकने का सफल प्रयास कर रहे हैं।वीडियो कांफ्रेंस के जरिये बातचीत करते हुए स्वामीनाथन ने कहा कि इस समय कोविड-19 के 28 टीके क्लीनिकल ट्रायल के दौर में हैं। इनमें पांच वैक्सीनों का दूसरे चरण का परीक्षण चल रहा है। इसके अलावा दुनियाभर में डेढ़ सौ से ज्यादा वैक्सीनें क्लीनिकल परीक्षण से पहले के दौर में है।


उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर भारत में जर्मनी, ताइवान, दक्षिण कोरिया, जापान जैसे देशों की तुलना में जांच दर काफी कम है, जिन्होंने कोरोना वायरस का प्रसार रोकने में अच्छा प्रदर्शन किया है। यहां तक कि अमेरिका में भी बड़ी आबादी की जांच हो रही है।         


हाथियों के झुंड ने फसलें तबाह की

भंडरिया। (हजारीबाग) प्रखंड मुख्यालय से महज चार किलोमीटर की दूरी पर भंडरिया वन क्षेत्र के नौका गांव में सोमवार की रात हाथियों के एक झुंड ने दो घंटे तक जमकर फसलों को नुकसान पहुंचाया। हाथियों के झुंड द्वारा धान व मक्का की फसल को व्यापक पैमाने पर नुकसान पहुंचाया गया। हाथियों द्वारा इन्द्रदेव सिंह के 50 डिसमील में मक्का की फसल तथा 70 डिसमील में धान की फसल तथा गुड्डू सिंह के 20 डिसमील में मक्का की खेती को रौंदकर बर्बाद कर दिया। ग्रामीणों ने बताया कि हाथियों का झुंड आधी रात को जंगल से निकलकर बस्ती में आया तथा दो घंटे तक जमकर उत्पात मचाते हुए फसल को नष्ट करने के बाद वापस जंगल की ओर चले गए। ग्रामीणों ने बताया कि हाथियों के समूह में एक बच्चा हाथी भी शामिल है। हाथियों के चिघाड से आसपास के लोग दहशत में थे। लोग किसी तरह रात गुजारने को विवश थे। भुक्तभोगियों द्वारा मंगलवार की सुबह इसकी सूचना वन विभाग को दिया गया। साथ ही वन क्षेत्र पदाधिकारी के नाम आवेदन देकर मुआवजे की मांग की गई।             


पंजाब सरकार के खिलाफ बसपा का धरना

लुधियाना। पंजाब सरकार को हर फ्रंट पर फेल बताते हुए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने मिनी सचिवालय में प्रदर्शन किया। इस दौरान नारेबाजी कर सीएम का पुतला फूंक गया। इससेपहले प्रदर्शनकारी एसडीएम कार्यालय में घुस गए, जहां सुरक्षाकर्मियों ने बताया कि एसडीएम कार्यालय में नहीं है। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने मिनी सचिवालय परिसर में नारेबाजी जारी रखी। बसपा नेताओं ने कहा, सरकार नशा खत्म करने के लिए सत्ता में आई थी, लेकिन हालात इतने बिगड़ चुके हैं कि जहरीली शराब से सैकड़ों जानें चली गई। ऐसे में सरकार को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है।पंजाब सचिव गुरमेल सिंह ने कहा कि कैप्टन की ओर से गुटका साहिब हाथ में लेकर चार सप्ताह में नशा खत्म करने की शपथ ली थी, लेकिन आज पंजाब किस दौर से गुजर रहा है सब जानते हैं। प्रगण बिलगा ने कहा कि प्रदेश में जहरीली शराब का दंश झेल रहे लोगो से उनकी व्यथा सुनकर दिन कांप उठता है। मौके पर जिलाध्यक्ष जीतराम बसरा, बूटा सिंह, जसपाल सिंह, नरेश बसरा, निर्मल सिंह, मंजीत सिंह उपस्थित रहे। जहरीली शराब से मौतों की जिम्मेदार सरकार : इंकलाबी केंद्र


जगराऔः इंकलाबी केंद्र के प्रधान नारायण दत्त व महासचिव कंवलजीत खन्ना ने कहा कि तरनतारन की गोरपुरा बस्ती में रिक्शा चालक की जहरीली शराब पीने से मौत हो गई। सदमे में उसकी पत्नी ने हार्टअटैक से दम तोड़ दिया। इसके कारण पांच से 11 वर्ष के चार बच्चे अनाथ हो गए। नेताओं ने कहा कि मुख्यमंत्री दो वर्ष पहले हाथों में गुटका साहिब पकड़ चार हफ्ते में नशा खत्म करने का दावा करते हैं, लेकिन राज्य में सरेआम नशा सप्लाई हो रहा। उन्होंने कहा, जहरीली शराब से मौतों की जिम्मेदार सिर्फ सरकार ही है। इसके चलते एक बार फिर जबरदस्त नशा विरोधी लहर की शुरुआत की जाएगी।           


13 हजार वाहन स्वामियों को भेजेंगे नोटिस

विजय भाटी


गौतम बुध नगर। परिवहन विभाग की ओर से जल्द ही शेष करीब 13 हजार पुराने पेट्रोल व डीजल वाहन के स्वामियों को नोटिस भेजा जाएगा। इन वाहन स्वामियों को पुराने वाहनों के कागज कार्यालय में जमा कराने होंगे। इसके बाद वह अन्य जिलों में संचालन के लिए एनओसी प्राप्त कर सकते हैं। नोटिस का जवाब न देने पर इनके वाहनों के पंजीयन चिह्न निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी। पिछले दिनों विभाग की ओर से 21,572 वाहनों के पंजीयन निरस्त किए गए थे।


पिछले वर्ष पर्यावरण संरक्षण के मद्देनजर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने दिल्ली-एनसीआर में 10 वर्ष पुराने डीजल व 15 वर्ष पुराने पेट्रोल वाहनों के संचालन पर रोक लगाने के आदेश दिए थे। एनजीटी के आदेश के बाद परिवहन विभाग लगातार ऐसे वाहनों को सूचीबद्ध करने का काम कर रहा था। गौतमबुद्ध नगर में करीब 50 हजार ऐसे वाहन हैं। इसमें से करीब 10,300 वाहनों के पंजीयन पिछले वर्ष निरस्त कर दिए गए थे। पिछले हफ्ते 21, 572 वाहनों पर कार्रवाई हुई है। अब बाकी वाहनों के स्वामियों को नोटिस भेजने की तैयारी पूरी हो गई है।             


ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी से बड़ा संक्रमण

सहरसा। सामुदायिक स्वास्थ केंद्र नवहट्टा में हुई जांच में 22 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है। ग्रामीण इलाके में एक दिन की जांच में यह सर्वाधिक संख्या मिली है। केयर इंडिया के समीर चंचल ने बताया कि 125 लोगों की जांच की गई। जिसमें 22 लोग पॉजिटिव पाए गए है। सभी लोग प्रखंड मुख्यालय बाजार के ही हैं। बीडीओ विवेक रंजन ने कोरोना से बचने के लिए एक गज की दूरी और मास्क पहनने की अपील की है। सीओ अबु अफसर ने मास्क नहीं पहनने वालों के विरुद्ध अभियान चलाकर जुर्माना वसूला जाएगा।         


   


ई मंच से पर्यावरण संरक्षण संदेश दिया

फतेहाबाद। सेठ बद्री प्रसाद डीएवी स्कूल फतेहाबाद के बच्चों ने ई मंच से वनमहोत्सव सप्ताह मनाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। विद्यालय की प्राचार्या सुनीता मदान ने बताया कि डीएवी स्कूल में प्रतिवर्ष जुलाई माह के अंतिम सप्ताह को हरित सप्ताह के रूप में मनाया जाता है। अब जबकि महामारी के चलते स्कूल बंद हैं तो बच्चों ने ई मंच के माध्यम से ही पर्यावरण संरक्षण का संदेश सब तक पहुंचाया। उन्होंने बताया कि इस सप्ताह के दौरान बच्चों के लिए अनेक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। विषय था “तरवे नम:'' जिसके तहत कविता पठन, भाषण प्रतियोगिता, परिवार नाटिका, मोनोएक्टिग, कहानी कहो, पावर प्वाइंट प्रस्तुति का आयोजन किया गया। बच्चों ने इन विषयों पर अपनी अपनी प्रस्तुति वीडियो के माध्यम से भेजी। उन्होंने अपनी प्रस्तुति में विशेष संदेश देते हुए कहा कि पर्यावरण संतुलित है तो हम सुरक्षित हैं। हमारी आने वाली पीढ़ी सुरक्षित है। हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाकर व अन्य तरीकों से धरती को प्रदूषण मुक्त रखने की कोशिश करनी चाहिए।


रवि चौहान


थैलेसीमिया पीड़ितो के लिए रक्तदान शिविर

करनाल। जननायक जनता पार्टी के छात्र संगठन इनसो की ओर से लगाए गए रक्तदान शिविर में पहुंचे जजपा प्रदेश अध्यक्ष निशान सिंह कांबोज ने कहा कि रक्तदान करने वाला व्यक्ति महान होता है। रक्तदान करके हम कई महत्वपूर्ण जिदगियां बचा सकते हैं और इससे बड़ा पुण्य कार्य और कोई नहीं हो सकता। इनसो ने स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में थैलीसीमिया पीड़ित बच्चों की मदद के लिए रक्तदान शिविर लगाकर सराहनीय काम किया है। निशान सिंह कांबोज ने रक्तदाताओं को प्रोत्साहित किया। शिविर इनसो जिला प्रधान राहुल तोमर की अध्यक्षता में लगाया गया। इसके बाद मीडिया से बातचीत में जजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि नए संगठन का गठन जल्द किया जाएगा। रक्तदान शिविर में लगभग 150 यूनिट रक्तदान हुआ। इससे पहले सेवा समिति आश्रम के प्रांगण में पौधे रोपित किए गए। इनसो की ओर से जिला प्रधान राहुल तोमर व महासचिव गौरव खैंची ने अतिथिगणों को स्मृति चिह्न भेंट किए गए। इस अवसर पर राष्ट्रीय महासचिव बृज शमर, जिला प्रधान प्रेम शाहपुर, जिला प्रवक्ता यशकरण राणा, नफेसिंह मान, पूर्व विधायक रमेश खटक, विनोद रायपुर, इनसो प्रभारी जयदेव, अमनदीप चावला हलका प्रधान करनाल, गुरदेव रंबा हलका प्रधान इंद्री, राजपाल कैमला हलका प्रधान घरौंडा, धर्मवीर पाढा हलका प्रधान असंध, इंद्रजीत गोराया मौजूद रहे।           


निजीकरण के विरोध में धरना-प्रदर्शन किया

भिवानी। ट्रांसपोर्ट फेडरेशनों के राष्ट्रीय मंच के आह्वान पर डिपो तालमेल कमेटी ने निजीकरण के विरोध में विरोध प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन की अध्यक्षता डिपो प्रधान सज्जन शर्मा राजेश शर्मा व पवन फोगाट ने की। राज्य कमेटी के नेता नरेंद्र दिनोद ओम प्रकाश ग्रेवाल ने कहा कि सरकार सार्वजनिक परिवहन के क्षेत्र को निजी हाथों में सौंपना चाहती है इसके अलावा कर्मचारियों को समय पर वेतन नहीं मिलने, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी, निजीकरण एवं मोटर व्हीकल एक्ट व श्रम कानूनों में बदलाव के विरोध में व सभी सहमत मांगों को लागू करवाने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। 11 अगस्त को निजीकरण के विरोध में कर्मचारियों की मांगों के लिए सुबह 10:00 से शाम 4:00 बजे तक 1 दिन का सांकेतिक धरना दिया जाएगा। सरकार कर्मचारियों की नहीं सुनती है तो आगे और भी बड़ा आंदोलन करने पर कर्मचारी मजबूर होंगे। इस मौके पर ईश्वर तालु, पवन शर्मा, इंदर सिंह , संजय सांगवान, जसवंत सिंह , राजेश गोयत, अनिल नागर, राजेंद्र बडेसरा, जय सिंह तालू , प्रदीप दुग्गल आदि शामिल रहे।


धर्मेंद्र त्यागी              



अनदेखी के खिलाफ धरना-प्रदर्शन जारी रहा

अल्मोड़ा। शिक्षा विभाग में प्रधान सहायक के पदों पर पदोन्नति सूची जारी करने समेत अन्य लंबित प्रकरणों के जल्द समाधान को लेकर एजुकेशनल मिनिस्ट्रीयल एसोसिएशन का धरना-प्रदर्शन मंगलवार को भी जारी रहा। स्पष्ट किया कि कर्मचारियों के हितों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।


संगठन के पदाधिकारियों व सदस्यों ने अवकाश लेकर मुख्य शिक्षा अधिकारी कार्यालय परिसर में धरना दिया। भर्ती वर्ष व्यतीत होने के बाद भी पदोन्नति सूची जारी नहीं होने को कर्मचारियों के हितों की अनदेखी बताया। मुख्य प्रशासनिक अधिकारी, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी तथा प्रशासनिक अधिकारी के पदोन्नति संशोधन के प्रकरणों का भी अविलंब निस्तारण की मांग उठाई गई। धरने पर मंडलीय सचिव धीरेंद्र कुमार पाठक, जिलाध्यक्ष पुष्कर सिंह भैसोड़ा जगदीश सिंह सोनाल , अर्जुन सिंह नेगी,योगेंद्र सिंह बिष्ट, दीप पांडे, हयात सिंह, योगेश तिवारी, नरेंद्र नेगी, राजेंद्र सिंह नेगी आदि बैठे।     


त्रिवेंद्र तिवारी     


मेट्रो संचालन को लेकर सरगर्मी तेज

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। दिल्ली मेट्रो का परिचालन शुरू करने को लेकर एक बार फिर सरगर्मी तेज हो गई है। खास बात यह है कि इस बार केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय ने भी जल्द परिचालन शुरू करने के संकेत दिए हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि 15 अगस्त के बाद कभी भी दिल्ली मेट्रो का परिचालन शुरू हो सकता है। लेकिन, शुरुआत में मेट्रो में हर किसी को सफर करने की इजाजत नहीं होगी। सिर्फ सरकारी कर्मचारी, स्वास्थ्य कर्मचारी व कुछ जरूरी सेवाओं से संबंधित पेशेवर लोग ही मेट्रो में सफर कर पाएंगे।


कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण 22 मार्च से मेट्रो का परिचालन ठप पड़ा है। इस वजह से दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) को हर माह करीब 300 करोड़ रुपये का नुकसान हो रहा है। इस तरह साढ़े चार माह में करीब 1350 करोड़ रुपये का आर्थिक नुकसान हो चुका है। दिल्ली सरकार भी जल्द मेट्रो का परिचालन शुरू करने के पक्ष में रही है। पहले के मुकाबले दिल्ली में कोरोना के मामलों में काफी कमी आ चुकी है। इसलिए मेट्रो का परिचालन शुरू करने की जरूरत महसूस की जा रही है। केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने एक बयान में कहा है कि एक-दो सप्ताह में मेट्रो परिचालन का दिशा-निर्देश तैयार हो जाएगा। डीएमआरसी के अधिकारी कहते हैं कि दुनिया के कई शहरों में मेट्रो का परिचालन हो रहा है, जिसमें कम क्षमता में यात्रियों को सफर करने की अनुमति है। इसलिए यहां भी 50 फीसद या उससे भी कम क्षमता के साथ परिचालन शुरू होगा। परिचालन शुरू होने पर मेट्रो में यात्रियों को शारीरिक दूरी के नियम का पालन करना होगा, इसलिए एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था होगी। इसके अलावा स्मार्ट कार्ड से ही यात्री सफर कर पाएंगे।         


पूजा में शामिल महिला ने फैलाया संक्रमण

पिथौरागढ़। सीमांत जिले पिथौरागढ़ में मंगलवार को 17 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। पिथौरागढ़-टनकपुर एनएच पर जिला मुख्यालय से सात किलोमीटर दूर एक गांव में कुछ रोज पूर्व एक महिला कोरोना संक्रमित पाई गई थी। यह महिला निकटवर्ती एक गांव में आयोजित पूजा में शामिल हुई थी। इस महिला के संपर्क में आए लोगों का पता लगाए जाने के बाद 50 के सैंपल भेजे गए थे। इनमें से आठ लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। शेष लोगों की रिपोर्ट निगेटिव है। नगर से 10 किमी. दूर एक गांव में तीन लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। भारत नेपाल सीमा पर स्थित कस्बे में बंगलुरु से लौटे एक युवक में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। यह युवक जिले में वापस लौटने के बाद से क्वारंटाइन था। वहीं जिला अस्पतला में आइसोलेट किए गए पांच लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। जिसका पता लगाया जा रहा है। जिले में अब कोरोना संक्रमण के 186 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। जिले में वर्तमान में संक्रमण के 87 एक्टिव केस है। मंगलवार को नौ लोग स्वस्थ होकर घर लौट गए।           


गूगल में लेटेस्ट किफायती फोन लांच किया

कविता गर्ग


नई दिल्ली। गूगल का लेटेस्ट किफायती स्मार्टफोन Google Pixel 4a लॉन्च हो गया है। हालांकि इस शानदार फोन के लीक्स पहले ही लोगों के सामने आ गए थे। पहले इस फोन को मई में लॉन्च किया जाना था मगर कोरोना के चलते इसकी लॉन्चिंग टल गई थी।


इस फोन का लोगों को बेसब्री से इंतजार था। अब इस फोन को अब लॉन्च किया गया है। भारत में ये फोन अक्टूबर से मिलना शुरू हो जाएगा। जानकारी के मुताबिक Google Pixel 4a एंड्राइड 10 पर ऑपरेट होगा। इसके साथ लेटेस्ट सिक्योरिटी पिच, होल-पंच डिज़ाइन के साथ 5.8 इंच फुल-एचडी+ डिस्प्ले, ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 730जी प्रोसेसर, एड्रेनो 618 जीपीयू दिया है। स्टोरेज की बात करें तो फोन में 6 जीबी रैम के साथ 64 जीबी और 128 इंटरनल स्पेस के दो वेरियंट दिए गए हैं। इसके साथ ही फोन में 12.2 मेगापिक्सल का सेंसर और 8 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा दिया गया है। फोन में 3,080 एमएएच बैटरी दी गई है जोकि 18 वाट फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है। फोन के 64 जीबी वेरियंट की कीमत लगभग 22,400 रुपये (299 डॉलर) और 128 जीबी वेरियंट की कीमत $349(लगभग 26,100 रुपये) बताई गई है।            


बीएसएनएल ने सस्ता प्लान किया लॉन्च

कविता गर्ग


नई दिल्ली। सरकारी टेलिकॉम कंपनी BSNL ने 74 वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने यूजर्स के लिए नया प्रीपेड प्लान लॉन्च किया गया है। BSNL का नया 147 रुपये वाला प्लान अनलिमिटिड लोकल और एसटीडी वॉयस कॉल के साथ आता है। इसमें हर दिन FUP लिमिटड 250 मिनट है। कंपनी MTNL नेटवर्क पर भी फ्री कॉलिंग की सुविधा दे रही है। इस प्लान में 10GB डाटा के अलावा यूजर्स को इसमें फ्री BSNL ट्यून्स की सुविधा मिलेगी। इस प्लान की वैधता 30 दिनों की है।


इसके अलावा BSNL ने अपने 247 रुपये और 1,999 रुपये वाले प्लान में भी बदलाव किया है। इसके तहत इस प्लान को 1 अगस्त से 31 अगस्त के बीच रिचार्ज करवाने पर यूजर्स को 74 दिनों की एक्स्ट्रा वैलिडिटी मिलेगी। बता दें कि 1,999 रुपये वाले प्लान की वैधता 365 दिनों की है। इसमें 3GB डेली डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग का लाभ मिलेगा। ग्राहकों को लुभाने के लिए इस चुनिंदा प्लान के साथ Eros Now सब्सक्रिप्शन को जोड़ा गया है। वहीं BSNL ने 551, 447, 249 और 78 रुपए के प्रीपेड रीचार्ज प्लान को बंद कर दिया है।


गौरतलब है कि BSNL ने हाल ही में 600 रुपये वाले ब्रॉडबैंड प्लान में बदलाव करते हुए इसकी वैधता को तीन महीने के लिए बढ़ा दिया है। इससे पहले इस प्लान को 27 जुलाई तक के लिए पेश किया गया था, लेकिन अब इसका फायदा ग्राहक 27 अक्टूबर तक उठा सकते हैं। इस प्लान में यूजर्स को 300 जीबी हाई-स्पीड डेटा के साथ अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग की सुविधा। इस बदलाव की जानकारी BSNL Bharat Fiber की वेबसाइट से मिली है। ध्यान रहे कि इस प्लान के तहत यूज़र्स को 40Mbps की स्पीड में डेटा के साथ अनलिमिटेड वॉयस लोकल और एसटीडी कॉल सपोर्ट मिलेगा, लेकिन 300 जीबी डेटा खत्म होने के बाद इसकी स्पीड घटकर 40Mbps से 2Mbps की हो जाएगी।               


 


दशरथ समाधि पर युवक की डूबने से मौत

बाढ़ के पानी में डूबने से युवक की हुई मौत।


अयोध्या। जिले के थाना महाराजगंज क्षेत्र अंतर्गत पुलिस चौकी पूरा बाजार के राजा दशरथ समाधि स्थल पूरा बाजार के पास सरजू नदी में आई बाढ़ के पानी में युवक डूबने से हुई मौत। मंगलवार सुबह लगभग 11:30 बजे अवनीश पुत्र ओंकार उम्र लगभग 26 वर्ष निवासी भटासा थाना कायमगंज जिला फर्रुखाबाद का सरजू में आई बाढ़ के पानी में स्नान करते समय राजा दशरथ समाधि स्थल के पास गहरे पानी में डूब गया उसके साथियों ने बताया कि हम लोग पूरा बाजार में मनीष बेकरी पर काम करते हैं, सुबह लगभग 10:11 के बीच दशरथ समाधि स्थल देखने आए तो अवनश नदी के पानी में स्नान करने की जिद करने लगा हम लोगो के मना करने के बाद भी वह पानी में कूद गया और डूबने लगा जब हम लोगों ने चीख-पुकार की तो स्थानीय लोगों के पहुंचने से पहले ही वह पानी में डूब चुका था युवक।


चौकी प्रभारी पूराबाजार मनोज कुमार सिंह ने बताया कि युवक की तलाश स्थानीय गोताखोरों द्वारा किया जा रहा है पानी का बहाव तेज होने के कारण सफलता नहीं मिल पा रही है  काफी खोजने के बाद शाम लगभग 4:30 बजे लाभ मिला इसका पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।                 


केंद्रीय राज्यमंत्री से न्याय की गुहार लगाई

बाडमेर। पुलिस थाना गिड़ा के परेऊ गांव निवासी पुरखाराम पुत्र जेठाराम मेघवाल खुद के पिताजी के नाम वर्ष 1981.82 का पट्टा का प्लॉट मेघवालों की बस्ती में आया हुआ है। जिसमें पत्थर व बजरी पिछले कुछ वर्षों से प्लॉट में डाल रखे थे। 28 जुलाई को जबरन प्लॉट पर कब्जा कर ट्रैक्टर की टोलियां भरकर पत्थर चोरी कर ले गए। जिसकी दो बार नामजद रिपोर्ट पुलिस थाना गिड़ा में पेश होकर दी गई। लेकिन गिड़ा पुलिस ने 3 दिन तक कोई भी कार्रवाई नहीं की पीड़ित पक्ष ने बाड़मेर पुलिस अधीक्षक से मिलकर न्याय की मांग की तब गिड़ा पुलिस ने मात्र पाबंद करने की कार्रवाई की लेकिन पटा शुदा प्लॉट में अतिक्रमण हटाने की वह प्लॉट से ट्रैक्टर की टोलियां भरकर पत्थर चोरी की जिसकी लिखित रिपोर्ट देने के बावजूद भी सोमवार 5.00 बजे तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। पीड़ित परिवार पिछले सप्ताह भर से न्याय के खातिर दर.दर की ठोकरें खा रहा है। न्याय तो दूर की बात गिड़ा पुलिस ने रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की। पीड़ित परिवार ने बताया कि मैं गरीब परिवार से हूं मेरी कोई राजनीतिक ऐपरोज नहीं है। प्लॉट पर कब्जा करने वाले खुद के ट्रैक्टर से पत्थर चुराने वाले पैसे वाले हैं खुद के पास पेट्रोल पंप है खुद राशन डीलर है इतना ही नहीं पुलिस थाना गिड़ा के सीएलजी मेंबर है। राजनीति ऐपरोज के चलते गरीबों को न्याय नहीं मिल रहा है। जिसके चलते आज सोमवार को केंद्रीय राज्य कृषि मंत्री कैलाश चौधरी से बालोतरा निवास स्थान पर पीड़ित परिवार के लोगो  ने मिलकर न्याय की मांग की चौधरी मंत्री ने भरोसा दिलाया कि गरीबों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा आपके पास सबूत के तौर पर प्लॉट का पट्टा है कई वर्षों से आप ने कब्जा कर रखा है। इसीलिए पुलिस प्रशासन को नियम अनुसार कार्रवाई करने को लेकर अवगत करवाकर भरोसा जताया।             


12 वर्षीय बच्ची ने मां-बाप से फिरौती मांगी

12 साल की नाबालिक लड़की ने अपने ही माता-पिता से मांगी फिरौती,पैसे नही मिलने पर जान से मारने की धमकी


मुंबई। देश की आर्थिक राजधानी में परेशान लड़की ने माता-पिता को धमकी भरा ई-मेल भेज कर लाखों की फिरौती की मांग की। नाबालिग का कहना था कि उसके माता-पिता उस पर ध्यान नहीं देते थे इसलिए उन्हे सबक सिखाने के लिए उसने ऐसा किया। ई-मेल के जरिए दी गई धमकी में पैसा नहीं मिलने पर जान से मारने की धमकी दी गई थी। पुलिस ने मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि लड़की के पिता पेशे से बैंकर हैं। मोबाइल फोन का इस्तेमाल बैंकर की 12 साल की बेटी करती थी। उसने अपने माता-पिता की उपस्थिति में कबूल किया कि सारे ई-मेल उसी ने भेजे थे।
EOW ने शुरू की थी जांच
मुंबई पुलिस की अपराध शाखा (Crime Branch) ने केस हाथ में लेते हुए भारतीय दंड संहिता ( IPC) की धारा-387 (व्यक्ति को जान से मारने का भय या फिरौती के लिए नुकसान पहुंचाने की धमकी) के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी। उन्होंने बताया कि 21 जून को बैंकर ने बोरिवली पुलिस से संपर्क कर उसे और उसकी पत्नी को फिरौती की धमकी मिलने की शिकायत की जिसके बाद अपराध शाखा की नौवीं इकाई ने अपनी जांच शुरू की। अधिकारी ने बताया कि तकनीकी जांंच से पता चला कि ई-मेल बैंकर के मोबाइल फोन से भेजे गए हैं और यहां तक फिरौती के लिए भेजे गए तीनों ई-मेल का पता एक ही था।
पहचान का सस्पेंस
अधिकारी ने बताया कि ई-मेल भेजने वाले ने खुद को चीनी नागरिक बताया था, जो शिकायतकर्ता के परिवार के सभी सदस्यों को जानता था , और इस नोट के साथ एक लाख रुपये की मांग की। यह ई-मेल अलग-अलग आईडी से भेजी गई।” लेकिन धीरे- धीरे फिरौती मांगने वाले ने इस रकम को बढ़ाकर 1.2 करोड़ रुपये कर दिया और मांग पूरी नहीं होने पर शिकायतकर्ता, उसकी पत्नी और दोनों बेटियों को जान से मारने की धमकी दी गई थी।
असुरक्षा की भावना बनी वजह
पुलिस टीम के मुताबिक, ”लड़की ने बताया कि उसे लगता है कि उसके माता-पिता उस पर ध्यान नहीं देते बल्कि चार साल की उसकी बहन से ज्यादा प्यार करते हैं। ” उसे लगा था कि बार-बार की डांट का बदला लेने के लिए इस तरह मेल भेजना सही रहेगा। अधिकारी ने बताया कि लड़की के माता-पिता ने आगे की कार्रवाई करने से इनकार कर दिया।              


तमंचे के बल पर रेप, पुलिस बनी उदार

दबंगों ने तमंचे की नोक पर किया बलात्कार….
पुलिस पर बलात्कारियो का साथ देने का आरोप


सुरेश उपाध्याय


हमीरपुर। जनपद के थाना जरिया क्षेत्र अंतर्गत आने वाले एक ग्राम में जहाँ एक महिला ने दो दबंग युवकों पर तमंचा लगाकर बलात्कार करने का आरोप लगाया है, वहीं पुलिस का कहना है कि ये दो पक्षों के बीच पुरानी रंजिश में हुए विवाद का मामला है। दोनों पक्षों ने एक दूसरे के विरुद्ध तहरीर दी है, मामले की जांच की जा रही है। पीड़ित महिला ने बताया की 3 अगस्त को जब वह घर में अकेली थी तभी गांव का अखिलेश राजपूत व नरेन्द्र लोहार, कुछ अज्ञात व्यक्तिओं के साथ तमंचा लेकर उसके घर आए और गाली गलौच करने लगे और नरेन्द्र ने जमीन पर गिराकर उसके साथ बलात्कार किया। घटना के समय ही उसका पति आ गया तो आरोपीयों ने पति के साथ भी मारपीट की और जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गए। महिला का आरोप है कि जब वह अपनी शिक़ायत लेकर थाने गई तो पुलिस ने रात्रि में 12 बजे तक बिठा कर रखा, समझौता के लिए दबाव बनाने लगे और समझौता ना करने पर उल्टा जेल भेजने की धमकी भी दे डाली। महिला न्याय पाने के लिए अधिकारियों की चौखट पर भटक रही है अब देखना यह की आखिर कब तक पीड़ित महिला को न्याय मिल पाता है।
दूसरी ओर अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार का कहना है कि काफी समय से दोनों पक्षों में रंजिश चली आ रही है जिसको लेकर एक दूसरे के ऊपर आरोप लगाए जा रहे हैं, दोनों की तहरीर पर पहले ही मुकदमा पंजीकृत है फिर भी जांच कराई जा रही है।


सुशांत केस की सीबीआई जांच करेगी

मनोज सिंह ठाकुर


नई दिल्ली। सुशांत सिंह राजपूत केस में बिहार सरकार ने मंगलवार को सीबीआई जांच की सिफारिश केंद्र को भेजी थी। अब केंद्र ने बिहार सरकार की ये सिफारिश मंजूर कर ली है। सुप्रीम कोर्ट में केंद्र ने बताया कि उन्होंने सुशांत केस की जांच सीबीआई को ट्रांसफर कर दी है। अब इस केस की सीबीआई जांच करेगी। लंबे समय से सोशल मीडिया पर इस केस की सीबीआई से जांच कराने की मांग हो रही थी। दूसरी तरफ, सुशांत सिंह राजपूत मामले में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में जारी है। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस ऋषिकेश राय की सिंगल बेंच में रिया चक्रवर्ती की याचिका 11वें नंबर पर सूचीबद्ध है।


मालूम हो कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बिहार के राजीव नगर थाने में केस दर्ज कराया था। उन्होंने रिया पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। इसके बाद रिया ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। रिया ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। रिया ने बिहार में दर्ज केस को मुंबई ट्रांसफर करने की मांग की थी।


रिया के वकील ने CBI जांच की सिफारिश पर उठाए थे सवाल


रिया के वकील ने कहा- रिया ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी जिसमें कहा गया था कि इस केस की जांच करना बिहार पुलिस के अधिकार क्षेत्र में नहीं आता, ये याचिका सुप्रीम कोर्ट में जारी रहेगी। इस केस में बिहार पुलिस के जुड़ने का कोई कानूनी आधार नहीं है। ज्यादा से ज्यादा ये जीरो एफआईआर होगी और इसे मुंबई पुलिस को ट्रांसफर कर दिया जाएगा। हमने ये महसूस किया है क्योंकि बिहार पुलिस को केस की जांच का हक नहीं था इसलिए उन्होंने जांच के लिए गलत तरीके का इस्तेमाल किया।


महाराष्ट्र के पूर्व कांग्रेसी सीएम का निधन

रोनक डे


मुंबई। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता शिवाजीराव पाटिल निलांगेकर का बुधवार को निधन हो गया। 88 वर्षीय शिवाजीराव पाटिल की तबीयत कुछ दिनों से खराब थी। उन्होंने आखिरी सांस पुणे में ली। शिवाजीराव पाटिल निलांगेकर 3 जून 1985 से 6 मार्च 1986 तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री थे।


शिवाजीराव पाटिल निलांगेकर को पिछले दिनों सांस लेने में तकलीफ के बाद हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था। इसके बाद उनका कोरोना टेस्ट कराया गया था, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। तब से वह हॉस्पिटल में भर्ती थे। हालांकि, दो दिन पहले उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी। अभी मौत के कारण का पता नहीं चल पाया है। शिवाजीराव पाटिल बड़े कांग्रेसी नेता थे और वह 3 जून 1985 से 6 मार्च 1986 के बीच मुख्यमंत्री रहे थे। एमडी की परीक्षाओं में बेटी के अंक को लेकर हुए फर्जीवाड़े के बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने शिवाजीराव पाटिल के खिलाफ सख्त फैसला सुनाया था। इसके बाद शिवाजीराव पाटिल ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।


शिवाजीराव पाटिल ने 1968 में महाराष्ट्र एजुकेशन ट्रस्ट की स्थापना की थी। अपने एजुकेशन सोसायटी के तहत उन्होंने चार कॉलेजों, 12 उच्चतर माध्यमिक स्कूलों और 15 प्राथमिक स्कूलों की स्थापना की थी। महाराष्ट्र फार्मेसी कॉलेज, निलंगा को 1984 में स्थापित किया गया था। शिवाजीराव पाटिल का जन्म निलंगा में हुआ था।


52508 नए संक्रमित, 857 की मौत

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 52,508 नए मामले सामने आए और 857 लोगों की मौत हुई। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 52,508 नए मामले सामने आए हैं और 857 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद देशभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 19,08,254 हो गई है, जिनमें से 5,86,244 सक्रिय मामले हैं, 12,82,215 लोग ठीक हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और अब तक 39,795 लोगों की मौत हो चुकी है।              


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)


 अगस्त 06, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-357 (साल-01)
2. बृहस्पतिवार, अगस्त 06, 2020
3. शक-1943, भाद्रपद, कृष्ण-पक्ष, तिथि-तीज, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:20,सूर्यास्त 07:18।


5. न्‍यूनतम तापमान 24+ डी.सै.,अधिकतम-38+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)             


सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...