शनिवार, 5 अगस्त 2023

नूंह में दो दर्जन स्थानों पर चला बुलडोजर

नूंह में दो दर्जन स्थानों पर चला बुलडोजर  

राजेश ओबरॉय 
चंडीगढ़। हरियाणा के नूंह में हुई हिंसा के बाद जिला प्रशासन की अवैध निर्माण के खिलाफ चल रही कार्रवाई आज तीसरे दिन भी जारी रही। बता दें आज सुबह लगभग दो दर्जन मेडिकल स्टोर और अन्य दुकानों को ढहाया गया। प्रशासन ने गुरुवार शाम को हिंसा प्रभावित नूंह से करीब 20 किमी दूर तावड़ू में सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर रहने वाले अप्रवासियों की झोपड़ियों को तोड़ दिया था।  
वहीं नूंह में नलहड़ के शहीद हसन खान मेवाती सरकारी मेडिकल कॉलेज में भारी पुलिस तैनाती के बीच अस्पताल के मुख्य प्रवेश द्वार के सामने स्थित लगभग दो दर्जन दुकानों, जिनमें ज्यादातर फार्मेसी थीं, को ध्वस्त करने के लिए बुलडोजर चलाया गया। बता दें ये दुकानें वहां सालों से हैं। बता दें कि शुक्रवार को भी दिन भर अलग-अलग जगहों पर बुलडोजर की कार्रवाई जारी रही थी। वहीं, जिला प्रशासन की टीमें मौके पर मौजूद रहीं थीं। अलग-अलग इलाकों में अब तक 50 से 60 निर्माण तोड़े जा चुके हैं। वहीं गिरफ्तारी के डर से कई लोग भाग गए हैं। 
सूत्रों के मुताबिक जिला प्रशासन ने उन सभी अवैध कब्जों को हटाना शुरू कर दिया है, जिन्हें पिछले कई सालों से नहीं हटाया जा सका था। स्थानीय विधायक और कांग्रेस विधायक दल के उपनेता आफताब अहमद ने इस तरह की कार्रवाई पर विरोध जताया है।

'चंद्रयान-3' ने चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश किया

'चंद्रयान-3' ने चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश किया 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। चंद्रयान-3 ने 22 दिन के सफर के बाद आज शाम करीब 7:15 बजे चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश किया। 14 जुलाई को ये पृथ्वी से लॉन्च हुआ था। यान चंद्रमा की ग्रैविटी में कैप्चर हो सके इसके लिए यान की स्पीड कम की गई। स्पीड कम करने के लिए इसरो वैज्ञानिकों ने यान के थ्रस्टर कुछ देर के लिए फायर किए। इसरो ने X पोस्ट में इसकी जानकारी दी। 
इसरो ने X पोस्ट में लिखा, 'MOX, ISTRAC, दिस इज चंद्रयान-3। मैं चंद्र गुरुत्वाकर्षण महसूस कर रहा हूं। चंद्रयान-3 सफलतापूर्वक चंद्रमा की कक्षा में स्थापित हो गया है। अब 6 अगस्त 2023 को रात करीब 11 बजे चंद्रयान की ऑर्बिट को कम किया जाएगा।' लैंडिंग से पहले चंद्रयान अब 4 बार अपनी ऑर्बिट बदलेगा। 1 अगस्त को रात करीब 12 बजे चंद्रयान-3 को पृथ्वी की ऑर्बिट से चांद की तरफ भेजा गया था। इसे ट्रांसलूनर इंजेक्शन कहा जाता है। इससे पहले चंद्रयान ऐसी अंडाकार कक्षा में घूम रहा था, जिसकी पृथ्वी से सबसे कम दूरी 236 km और सबसे ज्यादा दूरी 1 लाख 27 हजार 603 किलोमीटर थी। ये 23 अगस्त को चंद्रमा पर लैंड करेगा। ट्रांसलूनर इंजेक्शन के लिए बेंगलुरु में मौजूद इसरो के हेडक्वार्टर से वैज्ञानिकों ने चंद्रयान का इंजन कुछ देर के लिए चालू किया था। इंजन फायरिंग तब की गई जब चंद्रयान पृथ्वी से 236 km की दूरी पर था। इसरो ने कहा- चंद्रयान-3 पृथ्वी के चारों ओर अपनी परिक्रमा पूरी कर चंद्रमा की ओर बढ़ रहा है। इसरो ने अंतरिक्ष यान को ट्रांसलूनर कक्षा में स्थापित कर दिया है। 
चंद्रयान-3 में लैंडर, रोवर और प्रोपल्शन मॉड्यूल हैं। लैंडर और रोवर चांद के साउथ पोल पर उतरेंगे और 14 दिन तक वहां प्रयोग करेंगे। प्रोपल्शन मॉड्यूल चंद्रमा की कक्षा में रहकर धरती से आने वाले रेडिएशन्स का अध्ययन करेगा। इस मिशन के जरिए इसरो पता लगाएगा कि चांद की सतह पर भूकंप कैसे आते हैं। यह चंद्रमा की मिट्टी का अध्ययन भी करेगा।  चंद्रयान-3 ने चंद्रमा की बाहरी कक्षा पकड़ ली है। अब चंद्रयान-3 चंद्रमा के चारों तरफ 166 km x 18054 किलोमीटर की अंडाकार कक्षा में चक्कर लगाएगा। इसरो ने चंद्रयान-3 को चंद्रमा के ऑर्बिट को पकड़ने के लिए करीब 20 से 25 मिनट तक थ्रस्टर्स ऑन रखा। इसी के साथ चंद्रयान चंद्रमा की ग्रैविटी में फंस गया। अब वह उसके चारों तरफ चक्कर लगाता रहेगा। इसे लूनर ऑर्बिट इंजेक्शन या इंसर्शन भी कहते हैं। चंद्रमा के चारों तरफ पांच ऑर्बिट बदले जाएंगे। आज के बाद 6 अगस्त की रात 11 बजे के आसपास चंद्रयान की ऑर्बिट को 10 से 12 हजार किलोमीटर वाली ऑर्बिट में डाला जाएगा।
9 अगस्त की दोपहर पौने दो बजे करीब इसके ऑर्बिट को बदलकर 4 से 5 हजार किलोमीटर की ऑर्बिट में डाला जाएगा।

विवाहिता की संदिग्ध परिस्थिति में मौत, हंगामा

विवाहिता की संदिग्ध परिस्थिति में मौत, हंगामा    

संदीप मिश्र 

मोरना/ककरौली। गांव टंढेड़ा में विवाहिता की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। मायके पक्ष के लोगों ने ससुराल पक्ष पर हत्या का आरोप लगा कर हंगामा किया। विवाहिता के पति, ससुर, सास व जेठानी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराते हुए कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने विवाहिता के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मुजफ्फरनगर शहर के मोहल्ला कृष्णापुरी निवासी रवि ने थाना ककरौली में तहरीर देकर बताया कि उसकी बहन मीनू की शादी सात जुलाई 2022 को गांव टंढेड़ा निवासी प्रदीप के साथ हुई थी। शादी के छह महीने बाद ही ससुराल वाले दो लाख रुपये अतिरिक्त दहेज की मांग करने लगे। शुक्रवार की रात्रि दो बजे ससुराल पक्ष से फोन पर मीनू की मौत की सूचना दी गई। परिजन टंढेड़ा पहुंचे तो उन्हें बेटी मृत हालत में मिली।

मायका पक्ष के लोगों ने हंगामा कर ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पति, सास, ससुर व जेठानी के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने पति प्रदीप, ससुर वेद सिंह, सास धर्म कौर व जेठानी सुधा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मृतका के शव का पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। थाना प्रभारी सुनील कसाना ने कहा कि आरोपी घर से फरार है। मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है।

थाना प्रभारी के मुताबिक प्रदीप डाक विभाग में बाबू है, जो फिलहाल सहारनपुर में ट्रेनिंग पर गया हुआ था। घर पर मीनू के अलावा उसके सास-ससुर ही थे। मीनू करीब नौ माह की गर्भवती थी। शुक्रवार की रात मीनू की तबियत अचानक बिगड़ने लगी तो उसे अस्पताल ले जाया जा रहा था। मगर, रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।

25 बार संबंध बनाए, 600 साल कैद की सजा

25 बार संबंध बनाए, 600 साल कैद की सजा

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने वाली 74 साल की शिक्षिका ने अपने ही 14 साल के स्टूडेंट को अपने प्रेम जाल में फंसाकर उसका यौन शोषण शुरू कर दिया। महिला ने एक-दो बार नहीं, बल्कि कई बार उसके साथ यौन संबंध बनायें। मामला अदालत में पहुंचने पर कोर्ट ने महिला शिक्षिका को अब 600 साल कैद की सजा सुनाई है। दरअसल अमेरिका के विस्कोसिन प्रांत के तोमाह स्थित एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने वाली 67 साल की महिला शिक्षिका ने अपने ही 14 साल के स्टूडेंट को प्रेम जाल में फंसा लिया। वर्ष 2016 से लेकर वर्ष 2017 के दौरान महिला शिक्षिका एनी एनी नेल्सन कोच 14 साल के स्टूडेंट को स्कूल के बेसमेंट में ले जाती और वहां ले जाकर उसे प्रताड़ित करते हुए उसके साथ यौन संबंध बनाती।

आरोप है कि महिला शिक्षिका ने इस दौरान एक दो बार नहीं बल्कि पूरे 25 बार स्टूडेंट के साथ शारीरिक संबंध बनाए। जिस समय महिला शिक्षिका ने 14 साल के स्टूडेंट का यौन शोषण किया था उस समय महिला की उम्र 67 साल की थी। मामला उजागर होने के बाद पुलिस ने मुकदमा कायम करते हुए मामले को अदालत के पास भेजा। कोर्ट ने 3 दिन तक चली सुनवाई के दौरान 5 घंटे तक दोनों पक्षों की दलीलें सुनी और अपना फैसला सुना दिया।

अदालत ने 74 साल की महिला शिक्षिका को छात्र के यौन शोषण का दोषी पाते हुए अपनी टिप्पणी में कहा है कि इस घटना का पीड़ित भी काफी बहादुर युवा है। उसने पूरा सच बताया और अदालत ने उसकी बात पर गौर भी किया। अदालत ने अब 14 साल के छात्र का यौन शोषण करने वाली 74 साल की इस महिला शिक्षिका को 600 साल कैद की सजा सुनाई है। असिस्टेंट डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी सराहा एस्काइलस ने कहा है कि अदालत ने मुकदमे के दौरान सच को तलाशने की हर संभव कोशिश की है और उसने अपना सही फैसला सुनाया है।

60 से अधिक गर्भवती महिलाएं एचआईवी पॉजिटिव

60 से अधिक गर्भवती महिलाएं एचआईवी पॉजिटिव 

सत्येंद्र पंवार 
मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जहां एक सरकारी अस्पताल में 16 महीनों में 60 से अधिक गर्भवती महिलाएं एचआईवी पॉजिटिव पाई गईं हैं। मामले की जानकारी मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। फिलहाल, मामले में जांच के आदेश दिए गए हैं। 
इस बारे में स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के एक सरकारी मेडिकल कॉलेज में पिछले 16 महीनों में 60 से अधिक गर्भवती महिलाएं एचआईवी पॉजिटिव पाई गई हैं। अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की एक टीम भी इस पर नजर बनाए हुए है।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मेरठ के लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज के एंटी-रेट्रोवायरल थेरेपी सेंटर की एक रिपोर्ट के बाद ये खुलासा हुआ है। रिपोर्ट में बताया गया कि लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में डिलिवरी के लिए आई 81 गर्भवती महिलाओं में एचआईवी की पुष्टि हुई थी।
वहीं 81 एचआईवी पॉजिटिव महिलाओं में से कम से कम 35 प्रभावित महिलाओं ने बच्चों को जन्म दिया है। बता दें एआरटी सेंटर की रिपोर्ट के मुताबिक, 2022-23 के बीच मेरठ के लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज में गर्भवती महिलाओं में एचआईवी के 33 नए मामले दर्ज किए गए। जुलाई 2023 तक 13 नए मामले दर्ज किए गए। इसके अलावा, 35 गर्भवती महिलाएं पहले से ही एचआईवी से प्रभावित पाई गईं।
वहीं मेडिकल कॉलेज के अधिकारियों ने बताया कि सभी प्रभावित महिलाओं का मेडिकल कॉलेज के एआरटी सेंटर में इलाज चल रहा है और वे ठीक हैं। नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य के बारे में पूछे जाने पर एआरटी सेंटर के नोडल अधिकारी ने बताया कि 18 माह पूरे होने पर नवजात बच्चों की एचआईवी जांच कराई जायेगी। इस मामले पर मेरठ के सीएमओ डॉ. अखिलेश मोहन प्रसाद ने कहा कि मेरठ के लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज में 60 महिलाओं में एचआईवी के मामले सामने आए हैं। हालांकि, सभी महिलाएं और नवजात बच्चे स्वस्थ हैं।
सीएमओ प्रसाद ने कहा कि हमारे पास प्रभावित महिलाओं का विवरण नहीं है। प्रभावित महिलाओं का विवरण और उन्हें एचआईवी कैसे हुआ इसके कारणों का पता लगाने के लिए एक टीम का गठन किया गया है।

दुष्कर्म हत्या मामले में चार आरोपी अरेस्ट किए

दुष्कर्म हत्या मामले में चार आरोपी अरेस्ट किए  

नरेश राघानी 
भीलवाड़ा। राजस्थान के भीलवाड़ा जिले के थाना कोटड़ी में बालिका से दुष्कर्म एवं हत्या कर शव कोयले की भट्टी में जलाने के मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। 
पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धु ने गुरुवार देर रात बताया कि इस मामले में कान्हा ( 21) एवं कालु (25) निवासी बालाजी मंदिर के पास तस्वारिया थाना शाहपुरा जिला भीलवाडा, संजय ( 20) निवासी पालसा थाना शाहपुरा और पप्पु उर्फ ( 35) निवासी अरवड थाना फुलिया कलॉ जिला भीलवाडा को गिरफ़्तार किया गया है। 
उन्होंने बताया कि इस मामले में बालिका से दुष्कर्म, हत्या एवं पॉक्सो की धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए महानिरीक्षक पुलिस अजमेर रेन्ज लता मनोज, जिला कलेक्टर आशीष मोदी एवं वह स्वयं ने घटनास्थल पर पहुंचकर निरीक्षण किया। वारदात के संबंध में पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। 
साथ ही पीडि़त परिवारजनों को सांवत्ना देते हुए आरोपियों के विरूद्ध शीघ्र एवं सख्त कार्रवाई करने का विश्वास दिलाया गया। वारदात के शीघ्र खुलासे के लिए पुलिस टीमों का गठन किया गया। वारदातस्थल का वैज्ञानिक आधार पर सुक्ष्मता से निरीक्षण करने के लिए एफएसएल, एमओबी टीम व डॉगस्क्वायड को बुलाया जाकर वैज्ञानिक तरीके से साक्ष्य संकलित किये गये।

तीज व्रत, सुहागिन एवं कन्याएं भी रख सकती हैं

तीज व्रत, सुहागिन एवं कन्याएं भी रख सकती हैं 

सरस्वती उपाध्याय 
भगवान भोलेनाथ को सावन का पावन महीना बहुत प्रिय है। इस महीने को कई मान्यताएं मिली हैं। कहते हैं कि सावन महीने में भगवान शिव और माता पार्वती धरती पर आते हैं और अपने अनुयायियों की हर इच्छा पूरी करते हैं। तीज-त्यौहार इस महीने विशेष महत्व रखते हैं, जैसे सावन में सोमवार व्रत बहुत शुभ माना जाता है। हरियाली तीज भी सावन के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है। इस व्रत में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा की व्यवस्था की जाती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, हरियाली तीज का व्रत करने से पति को लंबी आयु मिलती है और अखंड सौभाग्य मिलता है। इस व्रत को सुहागिन महिलाओं के अलावा कुंवारी कन्याएं भी कर सकती हैं। हरियाली तीज व्रत के प्रभाव से प्यारा जीवन साथी मिलता है और दाम्पत्य जीवन खुशहाल होता है।
कुंवारी लड़कियां इस विधि के साथ करें हरियाली तीज की पूजा
हरियाली तीज के दिन सुबह उठकर स्नान कर साफ कपड़े पहनना चाहिए। यदि संभव हो तो हरियाली तीज पर हरे रंग के कपड़े पहनें। अब माता पार्वती और भगवान शिव का ध्यान करते हुए निर्जला व्रत का संकल्प लें। एक चौकी पर गंगाजल और शुद्ध मिट्टी मिलाकर शिवलिंग, पार्वती और गणेश की प्रतिमा बनाएं। शिवजी को धतूरा, सफेद फूल, बेलपत्र, आम के पत्ते आदि चढ़ाएं। 16 श्रृंगार (सिन्दूर चढ़ाएं और सुहाग सामग्री) माता पार्वती को दें। शिव पुराण, शिव स्त्रोत, और शिव मंत्रों का जाप करें। हरियाली तीज की कहानी सुनें। शाम को भी इसी तरह मां गौरी और देवताओं की पूजा करें। संध्या के समय भगवान शिव की आरती करें। आरती के बाद खीर खाना चाहिए। देवी पार्वती और भगवान शिव के सामने हाथ जोड़कर प्रार्थना करें।
डेट और शुभ मुहूर्त
तृतिया तिथि आरंभ- रात 8 बजकर 1 मिनट से (18 अगस्त 2023)
तृतिया तिथि समापन- रात 10 बजकर 19 मिनट पर (19 अगस्त 2023)
हरियाली तीज व्रत तिथि- 19 अगस्त 2023
मान्यताओं के आधार पर जानकारी प्रकाशित की गई है।

अस्पतालों में चिकित्सा परीक्षण, उपचार फ्री: महाराष्ट्र

अस्पतालों में चिकित्सा परीक्षण, उपचार फ्री: महाराष्ट्र

कविता गर्ग
मुंबई। महाराष्ट्र सरकार के सरकारी अस्पतालों में चिकित्सा परीक्षण और उपचार निःशुल्क होगा। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह फैसला बृहस्पतिवार को राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में किया गया। बैठक में 'स्वास्थ्य का अधिकार नीति' को मंजूरी दी गई। 
उन्होंने बताया कि 15 अगस्त से शुरू होने वाली इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा संचालित 2,418 अस्पतालों और चिकित्सा केंद्रों पर विभिन्न सुविधाएं निःशुल्क उपलब्ध होंगी। इसका फायदा ढ़ाई करोड़ से अधिक लोग उठा पाएंगे। राज्य सरकार का यह फैसला 'चिकित्सा शिक्षा विभाग' के अंतर्गत आने वाले अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों पर लागू नहीं होगा। 
एक अधिकारी ने कहा, "राज्य में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, ग्रामीण अस्पताल, महिला अस्पताल, जिला अस्पताल और सुपर स्पेशलिटी अस्पताल मरीजों का निःशुल्क इलाज करेंगे।" उन्होंने बताया कि नासिक और अमरावती जिलों के कैंसर अस्पताल में भी निःशुल्क इलाज की सुविधा दी जाएगी।

गोल्डन गर्ल का चीन में डंका, जीता कांस्य पदक

गोल्डन गर्ल का चीन में डंका, जीता कांस्य पदक

श्रीराम मौर्य 
देहरादून। गोल्डन गर्ल के नाम से मशहूर उत्तराखंड की बेटी मानसी नेगी ने देश का मान बढ़ाया है। चीन में चल रहे वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में भारतीय टीम ने 20 किमी दौड़ स्पर्धा में कांस्य पदक जीता। टीम का हिस्सा रहीं मानसी नेगी ने शानदार प्रदर्शन किया।
मानसी के कोच और प्रभारी खेल अधिकारी पौड़ी अनूप बिष्ट ने कहा कि मानसी ने अपने बेहतर प्रदर्शन से पूरे देश का नाम रोशन किया है। उन्होंने पूरी भारतीय टीम को पदक जीतने पर बधाई दी। बताया कि यह प्रतियोगिता आठ अगस्त तक होगी। मूलरूप से चमोली जनपद की रहने वाली मानशी नेगी लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी से स्नातक की पढ़ाई कर रही हैं।
गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं मानसी
गोल्डन गर्ल ने पिछले साल गुवाहाटी में 11 से 15 नवंबर तक आयोजित 37वीं नेशनल जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में अंडर-20 महिला वर्ग की 10 हजार मीटर वॉक रेस में स्वर्ण पदक जीता था। मानसी इन दिनों चीन में ही हैं और वह इस चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी।
चमोली की रहने वाली हैं मानसी नेगी
मानसी नेगी चमोली के गांव मझोठी की रहने वाली हैं। मानसी के पिता लखपत सिंह नेगी का साल 2016 में निधन हो गया था। मां शकुंतला देवी ने बेटी को खिलाड़ी बनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी। मां के परिश्रम को भी मानसी से देखा और अलग पहचान बनाने के लिए चमोली से देहरादून पहुंच गई। मानसी पिछले 7 सालों से महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज में ट्रेनिंग व अभ्यास कर रही हैं।

फंसी हुई राशि की वापसी का सिलसिला जारी

फंसी हुई राशि की वापसी का सिलसिला जारी    

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। सहारा इंडिया के निवेशकों के लिए एक राहत की खबर सामने आ रही है। दरअसल सहारा इंडिया के निवेशकों की जो सालों से फंसी हुई जमाराशि थी उसकी वापसी का सिलसिला शुरू हो गया है। केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने इस मौके पर कहा कि सहारा की चार सहकारी समितियों में डूबे रुपये लोगों को वापस लौटाने के लिए मोदी सरकार प्रतिबद्ध है। आज 'सहारा रिफंड पोर्टल' के माध्यम से जमाकर्ताओं को उनकी राशि ट्रांसफर की जा रही है। 
बता दें कि केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने 112 लाभार्थियों को 10-10 हजार रुपये की पहली किस्त हस्तांतरित कर दी है। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने बताया कि अब तक 15 लाख लोगों ने पोर्टल पर पंजीकरण कराया है। सहारा के छोटे-छोटे निवेशकों ने शायद ही सोचा होगा कि उनका पैसा वापस आएगा, लेकिन अब ऐसा हो रहा है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-294, (वर्ष-06)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. रविवार, अगस्त 6, 2023

3. शक-1944, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:19, सूर्यास्त: 07:07।

5. न्‍यूनतम तापमान- 22 डी.सै., अधिकतम- 35+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए  सरस्वती उपाध्याय  बेहद सुंदर और सुगंधित फूल 'गुलाब' गुणों की खान है और इसकी पं...