शनिवार, 11 फ़रवरी 2023

समाधान दिवस पर जनता की शिकायतों को सुना

समाधान दिवस पर जनता की शिकायतों को सुना

बृजेश केसरवानी 

प्रयागराज। जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री ने समाधान दिवस के अवसर पर थाना करछना पहुंचकर जनता की शिकायतों को सुना तथा शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराये जाने के निर्देश दिए। समाधान दिवस में कुल 7 शिकायतें आई, जिसमें से 1 शिकायत का मौके पर ही निस्तारण सुनिश्चित किया गया। कार्य में लापरवाही बरतने पर जिलाधिकारी ने लेखपाल नवीन श्रीवास्तव का वेतन रोकने एवं कानूनगो अमित पाठक से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि जनता की शिकायतों का शीर्ष प्राथमिकता पर निर्धारित समय सीमा के अंदर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। कहा कि कार्यों में लापरवाही या उदासीनता कत्तई क्षम्य नहीं होगा। इस अवसर पर डीसीपी यमुनानगर दीपक भूकर, एसीपी करछना अजीत सिंह चौहान एवं एसडीएम करछना सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

उपनिरीक्षक ने फरियादियों की समस्याओं को सुना 

उपनिरीक्षक ने फरियादियों की समस्याओं को सुना 


थाना दिवस में उप निरीक्षक ने सुनी जनशिकायतें

कौशाम्बी। थाना समाधान दिवस के अवसर पर संदीपन घाट थाना में अपनी समस्याएं लेकर आए फरियादियों की समस्याओं को उपनिरीक्षक धीरेंद्र सिंह ने सुना। थाना समाधान दिवस के मौके पर मिले पांच शिकायती प्रार्थना पत्रों में एक शिकायती-पत्र की समस्या को सुनकर उपनिरीक्षक ने समाधान किया। शेष शिकायती पत्रों को राजस्व के लेखपाल और सिपाहियों को देकर के समय सीमा के अंदर निस्तारित करने का निर्देश दिया। इस मौके पर हर्रायपुर चौकी इंचार्ज कृष्णकुमार यादव, मूरतगंज चौकी इंचार्ज राकेश कुमार राय, लेखपाल कुलदीप श्रीवास्तव, संतोष यादव, जितेंद्र प्रसाद, लक्ष्मीशंकर आदि लोग मौजूद रहे।

अनिल कुमार 

ईवी फास्ट चार्जिंग हाई कॉरिडोर लॉन्च, घोषणा 

ईवी फास्ट चार्जिंग हाई कॉरिडोर लॉन्च, घोषणा 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। तेल विपणन करने वाली सावर्जनिक क्षेत्र की कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉर्पाेरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने शनिवार को दिल्ली-जालंधर राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच-44 का हिस्सा) पर ईवी फास्ट चार्जिंग हाई कॉरिडोर के लॉन्च होने की घोषणा की। कंपनी के खुदरा इनिशिएटिव्स एंड ब्रांड के प्रमुख शुभंकर सेन और एमजी मोटर इंडिया के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी गौरव गुप्ता ने संयुक्त रूप से यहां आयोजित एक कार्यक्रम में साझेदारी की घोषणा की। सेन ने कहा कि इसका मकसद राजमार्गों पर इलेक्ट्रिक वाहन उपयोगकर्ताओं की रेंज संबंधी चिंताओं को दूर करना है। एनएच-44 का 750 किलोमीटर लंबा यह सेगमेंट देश का चौथा ऐसा राजमार्ग है, जहां बीपीसीएल ने मार्ग के दोनों ओर लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर फास्ट चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए हैं।

इससे पहले चेन्नई-त्रिची-मदुरै, चेन्नई-बेंगलुरु और बेंगलुरू-कूर्ग बीपीसीएल द्वारा स्थापित पहले तीन इलेक्ट्रिक वाहन फास्ट चार्जिंग कॉरिडोर थे। उन्होंने कहा कि इसके साथ-साथ भारत पेट्रोलियम ने देश में ईवी को अपनाने के रुझान को बढ़ावा देने के लिए भारत में ईवी बुनियादी ढांचे का समर्थन करने के अभियान के हिस्से के रूप में 31 मार्च 2023 तक 200 राष्ट्रीय राजमार्ग पूरी तरह से एंड-टू-एंड, फास्ट ईवी चार्जिंग स्टेशनों से कवर करने का फैसला भी किया है।

राजमार्गों के साथ बीपीसीएल ईंधन स्टेशनों पर 30 किलोवाट फास्ट चार्जर की स्थापना से ग्राहकों को 125 किलोमीटर तक की ड्राइविंग रेंज प्राप्त करने के लिए लगभग 30 मिनट में ईवी को चार्ज करने में मदद मिलेगी। फास्ट चार्जर को बिना किसी मैनुअल सहायता के स्वयं संचालित किया जा सकता है, हालांकि जरूरत पड़ने पर सहायक कर्मचारी भी उपलब्ध होंगे। बीपीसीएल ईंधन स्टेशनों पर स्थित, ये फास्ट ईवी चार्जिंग सुविधाएं, यात्रियों को सुरक्षित, बेहतर रोशनी और सुरक्षित स्थान के साथ- साथ वाहन चार्जिंग के दौरान शौचालय, आराम करने के लिए भोजनालय जैसी सुविधाएं प्रदान करती हैं। बीपीसीएल ने एमजी मोटर्स के साथ अपनी साझेदारी की भी घोषणा की, जिन्होंने 8900 इलेक्ट्रिक वाहन बेचे हैं।

इस साझेदारी के बाद अब एमजी ईवी के सभी ग्राहकों को उनकी कार के डैशबोर्ड के माध्यम से ड्राइविंग करते समय बीपीसीएल ईवी चार्जिंग का पता लगाने में मदद मिलेगी। सेन ने कहा “हमारी धरती को स्वच्छ और बेहतर बनाना हर किसी के लिए बेहतर है और बीपीसीएल में हम अपनी भूमिका निभा रहे हैं। इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग नेटवर्क हाईवे की स्थापना से ईवी मालिकों की रेंज चिंता को दूर करने के साथ-साथ भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों के विकास में मदद मिलेगी। इलेक्ट्रिक वाहन फास्ट चार्जिंग हाईवे कॉरिडोर के नेटवर्क से देश में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने में तेजी आएगी। एमजी के साथ हमारी पहल एमजी मोटर ईवी ग्राहकों के लिए एक बेहतर अनुभव है।

आज हमारी ईवी चार्जिंग रणनीति के तहत एक महत्वपूर्ण पहल है और 2040 तक नेट ज़ीरो उत्सर्जन के हमारे लक्ष्य को प्राप्त करने के हमारे बड़े उद्देश्य की दिशा में ही एक और कदम है। हम एमजी मोटर के साथ हमारी साझेदारी के बारे में उत्साहित हैं जिन्होंने अपने डैशबोर्ड नेविगेटर में हमारे ईवी चार्जिंग नेटवर्क को स्थान प्रदान किया है। इससे एमजी ईवी मालिकों को बहुत सुविधा होगी। यह वास्तव में देश में ईवी अपनाने को बढ़ावा देने के लिए अत्याधुनिक तकनीक लाने के लिए दोनों संगठनों की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।” उन्होंने कहा कि एमजी के साथ मिलकर देश में शहरों, पर्यटन स्थलों और आर्थिक केंद्रों को जोड़ने वाले प्रमुख यात्रा मार्गों के साथ ईवी चार्जिंग अनुभव को बेहतर बनाने के लिए काम किया जाएगा।

भारत पेट्रोलियम के ईंधन स्टेशनों पर स्वच्छ और साफ-सुथरे वॉशरूम, नकद निकासी, चार्ज करते समय सुरक्षित और बेहतर पार्किंग, मुफ्त डिजिटल एयर फेसिलिटी, 24 घंटे संचालन और अन्य बहुत कुछ सुविधाएं हासिल होती हैं। चुनिंदा ईंधन स्टेशन नाइट्रोजन भरने की सुविधा भी प्रदान करते हैं। इस अवसर पर गुप्ता ने कहा, “2020 में जेडएस ईवी के लॉन्च के बाद से एमजी एक मजबूत ईवी इकोसिस्टम के विकास में सबसे आगे रहा है।

अब बीपीसीएल के साथ साझेदारी में देश के सबसे महत्वपूर्ण राजमार्ग पर बारह नई डीसी फास्ट-चार्जिंग सुविधाओं के उद्घाटन की घोषणा करते हुए हमें बहुत गर्व हो रहा है। हम ईवी अपनाने में तेजी लाने के लिए भारत में एक मजबूत इको सिस्टम कायम करने का इरादा रखते हैं, और हमें यकीन है कि बीपीसीएल ईंधन स्टेशनों पर नए चार्जर लोगों को इलेक्ट्रिक मोबिलिटी पर स्विच करने के लिए आवश्यक प्रोत्साहन प्रदान करेंगे।”

नक्सली हमलों को प्रजातांत्रिक तरीके से जवाब मिलेगा 

नक्सली हमलों को प्रजातांत्रिक तरीके से जवाब मिलेगा 

अकांशु उपाध्याय/दुष्यंत टीकम 

नई दिल्ली/रायपुर/जगदलपुर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि नक्सली हमलों को प्रजातांत्रिक तरीके से जवाब दिया जाएगा। नड्डी आज यहां लाल बाग मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि नारायणपुर में हुए हादसे ने दिल को दहला दिया। उन्होंने कहा कि नक्सली हमलों का प्रजातांत्रिक तरीके से जवाब दिया जाएगा।

उन्होंने नारायणपुर में भाजपा के जिला उपाध्यक्ष सागर साहू की मौत का दुख व्यक्त किया। हवाई अड्डे पर श्री नड्डा का भाजपा के नेताओं ने स्वागत किया। उन्होंने यहां स्थानीय भाजपा कार्यालय में कोर कमेटी के सदस्यों की बैठक ली और हेलीकाॅप्टर से नारायणपुर के लिए रवाना हो गए।

नारायणपुर जाने से पहले उन्होंने दंतेश्वरी मंदिर जाकर माँ के दर्शन किए। लाल बाग में आम सभा को पूर्व मुख्य मंत्री डाॅ रमन सिंह ने मौजूदा कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए। और भाजपा के कार्यकाल में हुए उपलब्धियों को गिनाया।

चने के साथ गुड़ खाना बेहद फायदेमंद, जानिए 

चने के साथ गुड़ खाना बेहद फायदेमंद, जानिए 

सरस्वती उपाध्याय 

चने के साथ गुड़ को आपने कई बार अपने बड़े-बुजुर्गों को खाते देखा होगा। चना-गुड़ साथ खाना न सिर्फ स्वाद के लिहाज से काफी बढ़िया होता है। बल्कि इसमें हेल्दी रहने की कुंजी भी छिपी हुई है। आप भले ही ये बात सुनकर चौंक जाएं, लेकिन हम आपको बता दें कि गुड़ और रोस्टेड चना प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट्स का पावर हाउस भी कहा जाता है। शरीर के लिए चना-गुड़ खाना बेहद फायदेमंद होता है। शरीर का पाचन सुधारने के साथ ही गुड़ और चना बॉडी को एनर्जी से भर देता है। गुड़-चना खाने के बाद थकान गायब हो जाती है।

गुड़-चना साथ खाने से हमारी इम्यूनिटी भी बूस्ट होने लगती है। ऐसे में इन दो चीजों का नियमित सेवन काफी फायदेमंद हो सकता है। इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक गुड़-चना खाना से शरीर में ब्लड की कमी भी दूर होती है। आइए जानते हैं इन्हें साथ खाने के बड़े फायदे...

1. इम्यूनिटी बूस्टर – गुड़ और चना साथ खाने से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा होता है। इसमें काफी प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट होता है, जो कि इम्यूनिटी बढ़ाता है। साथ ही दांतों को कमजोर होने से बचाता है। गुड़ और चना दोनों में ही काफी जिंक भी पाया जाता है, ऐसे में इसका नियमित सेवन स्किन हेल्थ को भी सुधारने में मदद करता है। इसके साथ ही चेहरे पर ग्लो लाता है।

2. रेस्पिरेटरी डिजीज – भुना चना श्वसन तंत्र से जुड़ी बीमारियों में भी काफी फायदा पहुंचाता है। अगर रात में सोने से पहले रोस्टेड चना खाया जाए और ऊपर से गुनगुना दूध पी लिया जाए, तो ये काफी फायदा पहुंचाता है। इसके अलावा गुड़ चना साथ खाने से फैट को घटाने में भी मदद मिलती है।

3. ब्लड – आप अगर शरीर में खून की कमी की परेशानी से जूझ रहे हैं, तो गुड़ और चने का सेवन आपके लिए काफी लाभकारी हो सकता है। बता दें कि गुड़ में काफी मात्रा में आयरन मौजूद होता है, वहीं चने में काफी प्रोटीन होता है। ऐसे में इन दोनों चीजों को साथ में खाने से शरीर में खून की कमी दूर होकर मसल्स भी काफी मजबूत होती हैं‌।

4. एनर्जी लेवल – गुड़ और चना को देसी स्नैक्स के तौर पर सदियों से प्रयोग किया जाता रहा है। गुड़ और चना खाने से शरीर की एनर्जी तेजी से बढ़ती है। आप अगर कमजोरी, थकान महसूस करते हैं, तो अपनी डाइट में गुड़ चना शामिल कर सकते हैं। गुड़-चना एनर्जी लेवल को बूस्ट करने के साथ ही शरीर को काफी ताकत देता है।

5. डाइजेशन – गुड़ और चना साथ खाने से पाचन तंत्र में भी सुधार होने लगता है। अक्सर लोग खाने के बाद गुड़ खाना पसंद करते हैं। क्योंकि, गुड़ की तासीर गर्म होने के साथ ही वो पाचन की रफ्तार को बढ़ा देता है। ऐसे में गुड़ और चना खाकर डाइजेशन को इंफ्रूव किया जा सकता है।

मोदी सरकार पर अडाणी को बचाने का आरोप: खरगे

मोदी सरकार पर अडाणी को बचाने का आरोप: खरगे

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/रांची। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने आज केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की जमकर आलोचना की। श्री खरगे ने शनिवार को झारखंड के पाकुड़ में एक सभा को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी सरकार पर अडाणी को बचाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति की कुल संपत्ति वर्ष 2019 में 1 लाख करोड़ रुपये थी। महज ढाई साल में उसकी संपत्ति बढ़कर 13 लाख करोड़ रुपये हो गयी। ये कैसे हुआ ? श्री खरगे ने आरोप लगाया कि देश की सारी संपत्तियां एक व्यक्ति के हाथों में सौंप दी गई है। लेकिन, हमने इस मुद्दे को संसद में उठाया।

सरकार को इस सवाल का जवाब देना चाहिए था, लेकिन सरकार ने जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि हमारे सवाल का जवाब देने की बजाय, सरकार ने इसे असंसदीय करार दे दिया। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष झारखंड में कांग्रेस के ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान की शुरुआत की। हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान की शुरुआत पाकुड़ विधानसभा क्षेत्र के गुमानी स्थित श्रीकुंड हाई स्कूल मैदान से हुई। यह इलाका साहिबगंज जिला में पड़ता है। उल्लेखनीय है कांग्रेस अध्यक्ष का पदभार संभालने के बाद मल्लिकार्जुन खरगे का यह पहला झारखंड दौरा है और इसको लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह है।

बेरोजगारों के आगे झुकी सरकार, धरना खत्म

बेरोजगारों के आगे झुकी सरकार, धरना खत्म

पंकज कपूर 

देहरादून। प्रतियोगी परीक्षाओं में धांधली बरते जाने के आरोपों को लेकर आंदोलन कर रहे बेरोजगार युवक-युवतियों पर लाठीचार्ज करते हुए उनकी गिरफ्तारी कर जेल भेजने वाली सरकार आखिरकार बेरोजगारों के आगे झुक ही गई है। सरकार के आश्वासन पर बेरोजगार युवकों ने अपना धरना खत्म कर दिया है। राज्य में हुए पटवारी पेपर लीक मामले की एसआईटी जांच हाईकोर्ट के जज की निगरानी में कराई जाएगी। 

शनिवार को बेरोजगार संघ के बैनर तले उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बेरोजगार युवक एवं युवतियों द्वारा दिया जा रहा धरना सरकार के आश्वासन पर समाप्त कर दिया गया है। सरकार की ओर से जिलाधिकारी ने युवाओं से कहा है कि सरकार ने उनकी कुछ मांगों पर हामी भर दी है। शुक्रवार को गिरफ्तार किए गए बेरोजगार संघ के अध्यक्ष बॉबी पवार समेत सभी 13 युवाओं को जमानत पर छोड़ दिया जाएगा। हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाकर परीक्षाओं की जांच की जाएगी। जिसके बाद कुछ युवाओं ने धरना स्थगित कर दिया।

जबकि 20-25 युवा धरने पर बैठे रहे। जिन युवक एवं युवतियों ने धरना स्थगित किया है। उनके लिए जिला प्रशासन द्वारा आईएसबीटी तक बस की व्यवस्था की गई है। उल्लेखनीय है कि बीते दिन प्रतियोगी परीक्षाओं में धांधली बरते जाने के आरोपों को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहे युवाओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज करते हुए बेरोजगार संघ के अध्यक्ष समेत दर्जनभर युवक-युवतियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

सिर्फ ऑनलाइन ही भरे जा सकते हैं 'हज' आवेदन 

सिर्फ ऑनलाइन ही भरे जा सकते हैं 'हज' आवेदन 

हज 2023 से आवेदन शुरू 


अकांशु उपाध्याय/अखिलेश पांडेय 

नई दिल्ली/रियाद। अल्हम्दुलिल्लाह हज 2023 के आवेदन शुरू हो चुके हैं। हज आवेदन सिर्फ ऑनलाइन ही भरे जा सकते हैं। आवेदन की आखिरी तारीख 10 मार्च 2023 है। हज 2023 पर जाने का इरादा रखने वाले लोग याद रखें, कि इस बार उनको फार्म भरने एवं हज के पैसे जमा करने के लिए बहुत ही कम समय मिलेगा। इस लिए अपने सभी कागज़ात तथा पैसे का इंतज़ाम कर के रखें, तथा सभी हाजी लोग निम्नलिखित महत्वपूर्ण दस्तावेज बिल्कुल तैयार रखें...

1- वालिद पासपोर्ट ( जिसकी Validity 2024 के 03 फरवरी तक हो)।

2- आधार कार्ड (सभी हाजियों के)।

3- पैन कार्ड (सभी हाजियों के)।

4- सेविंग बैंक खाते की पासबुक या कैंसिल चेक (कवर हैड बनने वाले हाजी की)

5- ब्लड ग्रुप रिपोर्ट 

6- कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट ( कम से कम दो डोज़ या अतिरिक्त तीसरी डोज़)।

7- दो पासपोर्ट साइज फोटो (जिनकी पीछे की बैकग्राउंड सफेद होनी चाहिए)।

8- हाजी का अपना ई. मेल Email Address व मोबाइल नंबर।

9- नोमानी, यानी हाजी के किसी वारिस का आधार कार्ड  व मोबाइल नंबर व ई. मेल।

10- (ऑप्शनल) फीस जमा करने के लिए किसी भी बैंक खाते का डेबिट/क्रेडिट कार्ड।

विवाद: सीएम के सिर नहीं ढकने पर एतराज जताया

विवाद: सीएम के सिर नहीं ढकने पर एतराज जताया

राणा ओबरॉय 

चंडीगढ़/फरीदाबाद। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर अब एक नए विवाद में घिर गए हैं। बाबा बंदा सिंह बहादुर मेमोरियल चैरिटीबल अस्पताल की नीव का पत्थर रखे जाने पर हुए समागम के मौके पर अरदास के दौरान मुख्यमंत्री के सिर नहीं ढकने पर विरोधी दलों ने एतराज जताते हुए सीएम से माफी मांगने को कहा है। दरअसल सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का होना बताया जा रहा है।

वायरल हो रहे वीडियो के मुताबिक मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर फरीदाबाद के सेक्टर- 15 में बाबा बंदा सिंह बहादुर मेमोरियल चैरिटेबल अस्पताल का नींव का पत्थर रखे जाने के मौके पर आयोजित समागम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान जब अरदास की जा रही थी तो मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर बगैर सिर ढके ही इस अरदास में शामिल हुए थे। 

उल्लेखनीय है कि सिख परंपराओं के मुताबिक, अरदास के समय और गुरुद्वारे जाते वक्त सिर ढका होना जरूरी है। अब मुख्यमंत्री के नंगे से अरदास में शामिल होने को लेकर विपक्षी दलों ने उनके ऊपर निशाने साधने शुरू कर दिए हैं। आम आदमी पार्टी के नेता नील गर्ग एवं अकाली नेता महेश इंदर ग्रेवाल ने इस पर कई तरह के सवाल उठाए हैं। उधर भारतीय जनता पार्टी के नेता रमन मलिक ने इसके लिए माफी मांगी है, हालांकि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की तरफ से अभी तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

देश जितना मोदी व भागवत का है, उतना महमूद का भी 

देश जितना मोदी व भागवत का है, उतना महमूद का भी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। जमीयत उलमा-ए-हिंद के प्रमुख महमूद मदनी ने कहा, देश जितना (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी व (आरएसएस प्रमुख) मोहन भागवत का है, उतना महमूद का भी है। न वे आगे हैं और न हम। उन्होंने कहा, यह धरती मुसलमानों का पहला वतन है। इस्लाम को बाहर से आया हुआ मजहब बताना गलत है। इस्लाम सभी धर्मों में सबसे पुराना है। बता दें कि जमीयत उलेमा-ए-हिंद मुसलमानों का 100 साल पुराना संगठन है। जमीयत मुसलमानों का सबसे बड़ा संगठन होने का दावा करता है। इसके एजेंडे में मुसलमानों के राजनीति--सामाजिक और धार्मिक मुद्दे रहते हैं। ये संगठन इस्लाम से जुड़ी देवबंदी विचारधारा को मानता है। देवबंद की स्थापना साल 1919 में तत्कालीन इस्लामिक विद्धानों ने की थी। इनमें अब्दुल बारी फिरंगी महली, किफायुतल्लाह देहलवी, मुहम्मद इब्राहिम मीर सियालकोटी और सनाउल्लाह अमृतसरी थे।

दिल्ली के रामलीला मैदान में जमीयत उलेमा-ए-हिंद का 34वां सत्र शुरू हो चुका है।  इसकी अध्यक्षता जमीयत चीफ मौलाना महमूद मदनी कर रहे हैं।  मदनी ने इस्लामोफोबिया पर बात करते हुए कहा कि भारत जितना नरेंद्र मोदी और मोहन भागवत का है, उतना ही महमूद मदनी का भी है। उन्होंने आगे कहा कि ये धरती खुदा के सबसे पहले पैगंबर अब्दुल बशर सईदाला आलम की जमीन है, इसलिए इस्लाम को ये कहना की वह बाहर से आया है, सरासर गलत और बेबुनियाद है। इस्लाम सबसे पुराना मजहब है।

सत्र को संबोधित करते हुए मदनी ने कहा, मुस्लिम समुदाय के खिलाफ नफरत और उकसावे के मामलों में देश के अंदर अचानक बढ़ोतरी हुई है। दुख की बात यह है कि सरकार को इन घटनाओं के बारे में पता है, लेकिन उन्होंने अपना नजरिया शुतुरमुर्ग के जैसा बना लिया है। उन्होंने मांग की कि अल्पसंख्यकों के खिलाफ  हिंसा भड़काने वालों को सजा देने के लिए विशेष कानून बनाया जाना चाहिए। हम RSS और उसके सर संघचालक को न्योता देते हैं, आइए आपसी भेदभाद व दुश्मनी को भूलकर एक दूसरे को गले लगाए और देश को दुनिया का सबसे शक्तिशाली मुल्क बनाए। हमें सनातन धर्म के फ़रोग़(रोशनी) से कोई शिकायत नहीं है। आपको भी इस्लाम के फ़रोग़ से कोई शिकायत नहीं होनी चाहिए।

जमीयत के सत्र में कहा गया कि संस्था सरकार का ध्यान इस बात की ओर आकर्षित करना चाहती है कि देश अखंडता सुनिश्चित करते हुए सकारात्मक छवि कैसे बनाई जाए। जमीयत ने नफरत फैलाने वाले तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का प्रस्ताव रखा। बता दें कि यूनिफॉर्म सिविल कोड की चर्चा के बीच जमीयत ने यह अधिवेशन देश के अलग-अलग राज्यों में विधानसभा चुनाव के ठीक पहले बुलाया है। इसमें समाज के प्रतिष्ठित उलेमा और नुमाइंदे यूनिफॉर्म सिविल कोड समेत कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा कर रहे हैं।

इस अधिवेशन में धार्मिक आजादी और मुस्लिम पर्सनल लॉ के साथ-साथ मदरसों की स्वायत्तता, सामाजिक-आर्थिक रूप से पिछड़े मुसलमानों के लिए आरक्षण देने संबंधी प्रस्ताव भी लाया जाएगा। इसके साथ ही राष्ट्रीय एकता और यूनिफॉर्म सिविल कोड पर महत्वपूर्ण बहस और प्रस्ताव भी इस अधिवेशन में लाए जाएंगे।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-122, (वर्ष-06)

2. रविवार, फरवरी 12, 2023

3. शक-1944, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2079‌।

4. सूर्योदय प्रातः 07:09, सूर्यास्त: 06:01। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 11 डी.सै., अधिकतम- 22+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है 'गन्ने का रस'

स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है 'गन्ने का रस'  सरस्वती उपाध्याय  चिलचिलाती गर्मी के मौसम में सभी को ठंडा रहने के लिए शरीर को ठंडक ...