रविवार, 26 फ़रवरी 2023

त्रिवेदी ने 'स्वच्छता' गोष्ठी कार्यक्रम का शुभारंभ किया

त्रिवेदी ने 'स्वच्छता' गोष्ठी कार्यक्रम का शुभारंभ किया


ग्राम पंचायतों में साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था की जाए सुनिश्चित- सी.डी.ओ.

मुख्य विकास अधिकारी ने पंचायतीराज विभाग द्वारा आयोजित स्वच्छता गोष्ठी का किया शुभारंभ 

कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी डॉ. रवि किशोर त्रिवेदी ने पंचायतीराज विभाग द्वारा आयोजित ग्राम प्रधानों, सचिव ग्राम पंचायत एवं पंचायत सहायकों आदि के साथ स्वच्छता गोष्ठी कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मुख्य विकास अधिकारी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि ग्राम सचिवालय में सभी सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी रोस्टर के अनुसार उपस्थित रहें, तथा आमजन की समस्याओं सुझाओं को रजिस्टर में अंकित कर ए.डी.ओ. (पंचायत) एवं बी.डी.ओ. के माध्यम से सम्बन्धित अधिकारी को पत्र प्रेषित कराकर समस्या का निस्तारण कराया जाएं।

उन्होंने कहा कि रोस्टर के अनुसार सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी ग्राम सचिवालय में उपस्थित रहे। अनुपस्थित पाए जाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि ग्रामों में पेयजल की सुचारू व्यवस्था सुनिश्चित किया जाएं, तथा खराब हैण्डपम्प को नियमानुसार शीध्र ठीक कराया जाय। उन्होंने ग्राम प्रधानो से कहा कि सहभागिता योजना के तहत गोवंशो की सुपुर्दगी कार्य में प्रगति लायी जाएं। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित किया जाएं, तथा आवश्यकतानुसार, कूड़ा गाडी क्रय करने की कार्यवाही की जा सकती है। उन्होंने कहा कि आपरेशन कायाकल्प के तहत प्राथमिक विद्यालयों में सभी कार्या को सुनिश्चित करायी जाय।          

मुख्य विकास अधिकारी ने डी.पी.आर.ओ. को निर्देशित किया कि आगामी होली तक सभी पंचायत सहायकों के मानदेय का भुगतान सुनिश्चित किया जाएं। किसी का मानदेय भुगतान लम्बित न रहने पायें जिला पंचायत राज अधिकारी बालगोविन्द श्रीवास्तव ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) 02 अक्टूबर, 2014 से प्रभावी है। विगत 05 वर्षों में 216378 शौचालयों का निर्माण कराया गया, जिससें शौचालय के आच्छादन के उपरान्त जनपद खुले में शौच से मुक्त हुआ। वित्तीय वर्ष 2022-23 में खुले में शौचमुक्त होने के उपरान्त कतिपय कारणो से छूटे हुए 5164 व्यक्तिगत शौचालय का निर्माण कराया गया।

ग्राम पंचायत में निर्मित 451 सामुदायिक शौचालयों की देखरेख के लिए प्रत्येक सामुदायिक शौचाचल में स्वयं सहायता समूह के माध्यम से केयर टेकर की तैनाती कर दी गई है। शासन की प्राथमिकता के क्रम में 5000 से अधिक आबादी वाली 35 ग्राम पंचायतो में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबन्धन के अन्तर्गत ओडीएफ प्लस बनाने के लिए 17 गतिविधियों पर कार्य कराया गया। गंगा के किनारे अवस्थित 31 ग्राम पंचायतो में गांव को ओडीएफ प्लस बनाने की दिशा में कार्ययोजना तैयार करते हुए कार्य आरम्भ करा दिया गया है।

ग्राम पंचायतो में निर्माण कार्य की गुणवत्ता सुनिश्चित किए जाने के दृष्टिगत जनपद में 23 कन्सल्टिंग इन्जीनियरों की तैनाती की गई है, जिन्हें ग्राम पंचायत वार विभाजित करते हुये तैनात दिया गया है। जनपद में 04 अन्त्येष्टि स्थल का निर्माण कार्य पूर्ण कराया गया है। जनपद में 02 बहुउद्देशीय पंचायत भवन का निर्माण कार्य पूर्ण कराया गया है। जनपद में 21 कॉमन सर्विस सेण्टर का निर्माण कराया गया है, जिसके माध्यम से ग्रामीण जनमानस को शासकीय योजनाओं की सुविधायें प्रदान की जा रही है।

सुशील केसरवानी 

नगर निकाय चुनावों की तैयारियां, भाजपा की बैठक 

नगर निकाय चुनावों की तैयारियां, भाजपा की बैठक 


नगर निकाय चुनावों की तैयारियों को लेकर भाजपा जिला कार्यालय में आयोजित हुई बैठक

कौशाम्बी। नगर निकाय चुनावों की तैयारियों को लेकर भारतीय जनता पार्टी की एक बैठक पार्टी के जिला कार्यालय मंझनपुर में संपन्न हुई। जिसकी अध्यक्षता पार्टी की जिलाध्यक्ष अनीता त्रिपाठी ने की। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि जिले के प्रभारी अनिल सिंह मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन जिला उपाध्यक्ष व निकाय चुनाव के संयोजक धर्मराज मौर्य ने किया।

इस मौके पर पार्टी जिला अध्यक्ष द्वारा नगर निकाय चुनाव की तैयारियों को लेकर पार्टी के चुनाव से जुड़े पदाधिकारियों, प्रभारियों व मंडल प्रमुखों से चर्चा की गई। जिला प्रभारी अनिल सिंह ने कहा कि चुनाव नजदीक है। पार्टी ने चुनाव की तैयारियों को लेकर दिशा निर्देश दे दिया है। उसी के अनुसार पदाधिकारियों को बूथ स्तर पर मजबूती से काम करते हुऐ पार्टी को इस चुनाव में जीत दिलानी है। इस मौके पर चुनाव की तैयारियों की जिम्मेदारी का निर्वाहन कर रहे पदाधिकारियों से कार्यों की समीक्षा भी की गई।

इस मौके पर प्रमुख रूप से अनिता त्रिपाठी,  अनिल सिंह, धर्मराज मौर्य, दीप चन्द्र दिवाकर, राकेश पाण्डेय, चन्द्र दत्त शुक्ला, वेद प्रकाश सत्यार्थी, रिंकू मौर्य, शीलू पाण्डेय, कमल कुशवाहा, महेश लोधी, जितेन्द्र साहू, तारा देवी, शांताराम पाण्डेय, संजय जयसवाल, संगीता सरोज, निशीथ श्रीवास्तव, बच्चा चौधरी, ज्योति केशरवानी सहित बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

सुशील केसरवानी 

राजनीति: ओवैसी ने मुस्लिम युवाओं से आह्वान किया 

राजनीति: ओवैसी ने मुस्लिम युवाओं से आह्वान किया 

अकांशु उपाध्याय/कविता गर्ग 

नई दिल्ली/ठाणे। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिम युवाओं से आह्वान किया कि वे देश में अपने अधिकारों की लड़ाई के लिए मजबूत ताकत बनकर उभरें। उन्होंने इसके साथ ही उद्धव ठाकरे और शरद पवार पर निशाना साधते हुए दावा किया कि इन नेताओं ने जरूरत के समय मुस्लिम समुदाय का साथ नहीं दिया। ओवैसी महाराष्ट्र के ठाणे जिले स्थित मुंब्रा इलाके में शनिवार को पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेधन को संबोधित कर रहे थे। 

उन्होंने मुस्लिम समुदाय के युवाओं से सवाल किया, अगर अजित पवार, सुप्रिया सुले, शरद पवार, उद्धव ठाकरे, एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस नेता बन सकते हैं तो आप क्यों नहीं? ओवैसी ने कहा कि एआईएमआईएम की स्थापना 65 साल पहले कुछ मुट्ठी भर लोगों ने की थी और कुछ लोग ही उसकी बैठकों में शामिल होते थे। लेकिन अब यह संख्या हजारों में जा चुकी है। उन्होंने कहा, हमारी मौजूदगी संसद, राज्य विधानसभाओं और स्थानीय निकायों में है और यह लगातार बढ़ रही है। युवाओं को चाहिए कि वे चुनाव के जरिये प्रशासन में जाने की भी कोशिश करें। ओवैसी ने युवाओं से आह्वान किया कि वे आगे आएं, एआईएमआईएम को मजबूत बनाएं और मुस्लिमों एवं दलितों के अधिकारों के लिए लड़ें। 

ओवैसी ने शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए जानना चाहा कि जब हमारे (मुस्लिम) समुदाय के सदस्यों का उत्पीड़न हो रहा था तब वह चुप क्यों थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हराने के लिए एआईएमआईएम का समर्थन चाहते हैं। ओवैसी ने आरोप लगाया, लेकिन, संकट के समय जब मुस्लिम समुदाय को समर्थन की जरूरत होती है तो वह भूल जाते हैं, वह कभी आगे नहीं आए, हमें अपने नसीब पर छोड़ दिया। यह किस तरह की धर्मनिरपेक्षता है?

उन्होंने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि उसके नेताओं को भारत जोड़ो यात्रा और अन्य गतिविधियों के लिए समय है लेकिन भीड़ हिंसा और अन्य घटनाओं में मारे गए लोगों के परिवारों से मिलकर संवेदना व्यक्त करने के लिए समय नहीं है। ओवैसी ने कहा कि उनकी पार्टी उन सीटों पर ‘शेर’ उम्मीदवार उतारेगी जिसे वे (विरोधी) अपना गढ़ होने का दावा करते हैं। उन्होंने किसी का नाम लिए बिना कहा, आप सभी को पैसे के बल पर नहीं खरीद सकते, हमारे पास अब भी कुछ लोग हैं, जो हमारे प्रति निष्ठा रखते हैं और उनके साथ हम आपको हराएंगे।

सबसे अमीर लोगों की सूची में 30वें स्थान पर अडाणी

सबसे अमीर लोगों की सूची में 30वें स्थान पर अडाणी

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। सिर्फ एक महीने पहले गौतम अडाणी की गिनती दुनिया के तीसरे सबसे अमीर शख्स के रूप में होती थी, लेकिन अमेरिकी फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च की नकारात्मक रिपोर्ट आने के बाद उनकी अगुवाई वाले समूह के शेयरों में इस कदर बिकवाली हुई कि अब वह सबसे अमीर लोगों की सूची में 30वें स्थान पर आ गए हैं। बंदरगाह, हवाई अड्डा, खाद्य तेल, बिजली, सीमेंट और डेटा केंद्र जैसे तमाम क्षेत्रों में कारोबारी दखल रखने वाले अडाणी समूह के शेयरों में बीते एक महीने में भारी बिकवाली हुई है। आंकड़े बताते हैं कि अडाणी समूह की 10 कंपनियों के सम्मिलित बाजार मूल्यांकन में इस दौरान 12.06 लाख करोड़ रुपये की भारी-भरकम गिरावट आ चुकी है।

हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट 24 जनवरी को प्रकाशित हुई थी जिसमें अडाणी समूह पर शेयरों के दाम बढ़ाने में हेराफेरी और फर्जी विदेशी कंपनियों का इस्तेमाल करने के गंभीर आरोप लगाए गए थे। हालांकि, अडाणी समूह ने इन आरोपों को झूठा एवं आधारहीन बताते हुए उन्हें खारिज कर दिया था। अडाणी समूह की तरफ से दिए गए तमाम स्पष्टीकरण के बाद भी इसके शेयरों में गिरावट का सिलसिला लगातार जारी है। सर्वाधिक नुकसान अडाणी टोटल गैस लिमिटेड को हुआ है जिसके बाजार मूल्यांकन में 80.68 प्रतिशत की बड़ी गिरावट हो चुकी है। इसी तरह अडाणी ग्रीन एनर्जी का मूल्यांकन 74.62 प्रतिशत घट गया है। अडाणी ट्रांसमिशन के बाजार मूल्य में 24 जनवरी से अबतक 74.21 प्रतिशत की गिरावट आई है।

वहीं, समूह की मुख्य कंपनी अडाणी एंटरप्राइजेज का मूल्यांकन करीब 62 प्रतिशत तक गिर चुका है। अडाणी पावर और अडाणी विल्मर के अलावा इसकी सीमेंट कंपनियों अंबुजा सीमेंट्स एवं एसीसी के बाजार पूंजीकरण में भी इस दौरान गिरावट दर्ज की गई है। इसके साथ ही मीडिया कंपनी एनडीटीवी और अडाणी पोर्ट्स एंड एसईजेड को भी मूल्यांकन में खासा नुकसान हुआ है। अगर गौतम अडाणी की व्यक्तिगत पूंजी की बात करें तो उनका मूल्यांकन 120 अरब डॉलर से घटकर 40 अरब डॉलर से भी कम रह गया है। इस तरह उनके व्यक्तिगत मूल्यांकन में 80 अरब डॉलर यानी दो-तिहाई की गिरावट आ चुकी है। अडाणी की संपत्ति में गिरावट आने के साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी फिर से देश के सबसे धनी आदमी बन गए हैं। अंबानी 81.7 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ दुनिया के 10वें सबसे अमीर शख्स हैं।

अमेरिका के पूर्व वित्त मंत्री और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के पूर्व अध्यक्ष लैरी समर्स ने हाल ही में अडाणी प्रकरण की तुलना एनरॉन मामले से करते हुए कहा था कि यह भारत का एनरॉन प्रकरण बन सकता है। वर्ष 2001 में अमेरिकी कंपनी एनरॉन कॉरपोरेशन पर राजस्व बढ़ा-चढ़ाकर दिखाने के आरोप लगने के बाद उसके शेयरों में भारी गिरावट आई थी। हिंडनबर्ग रिसर्च ने भी अपनी निवेश शोध रिपोर्ट में अडाणी समूह पर शेयरों के भाव चढ़ाने के लिए गलत तरीके अपनाने के आरोप लगाए हैं। उसके आरोपों के मूल में यह है कि अडाणी समूह के अधिकारियों या परिवार के सदस्यों का उन फर्मों पर किसी तरह का नियंत्रण है जो समूह की कंपनियों का स्वामित्व रखती हैं। मसलन, मॉरीशस में गठित ओपल इन्वेस्टमेंट प्राइवेट लिमिटेड की अडाणी पावर में 4.69 प्रतिशत हिस्सेदारी है। आरोप है कि ओपल इन्वेस्टमेंट का गठन ट्रस्टलिंक इंटरनेशनल लिमिटेड ने किया था, जिसके ताल्लुक अडाणी परिवार से रहे हैं।

हालांकि, अडाणी समूह ने 27 जनवरी को कहा था कि ओपल की तरफ से खरीदे जाने वाले शेयरों पर उसका कोई नियंत्रण नहीं होता है। इस मामले में प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस ने लगातार सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने अडाणी समूह के त्वरित विस्तार में नरेंद्र मोदी सरकार के सक्रिय समर्थन का हाथ होने के आरोप लगाए हैं। हालांकि, सरकार एवं भाजपा दोनों ने इन आरोपों को नकारा है। गौतम अडाणी के बड़े भाई विनोद अडाणी का नाम भी इस विवाद में जोर-शोर से उभरा है। हिंडनबर्ग की रिपोर्ट में विनोद अडाणी पर विदेशों में गठित संदिग्ध कंपनियों के साथ जुड़ाव के आरोप लगाए गए हैं। हिंडनबर्ग के मुताबिक, विनोद अडाणी मॉरीशस, साइप्रस और कई कैरेबियाई देशों में गठित उन कंपनियों का प्रबंधन करते हैं जिनका अडाणी समूह के साथ चोरी-छिपे लेनदेन है।

हालांकि, समूह ने कहा कि विनोद अडाणी उसकी किसी भी सूचीबद्ध कंपनी में अहम प्रबंधकीय पद पर नहीं हैं और न ही वह रोजमर्रा के कामकाज में कोई भूमिका निभाते हैं। बीते एक महीने में अडाणी एंटरप्राइजेज की तरफ से लाए गए 20,000 करोड़ रुपये के एफपीओ को पूर्ण अभिदान मिलने के बाद भी वापस लेने का फैसला काफी अहम रहा। हिंडनबर्ग रिपोर्ट आने के बाद शेयरों में जारी तीव्र गिरावट के बीच एफपीओ को निर्गम के अंतिम दिन पूर्ण अभिदान मिल गया था। लेकिन प्रबंधन ने संभवतः एलआईसी जैसे बड़े निवेशकों को नुकसान से बचाने के लिए इसे वापस लेने का फैसला किया।

सीबीआई ने सिसोदिया को पूछताछ के लिए बुलाया

सीबीआई ने सिसोदिया को पूछताछ के लिए बुलाया

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली के शिक्षा मंत्री और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को रविवार के दिन सीबीआई (CBi) ने शराब घोटाले मामलें में पूछताछ के लिए बुलाया। सिसोदिया के समर्थन में आप कार्यकर्ताओं ने दिल्ली की शायद ही कोई ऐसी सड़क हो, जहां विरोध-प्रदर्शन न किया हो। हालांकि, इस दौरान दिल्ली पुलिस कुछ कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर थाने ले गई। इस बीच AAP के कार्यकर्ताओं ने 'मोदी मर गया' के आपत्तिजनक नारे लगाए। एक महिला कार्यकर्ता ने कहा कि मोदी अडानी के लिए कुछ नहीं करता और हमारे शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को गिरफ्तार करना चाहता है।

सीबीआई हेडक्वार्टर के आस-पास धारा 144 लागू कर दी गई है। इस वीडियो में एक महिला यह कहते हुए नजर आ रही हैं, 'मोदी मर गया हाय-हाय' 'मोदी मर गया हाय-हाय'। जब उनसे इस नारा लगाने की वजह पूछी गई तो उन्होंने कहा कि पीएम मोदी अडानी के लिए सब कुछ कर रहे हैं, न ही आम आदमी के लिए, इसलिए वह यह नारे लगा रही हैं। 

नागालैंड में अब तक कोई महिला नहीं बनी है 'एमएलए'

नागालैंड में अब तक कोई महिला नहीं बनी है 'एमएलए'

इकबाल अंसारी 

कोहिमा। नगालैंड में नई विधानसभा के गठन के लिए सोमवार को मतदान होना है। ऐसे में सबकी निगाहें उन चार महिला उम्मीदवारों पर टिकी हैं, जो पूर्वोत्तर के इस राज्य में पहली महिला विधायक बनकर इतिहास रचने का प्रयास कर रही हैं। सामाजिक पर्यवेक्षकों का कहना है कि एक ऐसे राज्य में जहां महिलाएं लगभग सभी सामाजिक मुद्दों पर नेतृत्व की भूमिका में हैं, वहां आज तक कोई महिला विधायक नहीं बन पाई है। नगालैंड में कुल 13,17,632 मतदाता हैं, जिनमें महिला मतदाताओं की संख्या 6,56,143 यानी 49.8 प्रतिशत है। राज्य के चुनावी मैदान में कुल 183 उम्मीदवार हैं, जिनमें से चार महिलाएं हैं। 

इन चार महिला उम्मीदवारों में दीमापुर-3 सीट से नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) की हेखनी जाखलू, तेनिंग सीट पर कांग्रेस की रोजी थॉम्पसन, पश्चिमी अंगामी सीट पर एनडीपीपी की सलहौतुओनुओ और अतोइजू सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की काहुली सेमा शामिल हैं। राजनीतिक विश्लेषक और लेखक सुशांत तालुकदार ने कहा, यह एक विरोधाभास है कि पूर्वोत्तर के अधिकांश राज्यों में महिलाएं सामाजिक मुद्दों पर नेतृत्व की भूमिका में हैं, लेकिन राजनीतिक क्षेत्र में उन्हें जगह नहीं मिल पाई है। उन्होंने कहा, नगालैंड में भी, वे सभी सामाजिक मुद्दों में सबसे आगे हैं, जैसे आफ्सपा-विरोधी आंदोलन का नेतृत्व करना, उग्रवादी समूहों के साथ शांति वार्ता करना आदि। लेकिन उनके पास पर्याप्त राजनीतिक प्रतिनिधित्व नहीं है।

साल 1977 में रानो मेसे शाज़िया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी के टिकट पर जीत हासिल कर लोकसभा सदस्य चुनी गई थीं। वह नगालैंड से संसद पहुंचने वाली पहली महिला थीं। उसके बाद, पिछले साल भाजपा ने नगालैंड से राज्यसभा सदस्य के रूप में एस. फांगनोन कोन्याक को नामित किया था, जिसके साथ ही नगालैंड से कोई दूसरी महिला संसद पहुंची। नगालैंड में लोकसभा और राज्यसभा की एक-एक सीट है, जबकि विधानसभा में सीटों की संख्या 60 है। 

सामाजिक कार्यकर्ता पोंगलेम कोन्याक महिला विधायक न बन पाने की वजह बताते हुए कहती हैं, परिवार का मुखिया तय करता है कि वे किसे वोट देंगे और इससे अन्य महिलाएं भी एकजुटता दिखाते हुए महिला उम्मीदवारों को वोट नहीं देतीं। महिला उम्मीदवारों के लिए आमतौर पर जन समर्थन की कमी है। उन्होंने कहा, हमें अभी तक राजनीतिक सफलता नहीं मिली है, लेकिन सामाजिक क्षेत्र में हम सक्रिय हैं। हम एक दिन वहां (विधानसभा में) भी पहुंचेंगे। नगालैंड की 60-सदस्यीय विधानसभा के लिए 27 फरवरी को मतदान होगा और मतगणना दो मार्च को होगी।

केसरिया बादाम ठंडाई बनाने की रेसिपी, जानिए 

केसरिया बादाम ठंडाई बनाने की रेसिपी, जानिए 

सरस्वती उपाध्याय 

रंगों का त्योहार होली इस बार 8 मार्च 2023 को मनाई जाएगी और 7 मार्च को होलिका दहन किया जाएगा। इस त्योहार का अपना एक अलग ही मजा होता है। इस दिन लोग अपने दोस्तों और परिवारवालों के साथ जमकर होली खेलते हैं साथ ही लजीज पकवान जैसे दही भल्ले, बालू शाही, गुजिया समेत कई तरह के स्वादिष्ट मिठाइयों का मजा लेते हैं।

यूं तो होली पर ढेर सारे पकवान बनाएं जाते हैं, लेकिन इन पकवानों के साथ अगर ठंडाई मिल जाए तो फिर क्या ही कहना। ऐसे में होली का मजा भी दुगुना हो जाता है। अगर आप होली खेलते समय बीच-बीच में इसका सेवन करेंगे तो मजा भी दोगुना हो जाएगा। 

केसरिया बादाम ठंडाई बनाने की सामग्री...

बादाम : एक चौथाई कप (छिला हुआ)
केसर : बारिक कटी हुई
चीनी : डेढ़ कप 
दूध फूल क्रीम : पांच कप
खरबूजे के बीज (थोड़े से)
सौंफ : दो चम्मच
इलायची : 4 से 5
खस-खस : दो चम्मच
काली मिर्च : एक चम्मच 

केसरिया बादाम ठंडाई बनाने की रेसिपी...

केसरिया बादाम ठंडाई बनाने के लिए सबसे पहले एक बड़े बर्तन में पानी और चीनी को डालकर अच्छे से उबाल लें। उबलने के बाद अब इसे ठंडा कर लें। इसके बाद खरबूजे के बीज, सौंफ, काली मिर्च, इलायची, बादाम और खस खस को भिगो कर एक घंटे के लिए छोड़ दें। अब पानी से इसे निकाल लें और बादाम का छिलका उतार दें। उसके बाद इन सभी चीजो को चीनी के घोल के साथ पीस लें।

अब इस मिश्रण को किसी कपडे में डाल कर छान लें। उसके बाद इस मिश्रण में दूध में मिला दें। फिर इसमें इलायची पाउडर डालकर मिक्स कर दें। अब आप इसे कुछ देर के लिए फ्रिज में रख दें।  फिर कुछ टाइम बाद फ्रिज में से ठंडाई निकाल कर इसके ऊपर केसर डाल दें। आपकी टेस्टी केसरिया बादाम ठंडाई बनकर तैयार है। इसे आप ठंडा-ठंडा सर्व कर होली का पूरा मजा लें। 

गुजरात में भूकंप, 4.3 तीव्रता के झटके महसूस किए

गुजरात में भूकंप, 4.3 तीव्रता के झटके महसूस किए

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर/राजकोट। रिक्टर पैमाने पर 4.3 की तीव्रता वाला भूकंप गुजरात के राजकोट से 270 किमी उत्तर-उत्तर पश्चिम में आज दोपहर 3:21 बजे आया। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने बताया कि रविवार की दोपहर 4.3 तीव्रता के झटके महसूस किए गए। जिसकी गहराई 10 किमो नीचे थी। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने बताया कि भूकंप गुजरात के राजकोट से 270 किमी उत्तर-उत्तर पश्चिम में दोपहर 3 बजकर 21 मिनट में आया।

इससे पहले दिल्ली-एनसीआर और उत्तराखंड में भूकंप के झटके महसूस हुए थे। दरअसल, 22 फरवरी की दोपहर भूकंप के झटके लगे थे और इसका केंद्र नेपाल में था। राहत की बात तो यह थी कि जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ था। फरवरी माह के शुरुआती हफ्ते में गुजरात में भूकंप के झटके लगे थे। अधिकारियों ने बताया था कि गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र के अमरेली जिले में 4 फरवरी की सुबह 7 बजकर 51 मिनट पर 3.2 की तीव्रता से भूकंप दर्ज किया गया।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-137, (वर्ष-06)

2. सोमवार, फरवरी 27, 2023

3. शक-1944, फाल्गुन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2079‌।

4. सूर्योदय प्रातः 07:09, सूर्यास्त: 06:01। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 16 डी.सै., अधिकतम- 28+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'भाजपा' ने दस साल में महंगाई, बेरोजगारी बढ़ाई

'भाजपा' ने दस साल में महंगाई, बेरोजगारी बढ़ाई संदीप मिश्र  लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार न...