मंगलवार, 8 अगस्त 2023

नफरत की राजनीति करती है अहंकारी भाजपा

नफरत की राजनीति करती है अहंकारी भाजपा     

अकाशुं उपाध्याय   
नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी (सपा) ने मंगलवार को केंद्र सरकार पर मणिपुर के मुद्दे पर संवेदनहीनता दिखाने का आरोप लगाते हुए कहा कि यह सरकार ‘अहंकार’ में डूबी है और उत्तर पूर्व राज्य में हिंसा की घटनाओं के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जिम्मेदार है। सपा सांसद डिंपल यादव ने लोकसभा में सरकार के खिलाफ लाये गये कांग्रेस सदस्य गौरव गोगोई के अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा में भाग लेते हुए ये आरोप लगाये।
उन्होंने कहा कि जब महिलाओं के खिलाफ अपराध की बात होती है तो उत्तर प्रदेश की भी चर्चा होनी चाहिए। यादव ने दावा किया कि राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में हर तीन घंटे में एक महिला का यौन उत्पीड़न होता है। उन्होंने कहा कि मणिपुर की घटना मामूली नहीं। सपा सदस्य ने कहा कि मणिपुर के मुद्दे पर केंद्र सरकार का रवैया संवेदनाहीन है और वह ‘अहंकार में डूबी’ है।
उन्होंने इसे राज्य प्रायोजित हिंसा होने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सदन में आना चाहिए और इस बारे में अपनी बात रखनी चाहिएं डिंपल यादव ने कहा कि मणिपुर के मुख्यमंत्री का विशेष दायित्व था कि वह हिंसा को रोकें और अगर राज्य सरकार चाहती तो दो दिन के भीतर हिंसा नियंत्रण में लाई जा सकती थी।
उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘लेकिन सरकार की मंशा सही नहीं थी।’’ उन्होंने भाजपा पर नफरत की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मणिपुर की घटनाओं के लिए भी वही जिम्मेदार है। सपा सांसद ने कहा, ‘‘भाजपा बांटो, नफरत पैदा करो और राज करो की सियासत करती है।’’ यादव ने चीन के साथ सीमा पर गतिरोध की स्थिति पर भी सदन में चर्चा कराने की मांग की।

समलैंगिक सेक्सटॉर्शन रैकेट का भंडाफोड़ किया

समलैंगिक सेक्सटॉर्शन रैकेट का भंडाफोड़ किया

संदीप मिश्र 
कानपुर। कल्याणपुर पुलिस ने एक अलग तरीके की ठगी का खुलासा किया है। पुलिस का दावा है कि इस तरह की ठगी का यूपी में पहला मामला सामने आया है। इसमें गे डेटिंग एप का इस्तेमाल करके कानपुर में पढ़ाई करने आए छह छात्रों ने गैंग बनाकर सैकड़ों लोगों को अपना शिकार बनाकर लाखों रुपये ठग लिए। डेटिंग एप पर जो भी एप्वाइंटमेंट लेकर मिलने पहुंचा और समलैंगिक संबंध बनाए। उसका अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर अकाउंट खाली कर देते थे। शिकायत मिलने के बाद कल्याणपुर पुलिस ने गैंग का खुलासा किया है। एडीसीपी वेस्ट लखन यादव ने गैंग का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि कानपुर के काकादेव में इंजीनियरिंग और मेडिकल समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों का गैंग है। गैंग में शामिल छात्रों ने गे डेटिंग एप पर सभी ने अलग-अलग नामों से आकर्षक तस्वीर के साथ फोटो लगाकर अपना प्रोफाइल बनाया। इस एप पर कानपुर के जिन लोगों ने इनसे संपर्क किया और बातचीत बढ़ाई उसे अपने रूम पर मिलने के लिए बुलाया। इस दौरान उसका अश्लील वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर चेन, अंगूठी, जेब में रखे रुपये ही नहीं मोबाइल से यूपीआई का आईडी पासवर्ड लेकर बैंक अकाउंट खाली कर दिया। धमकी देते थे कि अगर पुलिस में शिकायत की, तो उनका अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगे। छात्रों ने एक के बाद एक सैकड़ों लोगों का अपना शिकार बनाया। कल्याणपुर में दो मामलों की शिकायत पहुंची, तो पुलिस ने जांच शुरू की। इसके बाद पूरे गैंग का खुलासा कर दिया। सोमवार देर रात कल्यानपुर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर अमित श्रीवास्तव निवासी अम्बेडकरपुरम सेक्टर-आठ के मकान में छापा मारा। इसी मकान में छिपे छह आरोपियों को गिरफ्तार किया। उनके पास से पांच मोबाइल फोन, एक टेबलेट व विभिन्न बैंको के एटीएम कार्ड बरामद हुआ है।

एक ही बार में सब कुछ खत्म हो जाएगा: सीएम

एक ही बार में सब कुछ खत्म हो जाएगा: सीएम 

अविनाश श्रीवास्तव
पटना। मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने बिहार संग्रहालय के स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित बिहार संग्रहालय बिनाले -2023 एवं ‘टूगेदर वी आर्ट’ का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया। इस दौरान नीतीश ने जरूरी चीजों को लिखित रिकॉर्ड में रखने की बात कही। उन्होंने कहा, “बिहार म्यूजियम को अच्छे तरीके से बनाया गया है और हम कहते हैं कि अक्सर पेपर का इस्तेमाल किया जाए, क्योंकि टेक्नोलॉजी तो पृथ्वी के नाश होने के साथ खत्म हो जाएगी। हम तो खुद 73 साल के हो गए हैं। अब जाने वाले हैं।
नीतीश ने कहा कि आने वाली जेनरेशन के लिए इन सब चीजों को बचा कर रखना है। आप लोग तो नयका (नई) टेक्नॉलॉजी में हैं और पुरनका (पुरानी) चीज को थोड़े ही कोई देख रहा है। सब के सब लोग खाली टेक्नॉलॉजी के पीछे हैं। पुराना चीज देखा सब खराब है क्या? हमको तो डाउट है कि जो नई टेक्नोलॉजी आ गई है तो आप समझ लीजिए कि सब लोग उसी पर डिपेंड हो गए हैं। उसके बाद आप समझ लीजिए हम जो भी कर रहे हैं, इसका कोई मतलब नहीं है।
आने वाली पीढ़ी के लिए लिखकर रखिए
नीतीश ने मंच से कहा हम बराबर कहते हैं लिखिए, कागज अपने पास रखिए, जरूर रखिए। लिखा हुआ ही सुरक्षित रहेगा। नहीं तो 100 साल भी नहीं लगेगा और सब खत्म हो जाएगा। क्योंकि उस समय तो सब एक ही बार में खत्म होगा। आप लोगों को याद नहीं है कि जब जब धरती खत्म हुई तकनीक नहीं, लिखा हुआ ही बचा रहा, अभी भी कह रहे हैं अब आप समझ लीजिए।” 
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज कल हर जगह यह देखने को मिल रहा है कि हिंदी के शब्दों को अंग्रेजी में लिखा जा रहा है, यह उचित नहीं है। हिंदी के साथ अंग्रेजी शब्दों का भी इस्तेमाल करें ताकि अधिक से अधिक लोग चीजों को समझ सकें। 
राहुल गांधी की सदस्यता वापस मिली, हम सब खुश हैं
पत्रकारों द्वारा राहुल गांधी की संसद सदस्यता बहाल होने से संबंधित पूछे गये प्रश्न पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी की संसद सदस्यता सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद फिर से बहाल हो गई है। ये बहुत खुशी की बात है। इस तरह की उनके साथ जो घटना घटी, सबको खराब लगी थी। जब फैसला उनके पक्ष में आ गया है तो सबको खुशी है। हमलोगों के द्वारा उनके लिए बधाई है। ये बहुत अच्छा हुआ है।
विपक्षी एकजुटता के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अब देश भर की अनेक पार्टियां एकजुट होकर एक साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगी और इसकी शुरुआत पटना से हो चुकी है । इसके बाद अब मुंबई में बैठक होने वाली है। हम सब मिलकर इस पर आगे चर्चा करेंगे।

यूके: 49 महिलाओं को पुरस्कृत किया गया

यूके: 49 महिलाओं को पुरस्कृत किया गया

श्रीराम मौर्य  
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को आई.आर.डी.टी सभागार सर्वे चौक में आयोजित कार्यक्रम में राज्य स्त्री शक्ति तीलू रौतेली पुरस्कार एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्री पुरस्कार 2022-23 प्रदान किये। इस वर्ष 14 महिलाओं को राज्य स्त्री शक्ति तीलू रौतेली पुरस्कार एवं 35 महिलाओं को आंगनबाड़ी कार्यकत्री पुरस्कार प्रदान किया गया। सभी पुरस्कार प्राप्तकर्ताओं को 51-51 हजार रूपये की धनराशि उनके खाते में डिजिटल हस्तांतरित की गई।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पुरस्कार प्राप्तकर्ताओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य करने वाली मातृशक्ति को सम्मानित कर वे स्वयं गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वीरांगना तीलू रौतेली ने 15 वर्ष की उम्र में युद्ध भूमि में अपने रण कौशल द्वारा अपने विरोधियों को परास्त किया था। अपूर्व शौर्य, संकल्प और साहस की धनी वीरांगना तीलू रौतेली को उत्तराखंड की झांसी की रानी कहकर याद किया जाय तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। उन्होंने 15 से 22 वर्ष की आयु के मध्य सात युद्ध लड़े और अपनी वीरता और रण कौशल का परिचय दिया। राज्य सरकार ने तीलू रौतेली पुरुस्कार की धनराशि 31 हजार रुपए से बढ़ाकर 51 हजार रुपए की है, जबकि आंगनबाड़ी कार्यकत्री पुरुस्कार की धनराशि भी 21 हजार से बढ़ाकर 51 हजार रुपए की गई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों की स्थिति मजबूत करने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है और इस दिशा में निरंतर कार्य कर रही है। माता-पिता के बाद बच्चों को संस्कार देने की शुरुआत आंगनबाड़ी केंद्रों से ही होती है। राज्य सरकार द्वारा आंगनबाड़ी बहनों का मानदेय 7500 रुपए से बढ़ाकर 9300 रुपए किया है। मिनी आंगनबाड़ी बहनों के मानदेय को भी 4500 से बढ़ाकर 6250 और सहायिकाओं का मानदेय 3550 से 5250 रुपए किया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड के विकास के लिए हर क्षेत्र में मातृ शक्ति की बड़ी भूमिका रही है। उत्तराखण्ड को अलग राज्य बनाने की मांग हेतु हुए आंदोलन में सबसे बड़ा बलिदान हमारी मातृशक्ति ने ही दिया था। आज महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से कम नहीं हैं, चाहे घर हो या युद्ध का मैदान, राजनीति हो या सिनेमा, वैज्ञानिक क्षेत्र हो या कृषि, शिक्षा और अनुसंधान का क्षेत्र महिलाओं ने हर जगह अपने आपको साबित किया है। आज प्रदेश के सुदूर गांवों में महिलाएं सेल्फ हेल्प ग्रुप बनाकर कुटीर उद्योगों के जरिए ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गति प्रदान कर रही हैं। महिलाओं के पास कौशल की कभी कोई कमी नहीं रही और अब यही कौशल उनकी और उनके परिवारों की आर्थिकी को बल प्रदान कर रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने प्रत्येक क्षेत्र में महिलाओं को सशक्त बनाने का कार्य किया है। आज वित्तीय समावेश से लेकर सामाजिक सुरक्षा, गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा से लेकर आवास, शिक्षा से लेकर उद्यमिता तक नारी शक्ति को भारत की विकास यात्रा में सबसे आगे रखने के लिए कई प्रयास किए गए हैं।

कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल को नूंह में प्रवेश से रोका

कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल को नूंह में प्रवेश से रोका    

राजेश ओबरॉय   
गुरुग्राम/चंडीगढ़। हरियाणा के नूंह में हिंसाग्रस्त इलाकों का दौरा करने जा रहे कांग्रेस की प्रदेश इकाई के 10 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को पुलिस ने जिले के रोजका मेव गांव में प्रवेश करने से पहले रोक दिया। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रतिनिधिमंडल को कर्फ्यू लागू होने और उनके लिए सुरक्षा चिंताओं को देखते हुए रोक दिया गया, जिसके बाद प्रतिनिधिमंडल लौट आया।
कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई उसकी प्रदेश इकाई के प्रमुख उदय भान ने की। इस बीच, हरियाणा में साम्प्रदायिक झड़पों के संबंध में कुल 312 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 106 लोगों को एहतियातन हिरासत में लिया गया है। हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि नूंह, गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, रेवाड़ी, पानीपत और भिवानी समेत अन्य स्थानों पर 142 प्राथमिकियां दर्ज की गयी हैं।
नूंह में विश्व हिंदू परिषद की शोभायात्रा पर भीड़ द्वारा हमला किए जाने के बाद भड़की साम्प्रदायिक हिंसा में दो होम गार्ड तथा एक नायब इमाम समेत छह लोगों की मौत हो गयी। हरियाणा में विपक्षी दलों ने आरोप लगाया कि नूंह में हिंसा भारतीय जनता पार्टी-जननायक जनता पार्टी सरकार की नाकामी का नतीजा है।

मगरमच्छ को खाना देने आई महिला का हाथ चबाया

मगरमच्छ को खाना देने आई महिला का हाथ चबाया   

सरस्वती उपाध्याय   
सोशल मीडिया पर आए दिन जानवरों के वीडियो वायरल होते रहते हैं। कुछ वीडियो जू से जुड़े भी होते हैं जिनमें कुछ दिल दहला देने वाले होते हैं। वहीं हाल ही में एक ऐसा ही वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे देखकर लोगों के रोंगटे खड़े हो रहे हैं। वीडियो में आप देख सकते हैं पानी के 'शैतान' को खाना खिलाने आई महिला का मगरमच्‍छ ने हाथ चबा डाला। इस दौरान वहां मौजूद लोग डर के मारे चौंक उठे। वहीं चीख पुकार के बीच मगरमच्‍छ महिला को पानी में खींचता ले गया। 
हैरान कर देने वाला वीडियो ट्विटर पर वायरल रहा है। जिसमें चिड़ियाघर की एक महिला कर्मचारी मगरमच्‍छ को खाना खिला रही होती है, लेकिन तभी मगरमच्‍छ महिला का हाथ चबा डालता है और उसे खींचते हुए पानी में ले जाता है। इस बीच एक टूरिस्ट वक्त रहते पिंजरे में कूद जाता है और महिला को बचाने के लिए अपनी जान की बाजी लगा देता है। 
बता दें वीडियो को ट्विटर पर @cctvidiots नाम के अकाउंट से शेयर किया गया है। वीडियो में आप देख सकते हैं कि, कैसे बच्‍चे और पर्यटक पिंजरे के बाहर जमा हो जाते हैं, जब मगरमच्‍छ महिला बार हमला बोल देता है।

हौंडा की नई बाइक एसपी 160 लांच की घोषणा

हौंडा की नई बाइक एसपी 160 लांच की घोषणा 

अकाशुं उपाध्याय 
नई दिल्ली। दोपहिया वाहन बनाने वाली प्रमुख कंपनी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया ने अपनी नयी मोटरसाइकिल एसपी160 लाँच करने की आज घोषणा की जिसकी दिल्ली में शुरूआती एक्स शोरूम कीमत 117500 रुपये है। कंपनी ने यहां जारी बयान में कहा कि बोल्ड, स्पोर्टी और स्टाइलिश एसपी160 को इस तरह से डिज़ाइन किया गया है कि यह अपने परफोर्मेन्स और पावर के साथ रोज़मर्रा की राइड के लिए उपयोगी है। 
इसे दो मॉडल में उतारा गया है जिसमें सिंगल डिस्क मॉडल की दिल्ली में एक्स शोरूम कीमत 117500 रुपये और ड्यूल डिस्क की कीमत 121900 रुपये है। उसने कहा कि राइडरों की पसंद को ध्यान में रखते हुए नई एसपी160 को डिज़ाइन किया गया है, जो स्पोर्टी फीचरों के साथ व्यवहारिकता का संयोजन है। एसपी160 में ओबीडी2 कम्प्लायन्ट होंडा का मिड साइज़ अडवान्स्ड 160 सीसी प्रोग्राम्ड फ्यूल इंजेक्शन (पीजीएम एफआई) इंजन है। 
इंजन का सोलेनॉयड वॉल्व इंजन स्टार्ट और वार्मअप के दौरान ऑटोमेटिक चोक मैकेनिज़्म की तरह काम करता है। यह इग्निशन और इंजन वार्म अप के समय इंजन को अतिरिक्त एयर देता है। सोलेनॉयड वॉल्व की ओपनिंग और क्लोज़िंग का नियरण इंजन कंट्रोल युनिट के द्वारा किया जाता है, जो इंजन ऑयल के टेम्परेचर और इनटेक एयर के प्रेशर पर निर्भर करता है। 
उसने कहा कि नई एसपी160 सिंगल चैनल एबीएस (एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम) सड़क पर ब्रेकिंग के परफोर्मेन्स को बेहतर बनाता है। यह अचानक ब्रेक लगाने की स्थिति में या फिसलन भरी सड़क पर पहियों को लॉक होने से रोकता है। पैटल डिस्क ब्रेक एक समान हीट के वितरण से ब्रेकिंग की दक्षता में सुधार लाता है। फ्रंट और रियर डिस्क ब्रेक ब्रेकिंग को प्रभावी बनाकर नियन्त्रण को बेहतर बनाते हैं। सीट के नीचे हाई परफोर्मेन्स रियर मोनो शॉक सस्पेंशन है, जिसे अडवान्स्ड टफ और फ्लेक्सिबल डायमण्ड फ्रेम पर माउंट किया गया है। यह राइडर को आरामदायक बनाकर उत्कृष्ट स्थिरता देते हैं।

मिशन इंद्रधनुष, 12.74 लाख बच्चों को टीका लगा

मिशन इंद्रधनुष, 12.74 लाख बच्चों को टीका लगा

हरिओम उपाध्याय   
लखनऊ। पांच साल तक की आयु के बच्चों और गर्भवती महिलाओं को टीके लगाने के लिए सोमवार से मिशन इंद्रधनुष अभियान शुरू हो गया। अभियान में 12.74 लाख बच्चों और 3.88 लाख गर्भवतियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इस दौरान मीजल्स रूबेला, टीबी, पोलियो और हेपेटाइटिस सहित 12 बीमारियों से बचाव के लिए टीके लगाए जाएंगे। जिन्हें पूरे टीके नहींलगे हैं, उन्हें इस अभियान के माध्यम से टीके लगाए जाएंगे। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के महाप्रबंधक डॉ. मनोज कुमार शुक्ला ने बताया कि मिशन इंद्रधनुष अभियान तीन चरणों में चलाया जाएगा। पहला चरण सोमवार से 12 अगस्त तक, दूसरा चरण 11 सितंबर से 16 सितंबर और तीसरा चरण नौ अक्टूबर से 14 अक्टूबर तक चलेगा।

प्रवर्तन निदेशालय ने जब्त किए 1,144 करोड़ रुपए

प्रवर्तन निदेशालय ने जब्त किए 1,144 करोड़ रुपए

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय ने 1,144 करोड़ रुपए का अपराध धन जब्त किया है। आपको बता दें कि ईडी ने क्रिप्टो करेंसी,वर्चुअल डिजिटल संपत्ति में धोखाधड़ी से संबंधित मामलों में 20 लोगों को गिरफ्तार किया है। वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने लोकसभा को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, इसके अलावा, विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, 1999 के तहत 270.18 करोड़ रुपये की संपत्ति को फेमा की धारा 37 ए के तहत जब्त कर लिया गया है। क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज जैनमाई लैब्स प्राइवेट लिमिटेड, जिसे वजीरएक्स के नाम से जाना जाता है। उसके निदेशकों को लेनदेन के लिए फेमा के तहत कारण बताओ नोटिस भी दिया गया है।

प्रत्येक व्यक्ति मर्जी से चुन सकता है जीवनसाथी

प्रत्येक व्यक्ति मर्जी से चुन सकता है जीवनसाथी

बृजेश केसरवानी
इलाहाबाद। हाईकोर्ट ने कहा कि सहमति से साथ रहने वाले वयस्क अपराधी नहीं हैं। हर वयस्क अपनी मर्जी से अपना जीवन साथी चुनने के लिए आजाद है। कोर्ट ने सहमति संबंध में रह रहे जोड़े के खिलाफ दर्ज अपहरण की एफआईआर को रद्द कर दिया। आपको बता दें कि मथुरा जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र में पीड़िता अपर्णा के पिता ने याची पर अपहरण का केस दर्ज कराया था। याची के अधिवक्ता का कहना था कि पीड़िता के पिता में एफआईआर में स्वीकार किया है कि अपर्णा की उम्र 25 वर्ष है। याची और अपर्णा मर्जी से साथ रह रहे हैं। दोनों वयस्क हैं, इसलिए इन्हें मर्जी से जीवन साथी चुनने के अधिकार है। पीड़िता के पिता की ओर से पेश अधिवक्ता छाया गुप्ता ने कोर्ट को बताया कि याची का अपराधिक इतिहास है। ऐसे जोड़ो के विरुद्ध अपहरण का अपराध गठित नहीं होता।

भाजपा के राज में महिलाओं को किया गया शर्मसार

भाजपा के राज में महिलाओं को किया गया शर्मसार

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। मणिपुर में महिलाओं के खिलाफ अपराधों को लेकर लोकसभा में आज भी बहस जारी रही। इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की नेता सुप्रिया सुले भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली पार्टी ने 'महिलाओं को शर्मसार' किया है। सुले ने मणिपुर के मुख्यमंत्री एनबीरेन सिंह के तत्काल इस्तीफे की भी मांग की है। सुप्रिया सुले ने संसद के निचले सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान कहा कि दंगे, हत्या और दुष्कर्म के 10,000 मामले। क्या हम इतने असंवेदनशील हो गये हैं। उन्होंने भगवा पार्टी पर अपना हमला जारी रखा और कहा भाजपा ने पिछले नौ वर्षों में नौ राज्य सरकारों अरुणाचल, उत्तराखंड, मणिपुर, मेघालय, कर्नाटक, गोवा, मध्य प्रदेश, पुडुचेरी और महाराष्ट्र को दो बार गिराया है। पिछले नौ वर्षों के दौरान, हमने कीमतों में वृद्धि, एलपीजी की कीमतों में वृद्धि, टूटे हुए संस्थान देखे हैं। लोकसभा में सत्तारूढ़ सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा शुरू हुई। कई विपक्षी सांसदों ने दावा किया कि सरकार 'महंगाई, सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने और संस्थानों की स्वतंत्रता की रक्षा करने सहित कई मुद्दों पर विफल रही है।

गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक की याचिका खारिज

गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक की याचिका खारिज 

अकाशुं उपाध्याय   
नई दिल्ली। बहुचर्चित वाराणसी स्थित ज्ञानवापी परिसर में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक लगाने की मांग वाली जनहित याचिका पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। हाईकोर्ट में यह याचिका राखी सिंह व अन्य की तरफ से दाखिल की गई थी। इस पर मुख्य न्यायमूर्ति प्रीतिंकर दिवाकर और न्यायमूर्ति आशुतोष श्रीवास्तव की खंडपीठ ने सुनवाई की। इस जनहित याचिका में मांग की गई थी कि श्रृंगार गौरी केस में जब तक वाराणसी जिला अदालत का फैसला नहीं आ जाता तब तक परिसर में गैर हिंदुओं का प्रवेश प्रतिबंधित किया जाए और ज्ञानवापी परिसर में मिले हिंदू प्रतीक चिन्हों को संरक्षित रखने का आदेश दिया जाए। वर्ष 1669 में मुस्लिम शासक औरंगजेब ने इस मंदिर को नष्ट कर दिया था। कहा गया है कि उक्त मंदिर को नष्ट करने के बाद मुसलमानों ने अनधिकृत रूप से मंदिर परिसर में अतिक्रमण किया और एक संरचना बनाई जो कि कथित ज्ञानवापी मस्जिद है।

विस की कार्यवाही ऑनलाइन करने का प्रावधान लागू

विस की कार्यवाही ऑनलाइन करने का प्रावधान लागू 

हरिओम उपाध्याय   
लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा की प्रक्रिया तथा कार्य संचालन नियमावली-2023 में ई-विधान के तहत सदन की कार्यवाही को ऑनलाइन करने का प्रावधान किया गया है। विधायक अब घर, दफ्तर या कार में बैठकर वर्चुअली विधानसभा की कार्यवाही में शामिल हो सकेंगे। विधायक सदन में मोबाइल फोन, झंडे, बैनर, प्रतीक या कोई प्रदर्शन करने योग्य वस्तु नहीं ले जा सकेंगे। अध्यक्ष की पीठ के पास स्वयं नहीं जाएंगे। यदि आवश्यक हुआ तो पटल पदाधिकारी को पर्ची भेज सकेंगे। विधायक अध्यक्ष की ओर पीठ करके न तो खड़े हो सकेंगे और न ही बैठ सकेंगे। सदन में न शस्त्र ला सकेंगे न ही प्रदर्शित कर सकेंगे। ऐसे किसी भी साहित्य, प्रश्नावली, पुस्तिका, प्रेस टिप्पणी, पर्चों का वितरण नहीं कर सकेंगे जो सदन से संबंधित न हों। धूम्रपान नहीं कर सकेंगे। लॉबी में इतनी तेज आवाज न तो बात करेंगे न ही हंसेंगे, जो सदन में सुनाई दे। नियमावली का प्रतिवेदन सोमवार को विधानसभा में पेश किया गया। मंगलवार तक इस पर विधायक संशोधन प्रस्ताव दे सकेंगे। बुधवार को नियमावली पर सदन में चर्चा कर मंजूरी दिलाने की योजना है। मंजूरी के बाद विधानसभा का शीतकालीन सत्र नई नियमावली के तहत संचालित होगा। विधायकों के सवालों के जवाब सहित अन्य सूचनाएं संबंधित विभाग से ऑनलाइन ली जा सकेंगी और ऑनलाइन ही विधायकों को दी जाएंगी।

अखिलेश ने सीएम को बेरोजगारी मुद्दे पर घेरा

अखिलेश ने सीएम को बेरोजगारी मुद्दे पर घेरा 

संदीप मिश्र     
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानमंडल मॉनसून के दूसरे दिन सदन में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बेरोगारी के मुद्दे को लेकर सवाल उठाएं। अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी प्रदेश में बेरोजगारी की दर तो बताते हैं पर रोजगार कितने देते हैं। जिस पर जवाब देते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश में रोजगार का सृजन हो रहा है। भर्ती प्रक्रिया साफ-सुथरे तरीके से सम्पन्न हो रही है। आज प्रदेश की बेरोजगारी दर 19 प्रतिशत से घटकर तीन से चार फीसदी हो गई है। इस पर नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने पूछा कि मुख्यमंत्री बताएं कि प्रदेश में 2017 से 2022 तक 15 वर्ष की आयु वर्ग के बच्चों की संख्या में कितनी बढ़त हुई है और सरकार आने वाले समय में इन बच्चों के रोजगार के लिए क्या कर रही है। सदन की कार्यवाही प्रारंभ होते ही विधान परिषद में हंगामा हो गया। सपा सदस्यों ने वेल में आकर नारेबाजी शुरू कर दी और फिर बर्हिगमन कर लिया।

समाजवादियों को जनसंख्या की चिंता होने लगी है

समाजवादियों को जनसंख्या की चिंता होने लगी है

आदर्श श्रीवास्तव   
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को विधानसभा में समाजवादी पार्टी और नेता विरोधी दल अखिलेश यादव को प्रदेश में बेरोजगारी और शिक्षा के संबंध में पूछे गए सवाल पर आईना दिखाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि अच्छा है कि नेता विरोधी दल को भी अब जनसंख्या की चिंता होने लगी है। इसी को नियंत्रित करने के लिए हम लोग समान कानून की बात कर रहे हैं। चलिए समाजवादियों में कुछ तो प्रोग्रेस हुई है। प्रगति के बारे में सोचना अच्छी बात है। उन्होंने कहा कि अभी एक सदस्य ने बेसिक शिक्षा के विषय में एक प्रदेश, एक कोर्स और एक मूल्य को लेकर सवाल पूछा था। इसमें एक देश और एक कानून को भी जोड़ देते तो अच्छा होता। सीएम योगी ने बेरोजगारी दर को लेकर कहा कि बेरोजगारी दर जो 2017 से पहले 19 फीसदी थी, वो आज 3 से 4 के बीच रह गई है। प्रदेश में रोजगार के जो अवसर सृजित हुए हैं, उसी की वजह से बेरोजगारी दर में कमी आई है। 
शुचिता और ईमानदारी से हो रही है भर्ती प्रक्रिया
सीएम योगी ने प्रदेश में बेरोजगारी दर में हुए सुधार को रोजगार के बढ़ रहे अवसरों से जोड़ते हुए अखिलेश पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सरकार क्या कर रही है ये तो सर्वे भी बताते हैं। बेरोजगारी दर इस बात पर निर्भर करती है कि रोजगार कितने सृजित हुए। 2016-17 में उत्तर प्रदेश की बेरोजगारी दर 19 फीसदी से अधिक थी और आज के दिन पर यह 3 से 4 के बीच रह गई है। ये दिखाता है कि उत्तर प्रदेश में रोजगार के अवसर सृजित हुए हैं। लोगों को पारदर्शी तरीके से नौकरी मिल रही है और नौकरी की कोई भी प्रक्रिया न्यायालय में लंबित नहीं है। न्यायालय को भी मालूम है कि प्रक्रिया में पारदर्शिता है, शुचिता और पूरी ईमानदारी से सरकार इसको आगे बढ़ा रही है। उत्तर प्रदेश के इस परसेप्शन के कारण ही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में 36 लाख करोड़ के निवेश प्रस्ताव पास हुए हैं जो एक करोड़ नई नौकरियों का सृजन करेंगे। यह उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए अवसर है। उत्तर प्रदेश के युवाओं को तकनीकी रूप से सक्षम बनाने के लिए ही 2 करोड़ युवाओं को टैबलेट और स्मार्टफोन उपलब्ध कराए जा रहे हैं। 
छात्रों को सामान्य पाठ्यक्रम के साथ रोजगारपरक पाठ्यक्रम भी उपलब्ध करा रहे 
इससे पहले, सीएम योगी ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू हो चुकी है और इसमें सामान्य पाठ्यक्रम के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के रोजगारपरक पाठ्यक्रमों को भी पैरलल उपलब्ध कराने के कार्यक्रम शुरू किए जा चुके हैं। माध्यमिक शिक्षा में भी राज्य सरकार ने उस अभियान को आगे बढ़ाया है जिसमें सामान्य पाठ्यक्रम को जारी रखते हुए पैरामेडिकल, ड्रोन टेक्नोलॉजी, डेटा एनालिसिस, थ्री डी प्रिंटिंग या फिर इससे संबंधित सर्टिफिकेट कोर्सेज से  छात्रों को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए पहले से ही व्यवसायिक शिक्षा के पाठ्यक्रम में व्यापक परिवर्तन करने के कार्य हो रहे हैं। 
नकल माफिया पर कसी गई है लगाम
सीएम योगी ने प्रदेश में रोजगार के अवसर के बारे में कहा कि ये कहना की बीते 6 वर्ष में भर्ती नहीं हुई है, इसमें आपकी पीड़ा को मैं समझ सकता हूं। पिछले 6 वर्ष में नकल विहीन परीक्षा सुचारू रूप से संपन्न हुई है। नकल माफिया पर लगाम कसी गई है। पहली बार हुआ है जब माध्यमिक शिक्षा जिसमें हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा जो पहले 2 से 3 महीने तक चलती रहती थी वो मात्र 15 दिन में संपन्न हुई है और मात्र 14 दिन में परिणाम भी आए हैं। 56 लाख बच्चों के परिणाम मात्र 29 दिन (परीक्षा से लेकर परिणाम जारी होने तक)में आए हैं। यह भी उस रिफॉर्म का परिणाम है जो शिक्षा के क्षेत्र में आज देखने को मिल रहा है। 
शिक्षकों की पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के लिए आयोग का हो रहा गठन
उन्होंने कहा कि जहां तक शिक्षकों की भर्ती का विषय है तो कोई भी मामला न्यायालय में लंबित नहीं है। 1.64 हजार से अधिक शिक्षकों की भर्ती बेसिक और माध्यमिक शिक्षा में इस सरकार ने की है। शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया को युद्धस्तर पर किया जा रहा है। यदि कहीं वेकेंसी है चाहे वो माध्यमिक में हो, बेसिक में हो, उच्च शिक्षा में हो, प्राविधिक में हो, व्यवसायिक शिक्षा में हो या फिर संस्कृत विद्यालयों में हो, इन सबकी भर्ती प्रक्रिया को पारदर्शी तरीके से संपन्न कराने के लिए हमारी सरकार एक नए शिक्षा आयोग के गठन के लिए बिल लेकर आई है। बिल पर आपको भी अपनी बात रखने का अवसर प्राप्त होगा। जो भी सुझाव आएंगे उन पर सरकार विचार करेगी।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-297, (वर्ष-06)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. बुधवार, अगस्त 9, 2023

3. शक-1944, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि-नवमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:19, सूर्यास्त: 07:07।

5. न्‍यूनतम तापमान- 25 डी.सै., अधिकतम- 33+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

25 मई को खुलेंगे 'हेमकुंड साहिब' के कपाट

25 मई को खुलेंगे 'हेमकुंड साहिब' के कपाट पंकज कपूर  देहरादून। हेमकुंड साहिब के कपाट आगामी 25 मई को खोले जाएंगे। इसके चलते राज्य सरका...