शनिवार, 8 अप्रैल 2023

फरियादियों की समस्याओं का निस्तारण किया: थानेदार 

फरियादियों की समस्याओं का निस्तारण किया: थानेदार 


थाना समाधान दिवस में पहुंचे फरियादियों की समस्याओं को थानेदार ने किया निस्तारित

कौशाम्बी। थाना समाधान दिवस के अवसर पर संदीपन घाट थाने में अपनी समस्याएं लेकर आए फरियादियों की समस्याओं को सुनने के बाद थानेदार ने फरियादियों की समस्याओं का निस्तारण कर दिया है। संदीपन घाट थाना प्रभारी दिलीप कुमार सिंह ने एक-एक कर फरियादियों की समस्याओं को सुना। थाना समाधान दिवस के मौके पर मिले तीन शिकायती प्रार्थना-पत्र पहुचें। तीनों शिकायती पत्र की समस्या को सुनकर थाना प्रभारी ने समाधान किया। इस मौके पर मूरतगंज चौकी इंचार्ज वैभव त्रिपाठी लेखपाल कुलदीप श्रीवास्तव, संतोष यादव, जितेंद्र प्रसाद, लक्ष्मीशंकर आदि लोग मौजूद रहे।

अनिल कुमार 

बादशाह के नए कपड़ों की तरह है 'भाजपा' की नीति 

बादशाह के नए कपड़ों की तरह है 'भाजपा' की नीति 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। पीडीपी ने शनिवार को कहा कि भाजपा की कश्मीर नीति और उसकी 'नया कश्मीर' बयानबाजी बादशाह के नए कपड़ों की तरह है। जिसकी प्रशंसा करने के अलावा न्यायपालिका और नागरिक समाज के पास कोई विकल्प नहीं है। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने अपने मासिक समाचारपत्र में कहा कि भाजपा के "नये कश्मीर" में, किरण पटेल जैसे ठग, सुरक्षाकर्मियों के साथ घाटी का दौरा करते हैं, जबकि पत्रकार आसिफ सुल्तान को अपना काम करने के लिए जेल में डाल दिया जाता है।

पटेल को जम्मू कश्मीर पुलिस ने पिछले महीने श्रीनगर के एक पांच सितारा होटल से कथित रूप से खुद को केंद्र सरकार में अतिरिक्त सचिव बताने और अन्य आतिथ्य के अलावा सुरक्षा घेरे की सुविधा लेने के लिए गिरफ्तार किया गया था। पार्टी ने कहा, ‘‘नया कश्मीर और भाजपा की कश्मीर नीति बादशाह के नए कपड़ों की तरह है। प्रेस, न्यायपालिका और नागरिक समाज के पास उनकी प्रशंसा करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है, जबकि कश्मीरी यह अच्छी तरह देख सकते हैं कि बादशाह निवस्त्र हैं।’’ पार्टी ने कहा, ‘‘क्या यह वास्तव में आपको आश्चर्यचकित करता है कि किरण पटेल जैसे लोग ऐसे समय में बच निकलते हैं जब कश्मीरियों को सत्ता विरोधी ट्वीट जैसी छोटी बातों के लिए जेल में डाल दिया जाता है?

एक और अनुकरणीय कश्मीरी पत्रकार सलाखों के पीछे है और इस बार वह इरफान मेहराज हैं।’’ पार्टी ने कहा, ‘‘लेकिन भारत सरकार ने इसे ‘नया कश्मीर’ के तौर पर फिर से पेश किया है, ताकि किसी भी विरोधी विमर्श को ऐसे लोगों के विमर्श के तौर पर खारिज किया जा सके, जो कश्मीर में शांति और प्रगति नहीं देखना चाहते हैं।’

पीडीपी ने कहा कि अगर केंद्र उत्तर कोरिया का अनुकरण कर रहा है तो "कश्मीरियों की असहज दबी हुई चुप्पी को अभूतपूर्व शांति के रूप में व्याख्यायित किया जा सकता है।" उसने कहा, ‘‘नया कश्मीर शायद भाजपा की सबसे बड़ी उपलब्धि है, इसी के जरिये उन्होंने हम सभी को यह विश्वास दिलाया कि (अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त करना) और उसके बाद जो कुछ भी हुआ, वह शांति और प्रगति के लिए आवश्यक था।’’

एससी द्वारा गठित समिति का दायरा बहुत सीमित 

एससी द्वारा गठित समिति का दायरा बहुत सीमित 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस ने अडाणी मामलें में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पंवार के बयान की पृष्ठभूमि में शनिवार को कहा कि उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित समिति का जांच का दायरा बहुत सीमित है तथा संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से ही सच सामने आ सकता है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दावा किया कि सच्चाई छिपाई जा रही है, इसलिए रोजाना ध्यान भटकाया जा रहा है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ सच्चाई छुपाते हैं, इसलिए रोज़ भटकाते हैं! सवाल वही है - अडाणी की कंपनियों में 20,000 करोड़ रुपये की बेनामी रकम किसकी है ?’’ कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट कर कहा, ‘‘उच्चतम न्यायालय की समिति का दायरा बहुत सीमित हैं। यह प्रधानमंत्री और अडाणी के बीच के अंतर्निहित रिश्ते को सामने नहीं ला सकती।

सिर्फ जेपीसी से ही ‘हम अडाणी के हैं कौन’ श्रृंखला के 100 प्रश्नों एवं लगातार उठ रहे नए सवालों के जवाब मिल सकते हैं। 1992 और 2001 में जेपीसी का गठन सही साबित हुआ था। पवार ने एनडीटीवी को दिए साक्षात्कार में अडाणी समूह का बचाव किया है और हिंडनबर्ग रिसर्च को लेकर कहा है कि भारतीय कारोबारी समूह को निशाना बनाया गया है।रमेश ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, " राकांपा के अपने विचार हो सकते हैं। लेकिन 19 समान विचारधारा वाले विपक्षी दल इस बात को मानते हैं कि प्रधानमंत्री से जुड़ा अडाणी ग्रुप का मुद्दा वास्तविक और बहुत गंभीर है।

लेकिन राकांपा सहित समान विचारधारा वाले सभी 20 विपक्षी दल एकजुट हैं और संविधान एवं हमारे लोकतंत्र को भाजपा के हमलों से बचाने के लिए संगठित हैं।" उनका कहना था, "ये सभी भाजपा के विभाजनकारी और विनाशकारी राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक एजेंडे को हराने में एक साथ होंगे।''

हथियारों की तस्करी व आपूर्ति, 6 लोग गिरफ्तार 

हथियारों की तस्करी व आपूर्ति, 6 लोग गिरफ्तार 

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर/अहमदाबाद। गुजरात आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने हथियारों की तस्करी और आपूर्ति में शामिल एक गिरोह का भंडाफोड़ कर छ: लोगों को गिरफ्तार किया है। एटीएस के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि इनके कब्जे से 15 पिस्तौल तथा पांच देसी बंदूक बरामद की गई है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश से हथियारों की तस्करी करने के बारे में मिली गुप्त सूचना के आधार पर एटीएस की एक टीम ने चार अप्रैल को एक बस अड्डे पर दो लोगों को गिरफ्तार किया, जिनके पास से चार पिस्तौल और चार कारतूस मिले। उन्होंने कहा कि गुजरात में राजकोट जिले के रहने वाले दोनों व्यक्तियों को शस्त्र अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया।

उन्होंने कहा कि जांच के दौरान चार और लोगों के गिरोह में शामिल होने का पता चला, जिसके बाद एटीएस ने बाकी आरोपियों को सुरेंद्रनगर और राजकोट जिलों से गिरफ्तार किया। अधिकारी ने कहा, "गिरफ्तार किए गए छह लोगों के पास से 15 पिस्तौल, पांच देसी बंदूकें और 16 कारतूस मिले हैं।" उन्होंने कहा कि आरोपी आदतन अपराधी हैं, जिनके खिलाफ विभिन्न थानों में हत्या, हत्या के प्रयास, खतरनाक हथियारों से नुकसान पहुंचाने और निषेधाज्ञा का उल्लंघन आदि के मामले दर्ज हैं। अधिकारी ने कहा, "हथियारों की अवैध आपूर्ति में अन्य लोगों की संलिप्तता की विस्तृत जांच की जा रही है।" 

'रालोद' की 3 सदस्यीय चयन समिति का गठन 

'रालोद' की 3 सदस्यीय चयन समिति का गठन 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले दिनों होने वाले नगर निकाय चुनाव की तैयारियों में लगे राष्ट्रीय लोकदल के मुखिया चौधरी जयंत सिंह ने उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव के लिए पार्टी की तीन सदस्यीय चयन समिति का गठन कर दिया है। उन्होंने संगठन में मनोनीत किए गए चार पदाधिकारियों के नामों का भी ऐलान किया है। शनिवार को राष्ट्रीय लोकदल सुप्रीमो चौधरी जयंत सिंह ने उत्तर प्रदेश में होने वाले नगर निकाय चुनाव को लेकर पार्टी की 3 सदस्यीय चयन समिति का गठन कर दिया है। राष्ट्रीय महासचिव सुखबीर सिंह गठीना, राष्ट्रीय सचिव रमा नागर तथा राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य नरेंद्र सिंह एडवोकेट को रालोद की इस 3 सदस्यीय समिति में शामिल किया गया है।

यह जानकारी राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल दुबे की ओर से दी गई है। उन्होंने बताया है कि रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा पार्टी के चार पदाधिकारियों के नाम भी आज डिक्लेअर किए गए हैं। पूर्व विधायक डॉ. अजय तोमर को प्रदेश मुख्यालय का प्रभारी बनाया गया है। इसके अलावा मनजीत सिंह को कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष प्रभारी सेक्टर संगठन, अहमद हमीद को कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष प्रभारी फ्रंटल ऑर्गनाइजेशन एवं कमल जाटव को एससी-एसटी प्रकोष्ठ का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है।

कार्रवाई, सूखे पत्ते की तरह कांपने लगते हैं लोग

कार्रवाई, सूखे पत्ते की तरह कांपने लगते हैं लोग

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में कानून के राज की तारीफ करते हुए शनिवार को अपने भाषण में कहा कि जिन लोगों को पहले कानून-व्यवस्था की बिलकुल परवाह नहीं थी, अब वह उसी कानूनी कार्रवाई के दौरान सूखे पत्ते की तरह कांपने लगते हैं। औद्योगिक गलियारे में नरकटहा में पेप्सिको बाटलिंग प्लांट के शिलान्यास और भूमि पूजन के कार्यक्रम के अवसर पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि “जो लोग पहले उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को केवल धता बताते थे, आज आप लोग देख रहे होंगे कि उन्हें अपनी जान के ही लाले पड़ रहे हैं। उन्होंने आगे कहा, जब अदालत उन्हें सजा सुनाती है तो उनका चेहरा काफ़ी फक्क पड़ जाता है। पहले जनता देखती थी कि कैसे माफिया उन्हें तबाह करते थे, उद्योगपतियों को धमकी भेजते थे, व्यापारियों का अपहरण कर लिया करते थे। आज उनकी सब की सिट्टी-पिट्टी बिलकुल गुम है, सब को अपनी जान के लाले पड़े हुए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य में कानून का राज कायम रहेगा और सरकार इसके लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है।

सीएम ने आगे कहा कि यूपी के कानून व्यवस्था को धत्ता बताने वालें, की आज पैंट गिली हो रही है। प्रदेश में कानून का राज स्थापित है। सरकार अपनी पूरी प्रतिबद्धता से काम कर रही है। उद्योग लगाने वालों की पूंजी पूरा तरह से आज सुरक्षित है। उद्यमियों को आज इंसेटिव भी ऑनलाइन दे रहे हैं। एक भी फाइल एक मिनट कहीं भी नहीं रूकने वाली है। आप निवेश करें, सरकार आपकों सभी प्रकार की सुविधा- सुरक्षा मुहैया कराएगी। अपनी जवाबदेही को लेकर तत्पर है। 35 लाख करोड़ का निवेश सरकार के प्रति भरोसे का ही परिचायक है। सीएम ने कहा कि इस बाटलिंग प्लांट से मधुर पेय तो मिलेगा ही, किसानों की आय में भी काफ़ी बढ़ोत्तरी होगी। किसान एक्सपोर्ट और उत्पादन से जुड़ेगा तो उसकी आय भी बढ़ेगी। आम, अमरूद, लीची का इस क्षेत्र में भी उत्पादन होगा। उसका प्रयोग यहीं होगा। तीन लाख लीटर दूध की खपत इस प्लांट में होगी। किसान और पशुपालकों की आमदनी भी बढ़ेगी। सीएम ने कहा कि यह लिंक एक्सप्रेस के मुहाने पर प्लांट लगा है। लखनऊ साढ़े तीन घंटे और वाराणसी की दूरी सिर्फ दो घंटे की ही होगी। बेहतर कनेक्टिविटी यहां से मिलेगी । वाराणसी से वाटर वे से भी यह कनेक्ट होगा। गोरखपुर में बना उत्पाद चंद घंटों में देश के विभिन्न हिस्सों में पहुंच जाएगा।

आगे सीएम योगी ने कहा कि यूपी में चारों प्लांट लग जाएंगे तो 6000 युवा रोजगार से सीधे सीधे जुड़ेंगे। हजारों किसानों की आय भी बढ़ेगी। अब उत्तर प्रदेश बदल चुका है।उन्होने कहा छह वर्ष पहले यहां दंगे और अराज थी। वहां अब कानून का राज है। देश के दूसरे हिस्सों में रामनवमी पर काफ़ी दंगे हो रहे थे, वहीं अयोध्या में 35 लाख लोग जुटे। और वहां एक तिनका नहीं हिला। अब दंगे और बम नहीं बरसते, यूपी में राम भक्तों पर फूलों की वर्षा होती है। और रामनवमी पर यह सभी ने देखा । हनुमान जयंती पर लगभग 500 शोभा यात्रा काफ़ी शान्तिपूर्वक निकली। हमारे प्रदेश की 25 करोड़ जनता दंगे पर नहीं केवल विकास पर विश्वास करती है।सीएम ने आगे कहा कि गोरखपुर में अभी चार यूनिवर्सिटी है। सैकड़ों कॉलेज है। ट्रेनिंग प्रोग्राम के साथ तकनीकी संस्थाओं के साथ चलाएं। आपको काफ़ी स्किल वाले युवा मिलेंगे। योगी ने कहा कि गोरखपुर खाद कारखाना एक वर्ष पहले पीएम नरेन्द्र मोदी ने ही शुरू किया। स्किल मैन पावर का यह नतीजा है कि प्लांट 110 फीसदी क्षमता से ही आगे बढ़ रहा है। योगी ने कहा कि गीडा में और भी ढेर सारे उद्योग आ रहे हैं। यहां 1000 एकड़ में कई उद्योग लगेंगे। गेल के सहयोग से प्लास्टिक पार्क भी स्थापित हो रहा है। सीएम ने कहा कि पूर्वांचल, गंगा, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे से विकास के साथ किसानों की आय भी बढ़ेगी। 2017 में सिर्फ दो एयरपोर्ट क्रियाशील थे, आज 9 क्रियाशील हैं। 12 लेख एयरपोर्ट जल्द क्रियाशील हो जाएंगे।

औद्योगिक विकास मंत्री ने नंद गोपाल नंदी ने भी कहा कि सीएम योगी के इरादे और वादे के बिलकुल पक्के हैं। सपा-बसपा औद्योगिक विकास के लिए नहीं माफिया के सरंक्षण के लिए ही परेशान रहते थे। इंसे से मुक्त कराने में सीएम योगी के योगदान को कभी नहीं भूला जा सकता है। उन्होंने मानवीय मूल्यों और सेवा को सर्वोच्च प्राथमिकता ही दी है। 2017 से 2022 में उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश बना है। अब सर्वोत्तम प्रदेश बनने को यह अग्रसर है। फोरलेन सिक्सलेन के साथ अब कई एयरपोर्ट भी संचालित हो रहे हैं। मंत्री ने कहा हमारी कथनी और करनी में कोई भी फर्क नहीं है।ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में हुए एमओयू अब धरातल पर अब उतर रहे हैं। विरोधियों को इससे चिंता हो रही है। नये भारत के नये उत्तर प्रदेश में सिर्फ एमओयू नहीं होता, जमीन पर काम भी आपकों दिखता है। सांसद रवि किशन ने कहा कि औद्योगिक क्रान्ति को देखकर विरोधी काफ़ी परेशान हैं। तीन लाख लीटर दूध यहां प्लांट में प्रयोग होगा। छुट्टा घूम रहे गो वंश को पकड़कर पालिये और उनसे दूध का उत्पादन करें। गांव और कस्बे के लोग दूध की उपलब्धता के लिए अब तैयार रहें।

विवेकानंद हाउस में पीएम ने लगाया ध्यान

विवेकानंद हाउस में पीएम ने लगाया ध्यान

हरिओम उपाध्याय 

चेन्नई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि यहां ‘विवेकानंद हाउस’ में ध्यान करने के बाद वह प्रेरित और ऊर्जावान महसूस कर रहे हैं। इस जगह पर विवेकानंद 1897 में कुछ दिन ठहरे थे। यहां श्री रामकृष्ण मठ की 125वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि उनके मन में रामकृष्ण मठ के प्रति गहरा सम्मान है और इसने उनके जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

उन्होंने कहा, ‘‘आज मुझे उस विवेकानंद हाउस में जाने का अवसर मिला जहां स्वामी विवेकानंद पश्चिम की अपनी प्रसिद्ध यात्रा से लौटने के बाद रुके थे। यहां ध्यान करना एक विशेष अनुभव था जिससे मैं प्रेरित और ऊर्जावान महसूस करता हूं। मुझे यह देखकर खुशी हो रही है कि प्राचीन विचार-दर्शन आधुनिक तकनीक के माध्यम से युवा पीढ़ी तक पहुंच रहे हैं।’’ रामकृष्ण मिशन के संन्यासियों की मौजूदगी के बीच प्रधानमंत्री ने स्वामी विवेकानंद की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की।

शहर में ‘‘विवेकानंदर इल्लम’’ (विवेकानंद हाउस) एक ऐतिहासिक स्थान है जहां विवेकानंद 1897 में नौ दिन के लिए रुके थे। स्मृति चिह्न के रूप में प्रधानमंत्री को विवेकानंद की प्रतिमा भेंट की गई। राज्यपाल आर एन रवि, तमिलनाडु के उद्योग मंत्री थंगम थेनारासु, केंद्रीय मंत्री एल मुरुगन भी इस दौरान मौजूद रहे।

पवन व खुशबू का गाना 'तुम्हारे सिवा' रिलीज

पवन व खुशबू का गाना 'तुम्हारे सिवा' रिलीज

कविता गर्ग 

मुंबई। भोजपुरी गायक पवन सिंह और गायिका खुशबू जैन का टी-सीरीज़ निर्मित गाना 'तुम्हारे सिवा' रिलीज हो गया है। 'तुम्हारे सिवा' गाना निखिल विनय-छोटे बाबा द्वारा रचित है और फ़ैज़ अनवर और समीर द्वारा लिखा गया है। 'तुम्हारे सिवा' का संगीत वीडियो एक सुखद अंत के साथ एक दुखद कहानी को दर्शाता है, प्यार की सच्ची परीक्षा को दर्शाता है क्योंकि एक युगल खुद को दुविधा के बीच पाता है। पवन सिंह एक ऐसे पति की भूमिका निभाते हैं जो लकवे से उबरने के लिए अपनी पत्नी (स्वाति चौहान द्वारा अभिनीत) का आशा और हताशा के साथ प्रतीक्षा कर रहे है।

पवन सिंह ने कहा, ‘तुम्हारे सिवा' शाश्वत प्रेम के बारे में है, एक जो समय की कसौटी पर खरा उतरता है। गाने के बोल बहुत ही भावुक और दिल को छू लेने वाले हैं और मुझे उम्मीद है कि मेरे प्रशंसक और श्रोता इस ट्रैक का आनंद लेंगे। खुशबू जैन ने कहा, “पवन सिंह और मैंने अतीत में पैपी और अपटेम्प्टो ट्रैक पर काम किया है लेकिन यह वास्तव में बहुत अलग है । 'तुम्हारे सिवा' एक मधुर, भावनात्मक प्रेम गीत है और मुझे पवन के साथ इस ट्रैक को रिकॉर्ड करने में बहुत मजा आया।

धन शोधन मामलें की जांच का सिलसिला जारी

धन शोधन मामलें की जांच का सिलसिला जारी 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/अहमदाबाद। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से जुड़े धन शोधन मामलें की जांच के सिलसिले में संदिग्ध बुकी अनिल जयसिंघानी को गिरफ्तार कर लिया है। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। मुंबई पुलिस ने महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को रिश्वत देने की कोशिश करने और ब्लैकमेल करने की साजिश रचने के आरोप में जयसिंघानी और उसकी बेटी अनिक्षा को हाल में गिरफ्तार किया था।

आरोप है कि अमृता ने अनिक्षा के पिता अनिल जयसिंघानी को उसके खिलाफ दर्ज कई मामलों में बचाने से इनकार किया, तो उनसे पैसे ऐंठने की भी कोशिश की गई। ईडी के अहमदाबाद कार्यालय ने शुक्रवार को पेशी वारंट के साथ मुंबई की एक अदालत का रुख किया और जयसिंघानी को हिरासत में लिया। जांच एजेंसी ने धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत उसकी हिरासत की मांग की। ईडी अहमदाबाद की एक अदालत द्वारा जयसिंघानी के खिलाफ अतीत में जारी एक गैर-जमानती वारंट पर कार्रवाई कर रही थी। यह वारंट आईपीएल मैचों में कथित सट्टेबाजी से जुड़े मामले की जांच के सिलसिले में 2015 में जारी किया गया था।

इस मामले की जांच संघीय एजेंसी कर रही है। समझा जाता है कि शुक्रवार को जयसिंघानी को हिरासत में लेने के बाद एजेंसी इस मामले में उसका बयान दर्ज कर रही है। जयसिंघानी को शराब के कथित अवैध कारोबार के एक मामले में हाल में मध्य प्रदेश पुलिस ने भी हिरासत में लिया था। पिता-पुत्री पर आरोप है कि उन्होंने एक साजिश रची, जिसके तहत अनिक्षा ने अमृता फडणवीस के साथ दोस्ताना संबंध बनाए और फिर उनसे ‘अपने पिता को उसके खिलाफ लंबित कई आपराधिक मामलों से बचाने’ का अनुरोध किया, क्योंकि अमृता के पति लोक सेवक (उपमुख्यमंत्री) हैं। अनिक्षा ने अमृता फडणवीस को एक करोड़ रुपये की रिश्वत देने की कोशिश की

दक्षिण मुंबई के मालाबार हिल थाने ने 20 फरवरी को अनिल जयसिंघानी और अनिक्षा के खिलाफ कुछ ऑडियो और वीडियो क्लिप सार्वजनिक करने की धमकी देने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की थी, जिनमें अमृता फडणवीस अनिक्षा से कथित रूप से लाभ लेते हुए नजर आ रही हैं। 

अपराधियों पर नकेल कसने के लिए नई योजना

अपराधियों पर नकेल कसने के लिए नई योजना

नरेश राघानी 

जयपुर/कोटा। राजस्थान में कोटा शहर पुलिस अधीक्षक शरद चौधरी ने अपराधियों पर नकेल कसने के लिए एक नवाचार किया है, जिसमें जिले के समस्त थानों पर चिह्नित अपराधियों पर निगरानी और कार्रवाई के लिए नई योजना चलाई है, जिसे "एक अपराधी एक पुलिसकर्मी" योजना का नाम दिया गया है। इसमें अपराधियों की चल अचल संपत्ति का ब्यौरा रखा जाएगा। अगर संपत्ति अवैध है तो उस पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

चौधरी ने बताया कि शनिवार प्रातः साढ़े छह बजे सिटी पुलिस लाइन में शहर के समस्त थानों पर चिह्नित हिस्ट्रीशीटर, हार्डकोर और गैंगस्टर की निगरानी के लिए मनोनीत पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों, थानों के एचएम एमओबी व एचएम क्राइम सहित कुल 202 पुलिसकर्मियों के साथ बैठक आयोजित की गई।

उन्होंने बताया कि कोटा शहर में कुल 397 हिस्ट्रीशीटर, 51 हार्डकोर, 4 गैंगस्टर के साथ जिला स्तर पर 10, रेंज स्तर पर चार और राज्य स्तर पर तीन अपराधियों को चिह्नित किया हुआ है। इस योजना के तहत इन अपराधियों पर निगरानी रखने के लिए संबंधित थाने से एक एक पुलिस अधिकारी और कर्मचारी को नियुक्त किया है, जो इन अपराधियों की संपूर्ण गतिविधियों पर निगरानी रखेंगे। 

गलत रिपोर्ट के प्रकाशन व प्रसारण पर नाराजगी

गलत रिपोर्ट के प्रकाशन व प्रसारण पर नाराजगी 

कविता गर्ग 

मुंबई। महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता अजित पंवार ने शनिवार को प्रेस के कुछ वर्गों में उनके बारे में गलत रिपोर्ट के प्रकाशन और प्रसारण पर नाराजगी व्यक्त की। श्री पवार ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से उन्होंने पूरे महाराष्ट्र में कई दौरे किए, जिससे उन्हें पर्याप्त नींद नहीं मिल पायी। उन्होंने कहा कि गर्मी और अपर्याप्त नींद के कारण एसिडिटी (पित्त) की समस्या बढ़ गई और उनका स्वास्थ्य बिगड़ गया।

उन्होंने कहा, "इसी वजह से मैंने दौरा छोड़ दिया और डॉक्टर की सलाह पर दवा ली और पुणे में जीजाई आवास पर आराम कर रहा हूं।" उन्होंने नाराजगी व्यक्त की कि उन्हें बिना किसी कारण के बदनाम किया गया। प्रेस के कुछ वर्गों ने बताया कि उनसे संपर्क नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा, "पिछले कुछ दिनों से मैं पूरे महाराष्ट्र के दौरे पर था। इस दौरान, मैं बहुत थका हुआ था, मुझे आराम नहीं मिला, मुझे पर्याप्त नींद नहीं मिली।

इससे मेरे स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा, पित्त बढ़ गया। कल दोपहर मुझे अचानक बेचैनी होने लगी, इसलिए डॉक्टर से सलाह लेने के बाद मैंने दवाई ली और पुणे में 'जीजाई' आवास पर आराम किया। लेकिन इस दौरान मीडिया ने यह गलत खबर चलाई कि मैं 'उपलब्ध नहीं हूं।' इसकी एक सीमा है कि बिना किसी प्रामाणिकता के कोई किसी की कितनी बदनामी कर सकता है।" उन्होंने कहा, "चूंकि हम सार्वजनिक शख्सियत हैं, मीडिया को हमारे बारे में रिपोर्ट करने का अधिकार है। लेकिन बिना किसी सत्यापन के गलत खबरें चलाना सही नहीं है।"

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-177, (वर्ष-06)

2. रविवार, अप्रैल 9, 2023

3. शक-1944, चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि-तीज, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:40, सूर्यास्त: 06:23। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 21 डी.सै., अधिकतम- 34+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'पीएम' मोदी ने अभिनेत्री रश्मिका की तारीफ की

'पीएम' मोदी ने अभिनेत्री रश्मिका की तारीफ की अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। नेशनल क्रश रश्मिका मंदाना सिर्फ साउथ सिनेमा का ही नहीं, अब ...