बुधवार, 20 सितंबर 2023

8 मुर्गों के मर्डर की रिपोर्ट दर्ज, पोस्टमार्टम करवाया

8 मुर्गों के मर्डर की रिपोर्ट दर्ज, पोस्टमार्टम करवाया 

संदीप मिश्र 
कुशीनगर। जिले में एक अनोखा मामला सामने आया है, जो चर्चा का विषय बन गया है। यहां कप्तानगंज थाने में 8 मुर्गों के मर्डर की रिपोर्ट दर्ज की गई है और उनका पोस्टमॉर्टम भी करवाया गया है। पुलिस के अनुसार नगर पंचायत मथौली की एक महिला ने पड़ोसी महिला पर 8 मुर्गों को जहर देकर मारने का आरोप लगाया है। प्रारभिक जांच के बाद पुलिस ने बताया कि मौत का कारन जहर ही है। लेकिन विस्तृत जांच के लिए विसरा सुरक्षित किया गया है। 
ये मामला मथौली बाजार नगर पंचायत के वार्ड नंबर 13 का है। स्थानीय निवासी इंद्रावती जायसवाल की तरफ से बीते रविवार को कप्तानगंज पुलिस को तहरीर देकर पड़ोसन शकीना खातून पर मुर्गो को जहर देने का आरोप लगाया गया। आरोप के अनुसार पीड़िता ने बताया उसके मुर्गों के दड़बे में शकीना ने मुर्गों के दाने में जहर मिला दिया इससे उसके दो मुर्गों की मौत हो गयी। उसने एक अन्य पड़ोसी सुन्नर शर्मा के मुर्गों को भी जहर देकर मार डालने का आरोप लगाया है। पीड़िता के अनुसार महिला से कहने पर वह झगड़ा करने लगी। जिसके बाद इंद्रावती ने पुलिस में शिकायत की। 
पुलिस ने आरोपित के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करते हुए मरे हुए 8 मुर्गों का पोस्टमार्टम कराया। जिसमें प्रारंभिक रूप से मौत जहर से होने की बात सामने आई है। विस्तृत जांच के लिए विसरा सुरक्षित रखा गया है। पुलिस इस मामले में फाइनल रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की बात कह रही है।

25वीं भारोत्तलन प्रतियोगिता का आयोजन

25वीं भारोत्तलन प्रतियोगिता का आयोजन 

धर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन में भारोत्तलन प्रतियोगिता का आयोजन

संभागीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता में स्थान प्राप्त करने वाले 64 छात्र छात्राओं को शील्ड,मेडल पहनाकर किया सम्मानित

कौशाम्बी। सधर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन कनवार में बुधवार को 25वीं जनपदीय माध्यमिक विद्यालयीय भारोत्तलन प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में नायब तहसीलदार सिराथू विनय कुमार सिंह तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रधानाचार्य दुर्गा देवी ओसा चुन्नी लाल एवं प्रधानाचार्य संघ के अध्यक्ष रामसुंदर सिंह रहे। सर्वप्रथम माँ शारदे की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि के कर कमलों से हुआ। 
तत्पश्चात गत दिवस में हुयीं संभागीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता में स्थान प्राप्त करने वाले 64 छात्र/छात्राओं को शील्ड,मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया।
भारोत्तलन प्रतियोगिता में
अंडर-17 जूनियर बालिका वर्ग में ईशा(-45KG) धनपत्ति देवी श्याम नारायण थुलगुला को प्रथम स्थान,रीना देवी(-49KG) धर्मा देवी को प्रथम स्थान तथा माही गुप्ता(-55KG)धर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन को प्रथम स्थान एवं (-59KG)शकुन यस. पी.राजकीय आश्रम पद्धति कोइलहा को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ। इसी क्रम में अंडर-19 सीनियर बालक वर्ग में मोनू निर्मल धर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन को प्रथम स्थान तथा मिथुन प्रजापति चौधरी दिरगज इण्टर कॉलेज को प्रथम स्थान तथा अंडर-19 सीनियर वर्ग बालिका में श्वेता राजपूत धर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन (-49KG) भार वर्ग में प्रथम स्थान तथा सुलेखा देवी धर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन को (-55KG) में प्रथम स्थान तथा सोनम देवी धर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन को  (-64KG) भार वर्ग में प्रथम स्थान ,तथा जिकरा कौशीन धर्मा देवी इण्टर कॉलेज केन को (-81KG) भार वर्ग में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ। स्थान प्राप्त छात्र/छात्राओं को खेल सचिव श्याम लाल के कर कमलों से मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम के अवसर पर श्याम लाल चन्द्र भूषण पाण्डेय चन्द्र कान्त पाण्डेय गया प्रसाद मिश्र प्रशान्त कुमार महेन्द्र सिंह दिनेश कुमार शेर बहादुर सिंह आदि खेल शिक्षक एवं छात्र/छात्राएं उपस्थित रहें। आये हुये समस्त अतिथियों का विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ. रामकिरण त्रिपाठी एवं विद्यालय के प्रबंधक  रामसुभग त्रिपाठी ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन रामशंकर सिंह ने किया।
शशिभूषण सिंह 

इस तालाब में तैरने वाला कभी नहीं डूब सकता

इस तालाब में तैरने वाला कभी नहीं डूब सकता 

सरस्वती उपाध्याय 
सोशल मीडिया पर आए दिन ऐसे वीडियो वायरल होते रहते हैं। जिन्हें देखकर हर कोई हैरान रह जाता है। कुछ वीडियो तो ऐसे होते हैं, जिन्हें देखकर हमें अपनी आंखों पर यकीन करना मुश्किल होता है। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जो सच में हैरत में डाल देने वाला है।
ट्विटर अकाउंट @fasc1nate पर हाल ही में ये वीडियो शेयर किया गया है। जिसमें एक शख्स बेहद छोटे से तालाब में लेटा हुआ है। ये एक नखलिस्तान है जो मिस्र में पाया जाता है। सीवा ओएसिस के नाम से मशहूर पानी का ये स्त्रोत अपने में बेहद अनोखा है। वो इसलिए क्योंकि इसमें तैरने वाला कभी नहीं डूब सकता। आप इसे जादुई समझेंगे, पर ये विज्ञान का नतीजा है।
बता दें मिस्र के पश्चिमी रेगिस्तान में सीवा ओएसिस मौजूद है, जो प्राकृतिक स्प्रिंग है। ये जगह कायरो से 500 कीलोमीटर दूर है। अगर आपको तैरना नहीं आता, तो भी आप आसानी से इसमें जाकर तैर सकते हैं और आपको डूबने का डर भी नहीं सताएगा। वायरल वीडियो में आप खुद देख सकते हैं कि कैसे एक व्यक्ति पानी के ऊपर तैरता दिख रहा है। ऐसा लग रहा है जैसे वो किसी बिस्तर पर लेटा है। वो अंदर डूब ही नहीं रहा है। आपको बताते हैं कि इसके पीछे की वजह आखिर क्या है ? दरअसल, इस पानी में नमक की मात्रा 95 फीसदी है। इस वजह से पानी का घनत्व काफी ज्यादा बढ़ जाता है। घनत्व जितना ज्यादा होगा, पानी में डूबना उतना मुश्किल होगा। 
ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, इसे 61 लाख से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं और कई लोगों ने कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। एक ने कहा कि डेड सी में भी ऐसा ही होता है। वहीं एक ने कहा कि सीवा ओएसिस में नमक बहुत ज्यादा है। क्योंकि, बारिश की वजह से आसपास के पहाड़ों का पानी भी इसमें बहकर आता है, जिसके कारण इसमें नमक मिल जाता है।

दर्दनाक: बच्चे ने खेल-खेल में 8 सुईयां निगली

दर्दनाक: बच्चे ने खेल-खेल में 8 सुईयां निगली 

अखिलेश पांडेय 
लीमा। छोटे बच्चे बहुत शरारती होते हैं। कई बार वह खेल-खेल में कुछ ऐसा कर लेते हैं, जिससे उनकी जान तक जा सकती है। इसी वजह से माता-पिता को उनका बहुत ज्यादा ख्याल रखना पड़ता है। सभी बच्चों में एक आदत होती है कि उनके हाथ में जो भी चीज आती है, वो सबसे पहले अपने मुंह में डालते हैं। अब पेरू से एक ऐसा ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। 
दरअसल यहां एक बच्चे ने खेल-खेल में 8 सुईयां निगल लीं। जैसे ही मां को इसका पता चला कि उसके बेटे ने ऐसा कर लिया है तो वह फौरन उसे अस्पताल लेकर भागी। 
बता दें मां नार्ली ओलोर्टेगुई पिस्को खेत में काम करती हैं। खेत में काम करते वक्त वह अपने 2 साल के बच्चे को अक्सर साथ ही रखती हैं। जब वो खेती के काम में लगी हुई थीं, ठीक तभी बच्चे का हाथ सुइयों पर पड़ गया। उसने एक-एक करके कुल 8 सुइयां निगल लीं। जब यह बात मां को पता चली, तो आनन-फानन में बच्चे को अस्पताल लेकर गई, जहां बच्चे की सर्जरी की गई। बच्चे के शरीर से सुइयां निकालने में डॉक्टरों को करीब 2 घंटे का वक्त लगा। उन्होंने बताया कि यह सर्जरी थोड़ी मुश्किल थी, लेकिन उन्होंने कर दिखाया।  
एक बयान के मुताबिक, दाहिनी ओर पेरिटोनियम में दो सुई फंसी हुई थीं। जबकि बाईं ओर तीन सुइयां अटकी हुई थीं। एबडोमिनल वॉल में एक सुई थी। जबकि बाकी दो सुई मूत्राशय और मलाशय के बीचों बीच खतरनाक तरीके से अटकी हुई थी। 
डॉक्टर ने बच्चे की मुश्किल सर्जरी को सफलतापूर्वक अंजाम दिया। बच्चे की मां ने जान बचाने वाले डॉक्टरों का आभार व्यक्त किया। क्योंकि अगर उन्होंने सही समय पर उसका इलाज नहीं किया होता तो बच्चे की हालत बिगड़ भी सकती थी। 
मां ने बताया कि वह अपने बच्चे को काम पर अपने साथ ही ले गई थी। वहां और कोई भी नहीं था। वो अपने काम में बिजी थी। इसी दौरान बच्चे के साथ यह हादसा हो गया। बताया गया कि जिस इंजेक्शन को बच्चे ने निगला था, उस इंजेक्शन का इस्तेमाल पशुओं पर किया जाता है।

महिला आरक्षण से संबंधित विधेयक का विरोध किया

महिला आरक्षण से संबंधित विधेयक का विरोध किया

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार को लोकसभा में महिला आरक्षण से संबंधित विधेयक का विरोध किया और आरोप लगाया कि सरकार संसद में सिर्फ ‘सवर्ण महिलाओं’ का प्रतिनिधित्व बढ़ाना चाहती है तथा उसे अन्य पिछड़े वर्गों (ओबीसी) एवं मुस्लिम समुदाय की महिलाओं की चिंता नहीं है। 
लोकसभा और विधानसभाओं में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत सीट आरक्षित करने के प्रावधान वाले ‘संविधान (एक सौ अट्ठाईसवां संशोधन) विधेयक, 2023’ पर निचले सदन में चर्चा में भाग लेते हुए उन्होंने यह दावा भी किया कि यह विधेयक समावेशी नहीं है और यह कुछ खास लोगों के लिए है। उन्होंने सवाल किया कि ओबीसी और मुस्लिम समुदायों के लिए आरक्षण का प्रावधान क्यों नहीं किया गया? ओवैसी के अनुसार, संसद में ओबीसी और मुस्लिम महिलाओं का प्रतिनिधित्व बहुत कम है।
उनका कहना था, ‘‘प्रधानमंत्री ओबीसी हैं, लेकिन आज सदन में ओबीसी समुदाय का प्रतिनिधित्व महज 20 प्रतिशत है।’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदी सरकार चाहती है कि संसद में सवर्ण महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़े, ओबीसी और मुस्लिम महिलाओं का प्रतिनिधित्व नहीं।
सरकार चाहती है कि संसद में बड़े लोग प्रवेश करें, वह नहीं चाहती कि छोटे लोग इस संसद में प्रवेश करें।’’ ओवैसी ने इस विधेयक को ‘चुनावी स्टंट’ भी करार दिया।

तत्काल श्रेणी के पासपोर्ट की संख्‍या बढ़ाई

तत्काल श्रेणी के पासपोर्ट की संख्‍या बढ़ाई 

अश्वनी उपाध्याय 
गाजियाबाद। पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के 13 जिलों के लोगों को तत्‍काल पासपोर्ट बनवाने के लिए अप्‍वाइंटमेंट के लिए लंबा इंतजार नहीं करना होगा, अब उन्‍हें तुरंत अप्‍वाइंटमेंट मिल सकेगा। विदेश मंत्रालय के निर्देश के बाद क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय गाजियाबाद में तत्काल श्रेणी के पासपोर्ट की संख्‍या बढ़ा दी गयी है, जिससे तत्‍काल आवेदन करने वालों को राहत मिलेगी।
गाजियाबाद के क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय में पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के 13 जिलों के पासपोर्ट बनते हैं। यहां पर तत्‍काल पासपोर्ट के लिए भी काफी संख्‍या में लोग आवेदन करते हैं।
क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी प्रेम सिंह के अनुसार अभी तक यहां पर तत्‍काल श्रेणी के लिए रोजाना 250 अप्‍वाइंटमेंट मिलते थे। यह संख्‍या रोजाना तत्‍काल अप्‍वाइंटमेंट लेने वालों की संख्‍या को देखते हुए कम थी। इस वजह से अप्‍वाइंटमेंट की संख्‍या बढ़ा दी गयी है। अब रोजाना 415 अप्‍वाइंटमेंट दिए जाएंगे। जिससे तत्‍काल वालों को अप्‍वाइंटमेंट के लिए इंतजार नहीं करना पड़े।

तत्‍काल श्रेणी के तहत अप्‍वाइंटमेंट की संख्‍या कम होने से उन लोगों को परेशानी होती थी, जिन्‍हें नौकरी या पढ़ाई के लिए जल्‍द जाना होता था। ऐसे लोगों का पासपोर्ट न बना होने की वजह से परेशानी होती थी।तत्‍काल श्रेणी में आवेदन के बाद 10 से 15 दिन बाद अप्‍वाइंटमेंट मिलता था। कई बार इस वजह से देरी हो जाती थी। अब नए आदेश के बाद ऐसे लोगों को सबसे अधिक राहत होगी।
गाजियाबाद क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय के तहत आगरा, अलीगढ़, बागपत, बुलंदशहर, गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, हापुड़, हाथरस, मथुरा, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर व शामली जिले आते हैं, जहां के पासपोर्ट बनते हैं।

किन-किन चीजों से हड्डियों को नुकसान होता है

किन-किन चीजों से हड्डियों को नुकसान होता है 

सरस्वती उपाध्याय 
कहते हैं जान है तो जहान है, अगर हम शरीर की सही देखरेख ना करें, तो कई बीमारियां घेर लेती हैं। दैनिक जीवन में हम कुछ न कुछ खाते ही रहते हैं, फिर चाहें वह हमें नुकसान क्यों ना पहुंचा दे ?
शरीर का अहम हिस्सा हड्डियों को माना जाता है, अगर किसी तरह से हड्डियों को नुकसान पहुंचता है तो ये हानिकारक हो सकता है। कैफीन, एनर्जी ड्रिंक्स, सोडा, चाय समेत कई चीजें हैं जिसका सेवन करने से नुकसान पहुंच सकता है। तो आज हम जानेंगे कि किन किन चीजों से हमारी हड्डियों को नुकसान पहुंचता है।

कैफीन: हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि सिर्फ कैफीन ही नहीं बल्कि एनर्जी ड्रिंक्स, सोडा, चाय आदि भी हड्डियों को कमजोर करते हैं। क्योंकि कैफीन का सेवन ज्यादा करने से हमारा शरीर कैल्शियम को अवशोषित नहीं कर पाता, इसलिए कैल्शियम की कमी शरीर में होने लगती है और हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। कैफीन के कारण हड्डियों को मजबूत करने वाले विटामिन डी के लेवल पर भी बुरा असर पड़ता है।

वीट ब्रान: वीट ब्रान जिसे आटे का चोकर भी कहा जाता है, इसमें हाई लेवल में फाइटेट मौजूद होता है जो कैल्शियम के अवशोषण को प्राभावित कर सकता है। क्योंकि इसमें डाइट्री फाइबर काफी ज्यादा होता है। आप वीट ब्रान के बजाय ओट्स ब्रान का सेवन करते हैं तो आपको ज्यादा नुकसान नहीं होता क्योंकि इसमें फाइटेट का लेवल ज्यादा नहीं पाया जाता है। फाइटेट एक तरह का एंटी- न्यूट्रीएंट होता है जो आमतौर पर पौधों में पाया जाता है।

नमक: लोगों को मानना है कि नमक खाने से सिर्फ ब्लड प्रेशर का लेवल ज्यादा होता है लेकिन आपको बता दें कि इससे आपकी हड्डियों पर भी काफी बुरा असर पड़ता है। अत्यधिक मात्रा में नमक का सेवन करने पर हड्डियों में से कैल्शियम खत्म होने लगता है। जर्नल ऑफ द अमेरिकन कॉलेज ऑफ न्यूट्रिशन के 2018 की एक स्टडी के अनुसार, सोडियम का सेवन ज्यादा करने से ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा काफी बढ़ जाता है।

25 सितंबर को भोपाल आएंगे पीएम मोदी

25 सितंबर को भोपाल आएंगे पीएम मोदी 

अकांशु उपाध्याय/मनोज सिंह ठाकुर 
नई दिल्ली/भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 सितंबर को भोपाल आएंगे। उनकी भोपाल यात्रा के लिए जारी तैयारियों के संबंध में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जानकारी प्राप्त की। आधिकारिक जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी जम्बूरी मैदान में होने वाले कार्यक्रम को संबोधित करने भोपाल पधार रहे हैं। 
मुख्यमंत्री चौहान ने राजकीय विमानतल पर हुई बैठक में कहा कि वर्षा की संभावना को देखते हुए समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए तथा यातायात और पार्किंग व्यवस्था योजनाबद्ध रूप से की जाए। 
बैठक में पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, जन-प्रतिनिधि भगवान दास सबनानी, सुमित पचौरी, भोपाल कलेक्टर आशीष सिंह, पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्रा तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  


1. अंक-338, (वर्ष-06)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. बृहस्पतिवार, सितंबर 21, 2023

3. शक-1944, भाद्रपद, शुक्ल-पक्ष, तिथि-षष्ठी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:06।

5. न्‍यूनतम तापमान- 18 डी.सै., अधिकतम- 22+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

चीन ने तरीके नहीं बदले, परिणाम भुगतना होगा

चीन ने तरीके नहीं बदले, परिणाम भुगतना होगा अखिलेश पांडेय  ब्रुसेल्स। नाटो के प्रमुख जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा है कि चीन यूक्रेन के खिलाफ रूस...