शनिवार, 4 दिसंबर 2021

प्रयागराज: वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

प्रयागराज: वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया
बृजेश केसरवानी           
प्रयागराज। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन से मतदान करने की प्रक्रिया तथा मतदान के प्रति लोगो को जागरूक करने हेतु एलईडी वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
अपर जिलाधिकारी/उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री हर्षदेव पाण्डेय एवं एडीएम वित्त एवं राजस्व श्री जगदम्बा सिंह ने शनिवार को कलेक्ट्रेट परिसर से विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 हेतु इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन से मतदान करने की प्रक्रिया तथा मतदान के प्रति लोगो को जागरूक करने हेतु एलईडी वैन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। एलईडी वैन विधानसभा क्षेत्रों में भ्रमण करते हुए लोगो को इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन के द्वारा मतदान की प्रक्रिया के बारे में लोगो को जानकारी देगी तथा मतदान के प्रति लोगो को जागरूक करेंगी।

'टैलेंट हंट' की 4वीं प्रतियोगिता का आयोजन किया
समीर अहमद         
कौशाम्बी। जिला शतरंज स्पोर्ट्स एसोसिएशन के तत्वाधान में टैलेंट हंट की 4वीं प्रतियोगिता का आयोजन सरस्वती ज्ञान मंदिर जूनियर हाईस्कूल विजिया चौराहा में 4 दिसंबर को आयोजित किया गया है। जिसमें 40 खिलाड़ियों ने प्रतिभाग किया यह प्रतियोगिता 4 चरण में की गई। प्रतियोगिता के परिणाम में बालक वर्ग में पहला स्थान बद्री प्रसाद मिश्रा को और दूसरे स्थान पर हेमराज पाल रही तीसरे स्थान पर आशुतोष मिश्रा और चौथा स्थान अन्नत नारायण मिश्रा को मिला है, पांचवां स्थान प्रिन्स यादव को मिला है।
बालिका वर्ग में पहला स्थान आरती द्विवेदी को दूसरे स्थान पर गुड़िया द्विवेदी रही सचिव ने बताया कि टैलेंट हंट के माध्यम से जिले में नये योग्य खिलाड़ियों को जिसके प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को नेशनल प्रशिक्षकों द्वारा तैयार किया जायेगा।
सचिव ने बताया अब तक 4 प्रतियोगिता में 24 बच्चों का चयन किया जा चुका है। पुरस्कार वितरण समारोह में विघालय के प्रबंधक राजेंद्र यादव द्वारा खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में सचिव राघवेंद्र शुक्ला मौजूद रहे हैं। आयोजन का संचालन आर्बिटर सुनील कुमार केसरवानी ने किया। सचिव ने बताया, कि 5 टैलेंट हंट का आयोजन डी. डी. आर पब्लिक स्कूल भरवारी में 11 दिसम्बर किया जाएगा। 12 दिसम्बर को सी. पी पायलट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में जिला शतरंज रैपिड प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।

गोयल ने समिति लिमिटेड का निरीक्षण किया: यूपी
राजकुमार        
कौशाम्बी। मण्डलायुक्त प्रयागराज संजय गोयल ने शनिवार को धान खरीद केंद्र मनौरी एवं धान खरीद केंद्र पी.सी.एफ जनता चायल साधन सहकारी समिति लिमिटेड का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान धान खरीद केंद्र जनता चायल सहकारी लिमिटेड में खरीद धीमी पाए जाने पर नाराजगी प्रकट करते हुए प्रगति लाने के निर्देश दिए। 
किसानों की शिकायत पर मंडलायुक्त ने केंद्र प्रभारी को जमकर फटकार लगाई है। उन्होंने कहा कि धान खरीद में तेजी लाएं और किसानों से धान बिक्री का भुगतान तुरंत करें। उन्होंने कहा कि धान खरीद में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

28 हज़ार लोगों ने टीके की पहली डोज़ लगवाईं: यूपी
अश्वनी उपाध्याय          
गाज़ियाबाद। जिले में पिछले 4 दिनों के की अवधि में 28 हज़ार लोगों ने कोरोना रोधी टीके की पहली डोज़ लगवाईं है।माना जा रहा है कि कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वेरिएंट की दहशत के कारण लोगों की टीकाकरण के प्रति रुचि बढ़ी है।
स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार विगत 34 दिन में ऐसे 1.96 लाख लोगों ने केंद्रों पर पहुंचकर टीके की पहली डोज लगवाई है। शनिवार को जिले के 226 केंद्रों पर 20,023 लोगों ने कोरोनारोधी टीका लगवाया है। 
अब तक 24.45 लाख लोगों को कोरोनारोधी टीके की 38,91,099 डोज लग चुकी हैं। इनमें से 24,45,586 को पहली और 14,45,513 लोगों को दोनों डोज लग चुकी हैं। अभी भी दो लाख लोगों को पहली डोज लगाई जानी शेष है।

10 लोगों में 'कोरोना' संक्रमण की पुष्टि हुईं: यूके

10 लोगों में 'कोरोना' संक्रमण की पुष्टि हुईं: यूके      

पंकज कपूर           देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना का खतरा बरकरार है। राज्य में आज 10 नए मामले आने के साथ ही एक संक्रमित की मौत हुई है। राज्य में आज कोरोना के कुल 10 नए मामले सामने आए है। इसी के साथ राज्य में कोरोना का आंकड़ा 344345 पहुंच गया है। जबकि राज्य में आज 21 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए इस तरह अब तक 330592 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। शनिवार की शाम 6:00 बजे स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य में 10 नए लोगों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई।

जिनमें देहरादून जिले से 02 ,हरिद्वार से 02, नैनीताल जिले से 05, उधमसिंह नगर से 01, पौडी से 0, टिहरी से 0, चंपावत से , पिथौरागढ़ से 0 , अल्मोड़ा 0, बागेश्वर से 0, चमोली से 0, रुद्रप्रयाग से 0, उत्तरकाशी से 0 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं।

सीजी: रिक्त 200 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया प्रारंभ

दुष्यंत टीकम           रायपुर। महिला एवं बाल विकास विभाग में पर्यवेक्षक (सुपरवाईजर) के रिक्त 200 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू हो गई है। विभाग में सुपरवाईजर के रिक्त पदों पर खुली सीधी भर्ती और परिसीमित सीधी भर्ती द्वारा नियुक्ति की जा रही है। इसके लिए छत्तीसगढ़ व्यवसायिक परीक्षा मण्डल द्वारा ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। नियुक्ति के लिए छत्तीसगढ़ की मूल निवासी महिलाएं ही आवेदन कर सकती हैं। नियमानुसार आरक्षित श्रेणियों और दिव्यांगजनों के लिए भी पद आरक्षित है। खुली सीधी भर्ती में किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक या समतुल्य उपाधि रखने वाली महिलाएं आवेदन कर सकती हैं। परिसीमित सीधी भर्ती के लिए केवल विभाग में 10 वर्षों से सतत कार्यरत आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ही आवेदन के लिए पात्र होंगी।

इच्छुक उम्मीदवार 30 दिसम्बर, 2021 को रात 11.59 बजे तक व्यापम की वेबसाईट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदकों को 50 रूपए शुल्क के साथ 31 दिसम्बर से 2 जनवरी 2022 तक त्रुटि सुधार का समय दिया गया है। परीक्षा 23 जनवरी 2022, रविवार को दो पाली में आयोजित की जाएगी। प्रथम पाली में सुबह 9 बजे से 12.15 बजे तक खुली सीधी भर्ती और दूसरी पाली में दोपहर 2 बजे से 5.15 बजे तक परिसीमित सीधी भर्ती हेतु परीक्षा का आयोजन होगा।

स्कूल बंद करने की मांग को लेकर बयान दिया: सीजी

दुष्यंत टीकम            रायपुर। स्कूल बंद करने की मांग के बीच स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने साफ शब्दों में कह दिया है। प्रदेश में स्कूलों को बंद नहीं किया जाएगा। शिक्षा भी ज़रूरी है और सुरक्षा भी ज़रूरी है।शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि स्कूल बंद होने से विद्यार्थियों को भारी नुक़सान हुआ है। लगभग दो साल बाद शत प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल खुला है। सेंट्रल गवर्नमेंट से जारी एडवाइजरी का पालन कर दिशा निर्देश दिया गया है। कोरोना के नए वेरिएंट के मद्देनज़र स्कूल बंद करने की मांग की जा रही है। 

औचक निरीक्षण कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन मद्देनज़र स्कूल बंद करने की मांग की जा रही है। इसको लेकर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉक्टर प्रेम साय सिंह टेकाम ने कहा कि फ़िलहाल इस स्कूल प्रदेश में बंद नहीं किया जाएगा। लगभग दो साल बाद शत प्रतिशत क्षमता के साथ अभी स्कूल खोला गया है कि बंद होने के कारण बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हुई है। प्रदेश में कोरोना कंट्रोल की स्थिति में हैं। पूरी क्षमता के साथ ही स्कूल हाल में ही खोला गया है। विद्यार्थियों के लिए पढ़ाई ज़रूरी है। साथ ही उनकी सुरक्षा भी सुरक्षा के लिए प्रोटोकॉल के पालन कड़ाई से की जा रही है। हाल में जारी गाइडलाइन के पालन के लिए दिशा निर्देश भी दे दी गई है।


10 हजार रुपए के इनामी बदमाश को अरेस्ट किया

10 हजार रुपए के इनामी बदमाश को अरेस्ट किया 

संदीप मिश्र      मुरादाबाद। एसएसपी बबलु कुमार के निर्देश पर अपराधियों के खिलाफ चालाए जा रहे अभियान में सिविल लाइन पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने 10 हजार रुपए के इनामी बदमाश को गिरफ्तार किया है। सीओ सिविल लाइन सागर जैन व इंस्पेक्टर सिविल लाइन रविंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि पकड़े गए बदमाश की पुलिस को काफी लंबे समय से तलाश थी। उन्होंने बताया कि सिविल लाइन थाना क्षेत्र के कंपनी बाग से गिरफ्तार किए गए नागफनी इलाके के बदमाश फिरोज पर लूट के कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। फिरोज महिला से चेन और कुंडल लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद पुलिस की पकड़ से दूर हो गया था। इसके बाद ही उस पर डीआइजी की ओर से दस हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया था।

अपहरण मामलें में 8 लोगों को गिरफ्तार किया

मिनाक्षी लोढी         कोलकाता। पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा अपहृत शहर के एक व्यवसायी को पुलिस ने मुक्त करा लिया। एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि फिरौती के लिए इस्तेमाल किए गए मोबाइल फोन के टावर लोकेशन पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने शुक्रवार को सिद्धार्थ बंद्योपाध्याय को अपहरण के 24 घंटे से भी कम समय में छुड़ा लिया। उन्होंने बताया कि व्यवसायी के अपहरण में कथित तौर पर शामिल आठ लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। अधिकारी ने बताया कि अज्ञात लोगों ने बृहस्पतिवार को बंदोपाध्याय का अपहरण कर लिया था और उनके परिवार से 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी गई थी।

अधिकारी ने बताया कि बंदोपाध्याय ने कुछ लोगों से नौकरी दिलाने के नाम पर पैसे लिए थे। लेकिन उसने न तो नौकरी दिलाई और न ही उनके पैसे वापस किए। समझा जाता है कि आरोपियों ने पैसे वापस पाने के लिए ही अपहरण किया होगा। मामले की जांच जारी है।

सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों में सम्मान जीता: मुंबई

सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों में सम्मान जीता: मुंबई

कविता गर्ग         मुंबई। अमेज़ॅन ओरिजिनल, मिर्जापुर सीज़न 2 ने 3 दिसंबर 2021 को सिंगापुर में आयोजित क्रिएटिव एक्सीलेंस के लिए एशियाई अकैडमी क्रिएटिव अवार्ड्स (एएए), एशिया पैसिफिक (एपीएसी) के सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों में शीर्ष सम्मान जीता है। यह अवार्ड एपीएसी क्षेत्र में फिल्म और टेलीविजन उद्योग में उत्कृष्टता को दर्शाता है। भारत के सबसे पसंदीदा मनोरंजन स्थल, अमेज़न प्राइम वीडियो पर स्ट्रीमिंग के लिए उपलब्ध, मिर्जापुर एक ब्लॉकबस्टर शो है। जिसे प्रशंसकों और आलोचकों से समान रूप से सराहना और प्यार मिला है। 'बेस्ट ओरिजिनल प्रोग्राम बाय ए स्ट्रीमर/ओटीटी' कैटेगरी में इसकी जीत डिजिटल स्पेस में एक ट्रेलब्लेजिंग शो के रूप में अपनी स्थिति को और मजबूत करती है। 

अमेजन प्राइम वीडियो इंडिया की हेड ऑफ इंडिया ओरिजिनल्स अपर्णा पुरोहित ने कहा, "प्राइम वीडियो में, हम अपने दर्शकों को विभिन्न शैलियों, श्रेणियों, भाषाओं और फॉर्मेट्स में कंपीलिंग कंटेंट पेश करने की दिशा में लगातार काम कर रहे हैं, जो मनोरंजन, प्रेरणा और उत्तेजना प्रदान करती है। हमारी प्रोग्रामिंग हमारे ग्राहकों की विविध आवाज़ों को दर्शाती है और उन कहानियों के लिए एक वैश्विक प्रदर्शन प्रदान करती है जो स्थानीय संस्कृति में गहराई से निहित हैं, जिससे वे दुनिया भर के दर्शकों के लिए अधिक प्रामाणिक, आकर्षक और इमर्सिव बन जाते हैं। चूंकि हम भारत में 5 साल पूरे कर रहे हैं, प्रतिष्ठित एशियन एकेडमी क्रिएटिव अवार्ड्स में हमारी जीत इस बात की पुष्टि है कि सर्वश्रेष्ठ कहानियों, कहानीकारों और प्रतिभाओं को एक मंच खोजने और देने के हमारे अथक प्रयास काम कर रहे हैं। मैं विशेष रूप से अभिनेता, ब्रह्म मिश्रा का उल्लेख करना चाहूंगी, जिन्होंने श्रृंखला में ललित की भूमिका निभाई और इस सप्ताह उनका दुखद निधन हो गया है। यह पुरस्कार उन्हें व उनके सह-अभिनेताओं और तकनीशियनों द्वारा श्रृंखला में की गई कड़ी मेहनत के लिए एक ट्रिब्यूट है।” 

मिर्जापुर सीजन 2 के लिए पुरस्कार प्राप्त करने पर निर्माता, पुनीत कृष्णा ने कहा, “मिर्जापुर के प्रत्येक तकनीशियन और टैलेंट के लिए यह एक बहुत बड़ा क्षण है, एक श्रृंखला जो एक घरेलू नाम बन गई है। शो की प्रामाणिकता और रिलेटैब्लटी इसे एक अनूठी और दिलचस्प श्रृंखला बनाती है, जो दर्शकों को एक गहरे स्तर पर जोड़ती है। मिर्जापुर को दर्शकों के लिए एक यादगार अनुभव बनाने के लिए कैमरे के पीछे कड़ी मेहनत करने वाले प्रत्येक अभिनेता और प्रत्येक व्यक्ति को दिल से धन्यवाद। एशियन एकेडमी क्रिएटिव अवार्ड्स द्वारा हमारे प्रयासों को मान्यता देने के लिए धन्यवाद। हम इस पुरस्कार को सबसे प्रतिभाशाली अभिनेताओं में से एक ब्रह्मा मिश्रा को समर्पित करना चाहते हैं और हम चाहते थे कि काश वह इस पल को हमारे साथ साझा करने के लिए यहां मौजूद होते। ” 

यह जीत कहानियों और कहानीकारों को आकर्षित करने वाली सेवा के रूप में प्राइम वीडियो की स्थिति को मजबूत करती है। अपने विविध, प्रामाणिक, लोकल कंटेंट के माध्यम से भारतीयों के मनोरंजन के पांच साल पूरे होने के उपलक्ष्य में, यह न केवल मनोरंजन के लिए सबसे पसंदीदा स्थान बन गया है, बल्कि मनोरंजन के एक नए युग की शुरुआत करने में अपनी भूमिका के लिए देश की रचनात्मक अर्थव्यवस्था के भीतर भी इसे स्वीकार किया जा रहा है।

इंस्टाग्राम की स्टोरी पर फोटो शेयर किये: मुंबई

कविता गर्ग         मुबंई। सोशल मीडिया पर रोजाना अनोखे फोटो और वीडियो सामने आती रहती हैै। ऐसे ही सोशल मीडिया पर अपने शानदार लुक से फैंस को दीवाना बनाने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री मलाइका अरोड़ा ने हाल ही में सोशल मीडिया पर उन्होंने अपनी नई तस्वीरें सामने आई हैं।जिसमें वह मालदीव में नजर आ रही है। मलाइका अरोडा सोशल मीडिया पर बहुत ज्यादा एक्टिव नजर आती हैं और वह अपने फेशन और लुक्स को लेकर इंटरनेट पर छाई रहती है। मलाइका की ये तस्वीरें आते ही हर जगह वायरल हो गई थी। टाइटिल बॉलीवुड अभिनेत्री मलाइका अरोडा ने अपनी यह शानदार फोटो अपने इंस्टाग्राम की स्टोरी पर लगाई थी। मलाइका अरोडा एक तस्वीर में वह नियॉन कलर के कपडो में नजर आ रही हैं और दूसरी तस्वीर में टू-पीस पहने शानदार पोज देती नजर आ रही है। 

मलाइका अरोडा टू-पीस में देखने लायक अंदाज में नजर आ रही है। बॉलीवुड एक्टर अर्जुन कापूर ने भी अपनी इंस्टाग्राम की स्टोरी पर भी ऐसे ही फोटो शेयर किये है। अर्जुन कपूर फोटो में बीच बेठे साइड से पोज दे रहे हैं। दोनों की तस्वीरें को देख कर अंदाजा लगाया जा रहा है कि दोनो एक साथ में घुमने गए हुए है। 


सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों ने पीएम का स्वागत किया

सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों ने पीएम का स्वागत किया

पंकज कपूर       देहरादून। उत्तराखंड के परेड मैदान में पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी का मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट समेत तमाम पूर्व मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों ने किया स्वागत। दिल्ली से देहरादून तक एक्सप्रेस वे की सौगात उत्तराखंड को देंगे पीएम मोदी 18000 करोड रुपए की 18 विकास योजनाओं की सौगात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड को देने जा रहे हैं। परेड मैदान पर पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमाम विकास कार्यों के मॉडल्स को देखा साथ ही तमाम विकास कार्यों के लिए बनी एक लघु फिल्म को भी पीएम द्वारा देखा गया।

मंच पर प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी , केंद्रीय राज्यय मत्री अजय भट्ट, चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी , प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम,  पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत , पूर्व सीएम रमेश पोखरियाल निशंक ,पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत कैबिनेट मंत्री बिशन सिंह चुफाल कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडे देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा देहरादून जिले के जिला पंचायत अध्यक्ष समेत तमाम कैबिनेट मंत्री हे मौजूद साथ में संगठन के तमाम पदाधिकारी समेत बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक भी मंच पर मौजूद है। 

आपको बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड में सात रैलियां आयोजित करेंगे। जिसकी शुरुआत आज देहरादून की रैली से हो चुकी है। इसके अलावा 24 दिसंबर को कुमाऊं क्षेत्र में एक रैली करेंगे। वही, जिसके बाद आचार संहिता लगने के बाद चारों लोकसभा क्षेत्रों में प्रधानमंत्री मोदी की रैली आयोजित होगी। वही, आपको बता दे पीएम मोदी की रैली को सुनने के लिए आम जनता का जन सैलाब परेड मैदान में उमड़ गया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रोसैया का निधन हुआ

हैदराबाद। अविभाजित आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कोनिजेति रोसैया का शनिवार को निधन हो गया। पार्टी सूत्रों ने यह जानकारी दी। रोसैया 88 वर्ष के थे। सूत्रों ने बताया कि आज सुबह रोसैया बीमार पड़े और एक निजी अस्पताल ले जाते समय उनकी मौत हो गई। वह 31 अगस्त 2011 से 30 अगस्त 2016 तक तमिलनाडु के राज्यपाल भी रहे।

रोसैया ने अपनी राजनीतिक यात्रा 1968 में विधान परिषद के सदस्य के रूप में की थी। वाई एस राजशेखर रेड्डी के निधन के बाद वह तीन सितंबर से 25 नवंबर तक आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने रोसैया के निधन पर शोक व्यकिय किया।

विधानसभा चुनाव नजदीक, दल-बदल का दौर शुरू 

पंकज कपूर       देहरादून। विधानसभा चुनाव 2022 नजदीक आते ही दल-बदल का दौर भी शुरू हो गया है।उत्तराखंड में कई बड़े नेता पाला बदल चुके हैं तथा साथ ही आने वाले दिनों में इस तरह की सियासी हलचल तेज होने की संभावना जताई जा रही है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उत्तराखंड दौरा है। भाजपा के सूत्र मोदी के दून दौरे के दौरान कुछ बड़े नेताओं के शामिल होने के संकेत भी दे रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं वरिष्ठ नेता किशोर उपाध्याय के भाजपा में शामिल होने की चर्चाएं सियासी गलियारों में तैर रही हैं। राजनीति गलियारों की चर्चाओं और मीडिया रिपोर्टस के अनुसार कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मंत्री किशोर उपाध्याय भाजपा का दामन थाम सकते हैं। किशोर उपाध्याय को लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज हो चलीं हैं। हालांकि इसे लेकर बीजेपी-कांग्रेस दोनों ही ओर से ही चुप्पी साधी गई है।

लेकिन माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी के शनिवार को देहरादून दौरे के दौरान कुछ बड़े नेता बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। अब वो कौन-कौन होंगे यह तो कल ही पता चलेगा। हालांकि पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के बीजेपी में जाने की वजह कांगेस की अंतरकलह को माना जा रहा है। किशोर उपाध्याय के तेवरों से कांग्रेस हलकान है, किशोर उपाध्याय ने हाल ही में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पर सोशल मीडिया में हमला बोला था, इसे देखते हुए ही किशोर उपाध्याय के भाजपा में जाने की चर्चाएं हैं।


राहुल ने सरकार के बयान पर हमला बोला: कांग्रेस

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसान आंदोलन के दौरान मरने वाले लोगों की जानकारी न होने के सरकार के बयान पर हमला बोला है। संसद में सरकार की ओर से दिए गए जवाब को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि यदि सरकार चाहे तो हमसे लिस्ट ले सकती है। हमारे पास सूची है कि किन किसानों की मौत हुई है। सरकार हमसे सूची ले और उन्हें मदद मुहैया कराए।

राहुल गांधी ने कहा कि सरकार का कहना है कि हमारे कोई रिकॉर्ड मौजूद नहीं है। हमारे पास 503 किसानों का आंकड़ा है। सरकार चाहे तो हमसे लिस्ट ले सकती है। पंजाब सरकार ने 403 किसानों के परिवानों को मुआवाजा दिया है। इसके अलावा 152 किसानों के परिजनों को पंजाब सरकार ने नौकरी दे दी है। राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने यदि माफी मांगी है तो फिर किससे माफी मांगी है। एक तरफ वह कहते हैं कि हम माफी मांगते हैं और दूसरी तरफ कहते हैं कि हमें नहीं पता है कि किसकी मौत हुई है। राहुल गांधी ने आंदोलन के दौरान मरे कुछ किसानों के नाम भी पढ़े और कहा कि सरकार हमसे पूरी लिस्ट ले ले। उन्होंने कहा कि यह सरकार पूरी तरह से असंवेदनशील है। इनके पास तो कोरोना की मौत के आंकड़े भी नहीं थे।

राहुल गांधी ने कहा कि एक साल लंबे चले आंदोलन में मरने वाले किसानों के परिजनों को सरकार की ओर से मदद मिलनी चाहिए। गलत कानूनों को लागू करने की वजह से ही इन 700 किसानों की मौत हुई है। खुद पीएम ने जब माफी मांग ली है तो फिर यह एक तरह से गलती मांगने जैसा है और उस गलती के लिए सरकार को मुआवजा देना चाहिए। कांग्रेस नेता ने कहा कि जब पूंजीपति दोस्तों की बात होती है तो फिर सरकार के पास पैसे की कोई कमी नहीं होती। लेकिन जब गरीब या किसान की मदद करने की बात आती है तो फिर पैसों की कमी की बात की जाती है।

नेहरू भवन पर 'कांग्रेस' की सदस्यता ग्रहण की 

संदीप मिश्र       लखनऊ। कांग्रेस पार्टी की विचारधारा - कांग्रेस महासचिव एवं यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के जनप्रिय नेतृत्व में आस्था व्यक्त करते देवरिया, बाराबंकी और सीतापुर से विभिन्न पार्टी के नेताओं ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय नेहरू भवन पर कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के प्रवक्ता संजय सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव चंद्र यादव के नेतृत्व में जनपद देवरिया के हिन्दू युवा वाहिनी के नेता और पूर्व जिला पंचायत सदस्य अनिल चौरसिया, बहुजन समाज पार्टी के जिला प्रभारी आनंद प्रकाश भारती, बसपा के विधानसभा अध्यक्ष हरिप्रसाद, मछुआरा समिति के नेता पारसनाथ निषाद, बसपा नेता राजेश कुमार मौर्य, संजय कुशवाहा दलित मानवाधिकार नेता अशोक प्रसाद , रमेश यादव , हरिराम यादव प्रधान , सूर्य प्रकाश श्रीवास्तव , अख्तर हुसैन सपा नेता,  सुनील कुमार गुप्ता ,दिलीप कुमार गुप्ता ,संजय प्रसाद, शांतनु निषाद, शैलेश कुमार सांसी, रश्मि सांसी ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

देवरिया के विभिन्न दलों से आये नेताओं ने युवा कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव चंद्र यादव के नेतृत्व में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू से मुलाकात की और पार्टी में अपनी आस्था व्यक्त की। जनपद सीतापुर और बाराबंकी के विभिन्न दलों के नेताओं ने प्रदेश कांग्रेस सचिव कैलाश चौहान के नेतृत्व में प्रधान सुरेश चंद चौहान, प्रधान दिनेश निषाद , प्रधान कैलाश चौहान, पूर्व जिला पंचायत प्रत्याशी पवन चौहान, राम कुमार चौहान , अंकित चौहान , विनोद गौतम ,देशराज, कल्लू गौतम, राकेश वर्मा, रामबचन, सुकाई, सत्यवान वर्मा, अनिरुद्ध सिंह चौहान, राममूर्ति सिंह चौहान, सर्वेश भार्गव,  संदीप भार्गव,अमर सिंह भार्गव,रामचंद्र सिंह चौहान, भगत सिंह चौहान, रामकिशन,भग्गल सिंह चौहान,टेक चन्द्र निषाद, प्रमोद कुमार , सलीम अंसारी ,अभय सिंह चौहान के साथ आये सैकड़ों की संख्या में समर्थकों ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

सदस्यता ग्रहण अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सदस्यता ग्रहण करने वाले नेताओं पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि प्रियंका गांधी जी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी लगातार प्रदेश में जनता के मुद्दों को उठा रही है और सड़क पर उतर कर लडाई लड रही है,सभी दलों की सरकारों को प्रदेश की जनता ने देखा सपा, बसपा और भाजपा सरकारों ने प्रदेश में रोजगार, उद्योग चौपट कर दिए बेरोजगारी बढ़ गयी अब जनता प्रियंका गांधी जी के नेतृत्व में 2022 में कांग्रेस की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रही है। कांग्रेस पार्टी में शामिल नेताओं ने भी अपने विचार रखे और प्रियंका गांधी के नेतृत्व में 2022 में कांग्रेस की सरकार बनाने का संकल्प लिया,सदस्यता   कार्यकम के अवसर पर कोषाध्यक्ष सतीश अजमानी, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष (प्रभारी प्रशासन) योगेश दीक्षित, अखिलेश वर्मा मौजूद रहे।

आवेदन की अनुमति देगी 'किसान कर्ज माफी' योजना

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। किसानों को अपना ऋण चुकाने में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसलिए, यूपी किसान कर्ज माफी योजना उन किसानों को आवेदन की अनुमति देगी। जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम जमीन है। उत्तर प्रदेसग सरकार ने उत्तर प्रदेश किसान ऋण राहत योजना के तहत ऋण राहत सूची की घोषणा की है, जिसकी सहायता से आप सूची में अपना नाम देख सकते हैं। यदि आप उत्तर प्रदेश के किसान हैं और यूपी किसान कर्ज माफी योजना सूची में अपने नाम से संबंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर यह जानकारी ऑनलाइन के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। हुह।

वे सभी किसान जिन्होंने उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना के लिए अपना ऋण माफ करने के लिए आवेदन किया था, वे किसान ऋण माफी योजना की लाभार्थी सूची के तहत अपने नाम की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। यूपी किसान कर्ज माफी योजना की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आप सूची से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और सूची में अपना नाम जांच सकते हैं।उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार किसान ऋण मोचन योजना  उत्तर प्रदेश के तहत किसानों की सूची तैयार कर रही है। उत्तर प्रदेश राज्य के वे सभी किसान जिन्होंने यूपी कर्ज मुक्ति योजना के तहत आवेदन किया था, वे यूपी किसान कर्ज माफी योजना की सूची में अपने नाम की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

यदि आप उत्तर प्रदेश ऋण मोचन योजना सूची में अपना नाम देखना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। वे सभी लोग जिनका नाम किसान ऋण मोचन योजना की सूची में आया है, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी किसानों का ऋण माफ किया जाएगा। इस लेख के माध्यम से हम आपको से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे। उत्तर प्रदेश किसान ऋण राहत योजना 9 जुलाई 2017 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई थी। इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसानों को कर्ज के खिलाफ राहत प्रदान करना है। यूपी किसान कर्ज माफी योजना   के तहत उत्तर प्रदेश के सभी छोटे और सीमांत किसान जो अपनी खुद की दुकान लेने में सक्षम हैं, उन्हें सरकार की ओर से ₹100000 तक की कर्जमाफी दी जाएगी।

इस योजना के तहत, उत्तर प्रदेश  के कुल 800,000 किसानों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा और उनका ऋण माफ किया जाएगा। जैसा कि आप जानते हैं कि छोटे और सीमांत किसानों को अपना ऋण चुकाने में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसलिए, यूपी किसान कर्ज माफी योजना उन किसानों को आवेदन की अनुमति देगी जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम जमीन है। उत्तर प्रदेश राज्य के सभी किसान जो यूपी किसान कर्ज माफी योजना की सूची में अपने नाम से संबंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो नीचे दी गई प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें।

एमपी: पंचायत 'चुनावों' का इंतजार खत्म 

मनोज सिंह ठाकुर        भोपाल। मध्य प्रदेश में पंचायत चुनावों का इंतजार खत्म हो गया है। चुनाव आयोग ने पंचायत चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है। प्रथम चरण 13 दिसंबर को नामाकंन और वापसी 23 दिसंबरको वापसी होगा। 6 जनवरी को होगा मतदान 2022 द्वितीय चरण 13 दिसंबर, नामाकंन, वापसी, 23 दिसंबर, मतदान, 28 जनवरी पंचायत चुनाव 3 चरणों में होंगे। पहले चरण में 9 जिले, दूसरे चरण में 7 जिले शामिल होंगे।पहले चरण मे 85 जनपद पंचायतों में, दूसरे में 110 जनपद पंचायत तीसरे चरण में 118 जनपद पंचायतों में चुनाव होंगे। पहले चरण मे 8, दूसरे चरण में 7 पहले चरण में लो और तीसरे चरण में 36 जिले लिए जाएंगे। मतदान का समय सुबह 10 बजे से 3 बजे तक रहेगा। 

मतदान का समय सुबह 7:00 से दोपहर 3:00 बजे तक होगा। पंच एवं सरपंच की मतगणना वोटिंग के तुरंत बाद मतगणना स्थल पर जनपद पंचायत की विकासखंड और जिला पंचायत की जिला स्तर पर होगी। मतदाताओं को पर्ची के साथ कोई एक पहचान पत्र अनिवार्य रखना होगा। जनपद और जिला सदस्यों के लिए ईवीएम से होगा मतदान जिला केंद्र पर होगी मतगणना। 55000 ईवीएम का होगा ग्राम पंचायत चुनाव में इस्तेमाल। हर एक पंचायत के लिए एक ईवीएम एक्स्ट्रा रिजर्व में होगी।नामांकन के लिए प्रत्याशी के साथ दो लोग ही जा सकेंगे। ऑनलाइन नॉमिनेशन भी कर सकेंगे प्रत्याशी।जिला सदस्य के लिए 8000 जनपद सदस्य के लिए 4000 ग्राम पंचायत सरपंच के लिए 2000 पंच के लिए ₹400 रुपये। आरक्षित वर्ग के लिए आधी राशि की जमानत राशी। अति संवेदनशील मतदान केंद्र पंचायत चुनावों पर एक नजर चुनाव आयोग के निर्देशानुसार, पंचायत चुनाव तीन चरणों में आयोजित कराए जाएंगे। 

इसमें सरपंच और पंचों को ऑनलाइन नामांकन नहीं बल्कि निर्वाचन कार्यालय में जाकर ही फॉर्म भरकर जमा कराने होंगे, लेकिन जिला पंचायत के लिए ऑनलाइन नामांकन किया जाएगा। जिला और जनपद में ईवीएम से वोटिंग होगी और ग्राम स्तर पर मतपत्र के जरिए वोटिंग कराई जाएगी। पंच, सरपंच, जनपद पंचायत तथा जिला पंचायत सदस्य के अभ्यर्थियों को अपने नाम-निर्देशन पत्र के साथ पंचायत को देय समस्त शोध्यों का अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। नाम निर्देशन पत्र के साथ अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत नहीं करने वाले नाम-निर्देशन पत्र निरस्त कर दिया जाएगा। अदेय प्रमाण पत्र निर्वाचन घोषणा के पूर्व के वित्तीय वर्ष तक का प्रस्तुत करना होगा। अर्थात यदि माह दिसंबर 2014 में निर्वाचन की घोषणा होती है तो 31 मार्च 2014 की स्थिति में अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। निर्धारित प्रारूप में अदेय प्रमाण पत्र ग्राम पंचायत के लिए सचिव द्वारा, जनपद पंचायत के लिए सीईओ जनपद पंचायत द्वारा और जिला पंचायत के लिए सीईओ जिला पंचायत द्वारा जारी किया जाएगा। अभ्यर्थी द्वारा जिस पंचायत के लिए नाम-निर्देशन पत्र भरा जा रहा है।

उस पंचायत का अदेय प्रमाण पत्र, नाम-निर्देशन पत्र के साथ संलग्न करना अनिवार्य होगा। ऑनलाईन नाम निर्देशन भरते समय अभ्यर्थी के पास मोबाईल फोन, चल-अचल संपत्ति का विवरण, आपराधिक प्रकरणों के सबंध में अभ्यर्थी का शपथ पत्र, अभ्यर्थी और प्रस्तावक का मतदाता सूची में नाम दर्ज होने से संबंधित जानकारी अर्थात ग्राम पंचायत एवं खण्ड का नाम, वार्ड क्रमांक और मतदाता सूची का क्रमांक तथा प्रतिभूति निक्षेप राशि जमा करने की रसीद इत्यादि होना चाहिए। एमपी ऑनलाइन कियोस्क पर तथा लोक सेवा केन्द्रों पर सेवा शुल्क 35 रूपये प्रति नॉमीनेशन फार्म संलग्नक सहित एवं 5 रूपये प्रति प्रिंट आऊट पर कर सकते हैं तथा आरओ कार्यालय में स्थापित सुविधा केन्द्र पर यह निःशुल्क किया जा सकता हैं। नाम निर्देशन पत्र भरने के लिए निजी कम्प्यूटर या लेपटॉप पर एमपी ऑनलाइन कियोस्क, लोकसेवा केन्द्र और रिटर्निंग ऑफिसर कार्यालय में स्थापित सुविधा केन्द्र पर जमा किए जा सकेंगे। 

खेल: क्रोएशिया ने टेनिस फाइनल में प्रवेश किया

खेल: क्रोएशिया ने टेनिस फाइनल में प्रवेश किया

मैड्रिड। क्रोएशिया ने सर्बिया को हराकर डेविस कप टेनिस फाइनल में प्रवेश कर लिया। दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविच एकल की अपनी जीत को निर्णायक युगल मैच में दोहरा नहीं सके। क्रोएशिया की नजरें तीसरी बार डेविस कप जीतने पर लगी है।रविवार को उसका सामना रूस और जर्मनी के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा।

क्रोएशिया के निकोला मेकटिच और मेट पेविच ने युगल मुकाबले में जोकोविच और फिलिप क्राजिनोविच को 7 . 5, 6 . 1 से हराया। इससे पहले जोकोविच ने एकल मैच में मारिन सिलिच को 6 . 4, 6 . 2 से हराकर क्रोएशिया को बराबरी दिलाई थी। क्रोएशिया को बोर्ना गोजो ने बढत दिलाई थी जिन्होंने पहले एकल मैच में दुसान लाजोविच को 4 . 6, 6 . 3, 6 . 2 से हराया।


औषधीय गुणों से परिपूर्ण हैं बेर, जानिए

बेर का फल जिसे चीनी सेब भी कहा जाता है। एक मौसमी फल है। यह फल अनेक प्रकार के औषधीय गुणों से परिपूर्ण है। भारत में पाए जाने वाले बेर फल का वानस्पतिक नाम 'जिजिफस मोरिसियाना' है। यह भारत में पाए जाने वाले प्राचीनतम फलों में से एक है, बेर फल का जिक्र रामायण में भी किया गया है। यह फल अनेक प्रकार के औषधीय और पौष्टिक तत्वों जैसे विटामिन, खनिज और शर्करा से युक्त होता है। यह फल भारत के साथ-साथ चीन, यूरोप और रूस के अलावा दुनिया के कई देशों में उगाया जाता है। इस फल का उपयोग खाने के अलावा दवाइयों के निर्माण में भी किया जाता है। बेर का सेवन उचित मात्रा में करने से हमारे शरीर को कई फायदे होते हैं। भारत में बेर का अचार और मुरब्बा भी बनाया जाता है। बेर खाने के अनेकों फायदे होते हैं लेकिन अगर इसका सेवन सही तरीके से नहीं किया गया तो इसके नुकसान भी देखने को मिलते हैं।

बेर के फल में अनेकों पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। बेर में प्रमुख रूप से विटामिन, राइबोफ्लेविन और थायमिन जैसे तत्व पाए जाते हैं और इसके साथ बेर प्रोटीन, पोटेशियम और कैल्शियम समेत कई पोषक तत्वों का भण्डार माना जाता है। यह विटामिन सी का अच्छा स्रोत माना जाता है, आयुर्वेद के मुताबिक बेर के बीजों में कैंसर जैसी बीमारियों से लड़ने की क्षमता भी होती है। बेर के फल में पाए जाने वाले कुछ प्रमुख पोषक तत्व इस प्रकार हैं। विटामिन सी, ए, और बी कॉम्प्लेक्स। 1. कार्बोहाइड्रेप्रोटी, 2. वसा, 3.आयरन और कॉपर 4. कैल्शियम और फास्फोरस 5. सोडिया 6. जिंक।

वैज्ञानिक दावा: 'बच्चा' पैदा कर सकता है रोबोट

वैज्ञानिक दावा: 'बच्चा' पैदा कर सकता है रोबोट

सुनील श्रीवास्तव        लंदन। वैज्ञानिकों ने विज्ञान के क्षेत्र में अद्भुत चमत्कार किया है। उन्होंने दावा किया कि जीवित रोबोट्स इंसान वाले सभी कार्य कर सकते है। इससे एक कदम आगे बढ़ते हुए दावा किया जा रहा है कि वैज्ञानिकों ने दुनिया का पहला रोबोट बना लिया है जो ' बच्चे ' भी पैदा कर सकता है, इन मिलीमीटर आकर के जीवित रोबोट्स को जेनोबॉट्स 3.0 कहा जा रहा है। जेनोबॉट्स न तो पारम्परिक रोबोट है और न ही जानवरो की प्रजाति, बल्कि जीवित प्रोग्राम करने योग्य जीव है।

मेढ़क की कोशिकाओं और कम्प्यूटर से डिजाइन किए गए जीवो को एक अमरीकी टीम ने बनाया है। ये पैक-मैंन जैसे अपने मुंह के अंदर एकल कोशिकाओं को इकट्ठा करते है ओर शिशुओं को बाहर निकालते है जो अपने माता पिता की तरह दिखते है और गति करते है। स्व- प्रतिकृति जीवित जैव- रोबोट दर्दनाक चोट, जन्म दोष, कैंसर, उम्र बढ़ने जैसी चीजों के लिए दवा और इलाज में मददगार साबित हो सकते है। जेनोबॉट्स दरअसल टफ्ट्स यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ वर्मोंट के जीव विज्ञानी और कम्प्यूटर वैज्ञानिकों का कमाल है। जेनोबॉट्स 3.0 अपने मूल संस्करण जेनोबॉट्स का अनुसरण करता है। जिसे 2020 में ' पहले जीवित रोबोट ' के रूप में रिपोर्ट किया गया था। वही जेनोबॉट्स 2.0 सिलिया नामक अपने पैरों का इस्तेमाल करके खुद को आगे बढ़ा सकता है औऱ उसमें याद रखने की क्षमता भी थी।


अमेरिका के 10 राज्यों में 'ओमिक्रोन' का संक्रमण

अखिलेश पांंडेय         वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के 10 राज्यों में कोविड-19 के नये वेरिएंट ओमिक्रोन के मामले सामने आये हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार को मैरीलैंड, नेब्रास्का, पेंसिल्वेनिया, न्यू जर्सी और यूटा राज्यों में ओमिक्रोन के मामले सामने आए हैं। इस सप्ताह की शुरुआत में कैलिफोर्निया, कोलोराडो, हवाई, मिनेसोटा और न्यूयॉर्क में ओमिक्रोन के मामले दर्ज किये गये थे।

ओमिक्रोन का पहला मामला दक्षिणी अफ्रीका में सामने आया था और इसके बाद यह अमेरिका, मुख्य रूप से पश्चिमी देशों में नए यात्रा प्रतिबंधों और सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों का कारण बनते हुये एक बड़ी परेशानी बन गया है।

'ओमिक्रोन' से संक्रमित 2 लोगों ने विदेशों की यात्रा की

सुनील श्रीवास्तव        सिंगापुर। कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन सेे संबंधित लक्षणों के अन्य स्वरूप से ज्यादा खतरनाक होने या मौजूदा टीके या इलाज के इस पर अप्रभावी होने के संबंध में फिलहाल कोई सबूत नहीं हैं। सिंगापुर स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से एक खबर में यह बात कही गई है। ‘चैनल न्यूज एशिया’ की खबर के अनुसार मंत्रालय ने कहा कि ओमिक्रोन से संक्रमित दो लोगों ने सिंगापुर से मलेशिया और ऑस्ट्रेलिया की यात्रा की। सिंगापुर स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि ओमीक्रोन के संबंध में और अधिक जानकारियां और अध्ययन की जरूरत है और आने वाले सप्ताह में वैश्विक स्तर पर इसके और मामले आने की आशंका है। मंत्रालय ने कहा कि एहतियात के अतिरिक्त कदम उठाने से उन्हें इस स्वरूप से लड़ने के तरीके जानने के लिए समय मिलेगा।

सिंगापुर के चांगी हवाई अड्डे पर ओमीक्रोन संक्रमण के प्रसार पर मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण का पहला मामला जोहानिसबर्ग से सिंगापुर एयरलाइन की एक उड़ान से 27 नवंबर को यात्रा करने वाले व्यक्ति का है। वह व्यक्ति उसी दिन की ट्रांजिट उड़ान के लिए यहां पहुंचा। इसके बाद व्यक्ति ने सिंगापुर एयरलाइन की एक अन्य उड़ान से 28 नवंबर को सिडनी की यात्रा की। ऑस्ट्रेलिया ने व्यक्ति के संक्रमित होने की पुष्टि की। व्यक्ति दक्षिण अफ्रीका से रवाना होने से पहले 24 नवंबर को नेगेटिव पाया गया था। सिंगापुर में शुक्रवार तक संक्रमण के 2,67,916 मामले सामने आए हैं और 744 लोगों की मौत हुई है।

कोरोना टीकों को एड्स से जोड़ा, बयानों की जांच की

अखिलेश पांंडेय        ब्रासीलिया। ब्राजील की शीर्ष अदालत के एक न्यायाधीश ने राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो के, कोविड-19 टीकों को एड्स से जोड़ने वाले बयानों की जांच का शुक्रवार को आदेश दिया। बोल्सोनारो ने 24 अक्टूबर को प्रसारित संबोधन में कहा था, “ब्रिटेन की सरकार की आधिकारिक रिपोर्ट में कहा गया है कि जिन लोगों को टीके की दोनों खुराक मिली है। उन्हें ‘एक्वायर्ड इम्यूनो डेफिशिएंसी सिंड्रोम’ (एड्स) जल्दी हो रहा है।

फेसबुक और इंस्टाग्राम ने कुछ दिन बाद उक्त वीडियो को यह कहकर हटा लिया कि इससे उनके नियमों का उल्लंघन होता है। वैज्ञानिकों और डॉक्टरों ने भी बोल्सोनारो के दावे का खंडन किया है। ब्राजील के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश अलेक्सांद्रे डी मोरेआस ने देश के शीर्ष अभियोजक ऑगस्टो अरास को निर्देश दिया है कि वह ब्राजील की सीनेट द्वारा महामारी की जांच में लगाए गए आरोप की पड़ताल करे।

ब्राजील के राष्ट्रपति ने अभी तक टीका नहीं लगवाया है और वह टीकाकरण की अनिवार्यता के विरोध में बोलते रहे हैं। बोल्सोनारो का कहना है कि वह केवल एक पत्रिका में छपे लेख का हवाला देते रहे हैं और उन्होंने कोई दावा नहीं किया है। मोरेआस ने अपने आदेश में कहा कि बोल्सोनारो के बयान की जांच होनी चाहिए। हालांकि, किसी प्रकार की जांच होने की संभावना नहीं है। अरास राष्ट्रपति के विरोध में नहीं जाते हैं और सीनेट की समिति द्वारा अनुरोध किये जाने के बावजूद उन्होंने महामारी से निपटने में बोल्सोनारो की भूमिका की भी जांच नहीं की।बोल्सोनारो ने महामारी की शुरुआत से ही स्थानीय स्तर पर स्वास्थ्य नियमों का उल्लंघन किया और कहा कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लागू पाबंदियों से फायदे के मुकाबले नुकसान ज्यादा होता है। गौरतलब है कि ब्राजील में कोविड-19 से अब तक 6,10,000 से ज्यादा मरीजों की मौत हो चुकी है और इस मामले में वह अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है।

'कोरोना' मामलों में नाटकीय उछाल देखा: अफ्रीका

अखिलेश पांडेय         प्रिटोरिया। डॉ. सिखुलीले मोयो पिछले हफ्ते बोत्सवाना में अपनी प्रयोगशाला में कोविड-19 के नमूनों का विश्लेषण कर रहे थे, जब उन्होंने देखा कि ये नमूनें दूसरों से आश्चर्यजनक रूप से अलग दिख रहे थे। कुछ ही दिनों में, दुनिया इस खबर से हिल उठी कि कोरोना वायरस का एक चिंताजनक नया स्वरूप सामने आया है, एक ऐसा स्वरूप जिससे दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के मामलों में नाटकीय उछाल देखा जा रहा है और जो इस बारे में एक झलक पेश कर रहा है कि वैश्विक महामारी अब किस दिशा में बढ़ रही है।

दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 के नये मामले नवंबर के मध्य में प्रतिदिन लगभग 200 से बढ़कर शुक्रवार को 16,000 से अधिक हो गए। स्वास्थ्य मंत्री जो फाहला ने कहा कि देश के सबसे अधिक आबादी वाले प्रांत गौतेंग में एक हफ्ते पहले ओमीक्रोन का पता चला था और तब से यह सभी आठ अन्य प्रांतों में फैल गया है। तेजी से बढ़ने के बावजूद, संक्रमण के नए दैनिक मामले अभी भी 25,000 से नीचे है जो दक्षिण अफ्रीका में जून और जुलाई में पिछली लहर के दौरान देखने को मिले थे। ओमीक्रोन की पहचान करने वाले संभवत: पहले व्यक्ति, वैज्ञानिक मोयो ने कहा कि नए स्वरूप के बारे में बहुत कम जानकारी है, लेकिन दक्षिण अफ्रीका में वृद्धि से पता चलता है कि यह अधिक संक्रामक हो सकता है।

ओमीक्रोन में 50 से अधिक परिवर्तन (म्यूटेशन) हैं, और वैज्ञानिकों ने इसे वायरस के विकास में एक बड़ा उछाल कहा है। फाहला ने कहा कि जिन लोगों को टीका लगाया गया है, उनमें से केवल कुछ ही लोग बीमार हुए हैं, जिनमें ज्यादातर हल्की बीमारी के मामले हैं, जबकि अस्पताल में भर्ती होने वालों में से अधिकतर को टीका नहीं लगा हुआ था।

लेकिन एक चिंताजनक घटनाक्रम में, दक्षिण अफ्रीकी वैज्ञानिकों ने पाया है कि ओमीक्रोन पहले के स्वरूप की तुलना में उन लोगों में पुन: संक्रमण का कारण बन रहा है, जिनको पहले से कोविड हो चुका है। हालांकि, वैज्ञानिकों ने उम्मीद जताई है कि टीका अब भी गंभीर संक्रमण के खिलाफ कारगर होगा।इस बीच, मोयो ने एक साक्षात्कार में दक्षिण अफ्रीका पर लगाए प्रतिबंधों पर निराशा जाहिर की। उन्होंने कहा कि आप इस तरह से विज्ञान को सम्मानित करते हैं? देशों को ब्लैकलिस्ट करके?उन्होंने कहा कि वायरस पासपोर्ट नहीं जानता है, यह सीमाओं को नहीं जानता है। हमें वायरस को लेकर भू-राजनीति नहीं करनी चाहिए। हमें सहयोग करना चाहिए और समझना चाहिए।

बच्चों में 'कोरोना' संक्रमण, मामलों पर चिंता जताईं

अखिलेश पांंडेय       प्रिटोरिया। दक्षिण अफ्रीका में विशेषज्ञों ने बच्चों में कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई है। देश में शुक्रवार रात तक संक्रमण के 16,055 नए मामले सामने आ चुके थे और 25 संक्रमितों की मौत हो चुकी थी। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कम्युनिकेबल डीसीज (एनआईसीडी) की डॉ वसीला जसत ने कहा, ”हमने देखा कि पहले बच्चे कोविड महामारी से इतने प्रभावित नहीं हुए, बच्चों को अस्पतालों में भर्ती करने की जरूरत भी ज्यादातर नहीं पड़ी। उन्होंने कहा, ”महामारी की तीसरी लहर में पांच साल से कम उम्र के अधिक बच्चे अस्पताल में भर्ती करवाए गए, 15 से 19 वर्ष की आयु के किशारों को भी अस्पतालों में भर्ती करवाना पड़ा।” जसत ने कहा, ”अब चौथी लहर की शुरुआत में सभी आयुवर्गों में मामले तेजी से बढ़े हैं लेकिन पांच साल से कम उम्र के बच्चों में विशेष तौर पर मामले बढ़े।

उन्होंने कहा, ”हालांकि, संक्रमण के मामले अब भी बच्चों में ही सबसे कम हैं। सर्वाधिक मामले 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों में हैं और उसके बाद सबसे अधिक मामले पांच साल से कम उम्र के बच्चों में हैं। पांच से कम उम्र के बच्चों को अस्पतालों में भर्ती करने के मामले बढ़े हैं जबकि पहले ऐसा नहीं था।” एनआईसीडी के डॉ माइकल ग्रूम ने कहा, ”मामले बढ़ने को लेकर तैयारी के महत्व पर विशेष जोर की जरूरत है जिसमें बच्चों के लिए बिस्तर और कर्मचारियों को बढ़ाया जाए।” स्वास्थ्य मंत्री जो फाहला ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के नौ प्रांतों में से सात में संक्रमण के मामले और संक्रमण की दर बढ़ रही है।

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,46,24,360 हुईं

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,46,24,360 हुईं
अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। देश में कोविड-19 के 8,603 नए मामले सामने आए हैं। जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,46,24,360 हो गई। वहीं उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 99,974 रह गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार शनिवार को 415 लोगों की कोरोना वायरस से मौत की पुष्टि हुई, जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 4,70,530 हो गई। पिछले 160 दिन से कोविड-19 के 50,000 से कम दैनिक मामले आ रहे हैं।
देश में अब 99,974 मरीजों का उपचार चल रहा है, यह कुल मामलों का 0.29 फीसदी है, जो कि मार्च, 2020 के बाद से सबसे कम है। देश में स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.35 फीसदी है। मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में दो मामलों की कमी हुई है। दैनिक संक्रमण दर 0.69 फीसदी है। पिछले 61 दिनों से यह दो फीसदी से कम है।
मंत्रालय ने बताया कि साप्ताहिक संक्रमण दर 0.81 फीसदी दर्ज की गई। पिछले 20 दिनों से यह एक फीसदी से कम है। देश में अब तक 3,40,53,856 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और मृत्यु दर 1.36 फीसदी है। वहीं, देशव्यापी टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद अब तक टीके की 126.53 करोड़ खुराक दी गई है।
देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।
दिल्ली: 11 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार सुबह न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक, 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। हवा में नमी का स्तर 97 प्रतिशत दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने दिन भर हल्की धुंध छाए रहने और अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहने का अनुमान व्यक्त किया है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के मुताबिक वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) “बेहद खराब” श्रेणी में 372 दर्ज किया गया। शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को “अच्छा”, 51 से 100 “संतोषजनक”, 101 से 200 “मध्यम”, 201 से 300 “खराब”, 301 से 400 “बहुत खराब” और 401 से 500 तक के एक्यूआई को “गंभीर” माना जाता है।

रिटायरमेंट प्लान के लिए विचार करना प्रारंभ किया

अकांशु उपाध्याय           नई दिल्ली। मृदुल गर्ग 25 साल का नौजवान है और उसने हाल ही में एक मल्टी नेशनल कंपनी ज्वाइन की है। उसका वेतन 35 हजार रुपये महीना है। मृदुल अपना पेशेवर जीवन शुरू करने के साथ ही रिटायरमेंट प्लान के लिए विचार करना शुरू कर दिया है। मृदुल की योजना है कि जब वह 45 साल का होगा, उसे घर लेने, बच्चों की अच्छी शिक्षा और अच्छे जीवन के लिए कम से कम 5 करोड़ रुपये की जरूरत होगी। मृदुल 20 साल की नौकरी में 5 करोड़ का फंड इकट्ठा करना चाहता है। हालांकि उसने पेशेवर दुनिया में हाल ही में कदम रखा है और निवेश के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, इसलिए वह रिस्क भी नहीं लेना चाहता। मृदुल सीधे शेयर बाजार में निवेश करने से बचना चाहता है। पर्सनल फाइनेंस प्लानर कहते हैं कि मृदुल अभी नौजवान है और 20 साल में 5 करोड़ का फंड इकट्ठा करना चाहता है, लेकिन शेयर मार्केट के रिस्क से भी वह बचना चाहता है, इसलिए उसे म्युचूअल फंड में निवेश करना चाहिए। इक्विटी म्यूचुअल फंड मृदुल गर्ग के लिए एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है। 20 साल के म्यूचुअल फंड निवेश में मृदुल लगभग 15 प्रतिशत के रिटर्न की उम्मीद कर सकता है।

मृदुल गर्ग को सालाना एसआईपी स्टेप-अप का इस्तेमाल करके अपने मासिक एसआईपी में इजाफा करते रहना होगा। मार्केट एक्सपर्ट कहते हैं कि मृदुल को फौरन एसआईपी शुरू कर देनी चाहिए और हर साल जैसे-जैसे उसके वेतन में इजाफा होगा। उसी अनुपात में उसे अपनी एसआईपी को भी बढ़ाना होगा। एसआईपी में सालाना इजाफे के साथ मृदुल 15 प्रतिशत सालाना रिटर्न हासिल कर सकता है। मृदुल को अपने निवेश पर चक्रवृद्धि ब्याज हासिल करने के लिए म्यूचुअल फंड पोर्टफोलियो में विस्तार करना होगा। मुदुल को अलर 20 सालों में लगभग 5 करोड़ रुपये का फंड इकट्ठा करना है तो उसे 15 X 15 X 15 का फार्मूला अपनाना होगा। म्यूचुअल फंड में 15 X 15 X 15 का फार्मूला बड़े फाइनेंशियल टारगेट को पूरा करने में मदद करता है।

मृदुल को 15 प्रतिशत रिटर्न के लिए 15 साल तक हर महीने 15,000 रुपये निवेश करने होंगे। इस तरह वह लगभग 5 करोड़ रुपये का फंड  इकट्ठा कर सकता है। अब 5 करोड़ रुपये का फंड कैसे इकट्ठा होगा और यह फार्मूला कैसे काम करता है, इसे ऐसे समझा जा सकता है। 15 प्रतिशत के सालान रिटर्न की उम्मीद करते हुए मृदुल को हर महीने 15 हजार रुपये निवेश करने होंगे। और उसे 20 साल तक यह पैसा निवेश करना होगा। इस तरह उसके पास करीब साढ़े 5 करोड़ रुपये का फंड इकट्ठा हो सकता है।


'ओमिक्रोन' की वजह से अटकलों पर विराम दिया

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम का दक्षिण अफ्रीका दौरा हागा लेकिन कार्यक्रम में कुछ बदलाव किये गए हैं जिसके तहत टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच अभी नहीं खेले जायेंगे। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कोरोना वायरस के नये वैरिएंट 'ओमिक्रोन' के आने के बाद इस दौरे को लेकर लग रही अटकलों पर विराम देते हुए शनिवार को यह घोषणा की।

भारतीय टीम अब तीन टेस्ट और तीन वनडे खेलेगी और पहला टेस्ट 17 दिसंबर से जोहानिसबर्ग में शुरू होगा। टीम को चार टी20 मैच भी खेलने थे जो अब बााद में खेले जायेंगे। शाह ने बीसीसीआई अधिकारियों की बोर्ड की सालाना आम सभा की बैठक के लिये हुई मुलाकात के बाद यह बयान दिया। शाह ने बयान में कहा ,” बीसीसीआई ने क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका को इसकी पुष्टि कर दी है कि भारतीय टीम तीन टेस्ट और तीन वनडे के लिये जायेगी। चार टी20 मैच बाद में खेले जायेंगे।” कोरोना वायरस का नया वैरिएंट ओमीक्रोन दक्षिण अफ्रीका से ही निकला है और देश में इसके मामले बढते जा रहे हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-47, (वर्ष-05)
2. रविवार, नवंबर 5, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-दूज, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:48, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान -14 डी.सै., अधिकतम-26+ डी.सै.।  
बर्फबारी व शीतलहर के साथ कहीं- कहीं तेज बारिश की संभावना।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवाशुं के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

यूके: कोरोना एक्टिव केसों की संख्या-30,927 हुईं

यूके: कोरोना एक्टिव केसों की संख्या-30,927 हुईं पंकज कपूर            देहरादून।  राज्य में पिछले 24 घंटों में कोरोना से 7 संक्रमितों की मौत ह...