रविवार, 22 दिसंबर 2019

त्रिमूर्ति में कप्तान बाबी मूरे जयोफ हस्त

लंदन। विश्व कप 1966 के फाइनल में पश्चिम जर्मनी के खिलाफ इंग्लैंड की तरफ से दूसरा गोल दागने वाले अपने जमाने के दिग्गज फुटबॉलर मार्टिन पीटर्स का लंबे समय तक अलजाइमर की बीमारी से जूझने के बाद शनिवार को निधन हो गया। वह 76 साल के थे। वेस्ट हैम ने पीटर्स के निधन की घोषणा की। वह इस क्लब के तीन दिग्गज खिलाडिय़ों में शामिल थे। 
उनके अलावा इस त्रिमूर्ति में कप्तान बाबी मूरे और ज्योफ हर्स्ट शामिल थे। हर्स्ट ने इंग्लैंड की एकमात्र विश्व कप खिताबी जीत में हैट्रिक बनायी थी। हर्स्ट ने पीटर्स को सर्वकालिक महान खिलाडिय़ों में से एक करार दिया। 
वेस्ट हैम क्लब ने अपने बयान में कहा, 'वेस्ट हैम यूनाईटेड की तरफ से हम मार्टिन पीटर्स के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हैं। वह हमारे क्लब 125 साल के इतिहास में महान खिलाडिय़ों में से एक थे।


जनता में दिखा अति उत्साहः मोदी

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार को भारतीय जानता पार्टी द्वारा रामलीला मैदान में विशाल धन्यवाद रैली का आयोजन किया गया। इस मौके दिल्ली के अनाधिकृत कॉलोनी के लोगों ने मंच पर जाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद ज्ञापित किया। लोगों ने कच्ची कॉलोनियों को पक्की करने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद पत्र दिया है। इस पत्र पर 11 लाख लोगों के दस्तखत हैं। इस मौके पर दिल्ली के बीजेपी अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने पीएम मोदी को आधुनिक लौहपुरुष बताया।
जानकारी के मुताबिक, अनाधिकृत कॉलोनियों में रहने वालों की तरफ से पीएम मोदी को सांकेतिक धन्यवाद दिया गया है। साथ ही पीएम को 11 लाख लोगों के हस्ताक्षर वाले पेपर्स भी दिए गए। पेपर्स लाल पोटली में बांधकर दिए गए हैं। वहीं, जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जीवन से जब अनिश्चितता निकल जाती है तो एक बड़ी चिंता हट जाती है। ऐसे में उसका प्रभाव क्या होता है, ये मैं आज आप सभी के चेहरों पर देख रहा हूं। मोदी ने कहा कि आपके उत्साह में देख रहा हूं।
उन्होंने कहा कि चुनाव आते थे तो तारीखें आगे बढ़ाई जाती थीं, बुलडोजर का पहिया कुछ समय के लिए रुक जाता था, लेकिन समस्या वहीं की वहीं रहती थी। आपको इस चिंता से मुक्त करने और इस समस्या के स्थायी समाधान के लिए इन लोगों ने ईमानदारी कभी नहीं दिखाई।


लचर प्रशासन से नीम हकीमो की बाढ़

सीएमओ कार्यालय की लचर व्यवस्था, नीम हकीमो की बाढ़-


गरीब मरीजों की जेब में डाका डाल , भर रहे तिजोरी ना बोर्ड ना डिग्री अंदर कमरे में संचालित हो रही नर्सिंग होम-- मामला मूरतगंज व चरवा इलाके का--


कौशाम्बी। सीएमओ कार्यालय की लचर व्यवस्था का ही परिणाम है जो गरीब मरीज की जेब में नीम हकीम डाका डालने से बाज नहीं आ रहे हैं। जिले के ज्यादातर कस्बों में नीम हकीमो की बाढ़ सी आ गई है। दबी जुबान से यह नीम हकीम यह भी कहने से बाज नहीं आते की उनके सिर पर विभाग के आला अधिकारी के कार्यालय के जिम्मेदारों का हाथ है। और उन्हीं के संरक्षण पर उनकी नर्सिंग होम संचालित हो रही है। 
 जिक्र करें तो मूरतगंजके भारतीय स्टेट बैंक के सामने व जीवनगंज 10 नम्बर गेट के पास  ऐसी अस्पताल संचालित हो रही हैं जिनके पास ना तो डिग्री है ना तो बोर्ड है अंदर कुछ कमरे हैं जहां पर सिर्फ बेड है डॉक्टर साहब सिर्फ मरीजों से  धन उगाही करते हैं । जुखाम बुखार से लेकर बड़े से बड़े ऑपरेशन करने का दावा ठोंकते हैं मरीज ठीक हुआ तो बल्ले-बल्ले नहीं ठीक हुआ तो अपने सेटिंग की बड़ी नर्सिंग होम का पता बताकर वहां भी अपने कमीशन लेने से बाज नहीं आते हैं यह खेल जिले में बहुत तेजी से चल रहा है और जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी साहब का ध्यान इस ओर क्यों नहीं जा रहा है यह बात बुद्धिजीवियों के गले से नहीं उतर रही है ।
सूत्रों की बातों पर यदि यकीन करें तो कहा जा रहा है कि सीएमओ कार्यालय के कुछ
जिम्मेदारों से इनकी अपनी सेटिंग होती है जिसके चलते इनके खिलाफ कार्यवाही नहीं होती है हालांकि इलाके के लोगों ने इस ओर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा व मुख्य चिकित्सा अधिकारी पीएन चतुर्वेदी का ध्यान आकृष्ट कराते हुए ऐसे अस्पताल संचालकों के खिलाफ जांच करा कर कार्यवाही कराए जाने की मांग की है ताकि गरीब मरीज के जेब में डाका ना पड़ सका।


आशीीस पान्डेय


अवैध कंटेनर में मिली 28 गोवंश

कौशाम्बी। कोखराज थाना क्षेत्र के सिहोरी टोल प्लाजा के पास कोखराज पुलिस रात चेकिग कर रही थी। इसी दौरान एक कांटेनर में 28 बैल लदे हुए जा रहे थे, जिसे पुलिस ने पकड़ कर अपने कब्जे में ले लिया और थाने ले आई।


जानकारी के मुताबिक पशु तस्कर ताहिर पुत्र खालिद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, पकडा गया आरोपी पुरामुफ्ती थाना क्षेत्र के हटवा असरौली गांव का निवासी बताया गया है, एसओ कोखराज ने बताया कि, चालक मौके से फरार हो गया, जिसकी पहचान रहमान उर्फ शानू पुत्र शागिर के रुप में की गयी। वह भी हटवा असरौली का ही बताया जा रहा है।जिसकी तलाश फिलहाल की जा रही है।


देश के लोगों को बांट रहे हैं गृहमंत्री

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ प्रदर्शनों का उदाहरण देते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह देश के लोगों को बांट रहे हैं तथा अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए नफरत के पीछे छिप रहे हैं।


उन्होंने ट्वीट कर कहा, भारत के प्रिय युवाओं , मोदी और शाह ने आपके भविष्य को बर्बाद कर दिया है। वो नौकरियों की कमी और अर्थव्यवस्था की स्थिति को लेकर आपके गुस्से का सामना नहीं कर सकते। यही वजह है कि हमारे प्यारे भारत को बांट रहे हैं और नफरत के पीछे छिप रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा, हम हर भारतीय के प्रति स्नेह दिखाकर इनको पराजित कर सकते हैं।


बकावे में आकर सीएम हंसी का पात्र ना बने

हमीरपुर। सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल को सलाह देते हुए कहा कि चापलूसों के बहकावे में आकर हंसी का पात्र न बनें और जनता को गुमराह न करें। सुजानपुर के सपहाल गांव का बच्चा-बच्चा जानता है कि इस गांव की 2670 कनाल 10 मरले भूमि जो हिमाचल स्टेट विलेज कॉमन लैंड वेस्टिंग एंड यूटिलाइजेशन एक्ट के तहत प्रदेश सरकार के खाते में निहत हो गई थी, वह किसके प्रयासों व किसकी सत्ता में गांव वालों को वापस हुई है। राणा ने कहा कि उनके लगातार प्रयासों व वीरभद्र सरकार के समय में भूमि गांव वालों को वापस हुई थी। फैसला तीन साल पहले सपहाल गांव में जाकर खुद उनकी मौजूदगी में एसडीएम ने गांववासियों को सुनाया था, जिसमें 329 स्थानीय बाशिंदों को मालिकाना हक का ऐलान सरकार की ओर से किया गया था।


उसके बाद यह मामला आगामी औपचरिकता के लिए डीसी हमीरपुर को एसडीएम ने भेज दिया था। डीसी ऑफिस से यह मामला नियमानुसार विधि विभाग के पास ओपिनियन के लिए भेजा गया था। मामला 2670 कनाल 10 मरले भूमि के 329 लोगों के मालिकाना हक को दुरुस्त करने का था, जिसमें विधि विभाग के फाइनल ओपिनियन व एक-एक आदमी के हक हकूक की पड़ताल करने में समय लगना स्वभाविक था।


हिंसक विरोध प्रदर्शन में 18 लोगों की मौत

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन एक्ट ( CAA) को लेकर उठा बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में प्रदर्शन के दौरान जमकर हिंसा भी हुई है। यूपी ( UP में हिंसा के दौरान अब तक 18 लोगों की मौत ( Death)हो चुकी है। इसके अलावा सार्वजनिक संपत्ति को भी प्रदर्शकारियों ने खासा नुकसान पहुंचाया है। यूपी पुलिस ने हिंसा फैलाने के आरोप में 705 लोगों को गिरफ्तार ( Arrest)किया गया और शनिवार रात तक 5400 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है। दूसरी तरफ 263 पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। इसमें 57 पुलिसकर्मी प्रदर्शन के दौरान गोली लगने से घायल हुए हैं।


राज्य में पिछले तीन दिनों से लगातार हिंसक विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। प्रदेश सरकार और पुलिस की ओर से शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की अपील के बावजूद प्रदर्शनकारियों ने हिंसा और आगजनी की। CAA के खिलाफ जारी विरोध-प्रदर्शनों के बीच पुलिस ने सोशल नेटवर्किंग साइटों पर आपत्तिजनक पोस्‍ट करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है।


अनियंत्रित कार खाई में गिरी, 5 की मौत

सोलन। हिमाचल प्रदेश के जिला सोलन के कंडाघाट मे ड़ेडघाराट के समीप एक हरियाणा नंबर की कार अनियंत्रित होकर करीब 300 फीट गहरी खाई में जा गिरी, जिससे पांच लोगों की मौत हो गई है। प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक हादसा इतना भयंकर था कि कार के परखच्चे उड़ गए।  हादसा रात के वक्त हुआ, लेकिन इसकी भनक किसी को नहीं लगी। रविवार सुबह जब एक स्थानीय व्यक्ति घास काटने के लिए गया था तो उसने ही सबसे पहले हादसे की शिकार कार को देखा, इसके बाद पुलिस को सुबह 9:45 बजे के आसपास इसकी सूचना मिली। मरने वालों की पहचान विपुल (24) पुत्र मनोज शर्मा गांव गरी कोटाह पंचकूला हरियाणा (चालक), हुसैन पाल 39 पुत्र पिरदिया सिंह मीरपुर ब्लॉक रायपुर रानी पंचकूला हरियाणा, राहुल खान (22) पुत्र बाबू राम निवासी गरी कोटाह रायपुर रानी पंचकूला हरियाणा, सचिन (23) पुत्र राजेश कुमार निवासी गरी कोटाह रायपुर रानी पंचकूला हरियाणा व महावीर (26) पुत्र सुमेर चंद निवासी रायपुर रानी पंचकूला हरियाणा के रूप में हुई है।


सूचना मिलते ही पुलिस व बचाव दल टीम घटनास्थल पर पहुंची, लेकिन भयंकर हादसे में कार में सवार पांचों ही लोग दम तोड़ चुके थे। हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस( Police)ने शवों को कब्जे में लेकर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि पांचों हरियाणा के रायपुर रानी के रहने वाले थे। कार पंचकूला में रजिस्टर्ड(HR 03T-534) थी, यह सभी लोग शनिवार को शिमला के लिए घर से निकले थे। मामले की पुष्टि एएसपी  डॉ. शिव कुमार शर्मा ने की है, उन्होंने बताया कि जैसे ही पुलिस को हादसे की सूचना मिली पुलिस तुरन्त मौके पर पहुंच गई। डीएसपी मुख्यालय योगेश दत्त जोशी ने बताया कि पांचों शवों का पोस्टमार्टम क्षेत्रीय अस्पताल में करवा दिया गया है। शव अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिए गए हैं।


साध्वी प्रज्ञा ने क्रू मेंबर पर लगाया आरोप

भोपाल। बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने स्पाइस फ्लाइट पर उनकी तरफ से की गई बुकिंग सीट न देने का आरोप लगाते हुए, भोपाल एयरपोर्ट डायरेक्टर से शिकायत दर्ज कराई है। प्रज्ञा ने अपनी शिकायत में स्पाइस के क्रू मेंबर पर ठीक से व्यवहार न करने का भी आरोप लगाया। समाचार एजेंसी एएनआई ने प्रज्ञा ठाकुर के हवाले से बताया कि उन्होंने कहा- “मैंने अथॉरिटीज को यह सूचित किया है स्पाइक के क्रू ने मेरे साथ बदसलूकी की है। यह मेरे साथ पहले भी हो चुकी है और फिर अभी हुआ। मुझे मेरी तरफ से बुक की गई सीट भी नहीं दी गई।”


विविधता में एकता,भारत की विशेषता

पीएम मोदी ने रामलीला मैदान में लगवाया नया नारा – विविधता में एकता, भारत की विशेषता
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामलीला मैदान में बीजेपी कार्यकर्ताओं से एक नया नारा लगवाया। उन्होंने नारा दिया- विविधता में एकता, भारत की विशेषता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 40 लाख लोगों के जीवन में नया सवेरा आया है। उन्होंने कहा कि चिंता हटने की गर्मजोशी का अनुभव मैं कर पा रहा हूं, पीएम ने कहा कि ये नया अवसर बीजेपी को मिला है। पीएम ने कहा कि आज दिल्ली के लोगों को संपूर्ण अधिकार मिला है। उन्होंने कहा कि आजादी के इतने दशकों के बाद इतनी बड़ी आबादी को अनिश्चितता, डर, छल कपट और झूठे चुनावी वादों से गुजरना पड़ा है।


PM मोदी ने कहा कि समस्याओं को लटकाकर रखना हमारा संस्कार नहीं है। उन्होंने कहा कि कुछ बेशर्म लोग धीमी गति से काम करते हुए लटकाकर रखते थे। पीएम मोदी ने कहा कि पिछली सरकार ने दिल्ली वालों की समस्या को कभी ईमानदारी से हल करने के लिए इच्छा नहीं दिखाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पिछली सरकार में अमीरों को छूट दी गई और गरीबों का हक मारा गया। PM मोदी ने कहा कि पिछली सरकारों ने दिल्ली के पॉश इलाकों में 2000 बंगले वीआईपी लोगों को दिए। पीएम ने कहा, ” आप सोचिए जिन लोगों पर आप लोगों ने अपने घरों को नियमित कराने के लिए भरोसा किया था, वो खुद क्या कर रहे थे? इन लोगों ने दिल्ली के सबसे आलीशान और सबसे महंगे इलाकों में 2 हजार से ज्यादा बंगले, अवैध तरीके से अपने करीबियों को दे रखे थे। हमने इसे खाली कराया, उन्हें उनके वीआईपी मुबारक हो, मेरे वीआईपी आप हो।


पीएम ने कहा कि दिल्ली में लोगों को उकसाने वाली बातें कही गई और इसके लिए सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल किया गया। सोशल मीडिया पर आग लगाने की कोशिश की गई। पीएम ने कहा कि भ्रम फैलाने वाले लोग CAA पर झूठ फैला रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा, “ये लोग किस तरह अपने स्वार्थ के लिए, अपनी राजनीति के लिए किस हद तक जा रहे हैं, ये आपने पिछले हफ्ते भी देखा है। जो बयान दिए गए, झूठे वीडियो, उकसाने वाली बातें कहीं, उच्च स्तर पर बैठे लोगों ने सोशल मीडिया में डालकर भ्रम और आग फैलाने का गुनाह किया है।” PM मोदी ने कहा कि मैं उनसे जानना चाहता हूं, क्या जब हमने दिल्ली की सैकड़ों कॉलोनियों को वैध करने का काम किया, तो किसी से पूछा क्या कि आपका धर्म है, आपकी आस्था किस तरफ है, आप किस पार्टी के समर्थक हैं? पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग झूठ बोल कर मुस्लिमों में भ्रम फैला रहे हैं।


PM मोदी ने कहा कि पिछले पांच साल में हमारी सरकार ने डेढ़ करोड़ से ज्यादा गरीबों को घर बनाकर दिए हैं, हमने किसी से नहीं पूछा कि आपका क्या धर्म है? फिर क्यों कुछ लोग झूठ पर झूठ बोले जा रहे हैं, देश को गुमराह कर रहे हैं? आयुष्मान योजना में 70 लाख लोगों का इलाज किया गया, क्या किसी का धर्म पूछा गया। विपक्ष पर गरजते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है, डर और अराजकता के माहौल में धकेलने की कोशिश की जा रही है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विपक्ष इस बात को सहन नहीं कर पा रहा है कि नरेंद्र मोदी दोबारा जीत कर कैसे आ गया है. विपक्ष इस बात को सहन नहीं कर पा रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि स्कूल बसों पर हमले हुए, ट्रेनों पर हमले हुए, मोटर साइकिलों, गाड़ियों, साइकिलों, छोटी-छोटी दुकानों को जलाया गया है, भारत के ईमानदार टैक्सपेयर के पैसे से बनी सरकारी संपत्ति को खाक कर दिया गया है। इसके बाद इनके इरादे कैसे हैं, ये देश अब जान चुका है।


महज 7 महीने का बच्चा बना 'मेयर'

7 महीने का ये बच्चा इस शहर का बना मेयर


वाइटहॉल। महज सात महीने का बच्चा, जिसे न तो अभी बोलना आता है और न ही चलना, वो शहर का मेयर बन जाए, यह सुनने में थोड़ा अटपटा जरूर लगता है। लेकिन यह बात शत-प्रतिशत सच है। अमेरिकी शहर व्हाइटहॉल में ऐसा हुआ है। सात महीने के विलियम चार्ल्स 'चार्ली' मैकमिलन को इस शहर का मेयर बनाया गया है। इसी के साथ यह बच्चा अमेरिका का सबसे कम उम्र का मेयर बन गया है। पिछले हफ्ते व्हाइटहॉल कम्युनिटी सेंटर में विलियम ने मेयर पद की शपथ ली। उनके शपथ ग्रहण समारोह में करीब 150 लोग शामिल हुए थे। हालांकि मेयर पद के लिए जो शपथ दिलाई जाती है, उसके शब्द चार्ली की जगह उनके माता-पिता ने दोहराए। शपथ के शब्द थे, 'मैं विलियम चार्ली मैकमिलन वादा करता हूं कि व्हाइटहॉल के मेयर के पद पर ईमानदारी और अपनी क्षमता के अनुसार सर्वश्रेष्ठ काम करूंगा। मैं लोगों से यही कहना चाहता हूं कि खेल के मैदान में वह प्यार से पेश आएं, बेहतर जिंदगी जिएं, साफ-सफाई का हमेशा ध्यान रखें, स्वयंसेवी अग्निशमन विभाग में कुकीज ले जाएं, सबसे बड़ी कैटफिश पकड़ें और व्हाइटहॉल के समुदाय की रक्षा करें।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हर साल व्हाइटहॉल वोलंटियर फायर डिपार्टमेंट के एनुअल बीबीक्यू फंडरेजर प्रोग्राम के दौरान मेयर के पद के लिए बोली लगाई जाती है। हालांकि, मेयर का काम तो असली मेयर ही करता है। इस बार चार्ली के नाम पर सबसे ज्यादा बोली लगाई गई जिसके बाद उसे देश का सबसे कम उम्र का मेयर चुना गया।


हर साल वाइटहॉल वॉलंटियर फायर डिपार्टमेंट बीबीक्यू फंडरेजर में मेयर का पद नीलाम किया जाता है। इस वर्ष चार्ली के नाम की सबसे ऊंची बोली और इस तरह वो अमेरिका में सबसे कम उम्र के मेयर चुने गए।शपथ ग्रहण वाले समारोह में शामिल हुए जोश फल्ट्ज ने बताया कि 'हर कोई चार्ली को पकड़ना चाहता था और उसके साथ घूमना चाहता था और उसे प्यार करना चाहता था। हम अपने देश के इतिहास में एक मुश्किल समय में हैं और मेयर चार्ली हमारे समुदाय में शांति और दया लाने में मदद कर रहे हैं। यह वास्तव में संपूर्ण लक्ष्य है।'


सरकार हर मुद्दे पर विफल साबितःअखिलेश

लखनऊ। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश में हो रही हिंसा को लेकर भाजपा सरकार पर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि भाजपा अर्थव्यवस्था, रोजगार और किसानों के मुद्दे पर पूरी तरह फेल हुई है। इसलिए जनता का ध्यान भटकाने के लिए दंगे फैलाए जा रहे हैं। दंगों से भाजपा को फायदा होता है। आज यही लोग सत्ता में हैं इसलिए दंगे भड़काए जा रहे हैं। अखिलेश यादव रविवार को प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून देश के संविधान का उल्लंघन है। इसलिए सपा इसका विरोध कर रही है। हमने शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन किया। हिंसा भाजपा के इशारे पर की जा रही है। अखिलेश ने एनआरसी का विरोध करते हुए कहा कि गांवों में लोगों के पास दस्तावेज नहीं है। एनआरसी के लिए पूरा देश एक बार फिर लाइन मे लग जाएगा। नोटबंदी लागू होने से जनता को बहुत मुश्किल हुई थी। एक बार फिर से वही माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है। नोटबंदी लागू करते वक्त कहा गया था कि कालाधन खत्म हो जाएगा। आतंकवाद, नक्सलवाद खत्म हो जाएगा लेकिन कुछ नहीं हुआ। जनता परेशान हुई।


सरकार के साथ टी-20 खेलने के मूड में विधायक


अखिलेश ने कहा कि भाजपा के 300 से ज्यादा विधायक सरकार के खिलाफ हैं। ये सभी नया साल आने पर सरकार के साथ टी-20 खेलने जा रहे हैं। सरकार अपनी असफलता से जनता का ध्यान बंटाना चाहती है। इसलिए जानबूझकर हिंसा फैलाई जा रही है। वहीं, आगामी 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री उसी लोकभवन में अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा का अनावरण करने जा रहे हैं जिसे समाजवादियों ने बनवाया। उन्हें अटल के गांव में एक विश्वविद्यालय बनवाना चाहिए लेकिन उन्हें तो काम ही करना नहीं आता। अखिलेश ने कहा कि विपक्ष के लिए तो धारा 144 लगाई जा रही है लेकिन भाजपा के लोगों के लिए कोई कानून नहीं है। धारा लागू होने के बावजूद प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का लखनऊ में आयोजन किया जा रहा है।


संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त नौका पकड़ी

नई दिल्ली। भारतीय तटरक्षक बल ने अंडमान द्वीप के पास संदिग्ध गतिविधि कर रही म्यांमार की एक नौका को पकड़ा है। इस नौका पर सवार छह लोगों को हिरासत में लिया गया है। खुफिया एजेंसियां पकड़े गए लोगों से पूछताछ कर रही हैं। जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को तटरक्षक बल ने लिटिल अंडमान द्वीप के पास एक बोट को संदिग्ध गतिविधि करते हुए देखा। जिसके बाद से हरकत में आई तटरक्षक बल की आईसीजी अरुणा आसफ अली पोत ने इस नौका को पकड़ लिया। इसमें सवार छह लोगों को भी पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया। रविवार को संदिग्ध नौका को इसमें सवार लोगों के साथ पोर्ट ब्लेयर लाया गया है। जहां इनसे आगे की पूछताछ की जाएगी।


अंडमान-निकोबार के पास विदेशी पोतों के आवागमन से नौसेना अलर्ट


भारतीय नौसेना सामरिक रूप से महत्वपूर्ण अंडमान-निकोबार द्वीप के पास विदेशी नौकाओं की संदिग्ध गतिविधियों के बढ़ने से अलर्ट हो गई है। नौसेना की कई पेट्रोलिंग बोट ने इलाके में गश्त तेज कर दी है। बता दें कि कुछ दिनों पहले ही नौसेना ने चीन के एक अनुसंधान पोत शी यान 1 को संदिग्ध गतिविधियां करते हुए देखने के बाद खदेड़ दिया था। बता दें कि भारतीय नौसेना मलेशिया के पास स्थित मलक्का जलडमरूमध्य से हिंद महासागर क्षेत्र में प्रवेश करने वाले सभी चीनी जहाजों पर निरंतर निगरानी रखती है। कुछ दिनों पहले ही नौसेना के खोजी विमान पी8आई ने चीनी नौसेना के सात युद्धपोतों का पता लगाया था जो हिंद महासागर क्षेत्र में सक्रिय थे। हिंद महासागर क्षेत्र में युद्धपोतों और परमाणु शक्ति युक्त पनडु्ब्बियों के गश्त को लेकर चीन बार-बार यह दलील देता है कि ये समुद्री लुटेरों के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कार्रवाई बल का हिस्सा हैं। कभी-कभी ये जहाज भारतीय जलक्षेत्र में भी प्रवेश कर जाते हैं। लेकिन जानकारों के अनुसार, समुद्री लुटेरों के खिलाफ कभी भी पनडुब्बियां कार्रवाई नहीं करती हैं। जो चीन की चालाकियों को दर्शाता है।


18 भारतीयों को समुद्री लुटेरे से छुड़ाया

रायपुर। प्रदेश की राजधानी रायपुर के तिवारी दंपति एवं सभी 18 भारतीयों को नाइजीरिया समुद्री लुटेरों के चंगुल से छुड़ा लिया गया है। समुद्री जहाज के चीफ मैकनिकल इंजीनियर विजय तिवारी उनकी पत्नी समेत सभी 18 भारतीय नागरिक अभी नाइजीरिया पुलिस की सुरक्षा में है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, विजय तिवारी के भाई पवन तिवारी ने उनसे फोन पर बात की है। पवन तिवारी ने बताया कि उनके भाई विजय तिवारी एवं भाभी समेत सभी18 भारतीयों को नाइजीरिया के लुटेरों से नाईजीरिया पुलिस ने छुड़ा लिया है। सभी भारतीय वर्तमान में नाईजीरिया पुलिस की कस्टडी में है। सभी का मेडिकल चेकअप जारी है। 2 से 3 दिन में सभी भारतीय मुंबई लाए जाएंगे।


ज्ञातव्य हो कि 3 दिसंबर को रात्रि 1 बजे समुद्री लुटेरों ने नाइजीरिया में शिप एमटी नेव कॉन्सटलेशन के 19 क्रू मेंबर्स को अगवा कर लिया था। अगवा भारतीयों में रायपुर के तिवारी दंपत्ति भी शामिल थे। मर्चेट नेवी इंजीनियर विजय तिवारी अपनी पत्नी अंजू तिवारी के साथ जहाज में सवार थे। रायपुर सांसद सुनील सोनी ने लोकसभा में समुद्री लुटेरों के चंगुल में फंसे तिवारी दंपत्ति का मामला उठाया था। उन्होंने सरकार से रायपुर दंपत्ति की जल्द रिहाई को लेकर मदद करने का अनुरोध किया था। इसके साथ ही विदेश मंत्री सुब्रह्मण्यम जय शंकर को भी पत्र लिखा था।


विरोध के बीच पीएम की 'धन्यवाद रैली'

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए आज रामलीला मैदान में एक रैली कर बीजेपी के प्रचार का शुभारंभ करेंगे। इस रैली में अनधिकृत कॉलोनियों के निवासी शामिल होंगे। देश भर में नागरिकता कानून के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच प्रधानमंत्री मोदी की इस बड़ी रैली पर सबकी नजरें टिकी हैं। लोग जानना चाहते हैं कि पीएम राजधानी दिल्ली से इस मुद्दे पर क्या संदेश देंगे। गौरतलब है कि इस महीने की शुरुआत में संसद ने दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों के निवासी को मालिकाना हक देने के लिए एक विधेयक पारित किया था। दिल्ली में दो दशक से अधिक समय बाद सत्ता में वापसी की बाट जोह रही बीजेपी अनधिकृत कॉलोनियों में आम आदमी पार्टी को आगामी विधानसभा चुनाव में चुनौती देने की तैयारी कर रही है। सभी 1,731 अनधिकृत कॉलोनियों के लोग धन्यवाद रैली में शामिल होंगे।


गौरतलब है कि अगले साल फरवरी महीने में दिल्ली विधानसभा के चुनाव होने हैं। चुनावों में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए जहां आप के अरविंद केजरीवाल ने मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी जैसी योजनाओं की झड़ी लगा दी है. वहीं केंद्र सरकार ने भी दिल्ली में अनाधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने का फैसला कैबिनेट के जरिए किया था। अनाधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने का फैसला लागू करने के लिए मोदी सरकार ने संसद से कानून भी पास कर दिया है। जाहिर तौर पर दिल्ली में मुख्य मुकाबला आप, बीजेपी और कांग्रेस के बीच होगा ऐसे में सभी पार्टियां घोषणाओं और वादों के जरिए मतदाताओं को लुभाने में जुट गई है। साल 2015 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 70 सदस्यीय विधानसभा में महत तीन सीटों पर जीत मिल पाई थी।



दिल्ली के रामलीला मैदान में रैली के कारण आज यातायात प्रभावित रहेगा


रामलीला मैदान में आयोजित होने वाली रैली के कारण आज मध्य दिल्ली में यातायात प्रभावित रहेगी। एक एडवाइजरी में दिल्ली पुलिस ने कहा है कि कारों की पार्किंग सिविक सेंटर के अंदर और इसके पीछे होगी। इसमें कहा गया है कि माता सुंदरी रोड, पावर हाउस रोड, राजघाट पार्किंग, शांति वन पार्किंग, राजघाट एवं समता स्थल के पास बसों की पार्किंग होगी। एडवाइजरी मे कहा गया है कि आउटसाइड ब्रॉडकास्टिंग (ओबी) वैन की पार्किंग जवाहरलाल नेहरू मार्ग पर रामलीला मैदान के गेट नंबर दो से आगे होगी। इसमें कहा गया है कि विभिन्न स्थानों से व्यवसायिक वाहनों का प्रवेश निषेध रहेगा।


13.77 लाख आंगनवाड़ी केंद्र होंगे हाईटेक

नई दिल्ली। सरकार ने देशभर में 13.77 लाख आंगनबाड़ियों को हाईटेक बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। पहले चरण में पायलट प्रोजेक्ट के तहत 50 हजार आंगनबाड़ियों को कंप्यूटर व अन्य आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा। महिला एवं बाल विकास मंत्रालय आंगनबाड़ियों की निगरानी के लिए एक तंत्र विकसित करने पर भी काम कर रहा है। सूत्रों ने बताया कि मंत्रालय का लक्ष्य तहत 6 साल तक 16.54 करोड़ बच्चों, किशोरियों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अच्छी शिक्षा, पोषणायुक्त भोजन और स्वस्थ वातावरण मुहैया कराना है। हाल ही में महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने संसद में बताया था कि देश में 1,59,568 आंगनबाड़ियों में पीने तक का पानी उपलब्ध नहीं है। वहीं 3,63,940 में शौचालय नहीं हैं, जबकि सरकार के पोषण अभियान का दारोमदार इन्हीं केंद्रों पर निर्भर है। अब सरकार ने अगले चार साल में आंगनबाड़ियों के कायाकल्प की योजना पर फरवरी से काम शुरू करने का तैयारी पूरी कर ली है।


राजनीतिक दलों ने भ्रमित कियाःऔवैसी

हैदराबाद। ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर भ्रम पैदा किया है। उन्होंने इसे 'काला कानून' और 'असंवैधानिक' भी बताया। साथ ही कहा कि इसके जरिए केंद्र सरकार धर्म के नाम पर भेदभाव कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार को कड़ा संदेश देने के लिए नागरिकता कानून और एनआरसी का विरोध करने वाले अपने घरों पर तिरंगा फहराएं।
 
शनिवार को देर रात हैदराबाद में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए ओवैसी ने यह बातें कहीं। इस दौरान उनसे पूछा गया था कि क्या सीएए को लेकर 'अफवाहों' को दूर करने की जरूरत है क्योंकि सरकार द्वारा इस बात का स्पष्ट भरोसा देने के बावजूद कि भारतीय मुसलमानों को कुछ नहीं होगा, कई मुसलमानों का दावा है कि उन्हें बाहर कर दिया जाएगा। सबसे खास बात यह रही कि रैली के दौरान संविधान की प्रस्तावना भी पढ़ी गई। ओवैसी ने कहा कि सरकार क्यों नहीं कहती है... असम में, जहां एनआरसी लागू किया गया, आप करीब 5.40 लाख बंगाली हिंदुओं को सीएए के जरिए नागरिकता दे रहे हैं। आप असम में पांच लाख मुसलमानों को नहीं देंगे।


उन्होंने यह भी कहा कि यह अफवाह है या सच? यह बात सरकार को बतानी चाहिए। उन्होंने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि आप भेदभाव कर रहे हैं। आप धर्म के आधार पर कानून बना रहे हैं और फिर शिकायत भी कर रहे हैं। सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा के बारे में पूछने पर ओवैसी ने कहा कि मैं इस तरह की हिंसा की निंदा करता हूं, चाहे फिर वह हिंसा लखनऊ, अहमदाबाद, बेंगलुरु या कहीं और ही क्यों न हुई हो। इसके साथ ही एआईएमआईएम नेता ने लोगों से अपील भी की कि विरोध के लिए अपने संवैधानिक अधिकार का इस्तेमाल जरूर करें, लेकिन हिंसा की सभी को निंदा करनी चाहिए।
 
ओवैसी ने पूछा मैं कैसे देशद्रोही हूं?


ओवैसी ने कहा कि यह लड़ाई सिर्फ मुसलमानों की नहीं है, बल्कि दलितों, एससी और एसटी समुदायों की भी है। उन्होंने सवाल किया कि मैं कैसे देशद्रोही हूं? मैं अपने जन्म और मर्जी से भारतीय हूं। उन्होंने लोगों से 'संविधान बचाओ दिवस' आयोजित करने के लिए भी कहा। बता दें कि नागरिकता (संशोधन) अधिनियम 2019 में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक उत्पीड़न किए जाने के चलते भागकर भारत आने वाले हिंदुओं, सिखों, जैनियों, पारसियों, बौद्धों और ईसाइयों को नागरिकता देने के लिए प्रावधान किया गया है, खास तौर पर ऐसे लोग जो 31 दिसंबर, 2014 को या उससे पहले भारत आए थे।


रैली में नजर आई वायरल वीडिया वाली जामिया की छात्राएं


रैली में जुटे लोगों में जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय की छात्रा लदीदा सखलून और आयशा रेना भी नजर आईं। यह दोनों छात्राएं केरल की रहने वाली हैं। बीते दिनों दिल्ली में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें यह दोनों एक युवक काे पुलिस की पिटाई से बचाने की कोशिश करतीं नजर आई थीं।


पाक पीएम ने सीएए पर उंगली उठाई

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर भारत के अंदरूनी मसले को मुद्दा बनाते हुए दुष्प्रचार किया है। उन्होंने शनिवार को एक के बाद एक कई ट्वीट कर आशंका जताई कि भारत घरेलू परिस्थितियों से ध्यान भटकाने के लिए उसके खिलाफ छद्म कार्रवाई कर सकता है। इसके साथ ही वह गीदड़भभकी देने से नहीं चूके कि पाकिस्तान ऐसी किसी भी कार्रवाई का मुहंतोड़ जवाब देगा। खान ने कहा कि मोदी सरकार में भारत फासीवादी विचारधारा के साथ हिंदू राष्ट्र की ओर से बढ़ रहा है।


CAA पर उठाई अंगुली
उन्होंने भारत में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में कहा, 'वे सभी भारतीय जो बहुलवादी भारत चाहते हैं, वे संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं और यह अब जनआंदोलन बनता जा रहा है।' खान ने कहा कि भारत में जिस तरह से विरोध-प्रदर्शन बढ़ रहा है, उससे पाकिस्तान पर खतरा भी बढ़ रहा है और भारतीय सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत की नियंत्रण रेखा पर हालात को लेकर की गई टिप्पणी से छद्म कार्रवाई को लेकर पाकिस्तान की चिंता भी बढ़ गई है।


फिर दी गीदड़भभकी
गौरतलब है कि जनरल रावत ने बुधवार को कहा था कि जम्मू-कश्मीर से लगते नियंत्रण रेखा पर कभी भी तनाव बढ़ सकता है और सेना इसके लिए तैयार है। उनकी टिप्पणी अगस्त में अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को निष्क्रिय करने के बाद पाकिस्तान द्वारा नियंत्रण रेखा पर लगातार किए जा रहे संघर्ष विराम उल्लंघन की घटनाओं की पृष्ठभूमि में आई है। खान ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को चेतावनी दी कि अगर नई दिल्ली उसके खिलाफ काई कार्रवाई करता है, तो पाकिस्तान के पास भारत को जवाब देने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


दिसंबर 23, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-139 (साल-01)
2. सोमवार, दिसंबर 23, 2019
3. शक-1941, मार्गशीर्ष- कृष्ण पक्ष, तिथि- एकादशी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:13,सूर्यास्त 05:35
5. न्‍यूनतम तापमान -6 डी.सै.,अधिकतम-16+ डी.सै., शीत लहर के साथ बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...