शनिवार, 19 सितंबर 2020

अमेरिका ने लगाएंं दो एप्स पर प्रतिबंध

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। चीन ने शनिवार को आरोप लगाया है कि अमेरिका उसे परेशान कर रहा है। दरअसल भारत द्वारा कई चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाए जाने के कुछ हफ्तों बाद अमेरिका ने शुक्रवार को आदेश जारी किए कि राष्ट्रीय सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए वह लोकप्रिय चीनी सोशल मीडिया ऐप टिकटॉक और वीचैट पर रविवार से प्रतिबंध लगा रहा है। चीन ने कहा कि वह इसके बदले में अप्रत्याशित फैसले ले सकता है। चीनी वाणिज्य मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि चीन ने अमेरिका से डराना-धमकाना छोड़ने, गलत कार्यों को रोकने और ईमानदारी से निष्पक्ष और पारदर्शी अंतरराष्ट्रीय नियमों और व्यवस्था को बनाए रखने का अनुरोध किया है।               


भारतीय सेना ने कैलाश पर्वत पर किया कब्जा

बीजिंग/ नई दिल्ली। लद्दाख़ में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर भारत और चीन के बीच तनाव लगातार जारी है। इसी क्रम में रोज़ाना लद्दाख़ की अलग-अलग जगहों को लेकर ख़बरें सामने आती हैं।सोशल मीडिया पर बीते एक सप्ताह से यह दावा किया जा रहा है कि भारतीय सेना ने कैलाश पर्वत और मानसरोवर पर क़ब्ज़ा कर लिया है।


इस बात को रोज़ाना सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा है।इस ख़बर के साथ एक तस्वीर भी काफ़ी शेयर हो रही है जिसमें कहा जा रहा है कि भारतीय जवान कैलाश पर्वत पर तिरंगा फहरा रहे हैं।               


भारतीय कंपनियों को मिलेगी 'प्राथमिकता'

नई दिल्ली/ बीजिंग। आत्मनिर्भर भारत के तहत सरकारी खरीद में भारतीय कंपनियों को प्राथमिकता देने के लिए सरकार ने खरीद नियम में संशोधन किया है। इसके तहत अब सरकारी खरीद के टेंडर में उन्हीं विदेशी कंपनियों को हिस्सा लेने का मौका मिलेगा जिन देशों की सरकारी खरीदारी में भारतीय कंपनियों को सप्लाई देने का मौका मिलता है।


इस नियम के लागू होने से चीन जैसे देश जो अपने यहां सरकारी विभाग की खरीदारी में शामिल होने के लिए भारतीय कंपनियों को इजाजत नहीं देते हैं, भारत की सरकारी खरीद टेंडर में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।                 


अमेरिका-चीन के बीच युद्ध होने का खतरा

मॉस्को/ वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। अमेरिका और चीन में बढ़ती तनातनी के बीच रूस ने भी सैनिकों की तैनाती को बढ़ाने का ऐलान किया है। रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू ने गुरुवार को कहा कि रूस क्षेत्र में बढ़ते तनाव के जवाब में सुदूर पूर्व में अपनी सैन्य उपस्थिति बढ़ा रहा है। माना जा रहा है कि पूर्वी चीन सागर में स्थित रूस के नेवल बेस व्लादिवोस्तोक पर रूसी सेना की उपस्थिति और बढ़ेगी। इस बेस के जरिए रूस प्रशांत महासागर, पूर्वी चीन सागर, फिलीपीन की खाड़ी के क्षेत्रों में अपनी सैन्य गतिविधियों को अंजाम देता है। रूसी रक्षा मंत्री ने खतरे वाले देशों का नहीं लिया नाम
रूसी रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, सर्गेई शोइगू ने कहा कि पूर्वी क्षेत्र में तनाव बढ़ने के कारण सैनिकों की तैनाती बढ़ाई जा रही है। हालांकि उन्होंने अपने बयान में किसी देश का नाम नहीं लिया। उन्होंने यह भी नहीं बताया कि नए खतरें क्या हैं और पूर्व में इन सैनिकों को कहां तैनात किया जाएगा। लेकिन, विशेषज्ञों ने कहा है कि चीन से लगी सीमा और प्रशांत महासागर क्षेत्र में बढ़ते तनाव से रूस चिंतित है। इसलिए वह अपने हितों की सुरक्षा के लिए सैनिकों की उपस्थिति को बढ़ा रहा है।               


रूस ने कोरोना की दवा बेचने की मंजूरी दी

मास्को। रूस ने हल्के से मध्यम कोविड -19 संक्रमणों के लिए आर-फार्म कंपनी के कोरोनावीर उपचार को मंजूरी दे दी है। कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि इस एंटी वायरल दवा को देश की फार्मेसियों में ले जाया जा सकता है।
कोरोना की इस कोरोनवीर दवा की मंजूरी से मई में एक अन्य रूसी कोविड -19 दवा एविफवीर के लिए हरी झंडी मानी जा रही है। दोनों फवीपिरवीर पर आधारित हैं, जिसे जापान में विकसित किया गया था और वहां व्यापक रूप से इस वायरल के उपचार के रूप में उपयोग किया जाता है।
आर-फार्म की घोषणा इस बात का एक और संकेत है कि रूस वायरस के खिलाफ दवा बनाने की वैश्विक दौड़ में बढ़त लेने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है। यह पहले से ही अपने कोविड -19 परीक्षणों का निर्यात कर रहा है और इसने अपनी स्पुतनिक-वी वैक्सीन की आपूर्ति के लिए कई अंतरराष्ट्रीय सौदों का प्रबंधन किया है।


कंपनी ने कहा कि उसे 168 रोगियों पर चरण- III के क्लिनिकल परीक्षण के बाद इस दवा के लिए मंजूरी मिली है। सरकारी रजिस्टर में दर्ज है कि जुलाई में कोविड -19 के उपचार के लिए अस्पताल में पहली बार इस दवा का इस्तेमाल किया गया था।                                         


नकली वाशिंग पाउडर फैक्ट्री का भंडाफोड़

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


नकली वाशिंग पाउडर की फैक्ट्री का भंड़ाफोड़


हापुड़। पश्चिमी उ.प्र. के आसपास के गावों में सप्लाई होनें वालें कपड़ें धोनें वालें वाशिंग पाउडर की एक फैक्ट्री का भंड़ाफोड़ कर पुलिस ने दो.आरोपियों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में पाउडर की थैलियां बरामद की। जानकारी के अनुसार बहादुरगढ़ पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गांव पलवाड़ा के मकान में छापा मारकर एक नकली वाशिंग पाउडर बनानें की फैक्ट्री का भंड़ाफोड़ किया। थाना प्रभारी नीरज कुमार ने बताया कि पुलिस ने दो.आरोपियों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में नकली वाशिंग पाउडर से भरी थैलियां भी बरामद की। उन्होंने बताया कि आरोपी मिट्टी व कैमिकल मिलाकर टाईगर एक्शल नाम से नकली वाशिंग पाउडर बनाकर आसपास के गांवों में सप्लाई कर रहे थे।               


पूर्व मंत्री के नाम साढ़े 5 करोड़ की ठगी

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
साढ़े पांच करोड़ की ठगी पूर्व मंत्री के नाम पर


हापुड़। फैक्टियों के लाईसेंस दिलानें के नाम पर एक व्यापारी से एक सपा नेता ने 5.50 करोड़ की ठगी कर ली। व्यापारी ने सपा नेता पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाया है। उधर आरोपी ने भी व्यापारी पर धोखाधड़ी व जानलेवा हमलें का मुकदमा दर्ज करवाया हैं। जानकारी के अनुसार हापुड़ के बुलन्दशहर रोड़ निवासी व व्यापारी हाजी शाहिद की डासना व मुरादाबाद में फैक्टियां हैं। जिसके लाईंसेस व अनापत्ति प्रमाण पत्र के लिए उन्होंने मजीदपुरा निवासी बाबू खां से सम्पर्क किया। रिपोर्ट के अनुसार बाबूखां ने सपा के तत्कालीन कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर से काम करवाने के नाम पर एंडवास 5.50 करोड़ रुपये ठग लिए और काम ना होनें पर वापस रुपये मांगें ,तो टालता रहा। हाजी शाहिद ने बताया कि मामलें को लेकर दो बार बैठकर फैसला हुआ ,परन्तु बाबूखां ने रूपयें नहीं लौटाएं और पुत्र के अपहरण की धमकी देकर जान से मारनें को कहनें लगा। पुलिस ने बाबूखां के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करवाया है। उधर बाबूखां ने भी जमीन के कमीशन मांगनें पर 21 अगस्त 20 को मजीदपुरा स्थित मकान पर हाजी शाहिद व चार पांच व्यक्तियों के विरुद्ध घर में घुसकर मारपीट व जानलेवा हमलें की रिपोर्ट दर्ज करवाई हैं। शहर कोतवाल सुबोध सक्सेना ने बताया कि दोनों मामलों में जांच की जा रही हैं।                   


हथियार के दम पर भाभी से किया दुष्कर्म

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


देवर ने किया भाभी से हथियार के बल पर बलात्कार


हापुड़। एक देवर ने रिश्तें को कंलकित करते हुए अपनी सगी भाभी से तंमचें के बल पर बलात्कार कर फरार हो गया। पीड़िता ने पति सहित चार सुसरालियों पर मुकदमा दर्ज करवाया हैं। जानकारी के अनुसार धौलाना के एक गांव निवासी युवती की शादी धौलाना के गांव नरैना निवासी गुलशन गोल्ड़ से हुई थी। शादी के बाद से ही देवर अंकुश अपनी भाभी पर गलत निगाह रखता था। गत् दिनों परिजनों के बाहर जानें पर देवर अंकुश ने अपनी भाभी से छेड़खानी शुरु कर दी। विरोध करनें पर देवर ने भाभी से मारपीट कर तंमचें के बल पर बलात्कार का आरोप लगाते हुए विवाहिता ने पति व देवर सहित चार पर रिपोर्ट दर्ज करवाई हैं।               


41 किग्रा का ओवेरियन टयूमर निकाला

एम्स में 24 वर्षीय युवती के शरीर से 41 किलोग्राम का ओवरियन ट्यूमर निकाला अब तक का सबसे बड़ा मामला।


पंकज कपूर


ऋषिकेश। आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में प्रसूति एवं स्त्री रोग विभाग के चिकित्सकों ने बिजनौर निवासी एक 24 वर्षीय युवती के शरीर से 41 किलोग्राम के ओवरियन ट्यूमर का सफलतापूर्वक ऑपरेशन कर युवती को जीवनदान दिया है। चिकित्सकों ने बताया कि ओवरियन कैंसर ट्यूमर का यह अब तक का सबसे बड़ा मामला है। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने युवती की जान बचाने के लिए इस जटिल सर्जरी की सफलता पर चिकित्सकीय टीम की प्रशंसा की है। निदेशक एम्स प्रो. रवि कांत ने बताया कि संस्थान में कैंसर के निदान एवं चिकित्सा के लिए वर्ल्ड क्लास सुविधाएं उपलब्ध हैं।जिनमें टारगेटेड थैरेपी, रेडियो व कीमोथैरेपी आदि सुविधाएं शामिल हैं। उन्होंने बताया कि संस्थान में जल्द ही महिलाओं के कैंसर रोग का एक अलग से गाइनी ओंकोलॉजी डिवीजन स्थापित किया जा रहा है। जिससे महिलाओं को संबंधित बीमारियों के उपचार के लिए राज्य से बाहर नहीं जाना पड़े। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने बताया कि हम खासतौर पर कैंसर से ग्रस्त गरीब और जरुरतमंद महिला रोगियों के लिए विशेष सेवा प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि एम्स ऋषिकेश में जल्द ही आईवीएफ (टेस्ट ट्यूब बेबी) की सुविधा शुरू हो जाएगी। स्त्री एवं प्रसूति विभाग में रोबोटिक और लेप्रोस्कोपी विधि के माध्यम से भी ऑपरेशन किए जा रहे हैं। साथ ही विभागीय चिकित्सकों की अलग-अलग टीमों द्वारा समय-समय उत्तराखंड व उत्तरप्रदेश के स्कूलों और सुदूरवर्ती गांवों में नियमिततौर पर चिकित्सा एवं परामर्श शिविरों का आयोजन किया जा रहा है।
एम्स के गाइनी विभाग के चिकित्सकों के अनुसार यह युवती बिजनौर से पेट में गांठ व दर्द की शिकायत लेकर एम्स ऋषिकेश आई थी।बताया गया कि महिला को पिछले 6 वर्षों से यह शिकायत थी व उसके पेट में ट्यूमर छह साल से धीरे-धीरे बढ़ रहा था। पिछले एक साल से उसे चलने फिरने और खड़े रहने में कठिनाई होने लगी थी। उपचार के लिए एम्स ऋषिकेश आने से पूर्व उक्त युवती उत्तरप्रदेश के कई सरकारी व निजी अस्पतालों में अपने रोग के उपचार के लिए गई थी। मगर हर जगह से निराशा ही हाथ लगी व उसे इलाज संभव नहीं होने की बात कहकर रेफर कर दिया गया। आखिरकार थक-हारकर वह एम्स ऋषिकेश आई। जहां युवती की संपूर्ण जांच के बाद उसके पेट में 50×40 सेमी।का ओवरियन ट्यूमर पाया गया। एम्स के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग की डा. कविता खोईवाल और उनकी टीम मेंबर डा. ओम कुमारी, डा. राहुल मोदी व डा. अंशु गुप्ता ने युवती ऑपरेशन किया जिसमे 41 किलोग्राम का ओवरियन कैंसर ट्यूमर निकाला गया। इसके अलावा इस ऑपरेशन में एनेस्थिसिया विभाग की टीम का महत्वपूर्ण योगदान रहा। जिसमें डा. प्रियंका गुप्ता और उनकी टीम के अन्य सदस्य शामिल रहे। संस्थान की स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. कविता खोईवाल ने बताया कि यह एक जटिल चुनौती थी। क्योंकि हमें एक महिला रोगी के शरीर से बड़े साइज के ट्यूमर को हटाना था।जो कि मरीज के शरीर के कुल वजन का लगभग 60 प्रतिशत था। उन्होंने बताया कि ओवरियन कैंसर ट्यूमर का यह अब तक का सबसे बड़ा मामला है। प्रसूति एवं स्त्री रोग विभागाध्यक्ष डा. जया चतुर्वेदी ने बताया कि युवती की बीमारी से जुड़ा यह मामला विशेषकर दूरदराज के गांवों की महिलाओं की दुर्दशा को उजागर करता है। जिन्हें चिकित्सा सुविधाओं के अभाव में समय पर आवश्यक उपचार नहीं मिल पाता है। और वह इस तरह की अवस्था तक पहुंच जाती हैं। उन्होंने बताया कि इस तरह के ओवरियन ट्यूमर के मामले काफी कम सामने आते है। साथ ही ट्यूमर के इतने बड़े आकार व इस स्थिति में आने से मरीज को बचा पाना बहुत मुश्किल हो जाता है।             


नेता प्रतिपक्ष उपचार के लिए देहरादून रवाना

उत्तराखंड की नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा एयर एंबुलेंस से देहरादून रवाना बेटे सुमित ने दिया उपचार पर बड़ा बयान।


देहरादून। नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा  हर्देस की रिपोर्टर  रात पॉजिटिव आ गई। उनको सांस लेने में दिक्कत और निमोनिया की शिकायत होने पर शुक्रवार को सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती किया गया था। कोरोना की जांच के लिए एक निजी लेब से सैम्पल कराया गया था। शुक्रवार रात कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। उसके बाद अब डॉ. इंदिरा हिर्देश शनिवार को हलद्वानी से एयर एंबुलेंस से देहरादून के लिए रवाना हो गईं।
डॉ. हिर्देश ने कार्यकर्ताओं से अनुरोध किया है कि इस दौरान जो भी उनके संपर्क में रहा है। सावधानी बतौर खुद को क्वारनटाइन कर ले। सभी लोग सामाजिक जिम्मेदारियां निभाते समय सामाजिक दूरी। मास्क लगाना आदि ध्यान रखें। वह जल्द स्वस्थ होकर लौटेंगी। उनके साथ उनके बेटे पूर्व मंडी सभापति सुमित हिर्देश भी गए हैं। सुमित हिर्देश ने कहा कि डॉ. सुशीला तिवारी अस्पताल की हालत सरकारी अनदेखी से बहुत ज्यादा अच्छी नहीं है। आम आदमी को यहां पर अच्छा उपचार मिल सके इसके लिए मुख्यमंत्री को ध्यान देना चाहिए क्योंकि एसटीएच ही कुमाऊं की जनता की लाइफ लाइन है। इधर कार्यकर्ताओं ने उनके जल्द स्वस्थ होने की ईश्वर से प्रार्थना की है।               


एसएसपी हरिद्वार भी हुए कोरोना संक्रमित

एसएसपी हरिद्वार भी हुए कोरोना पॉजिटीव।


देहरादून। होम आइसोलेशन में ले रहे हैं स्वास्थ्य लाभ हरिद्वार एसएसपी सेंथिल अबुदई की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। जिसके बाद उन्होंने अपने आप को होम आइसोलेट कर लिया है। वही देहरादून के एसपी ट्रैफिक प्रकाश आर्य की कोरोना रिपोट भी पॉजिटिव आयी है।                   


जिंदगी जिंदाबाद को दिया प्रशस्ति पत्र

सेनानायक ने जिंदगी जिंदाबाद को दिया प्रशस्ती पत्र।


रुद्रपुर। 46 वाहिनी पीएसी के सेनानायक सुखवीर सिंह ने जिंदगी जिंदाबाद द्वारा कोरोना काल के दौरान जनहित में किये गए अच्छे कार्यों के चलते  सराहना की और टीम के सदस्यों को प्रशस्ती पत्र  देकर सम्मानित किया उन्होंने कहा जिंदगी जिंदाबाद की टीम ने कोरोना काल मे निस्वार्थ भाव से जरूरत मंद लोगो की सेवा की है। साथ ही उन्होंने कहा की जिंदगी जिंदाबाद की टीम ने लॉकडाउन के दौरान वास्तविक रुप से जरूरतमंद लोगों को पीएसी द्वारा बांटे जा रहे हैं। भोजन के पैकेट पहुंचाने में मदद की उन्होंने कहा  टीम ने पीएसी परिसर में सेनीटाइजेशन भी करवाया सेनानायक सिंह ने जिंदगी जिंदाबाद के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।               


जम्मू-कश्मीर के लिए 1350 करोड़ की घोषणा

जम्मू-कश्मीर के लिए 1350 करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा।


श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत में लघु कुटीर और अन्य छोटे कारोबार में जुड़े लोगों को प्रोत्साहन देने के लिए 1350 करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा शनिवार को की है। इसके अलावा केन्द्र शासित प्रदेश की आम जनता को बड़ी राहत देते हुए सिन्हा ने एक वर्ष के लिए बिजली और पानी के बिलों पर 50 प्रतिशत की छूट देने का भी एलान किया।उपराज्यपाल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में कारोबारी गतिविधियों को बढ़ावा देने तथा औद्योगिक इकाईयां लगाने वाली कंपनियों को निवेश के लिए प्रोत्साहित करने के लिए केन्द्र सरकार प्रदेश के लिए एक बहुत बड़े आर्थिक पैकेज पर विचार कर रही है।उन्होंने कहा कि मैं समझता हूं। कि आज तक कभी इतना बड़ा आर्थिक पैकेज नहीं बनाया गया था। जिसमें वित्तीय और प्रशासनिक इकाईयों के माध्यम से कारोबारी समुदाय को राहत दी जा रही है ।क्योंकि व्यापार होगा तो न केवल जम्मू-कश्मीर की आम जनता को रोजगार मिलेगा बल्कि छोटे स्तर पर काम कर अपनी आजीविका चलाने वाले लोगों को भी राहत मिलेगी।सिन्हा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के लिए आर्थिक मुद्दे पर यह पहला कदम है। केन्द्र सरकार जम्मू-कश्मीर के लिए एक ऐतिहासिक आर्थिक पैकेज पर विचार कर रही है। और मैं केन्द्र शासित प्रदेश के लोगों को विश्वास दिलाना चाहता हूं। कि जल्द ही इसकी घोषणा होगी जिससे हम प्रधानमंत्री के विकसित जम्मू-कश्मीर के सपनों को साकार करेंगे।               


हरियाणा का प्रशासनिक समीकरण बदलेगा

राणा ओबराय
1अक्टूबर से हरियाणा में बदलेगा प्रशासनिक समीकरण! आईएएस विजय वर्धन, संजीव कौशल ,केशनी आनन्द अरोड़ा सभी के बदले जाएंगे पदभार?


चंडीगढ। यदि हरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा की मुख्यसचिव के पद पर सेवावृद्धि नही होती तो वह 31 सितंबर को रिटायर हो जाएगी। निजी सुत्रो से मिली जानकारी के अनुसार मुख्य सचिव के कार्यकाल में किसी भी प्रकार की वृद्धि नहीं होगी। बल्कि केशनी आनंद अरोड़ा को रिटायरमेंट के बाद राइट टू सर्विस कमीशन में मुख्य सचिव के पद पर नियुक्त किया जा सकता है। सूत्रों की माने तो हरियाणा के नए मुख्य सचिव के पद पर वर्तमान गृह सचिव एवं एफसीआर विजय वर्धन को नियुक्त किया जा सकता है। क्योकि विजय वर्धन का सेवा कार्यकाल लगभग 1 साल से ज्यादा है। यदि मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने दूर की सोची तो संजीव कौशल को भी मुख्यसचिव के पद पर नियुक्त किया जा सकता है क्योकि एसीएस संजीव कौशल का सेवा कार्यकाल लगभग 4 वर्ष तक है और अगले विधानसभा चुनाव भी 2024 को ही होंगे। इसलिए यह भी हो सकता है कि संजीव कौशल को ही मुख्यसचिव या प्रधान सचिव बना दिया जाए। यदि कौशल को मुख्य सचिव नही बनाते तो वरिष्ठता के अनुसार एफसीआर बनना लगभग तय माना जा रहा है। मनोहरलाल सरकार के सामने एसीएस सुनील गुलाटी भी समस्या बन कर खड़े हैं क्योंकि हरियाणा आईएएस वरिष्ठता सूची में वह विजयवर्धन से वरिष्ठ हैं। इन सबके बावजूद अब खट्टर सरकार को फैंसला लेना है कि किस अधिकारी को मुख्यसचिव, वित्तायुक्त राजस्व तथा गृहसचिव बनाना है।               


अंतरराज्यीय चोर गिरोह के 3 गिरफ्तार किए

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


हापुड़। चैकिंग के दौरन पुलिस ने वाहन चोरी करने वाले अन्तर्राजय गिरोह के 3 शातिर वाहन चोरो को गिरफ्तार किया। 2 चोर मौके से फरार, चोरी की 13 बाइक बरामद, चोर कई राज्यो व जनपदों में शातिर तरीके से बाइक चोरी की घटनाओं को देते थे अंजाम, थाना गढ़मुक्तेश्वर पुलिस ने बदरखा पुल के नीचे से गिरफ़्तारी की।


दबंगों का कहर, दहशत में जीने को मजबूर

अतुल त्यागी


हापुड़ में नहीं थम रहा दबंगों का कहर आए दिन हो रही है वारदातें लोग दहशत में जीने के लिए मजबूर


हापुड़। धौलाना क्षेत्र में लगातार दबंगों का कहर दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है ताजा मामला उस वक्त संज्ञान में आया जब एक व्यक्ति अपने घर से बाहर घूमने के लिए निकला और दबंगों ने उस पर कहर बरपा ते हुए ताबड़तोड़ वार कर डालें।लहूलुहान हालत में व्यक्ति को अधमरा कर मौके से फरार हो गए वारदात को अंजाम देने वाले 4 से 5 लोग बताए जा रहे हैं। घायल व्यक्ति काफी देर तक सड़क पर ही लहूलुहान व्यवस्था में पड़ा रहा। इसी बीच किसी ने लहूलुहान व्यवस्था में पड़े व्यक्ति की वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची धौलाना थाना पुलिस और पिलखुवा सीओ घटना की जांच पड़ताल में जुटे। घायल व्यक्ति को कराया पास के निजी अस्पताल में भर्ती परिवार के लोगों में बना हुआ है दहशत का माहौल धौलाना क्षेत्र में आए दिन दबंगों का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा लोग दहशत में जीने के लिए मजबूर हो रहे हैं लोग 2 दिन पहले भी दहरा गांव में दो पक्षों में हुआ था। बवाल कई लोग हुए थे घायल।


विष्णु को अतिप्रिय है पुरुषोत्तम मास

अक्षय फल प्रदान करता है।इस माह 
इस माह किया गया दान।


श्री हरि भगवान विष्णु को पुरुषोत्तम मास अतिप्रिय है। दान, पुण्य, पूजा पाठ के लिए यह माह पवित्र माना जाता है। इस माह में भगवान श्री हरि विष्णु की उपासना और श्रीमद्भ भागवतकथा का श्रवण करने से कई गुना फल की प्राप्ति होती है। इस माह किया गया दान अक्षय फल प्रदान करने वाला माना जाता है। पुरुषोत्तम माह में किसी देवस्थान के दर्शन करना चाहिए। इस पूरे माह व्रती को व्रत का पालन करना होता है। जमीन पर शयन करना, एक समय सात्विक भोजन ग्रहण करना होता है। पुरुषोत्तम माह में भगवान श्री हरि की पूजा, मंत्र जाप, हवन, श्रीमद्भागवत, श्री रामायण, विष्णु स्तोत्र, रूद्राभिषेक का पाठ अवश्य करना चाहिए। मान्यता है।कि पुरुषोत्तम माह में किए गए धार्मिक कार्यों का किसी भी अन्य माह में किए गए पूजा-पाठ से 10 गुना ज्यादा फल मिलता है। इस माह मौन रखने से मानसिक शक्ति में वृद्धि होती है। इस माह मांगलिक कार्य नहीं किए जाते हैं।धार्मिक अनुष्ठान स्नान दान उपवास आदि किए जाते हैं। अधिकमास में शुक्ल एकादशी पद्मिनी एकादशी एवं कृष्ण पक्ष एकादशी परमा एकादशी कहलाती हैं। मान्यता है। कि इन एकादशी का व्रत पालन करने से खुशहाल जीवन व्यतीत होता है। इस माह में विवाह, मुंडन। नववधु गृह प्रवेश।नामकरण जैसे संस्कार करने की मनाही है। नया वस्त्र धारण करना। नई खरीदारी करना।वाहन आदि का क्रय करना भी निषेध माना जाता है। अधिक मास में सामर्थ्यनुसार दान अवश्य करें।                     


समुदाय को निशाना बना सकती है मीडिया

क्या मीडिया को पूरे समुदाय को निशाना बनाने की अनुमति दी जा सकती है ।


 पालूराम


नई दिल्ली। सुदर्शन टीवी मामले में न्यायालय ने कहा।यह बोलने की आज़ादी नफ़रत में तब्दील हो गई है। आप समुदाय के सभी सदस्यों की एक छवि नहीं बना सकते हैं। आपने अपने विभाजनकारी एजेंडे के जरिये अच्छे सदस्यों को भी अलग-थलग कर दिया।
नयी दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को बिंदास बोल’ कार्यक्रम के संदर्भ में सुदर्शन टीवी से पूछा कि क्या मीडिया को पूरे समुदाय को निशाना बनाने की अनुमति दी जा सकती है। बता दें कि बिंदास बोल कार्यक्रम के प्रोमो में दावा किया गया है। कि सरकारी सेवाओं में मुस्लिमों की घुसपैठ का बड़ा खुलासा किया जाएगा। शीर्ष अदालत ने कार्यक्रम को लेकर की शिकायत पर सुनवाई करने के दौरान कहा कि चैनल खबर दिखाने को अधिकृत हैं। लेकिन ‘पूरे समुदाय की छवि नहीं बिगाड़ सकता और इस तरह के कार्यक्रम कर उन्हें अलग-थलग नहीं कर सकता।
मामले की सुनवाई कर रही पीठ की अध्यक्षता कर रहे न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ ने कहा।यह वास्तविक मुद्दा है। जब भी आप उन्हें प्रशासनिक सेवा से जुड़ते दिखाते हैं।आप आईएसआईएस (इस्लामिक स्टेट) को दिखाते हैं। आप कहना चाहते हैं कि प्रशासनिक सेवा से मुस्लिमों का जुड़ना गहरी साजिश का हिस्सा है। क्या मीडिया को एक पूरे समुदाय को निशाना बनाने की अनुमति दी जा सकती है।पीठ ने कहा।सभी उम्मीदवारों को एजेंडा के साथ दिखाना नफ़रत को दिखाता है।और यह तत्व चिंता का विषय है।इस पीठ में न्यायमूर्ति इंदु मल्होत्रा और न्यायमूर्ति केएम जोसेफ भी शामिल हैं।न्यायालय ने कहा।यह बोलने की आज़ादी नफ़रत में तब्दील हो गई है। आप समुदाय के सभी सदस्यों की एक छवि नहीं बना सकते हैं। आपने अपने विभाजनकारी एजेंडे के जरिये अच्छे सदस्यों को भी अलग-थलग कर दिया।पीठ ने सुदर्शन टीवी का पक्ष रख रहे। श्याम दीवान से कहा कि अदालत को आतंकवाद से जुड़े संगठनों द्वारा वित्तपोषण संबंधी खोजी पत्रकारिता से समस्या नहीं है ।लेकिन यह नहीं कहा जाना चाहिए कि मुस्लिम एजेंडे के तहत यूपीएससी सेवा में जा रहे हैं।
पीठ ने कहा मीडिया में संदेश जाना चाहिए कि समुदाय विशेष को निशाना नहीं बनाया जा सकता। हमें भविष्य के राष्ट्र को देखना है।जो एकजुट और विविधता से युक्त हो।
अदालत ने कहा यह संदेश मीडिया को जाना चाहिए कि देश ऐसे एजेंडे से जीवित नहीं रह सकता।
पीठ ने कहा हम अदालत हैं ।और हमने देखा कि आपातकाल के दौरान क्या हुआ और यह हमारा कर्तव्य है। कि मानव सम्मान सुरक्षित रहे।दीवान ने चैनल के प्रधान संपादक सुरेश चव्हाण द्वारा दायर हलफनामा का उल्लेख किया।हलफनामे में चैनल ने कार्यक्रम का बचाव करते हुए कहा कि उसने यूपीएससी जिहाद का इस्तेमाल आतंकवाद से जुड़े संगठनों द्वारा जकात फाउंडेशन को मिले चंदे के आधार पर किया है।
जकात फांउडेशन प्रशासनिक सेवा में शामिल होने के अकांक्षी विद्यार्थियों जिनमें अधिकतर मुस्लिम होते को पठन सामग्री और प्रशिक्षण देता है।
वीडियो कांफ्रेंस से हुई सुनवाई के दौरान दीवान ने कहा कि चैनल को कोई समस्या नहीं है।अगर किसी भी समुदाय का व्यक्ति प्रतिभा के आधार पर प्रशासनिक सेवा से जुड़ता है।
उन्होंने कहा।चैनल प्रसारण पूरा करना चाहता है। हम कहीं भागे नहीं जा रहे हैं। अब तक चार एपिसोड देखे गए हैं।और पूरे प्रकरण में इसे देखा जाना चाहिए न कि किसी शब्द के आधार पर अदालत को प्रसारण पूर्व प्रतिबंध लगाने के अपने न्यायाधिकार क्षेत्र का इस्तेमाल करना चाहिए।
हालांकि। पीठ ने कहा।बयानों को देखिए। दर्शक सभी बातें बता देंगे जो इस कार्यक्रम के माध्यम से बताया गया है। हमें गैर सरकारी संगठन या वित्तपोषण के स्रोत से समस्या नहीं है। यहां मुद्दा यह है।आप पूरे समुदाय पर प्रभाव डालेंगे क्योंकि आप प्रशासनिक सेवा को लेकर यह कर रहे हैं।पीठ ने कहा।कुछ तस्वीरे हमें आहत करती हैं। जैसे हरे टी-शर्ट और मुस्लिमों द्वारा पहने जाने वाली टोपी।साथ ही कहा कि हम सेंसर बोर्ड नहीं है।अदालत ने पाया कि कुछ आपत्तिजनक सामग्री को हटाया जाना चाहिए।दीवान ने पीठ से कहा कि अदालत द्वारा कार्यक्रम में रेखांकित की गई। कथित आपत्तिजनक सामग्री के संबंध में चैनल हलफनामा दाखिल करेगा।
इससे पहले उच्चतम न्यायालय ने गैर सरकारी संगठन जकात फाउंडेशन से पूछा कि क्या वह सुदर्शन टीवी मामले में हस्तक्षेप करना चाहता है। क्योंकि इसमें उसकी भारतीय शाखा पर विदेश से आतंकवाद से जुड़े संगठनों से वित्तीय मदद मिलने का आरोप लगाया गया है।
बता दें कि जकात फाउंडेशन प्रशासनिक सेवा में शामिल होने के इच्छुक मुस्लिम उम्मीदवारों को प्रशिक्षण मुहैया कराता है।


कब मिलेगी कोरोना वायरस से मुक्ति ?

कब मिलेगी कोरोना वायरस से मुक्ति। विश्व स्वास्थ्य संगठन की वैज्ञानिक ने बताया सबकुछ


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कोरोना वायरस को खत्म करने वाली प्रभावी वैक्सीन आखिर कब तक मिलेगी यह एक बड़ा सवाल अब भी बना हुआ है। पूरी दुनिया को इसका इंतजार है।ताकि लोग इस जानलेवा वायरस की चपेट में आने से बच सकें। रूस और चीन में तो लोगों को वैक्सीन दी भी जा रही है।जबकि उनका तीसरे चरण का ट्रायल अभी पूरा भी नहीं हुआ है। इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने वैक्सीन को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि साल 2022 से पहले पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन का मिल पाना मुश्किल है। जिससे लोग फिर से सामान्य जीवन में लौट सकें।
सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के कोवाक्स प्लान के तहत अलग-अलग देशों में बराबर रूप से वैक्सीन पहुंचाने का काम किया जाएगा लेकिन इसके लिए अगले साल के मध्य तक वैक्सीन की करोड़ों खुराक तैयार करनी होंगी और 2021 के अंत तक वैक्सीन की दो अरब खुराक हासिल कर लेने का लक्ष्य रखा जाएगा।
स्वामीनाथन ने कहा कि फिलहाल लोगों को ऐसा लग रहा है। कि अगले साल की शुरुआत में दुनिया को वैक्सीन मिल जाएगी और लोग फिर से अपने सामान्य जीवन में लौट पाएंगे जबकि ऐसा है। नहीं। 2021 की शुरुआत में तो वैक्सीन के प्रभावी नतीजों को देखना शुरू किया जाएगा और उसके बाद उसके वितरण के बारे में सोचा जाएगा।स्वामीनाथन ने कहा कि अभी जिन वैक्सीन के ट्रायल चल रहे हैं। उनमें कम से कम 12 महीने का वक्त लगेगा। इस दौरान वैक्सीन के प्रभाव और उसके दुष्प्रभावों को देखा जाएगा।क्योंकि लोगों की सुरक्षा सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि अमेरिका का फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन बहुत जल्द वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल के लिए गाइडलाइन जारी करेगा।
इससे पहले हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक चेतावनी जारी करते हुए कहा था। कि हमारे मानदंडों के मुताबिक क्लिनिकल परीक्षण के एडवांस स्टेज पर पहुंची कोई भी वैक्सीन कोरोना वायरस के खिलाफ 50 फीसदी भी असरदार नहीं है। संगठन के प्रवक्ता मार्गरेट हैरिस ने कहा था। कि एक भी वैक्सीन ऐसी नहीं है जिसे प्रभावी बताया जा सके। उन्होंने यह भी कहा था ।कि 2021 के मध्य तक भी व्यापक टीकाकरण की कोई उम्मीद नहीं है।                


यूपी में लव जिहाद का शिकार बनी 3 बहनें

यूपी में लव जिहाद का शिकार बनी छत्तीसगढ़ की तीन बहनें।हरदोई। जिले के संडीला थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी।
रायपुर। छत्तीसगढ़ की तीन बहनों के यूपी में लव जिहाद का शिकार होने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस मामले में उत्तर प्रदेश जिले के हरदोई जिले के संडीला थाने में प्राथमिकी दर्ज हुई है। छत्तीसगढ़ के बिलापुर रेज के आईजी दीपांशु काबरा ने मामले की पुष्टि किया है।
श्री काबरा ने बताया कि तीना बहनों का चिन्हित कर लिया गया है। तीनों बहने महासमुंद जिले के पिथौरा की रहने वाली हैं। उन्हें हरदोई से वापस लाने के लिए पुलिस टीम रवाना कर दी गयी है।संडीला थाने में दर्ज एफआईआर के मुताबिक छत्तीसगढ़ की रहने वाली तीन बहनों पूनम यादव, दिव्या यादव और मुस्कान यादव से हरदोई के शकील, इमरान और नूर आलम ने नाम बदलकर दोस्ती की।
धर्म को छिपाया और नौकरी दिलाने के नाम पर लखनऊ बुलाया। 16 सितंबर 2020 को तीनो बहनें लखनऊ पहुंची तो शकील, इमरान और नूर आलम तीनों बहनों को लेकर हरदोई जिले के संडीला थाना क्षेत्र के काशीराम नगर कालोनी पहुंचे।
यहां तीनों बहनों को एक कमरे में बंद कर दिया गया। आरोपियों ने तीनों बहनों के साथ दुष्कर्म करने की भी कोशिश किया। किसी तरह से तीनों बहने वहां से छिपकर भाग निकलीं और थाने मेें पहुंचकर प्राथमिकी दर्ज कराया। घटना की जानकारी होते ही तीनों बहनों को वापस लाने के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस सक्रिय हो गयी है।               


2 दर्जन अधिकारियों के ख़िलाफ़ मुकदमा

महामेधा बैंक – गबन और वित्तीय अनियमितताओं के आरोप में 2 दर्जन अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज।


माधोपुरा। घंटाघर कोतवाली क्षेत्र की नई बस्ती स्थित महामेधा अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड के पूर्व अधिकारियों, कर्मचारियों व बैंक प्रबंधकों द्वारा बरती गई वित्तीय अनियमितताओं एवं बैंक के विनिमयकारी अधिनियम-1949 के उल्लंघन के मामले में सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक (सहकारिता) देवेंद्र सिंह ने दो दर्जन लोगों के विरुद्ध करोड़ों रुपए के धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। नामजद गबन आरोपियों में बैंक के मालिक पप्पू भाटी का निधन हो चुका है।
आपको बता दें कि महामेधा बैंक द्वारा किए गए गबन एवं वित्तीय अनियमितताओं तथा विनिमयकारी अधिनियम-1949 के उल्लंघन के चलते भारतीय रिजर्व बैंक ने 11 अगस्त 2017 को बैंक का लाइसेंस निरस्त कर दिया था। इसके बाद अपर आयुक्त एवं अपर निबंधक सहकारिता लखनऊ के 31 अगस्त 2017 के निर्देश पर मेरठ मंडल के उपायुक्त एवं उपनिबंधक ने बैंक में प्रशासक नियुक्त किया था। उसके बाद बैंक में हुए गबन एवं वित्तीय अनियमितताओं की सीए द्वारा विशेष ऑडिट एनालिसिस कराए जाने की अनुमति दी गई। जिसके आधार पर सीए द्वारा की गई ऑडिट रिपोर्ट प्रशासक के समक्ष प्रस्तुत की गई।
ऑडिट रिपोर्ट में आयुक्त एवं निबंधक सहकारिता के निर्देश पर उत्तर प्रदेश सहकारी समिति अधिनियम-1965 की धारा-68 के तहत दोषियों का दायित्व निर्धारित करते हुए सन्निहित धनराशि की वसूली तथा दोषियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश दिए गए थे। इसी क्रम में 6 दिसंबर 2019 को सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक सहकारिता गाजियाबाद द्वारा दोषियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए गए।
मैसर्स एमआरएस एंड कंपनी द्वारा पेश विशेष ऑडिट रिपोर्ट में धोखाधड़ी दुर्विनियोग कूट रचित सदस्यों के नाम पर सदस्यों की बिना अनुमति के उनकी रकम एफडीआर भुनाकर रिजर्व बैंक के मानकों का उल्लंघन कर प्रतिकर की धनराशि जमा कराकर तथा तृतीय पक्ष ऋणों का समायोजन एवं फर्जी बिल बाउचर खारिज कर जमा कर्ताओं के साथ धोखाधड़ी करके करीब 9,98,512,347 रुपए का गबन किया गया।              


किसानों के लिए पशु बने बड़ी समस्या

खुले घूम रहे पशु किसानों के लिए बने बड़ी समस्या, बरबाद कर रहे हैं मुंजी की फसल।


मुरादनगर। ग्रामीण क्षेत्रों में खुले घूम रहे आवारा पशु किसानों के लिए बहुत बड़ी समस्या बने हुए हैं। आवारा पशु किसानों की मेहनत से खड़ी की गई फसलों को बर्बाद कर देते हैं। आवारा पशुओं से किसान हुए परेशान मुरादनगर के खुर्रमपुर सलेमाबाद गांव निवासी किसान गोलू ने बताया कि वह आवारा पशुओं की समस्या से परेशान हैं क्योंकि आवारा पशु खेतों में घुसकर उनकी मुंजी की फसल चर रहे हैं। इसके साथ ही आवारा पशु खेतों में ईख, ज्वार की फसल बर्बाद कर देते हैं।
किसानों का कहना है कि सरकार गांव के प्रधानों को गौशाला बनाने के लिए रुपये तो दे रही हैं, लेकिन इसके बावजूद भी आवारा गाय, सांड उनके खेतों में आकर फसल बर्बाद कर रहे हैं। किसानों का कहना है कि वह दिन में दो से तीन बार आवारा पशुओं को भगाने के लिए खेतों पर आते रहते हैं। किसान अब सरकार से गुहार लगा रहे हैं कि इन आवारा पशुओं का कुछ प्रबंध किया जाए।             


फोटो जर्नलिस्ट एसोसिएशन का गठन किया

फोटो जर्नलिस्ट एसोसिएशन गाजियाबाद का गठन-नवीन सेठी अध्यक्ष और राकेश बने उपाध्यक्ष।


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। प्रिंट मीडिया में कार्यरत फोटो जर्नलिस्टों के हितों की रक्षा करने और उनके कल्याण के उद्देश्य से फोटो जर्नलिस्ट एसोसिएशन गाजियाबाद का शनिवार को गठन किया गया।
फोटो जर्नलिस्टों की बैठक में जिसमें सर्वसम्मति से नवीन सेठी को अध्यक्ष (युग करवट) राकेश लाहोरिया उपाध्यक्ष (दैनिक हिंद आत्मा) शाहबाज खान महासचिव (दैनिक करंट क्राइम) जावेद खान सचिव (दैनिक मनस्वी वाणी) पप्पू नेहरा महामंत्री (दैनिक हिंट) नरेश सिंघानिया कोषाध्यक्ष (जनसागर टुडे) नितिन मंत्री (दैनिक प्रलंयकर) नरेश बबली सचिव (नेशनल रफ्तार) अकरम अली सचिव (एकता ज्योति) हरी सिंह प्रचार मंत्री (दैनिक मनस्वी वाणी) के अलावा सुनील पंवार दैनिक हिंट, वरुण लाहोरिया दैनिक युग करवट, शशांक करंट क्राइम, अनिल, नवनीत आप अभी तक को सदस्य नियुक्त किया है।
एसोसिएशन में कमल सेखरी  सम्पादक (हिंट टीवी) सलामत मियां सम्पादक (युग करवट) संदीप सिंघल सम्पादक (दैनिक मनस्वी वाणी ग्रुप) राजवीर चौधरी सम्पादक (भावी सत्ता) दिनेश कुमार गोयल प्रधान सम्पादक (दैनिक प्रलंयकर) अशोक कौशिक सम्पादक (हिंद आत्मा) दीपक भाटी सम्पादक (करंट क्राइम) कपिल त्यागी चेयरमैन (हिंट व निवाण) इमरान खान सम्पादक (आप अभी तक) राजकुमार राणा सम्पादक (एकता ज्योति) यथार्थ शर्मा सम्पादक (नेशनल रफ्तार) पंकज ठाकुर सम्पादक (जनसागर टुडे) को संरक्षक मंडल में रखा गया है।             


भू-माफिया यादव पर पुलिस ने दिखाई सख्ती

भू-माफिया सुभाष यादव पर पुलिस ने दिखाई सख्ती, जब्त की 2 करोड़ की संपत्ति।


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। एक भू-माफिया द्वारा अवैध रूप से अर्जित की करीब 2 करोड़ की संपत्ति को पुलिस ने जब्त कर लिया। मामला कौशांबी इलाके का है और आरोपी का नाम सुभाष यादव है। जिसकी दो करोड़ की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई पुलिस की तरफ से की गई। बताया जा रहा है कि सुभाष यादव को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका था। इसके बाद उसकी अवैध संपत्ति का आकलन किया गया। अवैध संपत्ति में ही आलीशान बंगला और लग्जरी गाड़ियां शामिल थी, जिन्हें अब जब्त कर लिया गया है।
दिल्ली और गाजियाबाद में दर्ज हैं आपराधिक मुकदमे।
आरोपी सुभाष यादव पर दिल्ली और गाजियाबाद में हत्या की कोशिश और कई धाराओं के अलावा भूमि कब्जाने के कई मामले दर्ज हैं। लंबे समय तक फरार रहने के बाद आरोपी को पूर्व में गिरफ्तार किया गया था। हालांकि बाद में आरोपी को लगभग सभी मामलों में जमानत मिल गई थी।  
इसके बाद गाज़ियाबाद पुलिस ने उसकी अवैध रूप से कमाई गई संपत्ति की लिस्ट तैयार करना शुरू कर दिया था। आखिरकार बड़ी कार्रवाई करते हुए आरोपी का बंगला और लग्जरी गाड़ियां कुर्क कर दी गई। बंगला और लग्जरी गाड़ियों समेत दो करोड़ की संपत्ति जब्त किए जाने के बावजूद पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आगे की कार्रवाई भी जारी है। लिस्ट में जो भी संपत्ति सामने आएगी, उसे जल्द से जल्द जब्त कर लिया जाएगा। सरकार और आम लोगों को नुकसान पहुंचाने वाले ऐसे भू-माफिया, या दूसरे अपराधियों को किसी भी सूरत में पैर नहीं पसारने देगी।             


बदलावः सितंबर में मई के जैसी गर्मी

सितंबर में पड़ रही अप्रैल-मई जैसी गर्मी मौसम विभाग ने बताई आखिर क्या है। वजह


नई दिल्ली। जिस सितंबर में मौसम करवट लेने लगता है ।और जाड़े की सुगबुगाहट होने लगती है।इस बार दिल्ली वासी उमस भरी गर्मी झेलने को विवश हैं। तेज धूप की चुभन और उमस पसीना पोंछने पर मजबूर कर ही रही है। अभी भी बिना एसी के गुजारा नहीं हो पा रहा है। मौसम विशेषज्ञों ने इस स्थिति के पीछे जलवायु परिवर्तन के साथ-साथ बादलों की बेरूखी को भी जिम्मेदार करार दिया है।गौरतलब है कि विदाई न लेने के बावजूद मानसून तो बरस ही नहीं रहा। तापमान भी कम होने का नाम नहीं ले रहा। सितंबर के पहले सात दिनों में अधिकतम तापमान सामान्यतया 34.3 डिग्री सेल्सियस होना चाहिए, लेकिन इस बार दर्ज हुआ 36 डिग्री से भी अधिक। इसी तरह आठ से 17 सितंबर के दौरान अधिकतम तापमान 33.7 से 33.8 डिग्री सेल्सियस होना चाहिए।जबकि इस साल यह 37 डिग्री सेल्सियस से भी ऊपर दर्ज किया गया। आलम यह है। कि सितंबर का महीना इस बार अगस्त से भी गर्म साबित हुआ है। अगस्त में नौ तारीख को माह का सर्वाधिक अधिकतम तापमान 37.6 डिग्री सेल्सियस रहा था, जबकि 18 सितंबर को यह 38 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।
जलवायु परिवर्तन है ।जिम्मेदार
मौसम विशेषज्ञ बताते हैं। कि इन हालातों के लिए जलवायु परिवर्तन तो जिम्मेदार है ही।आसमान का साफ होना भी एक वजह है। ज्यादा बादल बन ही नहीं रहे। इससे सूरज की किरणें धरती तक सीधे पहुंच रही हैं। बारिश भी नहीं हो रही। पूर्व के वर्षों में 8 से 10 हजार फीट की ऊंचाई पर भी बादल बनते थे। तो रिमझिम फुहार करते रहते थे। लेकिन अब यह बादल 35 से 50 हजार फीट की ऊंचाई पर बनने लगे हैं। इससे बारिश कम हो गई है। इसके अलावा स्थानीय प्रदूषण और घटता वनक्षेत्र भी इस गर्मी और बारिश के बदले पैटर्न के लिए उत्तरदायी है।क्या कहते हैं। मौसम वैज्ञानिकप्रादेशिक मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि इन दिनों आसमान में बादल बहुत कम हैं। बीच में कोई अवरोधक न होने से सूरज की रोशनी सीधे भी जमीन तक पहुंच रही है। इसीलिए दिल्ली वासियों को अधिक गर्मी का एहसास हो रहा है।वहीं स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि इसमें कोई संदेह नहीं कि जलवायु परिवर्तन से मौसम पर गहरा असर पड़ रहा है। बादलों की ऊंचाई बढ़ गई है। बारिश की रिमझिम फुहारें घट गई हैं। मौसम के एक्सट्रीम इवेंट्स अब ज्यादा होने लगे हैं। इसीलिए गर्मी का विस्तार हो रहा है।
शुक्रवार को टूटा 10 साल का रिकॉर्ड
शुक्रवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 38.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 18 सितंबर की तारीख में 2011 से लेकर 2020 का यह सर्वाधिक अधिकतम तापमान है। न्यूनतम तापमान भी सामान्य से तीन डिग्री अधिक 27.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 43 से 79 फीसद रहा।                     


कलयुगी बेटे ने मां को मारी गोली, मौत

माँ दे रही थी बेटी को संपत्ति में बराबर का हिस्सा, कलयुगी पुत्र ने कर दी माँ की हत्या।


मोदीनगर। एक कलयुगी बेटे ने संपत्ति के लालच में अपनी मां की गोली मारकर हत्या कर दी। मामला मोदीनगर थाना क्षेत्र के गोविंदपुरी का है। माँ की हत्या करने वाले हरेंद्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हरेंद्र ने अपनी 74 वर्षीय मां सावित्री देवी को इसलिए गोली मार दी, क्योंकि सावित्री देवी अपनी बेटी को भी संपत्ति में बराबर का हक देना चाहती थी।
कुछ समय पहले सावित्री के पति, यानी हरेंद्र के पिता की मौत हो गई थी। उसके बाद से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था। सावित्री देवी ने साफ कर दिया था कि वे छोटे बेटे धर्मेंद्र और बेटी अनीता के नाम भी बराबर की संपत्ति करेगी। बेटे हरेंद्र को यही बात नागवार गुजर रही थी।
सिर पर मारी गोली।
बताया जा रहा है कि बेटे ने अपनी विधवा मां की हत्या किसी गुस्से में आकर नहीं, बल्कि सोचे समझे तरीके से की। पहले वो कहीं से हथियार लेकर आया और फिर मां की कनपटी पर तमंचा सटाकर गोली चला दी। जैसे ही आरोपी ने गोली चलाई, अफरा-तफरी का माहौल हो गया. मौके पर भीड़ भी इकट्ठा हो गई। हालांकि हत्यारे को अपनी करनी पर थोड़ा सा भी पछतावा नहीं था और उसने मौके से भागने की कोशिश नहीं की। पुलिस के आते ही आरोपी ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया।
आरोपी की पत्नी से पूछताछ करेगी पुलिस।
प्राथमिक तौर पर यही कारण सामने आ रहा है कि बहन से नाराज भाई ने मां की हत्या कर दी। फिर भी पुलिस तमाम पहलुओं की जांच पड़ताल कर रही है। आरोपी हरेंद्र की पत्नी से भी पुलिस पूछताछ करेगी। पुलिस ने मौके से ही हत्या में इस्तेमाल किया गया देसी तमंचा भी बरामद कर लिया है।             


जशपुर में सड़क पर उतरेंगे हजारों लोग

जशपुर में गर्म हुई सियासतः सोमबार को सड़क पर उतरेंगे हजारों लोग पुलिसिया कार्रवाई से नाराज हिन्दू संगठनों ने लिया बड़ा फैसला।


जशपुर। जिले के आस्ता में मवेशी तस्करी को लेकर दो समुदायों के बीच शुरू हुआ बवाल फिलहाल थमता हुआ नहीँ दिख रहा है। पूलिस दोनो समुदायों के विरुद्ध कार्रवाई करके विवाद का संतुलन बनाने में जरूर लगी है लेकिन पुलिस एक्शन के बाद यह मामला अब और असंतुलित हो गया है।
विश्व हिंदू परिषद ने कहा है प्रदेश सरकार गौ रक्षकों के विरुद्ध दमन नीति चला रही है नतीजतन गौ तश्करी का विरोध करने वाले सैंकड़ो निर्दोष ग्रामीणों के विरुद्ध न केवल मामला दर्ज किया गया बल्कि उनकी गिरफ्तारी भी शुरू हो गयी।
विश्वहिंदू परिषद के जशपुर जिलाध्यक्ष राजेश गुप्ता ने बताया कि आस्ता के निर्दोष ग्रामीणों के विरुद्ध हो रहे पुलिसिया दमन के खिलाफ सोमवार को पूरे जिले में जेल भरो आंदोलन किया जाएगा।जिले भर के लोग और विश्व हिंदू परिषद के सभी अनुसांगिक संगठनों के सदस्य अपने अपने थाना क्षेत्र में गिरफ्तारियां देकर सरकार की दमननीतियो का विरोध करेंगे।उन्होंने बताया कि प्रदेश के नेताओं से इस बारे में चर्चा चल रही है और यह आंदोलन पूरे प्रदेश में शुरू किया जा सकता है।जिसकी शुरुआत सोमबार से जशपुर से होगी ।
आपको बता दें कि सोमवार को मवेशी तस्करी को लेकर आस्ता के खमली गाँव और गौ तश्करी का विरोध कर रहे ग्रामीणों के बीच जमकर मारपीट हुई थी।इसके बाद गौ तश्करी का विरोध कर रहे सैंकड़ो लोग सड़क पर उतरकर खमली गाँव के लोगो को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग करने लगे इतना ही खमली गाँव गाँव के लोगो के विरुद्ध कार्रवाई नही होने पर स्थिति इतनी बिगड़ गयी कि लोग खमली गाँव कुच करने लगे।बाद में स्थिति को सम्हालते हुए पुलिस ने खमली गांव के 11 लोगो को गिरफ्तार कर लिया लेकिन अगले दिन इस पक्ष के डेढ़ सौ लोगो के खिलाफ़ महामारी एक्ट के तहत मामला दर्ज करके 8 लोगो को गिरफ्तार भी कर लिया और यही कार्रवाई हिन्दू संगठनों को नागवार गुजरी।इनका कहना है कि गौ तश्करी का विरोध करना अपराध है,या गौ तश्करी करना पूलिस पहले यह स्पष्ट करे ।             


ग्रामीणों को बिजली की सुविधा नही मिलींं

एक गांव ऐसा भी जहां लगभग आधे गांव में बिजली आज तक नहीं पहुंच पाई।


आंवला। महिपाल आंवला में आज भी एक ऐसा गांव है जिससे लगभग आधी आबादी के घरों मे बिजली जलना मतलब दिन में सपने देखने जैसा है ग्रामीणों का कहना है कोई भी जनप्रतिनिधि हमारी समस्या पर ध्यान नहीं देता लाइनमैन से लेकर जेई तक सब से कह चुके हैं यह लोग लेकिन एक लंबा समय गुजर जाने के बाद भी आज भी बत्ती का मतलब इन के लिए सोने के पहाड़ से कम नहीं है आंवला तहसील के गांव मोहम्मदगंज की महिलाओं ने बताया कि प्रधानमंत्री ने वादा किया था हर घर में बत्ती पहुंचाएंगे लेकिन हमारे गांव का हाल शायद प्रधानमंत्री को मालूम नहीं विभाग के अधिकारी भी इस और ध्यान नहीं देते सरकार ने मट्टी का तेल देना बंद कर दिया है और ऊपर से बिजली का ना होना हम सब लोगों को अंधेरे में रहने को मजबूर करता है बच्चों की पढ़ाई भी ठीक से नहीं हो सकती कोई हमारी नहीं सुनता है बड़े-बड़े शहरों में 24:24 घंटे लाइट रहती है हमारी तो आंखें तरस गई 24 सेकंड लाइट देखने को भी हम लोग चाहते हैं कि हमारी यह आवाज सरकार तक जरूर पहुंचे और सरकार हमारी समस्या का समाधान करे ।
बिशारतगंज विद्युत उपखंड के जेई सज्जन सिंह के अनुसार ऐसा मामला हमारी जानकारी में नहीं है दिखाते हैं और आगे काम करवाएंगे।


प्रधानमंत्री आवास योजना का असली चेहरा

साहब हम कुछ ज्यादा ही गरीब हैं इसलिए हमें नहीं मिल पा रहा आवस।
आंवला। महिपाल मझगवां ब्लॉक के गांव मोहम्मद गंज की शांति देवी ने बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री आवास के लिए एक बार नहीं कई बार आवेदन कर चुकी हैं लेकिन आवास नहीं बन पाया कहा की कई बार सर्वे हो चुका है लेकिन हमें तो लग रहा है इस जीवन में आवास एक सपना बनकर रह जाएगा इसी गांव के निवासी रामकिशन का भी यही कहना है कि उन्होंने आवास के लिए आवेदन तो किया सचिव और वीडियो को कई कई बार कागज दे दिए लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला अब तो हमें लग रहा है प्रधानमंत्री आवास सपने में भी नहीं मिलेगा दोनों आवेदन कर्ताओं ने पूरे सिस्टम को ही कटघरे में खड़ा कर दिया बोले साहब की हम ज्यादा ही गरीब हैं इसलिए हमें आवास तो नहीं मिल पा रहा जो लोग मोटे मोटे हैं उनके बहुत पहले ही आवास बन चुके हैं। हमारी कोई नहीं सुन रहा है हम बड़े परेशान हैं, जनप्रतिनिधि आते हैं वादे करके चले जाते हैं करते कुछ नहीं है वोट मांगने के लिए फिर आ जाते हैं लेकिन गरीबों की तरफ कोई नहीं देख रहा सरकार से पैसा आता है अधिकारी खा जाते हैं हम जैसे गरीबों को कुछ नहीं मिलता सरकार हमारी भी सुने और भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्यवाही करें।             


छत्तीसगढ़ में मिलेंं 3842 नए संक्रमित

प्रदेश में आज मिले 3842 नए कोरोना मरीज, 17 की मौत… देखें मेडिकल बुलेटिन।


रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण आए दिन तेजी से बढ़ते ही जा रही है। प्रदेश के कई जिलों से भारी संख्या में कोरोना मरीजों की पहचान की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार आज कुल प्रदेश में कोरोना के 3842 नए मामले सामने आए हैं, और मरीज 2614 डिस्चार्ज हुए हैं। वहीं आज 17 और कोरोना संक्रमित की मौत हो गई।
इन जिलों से मिले नए मरीज।
राजधानी की बात करे तो आज रायपुर से 672 नये कोरोना मरीज मिले हैं, वहीं दुर्ग में 436, जांजगीर में 334, राजनांदगांव में 309, बिलासपुर में 302, कोरबा में 185, रायगढ़ में 168, बस्तर में 163, बीजापुर में 145, दंतेवाड़ा में 133, धमतरी में 118, नारायपुर में 91, बालोद में 90, कबीरधाम में 65, सुकमा-कांकेर में 63-63, बलौदाबाजार, सूरजपुर व सरगुजा में 62-62, बेमेतरा से 56, मुंगेली से 51, कोंडांगांव से 47, कोरिया से 43, गरियाबंद से 38, जीपीएम से 35, जशपुर से 30, बलरामपुर से 15, महासमुंद से 3, अन्य राज्य से एक मरीज मिले हैं।
प्रदेश की स्थिति।
कुल संक्रमित – 81617
एक्टिव केस – 36580
डिस्चार्ज मरीज – 44392
कुल मौत – 645 हुई।                 


अलर्टः दिल्ली में फिर डरा रहा है कोरोना

दिल्ली में फिर डरा रहा है कोरोना, जानें माइल्ड लक्षण दिखने पर कैसे रखें अपना ध्यान।


नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना का कहर इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि एक बार फिर स्कूल 5 अक्टूबर तक के लिए बंद करने पड़ गए। हालांकि स्कूल अभी पूरी तरह खुले भी नहीं थे। यहां जानें, माइल्ड लक्षण दिखने पर कैसे रखें अपना ध्यान।
स्कूल अभी पूरी तरह खुले भी नहीं थे कि कोरोना वायरस के कहर को देखते हुए सरकार की तरफ से एक बार फिर स्कूलों को बंद करने के दिशा-निर्देश आ गए हैं। ताजा जानकारी के अनुसार बच्चों के लिए स्कूल अब 5 अक्टूबर तक बंद रहेंगे। इन स्थितियों में आपको पता होना चाहिए कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के तरीके क्या हैं।
देखरेख से जुड़ी मूलभूत बातें।
-कोरोना संक्रमण के समय में आपको कैसी डायट लेनी चाहिए, अपनी डेली ऐक्टिविटीज के दौरान किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और इन सबके साथ ही आपको इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए कि यदि आपके या परिवार के किसी सदस्य के अंदर कोरोना संक्रमण के माइल्ड लक्षण देखने को मिलें तो आपको होम आइसोलेशन के दौरान किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।
कौन लोग कर सकते हैं होम आइसोलेशन।
-ऐसा नहीं है कि अगर आपको अपने अंदर कोरोना वायरस के माइल्ड लक्षण समझ आ रहे हैं तो इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि आप स्वयं ही इस बात का निर्णय कर लें कि आपको होम आइसोलेशन की जरूरत है।
-यूनियन हेल्थ मिनिस्ट्री की गाइलाइन्स के अनुसार, होम आइसोलेशन की जरूरत किसी व्यक्ति को है या नहीं इसका निर्णय केवल मेडिकल ऑफिसर द्वारा जांच किए जाने के बाद ही लिया जा सकता है।
ये हैं होम आसोलेशन के नियम।
-होम आइसोलेशन पर जाने से पहले पेशंट को मेडिकल ऑफिसर द्वारा दी गई गाइडलाइन्स को अपनाने और पूरी तरह फॉलो करने के लिए एक छोटा-सा फॉर्म भरकर अपनी स्वीकार्यता देनी पड़ती है।
-पेशंट की देखरेख के लिए 24 घंटे और 7 दिन यानी हर समय एक केयरटेकर होना चाहिए। इसके साथ ही देखभाल करनेवाला व्यक्ति ट्रीटमेंट कर रहे डॉक्टर या मेडिकल ऑफिसर के नियमित संपर्क में होना चाहिए। ताकि डॉक्टर को पेशंट की सही स्थिति की जानकारी मिले।
-देखभाल करनेवाले व्यक्ति को मरीज की सेहत को लगातार मॉनिटर करना होगा। इस दौरान वह पेशंट का बॉडी टेंप्रेचर चेक करना, उसकी ब्रीदिंग प्रॉसेस की समय-समय पर जांच करना। खांसी, फीवर और कोरोना के बढ़ते लक्षणों पर नजर रखना शामिल हैं।
-पेशंट के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप जरूर होना चाहिए। साथ ही इस ऐप को ऐक्टिव रखना संक्रमित व्यक्ति के परिजनों की जिम्मेदारी है। इसके साथ ही पेशंट को खुद अपनी हेल्थ से जुड़ी जानकारी अपने हेल्थ एक्सपर्ट को और डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर को देनी होती है।
आपको घर में चाहिए ये जरूरी चीजें।
-सबसे पहले आपको घर में एक ऐसा कमरा चाहिए होगा, जहां आप अपने परिवार के बीच रहते हुए भी परिवार से पूरी तरह अलग रह सकें। ताकि आपके परिवार में किसी और को यह संक्रमण ना हो।
-अपनी सेहत से जुडे किन परिवर्तनों पर आपको खास नजर रखनी है, इस बारे में आप अपने डॉक्टर से पूरी जानकारी लें। साथ ही पल्स ऑक्सिमीटर, बीपी चेक करना, शरीर का तापमान चेक करना आदि के बारे में जानें।
-होम आइसोलेशन के दौरान आपको अपनी डायट पर भी पूरा ध्यान देना है। ताकि आपके शरीर को पूरा पोषण मिलता रहे। वायरस आपके शरीर पर हावी ना हो पाए और आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि हो सके।             


राज्यसभा में बसपा ने आरक्षण की मांग की

राज्यसभा में बसपा ने जम्मू में ओबीसी और अनुसूचित जाति के आरक्षण की मांग की।


नई दिल्ली। राज्यसभा में शनिवार को बहुजन समाज पार्टी के एक सदस्य ने सरकार से मांग की कि जम्मू कश्मीर में अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति के लिए आरक्षण बढा कर अन्य राज्यों के समान किया जाए।
शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए बसपा के राजा राम ने कहा कि जम्मू में अन्य पिछड़ा वर्ग की आबादी 35 फीसदी है और उन्हें केवल दो फीसदी ही आरक्षण प्राप्त है जबकि अन्य राज्यों में ओबीसी के लिए आरक्षण 14 फीसदी और कहीं 27 फीसदी है।
राजा राम ने कहा कि इसी तरह जम्मू कश्मीर में अनुसूचित जाति के लोगों की आबादी 17 फीसदी है और उन्हें आठ फीसदी आरक्षण मिला है जबकि अन्य राज्यों में उन्हें 15 फीसदी आरक्षण प्राप्त है।
बसपा सदस्य ने मांग की कि जम्मू कश्मीर में अन्य पिछड़ि वर्ग और अनुसूचित जाति के लोगों के लिए आरक्षण बढा कर उतना किया जाए जितना अन्य राज्यों में है।
उन्होंने कहा कि पिछले साल पांच अगस्त को जब जम्मू कश्मीर से, उसे विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान हटाए गए तब बसपा ने सरकार का साथ दिया था।
राजा राम ने कहा ‘तब बसपा ने यह कहते हुए केंद्र का साथ दिया था कि अनुच्छेद 370 की वजह से जम्मू कश्मीर के लोगों को केंद्र की योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता।लेकिन आज एक साल से अधिक समय बीत गया, अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति के लोगों की स्थिति में कोई बदलाव नहीं हुआ है।
सभापति एम वेंकैया नायडू ने इसे महत्वपूर्ण मुद्दा बताते हुए कहा कि गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी इस मुद्दे को देखें और कारण भी पता करें।           


विधेयक के विरोध में जजपा और भाजपा

कृषि विधेयक के विरोध में जजपा वह भाजपा के कद्दावर नेताओं की आढ़त भी हड़ताल में शामिल।


रतन सिंह


होडल। होडल अनाज मंडी समिति ने सरकार के कृषि विधेयक को काला कानून करार दिया है। पूर्व मंत्री एवं जजपा के कद्दावर नेता के आश्वासन के बाद भी हड़ताल हड़ताल वापस लेने के मूड में नहीं है। आज दूसरे दिन भी व्यापारियों ने अपने व्यापारिक संसथान पूरी तरह बंद रखे। भाजपा एवं जजपा के नेताओ की दुकाने भी हड़ताल में शामिल है। होडल अनाज मंडी समिति सरकार से पूरी तरह आरपार की लड़ाई के मूड में नजर आ रही है।


 होडल अनाज मंडी में भाजपा के विधायक जगदीश नायर , पूर्व जिला अध्यक्ष जवाहर सिंह सोरोत, भाजपा नेता भूपेश गोयनका, महावीर जैन, जजपा के कद्दावर नेता पूर्व मंत्री एवं राष्ट्रीय महासचिव हर्ष कुमार, जजपा के जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह सोरोत जैसे नेताओ की आढ़त की दुकाने हे। व्यापर मंडल के आह्वान पर सभी आढ़तियों ने हड़ताल के पक्ष में अपनी दुकाने पूरी तरह बंद कर दी है। बताया गया है की पूर्व मंत्री एवं जजपा नेता हर्ष कुमार ने आज होडल अनाज मंडी का दौरा किया और व्यपारियो को समझाने का प्रयास किया लेकिन व्यपारी जब तक अध्यादेश में संसोधन नहीं होता मानने को तैयार नहीं हैं।


केंद्र सरकार  एक ओर सरकार से लेकर प्रदेश सरकार इस अध्यादेश को किसानो के हित में बता रही है वही व्यापारी वर्ग  इसे काला कानून घोषित करने में लगे हुए हैं। व्यापारियों  ने कहा कि सरकार ने व्यापारियों के बच्चों के हाथ में कटोरा देने का कानून पास किया है जब तक सरकार इस काले कानून को वापस नहीं लेती हैं हड़ताल समाप्त नहीं करेंगे।                  


विभाग की लूट-खसौट से परेशान जनता

रामपुर। इडियन यूनियन मुस्लिम लीग के यूथ नगर अध्यक्ष समी एस आर के ने अपने बयान में कहा कि बिजली विभाग आऐ दिन बिजली चैकिंग के नाम पर गरीब जनता को लूट रहा है। जो चिंता का विषय है उनहोंने कहा कि गरीब जनता बहुत परेशान है और बिजली विभाग अपनी मनमानी व गुंडा गरदी कर रहा है। उनहोंने कहा कि बार बार चेताने के बाद भी शासन व प्रशासन क्यो खामोश है। क्यो बिजली विभाग की गुंडा गरदी को अनदेखा कर रहा है? समी एस आर के ने कहा कि क्या प्रशासन व बिजली विभाग मिलकर तो बंडर बाँट तो नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जनता बहुत परेशान हो गयी है कहीं ऐसा न हो कि जनता का सब्र का बांध टूट न जाएं।उनहोंने प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि बिजली विभाग पर जल्द से जल्द कोई कार्यवाही करेंं। कयोंंकि बिजली विभाग रात के अंधेरे में चोरो की भांति किसी भी घर में घुस जा रहा है। ऐसी कार्य वाही से कहीं ऐसा न हो शहर में कोई बड़ी वारदात न हो जाए। उसका जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ बिजली विभाग होगा।                 


स्पासेंटर की आड़ में देह व्यापार, 5 अरेस्ट

स्पा सेंटर की आड़ में चल रहा था। देह व्यापार, 5 युवतियां गिरफ्ता।


बाड़मेर। बाड़मेर शहर में पुलिस ने स्पा सेंटर की आड़ में चल रहे। वेश्यावृत्ति के धंधे का भंडाफोड़ कर 5 युवतियो और 2 दलालों को गिरफ्तार किया है। जिले में तीन दिन के भीतर पुलिस ने पीटा एक्ट  की यह दूसरी बड़ी कार्रवाई की है। बाड़मेर के उत्तरलाई रोड़ पर स्पा सेंटर में मसाज की आड़ में अनैतिक गतिविधियों और वेश्यावृत्ति की सूचना मिली थी। इस पर पुलिस ने स्पा सेंटर में अपना डमी ग्राहक भेजा था। पुलिस की योजना के अनुसार मामला सैट होने पर पुलिस टीम ने वहां दबिश दी।
पुलिस ने मौके से वेश्यावृत्ति में लिप्त 5 युवतियां।महिलायें और 2 दलाल गिरफ्तार किए हैं। पुलिस इनकी कुंडली खंगालने में लगी है। इससे दो दिन पहले बाड़मेर पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा के नेतृत्व में बालोतरा उपखण्ड में एक स्पा सेंटर में बड़ी कार्रवाई कर बाहरी राज्य की 4 युवतियों और 3 स्थानीय युवकों को गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद बाड़मेर शहर में यह दूसरी बड़ी कार्रवाई की गई है। बालोतरा में कार्रवाई पचपदरा रोड़ स्थित एक स्पा सेंटर पर की गई थी। उल्लेखनीय है। कि प्रदेश के कई इलाकों में वेश्यावृत्ति का धंधा खूब फलफूल रहा है। वर्तमान में स्पा सेंटर की आड़ में ही यह गंदा धंधा किया जा रहा है। पिछले कुछ समय में पुलिस ने प्रदेश के अलग-अलग जगहों पर पीटा एक्ट के तहत कार्रवाई की इस धंधे पर अंकुश लगाने का प्रयास किया है। लेकिन इसकी जड़ें काफी गहरी हैं। इसके चलते आरोपी जमानत पर छूटते ही फिर इस धंधे में लिप्त हो जाते हैं।                


अवैध निर्माण पर एसडीएम का बुलडोजर चला

अवैध निर्माण पर एसडीएम ने चलवाया बुलडोजर।


पीलीभीत। तहसील अमरिया क्षेत्र के मुडलियां गौसू गांव में अवैध निर्माण पर एसडीएम ने चलाया बुलडोजर सरकारी रास्ते की जमीन पर अवैध कब्जा कर बनाया गया था मकान जिसको राजस्व विभाग की टीम ने अवैध निर्माण को जेसीबी मशीन से गिरा दिया है। अमरिया एसडीएम अंजलि गंगवार ने टीम के साथ मंडलियां गौसू गांव पहुंचकर सरकारी रास्ते की जमीन पर अवैध रूप से निमार्ण किया गया था।


जिसपर एसडीएम तहसीलदार ने बुलडोजर चलाकर मकान को तुड़वा दिया है।अवैध तरीके से रास्ते की जमीन में बनाएं गए मकान को ध्वस्त करा दिया गया है।जिससे अवैध कब्जेदारो में हड़कंप मच हुआ है।


विनोद कुमार वर्मा         


भारतः युद्ध को धमकी दे रहा है 'चीन'

सतीश कुमार


बीजिंग/ नई दिल्ली। माह में भारत और चीन की सेना के बीच लद्दाख में एलएसी पर शुरू हुआ संघर्ष बीते माह कुछ थमता दिख रहा था। लेकिन बीते करीब एक सप्ताह से परिस्थितियां फिर से बिगड़ती जा रही हैं। चीन की सेना ने लद्दाख में पैंगोंग झील के दक्षिणी हिस्से में अड्डा बनाना शुरू कर दिया है। यह क्षेत्र भारत के सामरिक महत्व के लिहाज से अत्यंत संवेदनशील है।


भारत ने भी अपनी सैन्य क्षमता बढ़ा दी है। पिछले सप्ताह विदेश मंत्री स्तर की बातचीत में चीन ने पांच सूत्री संधि की बात मानी थी, जिसमें स्थिति को हर कीमत पर बातचीत के द्वारा तय करने पर सहमति जताई गई थी। लेकिन लगता नहीं है कि चीन कि मंशा ठीक है, क्योंकि उसने हठधर्मिता के साथ कहा है कि वह एक इंच भी नहीं पीछे हटेगा। यानी चीन युद्ध की धमकी दे रहा है।               


नाबालिग को अगवा कर किया बलात्कार

१6वर्षीय नाबालिक का अपहरण कर किया ब्लात्कार आरोपी फरार।


अरविंद सैनी


मुजफ्फरनगर। यूपी के मुजफ्फरनगर जिले के एक गांव निवासी एक युवक ने 16 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण कर उससे साथ बलात्कार किया। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी।उन्होंने बताया कि घटना भोपा पुलिस थाने के अंतर्गत गांव में शुक्रवार को हुई। पुलिस के मुताबिक लड़की शाम को अपने घर वापस पहुंची।जिसके बाद भारतीय दंड संहिता की धारा 363 (अपहरण) 376 (बलात्कार) और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने बताया कि आरोपी फरार है। लड़की के परिवार द्वारा दर्ज कराई गई। शिकायत के अनुसार।आरोपी उसे अपनी मोटरसाइकिल पर पास ही में कहीं ले गया। और उससे बलात्कार किया।                 


जोड़ों का दर्द, हल्दी है ज्यादा असरदार

जोड़ों के दर्द में पेनकिलर से ज्यादा असरदार हैं ये चीज़।


जोड़ों के दर्द से परेशान हैं। पर किडनी या लिवर को नुकसान पहुंचने के डर से ज्यादा पेनकिलर भी नहीं खाना चाहते। अगर हां तो खाने में हल्दी की मात्रा बढ़ा दीजिए। ऑस्ट्रेलिया स्थित तसमानिया यूनिवर्सिटी के हालिया अध्ययन में हल्दी को ऑस्टियोआर्थराइटिस का रामबाण इलाज करार दिया गया है। इसमें मौजूद करक्युमिन दर्द के एहसास में कमी लाने में बेहद कारगर साबित हो सकता है।
शोधकर्तओं के मुताबिक हल्दी ‘करक्युला लोंगा’ नामक पौधे की सूखी जड़ को पीसकर तैयार की जाती है। इसमें पाया जाने वाला ‘करक्युमिन  नाम का पॉलीफेनॉल अपने संक्रमण और सूजन रोधी गुणों के लिए मशहूर है। यही वजह है कि जो लोग नियमित रूप से हल्दी का सेवन करते हैं।उन्हें न सिर्फ जोड़ों में सूजन की शिकायत से निजात मिलती है। बल्कि दर्द का एहसास जगाने वाले सिग्नल भी ब्लॉक होते हैं।
अध्ययन के दौरान शोधकर्ताओं ने ऑस्टियोआर्थराइटिस से जूझ रहे 70 मरीजों को दो समूह में बांटा। पहले समूह में शामिल प्रतिभागियों को रोजाना हल्दी से तैयार दो कैप्सूल का सेवन करवाया। वहीं।दूसरे समूह को दर्दनिवारक दवा बताकर साधारण मीठी गोली खिलाई। 12 हफ्ते बाद पहले समूह के प्रतिभागियों ने दूसरे समूह के मुकाबले जोड़ों के दर्द में कहीं ज्यादा राहत मिलने की बात कही। उन्होंने पेनकिलर की खुराक घटाने की भी जानकारी दी।
शोधकर्ताओं ने दावा किया कि ऑस्टियोआर्थराइटिस के इलाज के लिए फिलहाल पेनकिनर के अलावा कोई और असरदार दवा नहीं है। ऐसे में डॉक्टर हल्दी को एक बेहतरीन साइडइफेक्ट रहित उपचार के रूप में सुझा सकते हैं। प्रतिभागियों के जोड़ों के स्कैन से पता चलता है। कि हल्दी उनकी संरचना में कोई बदलाव नहीं लाती, पर सूजन घटाकर पेन सिग्नल को जरूर बाधित कर देती है।जिससे दर्द के एहसास में कमी आती है। अध्ययन के नतीजे एनल्स ऑफ इंटरनल मेडिकल जर्नल।के हालिया अंक में प्रकाशित किए गए हैं।
क्या है ऑस्थियोऑर्थराइटिस-
ऑस्थियोऑर्थराइटिस कार्टिलेज में क्षरण से जुड़ी एक स्वास्थ्य समस्या है। इसमें हड्डियों के सिरों को ढंकने वाली परत पतली जबकि हड्डियां मोटी होने लगती हैं। नतीजतन व्यक्ति को जोड़ों में असहनीय दर्द का सामना करना पड़ता है।
दुनियाभर में 2017 में 30.3 करोड़ से ज्यादा ऑस्टियोआर्थराइटिस के मामले सामने आए
60 साल से ऊपर के लगभग 20 फीसदी बुजुर्गों के इस बीमारी से जूझने का है।अनुमान
33% मामलों में ऑस्टियोआर्थराइटिस के शिकार बुजुर्ग चलने।फिरने में असमर्थ हो जाते हैं।सुपरफूड में शुमार
मेयो क्लीनिक के अध्ययन में हल्दी को ट्यूमर के विकास पर लगाम लगाने और कैंसर कोशिकाओं का खात्मा करने में कारगर पाया गया था।सटर मेडिकल ग्रुप के शोध में हल्दी क्लॉटिंग (खून के थक्के जमना) की रोकथाम में कारगर मिली थी। इससे हार्ट अटैक से मौत का खतरा घटता है।अमेरिकन जर्नल ऑफ गेरियाट्रिक साइकेटरी में छपे रिसर्च में हल्दी को तंत्रिका तंत्र की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचने से रोकने में मददगार करार दिया गया था। इससे ढलती उम्र में याददाश्त-तर्क शक्ति नहीं पड़ती कमजोर।               


मुठभेड़ में बदमाश, कांस्टेबल को लगी गोली

मुठभेड़ में गोली लगने से बदमाश व सिपाही दोनों घायल।
 शैलेन्द्र मिश्र


 अंबेडकर नगर। उत्तर प्रदेश के जनपद अम्बेडकरनगर के थाना आलापुर पुलिस व बदमाश के बीच हुई मुठभेड़ में गोली लगने से बदमाश व सिपाही घायल हो गए। मामला आलापुर थाना क्षेत्र के चहोड़ा घाट का है।जहां शुक्रवार की देर शाम थानाध्यक्ष नागेंद्र सरोज उपनिरीक्षक प्रदीप कुमार सिंह बिड़हरघाट पुल के निकट हमराही पुलिसकर्मियों के साथ चेकिंग कर रहे थे।इसी दौरान संदिग्ध बाइक सवार को रुकने का इशारा किया तो वह चहोंड़ा घाट की ओर भागा। सूचना पर सक्रिय हुए आलापुर थानाध्यक्ष बृजेश सिंह पुलिस टीम के साथ पहुंचे। पुलिस टीम द्वारा रुकने का इशारा करते ही बदमाश फायरिंग करने लगा। आत्मरक्षा में पुलिस टीम द्वारा गोली चलाई गई जिसमें बदमाश घायल हुआ वही बदमाश की गोली से आलापुर के कांस्टेबल तारकेश्वर भी चोटिल हुआ है। बदमाश की पहचान मनोज चौहान पुत्र सत्यनारायण चौहान निवासी कश्मिरिया चौराहा टांडा के रूप में हुई है।घायल सिपाही व बदमाश को इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रामनगर पहुंचाया गया सूचना पर क्षेत्राधिकारी जगदीश लाल तथा राजेसुलतानपुर थानाध्यक्ष राम लखन पटेल मौके पर पहुंचे और बदमाश से आवश्यक पूंछतांछ किया।                


भारत के बाद चीन के ताइवान में घुसपैठ

भारत के बाद चीन की ताइवान में घुसपैठ:चीन के 18 फाइटर जेट्स ने ताइवान की सीमा में उड़ान भरी


ताइपे/ बीजिंग। चीन के 18 फाइटर जेट्स ने ताइवान की सीमा में उड़ान भरी।
यह फोटो शुक्रवार की है और ताइवान की डिफेंस मिनिस्ट्री ने जारी की है। इसमें चीन का एक फाइटर जेट ताइवान के एयर स्पेस में उड़ान भरता नजर आ रहा है। चीन के 18 फाइटर जेट्स ने शुक्रवार को ताइवान की वायुसीमा में उड़ान भरी।
चीन ने यह हरकत उस वक्त की जब अमेरिका के अंडर सेक्रेटरी कीथ क्रेच ताइवान में मौजूद थे।
साउथ चाइना सी में चीन छोटे देशों को धमका रहा है, अमेरिका बोला- ताइवान का साथ देने को तैयार। चीन के 18 फाइटर जेट्स शुक्रवार शाम ताइवान के हवाई क्षेत्र में घुसे। इन फाइटर जेट्स ने कुछ मिनट तक यहां उड़ान भरी और बाद में लौट गए। बाद में चीन ने कहा- यह हमारी तरफ से अमेरिका और ताइवान को वॉर्निंग है। खास बात ये है कि जिस वक्त यह फाइटर जेट्स ताइवान के आकाश में उड़ान भर रहे थे, तब अमेरिका के अंडर सेक्रेटरी कीथ क्रेच ताइवान की राजधानी ताइपे में एक प्रोग्राम में मौजूद थे।


चीन के फाइटर जेट्स जब ताइवानी सीमा से लौटे तो उसके कुछ देर बाद चीन के रक्षा मंत्रालय के एक सीनियर अफसर का बयान आया। कर्नल रेन गुओकियांग ने कहा- जो लोग आग से खेलने की कोशिश कर रहे हैं, वे जल जाएंगे। वहां के एक सरकारी थिंक टैंक ने कहा- हमारी तरफ से यह अमेरिका और ताइवान दोनों को वॉर्निंग है।


चीन अब भारत के बाद ताइवान में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहा है। जून से लेकर अब तक चीन लद्दाख सीमा में घुसपैठ की कोशिश में लगा है। चीन द्वारा भारतीय राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 10 हजार लोगों की जासूसी की खबरें सामने आई थीं।


अमेरिका ने जवाब नहीं दिया
दो महीने में यह दूसरा मौका है जब डोनाल्ड ट्रम्प ने किसी मंत्री स्तर के अफसर को ताइवान भेजा है। 1979 के बाद से अमेरिका का कोई बड़ा अफसर ताइवान नहीं जाता था। हालांकि, दोनों देशों के बीच कूटनीतिक रिश्ते हैं। चीन की इस हरकत पर अमेरिका ने अभी जवाब नहीं दिया।                   


गैंगस्टर की 16 करोड़ की संपत्ति कुर्कः यूपी

पुलिस ने गैंगस्टर अधिनियम के तहत भू-माफिया की 16 करोड़ की संपत्ति कुर्क ।


अनवर अंसारी


देवरिया। उत्तर प्रदेश में देवरिया जनपद के जिला मजिस्ट्रेट के आदेश संख्या-759/2020 के अनुपालन में शुक्रवार की शाम गैंगेस्टर ऐक्ट के अभियुक्त राम प्रवेश यादव पुत्र जगत नारायण यादव निवासी ग्राम अमेठी (देवरिया खास), थाना कोतवाली जनपद देवरिया (वित्तीय अधिकार सीज्ड जिला पंचायत अध्यक्ष) के विरूद्ध गिरोह बन्द अधिनियम की धारा 14 (1) के अन्तर्गत अवैध रूप से अर्जित की गयी मकान व जमीन सहित अन्य चल-अचल सम्पत्तियां जिसकी अनुमानित कीमत करीब 16 करोड़ रूपये है। जिसे कुर्क करते हुए सारी संपत्ति का रिसीवर तहसीलदार सदर व प्रभारी निरीक्षक कोतवाली जनपद देवरिया को नियुक्त किया गया है। इस दौरान पुलिस अधीक्षक डॉ.श्रीपति मिश्र ने बताया कि अभियुक्त रामप्रवेश यादव के विरूद्ध थाना कोतवाली पर विभिन्न धाराओं में 03 अभियोग पंजीकृत हैं। इसके अलावा वर्ष-2018 में अभियुक्त द्वारा एक व्यक्ति का अपहरण करके उससे जबरदस्ती जमीन लिखवा लिया गया था। जिसमें प्रथम कुर्क की गयी 21 अदद भूमि व प्लाट की सम्पत्तियाँ लगभग। 11,75,13,000/- रू0 एवं द्वितीय देवरिया खास व अमेठी में 53,51,213/- रू0 का मकान जिसके भूमि की कीमत लगभग 22,32,000/- रू0 एवं तृतीय जय मां अमेठी ब्रिक फील्ड नाम से ईंट।भठ्ठा जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 62,94,000/- रू0 एवं चौथा पोल्ट्री फार्म (अण्डा फार्म) ग्राम देवरिया खास अमेठी की अनुमानित कीमत लगभग 1,95,38,000/- रू0 तथा अण्डा फार्म के जमीन की कीमत लगभग 65,21,000/- रू0 एवं फाॅरच्यूनर, स्कार्पियों। टैक्टर मय ट्राली तथा 04 दोपहिया वाहनों जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 43,12,027/- रू0 से अधिक है। जो अभियुक्त द्वारा अपराध कारित करके उपरोक्त सारी सम्पत्तियां। जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 16 करोड़ रू0 है। को आज भारी पुलिस बल के साथ जाकर मजिस्ट्रेट के समक्ष कुर्क किया गया। इसके बाद वहां पुलिस बल तैनात कर दिया गया।               


छत्तीसगढ़ में तेजी से फैल रहा है संक्रमण

81 हजार से ज्यदा हुआ प्रदेश में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा, शुक्रवार को मिले 3842 नये कोरोना मरीज।


रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण एक लाख के आंकड़े को पार करने को आतुर हो चला है, शुक्रवार को प्रदेश में 3842 नये कोरोना मरीज पाए गए हैं, इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमितोंकी संख्या 81617 हो गई है, जबकि 36580 लोग अभी कोरोना से प्रदेश में बीमार है, प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना से स्वस्थ्य हुए लोगों की संख्या 3281 है, जिसमें से 2614 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है, जबकि होम आइसोलेशन को 667 लोगों ने पूरा किया है, वहीँ 17 लोगों ने 24 घंटे के भीतर कोरोना संक्रमण से मौत भी हुई है।
जिलेवार आंकड़ा देखें तो रायपुर में आज 672 नये कोरोना मरीज मिले हैं, वहीं दुर्ग में 436, जांजगीर में 334, राजनांदगांव में 309, बिलासपुर में 302, कोरबा में 185, रायगढ़ में 168, बस्तर में 163, बीजापुर में 145, दंतेवाड़ा में 133, धमतरी में 118, नारायपुर में 91, बालोद में 90, कबीरधाम में 65, सुकमा-कांकेर में 63-63, बलौदाबाजार, सूरजपुर व सरगुजा में 62-62, बेमेतरा से 56, मुंगेली से 51, कोंडांगांव से 47, कोरिया से 43, गरियाबंद से 38, जीपीएम से 35, जशपुर से 30, बलरामपुर से 15, महासमुंद से 3, अन्य राज्य से एक मरीज मिले हैं।
मौत के आंकड़े की बात करें तो रायपुर में 5 लोगों की मौत हुई है, वहीं गरियाबंद में दो, रायगढ़ में 2, बिलासपुर में 1, मुंगेली में 1, कोरिया में 2, उत्तर बस्तर में 1, कांकेर में 1, जांजगीर में 1 मौत हुई है।             


दंगों को लेकर आईपीएस आएं आमने-सामने

दिल्ली दंगों को लेकर दाखिल चार्जशीट पर आईपीएस आमने-सामने…26 आईपीएस अफसरों ने लिखा एक सार्वजनिक पत्र।


नई दिल्ली। दिल्ली में इसी साल फरवरी माह में हुए दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस ने तकरीबन 17500 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की है। इसको लेकर अब आईपीएस अधिकारियों में दो खेमें हो गए हैं। बता दें कि पूर्व पुलिस ऑफिसर जूलियो रिबेरो के पत्र के जवाब में 26 आईपीएस अफसरों ने एक सार्वजनिक पत्र लिखा है। इस सार्वजनिक पत्र में आईपीएस अफसरों ने लिखा है, “पूर्व पुलिस अधिकारियों ने अपने जीवन में पूरे देश में अलग-अलग क्षमताओं में देश सेवा की है। जूलियो फ्रांसिस के नेतृत्व में कुछ साथी पूर्व पुलिस अधिकारियों का आचरण हैरान करने वाला है, महाराष्ट कैडर के रिबेरो आईपीएस (सेवानिवृत्त) हैं, जब वह पंजाब में आतंकवाद का सफाया करने के काम में जुटे हुए थे तब उन्होंने प्रसिद्ध वाक्यांश ‘BULLET FOR A BULLET’ को गढ़ा था, अब वे भारत विरोधी अभिव्यक्ति और सांप्रदायिक का समर्थन कैसे कर सकते हैं।उमर खालिद जैसे लोग जिन्होंने नारा दिया “भारत की बर्बादी तक जंग रहेगी” के समर्थन में रिबेरो और उनके सहयोगी कैसे समर्थन कर सकते हैं”पत्र में आगे लिखा गया है, “कानून की प्रक्रिया है और कानून से ऊपर कोई नहीं है, दिल्ली पुलिस के पास किसी भी अपराध की जांच करने का आधिकार है। किसी भी आरोपी की जांच नियत कानूनी प्रक्रिया का हिस्सा है। आरोपी के पास भी कानूनी अधिकार है जिसका वह अग्रिम जमानत या नियमित जमानत, जैसा भी मामला हो इस्तेमाल करने के लिए स्वतंत्र है। मुकदमे में ट्रायल के दौरान आरोपी खुद को निर्दोष साबित भी कर सकता है।
पत्र में लिखा है, “पूर्व पुलिस अधिकारियों का एक वर्ग खुद के लिए या अपने पसंद के व्यक्ति के लिए नियम नही गढ़ सकता है, और किसी को भी निर्दोष घोषित नहीं कर सकता है इसके लिए न्यायालयों के पीठासीन अधिकारियों का कार्यालय है या कोर्ट बना है। श्री गुरु जैसे अधिकारी पुलिस बल की छवि खराब करने का प्रयास कर रहे हैं, इन अधिकारियों के पास भारतीय पुलिस सेवा में उनके उत्तराधिकारी की क्षमता और व्यावसायिकता पर संदेह या सवाल करने का कोई अधिकार नहीं है, ऐसा करके रिबेरो जैसे अधिकारी पुलिस बल का मनोबल गिराते हैं।
पत्र में लिखा है “ऐसी टिप्पणियों से पुलिस अधिकारियों की अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने की दृढ़ निश्चय और शक्ति प्रभावित हो सकती हैं, खास तौर पर ऐसे अपराधी जो देश में सांप्रदायिक विभाजन कर दंगे भड़काने की कोशिश करते हैं। हम, पूर्व पुलिस अधिकारी किसी भी ऐसे बयान या पूर्व पुलिस अधिकारियों के किसी भी ऐसे प्रेरित समूह को अस्वीकार करते हैं, जो पुलिस बल और उसके सेवारत अधिकारियों को बदनाम करने के उद्देश्य से दिए गए हैं।           


हड़ताल पर विभाग के 450 संविदा कर्मचारी

आराजी ब्रेकिंग: स्वास्थ्य विभाग के 450 संविदा कर्मचारी आज से हड़ताल पर..कोरोना संकट के बीच जिले के स्वास्थ्य सेवाओं पर भी पड़ेगा गहरा असर।


रायगढ़। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत काम करने वाले पूरे प्रदेश से 13000 सविंदा कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जिसमें जिले के भी 450 सविंदा कर्मचारी एंवम अधिकारी नियमतिकरण एंवम अन्य मांगों को लेकर आज 19 सितम्बर से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर रहेंगे।
विदित हो कि छत्तीसगढ़ सरकार ने चुनाव के पूर्व अपने घोषणा पत्र में अनियमित कर्मचारियों को नियमित करने का वादा किया था। जिसे सरकार ने अभी तक पूर्ण नही किया है। जिसके चलते एनएचएम कर्मचारियों के संघ ने सरकार को 13 सितंबर तक अपने मांगों पर विचार करने हेतु समय भी दिया था। इसी बीच कर्मचारियों के द्वारा हाथों में काली पट्टी बांधकर काम करते हुए पूरे प्रदेश में सांकेतिक विरोध प्रदर्शन भी जारी था, लेकिन सरकार के द्वारा कुछ भी पहल नही होने के कारण 19 सितंबर से रायगढ़ के 450 कर्मचारियों समेत पूरे प्रदेश एनएचएम संघ के अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गए है।
आरआईजी24 संवाददाता से हुई बातचीत में रायगढ़ एनएचएम जिला संघ के अध्यक्ष ईश्वर दिनकर ने बताया कि “ एनएचएम कई दफा शासन को मांग पूर्ण करने हेतु ज्ञापन दे चुका है, लेकिन अब तक शासन से किसी प्रकार का सकारात्मक जबाब नही मिला है। इससे सभी सविंदा स्वास्थ्य कर्मचारियों में घोर निराशा व आक्रोश व्याप्त है।इसके चलते प्रदेश सविंदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के आव्हान पर पूरे प्रदेश के 13000 कर्मचारियों के साथ रायगढ़ जिले के 450 सविंदा अधिकारी व कर्मचारियों ने भी 9 सितंबर से नियमितीकरण का शंखनाद किया था।जिसमें सांकेतिक विरोध प्रदर्शन जारी था।
हमारी मांगों पर विचार करने के लिए सरकार को 5 दिन का समय भी दिया गया था। इसके बाद भी सरकार की ओर से कोई निर्देश जारी नही हुआ। इसके चलते हम सभी आज शनिवार से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर बैठ रहे है।जब तक मांगे पूरी नही होंगी तब तक हम काम पर वापस नही लौटेंगे।
काम की तुलना में वेतन मिल रहा कम।
“प्रांतीय संघ के आवह्यन पर 19 सितंबर से एनएचएम के संविदा कर्मचारी नियमितीकरण की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे। जिले में करीब 450 कर्मचारी कार्यरत है, इनसे सभी तरह के काम लिए जा रहे हैं, लेकिन इसकी तुलना में वेतन और सुविधाएं दोनों कम है।
-अतीत राव, सचिव जिला एनएचएम संघ रायगढ़।
जिले की स्वास्थ्य व्यवस्थाओ पर पड़ेगा गहरा असर।
कोविड 19 का प्रकोप दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है।जिले में इसी हफ्ते कोरोना केस ने 200 के अधिकतम आंकड़े को भी पार किया। वही अभी तक जिले में 39 लोगो की मृत्यु हो चुकी है। फ़िर भी स्वास्थ्य विभाग का आलम यह है, कि कोरोना के पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद भी मरीजो को सही समय पर उचित उपचार मुहैय्या नही करवा पा रहा है। कोविड केअर सेंटर में आये दिन खाने को लेकर शिकायते मिलती ही रहती है। फिर भी स्वास्थ्य विभाग में सक्रियता नही दिख रही है और इस तरह से पूरे जिले के 450 संविदा कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से स्वास्थ्य व्यवस्था की कमर ही टूट जाएगी।क्योंकि जिले के ग्रामीण क्षेत्रो के अधिकांश अस्पतालों में यही 450 स्वास्थ्य कर्मचारी कार्यरत है। इस हड़ताल का सीधा असर मुख्यालय पर भी देखने को मिलेगा। जिसमें पूरे प्रदेश के लगभग 13000 कर्मचारियों का हड़ताल रहेगा।
सरकार की अब तक की प्रतिक्रिया।
हड़ताल की सूचना होने पर बीती रात सूबे के स्वास्थ्य व पंचायत मंत्री टी एस सिंह देव ने अपना वीडियो जारी करके स्वास्थ्य कर्मचारियों को हड़ताल पर नही जाने की अपील की है। जबकि इसके पूर्व 13000 अनियमित कर्मचारियों के होते हुए भी 2100 रेगुलर पोस्ट के लिए अलग से वेकैंसी निकाली गई थी। अब देखा जाना दिलचस्प होगा कि छत्तीसगढ़ सरकार अपने वादे को पूरा करती है या छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य सेवायो के साथ समझौता। क्योंकि छत्तीसगढ़ में अभी तक कोरोना ने 81617 के आंकड़े को पार कर लिया है और लगातार कोरोना का कहर जारी है।           


क्षतिपूर्ति की बकाया जारी करने की अपील

सांसद फूलोदेवी नेताम ने वित्त मंत्री सीतारमण को लिखा पत्र, जीएसटी क्षतिपूर्ति की बकाया राशि शीघ्र जारी करने की अपील।


रायपुर। सांसद फूलोदेवी नेताम ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ की जीएसटी क्षतिपूर्ति की बकाया राशि शीघ्र जारी करने की अपील  की है।छत्तीसगढ की बकाया राशि अप्रैल से जुलाई तक 2827 करोड रुपए है, सांसद फूलोदेवी नेताम द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में सरकार ने क्षतिपूर्ति के लिए पैसा नहीं होने की बात कही है।
गौरतलब है कि कोरोना काल में जीएसटी क्षतिपूर्ति की बकाया राशि का भुगतान इन दिनों बड़ा मुद्दा बना हुआ है। एक तरफ केंद्र सरकार राज्यों से रिजर्व बैंक के जरिए ऋण लेने की बात कह रही है, तो दूसरी ओर राज्य सरकार का माना है, जैसा कि सांसद फूलोदेवी नेताम के पत्र से स्पष्ट है कि राज्य सरकार के बैंक से ऋण लेने की स्थिति में भविष्य में केंद्र की ओर से भुगतान को लेकर अनिश्चितता बनी रहेगी। राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप सांसद फूलोदेवी नेताम ने वित्त मंत्री से केंद्र से बैंक से ऋण लेकर राज्य को भुगतान करने की अपील की है।           


मुंबईः 8 हस्तियों को 'कोर्ट' ने भेजा नोटिस

अभिनेता सलमान खान और करण जौहर समेत 8 हस्तियों को कोर्ट ने भेजा नोटिस…ये है वजह।


मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत केस में देश की तीन बड़ी एजेंसियां जांच कर रही हैं। इस मामले में हर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। ड्रग एंगल सामने आने के बाद लगातार गिरफ्तारियों का दौर भी जारी है। इस बीच मुजफ्फरपुर जिला न्यायालय ने सलमान खान और करण जौहर सहित आठ हस्तियों को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है। इस मामले में मुजफ्फरपुर के वकील सुधीर ओझा के परिवाद पर कोर्ट ने सलमान खान, करण जौहर, आदित्य चोपड़ा, संजय लीला भंसाली, एकता कपूर, साजिद नाडियावाला, भूषण कुमार और दिनेश विजयन को सात अक्तूबर को कोर्ट में पेश होने के लिए कहा है।
सुधीर ओझा ने मुजफ्फरपुर सीजेएम कोर्ट में इन सभी स्टार्स पर सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए 17 जून को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में भादवि की धाराओं 306, 109, 504 और 506 के तहत उक्त परिवाद दायर किया था। कोर्ट को दिए पुनर्विचार याचिका में कहा गया है कि अभिनेता की हत्या षडयंत्र के तहत की गई है। जिसे बिना जांच के ही आत्महत्या का मामला बताया जा रहा है।
सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने शुक्रवार को मुंबई में कई जगहों पर छापे मारे। एजेंसी ने पांच लोगों को हिरासत में लिया, जिनके पास से चरस और गांजा बरामद हुए हैं। हालांकि, इनका सुशांत केस से सीधा जुड़ाव नहीं है। सभी से पूछताछ हो रही है। 
गौरतलब है कि सुशांत का शव 14 जून को मुंबई स्थित उनके फ्लैट पर मिला था। पहले इस मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही थी। इसके बाद सुशांत के पिता की शिकायत के बाद बिहार पुलिस ने इस मामले की जांच की। अब ये मामला सीबीआई के पास है। इसके साथ ही ईडी और एनसीबी भी इसकी जांच में जुटी हैं। ‘छिछोरे’ की सक्सेस पार्टी में हुआ था ड्रग का इस्तेमाल, सुशांत के साथ शामिल हुई थीं श्रद्धा कपूर।           


इजरायल ने दोबारा लागू किया 'लॉकडाउन'

इस देश में दोबारा लॉकडाउन का ऐलान…21 दिनों तक लगाई सख्त पाबंदी।


जेरुसलम। इजरायल ने शुक्रवार को देश में दोबारा नेशनल लॉकडाउन लागू कर दिया। तीन हफ्ते तक लोगों पर सख्त पाबंदियां लगाई गई हैं।लोग अपने घरों से एक किमी से दूर नहीं जा सकते।दोबारा नेशनल लॉकडाउन लागू करने वाला इजरायल दुनिया का पहला देश है। लेकिन कई अन्य देश भी कोरोना की दूसरी लहर के खतरे का सामना कर रहे हैं।
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि ब्रिटेन में कोरोना की दूसरी लहर आती दिख रही है। उन्होंने छह महीने तक पाबंदियां लगाने की आवश्यकता जताई है।बोरिस जॉनसन का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर को लेकर ब्रिटेन स्पेन और फ्रांस से 6 हफ्ते पीछे है। उन्होंने कहा कि यह निश्चित है कि ब्रिटेन में दूसरी लहर आएगी,वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यूरोप में कोरोना की दूसरी लहर को लेकर गंभीर चिंता जाहिर की है। डब्ल्यूएचओ का कहना है कि यूरोप में खतरनाक रूप से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। डब्ल्यूएचओ के क्षेत्रीय निदेशक हंस क्लूज ने कहा कि केस बढ़ने को चेतावनी के तौर पर लेना चाहिए कि आगे क्या होने वाला है।
हंस क्लूज ने यह भी कहा कि हफ्ते में आने वाले मामले की संख्या उस वक्त से अधिक हो गई है जब मार्च में यूरोप में कोरोना वायरस अपने पीक पर था। यूरोपीय क्षेत्र में हफ्ते में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 3 लाख को पार कर गई। यूरोप के आधे देशों ने अपने यहां बीते दो हफ्ते में नए मामलों में 10 फीसदी से अधिक बढ़ोतरी दर्ज की है।इनमें से 7 देशों में कोरोना के नए मामले दोगुने हो गए हैं।बता दें कि दुनिया में कोरोना के मामलों की कुल संख्या तीन करोड़ 69 लाख से अधिक हो गई है।जबकि 9 लाख 56 हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।           


नपुसंक बनाए जाएंगे बलात्कारी, सजा मौत

बलात्कारी बनाए जाएंगे नपुंसक, मौत की सजा।


अबूजा। महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार की बढ़ती घटनाओं से जूझ रहे। नाइजीरिया में कदूना प्रांत की सरकार ने फैसला किया है कि तो स्विस बैंक में ऐसे खुलता ह अकाउंट किम जोंग ने सैन्य अधिकारी को सरेआम मरवाया, 90 गोलियों से किया छलनी। 2+2 वार्ता दूसरी बार टली,भारत-यूएस के रिश्तों में आई खटास।
महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार की बढ़ती घटनाओं से जूझ रहे। नाइजीरिया में कदूना प्रांत की सरकार ने फैसला किया है ।कि अब बलात्कारियों को सर्जरी करके नपुंसक बनाया जाएगा। यही नहीं जो अपराधी 14 साल से कम उम्र की बच्ची से हैवानियत करता है।उसे फांसी दे दी जाएगी। सरकार ने इस संबंध में कानून पर हस्ताक्षर कर दिया है।  दरअसल, कोरोना वायरस प्रतिबंधों की वजह से देश में बलात्कार की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं। इससे लोगों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। जनता के गुस्से को देखते हुए राज्य के गवर्नर को आपातकाल की घोषणा करनी पड़ी है। गवर्नर नसीर अहमद इल रुफई ने कहा कि इस गंभीर अपराध से बच्चों को बचाने के लिए बेहद कड़े कदम उठाए जाने की जरूरत है। देश में बढ़ती रेप की घटनाओं को देखते हुए महिला संगठनों ने बलात्कारियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने अफ्रीका महाद्वीप के इस सबसे अधिक आबादी वाले देश में बलात्कारियों को मौत की सजा देने की भी मांग की थी। राज्य के नए कानून में कहा गया है कि 14 साल से अधिक उम्र की लड़कियों के साथ बलात्कार करने पर बलात्कारियों को उम्रकैद की सजा दी जाएगी। 
यही नहीं सर्जरी करके बलात्कारियों को नपुंसक बना दिया जाएगा। वहीं अगर किसी महिला ने 14 साल से कम उम्र के बच्चे के साथ अगर रेप किया तो उसके गर्भाशय नाल को निकाल दिया जाएगा। पिछले दिनों पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी बलात्कारियों को फांसी देने का सुझाव दिया था। इमरान ने ऐसे बलात्कारियों को रासायनिक बंध्याकरण करने का भी सुझाव दिया था।  इमरान खान ने यौन दुव्यर्वहार करने वालों का एक नैशनल रजिस्टर बनाने का आह्वान किया। पाकिस्तानी पीएम ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि उन्हें लगता है।कि बलात्कारियों के तत्काल रासायनिक बंध्याकरण करने की जरूरत है। अगर ऐसा न हो तो कम से कम बलात्कारियों का जबरन सर्जरी कराया जाए ताकि वे भविष्य में दोबारा यौन अपराध न कर सकें।             


मृतक संख्या-1247, संक्रमित-53 लाख

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 53 लाख के पार, 93 हजार से अधिक नए मामले।


नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 93,337 नए मामले दर्ज किए गए हैं। जिनके साथ देश में संक्रमण के कुल आंकड़े 53 लाख के पार हो गए हैं। यह जानकारी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों से शनिवार को मिली।
देश में बीते दिन संक्रमण से 1,247 मौतें दर्ज की गई। वहीं यहां अब तक 53,08,014 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। गौरतलब है। कि भारत कोरोना मामलों में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है। वहीं रिकवरी के मामले में भारत अमेरिका से आगे चल रहा है।कुल मामलों में से। 10,13,964 सक्रिय मामले हैं। वहीं 42,08,431 लोगों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। जबकि 85,619 लोग इस बीमारी से जान गंवा चुके हैं। देश में रिकवरी दर 79.28 प्रतिशत है। वहीं मृत्यु दर 1.61 प्रतिशत है।महाराष्ट्र सबसे प्रभावित राज्यों की सूची में शीर्ष पर बना हुआ है।यहां कुल 11,67,496 मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें 31,791 मौतें शामिल हैं। इसके बाद आंध्र प्रदेश तमिलनाडु, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश का स्थान हैं।इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के आंकड़ों के अनुसार, भारत ने शुक्रवार को एक ही दिन में 8,81,911 नमूनों का टेस्ट किया है। जिसके साथ अब तक कुल 6,24,54,254 नमूनों की जांच हो। चुकी है।वहीं।वैश्विक स्तर पर भारत अमेरिका के पीछे है। जहां 67,22,699 मामले और 1,98,509 मौतें दर्ज की गईं हैं। दुनियाभर में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 3,03,95,579 हो गई है। वहीं मृतकों की संख्या बढ़कर 9,50,344 हो गई है।           


अमेरिकी एक्सचेंज नैसडैक पर शानदार एंट्री की

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। बिजनेस सॉफ्टवेयर फर्म फ्रेशवर्क्स इंक ने बुधवार को अमेरिकी एक्सचेंज नैसडैक पर शानदार एंट्री की है। अपने शानद...