सोमवार, 1 मार्च 2021

विरोध: किसान नेता बोले, नहीं लगवाएंगे वैक्सीन

अकांशु उपाध्याय    

नई दिल्ली। कोविड-19 संक्रमण से खतरे का सामना कर रहे किसान नेताओं ने सोमवार को कहा कि उन्हें कोरोना वायरस का डर नहीं है और वे टीका नहीं लगवाएंगे। उल्लेखनीय है, कि सोमवार से कोविड-19 के दूसरे चरण का टीकाकरण अभियान शुरू हुआ है।जिसके तहत 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों और गंभीर बीमारियों से पीड़ित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। हालांकि, किसान नेताओं ने यह भी कहा है, कि वे दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले प्रदर्शनकारी किसानों को टीका लगवाने से नहीं रोकेंगे, क्योंकि यह व्यक्तिगत विषय है। हजारों की संख्या में किसान दिल्ली की तीन सीमाओं-सिंघू, टिकरी और गाजीपुर पर तीन महीने से अधिक समय से डेरा डाले हुए हैं। उनमें से ज्यादातर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से हैं। वे पिछले साल सितंबर में केंद्र द्वारा लागू किये गये तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहे हैं। किसान आंदोलन का नेतृत्व कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा के वरिष्ठ सदस्य बलवीर सिंह राजेवाल (80) ने कहा कि टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केंद्र नहीं जाएंगे। राजेवाल ने कहा, ”मुझे टीका लगवाने की जरूरत नहीं है। हमने कोरोना को मार दिया है। किसानों की प्रतिरोधक क्षमता मजबूत है। क्योंकि वे अपने खेतों में कड़ी मेहनत करते हैं। किसानों को कोरोना वायरस का डर नहीं है।” वहीं, एक अन्य वरिष्ठ नेता जोगिन्दर सिंह उगराहां (75) ने कहा कि इस रोग (कोरोना वायरस संक्रमण) का डर... उन्हें उनकी लड़ाई से भटकाने के लिए काफी नहीं है।

केंद्र सरकार को फास्टैग से करोड़ों का फायदा

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली। देश भर में 15 फरवरी से फास्टैग आधारित टोल सिस्टम को लागू कर दिया गया है। एक तजा रिपोर्ट के अनुसार, अब देश में एक दिन का टोल कलेक्शन 104 करोड़ रुपये तक पहुंच चुका है। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण एनएचएआई ने एक रिपोर्ट में बताया है कि इस सप्ताह हर दिन का टोल कलेक्शन 100 करोड़ रुपये से ऊपर रहा। 16 फरवरी के बाद से टोल कलेक्शन में लगातार वृद्धि दर्ज की गई है। एनएचएआई का यह भी कहना है कि हर दिन करीब 65 लाख टोल ट्रांजक्शन किये जा रहे हैं। फास्टैग आधारित टोल प्रक्रिया को लागू करने के बाद इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन में 27 प्रतिशत की बढ़ोतरी आई है। रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 14 दिनों में 20 लाख नए फास्टैग जारी किये गए हैं। वहीं अब देश में फास्टैग यूजर्स की कुल संख्या 2.8 करोड़ हो गई है। फास्टैग लागू होने के बाद टोल प्लाजा पर गाड़ियों की लंबी कतार नहीं लग रही है। टोल प्लाजा ऑपरेटरों का कहना है कि डिजिटल ट्रांजैक्शन से टोल कलेक्शन सुविधाजनक हो गई है और भुगतान प्रक्रिया तेज हुई है। फास्टैग आधारित सिस्टम से टोल कलेक्शन प्रक्रिया अब अधिक पारदर्शी है। 12 बजे से ऑटोमेटिक पेमेंट सिस्टम फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है। फास्टैग एक डिजिटल स्टीकर है जिसे गाड़ियों के शीशे पर लगाया जाता है। यह रेडियो फ्रिक्वेंसी आईडेंटिफिकेशन तकनीक पर काम करता है। जब गाड़ियां टोल प्लाजा से गुजरती हैं तब फास्टैग से जुड़े बैंक या प्रीपेड अकाउंट से अपने आप ही टोल टैक्स का भुगतान हो जाता है। इससे गाड़ियों को टोल पलजा पर रुक कर टोल भुगतान करने की आवश्यकता नहीं पड़ती, जिससे समय की बचत होती है साथ ही प्रदूषण भी कम होता है। फास्टैग को सभी पैसेंजर चारपहिया वाहन, बस, ट्रक, लाॅरी और निर्माण में उपयोग होने वाले कमर्शियल वाहनों के लिए लागू किया गया है। बता दें कि दोपहिया वाहनों में फास्टैग लगवाना जरूरी नहीं है। फास्टैग को लागू करने वाली संस्था राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण यानी एनएचएआई ने बताया है कि यदि टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहन में फास्टैग नहीं होगा तो ऐसे वाहनों से दोगुना टोल टैक्स वसूला जाएगा। 1 दिसंबर 2017 से नए चारपहिया वाहन के रजिस्ट्रेशन पर फास्टैग लेना अनिवार्य है। फास्टैग जारी करने का काम बैंकों और पॉइंट-ऑफ-सेल केंद्रों को सौंपा गया है। फास्टैग को ट्रांसपोर्ट ऑफिस से भी खरीदा जा सकता है। इसे लेने के लिए केवाईसी और व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट की जानकारी देना अनिवार्य है। फास्टैग अमेजन और पेटीएम जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर भी खरीदा जा सकता है। फास्टैग के लिए माई फास्टैग मोबाइल ऐप भी जारी किया गया है। जिसपर अधिक जानकारी पाई जा सकती है।

विजिलेंस की रडार पर सपा के 1 और पूर्व मंत्री

हरिओम उपाध्याय  
लखनऊ। पूर्व की समाजवादी पार्टी की सरकार में मंत्री रहे मनोज पांडेय की मुश्किलें बढ़ गयी हैं। पूर्व कृषि एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी मंत्री के खिलाफ शासन से विजिलेंस ने खुली जांच की मांग की है। पूर्व मंत्री पर नियमों के विपरीत जाकर अनुसूचित जाति के लोगों की जमीन हड़पने के आरोप भी लगे हैं। पूर्व मंत्री मनोज पांडेय के खिलाफ सीएम ऑफिस में शिकायत की गई थी, जिसके बाद उनके खिलाफ गोपनीय जांच के आदेश दिए थे। जांच के दौरान विजिलेंस की टीम को मंत्री की कई संदिग्ध संपत्तियों के बारे में जानकारी मिली थी, जिसके बाद ही अब विजिलेंस की टीम ने मनोज पांडेय के खिलाफ खुली जांच का फैसला किया है और प्रदेश सरकार से जांच की अनुमति मांगी है।
समाजवादी सरकार में खनन और परिवहन मंत्री रहे गायत्री प्रजापति के खिलाफ भी विजिलेंस की जांच चल रही है। वहीं पूर्व मंत्री और सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान के खिलाफ भी एसआईटी की जांच चल रही है और आजम खान इन दिनों में जेल में ही है। विजिलेंस टीम ने गायत्री प्रजापति के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में मामला दर्ज किया था। जांच में सामने आया था कि, पूर्व मंत्री के पास आय से करीब 6 गुना अधिक की संपत्ति है। वहीं 21 बेनामी संपत्तियों की जानकारी सामने आई थी।
उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनते ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार के मामलों में जीरो टॉलरेंस की नीति कर काम करने लिए अधिकारियों को निर्देश दिए थे। भ्रष्टाचार के मामलों शुरू हुई जांच के दायरे में अब तक कई मंत्री और अधिकारी आ चुके हैं। पूर्व मंत्री मनोज के खिलाफ विजिलेंस की टीम को शासन द्वारा खुली जांच की अनुमति मिलने के बाद उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

यूपी में दोबारा बनेगी बीजेपी की सरकार: सीएम

हरिओम उपाध्याय  

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए सभी दल तैयारियों में जुट गए हैं। दिल्ली की सियासत का रास्ता यूपी से होते हुए जाता है ये सभी दल जानते हैं। राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि अगले विधानसभा चुनाव में बीजेपी अपने साथी दलों के साथ मिलकर 350 सीटों पर जीत दर्ज करेगी।
बजट पर बात करते हुए सीएम योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने पिछले 4 वर्षों में कोई भी नया टैक्स जनता पर नहीं लगाया है। बीजेपी की सरकार ने टैक्स की चोरी बंद कराई है। उस पैसे को बंद कराया है जो दूसरों की जेब में जा रहा था। कोरोना काल के दौरान भी हमारी सरकार ने किसी भी तरह का कोई भी टैक्स नहीं लगाया है। हमारी सरकार ने यूपी को बीमारू राज्य से उठाकर देश की शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं वाले प्रदेशों को सूची में शामिल किया है।
उत्तर प्रदेश कोरोना के मामलों का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि, राज्य की आबादी करीब 24 करोड़ है। करीब-करीब इतनी ही आबादी का देश है ब्राजील। जहां संक्रमण के मामले उत्तर प्रदेश से जायदा आए हैं। हमने संक्रमण को ठीक से हैंडल किया। इसकी तारीफ तो विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है। दिल्ली का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि, दिल्ली की आबादी करीब पौने दो करोड़ है। वहां तो संक्रमण के मामले भी उत्तर प्रदेश से ज्यादा हैं तो वहां मौतें भी यूपी की तुलना ज्यादा हुईं हैं। अगर समय रहते केंद्रीय गृह मंत्री हालात खुद न संभालते तो हालात और खराब हो जाते। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए सीएम योगी ने कहा कि वो दूसरों को पढ़ाना तो चाहते हैं। लेकिन खुद पढ़ना नहीं चाहते हैं।

सीजी: 31 मार्च तक निशुल्क बनेगा आयुष्मान कार्ड

रायपुर। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजनाध्डाॅ. खूबचंद स्वास्थ्य सहायता योजनांतर्गत अधिक से अधिक हितग्राहियों को लाभ देने के उद्वेश्य से केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के द्वारा आपके द्वार आयुष्मान योजना का क्रियान्वयन 1 मार्च 2021 से 31 मार्च तक किया जा रहा है। शासन के निर्देशानुसार जिले के च्वाइस सेंटरो में हितग्राहीयो को निःशुल्क आयुष्मान कार्ड उनकी पात्रता के आधार पर बनाकर दिया जावेगा। बी.पी.एल व प्राथमिकता वाले राशन कार्डधारी परिवारों को प्रतिवर्ष 5 लाख रूपये तक की चिकित्सा सुविधा- ज्ञात हो कि आयुष्मान भारत - प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजनाध्डाॅ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजनांतर्गत बी.पी.एल एवं प्राथमिकता वाले राशन कार्ड में प्रतिवर्ष 5 लाख रूपये एवं सामान्य राशन कार्डधारी परिवारों को 50 हजार रूपये तक कि मुफ्त चिकित्सा सुविधा राज्य के किसी भी पंजीकृत निजी और शासकीय चिकित्सालयों में प्रदान की जाती है। च्वाइस सेंटर में निःशुल्क बनेगा आयुष्मान कार्ड - अधिक से अधिक हितग्राहियो को लाभ दिलाने के उद्वेश्य से शासन के द्वारा आपके द्वार आयुष्मान अभियान का शुभारंभ किया गया है। जिसमें जिले के समस्त च्वाइस सेंटरो के द्वारा हितग्राहियो को निःशुल्क आयुष्मान भारत का कार्ड बनाकर दिया जावेगा। कार्ड बनवाने के लिए हितग्राहीयो को राशन कार्ड, आधार कार्ड , मोबाइल नंबर सहित च्वाइस सेंटरो में जाना होगा। च्वाइस सेंटर के द्वारा हितग्राहियो को उनकी पात्रता के आधार  आयुष्मान कार्ड निःशुल्क बनाया जाएगा। अभियान के दौरान् च्वाॅइस सेंटरों  पर सर्वप्रथम हितग्राहियों को कागज में आयुष्मान कार्ड प्रदान किया जाएगा, कुछ दिनों उपरांत च्वाइस सेंटर के केंद्रीय कार्यालय से इन हितग्राहियों के प्लास्टिक कार्ड संबंधित च्वाइस सेंटर को प्रेषित किए जाएंगे। च्वाइस सेंटर द्वारा प्लास्टिक कार्ड प्राप्त होने की सूचना हितग्राहियों को दी जाएगी। हितग्राही च्वाइस सेंटर से ही पुनः बायोमेट्रिक अथेंटीकेसन उपरांत पीव्हीसी  आयुष्मान कार्ड प्राप्त कर सकेंगे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने अपील करते हुए कहा है कि समस्त हितग्राही अभियान के अंतर्गत  कार्ड बनवा लें।

महंगाई पर बोले सीएम, सचिन-विराट के शतक देखें

मनोज सिंह ठाकुर  

मुंबई। पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों ने जहां आम लोगों के लिए सिर में दर्द पैदा कर दिया है। वहीं विरोधी दल इस मुद्दे पर सरकार को घेरने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं। अब तेल की कीमतों को लेकर महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी और उनकी सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने रविवार को एक प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि हमने विराट कोहली-सचिन तेंदुलकर के शतक देखे हैं। लेकिन अब हम पेट्रोल-डीजल शतक देख रहे हैं। मालूम हो कि देश के कई राज्यों में पेट्रोल की कीमत 100 रु प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर चुकी है तो वहीं कई शहरों में तेल की कीमत 100 रु प्रति लीटर के पहुंचने के करीब है। ताजा स्थिति की बात करें तो आज लगातार दूसरे दिन भी पेट्रोल-डीजल के दामों में कोई इजाफा नहीं हुआ है। आखिरी बढ़ोतरी शनिवार को हुई थी, मुंबई में पेट्रोल 97.57 रुपये प्रति लीटर और डीजल 88.60 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है, खास बात ये है कि दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता, देश के चार बड़े महानगरों में सबसे महंगा पेट्रोल मुंबई में ही है। धर्मेंद्र प्रधान ने कही ये बात तेल के बढ़ते हुए दामों पर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने अपनी सफाई पेश की थी। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि ईंधन की कीमत बढ़ने के पीछे दो मुख्य कारण हैं। पहला अंतर्राष्ट्रीय बाजार ने ईंधन का उत्पादन कम कर दिया है और दूसरा अधिक लाभ प्राप्त करने के लिए विनिर्माण देश कम ईंधन का उत्पादन कर रहे हैं। इससे उपभोक्ता देश त्रस्त हैं। वहीं उन्होंने कहा कि हम लगातार सऊदी अरब ने तेल निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) और रूस समेत सहयोगी देशों (ओपेक प्लस) से आग्रह करते रहे हैं कि ऐसा नहीं होना चाहिए। हमें उम्मीद है कि बदलाव होगा।

गाजियाबाद: आरडीसी में लूट, व्यापारियों में रोष बढ़ा

गाज़ियाबाद। गाजियाबाद में सोमवार को कविनगर थाना क्षेत्र के राज नगर डिस्ट्रिक्ट सेंटर (आरडीसी) में दिन निकलते ही बाइक सवार बदमाशों ने तेल घी की कंपनी के अधिकारी से 10 लाख रुपये लूट लिए। कंपनी का यह अधिकारी अपने चालक के साथ एचडीएफसी बैंक की शाखा में पैसे जमा कराने आया था। उनके गाड़ी से निकलते ही स्कूटी सवार दो बदमाश आए और तमंचा लगाकर पैसे से भरा बैग लूट ले गए। घटना के बाद एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल और सीओ द्वितीय अवनीश कुमार ने मौके पर पहुंचकर जांच की। पुलिस सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। वहीं दिन दहाड़े हुई इस घटना के बाद व्यापारियों में काफी रोष है और वे गाज़ियाबाद पुलिस की तथाकथित फूल प्रूफ सुरक्षा पर सवाल खड़े कर रहे हैं। सीओ द्वितीय ने बताया कि घटना बुलंदशहर रोड औद्योगिक क्षेत्र के बी ब्लाक स्थित कृष्ण मंगला की केआर फूड्स लिमिटेड में कार्यरत नितिन शर्मा के साथ हुई है। नितिन इस कंपनी में चार माह से हैं और बैंक लेनदेन का काम देखते हैं।पुलिस के मुताबिक नितिन सोमवार सुबह पौने 11 बजे आइ-10 कार में चालक के साथ आरडीसी स्थित एचडीएफसी बैंक की शाखा में कंपनी के खाते में जमा कराने आए थे। रुपये भरा बैग लेकर कार से बाहर निकलते ही सफेद रंग की स्कूटी सवार दो बदमाशों ने उन्हें घेर लिया। मास्क से चेहरा ढककर आए दोनों बदमाशों ने नितिन के कनपटी पर तमंचा लगाकर रुपये देने को कहा। असलहा देख नितिन ने बैग छोड़ दिया और बदमाश लेकर फरार हो गए।

दिल्ली विमान सेवा का शुभारंभ करेंगे सीएम बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 01 मार्च को बिलासपुर से नई दिल्ली बहुप्रतिक्षित हवाई सेवा का शुभारंभ करेंगे। इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री हरदीप एस. पुरी करेंगे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री बघेल और केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ऑनलाइन शामिल होंगे। शुभारंभ कार्यक्रम दोपहर 2.30 बजे बिलासा देवी केंवट हवाई अड्डा बिलासपुर (चकरभाठा) में होगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के लगातार प्रयासों से प्रदेश की न्यायधानी बिलासपुर अब देश की राजधानी नई दिल्ली से सीधे विमान सेवा से जुड़ेगी। 01 मार्च से प्रारंभ हो रही बिलासपुर-नई दिल्ली विमान सेवा में बिलासपुर से दिल्ली के लिए 72 सीटर एयरक्राफ्ट की दो फ्लाईटें सोमवार, बुधवार, शुक्रवार और रविवार को संचालित होगी। पहली फ्लाईट दिल्ली से रवाना होकर जबलपुर होते हुए अपरान्ह 3.20 बजे बिलासपुर पहुंचेगी और 3.45 बजे बिलासपुर से प्रयागराज होते हुए वापस दिल्ली लौटेगी। दूसरी फ्लाईट दिल्ली से प्रयागराज होते हुए शाम 4 बजे बिलासपुर पहुंचेगी और 4.30 बजे बिलासपुर से जबलपुर होते हुए दिल्ली जाएगी।

साल भर बाद खुले यूपी के प्राइमरी स्कूल, स्वागत

हरिओम उपाध्याय  
लखनऊ। कोरोना की वजह पूरे एक साल की बंदी के बाद सोमवार से प्रदेश में कक्षा एक से आठ तक के स्‍कूल खुल गए हैं। इस दौरान कई स्‍कूलों में उत्‍सव जैसा माहौल है। एक बाद स्‍कूल आए बच्‍चों की खुशी का ठिकाना नहीं है। सहपाठियों से स्‍कूल में मुलाकात हुई बच्‍चों के चेहरे पर पहले जैसी खुशी नज़र आई। हालांकि पहले दिन स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति काफी कम है।प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर स्कूलों को बंद कर दिया गया था। अब प्रदेश सरकार ने बंद प्राइमरी स्कूलों को दोबारा खोलने का आदेश जारी किया है। केंद्र सरकार की ओर से उच्च प्राथमिक स्कूलों को खोलने की गाइडलाइन जारी होने के बाद सीएम योगी ने स्कूलों को खोलने के निर्देश पहले ही दे दिए थे। इसके पहले अक्‍टूबर 2020 में उच्च कक्षाओं में पढ़ाई शुरू हो गई थी। बाकी कक्षाओं की ऑनलाइन पढ़ाई चल रही थी। उत्तर प्रदेश में कक्षा 6 से 8 तक के स्कूल 10 फरवरी से खुल गये हैं। वहीं प्रदेश के प्राइमरी स्कूल आज से खुले हैं।

कई स्‍कूलों में उत्‍सव जैसा माहौल...

एक साल बाद आज से पहली से पांचवीं तक के स्कूल खुले हैं तो कई स्‍कूलों में उत्‍सव जैसा माहौल है। सरकारी स्‍कलों में पहला दिन उत्‍सव के रूप में मनाया जा रहा है। इस संबंध में शासन की ओर से विशेष गाइडलाइन जारी की गई थी। विद्यालय को सजाने संवारने के साथ ही चौपाल, ज्ञानोत्सव जैसे कार्यक्रम भी आयोजित हो रहे हैं। पहले दिन कई विद्यालयों को गुब्‍बारों से सजाया गया है। आज मिड डे मील में बच्चों का मन पसंद नाश्ता और भोजन परोसा जाएगा। कोविड काल की कहानियों को भी आज बच्‍चे और शिक्षक रोचक अंदाज में बयां करेंगे। आज के दिन को उत्‍सव के रूप में मनाने की तैयारी पिछले एक हफ्ते से चल रही थी। बच्‍चों को स्‍कूल भेजने के बारे में अभिभावकों से सहमति भी ली गई है।

इलायची खाने के जानिए फायदे, बिमारी से बचाव

छोटी सी इलायची के फायदे बहुत होते हैं। इलायची खाने के फायदे की हम बात करें तो इलायची में बहुत सारे औषधीय गुण पाए जाते हैं। जो हमें कई सारी गंभीर बीमारियों से बचाते है। आमतौर पर इलायची दो तरह की होती है काली और हरी। हरी इलायची का उपयोग जहां पूजा-पाठ और व्यंजनों में किया जाता है, तो वहीं मोटी काली इलायची को मसाले के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। आइये जानते हैं हरी इलायची के फायदे  बता रहे हैं।– इलायची का नियमित सेवन करने से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को मात दी जा सकती है। इलायची के एंटी इंफेलेमेंटरी तत्व मुंह का कैंसर, त्वचा के कैंसर की कोशिकाओं से लड़ने में कारगर साबित होते हैं।इलायची खाने से पेट में अल्सर की समस्या से छुटकारा मिलता है। क्योंकि इलायची के रोजाना सेवन करने से पाचन संबंधी समस्याओं से निजात मिलती है। शोध के मुताबिक, इलायची का अर्क गैस्ट्रिक अल्सर के आकार को कम से कम 50 फीसदी तक पूरी तरह खत्म कर देता है। अगर आप गैस, एसिडिटी और पेट की समस्या से ग्रस्त हैं, तो हमेशा खाने के बाद इलायची का सेवन करें। इलायची में मैग्नीशियम और पौटेशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जिससे शरीर का ब्लड सर्कुलेशन सामान्य बना रहता है और ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखने में मदद करता है। इलायची सांस की बीमारी में भी बेहद फायदेमंद होती है। क्योंकि इलायची की तासीर गर्म होती है। इसलिए दिन में एक या दो बार चबाकर या खाने में मिलाकर सेवन करना चाहिए। फेफड़ों के संकुचन और अस्थमा में भी कारगर है।

नशों की बीमारी को लेकर होगा फेसबुक पर सेशन

अश्वनी उपाध्याय  
गाजियाबाद। महानगर स्थित यशोदा सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल नेहरू नगर के मशहूर सर्जन डॉ आशीष गौतम 3 मार्च को शाम 7:30 बजे फेसबुक पर लाइव पर एक सेशन करेंगे। इस लाइव सेशन के दौरान पैरों की नसों की गम्भीर बीमारी से परेशान लोग परामर्श ले सकेंगे। अपने लाइव कार्यक्रम के दौरान डॉ गौतम पैरों की नसों की बीमारी(वेरिकोज़ वेन्स) के बारे में परामर्श देंगे। डॉ गौतम ने अपने लाइव कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि पैरों की नसों में मौजूद वाल्व शरीर मे रक्त को पैरों से ह्रदय की ओर ले जाने में मददगार होते हैं। किंतु पैरों में मौजूद इन वाल्वों में रुकावट के कारण शरीर में रक्त संचार ठीक प्रकार से नहीं हो पाता और टांगों में नसों के गुच्छे बन जाते हैं। इस बीमारी में पैरों में सूजन, भारीपन, खुजली, सरसराहट व छाले जैसी समस्या शुरू हो जाती हैं। इस समस्या से एक बेहतर सर्जरी के जरिये निजात पाई जा सकती है। इस सर्जरी को लेकर लोगों के मन में तरह तरह के सवाल उठते रहते हैं जिन्हें दूर करने के लिए डॉ आशीष गौतम फेसबुक लाइव सेशन कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि 3 मार्च की शाम साढ़े सात बजे उनका फेसबुक लाइव शुरू होगा। इस लाइव में अधिक से अधिक लोग जुड़कर स्वास्थ्य लाभ उठा सकें इसीलिए डॉ गौतम ने एक फेसबुक लिंक भी साझा किया है।

कराटे स्कूल ने प्रीमियर लीग में जीते 7 मेडल

अश्वनी उपाध्याय  

गाजियाबाद। इन्दिरापुरम कराटे स्कूल के 4 खिलाड़ियों ने राजस्थान राज्य के जयपुर जिले में आयोजित राजस्थान कराटे प्रीमियर लीग 2021में 7 मेडल जीत कर राज्य का नाम रोशन किया। यह अंतर राज्य स्तरीय कराटे प्रतियोगिता इंडियन मार्शल आर्ट संस्थान द्वारा रविवार 28 फरवरी 2021 को आयोजित की गई थी। प्रतियोगिता में विभिन्न राज्यों से 450 से अधिक कराटे खिलाडियों ने विभिन्न आयु व भार वर्ग में हिस्सा लिया। इन्दिरापुरम कराटे स्कूल के अध्यक्ष एवं मुख्य कोच पुष्पेन्द्र सिंह रावत ने बताया है कि विजेता खिलाड़ियों में सुमन जायसवाल और पूरण सिंह ने कराटे के काता और कुमिते दोनों इवेंट्स में गोल्ड मेडल जीता तथा आध्या भंडारी ने काता और कुमिते दोनों इवेंट्स में सिल्वर मेडल जीता। वहीं अभिनव सिंह ने कुमिते में सिल्वर मेडल जीता। इस प्रकार इंदिरापुरम कराटे स्कूल की टीम ने 4 गोल्ड और 3 सिल्वर मेडल जीते। सभी विजेता खिलाड़ियों को प्रतियोगिता के आयोजक धनंजय त्यागी ने मेडल पहनाकर तथा प्रमाण पत्र देकर पुरस्कृत किया।इस अवसर पर स्कूल के पदाधिकारियों कृष्ण रावत, प्रदीप वर्मा, नैना रावत, संजय दुबे, लक्ष्मी वर्मा ने सभी खिलाड़ियों और कोच को बधाई दी।

सुल्तानपुर: फीस वसूली के विरोध में कांग्रेस का प्रदर्शन

सुल्तानपुर। कोरोना काल के दौरान भी प्राइवेट स्कूलों द्वारा मांगी जा रही फीस के विरोध में युवा कांग्रेस उतरी सड़क पर... जिलाध्यक्ष वरुण मिश्र के नेतृत्व में सड़क पर उतरे युवा,कोरोना काल के दौरान स्कूल फीस आधी करने की मांग.... सड़क किनारे स्थित स्कूलों/महाविद्यालयों के सामने ब्रेकर बनाये जाने व महिलाओं/छात्राओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों की रोकथाम के लिए ई रिक्शा चालकों के लाइसेंस की जांच समेत तीन सूत्रीय ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा कार्यवाही न होने पर सड़क पर उतरने ऐलान। 

सुल्तानपुर: स्वास्थ्य महकमे के ई-टेंडर में हुआ खेल

सुल्तानपुर। यूपी के योगी सरकार चाहे जितना जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने का दावा कर ले लेकिन दिन प्रतिदिन गड़बड़ घोटाले की खबर किसी न किसी जिले से आती ही रहती है। ऐसा ही एक मामला सीएमओं दफ्तर का है। जहां पर 41 वाहनों के पौने चार करोड़ के ई-टेंडर में सीएमओ व उनके बाबुओं ने पिछली फर्म को फिर सेटिंग गेटिंग कर सहमति दे दी है। बतातेे चले कि वाहनों की इस ई टेंडर प्रकिया में अन्य जिलों में पूरे यूपी के फर्मो को आवेदन करने का अधिकार है। वही इस जिले में अभी तक काम कर रही फर्म को लाभ पहुंचाने के लिये यूपी के बजाय अयोध्या मण्डल के फर्म को आवेदन करने के लिये निविदा निकाली गई। इससे स्पष्ट है कि सीएमओ डॉ धर्मेंद्र त्रिपाठी व मातहत बाबूओ की संलिप्तता अवश्य है। इस टेंडर में कुल 17 फर्मो ने आवेदन किया था जिसमे में 7 फर्मे ऐसी थी जिनके कागजात व दस्तावेज पूरे थे लेकिन सीएमओ साहब ने छुट्टी के दिन ही अन्य सभी फर्मों को अमान्य करते हुए अपनी चहेती फर्म के नाम टेंडर पारित कर दिया।जबकि विगत 25 फरवरी को शिकायतकर्ता एक बार फिर शुभम सिंह ने ई टेंडर में घाल मेल की शिकायत सीएम,मंत्री,कमिश्नर,डीएम,एसडीएम से की थी और उच्चाधिकारियों ने जांच के आदेश भी दिए थे लेकिन मनबढ़ सीएमओ ने बिना शिकायतों के निस्तारण के टेंडर खोलते हुए अंतिम रूप दे दिया गया है।जिससे योगी सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति पर जिले का स्वास्थ्य विभाग एक बार फिर कालिख पोतने का काम किया है।

सुल्तानपुर: 11 माह बाद खुले विद्यालयों में लौटी रौनक

सुल्तानपुर। कोरोना महामारी के चलते बंद चल रहे है प्राथमिक विद्यालय शासन के आदेश पर 1 मार्च को खुल गये।सोमवार को जब बच्चे स्कूल पहुँचे तो उनके चेहरे पर रौनक साफ नजर आ रही है। इस दौरान शिक्षा क्षेत्र कूरेभार के मॉर्डन स्कूल कूरेभार प्रथम पर बच्चों को मास्क का वितरण करते हुए सोशल डिस्टनसिंग का पालन करते हुए प्रार्थना के बाद स्वागत किया गया।इस मौके पर बिद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाएं व अभिभावक भी मौजूद रहे।

क्रिकेट टूर्नामेंट का पूर्व विधायक ने किया शुभारंभ

सुल्तानपुर। कूरेभार कस्बे में हमीद शाह बाबा की मजार के समीप मैदान पर रविवार को 3 दिवसीय रूल आउट केजीएन कप क्रिकेट टूनामेंट का शुभारंभ पूर्व विधायक अरुण वर्मा ने फीता काटकर किया। इस दौरान उन्होंने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया। पूर्व विधायक ने खिलाड़ियों का हौसला अफजाई करते हुए कहा,कि खेलों से आपसी भाई चारा बढ़ता है,खेल हमारे जीवन का महत्वपूर्ण भाग है। खेल शारीरिक व मानसिक विकास में सहायक है। इसलिए खेलों में हम सब को बढ़चढ़ कर भागीदारी करनी चाहिए। इस दौरान कार्यक्रम आयोजक समाजसेबी मो0 असलम खान ने आये हुए अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया।उद्घाटन मुकाबला सैफुल्लागंज क्रिकेट टीम व जाने बाजार के बीच खेला गया।पहले बल्लेबाजी करते हुए जाने बाजार की टीम ने 6 ओवर में 47 रन बनाए।जबाब में सैफुउल्लागंज इलेवन की टीम ने काँटे के मुकाबले में 45 रन ही बना सकी।और इस तरह जाने बाजार की टीम ने उद्घाटन मुकाबले को 3 रनों से जीत लिया।इस मौके पर मो0 नवाब,छोटेलाल कसौधन, शिवमणि यादव, राजा बाबू,आकिब खान ,फूल खान,सलमान,सल्लन खान, मो0 आदिल असलम उर्फ लकी भाई,मो0 फहीम खान सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।कमेंट्री मो0 नईम खान ने किया, तो मोनू खान फहेद फर्नीचर्स ने स्कोरिंग का जिम्मा निभाया।टूनामेंट आयोजक ने बताया कि इस रूल आउट टूनामेंट में मिनी बाउंड्री के नियमों के साथ तीन दिवसीय क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है।जिसमे जनपद व गैर जनपद की 16 टीमें प्रतिभाग कर रही है।

अमेठी: विप्र द्वारा किया गया रामकथा का विस्तार

चंदन दुबे 

अमेठी। इस समय ब्लाक संग्रामपुर के न्यायपंचायत भावलपुर के ग्रामसभा भावलपुर के मौहरिया में 26/02/2021 से कथा का शुभारंभ किया गया है। रामकथा में आचार्य शैलेन्द्रानंद महाराज ने दिनांक को भक्तों को राम जन्म की कथा सुनाई। जिसमें भक्तों ने भावविभोर होकर कथा का रसपान किया। इस संगीतमयी कीर्तन ध्वनि के साथ कथा का प्रसारण किया गया और कथा का समापन मर्यादा पुरूषोत्तम राम की आरती के साथ किया गया। इस कथा में मुख्य रूप से जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी पोपट मिश्रा,मुन्ना तिवारी, कामता तिवारी,पिंटू पंडित,शेषनारायण दुबे,मानिकचंद्र तिवारी,रविन्द्र मिश्रा, गंगा तिवारी,सोनू तिवारी, पूर्व प्रधान दुर्विजय गुप्ता,पृथ्वीराज तिवारी, संतराम ,हरकेश सिंह, बी ड़ी मिश्रा आदि भक्तगण कथा का रसपान किया।

बैंक खोल रहा है महिलाओं के लिए मुफ्त खाता

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। अगर आप अपनी वाइफ मां या फिर अपनी बेटी और बहन को किसी खास अवसर पर कुछ गिफ्ट करने की सोच रहे है तो आप उनके लिए बैंक ऑफ बड़ौदा में एक खास खाता खुलवा सकते है। बैंक की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, महिला कस्टमर अगर बड़ौदा महिला शक्ति सेविंग अकाउंट खुलवाती हैं तो उन्हें साथ में प्लेटिनम कार्ड के साथ ही 2 लाख रुपये का पर्सनल इंश्योरेंस कवर का भी फायदा मिलता है इतना ही नहीं। अगर आप लॉकर की सुविधा लेती हैं तो आपको सालाना लॉकर रेंट में भी छूट मिलेगी इसके अलावा आपको टू व्हीलर और एजुकेशन लोन कम ब्याज पर उपलब्ध कराया जाएगा, साथ ही ब्यूटी लाइफस्टाइ

जीएसटी फ्रॉड में गाजियाबाद से 1 आरोपी गिरफ्तार

98 करोड़ रुपए के जीएसटी फ्रॉड में गाजियाबाद से एक व्यापारी गिरफ्तार
अश्वनी उपाध्याय 
गाजियाबाद। 98 करोड़ रुपए के जीएसटी फ्रॉड के एक मामले में सेंट्रल जीएसटी डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने गाजियाबाद से एक कारोबारी को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बताया कि राकेश शर्मा नाम के एक व्यापारी ने फर्जी कंपनी बनाई और 37 करोड़ रुपए का इनपुट क्रेडिट हासिल करने के लिए उनके माध्यम से फर्जी चालान तैयार किए। सेंट्रल जीएसटी गाजियाबाद के आयुक्त आलोक झा ने बताया कि शुक्रवार को हमने तंबाकू उत्पादों के व्यवसाय में लगे एम/एस कुमार सेल्स के प्रोपराइटर राकेश कुमार को गिरफ्तार किया। राकेश ने वस्तु की वास्तविक आपूर्ति के बिना ही नकली जीएसटी चालान जारी कर दिया और फर्जी कंपनियों के माध्यम से एक निश्चित प्रतिशत पर अन्य कंपनियों को दिए गए फर्जी इनपुट टैक्स क्रेडिट को पास किया। झा ने आगे बताया कि हमने राकेश शर्मा के कार्यालयों और निवास पर तलाशी ली। इस दौरान हमने धोखाधड़ी में उनकी संलिप्तता साबित करने वाले गुप्त दस्तावेजों को जब्त कर लिया। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, व्यापारी राकेश को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया और न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। इससे पहले जनवरी में सेंट्रल जीएसटी डिपार्टमेंट ने तीन कंपनियों के कार्यालयों पर छापेमारी की थी, जिसमें टैक्सेबल 81 करोड़ रुपए के जीएसटी फ्रॉड का खुलासा हुआ था।

हरियाणा में मास्क ना पहनने वालों पर बढ़ेगी सख्ती

राणा ओबराय  

चंडीगढ़। हरियाणा के नागरिकों को कोरोना वायरस से बचाव के प्रति फिर से जागरूक करने और चालान काटने के निर्देश मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दिये हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने संबंधित अधिकारियों को सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क न लगाने वालों को कम से कम पांच मास्क प्रदान करने और उनसे जुर्माना वसूलने का अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं।


माइक्रोवेव का इस्तेमाल करने से पहले हो जाएं सावधान

हर घर में माइक्रोवेव देखा जाता है। अधिकतर शहरों में महिलाएं खाना गर्म करने के लिए, खाना बनाने के लिए माइक्रोवेव का इस्तेमाल करती हैं। इससे समय की बचत तो होती है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि माइक्रोवेव के इस्तेमाल से आपको जानलेवा बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। यहां तक कई देशों में तो माइक्रोवेव की बिक्री पर रोक तक लगा दी गई है।

गर्भवति महिलाओं को इसमें बने खाने के प्रयोग से बचना चाहिए। क्योंकि इसका असर बच्चे में जन्म से पड़ सकता है। एक रिसर्च के मुताबिक इसके रोजाना इस्तेमाल से आपका इम्यून सिस्टम भी कमजोर पड़ता है। साथ ही कैंसर को भी जन्म देता है। अगर आप काफी समय तक माइक्रोवेव का इस्तेमाल करते हैं तो इससे आप वायरल और बैक्‍टीरियरल इंफेक्‍शन के संपर्क में भी आसानी से आ सकते हैं।

माइक्रोवेव के इस्तेमाल करने का तरीका...

अगर आप माइक्रोवेव का इस्तेमाल इन तरीकों से करते हैं तो आप जानलेवा बीमारियों से बच सकते हैं। अगर घर में गर्भवति महिला या फिर बच्चे हैं तो माइक्रोवेव में खाना ना बनाएं। साथ ही माइक्रोवेव में कुछ बना रहे हैं तो उसको चम्मच से हिलाते रहें। वहीं एक बार गर्म किए हुए खाने को दोबारा गर्म ना करें। आपको जानकर हैरानी होगी कि जितनी बार आप माइक्रोवेव में खाना गर्म करोगे उतनी ही बार खाना जहरीला होता रहेगा।

40 साल के अधेड़ ने 4 साल की बच्ची से किया रेप

अकांशु उपाध्याय  
 नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली से सटे हरियाणा के सोनीपत में रविवार को इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां 4 साल की मासूम बच्ची के साथ 40 साल के पड़ोसी ने दुष्कर्म किया है। पीड़ित बच्ची ने अपने मां को सारी बात बताई तो परिजन ने पुलिस को जानकारी दी।
पुलिस के मुताबिक रोती-बिलखती बच्ची ने बताया कि चाचा उसे कमरे में ले गया था। वहां उसने उसके साथ गंदी बात की। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। दूसरी ओर बच्ची को खानपुर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस ने पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की

कोलकाता। अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एआईसीसी) ने चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल के लिए 28 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने सोमवार को इस बारे में बताया। गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार और झारखंड जैसे राज्यों के कांग्रेस नेताओं को 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा के आठ चरणों में होने वाले चुनाव के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि एआईसीसी ने कोलकाता के उत्तरी, दक्षिण, मध्य और बड़ा बाजार के लिए चार पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है जबकि उत्तरी 24 परगना और दक्षिण 24 परगना जिलों के लिए दो-दो पर्यवेक्षक बनाए गए हैं। कांग्रेस नेता ने बताया कि बाकी सभी जिलों के लिए एक-एक पर्यवेक्षक होंगे। राज्य में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होंगे।

नड्डा ने विश्वनाथ और कालभैरव मंदिरों में पूजा की

वाराणसी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को यहां श्री काशी विश्वनाथ मंदिर एवं बाबा कालभैरव मंदिर जाकर दर्शन-पूजन किया। भाजपा अध्यक्ष बनने के बाद अपने पहले वाराणसी दौरे के दूसरे दिन उन्होंने अपने दिन की शुरुआत बाबा विश्वनाथ की विधि-विधान से पूजा के साथ की। षोडशोपचार विधि से बाबा भोले की पूजा-अर्चना कर उन्होंने काशी के कोतवाल माने जाने वाले बाबा काल भैरव मंदिर का रुख किया। जहां उन्होंने बाबा के दर पर आरती की। नड्डा ने बाबा विश्वनाथ के दरबार में हाज़िरी लगाने के बाद यहां चल रहे श्री काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर के निर्माण कार्यों को देखकर प्रसन्नता व्यक्त की। उनके साथ उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, सह प्रभारी सुनील ओझा समेत पार्टी के कई नेता मौजूद थे।


संस्कृति विरोधी ताकतों को दूर रखना होगा: राहुल

चैन्नई। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि तमिलनाडु को भाषा एवं संस्कृति विरोधी ताकतों और ”एक संस्कृति, एक राष्ट्र और एक इतिहास” की अवधारणा पेश करने वालों को दूर रखने में भारत को राह दिखानी चाहिए। राहुल गांधी ने राज्य के तीन दिवसीय दौरे में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि इतिहास ने दिखा दिया है कि तमिलनाडु में तमिल लोगों के अलावा कोई और सत्ता में नहीं आ सकता। 234 विधानसभा सीटों वाले तमिलनाडु में 6 अप्रैल को चुनाव होने हैं। कांग्रेस द्रमुक नीत गठबंधन के साथ चुनाव लड़ रही है।

बंगाल: चुनाव आयोग के फैसले के खिलाफ याचिका

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव कराने के निर्वाचन आयोग फैसले के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में सोमवार को एक याचिका दायर की गई है। वकील एम एल शर्मा द्वारा दायर याचिका में न्यायालय से आयोग को यह निर्देश देने का अनुरोध किया गया है कि वह राज्य में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव नहीं कराए क्योंकि यह संविधान के अनुच्छेद 14 (जीवन के अधिकार) और अनुच्छेद 21 का उल्लंघन करता है।निर्वाचन आयोग ने 26 फरवरी को पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में होने वाले चुनावों के लिए कार्यक्रम की घोषणा की थी। पश्चिम बंगाल में जहां 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में चुननाव होंगे वहीं तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में एक चरण में 6 अप्रैल को चुनाव होंगे। असम में तीन चरणों में चुनाव होने हैं। याचिका पर अगले कुछ दिनों में सुनवाई होने की उम्मीद है।

प्रियंका दो दिवसीय यात्रा पर पहुंचीं असम, पूजा की

गुवाहाटी। कांग्रेस महासचिव एवं स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी वाड्रा असम के दो दिवसीय दौरे पर सोमवार सुबह यहां पहुंचीं। प्रियंका गांधी ने गुवाहाटी में लोकप्रिय गोपीनाथ बोरदोलोई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरने के तुरंत बाद गुवाहाटी में नीलाचल पहाड़ी पर स्थित प्रसिद्ध कामाख्या मंदिर में पूजा-अर्चना की। उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी थे।उन्होंने मंदिर परिसर में संवाददाताओं से कहा कि मैं लंबे समय से कामाख्या मंदिर आने के बारे में सोच रही था और मेरी मनोकामना आज पूरी हुई। मैंने देवी की पूजा की और उनसे अपने परिवार के लिए आशीर्वाद मांगा। मैंने असम और राज्य के लोगों के कल्याण के लिए भी प्रार्थना की।

आंदोलन के नाम पर अराजकता फैला रहा है विपक्ष

हरिओम उपाध्याय  
लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने किसान आंदोलन के नाम पर कांग्रेस, समाजवादी पार्टी तथा आम आदमी पार्टी पर देश में अराजकता फैलाने का आरोप लगाया है। केशव मौर्य ने आज ट्वीट कर कहा कि किसानों को आंदोलन के नाम पर बरगलाया जा रहा और झूठ फैलाया जा रहा है। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर खास तौर पर निशाने पर लिया और कहा कि संवैधानिक पद पर बैठे केजरीवाल ऐसी बात कर रहे हैं।केजरीवाल ने एक दिन पूर्व तीन कृषि कानूनों को किसानों के लिये डेथ वारंट कहा था और ये भी आरोप लगाया था कि 26 जनवरी को लाल किले पर हुए उपद्रव में भाजपा का हाथ था। केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कानून का विरोध करने वाले अभी तक यह नहीं बता सके हैं कि इसमें कमी या खामी क्या है। उनका मकसद देश में अराजकता फैलाना है लेकिन देश की जनता इनके मंसूबों के कामयाब नहीं होने देगी।

मिस इंडिया मानसी आम आदमी पार्टी में शामिल

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। पूर्व मिस इंडिया दिल्ली मानसी सहगल सोमवार को आम आदमी पार्टी में शामिल हो गईं। यहां जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई। बयान के अनुसार सहगल आप नेता राघव चड्ढा की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुईं। इस दौरान सहगल ने कहा कि वह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के ईमानदार शासन से प्रेरित हुईं और इसलिए उन्होंने आम आदमी पार्टी को चुना।उन्होंने कहा कि किसी भी राष्ट्र की समृद्धि के लिए स्वास्थ्य और शिक्षा दो मुख्य स्तंभ हैं और अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में पिछले कुछ सालों में इन दो क्षेत्रों में जबरदस्त बदलाव हुए हैं।

प्रसंस्करण क्षेत्र में क्रांति लाने की जरूरत: मोदी

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि देश में सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) के जरिये खाद्य प्रसंसकरण क्षेत्र में क्रांति लाने की जरूरत है। प्रधानमंत्री ने कृषि क्षेत्र के लिये बजट में किये गये प्रावधानों पर वेबिनार को संबोधित करते हुये विभिन्न पहलों के बारे में बताया। बजट में अगले वित्त वर्ष के लिये कृषि क्षेत्र के लिये कर्ज का लक्ष्य चालू वित्त वर्ष के 15 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 16.5 लाख करोड़ रुपये रखा गया है। मोदी ने बजट प्रावधानों के प्रभावी क्रियान्वयन पर जोर दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों के फायदे के लिये सरकार ने कई फैसले लिये हैं। उन्होंने कहा कि ये छोटे और सीमांत किसान ग्रामीण अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने में अग्रणी भूमिका निभायेंगे। देश के खाद्यान्न उत्पाद में लगातार वृद्धि का क्रम जारी है इसे देखते हुये प्रधानमंत्री ने फसल कटाई के बाद फसलों की साज संभाल, खाद्य प्रसंस्करण और मूल्य वर्धन क्षेत्र में क्रांति लाने की आवश्यकता पर जोर दिया।

महिला के पति ने मालकिन समेत 2 बच्चों को जलाया

कानपुर। उत्तर प्रदेश में कानपुर देहात के अकबरपुर के नेहरू नगर में किराएदार सिपाही के पति ने मकान मालिक सभासद की पत्नी व उसके दो बच्चों पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। पुलिस अधीक्षक केशव कुमार ने आज कहा कि आसपास के लोगों ने आनन फानन आग बुझाई और भागने का प्रयास कर रहे आरोपी का पीछा किया। इस बीच वह ट्रक की चपेट में आकर गंभीर रूप से जख्मी हो गया, वहीं अस्पताल में गंभीर झुलसे दोनों बच्चों की रविवार की देर रात मौत हो गई। सभासद की पत्नी की हालत गंभीर है। पुलिस ने घटना की पड़ताल शुरू की है।अकबरपुर कोतवाली के पास नेहरू नगर में सभासद जितेंद्र यादव पत्नी अर्चना, चार वर्षीय बेटी अक्षिता व डेढ़ वर्षीय बेटा हनु के साथ रहते हैं। उनके मकान में कोतवाली में तैनात महिला सिपाही उषा किरायेदार है और पति अवनीश के साथ रहती है। रविवार देर रात अवनीश ने मकान मालिक की पत्नी अर्चना व दोनों बच्चों पर पेट्रोल डालकर आग लगा दिया। तीनों की चीखपुकार सुन कर दूसरे कमरे से जितेंद्र व आसपास के लोग भी एकत्र हुए। उन पर कंबल डालकर आग बुझाई।

महापंचायत को लेकर वॉलिंटियर्स ने संभाली व्यवस्था

रुद्रपुर। शहर में होने वाली किसान महापंचायत को लेकर पुलिस और सयुंक्त किसान मोर्चा के वॉलिंटियर्स ने पूरी व्यवस्थाओं को संभाला। जिसमें पार्किंग व्यवस्थाओं के साथ साथ अन्य व्यवस्थाओं को पुलिस और वॉलिंटियर्स ने संभाला। जानकारी देते हुए एसडीएम विशाल मिश्रा ने बताया कि किसान महापंचायत को लेकर प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है। जिसको लेकर शहर को पांच जोनों में बांटा गया है। जिसमें भदईपुरा, तीन पानी आदि जगहों पर ट्रैफिक को डायवर्ट कर पार्किंग की व्यवस्था की गई है। महापंचायत में सीओ रुद्रपुर समेत सीओ सितारगंज व सीओ काशीपुर ने व्यवस्थाओं पर पूरी तरह से नजर रखी। साथ ही तहसीलदार अमृता शर्मा, एसडीएम रुद्रपुर विशाल मिश्रा, एसडीएम किच्छा नरेश दुर्गापाल भी मौके पर मौजूद रहे। इस दौरान हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे।

अधिकार को चुनौती देने वाली याचिका खारिज

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारियों को अपने पास प्रतिनियुक्ति पर बुलाने के केंद्र सरकार के अधिकार को चुनौती देने वाली याचिका सोमवार को खारिज कर दी। न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने पश्चिम बंगाल के निवासी एवं पेशे से वकील अबु सोहेल की याचिका संक्षिप्त सुनवाई के दौरान खारिज कर दी।गौरतलब है कि हाल ही में पश्चिम बंगाल के तीन आईपीएस अधिकारियों को केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर बुलाये जाने पर केंद्र और राज्य सरकार में तनातनी हो चुकी है। याचिकाकर्ता ने भारतीय पुलिस सेवा (कैडर) नियमावली, 1954 के नियम 6(1) की संवैधानिकता को चुनौती दी थी। जिसके तहत आईपीएस अधिकारियों को प्रतिनियुक्ति पर अपने पास बुलाने का केंद्र को अधिकार है।

नेता आजाद को लेकर राजनीतिक हलचल तेज हुई

श्रीनगर। राज्‍यसभा से रिटायर होने के बाद वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद को लेकर राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। ऐसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के प्रति जाहिर किए गए उनके प्रेम को लेकर कहा जा रहा है। जम्‍मू में कांग्रेस के ‘जी-23’ नेताओं की ओर से पार्टी हाईकमान के खिलाफ बगावत का संकेत देने के एक दिन बाद गुलाम नबी आजाद ने सार्वजनिक मंच से पीएम मोदी को जमीनी नेता भी कहा है। ऐसे में अब राजनीतिक कयास लगाए जा रहे हैं कि कहीं आजाद पाला तो नहीं बदलने जा रहे। मतलब उनके बीजेपी में जाने को लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं बढ़ गई हैं।
आजाद ने हाल ही में कहा, ‘मैं कई नेताओं की प्रशंसा करता हूं… मैं खुद गांव का हूं और मुझे इसका फक्र है। मैं अपने प्रधानमंत्री जैसे नेताओं की काफी प्रशंसा करता हूं जो कहते हैं कि वह गांव से हैं। वह चाय बेचते थे। मेरे राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन वह अपने अतीत को नहीं छिपाते हैं।

इस महीने कौन-कौन से त्योहार आएंगे, जानिए

फाल्गुन का महीना शुरू हो गया है। जी हाँ, रविवार से यानी 1 मार्च से फाल्गुन का महीना शुरू हो गया। इसे हिन्दू पंचांग का अंतिम महीना कहा जाता है। आप सभी जानते ही होंगे कि इस महीने की पूर्णिमा को फाल्गुनी नक्षत्र होने के कारण इसे फाल्गुन कहा जाता हैं। इस महीने को ही आनंद और उल्लास का महीना भी कहते है। दरअसल इस महीने बसंत का प्रभाव बढ़ जाता है और इसी के वजह से प्रेम और रिश्तों में मिठास आने लगती है। आप सभी को बता दें कि इस बार फाल्गुन मास 28 फरवरी से 28 मार्च तक रहेगा। इस बीच महाशिवरात्रि, होली, जानकी जयंती , प्रदोष व्रत , फाल्गुन अमावस्या, शनि अमावस्या, खरमास प्रारंभ, होली भाई दोज, होलिका दहन, फाल्गुन पूर्णिमा व्रत जैसे पर्व आने वाले हैं। अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं इस महीने कौन-कौन से त्योहार पड़ने वाले हैं।

1 मार्च- महाशिवरात्रि और दूसरा होली।
2 मार्च : संकष्टी चतुर्थी।।
6 मार्च- जानकी जयंती (सीताष्टमी)।
9 मार्च-  विजया एकादशी।
10 मार्च- प्रदोष व्रत (कृष्ण)।

11 मार्च- महाशिवरात्रि, मासिक शिवरात्रि, हरिद्वार कुंभ प्रथम शाही स्नान।
13 मार्च- फाल्गुन अमावस्या, शनि अमावस्या।
14 मार्च- मीन संक्रांति, पंचक, चंद्रदर्शन।
15 मार्च- खरमास प्रारंभ,।।
17 मार्च- विनायकी चतुर्थी।

20 मार्च- रोहिणी व्रत।
21 मार्च- होलाष्टक प्रारंभ।
25 मार्च- आमलकी एकादशी।
26 मार्च- प्रदोष व्रत (शुक्ल)।
28 मार्च- होलाष्टक स। होलिका दहन, फाल्गुन पूर्णिमा व्रत।

29 मार्च- होली, धुलेंडी, वसंतोत्सव, आम्रकुसुम प्राशन पोडषकारण व्रत प्रारंभ।
30 मार्च- चित्रगुप्त पूजा, होली भाई दोज।
31 मार्च- संकष्टी चतुर्थी।

आप पार्टी को झटका, बहुत महंगी हुई रसोई गैस

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। मार्च महीने ने पहले ही दिन आम आदमी को एक बड़ा झटका दिया है। एक बार फिर से एलपीजी गैस सिलिंडर  की कीमत में उछाल आया है। एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में सोमवार को फिर से 25 रुपये की बढ़ोतरी की गई। महज तीन दिन पहले कीमतों में 25 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी। हफ्ते भर के भीतर दो बार की कीमत में इजाफा हुआ है। बता दें कि अब 14.2 किलोग्राम वाले नॉन सब्सिडी एलपीजी गैस सिलिंडर  के लिए आपको 25 रुपए और चुकाने होंगे। इसी के साथ कीमत में बढ़ोतरी के बाद अब दिल्ली में घरेलू गैस का रेट 794 से बढ़कर 819 रुपए हो गया है।

पंजाब: कोरोना का कहर, विधायक मिलें पॉजिटिव

राणा ओबराय  
चंडीगढ़। पंजाब विधानसभा का 1 मार्च से 14वां सैशन शुरू होने जा रहा है। परन्तु इससे पहले ही कांग्रेस के दो और विधायक कोरोना की लपेट में आ गए हैं। विधायक लखवीर सिंह लक्खा और सुनील दत्ती की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जबकि इससे पहले कैबिनेट मंत्री सुख सरकारिया और विधायक इन्दु बाला की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ चुकी है। उधर पायल के कांग्रेसी विधायक लखवीर सिंह लक्खा का शुक्रवार को चंडीगढ़ में पंजाब विधानसभा के सैशन में शामिल होने के लिए कोरोना टेस्ट लिया गया था। जिसकी सोमवार को आई रिपोर्ट में कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। विधायक लखवीर सिंह लक्खा के सुपुत्र करनवीर सिंह ने बताया कि उनके पिता की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है और वह घर में होम क्वारंटाइन हैं। उनको पिछले कुछ दिनों से तेज बुख़ार महसूस हो रहा था।

भाजपा का यूपी विधानसभा चुनाव 'मिशन' प्रारंभ

हरिओम उपाध्याय  
 नई दिल्ली/लखनऊ। पांच राज्यों में होने वाले आगामी चुनाव को लेकर भाजपा ने सभी राज्यों में पूरी ताकत झोंक दी है। भाजपा ने उत्तरप्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए भी अभियान शुरू कर दिया है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मिशन यूपी 2022 की शुरूआत करने के लिए दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे हुए हैं। सोमवार की सुबह पार्टी नेताओं के साथ काशी विश्वनाथ मंदिर जाकर भगवान शंकर के दर्शन किए और महाकाल की सेवा कर प्रसाद लिया। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी उनके साथ थे।

आंदोलन के खिलाफ कदम उठाएं जाने का संक्रेत

बिजनौर। भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के नेता राकेश टिकैत ने आरोप लगाया है कि पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार की ‘खामोशी’ इशारा कर रही है कि सरकार किसानों के आंदोलन के खिलाफ कुछ रूपरेखा तैयार कर रही है। सरकार और किसान यूनियनों के बीच बातचीत का दौर थम जाने पर उन्होंने कहा कि फिर से बात करने का प्रस्ताव सरकार को ही लाना होगा।भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने उत्तराखंड के उधमसिंहनगर जाते समय रविवार रात बिजनौर के अफजलगढ़ में पत्रकारों से कहा कि  15-20 दिनों से केंद्र सरकार की खामोशी से संकेत मिल रहा है कि कुछ होने वाला है। सरकार आंदोलन के खिलाफ कुछ कदम उठाने की रूपरेखा बना रही है।

पीएम ने लगवाई कोरोना वैक्सीन की फर्स्टडोज

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली स्थित एम्स अस्पताल में कोरोना वायरस की पहली खुराक ले ली है। पीएम मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट किया। मैंने एम्स में कोविड-19 वैक्सीन की अपनी पहली खुराक ली। उल्लेखनीय है कि कैसे हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने कोरोना महामारी के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूत करने के लिए काम किया है। मैं उन सभी से अपील करता हूं, जो वैक्सीन लेने के लिए योग्य है। वे इसे जरूर लें। आइए, हम सब साथ मिलकर भारत को कोविड-19 मुक्त बनाएं। पीएम मोदी ने भारत बायोटेक की श्कोवैक्सिनश् वैक्सीन लगवाई है। बता दें कि कोवैक्सिन नामक टीके को भारत बायोटेक ने भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद और राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान के साथ मिलकर विकसित किया है। पीएम मोदी को कोरोना वैक्सीन देने वालीं सिस्टर पी. निवेदा ने बताया, श्पीएम मोदी को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन की पहली डोज दी गई है। दूसरी डोज 28 दिन बाद दी जाएगी। वैक्सीनेशन के दौरान पीएम मोदी ने पूछा कि हम कहां से हैं। टीका लगने के बाद उन्होंने कहा- लगा भी दी, पता ही नहीं चला। पुदुचेरी की सिस्टर पी. निवेदा ने पीएम मोदी को कावैक्सीन (भारत बायोटेक) वैक्सीन की खुराक दी। तस्वीर में सिस्टर निवेदा के अलावा केरल की रहने वाली एक अन्य नर्स रोसम्मा अनिल भी दिख रही हैं। एम्स निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया भी इस मौके पर मौजूद रहे। पीएम मोदी ने कोरोना का टीका लगावाकर कई विपक्षियों को करारा जवाब दिया है। दरअस, कई विपक्षी दलों के नेता भारत में निर्मित कोरोना वैक्सीन पर सवाल उठा रहे थे। कई नेताओं ने तो यहां तक कह दिया था कि पहले प्रधानमंत्री मोदी कोरोना वैक्सीन लगवाएं, फिर हम लगाएंगे। ऐसे सभी नेताओं को अब पीएम मोदी ने जवाब दे दिया है। साथ ही पीएम मोदी के कोरोना का टीका लगवाने से आमलोगों में भी कोरोना वैक्सीन के प्रति विश्वास बढ़ेगा।

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान के तहत आम लोगों को आज से टीका लगना शुरू हो रहा है। आमजनों में 60 साल से अधिक और 45 साल से ज्यादा उम्र के गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोग शामिल होंगे। को-विन 2.0 पोर्टल के साथ ही आरोग्य सेतु पर आज सुबह नौ बजे से रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा। ऐसे में तेजी से टीकाकरण देश में हो पाएगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मुताबिक, आज से कोई भी व्यक्ति किसी भी केंद्र पर कोरोना का टीका लगवा सकता है। सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में टीका लगेगा, निजी अस्पतालों में प्रत्येक खुराक के लिए 250 रुपये देने होंगे। इसमें 150 रुपये टीके के लिए और 100 रुपये सर्विस चार्ज होगा। हालांकि, उम्मीद की जा रही थी कि कोरोना वायरस की एक खुराक के लिए इससे कहीं ज्यादा खर्च करने होंगे।

राहुल गांधी का अजब ही अंदाज देखने को मिला

अकांंशु उपाध्याय  

चेन्नई। कांग्रेस नेता राहुल गांधी तमिलनाडु के दौरे पर हैं। राहुल ने सोमवार को कन्याकुमारी में रोड शो निकाला, लेकिन इसके बाद राहुल गांधी का एक अलग अंदाज नजर आया। कन्याकुमारी में राहुल गांधी ने युवा छात्र-छात्राओं से बात की, इसी दौरान राहुल गांधी एक युवा छात्रा के साथ पुशअप लगाते हुए नज़र आए।

राहुल गांधी ने यहां पर बच्चों से संवाद किया, इस दौरान राहुल ने एक छात्र के साथ आइकिदो परफॉर्म किया। आइकिदो दिखाने के बाद राहुल गांधी से एक छात्रा ने पुशअप करने के लिए अपील की, जिसके बाद राहुल गांधी ने मंच पर ही छात्रा के साथ पुशअप किए। राहुल गांधी ने पहले पुशअप लगाए और उसके बाद छात्रा से एक हाथ से पुश-अप लगाने को कहा। राहुल गांधी ने खुद भी एक हाथ से पुशअप लगाए। राहुल गांधी ने जिस छात्रा के साथ पुशअप्स चैलेंज किया, वह दसवीं की छात्रा है और उसका नाम मेरोलिन शेनिघा है।
गौरतलब है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार दक्षिण के राज्यों का दौरा कर रहे हैं, पुडुचेरी, केरल और अब तमिलनाडु। जहां राहुल गांधी का अलग ही अंदाज देखने को मिल रहा है। बीते दिनों केरल में राहुल गांधी मछुआरों के साथ समुद्र में गए थे, जहां उन्होंने मछुआरों से उनकी समस्याओं को जाना। राहुल गांधी ने मछुआरों के साथ नाव में समुद्र का सफर किया और इतना ही नहीं राहुल समुद्र में भी कूदे और मछुआरों के साथ तैरते हुए नजर आए। इसी दौरान राहुल गांधी की एक तस्वीर भी वायरल हुई थी, जिसमें राहुल गांधी के सिक्स पैक एब्स दिखाई दे रहे थे. राहुल गांधी की फिटनेस की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही थी।

वायरस: 1.11 करोड़ संक्रमित, 1,57,157 की मौत

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 15,510 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या 1.11 करोड़ से अधिक हो गई। वहीं, लगातार पांचवे दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 1,68,627 हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 1,11,12,241 हो गए हैं। वहीं 106 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,57,157 हो गई। आंकड़ों के अनुसार, कुल 1,07,86,457 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही देश में मरीजों के ठीक होने की दर 97.07 प्रतिशत हो गई। वहीं कोविड-19 से मृत्यु दर 1.41 प्रतिशत है। देश में अभी 1,68,627 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 1.52 प्रतिशत है।

चीनी हैकर्स की कोशिश, भारत में बड़ा पावर कट

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली/ बीजिंग। देश की पावर सप्लाई चीन के सायबर अटैकर्स के निशाने पर है। यह दावा एक रिपोर्ट में किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार द्वारा चलाये जा रहे कम से कम 12 संस्थान चीनी हैकर्स के निशाने पर थे। इसमें मुख्य रूप से पॉवर यूटिलिटी और उनके लोड डिस्पैच सेंटर्स शामिल हैं। साल 2020 के बीच में चीनी सरकार के समर्थन वाले कुछ समूहों ने मैलवेयर इंजेक्ट करने की कोशिश की थी। चीनी हैकर्स की कोशिश थी कि वह भारत में बड़ा पावर कट कर सकें।

रिकॉर्डेड फ्यूचर की एक स्टडी के अनुसार एनटीपीसी लिमिटेड, पांच रीजनल लोड डिस्पैच सेंटर्स और दो बंदरगाहों पर हैकर्स ने हमला किया था। भारतीय राष्ट्रीय महत्वपूर्ण सूचना इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोटेक्शन सेंटर (NCIIPC) की परिभाषा के अनुसार, सभी 12 संगठन महत्वपूर्ण इंफ्रास्ट्रक्चर हैं।रिपोर्ट में कहा गया है कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के साथ सीमा पर गतिरोध पैदा करने वाले भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच मई 2020 की झड़पों से पहले इसकी कोशिश शुरू हो गई थी। पिछले साल ‘भारत के बिजली क्षेत्र का एक बड़े संस्थान’ को निशाना बनाने के लिए चीनी संगठनों ने एक विशेष सॉफ्टवेयर का खूब इस्तेमाल किया।

रिपोर्ट में दावा है कि हैकर्स के कुछ समूह राज्य सुरक्षा मंत्रालय (MSS), या चीन की मुख्य खुफिया और सुरक्षा एजेंसी, और पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) से भी जु़ड़े हुए हैं। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि बिजली क्षेत्र के अलावा, कई सरकारी और रक्षा संगठन भी रडार पर थे।

हालांकि इस रिपोर्ट में मैलवेयर की वजह से हुई किसी गड़बड़ी का जिक्र नहीं किया गया था, लेकिन इसने 13 अक्टूबर, 2020 को मुंबई में बड़े पैमाने पर ब्लैकआउट का जिक्र है। जो कथित तौर पर पडघा के एक स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर में मैलवेयर इंसर्शन के कारण हुआ था। महाराष्ट्र के बिजली मंत्री नितिन राउत ने उस समय कहा था कि अधिकारियों को संदेह था कि कुछ अंदरूनी दिक्कत लंबे समय तक बिजली गुल रहने की वजह है।

बीते साल हुई इस घटना में दो घंटे तक मुंबई स्टॉक एक्सचेंज बंद रहा जबकि कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया। साथ ही मुंबई, ठाणे और मावी के कुछ दफ्तरों को भी बंद कर दिया गया था।

पंचायत चुनाव में सबसे अहम मुद्दा आरक्षण: यूपी

हरिओम उपाध्याय   

लखनऊ। यूपी पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण लिस्ट का फाइनल ड्राफ्ट जिला पंचायती राज विभाग के अधिकारियों ने तैयार कर लिया है। जिला पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान, बीडीसी का आरक्षण तय कर दिया गया है। ग्राम पंचायत सदस्यों के आरक्षण का काम कुछ बचा है जो निर्धारित समय से पहले करा लिया जाएगा।

अफसरों ने जो आरक्षण लिस्ट तैयार की है, उसका जीओ के मुताबिक मिलान किया जा रहा है। जिला स्तरीय समिति की मुहर के बाद आरक्षण की फाइनल लिस्ट डीएम को भेजी जाएगी। पंचायती राज विभाग की मशीनरी कई दिन से जिला पंचायत, ग्राम प्रधान और ब्लॉक प्रमुख का आरक्षण तय करने की कवायद कर रही थी। बहुत जल्द जिला स्तरीय समिति के सामने आरक्षण की लिस्ट पेश की जाएगी। फाइनल सूची एक-दो दिन में डीएम के पास पहुंचेगी। डीएम की संस्तुति के बाद आरक्षण का प्रकाशन किया जाएगा। सभी आरक्षण लिस्ट दो मार्च को सार्वजनकि की जाएगी। इसके बाद अपत्तियां मांगी जाएगी और फिर उनका समाधान किया जाएगा। इसके बाद फाइनल आरक्षण लिस्ट जारी कर दी जाएगी। यह पूरी प्रक्रिया 15 मार्च तक पूरी करनी है।

आरक्षण पर टिकी है सबकी निगाहें 
पंचायत चुनाव में सबसे अहम मुद्दा आरक्षण का है। सभी की निगाहे इस पर टिकी है। कौन सी सीट कहां आरक्षित हुई है, इसको लेकर उम्मीदवार अफसरों ने लेकर जनप्रतिनिधियों से सम्पर्क कर रहे हैं। आरक्षण फाइलन होने के बाद चुनाव का शोर और तेज हो जाएगा। पीलीभीत के डीपीआरओ प्रमोद कुमार यादव बताते हैं कि  आरक्षण आवंटन का काम लगभग पूरी हो चुका है। मिलान भी लगभग पूरा हो चुका है। निर्धारित समय पर आरक्षण आवंटन की सूची सार्वजनिक की जाएगी। इसके बाद आपत्तियों मांगी जाएगी।

गड्ढों को भरना बाकी है अंधेरों को हरना बाकी है

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज वित्तीय वर्ष 2021—22 के लिए विधानसभा में बजट पेश किया। मुख्यमंत्री प्रदेश के विकास के लिए सभी वर्गों के लिए कई बड़ी घोषणाएं की है। सीएम ने बजट में गांव, गरीब, किसान के विकास पर जोर दिया है। वहीं राज्य की महत्वकांक्षी योजना राजीव गांधी न्याय योजना के लिए पांच हजार सात सौ तीन करोड़ रुपए का बजट प्रावधान किया है।

बजट पेश करने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक कविता ट्वीट किया। सीएम ने लिखा कि उन गढ्ढों को भरना बाकी है, उन अंधेरों को हरना बाकी है। भरेंगे वो सब गढ्ढे, उन्हीं पर राह बनाएँगे। हरेंगे वो सब अंधेरे, वहीं पर दीपक जलाएँगे।साथ है आपका, भरोसा है आपका, प्यार है आपका, आशीष है आपका। लेकर छत्तीसगढ़ महतारी का आशीर्वाद, थामकर एक दूसरे का हाथ, चलेंगे साथ।

वहीं बजट पेश करने से पहले मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर लिखा – वक़्त कितना भी मुश्किल हो, रफ़्तार नहीं थमने देंगे। चुनौतियां लाख हों, छत्तीसगढ़ को नहीं रुकने देंगे। आगे बढ़ेगा छत्तीसगढ़, गढ़ेंगे नवा छत्तीसगढ़।

यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए गधे के मांस का भक्षण

पालूराम  

अमरावती। भारत में गदहा पर विलुप्त होने का खतरा मंडरा रहा है। यही वजह है कि सरकार ने इसे विलुप्त होने वाले जानवरों की लिस्ट में रखा है। एक तरफ भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण यानी एफएसएसआई ने गधे को फूड एनीमल के तौर पर रजिस्टर्ड नहीं कर यह संदेश दे दिया है कि इन्हें मारना अवैध है। वहीं, दूसरी तरफ आंध्र प्रदेश के कई जिलों में लोग गदहों को मारकर उसका मांस खा रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, आंध्र प्रदेश के सरकारी अधिकारी प्रदेश के कुछ जिलों में गधे के मांस के कथित सेवन की आशंका जता रहे हैं। कथित तौर पर लोग मान रहे हैं कि गदहा के मांस खाने से पीठ दर्द, अस्थमा ठीक होता है। एक पशु कल्याण कार्यकर्ता सुरबाथुला ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि गदहे का मांस ज्यादातर प्रकाशम, कृष्णा, पश्चिम गोदावरी और गुंटूर जिलों में खाया जाता है।

वही पशु कल्याण कार्यकर्ता सुरबाथुला ने कहा कि हर गुरुवार और रविवार को मांस की बिक्री होती है, जहां कुछ पढ़े-लिखे लोग भी इसे खरीदते हैं। माना जाता है कि इन मौकों पर कम से कम 100 गधों का वध किया जाता है। गदहे के मांस को बेचने के व्यापार से जुड़े लोग कर्नाटक, तमिलनाडु और महाराष्ट्र से जानवरों की खरीद कर रहे हैं। इसके साथ थी पशु अधिकार कार्यकर्ता के अनुसार, गधे का मांस खाने की आदत प्रकाशम जिले के एक जगह से पहले शुरू हुई थी। एक समय में यह जगह चोरों का केंद्र हुआ करता था। एक मिथक यह था कि गधे के खून पीने से इंसान को इतनी ताकत मिलती है कि वह लंबे समय तक दौड़ सकता है, इसी वजह से यहां रहने वाले चोर गदहे को मारकर उसका खून पीते थे।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   

1. अंक-197 (साल-02)
2. मंगलवार, मार्च 02, 2021
3. शक-1983, फाल्गुन, कृष्ण-पक्ष, तिथि- तीज, विक्रमी संवत 2077। 

4. प्रातः 06:48, सूर्यास्त 06:21।

5. न्‍यूनतम तापमान -11 डी.सै., अधिकतम-29+ डी.सै.। 

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +91935030275                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)

चिकित्सा ग्रेड ऑक्सीजन, कर के दर में कटौती की

अकांशु उपाध्याय              नई दिल्ली। जीएसटी परिषद ने कोविड-19 के इलाज में काम आने वाली दवाओं मसलन रेमडेसिविर तथा उपकरणों ऑक्सीजन कन्सनट्र...