गुरुवार, 5 सितंबर 2019

जन आशीर्वाद यात्रा में 80 विधानसभा

फतेहाबाद। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की जन आशीर्वाद यात्रा प्रदेश के 80 विधानसभा क्षेत्रों को कवर करते हुए जिला व टोहाना विधानसभा क्षेत्र के गांव सनियाना में पहुंची। यात्रा के 81वें विधानसभा क्षेत्र गांव सनियाना में पहुंचने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल का भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से स्वागत किया। यात्रा का अनेक गांवों में कार्यकर्ताओं व जन प्रतिनिधियों ने स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने जनता और कार्यकर्ताओं पर फूल बरसाए और आशीर्वाद मांगा।
अपने स्वागत से गदगद मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अपने संबोधन में कहा कि जितना प्यार और आशीर्वाद हरियाणा की जनता ने हमें पांच साल में दिया है, उससे दौगुना प्यार और आशीर्वाद लेने के लिए वे जनता के बीच आएं है। उन्होंने जनता से वायदा किया कि जितने काम पांच सालों में किए है, आगामी पांच वर्षों में उससे दौगुने विकास कार्य करके दिखाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि 2014 में हरियाणा की जनता ने पांच साल के लिए हमें आशीर्वाद दिया था। इस आशीर्वाद के मिलने के बाद हमने कभी पीछे मुडक़र नहीं देखा और इन पांच सालों में पूरे हरियाणा प्रदेश को परिवार की तरह मानकर सेवा की है। अनेक ऐतिहासिक निर्णय लिए गए है और गरीबों के कल्याण के लिए अनेक कदम उठाए है।


मुख्यमंत्री ने लोगों से सीधा संवाद करते हुए पूछा कि क्या वे उनके काम से संतुष्ट और राजी है, इस पर जनता ने बड़ी गर्मजोशी और उत्साह के साथ मुख्यमंत्री कर हां में हां मिलाते हुए कहा कि वे पूर्णरूप से सरकार द्वारा किए गए कार्यों से संतुष्ट है। मुख्यमंत्री ने इसी जोश को रखते हुए जनता से अगले पांच साल के लिए आशीर्वाद मांगा और कहा कि वे 75 प्लस के लक्ष्य को ध्यान में रखकर उन्हें मौका दें। इस पर लोगों ने मुख्यमंत्री को उत्साह के साथ कहा कि जनता उन्हें 85 पार सीटें देकर सत्ता सौंपेगी। उन्होंने सभी लोगों से आह्वान किया कि अगले डेढ़ महिने तक हर किसी व्यक्ति से संपर्क करें और फिर से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाएं। उन्होंने कहा कि वे सेवा का लाइसेंस रिन्यू करवाने आए है। जनता एक बार फिर से उन्हें सेवा का मौका देंगी तो वे विकास की गति को और अधिक तेजी से बढ़ाएंगे।


भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष एवं टोहाना के विधायक सुभाष बराला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल का टोहाना विधानसभा क्षेत्र में पहुंचने पर स्वागत करते हुए कहा कि हरियाणा के आज तक के इतिहास में सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए उन्हें बहुत खुशी हो रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा 18 अगस्त को शुरू की गई जन आशीर्वाद आज प्रदेश के 80 विधानसभा क्षेत्र कवर करते हुए 81वें विधानसभा क्षेत्र टोहाना में पहुंची है, इसका लोग गर्मजोशी और उत्साह के साथ स्वागत कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने हर वर्ग के कल्याण के लिए योजना लागू की है। हमारा इलाका खेती पर आधारित है। मुख्यमंत्री ने किसानों के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं लागू की है। किसान के खेत में टेल तक पानी पहुंचाने के लिए माइनरों की रि-मॉडलिंग  की दुरूस्त किया गया है। सारे खाले पक्के किए गए है। खालों की लंबाई जहां पहले 24 फीट होती थी, अब इनकी लंबाई को 40 फीट तक बढ़ाया गया है। प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि खेतों की ढाणियों में जाने वाले रास्तों को भी पक्का करवाने का काम शुरू किया गया है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा प्रदेश सरकार ने 24 घंटे बिजली आपूर्ति देने पर काम किया।
इस मौके पर करनाल के सांसद संजय भाटिया, सिरसा लोकसभा क्षेत्र की सांसद सुनीता दुग्गल, भाजपा प्रदेश सचिव जवाहर सैनी, भाजपा जिलाध्यक्ष वेद फुलां, फतेहाबाद के पूर्व विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, रतिया के पूर्व विधायक प्रो. रविंद्र बलियाला, सरपंच हरप्रीत कौर, पार्षद अजय मेहता, बलिवंद्र सिंह आदि ने मुख्यमंत्री का फतेहाबाद पहुंचने पर स्वागत किया।


बुखार के नशे में मरीज ने मचाया उत्पात

तुषार सक्सेना-ब्यूरो चीफ 



बुखार के नशे में सीएससी में मरीज का उत्पात
वार्ड बॉय से की मारपीट पुलिस मौके पर 


रामपुर। आपने अक्सर मरीजों को अपना इलाज कराते देखा होगा। अब आप उत्तर प्रदेश के रामपुर की ऐसी तस्वीर देखिए सोचने पर आप भी अमादा हो जाएंगे। ताजा मामला तहसील शाहबाद के सीएससी से सामने आया है। जहां ओमकार को अचानक से तेज बुखार चढ़ गया। परिवार के लोग आनन-फानन में ओमकार को लेकर शाहबाद सीएससी पहुंचे। जहां डॉक्टर ने देखकर वार्डबॉय से कहां इसके इंजेक्शन लगा दो। इंजेक्शन लगा रहे थे इतनी देर में ओमकार ने वार्ड बॉय और मरीज को पीटना शुरू कर दिया और अपना उत्पात मचाना शुरू कर दिया। डॉक्टर ने सूचना पुलिस को दी पुलिस भी तुरंत मौके पर पहुंच गई। पुलिस के सामने भी ओमकार ने उत्पात मचाना नहीं छोड़ा। आखिरकार परिवार के लोगों ने ओमकार के ऊपर तीन बाल्टी पानी डाल गया। जब कर ओमकार नॉर्मल हुआ डॉक्टर ने ओमकार का ट्रीटमेंट शुरू हुआ। तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है ओमकार किस तरीके से अपना उत्पात मचा रहा है। पुलिस मौके पर मौजूद है। ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने बताया एक मरीज आया था। जिसको तेज बुखार था देखने के बाद हमने कहा वार्ड बॉय से मरीज को इंजेक्शन लगा दो इतनी देर में मरीज ने वार्ड बॉय से मारपीट शुरू कर दी मरीजों से भी मारपीट शूरू कर दी। जिस को लेकर सुचना हमने  पुलिस दी।


असंतुष्ट नेताओ के द्वारा किया गया विद्रोह

राणा ओबराय


सिरसा। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी में बदलाव के बाद जहां नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा के समर्थक जहां मिठाईयां बाटंकर खुशियां मना रहे हैं वहीं निवर्तमान अध्यक्ष अशोक तंवर के समर्थक नाराज नजर आ रहे हैं। गुस्साए अशेाक तंवर समर्थक एक महिला व कुछ युवकों ने आज सुबह जिला कांग्रेस कार्यालय सचिव संगीत कुमार की सरे-राह धुनाई कर दीl वहीं पार्टी कार्यालय में घुसने के लिए मुख्य द्वार पर पथराव किया। पुलिस कार्यालय सचिव के बयान लेने के बाद मामले की तहकीकात कर रही है। सूचना पाकर आज नवनिर्वाचित प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा ने कार्यालय सचिव संगीत कुमार से दूरभाष पर बात कर घटना बारे जानकारी ली। सिरसा में जिला कांग्रेस कार्यालय पर पथराव के बाद बिखरे ईंट-पत्थर। जिला कांग्रेस कार्यालय के स्थाई सचिव संगीत कुमार ने मीडिया को बताया कि आज सुबह वह घर से आकर कार्यालय में पूजा पाठ करने के बाद मुख्य द्वार बंद कर बाहर ही निकला था कि एक औरत व कुछ युवक आए और मुख्य द्वार पर पथराव कर दिया। इस दौरान उन्होंने ताला तोड़कर अंदर घुसने का भी प्रयास किया। इसी दौरान संगीत कुमार मौके पर पहुंचा तो कार्यालय में जबरन घुसने का प्रयास कर रही महिला व युवकों ने गाली-गलौच करते हुए अशोक तंवर का फोटो कार्यालय से हटाने पर विरोध दर्ज करवाते हुए पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी,प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा,पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को लेकर अपशब्द प्रयोग करते हुए यकायक उसकी पिटाई करनी आरम्भ कर दी। मुख्य सड़क पर कांग्रेस पार्टी कार्यालय सचिव की सरे राह पिटाई होते देख वहां लोगों का हुजुम उमड गया।


अवैध वसूली करते दो को किया गिरफ्तार

अकरम सैफी


सरकारी योजनाओं के नाम पर अवैध वसूली करते दो युवकों को पुलिस ने धर दबोचा


गाजियाबाद। लोनी थाना ट्रॉनिका सिटी क्षेत्र के अंतर्गत राधे श्याम पार्क आजाद एनक्लेव पूजा कॉलोनी पुलिस ने दो सरकारी योजनाओं के नाम पर अवैध वसूली करते पब्लिक ने दबोचा पुलिस को 100 नंबर सूचना देकर की शिकायत मौके पर पहुंची,पीआरबी4783सवार महिपाल सिंह पायलट एवं मनोज राठी सिपाही द्वारा दोनों शातिर युवकों को थाना ट्रॉनिका सिटी में छोड़ा गया। स्थानीय निवासियों ने बताया कि बच्चों की पढ़ाई के दौरान स्कूल के फार्म भरवा कर बच्चों के परिजनों से ₹50से ₹300अवैध वसूली कर रहे थे ।जिसकी सूचना आज क्षेत्रवासियों ने पुलिस से की महिलाओं को जब इन पर शक हुआ जब उन्होंने इन दोनों के आईडेंटिकार्ड मांगे और इनके पास कोई भी आइडेंटी प्रूफ महिलाओं को नहीं मिला। इसी बात को लेकर महिलाओं में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में देवेंद्र नामक युवक ने100नंबर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने तत्काल प्रभाव से दोनों अभियुक्तों को धर दबोचा वहीं थाना ट्रॉनिका सिटी प्रभारी सुभाष सिंह ने बताया कि दोनों के पास से कुछ रजिस्टर जिसमें महिलाओं सहित युवकों के और मासूम बच्चों के फोटो लगे हुए हैं। जिनके आगे नाम व एड्रेस एवं मोबाइल नंबर लिखकर उनसे पैसे लेकर अवैध वसूली कर रहे थे। पुलिस ने दस्तावेजों को जप्त कर जांच कर रही है।


त्याग क्यों नहीं करती,धौलपुर की महारानी

सीएम गहलोत के रहमो-करम पर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे रह सकेंगी सरकारी बंगले में। हाईकोर्ट के आदेश के बाद आखिर नैतिकता के आधार पर सरकारी सुविधा और बंगले का त्याग क्यों नहीं करती धौलपुर घराने की महारानी। गहलोत के बयान पर अब घनश्याम तिवारी क्या कहेंगे?

नई दिल्‍ली। सुपीम कोर्ट के बाद राजस्थान हाईकोर्ट ने भी आदेश दिया है कि पूर्व मुख्यमंत्री सरकारी सुविधा और बंगले का अधिकारी नहीं  है। ऐसी व्यवस्था समाज में असमानता का भाव पैदा करती है। हाईकोर्ट के इस आदेश के बाद राजस्थान की पूर्व सीएम और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्रीमती वसुंधरा राजे को जयपुर में सिविल लाइंस स्थित सरकारी बंगला संख्या 13 खाली करना पड़ेगा। लेकिन  कांग्रेस सरकार के मौजूदा सीएम अशोक गहलोत ने कहा है कि यह जरूरी नहीं कि वसुंधरा राजे से बंगला खाली करवाया जाए। राजे इस समय विधायक हैं और उनकी वरिष्ठता को देखते हुए बंगला संख्या 13 ही आवंटित किया जा सकता है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद गहलोत ने जिस तरह की प्रतिक्रिया दी है उससे प्रतीत होता है कि राजे अपने पसंदीदा बंगले में ही रहेंगी। असल में वसुंधरा राजे ने भी मुख्यमंत्री रहते हुए अशोक गहलोत को पूर्व मुख्यमंत्री के नाते सिविल लाइन के बंगले में ही टिकाए रखा था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी राजे ने गहलोत से बंगला खाली नहीं करवाया। जबकि गहलोत ने नैतिकता दिखाते हुए तब की भाजपा सरकार को बंगला खाली करने के संबंध में पत्र भी लिखा था। जब वसुंधरा राजे सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गहलोत को बंगला दें सकती है तो हाईकोर्ट के आदेश के बाद अशोक गहलोत, वसुंधरा राजे को ऑबलाइज क्यों नहीं कर सकते? आखिर राजनीति में रिश्ते भी तो मायने रखते हैं। असल में असमंजस की स्थिति तो अब पूर्व मंत्री घनश्याम तिवाड़ी के सामने होगी। मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए जब राजे बंगला संख्या 13 पर अवैध कब्जा किया था, तब भाजपा विधायक होते हुए भी तिवाड़ी ने विधानसभा में राजे की कड़ी आलोचना की थी। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर तिवाड़ी कांग्रेस में शामिल हो गए। अब जब सीएम गहलोत ही वसुंधरा को उसी बंगले में बनाए रखना चाहते हैं तो फिर तिवाड़ी क्या कहेंगे? 
नैतिकता के आधार पर बंगला खाली क्यों नहीं?:
सब जानते हैं कि वसुंधरा राजे कोई साधारण और गरीब राजनीतिज्ञ नहीं है। अशोक गहलोत को तो पूर्व मुख्यमंत्री के नाते जयपुर में मुफ्त में बंगले की जरूरत थी, लेकिन वसुंधरा राजे तो खानदानी रईस हैं। धौलपुर राज घराने की धौलपुर से लेकर दिल्ली तक की अरबों रुपए की सम्पत्तियों की वसुंधरा राजे और उनके एक मात्र सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह ही मालिक हैं। यानि वसुंधरा राजे को अशोक गहलोत की तरह मुफ्त का बंगला और सरकारी सुविधाओं की दरकार नहीं है। राजे आर्थिक दृष्टि से इतनी मजबूत हैं कि जयपुर में रहने के लिए बंगले का इंतजाम कर सकती हैं। सवाल अशोक गहलोत के रहमो करम का नहीं है, सवाल वसुंधरा की नैतिकता का भी है। जब हाईकोर्ट ने वसुंधरा सरकार के विधेयक के कई प्रस्तावों को रद्द कर पूर्व मुख्यमंत्रियों की सुविधाओं पर रोक लगा दी है तो वसुंधरा राजे नैतिकता के आधार पर सरकारी सुविधाओं और बंगले का त्याग क्यों नहीं करती हैं?
एस.पी.मित्तल


कांग्रेस की क्षमताएं (संपादकीय)

फैसला हरियाणा पर, खलबली राजस्थान कांग्रेस में। 
सोनिया गांधी ने वफादारों पर ही भरोसा जताया। 
राजस्व मंत्री हरीश चौधरी भी उठा चुके हैं एक व्यक्ति एक पद का मुद्दा। 
वैभव गहलोत की धन्यवाद यात्रा शुरू।
कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने बोल्ड फैसला तो हरियाणा कांग्रेस पर लिया है, लेकिन खलबली राजस्थान कांग्रेस में मच गई है। गांधी परिवार के वफादार भूपेन्द्र सिंह हुड्डा को हरियाणा में न केवल कांग्रेस विधायक दल का नेता बनाया, बल्कि हुड्डा के विरोधी माने जाने वाले अशोक तंवर को प्रदेशाध्यक्ष पद से हटा दिया। सोनिया ने गांधी परिवार की वफादार कुमारी शैलजा को नया प्रदेशाध्यक्ष नियुक्त किया। चूंकि अशोक तंवर को राहुल गांधी का संरक्षण रहा, इसलिए तंवर को हटाया जाना बोल्ड कदम है। राजस्थान में भी लम्बे अर्से से कांग्रेस में खींचतान चल रही है। हालांकि प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट कांग्रेस सरकार में डिप्टी सीएम भी हैं, लेकिन कई मौकों पर पायलट सरकार के काम काज पर अंगुली उठा चुके हैं। इस बीच राजस्थान में भी एक व्यक्ति एक पद की मांग उठने लगी है। राजस्व मंत्री हरीश चौधरी कह चुके हैं कि मंत्री बनने के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव से इस्तीफे का प्रस्ताव कर दिया है। इसी प्रकार प्रदेश प्रभारी महासचिव अविनाश पांडे ने भी कहा है कि स्थायी प्रदेशाध्यक्ष को लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी से बात हुई है। माना जा रहा है कि जनवरी में होने वाले पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव से पहले स्थायी अध्यक्ष की नियुक्ति हो जाए। चूंकि सोनिया ने हरियाणा में बोल्ड फैसला किया है, इसलिए अब राजस्थान में कोई हिचक नहीं होगी। कांग्रेस के विधायकों ने भी आठ माह के शासन में देख लिया है कि कौनसा नेता सबको साथ लेकर चल सकता है। इसे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की राजनीतिक कुशलता ही कहा जाएगा कि सभी 12 निर्दलीय विधायक और बसपा के 6 विधायक सरकार को समर्थन दे रहे हैं। हालांकि कांग्रेस के पास सौ विधायकों का पूर्ण बहुमत है, लेकिन निर्दलीय और बसपा विधायकों के समर्थन से सरकार की मजबूती नजर आती है। हालांकि सचिन पायलट के समर्थक एक व्यक्ति एक पद की मांग पर सहमत नहीं है। समर्थकों को लगता है कि पायलट की वजह से ही कांग्रेस की सरकार बनी है। इसलिए पायलट को प्रदेशाध्यक्ष के साथ-साथ डिप्टी सीएम भी बना रहना चाहिए। लेकिन सोनिया गांधी ने जिस हरियाणा में भूपेन्द्र सिंह हुड्डा को महत्व दिया है उससे प्रतीत होता है कि अब राजस्थान में भी मुख्यमंत्री गहलोत की राय को महत्व दिया जाएगा। सोनिया गांधी के दोबारा से कांग्रेस अध्यक्ष बनने से गहलोत की स्थिति अपने आप मजबूत हो गई है। 
वैभव की धन्यवाद यात्रा:
सीएम अशोक गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत ने पांच सितम्बर से जोधपुर संसदीय क्षेत्र में ब्लॉक स्तर पर धन्यवाद यात्रा शुरू की है। वैभव ने गत लोकसभा का चुनाव जोधपुर से लड़ा था, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा।  पांच सितम्बर को धन्यवाद यात्रा की शुरुआत में वैभव ने कहा कि भले ही मैं चुनाव हार गया हंू, लेकिन मैं जोधपुर की जनता से हमेशा जुड़ा रहुंगा। मैं ब्लॉक स्तर पर जाकर उन कार्यकर्ताओं और लोगों का आभार जताउंगा, जिन्होंने चुनाव में मुझे सहयोग किया। वैभव की धन्यवाद यात्रा को राजनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण माना जा रहा है। 
एस.पी.मित्तल


चिदंबरम को तिहाड़ जेल जाना होगा

6 दिन की सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कहा-चिदंबरम को नहीं दी जा सकती जमानत। अब तिहाड़ जेल जाना ही पड़ेगा। 

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व केन्द्रीय वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिंदबरम के अग्रिम जमानत के प्रार्थना पत्र को खारिज कर दिया। चिदंबरम ने यह प्रार्थना पत्र ईडी की गिरफ्तारी से बचने के लिए दायर किया था। सुप्रीम कोर्ट ने इस प्रार्थना पत्र पर कोई 6 दिनों तक सुनवाई की और ईडी को गिरफ्तारी से रोके रखा। इस बीच कोर्ट ने ईडी के सभी आरोपों का गहनता के साथ अध्ययन किया। चिदंबरम की ओर से कपिल सिब्बल और अभिषेक मनु सिंघवी जैसे दिग्गज वकीलों ने पैरवी की, लेकिन ईडी की ओर से चिदंबरम के खिलाफ भ्रष्टाचार के जो सबूत पेश किए उसका कोई संतोषजनक जवाब कोर्ट में नहीं दिया जा सका। इसलिए 6 दिन की सुनवाई के बाद कोर्ट ने ईडी को चिदंबरम को गिफ्तार करने की छूट दे दी। लेकिन फिलहाल ईडी को कोई जल्दबाजी नहीं है क्योंकि चिदंबरम 21 अगस्त से सीबीआई की रिमांड पर हैं। दिल्ली की सीबीआई अदालत द्वारा दिया गया रिमांड खत्म होगा तो चिदंबरम को न्यायिक हिरासत के लिए तिहाड़ जेल ही भेजा जाएगा। जब तक सीबीआई के मुकदमे में चिदंबरम हाईकोर्ट से जमानत प्राप्त करेंगे, तब तक ईडी चिदंबरम को गिरफ्तार कर लेगी। जानकार सूत्रों के अनुसार सीबीआई के मुकाबले में ईडी के अधिकारियों की पूछताछ ज्यादा कठिन होती है। पूछताछ में मानसिक प्रताडऩा भी बढ़ जाती है। ईडी के अधिकारियों की पूछताछ अलग तरीके से होती है। असल में चिदंबरम के भ्रष्टाचार पर सीबीआई और ईडी ने अलग अलग मामले दर्ज किए हैं। क्योंकि चिदंबरम ने केन्द्रीय वित्त मंत्री रहते हुए अपने अधिकारों से परे जाकर जिन कंपनियों को फायदा पहुंचाया, उन्हीं कंपनियों ने करोड़ों रुपए चिंदबरम के पुत्र कार्ति चिदंबरम की कंपनियों में जमा करवाए। चूंकि कार्ति चिदंबरम की कंपनियों के खाते विदेशों में भी हैं, इसलिए भ्रष्टाचार के इन मामलों में ईडी का दखल भी हो गया है। फिलहाल चिदंबरम को सीबीआई और ईडी की हिरासत से बाहर आना मुश्किल है। 
एयरसेल मैक्सिस केस में पिता-पुत्र को जमानत भी: 
पी चिदंबरम और उनके पुत्र कार्ति चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया के मामलों में सीबीआई और ईडी की पूछताछ का सामना कर रहे हैं। इसी मामले में चिदंबरम सीबीआई की हिरासत में हैं, जबकि ईडी गिरफ्तार करने की तैयारी में हैं। इस बीच चिदंबरम के लिए यह राहत की बात है कि एयरसेल मैक्सिस केस में दिल्ली की विशेष अदालत ने चिदंबरम और उनके पुत्र को अग्रिम जमानत दे दी है। इस मामले में भी आरोप है कि चिदंबरम ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए एयरसेल मैक्सिस डील को मंजूरी दे दी, बाद में इन्हीं कंपनियों ने कार्ति चिदंबरम की कंपनियों में करोड़ों रुपया जमा करा दिया। हालांकि अब एयरसेल मैक्सिस केस में मिली अग्रिम जमानत को खारिज करवाने के लिए सीबीआई और ईडी हाईकोर्ट जाएंगे। मालूम हो कि आईएनएक्स मीडिया के मामले में हाईकोर्ट द्वारा अग्रिम जमानत खारिज किए जाने के बाद ही चिंदबरम को गिरफ्तार किया गया था। चिदंबरम पर ऐसे कई मामले हैं जो केन्द्रीय वित्त मंत्री के पद के दुरुपयोग से जुड़े हुए है। 
एस.पी.मित्तल


पुलिस ने शिक्षकों को किया सम्मानित

गाजियाबाद। शिक्षक दिवस(टीचर्स डे) के अवसर पर एसपी ग्रामीण पुलिस मॉडर्न स्कूल(PMS) में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित हुए, जिसमे एसपी ग्रामीण महोदय द्वारा शिक्षकों-अध्यापकों को सम्मानित किया गया एवं अपने वक्तव्यों के माध्यम से स्कूल के छात्रों को अच्छा नागरिक बनकर देश व समाज के विकास हेतु कार्य करने के लिए प्रेरित किया, तथा व्यक्ति व देश-समाज के विकास में शिक्षा व शिक्षक की भूमिका को भी उल्लेखित किया गया। इस कार्यक्रम में स्कूल की छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए।


गाजियाबाद में पोषण मेले का आयोजन

जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के निर्देशन में जनपद के समस्त आंगनवाड़ी केंद्रों पर पोषण मेले का किया गया आयोजन


गाज़ियाबाद। सुपोषण स्वास्थ मेले का आयोजन किया गया, जिसमे विभिन्न विभाग जैसे स्वास्थ, आई सी डी एस एवं पंचयती राज द्वारा अलग अलग स्टाल लगाए गए। यह प्रदेश  सरकार की एक मुहिम है जिसमे कुपोषण को जड़ से मिटने के लिए सभी विभागों द्वारा समन्वय हेतु  ए एन एम् उपकेंद्रों पर एक ही छत के नीचे यह सभी विभाग मिलकर अपनी सेवाएं देते है। सुपोषण स्वास्थ मेले में जहा स्वास्थ विभाग द्वारा लगाए गए स्टाल में ए एन सी, टीकाकरण, गर्भवती महिलाओं को आईएफए गोलियों का वितरण, परिवार नियोजन के बारे में प्रमार्श, डायरिया एवं वेक्टर जनित बीमारियों से संबंधित सेवाएं एवम् परामर्श  दिया गया, वही आई सी डी एस विभाग द्वारा पुष्टाहार से तैयार विभिन्न व्यंजन के बारे में, बच्चो को टीकाकरण सुनिश्चित करवाने, एवं बच्चो का वजन और लंबाई लेकर कुपोषित बच्चो का चिन्हीकरण कर उनके परिवारों को स्वछता एवं पोषण सम्बंधित जानकारी दी गई। साथ ही, स्थानीय फल सब्जी से बने स्वादिष्ट व्यंजन का भी प्रदर्शन किया गया, ताकि जन जन तक पोषण के सन्देश पहुचाया  जा सके। इसके साथ ही पंचायती राज द्वारा स्वच्छ भारत मिशन, खुले में शौच से मुक्ति, हाथो को धोने की आवश्यकता एवं उसके लाभ के बारे में परामर्श भी दिया गया। मेले को एक जान आंदोलन का रूप देने के लिए, स्वम् सहायता समूह की बैठक के द्वारा भी प्रतिभाग करवाया गया। सुपोषण स्वाथ मेले में एक अलग ही दृश्य देखने को मिला जहां एक तरफ इन सभी सेवाओं का लाभ उठाते गर्भवती, धात्री महिलाये और बच्चे दिखी वही एक तरफ बच्चो को खाना खिला कर बाल सुपोषण उत्सव भी मनाया गया। इसी का अनुश्रवण करने जावली गाँव में डीपीओ शशि वार्ष्णेय, सीडीपीओ शोभा रानी, स्वास्थ भारत प्रेरक ऐश्वर्या चौबे और समस्त  मुख्य सेवकिया पहुंची। उन्होंने  मेले की शुरुवात की तथा बच्चो को खाना भी खिलाया।


राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गाजियाबाद।


चौकी पर लगा ताला, फरियादी कहां जाए

चौकी पर लटका ताला आखिर फरियादी जाए तो कहा


गाजियाबाद। थाना विजयनगर क्षेत्र में एक ऐसी चौकी है जहाँ आपको हमेशा ताला लटका मिलेगा,,आखिर फरियादी जाए तो कहा,,जी हम बात कर रहे है। जल निगम चौकी की,,चौकी पर न तो चौकी इंचार्ज ओर न ही कोई सिपाही रहता है,,जहा आपको हमेशा ताला लटका मिलेगा,आज ब्रह्मपुत्र एंक्लेव  के बाहर महिला से चेन स्नैचिंग की घटना घटी थी,, पहले महिला दौड़ी दौड़ी चौकी पहुंची चौकी पर ताला लगा देख महिला ने भरी धूप में परेशान होकर थाने में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ तहरीर दी,,क्योंकि  सबसे पहले  स्थानीय निवासी किसी भी घटना को लेकर तहरीर देने के लिए चौकी ही पहुंचता है,, पर चौकी पर कोई न मिलने पर  उसे थाने जाना पड़ता है,,जल निगम चौकी क्षेत्र के अंतर्गत काफी बड़ा एरिया आता है,, जिसमे कई बड़ी कालोनियां शामिल है,, जल निगम चौकी एक ऐसी मात्र चौकी है। जहां आपको अक्सर ताला लटका मिलेगा।


मंडलायुक्‍त ने किया औचक निरीक्षण

मंडलायुक्त ने शहर की साफ सफाई व्यवस्था का लिया जायजा अधिकारियों को किया निर्देशित


झकरकटी बस अड्डे का भी किया निरीक्षण ,साथ में नगर आयुक्त भी रहे मौजूद


कानपुर। मण्डलायुक्त द्वारा आज अपने औचक निरीक्षण में गुप्तार घाट, फूलबाग, अफीम कोठी, जी०टी० रोड, घण्टाघर, हैलट के पास में कूड़ाघर, इसके साथ ही उन्होने अतिक्रमण भी चेक किया साथ चल रहे। नगर आयुक्त सन्तोष कुमार शर्मा को निर्देशित किया कि यदि कूड़ाघर से 02 बार में कूड़ा न उठे तो पाँच बार में उठायें हैलट के पास बने रैन बसेरा में निरीक्षण के दौरान उन्होने निर्देशित किया। जब यहाँ केयरटेकर ही गायब है। तो सफाई कैसे हो अतः उसके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही करने के निर्देश नगर आयुक्त को दिये उन्होने कहा कि हर सूरत में हमें नगर को साफ रखना है। मेनहोल में जहाँ पर ढक्कन न हो वहाँ पर ढक्कन लगवाये जायें।


मण्डलायुक्त द्वारा झकरकटी बस अड्डे के निरीक्षण के दौरान यात्रियों के बैठने के स्थान पर लगे टीवी बन्द पाये गये प्लेटफार्म जगह-जगह टूटा मिला उसकी तत्काल मरम्मत कराने के निर्देश दिये गये पानी की टंकी के ऊपर पेड़ उग रहे है। तथा नलों से पानी बहता पाया गया निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त ने पाया कि यात्री विश्राम कक्ष का एसी खराब है। उन्होने स्टेशन प्रबन्धक को को कड़े निर्देश दिये, पूर्व निरीक्षण में इन्ही कमियों के सम्बन्ध में निर्देश दिये गये थे। परन्तु कोई सुधार परिलक्षित नही हुआ। निर्देशों का पालन न किये जाने पर स्टेशन मैनेजर के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।


साहिबाबाद के युवक की नोयडा मे फांसी

 गौतमबुध नगर। ग्रेटर नोएडा थाना बादलपुर क्षेत्र के अंतर्गत गांव सादोपुर में एक युवक ने फांसी लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली। बताया जा रहा है कि यह युवक अपने परिवार के साथ साहिबाबाद रहता है। लेकिन किसी काम से सादोपुर आया था यह युवक रहने वाला सादोपुर का ही है भूपेंद्र पुत्र ईश्वर ने पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और अपनी जांच में जुट गई।


नशे में धुत तीन युवकों को पीटा,1मरा

नोएडा ममूरा में नशे में धुत तीन युवकों की जमकर पिटाई, एक की मौत 


नोएडा। ममूरा गांव में दिल दहला देने वाली घटना हुई है। यहां शराब के नशे में धुत तीन लोगों अज्ञात युवकों ने जमकर पीटा। इस घटना  में एक शख्स की मौत हो गई है। पुलिस उपाधीक्षक (नगर) पीयूष कुमार सिंह ने बताया कि बीती रात अमित, दिगंबर तथा मोहित तीन दोस्त मोटरसाइकिल पर सवार होकर सेक्टर 18 पहुंचे जहां तीनों ने शराब पी। इसके बाद ये लोग शराब लेकर सेक्टर 58 पहुंचे। वहां भी तीनों ने शराब पी। देर रात करीब तीन बजे तीनों दोस्त ममूरा गांव स्थित शराब ठेके के पास पहुंचे और वहां भी शराब पीने लगे। इसी बीच, अज्ञात लोगों से उनका झगड़ा हो गया। शराब के नशे में धुत तीनों युवकों को अज्ञात लोगों ने जमकर पीटा। तीनों बेहोशी की हालत में शराब के ठेके के पास पड़े थे। एक राहगीर ने इसकी सूचना पुलिस को सूचना दी।उन्होंने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने अमित और दिगंबर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जबकि मोहित वहां से चला गया था। उन्होंने बताया कि इलाज के दौरान अमित (30) की मौत हो गई और दिगंबर की हालत नाजुक बनी हुई है। उसका इलाज चल रहा है।


क्षेत्राधिकारी ने बताया कि पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि शराब ठेके के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से मारपीट करने वालों की तलाश की जा रही है। वहीं, मामूरा गांव के लोगों का कहना है कि तीनों के साथ लूटपाट करने के इरादे से मारपीट की गई। लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने अमित की हत्या कर दी।


नाबालिग:3 साल सजा, ₹10 हजार जुर्माना

प्रदीप गुप्ता


कबीरधाम। शिक्षक दिवस के अवसर पर गुरुकुल पब्लिक स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद मंत्री मोहम्मद अकबर ने केंद्र सरकार द्वारा यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर लगाए जाने वाले भारी-भरकम अव्यवहारिक जुर्माने के पालकों के साथ छात्रों व पालकों को अवगत कराया।


मंत्री अकबर ने गुरुकुल स्कूल के शिक्षकों को शिक्षक दिवस की बधाई दी। पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन पर मनाए जाने पर शिक्षक दिवस आयोजित करने का जिक्र किया। उन्होंने कार्यक्रम में घर से नाबालिग बच्चों के गाड़ी लेकर चलने का जिक्र करते हुए कहा कि नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ है। अगर कोई नाबालिग बच्चा गाड़ी चलाते पकड़ा गया तो उसके माता-पिता को, जिसके भी नाम पर लाइसेंस है। उसे तीन साल की सजा और दस हजार का जुर्माना लगेगा और लाइसेंस 25 साल बाद बनेगा। इस प्रकार का अव्यवहारिक कानून देश में लागू हो गया है, छत्तीसगढ़ सरकार ने अध्ययन करने के लिए इसे रोक कर रखा है। कोई भी व्यक्ति अगर पकड़ा जाता है तो विदेशों में सामुदायिक सेवा का प्रावधान है, इसमें बिना पारिश्रमिक के गड्ढा खोदों, पौधे लगाओं, पानी पिलाओं तक का काम हो सकता है। इस तरह का अव्यवहारिक कानून भारत सरकार ने लागू किया है। यह विदेशों में यह सब चल सकता है। लेकिन हमारे यहां और वहां के कानून में बहुत अंतर है। यह जानकारी माता-पिता को होनी चाहिए। छत्तीसगढ़ सरकार ने इस कानून को लागू किया तो जो बच्चा पकड़ में आया तो माता-पिता को सजा भुगतनी पड़ेगी। यह जागरूकता के हिसाब से जानकारी दी जा रही है।


भय का माहौल,देश के हालात अच्छे नहीं

शैलेंद्र पाठक


बिलासपुर। कांग्रेस नेता व सुप्रीम कोर्ट के वकील सलमान खुर्शीद ने बुधवार को हाईकोर्ट में अजीत जोगी के जाति मामले पर सरकार की तरफ से पैरवी की। हाईकोर्ट ने अजीत जोगी के जाति मामले में यथास्थिति बहाल रखा है।


पैरवी के बाद सलमान खुर्शीद ने कहा कि देश के हालात अच्छे नहीं है। विभिन्न प्रान्त के लोग भयभीत है कि उनको न्याय मिलेगा कि नहीं, वो सड़क पर सुरिक्षत है की नहीं। खुर्शीद ने कहा कि आर्थिक स्थिरता के लिए सरकार को सुलझे हुए लोगों के साथ-साथ विपक्ष से चर्चा करनी चाहिए, जो लोग लम्बे समय से सरकार में रहे, उनसे चर्चा करनी चाहिए। लेकिन ये दु:खद है कि सरकार स्थिरता के लिए बात करने को तैयार नहीं है। सरकार ने जीएसटी जल्दबाजी में लागू कर दी। नोटबंदी का असर अब दिख रहा है। इसके अलावा टैक्स टेररिज्म लागू है। जिसके कारण बड़े उद्योगपति विदेश जा रहे हैं।सरकार कागजी आंकड़े है। अगर नहीं तो आयात-निर्यात क्यों नहीं हो रहा है। लोग निवेश क्यों नहीं कर रहे हैं. किसान और बेरोजगार परेशान है। सच कहने वाले को डराया धमकाया जा रहा है। लोगों में द्धेष की भावना भरी जा रही है। अपने स्तर से नीचे की सोच लाने की कोशिश हो रही है। ये देश के साथ विश्वासघात है। सलमान खुर्शीद ने पाकिस्तान को लेकर कहा कि वो छोटा देश है, हम उससे कही बड़े है। उसके लेबल पर नहीं जाना चाहिए। जनता को पाकिस्तान का नाम लेकर भयभीत कर रहे हैं।


रोहित ने चलाया 'गैंडा' बचाओ अभियान

नई दिल्ली। भारतीय टीम के स्टार बल्लेबाज रोहित शर्मा लुप्तप्राय प्रजाति गेंडे को बचाने के लिए वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर इंडिया (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ इंडिया) और एनीमल प्लानेट के साथ अभियान की शुरुआत करने जा रहे हैं। इस अभियान की शुरुआत 16 सितंबर को विश्व गेंडा दिवस को होगी। कभी गंगा और ब्रह्मपुत्र नदी के मुहाने पर गाहे-बगाहे नजर आने वाले गेंडे पर गिनती के ही बचे हैं। एक अनुमान के अनुसार, दुनिया में केवल 3500 भारतीय गेंडें बचे हैं। इनमें से 82 प्रतिशत भारत के आसाम, पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में ही विचरण करते नजर आते हैं।डब्ल्यूडब्ल्यूएफ इंडिया बीते पांच दशकों से गेंडों को बचाने के लिए सतत रूप से सक्रिय है। इन लुप्तप्राय गेंडों को बचाने के लिए रोहित शर्मा डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के ब्रांड एंबेसडर के तौर पर वर्ष 2018 में जुड़े। अब इस उद्देश्य के लिए वन्यजीव टीवी चैनल एनीमल प्लानेट भी जुड़ रहा है। यह टीम भारत में गेंडों के प्रति जागरूकता बढ़ाने के साथ उसके संरक्षण के लिए भी काम करेगी।


कैबिनेट में कई प्रस्तावों को मिली मंजूरी

कैबिनेट बैठक में 6 प्रस्तावों को दी गई मंजूरी
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को कैबिनेट बैठक में 6 प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है।प्रदेश सरकार ने विभिन्न विभागों,निगमों,आयोगों  व परिषदों में गैर सरकारी उपाध्यक्षों की नियुक्ति की है।ये सभी आवासीय भत्ते की मांग कर रहे थे।प्रदेश कैबिनेट ने सभी निगमों,विभागों,आयोगों व परिषदों में नामित उपाध्यक्षों को 10 हजार रुपये आवासीय भत्ता देने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है।संस्थाओं में नामित उपाध्यक्ष सत्ताधारी दल से जुड़े गैर सरकारी लोग होते हैं।सरकार ने अटल बिहारी बाजपेई चिकित्सा विश्वविद्यालय लखनऊ के चक गंजरिया में बनाने का भी फैसला किया है।प्रदेश के सभी सरकारी व निजी मेडिकल कॉलेज इससे संबद्ध होंगे।इसके निर्माण के लिए भूमि स्थानांतरित किए जाने के प्रस्ताव को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है।


कार्यालय पर आईटी विभाग की बैठक

भाजपा कार्यालय पर आई टी विभाग की हुई बैठक
अलीगढ। विधानसभा उप चुनाव को लेकर भाजपा आई टी विभाग ने आज जापान हाउस अलीगढ़ भाजपा कार्यालय पर हुई बैठक।प्रदेश सह सयोंजक आई टी विपिन मिश्रा ने कार्यकर्ताओं की बैठक में आगामी चुनाव की तैयारी के लिए निर्देश दिए।मिश्रा ने बताया आई.टी.विभाग हर विधानसभा स्तर पर डाटा तैयार करे और एक कॉल सेंटर की स्थापना करे और सोशल मीडिया के माध्यम से सरकार और पार्टी की रीति-नीति का प्रसार करे।


निदेशालय संपत्तियों का करेगा डिजिटाइजेशन

निदेशालय ने निकायों की संपत्तियों का डिजिटाइजेशन कराने का किया फैसला
अलीगढ। नगर निगम,पालिका परिषद व नगर पंचायतों के पास शहरी क्षेत्रों में काफी संपत्तियां हैं।इनमें स्कूल, दुकान,आवासीय कॉलोनियों के साथ काफी जमीनें भी हैं।इन पर आए दिन कब्जे की शिकायतें मिलती रहती हैं।इसीलिए निदेशालय ने इन संपत्तियों का डिजिटाइजेशन कराने का फैसला किया है।इसकी जिम्मेदारी वित्तीय संसाधन विकास बोर्ड को दी गई है।निकाय निदेशक डॉ काजल ने नगर आयुक्तों और अधिशासी अधिकारियों को भेजे निर्देश में कहा है कि वे अपनी निजी संपत्तियों का ब्यौरा जल्द से जल्द उपलब्ध कराएं।इसके बाद इन संपत्तियों को ऑनलाइन करने की तैयारी है,ताकि यह पता चल सके कि किसके पास कितनी संपत्तियां हैं।ताकि इन पर होने वाले कब्जों को रोका जा सके।


चोरी कर दुकान में लगाई आग

दुकान में चोरी कर चोरों ने ही आग लगाकर गुमराह करने का किया प्रयास ।


मीरजापुर। बीती रात एक दुकान में चोरों ने दुकान में चोरी की घटना को अंजाम देने के पश्चात ध्यान भटकाने के लिए दुकान में आग लगा दी, जिसके चलते दुकान की समस्त वस्तुएं पूरी तरह जलकर राख हो गई । प्राप्त जानकारी के अनुसार स्थानीय कोतवाली के अंतर्गत पक्काघाट क्षेत्र में स्थित मुन्नू काजी के दुकान को किराए पर लेकर महिलाओं के श्रृंगार सम्बंधित वस्तुओं की दुकान चलाने वाले राज मोदनवाल के अनुसार बीती रात करीब एक से दो बजे के करीब दुकान धू-धू कर जलने की जानकारी आसपास के लोगों द्वारा मिली। सौ नम्बर पर व फ़ायर बिग्रेड को सूचना दी गई। कुछ समय पश्चात दमकल द्वारा जबतक आग पर काबू पाया जाता तबतक बहुत देर हो चुकी थी। दुकान और दुकान का सामान पूरी तरह आगजनी से नष्ट हो चुका था। आसपास के सूत्रों के आधार पर जानकारी मिली कि दो व्यक्तियों को यहाँ से कुछ सामान ले जाते देखा गया है। इसी आधार पर पुलिस और स्थानीयों ने जाकर हीरो मिश्र पुत्र अजय मिश्र निवासी बाबू घाट को चोरी की सामग्रियों के साथ उसके निज निवास से पकड़ कर कोतवाली लाया गया। जहाँ विभिन्न धाराओं में मुक़दमा पंजीकृत कर लिया गया। दूसरे व्यक्ति की तलाश की जा रही है। फ़िलहाल उसकी भी पहचान की जा चुकी है। दोनों अभियुक्त हेरोइन के नशेड़ी है। स्थानीयों के अनुसार आजकल नशेड़ियों का आतंक रात्रि कालीन में कुछ ज्यादा ही है। रात्रि में दूर दराज से आनेवाले श्रद्धालुओं को भी अक्सर इनलोगों द्वारा काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है । इतने बड़े पैमाने पर हेरोइन का धंधा इस पावन क्षेत्र में इतनी आसानी से कैसे फलीभूत है । इस बिंदु पर पुलिस पर भी सवालिया निशान खड़े हो जाते है । कभी कभी दबाव महसूस होने पर पुलिस द्वारा किसी छोटे बिक्रेता को जेल भेज दिया जाता है । मुख्य कारोबारीयों पर पुलिस की कार्यवाई नही हो पाती । नगर विधायक ने भी एक अखबार में दिए गए बयान में इसका विरोध प्रदर्शित कर चुके है।


112 के रिस्पांस से लोगों को राहत

एक्के नंबर सब्बो बर डॉयल 112 मुश्किल में लोगों का मददगार साबित होते एक वर्ष सफलतम किया पूर्ण


कोरबा। पुलिस विभाग द्वारा संचालित एक्के नंबर सब्बो बर डायल 112 के तुरंत रिस्पांस से लोगो को मिल रही त्वरित मदद के कारण पुलिस की इस महती सेवा योजना को शाबाशी का पात्र समझा जाता है। पुलिस महकमा ने जनहित को देखते हुए गत वर्ष 4 सितंबर को डायल 112 की शुरुआत की थी।जिसका अच्छा रिस्पांस के साथ बीते बुधवार 4 सितंबर 2019 को एक वर्ष सफलतम पूरा हो गया।जिस तरह पुलिस विभाग द्वारा डॉयल 112 का नाम रखा गया "एक्के नम्बर सब्बो बर" उक्त नाम के अनुसार ही स्पष्ट है कि सभी आपातकालीन सेवाओं हेतु अलग-अलग नंबरों के स्थान पर केवल एक ही नंबर याद रखा जाये।इसी को ध्यान में रखकर पुलिस विभाग की पहल पर नेशनल इमरजेंसी रिस्पोंस सिस्टम के तहत् पुलिस सहायता (100),स्वास्थ्य सहायता (108) और अग्निशमन सेवा (101) को एकीकृत करते हुये डायल 112 योजना बनाई गयी।आज सालभर में डायल 112 की मदद से आमजनों को पल भर में पुलिस,एम्बुलेंस और तो और फायर ब्रिगेड की भी मदद के रूप में निशुल्क सेवा उपलब्ध हुई है।और आपातकालीन स्थिति में तुरंत रिस्पांस भी मिला है।


ज्ञात हो कि एम्बुलेंस,फायर ब्रिगेड या पुलिस सहायता की जरुरत आपातकालीन स्थिति में आमजन को पड़ती है।लेकिन पहले कभी नंबर नहीं लगता या फिर कभी बात नहीं हो पाती थी इसलिए लोगों को काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ता था। लेकिन बीते एक वर्ष से कोरबा सहित प्रदेश के 11 जिलों को मिल रही इसकी सेवा का रिस्पॉन्स टाईम लोगों के लिए एक प्रकार से संकटमोचक साबित हो रहा है।जहाँ शहरी क्षेत्रों में 10 मिनट और ग्रामीण इलाकों में 30 मिनट में पहुँचने वाली इस सेवा का अब तक कोरबा जिले के सैकड़ो लोगों ने मदद लिया है।डायल 112 की इमरजेंसी रिस्पांस व्हीलर (ईआरवी) की टीम जिले के हर थाना चौकी क्षेत्र के अलग-अलग चौक चौराहो में दिनभर तैनात व गश्त करती रहती है जिससे स्पॉट में ही लोगो को इसका तुरंत लाभ मिलने से डॉयल 112 की बड़ी सराहना भी हो रही है।एक तरफ ऐसे कई मामले है जहाँ डायल 112 में तैनात लोगों की सेवा में तत्पर रहने वाले जांबाज पुलिस जवानों ने अपने उत्कृष्ट सेवा से कितनो की जान भी बचायी हैं।जैसे नवजात शिशु व सड़क दुर्घटना में घायलों को तुरंत अस्पताल ले जाना,किसी को आग के लपटों से बचाना,दरवाजा तोड़कर फांसी पर लटकते हुए व्यक्ति को बचाना,सर्पदंश से बचाना सहित ऐसे अनेकों जिंदगियां डॉयल 112 के आरक्षकों ने बचाई है।जिसके कारण आमजनों के लिए यह सेवा काफी सराहनीय हैं।


यमाचार्य नचिकेता वार्ता

गतांक से...


मेरे प्यारे देखो बाह्य और आंतरिक दोनों दूषित हो गए तो उस समय मुनि मानो, देखो, उसके शोधन के लिए कोई क्रियाकलाप नहीं करता और वह परमाणु उसी को प्राप्त होकर के और भी कला का क्षेत्र बन कर के वह नाना प्रकार के और प्रिय भोज पदार्थ में रत हो करके मेरे प्यारे देखो अपने को नष्ट करने वाले बन जाते हैं। तो विचार-विनिय मैं विशेष चर्चा नहीं देने आया हूं। विचार यह देने के लिए आया हूं। साक्‍लय मुनि महाराज कालिंग के गिरी में बेटा देखो वह यह वाक्य उच्चारण करने लगे। मुनिवरो देखो कात्यायन की पत्नी ने कहा, प्रभु मुझे कुछ ऐसा प्रतीत होता है। आपके शरीर से आपके हृदय से मुझे ऐसी सुगंध आ रही है। जैसे ब्राहो ममता मे परिणत हो जाएं। साक्‍लय मुनि ने कहा देवी तुम्हारा वाक्य मिथ्या तो होता नहीं। मैंने कई काल कई ॠषियो से यह वाक्य मैंने श्रवण किया है। क्या तुम्हारा वाक्य यर्थात है तुम जीवन में सत्य उच्चारण करने वाली हो,मिथ्या  उच्चारण नही करती हो। जब इस प्रकार की आभा जब तुम्हारे में है तो मैं भी मोह में परिणत हो सकता हूं। कोई ऐसा आश्चर्य नहीं है। मेरे प्यारे देखो उन्होंने कहा तो प्रभु आप अपने को ममता से दूर कीजिए। आप अपने को मोह से भी दूर कीजिए। उन्होंने कहा देवी में प्रयास तो करूंगा। परंतु देखो यह कैसे होगा और उसको प्रभु ही जानता है। मैं नहीं जान पाता। आपको भविष्य कि मुझे चर्चाएं घोषणा की है मेरे प्यारे हो सकता है। मेरे यह शरीर में चित्र के मंडल में ऐसे अंकुर विद्यमान हो। 
 साक्‍लय मुनि महाराज ने बेटा एक रात्रि वहां विश्राम किया और वहां से उन्होंने गमन किया। गमन करते हुए जब आश्रम में आए तो हिरनी का बालक व्याकुल हो रहा था। वह जल का भी गमन नहीं कर रहा था। उनसे उनको मोह हो गया देखो हिरणी के बालक को, अपने ऋषि को पिता तुल्य स्वीकार करके उससे मोह हो गया। अब ऋषि ने आ करके उससे अपने कंठ से आलिंगन किया। रात्रि का समय हुआ तो उस वक्त को बिचारने लगा। क्या मुझे कात्यान की पत्नी ने जो वाक्य कहा है। वह वाक्य तो उन्होंने बड़ा विचित्र कहा हैै। हो सकता है मुझे भी आज हिरनी के वाल्य को दृष्टिपात करके मेरा अंत:हृदय यह कहता है कि तुझे मोह हो गया है।मानो तुझे ममत हो गई है तेरे बिना यह नहीं रह पाता और मेरा प्रांत:हृदय ही मानो उसकी निंदनीय दशा को दृष्टिपात करके मैं भी व्याकुल हो गया हूं। इस प्रकार वह चिंतन में लग गए और चिंतन करते रहे। मेरे प्यारे देखो चिंतित में लगे रहे मुनिवरो, देखो प्रात कालीन हिरनी के वाले को पुनः हृदय से प्रणाली गमन किया और उसको गो के गृह और दुग्ध के द्वारा उसका पालन करने लगे। तो मुझे कुछ ऐसा स्मरण है। क्या मुनिवरो, देखो पूर्णरूपेण जब वह पालन करने लगे तो एक समय भ्रमण करते हुए कहीं से उनके पिता श्वेतकेतु आ गए और माता भी आ गई आ गई। पित्रो संभव्‌ लोकांम मेरे प्यारे श्वेतकेतु को दृष्टिपात करके महर्षि साक्‍ल्य मुनि महाराज ने मानो उनके चरणों को स्पर्श किया और उन्हें आसन दिया। उस पर वह विराजमान हो गए माता भी विद्यमान हो गई । तो वह हिरनी के वालक को दुग्ध का पान कराने लगे। उनका स्वागत तो इतना ही किया। तो वह विराजमान हो गए और वह हिरनी के वाले को दुग्ध आहार कराने लगे। माता पितरों को मानो दुग्ध आहार नहीं कराया अंजल पान नहीं कराया। मानो कंदमूल नहीं दिया हिरनी के वलेय की ममता में उसके रथ रहने पर मेरे प्यारे देखो वह श्वेतकेतु ऋषि के अश्रु पात होने लगे और अपनी पत्नी से बोले क्या। हे देवी हम वृद्धि यहां से हमारा प्रस्थान होना चाहििए। उन्होंने कहा प्रभु ओम ब्रह्मा पुत्र शुभम ब्रह्मा उन्होंने कहा ऋषि साकलय के पुत्र स्वीकार करेंंगे। इन्हें ऋषि की दृष्टि से दृष्टिपात करोगे उन्होंने कहा देवी महतो दृष्टि ऋषि की आवाज से ही प्राप्त कर रहा हूं। परंतु देखो मेरा अंतरात्मा दुखित हो जा रहा हैै। क्यों, उन्होंने कहा देवी, हमने इसके बाल्यकाल में इसके बनाने में जो हमने सहयोग दिया है। वैसे योग आज हमें व्रत प्रतीत हो रहा हैै। मेरे पुत्रों उन्होंने कहा भगवान ऐसा क्यों है? उन्होंने कहा इससे मोह हो गया है ना होने के कारण हम आए हैं। हमारा संभव हमारा अंतरण ह्रदय यह कह रहा है कि यह ममता-मोह में परिणित हो गया है! साथ सावले ब्रह्मा करले ने कहा है भगवान,ॠषिवर आप व्‍याकुुल क्यों हो रहे हैं क्यों पागल हो रहे हो। उन्होंने कहा कि है पुत्रों, क्या मैं तुम्हें मोह में दृष्टिपात कर रहा हूं। साक्‍लय मुनि ने कहा प्रभु आप मुझे तो मोह में ही दृष्टिपात कर रहे हैं। मैं मोह में आपको भी दृष्टिपात कर रहा हूं। अब मुनि वह देखो वह पिता मोहन हो गए। माता ने कहा कहो भगवान ॠषिवर शाक्यल मुनि क्या कह रहे हैं। मेरे प्यारे उन्होंने कहा यथार्थ कह रहे हैं। मैं ममता में ही हू । शाक्यलमुनि कहते हैं क्या मोह की संतान मोह में ही नष्ट हो जाती है। भगवान! मेरे प्यारे देखो, स्वाद को दृष्टिपात करते हुए उन्होंने यहां यथार्थ बताया है। इसलिए वेद ऋषि कहता है मंत्र कहता है। वक्तव्य ब्राहा ब्रह्मण प्रवचन।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण
september 06, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254
1.अंक-34 (साल-01)
2.   शुक्रवार,06सितबंर 2019
3.शक-1941,भादप्रद शुक्‍लपक्ष अष्‍टमी,विक्रमी संवत 2076
4. सूर्योदय प्रातः 5:56,सूर्यास्त 6:44
5.न्‍यूनतम तापमान -26 डी.सै.,अधिकतम-34+ डी.सै., हवा की गति धीमी रहेगी, उमस बनी रहेगी।
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.201102
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275


सीएम धामी ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक हटाईं

पंकज कपूर          नैनीताल। सीएम ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक हटा दी है। अदालत ने कोविड से जुड़े प्रतिबंधों के साथ यात्रा शुरू करने के आदेश दि...