सोमवार, 16 मार्च 2020

केंद्र सरकार ने अवकाश किया घोषित

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को सभी शिक्षण संस्थान 31 मार्च तक बंद करने के निर्देश सोमवार को जारी किए हैं। कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए उठाए गए, एहतियाती कदम के तौर पर लोगों को बड़ी संख्या में किसी स्थान पर जमा होने से बचने की हिदायत दी गई है।


देश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए केंद्र सरकार लगातार कोशिश में जुटी हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को इस जानलेवा वायरस पर लगाम को लेकर कई जरूरी निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि देश के सभी स्कूल, स्विमिंग पूल, मॉल्स आदि 31 मार्च तक बंद किए जाएं। कर्मचारियों को घर से काम करने की छूट हो, इसके साथ ही सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल भी कम हो।


यूएसएः वैक्सीन परीक्षण का दोहरा-सत्र

न्यूयॉर्क। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार भारत, ब्रिटेन और अमरीका समेत कोरोना वायरस कोविड-19 अब दुनिया के 151 देशों में फैल गया है। इसके कारण पांच हजार से अधिक मौतें हो चुकी हैं। वहीं दुनिया भर में इसके संक्रमण के 136,895 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। इसी बीच अमेरिका में कोरोना वायरस के टीके का परीक्षण सोमवार से शुरू होने जा रहा है।


अमेरिकी सरकार के एक अधिकारी के मुताबिक कोरोना वायरस से बचाने के लिए बनाए गए टीके का परीक्षण सोमवार से शुरू होने जा रहा है। अधिकारी ने पहचान उजागर न करने की शर्त पर बताया कि परीक्षण के पहले प्रतिभागी को सोमवार को प्रायोगिक टीका दिया जाएगा। परीक्षण के बारे में सार्वजनिक तौर पर फिलहाल कोई घोषणा नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (एनआईएच) इस परीक्षण के लिए धन मुहैया करा रहा है और यह सिएटल में ‘कैसर परमानेंट वाशिंगटन हेल्थ रिसर्च इंस्टीट्यूट’ में हो रहा है। जन स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि किसी भी संभावित टीके की पुष्टि में एक साल से 18 महीने तक का वक्त लगेगा। यह परीक्षण 45 युवा एवं स्वस्थ स्वेच्छाकर्मियों के साथ शुरू होगा जिन्हें एनआईएच और मॉर्डर्ना इंक के संयुक्त प्रयासों से विकसित टीके लगाए जाएंगे हालांकि प्रत्येक प्रतिभागी को अलग-अलग मात्रा में सुई लगाई जाएगी। इस बात की कोई संभावना नहीं है कि कोई भी प्रतिभागी इससे संक्रमित होगा क्योंकि इस टीके में वायरस नहीं है। इस परीक्षण का लक्ष्य सिर्फ यह जांचना है कि टीकों को कोई चिंताजनक दुष्प्रभाव न हो और फिर इस आधार पर बड़े पैमाने पर परीक्षण किया जा सके। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच विश्व भर के दर्जनों शोध संगठन टीका विकसित करने के प्रयासों में जुटे हुए हैं।


गिरावटः सेंसेक्स 9200 के नीचे लुढ़का

मुंबई। शेयर बाजार में सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को भारी गिरावट रही। सेंसेक्स 2713.41 अंक की गिरावट के बाद 31,390.07 के स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी में 756.10 अंक की गिरावट आई और यह 9200 के नीचे लुढ़क गया। सप्ताह के पहले कारोबारी दिन शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव रहा। बाजार में भारी गिरावट से निवेशकों को झटका लगा है। एक ही दिन में उनके लाखों करोड़ डूब गए। निवेशकों को 7.50 लाख करोड़ रुपए स्वाहा हो गए।
इधर बाजार मेंं उथल पुथल के बीच यस बैंक के शेयर बढ़त पर बंद हुआ। यह 11.50 अंक यानी 45.01 फीसदी बढ़कर 37.05 के स्तर पर बंद हुआ। आज शुरुआती कारोबार में यह 26.70 के स्तर पर खुला था और पिछले कारोबारी दिन 25.55 के स्तर पर बंद हुआ था। यस बैंक ने ट्वीट कर जानकारी दी कि 18 मार्च शाम 6 बजे के बाद ग्राहक अपने खाते से सामान्य लेन-देन कर सकेंगे।


वायरस के बीच कश्मीर का राग अलापा

इस्लामाबाद। कोरोना वायरस को लेकर दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन देशों की बैठक में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान नहीं आए। उनकी जगह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के स्वास्थ्य मामलों पर विशेष सहायक जफर मिर्जा मौजूद रहे और उन्होंने भी कोरोना वायरस की जगह कश्मीर का राग अलाप दिया। इस पर पाकिस्तान के ही पूर्व सांसद ने इमरान खान को खरी खोटी सुनाई है। पाकिस्तान के पूर्व सांसद फरहतुल्ला बाबर ने लिखा है, सार्क की बैठक में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को छोड़ कर सभी सदस्य देशों के राष्ट्रपति/प्रधानमंत्री आए। ‘क्या इमरान खान ने यह दावा नहीं किया था अगर भारत के प्रधानमंत्री मोदी एक कदम आगे बढ़ाएंगे तो वह दो कदम आगे बढ़ाएंगे?’ फरहातुल्ला ने लिखा, ‘वह (पाकिस्तान के प्रधानमंत्री) नासमझ, गैर जिम्मेदार और अपने दावों के उलट काम कर रहे हैं। बता दें दक्षेस देशों ने रविवार को कोरोना वायरस का मिलकर मुकाबला करने का निश्चय किया और इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 करोड़ डॉलर की प्रारंभिक पेशकश करते हुए Covid-19 आपात कोष सृजित करने का प्रस्ताव किया और कहा कि हम साथ मिलकर इससे बेहतर ढंग से निपट सकते हैं, दूर जाकर नहीं। इस वीडियो कांफ्रेंस का संदेश इस वायरस से एकजुट होकर मुकाबला करना रहा लेकिन पाकिस्तान ने कश्मीर मुद्दे को उठाने के लिए इस मौके का इस्तेमाल किया और उसने कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए जम्मू कश्मीर में सभी तरह की पाबंदी हटाने की मांग की। ‘तैयार रहें लेकिन घबराएं नहीं’ मोदी के अलावा श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे, मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह, नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली, भूटान के प्रधानमंत्री लोटे शेरिंग, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के स्वास्थ्य मामलों पर विशेष सहायक जफर मिर्जा ने इस वीडियो कांफ्रेंस में हिस्सा लिया। मोदी ने कहा, ‘दक्षेस क्षेत्र में कोरोना वायरस से संक्रमण के लगभग 150 मामले आए हैं, लेकिन हमें सतर्क रहने की जरूरत है। तैयार रहें लेकिन घबराएं नहीं.. यही हमारा मंत्र है। उधर, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के स्वास्थ्य मामलों पर विशेष सहायक जफर मिर्जा ने कहा कि कोरोना वायरस फैलने के मद्देनजर उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए कोई भी देश मुंह नहीं मोड़ सकता है। उन्होंने कहा कि हमारा सामूहिक प्रयास कोरोना वायरस से निपटने में दक्षेस क्षेत्र में ठोस रणनीति तैयार करने में मदद करेगा।


वायरस का 'विश्व बाजार' में त्राहिमाम

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की वजह से विश्व बाजार में त्राहिमाम है। शेयर बाजार में भारी गिरावट के बाद सोने-चांदी की कीमतें भी धड़ाम से गिरी हैं। बीते सप्ताह सेंसेक्स-निफ्टी अपने ऐतिहासिक गिरावट दर्ज की गई है। वहीं दिल्ली सराफा बाजार में सोना 45 दिनों के निचले स्तर 41,670 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया। वैश्विक स्तर पर चांदी में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है।


बीते सप्ताह के दौरान सोना 3,740 रुपये यानी 8.24 % सस्ता हुआ और शुक्रवार को 41,670 रुपये प्रति दस ग्राम बिका। यह 6 फरवरी के बाद का इसका निचला स्तर है। चांदी भी 5,890 रुपये यानी 12.18 % की भारी साप्ताहिक गिरावट के साथ 42,460 रुपये प्रति किलोग्राम पर रह गई जो 3 अगस्त 2019 के बाद का निचला स्तर है। विदेशों में 7 साल के बाद ये सबसे बड़ी साप्ताहिक गिरावट के कारण स्थानीय बाजार में भी सोने-चांदी पर दबाव रहा। लंदन एवं न्यूयॉर्क से बाजारों के अनुसार, आलोच्य सप्ताह के दौरान अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना हाजिर 147.85 डॉलर यानी 8.82 प्रतिशत लुढ़ककर 1,529.05 डॉलर प्रति औंस पर आ गया। अप्रेल का अमेरिकी सोना वायदा भी 144.10 डॉलर की गिरावट के साथ सप्ताहांत पर 1,528.90 डॉलर प्रति औंस पर रहा। सिक्का लिवाली और बिकवाली 60-60 रुपये की नरमी के साथ क्रमश: 900 और 910 रुपये प्रति इकाई पर रहे।््


डीएम ने खनन पर की बड़ी कार्रवाई

अतुल त्यागी जिला प्रभारी


जिलाधिकारी के कुशल निर्देशन में कार्य करते हुए खनन विभाग द्वारा दूसरे राज्य से मिनरल खनन लाने वालों पर की गई बड़ी कार्रवाई, आई. एस. टी. पी. परमिट ना होने पर रेत और बजरी ला रहे 04 वाहनो को थाने में किया सुपुर्द।


हापुड़। जिलाअधिकारी अदिति सिंह के कुशल निर्देशन में कार्य करते हुए खनन विभाग लगातार अवैध खनन करने वालो पर कार्यवाही कर रहा है। इसी क्रम में आज तहसील धौलाना में जांच की गई। जांच के दौरान दूसरे राज्यों से रेत और बजरी ला रहे 04 वाहन रोके गए, जिनसे परिवहन से संबंधित पेपर मांगे गए, जिस पर उनके द्वारा दूसरे राज्य से मिनरल लाने वाला आई. एस. टी. पी. परमिट नहीं दिखाया गया। पेपर न होने पर सभी 4 वाहनों को थाने की सुपुर्दगी में दिया गया। आगे भी इसी तरह कार्यवाही जारी रहेगी और दूसरे राज्यों से आ रहे मिनरल को बिना आई. एस. टी. पी. के परिवहन करने नही दिया जाएगा। आगे की कार्यवाही खनन अधिनियम के तहत की जाएगी। उन्होंने बताया कि दूसरे राज्य से आने वाले खनन मिनरल  एवं जनपद में कहीं पर भी अवैध खनन होता हुआ पाया गया तो इसी प्रकार की कठोरतम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। यह जानकारी सुरेंद्र कुमार जिला खनन अधिकारी द्वारा दी गई है।


पुलिस ने चलाया 'वाहन चेकिंग अभियान'

अतुल त्यागी जिला प्रभारी


हापुड़ देहात पुलिस ने चलाया वाहन चेकिंग अभियान 
 


हापुड। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन के निर्देश अनुसार हापुड़ देहात कोतवाली पुलिस ने वाहन चेकिंग अभियान चलाया जिससे वाहन चालकों में हड़कंप मच गया।


देहात कोतवाली के वरिष्ठ उपनिरीक्षक विनोद कुमार ने अपनी टीम उपनिरीक्षक आर एस राणा, मनोज शेरावत,सुमित कुमार तोमर लाखन सिंह,अयोध्या प्रसाद के साथ हाईवे पर संदिग्ध व्यक्ति व वाहनों की चेकिंग की। यातायात के नियमों का उल्लंघन किए जाने पर कई वाहनों के चालान किये  एवं 29800 रुपए नगद समन शुल्क भी वसूला। यातायात के नियमों का पालन नहीं कर रहे कई वाहन स्वामियों को कड़ी चेतावनी देकर छोड़ा गया एवं बिना हेलमेट दो पहिया वाहन चला रहे वाहन स्वामियों को हेलमेट लगाकर वाहन चलाने की हिदायत दी ,और कहा की भविष्य में यातायात नियमों का  उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।


दामों में बेतहाशा वृद्धि के विरोध में धरना प्रदर्शन

अतुल त्यागी जिला प्रभारी, रिंकू सैनी रिपोर्टर


कांग्रेसियों ने अपर जिलाधिकारी जयनाथ यादव जी को ज्ञापन दिया


हापुड़। दिल्ली रोड स्थित नई कलेक्ट्रेट पर कांग्रेसियो ने देश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था,ओलावृष्टि से किसानों की बर्बाद फसलों का मुआवजा एवं मरे गए। लोगों के परिजनों को 10-10 लाख रु की आर्थिक सहायता देने और पेट्रोल व डीजल के दामों में बेहताशा वृद्धि के विरोध में जोरदार धरना प्रदर्शन किया।


इससे पहले कांग्रेसियो ने हापुड़ के नेहरू चौक से लेकर अम्बेडकर प्रतिमा तक बुग्गी में बाइक और गैस सिलिंडर रखकर केंद्र सरकार का जोरदार विरोध किया।उत्तर प्रदेश काँग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार पूर्व विधायक श्री गजराज सिंह जी के नेतृत्व में ये धरना प्रदर्शन हापुड़ में किया गया। पूर्व विधायक श्री गजराज सिंह व प्रदेश महासचिव बदरूद्दीन कुरैशी ने संयुक्त रूप से कहा कि देश मे दिन प्रतिदिन भारत की अर्थव्यवस्था चरमरा रही हैं। भारत बेहद ही मंदी के दौर से गुजर रहा हैं। केंद्र में आसीन भाजपा सरकार जनमानस की समस्याओं के प्रति बिल्कुल भी गंभीर नही हैं। देश मे कच्चे तेल की कीमतों में भारी कमी आयी है। पेट्रोल डीजल की घटती कीमतों का केंद्र सरकार आम जनता को कोई फायदा नही पहुंचा रही हैं। ऐसे में केंद्र की भाजपा सरकार देश की जनता से 3 रु प्रति लीटर exise ड्यूटी के नाम पर वसूल कर लूट मचा रही हैं। जब देश मे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें गिरती हैं तो केंद्र में बैठी सरकार के लिए जरूरी हो जाता हैं कि वे कच्चे तेल की गिरती कीमतों का फायदा देश की जनता को दें। लेकिन केंद्र सरकार ऐसा न करके देश की जनता को लूटने का काम कर रही हैं। 
जिलाध्यक्ष मिथुन त्यागी व शहर अध्यक्ष अभिषेक गोयल ने संयुक्त रूप से कहा कि पेट्रोल डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृध्दि होने से आम जनता पर गहरा प्रभाव तो पड़ेगा ही साथ मे व्यापारी वर्ग का माल लाने ले जाने में ट्रांसपोर्ट का खर्च भी बढ़ जाएगा,जिससे माल की लागत में काफी वृद्धि हो जाएगी और इसका प्रभाव सीधा सीधा आम जनता व उपभोक्ताओं पर पड़ेगा। पूर्व शहर अध्यक्ष दिनेश चन्द शर्मा जी ने कहा कि ओलावृष्टि से किसानो की फसलों को भारी नुकसान पहुँचा हैं। कोंग्रेस पार्टी प्रदेश सरकार से मांग करती हैं कि उत्तर प्रदेश के किसानों को ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसलों के लिए उचित मुआवजा व मरे गए लोगो के परिजनों को 10-10 लाख रु की आर्थिक सहायता प्रदेश सरकार जल्द से जल्द प्रदान करें। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ देश की चरमराई अर्थव्यवस्था और पेट्रोल व डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि के विरोध में जमकर नारेबाजी करते हुए आरोप लगाया कि केंद्र व प्रदेश में आसीन भाजपा सरकार आम जनता का शोषण करने में निरंतर लगी हुई हैं। देश की आम जनता के मन मे भाजपा सरकार के खिलाफ काफी रोष हैं। इस अवसर पर पिलखुआ नगर अध्यक्ष मदनसिंह चौहान,पूर्व शहर अध्यक्ष हाजी सगीर कुरैशी, अनुसूचित जाति विभाग कोंग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष रघुबीर सिंह एडवोकेट,पूर्व पीसीसी सत्यनारायण अग्रवाल,सभासद इरफान अहमद,सेवादल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अंकित शर्मा,शहर कोंग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष विक्की शर्मा,मीडिया प्रवक्ता गौरव गर्ग,शहजादा चौधरी,राकेश खन्ना,यशपाल सिंह ढिलोर, निसार खान,जलालुद्दीन सैफ़ी,कुसुमलता,किशन बाठला, राजेश पारचा, रतनलाल पारचा, जितेंद्र सिंह,मोहम्मद परवेज,नूर मोहम्मद,भरतलाल शर्मा,मेहराज अब्बासी,मनमोहन शर्मा,मनोज कौशिक, अनूप कुमार कर्दम,देवेंद्र कुमार,एहतेशाम कुरैशी, आकाश कुमार,डॉ. जकारिया मनसबी,बृजेश शर्मा,तरेश्वर त्यागी,रियाज सैफ़ी,आदि लोग उपस्थित रहे।


मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग करें

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से बचाव के प्रति दिल्ली पुलिस भी सतर्क हो गई है। दिल्ली पुलिस आयुक्त एस. एन. श्रीवास्तव ने इस संबंध में एक विशेष एडवाइजरी जारी की है। उन्होंने पुलिसकर्मियों को मास्क व सेनेटाइजर का इस्तेमाल करने के लिए कहा है।


उन्होंने अफसरों को इनका इंतजाम करने के लिए कहा है। पुलिस आयुक्त के स्टाफ अफसर डीसीपी विक्रम के. पोरवाल द्वारा जारी एडवाइजरी की प्रतिलिपि तमाम जिला व अन्य यूनिट्स में तैनात डीसीपी (उपायुक्तों) के नाम संबोधित है। एडवाइजरी के बारे में दिल्ली पुलिस के सभी विशेष आयुक्त, संयुक्त आयुक्त स्तर के अधिकारियों को भी सूचित किया गया है। दिल्ली पुलिस आयुक्त कार्यालय से जारी इस विशेष एडवाइजरी में कहा गया है, “दिल्ली पुलिस आम नागरिकों के बीच हर वक्त मौजूद रहती है। लिहाजा ऐसे में पुलिस और पब्लिक का हर वक्त आसपास का साथ है। लिहाजा कोरोना से बचाव के प्रयास भी जरूरी हैं।”


एडवाइजरी के जरिए सभी जिला पुलिस उपायुक्त (डिस्ट्रिक्ट डीसीपी), डीसीपी मेट्रो, रेलवे, इंदिरा गांधी एयरपोर्ट, पुलिस कंट्रोल रूम और ट्रैफिक पुलिस को भी सजग किया गया है। सभी से कहा गया है कि वे खुद के साथ पुलिस अफसरान/कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करें। इसके लिए बेहद जरूरी है कि हर पुलिस अफसर कर्मचारी को सेनेटाइजर और मास्क मुहैया कराए जाएं।


रोनाल्डो के होटल्स, अस्पताल में तब्दील

अर्जेंटीना। पुर्तगाल सहित अन्य देशों में कोरोना तेजी से फैल रहा है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने पुर्तगाल स्थित अपने सारे होटल को अस्पताल में बदलने का फैसला किया है। जहां इस संक्रमण से पीड़ित व्यक्ति का इलाज फ्री में किया जायेगा। इसके साथ-साथ डॉक्टरों और नर्स को देने वाली सैलरी भी क्रिस्टियानो रोनाल्डो की ही संस्था देगी। विश्व स्वास्थ संगठन ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। क्रिस्टियानो रोनाल्डो की मां की तबीयत खराब है जिस वजह से वे पुर्तगाल में हैं। पुर्तगाल में भी कोरोना के सैकड़ों मरीज मिले हैं।


रोनाल्डो का एक साथी कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित


क्रिस्टियानो रोनाल्डो के साथी खिलाड़ी डिफेंडर डेनिएल रुगानी भी कोरोना वायरस की चपेट में आ गये हैं। डिफेंडर डेनिएल रुगानी की रोपोर्ट पॉजिटिव आयी है। रोनाल्डो और डेनियल दोनों जुवेंटस की तरफ से खेलते हैं। ऐसे में दिग्गज फुटबॉलर ने ऐसा कर यकीनन अपने फैन्स का दिल जीत लिया है।


पुर्तगाल सहित दुनियाभर में हैं रोनाल्डो के कई होटल


सीआर-7 ब्रांड के नाम से रोनाल्डो का पुर्तगाल सहित दुनिया में कई होटल हैं। जहां सारी आधुनिक सुविधाएं हैं। होटलों के एक कमरे का एक रात का किराया 20 हजार रुपये के आस-पास है। कोरोना की वजह से अस्पतालों में जगह की कमी के कारण रोनाल्डो चाहते हैं कि इन होटलों का इस्तेमाल कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए हो।


यह परिवार के साथ समय बिताने का बहुत अच्छा समय- मैसी


अर्जेंटिना के फुटबॉलर लियोनल मैसी ने कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच लोगों का डर भगाते हुए सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पर पोस्ट शेयर की। उन्होंने लोगों से अपील की, यह जिम्मेदार होने और घर में रहने का समय है। हमारे लिए स्वास्थ्य ही प्राथमिकता होनी चाहिए। यह परिवार के साथ समय बिताने का बहुत अच्छा समय है। ऐसे मौके बहुत कम मिलते हैं। यह दिन सभी के लिए बहुत कठिन हैं। जो हो रहा है, हम बहुत चिंतित हैं। मैसी सभी स्पोर्ट्स इवेंट्स से दूर अपने घर में परिवार के साथ छुट्टियां मना रहे हैं।


18 को मिलेगा निर्वाचन प्रमाण पत्र

पटना। बिहार से राज्यसभा के लिए नामांकन करने वाले सभी पांच उम्मीदवारों का नामांकन पत्र सही पाया गया है। नामांकन पत्र की जांच की प्रक्रिया पूरी होने के बाद पीठासीन पदाधिकारी की तरफ से इसकी विधिवत सूचना जारी कर दी गई है।आरजेडी की तरफ से और प्रेमचंद गुप्ता और अमरेन्द्र धारी सिंह और जेडीयू के हरिवंश और रामनाथ ठाकुर के अलावे बीजेपी से विवेक ठाकुर का नामांकन पत्र सही पाया गया है। पीठासीन पदाधिकारी ने सभी उम्मीदवारों के नामांकन पत्र की विधिवत जांच की इस दौरान चार उम्मीदवार मौजूद रहे। जबकि हरिवंश की तरफ से उनके प्रतिनिधि पीठासीन पदाधिकारी के समक्ष उपस्थित रहे। अब 18 मार्च के दिन सभी पांच उम्मीदवारों को निर्वाचन का प्रमाण पत्र दिया जाएगा।


बता दें कि राज्यसभा की पांच सीटें बिहार से खाली हुई थीं। पहले ये पांचों सीटें एनडीए के पास थीं, लेकिन इस बार दो राजद के कोटे में गईं और एनडीए में तीन, जिसमें दो जदयू और एक भाजपा के खाते में। जदयू ने कोई दांव न खेलते हुए पिछली बार के तीन सदस्यों में से कहकशां परवीन को छोड़कर रामनाथ ठाकुर और हरिवंश को, जबकि भाजपा ने पूर्व मंत्री सीपी ठाकुर के पुत्र विवेक ठाकुर को अपना प्रत्याशी बनाया। वहीं राजद ने एडी सिंह के अलावा प्रेमचंद गुप्ता को अपना प्रत्याशी बनाया है।


अनुराग गोयल


सेंसेक्स ने हिलाया वित्त, बढ़ाई टेंशन

मुंबई। अमेरिकी बाजारों की तेजी और फेडरल बैंक की ब्याज दरों में कटौती भी सेंसेक्स को तेजी देने में नाकाम साबित हो रही है। कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ने के खौफ से भारतीय बाजारों में जबरदस्त गिरावट देखने को मिल रही है। हालांकि, यस बैंक के शेयर में 50 प्रतिशत तक की उछाल देखने को मिली है। बाजार में हो रही लगातार गिरावट के चलते शाम 4 बजे आरबीआई की प्रेस-कॉन्फ्रेंस होगी।


बाजार में आई गिरावट के 5 प्रमुख कारण
यूएस फेडरल ने ब्याज दरों में कटौती कर इसे शून्य के करीब ला दिया है। कोरोनावायरस फैलने के कारण बिजनेस और ट्रैवल ठप पड़ता जा रहा है। इससे लड़ने के लिए फेड ने यह कदम उठाया। इस कदम के बाद बॉन्ड बाजार में खरीदारी बढ़ गई। डॉलर के मुकाबले रुपए में भी गिरावट आई। फेडरल बैंक के ब्याज दरों में कटौती के बाद यूएस स्टॉक फ्यूचर्स में 5% की गिरावट आई। डाउ फ्यूचर्स 4.5% नीचे 1,041 अंकों पर पहुंच गया। एसएंडपी 500 फ्यूचर्स 4.8% और नैस्डैक फ्यूचर्स 4.5% नीचे है। इस गिरावट का असर देश के बाजारों पर भी देखने को मिला। देश में कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ने की खबरों से निवेशकों में घबराहट बढ़ गई है। महाराष्ट्र और केरल में कोरोनावायरस के मामलों की संख्या बढ़ी है। इटली और ईरान से भी 450 भारतीयों को वापस लाया गया है। चीन के बाद ये दोनों देश कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। वैश्विक क्रेडिट रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने कहा है कि दुनियाभर में कोरोना का संकट और गहराने से भारतीय कंपनियों के सामने क्रेडिट का दबाव बढ़ गया है। एजेंसी ने कहा है कि एयरलाइंस, होटल, मॉल्स, मल्टीप्लेक्स और रेस्टोरेंट इंडस्ट्री पर सबसे ज्यादा असर पड़ेगा। विदेशी संस्थागत निवेशकों के घरेलू बाजारों से पैसा निकालने के कारण भी बाजार के ऊपर दबाव है। मार्च में अब तक निवेशक 35,000 करोड़ रुपए निकाल चुके हैं। कोरोनावायरस फैलने के कारण निवेशक घबराए हुए हैं।


लखनऊ में हर घर कर रहे जागरूक

लखनऊ। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस को लेकर लोगों में भय का माहोल बना हुआ इसी को लेकर भारत के हर प्रदेश में कोरोना की सुरक्षा को लेकर सरकार ने कड़े और पुख्ता इंतिजाम कर दिए हैं वहीं दूसरी तरफ लखनऊ के गोमतीनगर क्षेत्र में जगह जगह लोगों को कोरोना की सही जानकारी से अवगत कराते हुए जागरूक किया जा रहा है, लखनऊ डीएम अभिषेक प्रकाश ने कोरोना वायरस से बचाव संबंधी चिकित्सा विभाग के पर्चे का विमोचन कर जनजागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए है जो गोमतीनगर क्षेत्र में घर घर लोगों में पर्चे बांटकर जागरूक करने का काम किया जा रहा है। सोमवार की सुबह को जब कोरोना जागरूकता अभियान वाले इलाके में पहुंचे और घर जाकर लोगों को कोरोना की जानकारी से जागरूक किया उन्हीं में से जब इलाके के लोगों से उनका नाम, पता और कितने सदस्य हैं संपर्क नम्बर व अन्य जानकारी लेकर अपने रजिस्टर में दर्ज करते हुए कोरोना के बारे में बताने का काम कर रहें है उसी पर लोगो को संदेह हुआ कि कहीं ये एनपीआर के रूप में जनगणना तो नहीं कर रहें है जो तमाम लोगो से उनकी निजी जानकारी ले रहें हैं, इसी के चलते लोगों में भ्रम पैदा होने के कारण सही जानकारी देने से इंकार किया । ऐसे में जब लखनऊ डीएम ने कोरोना वायरस से बचाव संबंधी चिकित्सा विभाग के पर्चे का विमोचन कर जनजागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए है


पब्लिक में कोरोना की सही जानकारी दी जाए..


लेकिन जो लोग इस अभियान के तहत कोरोना की सही जानकारी देने में लगाए गए है उन्हें भी सही जानकारी देने का काम करना होगा कि पब्लिक में लोगों को कैसे जागरूक करना है क्या पूछने की आवश्यकता है ज्यादा से ज्यादा कोरोना की सही जानकारी लोगो तक पहुंचाई जाए जिससे कि कोरोना अभियान के लोग घर घर जाए और उन्हें सही जानकारी मिल सके ना कि जनता से उनकी निजी जानकारी प्राप्त की जाए और वो लखनऊ के जिस क्षेत्र में भी पहुंचे उन सभी का स्वागत किया जाए ।


रिपोर्टः आफाक अहमद मंसूरी


लोकसभा में उठाया लोन डिफाल्टर मुद्दा

नई दिल्ली। बैंक डिफॉल्टर को लेकर लोकसभा में सोमवार को राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। लोकसभा में राहुल गांधी के लोन डिफॉल्टर्स मुद्दे को लेकर उठाए गए सवालों पर जमकर हंगामा हुआ। राहुल गांधी ने बैंकिंग और अर्थव्यवस्था के खराब हालत पर लोकसभा में सवाल पूछा कि सबसे बड़े पचास विलफुल डिफाल्टर कौन हैं? कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि 'मुझे लोकसभा में पूरक सवाल पूछने नहीं दिया गया,यह एक सांसद के तौर पर मेरे अधिकार का हनन है। मैं आहत हूं क्योंकि बोलने के मेरे अधिकार की रक्षा करना और मुझे पूरक सवाल पूछने की अनुमति देना लोकसभा अध्यक्ष का कर्तव्य है।' राहुल गांधी ने कहा कि सरकार बैंकों से लिया गया कर्ज जानबूझकर ना चुकाने वाले लोगों के नाम उजागर करने से डर क्यों रही है?


राहुल गांधी ने कहा, 'भारतीय अर्थव्यवस्था बहुत बुरे दौर से गुजर रही है। हमारी बैंकिंग व्यवस्था काम नहीं कर रही है। बैंक फेल हो रहे हैं, और मौजूदा वैश्विक हालात में और भी बैंक डूब सकते हैं। इसका मुख्य कारण है, बैंकों से पैसों की चोरी। मैंने पूछा था कि टॉप 50 विलफुल डिफॉल्टर्स हिंदुस्तान में कौन हैं? मुझे जवाब नहीं दिया गया, मुझे घुमा-फिराकर जवाब दिया है। प्रधानमंत्री कहते हैं कि जिन लोगों ने हिंदुस्तान के बैंकों से चोरी की है उनको पकड़कर लाऊंगा, मैंने प्रधानमंत्री से पूछा कि वे 50 लोग कौन हैं?' राहुल गांधी ने कहा कि पीएम और वित्त मंत्री लोन डिफॉल्टरों के नाम बताएं।
राहुल गांधी के सवालों का केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने जवाब दिया। अनुराग ठाकुर ने राहुल गांधी के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि मोदी सरकार में बैंकों का एनपीए कम हुआ। अनुराग ठाकुर ने कहा कि यस बैंक का खाताधारक सुरक्षित है। ठाकुर ने कहा कि सरकार ने आर्थिक भगोड़ा कानून बनाया और 25 लाख रुपये से अधिक का डिफॉल्ट करने वाले सभी लोगों के नाम वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। इस दौरान ठाकुर ने यस बैंक के फाउंडर राणा कपूर और प्रियंका गांधी के बीच पेटिंग सौदे को लेकर भी तंज कसा। अनुराग ठाकुर ने यस बैंक के फाउंडर राणा कपूर और प्रियंका गांधी के बीच 2 करोड़ रुपए में हुए पेटिंग सौदे का जिक्र करते हुए कहा, 'कुछ सदस्य कह रहे हैं कि मैं पेटिंग का बात करूं। मैं राजनीति नहीं करना चाहता। पेटिंग किसने बेची और किसके खाते में पैसा गया। पेटिंग का जिक्र आते ही कांग्रेस के सांसद हंगामा करने लगे, अधीर रंजन चौधरी ने भी सीट से खड़े होकर आपत्ति जाहिर की।


पाकिस्तान-बांग्लादेश के मैच स्थगित

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कारण बांग्लादेश के साथ होने वाले वनडे और टेस्ट मैच को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने स्थगित करने का फैसला लिया है। बांग्लादेश की टीम को 29 मार्च को कराची पहुंचना था, जहां पाकिस्तान के साथ एक अप्रैल को वनडे और फिर पांच से नौ अप्रैल तक टेस्ट मैच खेलना था। पीसीबी ने कहा कि दोनों बोर्ड अब आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप को पूरा करने के लिए भविष्य में मिलकर काम करेगी। पाकिस्तान ने साथ ही 25 मार्च से शुरू होने वाले अपने घरेलू वनडे टूर्नामेंट पाकिस्तान कप को भी स्थगित करने का फैसला किया है। पाकिस्तान और बांग्लादेश के क्रिकेट बोर्ड ने कराची में होने वाले आगामी वनडे और टेस्ट मैच को स्थगित करने का फैसला किया है।


मुंबई में ग्रुप टूर पर लगाई पाबंदी

मुंबई। महाराष्ट्र में एक के बाद एक कोरोना वायरस के मामले तेजी से सामने आते जा रहे हैं। सोमवार को 5 ताजा मामले सामने आने के साथ ही राज्य में COVID19 के पीड़ितों की संख्या 38 पहुंच गई है। इनमें से 3 केस मुंबई, 1 नवी मुंबई और 1 यवतमाल का है। इसके साथ ही भारत में कोरोना के मामले बढ़कर 116 हो गए हैं। यवतमाल के डीएम एमडी सिंह ने बताया कि जिले में एक और शख्स कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। वह हाल में ही दुबई से लौटा है। इस बीच राज्य सरकार पहले ही कोरोना से निपटने के लिए एहतियात के तौर पर कदम उठा रही है। दरअसल, भारत में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में पाए गए हैं। राज्य में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले अब तक पुणे में आए हैं लेकिन धीरे-धीरे मुंबई में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ती दिख रही है, जिससे सरकार और प्रशासन चिंतित है। मुंबई पुलिस ने पहले ही धारा 144 लागू करते हुए ग्रुप टूर करने पर पाबंदी लगा दी है। यहां तक कि फिल्म इंडस्ट्री ने भी शूटिंग बंद करने का फैसला किया है। महाराष्ट्र में अब तक पुणे में 16, मुंबई में 8, नागपुर में 4, रायगढ़, नवी मुंबई और यवतमाल में 3, कल्याण, औरंगाबाद, अहमदनगर, ठाणे में 1 मरीज पाया गया है।


लूट और दिल्ली दंगे का आरोपी शामिल

सतीश कुमार


रामपुर। अजीमनगर थाना क्षेत्र में 10 दिन पहले ग्रामीण के घर हुई लूट की घटना का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। लूट की वारदात को गुड्डू पहाड़ी गैंग ने अंजाम दिया था। इस गैंग में दिल्ली के पांच बदमाश भी शामिल थे। एक बदमाश दिल्ली के भजनपुरा का है, जिसके दिल्ली दंगे में शामिल होने की जानकारी मिली है। इसकी तस्दीक के लिए स्थानीय पुलिस दिल्ली पुलिस से संपर्क कर रही है।


अजीमनगर थाना क्षेत्र के खौद गांव निवासी नवाबजान के घर चार मार्च की रात बदमाश घुस गए थे। बदमाशों ने परिजनों को बंधक बनाकर नकदी, जेवर आदि 14 लाख का सामान लूट लिया था। विरोध करने पर परिवार के सदस्यों से मारपीट भी की थी। अगले दिन पुलिस ने घटना की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी। आइजी रमित शर्मा ने पीडि़त के घर पहुंचकर घटना की जानकारी ली थी और पुलिस को शीघ्र बदमाशों को पकडऩे के निर्देश दिए थे। पुलिस अधीक्षक शगुन गौतम ने बदमाशों की धरपकड़ के लिए थाना पुलिस के अलावा एसओजी और सर्विलांस को भी लगाया था। शनिवार रात दो बजे पुलिस को बदमाशों के अजीमनगर क्षेत्र में होने की सूचना मिली। पुलिस ने उनका पीछा किया। लालपुर रोड पर खिरजपुर गांव के जंगल में बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने जवाबी फायरिंग करते हुए बदमाशों को पकड़ लिया। बदमाशों को रविवार को मीडिया के सामने लाया गया।


सीओ स्वार ब्रहमपाल सिंह ने बताया कि नौ बदमाश गिरफ्तार किए गए हैं। इनके पास से नवाबजान के घर से लूट के 2.45 लाख रुपये भी मिले हैं। इसके अलावा छह तंमचे, एक बंदूक, 23 कारतूस और दो चाकू और टाटा सफारी कार बरामद हुई है। इस गैंग का लीडर सलीम उर्फ गुड्डू पहाड़ी है। वह मूल रूप से रामपुर का रहने वाला है। वर्तमान में दिल्ली में रहकर अपना गैंग चला रहा है। वह दिल्ली के थाना दयालपुर का हिस्ट्रीशीटर भी है। उसके खिलाफ दिल्ली के थाना खजूरीखास, थाना नंदनगरी, थाना पश्चिमी विहार ईस्ट, थाना मंगोलपुरी, थाना गोकुलपुरी, थाना शाहदरा, थाना ज्योति नगर, थाना कीर्तिनगर, थाना कोतवाली, थाना होजकाजी, थाना चांदनी चौक में लगभग 60 मुकदमे चोरी, लूट आदि धाराओं के दर्ज हैं। गैंग लीडर के साथ आठ अन्य बदमाशों में एक दिल्ली के भजनपुरा का फैसल उर्फ फैजल पुत्र जावेद भी शामिल है। उसके दिल्ली दंगे में शामिल होने की जानकारी मिली है। सीओ ने बताया कि दंगाइयों की सूची में उसका नाम शामिल है। उसने दिल्ली के किस थाना क्षेत्र में किस घटना को अंजाम दिया है, इसकी जानकारी की जा रही है। दिल्ली के अफसरों से भी बात की जा रही है।


योगी ने किया निरीक्षण, दिए आदेश

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ में सोमवार को स्वास्थ्य भवन में राज्य संक्रामक रोग नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण किया। उनके साथ स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह समेत मुख्य सचिव आरके तिवारी अवनीश अवस्थी  व प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन समेत कई अधिकारी मौजूद रहे। इस दौरान उन्होंने कहा कि नया अपडेटेड कंट्रोल रूम बनाने के निर्देश दिए। कोरोना वायरस के कहर से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने जोरदार तैयारी कर रखी है। CM ने यह मोर्चा खुद संभाल लिया है।
 
सीएम ने कहा कि राज्य संक्रमण रोग नियंत्रण कक्ष के रूप में कंट्रोल रूम चल रहा है। कंट्रोल रूम तीन शिफ्ट में चल रहा है। नौ लोग एक शिफ्ट में कर रहे तैनात हैं। डॉक्टर और टेलीफोन ऑपरेटर टोल फ्री नंबर पर बैठे हैं। एक टोलफ्री नंबर 10 लाइनों में बांटा गया है। वहीं  सिनेमा घर और मल्टीप्लेक्स बंद कर दिए गए हैं। मास्क, दस्ताने और गाउन पर कोई भी कालाबाज़री करेगा तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।


पवन श्रीवास्तव


दो गुटों में फायरिंग, भाई-बहन की मौत

औरैया। शहर कोतवाली क्षेत्र के गांव में रविवार को दो गुटों के बीच फायरिंग में गोली लगने से भाई-बहन की मौत होने से सनसनी फैल गई। गांव में तनाव के हालात बन गए हैं, जिसे देखते हुए भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाएं हैं और पुलिस ने सपा के एमएलसी समेत दो लोगों को हिरासत में लेकर छानबीन शुरू की है। गांव में दहशत का माहौल है और गलियों में सन्नाटा पसरा है।शहर कोतवाली के नरायनपुर गांव में रविवार सुबह सपा के पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री एवं विधानपरिषद सदस्य कमलेश पाठक मंदिर में दर्शन करने गए थे। इस बीच पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष अधिवक्ता मंजुल चौबे से वर्चस्व को लेकर विवाद हो गया। मंजुल गुट ने उनपर हमला कर दिया लेकिन कमलेश पाठक समर्थकों के साथ किसी तरह बचकर निकले। कमलेश पाठक ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस के पहुंचने से पहले कमलेश पक्ष के लोगों और मंजुल गुट के बीच आमने-सामने फायरिंग हो गई। फायरिंग में मंजुल और उनकी बहन सुधा को गोली लग गई।भाई-बहन लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़े तो हमलावर फरार हो गए। गोली लगने से भाई-बहन की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद गांव में तनाव का माहौल बन गया। पुलिस अफसर कई थानों का फोर्स लेकर गांव पहुंचे और घटना की जानकारी लेकर छानबीन शुरू की। भारी फोर्स तैनात होने से गांव छावनी बन गया है, वहीं गलियों में सन्नाटा पसरा है। मंजुल और उसकी मौत से घरवालों में कोहराम मचा है। उन्होंने कमलेश पाठक पर लाइसेंसी असलहा से दोनों को गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार कमलेश पाठक और उनके भाई पूर्व ब्लाक प्रमुख संतोष पाठक को हिरासत में लिया गया है। घटना में छह अन्य लोगों के भी नाम सामने आए हैं।


बुजुर्ग ने 21 वर्षीय पुत्र वधू से शादी की

समस्तीपुर। हम आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे हैं, जिसे सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। जी हां दरअसल हम बात कर रहे हैं, बिहार की जहाँ से एक ऐसी खबर सामने आई है कि सुनकर आपके होश उड़ जायेंगे। दरअसल बिहार के समस्तीपुर जिले में एक 65 साल के रोशन लाल ने हाल ही में अपनी ही 21 साल की बहू सपना से शादी कर ली है। वहीं लोगों ने जब उनसे इस बारे में सवाल पूछना शुरु किया तो उन्होंने अपनी शादी को एक बड़ी मजबूरी का नाम दे दिया।


मिली जानकारी के मुताबिक रोशन लाल का कहना है कि, ये शादी उन्होंने मजबूरी में की हैं, जिससे उस लड़की के घर की इज्जत खराब ना हो। दरअसल इस पूरे मामले के बारे में बात करते हुए बताया गया कि रोशन लाल यादव ने अपने बेटे पप्पू की शादी सपना से तय की थी। और बारात लेकर वे सपना के घर तक पहुंच गए लेकिन वहां अचानक कुछ ऐसा हो गया कि रोशन लाल को ये बड़ा कदम उठाना पड़ा।
वहीं इस मामले में यह भी बताया गया है कि बारात स्थल पर पप्पू शादी के दिन ही सबकुछ छोड़कर भाग गया, ऐसा इसलिए भी हुआ क्योंकि पप्पू किसी और ही लड़की से प्यार करता था।


वहीं पप्पू रोशन लाल के डर से शादी के लिए तैयार तो हो गया लेकिन शादी के मंडप तक नहीं गया और बिना कुछ कहे पुत्र द्वारा शादी छोड़कर भागने से पिता रोशन लाल को बड़ा सदमा लगा। उसके बाद उन्होंने सोचा इससे सपना के घरवालों की खूब बदनामी होगी और उन्होंने दोनों परिवारों की इज्जत रखने के लिए सपना से शादी कर ली। वैसे इस खबर में कितनी सच्चाई है, इसकी जांच करने के लिए पुलिस जोरों शोरों से जुटी है और कई लोगों का कहना है बुजुर्ग से शादी करके 21 साल की लड़की सपना की जिंदगी बर्बाद कर दी गई है।


कोरोना-हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा-सत्र

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र की सोमवार की कार्यवाही कोरोना और हंगामे की भेंट चढ़ गई है। कोरोना के खतरे के मद्देनजर शुक्रवार को हुई कार्यमंत्रणा समिति में सदन की कार्यवाही 25 मार्च तक स्थगित करने की घोषणा की गई थी। लेकिन आज एक दिन के लिए विधानसभा की बैठक बुलाई गई। विधानसभा सचिवालय के अनुसार तकनीकी कारण से सोमवार को एक दिन के लिए सदन की बैठक बुलाई गई थी। हालांकि सोमवार को सदन की कार्यवाही चल नहीं पाई। कार्यवाही शुरू होते ही स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कोरोना वायरस को लेकर देश में भयावह स्थिति होने की बात कहते हुए सदन की कार्यवाही को स्थगित करने की मांग की।
जनता कांग्रेस के धर्मजीत सिंह ने कहा कि अफसरों में से किसी ने मास्क नहीं लगाया है, इससे साबित होता है कि वे कोरोना को लेकर कितना गंभीर हैं। भाजपा सदस्यों ने कहा प्रश्नकाल होना चाहिए उसके बाद कोरोना को लेकर चर्चा हो। विपक्षी सदस्य प्रश्नकाल चलने देने की मांग पर अड़े रहे और हंगामा करने लगे।

अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने प्रश्नकाल स्थगित कर दी। दोपहर 12 बजे सदन की कार्यवाही दुबारा शुरू होते ही विपक्षी सदस्य गर्भगृह में आ गए और नारेबाजी करने लगे। नाराज विपक्षी सदस्यों ने कार्यसूची फाडकर आसंदी की ओर फेंक दिया। हंगामे के बीच अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही 26 मार्च सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।
विपक्ष का रवैया निंदनीय- भूपेश

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि पूरी दुनिया में कोरोनावायरस का प्रभाव देखा जा रहा है और दिनों दिन बढ़ते जा रहा है भारत सरकार ने भी एडवाइजरी जारी की है और सुरक्षा में ही बचाव है। और कार्य मंत्रणा समिति की जो बैठक हुई थी उसके उपरांत आज स्वास्थ्य मंत्री जी ने यह प्रस्ताव रखा कि करोना वायरस ज्यादा संपर्क में आने से फैलता है इसलिए आज दिनभर की कार्यवाही को स्थगित की जाए और संसदीय कार्य मंत्री ने भी यह बातें कही लेकिन दुर्भाग्यजनक है विपक्ष के साथियों ने आज विधानसभा अध्यक्ष की आसंदी पर कागज फेंका यह बेहद निंदनीय है।

नवरात्रि में श्रद्धालु बरतें सतर्कता
जिस प्रकार से जानकारी आ रही है कि किसी व्यक्ति को यदि कोरोनावायरस हो भी गया है उसके लक्षण है वह कई दिनों बाद करीब सप्ताह से दो सप्ताह बाद सामने आता है। लेकिन वह कहीं भी घूम रहा है तो पहले जहां जितनी भीड़ होगी संभावना उतनी ही अधिक संक्रमण की होगी ।
इसलिए सुरक्षा में ही हमारा बचाव है। नवरात्रि में जो हिंदुओं का बड़ा त्यौहार है उसके लिए अपील भी करूंगा कि ज्यादा भीड़ ना करें सब एक-एक करके जाएं। सब की आस्था से जुड़ा मामला है लेकिन भीड़ बहुत होगी और पसीना ज्यादा निकलेगा तो शरीर में संक्रमण भी बढ़ जाएगा।

भाजपा एमपी में गिराना चाहती है सरकार
एमपी में सियासी घमासान को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के द्वारा किया गया यह सब कार्य है। उनके द्वारा ही विधायकों को अपहृत किया गया है। उनके इस्तीफे से वही लोग लाए थे अब विधानसभा में जो परिस्थिति बनी है। अध्यक्ष ने जो घोषणा की है उसके मुताबिक 26 तारीख को फिर से विधानसभा सत्र होने की बात कही है गई है तो फ्लोर टेस्ट हो जाएगा।


आनंदराम साहू


विधानसभा स्थगित, कमल को राहत

विधानसभा की कार्यवाही 26 तारीख तक स्थगित,कमलनाथ सरकार को मिली राहत।


शेख़ नसीम 


भोपाल। मध्य प्रदेश में मचे सियासी घमासान के बीच आज मध्यप्रदेश विधानसभा की कार्यवाही 26 तारीख तक के लिए स्थगित कर दी गई है जहाँ सदन की कार्यवाही के स्थगन से कांग्रेस ने राहत की सांस ली वहीं दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी इस स्थगन से नाराज़ बताई जा रही हैं।


आज विधानसभा सत्र की शुरुआत राज्यपाल लालजी टंडन के अभिभाषण से हुई तकरीबन 25 मिनट के अभिभाषण के बाद सदन की कार्यवाही को 26 तारीख तक के लिए स्थगित कर दिया गया। आज मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार को सदन में फ्लोर टेस्ट से गुजरना था लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन से कहाकि भारतीय जनता पार्टी के नेताओ ने हमारे विधायको को कर्नाटक में बंधक बनाकर रखा हैं और उनको डरा-धमकाकर अपनी मर्ज़ी के बयान दिलवाए जा रहे हैं हमारे बहुत से विधायक इस समय यहां मौजूद नही हैं लिहाज़ा फ्लोर टेस्ट को स्थगित किया जाए। राज्यपाल ने 26 तारीख तक सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया हैं वहीं दूसरी तरफ विपक्ष की भारतीय जनता पार्टी ने इस स्थगन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला किया हैं।


गृह मंत्री का भतीजा बता, लगाया चूना

 फर्रुखाबाद। गुजरात प्रदेश के एक व्यक्ति खुद को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का भतीजा बताकर कई विधायकों को ठगने वाले कलई खुली तो जीआरपी भी सन्न रह गई। बता  दे कि पांंच दिन पहलेे विराज शाह नाम के युवक ने अहमदाबाद-लखनऊ एक्सप्रेस ट्रेन से बैग चोरी होने का मुकदमा दर्ज कराते हुए खुद को अमित शाह का भतीजा बताया था। मामला हाई प्रोफाइल मानते हुए जीआरपी जांच में चकरघिन्नी बनी रही और अहमदाबाद जाकर पड़ताल की। लेकिन, जब युवक की हकीकत सामने आई तो पुलिस भी सन्न रह गई। जब युवक की सच्चाई सदर विधायक को पता चली तो उनकी भी खुद पर हंसी छूट गई क्योंकि घटना के बाद वह उसे स्वयं दिल्ली तक छोडऩे गए थे।


मिली जानकारी के अनुसार करीब पांच दिन पहले फर्रुखाबाद रेलवे स्टेशन पर जीआरपी के पास पहुंचे युवक ने अपना नाम विराज शाह और गृहमंत्री अमित शाह का भतीजा बताया था। उसने बताया था कि अहमदाबाद-लखनऊ एक्सप्रेस ट्रेन से उसका बैग चोरी हो गया है। इसपर जीआरपी ने आनन फानन मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी थी। स्टेशन के सीसी कैमरे की फुटेज में बैग ले जा रहे युवक को देखकर उसने पहचान भी की थी। उसने रिपोर्ट में पता अहमदाबाद की एक सोसायटी का लिखाया था और पिता का नाम अश्वनी भाई शाह बताया था।


जानकारी पर सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी भी पहुंचे थे और उनके साथ युवक चला गया था। विधायक उसे दिल्ली तक छोडऩे गए थे। जाते समय उसने पुलिस को हिदायत दी थी कि मोबाइल पर उसे परेशान न करें, बैग मिले या फिर न मिले। बैग में उसने लैपटाप, मोबाइल और कुछ रुपये होने की जानकारी दी थी। सीसी फुटेज में उसने युवक को पहचानते हुए बताया था कि वह पास की सीट पर बैठा था और उसकी पीठ पर टंगे बैग को अपना बताया था। मामला हाईप्रोफाइल होने पर पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज में दिखे युवक के रिजर्वेशन फार्म में लिखे पते की छानबीन की। इसके बाद पुलिस कोतवाली मोहम्मदाबाद के गांव गैङ्क्षसगपुर निवासी युवक तक पहुंची तो पता चला कि वह दूसरे कोच में यात्रा कर रहा था।


इसके बाद पुलिस ने फुटेज के आधार पर दूसरे युवक की जांच की तो वह थाना जहानगंज के गांव जहानाबाद का निवासी निकला और बैग उसका ही था। अहमदाबाद स्टेशन के कैमरे के फुटेज में भी बैग उसके कंधे पर ही दिखाई दिया। इसपर संदेह होने पर पुलिस ने जब विराज की कुंडली खंगाली तो चौंकाने वाला सच सामने आया। वह इसी तरह बैग चोरी के मामले पहले भी मध्य प्रदेश व राजस्थान में दर्ज करा चुका है।


पुलिस को जांच के दौरान विराज का मोबाइल बंद मिल रहा था, इसपर शक गहराया और उसकी कुंडली खंगाली। इसपर सामने आया कि विराज शाह ने वर्ष 2016 में उज्जैन में भी बैग चोरी का मुकदमा लिखाया था और खुद को अमित शाह का भतीजा बताकर विधायक से नकद, मोबाइल लिया था। इसी तरह जयपुर में भी उसने झूठी कहानी बताकर  पुलिस व विधायक को ठगा था। उसने अपना पता भी गलत लिखाया था। जुलाई 2016 में मध्य प्रदेश पुलिस ने जांच के बाद उसका पर्दाफाश कर दिया था। युवक मूल रूप से गुजरात गांधी नगर से 15 किमी दूर गांव का रहने वाला है और उसका नाम यश अमीन है। जीआरपी थानाध्यक्ष विजय कुमार ने बताया कि जांच पूरी होने पर जानकारी दी जाएगी।


फर्रुखाबाद विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी उसे दिल्ली तक छोडऩे गए थे। जब इस बारे में उनसे पूछा गया तो उन्होंने जानकारी दी कि युवक के बारे ज्यादा नहीं पता है। घटना वाले दिन एक फोन आने के बाद वह जीआरपी थाने गए थे। उस दिन उन्हें भी दिल्ली जाना था और युवक के आग्रह पर उसे भी साथ ले गए थे।


डिजिटल लेनदेन में बरतें सतर्कता

इन दिनों हम सभी अपने फोन पर इतने डिपेंड हो गए हैं कि हर काम उसी से करते हैं। डिजिटल मनी ट्रांजक्शन जितना बढ़ रहा हैं उतने ही ऑनलाइन फ्रॉड (Online fraud) के मामले भी बढ़ रहे हैं। फ्रॉड लोगों के पैसे को ठगने के लिए अलग-अलग तरीके अपनाते हैं। कई बार ये लोग पेटीएम या गूगल पे (Google Pay and Paytm) के जरिए पैसे की रिक्वेस्ट भेजते हैं। यूपीआई बेस्ड ये मोबाइल वॉलिट ठगी के लिए सबसे आसान तरीका है। कई लोगों को इन ऐप के जरिए अपनी मेहनत का पैसा खोना पड़ा है।


यूपीआई फ्रॉड की बात करें तो ये ठग किसी यूजर के मोबाइल डिवाइस का रिमोट एक्सिस पाने की कोशिश करते हैं ताकि वे बैंक ट्रांजक्शन भी रिमोटली कर पाएं। इस तरह की धोखाधड़ी से बचने का बस एक ही तरीका है आपको इसकी पूरी जानकारी हो। हम आपको बताते हैं कि इस तरह की धोखाधड़ी और ठगी को किस तरह अंजाम दिया जाता है। फ्रॉड किस तरह मोबाइल बैंकिंग और पेमेंट से जुड़े ऐप्स के जरिए ठगी कर सकते हैं। इनमें गूगल पे और पेटीएम जैसे यूपीआई और वॉलिट्स भी शामिल हैं। आपको बस इन बातों का ध्यान रखना है जो हम बताने जा रहे हैं :-


धोखाधड़ी करने वाले ये फ्रॉड लोगों को गूगल प्ले स्टोर या ऐपल ऐप स्टोर से AnyDesk या TeamViewer जैसे ऐप डाउनलोड करने का लालच देते हैं। इन ऐप्स की मदद से किसी भी व्यक्ति के मोबाइल का रिमोट ऐक्सिस दूसरे यूजर को मिल जाता है।
एक बार जब यूजर अपने स्मार्टफोन पर इस तरह के ऐप्स डाउनलोड कर लेता है तो ग्राहक के मोबाइल या डिवाइस पर एक 9 डिजिट नंबर (ऐप कोड) जेनरेट होता है। इसके बाद ये ठग यूजर को अपने साथ ये कोड शेयर करने को कहते हैं।9 डिजिट के इस नंबर को फ्रॉड द्वारा अपने मोबाइल डिवाइस पर किसी ऐप के कोड के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। इसके बाद वह यूजर से कुछ परमिशन देने को कहता है जो किसी दूसरे ऐप के इस्तेमाल करने के लिए जरूरी होती हैं।
जैसे ही यूजर परमिशन ग्रांट करता है, इन ठगों को यूजर के डिवाइस का एक्सिस मिल जाता है और वह उसका मोबाइल फोन इस्तेमाल करना शुरू कर देता है।
यह वह तरीका है जिसके जरिए कोई फ्रॉड किसी यूजर के मोबाइल बैंकिंग ऐप के लॉगइन पासवर्ड ऐक्सिस कर लेता है और यूजर के डिवाइस में पहले से इंस्टॉल मोबाइल ऐप के जरिए बैंकिंग ट्रांजक्शन अंजाम देता है।


अमेरिका में कोरोना वैक्सीन परीक्षण

वाशिंगटन। कोरोना वायरस की वजह से अमेरिका में अब तक करीब 2794 लोग संक्रमित हो चुके हैं। करीब 56 लोगों की मौत हो चुकी है। अब अमेरिका के वैज्ञानिक 16 मार्च 2020 यानी आज से इसकी वैक्सीन का एक इंसान पर ट्रायल करने जा रहे हैं। इसकी घोषणा खुद अमेरिका की सरकार ने की है। हालांकि, वैक्सीन का ट्रायल परीक्षण के तौर पर किया जा रहा है। अगर इससे सफलता मिलती है तो इसे पूरी दुनिया में बांटा जाएगा।


अमेरिका का द नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ इस ट्रायल की फंडिंग कर रहा है। जिस इंसान ने इस परीक्षण के लिए हां कहा है, उसके ऊपर परीक्षण सिएटल स्थित कैसर पर्मानेंटे वॉशिंगटन हेल्थ रिसर्च इंस्टीट्यूट में किया जा रहा है। अमेरिकी सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने स्पष्ट कहा है कि कोरोना के सटीक वायरस को बाजार में लाने में एक साल से 18 महीने लग जाएंगे। इस वैक्सीन ट्रायल के लिए 45 युवा वॉलंटियर्स चुने गए है। इन लोगों के साथ ही परीक्षण की शुरुआत होगी। इन्हीं लोगों को पहले कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगा।


इस वैक्सीन को एनआईएच और मॉडर्ना इंक ने एकसाथ मिलकर बनाया है। इन 45 युवाओं को अलग-अलग मात्रा में वैक्सीन दिए जाएंगे। अच्छी बात ये है कि इस टीके में कोई वायरस नहीं हैं। इस ट्रायल का लक्ष्य सिर्फ यह पता करना है कि वैक्सीन से किसी को दुष्प्रभाव न हो और फिर बड़े पैमाने पर इसका परीक्षण किया जा सके। नतीजे सकारात्मक आते हैं तो फिर पूरी दुनिया में इस वैक्सीन को भेजा जाएगा। पूरी दुनिया में अब तक कोरोना वायरस से 162,774 लोग संक्रमित हो चुके हैं। 6460 लोगों की मौत हो चुकी है। चीन के बाद सबसे बुरी हालत इटली की है।


कोरोना के प्रकोप से ईएमआई में फायदा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते प्रकोप से निवेशकों में खौफ का माहौल है, जिसके कारण पूरी दुनिया के शेयर बाजारों (Share Market) में गिरावट का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में यूएस फेडरल रिजर्व बैंक (फेड) ने बेंचमार्क ब्याज दर जो एक फीसदी से 1.25 फीसदी था उसे घटाकर शून्य से 0.25 फीसदी कर दिया है।


आरबीआई (RBI) फेडरल रिजर्व के ग्लोबल स्वैप लाइन फैसिलिटी का हिस्सा नहीं है, लेकिन वित्तीय बाजार में फ्रीजिंग जैसी स्थिति से बचने के लिए उभरते देशों के केंद्रीय बैंक के साथ सहयोग करने के लिए वह दरों में कटौती कर सकता है। वित्तीय बाजार के संकट को टालने के लिए बाकी उभरते देश के केंद्रीय बैंक की तरह भारत का बैंकिंग नियामक रिजर्व बैंक भी दरें कम करने की रणनीति में शामिल हो सकता है। कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप से अपनी अर्थव्यवस्था को बचाने की दिशा में अमेरिका के केंद्रीय बैंक यूएस फेडरल रिज़र्व ने बड़ा कदम उठाया है। फेडरल रिज़र्व ने प्रमुख ब्याज दरों में कटौती की है। यूएस फेड ने ब्याज दरों को घटाकर लगभग जीरो कर दिया है।


कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे को कम करने की दिशा में यूएस फेड का यह बेहद चौंकाने वाला और बड़ा फैसला है। इससे अमेरिका ने एसेट्स की खरीद में हजारों बिलियन डॉलर के सस्ते डॉलर फाइनेंशिंग ऑफर से विदेशी अथॉरिटी को पीछे छोड़ दिया है। विदेशी मुद्रा बाजार में तरलता बनाये रखने के लिए आरबीआई ने पिछले हफ्ते दो अरब डॉलर का स्वैप ऑप्शन कराया था। एक्सपर्ट्स की माने तो टूर ऑपरेटर, होटल और रेस्टोरेंट चेन का बिजनेस कोरोना की वजह से पटरी से उतर सकता है। अगर ग्राहक नहीं आते तो उनके पेमेंट में दिक्कत हो सकती है।



एचआईवी-स्वाइन फ्लू की दवा से ठीक

जयपुर। सवाई मानसिंह अस्पताल में तीन कोरोना पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद डॉक्टरों ने कहा चौथे मरीज की तबीयत में भी काफी सुधार है और अगले दो-तीन दिन में इसकी भी रिपोर्ट नेगेटिव आ जाएगी। डॉक्टरों ने रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद तीनों को कोरोनो वायरस से फ्री घोषित कर दिया है। अब अस्पताल में इस समय स्पेन का युवक ही कोरोना पॉजिटिव है।
स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार ने रविवार को कहा कि उन्हें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित मरीजों में से तीन की रिपोर्ट अब निगेटिव आई है। इन मरीजों में एक जयपुर निवासी 85 वर्षीय बुजुर्ग और दूसरा 69 वर्षीय इटली का नागरिक है और तीसरा इटली नागरिक की पत्नी शामिल है।
कोरोना के मरीजों को एड्स,स्वाइन फ्लू की दी जा रही दवा।
कोरोना वायरस के इलाज के लिए अभी कोई दवा सामने नहीं आई। लेकिन जयपुर के डॉक्टरों ने स्वाइन फ्लू ,मलेरिया और एचआईवी की दवाओं से इन मरीजों को ठीक कर दिखाया । डॉक्टरों ने बताया कोरोना पॉजिटिव मरीजों को स्वाइन फ्लू ,मलेरिया और एचआईवी में दी जाने वाली चार तरह की दवाओं दी जा रही थी । उन्होने बताया इन मरीजों को स्वाइन फ्लू में काम में आने वाली टेमी फ्लू, मलेरिया में क्लोरीक्वीन,और एचआईवी के लिए दी जाने वाली दो तरह दवाओं को काम में ले रहे थे।
24 घंटे पॉजिटिव मरीजों के साथ रहे
एसएमएस अस्पताल में कोरोना मरीजों को ठीक करने में अस्पताल के डॉक्टरों के साथ उन नर्सिंग स्टॉफ की भी मेहनत है जो पिछले 2 माह से आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी पर तैनात है। बता दे जह हमने आइसोलेशन वार्ड में पिछले दो माह से अपनी सेवाएं दे रहे नर्सिंग स्टॉफ से बात की तो उनका कहना था आज हमारी मेहनत सफल रहीं। अस्पताल में तैनात नर्सिंग स्टाफ कैलाश चन्द शर्मा, संतोष शर्मा राममूर्ती मीणा और भरत लाल जो पिछले 20 दिन से कोरोना पॉजिटिव मरीजों के साथ रहे । उन्होंने बताया जब हम इन मरीजों को इलाज कर रहे थे तो मन में थोड़ा डर तो था लेकिन हम लगातार इन मरीजों को ठीक करने में जुटे रहे । आज हमे बड़ी खुशी हो रही है इन पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आ गई । उन्होने कहा अस्पताल में भर्ती एक पॉजिटिव मरीज को भी हम जल्द ठीक कर देंगे।
मरीजों को अन्य जगह किया जाएगा शिफ्ट
पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद जयपुर निवासी 85 वर्षीय बुजुर्ग और 69 वर्षीय इटली नागरिक को आज एसएमएस अस्पताल से अन्य जगह शिफ्ट किया जाएगा । जबकि इटली महिला की रिपोर्ट पहले ही नेगेटिव आने के बाद उसे प्रताप नगर स्थित आरयूएचएस अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया था बताया जा रहा इन दिनों मरीजों को भी आरयूएचएस अस्पताल में शिफ्ट किया जा सकता है।


जैविक खेती प्रोत्साहन, दिया प्रशिक्षण

कुशीनगर। कुशीनगर जनपद के तमकुही तहसील अन्तर्गत बभनौली अजय नगर में स्थापित गेदां सिंह गन्ना अनुसंधान केन्द्र पर आयोजित किसान मेला में उत्तर प्रदेश सरकार के कृषि अनुसंधान शिक्षा मंत्री माननीय सूर्य प्रताप शाही ने बतौर मुख्य अतिथि के रूप में किसानों को संबोधित किया। इस अवसर पर गुड़ उत्पादन एवं प्रशिक्षण इकाई एवं विदेशी भवन का शिलान्यास किया। इस अवसर पर कुशीनगर के विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी फाजिलनगर के विधायक गंगा सिंह कुशवाहा जे सिह निर्देशक गन्ना शोध परिषद शाहजहांपुर भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष प्रेमचंद्र मिश्रा किसान मोर्चा के अध्यक्ष हरि राय भाजपा के तरिया सुजान मंडल अध्यक्ष आनंद मिश्रा तमकुही मंडल अध्यक्ष विनोद सिंह विजय गौड़ जितेंद्र मिश्र दीनानाथ मिश्रा संजय राय किसान पीजी कॉलेज के प्रबंधक अनूप राय सुरेंद्र राय अध्यक्ष गन्ना विकास परिषद शाहीन नगर पंचायत अध्यक्ष श्यामसुंदर विश्वकर्मा आदि लोग मौजूद रहे। इस अवसर पर प्रगतिशील किसानों को प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।


तेंदुए के हमले में चार घायल, पकड़ा

महराजगंज। सोहगीबरवा वन्य जीव प्रभाग के शिवपुर यूनिट के सीमावर्ती वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के मदनपुर वन क्षेत्र से सटे सिरिसिया जरलहिया गांव में रविवार की सुबह एक तेंदुए ने ग्रामीणों पर उस समय हमला बोल दिया जब ग्रामीण तेंदुए को गांव से भगाने का प्रयास कर रहे थे। गांव में रखी लकड़ी में छिपे तेंदुए के हमले में चार लोग जख्मी हो गए। इसके बाद वह एक घर में घुस गया। जख्मी लोगों में अशोक कुमार, मुन्ना सहनी, फागु चौहान व पप्पु के नाम शामिल हैं। अशोक कुमार को चिकित्सकों ने बेतिया रेफर कर दिया। उधर, तेंदुआ की सूचना मिलने के बाद पहुंची वन विभाग की टीम ने सभी लोगों को सुरक्षित स्थान पर रहने की सलाह दी। डीएफओ गौरव ओझा ने बताया कि ट्रैकुलाइजर गन से तेंदुए को बेहोश कर पिजरे में बंद कर जंगल में सुरक्षित छोड़ दिया गया। रेस्क्यू में कुल आठ घंटे लगे। इस दौरान गांव में अपरा तफरी मची रही। शनिवार की रात्रि मदनपुर जंगल से निकल कर तेंदुआ इब्राहिम मियां के घर में घुसा तथा एक बकरी का शिकार कर लिया। इसके बाद घर के पास रखी लकड़ी में छिपकर बैठ गया। सुबह मे जब उनकी नींद खुली तो देखा कि बकरी मर चुकी है। एक-एक कर आसपास के कई लोग जमा हो गए। तेंदुए के लकड़ी में ढेर में छिपे होने की जानकारी मिली। ग्रामीणों ने अपने स्तर से तेंदुए को गांव से भगाने का प्रयास किया। इसी दौरान तेंदुआ हमलावर हो गया और ग्रामीणों पर हमला बोल दिया। हमले में चारों लोग जख्मी हो गए। करीब दो बजे डीएफओ गौरव ओझा के नेतृत्व में विभाग के आला अधिकारियों की टीम पहुंची। जिसके बाद उसे बेहोश किया गया।


सीएम के खिलाफ अभद्र टिप्पणी, 'देशद्रोह'

कानपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ ट्विटर पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोपित वकील को पुलिस ने धर-दबोचा। उसके खिलाफ आईटी एक्ट और देशद्रोह की धारा में एफआईआर दर्ज की गई है। कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया।
डीआईजी अनंत देव के मुताबिक वकील अब्दुल हन्नान ने अपने ट्विटर अकाउंट से सीएम पर अभद्र टिप्पणी की थी। आरोप है कि सरकार की नीतियों के खिलाफ ट्विटर पर भड़काऊ पोस्ट कर रहा था। शिकायत मिलते ही डीआईजी ने साइबर सेल और कल्याणपुर पुलिस को जांच सौंपी। साइबर सेल प्रभारी लान सिंह ने हन्नान को आईपी एड्रेस के जरिए चिह्नित किया। इसके बाद साइबर सेल की टीम और पुलिस ने केशवपुरम आवास विकास-1 निवासी हन्नान को दबिश देकर पकड़ लिया। इसके साथ ही उसके किए गए सभी पोस्ट को डिलीट करा दिया गया है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने ट्विटर पर सीएम का विधानसभा में दिए बयान का एक वीडियो पोस्ट किया था। इसमें मुख्यमंत्री ने अराजकतत्वों पर पुलिस की ओर से की गई लाठीचार्ज का समर्थन किया था। आरोपित अब्दुल ने ट्वीट पर मुख्यमंत्री को रिप्लाई करते हुए उनके खिलाफ अभद्र शब्दों का प्रयोग किया था। इसके साथ ही ट्विटर के जरिए सीएए का विरोध कर रहे लोगों को फ्री में कानूनी सेवाएं देने की घोषणा भी की थी।
भारतीय कानून संहिता (आईपीसी) की धारा 124-1 में देशद्रोह की दी हुई परिभाषा के मुताबिक अगर कोई भी व्यक्ति सरकार-विरोधी सामग्री लिखता या बोलता है या फिर इस तरह की सामग्री का समर्थन करता है। इतना ही नहीं राष्ट्रीय चिह्नों का अपमान करने के साथ संविधान को नीचा दिखाने की कोशिश करता है, तो वह देशद्रोह की श्रेणी में आता है। आरोपित को आजीवन कारावास या तीन साल की सजा हो सकती है। कानपुर पश्चिम एसपी अनिल कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ ट्विटर अकाउंट पर अभद्र टिप्पणी और भड़काऊ पोस्ट करने वाले वकील को जेल भेज दिया गया है। आरोपित के फॉलोवर्स और उससे जुड़े अन्य संदिग्धों की भी जांच की जा रही है। कुछ आपत्तिजनक मिला तो सभी के खिलाफ कार्रवाई होगी।


कानपुर में असम की युवती से गैंगरेप

कानपुर। नगर के ग्वालटोली में रविवार देर रात कमिश्नर आवास के पास चार रईसजादों ने आसाम की एक युवती से गैंगरेप किया। चीखते- चिल्लाते किसी भी तरह पीड़िता भागी तो आसपास के घरों के लोग बाहर आ गए। युवती के कपड़े फटे देख पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची ग्वालटोली पुलिस काफी देर तक इस मामले को छिपाने व दबाने में लगी रही।


मिली जानकारी के अनुसार छह बंगलिया के पास एक बंगला खाली पड़ा है, जहां सिर्फ गार्ड रहते हैं। रविवार देर रात दो कारों से चार युवक युवती को लेकर पहुंचे। बंगले में ले जाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। किसी तरह उनके चंगुल से छूटकर युवती शोर मचाते हुए बाहर की ओर भागी। लोगों ने उसकी मदद के लिए बातचीत करने का प्रयास किया तो वह हिंदी नहीं बोल पा रही थी। पूछताछ करने के बाद पीड़िता को महिला थाने भिजवाया गया।


गैंगरेप दबाने में जुटी रही ग्वालटोली पुलिस-
गैंगरेप की शिकार आसाम की युवती की हालत देखकर लोगों ने आनन-फानन में 112 डायल कर पुलिस को सूचना दी। कंट्रोल रूम पर जानकारी मिलते ही हड़कंप मच गया। मौके पर ग्वालटोली इंस्पेक्टर विजयशंकर पांडेय पहुंचे। आरोप है कि पुलिस ने मामले को पूरी तरह दबाने का प्रयास किया। किसी को घटना के बाबत जानकारी देना जरूरी नहीं समझा। यहां तक कि डीआईजी और एसपी पश्चिम को भी बताना जरूरी नहीं समझा। चारों आरोपित फरार हो गए, इसके बाद कार्रवाई की औपचारिकता पूरी करने के लिए आरोपितों की दोनों लग्जरी कारों को कब्जे में लेकर नंबर के आधार पर जांच शुरू कर दी।


वहीं इस मामले मे सीओ अजीत कुमार रजक ने बताया कि इंस्पेक्टर से घटना की जानकारी ले रहे हैं। वहीं एसपी पश्चिम के मुताबिक कमिश्नर आवास के पास स्थित बंगले से युवती मिली थी, उसके कपड़े फटे हुए थे। उससे पूछताछ के बाद आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्जकर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। महिला थाना प्रभारी वर्षा श्रीवास्तव ने बताया कि युवती काफी डरी हुई है। आसाम की होने की वजह से वह केवल असमिया भाषा ही बोल पा रही है। हालत सामान्य होने पर पूछताछ की जाएगी। देर रात जब मामले की जानकारी डीआईजी अनंतदेव को हुई तो उन्होंने एसपी पश्चिम और सीओ को मौके पर भेजने के साथ बंगले पर फोर्स तैनात करवा दी ताकि वहां साक्ष्यों से कोई छेड़छाड़ न हो सके। मौके से जो दो लग्जरी कारें मिली हैं। उनमें से एक शहर के बड़े क्लब के पदाधिकारी की है। गाड़ी में उसका विजिटंग कार्ड भी बरामद हुआ है।


जिला पंचायत चुनाव समर्थन की अपील

सिकन्दरपुर (बलिया)। गरीबों, मजलूमों व असहायों की आवाज बनकर हमेशा से ही सुर्ख़ियों मे बने रहने वालें युवा भाजपा नेता बाबू विमल राय आंदोलन ने सिकंदरपुर क्षेत्र के चेतन किशोर, सिसोटार, शेखपुर, लिलकर आदि गांवों में जनसंपर्क किया। इस जनसंपर्क के दौरान उन्होंने लोगों से आशीर्वाद प्राप्त किया तथा आगामी जिला पंचायत चुनाव के लिए लोगों से समर्थन की अपील की।


ज्ञात हो कि आगामी अक्टूबर-नवंबर में चुनाव प्रस्तावित हैं। जिसमें बाबु विमल राय प्रत्याशी हैं। इस जनसंपर्क के दौरान उनके साथ मुख्य रूप से श्रीनिवास चौहान, आनंद व्यास गोंड, अजीत राय मिंकु, सत्यम राय, चिंटू मिश्रा, शैलेश सिंह,पंकज मिश्रा, अनुप सिंह, विवेक राय, योगेश राय सहित सैकड़ों लोग सम्मिलित थे।


रिपोर्ट- विनोद कुमार गुप्ता


जबरन भू-अधिग्रहण के विरोध में बैठक

लखीमपुर खीरी। राजापुर व पिपरिया गाँव मे आवास विकास परिषद के द्वारा किए जा रहे जबरन भू अधिग्रहण के सम्बंध में पीड़ित किसानों के साथ भाकियू लोकतांत्रिक संगठन ने आवास बिकास परिषद के सचिव व भूमि अर्जन अधिकारी ए सी आवास विकास एक्स ईएन आवास विकास के साथ बैठक कर वार्ता की। जिसमे किसानों की तरफ से संगठन के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह चौहान ने मांगपत्र सौंपते हुए कहा कि लखीमपुर के किसानों की जमीन का अधिग्रहण किसी भी कीमत जबरन होने नही दिया जाएगा। परिषद के सचिव ने प्रतिनिधि मंडल सहित किसानों को आस्वस्त किया कि जल्द ही शासन में किसानों की मांग को रखते हुए समाधान करवाया जाएगा। जिससे संतुष्ट होते हुए प्रतिनिधि मंडल ने आज ही आवास विकास आयुक्त के साथ होने वाली बैठक को स्थगित कर दिया। प्रतिनिधि मंडल में संगठन के कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष श्यामू शुक्ला प्रदेश प्रवक्ता मनीष यादव मंडल अध्यक्ष अमर सिंह लोधी तरुण यादव गौरव सेठ अशोक मौर्य दुर्गादीन लोधी सहित लखीमपुर के एक दर्जन से अधिक किसान शामिल रहे।


हाई कोर्ट को रिपोर्ट सौंपेगी सरकार

प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट मे  सोमवार यानी आज  नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुई हिंसा के आरोपियों से वसूली का पोस्टर लगाने के मामले में राज्य सरकार को रिपोर्ट सौंपनी है। हाईकोर्ट ने 16 मार्च तक सभी आरोपियों के पोस्टर हटाने के निर्देश दिए थे। हालांकि, अभी तक पोस्टर नहीं हटाए गए हैं। 


जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि सरकार की तरफ से इसके लिए और वक्त मांगा जाएगा। हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल के सामने लखनऊ के डीएम की रिपोर्ट दाखिल करेंगे।वहीं चीफ जस्टिस गोविंद माथुर और जस्टिस रमेश सिन्हा की बेंच ने कहा कि यूपी सरकार हमें यह बता पाने में नाकाम रही कि चंद आरोपियों के पोस्टर ही क्यों लगाए गए।


फ्लोर टेस्ट के लिए भाजपा पहुंची एससी

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र को कोरोना वायरस के चलते 26 मार्च तक स्थगित कर दी गई है। इसके बाद फ्लोर टेस्ट कराने के लिए भाजपा की ओर से शिवराज सिंह चौहान ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की और 48 घंटे के अंदर फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की गई है। इसके पहले मध्य प्रदेश विधानसभा में राज्यपाल लालजी टंडन के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की शुरुआत की। राज्यपाल ने केवल एक मिनट भाषण दिया और इसके बाद सभी को सलाह दी कि शांतिपूर्ण तरीके से संविधान के नियमों का पालन करते हुए मध्य प्रदेश के गौरव की रक्षा करें। राज्यपाल के जाने के बाद सदन में फ्लोर टेस्ट करवाने को लेकर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। इसके पहले सीएम कमलनाथ ने राज्यपाल को पत्र लिखकर कहा था कि ऐसी स्थिति में फ्लोर टेस्ट करवाना अलोकतांत्रिक होगा। इस मामले में अब भाजपा विधायक राज्यपाल से मिलने राजभवन जाएंगे। मध्य प्रदेश के इस सियासी घमासान की हर जानकारी पढ़िए यहां…


मध्य प्रदेश में विधानसभा स्थगित होने पर मंत्री तरुण भनोत ने भाजपा से सवाल पूछा कि वे अपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात से सहमत है कि नहीं। उन्होंने ही राज्यों को कोरोना वायरस को लेकर एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं, इसको लेकर केंद्र सरकार ने गाइडलाइन भी जारी की है। ऐसे में सियासत करना उचित नहीं है। निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा ने कहा कि सरकार पूरी 5 साल चलेगी। भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा कि कांग्रेस के विधायक बंधक हैं, यह अरविंद भदौरिया के बयान से स्पष्ट हो गया है। उन्होंने कहा है कि मैं बेंगलुरु जा रहा हूं, उनसे मिलने के लिए।


भाजपा विधायक अरविंद भदौरिया ने बताया कि कांग्रेस सरकार लोकतंत्र की हत्या कर रही है, हम राज्यपाल लालजी टंडन को स्थिति से अवगत कराने के लिए राजभवन जा रहे हैं। इसके बाद हम सुप्रीम कोर्ट की शरण में जाएंगे।


संसदीय कार्यमंत्री गोविंद सिंह ने विधानसभा में कोरोना वायरस को लेकर विषय उठाया और कहा कि यह विश्वव्यापी संकट है, कई देश इससे प्रभावित हैं, मेरा प्रस्ताव है कि विधानसभा की कार्रवाई को स्थगित किया जाए। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ सरकार अल्पमत में है वहीं पूर्व मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह सरकार कोरोना की आड़ लेकर फ्लोर टेस्ट से बचना चाहती है सरकार अल्पमत में है। विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने आसंदी से व्यवस्था देते हुए कहा कि हम सभी कोरोना वायरस को लेकर चिंतित है केंद्र सरकार ने भी इसे महामारी कहा है। केंद्र सरकार की ओर से कई गाइडलाइन जारी की गई है, केरल, ओडिशा सहित कई विधानसभा स्थगित हो चुकी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सार्क देशों से इस महामारी को लेकर बात की है, विधायक जनता सहित मौजूदा परिस्थिति को देखते हुए विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च 2020 को 11:00 बजे तक के लिए स्थगित की जाती है।


मध्य प्रदेश से खाली हुई राज्यसभा सीटों के लिए 26 मार्च को चुनाव भी होना है। ऐसे में यह कहा जा रहा है कि बेंगलुरु में मौजूद कांग्रेस विधायकों पर व्हिप का पालन न करने पर कार्रवाई भी हो सकती है। विधानसभा स्थगित होने के बाद विपक्ष के विधायकों ने बाहर आकर हंगामा किया और स्पीकर से मिलने भी पहुंचे। उधर दिग्विजय सिंह राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने राजभवन पहुंचे।


फ्लोर टेस्ट के घमासान के बीच मध्य प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कोरोना वायरस का हवाला देते हुए सदन को 26 मार्च तक स्थगित कर दिया। इस पर भाजपा विधायकों ने जमकर हंगामा किया और कहा कि सरकार फ्लोर टेस्ट से डर रही है।


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


मार्च 17, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-218 (साल-01)
2. मंगलवार, मार्च 17, 2020
3. शक-1942,चैैत्र - कृष्ण पक्ष, तिथि-अष्टमी, संवत 2077


4. सूर्योदय प्रातः 06:30,सूर्यास्त 06:32
5. न्‍यूनतम तापमान 13+ डी.सै.,अधिकतम-21+ डी.सै., भारी बारिश की संभावना रहेगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित


जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...