रविवार, 17 अक्तूबर 2021

विधानसभा दक्षिणी-उत्तरी कमेटी की घोषणा की

विधानसभा दक्षिणी व उत्तरी कमेटी की घोषणा की
बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। समाजवादी पार्टी महानगर पिछड़ा प्रकोष्ठ ने विधान सभा दक्षिणी व उत्तरी कमेटी की घोषणा महानगर कार्यालय चौक मे महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन की अध्यक्षता व नगर महासचिव रवीन्द्र यादव रवि के संचालन मे हुई। पिछड़ा प्रकोष्ठ के नगर अध्यक्ष राकेश वर्मा के अनुमोदन के उपरान्त शहर दक्षिणी विधान सभा अध्यक्ष मो. इमरान द्वारा 31 सदस्यों तो शहर उत्तरी विधान सभा अध्यक्ष विशाल निषाद ने 27 सदस्यों को मनोनीत किया। शहर दक्षिणी पिछड़ा प्रकोष्ठ मे राकेश जायसवाल ,मो. काशिफ ,वसीमुर रहमान ,रमेश यादव ,अनिल पटेल ,राजा बाबू यादव ,मान सिंह ,रोहन पासी ,जावेद अहमद को उपाध्यक्ष तथा अर्जुन कुशवाहा को महासचिव व रोहित शर्मा को कोषाध्यक्ष मनोनीत किया गया। 
रोहित विश्वकर्मा को मीडिया प्रभारी की ज़िम्मेदारी दी गई। शिव प्रसाद निषाद ,मो०फैज़ अहमद ,मो०अशरफ ,मो०नदीम ,सद्दाम अन्सारी ,अंकित गुप्ता ,श्याम ,गोलू पाल ,अरुण साहू ,अवनीश सिंह ,नीरज स्वर्णकार अरविंद कुमार संदीप यादव को सचिव बनाया गया। अमित पटेल ,मो०अलताब ,महेश कुमार ,मोहित यादव ,बब्लू यादव ,मो०सहबान को कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया।शहर उत्तरी विधान सभा पिछड़ा प्रकोष्ठ मे विधान सभा अध्यक्ष विशाल निषाद ने राजा पटेल , रोहित कुश्वाहा ,नन्हे मंसूरी ,दीपक पाल ,सुधीर निषाद ,मनु कुश्वाहा को उपाध्यक्ष तथा विरेन्द्र गुप्ता को महासचिव तो सूरज निषाद को कोषाध्यक्ष बनाया गया। संजय जायसवाल ,क्रान्ति रावत ,अभिषेक प्रजापति ,सचिन चौरसिया ,रितिक गुप्ता ,शेख रशीद ,बिट्टू जायसवाल ,मो०तहसीम ,शफीक अहमद ,राजेश विश्वकर्मा ,मोसीर इशरत  को विधान सभा सचिव तथा सौरभ निषाद ,मोबीन ,आशुतोष गुप्ता ,मो०सलमान ,अनिल , मो०गुलज़ार ,विमल कुमार को कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया।सभी नवनियुक्त पदाधिकारीयों को फूल माला पहना कर मनोनयन पत्र सौंपते हुए 2022 मे अखिलेश यादव के नेत्रित्व मे उत्तर प्रदेश मे विकासवादी सरकार बनाने का आहृवान किया। कार्यक्रम मे सै०इफ्तेखार हुसैन ,रवीन्द्र यादव ,महेन्द्र निषाद ,विजय वैश्य ,पप्पू लाल निषाद ,बब्बन द्वबे ,नन्द लाल निषाद ,अभिमन्यु पटेल ,मो०गौस ,भोला पाल ,मो.अज़हर ,मो. मुजीब ,सै. मो. अस्करी ,संतोष निषाद ,हरीश चंद्र निषाद ,सै.मो.हामिद ,मो०सऊद ,मो०हसीब ,किशन अग्रहरी ,पिन्टू यादव ,जयभारत यादव ,मो. सुलतान ,श्यामू यादव दिलशाद मंसूरी ,अब्दुल्ला तेहामी ,काशान सिद्दीकी ,अहमद रज़ा ज़ैदी (औन ज़ैदी) आदि उपस्थित रहे।

कार्यकर्ताओं ने फूल माला भेंट कर किया स्वागत
बृजेश केसरवानी      
प्रयागराज। महिला ज़िलाध्यक्ष अनिता श्रीवास्तव, महिला सभा नगर अध्यक्ष मंजू यादव, ज़िलाध्यक्ष योगेश चन्द्र यादव, महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन सहित सैकड़ो महिलाओं व सपा कार्यकर्ताओं ने फूल माला व पुष्प गुच्छ भेंट कर किया स्वागत।
समाजवादी पार्टी महिला सभा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वन्दना यगदव ने केन्द्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। कहा, कि महिलाओं के साथ इस सरकार जितना अत्याचार हो रहा है। उतना आज तक किसी भी सरकार मे नही हुआ होगा। माँ बेटियाँ आज घर से बाहर निकलने मे डरती हैं। उत्तर प्रदेश बलात्कारी प्रदेश हो गया है। अखिलेश सरकार मे महिलाओं के लिए लाई गई योजनाओं को बन्द कर उनके हक़ और हुक़ूक़ को छीन लीया गया है। 2022 मे अखिलेश यादव की सरकार बनवाने के आहृवान के साथ महिलाओं से घर घर जा कर भाजपा सरकार की नाकामी और अखिलेश यादव सरकार मे हुए विकास कार्यो सहित महिलाओं के हक़ मे किए गए कार्यो को बताने की बात कही। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महिला सभा वन्दना यादव का ज़िला कार्यालय पर ज़िलाध्यक्ष योगेश यादव महिला सभा ज़िलाध्यक्ष अनिता श्रीवास्तव के द्वारा ज़ोरदार स्वागत किया गया। वही नगर कार्यालय पर महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन ,महासचिव रवीन्द्र यादव ,डॉ ऋचा सिंह ,महिला सभा महानगर अध्यक्ष मंजू यादव ,इन्दू यादव ,निर्मला यादव,प्रेमलता भूषण ,सत्यभामा मिश्रा ,सावित्री सिंह,रीता मौर्या,सुषमा यादव ,बीना यादव ,राधा यादव ,सविता कैथवास ,कमलेश केसरवानी ,मालती यादव ,बीना यादव ,उर्मिला यादव , पूजा द्ववेदी ,अनीता गुप्ता ,संगीता केशरी ,आशादेवी पाल ,दूर्गा यादव ,महेन्द्र निषाद ,मो०गौस ,सै.मो.अस्करी 
,जयभारत यादव ,निरेन्द्र सिंह यादव आदि उपस्थित रहें।

यूपी: मेरठ मंडल अध्यक्ष गादरे ने नुक्कड़ सभाएं की
सत्येंद्र पंवार                 
मेरठ। आओ हम भारतीय बने हिन्दुस्तानी नही हमे इंसान बनना ब्राह्मण मनुवादी नहीं, व्यवस्था परिवर्तन कर लोकतंत्र संविधान बचाना है।
बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे ने नुक्कड़ सभाएं करते हुए जन जाग्रति हेतु भारतीयो से आह्वान किया कि 14 नवम्बर को इटावा चलो समता समानता स्वतंत्रता बंधुता और न्याय पर आधारित राष्ट्र का निर्माण करना है 85% बहुजनो निकलो मकानों से जंग लडो बेईमानो से। आज लोकतंत्र की हत्या सरेआम की जा रही है। महंगाई आसमान छू रही है बेरोजगारी पैर पसार रही है। देश को बेच दिया जा रहा है। सरकारी तंत्र खत्म कर निजी करण किया जा रहा है तो लोकतंत्र किधर बचा। जो इंसान को इंसानियत के लिए काम कर रहे हैं। उनको जेलों में ठूसा जा रहा है। अन्याय अत्याचार की सीमाएं वर्तमान सरकार लांघे जा रही है। बहन बेटियों के साथ सामूहिक बलात्कार किए जा रहे हैं। आम जनता पर गाड़ियां चलाई जा रही है। किसानों को सड़कों पर रोना जा रहा है। मजदूरों को बेरोजगार क्या जा रहा है। षडयन्त्रकारी और मनुस्मृति लाने के लिए लगातार प्रयासरत है? आज कोरोना के नाम पर लोगों को सालों से कैद करके रखा अस्पतालों मे लोगो को इलाज नही शिक्षा से दूर किया जा रहा है और लोगों के कारोबार खत्म कर षड्यंत्र रचे जा रहे हैं। पहले नोटबंदी कर लोगों को बेरोज करने का षड्यंत्र रचा और धर्म के नाम पर कभी जातियों के नाम पर लोकतंत्र की हत्या करी जा रही है। आज संविधान खतरे में है, न हिंदू खतरे में है, सिख खतरे में है ना मुस्लिम खतरे में है। आज हमारा देश का लोकतंत्र खतरे में है? लोकतंत्र को बचाना है। 85% मूल निवासियों को एक प्लेटफार्म पर आना होगा गत 9 अक्टूबर को माता रमाबाई अंबेडकर मैदान लखनऊ में सफलतापूर्वक  उत्तर प्रदेश के 15से20 लाख इकट्ठे होकर जो ताकत दिखाई वह इटावा में और भारी संख्या में इकट्ठे होकर हमें लड़ाई लड़नी होगी और दुश्मन देशद्रोहियों को अपनी ताकत का एहसास कराना होगा। जिससे हम लोकतंत्र की रक्षा करने में कामयाब हो सकते हैं अन्यथा आज विधायिका कार्यपालिका न्यायपालिका और मीडिया चारों स्तंभ लोकतंत्र पर षड्यंत्र रचकर काबिज हुए बैठे हैं। 3% लोगों ने 80% कब्जा किया हुआ है। देश मे धार्मिक राजनीति चमकाने के लिए इंसानियत बची नहीं है। लगातार मनुवादी षड्यंत्रकारी प्रवृत्ति के लोग हिंदू-मुस्लिम के लडाई कराने पर लगे हुए हैं। चाहे वह मुस्लिम में या सिखों में ईसाइयों में लिंगायत में अन्य किसी में भी धर्म परिवर्तित हैं। कुछ षड्यंत्रकारी मुस्लिम समाज में भी मैं राजपूत हूं मैं ब्राह्मण हूं, मैं बनिया हूं, मैं ठाकुर हूं, मैं लगा कर के रखे हुए हैं। और इंसानियत को कुचलने पर लगे हुए हैं। मनुस्मृति वाले जो षड्यंत्र कारी देशद्रोही हैं उनसे हमें लड़ना होगा मूल निवासियों को यदि अपने हक अधिकार हिस्सेदारी चाहिए तो बहुजन मुक्ति पार्टी का प्रयास को सफल बनाने के लिए साथ और सहयोग तन मन धन से दें और आपका एक दिन बहुत कीमती होगा आने वाले वक्त में आप यदि आप बहुतजनों की हिस्सेदारी चाहते हैं तो आपको अपने हक अधिकार के लिए 85% की संख्या में मूल निवासी है तो साथ देना होगा अन्यथा देशद्रोही आतंकवादी षड्यंत्रकारी जो आपको अच्छा लगे वह कहला सकते हैं। हमें एक प्लेटफार्म पर आकर अपने हक अधिकार आने वाली नस्लों को दिलाने के लिए लड़ना होगा और वह लड़ाई आपके वक्त की कुर्बानी देना होगा। 1 दिन के लिए इटावा चलने की अभी से तैयारी कर दें। ₹10 रोज भी जोड़ेंगे तो हम कामयाब हो सकते हैं।

समाजवादी के पक्ष में मतदान करने की अपील की

कौशाम्बी। नगर पंचायत भरवारी के पूर्व चेयरमैन समाजवादी पार्टी के पूर्व महासचिव कैलाश चंद्र केसरवानी संभावित प्रत्याशी समाजवादी पार्टी सिराथू ने विधानसभा क्षेत्र के दर्जनों गांव का भ्रमण कर लोगों से मुलाकात की और समाजवादी पार्टी की नीतियों से अवगत कराते हुए आगामी विधानसभा चुनाव में समाजवादी के पक्ष में मतदान करने की अपील की।
सिराथू विधान सभा के अफ़ज़लपुरवारी,काजीपुर जेहिदपुर मकनपुर मेढाई कैथीपर,गेशैलमपुर आदि गांव में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता कैलाश केसरवानी का काफिला दर्जनों कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों के साथ विधानसभा क्षेत्र के गांव में पहुंचा। जैसे ही कैलाश केसरवानी का काफिला गांव में पहुंचता था। लोगों ने माल्यार्पण कर उनका जोरदार स्वागत किया और समाजवादी पार्टी जिंदाबाद का नारा लगाया। आम जनता से मुलाकात कर सपा नेताओं ने वर्तमान सरकार के व्यवस्था पर जमकर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार में किसान व्यापारियों नौजवानों का भला होने वाला नहीं है। उन्होंने कहा किसान मजदूर नौजवान व्यापारियों का भला समाजवादी सरकार में ही हो सकता है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार में अपराध हत्या बलात्कार लूट चरम पर है। व्यापारी किसान मजदूर नौजवान सभी परेशान हैं। क्षेत्र भ्रमण के दौरान दर्जनों समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पदाधिकारी मौजूद रहे और जगह जगह पर सपा नेताओं का जोरदार तरीके से कार्यकर्ताओं आमजनता ने स्वागत किया।
सुशील केसरवानी 

पंचायत चुनाव को लेकर पुलिस ने फ्लैग मार्च किया

अविनाश श्रीवास्तव       
पटना। बिहार में हो रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर पुलिस ने रविवार को फ्लैग मार्च किया। जानकारी देते हुए नासरीगंज थाना के इंस्पेक्टर दया नंद शर्मा ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर राजपुर प्रखंड के बलिगांव, तेतराड़, बिसेनी कला सहित अन्य गांवों में पुलिस बल द्वारा फ्लैग मार्च किया गया।
उन्होंने बताया कि प्रखंड के थानाध्यक्ष को दिशा-निर्देश दिया गया है कि उक्त प्रखंड के सभी बूथों पर आगामी 24 अक्टूबर को होने वाले पांचवें चरण के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न कराने को लेकर पुलिस बल को चुस्त दुरुस्त रखें। मौके पर इंस्पेक्टर दयानंद शर्मा, थानाध्यक्ष संजय कुमार यादव एवं अन्य पुलिस अधिकारियों सहित जिला पुलिस बल व स्थानीय पुलिस बल के जवान मौजूद थे।

ऋण पर ब्याज दर में 0.35 प्रतिशत की कटौती की

कविता गर्ग        

मुंबई। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ इंडिया (बीओआई) ने अपने आवास ऋण पर ब्याज दर में 0.35 प्रतिशत की कटौती की है। इसके अलावा बैंक ने वाहन ऋण पर ब्याज दर में 0.50 प्रतिशत की कमी की है। बैंक की ओर से जारी बयान के अनुसार, इस कटौती के बाद बीओआई की आवास ऋण दर 6.50 प्रतिशत से शुरू होगी। पहले यह 6.85 प्रतिशत थी।

वहीं, बैंक के वाहन ऋण पर ब्याज दर 7.35 से घटकर 6.85 प्रतिशत रह गई है। बैंक ने कहा कि यह विशेष दर 18 अक्टूबर, 2021 से 31 दिसंबर, 2021 तक लागू रहेगी। नए ऋण तथा ऋण के स्थानांतरण के लिए आवेदन करने वाले ग्राहकों के लिए नई ब्याज दर लागू होगी। इसके साथ ही बैंक ने 31 दिसंबर, 2021 तक आवास तथा वाहन ऋण पर प्रोसेसिंग शुल्क को समाप्त कर दिया है।

सभी स्कूलों में 18 को अवकाश रखने के निर्देश दियें

पंकज कपूर       

देहरादून। प्रदेश में भारी बारिश के अलर्ट को देखते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में सभी जिलाधिकारियों और आपदा प्रबंधन से जुङे विभागों और एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ प्रदेश की स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों से उनकी तैयारियों, बारिश की स्थिति आदि के बारे में विस्तार से जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी स्कूलों में 18 अक्टूबर को अवकाश रखने के निर्देश दिये। बहुत से जिलों में अवकाश कर भी दिया गया है। जिन जिलों में नहीं किया गया है। वे भी एहतियातन सोमवार को स्कूलों में अवकाश घोषित कर दें। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस समय बङी संख्या में पर्यटक और तीर्थयात्री प्रदेश में आए हुए हैं। जरूरी होने पर उन्हें सुरक्षित स्थानों पर ठहराते हुए उनके रहने और भोजनादि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसमें किसी तरह की लापरवाही न हो। पर्यटक और तीर्थयात्री यहाँ से अच्छा संदेश लेकर जाएं। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य, जिलों और तहसील स्तरों पर कंट्रोल रूम 24 घंटे संचालित हों। जिलों से इन दो दिन, हर घंटे रिपोर्ट भेजी जाए। कोई घटना होने पर उसकी सूचना तुरंत दी जाए। रेस्पोंस टाईम कम से कम होना चाहिए। 

'छोटे मियां' के 23 साल पूरे होने पर खुशी जतायीं

'छोटे मियां' के 23 साल पूरे होने पर खुशी जतायीं

कविता गर्ग        
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन ने अपनी फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' के 23 साल पूरे होने पर खुशी जतायी है।
वर्ष 1998 में प्रदर्शित कॉमेडी ड्रामा फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' में अमिताभ बच्चन और गोविंदा ने लीड रोल निभाया है। डेविड धवन के निर्देशन में बनी इस फिल्म में उनके साथ रवीना टंडन, राम्या, परेश रावल, अनुपम खेर और शरद सक्सेना ने भी अहम किरदार निभाएं हैं। रवीना टंडन ने फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' की रिलीज को 23 साल पूरे होने की खुशी में तस्वीरें शेयर की है।
रवीना ने फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' के कई पोस्टर अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम पर शेयर किए हैं, जिनमें वह फिल्म के को-स्टार अमिताभ बच्चन औऱ गोविंद के साथ नजर आ रही हैं। इन तस्वीरों को इंस्टाग्राम पर शेयर कर रवीना ने कैप्शन लिखा, "23 साल के बड़े मियां छोटे मियां का वक्त उड़ गया। अमिताभ बच्चन औऱ गोविंदा जैसे दिग्गजों के साथ कई मजेदार यादें रही। इन मजेदार तस्वीरों के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।"

हिंदी रीमेक में डबल रोल निभाते नजर आएंगे आदित्य

कविता गर्ग

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता आदित्य रॉय कपूर तमिल हिट फिल्म 'थाडम' के हिंदी रीमेक में डबल रोल निभाते नजर आयेंगे। आदित्य रॉय कपूर इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म शूटिंग में व्यस्त हैं। यह फिल्म तमिल हिट 'थाडम' की हिंदी रीमेक है। इस थ्रिलर जॉनर फिल्म में आदित्य रॉय कपूर पहली बार डबल रोल में नजर आएंगे। वहीं मृणाल ठाकुर एक पुलिस वाले का किरदार निभाएंगी। वर्धन केतकर इस फिल्म से निर्देशन में अपना डेब्यू करेंगे। फिल्म को भूषण कुमार की कंपनी टी-सीरीज और मुराद खेतानी का सिने 1 स्टूडियो बैनर प्रोडयूस कर रहा है।

टी-सीरीज ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से हाथ में क्लैपबोर्ड लिए बीच में खड़े आदित्य रॉय कपूर की एक फोटो शेयर करते हुए लिखा, "दशहरे के इस शुभ दिन पर, हम लाइफ टाइम के एडवेंचर को शुरू करने के लिए तैयार हैं। तमिल हिट थाडम के हिंदी रीमेक की शूटिंग आज से शुरू हो रही है।" मृ़णाल ठाकुर ने कहा, "जब मैंने फिल्म की कहानी सुनी, तो तुरंत पता चल गया कि मुझे इस फिल्म का हिस्सा बनने की जरूरत है। मेरा किरदार दिलचस्प है, और एक पुलिस वाले का रोल करना मेरी विशलिस्ट में हमेंशा से रहा है। यह मेरे सभी रोल से अलग होगा"


'उन्हें इश्क हो जाये' में नजर आयेंगे अभिनेता रावत 

कविता गर्ग       

मुंबई। अभिनेता रावत देव गोस्वामी सूफी अलबम 'उन्हें इश्क हो जाये' में नजर आयेंगे। रावत देव गोस्वामी को सलमान खान अभिनीत फिल्म बजरंगी भाई जान से पहचान मिली। रावत देव गोस्वामी ने अपनी मेहनत और जुनून के बदौलत अपनी पहचान बना ली है। उनकी राजस्थानी फिल्म डुगडुग टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में धूम मचा रही है। रावत देव गोस्वामी की हिंदी सूफी अलबम 'उन्हें इश्क हो जाए' इसी महीने रिलीज होगी। सूफी गानों से लबरेज इस अलबम के गानों की शूटिंग राजस्थान के जोधपुर, उदयपुर, जैसलमेर, ओसियां समेत विभिन्न खूबसूरत लोकेशन पर की गयी है, जहाँ गाने में राजस्थान की कलाकृति एवं प्राकृतिक दृश्य को दिखाया गया है। गाने में दर्शकों को राजस्थानी परिवेश में सूफी की नवीन झलक देखने को मिलेगी। मशहूर सूफी सिंगर भूतेश जीना के सुमधुर आवाज से सजे इस अलबम में रावत देव एवं मॉडल मुस्कान सिंह की जबरदस्त केमेस्ट्री देखने को मिलेगी। निर्देशक नरेंद्र सिंह चौहान, संगीत हरीश मेलन एवं मयंक पंवार है।


ऋतिक ने फिल्म विक्रम वेधा की शूटिंग शुरू की

कविता गर्ग        
मुंबई। बॉलीवुड के माचो हीरो ऋतिक रौशन ने अपनी आने वाली फिल्म विक्रम वेधा की शूटिंग शुरू कर दी है।
सुपरहिट तमिल फिल्म 'विक्रम वेधा' के हिंदी रीमेक में ऋतिक रौशन और सैफ अली खान की मुख्य भूमिका है। हिंदी रीमेक का निर्देशन भी तमिल 'विक्रम वेधा' के डायरेक्टर पुष्कर-गायत्री ही करेंगे। फिल्म में सैफ अली खान तमिल स्टार आर माधवन का किरदार निभाते दिखेंगे, जबकि ऋतिक रोशन विजय सेतुपति के किरदार को निभाते दिखेंगे।
ऋतिक ने 'विक्रम वेधा' के हिंदी रीमेक की शूटिंग शुरू कर दी है। उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से सनराइज की दो फोटो शेयर की हैं, जिसमें उन्होंने लिखा कि 'नई शुरुआत का पहला दिन' और 'गुड लक' के साथ लाल दिल वाले इमोजी बनाया। यह फिल्म 2017 में रिलीज हुई एक तमिल फिल्म की रीमेक है।" बताया जा रहा है कि इस फिल्म में एक गैंगस्टर की भूमिका निभाने के लिये ऋतिक ने अपने लुक्स, डिक्शन और बॉडी लैंग्वेज पर पूरी तरह से काम किया है।

गांजा तस्करी: 2 महिला समेत 4 तस्कर अरेस्ट

दो महिला समेत चार तस्करों को गिरफ्तार किया        

अविनाश श्रीवास्तव       

पटना। बिहार से 20 किलो गांजा लाकर ट्राईसिटी में सप्लाई करने आई दो महिला समेत चार तस्करों को क्राइम ब्रांच ने मनीमाजरा से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की पहचान बिहार के गांव वैशाली निवासी धर्म, बिहार के गांव मलाईतोला निवासी राजेश, बिहार के गांव इमायतपुर निवासी नैनावती देवी और बिहार के गाव समीर गंज निवासी यशोदा के रूप में हुई। तलाशी के दौरान चारों के बैग से पांच पांच किलो गांजा बरामद हुआ। क्राइम ब्रांच ने उक्त सभी के खिलाफ मनीमाजरा थाने में एन.डी.पी.एस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया। 

क्राइम ब्रांच के सब-इंस्पैक्टर सत्यवान सिंह दशहरा के दिन मनीमाजरा स्थित तनिष्क शोरूम के सामने टीम के साथ गश्त कर रहे थे। इस दौरान उन्हें हाऊसिंग बोर्ड लाइट प्वाइंट की तरफ से दो महिला समेत चार लोग बैग कंधे पर रखकर आते हुए दिखाई दिए। उन्हें शक हुआ कि इनके पास चोरी का सामान हो सकता है। एस.आई. ने उन्हें रुकने का इशारा किया तो चारों तेज कदम से वापस हाऊसिंग बोर्ड की तरफ जाने लगे। पुलिस टीम ने उनका पीछा कर उन्हें दबोच लिया। तलाशी के दौरान पुलिस को धर्म के बैग से पांच किलो गांजा, राजेश के थैले से पांच किलो गांजा, नैनावती देवी के कट्टे से पांच किलो गांजा और यशोदा के बैग से पांच किलो गांजा बरामद हुआ। क्राइम ब्रांच आरोपियों से पता कर रही है कि वे गांजा कहां सप्लाई करने जा रहे थे। 

सुरक्षित स्थान से फरार हुए कैदियों ने तांडव मचाया

कविता गर्ग      

औरंगाबाद। सदर प्रखंड के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के बभंडी स्थित सुरक्षित स्थान से शुक्रवार को फरार हुए बाल कैदियों ने जमकर तांडव मचाया और तोडफ़ोड़ की। बाल कैदियों ने सुरक्षित स्थान के गेट एवं खिड़की से लेकर कई फर्नीचर को तोड़ दिया है। फरार हुए बाल कैदियों की साजिश ड्यूटी पर तैनात पुलिस जवानों की रायफल छीनकर हत्या करने की थी। एक कैदी ने संत्री के रूप में ड्यूटी पर तैनात सिपाही विमलेश कुमार सिंह पर की नीयत से लोहे की राड से सिर पर हमला किया। हालांकि सिपाही ने खुद को बचाने का प्रयास किया, इससे लोहे की राड उसके हाथ पर लगा और वह घायल हो गया है। फरार हुए कैदियों में पांच ने सुरक्षित स्थान के गृह पिता सुनील कुमार पर लोहे की राड से जानलेवा हमला कर जख्मी कर दिया है। गृह माता अंतरा कुमारी के साथ कैदियों ने अभद्र व्यवहार किया है। सुरक्षित स्थान की सुरक्षा में तैनात 19 पुलिसकर्मियों पर जानलेवा हमला कर सभी को बंधक बनाकर मेन गेट के लोहे का गेट को तोड़कर फरार हो गए।


4 कट्टों में भरा हुआ डोडा पोस्त बरामद किया गया 

संदीप मिश्र     

बरेली। शहर के समीप से गुजर रहे नेशनल हाईवे पर पुर थाना पुलिस की ओर से शनिवार शाम को कार्रवाई करते हुए एक कार से 4 कट्टों में भरा हुआ डोडा पोस्त बरामद किया गया है। पुलिस ने कार में सवार तस्कर को भी गिरफ्तार किया है। तस्कर द्वारा यह डोडा पोस्त मध्य प्रदेश से जोधपुर में सप्लाई करने के लिए ले जाया जा रहा था। पुलिस ने तस्कर को गिरफ्तार किया है। पुलिस आगे की पड़ताल कर रही है।

पुर थाने के द्वितीय अधिकारी राजूराम ने बताया कि शनिवार को मुखबिर से ही चित्तौड़ के रास्ते जोधपुर डोडा पोस्त ले जाने की सूचना मिली थी। इस पर पुर थाने के पास पुल के नीचे नाकाबंदी की गई थी। नाकाबंदी में चित्तौड़गढ़ की तरफ से आ रही एक संदिग्ध कार को रोककर उसकी छानबीन की गई। कार में 4 कट्‌टों में भरा डोडा पोस्त बरामद हुआ। पुलिस ने कार में सवार जोधपुर के हिंगोली खुर्द निवासी महिपाल पुत्र रतना राम विश्नोई को गिरफ्तार किया। पुलिस कार को जब्त कर थाने लेकर आई। डोडा पोस्ट का वजन 62 किलो 100 ग्राम है। प्रारंभिक पूछताछ में तस्कर ने बताया कि यह डोडा पोस्त जोधपुर में सप्लाई करने वाला था।

अनियंत्रण: फिर पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाएं

अनियंत्रण: फिर पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाएं 
अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चा तेल महंगा होने से घरेलू बाजार में पेट्रोल-डीजल रोजना नए शिखर को छू रहा है। तेल की कीमतों पर महंगाई सातवें आसमान पर है। ईंधन के दामों में बढ़ोतरी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। तेल विपणन कंपनियों ने आज (रविवार) यानी 17 अक्टूबर को फिर पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाए हैं।
सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल दोनों ही ईंधन की कीमतों में वहीं, पेट्रोल 35 पैसे प्रति लीटर का इजाफा किया है। लगातार महंगा होने के साथ पेट्रोल और डीजल के रेट रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं। पेट्रोलियम विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOCL) के लेटेस्ट अपडेट के मुताबिक दिल्ली में इंडियन ऑयल के पंप पर पेट्रोल 105.84 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। जबकि डीजल 94.57 रुपये प्रति लीटर के भाव मिल रहा है। तेल की इस महंगाई से आम लोगों की जेब पर भार पड़ रहा है।
युगोस्लाविया ने खुद को गणतंत्र देश घोषित किया

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 अक्टूबर की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं।
1904 बैंक ऑफ इटली को आम लोगों के लिए खोला गया। 1907 पहला वाणिज्यिक वायरलेस टेलीग्राफ अटलांटिक महासागर के ऊपर भेजा जाता है।
1918 युगोस्लाविया ने खुद को गणतंत्र देश घोषित किया।
1931 अमेरिकी गैंगस्टर अल कैपोन को इनकम टैक्स चोरी के पांच मामलों में दोषी ठहराया गया था।
1941 द्वितीय विश्व युद्ध में पहली बार जर्मनी की पनडुब्बी ने एक अमेरिकी पोत पर हमला किया।
1944 एथेंस में प्रतिद्वंदी पक्षियों ने एक दूसरे से लड़ना शुरू कर किया।
1947 बर्मा और ब्रिटेन ने आज एक समझौते पर हस्ताक्षर किए, जो अगर बर्मा को ब्रिटेन के बाहर पूर्ण स्वतंत्रता देता है।
1956 इंग्लैंड में पहला बड़ा न्यूक्लियर पावर स्टेशन शुरू हुआ।
1956 महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने सेला मैदान परमाणु ऊर्जा स्टेशन का औपचारिक उद्घाटन किया।
1960 इक्वाडोर के क्विटो शहर के पास एक बस दुर्घटना में 34 लोगों की मौत।
1962 कनाडा के एडमोंटन शहर ने नगरपालिका चुनाव आयोजित।
1979 मदर टेरेसा को उनके काम और समर्थन के लिए नोबेल शांति पुरस्कार मिला।
1998 नाइजीरिया के जेसी शहर में एक पाइप लाइन विस्फोट से 1,082 मौत हो गयी।
2003 चीन ने अंतरिक्ष में एशिया के पहले और रूस के बाद तीसरे देश के रूप में अंतरिक्ष में मानव भेजने में सफलता प्राप्त की।
2006 रोम में दो मेट्रो ट्रेनों के टकराने से कम से कम दो लोगों की मौत और लगभग 120 अन्य घायल हो गये।
2013 लिथुआनिया, सऊदी अरब, चाड, चिली और नाइजीरिया को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने दो साल के कार्यकाल के लिए चुना।
2014 विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार सेनेगल को इबोला वायरस से मुक्त बताया गया।

भारत: एक दिन में 15 हजार से कम मामलें दर्ज हुए 

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति अब सुधर रही है। हफ्ते भर में दूसरी बार कोरोना मामले एक दिन में 15 हजार से कम दर्ज हुए हैं। रविवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से ताजा आंकड़ा जारी किया गया। मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 14,146 नए कोरोना केस आए और 144 कोरोना संक्रमितों की जान चली गई। 19,788 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं यानी कि 5786 एक्टिव केस कम हो गए।
कोरोना महामारी की शुरुआत से लेकर अबतक कुल तीन करोड़ 40 लाख 67 हजार लोग संक्रमित हुए हैं। इनमें से 4 लाख 52 हजार 124 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी बात ये है कि अबतक 3 करोड़ 34 लाख 19 हजार लोग ठीक भी हुए हैं। देश में कोरोना एक्टिव केस की संख्या दो लाख से कम हो गई। कुल 1 लाख 95 हजार 846 लोग अभी भी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, जिनका इलाज चल रहा है।
कोरोना के कुल मामले- तीन करोड़ 40 लाख 67 हजार 719। कुल डिस्चार्ज- तीन करोड़ 34 लाख 19 हजार 749। कुल एक्टिव केस- एक लाख 95 हजार 846
कुल मौत- चार लाख 52 हजार 124।
कुल टीकाकरण- 97 करोड़ 65 लाख 89 हजार डोज दी गई। 
केरल में सबसे ज्यादा 7,995 नए कोरोना मामले आए
केरल में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 7,995 नए मामले सामने आए जबकि पड़ोसी राज्य कर्नाटक में 264 और लोग संक्रमित पाए गए। केरल में नए मामले सामने आने के बाद कुल मामले बढ़कर 48,37,560 हो गए। पिछले एक दिन में कोविड-19 से 57 और मरीजों की मौत हो गई जिससे मृतकों की संख्या 26,791 पर पहुंच गई। 97 करोड़ वैक्सीन की डोज दी गई
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, 16 अक्टूबर तक देशभर में 97 करोड़ 65 लाख 89 हजार कोरोना वैक्सीन के डोज दिए जा चुके हैं। बीते दिन 41.20 लाख टीके लगाए गए। वहीं भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, अबतक करीब 59 करोड़ कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं। बीते दिन करीब 9 लाख कोरोना सैंपल टेस्ट किए गए, जिसका पॉजिटिविटी रेट 2 फीसदी से कम है।
देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.33 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 98.08 फीसदी है। एक्टिव केस 0.59 फीसदी हैं। कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत अब 10वें स्थान पर है। कुल संक्रमितों की संख्या के मामले में भारत दूसरे स्थान पर है। जबकि अमेरिका 
ब्राजील के बाद सबसे ज्यादा मौत भारत में हुई है।

कई इलाकों में बारिश होने का अनुमान जताया

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। उत्तर भारत के कई राज्यों में मौसम करवट ले रहा है। मौसम विभाग (IMD) ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, उत्‍तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और राजस्‍थान के कई इलाकों में आज (रविवार) बारिश होने का अनुमान जताया है। राष्ट्रीय राजधानी के कुछ इलाकों में आज सुबह ही हल्की से मध्यम बारिश हुई है। दिल्ली में बारिश को लेकर मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। जबकि अगले 2 दिन हल्की से मध्यम बारिश होने का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग ने दिल्ली, गुरुग्राम, गाजियाबाद, नोएडा, मोदीनगर, इंद्रापुरम, नजीबाबाद, शामली, मेरठ, मुजफ्फरनगर, किठौर, अमरोहा, बिजनौर, हापुड़, भिवानी, रोहतक, पानीपत और आसपास के क्षेत्रों में गरज के साथ हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश होने का अनुमान जताया है।
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बारिश से गर्मी से राहत मिलने के साथ ही तापमान में गिरावट आई है। मौसम विभाग (IMD) ने कहा कि दिल्ली, नोएडा, ग्रेटर नोएडा समेत एनसीआर के ज्यादातर इलाकों में बारिश का सिलसिला
जारी रह सकता है।

गरीबी, हिंसा के सबसे विकृत रूप का उल्लेख किया

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन दिवस के मौके पर उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने संसाधनों को साझा करने का आह्वान करते हुए कहा है कि समाज को गरीबी से मुक्त कराना हमारा लक्ष्य होना चाहिए। उन्होंने कहा कि समाज में उपलब्ध संसाधनों को समान रूप से साझा किया जाना चाहिए। जिससे गरीबी का उन्मूलन किया जा सके। उन्होंने कहा कि इससे समाज में समृद्धि लायी जा सकती है।
एम. वेंकैया नायडू ने अपने संदेश में महात्मा गांधी की उक्ति - "गरीबी, हिंसा का सबसे विकृत रूप है"- का भी उल्लेख किया। उप राष्ट्रपति ने कहा, "अंतर्राष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन दिवस पर, सभी के लिए जीविका के स्थायी स्रोत उपलब्ध कराने के लिए साझा प्रयास करें। विपन्नता से मुक्त एक आदर्श संपन्न समाज हमारा लक्ष्य है।
पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन का स्वास्थ्य ठीक नहीं

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का स्वास्थ्य कुछ दिनों से ठीक नहीं है। जिसके चलते उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती किया गया है।
डॉ. मनमोहन सिंह तबीयत के बारे में आज डॉक्टरों ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री को डेंगू हुआ है। डा.सिंह की प्लेटलेटस् में वृद्धि हो रही है। अब उनके तबीयत मेसुधार आया है और वे खतरे से बाहर है। 

लड़ाकू विमानों की डिलीवरी करने की गुहार

लड़ाकू विमानों की डिलीवरी करने की गुहार लगाई

बीजिंग। चीन से बढ़ते खतरे के बीच ताइवान ने अमेरिका से जल्द से जल्द एफ-16 लड़ाकू विमानों की डिलीवरी करने की गुहार लगाई है। अब ताइवा ने चीन के साथ दो-दो हाथ करने का मन बना लिया है। यही वजह है कि वह अपनी सुरक्षा के लिए पहले से ज्यादा तैयार दिख रहा है। चीनी लड़ाकू विमानों की घुसपैठ और ड्रैगन से बढ़ते खतरे के बीच रिपोर्टें सामने आई हैं कि ताइवान के अधिकारियों ने वाशिंगटन से ताइपे को अमेरिकी-निर्मित एफ-16 फाइटर जेट की डिलीवरी में तेजी लाने का आग्रह किया है।

ताइपे टाइम्स ने सीएनएन की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रशासन ने ताइवान के अधिकारियों के साथ ताइवान को अमेरिकी निर्मित एफ-16 की डिलीवरी में तेजी लाने की संभावना पर चर्चा की है। बता दें कि 2019 में ताइवान ने अमेरिका से F-16 फाइटर जेट खरीदने का सौदा किया था, जो करीब 10 साल में पूरा होगा।
रिपोर्ट में कहा गया है कि 22 फाइटर जेट्स की बिक्री को 2019 में मंजूरी दी गई थी, मगर चीनी उकसावे और खतरे के मद्देनजर ताइवान को वास्तविक डिलीवरी के समय में तेजी लाने की उम्मीद है, जिसमें आमतौर पर 10 साल तक का समय लग सकता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह डेवलपमेंट ऐसे वक्त में आया है, जब पेंटागन इंडो-पैसिफिक कमांड ने बढ़ती चिंता को देखा रहा है, क्योंकि चीन ने अपनी सेना का तेजी से आधुनिकीकरण किया है और ताइवान को ध्यान में रखते हुए अपने प्रशिक्षण में सुधार किया है।
ताइपे टाइम्स ने ताइवान के राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय के आंकड़ों का हवाला देते हुए बताया कि लगभग 150 चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के सैन्य विमानों ने 1-5 अक्टूबर से ताइवान के वायु रक्षा पहचान क्षेत्र में घुसपैठ की है। ये बीजिंग की ओर से पिछले कुछ दिनों में ताइवान की सबसे बड़ी घुसपैठ है। यह घुसपैठ तब हुई, जब बीजिंग ने ताइवान पर पूर्ण संप्रभुता का दावा किया। ताइवान और चीन के पुन: एकीकरण की जोरदार वकालत करते हुए चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने बीते दिनों कहा था कि 'ताइवान प्रश्न' का मुद्दा सुलझाया जाएगा और उसे फिर से चीन में मिलाया जाएगा।
हालांकि, चीनी राष्ट्रपति के बयान का मुंहतोड़ जवाब देते हुए ताइवान की राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने कहा था कि ताइवान बीजिंग के किसी भी दबाव के आगे नहीं झुकेगा और अपने लोकतांत्रिक जीवन की रक्षा करेगा। ताइवान के राष्ट्रीय दिवस के मौके पर राष्ट्रपति ने एक भाषण में कहा कि हम जितना अधिक हासिल करते हैं, चीन से उतना ही अधिक दबाव का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि कोई भी ताइवान को चीन के बनाए रास्‍ते पर चलने के लिए मजबूर नहीं कर सकता। उन्होंने ताइवान को "लोकतंत्र की रक्षा की पहली पंक्ति पर खड़ा" बताया। ताइवान की राष्ट्रपति का बयान ऐसे वक्त में आया है, जब चीन की ओर से लगातार हवाई घुसपैठ की हिमाकत हो रही है और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने ताइवान के एकीकरण की वकालत की है।
ताइवान और चीन 1949 में गृह युद्ध के बीच उस समय अलग हो गए थे जब माओ जेदोंग के नेतृत्व में देश के मुख्य हिस्से पर साम्यवादियों (कम्युनिस्ट) की सत्ता में आने के बाद सत्तारूढ़ नेशनलिस्ट पार्टी के लोग भागकर इस द्वीप पर चले गए थे। इसके बाद से ताइवान में स्वशासन है और चीन ने इसे वैधता प्रदान करने से इनकार कर दिया।
इस्कान मंदिर पर भीड़ ने कथित तौर पर हमला किया

ढाका। बांग्लादेश के मंदिरों में तोड़फोड़ और हिंदुओं पर हमले के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। पिछले दिनों दुर्गा पंडाल में हुए हमले के बाद अब शुक्रवार को बांग्लादेश के नोआखली जिले में एक इस्कान मंदिर पर भीड़ ने कथित तौर पर हमला कर दिया। इसमें एक इस्कान मंदिर के सदस्य (श्रद्धालु) की मौत हो गई। इस पूरे हिंसक मामले पर भारत के इस्कान समुदाय के लोगों में रोष का माहौल है। कोलकाता के इस्कान मंदिर के उपाध्यक्ष राधारमण दाश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस घटनाक्रम से अवगत कराया है। उन्होंने कहा कि हमने प्रधानमंत्री के आवास पर फोन किया और उनके सचिव से पीएम को सूचित करने का अनुरोध किया कि उन्हें हिंसा के इस चक्र को समाप्त करने के लिए बांग्लादेश के पीएम से बात करनी चाहिए। कल लगभग 500 लोगों की भीड़ ने हमारे मंदिर परिसर में प्रवेश किया और देवताओं को तोड़ा, भक्तों को बेरहमी से घायल किया। उनमें से एक की मृत्यु हो गई है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमने संयुक्त राष्ट्र को भी एक पत्र लिखा है और उनसे इसकी निंदा करने और बांग्लादेश में एक प्रतिनिधिमंडल भेजने की अपील की है। यह एक बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है।
बांग्लादेश के नोआखली इस्कान समुदाय ने घटना की जानकारी अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से दी है। ट्वीट में कहा, यह बहुत दुख के साथ है कि इस्कान सदस्य पार्थ दास की कल 200 से अधिक लोगों की भीड़ ने बेरहमी से हत्या कर दी। उनका शव मंदिर के बगल में एक तालाब में मिला। हम बांग्लादेश सरकार से आह्वान करते हैं कि इस संबंध में तत्काल कार्रवाई की जाए।
इस्कान ने एक और ट्वीट में कहा, ‘इस्कॉन मंदिर और भक्तों पर आज नोआखली, बांग्लादेश में भीड़ द्वारा हिंसक हमला किया गया। मंदिर को काफी नुकसान हुआ और एक भक्त की हालत गंभीर बनी हुई है। हम बांग्लादेश सरकार से सभी की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आह्वान करते हैं। हिंदुओं और अपराधियों को न्याय के कटघरे में लाया जाए।
 साढ़े तीन घंटे के बाद पृथ्वी पर पहुंचा अंतरिक्ष केंद्र

वाशिंगटन डीसी। एक अंतरिक्ष यात्री और रूस के दो फिल्म निर्माता अंतरिक्ष केंद्र से पृथ्वी पर सकुशल वापस लौट गए। सोयुज अंतरिक्ष यान अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र से रवाना होने के साढ़े तीन घंटे के बाद पृथ्वी पर पहुंचा। अंतरिक्ष यान पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करने के बाद रविवार को अंतरराष्ट्रीय समयानुसार चार बजकर 35 मिनट पर पैराशूट की मदद से कजाखस्तान में उतरा। अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र से रॉकेट रविवार को अंतरराष्ट्रीय समयानुसार एक बजकर 15 मिनट पर रवाना हुआ। इस रॉकेट में ओलेग नोवित्स्की, यूलिया पेरेसिल्ड और क्लिम शिपेंको सवार थे।
अभिनेत्री पेरेसिल्ड और फिल्म निर्देश शिपेंको  चैलेंज नाम की फिल्म के कुछ हिस्सों की शूटिंग के लिए पांच अक्तूबर को अंतरिक्ष केंद्र पहुंचे थे और 12 दिन तक वहां ठहरे। इस फिल्म में सर्जन का किरदार निभा रही पेरेसिल्ड को एक क्रू सदस्य को बचाने के लिए अंतरिक्ष केंद्र जाना पड़ता है,  जिसे अंतरिक्ष की कक्षा में ही तत्काल ऑपरेशन की आवश्यकता होती है। अंतरिक्ष केंद्र में छह महीने से अधिक का समय बिताने वाले नोवित्स्की ने फिल्म में बीमार अंतरिक्ष यात्री का किरदार निभाया है।





आम आदमी के खिलाफ 'संपादकीय'

आम आदमी के खिलाफ   'संपादकीय'
ना रोज़गार-रोटी, ना छत-मकान है,
चर्चे में सियासत के कब्रिस्तान है।
कुछ भीड़ इनके पीछे, कुछ भीड़ उनके आगे,
सचमुच यहाँ की हालत‌ भेड़िया धसान है।
भारत वर्ष के उत्कर्ष का स्वर्णिम वर्ष हर्ष के आगोश में मुस्कराते हुये नव वर्ष की तरफ शनैः शनैः अग्रेषित हो रहा है। चुनावी समीकरण को मन माफिक बनाने के लिये सियासी जमात के सहचर तमाम तरह के अलंकरण से जनमानस के बीच अपनी पहचान रखने वालो को बिभूषित कर रहे हैं। गरीबों के रहनुमाओं की पैदावार बढ गयी, उनके दर्द में फर्ज निभाने वालों की बाढ़ आ गयी है। इसी सीयासी तमाशे से लोगों की चीढ़ बढ़ गयी है। समय की मार देखिये, पढ़ें-लिखों को हर नुक्कड‌ हर चौराहे पर काम की तलाश में खड़ा बेकार देखिये।काम-धन्धे के अभाव में भूखमरी का दंश झेलता हुए गरीब के दिल मे बढता घाव देखिये। हर रोज बदलाव की हवा तेज होती जा रही है। महंगाई कि मार से हर आदमी मानसिक रुप से बीमार हो गया। हर तरफ‌ लूट मची है, हर तरफ अपना दबदबा कायम करता जा रहा‌ है भ्रष्टाचार। चारों तरफ हाहाकार है। फिर भी चुप सरकार है. ऐतिहासिक उत्कर्ष है साहब ! सब कुछ बिक रहा‌ है! रेल, तेल ,भेल ,खेल, जेल,आयुध कारखाना लाल किले का  तहखाना, हवाई अड्डा, ‌गांव गिराव का सरकारी गड्ढा... कल कारखाना, कोयला का खदान, सब कुछ खरीद रहा अडानी 'अम्बानी का खानदान। इसी की चपेट में आकर आन्दोलनरत है महीनों से किसान। वाह साहब देश नहीं बिकने दूंगा। शायद सुनने में गलती हो गयी। देश नहीं बचने दूंगा। गजब की सोच आखिर कैसा बन रहा‌ है हिन्दुस्तान? जहां गिरवी पड़ता जा रहा है स्वाभिमान। देश का ‌‌अन्नदाता आज सिसक रहा है। आने वाले कल में होने वाली त्रासदी को सोचकर‌ परेशान हैं। बंधक बनता जा रहा खेत और खलिहान है। भयंकर वारिस के चलते ,किसानों की खरीफ की फसलें नष्ट हो गईं हैं। किसान खून के आंसू रोने को मज़बूर है। उनकी चिंता बैंकों से लिए कर्ज की अदायगी कैसे करें? बच्चों की फीस,और दवा का इंतजाम कैसे करें? रोज मर्रा का घर का खर्चा कैसे चलेगा? बाढ़ के प्रभाव से शुद्ध पानी को मोहताज़ है। 
यदि पानी उबाल कर पियें तो गैस की मंहगाई चरम पर है। जहां बाढ़ का भयंकर प्रकोप है डायरिया फैलने लगा है। जल-जमाव से डेंगू मच्छरों का खतरा बढ़ा है। पशुओं के चारे का इंतजाम कहां से और कैसे करें? इस उधेड़बुन ने उनका जीना मुहाल कर रखा है। सरकार की ओर से अभी तक उनके दर्द पर मरहम लगाने की कोई घोषणा नहीं हुई। तबाही झेलता किसान संविधान के हासिये पर आजादी के समय ही कर दिया गया। उनके लिये न कोई आयोग से सहयोग मिला, केवल बर्बादी का रोग। सियासत के चुगलखोर चुनाव भर सुबह-शाम 'राम राम' बोलते हैं। चुनाव जीतते ही जय श्रीराम बोलकर भ्रष्टाचार के आगोश में मदहोश हो जाते हैं। चुनाव की दुन्दूभी बजने वाली है। हर कदम पर सियासी मदारी डेरा डाल रहे हैं। अपना करतब दिखाकर बहका कर अपनी झोली भरने की जुगत में है, सावधान रहें ! आप का एक वोट देश की तकदीर बदल सकता हैं।
बाजू पे अपने घर का पता बांध कर चलें,
महफूज़ मेरे शहर के रस्ते नहीं रहें।
जगदीश सिंह
भैय्यागिरी का दौर   'संपादकीय'
आधुनिक राजनीति में समसामयिक बदलावों के साथ प्रौद्योगिक क्रियाओं का बड़ा समावेश हुआ है। क्षेत्रवाद-जातिवाद के ध्रुवीकरण को केंद्रित करके राजनैतिक लाभ उठाने का दौर आज भी जारी है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रदेश की अधिकांश विधानसभाओं में आज भी भैय्यागिरी का दौर है। कई विधानसभाओं में संप्रदायिकता ही राजनीति का प्रथम घटक है। हिंसा और द्वेष की आधारशिला पर राजनीति की जाती है। नफरत के सैलाब में भाई बंदगी और प्यार-मोहब्बत का ढांचा धूं-धूं करके जल जाता है। एक ऐसी रेखा हमारे संबंधों के बीच में खींची जाती है, जिसे हम लक्ष्मणरेखा तो नहीं कह सकते लेकिन उसकी मजबूती चीन की दीवार से भी मजबूत होती है। हमारे विचारों को परिवर्तित करने का कार्य किया जाता है और हम सभी इस बंटवारे के मूकबधिर पात्र बन जाते है। 
सत्ता पाने के लालच में गणतंत्र की व्यवस्था और संवैधानिक मूल्यों का कोई वजूद नहीं रह जाता है। जिस प्रकार से जातिवाद की संरचना और विस्तार का दौर जारी है। यह सामाजिक ताने-बाने को प्रभावित करता है। परंतु किस स्तर तक प्रभावित करेगा, क्या इसका दुष्परिणाम होगा ? इसका अनुमान इस प्रक्रिया के संरक्षकों को भी नहीं है। राजनीतिक लाभ प्राप्त करने के प्रति किए गए कूटनीतिक प्रयासों की उपेक्षा नहीं की जा सकती है। किंतु कूटनीतिक प्रयासों की जड़ें कितनी गहरी है, उससे उत्पन्न होने वाले भावी परिणाम को समझना शुद्ध राजनीति है। हालांकि राजनीति की पृष्ठभूमि में बड़े परिवर्तन से नवीनीकरण की संभावनाएं बढ़ गई हैं। आधुनिकरण की पराकाष्ठा में प्रदेश की राजनीति का केंद्र विधानसभा चुनाव 2022 में भी जातिवाद और ध्रुवीकरण आधारित ही रहेगा। इसमें किसी प्रकार के किसी बदलाव की कोई गुंजाइश नहीं है। 
सत्तारूढ़ भाजपा की कूटनीति का विशेष और महत्वपूर्ण दांवपेच का कारोबार बल्कि दारमोदार यहीं से शुरू होगा। सामाजिक द्वेष की परिधि का दायरा बढ़ने से प्रदेश की कई विधानसभा में भाजपा के प्रति अप्रिय परिणाम तो फलीभूत होंगे ही साथ में अप्रत्याशित परिणाम भाजपा के पतन का प्रारंभ भी होगा। बढ़ते हुए द्वेष में आक्रोश का व्याप्त होना स्वभाविक है। योगी सरकार की असफलता और असंतुष्ट मतदाता उल्टे दिनों के प्रतिबिंब बन कर उभरेगें। इसके लिए ज़हन पर जोर देने की जरूरत नहीं है। उदाहरण के तौर पर लोनी विधानसभा में पहली बार भाजपा के विरुद्ध रिकॉर्ड तोड़ मतदान होगा। असंतुष्ट भाजपा कैडर और राजनेताओं में उत्पन्न मतभेद से जो व्यवधान उत्पन्न हुआ है। उसके परिणाम स्वरूप भाजपा को एक छत्र के नीचे लाना दुर्गम होता जा रहा है। स्वयं की विश्वसनीयता को स्थिर रख पाना राजनेताओं के लिए एक चुनौती बन गई है। वंही, जनता झूठी तसल्ली और खोखले वादों का असली सच समझ चुकी है। महामारी के दौर में लाचारी और महंगाई की मार ने आंखें खोल दी है। जिनको 1000-1200 रुपए प्रतिदिन दिहाड़ी-मजदूरी मिलती है। बस, वही लोग अपने संकल्प को नहीं तोड़ेंगे। जनता की बदहाली का आईना बिल्कुल साफ है।
राधेश्याम 'निर्भयपुत्र'

उत्तरी क्षेत्रों में लोकप्रिय खाद्य व्यंजन हैं 'छोले भटूरे'

छोले भटूरे भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तरी क्षेत्रों में लोकप्रिय एक खाद्य व्यंजन है। यह चना मसाला (मसालेदार सफेद छोले) और भटूरा/पूरी का एक संयोजन है। जो मैदा से बनी एक तली हुई रोटी है। हालांकि इसे एक विशिष्ट पंजाबी व्यंजन के रूप में जाना जाता है, लेकिन पकवान की उत्पत्ति के बारे में विभिन्न दावे हैं। छोले भटूरे को अक्सर नाश्ते के व्यंजन के रूप में खाया जाता है, कभी-कभी लस्सी के साथ। यह स्ट्रीट फ़ूड या संपूर्ण भोजन भी हो सकता है और इसके साथ प्याज, मसालेदार गाजर, हरी चटनी या आचार भी हो सकता है। मैदा और सूजी को किसी बर्तन में छान कर निकाल लीजिये, मैदा के बीच में जगह बनाइये, 2 टेबिल स्पून तेल, नमक, बेकिंग पाउडर, दही और चीनी इसमें डालकर, इसी जगह इन सब चीजों को अच्छी तरह मिला लीजिये। गुनगुने पानी की सहायता से नरम आटा गूथ लीजिये। गुथे हुये आटे को 2 घंटे के लिये बन्द अलमारी या किसी गरम जगह पर ढक कर रख दीजिये। कढ़ाई में तेल डाल कर गरम करें। गूथे हुये आटे से एक टेबिल स्पून आटे के बराबर आटा निकालिये। लोई बनाइये और पूरी की तरह बेलिये, लेकिन यह, पूरी से थोड़ा सा मोटा बेला जाता है। पूरी को गरम तेल में डालिये, कलछी से दबाकर फुलाइये, दोनों ओर पलट कर हल्का ब्राउन होने तक तलिये। 
काबुली चना एक कटोरी या 150 ग्राम, खाना वाला सोडा आधा चम्मच, टमाटर -3-4 मीडियम साइज, हरी मिर्च - 2-3, अदरक - 1 इन्च लम्बा टुकड़ा य़ा एक छोटी चम्मच अदरक का पेस्ट, रिफाइन्ड तेल - 2 टेबिल स्पून, जीरा - आधा छोटी चम्मच, धनियाँ पाउडर - एक छोटी चम्मच, लाल मिर्च पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच से कम, गरम मसाला।
चनों को रात भर पानी में भिगने रख दीजिये। पानी से निकाल कर चनों को धोकर, कुकर में डालिये, एक छोटा गिलास पानी, नमक और खाना सोडा मिला दीजिय। कुकर बन्द करें और गैस पर उबालने के लिये रख दीजिये। दूसरी तरफ टमाटर, हरी मिर्च, अदरक को मिक्सी से बारीक पीस लें। कढ़ाई में तेल डाल कर गरम करें। जीरा भुनने के बाद धनियाँ पाउडर डाल दीजिये। चमचे से चलायें, टमाटर, अदरक, हरी मिर्च का मिश्रण और लाल मिर्च पाउडर डाल कर मसाले को जब तक भूने तब तक कि मसाले के ऊपर तेल न तैरने लगे। भुने मसाले में एक गिलास पानी और स्वादानुसार नमक डाल दीजिये। उबले चनों को इस मसाले की तरी में मिला कर अच्छी तरह चमचे से चला लीजिये। यदि आपको छोले अधिक गाढ़े लग रहे हो, तो आप उनमें आवश्यकता अनुसार पानी मिला लीजियें, उबाल आने के बाद 2-3 मिनिट पकने दीजिये। गरम मसाला और आधा हरा धनियाँ मिला दीजिये। आपके छोले तैयार हैं। इन्हें भटूरे के साथ सर्व करें।
 
शुक्ल-पक्ष की पूर्णिमा को मनाई जाती है शरद पूर्णिमा

हिंदू पंचांग के अनुसार आश्विन माह के शुक्ल-पक्ष की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा मनाई जाती है। शरद पूर्णिमा को 'कौमुदी व्रत', 'रास पूर्णिमा' और 'कोजागरी पूर्णिमा' भी कहा जाता है। इस बार शरद पूर्णिमा 19 अक्टूबर (मंगलवार) को 7 बजे से शुरू होकर 20 अक्टूबर को 8 बजकर 21 मिनट पर समाप्त होगी। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार पूरे साल में सिर्फ इसी दिन चांद अपनी 16 कलाओं से युक्त है। माना जाता है कि शरद पूर्णिमा के दिन चाँद 16 कलाओं से परिपूर्ण होकर रातभर अमृत बरसता है। यही वजह है कि उत्तर भारत में शरद पूर्णिमा को रात में खीर बनाकर रातभर चाँदनी में रखने का रिवाज है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन श्रीकृष्ण ने निधिवन में गोपियों के साथ महारास रचाया था इसलिए इसे रास पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। शरद पूर्णिमा को लेकर कई मान्यताएँ प्रचलित है। पौराणिक कथाओं के अनुसार इस दिन धन की देवी माँ लक्ष्‍मी जी का जन्‍म हुआ था। ऐसा कहा जाता है कि शरद पूर्णिमा की रात लक्ष्‍मी माता घर-घर जाती हैं और जागने वाले भक्‍तों को धन-वैभव का वरदान देती हैं। शरद पूर्णिमा के दिन ही वाल्मिकि जयंती भी मनाई जाती है। शरद पूर्णिमा मनाने के पीछे एक धार्मिक मान्यता यह भी है कि शरद पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु के चार माह के शयनकाल का अंतिम चरण होता है। ऐसा माना जाता है कि शरद पूर्णिमा का व्रत करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। ऐसा कहा जाता है कि जो विवाहित स्त्रियां शरद पूर्णिमा का व्रत करती हैं उन्‍हें संतान-सुख की प्राप्‍ति होती है। वहीं, माताएँ अपनी संतान की दीर्घायु के लिए यह व्रत करती हैं। कुँवारी कन्याओं को शारद पूर्णिमा का व्रत करने से मनवांछित व्रत की प्राप्ति होती है। शरद पूर्णिमा के दिन सुबह उठकर स्‍नान करने के बाद व्रत का संकल्‍प लें। इसके बाद मंदिर की साफ-सफाई कर पूजा की तैयारी कर लें। पूजा की तैयारी के बाद घर में मौजूद मंदिर में दीया जलाएं। दीपक जलाकर ईष्‍ट देवता का पूजन करें। साथ ही भगवान इंद्र और माता लक्ष्‍मी की पूजा करें। अब धूप, दीप और बत्ती से भगवान की आरती उतारें। शाम के समय लक्ष्‍मी जी की पूजा करें और आरती भी उतारें। अब चंद्रमा को अर्घ्‍य देकर प्रसाद चढ़ाएं और आरती उतारें। इसके बाद व्रत तोड़ें। साथ ही प्रसाद की खीर को रात 12 बजे के बाद अपने दोस रिश्तेदारों में बांटें।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-362 (साल-04)
2. सोमवार, अक्टूबर 18, 2021
3. शक-1984,अश्विन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- त्रयोदशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:02, सूर्यास्त 05:40।
5. न्‍यूनतम तापमान -16 डी.सै., अधिकतम-30+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...