गुरुवार, 9 जुलाई 2020

संक्रमण ने प्रशासन के फुलाए हाथ-पांंव

भरवारी कोरोना पोसिटिव मिलते ही अधिशाषी अधिकारी हुए सख्त किया तत्काल पूरे मोहल्ले को सेनेटाइजर
वहीं प्रभारी निरीक्षक कोखराज व चौकी इंचार्ज ने माइक के माध्यम से सभी दुकानों को कराया बन्द


भरवारी। नगर पालिका परिषद अंतरगत मेहता रोड के लखन लाल कॉलोनी में एक युवक कोरोना पॉजिटिव आने से स्वास्थ्य विभाग कि टीम द्वारा जिलाअस्पताल ले जाने कर बाद अधिशाषी अधिकारी पूरे तरह से सख्त दिखे उनोहने अपने नगर पालिका कर्मचारियों की मदद से पूरेमोहल्ले में सेनेटाइजर करवाया वही प्रभारी निरीक्षक कोखराज बलराम सिंह व चौकी इंचार्ज भरवारी ने माइक के माध्यम से कस्बो की सभीदूकानों को अग्रिम आदेश तक बंद करने का फरमान जारी किया। यहा यह भी बताना आवश्यक है कि कुछ दिन पहले एक युवक मंझनपुर निवासी ने कोखराज इस्तिथ पंचम के ढ़ाबे में एक बर्थ डे पार्टी की दावत भरवारी निवासी अपने कई मित्रो को दावत दी थी।


जिसमे वहा पर सभी मित्रों ने दावत संग जश्न मनाया था उसी में एक मित्र को कोरोना की शिकायत थी वहां से लौटने के बाद से लोगो मे चर्चा शुरू हुई। जिसकी वजह से भरवारी कोरोना से कोशो दूर था। जांच के उपरांत लखन लाल कॉलोनी के एक युवक को कोरोना पॉजिटिव निकलते ही स्वास्थ विभाग की टीम जिला अस्पताल ले गई जिसके वजह से समूचा मोहल्ला में दहशत व सन्नाटा में तब्दील हो गया। इसकी जानकारी होते ही अधिशासी अधिकारी ग्रीश कुमार ने पूरे मोहल्ले को सेनेटाइजर करवा दिया तथा कोखराज पुलिस ने सभी दुकानों को बंद करते हुए सभी को अपने अपने घरों में रहने को कहा।


रिपोर्ट राजू सक्सेना 


कहां उड़ रही है विकास की चिड़िया

रायपुर। पूर्व सीएम और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह, भूपेश सरकार पर हमला बोलने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। रमन सिंह ने एक बार फिर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि छत्तीसगढ़ में पता नहीं डेढ़ साल से विकास की चिड़िया कहां उड़ रही है। जिन मुद्दों पर चश्मा और आइना दिखाया गया था, जिसमें सब कुछ दिखता था, वो कहां गया ?


दरअसल भूपेश बघेल ने विपक्ष में रहते हुए 2018 में गुमशुदा विकास की चिड़िया पर तंज कसते हुए आइना दिखाने की कोशिश की थी। एक के बाद एक कई वीडियो जारी कर चश्मा और आइना के जरिए प्रदेश में विकास के दावों को झूठा बताते हुए दिखाया था। उसी ट्वीट को अपने ट्विटर पर ट्वीट कर रमन ने भूपेश को “विकास की चिड़िया” याद दिलाई है। 


रमन सिंह ने ‘न’ शब्द का उपयोग कर हमला बोला है. उन्होंने ट्वीट पर कहा कि न सड़क, न अस्पताल, न स्कूल, न कॉलेज, न रोजगार, न शराबबन्दी, न समर्थन मूल्य, न रोजगार भत्ता, न भर्ती, न बकाया बोनस। इसके जरिए उन्होंने सीएम भूपेश को उनके द्वारा किए गए वादे की याद दिलाई है. जिन्हें अभी तक पूरा नहीं किया गया है।


बता दें कि भूपेश बघेल ने 2 साल पहले किए गए अपने ट्वीट में कहा था कि ‘छत्तीसगढ़ राज्य में पिछले 15 सालों से विकास की चिड़िया गायब है, अगर आप में से कोई भी इसके बारे में कोई जानकारी हो तो नीचे दिए गए पते पर अवश्य सूचित करें। मेरे एक अभिन्न मित्र को इसकी सख्त आवश्यकता है’। इसमें बघेल ने विकास की चिड़िया को गुमशुदा बताते हुए तलाश करने की बात कही थी।


सीएम का पुतला फूंकने पर मामला दर्ज

चंदन दुबे


अमेठी। प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ नारेबाजी करने,महंगाई, बेरोजगारी के खिलाफ धरना प्रदर्शन 69000 शिक्षक भर्ती की सीबीआई जांच की मांग कानपुर पुलिस हत्याकांड की आलोचना एवं प्रयागराज हत्याकांड जैसी घटनाओं 04-07-2019 को अमेठी के अंबेडकर तिराहे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला दहन करने के मामले में अमेठी पुलिस प्रशासन ने सपा नेता सूबेदार यादव ,अरविंद यादव, भोला यादव,वकील खान,बृजेश यादव,अशोक यादव ,नंदलाल,आजाद यादव,कुलदीप यादव,राहुल यादव,सूरज सहित 11 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं 147,188,269,506 में मुकदमा पंजीकृत किया।



इस बारे में सपा नेता सूबेदार यादव ने कहा कि सरकार मुकदमा पंजीकृत कर के समाजवादियों की आवाज को दबाने का कार्य कर रही है लेकिन सरकार हमारी आवाज को दबा नहीं पाएगी। इसके लिए हम सड़क से लेकर संसद तक आंदोलन करने को भी तैयार है।                  


दुबे मामले में सरकार असफलः प्रियंका

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का मोस्ट वांटेड गैंगस्टर और कानपुर में आठ पुलिस जवानों की हत्या के आरोपी विकास दुबे को गुरुवार की सुबह मध्य प्रदेश के उज्जैन की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसके साथ उसके दो साथी भी गिरफ्तार किए गए हैं। लेकिन विकास की गिरफ्तारी पर विपक्ष योगी सरकार पर हमलावर हो गया है। सामाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव के बाद अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी कई सवाल खड़े किए हैं।


प्रियंका ने ट्वीट कर कहा कि तीन महीने पुराने पत्र पर ‘नो एक्शन’ और कुख्यात अपराधियों की सूची में ‘विकास’ का नाम न होना बताता है कि इस मामले के तार दूर तक जुड़े हैं। यूपी सरकार को मामले की CBI जांच करा सभी तथ्यों और प्रोटेक्शन के ताल्लुकातों को जगज़ाहिर करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार को जिस मुस्तैदी से काम करना चाहिए था, वह पूरी तरह फेल साबित हुई। अलर्ट के बावजूद आरोपी का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है।


समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि खबर आ रही है कि ‘कानपुर-काण्ड’ का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है। अगर ये सच है तो सरकार साफ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ्तारी। साथ ही उसके मोबाइल की CDR सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके।


विकास दुबे को मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार किया है। विकास दुबे को उस वक्त गिरफ्तार किया गया जब वो उज्जैन में महाकाल का दर्शन कर बाहर निकला था। विकास दुबे की तलाश में पुलिस टीमें लगातार दबिश दे रही थीं। बताया जा रहा है कि महाकाल मंदिर परिसर में पहुंचने के बाद विकास ने चिल्ला-चिल्ला कर बाताया कि वो ‘विकास दुबे’ है। इसके बाद मंदिर परिसर में तैनात सुरक्षा गार्डों ने उसे पकड़ लिया और पुलिस को सूचना दी। मध्य प्रदेश पुलिस विकास दुबे को सीधा यूपी पुलिस को सौंपेगी। विकास को कोर्ट में पेश नहीं किया जाएगा। पहले उसे उज्जैन की कोर्ट में पेश किया जाना था। यूपी पुलिस विकास को लेने के लिए मध्य प्रदेश के लिए रवाना हो चुकी है।


अमेरिकाः 24 घंटे में 61000 संक्रमित

न्यूयॉर्क। अमेरिका में कोरोना संक्रमण ने पुराने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और ये अब पहले से भी तेजी से फ़ैल रहा है। बुधवार को अमेरिका में संक्रमण के करीब 61 हज़ार मामले सामने आहे जिसके बाद कुल मामलों की संख्या बढ़कर 30 लाख से भी ज्यादा हो गयी है। जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने के मुताबिक, बीते हफ्ते से अमेरिका के 35 राज्यों में नए मामले बढ़ रहे हैं। हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अब भी कह रहे हैं कि सब कंट्रोल में है और स्कूलों को जल्द से जल्द खोल देना चाहिए।


संक्रमण के बढ़ते मामलों के बावजूद व्हाइट हाउस देश के स्कूलों को दोबारा खोलने का दबाव डाल रहा है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा कि स्कूल नहीं खुलने पर उन्हें दी जाने वाली फंडिंग में कटौती की जाएगी। उन्होंने स्कूलों से जुड़े सेंटर फॉर डीसीस कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के गाइडलाइन्स पर भी सवाल उठाए। वहीं,उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि हम सुरक्षित तरीके से स्कूल दोबारा खोल सकते हैं। जॉन्स हॉप्किंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या तीस लाख के पार चली गई है। वहीं अभी तक एक लाख 31 हज़ार मौतें दर्ज की गई हैं।


टूट रहे सभी रिकॉर्ड लेकिन ट्रंप निश्चिंत


बुधवार के दिन कैलिफ़ोर्निया और टेक्सास में 24 घंटे के अन्दर दस-दस हज़ार से ज़्यादा मामले दर्ज किए गए हैं, जो कि एक रिकॉर्ड है। हालांकि मामले लगातार बढ़ने के बावजूद व्हाइट हाउस चाहता है कि स्कूलों समेत कुछ जगहों को खोला जाए। व्हाइट हाउस में कोरोना वायरस टास्क फोर्स का नेतृत्व कर रहे अमरीका के उप-राष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि नियम ‘बहुत ज़्यादा कड़े’ नहीं होने चाहिए। उन्होंने कहा कि मामले कम हो रहे हैं। वहीं कोरोना वायरस को लेकर व्हाइट हाउस के सलाहकार और संक्रामक रोग विशेषज्ञ एंथनी फॉसी ने कहा है कि कोरोना वायरस की सिर्फ पहली लहर में ही देश घुटनों पर आ गया है।


बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में पेंस ने महामारी से निपटने के ट्रंप प्रशासन के तरीक़े का बचाव किया और अपना मास्क नीचे करते हुए कहा, ‘हम शोक में डूबे लोगों के साथ हैं। देश भर में हमारे स्वास्थ्य कर्मियों ने असाधारण काम किया है। देश की औसत मृत्यु दर लगातार कम और स्थिर है। साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिका का सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन यानी सीडीसी स्कूल खोलने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी करेगा। इससे पहले ट्रंप ने एक्सपर्ट बॉडी की एक योजना की ये कहते हुए आलोचना की थी कि वो “बहुत कड़ी और महंगी है” साथ ही उन्होंने ये धमकी भी दी कि जो स्कूल पतझड़ के मौसम के बाद नहीं खुलेंगे, उनकी फंडिंग रोक दी जाएगी।


सीएम योगी ने अफसरों को दिए आदेश

 नरेश गुप्ता


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को दिए निर्देश।


मुख्यमंत्री ने टेस्टिंग क्षमता को बढ़ाकर 35 हजार टेस्ट प्रतिदिन किए जाने के निर्देश दिए।


लखनऊ। रैपिड एन्टीजन टेस्ट के माध्यम से भी भारी मात्रा में टेस्ट प्रतिदिन किए जाए। अधिक से अधिक सैम्पल लेने के लिए अतिरिक्त टीमें गठित करते हुए इनके सदस्यों को सैम्पल कलेक्शन का प्रशिक्षण दिया जाए। टेस्टिंग प्रयोगशालाओं के सभी जांच उपकरणों को क्रियाशील रखने के निर्देश। निजी चिकित्सालयों को ट्रूनैट मशीन की स्थापना एवं उसके उपयोग के लिए प्रोत्साहित किया जाए। कोविड हेल्प डेस्क की संख्या में बढ़ोत्तरी की जाए। अनलाॅक अवधि में लोग अनावश्यक घर से बाहर न निकलें।प्रदेश में तीन दिवसीय विशेष स्वच्छता अभियान संचालित करने के निर्देश। यह अभियान आगामी शुक्रवार, शनिवार तथा रविवार को चलाया जाएगा। विशेष स्वच्छता अभियान में सोशल डिस्टेंसिंग का खास ध्यान रखें।


अस्पतालों में 48 घण्टे का ऑक्सीजन बैकअप अवश्य उपलब्ध रहना चाहिए। पुलिस तथा पी0ए0सी0 कर्मियों को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए सभी जरूरी कदम उठाएं। विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के दौरान एन्टीलार्वा रसायन का छिड़काव किया जाए, फाॅगिंग की भी प्रभावी कार्यवाही की जाए। पानी की टंकियों की सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। विशेष प्राथमिकता प्रदान करते हुए गांवों में सामुदयिक शौचालय का निर्माण कराया जाए-सीएम योगी।            


सत्यमेव जयते 'संपादकीय'

मधुकर कहिन


व्यक्ति की झूठी कहानी सुनिए


इस देश का बच्चा-बच्चा जानता है कि 'सत्यमेव जयते' का मतलब क्या है ? 'सत्यमेव जयते' हमारे 'राष्ट्र-चिन्ह' के नीचे लिखे देवनागरी के दो शब्द है। जिसका अर्थ है सत्य ही जीतता है। 'सत्यमेव जयते' नाम से पत्रकारिता में एक नया प्रयोग करने जा रहा हूँ। जिसके तहत हम आप तक ऐसी चीजें पहुंचाएंगे जिनको देखते ही आपको सफेद झूठ और काले सच का सामना करने में तकलीफ नहीं होगी।


'सत्यमेव जयते' को यदि आप सत्य की जीत के उत्सव का अभियान समझ ले तो भी कोई अतिशयोक्ति नहीं है। सो आज 'सत्यमेव जयते' की पहली कड़ी में अपनी आंखों से देखिए अजमेर से जुड़े एक चेहरे का नंगा सच।


 'जय हिन्द'


 नरेश राघानी


भूखों को भोजन 'मोदी' योजना चौपट

मोदी सरकार की भूखों को भोजन कराने की योजना चौपट


दबंग कोटेदार के आतंक से त्रस्त है भूखे गरीब कार्ड धारक 


कौशाम्बी। कोरोनावायरस की महामारी में जहां सरकार एक तरफ हर भूखे गरीब को दो जून रोटी की व्यवस्था कराने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन के जरिए कोटेदारों को दे दिया है। वही भ्रष्टाचार में लिप्त अपनी आदत के अनुसार कोटेदार सरकारी गोदामों से गेहूं चावल उठाने के बाद उन्हें गरीबों भूखों के बीच वितरण करने में आनाकानी करते हैं। जिससे गरीबों के सामने पेट भरने की समस्या बनी रहती है।


कोटेदारों से राशन न मिलने पर भूखे गरीब आवाज उठाते हैं तो पुलिस बुलाकर उनके ऊपर पुलिसिया कार्रवाई करने से भी दबंग कोटेदार बाज नहीं आते हैं कोटेदारों का पूर्ति विभाग में इस कदर दबदबा है कि पूर्ति अधिकारी भी कोटेदारों के तमाम गुनाह को नजरअंदाज कर देते हैं। जिससे कोटेदार अपनी मनमानी करने से बाज नहीं आ रहे हैं ।


कोटेदारों के इस कारनामे के चलते केंद्र की मोदी सरकार की भूखों को भोजन कराने की योजना चौपट होती दिख रही है। ऐसा नहीं कि कोटेदार तानाशाही अपने बल बूते पर कर रहे हो पूर्ति विभाग के अधिकारी किसी लालच बस इन्हें गलत तरीके से संरक्षण दे रहे हैं जिससे कोटेदार से अधिक पूर्ति अधिकारी भी दोषी है ताजा मामला सिराथू विकासखंड के जलालपुर टेगाई गांव के कोटेदार से जुड़ा है ।


सिराथू बिकास खण्ड के जलालपुर टेगाई गांव के कोटेदार आरिफ पर राशन कम देने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया है। राशन ना मिल पाने से जनता में आक्रोश ब्याप्त है गांव की जनता का कहना है कि राशन ना मिलने पर जब बोला जाता है। तो पुलिस को बुलाकर कोटेदार मारपीट करवा देते है अभी पुलिस बुलाकर कार्ड धारक राधेश्याम साहू को मरवाया गया है। इस सम्बंध में रेनू दिवेदी सप्लाई इंसपेक्टर सिराथू से बात करने का प्रयास किया गया लेकिन बात नही हो सकी।


रामप्रसाद गुप्ता 


प्रदेश में लॉकडाउन लागू करने की मांग

कोरोना मरीज़ो की बढ़ती संख्या को देखते हुए एक बार फिर से लॉकडाउन लगाए प्रदेश सरकार


बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। कोरोना मरीज़ों की संख्या में दिन प्रतिदिन वृद्धि को देखते हुए समाजवादी पार्टी ने खौफ के साए मे जी रहे प्रदेशवासियों की परेशानी को देखते हुए एक बार फिर से लॉकडाउन लगाने की मांग प्रदेश सरकार से की। समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश सचिव मो०शारिक़ ने कहा जब लॉकडाउन लगाने की ज़रुरत नहीं थी तब लॉकडाउन लगाकर लोगों की कमर तोड़ दी गई और जब ज़रुरत है की लॉकडाउन होना चाहिये तो केन्द्र व प्रदेश सरकार खामोश रहकर लोगों को दहशत में रखने का काम कर रही है।
     अल्पसंख्यक सभा के निर्वतमान महानगर अध्यक्ष शाहिद प्रधान ने बढ़ते कोरोना संकट से लोगों को उबारने के लिए प्रदेश सरकार से यह मांग की के प्रदेश सरकार फिर से लॉकडाउन लगाने की घोषणा करे।
मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के निर्वतमान महानगर अध्यक्ष सैफ फरीदी ने आम जनमानस की आवाज़ को उठाते हुए कहा की लोग आए दिन शहर के इलाकों को सील्ड करने से ऐसे ही घरों से बाहर निकलने से बच रहे हैं और लोगों का यही कहना है की अब ज़रुरत है की लॉकडाउन लगाया जाए।  
     छात्र सभा के निर्वतमान कार्यवाहक महानगर अध्यक्ष आक़िब जावेद ने छात्रों का मुद्दा उठाते हुए कहा की छात्रों को कोरोना का डर समाया हुआ है।पठन पाठन ठप है।ज़यादातर छात्र अपने घरों को लौट चूके हैं कोरोना वॉयरस की स्थिती भयावह हो चूकी है ऐसे हम समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता प्रदेश सरकार से मांग करते हैं की लॉकडाउन फिर से लगाया जाए।
महानगर मीडिया प्रभारी सै०मो०अस्करी ने कहा की इस वक़्त देश के हालात बहुत बुरे हैं ।देश में कोरोना मरीज़ों की संख्या ७ लाख के पार हो चुकी है वहीं उत्तर प्रदेश के आंकड़े भी भयावह स्थिति की ओर इशारा कर रहे हैं।प्रयागराज शहर का ज़्यादातर इलाक़ा कोरोना मरीज़ों के बढ़ते प्रभाव से ग्रस्त होने के कारण सील्ड किया गया है।व्यापार पुरी तरहा से ठप पड़ा है।ऐसे में लॉकडाउन लगाना नितांत आवश्यक है।ऐसे में समाजवादी पार्टी चाहती है की प्रदेश सरकार दहशत में दिन रात गुज़ार रहे लोगों को राहत देते हुए एक बार लॉकडाउन फिर से लगाए।सिविल लाईन्स कैम्प कार्यालय पर बैठक में समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यक सभा,मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड, छात्र सभा के पदाधिकारीयों के साथ सिविल लाईन्स के तमाम व्यापारीयों ने भी मांग का समर्थन करते हुए एक बार फिर से लॉकडाउन लगाए जाने की समाजवादी पार्टी की मांग का पूर्ण समर्थन व्यक्त किया।सभी ने बैठक में भाग लेते हुए प्रदेश में लॉकडाउन लगाने की प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मांग की।बैठक में मो०शारिक़,शाहिद प्रधान,सैफ फरीदी,सै०मो०अस्करी,आक़िब जावेद खान,डा०सरताज आलम,नसीरउद्दीन राईन,मो०अज़हर,साहब खान,युसूफ बेग,अली हैदर,सूफी हसन,आमिर हैदर,निराले,सौरभ शर्मा,प्रिन्स कुमार गोलू,मनोज वर्मा,रामबाबू जायसवाल,शुभम गुप्ता,आशीष यादव,रमीज़ अहसन,शहनवाज़ अहमद,मो०हमज़ा,अब्दुल अहद,शुभम श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।


भाजपा नेता सहित पिता-भाई की हत्या

श्रीनगर। शेख वसीम बारी नामक एक भाजपा नेता सहित उत्तर कश्मीर के बांदीपुरा में आतंकवादियों ने उनके पिता और भाई को गोली मारकर हत्या कर दी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुरक्षा में भारी चूक के चलते आंतकवादि उनके पिता और भाई पर गोलियां चला पाने में कामयाब हुए , जिसके बाद जम्मू-कश्मीर प्राधिकारियों ने नेता की सुरक्षा में कथित लापरवाही के मामले में सात पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया है।पुलिस ने बताया कि आतंकियों ने साइलेंसर लगी रिवॉल्वर से गोली मारी। जिस जगह इस वारदात को अंजाम दिया गया वो जगह मुख्य थाने से महज 10 मीटर दूर है।हाल ही में हुई हत्याएं सुरक्षा को लेकर बड़ा सवाल खड़ा कर रही हैं। जब नेता ही सुरक्षित नहीं हैं तो फिर आम आदमी का क्या होगा।                     


हापुड़ में 1 दिन में 34 संक्रमित मिले

 अतुल त्यागी (मेरठ मंडल प्रभारी)
जनपद में आज फिर मिले 34 मरीज मचा हड़कंप


हापुड़। गुरुवार को मिले कोरोना मरीजों में शिवपुरी हापुड़ से 1,अच्छेजा से 1, अक्खापुर से 1, सुभाष नगर से 2, शिवगढ़ी से 1, सोटावली से 1, गढ़मुक्तेश्वर से 4, होली चौक बाबूगढ़ से 18, बाबूगढ़ से 1, हापुड़ वुर्ज मौ० से 1, पिलखुवा से 3, कुल 34 कोरोना संक्रमित मरीजों की रिपोर्ट स्वस्थ विभाग को प्राप्त हुई है।              


मृत युवक को बनाया आरोपीः पुलिस

अतुल त्यागी (मेरठ मंडल प्रभारी)
हापुड़ पुलिस का कारनामा, FIR में 12 साल पहले मर चुके युवक को बनाया आरोपी


पश्चिम यूपी के हापुड़ में पुलिस ने मारपीट के एक मुकदमे में एक ऐसे युवक को आरोपी बना दिया, जिसकी 12 साल पहले ही हत्या कर दी गई थी। हालांकि पुलिस ने इस मामले में अपना स्पष्टीकरण दे दिया है।


हापुड़। पश्चिम यूपी के हापुड़ जिले में पुलिस ने मारपीट के एक मुकदमे में 12 साल पहले मर चुके एक युवक को ही नामजद कर डाला। मारपीट की इस वारदात के 13 दिन बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और कई लोगों को इसमें आरोपी बनाया। इस एफआईआर में पुलिस ने एक ऐसे युवक को आरोपी बना डाला जिसकी 12 साल पहले गौतमबुद्ध नगर में हत्या हो चुकी थी।


जानकारी के अनुसार मोहल्ला काशी नाथनगर गाँधी विहार निवासी इल्यास ने जून 2020 को थाना देहात में मुकदमा दर्ज कराया था। इस एफआईआर में इलियास ने आरोप लगाया कि 7 जून की सुबह वह डीजल लेने के लिए पेट्रोल पंप पर जा रहा था। इस दौरान सोनू नाम के एक युवक ने उससे मारपीट की और इसमें उसका दांत टूट गया।
तहरीर पर दर्ज किया गया केस
पुलिस ने वादी की तहरीर पर सोनू के खिलाफ भारतीय दंड सहिंता की धारा 323, 325 और 504 के तहत सोनू नाम के युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। हालांकि जिस सोनू को नामजद बनाया गया, उसके 12 साल पहले ही मारे जाने की सूचना पुलिस को मिली। इस मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया।
एसपी ने दी मामले पर सफाई
इस मामले में पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन का कहना है की किसी भी मामले की तहरीर थाने में आती है तो उसकी एफआईआर दर्ज की जाती है। उसके बाद मामले की जांच की जाती है और जांच में यदि कोई व्यक्ति निर्दोष होता है तो उसका नाम निकाला जाता है। जो दोषी होता है उसका नाम प्रकाश में लाया जाता है वादी ने ऐसा क्यों किया इसकी जाँच की जाएगी? 


अनियंत्रित कार पोल से टकराई, 2 गंभीर

अतुल त्यागी (मेरठ मंडल प्रभारी)
तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर पोल से टकराई, दो की हालत गंभीर


हापुड़। बाबूगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 9 पर ग्राम उपेड़ा में एचपी पेट्रोल पंप के पास तेज रफ्तार स्विफ्ट कार अनियंत्रित होकर बिजली के पोल से जा टकराई,टक्कर इतनी जोरदार थी कि  कार के परखच्चे उड़ गये और कार एक खोखे में जा घुसी। कार मैं 3 लोग सवार थे,  जिसमें दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। आसपास के लोगों ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल,दो लोगों की हालत बेहद गंभीर। सूचना पाकर स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंचकर जाँच में जुटी।        


रोजगार मेला से 225 अभ्यर्थी जोड़ें

भानु प्रताप उपाध्याय 


शामली। जिला सेवायोजन अधिकारी शामली द्वारा बताया गया कि दिनांक 6 जुलाई से 10 जुलाई तक आयोजित किये जा रहे। रोजगार मेला के चतुर्थ दिवस दिनांक 9 जुलाई को आयोजित हुये आनलाइन/टेलीफोन रोजगार मेला में आर्कटिक इण्डस्ट्रीस की  टीम  द्वारा अभ्यर्थियों के साक्षात्कार टेलीकॉलिंग माध्यम से एक्जीक्यूटिव एवं मैनेजर पद हेतु तथा युवा शक्ति फाउडेशन द्वारा सत्यम् ऑटो के लिये ट्रेनी(आई0टी0आई0 उर्त्तीण) के पदों हेतु साक्षात्कार लियें। लगभग 225 अभ्यर्थियों द्वारा टेलीकॉलिंग के माध्यम से प्रतिभाग किया गया। दिनांक 10-07-2020 को न्यू यूनिकेयर हेल्थ सल्यूशन द्वारा एकांउटटेंट, सेल्स एक्जीक्यूटिव, टेली कालर आदि के  लगभग 148 पदों टेलीफोनिक/आनलाइन रूप से कम्पनी द्वारा साक्षात्कार लिया जायेगा।जिसके लिये अभ्यर्थी सेवायोजन वेब पोर्टल sewayojan.nic.inपर जॉब शीकर अथवा बाहर से आये प्रवासी कामगार सेवा-मित्र के रूप में आनॅलाइन पंजीकरण कराकर (जिसके एक फोटो, शैक्षिक प्रमाण-पत्रों की अनुक्रमांक, दिनांक,आधार कार्ड, आदि की आवश्यकता होगी। पंजीकरण उपरान्त अभ्यर्थी चयनित स्थान 1-रा0आई0टी0आई0 लिसाढ, 2- रा0आई0टी0आई0 कैराना, 3-जी0आई0आई0टी0 कम्प्यूटर सेंटर, निकट पी0एन0बी0 बैंक, ऊन, 4-एम्ली कम्प्यूटर इंस्टी0 कनिका काम्प्लेक्स, वर्मा मार्किट शामली तथा 5-बी0वी0एस0, कौशल विकास केन्द्र, थानाभवन निकट चरथावल बस स्टेण्ड थानाभवन पर सम्पर्क कर आनॅलाइन साक्षात्कार में प्रतिभाग कर सकते है।              


अवैध रोलिंगः आना-जाना हुआ दुश्वार

अवैध ठेलो के बाद अवैध रेलिंग से गोलमार्किट हुई जाम निकलना हुआ दुष्वार लोग परेशान
भानु प्रताप उपाध्याय
मुज़फ्फरनगर। गोलमार्किट से गुर्जने वाले लोग पहले अवैध ठेलों से परेशान थे और अब रास्ते मे लगी रेलिंग से परेशान है। जिला प्रसासन इस और ध्यान दे गोलमार्किट से आने ,जाने वाले रास्ते पर ही कुछ लोगो ने रेलिंग लगाकर रास्ते को अवरुद्ध कर दिया। जिससे वहां से आने, जाने वाले लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आखिर किसकी अनुमति से रास्ते मे रेलिंग लगाई गई या लगाने वालो को कानून का नही है डर बड़ा सवाल सूबे में योगी सरकार आने के बाद लोगो को उम्मीद थी कि कई भी अवैध कब्जा नही होगा पर मुज़फ्फरनगर की गोलमार्किट में तो सरकारी रास्ते पर ही रेलिंग लगाकर कब्जा कर दिया। इससे पहले यहाँ ठेलो को लेकर विवाद रहता था कि ठेलो से जाम रहता है एक बार ठेलों को हटाया भी गया था। पर फिर से ठेले लगने लगे कहा ये भी जा रहा है कि दोबारा ठेले लगने में पुलिस की मेहरबानी है। 
गोलमार्किट का रास्ता अवैध ठेलो ,अवैध  रेलिंग ओर रास्ते पर ही वाहन खड़े रहने की वजह से जाम रहता है। जिला प्रशासन इस ओर ध्यान दे जिससे लोगो को जाम से मुक्ति मिल सके।


महत्वपूर्ण 6 पुलों का ई- उद्घाटन किया

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में अंतर्राष्ट्रीय सीमा (IB) और नियंत्रण रेखा (LOC) के निकट स्थित संवेदनशील सीमावर्ती क्षेत्रों में सड़कों एवं पुलों की कनेक्टिविटी में एक नई क्रांति का सूत्रपात करते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज नई दिल्‍ली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से छह प्रमुख पुलों को राष्ट्र को समर्पित किया। सामरिक दृष्टि से अत्‍यंत महत्वपूर्ण इन पुलों का निर्माण कार्य सीमा सड़क संगठन (BRO) ने रिकॉर्ड समय में पूरा किया।


रक्षा मंत्री ने रिकॉर्ड समय में छह पुलों का निर्माण कार्य पूरा करने के लिए बीआरओ के सभी योद्धाओं को बधाई दी। रक्षा मंत्री ने इसके साथ ही सर्वाधिक दुर्गम इलाकों और अत्‍यंत खराब मौसम में भी मुस्‍तैदी के साथ काम करके राष्ट्र निर्माण में बहुमूल्‍य योगदान देने के लिए उनकी सराहना की। उन्होंने कहा कि सड़कें एवं पुल किसी भी राष्ट्र की जीवन रेखा हैं और इसके साथ ही ये दूर-दराज के क्षेत्रों के सामाजिक-आर्थिक विकास में अहम भूमिका निभाते हैं। रक्षा मंत्री ने जम्मू-कश्मीर में विकास से जुड़े कार्यों को प्राथमिकता देने संबंधी केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा कि हमारे प्रधानमंत्री  नरेन्‍द्र मोदी नियमित रूप से इन परियोजनाओं की प्रगति पर करीबी नजर रख रहे हैं। यही नहीं, इन परियोजनाओं का समय पर कार्यान्‍वयन सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त धनराशि उपलब्ध कराई जा रही है।


राजनाथ सिंह ने कहा, ‘लोगों को कनेक्‍ट करने वाले इन पुलों का उद्घाटन ऐसे समय में करना सचमुच एक सुखद अनुभव है जब पूरी दुनिया सामाजिक दूरी बनाए रखने, एक-दूसरे से अलग रहने पर विशेष जोर दे रही है (कोविड-19 के कारण)। मैं इस अहम कार्य को बड़े कौशल के साथ पूरा करने के लिए सीमा सड़क संगठन को बधाई देता हूं।’


बीआरओ की सराहना करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा, ‘बीआरओ द्वारा पूरी प्रतिबद्धता के साथ देश के सीमावर्ती क्षेत्रों में सड़कों और पुलों का निरंतर निर्माण करना दूरस्थ क्षेत्रों तक पहुंच सुनिश्चित करने संबंधी सरकार के विजन को साकार करने में मददगार साबित होगा। सड़कें किसी भी राष्ट्र की जीवन रेखा हैं।’ उन्‍होंने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में सड़कें न केवल सामरिक ताकत हैं, बल्कि ये दूरस्‍थ क्षेत्रों को मुख्यधारा से जोड़ने का भी कार्य करती हैं। दरअसल, चाहे सशस्त्र बलों की सामरिक आवश्यकता हो या स्वास्थ्य, शिक्षा, व्यापार से संबंधित अन्य विकास कार्य हों, ये सभी कनेक्टिविटी से ही संभव हो पाते हैं।


जम्मू-कश्मीर के लोगों के उल्लेखनीय सहयोग के लिए उनका धन्यवाद करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा, ‘मुझे पूरा भरोसा है कि आधुनिक सड़कों और पुलों के निर्माण से इस क्षेत्र में समृद्धि आएगी। हमारी सरकार देश की सीमाओं पर बुनियादी ढांचागत विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराए जाएंगे। जम्मू-कश्मीर के विकास में हमारी सरकार की गहरी रुचि है। जम्मू-कश्मीर की जनता और सशस्त्र बलों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए कई अन्य विकास कार्य भी जल्‍द ही शुरू किए जाने हैं, जिनकी घोषणा उचित समय पर की जाएगी। वर्तमान में जम्मू क्षेत्र में लगभग 1,000 किलोमीटर लंबी सड़कें निर्माणाधीन हैं।’


रक्षा मंत्री ने यह माना कि पिछले दो वर्षों में नवीनतम तकनीकों और अत्याधुनिक उपकरणों का उपयोग करके बीआरओ ने 2,200 किलोमीटर से अधिक की कटाई की है, लगभग 4,200 किलोमीटर लंबी सड़कों की विशिष्ट ऊपरी सतह बनाने का काम किया है तथा लगभग 5,800 मीटर लंबे स्थायी पुलों का निर्माण किया गया है। उन्होंने आश्वासन दिया कि सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण के लिए बीआरओ को पर्याप्त संसाधन उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के बावजूद सरकार बीआरओ के संसाधनों को कम नहीं होने देगी। इसके साथ ही मंत्रालय बीआरओ के इंजीनियरों और कर्मियों की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखेगा।


उपर्युक्‍त छह पुलों का उद्घाटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं राज्य मंत्री, प्रधानमंत्री कार्यालय; कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय; परमाणु ऊर्जा विभाग और अंतरिक्ष विभाग डॉ. जितेंद्र सिंह की उपस्थिति में किया गया। जम्मू के सांसद जुगल किशोर शर्मा वीडियो लिंक के माध्यम से साइट पर मौजूद थे। बता दें कि कठुआ जिले में तरनाह नाले पर दो पुल और अखनूर/जम्मू जिले में अखनूर-पल्लनवाला रोड पर स्थित चार पुल 30 से 300 मीटर तक फैले हुए हैं और ये कुल 43 करोड़ रुपये की लागत से बनाए गए। बीआरओ के ‘प्रोजेक्ट संपर्क’ द्वारा निर्मित इन पुलों से सशस्त्र बलों को सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण इस क्षेत्र में आवाजाही करने में काफी सुविधा होगी। यही नहीं, ये पुल दूरस्‍थ सीमावर्ती क्षेत्रों के समग्र आर्थिक विकास में भी अहम योगदान देंगे। यह स्पष्ट है कि पिछले कुछ वर्षों में बीआरओ द्वारा कार्यान्वित कार्यों में काफी तेजी आई है। यह इस तथ्य से स्पष्ट होता है कि वित्त वर्ष 2018-19 की तुलना में वित्त वर्ष 2019-20 में बीआरओ ने लगभग 30 प्रतिशत अधिक कार्यों का सफलतापूर्वक पूरा किया है। यह सरकार की ओर से पर्याप्त बजटीय सहायता देने और ढांचागत सुधारों के स‍कारात्‍मक प्रभावों के साथ-साथ बीआरओ द्वारा पूरे फोकस के साथ/समर्पित प्रयास करने से ही संभव हो पाया है।


बीआरओ का वार्षिक बजट वित्त वर्ष 2008-2016 के दौरान काफी भिन्‍न 3,300 करोड़ रुपये से लेकर 4,600 करोड़ रुपये तक रहा, लेकिन वित्त वर्ष 2019-2020 में यह तेज उछाल के साथ 8,050 करोड़ रुपये के उच्‍च स्‍तर पर पहुंच गया। सीमावर्ती क्षेत्रों में बुनियादी ढांचागत सुविधाओं में बेहतरी पर सरकार के फोकस के मद्देनजर वित्त वर्ष 2020-2021 में इसका बजट 11,800 करोड़ रुपये होने की संभावना है। इससे मौजूदा परियोजनाओं को काफी बढ़ावा मिलेगा और इसके साथ ही हमारी उत्तरी सीमाओं के आसपास सामरिक दृष्टि से महवपूर्ण सड़कों, पुलों और सुरंगों के निर्माण में तेजी आएगी।


इस अवसर पर बीआरओ के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल हरपाल सिंह ने राष्ट्र निर्माण में बीआरओ के योगदान को रेखांकित किया और निरंतर मार्गदर्शन एवं सहयोग के लिए रक्षा मंत्री का धन्यवाद किया तथा इसके साथ ही उन्‍होंने भरोसा व्यक्त किया कि बीआरओ सरकार द्वारा निर्धारित हमारे समग्र राष्ट्रीय सामरिक उद्देश्यों के अनुरूप तय किए गए लक्ष्यों को प्राप्‍त करने के लिए अपने प्रयास निरंतर जारी रखेगा। इस अवसर पर दिल्ली में थल सेनाध्यक्ष जनरल एम एम नरवाने, रक्षा सचिव डॉ. अजय कुमार एवं बीआरओ के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल हरपाल सिंह और साइट पर सेना एवं नागरिक प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद उपस्थित थे।           


नशामुक्ति के लिए कार्यशाला आयोजित

पलवल को नशामुक्त कराने के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया : डा. ब्रह्मदीप


रतन सिंह चौहान
होडल पलवल। बुधवार को जिला मानसिक स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस विभाग से साथ मिलकर एक कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पुलिस अधीक्षक दीपक गहलौत व सिविल सर्जन एवं वरिष्ठ मनोचिकित्सक डॉ ब्रह्मदीप सिंह ने की। कार्यक्रम का संचालन जिला मानसिक स्वास्थ्य विभाग मधु डागर मनोवैज्ञानिक द्वारा किया गया। कार्यशाला के मुख्य प्रवक्ता सिविल सर्जन व वरिष्ठ मनोचिकित्सक डॉ ब्रह्मदीप ङ्क्षसह रहे। कार्यशाला में सभी थाना प्रमुख उपस्थित रहे।
पुलिस अधीक्षक दीपक गहलौत ने पुलिस विभाग के लोगों को बताया कि नशे की तस्करी करने वाले मुजरिमों से जुड़ी चेन को ट्रैक करके मुख्य आरोपी का पता लगाकर सख्त से सख्त कार्यवाही करके ही समाज को नशा मुक्त किया जा सकता है। उन्होंने कार्यशाला के माध्यम से सभी से अपील की है कि वह पुलिस कार्यवाही में सहयोग करें।
कार्यशाला में डा. ब्रह्मदीप ने नशे के प्रकार, दुष्परिणाम, उनसे बचने के उपाय व पुलिस प्रशासन की भूमिका के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि युवा पीढी किस प्रकार नशे रूपी गाडी में एक बार सवार होकर अपने जीवन का अंत कर लेती है। उन्होंने बताया कि आज के युग में खासकर युवा पीढी में एक स्टेट्स सिम्बल के रूप में उभर रहा है, जिसके लिए युवा पीढी को और हमे जागरूक होने तथा करने की सख्त आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि नशा मनुष्य को किस प्रकार सामाजिक, शारीरिक व मनोवैज्ञानी रूप से नुकसान पहुंचाता है। सामाजिक रूप से बहिष्कार व्यक्ति को समाज के द्वारा ही नशे से दूर ले जाया जा सकता है। डा. ब्रह्मदीप ने कहा कि इस बार अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस की थीम बेटर नोलेज फॉर बेटर केयर है। इस थीम का विश्लेषण करते हुए उन्होंने कहा कि जब तक हमे नशे से संबंधित दुष्परिणामो के बारे में पूरी जानकारी नहीं होंगी तब तक हम इस बीमारी को समाज से नहीं निकाल सकते। उन्होंने कहा कि पुलिस 24 घंटे नागरिकों के बीच में रहती है। अगर वह लोगों को जागरूक करे तो लोगों को बड़ी संख्या में नशा मुक्ति की ओर ले जाया जा सकता है। समाज तभी स्वस्थ बन सकता है जब हम सब मिलकर काम करेंगे। उन्होंने पुलिस प्रशासन को कोरोना काल में कंधे से कंधा मिलाकर साथ चलने के लिए सराहा।
कार्यशाला में जिला मानसिक स्वास्थ्य विभाग के डिप्टी सिविल सर्जन डा. दिनेश मलिक ने नशे से जुड़ी काल्पित कथाओं का खंडन करते हुए नशे से जुड़ी सटीक जानकारी से उपस्थिति को अवगत कराया। यह एक इन्ट्रेक्टिव कार्यशाला थी, जिसमे पुलिस प्रशासन ने बढ़-चढक़र भाग लिया और अपने-अपने सवाल रखें, जिनका डा. ब्रह्मदीप सिंह ने बड़े ही सहज व संतोष जनक तरीके से उत्तर दिया। कार्यशाला का समापन सिविल सर्जन व वरिष्ठ मनोचिकित्सक डॉ ब्रह्मदीप द्वारा उपस्थित सभी पुलिस जवानों व उपस्थित व्यक्तियों को नशे से दूर रहने के लिए शपथ दिलाकर किया।               


कोरोना से पुलिस के एएसआई की मौत

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस के एक 53 वर्षीय असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर की गुरुवार सुबह दिल्ली के एक अस्पताल में मौत हो गई। एक सप्ताह पहले ही उनके कोरोना वायरस (COVID-19) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। ASI जीवन सिंह दिल्ली पुलिस की स्पेशल ब्रांच के मोटर ट्रांसपोर्ट सेक्शन में में तैनात थे।


पुलिस के अनुसार, जीवन सिंह बीते माह 21 जून को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे और 23 जून को उन्हें लाजपत नगर स्थित आईबीएस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां से 27 जून को उन्हें गंगाराम अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया था, जहां उन्हें प्लाज्मा थेरेपी दी गई, लेकिन वह ठीक नहीं हो सके।


डीसीपी (स्पेशल ब्रांच) सुमन नलवा ने बताया कि गुरुवार सुबह लगभग 4.30 बजे वेंटिलेटर सपोर्ट पर थे तभी उनकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि जीवन सिंह 10 जुलाई, 1991 को दिल्ली पुलिस में भर्ती हुए थे। वह नोएडा में अपने परिवार के साथ रहते थे। उनके परिवार में 49 वर्षीय पत्नी, 19 वर्षीय बेटा और एक 23 वर्षीय बेटी है जो नोएडा की एक प्राइवेट कंपनी में काम करती है।


बता दें कि मंगलवार रात को भी कोरोना की चपेट में आने से दिल्ली पुलिस के एक 40 वर्षीय सिपाही की मौत हो गई थी। कॉन्स्टेबल योगेंद्र यादव, पश्चिम विहार थाने में तैनात थे और लिवर से संबंधित बीमारी के कारण उन्हें 12 जून को पार्क अस्पताल में भर्ती कराया गया था और 25 जून को उनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था। कॉन्स्टेबल योगेंद्र यादव मूल रूप से हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में बलाहा कलां गांव के रहने वाले थे और अपने परिवार के साथ पश्चिम विहार पुलिस कॉलोनी रहते थे। ज्ञात हो कि अब तक दिल्ली पुलिस के लगभग 2,000 जवान वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से 1,300 पुलिस कर्मी ठीक होकर अपने काम पर लौट आए हैं। पुलिस के अनुसार, COVID-19 के कारण अब तक कम से कम 13 पुलिसकर्मियों की मौत हुई है।               


देश के शीर्ष पुलिस थानों में 'नादौन'

शिमला। प्रदेश के सीएम जय राम ठाकुर ने राज्य पुलिस और विशेषकर हमीरपुर (Hamirpur) जिला के नादौन पुलिस थाने को देश के शीर्ष पुलिस थानों में स्थान पाने और प्रदेश का सर्वश्रेष्ठ पुलिस थाना चुने जाने पर बधाई दी है। सीएम ने कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा इस पुलिस थाने को उत्कृष्टता प्रमाण-पत्र प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा कि पुलिस थानों की रैंकिंग भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा की जाती है। केन्द्रीय गृह मंत्री ने हाल ही में पुलिस महानिदेशकों के सम्मेलन के दौरान इस रैंकिंग को जारी किया था। हिमाचल के डीजीपी संजय कूडूूंं ने इसके लिए नादौन थाना में तैनात सभी पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों को बधाई दी है। उधर एसपी अर्जित सेन ने बताया कि नेशनल क्राइम ब्यूरो के 19 मानकों के आधार पर महिला क्राइम , पब्लिक सर्विस, प्रापर्टी क्राइम, पुलिस की लोगों से सहभागिता और जनता के राय के बाद ही नादौन थाना को श्रेष्ठ थाना का अवार्ड दिया गया है। जिस पर पुलिस थाना नादौन के कर्मचारी बधाई के पात्र है। उन्होने कहा कि हमीरपुर पुलिस का अगला लक्ष्य देश के टॉप 10 में थानों को लेकर आने का है ।             


अध्ययन और योग एक दूसरे के पूरक

योग करने से एकाग्रता और आत्मविश्वास बढ़ता है शिक्षा और योग एक दूसरे के पूरक हैं, आचार्य ललित


रतन सिंह चौहान
होडल। योगाचार्य ललित आर्य होडल में  आर एस योगा संस्थान के तत्वावधान में आयोजित योग और शिक्षा कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि शिक्षा और योग का आपस में गहरा संबंध है। योग करने से एकाग्रता और आत्मविश्वास बढ़ता है जिससे शरीर तनाव मुक्त रहता है और बच्चों में पढ़ने की जिज्ञासा बढ़ती है। उन्होंने कहा कि व्यायाम करने से शारीरिक बल तो बढ़ सकता है लेकिन बुद्धि का विकास योग और शिक्षा से ही होता है। लोगों को तनाव मुक्त जीवन के लिए प्रतिदिन योग करना चाहिए।
शिक्षाविद मंजु गौड़ ने बताया कि योग और शिक्षा से स्वस्थ और श्रेष्ठ मानव का विकास होता है और श्रेष्ठ मानव से स्वच्छ समाज का निर्माण होता है। योग और शिक्षा से शारीरिक मानसिक और आध्यात्मिक विकास होता है। उन्होंने कहा कि स्वस्थ और स्वच्छ समाज से ही देश का कल्याण संभव है। उन्होंने कहा कि आज इस वैश्विक महामारी के दौर में शारीरिक तौर पर आंतरिक बल की जरूरत है। हमें शारीरिक दूरी के साथ साथ मुंह भी ढककर रखना चाहिए।
भारत स्वाभिमान ट्रस्ट से उदयपाल जी ने लोगों से आह्वान किया कि योग और शिक्षा के माध्यम से बच्चों में अच्छे संस्कार पैदा किया जा सकता है। अच्छा संस्कार समाज और मानव जीवन को राष्ट्रहित के लिए  प्रेरित करने का काम करता है। योग मन और शरीर को स्वस्थ रखने का अभ्यास है। योगासन और अभ्यास द्वारा हम अनेक रोगों की रोकथाम कर सकते हैं।
इस अवसर पर डीओसी गाइड्स योगेश कुमार सौरोत मा. देव शर्मा,  समाज सेवी राम अवतार शर्मा आदि अनेक शिक्षा और समाज सेवी उपस्थित थे।  संस्थान के प्रबन्धक फतेह राम शर्मा ने सभी आगंतुकों का धन्यवाद किया।             


राजस्थानः सभी टीचर ड्यूटी करेंगे

बीकानेर। कोविड-19  महामारी के बीच इन दिनों प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थानों में कार्यरत कर्मचारियेां व शिक्षकों को अपने संस्थान में डयूटी नही देने का संदेश सोशल मीडििया पर वायरल हो रहा है। इस वायरल मैसेज के चलते प्रदेश के शिक्षक व अन्य कर्मचारी असमंजस की स्थिति में है। जबकि राजस्थान में इसी बीच शिक्षा विभाग के सभी कर्मचारी खासतौर पर शिक्षण संस्थाअेां में कार्यरत कर्मचारी व शिक्षक वर्ग द्वारा दसवीं व 12 वीं कक्षा की परीक्षाअेां केा भी संपन्न कराया गया है। इसलिए यंहा पर उन्हे किसी तरह का अवकाश या कोई हिदायत विभाग द्वारा नही दी गई है। इसकी जानकारी शिक्षा विभाग के निदेशक द्वारा दी गई है।


जिसके अनुसार सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमेां में 31 जुलाई 2020 तक सभी शिक्षकेां व कर्मचारियेां को घर से काम करने की बात का जिक्र किया गया है, वही संदेश फेक है और यह संदेश किसी भी तरह से राजस्थान में लागू नही है।
वंही दूसरी और शिक्षा विभाग के सूत्र बतातें है कि मार्च से लेकर अभी तक इस तरह का कोई आदेश विभाग द्वारा नही निकाला गया है। विभागीय कर्मचारी व शिक्षक वर्ग द्वारा नियमित अपने कार्य को संपादित कराया जा रहा है। यदि इस संदेश के आधार पर कोई काम करता है तो उसका अवकाश माना जाता है। इसलिए सभी शिक्षण व कर्मचारी इस तरह के सेाशल मीडिया के संदेश को आधिकारिक नही माने।


सूत्र बतातें है कि इस तरह के आदेश जब शिक्षा विभाग जारी करता है तो उसे आधिकारिक रुप से सभी के पास भेजा जाता है, ताकि सभी को आसानी से संदेश मिल सके। इस तरह की अफवाहों से बचने का भी आव्हान किया गया है।


शिक्षकों को आना होगा ड्यूटी पर 
शिक्षा विभाग द्वारा मार्च 2020 माह के दौरान ही आर्डर जारी किया गया था, जिसमें कहा गया था कि ‘‘सरकारी विद्यालयों में अवकाश की अवधि के दौरान संस्था प्रधान व शिक्षकों को एहतियात बरतते हुए विद्यालय में उपस्थित रहना होगा। बोर्ड एवं शाला से संबंधित आवश्यक कार्य किए जाएंगे। शिक्षा निदेशक ने सभी जिला कलक्टरों को आदेशों से अवगत कराया है।’’           


गति पकड़ता रैपिड रेल प्रोजेक्ट कार्य

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। रैपिड रेल प्रोजेक्ट का कार्य लगातार गति पकड़ रहा है। इसी कड़ी में नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एनसीआरटीसी) ने बुधवार को पैकेज तीन कार्यों के तहत मोदीनगर के असालत नगर और मेरठ के शताब्दी नगर में पियर फाउंडेशन का काम शुरू किया। यह पैकेज दुहाई से शताब्दी नगर तक 33 किमी लंबा है।


एलएंडटी पैकेज 3 लॉट 1 में दुहाई (ईपीई) से मोदी नगर नॉर्थ तक दो एलिवेटेड स्टेशनों, मुराद नगर और मोदी नगर साउथ से एलिवेटेड वायडक्ट का निर्माण कर रहा है। पैकेज तीन लॉट 2 में, एलएंडटी मोदी नगर नॉर्थ स्टेशन से लेकर शताब्दी नगर स्टेशन तक एलिवेटेड वायडक्ट का निर्माण कर रहा है। इसके अंतर्गत पांच एलिवेटेड स्टेशन-मोदी नगर नॉर्थ, मेरठ साउथ, परतापुर, रिठानी और शताब्दी नगर होंगे। एनसीआरटीसी ने शताब्दी नगर के अत्याधुनिक कास्टिंग यार्ड और मोदीनगर के मुख्य परियोजना प्रबंधक के कार्यालय की भी शुरूआत की है।


एनसीआरटीसी के एमडी विनय कुमार सिंह ने आज मोदीनगर साइट ऑफिस एवं शताब्दी नगर में कास्टिंग यार्ड का दौरा किया तथा चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण भी किया। मोदीनगर स्थित साइट ऑफिस का निर्माण चार महीने से कम के रिकॉर्ड समय में किया गया है। स्वच्छ ऊर्जा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को ध्यान में रखते हुए, एनसीआरटीसी इस कार्यालय में गैस-आधारित जनरेटर का उपयोग करेगा।  दुहाई से शताब्दी नगर के बीच 33 किमी लंबे खंड के निर्माण, बिजली, सिग्नलिंग और दूरसंचार से संबंधित सभी कार्य इस कार्यालय से किये जाएंगे।


एनसीआरटीसी के प्रवक्ता सुधीर कुमार शर्मा ने बताया कि भारत के पहले रीजनल रेल के अंतर्गत, दिल्ली-गाजियाबाद- मेरठ आरआरटीएस कॉरिडॉर, क्रियान्वयन के लिए चिन्हित किए गए तीन प्राथमिकता वाले आरआरटीएस कॉरिडोर्स में से एक है। 82 किमी लंबे कॉरिडोर में दुहाई और मोदीपुरम में दो डिपो सहित 24 स्टेशन होंगे और यह दूरी एक घंटे से भी कम समय में तय की जाएगी। इस कॉरिडोर का निर्माण कार्य जोरों पर है और वसुंधरा कास्टिंग यार्ड में सेगमेंट का निर्माण जारी है। प्राथमिकता खंड के सभी चार स्टेशनों- साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर और दुहाई का निर्माण कार्य चल रहा है।                


7 रूपये का चारा, 150 रुपये का भुगतान

नगर पालिक निगम चिरमिरी कर रहा है चारा घोटाला ₹7 का भूसा खिलाकर 150 का बिल फाड़ने का आरोप।
संजीव सिंह-
चिरमिरी(छत्तीसगढ़)। केंद्र के चारा घोटाले के बाद अब चिरमिरी में हुआ है चारा घोटाला भाजयुमो मंडल अध्यक्ष पुरुषोत्तम सोनकर ने लगाया है चिरमिरी नगर पालिक निगम के अधिकारियों पर चारा घोटाले का आरोप।पुरुषोत्तम सोनकर की मानें तो नगर पालिक निगम पैसे जुटाने के अलग-अलग हथकंडे अपना रही है जिसके तहत सड़कों पर घूम रहे गयो को सड़कों से उठाकर कांजी हाउस में रखा जा रहा है और जब किसी गाय को लेने उसका मालिक वहां पहुंचता है तो उसे ₹300 की दर से कांजी हाउस मे रखने की फीस व 150 रुपए प्रतिदिन की दर से गाय के चारे की कीमत अदायगी के लिए कहा जाता है। पुरुषोत्तम सोनकर के मुताबिक मवेशियों के इलाज की व्यवस्था भी निगम प्रशासन ने कांजी हाउस में नहीं की है ऐसे में सड़कों पर मवेशियों की मौत हो या ना हो लेकिन कांजी हाउस में गायो की मौत निश्चित है क्योंकि इन मवेशियों को खाने के नाम पर मात्र सूखा भूसा खिलाया जा रहा है जबकि इनके खाने के लिए पर्याप्त मात्रा में पशु आहार देना तय किया गया था भाजयुमो मंडल अध्यक्ष पुरुषोत्तम सोनकर ने निगम के अधिकारियों से बात कर जानने की कोशिश भी की थी कांजी हाउस में रखे गए मवेशियों के खाने की क्या व्यवस्था है तो जो जानकारी मिली उसका 25% भी पशुओं को आहार के रूप में नहीं दिया जा रहा है इस बारे में जब नगर पालिक निगम आयुक्त से बात की गई तो पता चला कि नगर पालिक निगम द्वारा कांजी हाउस के गायो के लिए बेहतर आहार तय किया गया है लेकिन इसमें किसी तरह की चुक या कोई गड़बड़ी की जानकारी मिली तो जिम्मेदार अधिकारियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी यह सब देखते हुए भाजयुमो मंडल अध्यक्ष पुरुषोत्तम सोनकर ने निगम के अधिकारियों पर चारा घोटाले का आरोप लगाया।              


बिहारः 704 संक्रमित, कोरोना विस्फोट

पटना। बिहार में कोरोना बेकाबू रफ्तार से बढ़ता जा रहा है। राज्य में 704 नए संक्रमित मरीज मिलने से एक बार फिर से हड़कंप मच गया है। स्वास्थ्य विभाग के तरफ से जारी आंकड़े के मुताबिक राज्य में में संक्रमित मरीजों के मिलने के बाद कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 14000 के करीब पहुंच गई है।





जिन जिलों में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं उसमें राजधानी पटना शामिल है। जहां एक साथ 132 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। जबकि बेगूसराय में 44 ,बांका में 20, मुजफ्फरपुर में 39, रोहतास और समस्तीपुर में 19,  सिवान में 18, पटना से सटे वैशाली में 73 और पश्चिमी चंपारण में 23 मामले सामने आए हैं। बिहार के 38 में 36 जिलों में एक साथ नए संक्रमण के मामलों की पुष्टि हुई है।




कलयुगः बेटे ने मां का रेप किया

सीतापुर। यूपी से शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है | सीतापुर में रिश्तों को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। यहां एक गांव की रहने वाली एक मां ने अपने बेटे पर जबरिया रेप का आरोप लगाया है। पुलिस ने केस दर्जकर मामले की जांच शुरू कर दी है। आरोपी नशेड़ी बताया जा रहा है। सीतापुर के एक गांव की 42 वर्षीया महिला ने सदरपुर थाने पर प्रार्थनापत्र देकर बताया है कि मंगलवार रात घर पर सोई थी। बुधवार तड़के उसके पुत्र ने बिस्तर पर ही उसे दबोच लिया। इसके बाद हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए बेटे ने मां के साथ रेप किया। पीड़िता ने सुबह घटना की जानकारी सदरपुर थाने पर प्रार्थनापत्र देकर दी।


सीओ अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि आरोपी बेटे के खिलाफ मां की तहरीर पर रेप का केस दर्जकर मामले की जांच की जा रही है। थाना प्रभारी विकास मिश्र ने बताया कि आरोपी युवक की तीन माह पूर्व पत्नी की मौत हो चुकी है तथा वह नशेड़ी प्रवृत्ति का बताया जा रहा है।             

महाकाल मंदिर के महंत को मिलेगा इनाम

कानपुर। विकास दुबे के पांच अपराधी साथी को उत्तर प्रदेश पुलिस ने एनकाउंटर करके विकास दुबे पर मानसिक दबाव बनाते हुए आज सुबह करीब साढ़े नौ बजे मध्य प्रदेश के उज्जैन महाकाल मंदिर पर आत्मसमर्पण करने को मजबूर कर दिया! सूत्रों की माने तो विकास दुबे जब मंदिर में पहुंचा तो एंट्री रजिस्टर में अपना नाम विकास दुबे जबकि एड्रेस रूप में कानपुर लिखा था।

इसके साथ ही जब वह मंदिर के दर्शन कर रहा था तब वहां मौजूद महंत ने विकास को पहचान लिया और स्थानीय पुलिस को इसकी सूचना दी जिस पर महाकाल थाना प्रभारी की टीम ने विकास को धर दबोचा! सूत्रों की माने तो उत्तर प्रदेश सरकार उज्जैन महाकाल मंदिर के महंत को इनामी राशि पांच लाख रुपए देने पर विचार कर रहा है।

पवन श्रीवास्तव              

3 महा और बढ़ाई भविष्य निधि योजना




















केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में एक सीमित आकार तक की इकाइयों में नियोक्ताओं और कर्मचारियों के हिस्से का भविष्य निधि में भुगतान सरकार की तरफ से किए जाने की योजना तीन महीने यानी अगस्त तक के लिए बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि मंत्रिमंडल ने योजना अगस्त तक बढ़ाये जाने का मंजूरी दे दी है जिसके तहत सरकार कर्मचारियों और नियोक्ताओं का भविष्य निधि में योगदान राशि देगी।


प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज  के तहत भविष्य निधि  में नियोक्ता और कर्मचारियों का 12-12 फीसदी मिलाकर कुल 24 फीसदी योगदान सरकार कर रही है। सरकार ने लॉकडाउन से प्रभावित हुए छोटे प्रतिष्ठानों और उसमें काम करने वाले कर्मचारियों को राहत देने के लिए यह कदम उठाया है। यह योजना उन यूनिट के लिए है जहां कर्मचारियों की संख्या 100 तक है तथा उनमें से 90 फीसदी कर्मचारियों का मासिक वेतन 15,000 रुपये से कम है। इससे पहले यह योजना मार्च, अप्रैल और मई के लिए थी, जिसे अब बढ़ाकर जून, जुलाई और अगस्त तक कर दिया है।


















रेल निजीकरण को लेकर मंत्री का बयान

कविता गर्ग


नई दिल्ली। देशभर में ट्रेनों के निजीकरणको लेकर बहस छिड़ी हुई थी। लेकिन इसी बीच रेल मंत्रालय का एक बयान सामने आया है। इस बयान में साफ़ तौर पर कहा है कि रेलवे का किसी भी प्रकार से निजीकरण नहीं किया जा रहा है। वर्तमान में चल रही रेलवे की सभी सेवायें वैसे ही चलेंगी जैसे चल रही थीं। बता दें रेल मंत्रालय ने 109 रुट्स पर यात्री ट्रेनें चलाने के लिए प्राइवेट पार्टीज को इनविटेशन दिया था। जिसमें प्राइवेट पार्टीज को 30 हजार करोड़ का निवेश करना था। इसके बाद से ही ट्रेनों के निजीकरण को लेकर चर्चा होने लगी थीं।


रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट किया, ‘रेलवे का किसी भी प्रकार से निजीकरण नहीं किया जा रहा है। वर्तमान में चल रही रेलवे की सभी सेवायें वैसे ही चलेंगी। निजी भागीदारी से 109 रूट पर 151 अतिरिक्त आधुनिक ट्रेनें चलाई जायेंगी। जिनका कोई प्रभाव रेलवे की ट्रेनों पर नही पड़ेगा, बल्कि ट्रेनों के आने से रोजगार का सृजन होगा। 


वर्तमान ट्रेनों और टिकटों पर नहीं पड़ेगा कोई प्रभाव


बता दें कि रेलवे ने पैसेंजर ट्रेन सर्विस ऑपरेट करने के लिए प्राइवेट पार्टी के लिए दरवाजे खोल दिए हैं। 109 डेस्टिनेशन रूट पर अब प्राइवेट कंपनी ट्रेन ऑपरेट कर पाएंगी। इससे 30 हजार करोड़ रुपये के इन्वेस्टमेंट की संभावना है। पैसेंजर ट्रेन संचालन के लिए पहली बार भारतीय रेलवे ने प्राइवेट इन्वेस्टमेंट का रास्ता साफ किया।


ये सभी ट्रेन कम से कम 16 कोच की होंगी। इन सारी ट्रेनों की अधिकतम रफ्तार 160 किलो मीटर/ घंटा है। प्राइवेट ट्रेनें उन रूटों पर चलाई जाएंगी, जहां वर्तमान में डिमांड सप्लाई से ज्यादा है। इससे वर्तमान ट्रेनों और टिकटों पर भी कोई प्रभाव नहीं होगा। मॉडर्न ट्रेन चलाने का मकसद मॉडर्न टेक्नॉलजी द्वारा इन्फ्रास्ट्रक्चर में सुधार लाना है।


ट्रेन का किराया तय करेंगी प्राइवेट कंपनियां


रेलवे ने यह प्राइवेट कंपनियों पर छोड़ा है कि वह ट्रेन का किराया तय करें। इसके अलावा रेवेन्यू जेनरेट करने के लिए वे अलग-अलग तरह के विकल्पों के बारे में विचार करने और फैसला करने में स्वतंत्र होंगे। इस पहल का उद्देश्य आधुनिक प्रौद्योगिकी रोलिंग स्टॉक को कम रखरखाव, कम पारगमन समय, रोजगार सृजन को बढ़ावा देना, सुरक्षा को बढ़ाना, यात्रियों को विश्व स्तरीय यात्रा का अनुभव प्रदान करना और यात्री परिवहन क्षेत्र में मांग की आपूर्ति की कमी को कम करना है।


गिरफ्तारी है या आत्मसमर्पण, साफ करें

बृजेश केसरवानी


लखनऊ। कानपुर एनकांउटर का मुख्य आरोपी व पांच लाख रुपए का इनामी विकास दूबे को पुलिस ने पकड़ लिया है। यूपी पुलिस और एसटीएफ को आखिरकार उनके कसे हुए शिंकजे में आ ही गया बता दें कि समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव इस गिरफ्तारी पर अपनी चिंता जताई है। उन्होंने यूपी सरकार से सवाल किया कि सरकार साफ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ्तारी।


समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने अपने ट्विट के जरिए गुरुवार को आठ यूपी पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्य आरोपी विकास दूबे की गिरफ्तारी पर संशय जताई है, उन्होंने लिखा है कि, ख़बर आ रही है कि ‘कानपुर-काण्ड’ का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है, अगर ये सच है तो सरकार साफ़ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ़्तारी। साथ ही उसके मोबाइल की सीडीआर सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके।


आपको बता दें कि मध्यप्रदेश पुलिस ने कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी और 5 लाख के इनामी विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया है। विकास दुबे पर आठ पुलिसवालों की हत्या करने का आरोप है। पिछले कुछ दिनों से पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए हरियाणा और दिल्ली में दबिश दे रही थी। यूपी पुलिस विकास दुबे के पांच साथियों को एनकाउंटर में ढेर कर चुकी है। वहीं कई साथियों को गिरफ्तार कर चुकी है।


मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी विकास दुबे की गिरफ्तारी की पुष्टि की। पुलिस सूत्रों के मुताबिक मंदिर के पुजारी ने पुलिस को बुलाकर विकास दुबे की जानकारी दी। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।            


रेपिस्ट बुद्धा फाउंडेशन अध्यक्ष गिरफ्तार

रायपुर। राजधानी के नया रायपुर स्थित लार्ड बुद्धा फाउंडेशन के चेयरमेन हिमाद्रि बरुवा को रेप के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। हिमाद्रि पर उसी के फाउंडेशन में काम करने वाली एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है। इसकी शिकायत बीती रात महिला ने राखी थाना में की थी। जिसके बाद आरोपी की गिरफ्तारी हुई है |


राखी थाना पुलिस के मुताबिक लार्ड बुद्धा फाउंडेशन में काम कर रही एक महिला ने फाउंडेशन के चैयरमैन हिमाद्रि बरुवा पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि वो पिछले 8 महीने से अपने झांसे में लेकर दुष्कर्म कर रहा था। बीती रात हिमाद्रि बरुवा के खिलाफ महिला राखी थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।


ना मुआवजा ना मकान, सब सुनसान

शशांक तिवारी की रिपोर्ट


लखनऊ। अवध विहार योजना लखनऊ के ग्राम सेवई में रेलवे आर.ओ.वी.व लाइन के समानान्तर 18 मीटर चौड़ी रोड बनाई जा रही है। जिसमें सेवई गांव के लोगों का कहना है कि दिनांक 23/05/2020 को अभिशासी अभियंता कार्यालय से नोटिस दिया गया था। जिसमें कहा गया था। कि खसरा संख्या- 276 ग्राम सेवई में निर्माण संख्या-189 को तोड़ने से पूर्व उसकी लागत व उतनी ही भूमि दूसरी जगह परिषद की सड़क पर योजना में समायोजित करने का अनुरोध किया गया था एवं निर्माण संख्या-189 योजना के सेवई रेलवे समपार पर निर्माणधीन आर.ओ.बी.के मध्य आ रहा है। उक्त निर्माण को योजना में अन्यंत्र समायोजित किये जाने की बात कही गयी थी। 1 जून तक इस नोटिस में लिखे बातों का इंतजार किया गया पर न मुआवजा मिला न मकान इसके बाद न मुआवजा मिला न मकान इसके बाद 2 जून को ग्रामीणों ने अधिशासी अभियंता आवास कार्यालय में प्रार्थना पत्र देते हुए जो नोटिस में कहा गया था। उसकी याद दिलाते हुए मुआवजा व मकान के लिए प्रार्थना पत्र दिया उसके बाद वहां पर उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद जेई मोहम्मद खुर्शीद एवं ओपी पांडेय एई मौके पर पुलिस बल के साथ पंहुचे और अपनी मनमानी से लोगो के घरों और दुकानों पर बुल्डोजर चलवाने लगे और जब लोगो ने विरोध किया तो धमकाने लगे पर उन्होंने एक न सुनी और उनके मकानों को ध्वस्त करा दिया। यहां पर बने 30 बर्ष पुराने मकानों को तोड़ दिए गए। गरीब बेसहारे लोग करते भी क्या क्योंकि न तो वो अधिकारियों से कुछ कह सकते न पुलिस फोर्स से । देश में कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी फैली हुई जिसको देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा भी था कि इस लॉक डाउन में किसी भी पीडित परिवारों के खिलाफ कोई करवाई नही की जाएगी उसके बावजूद भी इन अधिकारियों को मुख्यमंत्री के आदेशों को पालन करने से कोई मतलब नही मतलब है तो अपनी मनमानी से ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा कि अब आप ही एक सहारा है हमें मुआवजा दिलाया जाए जो कि नोटिस में दिया गया था। अन्यथा हम गरीब बेसहारा लोग आत्महत्या कर लेंगे। इस मौके पर बिंदेश्वरी, बंशी, मुन्ना, सुखदीन, मिसी लाल, सोहनलाल, रामरानी, कलावती, श्रीराम, शिवराम, पवन, सवोहन,सरबेश, सनी, करिश्मा,काजोल आदि ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इसमें उचित कार्यवाही करने का आवाहन किया है।             


नाबालिग से गैंगरेप में तीन गिरफ्तार

ईसम सिंह की रिपोर्ट



यमुनानगर । यमुनानगर पुलिस ने बुधवार को जिले के यमुनानगर सदर पुलिस थाने के तहत 14 वर्षीय एक लड़की के साथ  सामूहिक बलात्कार करने वाले दो आरोपियों सहित तीन युवकों को राउंड-अप किया है। आरोपियों की पहचान यमुनानगर के शाहरुख और रिजवान के रूप में की गई है, जिन्हें गुरुवार को अदालत में पेश किया जाएगा।


घटना यमुनानगर सदर इलाके की एक कॉलोनी में हुई, जहां लड़की का परिवार आरोपी मकान मालिक रिजवान की संपत्ति पर किराएदार के रूप में रह रहा था। लड़की की मां की शिकायत पर, आरोपी शाहरुख और रिजवान के खिलाफ यौन अपराधों से बालकों के संरक्षण  अधिनियम और 376-डी ए  की धारा 6 के तहत मामला दर्ज किया गया। शिकायतकर्ता महिला ने पुलिस को बताया, ”मैं और मेरे पति एक प्लाईवुड फैक्ट्री में काम करते हैं और हम एक किराए के घर पर रहते हैं जो यमुनानगर की एक कॉलोनी में रिजवान का है। सोमवार को, हमारी 14 वर्षीय बेटी घर पर अकेली थी जब दोपहर के लगभग 2 बजे, हमारे मकान मालिक रिजवान और शाहरुख ने हमारे घर में घुसकर बलात्कार किया। लगभग 8 बजे, जब हम काम से घर लौटे, तो लड़की चुपचाप बैठी थी, और जब मैंने पूछताछ की तो उसने पूरे नतीजे का खुलासा किया।”


यमुनानगर महिला पुलिस एसएचओ सब-इंस्पेक्टर कुसुम बाला ने कहा कि आरोपी शाहरुख, रिजवान, मुस्तकीन को बुधवार को राउंड अप किया गया है । गिरफ्तार करने की कागजी कार्रवाई पूरी कर रहे हैं। उन्हें गुरुवार को जिला अदालत में पेश किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मजिस्ट्रेट के समक्ष सीआरपीसी की धारा 164 (बयानों और बयानों की रिकॉर्डिंग) के तहत लड़की के बयान दर्ज किए गए हैं और आगे की जांच की जा रही है।              



हादसाः चांदनी एवं 15 बकरियों की मौत

सतपुली। रास्ट्रीय राजमार्ग 534 कोटद्वार पौडी के जगह जगह पर खड्डे होने से खस्ताहाल सड़क कारण में सतपुली के निकट चन्द्री बैन्ड पर सुबह 8.30 हरियाणा से आ रहा बकरियो से भरा ट्रक अचानक अनियंत्रित होकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें 15 बकरियो की मौत हो गयी ।


थानाध्यक्ष त्रिभुवन रौतेला ने बताया कि हरियाणा से आ रहा UP81BT 7566 ट्रक विकास मोहल्ला चन्द्रीबैन्ड के पास अनियंत्रित होकर सड़क मे ही पलट गया l जिसमे 130 बकरियों को हरियाणा हिसार से पौड़ी,पाबौ व चौबट्टाखाल ले जाया जा रहा था l ट्रक के पलटने से 15बकरियाँ की मौके पर ही मौत हो गई । ट्रक चालक मो सलीम पुत्र इमामी, निवासी बुलन्दशहर, हेल्पर संजय ओर बकरी मालिक लाल प्रभु को मामूली चोटे आयी है । दुर्घटना की सुचना मिलते ही थाना सतपुली पुलिस मौके पर पहुँची और पलटे हुए ट्रक को सीधा कर अपने गंतव्य के लिए भेज दिया ।              


5 बच्चों के डूबने से माहौल गमगीन

मोतिहारी। अंतर्गत चकिया थाना क्षेत्र से एक दुखद खबर आ रही है। यहां के फुलवरिया गांव में दाह संस्कार में गए 5 बच्चों की डूबने से मौत हो गई है। सभी के शव बरामद कर लिए गए हैं। बताया जा रहा है कि ये बच्चे बुधवार की शाम एक दाह संस्कार में शामिल होने वहां गए थे। स्नान करने के दौरान नदी की तेज धार में बह गए।मौके पर पहुंची ndrf की team भी इसमें मदद कर रही है। जैसे ही इसकी सूचना मिली, स्वजनों के चित्कार से पूरा गांव गमगीन हो गया। सबका का रो-रोकर बुरा हाल।डूबने वाले बच्चों में रामनाथ प्रसाद के पुत्र दीपक कुमार(18), शिवनाथ प्रसाद के पुत्र विशाल कुमार(12), विनोद भगत के पुत्र गोलू कुमार(13), रूपलाल ठाकुर के पुत्र रवि कुमार(13) एवं शम्भू प्रसाद के पुत्र आशिक कुमार(10) शामिल हैं। बताया जाता है कि नगर पंचायत क्षेत्र के वार्ड 2 स्थित फुलवरिया निवासी स्व योद्धा ठाकुर की पत्नी के दाह संस्कार के बाद सभी बच्चे स्नान कर रहे थे तब यह घटना हुई।              


वायरस से जुड़ा नया मामला, डॉ. हैरान

फारुख कुरेशी


नई दिल्ली। देश में पहली बार कोरोनावायरस का एक नया रूप सामने आया है। देश के सबसे बड़े अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली में भर्ती एक मरीज चार बार निगेटिव होने के बाद भी उसके शरीर में कोरोनावायरस के खिलाफ स्वास्थ्य मिला है। यह किसी व्यक्ति के शरीर में तब बन सकता है, जब वह कोरोनावायरस से आशंकित हो। लगभग पाँच से सात दिन के बनने में समय लगता है। यही कारण है कि रोगी के शरीर में संक्रमण के खिलाफ लड़ने का काम करता है।


दिल्ली एम्स के जीरिएटिक विभाग में एक महिला मरीज कई दिन से भर्ती थीं। 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला को डायबिटीज, हाइपर सर्जरी के अलावा 15 दिन से कमजोरी की शिकायत थी। महिला में टी सेल्स की संख्या कम हो रही थी। डॉक्टरों ने संक्रमणपूर्ण होने के कारण 12 दिन में चार बार आरटी-पीसीआर के जरिये कोरोनावायरस की जांच की। लेकिन हैरानी की बात है कि एक भी जांच में संक्रमण की पुष्टि नहीं हो सकी। यह सभी जांच दिल्ली एम्स की एकमात्र सुविधाओं से लैस प्रयोगशाला में की गई थीं।


बार-बार रिपोर्ट निगेटिव आने और मरीज में लक्षण एक जैसे ही बरकरार रहने के कारण एक समय तक डॉ भीचेरा चला गया। हालांकि इसके बाद डॉक्टरों ने मरीज को निष्क्रिय मानते हुए ही उपचार किया और पांचवीं बार कैंसर की जांच की गई। इस जांच में मरीज के अंदर कोरोनावायरस की बीमारी पाई गई। हाल ही में यूके के वैज्ञानिकों ने जिस डेक्सामेथासोन दवा को कोविड उपचार में प्रभावी बताया था, उसे भारत में अनुमति मिलने के बाद महिला मरीज को एम्स के डॉक्टरों ने 10 दिन तक दी थी।


एम्स के डॉ। विजय गुर्जर ने बताया कि कोरोनावायरस को लेकर अब तक अलग-अलग थ्योरी सामने आ रहे हैं, लेकिन इसमें एक बात स्पष्ट हो चुकी है कि अगर किसी मरीज की रिपोर्ट निगेटिव है तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह पॉजिटिव नहीं है। उन्होंने बताया कि 25 जून से लेकर सात जुलाई के बीच चार बार एम्स में आरटी-पीसीआर जांच की गई थी। जिसमें हर बार रिपोर्ट निगेटिव पाई गई। आरटी-पीसीआर जांच कोरोनावायरस का पता लगाने के लिए सबसे बेहतर जांच बताई जा रही है। लेकिन जब मरीज में संक्रमण का पता नहीं लगाया गया तो डॉक्टरों ने उन्हें पॉजिटिव ही मान लिया। इसी तरह की जांच में महिलाओं के मिलने से यह पुष्टि भी हो गई है कि लक्षणों के आधार पर संदिग्ध रोगी कोरोना अतिसंवेदनशीलता था।


डॉ। गुर्जर ने बताया कि वर्तमान में रोगी की सात जुलाई को रिपोर्ट निगेटिव मिलने और हालत पहले से बेहतर होने के साथ-साथ लक्षण न मिलने के कारण डिस्चार्ज कर दिया है। वह पहले से स्वस्थ हैं। ठीक इसी तरह कई लोगों में पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद भी वह निगेटिव होते हैं। वायरस का कोई असर नहीं होता है।


डॉ। विजय गुर्जर का कहना है कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का भी राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में निगेटिव सैंपल आया था। अगले दिन वह पॉजिटिव मिले। वहीं दिल्ली पुलिस की शैली बंसल ने भी उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था। उनमें कोरोनावायरस के लक्षण थे लेकिन रिपोर्ट निगेटिव था।


ऐसा ही एक मामला रोहतक निवासी जूनियर रेजीडेंट का है जिसका हाल ही में मृत्यु हुई है। उसमें वायरस के लक्षण होने के बाद भी रिपोर्ट निगेटिव आई, लेकिन इन लोगों को कोरोना राजकुमार का सम्मान नहीं मिला। जबकि हकीकत यह है कि रिपोर्ट के आधार पर कोरोना के स्वभाव होने या न होने की पुष्टि नहीं की जा सकती है, इसलिए दिशा-निर्देशों में सरकार को बदलाव करना चाहिए और उन्हें सम्मान देना चाहिए।              


24 घंटे में 24879 मामले, 487 मौतें

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। आज पहली बार 24 घंटे में 25 हजार के करीब कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। देश में संक्रमितों की संख्या अब पौने आठ लाख के करीब पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में अबतक 7 लाख 67 हजार 297 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 21,129 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि चार लाख 76 हजार लोग ठीक भी हुए हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 24 हजार 879 नए मामले सामने आए और 487 मौत हुई।



कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश है। अमेरिका, ब्राजील के बाद कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित भारत है। लेकिन अगर प्रति 10 लाख आबादी पर संक्रमित मामलों और मृत्युदर की बात करें तो अन्य देशों की तुलना में भारत की स्थिति बहुत बेहतर है। भारत से अधिक मामले अमेरिका (3,158,726), ब्राजील (1,716,196) में हैं. देश में कोरोना मामले बढ़ने की रफ्तार भी दुनिया में तीसरे नंबर पर बनी हुई है।


आंकड़ों के मुताबिक, देश में इस वक्त 2 लाख 70 हजार कोरोना के एक्टिव केस हैं। सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं। महाराष्ट्र में 89 हजार से ज्यादा संक्रमितों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है। इसके बाद दूसरे नंबर पर तमिलनाडु, तीसरे नंबर पर दिल्ली, चौथे नंबर पर गुजरात और पांचवे नंबर पर पश्चिम बंगाल है। इन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं। एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का चौथा स्थान है। यानी कि भारत ऐसा चौथा देश है, जहां फिलहाल सबसे ज्यादा संक्रमितों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है।


इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के मुताबिक 8 जुलाई तक टेस्ट किए गए सैंपलों की कुल संख्या 1,07,40,832 है, जिसमें से 2,67,061 सैंपलों का कल टेस्ट किया गया है।


30 एमएलए होते तो सरकार गिरा देता

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़। इनेलो के विधायक पूर्व नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने बरौदा उपचुनाव को लेकर तैयार हो रहे वातावरण में भाजपा के साथ-साथ कांग्रेस और जजपा को भी घेरने को प्रयास किया। अभय बेसल में इनेलो जिला कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे थे। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के एक बयान पर उन्होंने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, अगर मेरे पास 30 एमएलए होते हैं तो मैं 100 प्रतिशत गिरा देता हूं। भूपेंद्र सिंह हुड्डा की मंशा ठीक नहीं है। मुख्यमंत्री कह रहे हैं वही जीतेंगे, हुड्डा कह रहे हैं कि वह जीतेंगे। लेकिन दोनों में से बरोदा से कोई नहीं लड़ेगा। राज्यसभा में ही जब कांग्रेस ने तीसरे उम्मीदवार नहीं उतारा। भाजपा की बी टीम कांग्रेस है। भाजपा ने सुभाष चंद्रा का एहसान उतारने के लिए दीपेंद्र हुड्डा को बनवाया। चौटाला ने कहा कि सरकार तो भूपेंद्र सिंह हुड्डा ही गए हुए हैं। अगर भूपेंद्रेंद्र सिंह हुड्डा यह सरकार गिराना चाहते हैं तो वे ईमानदारी से आगे बढ़ेंगे। वे जिस दिन अपनी नीयत साफ करके इस काम में जुट जाएंगे तो फिर मैं भी सरकार गिराने में उनकी मदद कर दूंगा। अभय ने जजपा पर हमला बोलते हुए कहा, इस पार्टी के दो या तीन एमएलए ही ऐसे होंगे, जो सरकार के साथ रहना चाहते हैं। उनसे सरकार के पक्ष में बयान तो दिलवा सकते हैं, लेकिन मैंने सभी टटोल हैं। सब खफा हैं। पिछले दिनों खुद भाजपा के विधायक रो रहे थे कि उनकी तब तहसीलदार भी नहीं सुनते थे। लेकिन मैंने सभी टटोल लिए हैं। सब खफा हैं। पिछले दिनों खुद भाजपा के विधायक रो रहे थे कि उनकी तब तहसीलदार भी नहीं सुनते थे। लेकिन मैंने सभी टटोल लिए हैं। सब खफा हैं। पिछले दिनों खुद भाजपा के विधायक रो रहे थे कि उनकी तब तहसीलदार भी नहीं सुनते थे।


मुझे लोग गोली देने वाले कहते हैं

अभय चौटाला ने कहा कि लोग तो हमें गोली देने वाले कहते हैं। उन्हें (जजपा) को तो कहते हैं कि वह मिठी गोली देते हैं और मैं खारी देता हूं। फिर मैंने उनसे सवाल किया कि उनकी मिठी अच्छी है या फिर खारी। मेरे साथ को अच्छी बताकर ही जजपा में गए लोग बड़ी संख्या में घर वापसी कर रहे हैं।

अभय चौटाला ने किया इनेलो जिला कार्यालय का उद्घाटन

इनेलो नेता अभय चौटाला ने मंगलवार सांय लघु सचिवालय के करीबी पार्टी के जिला कार्यालय का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा, विधानसभा सत्र में ऐसे मुद्दे उठाऊंगा कि पिछली बार तो एकाध बोलने को खड़ा हो जाता था, इस बार इनकी जाड़ जा्क्षभचवा दूंगा। इनेलो के किसी कार्यक्रम में लंबे समय बाद अच्छी खासी भीड़ उमड़ी नजर आई। यहां न तो शारीरिक दूरी का नियम दिखा रहा है और न ही पहलू की योग्यता है। 

जिला अध्यक्ष राजा राम माजरा की मौजूदगी में जिला कार्यालय के खुल के बाद अभय चौटाला ने कहा कि हमारी बड़ी जिम्मेदारी बनती है कि हमें आपस में जाटों में बंटने की बजाय किसान को एकजुट करना होगा। अगर किसान एक होकर अपनी लड़ाई नहीं लड़ेगा तो ये सरकार उन्हें मारने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। इनेलो नेता ने कहा कि अमेरिका जैसे देशों में इस महामारी से लड केे के लिए सरकार अपने नागरिकों के खाने में दो हजार डॉलर डालकर उनकी मदद कर रही है और यहां प्रदेश की गठबंधन सरकार नागरिकों से ही पैसे की मांग कर रही है। वर्ष 1987 में चौधरी देवी लाल ने प्रोत्साहन स्वरूप गरीब के बच्चे को एक € देने का काम किया था ताकि बच्चा अच्छी शिक्षा लेकर नौकर लग सके। पर विदंबना है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री बच्चों से पांच-पांच रुपये व किसानों से पांच किलो गेहूं कोरोना महामारी से लड मांग के लिए मांग रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि बरोदा उपचुनाव भी आने वाला है, सभी कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि जिन-जिन की रिश्तेदारियां या जान-पहचान इस हलके में हैं, वे उनसे संपर्क कर इस सरकार की पोल खोलने का काम करें व इनेलो उम्मीदवार उम्मीदवार जिताने में भरपूर सहयोग करें। इस पर जनसमूह ने हाथ उठाया कर सहमति जताई। इस अवसर पर अशोक जैन, शशिभूषण वालिया, जसमेर ताराराम, जिलाध्यक्ष अनिल तंवर, राममेहर खुराना, पवन ढुल, मोनी बालू, प्रदीप सिंहमार, संजीव छौत, कुलदीप माजरा, रणबीर फौजी, बलकारन, रामप्रकाश गोगी, हनीपुल भदिया, भोजपुर ।             

नीरव मोदी पर ईडी का एक और वार

नई दिल्ली। भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी पर लगातार जांच एजेंसियों का शिकंजा कसता जा रहा है। अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आर्थिक अपराध अधिनियम के तहत नीरव मोदी की 329.66 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है। ईडी ने बताया कि जब्त की गई संपत्तियों में मुंबई के वर्ली स्थित समुद्र महल बिल्डिंग में चार फ्लैट, अलीबाग में जमीन और समुद्र के पास एक फार्महाउस, जैसलमेर में एक पवन चक्की, लंदन में फ्लैट और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में आवासीय फ्लैट है। इसके अलावा शेयर और बैंक में जमा राशि भी इस जब्ती में शामिल है।


लंदन की जेल में बंद है नीरव मोदी
नीरव मोदी फिलहाल पंजाब नेशनल बैंक के साथ कर्ज घोटाले और मनी लॉन्ड्रिंग के मामलों में लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में बंद है। पिछले महीने लंदन की वेस्टमिंस्टर अदालत ने नीरव मोदी को 9 जुलाई तक और न्यायिक हिरासत में रखने का आदेश दिया था। गौरतलब है कि पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के साथ धोखाधड़ी के मामले में नीरव मोदी के खिलाफ ब्रिटेन में प्रत्यर्पण का मुकदमा चल रहा है, उसके प्रत्यर्पण के मामले पर 7 सितंबर को सुनवाई होने वाली है। नीरव वैंड्सवर्थ जेल 19 मार्च 2019 से बंद है।


हंसते-हंसते आओ, हंसते-हंसते जाओ

मुंबई । वेटरन कॉमेडियन जगदीप का बुधवार रात मुंबई में निधन हो गया। वे 81 वर्ष के थे। जगदीप का असली नाम सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी था। वे एक्टर जावेद और नावेद जाफरी के पिता थे। जगदीप के दोस्त प्रोड्यूसर महमूद अली ने बताया कि बांद्रा स्थित घर में रात करीब 8.30 बजे उनकी मौत हो गई। वे ढलती उम्र के कारण हुई बीमारियों से लंबे समय से परेशान चल रहे थे।


जगदीप को गुरुवार सुबह 11 बजे मुंबई के मुस्तफा बाजार मझगांव शिया कब्रिस्तान सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा।


मप्र के दतिया में जन्में थे जगदीप


सूरमा भोपाली के नाम से मशहूर जगदीप 29 मार्च, 1939 को मध्य प्रदेश के दतिया में एक वकील के घर पैदा हुए थे। जगदीप ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत चाइल्ड आर्टिस्ट ‘मास्टर मुन्ना’ के रूप में बी आर चोपड़ा की फिल्म ‘अफसाना’ से की थी। इसके बाद चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में ही उन्होंने ‘लैला मजनूं’ में काम किया। जगदीप ने कॉमिक रोल बिमल रॉय की फिल्म ‘दो बीघा जमीन’ से करने शुरू किए थे। उन्होंने करीब 400 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। 2012 में वे आखिरी बार ‘गली गली चोर’ फिल्म में पुलिस कांस्टेबल की भूमिका में नजर आए थे।


सूरमा भोपाली के नाम पर फिल्म भी बनी


1975 में आई शोले में निभाए गए सूरमा भोपाली के किरदार ने उन्हें बॉलीवुड में मशहूर किया था। इस किरदार के नाम पर 1988 में भी फिल्म बनी, उसमें भी मुख्य भूमिका जगदीप ने ही निभाई। इसके अलावा ब्रह्मचारी, नागिन और अंदाज अपना-अपना जैसी फिल्मों में उनकी कॉमेडी को काफी पसंद किया गया। चाहने वालों में जगदीप सूरमा भोपाली के अपने इस किरदार के लिए ही मशहूर थे। जगदीप ने खुद को उस दौर में स्थापित किया, जब जॉनी वॉकर, केश्टो मुखर्जी और महमूद की तूती बोलती थी।



जगदीप की मौत पर उनका एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियों में उन्होंने अपना सूरमा भोपाली वाला डायलॉग बोला है। यह वीडियो 29 मार्च 2018 का है। इसे उनके बेटे जावेद जाफरी ने ट्वीट किया था। इसमें उन्होंने कहा था- आओ हंसते-हंसते और जाओ हंसते-हंसते।           


सैनिक-अधिकारी तुरंत हटाए 89 एप्स

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने सुरक्षा कारणों से सभी सैनिकों और अधिकारियों से अपने मोबाइल फोन से 89 एप्स को तुरंत डिलीट करने को कहा है। दरअसल, सेना ने सैन्य सूचनाओं को लीक होने से रोकने के लिए अपने कर्मियों को स्मार्टफोन से फेसबुक, टिक टॉक, ट्रू-कॉलर और इंस्टाग्राम सहित 89 ऐप्स हटाने के लिए कहा है। सेना के जवानों को इस बारे में निर्देश जारी कर कहा गया है कि वे फोन से डेली हंट न्यूज़ एप, टिंडर, काउच सर्फिंग जैसे डेटिंग ऐप्स और मशहूर गेम्स एप पब-जी को भी तुरंत अनइंस्टॉल कर दें।


गौरतलब है कि भारत सरकार ने हाल ही में 59 ऐप्स को प्रतिबंधित किया था, जिन्‍हें गूगल प्ले स्टोर और एपल ऐप स्टोर ने भारत में हटा दिया है। भारत सरकार ने टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, शेयरइट और वीचैट सहित चीन से जुड़े रखने वाले 59 ऐप पर प्रतिबंध लगाया है। सरकार ने कहाकि ये ऐप देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए खतरा हैं। इसलिए इन पर पाबंदी लगाई जा रही है।               


विकास दुबे को बचाने का तंत्र पर आरोप

लखनऊ/कानपुर। कानपुर में सीओ देवेंद्र मिश्रा समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपित विकास दुबे को गुरुवार की सुबह उज्जैन की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं विकास की गिरफ्तारी पर कानपुर गोलीकांड में शहीद हुए सीओ देवेंद्र मिश्रा के परिवार ने सवाल उठाए हैं। देवेंद्र के भाई कमलाकांत मिश्रा ने आरोप लगाते हुए कहा कि ‘ये गिरफ्तारी नहीं है बल्कि उसे मौत बचाया गया है।’


मीडिया से बात करते देवेंद्र के भाई ने कहा, “एक दिन पहले उसे फरीदाबाद में देखा गया। अगले दिन वह सुरक्षित उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुंच जाता है, जबकि फरीदाबाद से उज्जैन 12 घंटे का रास्ता है। विकास के आकाओं की ओर इशारा करते हुए भाई ने कहा कि आठ पुलिसकर्मियों की हत्या अकेले विकास दुबे या उसके गैंग ने नहीं की है। उसके साथ और दूसरे लोग भी शामिल थे, जो अबतक उसे बचाते रहे। उन्हीं की सलाह पर उसने सरेंडर भी किया है। इसको मैं पकड़ना नहीं कहुंगा। असल में उसे मौत से बचाया गया है। विकास को विश्‍वास था कि उसे बचा लिया जाएगा।”


शहीद सीओ के परिजन ने विकास दुबे की गिरफ्तारी पर सवाल उठाते हुए कहा कि क्या ऐसे ही होती हैं गिरफ्तारियां? उन्होंने कहा, “विकास दुबे का नेटवर्क एक्टिव है। सारे राज्यों की पुलिस और एसटीएफ के अलर्ट रहते हुए भी वो महाकाल मंदिर पहुंच गया। वहां जाकर दर्शन का टिकट कटवाता है। ये कैसे संभव है? इसके बाद जब पुलिस वहां पहुंचती है तो मीडियावालों को लेकर जाती है। क्या ऐसे ही होती है गिरफ्तारियां?”इतना ही नहीं देवेंद्र के परिवार ने आगे कहा, मैं किसी पुलिस पर आरोप नहीं लगा रहा हूं। मैं सीधे-सीधे तंत्र पर आरोप लगा रहा हूं। पुलिसवाले अपना काम कर रहे हैं। सभी पुलिसवालों या किसी पूरी राजनीतिक पार्टी पर आरोप लगाना गलत है। इसमें शामिल लोगों की पहचान होनी चाहिए।


सरकार जो चाहे करे, मेरे कहने से कुछ नहीं होगा: सरला दुबे


वहीं विकास दुबे के पकड़े जाने के बाद उसकी मां सरला दुबे ने भी मीडिया से बात की है। सरला दुबे ने कहा कि विकास उज्‍जैन के महाकाल मंदिर में हर साल जाता था। जबकि कार्रवाई के बारे में उन्‍होंने पत्रकारों से कहा कि सरकार जो उचित समझे वो करे, मेरे कहने से कुछ नहीं होगा।


एमपी में अरेस्ट, 8 पुलिसकर्मियों का हत्यारोपी

नेहा वर्मा


कानपुर। चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में 2 जुलाई की रात 8 पुलिसकर्मियों की शहादत का मुख्य आरोपी, 5 लाख के इनामी कुख्यात अपराधी विकास दुबे को मध्यप्रदेश पुलिस ने गुरुवार सुबह उस समय गिरफ्तार कर लिया। जब वह उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन करने गया था। उज्जैन के कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि महाकाल मंदिर जा रहे विकास दुबे को पहचान कर सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। पुलिस उससे पूंछतांछ कर रही है। वहीं माना जा रहा है कि विकास दुबे ने एनकाउंटर से बचने के लिए सुनियोजित तरीके से यह गिरफ्तारी दी है।


डीएसपी सहित आठ पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद गैंगस्टर विकास दुबे के पीछे यूपी पुलिस हाथ धो कर पड़ी थी। उसके घर को बुलडोजर से ध्वस्त करने के साथ ही लक्जरी गाड़ियों को चकनाचूर कर दिया गया था। विकास दुबे के साथियों का ढूंढ ढूंढ कर एनकाउंटर किया जा रहा था। उस पर पांच लाख रुपए का इनाम भी घोषित कर दिया गया था। ऐसे में विकास दुबे के बचने की कोई संभावना नहीं दिख रही थी। अंदाजा लगाया जा रहा था कि यूपी पुलिस उसे एनकाउंटर में ढेर कर देगी। पर विकास दुबे अपने शातिर दिमाग से फिलहाल जिंदा पकड़ा गया है। गुरुवार सुबह विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुंचा। बताया जाता है कि वहां उसने पर्ची कटाने के बाद पहचानपत्र मांगने पर सुरक्षाकर्मियों से विवाद किया। जिस पर सुरक्षाकर्मियों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस की पूंछतांछ में उसने अपनी पहचान उजागर कर दी। इस बारे में मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि एमपी पुलिस को इंटेलिजेंस से कुख्यात अपराधी विकास दुबे के उज्जैन आने की सूचना मिली थी। इसी आधार पर महाकाल थाना पुलिस ने विकास दुबे को गिरफ्तार किया है। कहा कि यह पुलिस की बड़ी कामयाबी है। उत्तर प्रदेश पुलिस को सूचना दे दी गयी है।                


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


 जुलाई 10, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-332 (साल-01)
2. शुक्रवार, जुलाई-10, 2020
3. शक-1943, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि- पंचमी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:31,सूर्यास्त 07:27।


5. न्‍यूनतम तापमान 26+ डी.सै.,अधिकतम-39+ डी.सै.। बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                      


बरेली: यूपी बोर्ड की अंक सुधार परीक्षा शुरू हुईं

हरिओम उपाध्याय       बरेली। यूपी बोर्ड की अंक सुधार परीक्षा कल से शुरू हो रही है। इसके लिए विभाग ने तैयारियां पूरी कर ली है। परीक्षा के लिए ...